मंगलवार, 4 अक्तूबर 2022

दुर्गा महानवमी: भंडारे व डांडिया नृत्य का आयोजन 

दुर्गा महानवमी: भंडारे व डांडिया नृत्य का आयोजन 


डांडिया डांस और माँ के भंडारे का किया आयोजन 

गोपीचंद/भानु प्रताप उपाध्याय 

बागपत। मां के लाडले ग्रुप के तत्वाधान में मंगलवार को गुराना रोड गली नंबर 3 में मां दुर्गा महानवमी के उपलक्ष्य में भंडारे व डांडिया नृत्य का आयोजन किया गया। जिसमें माँ के लाडले ग्रुप के अध्यक्ष ऋषभ जैन द्वारा सारथी वेलफेयर फाउंडेशन को आमंत्रित किया गया, जिसमें सारथी फाउंडेशन के सभी सदस्यों व मां के लाडले ग्रुप के सदस्यों ने साथ मे डांडिया नृत्य कर मां की आराधना की एवं देश व समाज कल्याण के लिए प्रार्थना की।

इस दौरान सारथी वेलफेयर फाउंडेशन की चेयरपर्सन वंदना गुप्ता, शालु गुप्ता ,भारती ,सविता गुप्ता, पूजा, मूकेश, पुनम, सविता जैन, अनिता बग्गा, विकास गुप्ता, ऋषभ जैन, संजय, रिंकू ,अनिकेत, प्रवीण,वंश, हिमांशु अग्रवाल, सचिन, आजाद, विजय, मुकेश आदि उपस्थित रहे।

बागपत: मनोज द्वारा पूर्ण आहुति यज्ञ का आयोजन

बागपत: मनोज द्वारा पूर्ण आहुति यज्ञ का आयोजन


पूर्ण आहुति यज्ञ का किया आयोजन

गोपीचंद 

बागपत। कल्याण भारती सेवा संस्थान बड़ौत के आजाद नगर कार्यालय नवरात्रों के चलते 9 दिवसीय सामूहिक गायत्री जप साधना हेतु पूर्ण आहुति यज्ञ का आयोजन डॉ. मनोज कुमार द्वारा पूर्ण कराया गया। यज्ञ के सफल आयोजन में "हमारा आजाद नगर मौहल्ला कार्यकारणी कमेटी" सहभागी रही‌।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से कल्याण भारती सेवा संस्थान के प्रबंध निदेशक गोपी चन्द सैनी, श्री सतेन्द्र उज्ज्वल अध्यक्ष आजाद नगर मौहल्ला कमेटी श्री राजीव कुमार महासचिव, संगठन मंत्री श्री सुन्दर लाल रुहेला और सुशील कुमार संरक्षक श्री रामकुमार रुहेला, मास्टर सहंरपाल, श्री रामकिशन कश्यप और अन्य स्थानीय महानुभाव उपस्थित रहें।

मैच: सपा ने भाजपा को 11 ओवर में बाहर किया

मैच: सपा ने भाजपा को 11 ओवर में बाहर किया

संदीप मिश्र 

कानपुर। उत्तर प्रदेश में 18वीं विधानसभा के गठन के लिए हुए चुनाव में जीत हासिल कर सरकार बनाने से दूर रही समाजवादी पार्टी ने ग्रीन पार्क स्टेडियम में खेले गए डे नाइट में मैत्री मुकाबले में भारतीय जनता पार्टी को 11 ओवर में ही बाहर कर मैच को अपनी झोली में डाल लिया। समाजवादी पार्टी के 2 विधायकों की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के ऊपर बीजेपी के गेंदबाज अंकुश लगाने में पूरी तरह से असहाय रहे। एमएचपीएल की ओर से ग्रीन पार्क स्टेडियम में भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी के बीच डे नाईट मैत्री मुकाबला आयोजित किया गया। सोमवार को आयोजित किये गये मुकाबले में समाजवादी पार्टी के सीतामऊ विधायक इरफान सोलंकी द्वारा की गई ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से दर्शक खूब रोमांचित हुए। समाजवादी पार्टी ने टॉस जीतने के बाद भारतीय जनता पार्टी को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया।

भारतीय जनता पार्टी की ओर से कुशीनगर विधायक पीएम पाठक एवं झांसी विधायक राजीव परीक्षा ओपनिंग करने के लिए क्र्रीज पर उतरे। अभी मुकाबला ठीक तरह से शुरू भी नहीं हो पाया था कि पीएम पाठक मैच की तीसरी गेंद पर ही 0 रन बनाकर पवेलियन की ओर चलते बने। समाजवादी पार्टी के विधायक पंकज पटेल ने उन्हें अपनी गेंद पर पैवेलियन का रास्ता दिखाया। 20-20 ओवर के इस मुकाबले में बीजेपी के बल्लेबाज पूरे ओवर भी नही खेल सके। पारी की आखिरी गेंद पर 40 रन बनाकर आउट हुए सलामी बल्लेबाज राजीव परीक्षा मुख्य स्कोरर रहे। इनसे पहले बांदा विधायक पंकज द्विवेदी 12, बिठूर विधायक अभिजीत सांगा 5 और सोमेंद्र तोमर 9 रन का योगदान ही अपनी टीम को दे सके। गोविंद नगर विधायक सुरेंद्र मैथानी 7 रन बनाकर अंत तक आउट नहीं हुए। भाजपा विधायकों की टीम 16 ओवर में ही 107 रन बनाकर ऑल आउट हो गई।

