शनिवार, 19 अक्तूबर 2019

नोएडा में दूसरा सबसे बड़ा हेलीपोर्ट


नोएडा में बनेगा देश का दूसरा सबसे बड़ा हेलीपोर्ट


देवेंद्र गुर्जर


गौतमबुध नगर। दिल्ली के बाद नोएडा में देश का दूसरा सबसे बड़ा हेलीपोर्ट बनने जा रहा है। इसका संचालन चार हेलीकॉप्टर सेवा प्रदाता एजेंसियां कर सकती हैं। नोएडा प्राधिकरण ने मास्टर प्लान 2031 में परियोजना को शामिल कर बोर्ड बैठक में मंजूरी दे दी है।


सेक्टर-151ए में 10 एकड़ भूमि चिह्नित की गई है। परियोजना पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) मॉडल पर बनाई गई है। जल्द ही सलाहकार कंपनी का चयन होगा। इसके लिए रिक्यूवेस्ट फॉर प्रपोजल (आरएफपी) जारी होगी, जो परियोजना को समझाने के लिए पूरी योजना का ब्ल्यूप्रिंट तैयार करेगी, जिसमें प्राधिकरण की जमीन लागत निकालने के साथ-साथ सुविधा शुरू होने से होने वाली आय का पूरा लेखा-जोखा शामिल होगा। साथ ही नोएडा की प्रॉपर्टी इस परियोजना से कितना बूम मार सकती है, कितना नया निवेश होगा, इसका भी पता लग जाएगा। इसके बाद प्राधिकरण को परियोजना का खाका हस्तगत होगा।


बता दें कि देश में चार एजेंसियां हैं, जो हेलीकॉप्टर सेवाएं प्रदान करती हैं। इनमें पवन हंस व एसआईटीसी के अलावा दो अन्य शामिल हैं। पवन हंस का कार्यालय नोएडा सेक्टर-एक में है। सेक्टर-151ए स्थित हेलीपोर्ट पर हेलीकॉप्टर उतरने के लिए आठ हेलीपेड बनाए जाएंगे। हेलीकॉप्टर बुकिंग के लिए केबिन बनाए जाएंगे, इनकी पार्किग की व्यवस्था होगी। पहले चरण में योजना की डिटेल्ड प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार हो रही है, जिसे क्लीयरेंस के लिए आइआइटी भेजा जाएगा। वहां से संस्तुति मिलने पर राज्य सरकार से मंजूरी ली जाएगी। जहां पर हेलीपोर्ट बनाया जाएगा।


एसएसबी ने पकड़ा लाखों का अवैध कपड़ा

एसएसबी ने पकड़ा लाखों का कपड़ा, एक गिरफ्तार


कपड़ों से भरी एक पिकप भी बरामद की गई


आदर्श श्रीवास्तव
लखीमपुर खीरी। पलिया कलां खीरी के अंतर्गत भारत-नेपाल सीमा के गौरीफंटा थाना अंतर्गत पिलर संख्या 750/1 के निकट से पच्चीस लाख की कीमत का कपड़ा, एक पिकप व उसके ड्राइवर सतनाम सिंह पुत्र परमजीत सिंह निवासी बंडा को एसएसबी ने मुखबिर की सूचना पर पकड़ा। आपको बता दें कि नेपाल में सर्दी का मौसम आते ही गर्म ऊनी कपड़े और कपड़ों के थान की मांग काफी बढ़ जाती है जिसके चलते कपड़ों के तस्कर भी सक्रिय हो रहे हैं। पकड़ा गया कपड़ा पलिया के कई बड़े कपड़ा व्यापारियों का बताया गया है!


39 वाहिनी के कार्यवाहक कमांडेन्ट संजीव कुमार ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर भारत नेपाल सीमा के पिलर संख्या 750/1 से एक पिकअप ड्राइवर सहित कपड़ा पकड़ा गया है जिस कार्यवाही में एसएसबी गौरीफंटा के इंस्पेक्टर जसवीर सिंह, सब इंस्पेक्टर कुंदन सिंह सहित कई एसएसबी के जवान शामिल हुए! पकड़े गए कपड़े व वाहन को उसके ड्राइवर सहित कस्टम के हवाले कर दिया गया है ! उन्होंने बताया कि एसएसबी इस मामले में तह तक जाकर कार्रवाई करेगी!


कांग्रेस ने आस्था-सभ्यता को तवज्जो नहीं दी

ऐलनाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरियाणा के ऐलनाबाद में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस सरकार पर जमकर हमले किए। प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने फैसला किया है कि कपूरथला से तरन तारन के पास गोविंदवाल साहिब तक जो नया नेशनल हाईवे बना है, उसको अब गुरु नानक देव जी मार्ग के नाम से जाना जाएगा। करतापुर साहिब का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भाजपा की, NDA की सरकार को एक और सौभाग्य मिला है। हमारे गुरु के पवित्र स्थान, करतारपुर साहिब और हम सभी के बीच की दूरी अब समाप्त होने वाली है। लेकिन कांग्रेस और उसके कल्चर से जुड़े दलों ने हिंदुस्तानियों की आस्था, परंपरा और संस्कृति को कभी मान नहीं दिया। 


भक्तों को गुरु से नहीं करना चाहिए अलग


कांग्रेस पर तीखा हमला करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि 1947 में जो, बंटवारे की रेखा खींचने के लिए जिम्मेदार थे, क्या उनको ये ख्याल नहीं था, कि सिर्फ 4 किलोमीटर के फासले से भक्तों को गुरु से अलग नहीं किया जाना चाहिए? इसके बाद भी, 70 सालों में क्या इस दूरी को मिटाने के प्रयास कांग्रेस की सरकार को नहीं करने चाहिए थे।


इसी के साथ प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस की जो अप्रोच हमारे इन पवित्र स्थानों के साथ रही, वही अप्रोच जम्मू कश्मीर के साथ भी रही। 70 साल तक समस्याओं में उलझाते रहे, सार्थक समाधान के लिए ईमानदार कोशिश ही नहीं की।


फिर उठा अनुच्छेद 370 का मुद्दा


अनुच्छेद 370 का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने तत्कालीन कांग्रेस सरकार को निशाने पर लिया और आरोप लगाते हुए कहा कि पहले दिल्ली में सोई हुई कांग्रेस सरकार एक के बाद एक करके कश्मीर के हालात बिगाड़ती गई। प्रारंभ के दिनों में पाकिस्तान की मदद से हमारा कुछ हिस्सा छीन लिया गया। उसके कुछ सालों के बाद योजनाबद्ध तरीके से, कश्मीर जिस परंपरा के लिए जाना जाता है, उस सूफी सोच को दफना दिया गया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने गलत नीति और रणनीति से देश को तबाह करके रख दिया।


प्रधानमंत्री ने कहा कि 70 साल तक कश्मीर के लोगों को आपने टेम्परेरी साइकोलॉजी के द्वारा परमानेंट की ओर जाने के लिए अलगाववाद की ओर जाने के लिए रास्ता दिखाया था। इसलिए भाइयों मैंने टेम्परेरी खत्म कर दिया है। जब आपने मुझे दोबारा पांच साल के लिए परमानेंट बना दिया तो मैं टेम्परेरी क्यों चलने दूं।


अमित शाह ने दी कांग्रेस को चुनौती

नवापुर। केंद्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी को चुनौती दी कि वह यह घोषणा करें कि उनकी पार्टी अगर सत्ता में आती है तो जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को लागू करेगी। नंदूरबार जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने विशाल जनमत से दूसरी बार सत्ता में आने के बाद पहला काम अनुच्छेद 370 को खत्म करने का किया है। यह अनुच्छेद जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देता था। उन्होंने कहा कि विशेष प्रावधानों की वजह से पाकिस्तान ने राज्य में आतंकवाद को भड़काया। जिसमें 40 हजार से ज्यादा लोग मारे गए। शाह ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि पार्टी सिर्फ अपने वोट बैंक को बचाने में लगी है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने कहते हैं कि महाराष्ट्र का अनुच्छेद 370 से क्या वास्ता है। मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वह यह घोषणा करें कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को लागू करेगी। अब भी विधानसभा चुनाव होने में एक दिन बचा हुआ है।


कॉमेडी सर्कस नहीं सरकार चलाएं: गांधी

नयी दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने नोबेल पुरस्कार के लिए चयनित अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी के संदर्भ में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल की टिप्पणी को लेकर शनिवार को सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि मंत्रियों का काम कॉमेडी सर्कस चलाना नहीं बल्कि अर्थव्यवस्था को सुधारना है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि भाजपा नेताओं को जो काम मिला है उसको करने की बजाय वे दूसरों की उपलब्धियों को झुठलाने में लगे हैं। नोबेल पाने वाले ने अपना काम ईमानदारी से किया, नोबेल जीता। प्रियंका ने तंज कसते हुए कहा, अर्थव्यवस्था ढही जा रही है। आपका काम उसको सुधारना है न कि कॉमेडी सर्कस चलाना। 


दरअसल, गोयल ने अर्थशास्त्र के क्षेत्र में 2019 के नोबेल पुरस्कार के लिए चुने गये भारतीय-अमेरिकी अभिजीत बनर्जी को शुक्रवार को वाम की ओर झुकाव वाला बताया। गोयल ने पुणे में संवाददाताओं से कहा कि मैं अभिजीत बनर्जी को नोबेल पुरस्कार जीतने की बधाई देता हूं। आप सभी जानते हैं कि उनकी सोच पूरी तरह वाम की ओर झुकाव वाली है। भाजपा नेता ने कहा कि बनर्जी ने कांग्रेस द्वारा प्रस्तावित 'न्याय' योजना का समर्थन किया और भारत की जनता ने उनकी सोच को नकार दिया। बनर्जी ने हाल ही में कहा था कि भारतीय अर्थव्यवस्था डगमगा रही है और इस समय उपलब्ध आंकड़े बहुत जल्द देश की अर्थव्यवस्था के उबरने का आश्वासन नहीं देते।


थम गया है चुनावी प्रचार,संपर्क बाकी

नई दिल्ली। हरियाणा-महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव और यूपी के 11, हिमाचल प्रदेश के दो सीटों पर उपचुनावों के लिए शनिवार शाम छह बजे चुनाव प्रचार थम जाएगा। महाराष्ट्र में विधानसभा की 288 जबकि हरियाणा में 90 सीटे हैं। इसके अलावा, देश के अलग-अलग राज्यों में 64 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव भी है।21 अक्तूबर को मतदान है। यूपी विधानसभा की 11 सीटों पर उपचुनाव के लिए 110 उम्मीदवार मैदान में हैं। प्रदेश में सहानपुर की गंगोह, रामपुर जिले की रामपुर, अलीगढ़ की इगलास, लखनऊ की कैंट, कानपुर नगर की गोविंद नगर, चित्रकूट की मानिकपुर, प्रतापगढ़ की प्रतापगढ़, बाराबंकी की जैदपुर, आंबेडकर नगर की जलालपुर, बहराइच की बलहा और मऊ जिले की घोसी विधानसभा सीट पर उपचुनाव होना है।


भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, महामंत्री संगठन सुनील बंसल और प्रदेश सरकार के मंत्रियों ने चुनावी सभाएं और बैठकें की हैं। वहीं कांग्रेस के लिए प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और सपा के लिए प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल सहित अन्य नेताओं ने भी प्रचार किया है।


हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों के लिए 21 अक्तूबर को सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक वोटिंग होगी। हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अनुराग अग्रवाल ने बताया कि लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 की धारा 126 के तहत मतदान की समाप्ति के लिए नियत किए गए समय के साथ समाप्त होने वाले 48 घंटों की समयावधि के दौरान किसी भी तरह का प्रचार-प्रसार बंद हो जाता है।


हिमाचल के धर्मशाला और पच्छाद विधानसभा क्षेत्रों में 21 अक्तूबर को होने वाले उपचुनाव से पहले शनिवार को चुनावी शोर थम जाएगा। रविवार को प्रत्याशी और कार्यकर्ता डोर-टू-डोर प्रचार करेंगे। प्रचार के बंद होने के बाद जिले से बाहर के नेता तत्काल जिला छोड़ देंगे।


