शनिवार, 10 फ़रवरी 2024

सीएम योगी ने अखिलेश पर तीखे तंज किए

सीएम योगी ने अखिलेश पर तीखे तंज किए

संदीप मिश्र 
लखनऊ। बजट सत्र के अंतिम दिन सीएम योगी आदित्यनाथ ने बजट चर्चा का जवाब देते हुए अखिलेश यादव पर तीखे तंज किए। इशारों-इशारों में उन्होंने जयंत चौधरी के इंडिया गठबंधन छोड़ने पर भी तंज किया।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में बजट चर्चा का जवाब देते हुए नेता प्रतिपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि आपने दिए फेल्योर, हमने किया सिक्योर। आपने अरबों लूटे थे, हम खरबों देने जा रहे हैं। आपके साथ तो कोई आने को भी तैयार नहीं है कि पता नहीं कब धोखा दे दें। प्रदेश में क्षमता थी, युवा प्रतिभाशाली थे लेकिन कुछ करने की जिजीविषा आपके नेतृत्व में नहीं थी। हमारी प्राथमिकता युवा, महिला, किसान, गरीब हैं, आपकी अपनी थी। इसी वजह से प्रदेश ने पांच साल तक आपको देखा और झेला है।
योगी ने कहा कि नेता विरोधी दल को बजट के आकार पर आपत्ति हो सकती है, लेकिन हमने कोरोना काल के बावजूद राज्य सकल घरेलू उत्पाद दोगुना करने में सफल रही। जो बीते 70 वर्षों में नहीं हुआ, हमने सात वर्षों में करके दिखाया है। वर्ष 2017 में यूपी देश की आबादी में नंबर वन पर था, जबकि अर्थव्यवस्था छठवें स्थान पर थी। अब हमारी अर्थव्यवस्था देश में दूसरे स्थान पर है। बीमारू राज्य की छवि से उबरने पर नेता विरोधी दल चिढ़ रहे हैं। हमने सात साल में नया टैक्स नहीं लगाया, मंडी शुल्क आधा किया। यूपी में डीजल-पेट्रोल पर टैक्स की दर देश में सबसे कम है। यह सफलता कर चोरी पर नियंत्रण पाने से मिली है। राज्य का सिबिल रेशियो ठीक हुआ है। बैंकिंग इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत हुआ है। हम 19 फरवरी को वैश्विक निवेश सम्मेलन का शिलान्यास करने जा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि आप तो भारत के दुनिया की पांचवीं अर्थव्यवस्था बनने पर भी संदेह है। देश का आर्थिक शक्ति बनना भी रास नहीं आ रहा है। भरोसा रखिए, पीएम मोदी के नेतृत्व में देश जल्द दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने जा रही है। वहीं यूपी की अर्थव्यवस्था भी पूरे देश में चर्चा का केंद्र बन चुकी है। आज यूपी को बैंक लोन देने और निवेशक निवेश करने को आतुर हैं।
योगी ने मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष का जिक्र करते हुए कहा कि गरीबों का इलाज कितना आसान हुआ है, नेता विरोधी दल को पता ही नहीं है। आप तो चेहरा देखकर इलाज के लिए पैसा देते थे। अब सभी को तत्काल पैसा मिल रहा है। विपक्षी दलों के विधायकों का कोई प्रस्ताव भी नहीं रुकता है। राज्य का पैसा उसके नागरिकों को मिले, यही रामराज्य है।
नेता सदन ने कहा कि हम प्रदेश में हाइवे के साथ डिजिटल ढांचे को मजबूत करने के लिए आईवे पर काम कर रहे हैं। ओएफसी से गांवों को जोड़ रहे हैं। टेलेंट, ट्रेडिशन, ट्रेड, टूरिज्म और टेक्नोलॉजी के मंत्र पर सरकार काम कर रही है। आपकी सरकार-आपके द्वार के जरिए योजनाओं को घरों तक पहुंचा रहे हैं। फैमिली आईडी बनाकर हर परिवार के एक सदस्य को नौकरी दे रहे हैं। इसी वजह से छह करोड़ लोग गरीबी रेखा से उबर पाए हैं।