भारतीय जनता पार्टी के विधायकों के रनों का पीछा करने के लिए मैदान में उतरे सपा के मुरादाबाद के बिलारी विधायक फहीम इरफान और सहारनपुर विधायक उमर अली ज्यादा देर अपनी साझेदारी को जारी नहीं रख सकें। सहारनपुर विधायक पहले विकेट के तौर पर शून्य के स्कोर पर पवेलियन वापस लौटने को मजबूर हुए। इसके बाद बल्लेबाजी करने आए विधायक इरफान सोलंकी ने मोर्चा संभाला और फहीम के साथ मिलकर मुकाबले को अंतिम छोर तक पहुंचाया। 108 रन बनाकर जीत दिलाने वाली सपा विधायकों की जोड़ी में फहीम ने 29 और इरफान ने 52 रन बनाए।

फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या छावनी करें, मंजूरी 

फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या छावनी करें, मंजूरी 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने फैजाबाद छावनी का नाम बदलकर अयोध्या छावनी करने को मंजूरी दे दी है। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। दशहरा समारोह से पहले इस छावनी का नाम बदला गया है। सूत्रों के अनुसार ‘ फैजाबाद छावनी अब अयोध्या छावनी के नाम से जाना जाएगा।’ राजनाथ फिलहाल उत्तराखंड की दो दिवसीय यात्रा पर हैं। वह मंगलवार शाम को देहरादून में सैनिकों के साथ ‘बड़ा खाना’ खायेंगे। बुधवार को वह विजयदशमी के मौके पर चमोली में ‘शस्त्र पूजा’ करेंगे। वह औली और माना में सैनिकों के साथ दशहरा मनाएंगे एवं बद्रीनाथ धाम में पूजा-अर्चना करेंगे।

‘चरित्र प्रमाण-पत्र’ पेश करने का आदेश, आलोचना 

‘चरित्र प्रमाण-पत्र’ पेश करने का आदेश, आलोचना 

अकांशु उपाध्याय/श्रीराम मौर्य 

नई दिल्ली/शिमला। आलोचनाओं का सामना करने के बाद हिमाचल प्रदेश सरकार ने मंगलवार को बिलासपुर पुलिस अधीक्षक के उस विवादास्पद आदेश को वापस ले लिया, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बुधवार को राज्य में प्रस्तावित रैली की कवरेज के लिए पत्रकारों को ‘चरित्र प्रमाण-पत्र’ पेश करने के लिए कहा गया था। प्रधानमंत्री हिमाचल दौरे के दौरान बिलासपुर में एम्स का उद्घाटन करने के बाद जनसभा को संबोधित करेंगे और कुल्लू के प्रसिद्ध दशहरा समारोह में भी भाग लेंगे।

कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने पांच अक्टूबर को प्रधानमंत्री के बिलासपुर जिले के दौरे की कवरेज करने वाले पत्रकारों से ‘चरित्र प्रमाणपत्र’ पेश करने के आदेश की आलोचना की है। बिलासपुर के पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने 29 सितंबर को यह आदेश जारी किया था। दोनों दलों ने इस आदेश को भाजपा सरकार द्वारा लोकतंत्र पर हमला करार दिया है। प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष नरेश चौहान और ‘आप’ के प्रदेश प्रवक्ता गौरव शर्मा ने मंगलवार को राज्य सरकार से इस आदेश को तत्काल वापस लेने का आग्रह किया।

एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि राज्य के पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू ने पुलिस अधीक्षक के आदेश को वापस ले लिया है। इसमें कहा गया, ‘‘पुलिस अधीक्षक, बिलासपुर द्वारा 29 सितंबर, 2022 को जारी निर्देश को पुलिस महानिदेशक ने वापस ले लिया है। इस संबंध में हुई किसी भी असुविधा के लिए खेद है।’' बयान में कहा गया, ‘‘हिमाचल प्रदेश पुलिस पांच अक्टूबर, 2022 को प्रधानमंत्री के प्रदेश दौरे के कवरेज के लिए सभी पत्रकारों का स्वागत करती है। ’’पुलिस अधीक्षक दिवाकर शर्मा ने कहा, ‘‘ये निर्देश अनजाने में मेरे कार्यालय द्वारा जारी किए गए थे। यह चूक मेरी ओर से है। पुलिस मुख्यालय या राज्य सरकार का इससे कोई लेना-देना नहीं है। पत्र वापस ले लिया गया है। सभी पत्रकारों का स्वागत है।’’

सहायक अध्यापक पर छेड़छाड़ करने का आरोप 

सहायक अध्यापक पर छेड़छाड़ करने का आरोप 

पंकज कपूर 

रुद्रप्रयाग। रुद्रप्रयाग में एक सरकारी विद्यालय में स्कूली छात्राओं ने एक सहायक अध्यापक पर छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है। प्रारंभिक जांच में आरोपों को सही पाते हुए शिक्षक को शिक्षा विभाग की ओर से निलंबित कर दिया गया है और उसके खिलाफ जांच भी बैठा दी गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, जखोली विकास खंड के भरदार पट्टी के राउप्रावि बांसी में तैनात शिक्षक पर विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष ने विद्यालय की छात्राओं के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए कहा था कि शिक्षक की हरकतों से छात्राओं में डर का माहौल बना रहता है और छात्राएं बार-बार इसकी शिकायतें भी कर रही हैं। इसके बाद शिक्षा विभाग हरकत में आया और कार्यवाही शुरू की।

मेघालय के राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण: मिश्रा 

मेघालय के राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण: मिश्रा 

अकांशु उपाध्याय/विमलेश यादव 

नई दिल्ली/शिलोंग। केंद्र सरकार की ओर से कार्यकाल विस्तार नहीं दिए जाने से देश के चर्चित राज्यपालों में शुमार किए जाने वाले सत्यपाल मलिक आखिरकार अब रिटायर हो ही गए हैं। उनके स्थान पर बीडी मिश्रा ने मेघालय के राज्यपाल के रूप में शपथ ग्रहण की है। मंगलवार को अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल को अतिरिक्त प्रभार देते हुए अब मेघालय का राज्यपाल बनाया गया है। सेना के ब्रिगेडियर पद से रिटायर हुए अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल बीडी मिश्रा को मेघालय के अतिरिक्त राज्यपाल के तौर पर शपथ ग्रहण कराई गई है। उन्होंने सेवानिवृत्त हुए राज्यपाल सत्यपाल मलिक के स्थान पर शपथ ग्रहण की है, जो बीते दिन 3 अक्टूबर को रिटायर हो चुके हैं। 

