सोमवार, 23 अगस्त 2021

आतंकी सगठन के लड़ाकों का काबुल पर कब्जा

वाशिंगटन डीसी/ काबुल। अमेरिका द्वारा अफगानिस्तान से अपने सैनिकों की वापसी की घोषणा के बाद से तालिबान आक्रमक है। जब आतंकी सगठन के लड़ाकों ने काबुल पर कब्जा कर लिया तो अमेरिका को अपने दूतावास को लेकर काबुल एयरपोर्ट पर शिफ्ट होना पड़ गया। इतना ही नहीं एयरपोर्ट की सुरक्षा के लिए 6000 अतिरिक्त फोर्स भी भेजे गए। राष्ट्रपति जो बाइडेन के शुरुआती फैसले के मुताबिक, 31 अगस्त तक अमेरिकी सेना अफगानिस्तान से वापस चली जाएगी। अब ऐसा नहीं करने पर तालिबान ने अंजाम भुगतने की धमकी दी है।

तालिबान ने अमेरिका को धमकी दी है कि अगर उनकी सेना 31 अगस्त की समय सीमा से आगे रहती है तो परिणाम भुगतना होगा।  तालिबान का कहना है कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी में किसी भी तरह की देरी के परिणाम संयुक्त राज्य अमेरिका के को भुगतने होंगे। आतंकी सगठन 31 अगस्त को डेड लाइन के तौर पर देख रहा है।

सीएम भूपेश को राखी बांधकर जन्मदिन की बधाई

दुष्यंत टीकम        
रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री मंत्री भुपेश बघेल के जन्मदिवस के मौके पर धरसीवां विधायक अनीता योगेंद्र शर्मा के द्वारा आज मुख्यमंत्री निवास पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को राखी बांधकर अपने हांथों से मिठाई खिलाकर जन्मदिन की बधाई दी।
विधायक श्रीमती शर्मा ने मुख्यमंत्री के जन्मदिन के शुभ अवसर पर आज शहीद योगेंद्र शर्मा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र धरसीवा में पहुँच कर मरीजों को फल वितरण करने के साथ-साथ मरीजों का हाल जाना। वहीँ विधायक श्रीमती शर्मा ने धरसीवां युवा कांग्रेस के नेतृत्व में ग्राम पंचायत में हर शाखा एवं मनोहर में वृक्षारोपण कार्यक्रम में भी शिरकत की विधायक ने मुख्यमंत्री के जन्मदिन के शुभअवसर पर खुद वृक्षारोपण करके घर-घर जाकर पौधा देकर वृक्षारोपण की अपील भी की। आप को बतादें विधायक श्रीमती शर्मा ने मुख्यमंत्री के जन्मदिन के अवसर पर घर-घर जाकर 11000 पौधों का वितरण भी किया।

बेडमिंटन एसोसिएशन के अध्यक्ष को निर्वाचित किया

अश्वनी उपाध्याय             

गाजियाबाद। बेडमिंटन एसोसिएशन के अध्यक्ष ललित जायसवाल को निर्वाचित किया गया है। एक प्रेस कान्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी गई। नवनियुक्त जिलाध्यक्ष ललित जायसवाल ने बताया कि कार्यकारिणी का भी गठन कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि कार्यकारिणी में मुख्य संरक्षक सांसद अनिल अग्रवाल, डा.पीएन अरोड़ा व कमल सेखरी रहेंगे। उपाध्यक्ष के लिए अंजुल अग्रवाल, गोविंद सिंह, गुलशन भामरी, हिमांशु गोयल, वरुण पंवार को नामित किया गया। एसोसिएशन का सचिव नरेन्द्र शर्मा रहेंगे।

संयुक्त सचिव सामंत सेखरी, अमित शर्मा, अरविंद कुमार, योगेश चौधरी, कु.प्रेमलता बख्शी , कोषाध्यक्ष सतीश शर्मा, एसोसिएट संयुक्त सचिव के लिए राहुल शर्मा, गिरीश चौहान, किरन, हिमांशु कुमार, निर्दोष शर्मा, पीआरओ सुमित कुमार होंगे। कार्यकारिणी में नरेन्द्र कुमार, गिन्नी सिंह, बबीता गोयल, आदित्य त्यागी, सुनील कुमार, उदयवीर अरोड़ा हैं।

कल्याण सिंह के निधन पर प्रदेश में शोक की लहर

कौशाम्बी। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजस्थान तथा हिमांचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल रह चुके बाबू कल्याण सिंह के निधन पर पूरे प्रदेश में शोक की लहर दौड़ गई है। प्रदेश में जगह-जगह पर शोक सभा आयोजित कर श्रद्धांजलि अर्पित की जा रही है एवं उनकी आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन धारण किया जा रहा है।
बता दें कि मंझनपुर विकास खण्ड के ग्राम पंचायत तियरा जमालपुर में मंझनपुर विधायक लाल बहादुर के द्वारा एक शोक सभा का आयोजन किया गया। जिसमें उन्होंने बाबू कल्याण सिंह के चित्र पर माल्यार्पण करके श्रद्धा सुमन अर्पित किया तथा उन्हें श्रद्धांजलि देकर उनकी आत्मा की शांति के लिए मौन धारण किया। जिस पर उपस्थित सभी लोगों ने भी दो मिनट का मौन धारण किया।
शोक सभा को आयोजित करते हुए मंझनपुर विधायक लालबहादुर ने उनके जीवन चरित्र के बारे में विस्तार से लोगों को बताया और कहा कि बाबू कल्याण सिंह का देहांत होना लोधी समाज की सबसे बड़ी क्षति हुई है।बाबूजी इस समाज के मुख्य नींव थे। इस समाज को यह अपूर्ण क्षति कभी पूर्ण नहीं की जा सकती। लोधी समाज के वह महापुरुष थे। लोधी समाज ने एक महामानव को खो दिया है और यह सभी समाज के लोगों का बराबर सम्मान करते थे और हमेशा उनके हक और अधिकार की लड़ाई लड़ा करते थे। मंझनपुर विधायक ने कहा कि जब तक सूरज चांद रहेगा। तब तक बाबू जी का नाम रहेगा। इनकी छवि हमेशा लोगों के हृदय में बसी रहेगी। वहां पर उपस्थित भाजपा के कई पदाधिकारियों ने भी बाबूजी के चित्र पर माल्यार्पण कर अपने शोक संवेदना व्यक्त की।
इस मौके पर कमल कुशवाहा दिलीप अग्रहरी, श्यामसुंदर केसरवानी, अंगद कुशवाहा, दयाराम सिंह आचार्य, शिव बहादुर अग्रहरी, प्रतीक जायसवाल, अंकित जायसवाल, ग्राम प्रधान पप्पू पासी सहित तमाम लोग मौजूद रहे।
सियाराम सिंह 

धोखाधड़ी: साइबर ठग ने खाते से ₹1 लाख उड़ाएं

अतुल त्यागी 
हापुड़। एक साइबर ठग ने एक व्यक्ति के खातें से एक लाख रूपये धोखाधड़ी कर उड़ा दिएं।
जानकारी के अनुसार हापुड़ के त्यागीनगर निवासी अखिलेश का खाता नगर के एक बैंक में हैं। एक साइबर ठग ने धोखाधड़ी कर उसके खातें से एक लाख रूपये अपने खातें में ट्रान्सफर करवा लिए और वापस नहीं किए। पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर जांच की जा रही हैं।