अभियान: एनडी स्कूल ने सकारात्मक कदम उठाया

अभियान: एनडी स्कूल ने सकारात्मक कदम उठाया 

कौशाम्बी। भारतीय लोकतंत्र के महत्वपूर्ण समय में, राष्ट्रीय मतदाता जागरूकता अभियान के तहत एनडी स्कूल ने एक सकारात्मक कदम उठाया है। इस अभियान के माध्यम से छात्रों को मतदाता के महत्व के बारे में जागरूक करने का प्रयास किया गया। इस अभियान के अंतर्गत, विद्यालय में जागरूकता संबंधी विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं। 
स्कूल के छात्रों को मतदान के महत्व और प्रक्रिया के बारे में जागरूक करने के लिए विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया गया है। छात्रों को इस अभियान में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया गया है। ताकि वे अपने देश के लिए जिम्मेदारी पूर्ण नागरिक बन सकें। संस्थान के प्रधानाचार्य डॉ मयंक कुमार मिश्रा ने कहा कि हमारे अभियान का उद्देश्य है कि हमारे छात्र वास्तविक लोकतंत्र में अपनी भूमिका को समझें और अपने मतदान का महत्व समझें। इस प्रयास में हमारे स्कूल ने समाज में मतदान के प्रति जागरूकता बढ़ाने का एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। यह अभियान हमें एक सशक्त और समर्थ लोकतंत्र की दिशा में एक कदम आगे बढ़ाने में मदद करेगा। अतः हम सभी छात्रों को अपील करते हैं कि वे इस अभियान में सक्रिय भाग लें। यह हमारा कर्तव्य है और हमें इसे समझना चाहिए कि हमारे मतदान से हमारे देश का भविष्य निर्धारित होता है।  इस जागरूकता अभियान में डॉ सचिन त्रिपाठी, नितेश सिंह, रणजीत सिंह , अंबुज श्रीवास्तव नारायण,शैलेंद्र सिंह, मयंक जायसवाल, प्रज्ञा शर्मा, शिवम त्रिपाठी एवं समस्त शिक्षक एवं शिक्षिकाएं उपस्थित रहे।
सुशील केसरवानी

डीएम व एसपी ने जन-शिकायतों को सुना

डीएम व एसपी ने जन-शिकायतों को सुना 

जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने थाना चरवा में सुनी जन-शिकायतें

राजस्व एवं पुलिस की संयुक्त टीम को मौके पर जाकर निस्तारित करने के दिये निर्देश

कौशाम्बी। जिलाधिकारी राजेश कुमार राय एवं पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने थाना समाधान दिवस के अवसर पर थाना चरवा में जन-शिकायतों को सुनकर सम्बन्धित अधिकारियों को तत्काल मौके पर जाकर निस्तारित करने के निर्देश दिए।
जिलाधिकारी ने थाना समाधान दिवस रजिस्टर की जॉच करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को प्रतिदिन जनसुनवाई में प्राप्त प्रार्थना-पत्रों को रजिस्टर में अंकित कर गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने उप जिलाधिकारी चायल सौम्य मिश्र एवं तहसीलदार को अपने क्षेत्र के समस्त बूथ का निरीक्षण कर आवश्यक मूलभूत सुविधाओं यथा-पेयजल, रैम्प एवं प्रकाश आदि सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने उपस्थित लेखपालों को राजस्व से सम्बन्धित सभी शिकायतों को मौके पर जाकर निस्तारण करने के निर्देश दिए।  
थाना चरवा में कुल 10 शिकायतें प्राप्त हुई, जिसमें से 01 शिकायतों का निस्तारण मौके पर ही कर दिया गया, शेष शिकायतों के निस्तारण के लिए जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने राजस्व व पुलिस की संयुक्त टीम को मौके पर जाकर निस्तारित करने के निर्देश दिए इस अवसर पर उप जिलाधिकारी चायल सौम्य मिश्र एवं क्षेत्राधिकारी चायल मनोज कुमार सिंह रघुवंशी सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।
गणेश साहू