नए राज्यपाल बीडी मिश्रा के शपथ ग्रहण समारोह में विधानसभा स्पीकर के अलावा राज्य कैबिनेट के कई सीनियर मंत्री मौजूद रहे। सेवानिवृत्त हुए सत्यपाल मलिक अगस्त 2020 में मेघालय स्थानांतरित किए जाने से पहले बिहार, जम्मू कश्मीर और गोवा के राज्यपाल रहे थे। सत्यपाल मलिक संविधान का अनुच्छेद 370 निरस्त किए जाने के दौरान जम्मू कश्मीर के राज्यपाल थे।

अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा महोत्सव में हिस्सा लेंगे, पीएम

अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा महोत्सव में हिस्सा लेंगे, पीएम 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस बार दशहरे के मौके पर बुधवार को चुनावी राज्य हिमाचल प्रदेश में रहेंगे, जहां वह विकास परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करने के बाद अंतरराष्ट्रीय कुल्लू दशहरा महोत्सव में हिस्सा लेंगे। पीएम मोदी, हिमाचल प्रदेश के विश्व प्रसिद्ध अंतर्राष्ट्रीय कुल्लू दशहरा महोत्सव में शामिल होने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री होंगे।अधिकारियों का कहना है कि प्रधानमंत्री ने अपने कार्यकाल के दौरान विभिन्न भारतीय त्योहारों से जुड़े उत्सवों में शामिल होना सुनिश्चित कर एक नयी परंपरा स्थापित की है। उन्होंने कहा कि मोदी 5 से 11 अक्टूबर तक कुल्लू के ढालपुर मैदान में मनाए जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय कुल्लू दशहरा महोत्सव में शामिल होंगे। इस महोत्सव में घाटी के 300 से अधिक देवी-देवताओं का समावेश होता है। महोत्सव के पहले दिन, देवता अपनी अच्छी तरह से सुसज्जित पालकियों में अधिष्ठाता देव भगवान रघुनाथ के मंदिर में अपनी श्रद्धासुमन अर्पित करते हैं और फिर ढालपुर मैदान के लिए आगे बढ़ते हैं।

अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री इस दौरान ‘‘दिव्य रथ यात्रा’’ और ‘देवताओं की भव्य सभा’ के साक्षी बनेंगे। उनके मुताबिक यह पहली बार होगा जब देश के प्रधानमंत्री कुल्लू दशहरा समारोह में भाग लेंगे। हाल ही में प्रधानमंत्री ने गुजरात का दौरा किया था और इस दौरान उन्होंने अहमदाबाद में नवरात्रि के त्योहार में हिस्सा लिया था। गणेश चतुर्थी के मौके पर अगस्त महीने में वह केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के आवास पर गए थे और वहां उन्होंने पूजा-अर्चना भी की थी। अधिकारियों ने बताया कि इसी प्रकार प्रधानमंत्री ने रक्षा बंधन का त्योहार इस बार अपने कार्यालय के कर्मियों की बेटियों के साथ मनाया था। गत अप्रैल महीने में बिहू के मौके पर वह केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल के दिल्ली स्थित आवास पर गए थे और एक समारोह में भाग लिया था। सोनोवाल असम से हैं और बिहू वहां का लोकप्रिय त्योहार है। इसी महीने उन्होंने गुरु तेग बहादुर के 400वें प्रकार्श पर्व पर लाल किले पर आयोजित एक समारोह में हिस्सा लिया था। रविदास जयंती के अवसर पर फरवरी महीने में प्रधानमंत्री ने समाज सुधारक और संत रविदास को समर्पित एक मंदिर का दौरा किया था।

राजधानी दिल्ली के करोलबाग इलाके में स्थित यह मंदिर दलितों के लिए पवित्र स्थल है। प्रधानमंत्री ने ‘‘शबद कीर्तन’’में भी हिस्सा लिया था। पिछले साल 25 दिसंबर को गुरु पर्व के मौके पर प्रधानमंत्री ने गुजरात के लखपत साहिब गुरुद्वारे के श्रद्धालुओं को संबोधित किया था। नवंबर, 2020 में प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आयोजित ‘‘देव दीपावली’’ समारोह में भाग लिया था। इससे पहले, 2018 में बुद्ध जयंती के मौके पर वह इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए थे।

साल 2017 में गुरू गोविंद सिंह की 350वीं जयंती पर उन्होंने पटनासहिब गुरुद्वारे के एक समारोह में भाग लिया था। इसी साल फरवरी महीने में उन्होंने कोयंबटूर का दौरा किया था और वहां आदियोगी भगवान शिव की प्रतिमा का लोकार्पण किया था। वर्ष 2016 में उन्होंने लखनऊ में दशहरा समारोह में भाग लिया था।

विजयदशमी: असत्य पर सत्य की विजय का पर्व 

विजयदशमी: असत्य पर सत्य की विजय का पर्व 

इस बार 'विजयदशमी' का महोत्सव (5 अक्टूबर) आज दिन बुधवार को मनाया जाएगा। 'विजयदशमी' का पर्व असत्य पर सत्य की विजय का महोत्सव है।

जय जय राम, जय जय भारत,

जय-जय पुरापाषाण, आर्यवासी।

       तेरे दरस का मन अभिलाषी...

