गुरुवार, 28 नवंबर 2019

जमीन के भगवान पी रहे जनता का खून

महाराजगंज! उत्तर प्रदेश भाजपा सरकार देश में आम जनता तक स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतर व्यवस्था का दावा कर रही है । लेकिन उसे सरकार में ऐसे तमाम जमीन के भगवान हैं जो इलाज के नाम पर जनता का खून पी रहे हैं। मामला महाराजगंज जनपद के निचलौल  क्षेत्र के संजीवनी हॉस्पिटल का है जहां पर पूर्व में भी संयुक्त निदेशक जे डी स्वास्थ्य एके चौधरी द्वारा कोई भी प्रशिक्षित चिकित्सक के ना होने,अस्पताल में गंदगी और अल्ट्रासाउंड के दौरान लिंग की पहचान बताने की शिकायत पर उसे सीज कर दिया था । परंतु आज यह अस्पताल फिर से शुरू हो गया है और आश्चर्यजनक बात तो यह है कि अस्पताल आज भी उसी दिशा दशा में मौजूद है जिस दशा में उसे संयुक्त निदेशक जेडी स्वास्थ्य ने सीज किया था । आपको जानकर आश्चर्य होगा कि अस्पताल के संचालनकर्ता डॉ ब्रहस्पति पटेल खुद को एमबीबीएस A.m. परामर्श चिकित्सक बताते हैं जिसे आप को हम आपके मोबाइल स्क्रीन पर दिखाने की कोशिश कर रहें है जो दीवाल पर साफ साफ दिखाई दे रहा है। और उन्हें यह भी नहीं पता है कि एमबीबीएस  को शुद्ध रूप से कहते क्या हैं। कहा जा सकता है कि उन्हें एमबीबीएस डिग्री की जानकारी ही नहीं है उन्हें एमबीबीएस का फुल फॉर्म तक नहीं पता है ।


अपने आप को परामर्श चिकित्सक बताने वाले बृहस्पति पटेल ने डाक टाइम्स चैनल की टीम को बताया कि अस्पताल के वे संचालन कर्ता है यहां पर मरीज आने के बाद गोरखपुर से चिकित्सकों को बुलाया जाता है जो मरीज का इलाज करते हैं। इससे आप सहज अंदाजा लगा सकते हैं कि गोरखपुर से महाराजगंज के बीच की दूरी तय करने में चिकित्सक को कितना समय लगता होगा और इतने समय में तो एक पूरी कौम को खत्म करने के लिए पर्याप्त है। लेकिन अस्पताल में दलालों के मकड़जाल में मरीजों को फंसा कर उनका आर्थिक शोषण पहले भी होता रहा है और आज भी बदस्तूर जारी है। मौजूदा डॉक्टर  पटेल के अनुसार अस्पताल में डिलीवरी ऑपरेशन और भगंदर से लेकर कैंसर तक के इलाज होते हैं परंतु खास बात तो यह है कि अस्पताल में कोई भी चिकित्सक नहीं है और जो चिकित्सक हैं भी उन्हें पता ही नहीं कि वह किस चीज के चिकित्सक हैं । क्योंकि डॉ0 पटेल बताते हैं कि उन्हें अल्टीमेट मेडिसिन की डिग्री मिली है।लेकिन एमबीबीएस क्या होता है उन्हें नही पता है।अब सीधा सवाल स्वास्थ्य महकमे से है  क्या जिस डॉक्टर को अपने स्वास्थ्य महकमे से अपने CMO, CMS या कहिए उत्तर प्रदेश के मुख्य चिकित्सा निदेशक का नाम नहीं मालूम यहां तक कि उसे अपने डिग्री के बारे में मालूम नहीं तो क्या वास्तव में इन जैसे लोगो को भी जमीन का भगवान कहा जा सकता है।इस मामले में जब डाक टाइम्स न्यूज़ टीम ने जिला चिकित्सा अधिकारी से वाया फोन  संपर्क करना चाहा तो उनका फोन नही रिसीव हुआ। जिसके बाद अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी से जब बात किया तो एमबीबीएस एम की डिग्री को फर्जी बताते हुए क्या कहे खुद देख लीजिए इस वीडियो में सैकड़ों साक्ष्य मीडिया के पास मौजूद फिर क्यों कर रही है जिला प्रशासन हीलाहवाली क्यों जिला प्रशासन ऐसे डॉक्टर को भगवान का दर्जा दे रही है जिसे मालूम नही डॉक्टर का मतलब क्या होता है? यह बहुत बड़ा प्रश्न चिन्ह है उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य महकमे के ऊपर!


बरसात-ओलावृष्टि से किसानों को काफी नुकसान

बेमौसम बारिश से कहीं फसलों फायदा तो कहीं नुकसान



हस्तिनापुर। बुधवार शाम से शुरू हुई बेमौसम बरसात धीरे धीरे अपने चरम पर पहुंची, जिसके बाद क्षेत्र में घटा छा गई!जिसके बाद गुरुवार दोपहर को क्षेत्र के दर्जनों गांवो में भारी बारिश और भीषण ओलावृष्टि हुई। जिससे किसानों की सरसों की फसल को काफी नुकसान पहुंचा, साथ ही किसानों की रबी की फसलों पर संकट के बादल मंडराने लगे और यह बारिश खादर क्षेत्र में गंगा किनारे तराई के क्षेत्र में गेहूं की फसलों के लिए भी घातक सिद्ध हो सकती हैं! इस बे मौसम बरसात ने किसानों चेहरे पर चिंता की लकीरें हो एक बार फिर बढ़ा दिया।
बेमौसम बरसात से एक बार फिर खादर क्षेत्र के किसानों की मुश्किले बढ़ती दिखाई दे रही हैं बुधवार शाम से शुरू हुई बेमौसम बरसात धीरे धीरे गति पकड़ती रही और गुरुवार दोपहर को क्षेत्र के दर्जनों गांव तारापुर, सराय, फाजलपुर, सहजादपुर, मानपुर, राठौरा खुर्द, कुंहेडा, फतेहपुर प्रेम, आदि गांव में भारी बारिश के साथ भीषण ओलावृष्टि हुई कई मिनट तक हुई ओलावृष्टि से क्षेत्र की सड़क के सफेद रंग में तब्दील हो गई गुरुवार को हुई भारी ओलावृष्टि से किसानों के खेतों में खड़ी सरसों की फसल को काफी नुकसान पहुंचा है। वही गंगा के तराई इलाकों में किसानों के द्वारा बोई गई गेहूं की फसल में पानी भर गया है जिन गेहूं की फसलों पर अब संकट के बादल मंडरा रहे हैं। रबी के सीजन में मौसम में आया यह बदलाव आलू, सरसों, चना, मसूर, फूलगोभी, मटर आदि सब्जियों के साथ-साथ निचले इलाकों में बोई गई गेहूं की फसलो के लिए भी घातक सिद्ध हो सकती है। खादर क्षेत्र में गंगा के आसपास तराई इलाकों में हजारों एकड़ गेहूं की फसल इससे पूर्व भी बेमौसम बरसात से बर्बाद हुई हैं। गुरुवार को हुई तेज बारिश ओलावृष्टि से रेतीले इलाके में खड़ी गेहूं की फसल गन्ने की फसल में सिंचाई हो गई है जिससे किसानों को काफी राहत मिली है यहां बारिश तो हल्की ही हुई है। वहीं इस ओलावृष्टि से तिलहन फसलों पर नुकसान बहुत ज्यादा है और साथ ही साथ आलू, टमाटर आदि सब्जियों पर गलन रोग बढ़ने की संभावना है।
कई मिनट तक हुई ओलावृष्टि!
करीब आठ से दस मिनट तक सिर्फ पत्थर (ओले) गिरे हैं, फिर बारिश हुई। एक एक पत्थर कंचे के बराबर था। जिससे सरसों की खड़ी फसल टूट चुकी है। और कुछ में पानी भरने से गलने की संभावना बढ़ गई है।
तेज हवाओं से गन्ने की फसल भी गिरी;
बुधवार शाम से लगातार तेज हवाओं हो रही बारिश से किसानों के खेतों में खड़ी गन्ने की तैयार फसल भी धरती पर लेट गई है जिसके कारण किसानों की गन्ने की पैदावार भी प्रभावित होगी।
इनका कहना
स्वामी कल्याण देव कृषि विज्ञान केंद्र के मृदा वैज्ञानिक डॉ राकेश तिवारी का कहना है बेमौसम बरसात से किसानों के गेहूं की बुवाई प्रभावित हुई है। दिसम्बर  माह में गेहूं बुवाई के समय 8 किलो डीएपी, 5 किलो म्यूरेट आफ पोटाश व 6 किलो यूरिया अथवा 14 किलो एनपीके व 7 किलो यूरिया तथा प्रथम व द्वितीय सिंचाई के उपरांत पांच-पांच किलो यूरिया प्रति बीघा का प्रयोग किसान करें।


क्षेत्र में बारिश और ओलावृष्टि से गिरा तापमान
हस्तिनापुर। बुधवार शाम लगातार हो रही बारिश से मौसम में आए बदलाव के कारण क्षेत्र के तापमान में भी करीब 5 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट हुई है जिसके कारण गुरुवार शाम तक तापमान 15 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया
जिससे तेज हवाओं के साथ ठंड ने भी दस्तक दे दी है हस्तिनापुर क्षेत्र के ग्रामीण इलाके में गुरुवार दोपहर को हुई भारी बारिश और भीषण ओलावृष्टि के साथ शाम होते होते ठंड अपने चरम पर पहुंच गई। जिससे सड़कों पर जा रहे राहगीर अब गर्म कपड़ों में लिपटे दिखाई दिए। गुरुवार सुबह से ही आसमान में काले बादल छा गए थे और हल्की हल्की बारिश हो रही थी दोपहर होने तक कई बार हुई तेज बरसात से ओलावृष्टि के बाद आसमान में शाम तक बादल छाए रहे।
!इनका कहना!
इस संबंध में स्वामी कल्याण देव कृषि विज्ञान केंद्र के प्रभारी वैज्ञानिक डॉक्टर ओमवीर सिंह ने बताया कि शुक्रवार को भी बादल छाए रहेंगे और हल्की बारिश होने की भी संभावना है।
इस बरसात से किसानों की गेहूं की बुवाई प्रभावित हुई है परंतु सिंचाई के उद्देश्य से यह किसानों के लिए फायदेमंद भी है!


आपकी सेवा में नामक वाहन का चेयरमैन ने किया उद्घाटन
हस्तिनापुर। प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत कस्बे के लोगों को कूड़े से निजात दिलाने के लिए नगर पंचायत हर संभव प्रयास कर रही है और कस्बे को साफ स्वच्छ बनाने के लिए नए-नए प्रयास किए जा रहे हैं जिसके लिए नगर पंचायत ने कूड़े की ऑनलाइन शिकायत वाले लोगों के लिए गुरुवार को जीपीएस सिस्टम से लैस आपकी सेवा में नामक वाहन का चेयरमैन अरुण कुमार ने हरी झंडी दिखाकर कस्बे के लिए रवाना किया इस अवसर पर नगर पंचायत के कर्मचारी और सभासद मौजूद रहे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश का सबसे बड़ा अभियान भारत स्वच्छता सर्वेक्षण अभियान चलाया गया जिसके बाद पूरे देश में यह अभियान चलाया गया और देश का हर व्यक्ति इस अभियान से प्रेरित हुआ नगर पंचायत हस्तिनापुर ने भी कस्बे को साफ स्वच्छ बनाने के लिए विभिन्न योजनाएं बनाई और उन्हें धरातल पर लाया गया इसी के बाद है नगर पंचायत द्वारा कूड़े की ऑनलाइन शिकायत का प्रबंध भी किया गया। जिससे लोग अपने घरों में बैठे ही ऑनलाइन कूड़े की शिकायत कर सकें इसी के तहत नगर पंचायत ने कस्बे में एक वाहन की शुरुआत की है। इस वाहन का नाम आपकी सेवा में रखा गया है नगर पंचायत के चेयरमैन अरुण कुमार ने बताया कि इस वाहन में जीपीएस तकनीक लगी हुई है जिससे लोकेशन को टैग करने में यह सहायक सिद्ध होगा साथ ही ऑपरेटर द्वारा बताए गए लोकेशन को आसानी से लॉक कर सकेगा और शिकायतकर्ता के पास अविलंब पहुंचेगा। नगर की सफाई व्यवस्था को नई दिशा देने के लिए तथा स्वच्छता सर्वेक्षण लीग 2020 में सर्वोच्च स्थान प्राप्त करने के लिए नगर पंचायत द्वारा यह अथक प्रयास किया जा रहा है। जो ऑनलाइन आने वाली कस्बे के लोगों की शिकायत पर तुरंत उनके द्वार पर जाकर उनकी समस्या का निवारण करेगा इस वाहन से नगर के लोगों को नगर को और साफ स्वच्छ बनाने के लिए महत्वपूर्ण योगदान मिलेगा। जीपीआरएस से लैस इस वाहन का गुरुवार को नगर पंचायत के चेयरमैन अरुण कुमार ने हरी झंडी दिखाकर नगर के लिए रवाना किया। इस अवसर पर नगर पंचायत के सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट एक्सपर्ट सौरव कुमार चौबे, लेखा लिपिक अनिल विश्नोई, यशपाल सिंह, परियोजना विश्लेषण शाहरुख, वार्ड सभासद रोहित कैन, अमित कुमार, संजय जीनवाल, आदि लोग मौजूद रहे।