रोहित का अफ्रीका के खिलाफ शतक

रांची। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने दक्षिण अफ्रीका के साथ जारी तीन मैचों की सीरीज में तीसरे शतक के साथ अपने करियर में 2000 टेस्ट रन पूरे कर लिए है। रोहित शर्मा ने झारखंड क्रिकेट संघ मैदान पर जारी तीसरे टेस्ट मैच के पहले दिन अपना शतक पूरा किया। इस सीरीज में रोहित का यह तीसरा शतक है। रोहित ने विशाखापट्टनम में आयोजित पहले टेस्ट मैच की दोनों पारियों में शतक लगाया था। इस सीरीज से पहले रोहित के नाम सिर्फ तीन शतक थे लेकिन उनके नाम 30 टेस्ट मैचों में छह शतक हो गए हैं। रोहित ने अब तक कुल 30 टेस्ट मैचों की 51 पारियों में 46.58 के औसत से 2003 रन बना लिए हैं। उनके नाम 10 अर्धशतक भी हैं।
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में पहला छक्का जड़ते ही वे आइसीसी वल्र्ड टेस्ट चैंपियनशिप में अब तक सबसे ज्यादा छक्के जडऩे वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं। रोहित शर्मा ने वल्र्ड टेस्ट चैंपियनशिप के तीसरे मैच की अपनी चौथी पारी में 14वां छक्का जड़ा और बेन स्टोक्स को पीछे छोड़ दिया, जो एशेज सीरीज में पांच टेस्ट मैच खेल चुके हैं। रोहित शर्मा के नाम 14 छक्के, बेन स्टोक्स के 13, मयंक अग्रवाल के 7 और रवींद्र जडेजा के नाम 7 छक्के हैं।


कमलेश हत्याकांड की जांच करेगी एनआईए

कमलेश तिवारी मर्डर केस की जांच करेगी एनआईए


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के बहुचर्चित कमलेश तिवारी हत्याकांड को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त रूप दिखाया है। उन्होंने इस मर्डर केस की जांच एनआईए से कराने की बात कही है। उन्होंने कहा कि एसआईटी (एसआईटी) एनआईए को इसमें मदद करेगी।


बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी शनिवार शाम को महाराष्ट्र में चुनावी जनसभा करने के बाद लौटने पर कमलेश तिवारी के परिजनों से मुलाकात करेंगे। कमलेश तिवारी के परिजनों और लखनऊ प्रशासन के बीच समझौता हो गया है। समझौते के तहत प्रशासन ने कमलेश तिवारी के परिजनों को आर्थिक मदद देने, बड़े बेटे के लिए सरकारी नौकरी की अनुशंसा करने, लखनऊ शहर के अंदर एक उचित मकान की व्यवस्था करने और परिवार की सुरक्षा के लिए 48 घंटे में उचित व्यवस्था करने की बात कही है।


वैसे तो समझौते में बहुत सारी बातें हैं। लेकिन कमलेश तिवारी के शुभचिंतकों और प्रशासन के बीच जिन मांगों पर सहमति बनी है उनमें कुछ खास मांग ये हैं, कमलेश तिवारी के परिजनों को लखनऊ शहर के अंदर एक उचित मकान की व्यवस्था की जाएगी। इतना ही नहीं परिजनों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 48 घंटे के अंदर सुरक्षा की व्यवस्था की जाएगी।


14 लाख के अवैध मादक पदार्थ बरामद

 क्राइम ब्रांच पुलिस टीम व सिविल लाइन पुलिस की संयुक्त टीम ने नशे का कारोबार करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए करीब चौदह लाख की चरस,गांजा, स्मेक बरामद व मोबाइल,इलेक्ट्रॉनि कांटे आदि भी किए बरामद


एसएसपी अभिषेक यादव ने क्राइम ब्रांच पुलिस टीम को पच्चीस हजार रुपये पुरस्कृत करने कि की घोषणा, व सिविल लाइन पुलिस टीम की इस सफ़लता पर की हौसला अफ़जाई


तस्लीम बेनकाब


मुजफ्फरनगर। एसएसपी अभिषेक यादव का करीब सौ दिन के बेहतरीन कार्यकाल में पुलिस बल में आमूलचूल परिवर्तन तो देखने को मिला ही है। वही इनकी कम्युनिटी पुलिसिंग भी लाजवाब है ओर साथ ही अपराधियों पर नकेल भी मजबूती के साथ कस रहे है। इनके समय में मुजफ्फरनगर पुलिस ने कई बेहतर अच्छे कारनामों को अंजाम दिया है जिस कारण पुलिस का मनोबल बढ़ा हुआ है।


एसएसपी अभिषेक यादव व पुलिस अधीक्षक नगर सतपाल आंतिल के द्वारा अपने अधिनस्थों को गुडवर्क पर शाबाशी देना और उनका उत्साहवर्धन करना वास्तव में हर प्रकार से प्रशंसनीय है। वही एक बार फिर पुलिस अधीक्षक नगर सतपाल आंतिल के नेतृत्व में दोनो संयुक्त टीमो में क्राइम ब्रांच टीम में उप निरीक्षक प्रवेश शर्मा,थानाध्यक्ष सिविल लाइन समय पाल अत्री उप निरीक्षक अनित यादव, उप निरीक्षक राधेश्याम यादव हैड कांस्टेबल अशोक खारी, हैड कांस्टेबल अरविंद कुमार, कॉस्टेबल सोनू शर्मा, कॉन्स्टेबल जितेंद्र त्यागी,कॉस्टेबल हरविंदर, कॉस्टेबल विनीत,कॉस्टेबल  सत्येंद्र,कॉन्स्टेबल विकेश कुमार व कॉस्टेबल पंकज कुमार ने वह कर दिखाया जिसकी उनसे आशा की जाती रही हैं।


कुछ समय पूर्व भी क्राइम ब्रांच ने लखिया इनामी रोहित सांडू को मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था ओर उसके बाद करोड़ो रूपये की अवैध शराब के साथ ऐसे लोगो को पकड़ कर बेनकाब किया था जो अवैध रूप से शराब बनाकर लोगो की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहें थे। इसी शानदार गुडवर्क पर एसएसपी मुजफ्फरनगर अभिषेक यादव व पुलिस अधीक्षक नगर सतपाल आंतिल को ऐसे बड़े गिरोह का पर्दाफाश कर व अपनी बेहतरीन कार्यशैली का लोहा मनवाकर शासन स्तर तक वाह वाही मिली थी।


ओर एक बार फिर बेहतरीन परफॉर्मेंस का नमूना दिखाते हुए क्राइम ब्रांच व थानां सिविल लाइन पुलिस की संयुक्त टीम ने उच्चाधिकारियों के मार्ग निर्देशन में नशे का कारोबार करने वाले ऐसे गैंग को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की हैं।


जो अवैध चरस,गांजा व स्मेक का धंधा कर युवाओं को नशे का आदी बनाते थे इनके पकड़े जाने से नशा खोरी में लगेगी लगाम तो वही ऐसे अवैध नशा खोरो के खिलाफ़ सख्त कानूनी कार्यवाही से आमजन में पुलिस का हो रहा हैं इकबाल बुलंद। प्रेस वार्ता में एसएसपी अभिषेक यादव ने खुलासा करते हुए बताया कि यह एक सरकारी भांग के ठेके का लाइसेंस अपने रिश्तेदार सोनू पुत्र अतर सिंह निवासी सेनपुर थानां बुढ़ाना के नाम पर लिया हुआ हैं तो वही यह लोग ठेके की आड़ में अवैध धंधे करते हैं और अंतर राज्य में अपना नेतत्व फैलाकर अवैध नशे का कारोबार करते थे।


क्राइम ब्रांच टीम व थाना सिविल लाइन पुलिस की संयुक्त टीम ने अंतर राज्य स्तर पर अवैध मादक पदार्थों चरस, गांजा,स्मैक आदि का कारोबार करने वाले गैंग का पर्दाफाश कर 6 शातिर तस्करो को गिरफ्तार किया है तो वहीं उनके कब्जे से लगभग ₹1200000 का 65 किलो, 50 ग्राम गांजा, व एक लाख रुपये की 40 ग्राम स्मैक एवं पचास हजार रुपये  की डेढ़ किलोग्राम चरस व 32000 पैकिंग की पन्नी एवं पांच इलेक्ट्रॉनिक कांटे तथा 11 मोबाइल फोन व अन्य सामान भी पुलिस टीम ने बरामद किया है जिनकी कीमत करीब ₹1400000 बताई जा रही है।


तो वही शातिर तस्करों के नाम मनोज पुत्र श्रीचंद् बुढ़ाना व रजनीश पुत्र राम भजन  ग्राम गड़नापुर थाना हरपालपुर हरदोई, व तीसरे का नाम जितेंद्र पुत्र चंद्रपाल सिंह निवासी क्वारसी जनपद अलीगढ़ व चौथे आरोपी का नाम बालेंद्र पुत्र राजवीर निवासी कुरथल थाना बुढ़ाना व पांचवे आरोपी का नाम राहुल पुत्र जय कुमार निवासी कुरथल थाना बुढ़ाना जिला मुजफ्फरनगर व छठे आरोपी का नाम संजय पुत्र रामपाल निवासी पंडारी नवाबगंज थाना सांडी जनपद हरदोई बताया जा रहा है। वहीं फरार हुए तस्कर का नाम प्रमोद पुत्र धन्नी निवासी छपरगढ़ थाना दनकौर जनपद गौतम बुध नगर बताया जा रहा हैं।


इस बेहतरीन गुड वर्क को अंजाम देने वाली संयुक्त टीमों में क्राइम ब्रांच टीम में उप निरीक्षक प्रवेश शर्मा, थानाध्यक्ष सिविल लाइन समय पाल अत्री उप निरीक्षक अनित यादव, उप निरीक्षक राधेश्याम यादव हैड कांस्टेबल अशोक खारी, हैड कांस्टेबल अरविंद कुमार, कॉस्टेबल सोनू शर्मा, कॉन्स्टेबल जितेंद्र त्यागी,कॉस्टेबल हरविंदर, कॉस्टेबल विनीत,कॉस्टेबल  सत्येंद्र,कॉन्स्टेबल विकेश कुमार व कॉस्टेबल पंकज कुमार आदि रहे। तो वही उच्च अधिकारियों ने 25 हजार रुपये पुरस्कृत करने की घोषणा तथा  क्राइम ब्रांच टीम व थाना सिविल लाइन पुलिस टीम की हौसला अफजाई कर उनकी पीठ भी थपथपाई है।


वाहनों से डीजल चुराने वाले गिरफ्तार

नई मंडी पुलिस ने मुठभेड़ में वहानों से तेल चुराने वाले गैंग को किया गिरफ्तार


भारी मात्रा में डीजल व डीजल चोरी करने के उपकरण भी पुलिस ने किए बरामद


नई मंडी प्रभारी संजीव कुमार  व उनकी पुलिस टीम के लगातार गुडवर्क जारी,अपराधियों पर पुलिस पढ़ रही भारी


तस्लीम बेनकाब


मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर पुलिस के बेहतरीन कारनामों से आमजन बेहदखुश नजर आ रहा हैं तो वही थानाप्रभारी नई मंडी संजीव कुमार व उनकी टीम की तत्प्रता से अपराधीयों के हौसले पस्त होते दिखाई दे रहें तथा लगातार सफलताओं का दौर शुरू किया हुआ हैं और अपनी बेहतरीन पुलिसिंग का नमूना पेश किए हुए हैं तो वही एसएसपी अभिषेक यादव व पुलिस अधीक्षक नगर सतपाल आंतिल के मार्गदर्शन में व पुलिस क्षेत्राधिकारी हरीश भदौरिया के नेतृत्व में थानाप्रभारी नई मंडी संजीव कुमार व एसएसआई संजय कुमार,एसआई करन नागर, व उनकी टीम को एक ऐसी सफलता मिली जो हाईवे पर खड़े वहानों से डीजल तेल चोरी करने वाले गैंग को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया यह तेल चोर गिरोह तेल चोरी कर बेच देता था।


थाना नई मंडी प्रभारी संजीव कुमार को मुखबिर की सूचना मिली थी कुछ लोग वाहनों से डीजल चोरी कर कर रहे हैं जिस पर थाना प्रभारी नई मंडी संजीव कुमार ने एक टीम गठित कर मुखबिर की बताई हुई जगह जौली रोड ईदगाह के पास कुकड़ा हाईवे के पास  एसएसआई संजय कुमार व उप निरीक्षक करण नागर हेड कांस्टेबल अजय कुमार कांस्टेबल तरुण पाल कॉस्टेबल सविंदर कॉस्टेबल गजेंद्र कॉस्टेबल जयदीप ने दबिश दी तो पुलिस को आता देख तेल चोर गिरोह ने नई मंडी पुलिस पर जान से मारने की नीयत से फायर झोंक दिया जिसपर नई मंडी पुलिस ने भाग रहे बदमाशों को चारों ओर से घेर  कर गिरफ्तार किया पकड़े गए शातिर तेल चोर गिरोह से नई मंडी पुलिस ने एक मस्कट 315 बोर मय एक खोका कारतूस व पांच जिंदा  कारतूस 315 बोर व दो अदद  छुरी तथा एक 10 टायरा ट्रक जिसपर फर्जी नम्बर की नम्बर प्लेट लगाओ हुई थी व 320 लीटर डीजल मय डीजल चुराने के उपकरण की 3 बाल्टी एक पाइप 1 बोल्ट रिवर्च गैज आदि भी पुलिस ने बरामद किया हैं।