महबूबा मुफ्ती ने एक बार फिर विवादित बयान दिया

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीडीपी सुप्रीमो महबूबा मुफ्ती ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। मुफ्ती ने  तालिबान के बहाने केंद्र पर निशाना साधा। मुफ्ती ने कहा, तालिबान ने अमेरिका को भागने पर मजबूर किया। हमारे सब्र का इम्तेहान मत लो। उन्होंने यहां तक कह दिया कि यदि आजादी के समय भाजपा होती तो आज कश्मीर भारत में नहीं होता। महबूबा मुफ्ती ने एक कार्यक्रम में तालिबान से तुलना करते हुए कहा, जिस वक्त यह बर्दाश्त का बांध टूट जाएगा, तब आप नहीं रहोगे, मिट जाओगे। पड़ोस (अफगानिस्तान) में देखो क्या हो रहा है। उनको भी वहां से बोरिया-बिस्तर लेकर वापस जाना पड़ा। आप के लिए मौका है अभी भी। जिस तरह वाजपेयी जी ने बातचीत शुरू की थी कश्मीर में,।बाहर भी (पाकिस्तान के साथ) और यहां भी। उसी तरह आप भी बातचीत का सिलसिला शुरू करो।

निर्णय: देश का पहला ई-वाहन अनुकूल राजमार्ग बना

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। करनाल झील रिसॉर्ट में देश के पहले सौर इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन के साथ, दिल्ली-चंडीगढ़ राजमार्ग देश का पहला ई-वाहन अनुकूल राजमार्ग बन गया है। करनाल झील रिसॉर्ट में ईवी चार्जिंग स्टेशन रणनीतिक रूप से दिल्ली-चंडीगढ़ राजमार्ग के मध्य स्थित है और देश में वर्तमान में चलने वाली सभी प्रकार की ई-कारों को पूरा करने के लिए सुसज्जित है। इसके अलावा, एक साल के भीतर इस राजमार्ग पर अन्य चार्जिंग स्टेशनों को अपग्रेड करने का काम चल रहा है। सौर-आधारित इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशनों (एसईवीसी) का नेटवर्क भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (बीएचईएल) द्वारा हाइब्रिड और इलेक्ट्रिक वाहन अपनाने और विनिर्माण योजना के तहत भारी उद्योग मंत्रालय की योजना के तहत स्थापित किया गया है।
भारत में भारत के पहले सौर ईवी स्टेशन की स्थापना केंद्र सरकार के ई-वाहनों और हरित ऊर्जा की ओर जोर देने के अनुरूप है। इस स्टेशन के उद्घाटन अवसर पर केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री, डॉ महेंद्र नाथ पांडेय ने पीएम नरेंद्र मोदी के स्वतंत्रता दिवस के भाषण को याद करते हुए कहा- ” पीएम ने स्पष्ट रूप से रेखांकित किया है कि पर्यावरण सुरक्षा का राष्ट्रीय सुरक्षा के समान महत्व है और भारत बनने की दिशा में सभी प्रयास कर रहा है।”
भारत पर्यावरण सुरक्षा की एक जीवंत आवाज है जिसमें जलवायु परिवर्तन, ऊर्जा संरक्षण, स्वच्छ ऊर्जा संक्रमण के प्रयास आदि शामिल हैं और पर्यावरण में राष्ट्र के प्रयासों ने वांछित परिणाम देना शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि यह माननीय प्रधानमंत्री के विजन को प्राप्त करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। भारत हरित भविष्य के करीब पहुंच रहा है। क्योंकि 25-30 किमी के नियमित अंतराल पर समान ईवी चार्जर की स्थापना बड़े पैमाने पर की जा रही है। राजमार्ग पर ईवी चार्जिंग स्टेशनों का नेटवर्क इलेक्ट्रिक वाहन उपयोगकर्ताओं की चिंता को दूर करेगा और के लिए उनके आत्मविश्वास को बढ़ाएगा। सोलर ईवी चार्जिंग स्टेशन व्यक्तिगत ग्रिड से जुड़े रूफटॉप सोलर प्लांट से लैस हैं जो चार्जिंग स्टेशनों को हरित और स्वच्छ ऊर्जा की आपूर्ति करेंगे।

जमुई में कॉलेज निर्माण को लेकर एचसी का फैसला

अविनाश श्रीवास्तव                      
जमुई। जमुई में मेडिकलकॉलेज निर्माण को लेकर हाईकोर्ट ने यह फैसला दिया कि खैरा के बेला में ही मेडिकल कॉलेज का निर्माण होगा। हाईकोर्ट ने सरकार के पक्ष में फैसला सुनाते हुए विभाग को निर्माण कार्य शुरू करने का निर्देश दिया है। न्यायाधीश संजय केरोल और जस्टिस डॉक्टर अनिल कुमार उपाध्याय ने इस मामले की सुनवाई के उपरांत यह फैसला दिया है। कुछ लोगों ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर करते हुए कहा था कि जिस स्थल पर मेडिकल कॉलेज का निर्माण होना है वह इलाका सुरक्षा के दृष्टिकोण से ठीक नहीं है। इस मामले में हाईकोर्ट ने सरकार को अपना पक्ष रखने का निर्देश दिया था। सरकार ने कोर्ट को यह जानकारी दिया कि जहाँ पर मेडिकल कॉलेज का निर्माण किया जाना है वह जगह सुरक्षा की दृष्टिकोण से बेहतर है। वहाँ सुरक्षा के पुख्ते इंतजाम हैं। निर्माण स्थल के पास एसएसबी का कैम्प है। सरकार के द्वारा दिये गए जवाब के बाद हाईकोर्ट ने यह फैसला सुनाया। बताते चलें कि जमुई में मेडिकल कॉलेज के निर्माण से यहाँ के लोगों में काफी खुशी है।जमुई जिला के जनप्रिय नेता दिवंगत विधायक अभयसिंह जी का अपने जिला में मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का सपना साकार होने जा रहा है। जिले में मेडिकल कॉलेज निर्माण राह में रोड़ा अटकाने वालों के मंसूबों पर पानी फिर गया है। अपने क्षुद्र राजनीतिक स्वार्थ सिद्धि के लिए कुछ लोग इसके निर्माण में बाधक बने हुए थे। लेकिन बिहार सरकार के विज्ञान एवं प्रधोगिकी मंत्री सुमितकुमारसिंह लगातार इन बाधाओं को दूर करने के लिए प्रयासरत थे। सरकार के तरफ से कोर्ट में मजबूती से पक्ष रखा जाए, उन्होंने यह सुनिश्चित किया। जिसका परिणाम यह हुआ कि हाईकोर्ट में बिहार सरकार की दलील के सामने रोड़ा अटकाने वालों के तर्क धराशायी हो गए। अब हाईकोर्ट के फैसले के बाद सभी अड़चने दूर हो गई है। 
जल्द ही मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का कार्यारंभ होने जा रहा है।जमुई मेडिकल शिक्षा एवं सेवा के मामले में पटना और देवघर पर निर्भर था। यहां से पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल की दूरी 170 किमी से अधिक है। लिहाज़ा किसी भी आपात स्थिति में बहुत मुश्किल होती है। दूसरा यहां मेडिकल एजुकेशन से लोगों का इसके प्रति रुझान बढ़ेगा। मेडिकल कॉलेज शुरू होने से इसके साथ-साथ सरकारी स्तर पर नर्सिंग एजुकेशन, पारा मेडिकल ट्रेनिंग, लैब तकनीशियन, ओटी असिस्टेन्ट, रेडियोलॉजी असिस्टेन्ट आदि की पढ़ाई यहां शुरू हो सकेगी। जिससे बड़े पैमाने पर स्थानीय युवाओं को तकनीकी कौशल आधारित रोजगार मिलेगा।मेडिकल कॉलेज अस्पताल शुरू होने पर स्वाभाविक रूप से इन सभी विधाओं का सहज रूप से शिक्षण-प्रशिक्षण शुरू होता है। वहीं मेडिकल कॉलेज के कारण बहुत सारे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार के अवसर विकसित होंगे। लोगों में स्वास्थ्य जागरूकता बढ़ेगी, सेहतमंद होंगे। वहीं छोटी बीमारियों में भी पटना और बड़े शहर जाकर इलाज़ कराने को विवश नहीं होंगे। इससे आर्थिक, मानसिक और शारीरिक परेशानी से बहुत निजात मिलेगी।।

