शनिवार, 30 अप्रैल 2022

खेल: गुजरात ने 6 विकेट से बैंगलोर को हराया

खेल: गुजरात ने 6 विकेट से बैंगलोर को हराया  

मोमीन मलिक          
नई दिल्ली। आईपीएल 2022 का 43वां मैच में तालिका में शीर्ष पर मौजूद गुजरात टाइटंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच हुआ। इस मैच में गुजरात ने 6 विकेट से बैंगलोर को हरा दिया। गुजरात के खाते में अब 16 अंक हो गए हैं। टीम ने आईपीएल 2022 के प्लेऑफ में जगह लगभग पक्की कर ली है। फाफ डुप्लेसी के नेतृत्व वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करने उतरी रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम ने 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 170 रन बनाए। 
इस तरह गुजरात के सामने 171 रन का लक्ष्य था, जिसे टीम ने 19.3 ओवर में 4 विकेट खोकर हासिल कर लिया। गुजरात टाइटंस के सलामी बल्लेबाजों ने टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई। पहले विकेट के लिए 51 रन की साझेदारी हुई। साहा 29 रन बनाकर आउट हुए। गिल ने 31, साईं ने 20 और कप्तान हार्दिक पांड्या 3 रन बनाकर आउट हुए। 
हालांकि, डेविड मिलर और राहुल तेवतिया ने काम पूरा कर दिया। तेवतिया 43 और मिलर 39 रन बनाकर नाबाद लौटे। पहले बल्लेबाजी करने उतरी बैंगलोर की शुरुआत अच्छी नहीं रही। टीम के कप्तान फाफ बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए थे, जिसके बाद रजत पाटीदार और विराट कोहली के बीच दूसरे विकेट के लिए 99 रन की साझेदारी हुई। रजत 52 रन बनाकर आउट हुए। कोहली 58 रन बनाकर आउट हुए। कार्तिक दो रन पर आउट हुए। मैक्सवेल ने 18 गेंद में 33 रन बनाए।

2 मई को यूरोप दौरे के लिए रवाना होंगे पीएम

2 मई को यूरोप दौरे के लिए रवाना होंगे पीएम

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2 मई को यूरोप दौरे के लिए रवाना होंगे। यह साल 2022 में उनकी पहली विदेश यात्रा होगी‌। इस 3 दिवसीय यूरोप यात्रा के दौरान वे 3 देशों जर्मनी, डेनमार्क और फ्रांस जाएंगे और 25 कार्यक्रमों में शामिल होंगे। सरकारी सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी।
सरकारी सूत्रों ने न्यूज एजेंसी प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया को बताया कि, पीएम मोदी 7 देशों के 8 नेताओं के साथ द्विपक्षीय और बहुपक्षीय बैठकें करेंगे। इसके अलावा 50 ग्लोबल बिजनेसमैन के साथ बातचीत करेंगे। साथ ही इन देशों में रहने वाले भारतीय मूल के नागरिकों से भी मुलाकात करेंगे। पीएम मोदी यूरोप यात्रा की शुरुआत जर्मनी से होगी और इसके बाद वे डेनमार्क जाएंगे और 4 मई को फ्रांस से भारत लौटेंगे।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यूरोप दौरा रूस और यूक्रेन में जारी युद्ध के बीच हो रहा है। सभी यूरोपीय देश रूस के यूक्रेन पर हमले के खिलाफ हैं। ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी दोनों देशों के बीच जारी सैन्य गतिरोध को खत्म करने के लिए चर्चा कर सकते हैं।

जर्मनी प्रवास के दौरान पीएम मोदी बर्लिन में चांसलर ओलाफ शोल्ज के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। ये दोनों नेता इंडिया-जर्मनी अंतर सरकारी परामर्श के छठे संस्करण की सह-अध्यक्षता करेंगे। इस दौरान पीएम मोदी और चांसलर शोल्ज संयुक्त रूप से बिजनेस इवेंट को भी संबोधित करेंगे।
जर्मनी के बाद पीएम मोदी डेनमार्क पहुंचेंगे और वहां भारत-नॉर्डिक शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे। इसके बाद पीएम मोदी 4 मई को फ्रांस की राजधानी पेरिस में राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से मुलाकात करेंगे। भारत और फ्रांस इसी वर्ष अपने राजनियक संबंधों के 75 साल पूरे कर रहे हैं।पीएम मोदी और मैक्रों के बीच बैठक में सामरिक साझेदारी पर चर्चा होगी।

मेरठ: व्यवसायिक दुकानों पर चला बुलडोजर

मेरठ: व्यवसायिक दुकानों पर चला बुलडोजर

सत्येंद्र पंवार
मेरठ। शनिवार को महानगर के फतेहउल्लाहपुर में नार्थ ईस्ट के कुख्यात पशु तस्कर मूल रूप से फलावदा निवासी अकबर बंजारा की ओर से तकरीबन 300 वर्ग मीटर में बनाई गई व्यवसायिक दुकानों के ऊपर बाबा का बुलडोजर चल गया है। हाल ही में असम पुलिस ने अकबर बंजारा और उसके भाई को मुठभेड़ के दौरान मार गिराया था। करोड़ों रुपए की कीमत की कुख्यात पशु तस्कर द्वारा काली कमाई से बनाई गई दुकाने आज महाबली की सहायता से एमडीए द्वारा ध्वस्त कर दी गई है।
महानगर के बिजली बंबा बाईपास पर 100 फुटा रोड पर मेरठ विकास प्राधिकरण की ओर से अकबर बंजारा की तेरह दुकानों को जमींदोज करा दिया गया है। जोनल अधिकारी वीके सोनकर ने बताया है कि अभी कई और अवैध निर्माण जल्द ही धराशाई होंगे। उधर एमडीए के वीसी मृदुल चौधरी प्राधिकरण की ओर से चलाए जा रहे अभियान पर चौतरफा नजर बनाए हुए हैं। एमडीए के सचिव चंद्रकांत तिवारी भी अधिकारियों से पल-पल की अपडेट ले रहे हैं।