तो वही पकड़े गए तेल चोर गैंग के नाम ब्रजपाल उर्फ बिरजू पुत्र ब्रह्मपाल सिंह निवासी ग्राम बहेड़ी थाना कोतवाली जिला मुजफ्फरनगर व दूसरे आरोपी का नाम उमेद पुत्र की लीला निवासी खोकनी  थाना खतौली व तीसरे आरोपी का नाम जाकिर पुत्र बदरुद्दीन कादयान कस्बा हर्रा थाना सरूरपुर जिला मेरठ को गिरफ्तार किया है तो वही गुल्लू पुत्र निवासी सिंघावली थाना कंकरखेड़ा जिला मेरठ वह दूसरे फरार आरोपी जाहिद निवासी थाना सिखेड़ा थाना पिलखुवा जनपद हापुड़ हाल पता रोटा बाईपास मेरठ मौके से फरार होने में सफल रहा।


नगर-निगम में 36 लाख का घोटाला

बरेली। नाला निर्माण में खेल करने का मामला सामने आया है।पुराने नाले की मरम्मत कराकर 36 लाख रुपए हजम करने में लगे इंजीनियरों पर कार्रवाई की तलवार लटक चुकी है। शनिवार को नगर आयुक्त सैमुअल पॉल एन ने निरीक्षण के दौरान इस तरह की तमाम खामियां पकड़ी है।सीबीगंज स्थित खलीलपुर में नगर आयुक्त ने औचक निरीक्षण कर नाला निर्माण,सफाई व्यवस्था और शौचालय की व्यवस्था परखी।नगर आयुक्त ने सबसे पहले छोटी बाजार कबाड़ बन चुकी दुकानों का निरीक्षण किया।इसके बाद खलीलपुर में 36 लाख रुपए की लागत से बनने वाले नाले का निरीक्षण किया तो वहां पुराने नाले पर ही मरम्मत का कार्य चल रहा था।इंजीनियर से पूछताछ में तमाम खामियां सामने आई है।बताया जा रहा है कि निर्माण विभाग ने पुराने नाले की ही मरम्मत कराकर उसको कागजों में नया नाला दिखा दिया। इसको लेकर इंजीनियरों से जवाब तलब किया गया है।इस मौके पर मुख्य अभियंता संजय सिंह चौहान, अतिक्रमण प्रभारी ललतेश कुमार सक्सेना सहित अधिकारी मौजूद रहे।।


रिपोर्ट:कपिल यादव


प्रयागराज विकास प्राधिकरण का भ्रष्टाचार

प्रयागराज ! एंटी करप्शन कमेटी के मीडिया प्रभारी वीरेंद्र कुमार मिश्र द्वारा विकास प्राधिकरण प्रयागराज के यहां से बनाए जा रहे मकान गुरु शंकर मिश्रा न्यू मानस नगर नैनी जनपद प्रयागराज के संबंध में जन सूचना अधिकार के तहत विगत 6 अगस्त को सूचना मांगी गई थी। मांगी गई सूचना के संबंध में जैसे ही विकास प्राधिकरण के जोनल अधिकारी जोन 4 आलोक कुमार पांडेय को हुई, उन्होंने अपने आप को बचाने के लिए बैक डेट में 2 अगस्त को पत्रांक संख्या 77 से थाना नैनी को इस विषय का पत्र जारी कर दिया की मौके पर पहुंचकर कार्य को रुकवाया जाए। और इस कार्यवाही की जानकारी उन्हें भी दी गई कि विकास प्राधिकरण के यहां से कार्यवाही की गई है !


मांगी गई सूचना के दिनांक 6 अगस्त 2019 के संबंध में जन सूचना अधिकारी विकास प्राधिकरण प्रयागराज के यहां से पत्रांक संख्या 2995 दिनांक 16 सितंबर 2019 को पत्र जारी कर एक पेज रजिस्टर्ड पत्र दिनांक 24 सितंबर 2019 को वीरेंद्र कुमार मिश्र के यहां भेज दिया गया। मांगी गई सूचना से वीरेंद्र कुमार मिश्र जब संतुष्ट नहीं हुए तब दिनांक 11 अक्टूबर 2019 को जन सूचना विभाग मे जाकर मांगी गई सूचना के संबंध में बात की तब जाकर सूचना उपलब्ध हो पाई है। मांगी गई सूचना के संबंध में सूचना उपलब्ध हो जाने पर यह पता चला कि विकास प्राधिकरण के जोनल अधिकारी जोनल 4 आलोक कुमार पांडेय के द्वारा पत्रांक संख्या 77 दिनांक 3 नवंबर 2018 को कारण बताओ नोटिस गुरु शंकर मिश्रा को जारी किया गया था। तथा पत्रांक संख्या 77 दिनांक 3 नवंबर 2018 को अवैध निर्माण रोकने की नोटिस जारी की गई थी,तब बीरेंद्र कुमार मिश्र ने विकास प्राधिकरण के अधिकारी एवं कर्मचारी से मुलाकात करके बात किये कि आपके यहां से जब गुरु शंकर मिश्रा के विरुद्ध में दिनांक 3 नवंबर 2019 को कार्यवाही की गई थी तब अभी तक मकान कैसे बनाया जा रहा है। विकास प्राधिकरण के अधिकारी द्वारा यह बताया गया कि बहुत ही जल्द कार्यवाही की जाएगी,


वीरेंद्र कुमार मिश्र का कहना है कि नवंबर 2018 में जब कार्यवाही किया गया तब तीसरे मंजिले का फ्लोर छत 18 अगस्त 2019 को कैसे कंप्लीट करवा दिया गया।विकास प्राधिकरण के जोनल अधिकारी अपने आप को बचाने के लिए मांगी गई सूचना दिनांक 6 अगस्त 2019 के संबंध में बैक डेट में पत्रांक संख्या 77 दिनांक 2 अगस्त 2019 को गुरु शंकर मिश्रा को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया जारी किया गया तथा पत्रांक संख्या 77 दिनांक 2 अगस्त 2019 को आदेश जारी किया गया तथा पत्रांक संख्या 77 दिनांक 28 अगस्त 2019 को गुरु शंकर मिश्रा को पत्र जारी कर यह कहा गया कि अनाधिकृत निर्माण को इस आदेश के प्राप्ति के 15 दिन के अंदर स्वयं मकान को गिरा दें।यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो अधोहस्ताक्षरी द्वारा स्वयं उक्त निर्माण को गिरा देंगे और इसे गिराने का बयान आपसे भू राजस्व के अवशेष के रूप में वसूल कर लिया जाएगा। और पत्रांक संख्या 77 दिनांक 28 अगस्त 2019 को यह आदेश जारी किया गया कि विपक्षी द्वारा किए गए अनाधिकृत निर्माण से उत्तर प्रदेश नगर नियोजन एवं विकास अधिनियम 1973 की धारा 14 व 15 का घोर उल्लंघन होता है जिसे ध्वस्त कराने के अलावा अन्य कोई विकल्प नहीं है। जबकि डेढ़ माह का समय व्यतीत होने के बाद भी आज तक मकान ध्वस्त नहीं करवाया गया है। जिस के संबंध में वीरेंद्र कुमार मिश्र ने विकास प्राधिकरण प्रयागराज के उपाध्यक्ष के यहां शिकायती पत्र दिनांक 17 अक्टूबर 2019 को ऐसे भ्रष्ट अधिकारी के विरुद्ध में विभागीय कार्यवाही किए जाने संबंधी शिकायत किया गया है तथा गुरु शंकर मिश्रा न्यू मानस नगर नैनी प्रयागराज के मकान को ध्वस्त करवाए जाने संबंधी शिकायती पत्र दिया गया है।


वीरेंद्र कुमार मिश्र कहना है कि यदि इसके बाद भी कार्यवाही नहीं की गई तो जो भी इसमें संलिप्त है उन सब के विरुद्ध में उच्च न्यायालय में वाद दाखिल करेंगे ताकि ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विरुद्ध वह गुरु शंकर मिश्रा के विरुद्ध दंडात्मक कार्यवाही की जा सके।


बृजेश केसरवानी


सनौली बॉर्डर का औचक किया निरीक्षण

महाराजगंज। एसपी ने सोनौली बॉर्डर का लिया जायजा।
भारत नेपाल के सोनौली बार्डर पर पुलिस अधीक्षक महाराजगंज रोहित सिंह सजवान औचक पहुंच कर बार्डर के चौकसी का जायजा लिया और सुरक्षा को लेकर आवश्यक निर्देश दिए।
शनिवार की दोपहर लगभग 3 बजे पुलिस अधीक्षक महाराजगंज जिले के निचलौल, ठूठीबारी, मलिक परसा, बरगदवा थाने का भ्रमण करते हुए सोनौली बॉर्डर पर पहुंच गए और बॉर्डर पर चौकसी का जायजा लिया। इसके उपरांत श्री सजवान ने नागरिक पुलिस चौकी में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि अयोध्या प्रकरण, धारा 370 एवं त्योहारों के मद्देनजर सतर्कता बरती जा रही है। सीमा पर कड़ी चौकसी के निर्देश दिए गए हैं । उन्होंने यह भी कहा कि बॉर्डर पर एसएसबी और पुलिस संयुक्त रूप से ग्रस्त करेगी। संदिग्धों की पहचान की जाएगी, एसएसबी बॉर्डर पर निरंतर अपने टीम के साथ पेट्रोलिंग कर रही है। उन्होंने नेपाल पुलिस के इलाका पुलिस कार्यालय बेलहिया के प्रभारी निरीक्षक कमल बेलवासे से बातचीत किया और आवश्यक जानकारी ली।
श्री सजवान ने फरेंदा कस्बे के एचडीएफसी बैंक में हुए लूट की घटना पर चर्चा करते हुए कहा कि टीम लगी है शीघ्र खुलासा कर लिया जाएगा।


सैनिक स्कूलों में लड़कियों की भर्ती को मंजूरी

नई दिल्‍ली। देश के सैनिक स्‍कूलों में लड़कियों के एडमिशन को लेकर शुक्रवार को बड़ा फैसला लिया गया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सैनिक स्‍कूलों में लड़कियों की भर्ती को मंजूरी दे दी है। यह फैसला दो साल पहले रक्षा मंत्रालय की ओर से मिजोरम के सैनिक स्‍कूल में लड़कियों की भर्ती को लेकर शुरू किए गए पायलट प्रोजेक्‍ट की सफलता के बाद लिया गया है।
रक्षा मंत्रालय की ओर से दी गई इस मंजूरी के अनुसार 2021-2022 शैक्षणिक सत्र से सैनिक स्‍कूलों में लड़कियों की भर्ती शुरू होगीी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इसके लिए पूरी व्‍यवस्‍था और स्कूलों में महिला स्टाफ की व्यवस्था करने के निर्देश जारी किए हैं। रक्षा मंत्रालय ने सेना में महिलाओं की बराबर हिस्सेदारी, लैंगिक समानता और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' अभियान को आगे बढ़ाने के लिहाज से यह फैसला लिया है।


भारत वासियों के लिए जीता हूं

रेवाड़ी में बोले पीएम मोदी- पहले देश में बम धमाके हुआ करते थे, वे  रुके या नहीं


रेवाडी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज हरियाणा के रेवाड़ी पहुंचे। पीएम ने यहां जनता को संबोधित करते हुए कहा कि पहले देश में बम धमाके हुआ करते थे, वे रुके या नहीं? अब आ'तंकवादी अपने घरों में घुसकर मा'रे जाते हैं। जो लोग आ'तंकवाद का पोषण करते हैं, वे दुनिया के सामने रो रहे हैं।


इसके अलावा प्रधानमंत्री ने सरकार की पांच साल की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए उस दिन को भी याद किया जब उन्हें बीजेपी की ओर से प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाया गया था। उस वक्त उन्होंने पहली रैली रेवाड़ी में की थी। पीएम ने कहा कि 5 साल में देश को सक्षम और समर्थ सरकार देने का मैंने वादा किया था और निभाया भी।