गेस्ट के मामले में डीएसपी शमशेर पर कार्रवाई की

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। एम्स से रोहतक सुनारियां जेल वापस लौटते समय डेरा प्रमुख बाबा राम रहीम को स्पेशल गेस्ट से मिलाने के मामले में महम डीएसपी शमशेर सिंह पर बड़ी कार्रवाई की गई है।
गौरतलब है कि डेरा प्रमुख को इलाज के लिए दिल्ली एम्स ले जाया गया था और आरोप है कि सिक्योरिटी के ओवरआल इंचार्ज रहें डीएसपी शमशेर सिंह ने वापस लौटते समय डेरा प्रमुख की मुलाकात कुछ लोगों से करवाई थी जिनमें महिलाएं भी शामिल थीं। सुरक्षा में चूक का यह मामला मीडिया समेत पूरे प्रदेश में चर्चा का विषय बना था। जिसके बाद अब मुख्यालय से डीएसपी को सस्पेंड करने के आदेश जारी किए गए हैं।
बता दें कि डेरा प्रमुख बाबा राम रहीम साध्वियों से यौन उत्पीडन मामले में रोहतक की सुनारियां जेल में बंद हैं।17 जुलाई को अचानक तबीयत बिगड़ने पर बाबा राम रहीम को कुछ टेस्ट कराने के लिए दिल्ली एम्स हॉस्पिटल लें जाया गया था।
इस दौरें की सुरक्षा का पूरा जिम्मा डीएसपी महम को सौंपा गया था। एम्स से वापसी के दौरान डीएसपी ने बाबा राम रहीम को अपनी सरकारी गाड़ी में बैठाया था। इस दौरान साथ में दो महिलाएं भी गाड़ी में साथ बैठी थी। रास्ते में कई जगहों पर गाड़ी को रोका भी गया तथा रुट भी डायवर्ट किया गया था।
वहां से लौटने के बाद महम डीएसपी के सुपरविजन में काम कर रहे रोहतक के एक अन्य डीएसपी ने इस मामले की रिपोर्ट एसपी राहुल शर्मा को दी। एसपी राहुल ने तुरंत एडीजीपी संदीप खिरवार को पूरे मामले से अवगत कराया। इसके बाद मामले की रिपोर्ट तैयार कर मुख्यालय को भेजी गई थी। इस रिपोर्ट में डीएसपी महम शमशेर सिंह को सस्पेंड करने की सिफारिश की गई थी।

बाइक और पुलिस वाहन की टक्कर में 1 की मौंत

हरिओम उपाध्याय                    
बदायूं। उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में बाइक और पुलिस वाहन की आमने-सामने की टक्कर में एक व्यक्ति की मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गए। घटना रविवार को हुई। दो भाई और उनकी पत्नियां गुरुग्राम से रक्षा बंधन उत्सव के लिए बदायूं जिले के अपने पैतृक गांव जा रही थीं। जब उनकी बाइक पुलिस की गाड़ी से टकरा गई। 
पुलिस ने कहा कि चारों बाइक पर सवार थे और कुछ सामान भी ले जा रहे थे। एक भाई की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि तीन अन्य को गंभीर चोटें आई हैं, वे अस्पताल में हैं। यह घटना दहगावा गांव के पास हुई जब उन्होंने रोडवेज बस को ओवरटेक करने की कोशिश की और विपरीत दिशा से आ रहे पुलिस वाहन से टकरा गए।

पार्टी के मंत्री सुनील को कैबिनेट से हटाने की मांग की

कविता गर्ग                   
मुंबई। कांग्रेस नेता आशीष देशमुख ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिखकर पार्टी के मंत्री सुनील केदार को कैबिनेट से हटाने की मांग की है। देशमुख ने अपनी चिट्ठी में आरोप लगाया है कि सुनील केदार ने अपने खिलाफ चल रहे एक केस में अपने दोस्त को ही सरकारी वकील बनाया है। उन्होंने यह भी कहा है कि वकील प्रदेश कांग्रेस की लीगल सेल का मुखिया रह चुका है इसलिए यह मामला ‘कन्फ्लिक्ट ऑफ इंट्रेस्ट’ का है। विधायक आशीष देशमुख ने यह चिट्ठी सीएम उद्धव ठाकरे को लिखी थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता केदार और 10 अन्य लोगों पर साल 2002 में नागपुर जिले के सेंट्रल कॉपरेटिव बैंक में 150 करोड़ रुपये के हेरफेर से जुड़े मामले में केस चल रहा है।
उन्होंने यह भी कहा है कि इस मामले की सुनवाई अब आखिरी चरण में है और कोर्ट बीते 19 सालों से अलग-अलग कारणों से इस मामले को लंबित रखे हुए थी। देशमुख ने यह भी आरोप लगाया है कि केदार ने अपने दोस्त को सरकारी वकील इसलिए नियुक्त किया है ताकि वह उनके खिलाफ मजबूती से केस न लड़े और वह केस से बरी हो जाए। देशमुख ने न सिर्फ वकील की नियुक्ति को खारिज करने की मांग की है बल्कि यह भी कहा है कि केदार की राज्य कैबिनेट से भी छुट्टी की जाए।

यूपी: नोंकझोंक का वीडियो, अधिकारियों का संज्ञान

हरिओम उपाध्याय                   
कानपुर। विधायक और दरोगा के बीच के बीच हुई नोंकझोंक का मामला अब तूल पकड़ गया है। दरअसल, नोंकझोंक का वीडियो वायरल होने के बाद अधिकारियों ने भी संज्ञान लिया। इसके बाद दरोगा ने सपा विधायक के खिलाफ तस्करा डाला। अब पुलिस मामले की जांच कर रही है। आने वाले दिनों में विधायक की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। बताया जाता है कि कानपुर के ग्वालटोली थाने में सपा विधायक इरफान सोलंकी और दरोगा राजीव कुमार सिंह के बीच नोंकझोंक हुई थी। विधायक मोटर साइकिल चालान के मामले में सिफारिश लेकर थाने पहुंचे थे।
मोटर साइकिल चालान के मामले में पहुंचे थे विधायक
पुलिस का कहना है कि शरीफ नाम का एक अपराधी है जिसपर गुंडा एक्ट की कार्रवाई की जा चुकी है। अब उसे जिलाबदर करने की कार्यवाही जारी है। वह कई बार जेल भी भेजा जा चुका है। बीते दिनों उसकी मोटर साइकिल का ग्वालटोली थाने के दारोगा राजीव कुमार सिंह ने चालान किया था। इसके बाद शरीफ ने फोन करके विधायक इरफान सोलंकी को बुला लिया।
पुलिस के अनुसार विधायक थाने पहुंचते ही दारोगा पर भड़के और बोले, तुम्हारा थानेदार कहां हैं। बताते हैं कि इसपर दरोगा ने सलीके से बात करने को कहा, तो विधायक बोले, मैं विधायक हूं, खड़े होकर बात करो। इसी नोंकझोंक का किसी ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया था। उधर, ग्वालटोली थाना प्रभारी केके दीक्षित का कहना है कि दारोगा राजीव कुमार सिंह ने थाने में तस्करा डाला है। इसमें विधायक पर सरकारी काम में बाधा पहुंचाने और धमकाने का आरोप लगा है।