किसानों के लिए मुसीबत बनी बारिश तो क्या कई दिनों तक खेतों में ही खड़ी रहेगी गन्ने की फसल
रविंद्र चौहान
हस्तिनापुर। गुरुवार को ओलावृष्टि व तेज हवाओं के साथ हुई बारिश से क्षेत्र के गांव तारापुर के किसानों के खेतों में खड़ी गन्ने की फसल भी प्रभावित हुई है तारापुर के आस-पास के गांव के किसानों के खेतों में पानी भर जाने के कारण गेहूं की बुवाई कई दिन पीछे पहुंच गई है। इस समय शुगर मिले अपने चरम पर चल रही हैं और बारिश पड़ जाने से किसान खेतों से कई दिनों तक गन्ने की छिलाई और ढूलाई नहीं कर सकेंगे जिससे यह कहा जा सकता है कि किसानों के लिए यह बारिश मुसीबत बनकर बरसी है तेज हवाओं के साथ हुई बारिश ने गन्ना किसानों की मुसीबतें बढ़ा दीं हैं। खेत पर तैयार खड़ी गन्ने की तेज हवाओं के चलते पलट गई। जिसे शुगर मिलों तक पहुंचाने के लिए किसानों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। जिससे शुगर मिल का क्रय केंद्र पर भी गन्ना की सप्लाई प्रभावित होगी!
तारापुर क्रय केंद्र पर किसानों की स्थिति
मवाना सहकारी गन्ना समिति से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार टिकोला शुगर मिल क्रय केंद्र तारापुर की अभी तक की स्थिति यह है!
तारापुर क्रय केंद्र के पास 250 हेक्टेयर भूमि है
इस पर 168 हेक्टेयर गन्ने की पैदावार लगी हुई है।


क्रय केंद्र का बेसिक कोटा 88664 कुंतल है।


क्रय केंद्र पर 288 किसान गन्ने की सप्लाई टिकोला शुगर मिल और क्रय केंद्र पर करते हैं! तारापुर क्रय केंद्र पर लगभग 12 गांवो के किसान लगे हुए हैं! 86772 कुंतल गन्ने की बॉन्डिंग 2019-20 के लिए की गई है।


*अभी तक क्रय केंद्र व शुगर मिल के माध्यम यहां से 14580 कुंतल गन्ना खरीदा जा चुका है।


इनका कहना:मवाना सहकारी समिति के सचिव प्रदीप शर्मा का कहना है कि अभी तक मानक के अनुसार तारापुर का क्रय केंद्र पारदर्शिता तरीके से बिल्कुल सही चल रहा है बारिश के कारण तराई वाला क्षेत्र कुछ दिनो के लिए प्रभावित हो सकता है;


क्षेत्र के तारापुर गांव के किसानों का कहना
तारापुर के गन्ना किसान सरदार सुंदर सिंह बताते हैं, हमारा गन्ना पत्ती सहित करीब 15 फीट का हो गया था। लेकिन बारिश के साथ हवा ने गन्ने को सब तहस-नहस कर दिया, जिसके चलते करीब 30 बीघा से अधिक गन्ना पलट गया है। इसके चलते काफ़ी नुकसान उठाना पड़ रहा है। वही गेहूं की बुवाई भी कई दिनों पीछे हट गई है।


तारापुर निवासी ध्यान सिंह
गन्ना किसान कहते हैं, "तेज हवा व बारिश के चलते करीब चालीस बीघा गन्ने की फसल पानी भरा हुआ है जिसके चलते कई दिनों तक शुगर मिल में इसकी सप्लाई नहीं की जा सकती। किसान प्रवीण कुमार का कहना,  जहां हम एक एकड़ में साढ़े पांच सौ के आसपास गन्ना पैदावार होती थी, वहीं गिर जाने की वजह से करीब पंद्रह फीसद से बीस फीसद गन्ने की पैदावार कम हो जायेगी। और कई दिनों तक खेतों से करना बाहर नहीं निकलेगा।


अशोक चौहान तारापुर
हवाओं के साथ हुई तेज बारिश और ओलावृष्टि से गन्ना गिर जाने की वजह से चूहे व जंगली सूअर अलग खाना शुरू कर देंगे क्योंकि क्षेत्र में सब से ज़्यादा 0238 कोशा की बुवाई अधिक होती है खेतों में अभी भी पानी भरा हुआ है गन्ना खेतों से निकालना में काफी मुश्किलें होंगी।


भारत-नेपाल सीमा पर पकड़ी,54 लाख की हेरोइन

सीमा पर पकड़ा गया 54 लाख का हेरोइन, एक गिरफ्तार


सुनील शर्मा


महाराजगंज। इंडो नेपाल सीमा पर तस्करी का कारोबार रुकने का नाम नहीं ले रहा है! आए दिन इस पार से उस पार और उस पार से उस पार का काला कारनामा जारी है जबकि सरकार ने पूरी मुस्तैदी के साथ सीमा के जवानों को लगाकर  विश्वास जीतना चाहता है!


वही क्षेत्र में थाने की तैनाती की गई , आसपास के क्षेत्रों में  चौकियां बनाई गई , जिससे अपराध में इजाफा ना हो,  बावजूद उसके तस्करी का काला कारनामा उभरता जा रहा है! सूत्रों से मिली खबर के अनुसार भारत-नेपाल सीमा के रास्ते विदेशी लोगों का आना-जाना हमेशा रहता है!जिससे संदिग्ध होने के कारण भी वहां तस्करी जोरों पर है, खबर को सही माने तो भारत-नेपाल सीमा पर नही थम रहा तस्करी का काला कारोबार, जो इतने कोशिशों के बावजूद भी तस्करी पर लगाम नही लग पा रहा है। मुखबिर के सूचना पर बरगदवा एसएसबी व पुलिस संयुक्त टीम ने भारत नेपाल सीमा के पिलर संख्या 509/15 के चकरार गांव के पास 54 ग्राम हेरोइन के साथ एक व्यक्ति को किया गिरफतार। इस मौके पर बरगदवा एसएसबी के उपनिरीक्षक विश्वदीपक त्रिपाठी ने बताया कि


पिलर संख्या 509/15 चकरार के पास मुखबिर की खास सूचना पर गस्त पर निकली टीम ने चकरार गांव के पास एक व्यक्ति को पकड़कर तलाशी ली गई तो उसके पास से हेरोइन बरामद किया गया पकड़े गए हेरोइन की कीमत


अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में 54 लाख बताया जा रहा है। व्यक्ति से पूछताछ के लिए एसएसबी कैम्प लाया गया जहाँ पर पूछताछ करने पर व्यक्ति ने अपना नाम सूरज थापा पुत्र स्व: रतन थापा निवासी बेलहिया थाना बेलहिया जिला रूपनदेही नेपाल 19 वर्ष बताया पकड़े गए व्यक्ति को हेरोइन के साथ कस्टम ठूठीबारी को सुपुर्द किया गया।


इतने अभियान? 'संपादकीय'

"इतने अभियान"  (संपादकीय)
राष्ट्र के विकास और निर्माण में सरकार कोई कसर छोड़ना नहीं चाहती है। जिसमें सरकार के द्वारा ढेर सारा धन भी खर्च किया जाता है। इसी आशा के साथ सरकार नए-नए अभियानों का संचालन करती रहती है। अभियान का मूल उद्देश्य राष्ट्र के निर्माण और विकास से ही जुड़ा होता है। परंतु अभियान का वास्तविक स्वरूप इतना बदल जाता है कि धरातल तक आते-आते अभियान अपने उद्देश्य से भटक जाता है। अधिकांशतः अभियानों के पीछे सरकारी धन का दुरुपयोग किया जाता है। अभियानों के प्रचार-प्रसार को सरकारी नीति के विरुद्ध, दलगत विचारधारा से जोड़ने का प्रयास, अभियान को दो राह पर चलने को विवश कर देता है। जिसके कारण अभियान वास्तविक गति से भटक जाता है और व्यापकता के मानको से इतर हो जाता है। विशेष बात यह है कि अभियान सामाजिक कुरीतियों, बुराइयों को प्रभावित करने के उद्देश्य से ही चलाए जाते हैं। इसी कारण हजारों अभियानों का अस्तित्व स्थापित करने के प्रयास किए गए। कई अभियान अपने उद्देश्य के चरम तक पहुंचने में सफल भी रहे। जिसमें "सर्व शिक्षा अभियान" देश की रीड को सदृड करने वाला एकमात्र अभियान है।सरकार भी चाहती है कि देश में सभी को शिक्षा प्रदान हो। किंतु कई 'हराम खाऊ' अधिकारियों और भ्रष्ट 'सफेद पोशो' के कारण, आज 21वीं शताब्दी में भी कितने ही बच्चे शिक्षा से वंचित रह रहे हैं। हमारे सामाजिक ताने-बाने को स्थिर करने वाले विद्वान नागरिकों को भी इसकी विशेष चिंता नहीं है। गरीब, निराश्रित, पिछड़े बच्चों को शिक्षा प्राप्त कराने में इतनी उदारता क्यों है? धर्म,वर्ग ,समूह, दल आदि से हटकर मानवता के नाते वंचितों को अभियान से जोड़कर शिक्षा प्राप्त कराने में हमें अपने दायित्व का आभास नहीं होना चाहिए? जबकि सभी जानते हैं कि 'अशिक्षित मानव, पशु समान' बताया गया है!


और अधिक पढ़ें!



राधेश्याम 'निर्भय पुत्र'


बोध मछली को राजमिस्त्री का दर्जा प्राप्त

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना के बाद वन भैंसा को राजपशु, पहाड़ी मैना को राजपक्षी, साल वृक्ष को राजवृक्ष, चंदैनी गोंदा को राजपुष्प का दर्जा दिया गया है, परंतु अब तक किसी मछली को राज मछली का दर्जा प्राप्त नहीं हुआ है। छत्तीसगढ़ प्रदेश में सिर्फ बस्तर की इंद्रावती नदी में पाई जाने वाली तथा तेजी से खत्म हो रही बोध मछली को राज मछली का दर्जा देकर इसे संरक्षित किया जाना बेहद जरूरी है। कैटफिश को ही बस्तर में बोध या गुंज मछली कहा जाता है। छोटी को बोध और गुंज तथा बड़ी को भैसा बोध कहा जाता है।


यह मछली भारत में ब्रह्मपुत्र नदी के अलावा बस्तर की इंद्रावती और शबरी नदी में पाई जाती थी। ब्रह्मपुत्र में यह मछली अभी भी पनप रही है लेकिन बस्तर की शबरी नदी में अब यह नजर नहीं आती। फिलहाल इंद्रावती नदी में ही बची है। इंद्रावती में यह मछली चित्रकोट वाटरफॉल के नीचे से लेकर गोदावरी संगम के मध्य पाई जाती है। इस मछली का वजन 150 किलो किलोग्राम तक पाया गया है। यह मांसाहारी मछली है और नदी में बह कर आए मृत जीवों को खाती है। बोध मछली को बस्तरवासी सम्मान देते हैं।


इसके नाम पर ही बारसूर के पास बोध नामक गांव हैं वहीं बारसूर की लंबित पनबिजली परियोजना का नाम भी बोधघाट जल विद्युत परियोजना है। इसके अलावा जगदलपुर शहर की एक कॉलोनी और थाना का नाम बोध मछली के नाम पर क्रमश: बोधघाट कॉलोनी और बोधघाट थाना है।यह मछली आक्रामक होती है और भूखी होने पर कभी कभी नदी में उतरे व्यक्ति पर हमला कर देती है, इसलिए जान माल की सुरक्षा के हिसाब से इंद्रावती नदी किनारे बसे दर्जनों गांवों के रहवासी बोध मछली की पूजा करते हैं। बोध मछली के नाम पर ही चित्रकोट जलप्रपात के पास एक खोह में सैकड़ों वर्ष पुराना बोध मंदिर है । यहां कूड़क जाति के मछुआरे प्रतिवर्ष जात्रा आयोजित कर बोध मछली की पूजा करते हैं।


मनोज को मिली राजद दिल्ली प्रदेश की कमान

मनोज कुमार चौधरी को मिली राष्ट्रीय जनता दल दिल्ली प्रदेश की कमान 


नई दिल्ली! राजद के राज्य परिषद की बैठक में राजद के वरिष्ठ नेता मनोज कुमार चौधरी को दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष के पद पर निर्विरोध निर्वाचित किए, जाने की घोषणा की गई! राजद के तरफ से राज्य निर्वाचन पदाधिकारी शहाबुद्दीन उर्फ़ शब्बू ने इसका औपचारिक एलान किया, बता दें कि लालू प्रसाद यादव के करीबी माने जाते है! मनोज चौधरी की छवि पार्टी में एक ईमानदार नेता के तौर पर है! इस अवसर पर प्रदेश के पदाधिकारी व सक्रिय कार्यकर्ता उपस्थित रहे, जैसे की अभिषेक यादव, कुमार विमल, इंद्रजीत यादव, गंगा रॉय, विनोद पटेल, अधिवक्ता घनश्याम सिंह, सादिक़, सहीद चौधरी भाग्य नारायण, चन्दा देवी के साथ सभी पदाधिकारी मौजूद रहे!