न्यायपालिका, व्यवस्था को मजबूत बनाने पर जोर

न्यायपालिका, व्यवस्था को मजबूत बनाने पर जोर

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। भारत के मुख्य न्यायाधीश एन. वी. रमना ने शनिवार को देशभर में लंबित मुकदमों के अनुपात में न्यायाधीशों की संख्या बढ़ाने के साथ ही न्यायपालिका से जुड़ी व्यवस्था को मजबूत बनाने पर शनिवार को जोर दिया।
उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों और राज्यों मुख्यमंत्रियों के 11 वें संयुक्त सम्मेलन को संबोधित करते हुए न्यायमूर्ति रमना कहा कि बुनियादी जरूरतों को प्राथमिकता के आधार पर बढ़ाने तथा विवाद को प्रारंभिक स्तर पर ही सुलझा के उपायों पर गंभीरता से विचार करना, समय की मांग है।
उन्होंने न्यायिक व्यवस्था में अन्य भाषाओं को अपनाने भी जोर दिया।
उन्होंने कहा कि उच्च न्यायालयों के लिए न्यायाधीशों के 1104 स्वीकृत पदों में से 388 खाली पड़े हैं। 
खाली पदों को भरने के लिए उनका पहले दिन से ही प्रयास रहा है। उन्होंने एक वर्ष के दौरान विभिन्न उच्च न्यायालयों में खाली पदों का नियुक्तियों के लिए 180 सिफारिशें की हैं। इनमें से 126 नियुक्तियां हो चुकी हैं। इसके लिए भारत सरकार को धन्यवाद करते हुए उन्होंने कहा कि 50 प्रतिक्षित प्रस्तावों को भारत सरकार शीघ्र अनुमोदन की उम्मीद की। उन्होंने कहा कि उच्च न्यायालयों ने भारत सरकार को लगभग 100 नाम भेजे हैं, जो अभी उन तक नहीं पहुंचे हैं।
मुख्य न्यायाधीश रमना ने न्यायिक व्यवस्था को जिला स्तर पर मजबूत करने की अपील करते हुए कहा, "मैं माननीय मुख्यमंत्रियों से आग्रह करना चाहता हूं कि जिला न्यायपालिका को मजबूत करने के उनके प्रयास में मुख्य न्यायाधीशों को दिल से सहयोग दें।
देशभर में लगातार बढ़ते लंबित मुकदमों और न्यायाधीशों के अनुपात पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा, "जब हम आखिरी बार 2016 में ( संयुक्त सम्मेलन) में मिले थे, तब देश में न्यायिक अधिकारियों की स्वीकृत संख्या 20,811 थी। अब यह 24,112 है, जो कि 6 वर्षों में 16 प्रतिशत की वृद्धि है। वहीं इसी अवधि में जिला न्यायालयों में लंबित मामलों की संख्या 2 करोड़ 65 लाख से बढ़कर 4 करोड़ 11 लाख हो गई है, जो कि 54.64 फीसदी की बढ़ोतरी है। उन्होंने कहा कि यह आंकड़ा दर्शाता है कि स्वीकृत संख्या में वृद्धि कितनी अपर्याप्त है।

रिश्वत: महिला पटवारी को निलंबित किया

रिश्वत: महिला पटवारी को निलंबित किया 

दुष्यंत टीकम  
कांकेर। छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में एक महिला पटवारी का रिश्वत लेते हुए वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद जिला प्रशासन ने महिला पटवारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। जिला मुख्यालय के दशपुर गांव के निवासी सेना के सेवानिवृत्त जवान भीखम साहू को जमीन की नकल निकलवानी थी। इसके लिए उन्हाेंने महिला पटवारी कामिका मंडावी से संपर्क किया। पटवारी ने काम करने के लिए जवान से 5 हजार रुपयों की मांग की और पहले दो हजार रुपए देना तय हुआ। 
जवान ने महिला पटवारी को दो हजार रुपये दिया और उसका वीडियो बना लिया। यह वीडियाें शुक्रवार सुबह से ही सोशल मीडिया पर चलना शुरू हो गया। इसके बाद एसडीएम ने मामले को संज्ञान में लेते हुए कल ही महिला पटवारी को निलंबित कर दिया। निलंबन अवधि में पटवारी का मुख्यालय अनुविभगीय अधिकारी राजस्व कांकेर नियत किया गया है। निलंबन अवधि में उन्हें नियम अनुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता रहेगी।


अप्रासंगिक कानूनों को खत्म करने का आग्रह

अप्रासंगिक कानूनों को खत्म करने का आग्रह 

पंकज कपूर  
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में विज्ञान भवन नई दिल्ली में आयोजित, मुख्यमंत्रियो और उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों की संयुक्त कॉन्फ्रेंस में प्रतिभाग किया है। वहीं इसमें पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार को मुख्यमंत्रियों से आम आदमी के लिए अप्रासंगिक हो चुके कानूनों को खत्म करने का आग्रह किया।
भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना भी इस कार्यक्रम में मौजूद थे। दिल्ली का विज्ञान भवन जहां प्रधान मंत्री बोल रहे थे। पीएम मोदी ने कहा: “एक गंभीर विषय आम आदमी के लिए कानून की पेचीदगियां भी है।
2015 में, हमने लगभग 1,800 ऐसे कानून तलाशे जो अप्रासंगिक हो गए थे। इनमें से, केंद्र के कानूनों में से, हमने ऐसे 1,450 कानूनों को समाप्त कर दिया। लेकिन राज्यों द्वारा केवल 75 कानूनों को समाप्त कियाा गया है।प्रधानमंत्री ने आगे कहा, “आज देश में करीब 3.5 लाख कैदी हैं जो विचाराधीन हैं और जेल में हैं। इनमें से ज्यादातर लोग गरीब या सामान्य परिवार से हैं।