सावन के महीने में एक फीसदी ज्यादा बरसात हुईं

मनोज सिंह ठाकुर                
भोपाल। मध्यप्रदेश में सावन के महीने में जोरदार बरसात हुई। ग्वालियर और चम्बल संभाग के कई जिलों में चार-पांच दिन तक बाढ़ के हालात बने रहे। इसके बावजूद सावन के महीने में प्रदेश में सावन के महीने में निर्धारित कोटे से केवल एक फीसदी ज्यादा बारिश हुई। ग्वालियर-चम्बल अंचल को छोड़ दिया जाए तो प्रदेश के 31 जिलों में औसत से भी कम बारिश दर्ज की गई। इनमें से 12 जिलों 21 से 42 फीसदी तक और 19 जिलों में 18 फीसदी तक कम बारिश दर्ज की गई।
मौसम विभाग के मुताबिक, सावन के महीने में मध्यप्रदेश के ग्वालियर-चंबल संभाग के जिलों में सामान्य से ज्यादा बारिश हुई है, जबकि मालवा, निवाड़, बुंदेलखंड और महाकौशल क्षेत्र के 12 जिलों में सामान्य से 21 से 42 फीसदी तक कम बारिश हुई। इनमें दमोह, छतरपुर, बालाघाट, जबलपुर, कटनी, पन्ना, सिवनी, बड़वानी, हरदा, धार, इंदौर, खरगोन जिले शामिल हैं। इसके अलावा राजधानी भोपाल सहित 19 जिलों में औसत से 4 से 18 फीसदी तक कम बारिश हुई है। वहीं, ग्वालियर-चंबल संभाग के श्योपुर जिले में सामान्य से 123 फीसदी और गुना जिले में 114 फीसदी ज्यादा बारिश दर्ज हुई है।
सावन समाप्त होने के बाद सोमवार से भादौ का मास शुरू हो गया है। इस महीने में प्रदेश में जोरदार बारिश की संभावना है। हालांकि, वर्तमान में यहां कोई वेदर सिस्टम सक्रिय नहीं है, जिसके चलते बारिश की गतिविधियां कमजोर पड़ी हैं, लेकिन वातावरण में बड़े पैमाने में नमी मौजूद रहने के कारण कहीं-कहीं छिटपुट बौछारें पड़ रही हैं। इधर, मौसम विभाग ने चार जिलों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी जारी की है। चार जिलों के अलावा 28 जिलों में आंधी चलने के साथ ही बिजली गिरने का भी अलर्ट जारी किया है।
वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने बताया कि वर्तमान में कोई वेदर सिस्टम मध्यप्रदेश में सक्रिय नहीं है। मानसून ट्रफ भी अब राजस्थान से उत्तरप्रदेश, बिहार, झारखंड से होकर नागालैंड तक जा रहा है। इस वजह से नमी मिलने का सिलसिला कम हो गया है। जिसके चलते धीरे-धीरे बादल छंटने लगे हैं। हालांकि कुछ नमी मौजूद रहने के कारण जहां उमस परेशान करेगी, वहां कहीं-कहीं दोपहर बाद छिटपुट बौछारें भी पड़ सकती हैं।
उन्होंने बताया कि मौसम विभाग ने चार जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी है। इनमें धार, देवास, उज्जैन और रतलाम जिलों के अलग-अलग स्थानों पर गरज चमक के साथ बिजली गिरने की संभावना है। इसके अलावा राज्य के 13 अन्य जिलों में बारिश को लेकर यलो अलर्ट जारी किया गया। इनमें नीमच, दतिया, मुरैना, मंदसौर, भिंड, शिवपुरी, झाबुआ, शाजापुर, आगर-मालवा, बैतूल, राजगढ़, छिंदवाड़ा और नरसिंहपुर जिलों में बिजली चमकने के अलावा बादल गरजने के साथ ही बारिश भी होगी।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका ने 25 मास्टर ट्रेनर बनाएं

हरिओम उपाध्याय                    
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने 25 मास्टर ट्रेनर बनाये हैं। कठिन प्रशिक्षण के बाद तैयार हुए 25 कांग्रेस नेताओं को मास्टर ट्रेनर का नाम दिया गया है। ये मास्टर ट्रेनर प्रदेश की 403 विधानसभाओं तक जायेंगे और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को चुनाव के लिए प्रशिक्षित करेंगे।
उप्र कांग्रेस कमेटी का 24 अगस्त से 06 सितम्बर तक 403 विधानसभाओं में प्रशिक्षण अभियान चलने जा रहा है। इस अभियान के लिए कांग्रेस महासचिव प्रियंका के 25 मास्टर ट्रेनर तैयार हैं। सभी मास्टर ट्रेनरों को उन विधानसभाओं की जानकारी दे दी गयी है, जहां उन्हें पहुंचकर कार्यकर्ता प्रशिक्षण देना है।
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मीडिया सेल देख रहे द्विजेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि 24 अगस्त से शुरु हो रहा प्रशिक्षित कार्यक्रम को पांच हिस्से में बांटा गया है। बूथ प्रबंधन, विधानसभा स्तर पर अपनी योजना जैसे पांच मुद्दे इसमें शामिल है। ये प्रियंका गांधी वाड्रा की योजना है और महत्वपूर्ण अभियान है।
300 नेताओं में सिर्फ 25 का हुआ चयन...
उन्होंने बताया कि मास्टर ट्रेनर बनने से पहले 300 नेताओं का चयन हुआ था। 300 सौ नेताओं में से योग्यता के अनुसार 25 मास्टर ट्रेनर बनाये गये। मास्टर ट्रेनर की आगामी विधानसभा में अहम भूमिका रहेगी। प्रशिक्षण अभियान में बूथ प्रबंधन के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित करने की अहम जिम्मेदारी भी है।

राजीव नगर में वैक्सीनैशन कैम्प का शुभारंभ किया

पंकज कपूर                         
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राजकीय प्राथमिक विद्यालय, राजीव नगर में कोविड-19 वैक्सीनैशन कैम्प का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में दुनिया का सबसे बङा वैक्सीनैशन अभियान भारत मे चल रहा है। उत्तराखण्ड में चार माह के भीतर शत प्रतिशत वैक्सीनैशन कर दिया जाएगा। बागेश्वर और रुद्रप्रयाग जिलों में पूर्ण वैक्सीनेशन किया जा चुका है। मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड को आवश्यकता अनुसार टीके उपलब्ध कराए जाने पर प्रधानमन्त्री  को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि देश में न केवल कोविड का स्वदेशी टीका बनाया गया, हमने विश्व कल्याण की भावना से दूसरे देशों को भी उपलब्ध कराया है। प्रधानमंत्री  के नेतृत्व में भारत ने विश्व में अपना महत्वपूर्ण स्थान बनाया है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा भाव सुरक्षित उत्तराखण्ड स्वस्थ उत्तराखण्ड का है। 
कोशिश है कि जल्द से जल्द सभी को कोविड की वैक्सीन लगा दी जाए। प्रदेश में 207 प्रकार की स्वास्थ्य जांचें निशुल्क की जा रही हैं। इससे गरीब से गरीब व्यक्ति भी मुफ्त में अपनी स्वास्थ्य जांचे करा सकेगा। 
केंद्रीय मंत्री अजय भट्ट ने कहा कि दुनिया में कोविड टीकाकरण सबसे ज्यादा भारत में हुआ है। युवा मुख्यमंत्री के नेतृत्व में जनहित में अनेक योजनाएं लाई गई हैं। जिस गति और तन्मयता से उत्तराखण्ड में काम हो रहा है। उससे अंतिम पंक्ति में खङे व्यक्ति का भी काम हो रहा है। 
प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डाॅ धन सिंह रावत ने कहा कि आज देहरादून जिले में एक दिन में रिकार्ड 1लाख के करीब टीके लगाए जाएंगे। अगस्त माह में रायपुर विधानसभा क्षेत्र को 1 लाख वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएगी। 
विधायक उमेश शर्मा काउ ने सभी का धन्यवाद करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में प्रदेश के साथ ही रायपुर विधानसभा क्षेत्र में भी तेजी से विकास कार्य हो रहे हैं। 