छात्रा से 11 लोगों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

रांची। झारखंड की राजधानी रांची में एक प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय की छात्रा से गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। कांके थाना क्षेत्र में हुई इस वारदात के 11 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि, थाना इस मामले में कुछ भी कहने से बच रहा है।


बताया जा रहा है कि नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी की छात्रा मंगलवार देर शाम को अपने एक दोस्त के साथ संग्रामपुर गांव के मेन रोड स्थित बस स्टॉप पर खड़ी थी। कुछ लोग वहां आये और लड़की को उठाकर ले गये। इसके बाद किसी ईंट-भट्ठा पर ले गये। वहीं पर 11 लोगों ने मिलकर लड़की से दुष्कर्म किया। हथियार के दम पर अगवा कर गैंगरेप का शिकार हुई लड़की बुधवार को कांके थाना पहुंची और पुलिस को अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। लड़की की शिकायत पर पुलिस ने बुधवार देर रात तक छापामारी कर 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि, इस संबंध में पुलिस विस्तृत जानकारी नहीं दे रही है।


लड़की की चाह में इटली से बेतिया पहुंचे

बेतिया। बेटी की चाह में सात समंदर पार कर इटली से बेतिया पहुंचे दंपती ने बुधवार को शहर से सटे बानुछापर स्थित विशिष्ट दत्तक ग्रहक संस्थान से एक बच्ची को गोद लिया। इस संस्थान की चर्चा फिर एक बार ग्लोबल स्तर पर होने लगी है। यहां रह रहे कई मासूम बच्चों  को विदेशी दंपतियों ने गोद लेने का निर्णय लिया है। इसके तहत अमेरिका एवं लग्जमबर्ग के दंपती यहां से बच्चों को गोद ले चुके हैं। 


इस बीच इटली के निवासी किश्चन कार्फाेरा मंगलवार देर शाम पत्नी एनालिसा के साथ बेतिया पहुंचे व बुधवार को बच्ची को गोद लिया। बाल संरक्षण इकाई की सहायक निदेशक ममता झा ने बताया कि सारी प्रक्रिया पूरी करने के बाद यहां दंपती को परिवार न्यायालय में शेष प्रक्रिया पूरी कराई जाती है। पूरी प्रक्रिया दो वर्षों तक चलती है। बच्ची को पाकर इटली के दंपती काफी खुश नजर आए।


टायर फटने से पलटी बस, 4 की मौत

कन्नौज। राजस्थान के जयपुर से बिहार के मुजफ्फरपुर आ रही मां लक्ष्मी डबल डेकर बस बुधवार की आधी रात को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर कन्नौज में टायर फटने से अनियंत्रित होकर पलट गयी। इस हादसे में चार लोगों की मौत हो गयी, जबकि करीब ढाई दर्जन लोग घायल हो गये। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
जानकारी के मुताबिक, राजस्थान के जयपुर से बिहार के मुजफ्फरपुर आ रही मां लक्ष्मी डबल डेकर बस बुधवार की आधी रात आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर कन्नौज के पास तिर्वा में टायर फटने से अनियंत्रित होकर पलट गयी। बस के पलटने से दो महिलाओं समेत चार लोगों की मौत हो गयी, जबकि करीब 30 लोग से ज्यादा घायल हो गये। 


घटना की सूचना मिलने पर जिलाधिकारी रविंद्र कुमार समेत कई प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे। वहीं, उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस-वे इंडस्ट्रियल डवलपमेंट ऑथोरिटी (यूपीडा) की गश्ती टीम और पुलिस टीम भी सूचना मिलने पर घटनास्थल पर पहुंची और रेस्क्यू अभियान में जुट गयी। हादसे में बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुई बस को क्रेन की मदद से सीधा किया गया। यूपीडा के टीम और पुलिस ने बस के अंदर फंसे लोगों को बाहर निकाला और इलाज के लिए नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया।
सभी मृतक सीतामढ़ी के बताये जा रहे हैं। हालांकि, मृतकों की अभी पहचान नहीं हो पायी है। सभी घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जाता है कि बस में दरभंगा, सीतामढ़ी और मुजफ्फरपुर के ही ज्यादा यात्री थे। ये सभी काम करने के लिए बिहार से राजस्थान गये थे।


जनप्रतिनिधियों की कथनी-करनी में असमानता

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। मोदी नगर मे राष्ट्रीय सूचना अधिकार टास्क फोर्स ट्रस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश शर्मा की अध्यक्षता में स॔स्था मुख्यालय पर एक बैठक हुई ।
बैठक में संस्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश शर्मा शर्मा ने कहा कि क्षेत्र में सांसद, विधायक और चेयरमैन भाजपा से संबंधित है तथा केन्द्र व उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकारें भी है , फिर भी क्षेत्र में मजदूरों की समस्या व नगर में विकास के लिए नगर में चुनाव से पूर्व भाजपा प्रतयाशियों ने जो घोषणाएँ की थीं, वह घोषणाएँ सिर्फ घोषणाएँ ही रह गई।
अभी तक मोदी स्पिनिंग एण्ड विविंग मिल्स, मोदी वनस्पति,मोदी इलेक्ट्रोड , मोदी पेंट फैक्ट्रियों के मजदूरों की समस्याएँ आज भी ज्यों की त्यों हैं । आज तक मजदूरों का बकाया और मजदूरों के मकनों की समस्याओं का निराकरण तक नहीं कर पाये हैं। उन्होंने कहा कि जनहित को दृष्टिगत रखते हुए आज तक राज चौपला को नहीं खुलवा पाये । मोदी नगर को जाम से मुक्ति दिलवाई जायेगी, क्या मोदी नगर जाम मुक्त हो गया है ? ईसाइयों के लिए कब्रिस्थान की भूमि की व्यवस्था की समुचित व्यवस्था की जाएगी क्या ईसाई भाइयों के लिए कब्रिस्तान जगह दिलवाई है । सैनिकों के लिए गेस्ट हाउस बनवाया जाएगा , जिन सैनिकों ने सीमा पर देश के लिए अपनी सेवाएँ दी है,उन सैनिक भाइयों के क्या इन प्रतिनिधियों ने गेस्ट हाउस बनवाया है । युवाओं के लिए स्टेडियम बनाया जाएगा, खोखा- पटरी वाले व्यापारियों को जगह व्यवस्था की जाएगी, नगर में किसी के मकान व दुकानों में गन्दा पानी नहीं भरेगा, मानकों के अनुरूप गुणवत्ता के साथ विकास कार्य करवाएँ जायेंगे, सड़कों खरंजो को खुरच कर  बनवाया जाएगा, शादी व अन्य सामाजिक कार्यो के लिए नगर में सामुदायिक केन्द्र बनवाएँ जायेंगे और क्या- क्या घोषणाएँ की थीं । क्या वह घोषणाएँ पूर्ण हो गईं हैं । नगर की जनता को सड़क की हालतें बदबत्तर होने कारण उन सड़कों पर चलना मुश्किल हो गया है । राष्ट्रीय सूचना अधिकार टास्क फोर्स ट्रस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरेश शर्मा ने कहा कि अब समय आ गया है कि नगर की जनता को जनहित में अपनी मूल भूत सुविधाओं के लिए अपनी लोकतांत्रिक तरीके से अपनी सुविधाओं को प्राप्त करना चाहिए । 
संस्था के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राकेश गोयल ने कहा कि नगर में गाजियाबाद विकास प्राधिकरण का वाह्य शुल्क अधिक होने के कारण नगर का विकास नहीं हो पा रहा है, वाह्य शुल्क अधिक होने के कारण मानचित्र गाजियाबाद विकास प्राधिकरण से भवन निर्माण व फैक्ट्री हेतु स्वीकृत कराने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं । उन्होंने कहा कि जनता के सहयोग से मूल- भूत सुविधाओं के हक के लिए एक जन आंदोलन शिघ्र लोकतांत्रिक तरीके से चलाया जायेगा ।
इस मौके पर मुख्य रूप से राष्ट्रीय सूचना अधिकार टास्क फोर्स ट्रस्ट युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष आशीष शर्मा, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष रामपाल कश्यप, सुनील शर्मा मौजूद थे ।


कांगो में भारी बारिश, भूस्खलन,41 मौत

किंशासा। डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो (डीआरसी) में हाल ही में हुई भारी बारिश और भूस्खलन से कम से कम 41 लोगों की मौत हो गई और कम से कम 4,30,000 लोग प्रभावित हुए हैं। संयुक्त राष्ट्र के एक प्रवक्ता ने बुधवार को यह जानकारी दी। संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरस के प्रवक्ता स्टीफन डुजारिक ने कहा, कोऑर्डिनेशन ऑफ ह्यूमेनिटेरियन अफेयर्स के कार्यालय का कहना है उबांगी नदी के तट पर अक्टूबर से हो रही मूसलाधार बारिश के कारण बाढ़ आ गई है, जिससे लगभग 4,30,000 लोग प्रभावित हुए हैं।
समाचार एजेंसी ने प्रवक्ता के हवाले से कहा, अकेले मंगलवार को ही राजधानी किंशासा में भारी बारिश और भूस्खलन से 41 लोगों की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि बाढ़ की प्रबलता और जरूरतमंद लोगों के बारे में जानने के लिए देशभर में आंकलन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कार्यवाही के लिए योजना बनाई जा रही है। प्रवक्ता ने कहा कि कार्यवाही की योजना सरकार द्वारा संयुक्त राष्ट्र और हमारे सहयोगियों के साथ बनाई जा रही है। हमारी प्राथमिकता आश्रय, पानी और स्वच्छता तथा अन्य जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति करना है। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र ने मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदनाएं प्रकट की हैं और संस्था डीआरसी सरकार के सहयोग के लिए आगे भी तैयार है।


पार्क में उद्धव ने ली सीएम पद की शपथ

मुंबई। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को मुंबई के शिवाजी पार्क में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। बता दें कि उद्धव ठाकरे विधानसभा और विधान परिषद के सदस्य नहीं हैं। वे ऐसे 8वें मुख्यमंत्री है। इस सूची में कांग्रेस नेता एआर अंतुले, वसंतदादा पाटील, शिवाजीराव निलंगेकर पाटील, शंकरराव चव्हाण, सुशील कुमार शिंदे और पृथ्वीराज चव्हाण उन नेताओं में शामिल हैं, जो मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते वक्त राज्य विधानमंडल के किसी सदन के सदस्य नहीं थे। राकांपा प्रमुख शरद पवार का नाम भी इन्हीं नेताओं में शुमार है। संविधान के प्रावधानों के अनुसार कोई नेता यदि विधानसभा या विधान परिषद का सदस्य नहीं है तो उसे पद की शपथ लेने के छह महीने के भीतर विधानसभा का सदस्य बनना होता है।


