गुरुवार, 23 नवंबर 2023

नेपाल में 4.5 तीव्रता का भूकंप, झटके

नेपाल में 4.5 तीव्रता का भूकंप, झटके    

अखिलेश पांडेय 

काठमांडू। नेपाल के मकवानपुर जिले के चितलांग में 4.5 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए। नेपाल भूकंप विज्ञान केंद्र के मुताबिक भूकंप के झटके गुरुवार (23 नवंबर) की सुबह-सुबह महसूस किए गए।

हालांकि, अभी तक किसी बड़े नुकसान की जानकारी नहीं है। आपको बता दें कि नेपाल में इसी महीने की शुरुआत में 3 नवंबर को 6.4 तीव्रता के भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए थे, जिससे नेपाल उबरने की कोशिश कर रहा है। नेपाल में महसूस किए गए 6.4 तीव्रता के भूकंप के झटके में जान-माल का अच्छा नुकसान हुआ था। उस दौरान 157 लोगों की मौत हो गई थी और हजारों की संख्या में लोग घायल भी हो गए थे‌।

भारत ने भेजी राहत सामग्री की चौथी किश्त
आपको बता दें कि हिमालयन राष्ट्र नेपाल में हाल ही में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए थे, जिसकी वजह से वहां के लोगों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ता है। पिछली बार 3 नवंबर को नेपाल के जाजरकोट में महसूस किए गए भूकंप के झटके में लगभग 8000 घर बुरी तरह से बर्बाद हो गए थे। उस दौरान भारत ने भूकंप से प्रभावित लोगों के लिए एक आपातकालीन सहायता पैकेज भेजा था, जिसमें जिसमें मेडिकल  उपकरण, राहत सामग्री और बहुत कुछ शामिल था।

भारत ने बीते सोमवार (20 नवंबर) को ही नेपाल को आवश्यक चिकित्सा आपूर्ति की भूकंप राहत सहायता की चौथी किश्त भेजी है। इस पर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा कि यह त्वरित प्रतिक्रिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पड़ोसी पहले नीति के अनुरूप है, जो संकट के समय में अपने पड़ोसी देशों का समर्थन करने की भारत की प्रतिबद्धता को दर्शाती है। 3 नवंबर को जजरकोट और आसपास के इलाकों में आए भूकंप के बाद भारत ने अब तक नेपाल में प्रभावित परिवारों के लिए 34 टन से अधिक आपातकालीन राहत सामग्री भेजी है।

साल 2015 में भूकंप के झटके
नेपाल के इतिहास में अब तक के सबसे भयानक भूकंप के झटके साल 2015 में महसूस किए गए थे। उस दौरान 8 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी, तब भूकंप की तीव्रता 7.8 और 8.1 मापी गई थी। ये भूकंप के झटके 25 अप्रैल 2015 की सुबह स्थानीय समयानुसार 11 बजकर 56 पर महसूस किए गए थे। उस वक्त कई ऐतिहासिक मंदिर और इमारतें बुरी तरह से बर्बाद हो गए थे।

आयुर्वेद: गुनगुने पानी से नहाना फायदेमंद बताया

आयुर्वेद: गुनगुने पानी से नहाना फायदेमंद बताया 

सरस्वती उपाध्याय 
सर्दियों में अक्सर आपने लोगों को गर्म पानी से नहाते हुए देखा होगा। हालांकि, तमाम लोग कड़ाके की सर्दी में भी ठंडे पानी से नहाना पसंद करते हैं। इस बारे में आयुर्वेदिक डॉक्टर का कहना है कि आयुर्वेद में सर्दियों में गुनगुने पानी से नहाना फायदेमंद बताया गया है। नहाने के लिए पानी ज्यादा गर्म नहीं होना चाहिए, बल्कि गुनगुना होना चाहिए।
डॉक्टर के अनुसार सर्दियों में गुनगुने पानी से नहाने से हमारे शरीर का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। इससे सर्दी-खांसी का खतरा कम होता है और शरीर की जकड़न भी दूर हो जाती है। इस पानी से शरीर की सफाई अच्छे तरीके से होती है और लोगों को सर्दी से राहत मिलती है। हालांकि जो लोग स्किन की किसी प्रॉब्लम से जूझ रहे हैं, उन्हें गर्म पानी अवॉइड करना चाहिए। अब बात ठंडे पानी से नहाने की कर लेते हैं। जो लोग सर्दी-जुकाम या खांसी की समस्या से जूझ रहे हैं और इम्यूनिटी वीक है, वे ताजा पानी के बजाय हल्के गुनगुने पानी से नहाएं, तो सेहत ठीक रहेगी।
सर्दियों में गुनगुना और ताजा पानी दोनों से नहाया जा सकता है। यह लोगों की हेल्थ के ऊपर डिपेंड करता है कि वे किस तरह के पानी से स्वस्थ रहते हैं। आप इस बारे में डॉक्टर से मिलकर सलाह ले सकते हैं।डॉक्टर का कहना हैं कि किसी भी मौसम में ताजा पानी से नहाया जा सकता है। पानी रातभर का भरा हुआ हो और अत्यधिक ठंडा हो, तो उससे सर्दी-जुकाम हो सकता है। हालांकि ताजा पानी को आयुर्वेद में सर्दियों के लिए नुकसानदायक नहीं बताया गया है। जिन लोगों की इम्यूनिटी मजबूत होती है, वे ताजा पानी से नहा सकते हैं।