विभिन्न असुविधाओ को लेकर डीएम को ज्ञापन दिया

पंकज कपूर                 
तेहरी। मखलोगी पट्टी के ग्रामीणों ने अस्पताल मे हो रहीं विभिन्न असुविधाओ को लेकर जिलाधिकारी को ज्ञापन प्रेषित किया। जिसमे ग्रामीणों ने विकासखंड चम्बा अस्पताल की तरफ ध्यान आकृष्ट करते हुए कहा कि जिला मुख्यालय बौराडी से करीब 25-30 किमी दूर विकासखंड चम्बा के पट्टी मखलोगा के अन्तर्गत नकोट कस्बे में रा. एलोपैथिक चिकित्सालय नकोट जिसके समीप दर्जनों गांव जुड़े हैं। किन्तु जनता को उसके बावजूद प्रसूति, एक्सरे एवं अल्ट्रासाउण्ड करवाने के लिये देहरादून जाना पड़ता है। जिससे ग्रामीणों को अत्यन्त कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। साथ ही समय एवं आर्थिक हानि भी होती है।  
ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से  ग्रामीण जनता की समस्या का समाधान एक माह के अन्दर करने की मांग की है । 
साथ ही उन्होंने कहा मांग ना मांगे जाने पर  ग्रामीणों को 18.09.2021 से अनिश्चित कालीन धरने पर बैठने के लिये बाध्य होना पड़ेगा जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेवारी शासन व प्रशासन की होगी।

यूपीएसएसएससी उम्मीदवारों के प्रवेश-पत्र भी जारी

हरिओम उपाध्याय           
लखनऊ। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग कल, 24 अगस्त 2021 को पहली प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) 2021 का आयोजन राज्य भर में निर्धारित विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर करने जा रहा है। साथ ही, आयोग ने परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए उम्मीदवारों के प्रवेश-पत्र भी पहले ही जारी कर दिये हैं। इस बीच आयोग ने कुछ परीक्षा केद्रों में बदलाव की घोषणा की है। यूपीएसएसएससी ने यूपी पीईटी परीक्षा के लिए पहले से निर्धारित चार परीक्षा केंद्रों में बदलाव किया है। ये सभी परीक्षा केंद्र राज्य के बागपत जिले में बनाये गये थे। आयोग द्वारा शनिवार, 21 अगस्त 2021 को इन परीक्षा केंद्रों में संशोधन करते हुए नये परीक्षा केंद्रों लिस्ट जारी की है।
इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग बागपत जिले के अतिरिक्त 10 अन्य जिलों में पहले बनाये गये विभिन्न केंद्रों में से एक के कुछ के विवरणों में संशोधन किया है। इन जिलों में आगरा, औरैया, लखीमपुर खीरी, अमरोहा, मुजफ्फरनगर, अमेठी, महाराजगंज, गाजीपुर, आजमगढ़ और हमीरपुर शामिल हैं। यूपी पीईटी परीक्षा के लिए जिन उम्मीदवारों को इन परीक्षा केंदों का आवंटन किया गया था, उनके लिए यूपीएसएसएससी अब नया एडमिट कार्ड जारी किया है। इन केंद्रों के उम्मीदवार अपने फ्रेश एडमिट कार्ड आयोग की वेबसाइट पर दिये गये लिंक या नीचे दिये गये डायरेक्ट लिंक से डाउनलोड कर सकते हैं।
बता दें कि यूपीएसएसएससी द्वारा आयोजित की जाने वाली सभी चयन प्रक्रियाओं के लिए प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) फर्स्ट स्टेज एग्जाम है। इस परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर ही उम्मीदवारों को मेरिट के आधार पर उत्तर प्रदेश सरकार के विभागों एवं संगठनों में ग्रुप सी पदों पर भर्ती के लिए चयन प्रक्रिया के अगले चरण में सीधे सम्मिलित होने के लिए आमंत्रित किया जाना है।

उपचार के लिए सुखराम को दिल्ली लें जाया गया

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय दूरसंचार राज्यमंत्री पंडित सुखराम की तबीयत बिगड़ने पर उन्हें उपचार के लिए दिल्ली ले जाया गया है। इस बात की जानकारी उनके पोते आश्रय शर्मा ने अपने फेसबुक अकाउंट पर एक पोस्ट डालकर दी है। उन्होंने लिखा है कि पूर्व केंद्रीय मंत्री पंडित सुखराम पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे हैं। उन्हें उपचार के लिए दिल्ली ले जाया गया है। हमें पूर्ण विश्वास है कि वो देवी-देवताओं के आशीर्वाद और आप सभी की दुआओं से जल्द ही पूरी तरह स्वस्थ होंगे।
दिल्ली में मैक्स अस्पताल से उनका उपचार चल रहा है। बताया कि अभी डॉक्टर सभी प्रकार के टेस्ट करवा रहे हैं और उसके बाद ही यह निर्णय लिया जाएगा कि सर्जरी करनी है या नहीं। सोमवार को उन्हें अस्पताल में दाखिल करने के लिए कहा गया है। 
जानकारी के अनुसार पूर्व मंत्री को मूत्र से संबंधित संक्रमण हुआ है। यह समस्या काफी समय से चल रही थी, लेकिन सही ढंग से उपचार न होने के कारण यह समस्या गंभीर हो गई। इसलिए उन्हें दिल्ली लाया गया है। मैक्स अस्पताल में उनका उपचार चल रहा है।

शादी का झांसा देकर दुष्कर्म का मामला सामने आया

दुष्यंत टीकम                  
छत्तीसगढ़। बेमेतरा जिले से एक छात्रा के साथ शादी का झांसा देकर 8 महीने से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। छात्रा की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी युवक लोकेश यादव को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार घटना बेमेतरा के बांसा गांव की छात्रा ग्रेजुएशन कर रही है,लोकेश यादव नाम का व्यक्ति घरों में जाकर ड्राइंग बनाने का काम करता है।
लोकेश ड्राइंग बनाने के लिए बांसा गांव की रहने वाली छात्रा के घर पर आया हुआ था, इसी दौरान छात्रा को लोकेश से प्यार हो गया। दोनों ने एक-दूसरे को अपना मोबाइल नंबर भी दिया फिर फिर दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगा। छात्रा ने पुलिस को अपने बयान में कहा है कि इसी दौरान लोकेश 8 महीने से लगातार शारीरिक संबंध भी बनाया। फिरहाल पुलिस आरोपी युवक लोकेश को गिरफ्तार कर मामले की जांच कर रही है।