बस में शारीरिक संबंध बना रहा था कपल

सवारियों से भरी बस में शारीरिक संबंध बना रहा था कपल, अब हुआ ऐसा


साउथ वेल्स। ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स में एक अजीब-ओ-गरीब मामला सामने आया है जहां यात्रियों से भरी बस में पीछे की सीट पर एक महिला अपने मित्र के साथ शारीरिक संबंध बना रही थी। इसके बाद अदालत ने महिला के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी कर दिया। हाालंकि महिला के मित्र के बारे यह दावा किया गया कि उसका मानसिक स्वास्थ्य ठीक नहीं था, जिसके चलते उसके ऊपर से आरोप हटा लिए गए। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार 31 वर्षीय महिला वंडर फ्रेंच पर आरोप लगे कि वह बस में अपने दोस्त के साथ शारीरिक संबंध बना रही थी। 26 नवंबर के दिन फ्रेंच को न्यूकैसल की एक अदालत में उसे सजा सुनाई देनी थी लेकिन वह अदालत नहीं पहुंच पाई। इसके बाद अदालत ने उसके खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी कर दिया। हालांकि वकील ने कहा कि फ्रेंच ने अदालत आने के लिए कहा था। वहीं पुलिस की ओर से की गई कार्रवाई का विरोध करने और उनसे बदसलूकी करने के मामले में फ्रेंच को दोषी करार दिया है। यह घटना इसील साल 29 मार्च की है जब फ्रेंच 24 वर्षीय युवक रेयान जोन्स के साथ शारीरिक संबंध बनाते हुई पकड़ी गईं थीं।


फ्रेंच अदालती कार्रवाई के दौरान खुद पर लगे आरोपों को स्वीकार कर लिया था। इस मामले में बस के ड्राइवर ने भी कहा था कि उसने शीशे में दोनों की अश्लील हरकत देखी। इसके बाद स्टॉप पर बस रुकी तो ड्राइवर ने जोड़े से कहा कि वह उतर जाएं हालांकि दोनों ने ऐसा नहीं किया अलबता ड्राइवर से बदतमीजी की थी।


पश्चिम बंगाल उपचुनाव में भाजपा को झटका

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में विधानसभा उपचुनाव के परिणामो ने बीजेपी को तगड़ा झटका दिया है। यहाँ कि तीनो विधानसभा सीट पर TMC ने जीत दर्ज कर बीजेपी के अरमानो पर पानी फेर दिया। महाराष्ट्र में मुँह के बल गिरी बीजेपी सरकार के लिए यह दूसरा बड़ा झटका है। महराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां जोरो पर थी उसी दौरान विधानसभा उपचुनाव के सामने आए नतीजों से बीजेपी विरोधी दलों के नेताओ के चेहरे ख़ुशी से खिल उठे  पश्चिम बंगाल में हुए विधानसभा उपचुनाव में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने सभी तीनों सीटों पर जीत दर्ज की है।  राज्य में लोकसभा चुनावों में शानदार प्रदर्शन करने वाली बीजेपी को उपचुनाव में झटका लगा है और पार्टी एक भी सीट नहीं जीत पाई. बीजेपी को खड़गपुर सदर सीट का नुकसान उठाना पड़ा है। वहीं, उत्तराखंड की पिथौरागढ़ सीट पर हुए उपचुनाव में सत्तारूढ़ बीजेपी ने अपना कब्जा बरकरार रखा है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उपचुनाव में जीत के बाद कहा कि मतदाताओं ने बीजेपी को उसके 'सत्ता के अहंकार' के लिये सबक सिखाया है। बता दें कि इन सभी जगहों पर सोमवार को मतदान हुआ था। तृणमूल कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल की कालियागंज और खड़गपुर सदर और करीमपुर सीट पर जीत दर्ज की है।


पश्चिम बंगाल में सबसे चौंकाने वाला परिणाम खड़गपुर सदर सीट से रहा है। इस साल हुए लोकसभा चुनाव में राज्य की 18 सीटें जीतने वाली बीजेपी के विधानसभा उपचुनाव में उम्मीदवार प्रेमचंद्र झा को तृणमूल कांग्रेस के प्रदीप सरकार ने हराकर भगवा पार्टी से यह सीट छीन ली। निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि प्रदीप सरकार ने बीजेपी उम्मीदवार को 20788 मतों के अंतर से हराया। खड़गपुर सदर सीट पर बीजेपी की हार पार्टी के लिए एक झटका है जिसके प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष मेदिनीपुर से लोकसभा चुनाव जीतने से पहले वहां से विधायक थे। खड़गपुर सदर मेदिनीपुर लोकसभा क्षेत्र के तहत आने वाला एक विधानसभा क्षेत्र है। तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार बिमलेंदु सिन्हा रॉय ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बीजेपी उम्मीदवार जयप्रकाश मजूमदार को 24,073 मतों से हराकर करीमपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव जीता। उन्होंने इस सीट पर अपनी पार्टी का कब्जा बरकरार रखा।


तृणमूल कांग्रेस की महुआ मोइत्रा ने पिछले विधानसभा चुनाव में करीमपुर सीट पर जीत दर्ज की थी, बाद में वह कृष्णानगर लोकसभा सीट से निर्वाचित हो गईं। तृणमूल कांग्रेस के तपन देव सिन्हा ने बेहद नजदीकी मुकाबले में कालियागंज सीट जीत ली है। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बीजेपी के कमल चंद्र सरकार को 2418 वोटों से हराया। पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के परमथनाथ रॉय ने जीत दर्ज की थी। पार्टी ने उनकी पुत्री धृताश्री को मैदान में उतारा था जो इस उपचुनाव में तीसरे नम्बर पर रहीं।  कालियागंज रायगंज लोकसभा क्षेत्र में तहत आने वाला एक विधानसभा क्षेत्र है। जहां से बीजेपी ने कुछ ही महीने पहले जीत दर्ज की थी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उपचुनाव में पार्टी की जीत का श्रेय राज्य की जनता को देते हुए कहा कि मतदाताओं ने बीजेपी को उसके सत्ता के अहंकार के लिये सबक सिखाया है। उन्होंने कहा हम इस जीत को बंगाल के लोगों को समर्पित करते हैं। बीजेपी को सत्ता के अहंकार और बंगाल के लोगों का अपमान करने के लिए सबक मिला है। उन्होंने कहा कि सीपीएम और कांग्रेस स्वयं को मजबूत करने की बजाय बीजेपी की पश्चिम बंगाल में 'मदद' कर रही हैं। वहीं देहरादून से प्राप्त खबर के अनुसार बीजेपी ने उत्तराखंड में पिथौरागढ़ सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा है। बीजेपी उम्मीदवार ने प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस उम्मीदवार को 3000 से अधिक वोटों से हरा दिया।  


मुठभेड़ के बाद वंचितों को किया गिरफ्तार

अविनाश श्रीवास्तव


गाजियाबाद। पुलिस मुठभेड़ में 12,500-12,500 रुपये के ईनामी 02 वाँछित हत्यारे(घायल) गिरफ्तार, कब्जे से 01 बाईक व अवैध असलहा बराम। थाना कविनगर पुलिस द्वारा मनन धाम पर चेकिंग की जा रही थी, तभी 2 बाईक पर सवार बदमाश आते दिखाई दिए जिन्हें चेकिंग हेतु रोका गया पर नहीं रुके जिनका पीछा, घेराबंदी की गई तो बदमाशों ने जान से मारने की नियत से पुलिस पार्टी पर फायर किया। मैनापुर रोड के पास समय करीब 16.43 बजे पुलिस पार्टी की जवाबी फायरिंग में  बदमाश,शहनवाज सैफ़ी उर्फ भोला पुत्र मोइनुद्दीन निवासी इस्लाम नगर कैला भट्टा थाना कोतवाली गाजियाबाद,अंकित गर्ग पुत्र मुकुट लाल निवासी सेक्टर-23 संजय नगर थाना कविनगर गाजियाबाद। गोली लगने से घायल हो गए, तथा एक हेड कांस्टेबल सुखबीर भी घायल हो गया, घायल बदमाशों को गिरफ्तार कर उपचार हेतु अस्पताल में भर्ती किया गया है। गिरफ्तार बदमाशों के 02 साथी मुठभेड़ के दौरान भागने में सफल रहे। जिनकी गिरफ्तारी हेतु कॉम्बिंग की जा रही है। गिरफ्तार बदमाशों के  कब्जे से 01 तमंचा 315 बोर, 01 पिस्टल 32 बोर, बिना नंबर की अपाचे बाइक व खोखा-जिन्दा कारतूस बरामद हुए है। गिरफ्तार अभियुक्तगण थाना कविनगर के मु0अ0स0-2156/19 धारा 302 भादवि(विनोद उर्फ भज्जी नामक व्यक्ति की हत्या) में वाँछित व 12,500-12500 रुपये के ईनामी है। गिरफ्तार अभियुक्तगण के अन्य अपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है।


नैनीताल में बिछी बर्फ की सफेद चादर

नैनीताल। घने बादल छाने के बाद यहां गरज के साथ वर्षा व ओलावृष्टि के बाद तापमान में भारी गिरावट दर्जकी गई है। लगभग आधा घंटे तक हुई ओलावृष्टि के कारण नैनीताल में सफेद चादर बिछ गई। सड़कों में दो इंच तक ओलों की परत जम गई। जिस कारण वाहनों व पैदल चलने वालों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। वर्षा व ओलावृष्टि के दौरान स्कूली बच्चे भी काफी परेशान रहे। कई सड़कों में वाहनों का जाम भी लग गया।


ऊंचाई वाले हिस्सों में फिसलन भी बढ़ गई। समाचार लिखे जाने तक यहां आसमान में घने बादलों के साथ ही गरज के साथ रूक-रूक कर वर्षा जारी थी। इन दिनों ठंड बढ़ने के साथ ही लोगों ने हीटरों का इस्तेमाल शुरू कर दिया। वर्षा व ओलावृष्टि के बाद यहां कड़ाके की ठंड शुरू हो गई। कई स्थानों में लोगों ने आग जला कर ठंड दूर करने की कोशिश की। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों में नैनीताल सहित पहाड़ी क्षेत्रों में वर्षा हो सकती है। ऊंचाई वाले हिस्सों में बर्फवारी की भी संभावना है। नैनीताल पहुंचे सैलानियों ने वर्षा व ओलावृष्टि के दौरान होटलों में ही रहना मुनासिब समझा। कई सैलानियों ने ठंड के चलते पर्यटकों ने गर्म कपड़े दस्ताने मफलर, टोपी की जमकर खरीदारी की गई। कई स्थानों में सैलानी आलों से खेलते देखे गये और जमकर फोटोग्राफी भी की।


ई-पेपर्स,डिजिटल न्यूज़ एमआईबी के अधीन होंगे

नई दिल्ली। सरकार ने ई-पेपर्स और डिजिटल न्यूज को रेगुलराइज करने की कवायद शुरू कर दी है। इस कवायद के तहत आने वाले समय में ये प्लेटफॉर्म सूचना प्रसारण मंत्रालय (MIB) के अधीन काम करेंगे। इसके लिए सूचना प्रसारण मंत्रालय द्वारा ब्रिटिश शासनकाल के 'प्रेस और रजिस्ट्रेशन ऑफ बुक्स' (PRB) अधिनियम 1867 की जगह नए 'प्रेस एवं पत्रिका पंजीकरण विधेयक, 2019' (Registration of Press and Periodicals Bill 2019) का विधेयक प्रस्तावित किया है।


इस प्रस्तावित विधेयक की प्रमुख बात यह है कि डिजिटल न्यूज को भी सूचना प्रसारण मंत्रालय के दायरे में लाए जाने की योजना है। इसके तहत न्यूज वेबसाइट्स के लिए भी रजिस्ट्रेशन कराना अनिवार्य होगा। इस प्रस्तावित विधेयक में ई-पेपर्स के रजिस्ट्रेशन के लिए काफी सरल सिस्टम तैयार करने की बात भी शामिल है। बता दें कि वर्तमान में डिजिटल मीडिया देश की किसी भी संस्था के अंतर्गत पंजीकृत नहीं है।


बुक्स के रजिस्ट्रेशन के साथ ही इससे जुड़े मामलों के वर्तमान नियमों को हटाने का प्रस्ताव भी इस विधेयक में शामिल किया गया है। इस विधेयक के मसौदे में पब्लिशर्स/प्रिंटर्स द्वारा जिला मजिस्ट्रेट के समक्ष घोषणा करने एवं इसके प्रमाणीकरण की वर्तमान प्रक्रिया को हटाने का प्रस्ताव भी रखा गया है।


प्रस्तावित विधेयक के अनुसार, अखबारों और पत्रिकाओं के टाइटल अथवा रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया प्रेस रजिस्ट्रार ऑफ जनरल के माध्यम से करनी होगी। इसके साथ ही यह भी कहा गया है कि इस बदलाव से केंद्र और राज्य सरकारें अखबारों में सरकारी विज्ञापन देने, अखबारों को मान्यता देने और उन्हें मिलने वाली इस तरह की सुविधाओं से संबंधित आवश्यक नियम-कानून तय करने में सक्षम हो सकेंगी। बताया जाता है कि मंत्रालय ने यह प्रस्तावित विधेयक जारी कर इस पर एक महीने के अंदर संबंधित पक्षों से प्रतिक्रियाएं मांगी हैं।


पार्टी को मजबूत करने में जुटी प्रियंका

नई दिल्ली। महानगर और जिलाध्यक्ष के तौर पर खुद को दावेदार समझने वाले नेताओं को प्रियंका ने दिल्ली बुलाया और करीब 10-10 मिनट की मुलाकात की। इस मुलाकात में उन्होंने दावेदारों से कुछ सवाल भी पूछे। जैसे कि अगर आप महानगर अध्यक्ष बने तो संगठन को कैसे मजबूत करेंगे ? या फिर आपके अतिरिक्त कौन सा व्यक्ति इस पद के लिए उपयुक्त रहेगा ?