युद्ध: मस्क ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया

युद्ध: मस्क ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया 

अखिलेश पांडेय 
जेरूसलम। इजरायल और हमास के बीच पिछले करीब दो महीने से युद्ध जारी है। जिससे इजरायल और गाजा में बड़ी संख्या में नुकसान हुआ है। दोनों देशों के बीच जारी युद्ध को लेकर एक्स के मालिक एलन मस्क ने मदद के लिए हाथ बढ़ाते हुए बड़ा ऐलान किया है। एलन मस्क ने ट्वीट कर लिखा, “एक्स कॉर्प विज्ञापनों और सदस्यता से आने वाले पूरे रेवेन्यू को गाजा पट्टी के युद्ध पीड़ितों को और इजरायल के अस्पतालों और गाजा में रेड क्रॉस/क्रिसेंट को दान करेगा।” बता दें कि इजरायल और हमास के बीच पिछले महीने 7 अक्टूबर से युद्ध जारी है। 
इजरायल और हमास के बीच जारी युद्ध के चलते दोनों गाजा पट्टी में 13,000 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। वहीं, बड़ी संख्या में लोग जख्मी है। गाजा पट्टी में अस्पताल क्षेतिग्रस्त होने की वजह से लोगों को इलाज नहीं मिल पा रहा है। हालांकि, इस युद्ध में इजरायल में भी लोगों की जाने गई है और लोग जख्मी हुए हैं. जिन्हें अस्पतालों में इलाज की जरूरत है।

एसएसपी ने कार्यालय पर पुलिस ध्वज फहराया

एसएसपी ने कार्यालय पर पुलिस ध्वज फहराया  

भानु प्रताप उपाध्याय 
मुजफ्फरनगर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने पुलिस झंडा दिवस के अवसर पर पुलिस कार्यालय पर पुलिस ध्वज फहराते हुए वीरों का सम्मान किया है। इस दौरान पुलिस महानिदेशक का संदेश भी पुलिस अफसर एवं कर्मचारियों को पढ़कर सुनाया गया है। बृहस्पतिवार को जिला मुख्यालय स्थित पुलिस दफ्तर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने पुलिस झंडा दिवस के मौके पर पुलिस का ध्वज फहराकर वीरों को सम्मान दिया है। 
इस दौरान कार्यक्रम में उपस्थित पुलिस अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश, लखनऊ के संदेश को पढ़कर सुनाया गया एवं सभी को अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए पुलिस ध्वज की गरिमा बनाये रखने हेतु प्रेरित किया गया।  उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग के वीर जवानों के शौर्य, कर्तव्य परायणता एवं उत्कृष्ट कर्तव्यनिष्ठा के फलस्वरुप ही भारत के प्रथम प्रधानमंत्री, जवाहर लाल नेहरु द्वारा दिनांक 23.11.1952 में सर्वप्रथम उ0प्र0 पुलिस को पुलिस ध्वज प्रदान किया गया था। उ0प्र0 पुलिस पूरे भारत का प्रथम राज्य पुलिस बल है, जिसे उसके अप्रतिम योगदान के फलस्वरुप पुलिस कलर अर्थात पुलिस ध्वज प्रदान किया गया है, जो हम सभी के लिए गर्व का विषय है। इस दौरान पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अतुल कुमार श्रीवास्तव व कार्यालय के समस्त अधिकारी/कर्मचारीगण मौजूद रहें। इसी क्रम में जनपद के समस्त अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा थाना/चौकियों में ससम्मान पुलिस ध्वज फहराकर “पुलिस झंडा दिवस” मनाया गया।