सत्य-सनातन सभ्यता, कथा कहे अनंता,

राक्षस सुन सुमिरन, अहम और अक्रांता।

भीर-भीमकाय अंधकार में चमक रहा उजियारा,

चंद्र भी फीके पड़े चारो ओर प्रकाश फैला न्यारा।

                         तेरे दरस का मन अभिलाषी...

दूर देश में राम सबका, पर अधिकार हमारा,

व्योम से पुष्पवर्षा करते देव, शिव अति प्यारा।

जन जन के मन का वासी, वो बोले इकतारा,

ढोल-मृदंग की थाप, स्वर सुन रहा जग सारा।

                    तेरे दरस का मन अभिलाषी...

सरस्वती 'निर्भयपुत्री'


आज ही के दिन प्रभु श्री राम के द्वारा, कर कमलों के द्वारा ज्ञानी-विद्वान पंडित अहंकारी और दुराचारी विश्रवा पुत्र रावण की सत्ता एवं अत्याचार का अंत कर माता-सीता को मुक्त कराकर अपने संग लेकर आए थे। इसी उपलक्ष में प्रतिवर्ष अश्विन माह में शुक्ल-पक्ष की दशमी तिथि को रावण पर विजय प्राप्त करने के कारण 'विजयदशमी' का पर्व संपूर्ण पृथ्वी पर धूमधाम के साथ मनाया जाता है। 'विजयदशमी' को उत्तर भारत में दशहरा के रूप में मनाया जाता है। दशहरा दस प्रकार के पापों के परित्याग की प्रेरणा देता है। ज्योतिषविद पंडित ललित शर्मा के अनुसार, बुधवार को 'विजयदशमी' पूजन का शुभ मुहूर्त प्रात: 7.44 से प्रात: 9.13 तक और इसके बाद प्रात: 10.41 से दोपहर 2.09 बजे तक रहेगा। सिविल लाइन्स स्थित धार्मिक संस्थान विष्णुलोक के ज्योतिषविद पंडित ललित शर्मा के अनुसार दशहरा (विजयदशमी) आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है। भगवान राम ने इसी दिन रावण का वध किया था तथा देवी दुर्गा ने नौ रात्रि एवं दस दिन के युद्ध के उपरांत महिषासुर पर विजय प्राप्त की थी। इस पर्व को असत्य पर सत्य की विजय के रूप में मनाया जाता है। इस साल 5 अक्तूबर बुधवार को दशहरा का पावन पर्व मनाया जाएगा। दशहरा वर्ष की तीन अत्यंत शुभ तिथियों में से एक है। अन्य दो चैत्र शुक्ल की प्रतिपदा एवं कार्तिक शुक्ल की प्रतिपदा तिथि हैं। दशहरा एक अबूझ मुहूर्त है, यानी इसमें बिना मुहूर्त देखे शुभ कार्य किये जा सकते हैं। दशहरा का पर्व दस प्रकार के पापों काम, क्रोध, लोभ, मोह, मद, मत्सर, अहंकार, आलस्य, हिंसा और चोरी के परित्याग की सदप्रेरणा प्रदान करता है।

इस मंत्र का करें जाप...

ज्योतिषविद पंडित ललित शर्मा के अनुसार 'विजयादशमी' के दिन भगवान श्रीराम का विधिवत पूजन करना चाहिए। ‘ओम दशरथाय विद्महे सीतावल्लभाय धीमहि तन्नो राम: प्रचोदयात मंत्र का जाप करने से कार्यों में सफलता प्राप्त होती है।

सुशासन व संस्कृति का सुन्दर समन्वय किया: सीएम

सुशासन व संस्कृति का सुन्दर समन्वय किया: सीएम 

संदीप मिश्र

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुशासन और संस्कृति का सुन्दर समन्वय किया है। इसमें सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास समाहित है। यह उनके शासन का स्थाई तत्व है। नवरात्र में इसका सहज प्रमाण मिलता है। योगी बड़ी कुशलता से सुशासन और संस्कृति का समन्वय करते हैं। वह गौरक्ष पीठाधीश्वर हैं। इस रूप में वह कलश स्थापना अनुष्ठान हेतु गोरखपुर पहुँचे थे।वह मुख्यमंत्री हैं। इस रूप में इसी दिन उन्होंने विकास कार्यों को भी आगे बढ़ाया। गोरखपुर को पहला ग्रामीण स्टेडियम मिला। इसके साथ ही उन्होंने अनेक योजनाओं के लाभार्थियों को भी सौगात दी। विन्ध्याचल अयोध्या और काशी की उनकी यात्रा साँस्कृतिक ही नहीं सुशासन की दृष्टि से महत्वपूर्ण रही। सभी जगह उन्होंने विकास कार्यों की समीक्षा की। सांस्कृतिक राष्ट्रवाद और सुशासन भाजपा का संबल है। उसका मानना है कि राष्ट्रीय स्वाभिमान किसी देश को शक्तिशाली बनाने में सहायक होता है।

देश में इसी विचार का जागरण हो रहा है। अयोध्या में श्रीराम मंदिर का निर्माण व भव्य श्री काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण महत्वपूर्ण पड़ाव के रूप में। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आठ वर्ष और योगी आदित्यनाथ ने पांच वर्ष में संस्कृति और सुशासन को नया आयाम दिया है। आत्मनिर्भर भारत की नींव रखी गई। इसलिए देश विकास की राह पर आगे बढ़ रहा है। नरेन्द्र मोदी ने अपनी दूरदर्शी नीति,समर्पण और टीम इंडिया की भावना के साथ देश के लोकतंत्र को एक नई दिशा दी है। करोड़ों की संख्या में गरीबों के लिए आवास और शौचालय बनाए गए। निःशुल्क गैस सिलेंडर दिए गए। स्वरोजगार के लिए मुद्रा बैंक ने बड़ी संख्या में लोगों को लाभान्वित किया। स्वनिधि योजना से भी गरीब व्यवसायियों को लाभ मिल रहा है। अब तक का सबसे बड़ा आर्थिक पैकेज दिया गया। कोरोनाकाल में अस्सी करोड़ लोगों को निशुल्क राशन की व्यवस्था की गई।