‘आई एम शक्ति कॉर्नर’ का उद्घाटन किया: मंत्री

‘आई एम शक्ति कॉर्नर’ का उद्घाटन किया: मंत्री

नरेश राघानी     
बीकानेर। महिला अधिकारिता मंत्री श्रीमती ममता भूपेश ने शनिवार को राजकीय गंगा उच्च माध्यमिक विद्यालय में जिला प्रशासन की पहल पर तैयार ‘आई एम शक्ति कॉर्नर’ का उद्घाटन किया।
इस दौरान भूपेश ने कहा कि महिलाओं ने शिक्षा, खेल एवं विज्ञान सहित प्रत्येक क्षेत्र में अपनी विशेष पहचान बनाई है। ऐसी महिलाएं युवा पीढ़ी के लिए आदर्श हैं। स्कूली बालिकाएं इनके जीवन से प्रेरणा लें तथा मानसिक एवं शारीरिक रूप से स्वस्थ एवं सशक्त बनें, इसके मद्देनजर प्रयास जरूरी है।
उन्होंने जिला प्रशासन के ‘शक्ति’ अभियान को इस दिशा में प्रभावी बताया तथा कहा कि ‘आई एम शक्ति कॉर्नर’ जैसे नवाचार सतत रूप से किए जाएं। उन्होंने प्रशासन के इस प्रयास को सराहा तथा सभी संभागीय मुख्यालयों पर ऐसे ‘कॉर्नर’ स्थापित करने की संभावनाओं पर चर्चा की।
उन्होंने जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने बताया कि पिछले दो वर्षों से जन्म के लिए घटता लिंगानुपात चिंता और 15 से 49 आयुवर्ग की महिलाओं में खून की कमी चिंता का विषय है। समाज के सर्वांगीण विकास पर इनका प्रभाव पड़ता है। इसके मद्देनजर जिले में ‘शक्ति’ अभियान चलाया जा रहा है। इसका उद्देश्य बेटे-बेटी में भेद खत्म करते हुए बेटियों को आगे बढ़ने के समान अवसर उपलब्ध करवाना है। इसी श्रृंखला में जिलें के स्कूलों में आई एम शक्ति कॉर्नर स्थापित किए जा रहे हैं। इस दौरान महिला अधिकारिता विभाग की उपनिदेशक मेघा रतन सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।
आई एम शक्ति कॉर्नर में मदर टेरेसा, अरुणिमा सिन्हा, कल्पना चावला, इंदिरा गांधी, सिंधु ताई सपकाल, गुंजन सक्सेना, इंदिरा नुई, पी.वी.सिंधु, अवनि लेखरा, मेरीकॉम, लता मंगेशकर जैसी महान महिलाओ की जीवनी अंकित की गई हैं। इनके अलावा चुप्पी तोड़ो, बेटी बचाओ, मुख्यमंत्री राजश्री योजना, यू आर स्ट्रांग, बाल विवाह निषेध से जुड़ी जानकारी का चित्रण भी हैं। इसी प्रकार बालिकाओं के लिए प्रेरणादायी पुस्तकें, फर्स्ट एड बॉक्स, काउंसलिंग कॉर्नर और बैठने एवं अध्ययन के लिए बेहतरीन माहौल तैयार किया गया है।

इतर, गैर-भाजपाई मुख्यमंत्रियों की मुलाकात

इतर, गैर-भाजपाई मुख्यमंत्रियों की मुलाकात

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। देश की राजधानी दि्ल्ली में गैर-भाजपाई मुख्यमंत्रियों की बहुप्रतीक्षित मुलाकात शनिवार को हुई। इस अनौपचारिक बैठक में अगली मुलाकात की रूपरेखा और एजेंडा तय हो सकता है। इसके अलावा विपक्षी एकजुटता, विधानसभा और लोकसभा चुनाव के लिए रणनीति, बीजेपी को मजबूत टक्कर देने, केंद्र में विकल्प खड़ा करने और इस मुहिम में कांग्रेस की भूमिका पर भी मंथन हुआ।

दरअसल शनिवार को देश के सभी उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों और मुख्यमंत्रियों की कॉन्फ्रेंस हुईं है। प्रधान न्यायधीश द्वारा बुलाई गई इस कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी नेे किया। इस बैठक में शामिल होने सभी राज्यों के सीएम दिल्ली में है। इसी क्रम में गैर-भाजपाई मुख्यमंत्रियों की मुलाकात हुई। पहले यह मुलाकात मार्च के अंत में बजट सत्र के दौरान होनी थी, लेकिन 10 मार्च को पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव नतीजों से बदली राजनीतिक परिस्थिति में ऐन मौके पर इसे टाल दिया गया था।

भाजपा व नेता प्रतिपक्ष पर मंत्री का पलटवार

भाजपा व नेता प्रतिपक्ष पर मंत्री का पलटवार   

दुष्यंत टीकम
रायपुर। छत्तीसगढ़ के नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया ने झीरम घाटी मामलें को लेकर भाजपा और नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि न्यायिक जांच को रोकने के लिए भाजपा लगातार कोशिश कर रही है। जिससे साफ है कि वह सच्चाई को दबाना चाहती है।
मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया ने शनिवार को कांग्रेस भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई।
इस दौरान उन्होंने नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक की तरफ से झीरम घाटी हत्याकांड में याचिका लगाने को लेकर बीजेपी और नेता प्रतिपक्ष समेत पूर्व सीएम को जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक क्या इस बात से डरते हैं कि झीरम घाटी कांड की जांच से ऐसा कोई सच सामने निकल कर आ जाएगा, जिससे तत्कालीन भाजपा सरकार के किसी कुत्सित चेहरे से नकाब उठ जाएगा ।