एक्टर फिल्ममेकर महेश मांजरेकर की सर्जरी हुईं

कविता गर्ग                  
मुबंई। एक्टर फिल्ममेकर महेश मांजरेकर की हाल ही में सर्जरी हुई है। वह यूरिनरी ब्लैडर कैंसर से पीड़ित थे और डॉक्टर ने उन्हें सर्जरी करने को कहा था। मुबई के सिर एच एन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में महेश की सर्जरी हुई। महेश कुछ दिनों से अस्पताल में भर्ती थे।
बता दें कि साल 1992 में महेश ने मराठी फिल्म जीवा सखा से अपने करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद उन्होंने कई हिट फिल्में दी जिसमें प्लान, जिंदा, मुसाफिर कांटे और दस कहानियां शामिल हैं। सलमान खान की फिल्म दबंग में महेश ने सोनाक्षी सिन्हा के पिता का किरदार निभाया था जो शराबी थे। फिल्म में भले ही महेश का रोल कम था, लेकिन उनके काम की काफी तारीफ हुई थी।
महेश एक्टर होने के अलावा अच्छे सिंगर और शानदार डायरेक्टर हैं। फिल्म कांटे में महेश ने गाना गाया था। वहीं उन्होंने फिल्म आई, निदान, वास्तव, विरुद्ध जैसी फिल्मों को डायरेक्ट किया है। वैसे महेश डांसर भी अच्छे हैं। साल 2006 में उन्होंने झलक दिखलाजा में भी पार्टिसिपेट किया था और वह सेकेंड रनरअप रहे थे। 2018 में महेश ने बिग बॉस मराठी को होस्ट किया था।
महेश लास्ट फिल्म द पावर में नजर आए थे जो इसी साल रिलीज हुई है। इसमें महेश के साथ विद्युत जामवाल और श्रुति हासन लीड रोल में थे।

पीएम ने 26 को बिगड़ती स्थिति के बीच बैठक बुलाई

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। अफगानिस्तान में लगातार बिगड़ती स्थिति के बीच भारत सरकार द्वारा सर्वदलीय बैठक बुलाई गई है।भारत सरकार ने 26 अगस्त को सुबह 11 बजे सर्वदलीय बैठक बुलाई है। जिसमें अफगानिस्तान के मसले पर चर्चा की जाएगी।
अफगानिस्तान में भारत का बड़ा निवेश रहा है और वह एक रणनीतिकार साथी है। ऐसे में वहां पर तालिबान का राज आ जाना भारत के लिए बड़ी चुनौती है। ऐसे में भारत इसको लेकर क्या रणनीति अपनाता है, इसको लेकर केंद्र सरकार सभी राजनीतिक दलों के साथ मंथन करेगी।
भारत की ओर से अभी तक तालिबानी शासन आने पर कोई आधिकारीक बयान नहीं दिया गया है, बल्कि अभी वहां पर फंसे भारतीय नागरिकों को वहां से निकालने पर फोकस किया जा रहा है। भारत अभी तक 500 से अधिक भारतीयों को अफगानिस्तान से सुरक्षित निकाल चुका है।
अगर भारत के रुख की बात करें तो विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बीते दिनों बयान दिया था कि वह अफगानिस्तान की गतिविधियों पर नज़र बनाए हैं और हर तरीके से इसपर चर्चा जारी है। भारत की ओर से अमेरिका और अन्य संबंधित देशों के साथ भी लगातार चर्चा की जा रही है। 
बता दें कि कई विपक्षी दलों द्वारा अभी तक आवाज उठाई गई है कि केंद्र सरकार को तालिबानी शासन को लेकर अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए। लेकिन भारत सरकार अभी वेट एंड वॉच के मोड में चल रही है और पूरा फोकस लोगों के रेस्क्यू मिशन पर ही है।
अफगानिस्तान भारत के लिए काफी अहम है। यहां पर सैकड़ों परियोजनाओं में भारत का अरबों रुपये इनवेस्ट हुआ है। इसके अलावा सामरिक और क्षेत्रीय स्थिति के अनुसार भी अफगानिस्तान का काफी महत्व है। ऐसे में भारत इस विषय पर सोच-समझ कर कदम उठा रहा है।

चार महीने तक बंद रहने के बाद खुल रहा है जगन्नाथ

पुरी। स्थित प्रसिद्ध श्री जगन्नाथ मंदिर करीब चार महीने तक बंद रहने के बाद सोमवार को खुल रहा है। इससे एक दिन पहले, रविवार को पुलिस ने श्रद्धालुओं से अपील की थी कि वे मंदिर जाने के अपने अनुभव को पुलिस के साथ साझा करें। पुलिस सूत्रों ने बताया कि श्रद्धालु मंदिर में पुलिस सेवा को अपने अनुभवों के बारे में बता सकते हैं। इसके लिए उन्हें एक फॉर्म भरना होगा।
वे ऑनलाइन ‘क्यूआर कोड’ के जरिए भी रिस्पॉन्स दे सकते हैं। पुरी पुलिस ने ट्वीट किया, ‘हमारी अपील है कि अपने अनुभव हमारे साथ साझा कीजिए ताकि श्रद्धालुओं के लिए मंदिर में दर्शन के अनुभव को और बेहतर एवं सुगम बनाया जा सके.’ कोविड-19 वैश्विक महामारी की दूसरी लहर के कारण 12वीं सदी के इस मंदिर को जनता के लिए 24 अप्रैल को बंद कर दिया गया था।
वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट या कोविड रिपोर्ट जरूरी
श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश करने से पहले फुल वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट या कोविड टेस्ट रिपोर्ट दिखानी होगी। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मंदिर को फिर से खोलने से पहले बल और अधिकारियों की डिटेल्ड ब्रीफिंग की गई है। कोरोना दिशानिर्देशों के मुताबिक, सोमवार से शुक्रवार सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक सभी भक्तों को मंदिर में प्रवेश की अनुमति होगी। जबकि सफाई के लिए शनिवार और रविवार को मंदिर बंद रखा जाएगा।

डीएम ने प्रोटोकॉल का अनुपालन पर निरीक्षण किया

पंकज कपूर                         
उत्तरकाशी। जिलाधिकारी ने कालेज कलाइब्रेरी,कम्प्यूटर कक्ष तथा कक्षा-कक्षों एवं कालेज में कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन को लेकर निरीक्षण किया। 
राजकीय इंटर कालेज की पुस्तकालय में पुरानी एडिशन की किताबें पायी गई। छात्रों को नई एडिशन की किताबें नही खरीदने पर जिलाधिकारी ने गत तीन साल में खरीदी गई किताबों की सूची उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। रुचि पूर्ण व प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित पुस्तकों आदि के लिए सीनियर छात्रों से लिखित रूप में लिया जाय कि उन्हें किस प्रकार की किताबों की जरुरत है। इस हेतु कालेज की ओर से सभी छात्रों को एक सर्कुलर जारी करने के निर्देश दिए। ताकि छात्र आने वाली प्रतियोगी परीक्षा की भी तैयारी कर सकें। लाइब्रेरी से जिस छात्र को किताब पढ़ने के लिए दी जा रही है उसका वितरण पंजिका में अंकन करने के निर्देश दिए। 

जिलाधिकारी ने पुस्तकालय में कम्यूटर स्थापित करने व इंटरनेट जोड़ने के निर्देश दिए। ताकि छात्र ऑनलाइन के माध्यम से भी अपनी पठन -पाठन की सामग्री संकलित कर सकें। उसके उपरांत जिलाधिकारी ने कॉलेज में कोविड-19 संक्रमण के प्रभावी रोकथाम व नियंत्रण के लिए बरती जाने वाली सावधानियों का भी निरीक्षण किया। कालेज परिसर में लगें सेनेटाइजर मशीन,एल्कोहल युक्त सेनेटाइजर, टेंपरेचर मशीन, को भी देखा। जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि प्रत्येक विद्यालयों में कोविड-19 एसओपी का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराएं तथा बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए विद्यालयों में प्रयोग किए जाने वाले सेनिटाइजर को जांच परख कर ही लेने के निर्देश दिए। उसके उपरांत जिलाधिकारी ने संस्कृत कक्षा में गए तथा छात्रों से बातचीत की।