जन औषधि दवा केन्द्र की संख्या अस्सी से बढ़कर पांच हजार हो गई। करीब सवा सौ नये मेडिकल कालेज खुले हैं। यूपीए के दस वर्ष में भारतीय रेल ने मात्र चार सौ तेरह रेल रोड ब्रिज और अंडर ब्रिज का निर्माण किया। मोदी सरकार ने इससे तीन गुना अधिक निर्माण किया। प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के पन्द्रह करोड़ से ज्यादा लाभार्थी हैं। यह दुनिया की सबसे सस्ती योजना है। बिजली उत्पादन में चालीस प्रतिशत की वृद्धि हुई। सोलर ऊर्जा में आठ गुना वृद्धि हुई। फसल बीमा योजना का लाभ पहले पचास प्रतिशत नुकसान पर मिलता था। अब किसान को तैंतीस प्रतिशत पर भी मिल जाता है। यूरिया को नीम कोटेड कर कालाबाजारी खत्म की गई। किसानों को सम्मान निधि दी जा रही है। पिछली सरकारों के समय बावन सेटेलाइट लांच किये गए थे।

मोदी सरकार अब तक देशी विदेशी करीब तीन सौ सेटेलाइट लांच कर चुकी हैं। योगी आदित्यनाथ भी जानते थे कि केवल सरकार का बदलना पर्याप्त नहीं है। इसलिए उन्होंने सबसे पहले व्यवस्था में बदलाव व सुधार किया। निवेश व विकास के अनुकूल माहौल बनाया। इसका सकारात्मक परिणाम सामने आया। पांच वर्ष पहले बेरोजगारी दर सत्रह प्रतिशत थी, अब चार प्रतिशत है। योगी के कोरोना आपदा प्रबंधन की सराहना विश्व स्वास्थ्य संगठन व नीति आयोग ने की है। पहले उत्तर प्रदेश साम्प्रदायिक दंगों की चपेट में था, योगी शासन में प्रदेश दंगों से मुक्त रहा। पिछले पांच वर्षों में उत्तर प्रदेश में अभूतपूर्व विकास हुआ है। पांच वर्ष पहले सरकार ने एजेंडे पर बुंदेलखंड सबसे ऊपर रखा। यहां की समस्याओं का समाधान किया गया। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे और हर घर नल की योजना आदि से बुंदेलखंड की तस्वीर बदल रही है। इसी के साथ सम्पूर्ण प्रदेश का समग्र विकास किया जा रहा है। इस नवरात्र दिल्ली में आयोजित 'आरोग्य मंथन कार्यक्रम' में उत्तर प्रदेश को 'आयुष्मान उत्कृष्ट पुरस्कार-2022' से सम्मानित किया गया है। नेशनल हेल्थ फैसिलिटी रजिस्टर में विभिन्न स्वास्थ्य सुविधाओं को जोड़ने के लिए उत्तर प्रदेश को राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित किया गया है। इस रजिस्टर में 28,728 स्वास्थ्य सुविधाओं को जोड़ने के साथ उत्तर प्रदेश,देश में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला राज्य हो गया है। उत्तर प्रदेश लगभग दो करोड़ आयुष्मान भारत स्वास्थ्य खाता खोलने वाला देश का दूसरा राज्य है। नवरात्र के प्रथम दिन योगी आदित्यनाथ ने जनपद गोरखपुर में महन्त अवेद्यनाथ जी महाराज स्टेडियम जंगल कौड़िया एवं महन्त अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय जंगल कौड़िया के प्रेक्षागृह का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार बिना भेदभाव शासन की योजनाओं का लाभ समाज के हर तबके को दे रही है। दो करोड़ युवाओं को टैबलेट व स्मार्ट फोन देने का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है। प्रदेश के युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिये कहीं बाहर न जाना पड़े, उनके लिए अभ्युदय कोचिंग की सुविधा राज्य में उपलब्ध करवाने का कार्य प्रदेश सरकार द्वारा किया गया है।

राज्य सरकार अभ्युदय कोचिंग के माध्यम से प्रदेश के युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी फिजिकल व वर्चुअल माध्यम से उपलब्ध करा रही है। दुनिया का हर निवेशक आज उत्तर प्रदेश में निवेश के लिये इच्छुक है। नवरात्र में ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा वीडियो संदेश के साथ उत्तर प्रदेश के योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में लता मंगेशकर चौक का लोकार्पण किया था। नरेन्द्र मोदी ने रामचरितमानस का प्रसंग सुनाया था। जिसमें कहा गया है- राम ते अधिक राम कर दासा। अर्थात राम जी के भक्त राम जी के भी पहले आते हैं। इसलिए, राम मंदिर के भव्य निर्माण के पहले उनकी आराधना करने वाली उनकी भक्त लता दीदी की स्मृति में बना ये चौक भी मंदिर से पहले ही बन गया है। भारत के कला जगत के हर साधक को इस चौक से बहुत कुछ सीखने को मिलेगा। लता जी के भजन लोगों अंतर्मन को राममय बनाने में सहायक थे। श्रीरामचन्द्र कृपालु भज मन, हरण भव भय दारुणम और 'पायो जी मैंने राम रतन धन पायो', तुम आशा विश्वास हमारे राम, जैसे अनगिनत भजन इसके उदाहरण है। लता जी द्वारा उच्चारित मंत्रों में, भजनों में केवल उनका कंठ ही नहीं बल्कि उनकी आस्था, आध्यात्मिकता और पवित्रता भी गूंजती है प्रभु राम हमारी सभ्यता के प्रतीक पुरुष हैं।