जिस मुकाबले में पापी पहुंचे, उसे ही हार गए

जिस मुकाबले में पापी पहुंचे, उसे ही हार गए

मिनाक्षी लोढी 
कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि वनडे विश्व कप- 2023 का फाइनल मुकाबला यदि कोलकाता में आयोजित किया जाता तो निश्चित रूप से विश्व कप टीम इंडिया के पास होता। अहमदाबाद में खेले गए फाइनल मुकाबले में पीएम की मौजूदगी पर कटाक्ष करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम ने विश्व कप में अपने सभी मुकाबले जीते, सिवाय एक उस मैच के, जिसमें पापी मौजूद थे। बृहस्पतिवार को तृणमूल कांग्रेस की ओर से कोलकाता में आयोजित किए गए कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने टीम इंडिया की जर्सी को लेकर भारतीय जनता पार्टी के ऊपर अपना निशाना साधते हुए कहा की भगवा त्यागियों का रंग है, लेकिन भाजपा के लोग भोगी हैं। 
ममता बनर्जी ने दावा किया है की टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने भगवा जर्सी का विरोध करते हुए मैच में भगवा नहीं बल्कि नीली जर्सी पहनी थी। तृणमूल कांग्रेस द्वारा आयोजित किए गए कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि अगर वनडे वर्ल्ड कप- 2023 के फाइनल का आयोजन कोलकाता में किया जाता तो टीम इंडिया निश्चित रूप से जीत हासिल करती। ममता बनर्जी ने गुजरात के अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए फाइनल मुकाबले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी को लेकर किये कटाक्ष में कहा है कि भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों ने विश्व कप में अपने सभी मुकाबले जीते। लेकिन जिस मुकाबले में पापी पहुंचे बस उसे ही हार गए।

सीएनजी गैस के दामों में बढ़ोतरी करने का ऐलान

सीएनजी गैस के दामों में बढ़ोतरी करने का ऐलान

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। डीजल और पेट्रोल के बढ़ते दामों को देखकर सीएनजी वाहनों की तरफ आकर्षित हो रहे लोगों को इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड यानी आईजीएल की ओर से आज एक और झटका दिया गया है। आईजीएल के स्टेशनों पर अब महंगे दामों पर सीएनजी खरीदनी पड़ेगी। बृहस्पतिवार को इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड यानी आईजीएल की ओर से अपनी सीएनजी गैस के दामों में बढ़ोतरी करने का ऐलान किया गया है। आईजीएल के स्टेशनों पर अब वाहन चालकों को महंगे दाम चुकाकर सीएनजी खरीदनी पड़ेगी। इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड ने दिल्ली और एनसीआर में आज बृहस्पतिवार से एक रुपए प्रति किलोग्राम की दर से सीएनजी महंगी कर दी है। 
यानी अब पूरा सिलेंडर भरवाने के लिए वाहन चालकों को 8 से 10 रुपए अधिक खर्च करने पड़ेंगे। आईजीएल की ओर से जारी की गई मूल्य सूची के मुताबिक नई दिल्ली और एनसीआर के लोगों को 75 रुपये 59 पैसे, नोएडा में 81 रुपए 20 पैसे, ग्रेटर नोएडा में 80 रुपए 20 पैसे, गाजियाबाद में 80 रुपए 20 पैसे, मुजफ्फरनगर में 81 रुपए 58 पैसे, मेरठ में 81 रुपए 58 पैसे तथा शामली में 81 रुपए 58 पैसे प्रति किलो के दाम से सीएनजी खरीदनी पड़ेगी।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1. अंक-34, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. शुक्रवार, नवंबर 24, 2023

3. शक-1945, कार्तिक, शुक्ल-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:36, सूर्यास्त: 05:18।

5. न्‍यूनतम तापमान- 15 डी.सै., अधिकतम- 28+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

शुगर को कंट्रोल करने में फायदेमंद है 'सेब का सिरका'

शुगर को कंट्रोल करने में फायदेमंद है 'सेब का सिरका' सरस्वती उपाध्याय  खराब जीवनशैली और खानपान का नतीजा आज के समय मे अधिकतर लोग डायबि...