जेल में तारपीन पीकर 'आत्महत्या' की कोशिश

जेल में तारपीन पीकर 'आत्महत्या' की कोशिश 

इकबाल अंसारी  
हुबली। कर्नाटक के पुराने हुबली दंगा मामलें के एक आरोपी मोहम्मद आरिफ ने जेल में तारपीन पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की। हालांकि सूचना पाकर जेल के अधिकारियों उसे आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती करा दिया। बताया जा रहा है कि वह अब खतरे से बाहर है, जल्द ही उसे छुट्टी दे दी जाएगी। 16 अप्रैल को आधी रात को करीब एक हजार लोगों ने पुरानी हुबली पुलिस थाने पर हमला कर दिया था। इस घटना में 12 पुलिस कर्मी घायल हो गए थे।
होन्याल समेत अब तक 146 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इनमें से 145 आरोपियों को हुबली, धारवाड़, बल्लारी और कलबुर्गी की जेलों में 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा दिया गया जबकि एक मुख्य आरोपी पुलिस हिरासत में है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने हिंसा को एक बड़ी साजिश करार दिया था। 
उन्होंने कहा था कि अगर किसी पुलिस स्टेशन पर भीड़ द्वारा सुनियोजित व संगठित तरीके से हमला किया गया है, तो यह एक गंभीर मामला है। वहीं प्रदेश के गृहमंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने भी कहा था कि यह घटना पूर्व नियोजित हो सकती है‌। उग्र भीड़ ने पुलिस स्टेशन पर पथर बरसा रही थी तब पुलिस को भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा था। फिर भी जब हालात काबू में नहीं आए तो पुलिस को आंसू गैस के गोले भी दागने पड़े थे।

इंजीनियर ने फांसी लगाकर आत्महत्या की

इंजीनियर ने फांसी लगाकर आत्महत्या की 

दुष्यंत टीकम  
जगदलपुर। नगरनार स्थित एनएमडीसी के एक इंजीनियर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना की जानकारी लगते ही पुलिस मौके पर पहुँच शव को पीएम के लिए मेकाज भेजा गया। बताया जा रहा है कि ओडिशा निवासी मृतक का 2 माह पहले ही विवाह हुआ था। नगरनार थाना प्रभारी बीआर नाग ने बताया कि अनंतपुर जिला ओडिशा में रहने वाला प्रशांत (36 वर्ष) जो नगरनार स्थित एनएमडीसी में कार्य कर रहा था, आज सुबह उसका दोस्त प्रदीप जब उसे ड्यूटी जाने के लिए बुलाने आया तो उसने देखा कि प्रशांत कमरे में गमझा को गले मे फंदा बनाकर फाँसी में लटका हुआ था। उसे अस्पताल ले जाया गया, जहाँ उसे मृत घोषित कर दिया गया। स्टाफ का कहना है कि 2 माह पहले ही मृतक का विवाह हुआ है, इसके अलावा 6 माह पहले ही उन्होंने यहां पर ज्वॉइन किया था, इसके अलावा वे एनएमडीसी के पैकेज 3 बायोप्रोडक्ट में इंजीनियर के पद में पदस्थ थे, फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।


लाउडस्पीकर के इस्तेमाल का विरोध, रैली करेंगे

लाउडस्पीकर के इस्तेमाल का विरोध, रैली करेंगे  

कविता गर्ग  

मुंबई। महाराष्ट्र में शिवसेना की काट के लिए राज ठाकरे के रूप में भाजपा को शिवसेना का बड़ा विरोधी चेहरा मिल गया है। राज ठाकरे की नेतृत्व वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना की औरंगाबाद रैली से पहले राजनीतिक गलियारों में एक अहम सवाल यह है कि क्या भाजपा आगामी मुंबई नगर निगम चुनावों के लिए मनसे के साथ गठजोड़ करेगी ? दोनों पार्टियां अपनी बढ़ती नजदीकियों के संकेत दे रही हैं, वहीं इस बात को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है कि वे गठबंधन करेंगे या नहीं और करेंगे तो कब ?

राज ठाकरे 1 मई को औरंगाबाद में मस्जिदों में लाउडस्पीकर के इस्तेमाल के विरोध में एक रैली करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने 3 मई से पहले राज्य भर की मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने के लिए शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी (एमवीए) के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र सरकार को एक अल्टीमेटम भी दिया है। ऐसा नहीं होने पर मनसे कार्यकर्ताओं को सड़कों पर उतरने और मस्जिदों के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए कहा है। मनसे प्रमुख की रैली का जिक्र करते हुए महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि आखिरकार रहस्य खत्म हो गया है और राज्य सरकार ने रैली के लिए राज ठाकरे को अपनी मंजूरी दे दी है। राज्य और बाहर का हर व्यक्ति उनकी रैली का बेसब्री से इंतजार कर रहा है। आइए प्रतीक्षा करें और देखें कि वह क्या कहते हैं ?

हाल के महीनों में राज्य के भाजपा नेताओं को कई मौकों पर राज ठाकरे के साथ देखा गया है। पाटिल ने हाल ही में मनसे नेता से कई बार मुलाकात की है। हालांकि, उन्होंने भाजपा-मनसे गठबंधन के मुद्दे पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। पिछले नवंबर में विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस अपनी पत्नी अमृता के साथ मुंबई के दादर में अपने नए घर में राज ठाकरे द्वारा आयोजित लंच में शामिल हुए थे। बीजेपी-मनसे के गठजोड़ पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंटीवार ने कहा, ‘राजनीति में कुछ भी असंभव नहीं है, लेकिन फिलहाल बीजेपी-मनसे के गठबंधन का कोई प्रस्ताव नहीं है। मैं भविष्यवाणी नहीं कर सकता कि कल क्या होगा।” भाजपा ने स्पष्ट रूप से गठबंधन के सवाल पर वेट एंड वॉच” का रुख अपनाया है। यहां तक कि पार्टी मनसे को मजबूत करने के लिए कदम उठा रही है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि वह राज्य में शिवसेना के वोट बैंक में सेंध लगा सके। नाम न छापने की शर्त पर भाजपा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने एक मीडिया को बताया, “इस समय यह तय है कि बीजेपी और मनसे का कोई औपचारिक गठबंधन नहीं होगा। लेकिन भाजपा यह सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास करेगी कि मनसे शिवसेना के ठिकानों में गहरी पैठ बनाए। भगवा पार्टी द्वारा अपनाई गई दोतरफा रणनीति मनसे प्रमुख को हिंदुत्व नेता के रूप में प्रचारित करना है। इसे एक कथा के माध्यम से सुगम बनाना है कि उद्धव के नेतृत्व वाली शिवसेना ने कांग्रेस के साथ हाथ मिलाकर सत्ता के लिए अपनी हिंदुत्व विचारधारा से “समझौता” किया है। इस प्रकार राज ठाकरे को नए हिंदुत्व नेता के रूप में तैयार किया जा रहा है, जो ऐसे शिवसैनिकों को एक वैकल्पिक मंच प्रदान कर सकता है जो सेना की विचारधारा के कथित कमजोर पड़ने से असंतुष्ट हो सकते हैं।