पेट्रोल-डीजल के दाम मंगलवार को स्थिर रहें

पेट्रोल-डीजल के दाम मंगलवार को स्थिर रहें 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। वैश्विक बाजार में लगभग तीन सप्ताह से कच्चे तेल की कीमतों के दबाव में रहने के बाद इसके दामों में बढ़ोतरी शुरू हो गई है। देश में घरेलू स्तर पर पेट्रोल और डीजल के दाम मंगलवार को भी स्थिर रहें। कच्चे तेल की कीमत अभी भी 90 डॉलर प्रति बैरल से नीचे हैं। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लंदन ब्रेंट क्रूड आज 0.41 प्रतिशत बढ़कर 89.22 डॉलर प्रति बैरल पर और अमेरिकी क्रूड भी 0.22 प्रतिशत की बढ़ोतरी से 83.81 डॉलर प्रति बैरल पर रहा। घरेलू स्तर पर तेल विपणन कंपनी भारत पेट्रोलियम के अनुसार, पेट्रोल और डीजल की कीमतों में आज भी कोई बदलाव नहीं हुआ।

दिल्ली में पेट्रोल 96.72 रुपये प्रति लीटर और डीजल 89.62 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर है। देश में पिछले चार महीने से ईंधन की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। मुंबई में पेट्रोल के दाम 106.31 रुपये प्रति लीटर और और डीजल की कीमत 94.27 रुपये प्रति लीटर है। पेट्रोल और डीजल की कीमतें मूल्य वर्धित कर (वैट) और माल ढुलाई शुल्क के आधार पर सभी राज्यों में अलग-अलग हैं। पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की प्रतिदिन समीक्षा की जाती है।

मनोरंजन: वेबसीरीज 'तिवारी' से डेब्यू करेंगी, उर्मिला 

मनोरंजन: वेबसीरीज 'तिवारी' से डेब्यू करेंगी, उर्मिला 

कविता गर्ग 

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मतोड़कर वेबसीरीज 'तिवारी' से ओटीटी प्लेटफार्म पर डेब्यू करने जा रही है। उर्मिला मतोंडकर एक बार फिर एक्टिंग की दुनिया में कम बैक करने के लिए तैयार हैं। उर्मिला वेब सीरीज 'तिवारी' से ओटीटी प्लेटफॉर्म पर अपना डेब्यू करने वाली हैं। इस शो के निर्देशन की कमान सौरभ वर्मा के हाथों में है, जबकि इसका निर्माण, कंटेंट इंजीनियर्स द्वारा किया जा रहा है। शो में उर्मिला मातोंडकर मुख्य किरदार में नजर आएंगी। मां-बेटी के जज्बाती रिश्तों पर आधारित यह वेबसीरीज है।  उर्मिला मातोंडकर ने कहा, "वेब शो तिवारी की कहानी में मेरे लिए लिखा गया किरदार काफी सशक्त औए चुनौतीपूर्ण है। इससे पहले इस तरह का किरदार मैंने कभी नहीं निभाया था। इसे युवा लेखकों की एक टीम ने मिलकर लिखा है।

जब मुझे इस शो की कहानी सुनाई जा रही थी तब मैंने अंत तक दिलचस्पी के साथ पूरी स्क्रिप्ट सुनी। इसकी कहानी इतनी रोचक है कि इसने मुझे अंत तक बांधे रखा। इस शो की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें मां-बेटी के जज्बातों की कहानी बताई गई है, लेकिन इसी के साथ फिल्म में काफी ड्रामा, एक्शन और कुछ मजेदार ट्विस्ट्स भी हैं। मैं इस शो की शूटिंग के शुरू होने का बेसब्री से इंतजार कर रही हूं।" सौरभ वर्मा ने कहा, "इस शो में उर्मिला के किरदार का जो ग्राफ है, उसे निभाने के लिए उर्मिला से बेहतर और कोई नहीं हो सकता था। एक फिल्ममेकर के तौर पर मैं और हमारी पूरी स्टूडियो की टीम पारिवारिक दर्शकों के लिए साफ-सुथरा कंटेंट बनाने में यकीन रखते हैं।"

दिसंबर में 3 हजार अग्निवीर वायु सेना में शामिल होंगे

दिसंबर में 3 हजार अग्निवीर वायु सेना में शामिल होंगे 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी आर चौधरी ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने मंगलवार को कहा कि तीन हजार अग्निवीर ‘वायु’ आगामी दिसम्बर में वायु सेना में भर्ती हो जायेंगे, जबकि महिला अग्निवीरों की भर्ती अगले वर्ष की जायेगी और शुरू में यह संख्या दस प्रतिशत रहेगी। एयर चीफ मार्शल चौधरी ने 90 वें वायु सेना दिवस से पहले सालाना संवाददाता सम्मेलन में कहा कि नई योजना अग्निपथ के तहत वायु सैनिकों की भर्ती प्रक्रिया जारी है और आगामी दिसम्बर में तीन हजार अग्निवीर वायु सेना में शामिल हो जायेंगे। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अगले वर्ष महिला अग्निवीरों की भर्ती भी की जायेगी और शुरू में यह संख्या दस प्रतिशत रहेगी।

उन्होंने कहा कि वायु सेना में लिंग के आधार पर किसी को वरीयता नहीं दी जाती और सभी के साथ समान व्यवहार करते हुए मेरिट तथा प्रदर्शन को वरीयता दी जाती है। उन्होंने कहा कि वायु सेना के अधिकारियों ने समय समय पर अपनी योग्यता को सिद्ध किया है। वायु सेना प्रमुख ने कहा कि वायु सेना देश की वायु सीमाओं की रक्षा और उनके उल्लंघन की हरकतों से निपटने के लिए 24 घंटे तथा साल के 365 दिन तैयार रहती है। हमारी यूनिट चौकस रहती हैं तथा किसी भी स्थिति का जवाब देने के लिए लड़ाकू विमान उडान भरने के लिए तैयार रहते हैं।