ग्राउंड लेवल पर मौजूद प्रियंका की टीम ने करीब हजार कांग्रेसी नेताओं से मुलाकात कर एक रिपोर्ट तैयार की है। आपको बता दें कि अक्टूबर में यूपी के 51 जिलों और महानगर के अध्यक्ष घोषित किए गए थे लेकिन इनमें गाजियाबाद के सभी पद खाली थे। इसी को लेकर प्रियंका ने नेताओं से मुलाकात की।


खड़े ट्रक से टकराई कार, तीन की मौत

खड़े ट्रक से टकराई कार, हादसे में तीन लोगो की दर्दनाक मौत


सतना। शहर में कारगिल ढाबे के आगे और अग्रवाल मोटर्स के सामने एक तेज रफ्तार कार सड़क पर खड़े ट्रक के पीछे टकरा गई। हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई और दो लोगों के घायल होने की खबर है। घायलों को सतना जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। घटना देर रात करीब 3 बजे की बताई जा रही है। यह लोग भी एक शादी समारोह से देर रात लौट रहे थे। मृतकों के नाम कार ड्राइवर वली उल्लाह, जुग्गन हाजी और कदीर खान है। कदीर खान को घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। सभी रीवा जिले के घोघर के रहने वाले थे। जो नागौद से वापस रीवा जा रहे थे घटना की सूचना मिलने के बाद घोघर में उनके घर में मातम छा गया है।


बताया जा रहा है कि कार बहुत तेज रफ्तार में थी, जब तक कार ड्राइवर को समझ आया कि ट्रक सामने खड़ा हुआ है तब तक बहुत देर हो चुकी थी और कार उसके पिछले हिस्से से जा टकराई। देर रात तेज आवाज सुनकर आस-पास के घरों में सो रहे लोग घबरा गए, उन्होंने बाहर निकलकर देखा तो कार ट्रक के पीछे से टकराई हुई थी। रास्ते से गुजर रहे लोग भी वहां रुक गए। उन्होंने पुलिस और एंबुलेंस को इसकी सूचना दी, जिसके बाद घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। मौके पर ही ड्राइवर और एक अन्य की मौत हो गई, जबकि एक व्यक्ति की अस्पताल में उपचार के दौरान जान चली गई।


पत्रकार पति ने पत्रकार पत्नी की हत्या की

पत्रकार पति ने पत्रकार पत्नी की हत्या की, वजह चौकाने वाला


पाकिस्तान की 27 वर्षीय एक महिला पत्रकार की हत्या नौकरी नहीं छोड़ने की वजह से उसके पति ने कथित तौर पर कर दी। पति खुद भी पत्रकार है।


लाहौर। पाकिस्तान की 27 वर्षीय एक महिला पत्रकार की हत्या नौकरी नहीं छोड़ने की वजह से उसके पति ने कथित तौर पर कर दी। पति खुद भी पत्रकार है। प्राथमिकी के अनुसार दंपति की शादी सात महीने पहले ही हुई थी लेकिन इसके बाद संबंध खराब हो गए। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी दोस्त मोहम्मद ने बताया कि उरूज इकबाल उर्दू समाचार पत्र में काम करती थीं और सोमवार को जब वह किला गुज्जर सिंह स्थिति अपने कार्यालय में प्रवेश कर रही थीं तभी उनके पति दिलावर अली ने उन्हें सिर में गोली मार दी।


इसके बाद इकबाल को अस्पताल भी ले जाया गया लेकिन वह नहीं बच पाईं। मोहम्मद ने बताया कि उन्होंने पीड़ित के भाई यासिर इकबाल की शिकायत पर पति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। अली दूसरे उर्दू समाचार पत्र में काम करता है। प्राथमिकी में पीड़ित के भाई ने कहा है कि उनकी बहन का प्रेम विवाह हुआ था लेकिन शादी के शीघ्र बाद ही कई बातों को लेकर पारिवारिक कलह शुरू हो गया। यह कलह अली द्वारा बारबार अपनी पत्नी से नौकरी छोड़ने की मांग को लेकर भी हो रहा था।


एम्स की फीस बढ़ने की आहट, विरोध शुरू

नई दिल्ली। देश भर के एम्स में स्वास्थ्य मंत्रालय इलाज की दरें और छात्रों की पढ़ाई की फीस बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों में स्थित एम्स प्रशासन से मौजूदा फीस स्ट्रक्चर और ट्रीटमेंट फीस की जानकारी मंगवाई है। फीस बढ़ने की आहट मिलते ही छात्रों ने इसका विरोध शुरू कर दिया है। एम्स स्टूडेंट्स एसोसिएशन (भोपाल) ने प्रधानमंत्री, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री सहित स्वास्थ्य मंत्रालय के आला अधिकारियों से फीस न बढ़ाने की अपील की है।


अभी एम्स की फीस बढ़ी नहीं लेकिन छात्र उससे पहले ही लामबंद हो गए हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मरीज़ों के इलाज और छात्रों की फीस बढ़ाने का अभी सिर्फ प्रस्ताव तैयार किया है। देशभर में स्थित एम्स प्रशासन से फीस का मौजूदा स्ट्रक्चर मंगवाया गया है। इसकी भनक लगते ही भोपाल एम्स स्टूडेंट्स एसोसिएशन ने इसका विरोध शुरू कर दिया है।


सरकार करे विचार


एम्स स्टूडेंट्स एसोसिएशन (भोपाल) के प्रसिडेंट ए. श्रीनिधि ने कहा, 'एम्स भारत ही नहीं दुनिया के कई देशों में इलाज के मामले में विश्वसनीय संस्थान है। सस्ता और सुलभ इलाज के कारण गरीब वर्ग के मरीजों को जीवनदान मिलता है। इलाज का खर्चा बढ़ाने से मरीज़ों के लिए मुश्किल खड़ी हो जाएगी। इलाज और पढ़ाई की फीस बढ़ाने से पहले सरकार को फिर से विचार करना चाहिए'


खर्च का बोझ


एसोसिएशन के महासचिव सत्यम मिश्रा का कहना है कि विपरीत परिस्थितियों में पढ़ाई कर अपनी काबिलियत के दम पर एम्स में एडमिशन लेने वाले छात्रों की फीस बढ़ाने से उनके परिवारों पर आर्थिक बोझ बढ़ जाएगा। एम्स में काबिल डॉक्टर तैयार होते हैं, इसलिए उन पर खर्च का बोझ नहीं डाला जाना चाहिए।
90 फीसदी तक बढ़ोतरी का विचार


मिली जानकारी के मुताबिक, सरकार 90 फीसदी तक फीस बढ़ाने की तैयारी कर रही है. एम्स स्टूडेंट्स एसोसिएशन (भोपाल) ने चेतावनी दी है कि अगर सरकार इस फैसले को लागू करती है तो पूरे देश के एम्स स्टूडेंट्स सड़कों पर उतरकर फैसले का विरोध करेंगे।


तकनीकी हॉल्ट के वक्त लाउंज में ही आराम

आदेश शर्मा


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विदेश यात्रा के दौरान फ्लाइट के बीच में रुकने पर (तकनीकी हॉल्ट) होटल बुक नहीं कराया जाता है, बल्कि वे एयरपोर्ट लाउंज में ही आराम कर लेते हैं। इससे पहले प्रोटोकॉल के अनुसार तकनीकी हॉल्ट के दौरान प्रधानमंत्री के रुकने के लिए होटल बुक होता था। पीएम मोदी अपनी लंबी विदेश यात्रा के दौरान अन्य गणमान्यों के लिए कड़े मानदंड को स्थापित कर रहे हैं। इसकी जानकारी खुद गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में चर्चा के दौरान दी।


स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान अमित शाह ने कहा कि पीएम मोदी ने आज तक किसी भी देश में तकनीकी हॉल्ट के दौरान अपने लिए होटल बुक कराने के निर्देश नहीं दिए। वे एयरपोर्ट पर ही रुकते हैं, वहां नहाते हैं और विमान में ईधन भरने के बाद निकल जाते हैं। शाह ने बताया कि प्रधानमंत्री ने अपने साथ विदेश दौरे पर जाने वाले स्टाफ को भी 20 फीसदी तक कम किया है। इसके अलावा प्रधानमंत्री के स्टाफ के लिए पहले अलग वाहनों का इंतजाम किया जाता था, लेकिन पीएम मोदी ने इसमें बदलाव कराया है। 


क्या होता है तकनीकी हॉल्ट
लंबी दूरी की हवाई यात्रा के दौरान जब विमान ईधन भरवाने या तकनीकी जांच के लिए कहीं रुकता है तब उसे तकनीकी हॉल्ट का नाम दिया जाता है।


10 लाख करोड़ के पार रिलायंस इंडस्ट्रीज

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज ने नया मुकाम हासिल किया है। गुरुवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 10 लाख करोड़ के पार चला गया है। ऐसी उपलब्धि हासिल करने वाली यह भारत की पहली कंपनी बन गई है। पिछले हफ्ते कंपनी का बाजार पूंजीकरण 9.50 लाख करोड़ रुपये के स्तर पर चला गया था। 


आरआईएल के शेयर में आया उछाल
गुरुवार सुबह करीब 10:35 बजे रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 1575.66 के स्तर पर कारोबार कर रहा था। इसमें 5.80 अंक यानी 0.37 फीसदी की बढ़त आई। पिछले कारोबारी दिन रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 1,569.85 के स्तर पर बंद हुआ था। जबकि शुरुआती कारोबार में यह 1,572.65 के स्तर पर खुला था। 


दूसरे स्थान पर टीसीएस 
रिलायंस इंडस्ट्रीज के बाद टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज का शेयर सबसे अधिक है। टीसीएस की बाजार हैसियत 7.81 लाख करोड़ है।


एक ही पेड़ पर, 40 तरह के फल

न्यूयॉर्क। आमतौर पर ऐसा माना जाता है कि एक पेड़ पर एक ही तरह का फल लग सकता है, लेकिन ऐसा नहीं है। दुनिया में एक जगह ऐसी भी है, जहां एक ही पेड़ पर 40 तरह के फल लगते हैं।


इसपर यकीन करना थोड़ा मुश्किल है, लेकिन यह बिल्कुल हकीकत है। हम सभी बचपन से यही देखते और मानते आए हैं कि एक पेड़ पर एक ही कि एक पेड़ पर एक ही किस्म के फल लगते हैं।अमेरिका में एक विजुअल आर्टस के प्रोफेसर ने एक ऐसा ही अद्भुत पौधा तैयार किया है, जिसपर 40 प्रकार के फल लगते हैं। यह अनोखा पौधा ट्री ऑफ 40 नाम से मशहूर है। इसमें बेर, सतालू, खुबानी, चेरी और नेक्टराइन जैसे कई फल लगते हैं। इस अनोखे पेड़ की कीमत आपके होश उड़ाने के लिए काफी है। आपको जानकर हैरानी होगी कि ट्री ऑफ 40 की कीमत करीब 19 लाख रुपये है।


अमेरिका की सेराक्यूज यूनिवर्सिटी में विजुअल आर्ट्स के प्रोफेसर सैम वॉन ऐकेन इस अनोखे पेड़ के जनक हैं। इस पेड़ को विकसित करने के लिए उन्होंने विज्ञान का सहारा लिया है। उन्होंने इस काम की शुरुआत साल 2008 में की थी, जब उन्होंने न्यूयॉर्क राज्य कृषि प्रयोग में एक बगीचे को देखा, जिसमें 200 तरह के बेर और खुबानी के पौधे थे।


दरअसल, वो बगीचा फंड की कमी से बंद होने वाला था, जिसमें कई प्राचीन और दुर्गम पौधों की प्रजातियां भी थीं। चूंकि प्रोफेसर वॉन का जन्म खेती से संबंधित परिवार में हुआ था, इसलिए उनकी दिलचस्पी भी खेती-बाड़ी में खूब थी। उन्होंने इस बगीचे को लीज पर ले लिया और ग्राफ्टिंग तकनीक की मदद से उन्होंने ट्री ऑफ 40 जैसे अद्भुत पेड़ को उगाने में सफलता हासिल की।