पिछले कुछ वर्षों में इसकी सावधानीपूर्वक योजना बनाई गई है। इस मेकओवर के हिस्से के रूप में संगठन ने पहले अपना झंडा बदल दिया। इसे पूरी तरह से भगवा रंग में बदल दिया ताकि हिंदुत्व के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को दोहराया जा सके। भगवा शॉल में लिपटे राज ठाकरे की तस्वीरों का खूब प्रचार किया गया। इसके बाद हाल ही में मनसे नेता ने लाउडस्पीकर को लेकर हंगामा किया, जिसने राज्य प्रशासन और पुलिस को तनाव में डाल दिया है।
पिछले गुरुवार को उद्धव सरकार पर कटाक्ष करते हुए राज ठाकरे ने उत्तर प्रदेश में धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर हटाने के लिए योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की सराहना करते हुए आरोप लगाया कि दुर्भाग्य से महाराष्ट्र में हमारे पास कोई योगी नहीं है। हमारे पास ‘भोगी’ है। उन्होंने पहले भी घोषणा की थी कि वह जल्द ही अयोध्या जाएंगे और यूपी के सीएम से मुलाकात करेंगे।

अभिनेत्री फर्नांडीस के खिलाफ ईडी की कार्रवाई

अभिनेत्री फर्नांडीस के खिलाफ ईडी की कार्रवाई 

कविता गर्ग
मुंबई। बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीस के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बड़ी कार्रवाई की है। जांच एजेंसी ने अभिनेत्री से जुड़े 7 करोड़ 27 लाख की प्रॉपर्टी जब्त की है। बताया जा रहा है कि यह रकम ठग सुकेश चंद्रशेखर ने जैकलीन को गिफ्ट की थी। जानकारी के मुताबिक, जैकलीन के पास इतनी रकम की एक एफडी है। जिसे ईडी ने जब्त कर लिया है।
दरअसल, महाठग सुकेश चंद्रशेखर पर रैनबैक्सी कंपनी के पूर्व प्रमोटर्स से 200 करोड़ रुपए ठगने का आरोप है। ईडी का आरोप है कि उसने जैकलीन फर्नांडीज को इन्हीं धोखाधड़ी के 200 करोड़ में से 5.71 करोड़ के गिफ्ट भेजे थे। एजेंसी का यह भी आरोप है कि सुकेश ने जैकलीन के परिवार के कुछ सदस्यों को भी 1.72 लाख डॉलर और 26,740 ऑस्ट्रेलियन डॉलर दिए थे।
इस मामले में फर्नांडीज से कई बार पूछताछ की जा चुकी है। डांसर-अभिनेत्री नोरा फातेही का नाम भी इस मामले में आ चुका है और वो भी ईडी के सामने अपना बयान दर्ज करा चुकी हैं। ED सूत्रों की मानें तो एक्ट्रेस और ठग सुकेश चंद्रशेखर के बीच करीबी रिश्ते थे और वह एक्ट्रेस पर पानी की तरह पैसे लुटाता था। चंद्रशेखर ने एक्ट्रेस को गोल्ड और डायमंड जूलरी, इंपोर्टेड क्रॉकरी दी थीं। इनके अलावा 52 लाख रुपए का एक घोड़ा और 9-9 लाख की चार पर्शियन बिल्लियां भी गिफ्ट की थीं।
जैकलीन के लिए सुकेश ने कई चार्टर्ड फ्लाइट्स बुक की थीं। चंद्रशेखर ने एक्ट्रेस पर करीब 10 करोड़ रुपए खर्च किए थे। सुकेश ने यह भी दावा किया है कि वह जैकलीन के साथ रिलेशन में रहा है। उसके इस दावे की पुष्टि दोनों की कुछ तस्वीरें करती हैं। इनमें एक्ट्रेस और चंद्रशेखर बेहद करीब नजर आ रहे हैं। ED के मुताबिक, यह तस्वीरें एक फाइव स्टार होटल की हैं।
सुकेश पर आरोप है कि उसने रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर शिविंदर सिंह और मालविंदर सिंह को जेल से बाहर निकलवाने का झांसा देकर उनकी पत्नियों से 200 करोड़ से अधिक की ठगी की। सुकेश खुद को कभी PM ऑफिस और कभी गृह मंत्रालय से जुड़ा अधिकारी बताता। उसकी इस धोखाधड़ी में तिहाड़ जेल के कई अफसर भी शामिल थे। सुकेश इन सभी को मोटी रकम देता था। ED ने 24 अगस्त को चेन्नई में सुकेश का सी-फेसिंग बंगला सीज कर लिया था। बंगले से 82.5 लाख रुपए, 2 किलो सोना और 12 से ज्यादा लग्जरी कारें जब्त की गई थीं।