धर्मस्थली को राजनीतिक स्थली नहीं बनाएं

धर्मस्थली को राजनीतिक स्थली नहीं बनाएं

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। चुनाव के लिए भगवान राम को मतपेटी पर रख दिये जाने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस ने शनिवार को कहा कि धर्मस्थली को राजनीतिक स्थली नहीं बनाया जाना चाहिए और इसी कारण उसने 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में हिस्सा नहीं लिया। कांग्रेस के प्रमोद तिवारी ने राम मंदिर निर्माण के बारे में राज्यसभा में हुई अल्कालिक चर्चा में भाग लेते हुए यह बात कही।
उन्होंने कहा कि वह उच्चतम न्यायालय के निर्णय का स्वागत करते हैं जिसके कारण मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त हुआ अन्यथा कुछ लोग इसे कभी नहीं बनवाते और इस पर राजनीति करते रहते। उन्होंने कहा कि वह मर्यादा पुरुषोत्तम राम की पूजा और आराधना करते हैं किंतु वह भगवान राम का ‘व्यापार’ नहीं करते।
उन्होंने आरोप लगाया कि कि जिन्होंने अंग्रेजों की चापलूसी और गुलामी की, वे आज भगवान राम की बात करते हैं। तिवारी ने कहा कि भगवान राम के असली पुजारी महात्मा गांधी थे। उन्होंने कहा कि राम के सबसे बड़े पुजारी गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोड़से की पूजा कौन करता है, यह बात सभी जानते हैं।
उन्होंने सवाल किया कि मंदिर के अपूर्ण रहने के दौरान प्राण प्रतिष्ठा क्यों की गयी? उन्होंने कहा कि मंदिर का जो नक्शा दिखाया जा रहा है, क्या उसके हिसाब से मंदिर पूर्ण हो गया है। कांग्रेस सदस्य ने कहा कि जो लोग मंदिर नहीं जा पाते वह मंदिर के ध्वज को प्रणाम कर लेते हैं किंतु राम मंदिर को अभी बाहर से प्रणाम नहीं किया जा सकता क्योंकि उस पर ध्वज ही नहीं है।
उन्होंने आसन से कहा कि एक सर्वदलीय समिति भेजकर यह पता लगाना चाहिए कि क्या राम मंदिर मूल जन्म स्थल पर बनाया गया है। उन्होंने कहा कि लोग कह रहे हैं कि राम मंदिर नवंबर-दिसंबर तक बनकर तैयार होना था किंतु नवंबर में मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होती तो चुनावी नैया पार नहीं हो पाती।
तिवारी ने कहा कि भगवान राम ने जब यज्ञ किया था तो उन्होंने वहां सीताजी की प्रतिमा रखवायी थी। उन्होंने कहा कि वह प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में सीताजी को खोजते रहे, वह कहीं नहीं मिलीं। उन्होंने कहा कि चुनाव के लिए भगवान को राम को मतपेटी पर रख दिया, जिसकी वह भर्त्सना करते हैं।
तिवारी ने कहा, ‘‘भगवान राम को वाद-विवाद का विषय नहीं बनायें, विवादित नहीं बनायें। उस धर्मस्थली को राजनीतिक स्थली न बनायें। और इसी लिए हम 22 (जनवरी को राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह मे) को नहीं गये।’’

पुलिस ने राजधानी की सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ाई

पुलिस ने राजधानी की सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ाई 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। किसानों की ओर से शुरू की गई एक और आंदोलन की तैयारी से कई राज्यों में हलचल तेज हो गई है। दिल्ली पुलिस ने उत्तर प्रदेश एवं हरियाणा से लगी राजधानी की सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ा दी है। उधर हरियाणा पुलिस ने राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की 50 कंपनियों को तैनात कर दिया है। 
दरअसल किसानों की ओर से आगामी 13 फरवरी को अपनी मांगों को लेकर दिल्ली कूच का ऐलान किया गया है। किसानों के इस ऐलान से कई राज्यों के भीतर कानून और सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने को हलचल तेज हो गई है। किसानों के एक और आंदोलन की तैयारी के बीच दिल्ली पुलिस ने उत्तर प्रदेश एवं हरियाणा से लगी हुई दिल्ली की सीमाओं पर सुरक्षा में बढ़ोतरी करते हुए बेरिकेडिंग करने के साथ ही 5000 से अधिक सुरक्षा कर्मियों को तैनात करने का काम शुरू कर दिया है। उधर हरियाणा में भी किसानों के प्रस्तावित दिल्ली चलो मार्च को ध्यान में रखते हुए हरियाणा पुलिस द्वारा राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अभूतपूर्व इंतजाम करते हुए केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की 50 कंपनियां तैनात कर दी है। उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश के किसानों ने बृहस्पतिवार को नोएडा एवं ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे पर धरना देते हुए रास्ते को जाम कर दिया था। हालांकि पुलिस ने दिल्ली तक उनके मार्च को आगे बढ़ने से रोक दिया था। लेकिन किसानों के प्रदर्शन के दौरान नोएडा एवं ग्रेटर नोएडा की महत्वपूर्ण सड़कों पर ट्रैफिक का महाजाम देखने को मिला था।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-113, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. रविवार, फरवरी 11, 2024

3. शक-1945, पौष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-दूज, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 07:13, सूर्यास्त: 06:52।

5. न्‍यूनतम तापमान- 11 डी.सै., अधिकतम- 21+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू  पंकज कपूर  देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू हो गय...