डैंड्रफ आएगा ही नहीं,अपनाएं टिप्स

सर्दियों में बालों में रूसी या डैंड्रफ की समस्या होना बहुत ही कॉमन है। पूरे विंटर सीजन में ज्यादातर लोग कभी ना कभी इस समस्या को जरूर फेस करते हैं। लेकिन आप इस समस्या से बचे रह सकते हैं, अगर थोड़ी-सी सावधानी बरत लें…
जल्द मिलेगा रूसी से छुटकारा
अगर आप रूसी की समस्या से तुरंत आराम चाहते हैं तो दही में अंडे की सफेदी और शहद मिलाकर बालों में लगाएं। फिर 30 मिनट बाद धो लें। आपको एक वॉश में फर्क नजर आएगा। सप्ताह में एक बार ही इस तरीके को अपनाकर आप पूरी सर्दियों खूबसूरत बाल पा सकते हैं। 
यह आपको पता है, बस इस तरह करना है 
हम सभी जानते हैं कि सिर में ऑइल से मसाज करना बालों और ब्रेन दोनों के लिए अच्छा होता है। क्योंकि स्कैल्प में हेयर मसाज के बाद ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और बालों की ग्रोथ अच्छी होती है। वहीं, ब्रेन रिलैक्स होता है। सर्दियों में सरसों ऑइल को हल्का गर्म करके इससे मसाज करनी चाहिए। आप चाहें तो नारियल का तेल भी यूज कर सकते हैं।
नींबू और शहद को मिक्स करके बालों में लगाने से बालों में रूसी की समस्या खत्म होती है। नींबू में साइट्रिक अम्ल होता है, जो किसी भी तरह के फंगस को पनपने नहीं देता और शहद सिर की त्वचा में नमी बनाए रखता है। इनका मिश्रण आप सप्ताह में 2 से 3 बार बालों में 25 मिनट लगाकर शैंपू कर लें। रूसी की समस्या नहीं होगी। साथ ही आपके बाल शाइनी और स्मूद बनेंगे। 
रूखे बालों में रूसी की समस्या 
अगर आपके बाल काफी रूखे या हार्ड हैं तो सर्दियों में डैंड्रफ से बचने के लिए आप ऑलिव ऑइल यानी जैतून के तेल से बालों में मसाज कर सकते हैं। इससे बाल चिपचिपे भी नहीं होते हैं और डैंड्रफ भी होता है। आप इसे शहद के साथ मिक्स करके हेयर मास्क बनाकर भी यूज कर सकते हैं। यह मास्क लगाने के 30 मिनट बाद शैंपू कर लें। सप्ताह में दो बार ऐसा करने पर डैंड्रफ साफ हो जाएगा।


आंवले के अनेक फायदे

जब बात वेट लॉस यानी वजन घटाने की आती है तो एक्सर्साइज के साथ-साथ सही खानपान भी जरूरी है। वैसे तो वेट लॉस के लिए आपको मेहनत करनी ही पड़ती है और कोई भी चीज शरीर पर जादू जैसा असर नहीं करती। लेकिन कुछ फूड आइटम्स ऐसे जरूर हैं जिन्हें अगर आप अपनी डायट में शामिल कर लें तो आपका वेट लॉस मिशन आसान जरूर बन जाएगा। उन्हीं फूड प्रॉडक्ट्स में से एक है आंवला।
मैजिकल इन्ग्रीडिएंट है आंवला
विटमिन सी, ऐंटीऑक्सिडेंट्स, पॉलिफेनॉल्स से भरपूर आंवला शरीर में मौजूद हानिकारक टॉक्सिन्स को निकालने में मदद करता है। वेट लॉस और फैट बर्न करने के लिए या तो आपको कम कैलरी का सेवन करना चाहिए या फिर जितनी कैलरी का आप सेवन कर रहे हैं उससे ज्यादा कैलरीज को बर्न करना चाहिए। आवंला इस मामले में एक जादूई इन्ग्रीडिएएंट है जिसमें कैलरी बेहद कम होती और यह वेट लॉस में मदद करता है।
मेटाबॉलिज्म को मजबूत बनाता है आंवला
फैट से लडऩे के मामले में सुपरफूड माना जाता है आंवला क्योंकि इसमें मौजूद विटमिन सी आपकी इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाता है। शरीर से टॉक्सिन्स निकालकर मेटाबॉलिज्म को मजबूत बनाता है ताकि फैट बर्निंग का प्रोसेस तेज हो सके।
फैट दूर करने में मददगार
आंवला में हाइपोलिपिडैमिक प्रॉपर्टीज पायी जाती है जिससे फैटी लिवर और कलेस्ट्रॉल के लक्षणों से लडऩे में मदद मिलती है और साथ ही मोटापा भी कम होता है। इन सभी खूबियों की वजह से आंवला एक्स्ट्रा फैट को शरीर से दूर करने में असरदार साबित होता है।
फाइबर से भरपूर आंवला
आंवला फाइबर का भी बेहतरीन सोर्स है जिस वजह से यह शरीर से टॉक्सिन्स को बाहर निकालने, पाचन को बेहतर बनाने, गट यानी आंत के बेहतर फंक्शन करने और कब्ज को दूर करने में भी मदद करता है। ये सारी चीजें जब सही तरीके से काम करेंगी तो आपका वजन तेजी से घटने लगेगा।
खाली पेट पिएं आंवले का जूस
चूंकि कच्चा आंवला खाने में खट्टा होने के साथ-साथ टेस्ट में थोड़ा कसैला भी होता है इसलिए सभी लोग इसे पसंद से नहीं खाते। लिहाजा आंवले का जूस पीना फायदेमंद हो सकता है। वेट लॉस करना है तो हर दिन 2-3 चम्मच आंवले का जूस या आंवले के पाउडर को गर्म या गुनगुने पानी में मिलाकर हर दिन सुबह खाली पेट पिएं। ऐसा करने से आपका शरीर डिटॉक्स होगा।
सिर्फ वेट लॉस ही नहीं कई और फायदे भी


-आंवले में ऐंटिऑक्सिडेंट्स अच्छी मात्रा में होता है, जो कार्सिनोजेनिक कोशिकाओं को बढऩे से रोकते हैं और कैंसर से बचाव करता है।
आंवले का कसैला स्वाद पाचन ठीक रखने वाले इन्जाइम्स को सक्रिय रखता है और ऐसिडिटी से बचाता है।
आंवला में मौजूद ऐंटीऑक्सिडेंट्स रेटिना को ऑक्सिडाइज होने से बचाता है। इसके नियमित सेवन से मोतियाबिंद व रतौंधी जैसी समस्याओं से बचा जा सकता है।
आंवला दिमाग की कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाता है और इसमें मौजूद नियोपाइनफ्राइन नामक तत्व मूड से जुड़ी क्रियाओं को नियंत्रित रखता है।


सत्ता-कुर्सी के लिए राजनीति -आलोचना

देश हो या दुनिया जहां कहीं भी राजनीति का रंग जब-जब बदला है। इसने हमारे समाज को दो हिस्सों में बांट दिया है। भारत के इतिहास में ऐसी कई बातें आज भी जिंदा हैं, जो हिंदुस्तान के आने वाले नस्लों को पुकार-पुकार कर यह बताती रहेगी कि राजनीति का रंग कैसा होता है और राजनीति में नकारात्मकता का क्या असर होता है। समाज में राजनीति,सियासत का बहुत अहम रोल होता है। बग़ैर राजनीति के हम समाज की कल्पना बिल्कुल नहीं कर सकते हैं, लेकिन जब राजनीति में जहर भर जाता है तो फिर समाज को बंटने से कोई नहीं रोक सकता है।
आज के दौर में राजनीति का मतलब सत्ता और कुर्सी हो गया है। राजनीति का यही एक मकसद रह गया है कि कैसे कुर्सी हासिल की जाए और कुर्सी हासिल करने के बाद भ्रष्टाचार रोकने के बजाय राजनीति खुद भ्रष्टाचार का शिकार हो जाती है। राजनीति में ज़मीर का सौदा करके लाभ उठाना आम बात हो गई है। महाराष्ट्र की मिसाल सबके सामने है। अब सत्ता का रास्ता कैसे तय किया जाए ये नेता अपने हिसाब से तय करते हैं। ऐसे में उन मूल्यों को खत्म किया जा चुका है जिससे इंसानियत की पहचान होती है। मानवाधिकार का उल्लंघन बहुत साधारण बात हो गई है।  लेकिन राजनीति के आगे सब बेबस हो जाते हैं। पुलिस की कार्रवाई हो, सामाजिक कार्यकर्ता के खिलाफ एक्शन हो या फिर पत्रकारिता हो हर जगह राजनीति अपना काम करती रहती है।
हर देश में राजनीति का आधार समाज है। अगर समाज के लोग चाह ले तो सत्ता एक पल में बदल सकती है लेकिन राजनीति का यही वह बुरा पहलू है जहां हम खुद बंट जाते हैं। समाज जिसको बनाता है वही नेता समाज को बांट कर उसकी एकता और अखंडता को समाप्त कर देते हैं। फिर धर्म, जाति और वर्ग के नाम पर नफरत फैला कर सत्ता का सुख उठाते हैं। यह मानवाधिकार का हनन नहीं तो क्या है!
आज के दौर की राजनीति अब तक की राजनीति से सबसे ज्यादा खतरनाक और विषैली है। आज के दौर की राजनीति इस कदर गूंगी और बहरी हो गई है कि उसका कोई अपना महत्व और पहचान नहीं रह गयी है। सियासत के महारथी जाति और वर्ग के नाम पर सत्ता तय कर रहे है।मानव मूल्यों की कीमत ख़त्म हो चुकी है। संविधान के मूल्यों एवं महत्व के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।
ऐसी परिस्थितियों में जनता को जागरूक रहने की जरूरत है क्योंकि अगर देश खुशहाल रहेगा तो जनता खुशहाल रहेगी । यदि देश में समस्या पैदा होगी तो उसका शिकार जनता होगी।


सैय्यद एम. अली तक़वी


दाल बनाना नहीं आता,मंत्री बने, गिरा ग्राफ

दाल तक बनाना नहीं आता, उन्हें मंत्री बनाते देते हैं, CMO में लगा देते हैं, जाने क्यू गिरने लगा BJP का ग्राफ


कुमार अग्रवाल


नई दिल्ली! महाराष्ट्र से भी भगवा दूर हो गया। आज से ठाकरे राज का आगाज होने जा रहा है। राज्य में आज शाम शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन सरकार का गठन हो जाएगा। भाजपा इस सरकार को शायद ही पचा सके क्यू कि शिवसेना और भाजपा ने मिलकर चुनाव लड़ा था लेकिन शिवसेना की जिद के सामने भाजपा की दाल नहीं गली। सरकार बनी भी तो तीन दिन में गिर गई। अजीत पंवार भी उद्धव ठाकरे जैसे ही निकले।


इस समय भाजपा के पास उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, एनडीए का साल 2017 में 72 फीसदी आबादी पर शासन था। मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में सत्ता उसके हाथ से जाने पर वह 41 फीसदी आबादी तक सीमित होकर रह गया है। अब महाराष्ट्र भी भाजपा के हाथ से चला गया। भाजपा तमिलनाडु में सरकार के साथ है, लेकिन विधायक एक भी नहीं है। हरियाणा में महाराष्ट्र के साथ ही चुनाव हुए लेकिन यहाँ भाजपा ने जजपा से मिल साकार बना ली।


हालांकि, मिजोरम और सिक्किम जैसे छोटे राज्य एनडीए के खाते में आए हैं। इस तरह से अब 17 राज्यों में एनडीए सरकार है। इनमें से 13 राज्यों में भाजपा और चार राज्यों में सहयोगी दलों के मुख्यमंत्री हैं।


महाराष्ट्र खोने से भाजपा काफी कुछ खो बैठी है क्यू कि देश के 40 फीसदी से ज्यादा कॉर्पोरेट ऑफिस महाराष्ट्र में ही हैं। चुनावी चंदे में इनका बड़ा योगदान है। उत्तर प्रदेश के बाद सबसे ज्यादा 48 लोकसभा सीटें महाराष्ट्र में हैं। यही वजह है कि एनडीए के लिए महाराष्ट्र काफी अहम है। अब भाजपा की निगाहें दिल्ली और झारखंड चुनावों पर हैं।
आखिर क्या हुआ ऐसा जो पार्टी का ग्राफ इतना गिरता जा रहा है। भाजपा की स्थानीय सरकारों को जनता नहीं पसंद कर रही है। कुछ न कुछ कमियां तो जरूर हैं। सूत्रों की मानें तो जहां भाजपा की सरकारें हैं वहाँ सीएमओ में कम तजुर्बेकार नेताओं और अधिकारियों को ज्यादा जगह मिल रही है। सिफारिश लगाकर नेता और अधिकारी सीएमओ में पहुँच रहे हैं। जिसने कभी ग्राम सभा या निगम का भी चुनाव नहीं जीता ऐसे लोगों को सीएमओ में लगाया गया है।