उन्होंने कहा कि वायु सेना पूर्वी लद्दाख में चीन की पल-पल की गतिविधि पर नजर रख रही है और उकसावे की कोई भी कार्रवाई किए बिना किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। इसके लिए पूर्वी लद्दाख में विमानों की तैनाती, राडारों की संख्या बढाने के साथ , प्रशिक्षण, प्रौद्योगिकी और अन्य संसाधनों को लेकर किसी भी तरह की कोताही नहीं बरती जा रही। वायु सेना प्रमुख ने कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा पर सैनिक पीछे हटे हैं लेकिन अभी गतिरोध पूरी तरह खत्म नहीं हुआ है और स्थिति को सामान्य तभी कहा जा सकता है जब अप्रैल 2020 की यथास्थिति बहाल हो जायेगी। उन्होंने कहा कि भारत और चीन के बीच विश्वास बहाली के उपाय हैं और वायु सेना का कार्य इस बात पर नजर रखना है कि इन उपायों का उल्लंघन न हो।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि रूस और यूक्रेन के बीच लड़ाई के कारण वायु सेना को मिलने वाले पुर्जों तथा उपकरणों की आपूर्ति प्रभावित नहीं हुई है। साथ ही उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत अब बड़ी संख्या में पुर्जे देश में ही बनाये जा रहे हैं और धीरे धीरे विदेशों से इनकी आपूर्ति पर निर्भरता खत्म हो जायेगी। वायु सेना के बेड़े में लड़ाकू विमानों के स्कवैड्रनों की कम होती संख्या पर उन्होंने कहा कि अगले दशक के मध्य तक यह 35 से 36 तक पहुंच जायेगी। उन्होंने बताया कि मिग -21 बाइसन के तीन स्कवैड्रन पहले फेज आउट किये जायेंगे इसके बाद 2025-26 में जगुआर विमानों के स्कवैड्रन बेड़े से बाहर किये जायेंगे।

उन्होंने कहा कि मिराज 2000 और मिग 29 विमानों के उन्नयन की प्रक्रिया भी चल रही है। उन्होंने कहा कि यह जरूरी नहीं है कि बड़ी संख्या में विमान होने पर ही जीत निश्चित होती है, जीत के लिए बेहतर प्रशिक्षण और प्रौद्योगिकी भी उतनी ही जरूरी है और वायु सेना इस क्षेत्र में पूरा ध्यान दे रही है। वायु सेना प्रमुख ने कहा कि भविष्य की लड़ाई छोटी और तुरता फुर्ती वाली भी हो सकती हैं और भीषण युद्ध भी हो सकती है यह निरंतर बदलती परिस्थितियों पर निर्भर करता है लेकिन वायु सेना अपने आप को बुरी से बुरी परिस्थिति को ध्यान में रखकर तैयारी करती है।

देशमुख को मनी लॉन्ड्रिंग मामलें में जमानत दी: एचसी 

देशमुख को मनी लॉन्ड्रिंग मामलें में जमानत दी: एचसी 

कविता गर्ग 

मुंबई। बॉम्बे हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख को मनी लॉन्ड्रिंग मामलें में मंगलवार को जमानत दे दी। न्यायमूर्ति एन जे जामदार ने यह आदेश सुनाया। इससे पहले, उच्चतम न्यायालय ने उच्च न्यायालय को निर्देश दिया था कि वह राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता की याचिका पर तेजी से सुनवाई और फैसला करे, क्योंकि यह छह महीने से लंबित है।

देशमुख के वकील विक्रम चौधरी और अनिकेत निकम ने दलील दी कि उनकी उम्र (72), स्वास्थ्य और उनकी कोई आपराधिक पृष्ठभूमि नहीं होने के मद्देनजर उन्हें जमानत दी जानी चाहिए। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की ओर से पेश अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल अनिल सिंह ने अर्जी का यह कहते हुए विरोध किया कि देशमुख को ऐसी कोई बीमारी नहीं है, जिसका जेल अस्पताल में इलाज नहीं किया जा सकता।

ईडी ने देशमुख को नवंबर 2021 में गिरफ्तार किया था और वह अभी न्यायिक हिरासत में हैं। मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा उनके खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज करने के बाद ईडी ने उनके खिलाफ मामला दर्ज किया था। ईडी ने दावा किया कि देशमुख ने अपने आधिकारिक पद का दुरुपयोग किया और मुंबई के विभिन्न बार और रेस्तरां से 4.7 करोड़ रुपये एकत्र किए। ईडी ने आरोप लगाया गया कि गलत तरीके से अर्जित धन को नागपुर स्थित श्री साई शिक्षण संस्थान को भेजा गया, जो उनके परिवार द्वारा नियंत्रित एक शैक्षणिक ट्रस्ट है।

राज्य में 700 स्वास्थ्य क्लीनिक खोलेंगी, सरकार 

राज्य में 700 स्वास्थ्य क्लीनिक खोलेंगी, सरकार 

कविता गर्ग 

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने मंगलवार को बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार प्रदेश में शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे के नाम पर राज्य में 700 स्वास्थ्य क्लीनिक खोलेने जा रही है। शिंदे सरकार द्वारा खुलने वाले इन स्वास्थ्य क्लीनिक को आपला दवाखाना कहा जाएगा।

स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत करना सरकार की प्राथमिकता...