पीएम मोदी ने कहा कि उस वक्त मैंने कहा था कि भारत में ऐसी सरकार होनी चाहिए जो दुनिया से आंख से आंख मिलकर बात करे। आज हिंदुस्तान आंख झुकाकर नहीं बल्कि आंख मिलाकर बात करता है। पीएम ने कहा कि 40 साल से वन रैंक, वन पेंशन की मांग हो रही थी, उसे हमने लागू किया। इससे केवल हरियाणा के दो लाख पूर्व सैनिकों परिवारों को करीब- करीब 900 करोड़ रुपये का एरियर मिल रहा है।पीएम मोदी ने कहा कि कश्मीर में सालों से परिवारों की चिंता की गई और अलगाववाद को बल दिया गया, जिससे समस्या बढ़ती गई। ऐसे में दिल्ली दुर्बल हुई तो कश्मीरी पंडितों को डरा दिया गया। रैली में उमड़ी भीड़ को देखकर मोदी ने कहा कि भाइयों-बहनों आपने मुझे आंख बंद करने के लिए नहीं बिठाया मौज-मस्ती के लिए नहीं बिठाया।


कुर्सी के लिए नहीं देश के लिए जीता हूं। 125 करोड़ भारतीयों के लिए जीता हूं।उन्होंने कहा कि हमने अनुच्छेद 370 हटाया है तो कांग्रेस का गुस्सा सातवें आसमान पर है। ऐसे लोगों को सजा देनी चाहिए और राजनीति से छुट्टी कर देनी चाहिए।


कॉलेज-विद्यालयों में मोबाइल पर प्रतिबंध

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने राज्य के कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर बैन लगा दिया है। उत्तर प्रदेश में उच्च शिक्षा निदेशालय द्वारा इस मामले में एक सर्कुलर जारी किया गया है। सर्कुलर में विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के अंदर मोबाइल फोन के उपयोग पर पूर्णतया बैन लगाने का उल्लेख किया गया है।


खबर के मुताबिक छात्रों को अब विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के अंदर मोबाइल फोन लेने या उपयोग करने की अनुमति नहीं होगी। यह बैन राज्य के सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के शिक्षकों पर भी लागू है।उच्च शिक्षा निदेशालय ने राज्य के सभी कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में छात्रों के लिए बेहतर शिक्षण वातावरण सुनिश्चित करने के लिए सर्कुलर जारी किया है। सरकार ने पाया कि बड़ी संख्या में छात्र और शिक्षक, कॉलेज के में पढ़ाई की जगह मोबाइल फोन पर अपना बहुमूल्य समय व्यतीत कर रहे थे।


डीएम-एसपी ने सुनी जन समस्याएं

समाधान दिवस में कोखराज थाना पहुँचे डीएम-एसपी


कौशाम्बी। कोखराज थाना में डीएम व एसपी ने सुनी जनता की फरियाद। थाना कोखराज मे समाधान दिवस में जनता की समस्याओं की सुनवाई करते हुए जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने भूमि सम्बंधित सभी मामलों के निस्तारण हेतू लेखपालों को आदेश दिया है। समाधान दिवस के अवसर पर डीएम,एसपी ने कहा कि किसी भी मामले में लापरवाही बर्दाश्त नही की जायेगी। साथ में सीओ सिराथू रामवीर सिंह थाना प्रभारी अजीत कुमार पाण्डेय, इन्द्र पाल व लेखपाल रियाज अहमद,अमर सिंह पटेल सहित इलाके के गणमान्य नागरिक उपस्थित रहेे।


अजीत कुशवाहा


विज्ञापन एवं सार्वजनिक सूचनाएं


6 दिन की बच्ची के पेट में भ्रूण मिला

छह दिन की बच्ची के पेट में मिला भ्रूण, लाखो में से किसी एक नवजात में सामने आता है ऐसा मामला


राजनांदगांव।  शहर में एक छह दिन की बच्ची के पेट में भ्रूण मिला है । यह भ्रूण बच्चादानी नहीं बल्कि उस बच्ची के पेट में  है। शहर में संचालित विधि डायग्नोस्टिक और रिसर्च सेंटर में बच्चे की सोनोग्राफी करते समय डॉ.अमित मोदी (रेडियोलॉजिस्ट) हतप्रभ रह गए, जब उन्होंने जांच के दौरान पाया कि नवजात बच्ची के पेट में एक और भ्रूण मौजूद है । डॉक्टर ने दावा किया कि छत्तीसगढ़ में इस तरह का यह पहला केस है । चिकित्सकीय भाषा में इसे 'भ्रूण' के अंदर 'भ्रूण' (फेट्स इन फेटू) कहा जाता है । लगभग 5 लाख जीवित बच्चों में से एक के साथ यह स्थिति निर्मित होती है । अब तक पूरे विश्व में इस तरह के लगभग दो सौ मामले सामने आए हैं । भ्रूण के अंदर भ्रूण पाए जाने वाली बच्ची का वजन लगभग ढाई किलो है और अब चिकित्सक इस बच्ची के वजन के चार किलो के आसपास होने के बाद ऑपरेशन के जरिये उसके पेट में मौजूद भ्रूण को निकालने का काम करेंगे । इसके लिए करीब 4 महीने का इंतजार करना पड़ेगा ।


कैसे होता है भ्रूण के अंदर भ्रूण:- जब एक माता जुड़वां बच्चों से गर्भवती होती है तब एक अनोखी और अत्यंत दुर्लभ स्थिति बनती है । जिसमें एक भ्रूण दूसरे भ्रूण के उदर में स्थान ले लेता है । भ्रूण में भ्रूण की उत्पत्ति के बारे में दो सिद्धांत हैं । पहला वह स्थान है जहां मेजबान जुड़वां के शरीर के अंदर एक परजीवी जुड़वां भ्रूण विकृत होता है और दोनों रक्त की आपूर्ति को साझा करते हैं । दूसरी बात यह है कि भ्रूण के अंदर भ्रूण टेरेटोमा का एक (अत्यधिक विभेदित) रूप है । ऊत्तकों से विदेशी ट्यूमर से उस क्षेत्र या शरीर के उस हिस्से में बना होता है जिसमें वे पाए जाते हैं ।   


हरियाणा में टूटेंगे सब रिकॉर्ड: मोदी

हिसार। हरियाणा के सोनीपत के गोहाना में चुनावी रैली को संबोधित करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिसार पहुंचे। यहां रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हरियाणा से मुझे विशेष लगाव है। उन्होंने कहा कि हरियाणा ने हर बार मेरी झोली भरी है। इस बार हिसार पहले से भी प्रचंड जनादेश बीजेपी के पक्ष में देने वाला है। 
पीएम मोदी ने कहा कि इस बार हरियाणा में सारे रिकॉर्ड टूटेंगेे। हरियाणा का मुझ पर पूरा अधिकार है, मैं आपके सुख-दुख का साथी हूं। पीएम ने रैली में कांग्रेस पर जमकर हमले किए। उन्होंने कहा कि हम काम करते हैं और वो कारनामा करते हैं, हमारा काम करने में विश्वास है और कांग्रेस का कारनामा करने में यकीन है। मेरा पिछला कार्यकाल सफाई और गड्ढे भरने में गया, अब गति से काम करना है और नई इबारत लिखनी है।  


सरकार ने दिया बोनस का तोहफा

जयपुर। दिवाली से पहले ही सूबे के 6 लाख सरकारी कर्मियों को गहलोत सरकार ने बोनस का तोहफा दिया है। राज्य सरकार ने शुक्रवार को एक आदेश जारी कर कर्मचारियों को बोनस देने की राह खोल दी है। आदेश के अनुसार अब कर्मियों को अधिकतम 6,774 रुपये बोनस मिलेगा। इस घोषणा का कर्मचारी वर्ग को लंबे समय से इंतजार था। गौरतलब है कि बोनस के चलते सरकार पर करीब 406 करोड़ रुपये का अतिरिक्त वित्तीय भार आएगा। सरकार की तरफ से आदेश निकलने के साथ ही कर्मचारियों में खुशी की लहर है।
जानकारी के अनुसार सरकार के इस फैसले से प्रदेश के करीब 6 लाख कर्मचारियों को लाभ मिलेगाा। बोनस का यह लाभ राज्य सेवा के अधिकारियों (राजपत्रित को छोड़कर) पे मेट्रिक लेवल-12 और इससे नीचे का वेतन ले रहे कर्मचारियों को ही मिलेगा।



मिठाई के डिब्बे ने खोला हत्यारों का राज

कमलेश तिवारी हत्याकांड: गुजरात से आए थे हत्यारे, मिठाई के डिब्बे ने खोला राज


लखनऊ। हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी हत्याकांड में यूपी पुलिस ने 24 घंटे में खुलासा कर दिया है। पुलिस ने घटना में शामिल तीन लोगों को गुजरात के सूरत से गिरफ्तार किया है। वहीं, बिजनौर से षड्यंत्र में शामिल मौलाना अनवारुल हक और मौलाना नईम कासनी को हिरासत में लिया गया है।


यूपी डीजीपी ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि घटनास्थल से जांच के दौरान मिले मिठाई के डिब्बे से अहम सुराग मिले और गुजरात पुलिस की मदद से तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। कमलेश तिवारी के परिजनों द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी में बिजनौर निवासी अनवारूल हक और नईम काजमी के नाम हैं और उन्हें भी हिरासत में ले कर पूछताछ की जा रही है। डीजीपी ने प्रारंभिक जांच के आधार पर बताया कि 2015 के बयान के कारण इस घटनाक्रम को अंजाम दिया गया है। इसके साथ ही इसमें किसी आतंकी संगठन की संलिप्तता के कोई सबूत अभी तक नहीं मिले हैं। उन्होंने बताया कि अपराधी खास कपड़े पहनकर आए थे। हत्याकांड के तार गुजरात से जुड़े हैं। सूरत के मौलाना मोसिन सलीम शेख, फैजान जिलानी और रशीद को गिरफ्तार किया है। रशीद को कंप्यूटर का ज्ञान है और दर्जी का काम करता है। कुछ और लोगों को हिरासत लिया गया था, लेकिन पूछताछ के बाद उन्हें छोड़ दिया।


सैनिकों को मिली बुलेट प्रूफ जैकेट

नई दिल्ली। भारतीय सेना को पहली बार देश में बनी 40 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट्स की आपूर्ति की गई है। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन में जुटे सैनिकों को इन जैकेट्स की पहली खेप उपलब्ध करवाई जाएगी।। एसएमपीपी प्राइवेट लिमिटेड के मेजर-जनरल अनिल ओबेरॉय (सेवानिवृत्त) ने कहा, 'हमें उम्मीद है कि हम सेना के लिए बुलेटप्रूफ जैकेट के ऑर्डर को अच्छी तरह से समय से पहले मुहैया करा देंगे।'


उन्होंने आगे बताया कि हमें पहले साल में 36,000 जैकेटों की आपूर्ति करनी थी, लेकिन हम समय से पहले हैं और हमने भारतीय सेना को 40,000 जैकेटों की आपूर्ति की है। सरकार ने यह ऑर्डर पूरा करने के लिए कंपनी को 2021 तक की तारीख दी है, लेकिन 2020 के अंत तक सारी जैकेट्स बन कर तैयार हो जाएंगी। बता दें कि पिछले साल, रक्षा मंत्रालय ने स्वदेशी निर्माता एसएमपीपी लिमिटेड को 1.8 लाख से अधिक बुलेटप्रूफ जैकेट प्रदान करने का ठेका दिया था। बताया गया कि जैकेटों को कानपुर में केंद्रीय ऑर्डिनेन्स डिपो को आपूर्ति की जा रही है, जहां से उन्हें जम्मू और कश्मीर और अन्य हिंसा प्रभावित क्षेत्रों में भेजा जाएगा।


ओबेरॉय ने दावा किया कि बुलेटप्रूफ जैकेट एके-47 राइफल के हमले का भी सामना कर सकती हैं। उन्होंने कहा, 'देश में बनी यह बुलेटप्रूफ जैकेट्स हार्ड स्टील से बनी गोलियां झेल सकती है। एके-47 और कई अन्य हथियार इस पर बेअसर होंगे। हमारी जैकेट इसके प्रभाव को अवशोषित कर सकती है'ओबेरॉय ने कहा कि हमने बुलेटप्रूफ जैकेट के साथ ऐसे हेल्मेट भी बनाए हैं जो एके-47 हार्ड स्टील कोर गोला बारूद के खिलाफ सैनिकों की रक्षा कर सकते हैं। इसमें फेशियल विसर भी होगा। हम अपने सैनिक के सिर से पैर तक का ख्याल रखेंगे।' ओबेरॉय ने बताया कि कंपनी के हेल्मेट पहले से ही भारत में विभिन्न सशस्त्र बलों अर्थात् केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल द्वारा उपयोग किया जा रहे हैं।