टाटा मोटर्स ने एसयूवी एचबीएक्स से पर्दा हटाया

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। टाटा मोटर्स ने अपनी चर्चित माइक्रो एसयूवी एचबीएक्स से पर्दा हटा दिया है। टाटा ने सोमवार को इसकी झलक पेश की। इस एसयूवी का नाम टाटा पंच रखा गया है। यह टाटा की सबसे सस्ती एसयूवी हो सकती है और यह कई अनूठे फीचर से लैस है।
कंपनी इस माइक्रो एसयूवी टाटा पंच को जल्द लॉन्च भी करेगी। टाटा मोटर्स का दावा है कि यह माइक्रो एसयूवी हर वर्ग को पसंद आएगी।
गौरतलब है कि यह टाटा मोटर्स की सबसे सस्ती एसयूवी हो सकती है। कंपनी ने 21 अगस्त 2021 को अपने सोशल मीडिया पेज के जरिये एचबीएक्स का पहला टीजर वीडियो जारी करके इस बात का खुलासा किया, कि वह जल्द ही अपनी इस छोटी एसयूवी को भारत में लॉन्च करने जा रही है.वहीं कंपनी की इस एसयूवी को देश की सड़कों पर कई बार टेस्टिंग के दौरान देखा जा चुका है। गौरतलब है कि टाटा पंच के फीचर्स को लेकर काफी चर्चा है। पिछले साल टाटा पंच के कॉन्सेप्ट मॉडल को कंपनी ने ऑटो एक्स्पो में शोकेस किया था।
यह टाटा की पहली एसयूवी होगी जो लाइट फ्लेक्सिबल एडवांस आर्किटेक्चर पर आधारित होगी और इसे I इम्पेक्ट 2.0 डिजाइन लैंग्वेज के तहत विकसित किया गया है। यह युवा ग्राहकों को टारगेट करके लाई जा रही है जो शहर में कार और एसयूवी दोनों के फीचर अपनी गाड़ी में चाहते है। टीजर और अनवेल से यह पता चलता है कि टाटा पंच में उसी तरह से डेटाइम रनिंग लाइट्स होंगे। जैसा कि टाटा हैरिए और टाटा सफारी मॉडलों में दिए गए हैं। इस डीआएल के नीचे हेडलैम्प क्लस्टर होगा। कंपनी ने संकेत दिया है कि 'एक जगह सबकुछ' होगा। यानी इसकी डिजाइन में काफी विविधता होगी।
टाटा पंच के संभावित लुक और फीचर्स की बात करें तो देखने में यह काफी मस्कुलर होगा और इसकी टायर और रियर लुक काफी आकर्षक हो सकती है.ऐसी उम्मीद की जा रही है कि कंपनी इसकी कीमत काफी आकर्षक रखेगी और इसका मुकाबला महिंद्रा 100 तथा मारुति इग्निस से हो सकता है। इसका मुकाबला आने वाली माइक्रो एसयूवी केसपर से भी हो सकता है।

वक़्फ़ की संपत्तियों के सहयोग से 'लूट' का आरोप

हरिओम उपाध्याय             
लखनऊ। अल्पसंख्यक कांग्रेस प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज़ आलम ने पूरे प्रदेश में वक़्फ़ की संपत्तियों के सरकारी सहयोग से लूट का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस की सरकार बनते ही पिछले 30 वर्षों में वक़्फ़ की संपत्तियां जहां-जहाँ लीज पर दी गयीं हैं उनकी जाँच होगी और अनियमितता पाने पर दोषियों के खिलाफ़ क़ानूनी कार्यवाई की जायेगी। 
शाहनवाज़ आलम ने कहा कि जब तक प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी वक़्फ़ संपत्तियों पर अवैध क़ब्ज़ा नहीं था। वक़्फ़ से होने वाली आय से ही विधवा मुस्लिम महिलाओं को पेंशन भी कांग्रेस सरकार दिया करती थी। लेकिन बाद की गैर कांग्रेस सरकारों ने वक़्फ़ संपत्तियों को लूटने और बेचने का काम किया। यहाँ तक कि सपा के कुछ नेता तो सौ से अधिक वक़्फ़ संपत्तियों के क़ब्ज़ेदार बन गए हैं। उन्होंने कहा कि वक़्फ़ के मुद्दे पर अल्पसंख्यक कांग्रेस जल्दी ही ज़िले वार आंदोलन करेगी। 

प्रतिनिधिमंडल के साथ पीएम मोदी से मुलाकात की

अविनाश श्रीवास्तव                    
पटना। जातीय जनगणना की मांग को लेकर सोमवार को बिहार के सीएम नीतीश कुमार और नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने 10 अलग-अलग दलों के प्रतिनिधिमंडल के साथ प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी से मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद सीएम नीतीश और तेजस्‍वी यादव ने मीडिया से एक सुर में बात की। दोनों नेताओं ने कहा कि प्रधानमंत्री ने बड़े गौर से उनकी बात सुनी है। 
अब उन्‍हें इस सम्‍बन्‍ध में निर्णय का इंतजार है। सीएम नीतीश कुमार ने पत्रकारों को प्रधानमंत्री से हुई मुलाकात का ब्‍योरा देते हुए कहा कि प्रतिनिधिमंडलने जातीय जनगणना के सभी पहलुओं को लेकर पीएम के सामने विस्‍तार से अपना पक्ष रखा। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने सबकी बातों को बड़े गौर से सुना। उन्‍होंने जातीय जनगणना की मांग से इनकार नहीं किया है। हमें उम्‍मीद है कि वह इस बारे में विचार करके उचित निर्णय लेंगे। उन्‍होंने कहा कि नेताओं ने प्रधानमंत्री को जातिगत जनगणना के बारे में अब तक बिहार में हुई कोशिशों की पूरी जानकारी दी। उन्‍हें बताया कि कैसे 2019 और 2020 में प्रस्‍ताव पास किया गया।
बीच में केंद्र के एक मंत्री के यह कहने से कि जातिगत जनगणना नहीं हो पाएगी, पूरे राज्‍य में बेचैनी फैल गई। उन्‍होंने कहा कि इसी स्थिति के चलते पीएम से आज मुलाकात की गई। उन्‍हें ओबीसी, माइनारिटी समेत सभी के बारे में जानकारी दी गई। सीएम नीतीश ने कहा कि जातिगत जनगणना बेहद जरूरी है। यह एक बार हो जाएगा सब की स्थिति स्‍पष्‍ट हो जाएगी। जिन वर्गों को सरकारी योजनाओं का उचित लाभ नहीं मिल पा रहा है उनके बारे में  भी ठीक ढंग से योजनाएं बन पाएंगी। विकास के लिए ठीक से काम होगा। 

वयस्‍कों के मुकाबले बच्‍चों को प्रभावित करेंगा कोरोना

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्‍ली। नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ डिजास्‍टर मैनेजमेंट 
ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि यह बात पुख्ता तौर पर नहीं कही जा सकती कि कोरोनावायरस की तीसरी लहर वयस्‍कों के मुकाबले बच्‍चों को ज्‍यादा प्रभावित करेगी। नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ डिजास्‍टर मैनेजमेंट ने इंडियन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्‍स और लेंसेंट कोविड-19 कमीशंस रीजनल टास्‍क फोर्स का हवाला देते हुए यह बात कही है। हालांकि इस रिपोर्ट में यह भी कहा है।
‘चिंता के पर्याप्‍त कारण हैं। लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि भारत में बच्‍चों का अभी टीकाकरण नहीं हुआ है और उनके लिए मौजूदा स्‍वास्‍थ्‍य सुविधाएं बड़े स्‍तर पर इलाज के लिहाज से पर्याप्‍त नहीं हैं।