रक्तदान के क्षेत्र में कार्य हेतु संस्था सम्मानित

रक्तदान के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने पर जयहिन्द सामाजिक संगठन सम्मानित
सहरानपुर! रक्तदान के क्षेत्र में कार्य करने के लिए जयहिन्द सामाजिक संगठन के संस्थापक अध्यक्ष को करनाल में आयोजित कार्यक्रम में सम्मानित किया गया। देशभर से आये 70 लोगों को सम्मानित किया गया। संस्था ने इसका श्रेय रक्तदाताओं को दिया है। 
हरियाणा के करनाल की संस्था मानव सेवा संघ द्वारा कार्यक्रम आयोजित कर देश की कई संस्थाओं व रक्तदाताओं को सम्मानित किया है। रक्तदान के क्षेत्र में कार्य करने के लिए उप्र की जय हिन्द सामाजिक संस्था गंगोह के संस्थापक अध्यक्ष उमंग शर्मा व शामली अध्यक्ष संदीप गोयल को सम्मानित किया गया। देश भर से आये 70 लोगों को सम्मानित करने का काम हरियाणा पुलिस अकादमी के निदेशक श्रीकांत जाधव ने किया। उमंग शर्मा के लिए सुभाष चंद शर्मा ने सम्मान चिन्ह प्राप्त किया। अध्यक्ष सचिन गर्ग ने सम्मान को एक कॉल पर रक्तदान के लिए सदैव तत्पर रहने वालों को समर्पित किया। इससे पूर्व रक्तदान के क्षेत्र में कार्य करते रहने के कारण संस्था को सम्मान दिया जा चुका है। उमंग शर्मा को करनाल के अलावा महाराष्ट्र के सांगली सहित सात स्थानों पर सम्मानित किया जा चुका है।
रिपोर्ट:अंकुर गर्ग


हाईकोर्ट ने 'यूपी' सरकार को किया तलब

इलाहाबाद हाईकोर्ट के कैंपस में इलाज के उचित इंतजाम नहीं, यूपी सरकार तलब
प्रयागराज! इलाहाबाद हाईकोर्ट की डिवीजन बेंच ने कैम्पस में स्थित सरकारी अस्पताल की दुर्दशा और संसाधनों की कमी पर नाराज़गी जताते हुए योगी सरकार से जवाब तलब किया है| गौरतलब है कि इलाहाबाद हाईकोर्ट में पिछले दिनों मुकदमों की सुनवाई के दौरान तीन वकीलों की मौत के मामलों को हाईकोर्ट ने गंभीरता से लेते हुए यूपी सरकार से इस बात पर भी जवाब दाखिल करने को कहा है कि क्यों न हाईकोर्ट कैम्पस में बीस बेड का आधुनिक सुविधाओं से लैस अस्पताल खोल दिया जाए, जिसमे डॉक्टर्स व ट्रेंड स्टाफ की कमी न होो!


हाईकोर्ट की वकील ममता सिंह की पीआईएल पर सुनवाई करते हुए अदालत ने यूपी सरकार को अपना जवाब दाखिल करने के लिए दो हफ्ते का वक्त दिया है| अदालत इस मामले में 11 दिसम्बर को फिर से सुनवाई करेगी| अदालत ने इस मामले में चीफ मेडिकल सुप्रीटेंडेंट को भी पक्षकार बनाने का आदेश दिया है!


गौरतलब है कि एशिया की सबसे बड़ी अदालत का गौरव रखने वाले इलाहाबाद हाईकोर्ट में रोज़ाना हज़ारों की संख्या में लोग आते हैं| अनुमान के मुताबिक़ यहां रोज़ाना सौ के करीब जजेज, तकरीबन अठारह हज़ार वकील, दो हज़ार से ज़्यादा स्टाफ, छह हज़ार मुंशी और सात सौ के करीब सुरक्षाकर्मी आते हैं| इनके अलावा तकरीबन तीन हज़ार वादकारी भी हाईकोर्ट आते हैं|


कैम्पस में एक सरकारी अस्पताल भी है, लेकिन उसमे संसाधनों की कमी है. पर्याप्त संख्या में डाक्टर व स्टाफ भी नहीं है| एम्बुलेंस में इलाज की कोई सुविधा नहीं है| सात नवम्बर को अदालत में सुनवाई के दौरान अमूल्य रत्न नाम के वकील की हार्ट अटैक से मौत हो गई| उससे पहले भी दो वकीलों की मौत हो चुकी है


बृजेश केसरवानी


सीएम ममता और राज्यपाल के बीच 'मोहरा'

कोलकाता! पश्चिम बंगाल विधानसभा में तृणमूल सरकार और राज्यपाल के बीच तल्खी दिखने के बाद, जगदीप धनखड़ ने बुधवार को सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा और कहा कि मुख्यमंत्री ने उनके लिए कथित रूप से कहा ''तू चीज बड़ी है मस्त मस्त'' राज्यपाल धनखड़ ने एक ट्वीट में एक बांग्ला अखबार की खबर को साझा किया है! इस खबर में कहा गया है कि मुख्यमंत्री ने राज्यपाल के बारे में बात करते हुए बिना उनका नाम लिए हुए कहा ''तू चीज बड़ी है मस्त मस्त'' बता दें यह 1994 में आयी मशहूर फिल्म 'मोहरा' का एक गाना है!


राज्यपाल ने ट्वीट किया, ''अखबार में 27 नवंबर को खबर छपी! इसमें विधानसभा में संविधान दिवस का उल्लेख किया गया! सम्मानीय मुख्यमंत्री ने राज्यपाल के लिए कहा 'तू चीज बड़ी है मस्त मस्त' मैंने इसका जवाब देना सही नहीं समझा क्योंकि मैं उनके पद का सम्मान करता हूं!'' 


राज्यपाल धनखड़ ने बुधवार दोपहर एक अन्य ट्वीट में एक वीडियो पोस्ट किया है जिसमें मुख्यमंत्री संविधान दिवस पर कार्यक्रम के समापन के बाद संवाददाताओं से बात कर रही थीं! धनखड़ ने ट्वीट में कहा, ''मैंने कभी सम्मान देने में कोई कमी नहीं की, चाहे वह माननीय मुख्यमंत्री ही क्यों न हों! मैं उनका व्यक्तिगत रूप से काफी सम्मान करता हूं!'' भारतीय संविधान को अंगीकृत करने के 70 साल पूरे होने के अवसर पर आयोजित संविधान दिवस पर आहूत विशेष सत्र के दौरान उनके बीच कोई सीधी बातचीत नहीं हुई!


अश्लील वीडियो बनाकर किया ब्लैकमेल

दिनेश सोनी


मुरादाबाद। मझोला क्षेत्र में शातिर ड्राइवर ने अपनी ही मालकिन की अश्लील वीडियो बना ली और उसे इसके एवज में ब्लैकमेल करते हुए कई बार में उससे करीब एक करोड़ रुपए वसूल लिए। ड्राइवर ने मालकिन की कीमती जमीन का भी सौदा करके 50 लाख रुपए हड़प लिए। सालों से ब्लैकमेल का शिकार हो रही महिला ने त्रस्त होकर एसएसपी से शिकायत की। जांच के बाद एसएसपी के निर्देश पर मझोला थाने में ड्राइवर समेत पांच लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। नामजद लोगों में एक प्रापर्टी डीलर भी शामिल है। पीड़ित महिला नागफनी थाना क्षेत्र की रहने वाली है। उसके कारोबारी पति की रंजिश के चलते 2009 में हत्या कर दी गई थी। पति की मौत के बाद पीड़िता लंबे समय तक सदमे में रही थी।


ब्लैकमेलर ने पहले जीता पीड़िता का विश्वास फिर बनाई वीडियो


करोड़ों की संपत्ति संभालने वाला घर में कोई पुरुष नहीं था। इस बीच पाकबड़ा के डूंगरपुर रोड निवासी अरशद ने उसके घर आना-जाना शुरू कर दिया। उसके प्रति संवेदना जताते हुए विश्वास जीतना शुरू कर दिया। उसका भरोसा देखते हुए महिला ने उसे अपनी निजी गाड़ी का ड्राइवर रख लिया। पहले तो अरशद काम खत्म होने के बाद शाम को घर चला जाता था फिर बहाने से महिला के ही घर रुकने लगा। चौबीस घंटे साथ रहने के कारण अरशद धीरे-धीरे मालकिन के करीब आ गया। उसने भरोसे की सीमाएं भी तोड़ दीं। चूंकि बुरे समय में अरशद ने परिवार का साथ दिया था, इसलिए महिला भी उसकी हरकतों को नजरंदाज करती रही। अरशद ने बाथरूम में नहाते समय और कपड़े आदि बदलते समय मालकिन की अश्लील वीडियो बना ली।


वीडियो को सार्वजनिक करने की धमकी देकर वसूले एक करोड़


अरशद ने इन वीडियो को सार्वजनिक करने की धमकी देकर मालकिन को ब्लैकमेल करना शुरू किया। इस तरह मालकिन को ब्लैकमेल करते हुए अरशद ने अब तक जमीन के साथ ही करीब एक करोड़ रुपए वसूल कर लिए थे। लगातार ब्लैकमेलिंग से परेशान महिला ने पिछले दिनों एसएसपी अमित पाठक से न्याय की गुहार लगाई थी।


एसएसपी ने मामले की जांच एएसपी आदित्य लांग्हे से कराई। मामला सही मिलने पर मझोला थाने में अरशद निवासी पाकबड़ा, जुल्फिकार उल्लाह, जफरुल्लाह निवासीगण असालतपुरा थाना गलशहीद, हारुन निवासी ट्रांसपोर्ट नगर और नासिर के खिलाफ' गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया। एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि मझोला पुलिस को आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए गए हैं। जल्द ही सभी को जेल भेजा जाएगा।


हरियाणा सीएम के मीडिया सलाहकार नियुक्त

राणा ओबरॉय


नई दिल्ली! हरियाणा के मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार के पद पर नियुक्त हुए, अमित आर्य ने बुधवार को हरियाणा भवन स्थित अपने कार्यालय में अपना पदभार ग्रहण किया।पदभार ग्रहण करने से पूर्व अमित आर्य ने हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल से मिलकर मार्गदर्शन लिया। पदभार ग्रहण करने के उपरांत अमित आर्य ने कहा कि वे  अपने कर्तव्यों का सदैव निर्वहन करते रहेंगे और मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार के रूप में सरकार व मीडिया के मध्य सेतु को लगातार मजबूत करने की दिशा में कार्य करते रहेंगे।  अमित आर्य ने कहा कि दूसरे राज्य भी हरियाणा सरकार की मीडिया नीति का अनुसरण कर रहे हैं और इसका श्रेय मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल को है। हरियाणा सरकार द्वारा प्रारंभ की गई पत्रकार पैंशन योजना एक अनुकरणीय व कल्याणकारी कार्य है। पत्रकार कल्याण की दिशा में और बेहतर कार्यों के लिए हरियाणा सरकार विशेषकर मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल सदैव प्रयासरत रहते हैं।


उल्लेखनीय है कि हरियाणा की गत सरकार के कार्यकाल के दौरान भी श्री अमित आर्य ने चंडीगढ़ व नई दिल्ली में हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के मीडिया सलाहकार के रूप में अपने कर्तव्यों का निर्वहन किया। बार भी नई दिल्ली में हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के मीडिया सलाहकार की जिम्मेदारी श्री अमित आर्य को दी गई हैं। भारतीय जनता पार्टी के हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष श्री सुभाष बराला ने अमित आर्य के नई दिल्ली में हरियाणा के  मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार का पदभार ग्रहने पर उन्हें बधाई दी। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के मीडिया सलाहकार के पद पर श्री अमित आर्य की लगातार दूसरी बार नियुक्ति किए जाने पर पत्रकारों ने भी उन्हें बधाईयां दी।


कैंसर यूनिट का उद्घाटन करेंगे 'राष्ट्रपति'