आगरा सड़क हादसे में 4 की मौत

आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा में भीषण सड़क हादसे में चार लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। मृतकों में दो पुरूष और दो महिलाएं शामिल हैं। हादसे में बुरी तरह घायल गर्भवती महिला की हालत बेहद नाजुक है, जिसको अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जा रहा है कि यह हादसा उस समय हुआ, जब सभी लोग गर्भवती महिला को प्रसव के लिए कार से आगरा के अस्पताल ले जा रहे थे।


हाथरस जिला के बिसावर गांव के रहने वाले रूपेश की पत्नी सीमा को प्रसव पीड़ा हुई। परिवार चाहता था कि उसकी डिलीवरी आगरा के किसी अच्छे अस्पताल में हो लिहाजा रूपेश अपनी पत्नी सीमा और मां विद्यावती को कार में लेकर आगरा रवाना हो गया। कार में रूपेश के परिजन भी सवार थे। पांच लोग एक कार में सवार होकर जा रहे थे, तभी उनकी गाड़ी पीछे से एक ट्रक में जाकर घुस गई।



डीएसपी सहित 7 पर हत्या का मामला दर्ज

चंचल यादव
हापुड़। हिरासत में सिक्यूरिटी गार्ड की मौत के बाद राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की नोटिस के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस हरकत में आई। पुलिस ने एक डीएसपी समेत सात पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का अपराध दर्ज कर लिया है। वहीं तीन पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है।
अधिकारियों ने NPG को बताया कि गुरुवार रात को मृतक प्रदीप तोमर के भाई कुलदीप तोमर की शिकायत के आधार पर एक प्राथमिकी दर्ज की गई। करीब डेढ़ महीने पहले 35 वर्षीय प्रदीप को एक महिला की हत्या के मामले में पूछताछ के लिए हापुड़ के पिलखुवा इलाके में छिजारसी पुलिस थाने में हिरासत में लिया गया था। जिसकी रविवार रात कस्टडी में मौत हो गई। आरोप है कि पुलिस ने उसका थर्ड डिग्री टॉर्चर किया। इसके बाद ग्रामीणों ने गांव से लेकर मेरठ तक हंगामा किया।


प्रदीप का 10 साल के बेटा भी पिता के साथ पुलिस चौकी बताया था जिसने दावा किया कि उसके पिता को पूछताछ के दौरान बुरी तरह टॉर्चर किया गया था। बच्चे ने बताया, 'कम से कम 8 से 10 पुलिसवाले मेरे पिता को लगातार पीट रहे थे। वे उन्हें पेचकस से गोद रहे थे। इस दौरान पुलिसवाले शराब भी पी रहे थे और दर्द से कराहते मेरे पिता को पानी देने से इनकार कर रहे थे।' प्रदीप की हालत बिगड़ने पर पुलिसकर्मी उन्हें हापुड़ के लोकल अस्पताल में ले गए और इसके बाद मेरठ के अस्पताल में रिफर किया जहां यातनाओं के चलते उन्होंने दम तोड़ दिया।


पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में भी थर्ड डिग्री टॉर्चर की पुष्टि हुई है। हापुड़ के एसपी यशवीर सिंह का कहना है, 'रिपोर्ट में हत्या की वजह स्पष्ट नहीं है। आगे की जांच के लिए विसरा सैंपल ले लिया गया है। मृतक के कूल्हे और बांहे काली पड़ गई थीं जबकि पूरे शरीर में नीले निशान थे।'


राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने उत्तर प्रदेश सरकार, राज्य के पुलिस प्रमुख और मुख्य सचिव को नोटिस जारी किया और मामले पर उनकी रिपोर्ट मांगी। 16 अक्टूबर को बयान जारी कर आयोग ने कहा, “ मीडिया रिपोर्टों की सामग्री के आधार पर आयोग ने देखा है कि यह पुलिस हिरासत में एक व्यक्ति के मानवाधिकारों के उल्लंघन का शानदार उदाहरण है, जिसके लिए राज्य की पुलिस बल पर जवाबदेही निहित है।“
एनएचआरसी ने डीजीपी ओपी सिंह को राज्य पुलिस द्वारा भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए की गई कार्रवाई और भविष्य में इस तरह की घटना को रोकने के लिए उठाए गए कदमों का उल्लेख करने का निर्देश दिया।
आयोग ने यूपी सरकार के मुख्य सचिव को भी नोटिस जारी किया है और कहा है कि पीड़ित परिवार को उचित सुरक्षा मुहैया कराई जाए। मृतक का एक 11 साल का लड़का है जो इस घटना से आहत है, उसका भी ख्याल रखने की बात कही गई ।


दहशत फैलाने की कोशिश: योगी

लखनऊ। कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि इस तरह की घटनाएं अस्वीकार्य हैं। इसमें शामिल लोगों को छोड़ा नहीं जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर कमलेश तिवारी का परिवार उनसे मिलना चाहेगा तो उनसे मिलूंगा।  दशहत फैलाने के लिए इस घटना को अंजाम दिया गया है। लेकिन दशहत और भय फैलाने वालों के मंसूबों को कुचल दिया जाएगा। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।


इंडियन टीम ने खोए अहम विकेट

रांची। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे और अंतिम टेस्ट में यहां टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने पहले दिन शनिवार को लंच तक तीन विकेट पर 71 रन बनाए। भारत ने पहले सत्र में सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (10), चेतेश्वर पुजारा (0) और कप्तान विराट कोहली (12) के रूप में अपने तीन अहम विकेट खो दिए।


दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजों ने आखिकार अपना जलवा दिखाया और भारत को शुरुआती झटके देकर उसे कुछ हद तक जूझने पर मजबूर कर दिया। कागिसो रबाडा ने दो विकेट झटके, जबकि एनरिच नॉर्त्जे ने एक विकेट लिया। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा (38) और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (11) क्रीज पर मौजूद हैं। भारत पहले ही शुरू के दो मैच जीतकर तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना चुका है। भारत ने विशाखापत्तनम और पुणे में जीत दर्ज की थी।


विस अध्यक्ष पहली बार जाएंगे जेल

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी होने के नाते दिल्ली विधानसभा का एक महत्व है। इस विधानसभा ने विधायी मामलों में तमाम मानक कायम किए हैं और देश के विधानमंडलों में एक अलग पहचान बनाई है। लेकिन दिल्ली के विधायी इतिहास में पहली बार विधानसभा के अध्यक्ष को जेल की सलाखों के पीछे जाना होगा।


दिल्ली की एक अदालत ने राजधानी के विधानसभा स्पीकर रामनिवास गोयल को दोषी करार देते हुए 6 महीने की सजा सुनाई है। साथ ही दिल्ली के रॉउज एवेन्यू कोर्ट ने रामनिवास गोयल के साथ-साथ उनके बेटे सुमित गोयल समेत 5 लोगों को 6-6 महीने की सजा सुनाई है और एक-एक हजार का जुर्माना भी लगाया है। जानकारी के अनुसार यह मामला 2015 में विधानसभा चुनाव के समय का है।


2015 के दिल्ली विधानसभा चुनाव के समय भाजपा से जुड़े और लोकल बिल्डर मनीष घई ने गोयल के खिलाफ मतदान से एक दिन पहले, 6 फरवरी की रात अपने विवेक विहार स्थित घर में अपने समर्थकों के साथ जबरन घुसकर मारपीट करने का आरोप लगाया था। कोर्ट ने दिल्ली विधानसभा के स्पीकर रामनिवास गोयल को मारपीट के मामले में आईपीसी की धारा 448 के तहत दोषी करार दिया। जबकि उनके बेटे सुमित गोयल को धारा 323 यानी मारपीट करने के मामले में दोषी ठहराया गया है।
कौन हैं रामनिवास गोयल
राम निवास गोयल उत्तरी दिल्ली के शाहदरा विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं, जहां उन्होंने बीजेपी के जितेंद्र सिंह शंटी को 11 हजार वोटों के अंतर से पराजित किया। जिसके बाद उन्हें विधानसभा का अध्यक्ष बनाया गया।


योगी सरकार को दूसरी बार फटकार

नई दिल्ली। योगी आदित्यनाथ की सरकार को सर्वोच्च अदालत की जारी तल्खी के बीच दूसरी बार फटकार सुननी पड़ी। अभी एक मुस्लिम लड़की की याचिका पर सुनवाई के दौरान यूपी सरकार को सुप्रीम कोर्ट से फटकार सुने एक महीना भी नही बीता था, कि देश की सर्वोच्चय अदालत ने योगी सरकार को लेकर बड़ी टिप्पणी की है। 
सुप्रीम कोर्ट ने मंदिरों के प्रशासन से जुड़े मामले में यूपी सरकार को फटकार लगाते हुए पूछा है कि क्या उत्तर प्रदेश में जंगलराज है? सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि यहां के वकीलों को पता ही नहीं है कि किस नियम के तहत काम किया जा रहा है। कोर्ट ने इसके साथ ही पूछा कि उत्तर प्रदेश में किस कानून के तहत मंदिर और उसके संस्थाओं की निगरानी कर रही है। सुप्रीम कोर्ट ने इस दौरान ये भी पूछा कि सुनवाई के दौरान उत्तर प्रदेश सरकार का कोई अधिकारी अदालत में मौजूद क्यों नहीं है, जो वकील को जानकारी दे सके और सुप्रीम कोर्ट के सवालों का जवाब भी दे पाए।


गौरतलब है कि ये पूरा मामला बुलंदशहर की एक मंदिर से जुड़ा है। जहां मंदिर प्रशासन पर दान के दुरुपयोग का आरोप लगा है। आरोप लगने पर यूपी सरकार ने मंदिर को चलाने के लिए एक बोर्ड का गठन किया था। लेकिन तभी सुप्रीम कोर्ट में मंदिर की ओर से उत्तर प्रदेश की सरकार के खिलाफ याचिका दायर की गई। याचिका में आरोप लगाया गया था कि उत्तर प्रदेश की सरकार का ये निर्णय गलत है और मंदिर का बोर्ड बनाने में किसी कानून का पालन नहीं किया गया है।


चिदंबरम की याचिका पर फैसला सुरक्षित

नई दिल्ली। आईएनएक्स मीडिया केस में दिल्ली हाई कोर्ट के पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को जमानत नहीं देने को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने आज फैसला सुरक्षित रख लिया। 
दरअसल मनी लॉन्ड्रिंग केस में तिहाड़ में बंद चिदंबरम ने शीर्ष अदालत में दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश को चुनौती दी है। उधर कोर्ट में सुनवाई के दौरान सीबीआई ने अपनी दलील में कहा कि चिदंबरम की महज उपस्थिति ही गवाहों को डराने-धमकाने के लिए काफी है, उन्हें कम से कम तब तक जमानत नहीं दी जाए जब तक अहम गवाहों से पूछताछ नहीं हो जाती। सीबीआई ने कहा कि आज ऐसा दौर है जब आर्थिक अपराधों के आरोपी देश से भाग रहे हैं, एक राष्ट्र के रूप में हम इस समस्या से जूझ रहे हैं।श् सीबीआई ने कोर्ट को बताया कि भ्रष्टाचार मामले की जांच जारी है और सिंगापुर तथा मॉरीशस को भेजे गए आग्रह पत्र पर जवाब का इंतजार किया जा रहा है।
सीबीआई ने फाइल की चार्जशीट
उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले गुरुवार को दिल्ली की एक अदालत ने पी चिदंबरम को 24 अक्टूबर तक ईडी की कस्टडी में भेज दिया है और सीबीआई के केस में भी न्यायिक हिरासत 24 अक्टूबर तक बढ़ा दी गई है। आईएनएक्स मीडिया केस में सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम सहित 15 लोगों के खिलाफ आईएनएक्स मीडिया केस में चार्जशीट दाखिल की गई है। इसमें पूर्व मीडिया कारोबारी पीटर मुखर्जी, इंद्राणी मुखर्जी का नाम भी शामिल है। अब मामले की अगली सुनवाई 21 अक्टूबर को होगी।