स्पेस स्टेशन पृथ्वी से 400 किलोमीटर ऊंचाई पर हैं

पंकज कपूर                      
नैनीताल। स्थित आर्यभट्ट प्रेक्षण विज्ञान शोध संस्थान (एरीज ) के प्रभारी डॉ वीरेंद्र यादव ने बताया है कि अंतरिक्ष एजेंसी नासा के अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन को अगले 5 दिनों तक नैनीताल और देहरादून से खगोलीय दूरबीन के जरिये देखा जा सकता है। यह स्पेस स्टेशन अभी पृथ्वी से 400 किलोमीटर ऊंचाई पर स्थित है। इसे सुबह 4 से 5 बजे तक दूरबीन के जरिये देखा जा सकता है।
उन्होंने बताया कि इस बार कुछ दिनों के लिए अंतराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में दिखाई देगा यह अलग-अलग समय पर दुनिया के अलग-अलग हिस्सों और देशों में नजर आता है। इसे 22 से 27 अगस्त तक देखा जा सकता है। उत्तर भारत में इस समय मानसून बहुत ज्यादा सक्रिय है। जिस वजह से इसको देख पाना शायद मुश्किल हो।

कल्याण सिंह के सम्मान में राज्य सरकार का फैसला

हरिओम उपाध्याय                   
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के दो बार मुख्यमंत्री रह चुके कल्याण सिंह के सम्मान में राज्य सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। दरअसल , योगी सरकार ने फैसला लेते हुए कहा है कि प्रदेश के पांच जिलों में पांच सड़कों का नाम कल्याण सिंह मार्ग रखा जायेगा।
इन्होंने दिया साथ। इसमें अयोध्या ,अलीगढ़, एटा, बुलंदशहर और प्रयागराज शामिल हैं। बता दें कि अयोध्या में राम मंदिर जाने वाली सड़क का नाम 'कल्याण सिंह' मार्ग रखा जायेगा। इसके अलावा ,अलीगढ़ एयरपोर्ट का नाम भी कल्याण सिंह के नाम पर रखने का विचार चल रहा है।
इसकी जानकारी प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट कर दी। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर जाने वाली सड़क का नाम कल्याण सिंह मार्ग रखा जाएगा और इसके लिए जल्द से जल्द प्रस्ताव पेश करने के लिए निर्देश भी दे दिए हैं। बता दें कि साल 1990 में कल्याण सिंह ने प्रदेश भर में दौरा किया था, साथ ही राम मंदिर के लिए लोगों को प्रेरित भी किया था। इसके अलावा राम मंदिर अभियान को तेज करने में इन्होने बड़ी भूमिका निभाई थी। यही नहीं साल 1991 में कल्याण सिंह के नेतृत्व में भाजपा ने यूपी में अपनी पहली सरकार बनाई थी और वह लोगों , कार्यकर्ताओं और पार्टी में काफी लोकप्रिय हो गए।
बता दें कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का लखनऊ के एसजीपीजीआई में शनिवार को निधन हो गया था। दरअसल वह लंबी बीमारी से जूझ रहे थे और लखनऊ के एसजीपीजीआई अस्पताल में कुछ दिनों से भर्ती थे। 89 वर्ष की उम्र में उन्होंने अंतिम सांस ली। वहीं बुलंदशहर के नरौरा में सोमवार शाम कल्याण सिंह का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

815 किलोमीटर की यात्रा पर पीएम मोदी का ध्यान

उधमपुर। फहीम नजीर शाह श्रीनगर से पैदल चलकर दिल्ली जा रहे हैं। इस उम्मीद में कि उनकी करीब 815 किलोमीटर की यात्रा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ध्यान जाएगा और उन्हें उनसे मिलने का मौका मिलेगा। जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में इलेक्ट्रीशियन के रूप में काम करने वाले 28 वर्षीय फहीम नजीर शाह ने कहा, ”मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बहुत बड़ा प्रशंसक हूं।
शाह 200 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करने के बाद रविवार को उधमपुर पहुंचे। श्रीनगर के शालीमार इलाके के रहने वाले शाह दो दिन पहले शुरू हुई अपनी यात्रा के दौरान थोड़ी-थोड़ी देर का विराम लेकर यहां पहुंचे।
उन्होंने कहा कि इस कठिन यात्रा के अंत में प्रधानमंत्री से मिलने का उनका सपना पूरा हो जाएगा। शाह ने कहा, ” मैं उनसे (मोदी) मिलने के लिए पैदल दिल्ली जा रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि मैं प्रधानमंत्री का ध्यान आकर्षित कर पाऊंगा। प्रधानमंत्री से मिलना मेरा सपना है।”
साथ ही कहा कि पूर्व में प्रधानमंत्री से मिलने के लिए किए गए उनके प्रयास सफल नहीं हुए। शाह ने कहा कि वह पिछले चार वर्षों से सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री को फॉलो कर रहे हैं और उनके भाषण और कार्यों ने ”मेरे दिल को छू लिया है।”
उन्होंने कहा, ” एक बार जब प्रधानमंत्री रैली में भाषण दे रहे थे, वह ‘अज़ान’ सुनकर अचानक रुक गए, इससे जनता चकित रह गई… हमारे प्रधानमंत्री के उस इशारे ने मेरे दिल को छू लिया और मैं उनका प्रशंसक बन गया।” जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने और 2019 में केंद्र शासित प्रदेश बनाने के बाद हुए बदलाव के बारे में पूछे जाने पर, शाह ने कहा कि बदलाव दिखाई दे रहा है क्योंकि प्रधानमंत्री मोदी का ध्यान जम्मू-कश्मीर पर है।

खिलाड़ियों की प्रतिभाओं को निखारने की कमी

संदीप मिश्र         

बरेली। जिले में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं हैं। कमी है तो सिर्फ खिलाड़ियों की छिपी हुई प्रतिभाओं को निखारने की। कोरोना संक्रमण के चलते लगभग 18 महीने से कोई प्रतियोगिता नही हों पाई है। संक्रमण काल से पहले चार प्रतियोगिता में बरेली स्टेडियम के 22 खिलाड़ियों ने प्रदेशीय और राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग किया था।

लॉकडाउन के कारण खिलाड़ियों का अभ्यास बाधित रहा है। जुलाई से स्टेडियम खुलने के बाद अब स्टेडियम में फुटबॉल के खिलाड़ी अभ्यास कर रहें हैं लेकिन कोचों की कमी स्टेडियम में आज तक पूरी नहीं हो पायी है। कुछ खेलों के खिलाड़ी खुद से अभ्यास कर रहे हैं। कोविड गाइड लाइन के अनुसार फुटबॉल में 40 ही खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

24 अगस्त को डिजिटल बैठक करेंगे राष्ट्रपति बाइडन

वाशिंगटन डीसी। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन अफगानिस्तान संबंधी नीति पर करीबी समन्वय के बारे में चर्चा करने के लिए जी7 समूह के सदस्य देशों के नेताओं के साथ 24 अगस्त को डिजिटल बैठक करेंगे। यह जानकारी व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव जेन साकी ने रविवार को दी। 

साकी ने एक बयान में कहा, ”राष्ट्रपति जो बाइडन 24 अगस्त को जी7 देशों के अन्य नेताओं के साथ डिजिटल तरीके से बैठक कर सकते हैं। ये नेता अफगानिस्तान नीति पर अपना करीबी समन्वय जारी रखने और हमारे नागरिकों, पिछले दो दशक में हमारे साथ डटे रहे बहादुर अफगानों और अन्य कमजोर अफगान नागरिकों को वहां से निकालने पर चर्चा करेंगे।”

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-373 (साल-02)
2. मंगलवार, अगस्त 24, 2021
3. शक-1984,सावन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-सप्तमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -23 डी.सै., अधिकतम-37+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...