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद गुरूवार को वृंदावन दौरे पर रहेंगे। यहां वह रामकृष्ण मिशन की कैंसर यूनिट का शुभारंभ करेंगे। मंदिर बांकेबिहारी में दर्शन कर ब्रज के नन्हें-मुन्ने बच्चों को अक्षयपात्र में भोजन भी खिलाएंगे। राष्ट्रपति के आगमन को लेकर प्रशासनिक स्तर पर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। निर्धारित कार्यक्रम के तहत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आगरा से हेलीकॉप्टर द्वारा प्रात: 10 बजे अक्षयपात्र स्थित हेलीपैड पर पहुंचेंगे। यहां उनकी अगवानी प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे। पहली बार बांकेबिहारी की नगरी वृंदावन में आ रहे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रामकृष्ण मिशन में नवस्थापित कैंसर यूनिट ब्रजवासियों को समर्पित करेंगे। कैंसर यूनिट के शुभारंभ के बाद राष्ट्रपति बांकेबिहारी मंदिर में दर्शन कर विधिवत पूजा-अर्चना करेंगे। यहां से निकुंजवन पहुंचकर संत विजय कोशल महाराज के साथ एकांत कुटिया में आध्यात्मक चर्चा करेंगे। इसके बाद राष्ट्रपति अक्षयपात्र में बनी विशाल किचिन का अवलोकन करेंगे और ब्रज के नन्हें-मुन्ने बच्चों को भोजन कराएंगे। तदोपरांत खुद भोजन भी करेंगे।


इस तरह राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद चार घंटे तक बांकेबिहारी की नगरी में रहने के बाद दोपहर दो बजे हेलीकॉप्टर से रवाना हो जाएंगे। जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने बताया कि राष्ट्रपति के आगमन की सभी तैयारियां कर ली गई हैं। वीवीआईपी के आगमन को लेकर प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। वृंदावन को चार जोन और 18 सेक्टरों में बांट दिया गया है। मथुरा में दो एडीएम और एक सीडीओ की तैनाती को देखते हुए दो एडीएम स्तर के अधिकारी आगरा से आ रहे हैं। जिलाधिकारी सर्वज्ञराम मिश्र ने बताया कि एक दिन पहले ही सभी जोनल और सेक्टर मजिस्ट्रेट अपनी जिम्मेदारी संभाल लेंगे। साथ जोनल और सेक्टर पर इसी स्तर के पुलिस अधिकारियों की भी मौजूदगी रहेगी।


महाराष्ट्र में मोदी-शाह की चाल नाकाम

नई दिल्ली। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में मोदी सरकार को लेकर हमला बोला। उन्होंने पार्टी नेताओं के साथ कई मुद्दों पर बात की। महाराष्ट्र में भाजपा के सरकार बनाने को उन्होंने बेशर्मी वाले प्रयास बताए। उन्होंने कहा, 'भाजपा ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए बेशर्मी भरे प्रयास किए। राज्य में मोदी-शाह की साजिश नाकाम हो गई है। इसके बाद सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को सरकार द्वारा बेचे जाने पर उन्होंने कहा कि मुनाफा कमाने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को नरेंद्र मोदी के दोस्तों को बेचा जा रहा है। सोनिया ने वाट्सएप जासूसी कांड को लेकर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार हमारे मौलिक अधिकारों छीन रही है।


कांग्रेस नेता ने जम्मू-कश्मीर में यूरोपीय सांसदों को भेजे जाने पर भी केंद्र पर निशाना साधाा। उन्होंने कहा, 'भारत के राजनेताओं को जम्मू-कश्मीर में जाने की इजाजत नहीं है लेकिन कुछ यूरोपीय सासंदों को भेजा गया। यह नरेंद्र मोदी और अमित शाह का शर्मनाक कृत्य था।' इसके अलावा भोपाल से भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने बुधवार को लोकसभा में नाथूराम गोडसे को देशक्त कह दिया था। जिसे लेकर सोनिया ने कहा, 'हमारी पार्टी ने इस मुद्दे पर वह सब कुछ कहा है जो कि कहा जाना चाहिए।' वहीं गुरूवार को महाराष्ट्र में कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के गठबंधन वाली सरकार शपथ लेने वाली है। जिसका नेतृत्व उद्धव ठाकरे के हाथो में है। उद्धव के बेटे और वरली से विधायक आदित्य ने दिल्ली में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और सोनिया गांधी से मुलाकात की। उन्होंने दोनों वरिष्ठ नेताओं को शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने का निमंत्रण दिया। हालांकि जब इसके बारे में सोनिया से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इसके बारे में फैसला नहीं लिया है।


शेयर बाजार अब तक के सर्वोच्च स्तर पर

नई दिल्ली। सप्ताह के चौथे कारोबारी दिन शेयर बाजार ने कीर्तिमान बनाते हुए आगाज किया। गुरुवार को सेंसेक्स और निफ्टी अपने सर्वोच्च स्तर पर खुले। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 101.19 अंक यानी 0.25 फीसदी की बढ़त के बाद 41,121.80 के स्तर पर खुला। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 27.30 अंक यानी 0.23 फीसदी की बढ़त के बाद 12,128 के स्तर पर खुला। बाजार में छाई हरियाली से निवेशकों को काफी फायदा हुआ।


ऐसा रहा दिग्गज शेयरों का हाल


दिग्गज शेयरों की बात करें, तो यस बैंक, इंफ्राटेल, सिप्ला, जी लिमिटेड, यूपीएल, टाटा स्टील, टीसीएस, आईसीआईसीआई बैंक, जेएसडब्ल्यू स्टील और अल्ट्राटेक सीमेंट के शेयर हरे निशान पर खुले। वहीं गिरावट वाले दिग्गज शेयरों की बात करें, तो इनमें हीरो मोटोकॉर्प, वेदांता लिमिटेड, हिंदुस्तान युनिलीवर, ओएनजीसी, विप्रो, आईओसी, टाटा मोटर्स और टाइटन के शेयर शामिल हैं।


सेक्टोरियल इंडेक्स पर नजर


सेक्टोरियल इंडेक्स पर नजर डालें, तो एफएमसीजी के अतिरिक्त सभी सेक्टर्स हरे निशान पर खुले। इनमें मीडिया, रियल्टी, मेटल, ऑटो, फार्मा, पीएसयू बैंक, आईटी और प्राइवेट बैंक शामिल हैं।


प्री ओपन के दौरान यह था शेयर मार्केट का हाल


प्री ओपन के दौरान सुबह 9:10 बजे शेयर मार्केट हरे निशान पर था। सेंसेक्स 140.93 अंक यानी 0.34 फीसदी की बढ़त के बाद 41,161.54 के स्तर पर था। वहीं निफ्टी 31.40 अंक यानी 0.26 फीसदी की बढ़त के बाद 12,132.10 के स्तर पर था।


71.32 के स्तर पर खुला रुपया


डॉलर के मुकाबले आज रुपया 71.32 के स्तर पर खुला। वहीं पिछले कारोबारी दिन डॉलर के मुकाबले रुपया 71.35 के स्तर पर बंद हुआ था।


पिछले कारोबारी दिन बढ़त के साथ खुला था बाजार


पिछले कारोबारी दिन शेयर बाजार बढ़त के साथ खुला था। सेंसेक्स 185.41 अंक यानी 0.45 फीसदी की बढ़त के बाद 41,006.71 के स्तर पर खुला था। वहीं निफ्टी 33.80 अंक यानी 0.28 फीसदी की बढ़त के बाद 12,071.50 के स्तर पर खुला था।


बुधवार को 41,020.61 के स्तर पर बंद हुआ था सेंसेक्स


बुधवार को सेंसेक्स 199.31 अंक यानी 0.49 फीसदी की बढ़त के बाद 41,020.61 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 63 अंक यानी 0.52 फीसदी की बढ़त के बाद 12,100.70 के स्तर पर बंद हुआ था।


16 साल बाद पाक जेल से रिहा 'गुलाम'

नई दिल्ली। शुक्र है अल्लाह दा, देर नाल ही सही पर मेरा पुत्त घर मुड़ आया। कुछ ऐसा ही कहना था मालेरकोटला के मोहल्ला चाने लौहारां में रहने वाली 80 वर्षीय सदीकन का, जो 16 साल से अपने बेटे के घर वापस आने की राह देख रही थी। पिछले करीब 16 साल से पाकिस्तान की जेल कोटलखपत में बंद मालेरकोटला के मोहल्लाचाने लौहारां के रहने वाले गुलाम फरीद बुधवार को सही सलामत घर लौट आया। अपने बेटे के इंतजार में माता सदीकन का रो-रोकर बुरा हाल था। बुधवार को अपने बेटे से मिलकर उसकी आंखों में चमक साफ दिखाई दे रही थी। बातचीत करते हुए गुलाम फरीद ने बताया कि वह 2003 में अपने रिश्तेदारों को मिलने के लिए पाकिस्तान गया था। लेकिन वहां उसका पासपोर्ट एक्सपायर हो गया और पाकिस्तान सरकार ने 13 साल के लिए जेल भेज दिया। इस दौरान उसका अपने घर वालों के साथ कोई संपर्क नहीं हुआ। ऐसे में उसे लगने लगा कि शायद वह अपने घर कभी जिंदा नहीं लौट पाएगा। लेकिन अमृतसर से सांसद गुरजीत सिंह औजला और मालेरकोटला के कांग्रेस के पूर्व ब्लाक अध्यक्ष बेअंत किंगर के प्रयास से वह अपने परिवार से मिल पाया।


गुलाम फरीद की माता सदीकन ने अपने पुत्र की घर वापसी पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि उन्हें तो ऐसा लगता था कि शायद उसका पुत्र इस दुनिया में है ही नहीं, लेकिन जैसे ही पता चला कि वह पाकिस्तान जेल में बंद है तो उनकी खुशी का कोई ठिकाना न रहा। उसने कहा कि पहले उसे पुत्र की जुदाई में भूख नहीं लगती थी और अब पुत्र के मिलने की खुशी में उसकी भूख मर गई है। कांग्रेस नेता बेअंत किंगर ने बताया कि उन्हें जब केस के बारे में पता लगा तो उन्होंने अमृतसर से सांसद गुरजीत सिंह औजला के साथ संपर्क किया, जिन्होंने उनकी बैठक विदेश मंत्रालय के साथ कराई और मामले का समाधान हो पाया। उन्होंने बताया कि गुलाम की सभी सरकारी कार्रवाई पूरी होने के बाद उसे पाकिस्तान सरकार की तरफ से 5 अगस्त 2019 को जीरो लाइन पर हिंद सरकार को सौंपने के लिए लाया गया था, लेकिन बदकिस्मती से उस दिन कश्मीर में से धारा 370 हटाए जाने के कारण गुलाम फरीद को दोबारा पाकिस्तान वापस कर दिया गया। गुलाम फरीद की घर वापसी की सूचना मिलते ही उसके रिश्तेदारों, दोस्तों और मोहल्ला निवासियों का उसके घर तांता लगा था।


साध्वी प्रज्ञा पर गिरी गाज, कमेटी से बाहर

नई दिल्ली! महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान के बाद भाजपा और केंद्र सरकार ने सांसद प्रज्ञा ठाकुर पर कार्रवाई की है। अपने बयानों की वजह से हमेशा विवादों में रहने वालीं भोपाल से सांसद साध्वी को रक्षा मंत्रालय की कमिटी से हटा दिया गया है। साथ ही भाजपा संसदीय दल की बैठक में आने पर भी रोक लगा दी गई है।


कलाकार सपना के डांस ने मचाई धूम

नई दिल्ली। कलाकार और सिंगर सपना चौधरी जब भी स्टेज पर आती हैं तो अलग ही दर्शकों के बीच अपना छवि छोड़ जाती है। एक बार फिर सपना लोगों के बीच हैं। सपना चौधरी के डांस वीडियोज को कुछ ही घंटों के भीतर लाखों व्यूज मिल जाते हैं! वहीं अब उनके डांस को पसंद करने वाले फैंस उनके पुराने वीडियोज को भी आए दिन वायरल करते रहते हैं!


अब एक बार फिर सपना चौधरी का एक डांस यूट्यूब पर धूम मचा रहा है! इस वीडियो में सपना नीले और गोल्डन कलर के सूट में बेहद खूबसूरत नजर आ रही हैं! वीडियो में सपना हरियाणवीं गाने 'जबर भरोटा' पर थिरकती नजर आ रही हैं!


प्राधिकरण प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


नवंबर 29, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-115 (साल-01)
2. शुक्रवार, नवंबर 29, 2019
3. शक-1941, मार्गशीर्ष- शुक्लपक्ष, तिथि- तीज, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 06:43,सूर्यास्त 05:41
5. न्‍यूनतम तापमान -14 डी.सै.,अधिकतम-24+ डी.सै., हल्की बरसात के साथ कोहरे की संभावना बनी रहेगी।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...