बोकड़े को चीफ जस्टिस बनाने की सिफारिश

नई दिल्ली। भारत के 46वें मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने अपने कार्यकाल के दौरान कई बड़े फैसले सुनाए हैं। वहीं अपने रिटारमेंट से पहले राम मंदिर का मामला भी सुलझाना चाहते हैं। 
रंजन गोगोई ने 3 अक्टूबर 2018 को देश के मुख्य न्यायाधीश के रूप में अपना पदभार संभाला और आगामी 17 नवंबर को वो सेवानिवृत होंगे। जिसके बाद देश के नए मुख्य न्यायधीश को लेकर चर्चा जारी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सुप्रीम कोर्ट के नए चीफ जस्टिस की नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू हो गई है। मौजूदा चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने जस्टिस शरद अरविंद बोबडे को अगला चीफ जस्टिस बनाने की केंद्र सरकार से सिफारिश की है। प्रक्रिया के अनुसार, वर्तमान मुख्य न्यायाधीश ही अगले चीफ जस्टिस की सिफारिश करता है।
कौन हैं शरद अरविंद बोबडे
जस्टिस शरद अरविंद बोबडे मध्य प्रदेश हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस रह चुके हैं। सुप्रीम कोर्ट जज के तौर पर उन्होंने 12 अप्रैल, 2013 को कार्यभार संभाला है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के बाद जस्टिस बोबडे ही सबसे वरिष्ठ जज हैं। जब सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ प्रेस कॉन्फ्रें स की, तो कॉन्फ्रें स के बाद बार काउंसिल ने जस्टिस चेलमेश्वर से बात करने के लिए जस्टिस बोबडे से ही बात की थी।
जस्टिस बोबडे के कुछ बड़े फैसले 
जस्टिस शरद बोबडे उस बेंच का हिस्सा थे, जिसने आदेश दिया कि आधार कार्ड न रखने वाले किसी भी भारतीय नागरिक को सरकारी फायदों से वंचित नहीं किया जा सकता। मई, 2018 में जब कर्नाटक में चुनाव हुए और किसी को बहुमत नहीं मिला, तो राज्यपाल ने बीएस येदियुरप्पा को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के लिए बुलाया. कांग्रेस इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंची. रात 2 बजे से सुनवाई शुरू हुई और फैसला येदियुरप्पा के पक्ष में आया, येदियुरप्पा के पक्ष में फैसला देने वाली बेंच में शामिल थे जस्टिस बोबडे। सुप्रीम कोर्ट ने पटाखों पर बैन को लेकर जो फैसला दिया था, उस फैसले वाली बेंच में शामिल थे जस्टिस बोबडे।


उर्दू प्रार्थना पढने पर हेड मास्टर बर्खास्त

पीलीभीत। यूपी के पीलीभीत के जिला प्रशासन ने एक सरकारी प्राथमिक विद्यालय के हेडमास्टर को सिर्फ इसलिए बर्खास्त कर दिया क्योंकि उसने  स्कूल में इकबाल की लिखी प्रार्थना 'लब पे आती है दुआ बनके तमन्ना मेरी' कराई थी। आम तौर पर यह प्रार्थना मदरसों में कराई जाती है। इसे 1902 में मोहम्मद इकबाल ने लिखा था जिन्हें अल्लामा इकबाल के नाम से भी जाना जाता है। इन्होंने ही सारे जहां से अच्छा… भी लिखा है।खबर के मुताबिक बीसलपुर की रिपोर्ट के मुताबिक बीसलपुर के खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) उपेंद्र कुमार ने जांच के बाद हेडमास्टर फुरकान अली को सस्पेंड कर दिया। पीलीभीत जिले के जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव ने बताया कि हेडमास्टर इसलिए सस्पेंड किया गया है क्योंकि वो राष्ट्रगान की बजाए छात्रों से धार्मिक प्रार्थना करवाता था। हालांकि इन आरोपों से इनकार करते हुए फुरकान अली का कहना है कि स्कूल में रोजाना राष्ट्रगान गाया जाता है।


खबर के मुताबिक बीसलपुर के बेसिक शिक्षा अधिकारी देवेंद्र स्वरूप ने कहा कि स्कूल में राष्ट्रगान गाया जाता था। वो मुद्दा नहीं है। शिकायत मदरसे में गाई जाने वाली प्रार्थना को लेकर है ना कि राष्ट्रगान को लेकर।


बर्खास्त हेडमास्टर फुरकान अली ने कहा कि इकबाल की कविता उर्दू की कक्षा 1 से 8 के सिलेबस में हैं। वीएचपी और हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने स्कूल और कलेक्ट्रेट के बाहर मेरी बर्खास्तगी की मांग की। मैंने सिर्फ एक कविता पढ़ी जो सरकारी स्कूलों के सिलेबस में है। मेरे छात्र रोजाना 'भारत माता की जय' जैसे देशभक्ति के नारे भी लगाते हैं।


सोमवार को जारी आदेश के मुताबिक बीएसए देवेंद्र स्वरूप ने कहा, 'सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के जरिए हमें पता चला कि गयासपुर के प्राइमरी स्कूल में कोई और प्रार्थना गाई जा रही है। शुरुआती जांच में इसके लिए स्कूल हेडमास्टर फुरकान अली जिम्मेदार पाए गए और इसलिए उन्हें सस्पेंड कर दिया गया…।'


अगवा कर 1 महीने तक रेप किया

बैतूल। मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के आमला थाना क्षेत्र में एक 19 साल की लड़की के साथ एक महीने तक गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया गया है। पीड़िता थाना बोरदेही की रहने वाली है और इंदौर में जॉब करती है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीड़िता अपने परिचित के साथ शहर में अपना आधार कार्ड बनावाने आई थी। इसी दौरान उसके साथ गैंगरेप किया गया। इस दौरान दरिंदो ने पीड़िता से एक लेटर भी लिखवा लिया।


पीड़िता के मुताबिक उसका आधार कार्ड खो गया था। नया आधार कार्ड बनवाने के लिए उसने अपने गांव के छोटे पवार नाम के लड़के को बोला तो छोटे ने उसे 17 सितंबर को आमला बुला लिया और एक कमरा किराए पर लेकर उसमें रुकवा दिया। पीड़िता का कहना कि जब वह छोटे पवार से आधार बनाने को कहती तो वह टाल देता। 9 अक्टूबर को करीब रात 9 बजे छोटे पवार और राम डिगया सफेद कलर की स्कॉर्पियो में जबरदस्ती बैठाकर मुझे राम डिगया के खेत में ले गए। वहां दोनों ने जबरदस्ती मेरे साथ बलात्कार किया। जब उसकी हालत बिगड़ी तो उसे कमरे में लाकर छोड़ दिया। चार दिन बाद 13 अक्टूबर को पीड़िता को आमला के बोडखी ले गए और वहां मंगल यादव नाम के तीसरे आरोपी ने रेप किया।


पीड़िता का कहना है कि आरोपियों ने उससे एक लेटर भी लिखवाया कि अगर मेरी मौत हो जाए तो उसके लिए मेरे चाचा-चाची जिम्मेदार होंगे। जब परिजनों को इस बात की सूचना मिली क‍ि उनकी लड़की 1 महीने से आमला में है तो वे उसे लेने पहुंचे। तब उन्हें पता चला कि उनकी लड़की के साथ इस तरह की घटना घटी है। परिजनों ने इसकी शिकायत आमला पुलिस थाने में की है।


पुलिस ने आरोपी छोटे पवार, राम और मंगल यादव के खिलाफ रेप का मामला दर्ज कर पीड़िता का मेडिकल कराकर जांच शुरू कर दी है। बैतूल एसपी का कहना है कि मामले की जांच हो रही है और आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है।


सऊदी सड़क हादसे में 35 की मौत

मदीना। सऊदी अरब के मदीना प्रांत में बुधवार शाम एक सड़क हादसे में 35 लोगों की मौत हो गई। हादसा अल-अखल इलाके में शाम करीब 7 बजे हुआ। पुलिस के मुताबिक, प्रवासियों से भरी एक बस अनियंत्रित होकर ट्रक से जा टकराई और उसमें तुरंत आग लग गई। बस में करीब 39 लोग सवार थे। मरने वालों में ज्यादातर एशियाई और अरब मूल के नागरिक हैं। घायलों को अल-हमना अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी हैस्थानीय मीडिया के हवाले से पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा कि मदीना क्षेत्र के अल अखल इलाके में एक बस कई वाहनों से जा टकराई जिसकी वजह से 35 लोगों की जान चली गयी।


उन्होंने बताया कि बस में सऊदी नागरिक समेत एशियाई देशों के नागरिक भी सवार थे। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।


अब्बास से देशी-विदेशी असलहे बरामद

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस ने बाहुलबी विधायक मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी के दिल्ली स्थित घर से कई विदेशी-देसी असलहे व हजारों कारतूस बरामद किए हैं। छापेमारी में लखनऊ पुलिस के साथ दिल्ली पुलिस की टीम भी शामिल थी। छापेमारी में पुलिस टीम को अब्बास के घर से इटली की डबल बैरल बंदूक, स्लोवेनिया से मंगवाई गई सिंगल बैरल गन समेत कई विदेशी असलहे बरामद किए गए हैं।


पुलिस गुरुवार देर शाम को सारे असलहे लखनऊ ले आई। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि 12 अक्टूबर को महानगर कोतवाली में मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी के खिलाफ शस्त्र लाइसेंस के मामले में धोखाधड़ी की एफआईआर दर्ज करवाई गई थी। जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि अब्बास की लोकेशन दिल्ली में है। हमारी टीम दिल्ली पहुंची और दिल्ली पुलिस से भी मदद मांगी गई। पुलिस को अब्बास अंसारी के बसंतकुंज स्थित किराए के मकान का पता चला। पुलिस ने सर्च वॉरंट के आधार पर बुधवार को यहां छापेमारी की गई।


कई महीनों से चल रही थी पड़ताल
सूत्रों के मुताबिक, एसटीएफ कई महीनों से मुख्तार और उसके करीबियों के नाम से जारी शस्त्र लाइसेंसों की पड़ताल कर रही थी। जांच में पता चला कि अब्बास के लखनऊ के पते पर बने लाइसेंस पर डबल बैरेल बंदूक खरीदी गई है।


लाइसेंस दिल्ली ट्रांसफर करा लिए गए
पुलिस, डीएम की अनुमति के बिना ही यह लाइसेंस दिल्ली के पते पर ट्रांसफर करवा लिया गया। लाइसेंस ट्रांसफर होने के बाद 5 असलहे और खरीदे गए। असलहे दिल्ली व यूपी दोनों जगह प्रयोग किए जा रहे थे। इंस्पेक्टर महानगर अशोक सिंह ने बताया कि अब्बास घर पर नहीं मिला।


इटली से लेकर ऑस्ट्रिया तक के असलहे मिले
छापेमारी में पुलिस टीम को अब्बास के घर से इटली की डबल बैरल बंदूक, स्लोवेनिया से मंगवाई गई सिंगल बैरल गन, लखनऊ से खरीदी गई साउथ कैटाफिल की मैगनम राइफल, दिल्ली से खरीदी गई डबल बैरल गन, मेरठ से खरीदी गई यूएस मेक रिवॉल्वर, स्लोवेनिया से आयात की गई राइफल, सात अलग-अलग बोर के बैरल, ऑस्ट्रिया की तीन पिस्टल की बैरल, ऑस्ट्रिया की दो मैगजीन, एक लोडर और अलग-अलग बोर के 4,331 कारतूस बरामद किए गए हैँ।


शांति के लिए अधिक प्रतिबंध लगाएंगे

अंकारा। अमेरिका के उपराष्ट्रपति माईक पेंस के नेतृत्व में अमेरिका के एक प्रतिनिधिमंडल मण्डल ने उत्तर सीरिया में हो रही सैन्य कार्यवाही को रोकने के लिये और तुर्की पर दबाव बनाने के लिये अंकारा पहुंचे हैं।