पेट्रोल-डीजल के दामों में बदलाव नहीं किया

 पेट्रोल-डीजल के दामों में बदलाव नहीं किया

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के नए दाम जारी कर दिए हैं। अगर शनिवार को आप अपनी गाड़ी की टंकी फुल कराने जा रहे हैं तो उससे पहले पेट्रोल-डीजल के आज के रेट्स चेक कर लें‌। बता दें आज भी आम जनता को ईंधन की बढ़ती कीमतों से राहत मिली है। देश की राजधानी दिल्ली में आज 1 लीटर पेट्रोल की कीमत 105.41 रुपये और डीजल की कीमत 96.67 रुपये प्रति लीटर है।

शनिवार को भी नहीं हुआ कोई बदलाव...
IOCL की वेबसाइट के मुताबिक, लगातार कई दिनों से ईंधन की कीमतों में कोई इजाफा नहीं किया गया है। अप्रैल महीने की शुरुआत में सराकारी तेल कंपनियों ने कीमतों में इजाफा किया था। बता दें इस दौरान पेट्रोल और डीजल की कीमतों में करीब 10 रुपये प्रति लीटर का इजाफा हो गया था।
दिल्ली- पेट्रोल 105.41 रुपये प्रति लीटर और डीजल- 96.67 रुपये प्रति लीटर के भाव पर मिल रहा है।
मुंबई- पेट्रोल 120.51 रुपये प्रति लीटर और डीजल 104.77 रुपये प्रति लीटर के रेट पर है।
चेन्नई- पेट्रोल 110.85 रुपये प्रति लीटर और डीजल 100.94 रुपये प्रति लीटर के भाव पर मिल रहा है।
कोलकाता- पेट्रोल 115.12 रुपये प्रति लीटर और डीजल 96.83 रुपये प्रति लीटर के लेवल पर ही बरकरार है।
हर दिन 6 बजे जारी होते हैं नए रेट्स
आपको बता दें सरकारी तेल कंपनियां हर दिन सुबह 6 बजे पेट्रोल-डीजल की कीमतें जारी करती हैं। पेट्रोल व डीजल के दाम में एक्साइज ड्यूटी, डीलर कमीशन, वैट और अन्य चीजें जोड़ने के बाद इसका दाम मूल भाव से लगभग दोगुना हो जाता है। यही कारण है कि पेट्रोल-डीजल के दाम इतने अधिक दिखाई देते हैं।

कार्ड का शुद्ध लाभ तिमाही में 580.86 करोड़

कार्ड का शुद्ध लाभ तिमाही में 580.86 करोड़
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। क्रेडिट कार्ड कंपनी एसबीआई कार्ड्स एंड पेमेंट सर्विसेज लिमिटेड एसबीआई कार्ड का शुद्ध लाभ मार्च में खत्म तिमाही में तिगुने से भी अधिक होकर 580.86 करोड़ रुपये पर पहुंच गया। कंपनी को आखिरी तिमाही में बंपर फायदा हुआ है। एसबी आई कोड ने शेयर बाजार को इस बारे में जानकारी दी है। बता दें पिछले साल की समान तिमाही में कंपनी का मुनाफा 175.42 करोड़ रुपये पर था।
ब्याज से प्राप्त आय भी बढ़ी
जनवरी से मार्च के बीच कंपनी की कुल आय बढ़कर 3,016.10 करोड़ रुपये हो गई जो पिछले वर्ष की समान अवधि में 2,468.14 करोड़ रुपये थी। एसबीआई कार्ड्स की ब्याज से प्राप्त आय भी पिछले साल के 1,082.42 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,266.10 करोड़ रुपये हो गई।शुल्क और कमीशन से प्राप्त आय भी 1,426.81 करोड़ रुपये हो गई जो पिछले वर्ष समान अवधि में 1,113.81 करोड़ रुपये थी।
आपको बता दें वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान एसबीआई कार्ड्स का शुद्ध लाभ 64 फीसदी बढ़कर 1,616.14 करोड़ रुपये हो गया जबकि वित्त वर्ष 2020-21 में यह 984.52 करोड़ रुपये था। इस वित्त वर्ष में उसकी कुल आय बढ़कर 11,301.52 करोड़ रुपये हो गई जो एक साल पहले 9,713.58 करोड़ रुपये थी।
NPA में आई गिरावट
एसबीआई कार्ड ने कहा कि 31 मार्च 2022 तक कंपनी की सकल गैर-निष्पादित संपत्तियां (NPA) 2.22 फीसदी और शुद्ध एनपीए 0.78 फीसदी रही है। पिछले वर्ष यह क्रमश: 4.99 फीसदी और 1.15 फीसदी थी।
कंपनी के शेयर में आई गिरावट
एसबीआई कार्ड के शेयर की बात करें पिछले एक महीने में कंपनी के शेयर में 2.79 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है। वहीं, पिछले 6 महीने में एसबीआई कार्ड का शेयर 22.49 फीसदी फिसला है यानी इसमें 240.25 रुपये प्रति शेयर की गिरावट देखने को मिली है। बता दें हफ्ते के आखिरी कारोबारी दिन कंपनी का शेयर 13.75 रुपये यानी 1.63 फीसदी फिसलकर 827.95 के लेवल पर क्लोज हुआ है।

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 3,688 नए मामलें

भारत: 24 घंटे में कोरोना के 3,688 नए मामलें

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार देश भर में कोविड-19 मामलों में वृद्धि जारी है। भारत में शनिवार को 3,688 नए मामलें दर्ज किए गए हैं। जिससे भारत का सक्रिय केसलोड बढ़कर 18,684 हो गया है। भारत ने पिछले 24 घंटों में संक्रमण के कारण 50 मौते हुई हैं। जिससे मरने वालों की तादाद बढ़कर 5,23,803 हो गई है। मंत्रालय ने कहा कि सक्रिय मामलों में कुल संक्रमण का 0.04 प्रतिशत शामिल है। 24 घंटे की अवधि में सक्रिय कोविड-19 केसलोड में 883 मामलों की वृद्धि दर्ज की गई है।

देश में पिछले 24 घंटों में कुल 2,755 डिस्चार्ज हुए, कुल रिकवरी दर लगभग 98.74 प्रतिशत थी और कुल रिकवरी डेटा 4,25,33,377 तक पहुंच गया है।