एकनाथ शिंदे ने आपला दवाखाना को लेकर बयान देते हुए कहा कि प्रदेश के स्वास्थ्य ढांचे को मजबूत करना उनकी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है और स्वास्थ्य बजट को दोगुना किया जाएगा। आपला दवाखाना पहल के पीछे का उद्देश्य लोगों को उनके घरों के करीब स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान कराना है। राज्य में लगभग 700 ऐसे क्लीनिक खोले जाएंगे और अकेले मुंबई में 227 ऐसी सुविधाएं मिलेंगी। जिनमें से 50 को 2 अक्टूबर को शुरू किया गया था।

हर जिले में खुलेगा एक मेडिकल कॉलेज..

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज खोलने का फैसला किया है। सरकार के इस फैसले से ग्रामीण इलाकों के लोगों को बेहतर इलाज मिल सकेगा। सीएम ने कहा कि जिला स्तर पर मेडिकल कॉलेज यह सुनिश्चित करेंगे कि ग्रामीण क्षेत्रों को पर्याप्त संख्या में डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ मिले। इसके अलावा राज्य में स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के लिए, प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल केंद्रों, उप-अस्पतालों और ग्रामीण अस्पतालों को ग्रेडेड किया जाएगा। वहीं सरकार राज्य में कैथीटेराइजेशन प्रयोगशालाएं भी खोलेगी।

सबसे सस्ता लैपटॉप 'जियोबुक' लाने की तैयारी

सबसे सस्ता लैपटॉप 'जियोबुक' लाने की तैयारी

अकांशु उपाध्याय/कविता गर्ग

नई दिल्ली/मुंबई। मुकेश अंबानी सबसे सस्ता जियो फोन देने के बाद अब एक और धमाके की तैयारी में हैं। कंपनी रिलायंस जियो अब सबसे सस्ता लैपटॉप लाने की तैयारी में है। इसका नाम जियोबुक (JioBook) है। कंपनी ने इसके लिए कंपनी ने Qualcomm और Microsoft के साथ साझेदारी की है। एक रिपोर्ट के अनुसार, रिलायंस जियो भारत के अत्यधिक मूल्य-संवेदनशील बाजार में अपने कम लागत वाले ‘जियोफोन’ की सफलता को दोहराने के उद्देश्य से एक एम्बेडेड 4 जी सिम कार्ड के साथ 15,000 रुपए की कीमत वाला बजट लैपटॉप लॉन्च करेगी। अभी भारत में एक अच्छी रेंज के लैपटॉप अगर देखें तो मार्केट में एचपी (HP),डेल (Dell) और लेनोवो (Lenovo) का दबदबा है। लेकिन रिलायंस के सबसे सस्ता लैपटॉप लाने से इन कंपनियों को कड़ी टक्कर मिल सकती है।

अगले तीन महीने में आ सकता है लैपटॉप...

रिपोर्ट में कहा गया है कि लैपटॉप इस महीने से स्कूलों और सरकारी संस्थानों जैसे उद्यम ग्राहकों के लिए उपलब्ध होगा। अगले तीन महीनों के भीतर कस्टमर्स के लिए इसे लॉन्च किया जा सकता है। बताया जा रहा है कि यह JioPhone जितना बड़ा होगा। पिछले साल के अंत में लॉन्च होने के बाद से जियो हैंडसेट भारत का सबसे अधिक बिकने वाला सब-100 डॉलर स्मार्टफोन रहा है, जो पिछली तीन तिमाहियों में बाजार का पांचवां हिस्सा है. JioPhone का 5G वर्जन भी जल्द ही बाजारों में प्रवेश करेगा।

जिओबुक...

JioBook का उत्पादन स्थानीय रूप से अनुबंध निर्माता फ्लेक्स (Flex)द्वारा किया जाएगा. Jio का लक्ष्य मार्च तक “सैकड़ों हजारों” इकाइयों को बेचने का है। लैपटॉप Jio का अपना JioOS ऑपरेटिंग सिस्टम चलाएगा और ऐप्स JioStore से डाउनलोड किए जा सकते हैं। Jio कार्यालय से बाहर के कॉर्पोरेट कर्मचारियों के लिए टैबलेट के विकल्प के रूप में लैपटॉप को भी पेश कर रहा है। जैसा कि Jio ने क्वालकॉम और माइक्रोसॉफ्ट के साथ साझेदारी की है तो आगे जाकर ये आर्म लिमिटेड की तकनीक पर आधारित कंप्यूटिंग चिप्स को सपोर्ट करेगा और विंडोज OS निर्माता कुछ एपलिकेशन्स के लिए समर्थन प्रदान करेगा।

पिछले साल सस्ता 4जी लाई थी कंपनी...

रिसर्च फर्म IDC के मुताबिक, एचपी, डेल और लेनोवो के नेतृत्व में पिछले साल भारत में कुल पीसी शिपमेंट 14.8 मिलियन यूनिट रहा। JioBook के लॉन्च से कुल एड्रेसेबल लैपटॉप मार्केट सेगमेंट में कम से कम 15% की बढ़ोतरी होगी। जियो ने 2020 में KKR & Co Inc और Silver Lake जैसे दिग्गज निवेशकों से करीब 22 अरब डॉलर जुटाए थे। कंपनी ने 2016 में टेलिकॉम सेक्टर में तहलका मचाया था। कंपनी ने पिछले साल सस्ता 4जी स्मार्टफोन उतारा था।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-360, (वर्ष-05)

2. मंगलवार, अक्टूबर 5, 2022

3. शक-1944, आश्विन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-दसमीं, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः 06:20, सूर्यास्त: 06:25। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 23 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै., उत्तर भारत में भारी बरसात की संभावना है।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया

बैठक: महाप्रबंधक ने निरंजन पुल का निरीक्षण किया महाप्रबन्धक श्री सतीश कुमार ने किया निरंजन पुल का निरीक्षण अधिकारियों के ...