इस सैन्य कार्यवाही पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प ने कहा था हमने ने तुर्की के खिलाफ ''बहुत सख्त” रुख अपनाया है और उस पर कड़े से कड़े प्रतिबंध लगाए हैं,ट्रम्प ने व्हाइट हाउस में कहा कि उनका प्रशासन अमेरिकी जवानों को वापस घर लाना चाहता है। इस बीच एर्दोआन ने उत्तरी सीरिया में संघर्ष विराम के अमेरिका के प्रस्ताव को खारिज करते हुए कहा कि वह अमेरिकी प्रतिबंधों को लेकर चिंतित नहीं है। दैनिक समाचार पत्र 'हुर्रियत' ने एर्दोआन से हवाले से कहा, ''वे चाहते हैं कि हम संघर्ष विराम घोषित करें। हम संघर्ष विराम की घोषणा नहीं कर सकते।' सीरिया से अपने बलों को वापस बुलाने के अमेरिका के फैसले के बाद पिछले सप्ताह से शुरू हुए तुर्की हमलों का मकसद कुर्द नीत 'सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेस' एसडीएफ को सीमा क्षेत्रों से खदेड़ना है।व्हाइट हाउस ने कहा कि क्षेत्र में जारी हिंसा 'आईएसआईएस को हराओ' मुहिम को बहुत कमजोर कर रही है, आम नागरिकों एवं धार्मिक अल्पसंख्यकों और पूरे क्षेत्र की सुरक्षा को खतरे में डाल रही है। उसने कहा कि प्रशासन क्षेत्र और आम नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए संकल्पबद्ध है।


सीरिया से बलों की वापसी को लेकर ट्रम्प की आलोचना हो रही है। इस मामले पर ट्रम्प ने कहा, ''हम कई वर्षों से वहां मौजूद अपने जवानों को वापस लाना चाहते हैं, वह विश्व में सबसे बड़े योद्धा हैं।”


उन्होंने कहा, ''वे पुलिस बल नहीं हैं, लेकिन उनका काम कर रहे हैं. वे अलग तरह का बल हैं। हम अपने जवानों को वापस लाना चाहते हैं और हम तुर्की एवं कई अन्य के खिलाफ बहुत कड़ा रुख अपना रहे हैं।” व्हाइट हाउस ने कहा कि जब तक समाधान नहीं निकलता है तब तक पेंस तुर्की पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने की ट्रम्प की प्रतिबद्धता को दोहराएंगे।
ट्रम्प ने कहा, ''उन्हें शांति एवं सुरक्षा सुनिश्चित करनी होगी और हम देखेंगे कि प्रतिनिधिमंडल के साथ क्या होता है। हम संघर्षविराम की मांग कर रहे हैं।”


उन्होंने कहा, ''हमने सबसे कड़े प्रतिबंध लगाए हैं जिनकी आप कल्पना कर सकते हैं, लेकिन यदि उन पर असर नहीं होता है तो हम इस्पात पर शुल्क समेत और प्रतिबंध लगाएंगे। वह अमेरिका में बहुत इस्पात भेजते है। वे इससे बहुत धन कमाते है. वे बहुत अधिक धन नहीं कमा पाएंगे।”


ट्रम्प ने तुर्की के मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाए हैं, उसने इस्पात शुल्क बढ़ाने एवं 100 अरब डॉलर के व्यापार समझौते पर वार्ता समाप्त करने का प्रस्ताव रखा है। इस बीच ट्रम्प के सीरिया में फैसले के विरोध में कांग्रेस में द्विसदनीय, द्विदलीय प्रस्ताव पेश किया गया।


शत्रुओं पर विजय प्राप्त होगी:मिथुन

राशिफल


मेष:आज पराक्रम में वृद्धि का दिन है। रुके हुए कार्य गति पकड़ेंगे, यात्रा में लाभ होगा। भाइयों का पूरा साथ मिलेगा। तीर्थ दर्शन से मन प्रसन्न होगा। रुके हुए काम भी आज बनते हुए दिखेंगे। शाम को कहीं से शुभ समाचर प्राप्‍त हो सकता है। भाग्‍य आज 89 फीसदी साथ देगा।


वृषभ:शेयर आदि जोखिमपूर्ण कार्य में सोच-समझकर ही पहल करें। वाणी के प्रदर्शन से धर्नाजन अथवा रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे। ऑफिस में सीनियर भी आपके काम की प्रशंसा करेंगे। परिवार में भी हंसी-खुशी का माहौल रहेगा। व्‍यापारियों को धन लाभ होगा। नकारात्मक विचारों से दूर रहें। भाग्‍य आज 80 फीसदी साथ देगा।


मिथुन:आज शत्रुओं पर आपकी विजय सुनिश्चित है, कोर्ट-कचहरी के मामलों में सफलता मिलेगी, आर्थिक लाभ के योग हैं। नौकरीपेशा लोगों के लिए भी आज का दिन अच्‍छा बीतेगा। दांपत्‍य जीवन में मधुरता आएगी। दोस्‍तों के आने से मन खुश रहेगा। भाग्‍य आज 85 फीसदी साथ देगा।


कर्क:खर्च के योग बन रहे हैं, सोच-समझकर ही धन-निवेश करें, व्यर्थ के वाद-विवाद से बचें, यात्रा से परहेज करें। सिरदर्द आपको परेशान कर सकता है। किसी व्‍यक्ति को उधार न दें। पैसे वानस मिलने की संभावना न के बराबर है। दुर्घटना से बचाव अपेक्षित है। भाग्‍य आज 57 फीसदी साथ देगा।


सिंह:आज जो भी कार्य करेंगे, उसमें पूर्ण लाभ की सम्भावनाएं सुनिश्चित हैं, मन प्रसन्न रहेगा, धन निवेश में लाभ के प्रबल योग हैं। आज ऑफिस में सहयोगियों के योगदान से आप अपना एक काम निपटाने में सफल रहेंगे। आज रचनात्‍मक कार्यों में सफलता मिलेगी। भाग्‍य आज 75 फीसदी साथ देगा।


कन्या:कार्य व्यापार में उन्नति का दिन है। आज किया हुआ कार्य दो दिन बाद अथवा लिया गया निर्णय आपको सफलता दिलाएगा। निवेश के लिए भी समय अच्‍छा है। आज आप व्‍यापार में कोई नई डील करने के बारे में यदि सोच रहे हैं तो बेहिचक कर सकते हैं। भविष्‍य में लाभ होगा। भाग्‍य आज 90 फीसदी साथ देगा।


तुला:भाग्य आज आपका साथ देने को बेताब है, कर्म करते जाएं और सब कुछ भाग्य पर छोड़ दें। धन लाभ, कार्यों में सफलता, मान-सम्मान वृद्धि का योग बन रहा है। विद्यार्थियों को किसी परीक्षा में पास होने का शुभ समाचार मिल सकता है। महिलाओं के लिए भी आज का दिन शुभ है। दांपत्‍य संबंधों में मिठास बढ़ेगी। भाग्‍य 95 फीसदी साथ देगा।


वृश्चिक:आज यात्रा करने से परहेज करें, किसी से अनावश्यक वाद-विवाद अथवा चोट-चपेट की घटना चिन्ता का कारण हो सकती है। दूसरों के मामलों में पड़ने से दूरी बनाए रखें। अपने काम पर ध्‍यान दें। परिवार के लोगों का सहयोग मिलेगा। कोई दूर का रिश्‍तेदार आपके लिए परेशानी का कारण बन सकता है। सावधान रहें। भाग्‍य आज 55 फीसदी साथ देगा।


धनु:उन्नतिदायक दिन, जीवनसाथी अथवा किसी प्रिय व्यक्ति का सहयोग प्राप्त होगा, मन प्रसन्न रहेगा, रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे। आज जोखिमपूर्ण निवेश में भी लाभ होगा। दिन का समय परिवार के साथ मौज-मस्‍ती में बीतेगा। व्‍यस्‍तता कुछ अधिक रहेगी, लेकिन मेहनत सफल होने से मन प्रसन्‍न रहेगा। भाग्‍य आज 86 फीसदी साथ देगा।


मकर:रुका हुआ धन प्राप्त होगा। अचानक कोई शुभ समाचार मिलेगा, शत्रु एवं विरोधी आपसे दूर भागेंगे। बेहतर होगा कि आप किसी अजनबी पर भरोसा न करें। जीवनसाथी का सहयोग भरपूर प्राप्‍त होगा। स्‍वास्‍थ्‍य के मामले में आज दिन मिला-जुला रह सकता है। खानपान में सावधानी रखें। भाग्‍य आज 80 फीसदी साथ देगा।


कुंभ:सुबुद्धि के बल पर कार्य बनेंगे और कुबुद्धि के कारण कार्य बिगड़ भी सकते हैं, अतः सोच-विचारकर बुद्धि बल का प्रयोग करें। आज दूर की यात्रा पर जाना हो तो टाल दें। वाहन धीमे चलाएं। दूसरों के ऊपर आज भरोसा न करें। भूमि-भवन या फिर रुपये-पैसे से जुड़ा कोई मामला आज टाल दें। भाग्‍य आज 60 फीसदी साथ देगा।


मीन:आज वाणी पर नियंत्रण रखें, रखेंगे तो दिन सुख-शांति से बीतेगा, वरना किसी व्यक्ति से वाद-विवाद के कारण मन दुःखी रह सकता है। आज कोई करीबी जिस पर आप सबसे ज्‍यादा भरोसा करते हैं, आपको धोखा दे सकता है। घर से बाहर जाने से पहले भगवान के दर्शन करके निकलें। दुर्घटना से सावधान रहें। भाग्‍य आज 62 फीसदी साथ देगा।


भोजन के अतं का मिष्ठान

भोजन के अंत में परोसा जाने वाला मिष्ठान्न, केक सेंककर तैयार किया हुआ भोज्य पदार्थ है। आमतौर पर कई किस्मों वाला केक का आटा, चीनी, अंडे, मक्खन या तेल का मिश्रण है जिसे घोलने के लिए तरल (आम तौर पर दूध या पानी) और खमीर उठाने वाले पदार्थ (जैसे कि खमीर या बेकिंग पाउडर) की ज़रूरत होती है। स्वाद व महक के लिए अक्सर फलों का गाढ़ा गूदा, मेवे या अर्क मिला दिए जाते हैं और मुख्य सामग्री के अनेक विकल्प सुलभ हैं। अक्सर केक में फलों का मुरब्बा या मिष्ठान्न वाली सॉस (जैसे पेस्ट्री क्रीम) भर दी जाती है, उसके ऊपर मक्खन वाली क्रीम या अन्य आइसिंग लगाकर बादाम और अंडे के सफ़ेद हिस्से का मिश्रण, किनारों पर बिंदियां और चाशनी में डूबे फल लगाकर सजाया जाता है।


विशेष रूप से शादी, वर्षगाँठ और जन्मदिन जैसे औपचारिक अवसरों पर अक्सर खाने के बाद मिठाई के तौर पर केक का चुनाव किया जाता है। केक बनाने की अनगिनत पाक विधियां हैं, कुछ रोटी की तरह, कुछ गरिष्ठ और बड़े परिश्रम से तैयार की जाने वाली और अनेक पारम्परिक हैं। किसी ज़माने में केक बनाने (विशेष रूप से अंडे की झाग उठाने में) में काफ़ी मेहनत लगा करती थी लेकिन अब केक बनाना कोई जटिल प्रक्रिया नहीं रही, सेंकने वाले उपकरण और विधियां इतनी सरल हो गई हैं कि कोई भी नौसिखिया केक सेंक सकता है।


विश्व का सबसे ऊंचा कैक्टस

पैकिसेरियस प्रिंगलेइ (Pachycereus pringlei), जिसे मेक्सिकी बड़ा कार्दन (Mexican giant cardon) या हाथी कैक्टस (elephant cactus) भी कहा जाता है, कैक्टस की एक जीववैज्ञानिक जाति है को मूल रूप से पश्चिमोत्तरी मेक्सिको में बाहा कैलिफ़ोर्निया, बाहा कैलिफ़ोर्निया सुर और सोनोरा राज्यों में पाई जाती है। इन क्षेत्रों के स्थानीय सेरी लोग (जो यहाँ की आदिवासी जनजाति है) इस कैक्टस के फल खाते हैं।यह कैक्टस जाति अपनी जड़ों में बैक्टीरिया और फ़ंगस की कुछ जातियों के साथ सहजीवनीय सम्बन्ध रखती है जिस से यह सीधा वायु से नाइट्रोजन प्राप्त करने में सक्षम है। इस कारणवश यह सीधा बिना मिट्टी के पत्थर पर भी उगी हुई पाई जाती है। इसके बीजों में भी यह बैक्टीरिया जातिया पाई गई हैं।