पहले सेना प्रमुख के रूप में कार्यभार ग्रहण किया

पहले सेना प्रमुख के रूप में कार्यभार ग्रहण किया

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। भारतीय सेना के अनुभवी और पराक्रमी अधिकारी, जनरल मनोज पांडे ने शनिवार को सेना प्रमुख के रूप में कार्यभार ग्रहण कर लिया। उन्होंने एमएम नरवणे की जगह ली। खास बात यह है कि जनरल मनोज पांडे कॉर्प्स ऑफ इंजीनियर्स के पहले अधिकारी हैं, जो सेना प्रमुख का पद संभालेंगे। आइए जानते हैं जनरल पांडे का सेना प्रमुख के पद तक पहुंचने का अब तक का सफरनामा। जनरल मनोज पांडे इससे पहले ईस्टर्न कमांड के कमांडिंग ऑफिसर रह चुके हैं और अंडमान एंड निकोबार कमांड के कमांडर इन चीफ का पद भी संभाल चुके हैं। जनरल मनोज पांडे परम विशिष्ट सेवा मेडल, अति विशिष्ट सेवा मेडल और विशिष्ट सेवा मेडल हासिल कर चुके हैं।

जनरल पांडे का जन्म डॉ. सीजी पांडे और ऑल इंडिया रेडियो में अनाउंसर और होस्ट रह चुकीं प्रेमा के यहां हुआ था। उनका परिवार नागपुर से है। शुरुआती स्कूलिंग के बाद जनरल मनोज पांडे ने नेशनल डिफेंस अकेडमी ज्वाइन की। एनडीए के बाद उन्होंने इंडियन मिलिट्री एकेडमी जॉइन की और बतौर अफसर कमीशन लिया। उन्होंने 3 मई 1987 को सरकारी डेंटल कॉलेज की गोल्ड मेडलिस्ट अर्चना सल्पेकर से शादी की। जनरल मनोज पांडे को दिसंबर 1982 में बॉम्बे सैपर्स में कमीशन मिला, जो कॉर्प्स ऑफ इंजीनियर्स की एक रेजिमेंट है। वह ब्रिटेन के कैमबर्ले के स्टाफ कॉलेज का भी हिस्सा रहे हैं। कोर्स पूरा होने के बाद वह भारत लौट आए और पूर्वोत्तर भारत की माउंटेन ब्रिगेड के ब्रिगेड मेजर नियुक्त किए गए। लेफ्टिनेंट कर्नल के पद पर पहुंचने के बाद उन्होंने इथियोपिया और इरिट्रिया में यूनाइटेड नेशन्स मिशन में बतौर चीफ इंजीनियर काम किया।

जनरल मनोज पांडे जम्मू-कश्मीर में एलओसी पर 117 इंजीनियर रेजिमेंट की अगुआई भी कर चुके हैं। ऑपरेशन पराक्रम के दौरान वह रेजिमेंट कमांडर थे। फिर उन्होंने आर्मी वॉर कॉलेज, महू में दाखिला लिया और हायर कमांड कोर्स पूरा किया। इसके बाद उन्हें हेडक्वॉर्टर 8 माउंटेन डिवीजन में कर्नल क्यू नियुक्त किया गया।
मेजर जनरल के पद पर पदोन्नति के बाद जनरल पांडे ने 8 माउंटेन डिवीजन की कमान संभाली, जो पश्चिमी लद्दाख में ऊंचाई वाले अभियानों में शामिल था। इसके बाद उन्होंने सेना मुख्यालय में सैन्य अभियान निदेशालय में अतिरिक्त महानिदेशक के रूप में काम किया। लेफ्टिनेंट जनरल के पद पर पदोन्नत होकर उन्होंने दक्षिणी कमान के चीफ ऑफ स्टाफ की जिम्मेदारी भी संभाली।