जीवाकृति व जीवन:-यह विश्व का सबसे ऊँचा कैक्टस है और ६३ फ़ुट (१९ मीटर) तक लम्बा पाया गया है। इसके तने का व्यास १ मीटर (३ फ़ुट) तक का और कई मोटी सीधी खड़ी हुई शाखों से साथ देखा जा सकता है। इसपर कई बड़े श्वेत फूल होते हैं जो रात्रि में खुलते हैं। देखने में यह सागुआरो नामक जाति से मिलता-जुलता है लेकिन कुछ अन्तर देखे जा सकते हैं। यह धीरे-धीरे उगने वाला वनस्पति है और सैंकड़ों साल जीवित रह सकता है।


शारीरिक संरचना में परिवर्तन

चींटी फ़ोरमिसिडाए कुल और हाइमेनोप्टेरा गण के अंतर्गत आती है। इसमें मधुमक्खी और वाशीभी भी शामिल हैं। एंटियल वाशिप के भीतर एक वंश से चींटियों का क्रमविकास हुआ और 2013 के एक अध्ययन से पता चला कि वे एपोइडिया की एक बहन समूह हैं। सन् 1966 में ई.ओ. विल्सन और उनके सहयोगियों ने चाकमय कल्प (क्रिटेशियस) में रहने वाले एक चींटी (स्केकेमॉर्मा) के जीवाश्म अवशेषों की पहचान की। आज से 9.2 करोड़ वर्ष पूर्व कहरुवे (ऐम्बर) में फंसे हुए नमूने में, कुछ अपशिष्टों में पाया गया है, लेकिन आधुनिक चींटियों में पाया नहीं गया है। स्पैकोमिमा संभवत: एक भूरा था, जबकि हेमीमिरमेक्स और हैडोमिरमोड्स, सबफ़ैमली स्पेलकोमिमाइनी में संबंधित पीढ़ी, सक्रिय पौधों के शिकारियों के रूपमें पुनर्निर्मित हैं।


जीनस स्पाइकोमिरेड्स में पुराने चींटियों को म्यांमार से 9.9 करोड़ वर्षीय कहरुवे में पाया गया है। लगभग 10 करोड़ वर्ष पहले फूलदार पौधों के उदय के बाद, वे लगभग 6 करोड़ वर्ष पूर्व पारिस्थितिक प्रभुत्व को विविध और ग्रहण कर चुके थे। कुछ समूहों, जैसे लपटानिलिने और मार्शिआनी, को प्रारंभिक आदिम चींटियों से अलग करने का सुझाव दिया जाता है, जो मिट्टी की सतह के नीचे शिकारियों की संभावना थी। चाकमय अवधि के दौरान, आदिम चींटियों की कुछ प्रजातियां लौरासियन अतिमहाद्वीप (उत्तरी गोलार्ध) पर व्यापक रूप से फैली हुई थीं। वे अन्य कीटों की आबादी की तुलना में दुर्लभ थे, और पूरी कीट आबादी का केवल 1% का प्रतिनिधित्व करते थे। पेलेोजेन कालकी शुरुआत में अनुकूली विकिरण के बाद चींटियों का प्रभाव बढ़ गया। ओलिगोसीन और माओसिन द्वारा, चींटियों के प्रमुख जीवाश्म जमाओं में पाए गए सभी कीड़ों के 20-40% का प्रतिनिधित्व करने के लिए आ गया था। प्रजातियों में से जो इओसीन युग में रहते थे, वर्तमान में 10 प्रजातियों में से एक जीवित रहते हैं। आज जीना में बाल्टिक एम्बर जीवाश्मों (प्रारंभिक ओलिगोसीन) में 56% पीढ़ी और डोमिनिकन एम्बर जीवाश्म (जाहिरा तौर पर जल्दी मिओसीन) में 9 2% प्रजाति शामिल है। दीमक, हालांकि उन्हें कभी-कभी 'सफेद चींटियों' कहा जाता है, जीववैज्ञानिक दृष्टि से चींटियाँ नहीं हैं।


नींबू जाति की मौसमी

मौसंबी (Citrus limetta) एक फल है। यह नींबू जाति का ही फल है परन्तु नींबू से अनेक गुना लाभदायक है। मौसमी का फल नांरगी के बराबर आकार का होता है। मुम्बई और गुजरात में इसे मुसम्मी या मौसमी कहते हैं। उत्तर प्रदेश मे इसे 'मीठा नींबू' कहते हैं। मौसमी का रस साबुन, शराब तथा अन्य पेयों में डाला जाता है। इसके छिलके से निकाला हुआ तेल जल्दी उड़ जाता है। इसलिए इसके तेल को जैतून के तेल के साथ मिलाकर उपयोग किया जाता है।


मौसमी का उपयोग पोषक आहार के रूप में होता है। मौसमी की तीन किस्में-नेवल, जुमैका और माल्टा हैं। मौसमी की कलम लगाने से आजकल इसकी अनेक उपजातियां हैं। नेवल किस्म अमेरिका में उत्तम मानी जाती है। माल्टा का छिलका व रस लाल रंग का होता है। मौसमी के फल एक-आधा महीना तक बिना बिगड़े ज्यों-के-त्यों बने रहते हैं।


भारतीय पक्षी प्रियवंद

खीहा एक भारतीय पक्षी है। इसे संस्कृत में प्रियंवद कहते हैं।


इस पक्षी के दो स्पष्ट प्रादेशिक भेद है। एक तो ललमुँही खीहा (रक्तकपोल प्रियंवद) जो हिमालय में गढ़वाल से सिक्किम तक प्राय: २ से ७ हजार फुट की ऊँचाई पर पाए जाते हैं। कभी कदा ये १० हजार फुट तक की ऊँचाई पर भी देखे जाते हैं। इस वर्ग का खीहा ११ इंच का होता है। इसकी चोंच टेढ़ी होती है, ऊपरी पूँछ और डैने का घिरा हुआ भाग काही भूरा होता है और निचला भाग अखरोटी तथा सफेद होता है। ठुड्ढी और गले पर धूमिल भूरे रंग की धारियाँ होती है। यह झाड़ियों में निवास करता है और पहाड़ियों पर ही अधिकांश जीवन व्यतीत करता है। इसकी बोली मधुर होती है। नर पक्षी की बोली दुहरी होती है। दूसरी बोली पहली बोली के तत्काल बाद ध्वनित होती है। यदि मादा उसके निकट होती है तो दूसरी ध्वनि के बाद अपनी मधुर ध्वनि से तत्काल उत्तर देती है। यह पक्षी दूसरे पक्षी की बोलियों का भी प्रत्युत्तर देते हैं। यह पक्षी नाचता भी है। गुबरीला, केंचुआ, कीड़े आदि इसके मुख्य भोजन हैं।



श्वेत-भौंह खीहा
दूसरी जाति का खीहा मुख्यत: दक्षिण भारत के पर्वतों में पाया जाता है। किंतु आबू की पहाड़ियों, मध्य प्रदेश और खानदेश के आसपास भी ये देखे जाते है। यह ललमुँही खीहा से कुछ छोटा होता है। इसका ऊपरी भाग भूरा और माथा काला होता है। आँख के ऊपर एक सफेद पट्टी सी होती है, जिसके ऊपर काली काली किनारी होती है। छाती और पेट पर एक पतली काली भूरी लकीर होती हे। चोंच पीली होती है। इसकी बोली सामान्यत: कर्कश होती है पर कभी कभी यह मधुर सीटी भी बजाता है। लोग सीटी बजाकर अपने निकट रखने का प्रयास करते हैं। यह अपनी लंबी तलवारनुमा चोंच से फूलों का रस चूसता है। वैसे, कीड़े मकोड़े भी इसके भोजन हैं।


महर्षि वशिष्ठ का राष्ट्रवाद उपदेश

गतांक से...
 मेरे प्यारे देखो जब माताएं उसी मंत्र को  के दृष्टा बन करके उसी देवता की उपासना कर रही है। उपासना करते हुए प्राण को अपान से मिलान करते हुए वह अपने गर्भ की आत्मा से वार्ता प्रकट करती है। जो माता अपने गर्भ में रहने वाले शिशु से वार्ता करना जानती है। तो वह देवी धन्य है वे मेरी माता धन्य है। जिनके तरफ से महान पुत्रों का जन्म होता है। इसलिए मम्त्वाम् ब्रह्मा: वे माताए ऋषि-मुनियों को जन्म देकर के अपने जीवन को कृतार्थ बना लेती है। वही तो सौभाग्य झलकने लगता है। विचार आता रहता है मुनिवरो, आज में विशेष चर्चा देने नहीं आया हूं। केवल विचार यह है कि परमात्मा वशिष्ठ मुनि महाराज ने राम से बहुत सी चर्चाए की। उन्होंने कहा यह विद्याए राजा के राष्ट्र में होनी चाहिए। राजा के राष्ट्र में जब यह विद्या होती है तो उसे राष्ट्रवाद कहते हैं। वह ब्रबस ब्रव्हे, वह भी विद्या होनी चाहिए। जब वह तपस्या में परिणत होता हुआ अपनी आत्मा का परमात्मा से मिलन करता हुआ ब्रह्मांड की उसमें पुट लगाकर के ब्रह्मा की चेरी को जानने लगता है। मेरे प्यारे वही तो ब्राह्मणत्व कहलाता है। विचार केवल यह है कि मुनवरो राष्ट्रवाद अपनी आभा में गमन करता रहा है। यदि राजा के राष्ट्र में विवेकी पुरुष नहीं हैं, महापुरुष नहीं है। मेरी पुत्री आप बुद्धिमान नहीं है तो वह राजा अपने राष्ट्र को उन्नत नहीं बना सकता। यह विधाऐ परंपरागतो से ही मानवीय मस्तिष्क में पंडितव के रूप में रमण करती रहती है। ब्रह्मा वेता इस संसार से उपराम हो जाता है। महात्मा वशिष्ठ ने भगवान राम से कहा कि राष्ट्रवाद कहते हैं जिस राष्ट्र की तुम चर्चा कर रहे थे। उसके पश्चात उन्होंने कहा कि प्रभु यह तो मैंने जान लिया कि इसे राष्ट्रवाद कहते हैं। परंतु इसे कार्य रूप कैसे दिया जाएगा। उन्होंने कहा इस प्रकार के बन जाओ तो कार्य रूप स्वत: दिया जाता है। जब अपने में सूक्ष्मता रहेगी तो जगत सूक्ष्म बनेगा। अपने में जब मानवता रहेगी तो जगत मानव बनेगा। जब मानव स्वयं दार्शनिक बनेगा तो मानव दार्शनिक बन जाएगा। जब अपनेपन में मृत्यु को विजय करने वाले बनेंगे तो यह संसार मृत्युंजय बन जाएगाू। जब हम अपने में ब्रह्म ज्ञान की चर्चा करेंगे ब्रह्मज्ञानी बनेंगे तो संसार ब्रह्मज्ञानी बन जाएगा। अपने विचार पर हुए परमात्मा के जगत में अपने को स्वीकार करो। राष्ट्र अपने मे पवित्र बनता है। प्रजा उसी के अनुसार व्यवहार बरतने लगती है और जब राजा इस प्रकार का नहीं होगा तो प्रजा नहीं बरतेगी और जब प्रजा नहीं बरतेगी तो राजा केवल अपने आलस्य प्रमाद में परिणत हो जाएगा। समाज भी उसी प्रकार की अधिकार की पुकार करने लगेगा। अधिकार ही चाहने लगेगा परंतु कर्तव्य नष्ट हो जाएगा। जब अधिकार ही अधिकार को पूर्ण करेगा तो आज तक सृष्टि के प्रारंभ से लेकर के कोई भी मानव किसी का अधिकार को पूर्ण नहीं कर सकता है। कर्तव्य करते रहो अधिकार स्वेत: प्राप्त होता है। उसे आवश्यकता नहीं है पुकारने की । परंतु जब कर्तव्य करता है तो वह अपनी उस आत्मा को प्रसन्न करता है। जो आत्मा प्रभु से मिलान करती है। तो उसके मन में जो इछिंत फल होते हैं वह उसे प्राप्त हो जाते हैं।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस


हिंदी दैनिक


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


October 20, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-77 (साल-01)
2. रविवार,20 अक्टूबर 2019
3. शक-1941,अश्‍विन,कृष्णपक्ष, तिथि-सप्तमी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 06:18,सूर्यास्त 06:00
5. न्‍यूनतम तापमान -20 डी.सै.,अधिकतम-30+ डी.सै., हवा की गति धीमी रहेगी।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


दिल्ली में सोमवार को 131 नए मामलें सामने आएं

अकांशु उपाध्याय               नई दिल्ली।  दिल्ली में सोमवार को 22 फरवरी के बाद से कोविड-19 के सबसे कम 131 नए मामले सामने आए तथा 16 मरीजों की...