57 बच्‍चों के 'बायोलॉजिकल' फादर बनेंगे केल

57 बच्‍चों के 'बायोलॉजिकल' फादर बनेंगे केल 

सुनील श्रीवास्तव  
वाशिंगटन डीसी। एक शख्‍स का दावा है कि वो 47 बच्‍चों के पिता बन चुके हैं। जल्‍द 10 और बच्‍चों के पिता (बायोलॉजिकल फादर) बन जाएंगे। पर, उन्‍होंने अपनी पीड़ा भी व्‍यक्‍त की है और बोले- इससे उनकी डेटिंग लाइफ बर्बाद हो गई है। दरअसल, ये शख्‍स एक स्‍पर्म डोनर हैं। केल गॉर्डी नाम के ये शख्‍स अमेरिका के कैलिफोर्निया में रहते हैं। उनकी उम्र 30 साल है। केल का दावा है कि वह जल्‍द ही 57 बच्‍चों के बायोलॉजिकल फादर बन जाएंगे।‌ मिरर' की रिपोर्ट के मुताबिक, केल गॉर्डी अब तक 47 से ज्‍यादा बच्‍चों के पिता बन चुके हैं। केल बताते हैं कि कुछ सालों पहले उनकी डेटिंग लाइफ औसत थी, उन्‍होंने कई लोगों के साथ डेटिंग की। लेकिन किसी के साथ भी वह लंबे रिलेशनशिप में नहीं रह पाए। 
लेकिन, केल अब थोड़ा दुखी नजर आता हैं। वह बोले-अब उनसे महिलाएं तभी बातचीत करती हैं, जब उन्‍हें बच्‍चा चाहिए होता है। केल ने यह भी बताया उन्‍होंने स्‍पर्म डोनेट किया तो कई प्रेग्‍नेंसी काफी सफल रहीं। इसके बाद महिलाओं ने उन्‍हें इंस्‍टाग्राम पर मैसेज करना शुरू कर दिया। चीफ केल ने ये भी कहा कि उन्‍हें इस बात का एकदम अंदेशा नहीं था कि इतनी सारी महिलाएं इस काम के लिए रुचि दिखाएंगी, क्‍योंकि उन्‍हें लगता था कि इनमें से कई बेहद अमीर होंगी और वो स्‍पर्म बैंक जा सकती हैं। कई महिलाओं ने केल को ये भी बताया कि वह अपने बच्‍चे का 'बायोलॉजिक फादर' देखना चाहती थीं।  पर केल ये भी बोले, ' दुर्भाग्‍यवश, अब कई महिलाएं मेरे साथ डेट करना पसंद नहीं करती हैं।‌ लेकिन, केल की जिंदगी में कुछ ऐसी भी महिलाएं आईं, जिनके साथ ऐसा लगा कि उनकी रिलेशनशिप आगे हो सकती है पर उनकी कहानी आगे नहीं बढ़ी। बात की उम्‍मीद कर रहे हैं कि वह एक दिन अपना घर बसा लेंगे और उनका परिवार होगा। लेकिन कोई खास व्‍यक्ति ही होगा जो उन्‍हें इस रूप में स्‍वीकार कर पाए। केल ने कहा, " मुझे लगता है कि अपने स्‍पर्म डोनेशन के बारे में जल्‍द बता देना ही बेहतर रहेगा, क्‍योंकि तब वह (होने वाली पाटर्नर) इस स्थिति को अच्‍छी तरह से समझ पाएगी। केल का दावा है कि उनसे अब तक 1000 से अधिक महिलाओं ने उनके स्‍पर्म के लिए कहा है। कई महिलाएं उन्‍हें उनके डोनेशन से पैदा हुए बच्‍चों के फोटो भेजती रहती हैं। केल अपने स्‍वास्‍थ्‍य का खूब ध्‍यान रखते हैं, वह कैफीन, शराब, ड्रग्‍स और सिगरेट का सेवन नहीं करते हैं। केल फिलहाल स्‍पर्म डोनर बने रहना चाहते हैं, उन्‍होंने ये भी कहा कि जिस भी महिला को उनकी सर्विस की जरूरत है वो इंस्‍टाग्राम से संपर्क साध सकती है।

भोजपुरी स्टार ने ब्लैक ब्रा में फोटो शेयर की

भोजपुरी स्टार ने ब्लैक ब्रा में फोटो शेयर की  

कविता गर्ग  
मुंबई। भोजपुरी स्टार नम्रता मल्ला अपनी बोल्डनेस के लिए मशहूर हैं। उनका अंदाज काफी सिजलिंग है। उनका इंस्टाग्राम उनके बोल्ड अवतार से भरा हुआ है। 
हाल ही में नम्रता मल्ला ने ब्लैक ब्रा में अपनी फोटो शेयर की हैं। उनकी फोटो देख कर फैंस के दिलों की धड़कनें तेज हो गई हैं। नम्रता मल्ला ने कैमरे के सामने कमाल के पोज दिए है। भोजपुरी ब्यूटी को हजारों यूजर ने लाइक किया है। यूजर ब्यूटीफुल, लवली, हॉटी, सो ब्यूटीफुल, माइंड ब्लोइंग और आसम लिख रहे।
नम्रता मल्ला ने भोजपुरी इंडस्ट्री में कदम रखने से पहले हरियाणवी अलबम 'राजा जी' से करियर की शुरूआत की थी। नम्रता मल्ला बेहतरीन डांसर हैं। वह बेली डांस नोरा फतेही को टक्कर देती हैं।

सुपरवाइजर सिफर सहित कई पदों पर भर्तियां

सुपरवाइजर सिफर सहित कई पदों पर भर्तियां 

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। अगर आप 12वीं या ग्रेजुएट पास हैं तो यह आपके लिए बेहतरीन मौका हो सकता है। दरअसल बॉर्डर रोड्स ऑर्गनाइजेशन जनरल रिजर्व इंजीनियर फोर्स के तहत ड्राफ्ट्समैन, स्टेनो बी, एलडीसी, एसकेटी, ऑपरेटर कम्युनिकेशन, सुपरवाइजर सिफर सहित कई पदों पर भर्तियां निकाली गई हैं। जिसके लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो गई है।
2021ऑफिशियल बेवसाइट bro.gov.in पर तय समय के अंदर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। बता दें बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेशन की ओर से जारी इस भर्ती के माध्यम से 129 पदों को भरा जाएगा। जिसके लिए आवेदन करने की आखिरी तारीख 15 जून 2022 है।
वहीं आवेदन करने वाले उम्मीदवारों की शैक्षणिक योग्यता अलग-अलग पदों के अनुसार है। ड्राफ्ट्समैन के लिए किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से साइंस विषय के साथ 12वीं और ड्राफ्ट्समैन के लिए दो साल का सर्टिफिकेट होना चाहिए। स्टेनो के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या समकक्ष से 10+2 में पास होना चाहिए और स्टेनोग्राफी में 80 शब्द प्रति मिनट की स्पीड होनी चाहिए।
एलडीसी के लिए किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10+2 और अंग्रेजी में टाइपिंग स्पीड 35 शब्द प्रति मिनट या हिंदी या कंप्यूटर में 30 शब्द प्रति मिनट की स्पीड होनी चाहिए। वहीं शैक्षणिक योग्यता संबंधित अधिक जानकारी के लिए ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर जरूर चेक करें।

खुलासा: रूस ने जंग में 'डॉल्फिन्स' को उतारा

खुलासा: रूस ने जंग में 'डॉल्फिन्स' को उतारा 

सुनील श्रीवास्तव
कीव/मास्को। यूक्रेन के साथ युद्ध कर रहे रूस को लेकर एक चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। रिपोर्ट में खुलासा किया गया है कि रूस ने जंग में डॉल्फिन्स को भी उतार दिया है। व्लादिमीर पुतिन की सेना ने इन मछलियों को खास ट्रेनिंग देकर काला सागर के नौसैनिक अड्डों की निगरानी के लिए तैनात किया है।

सैटेलाइट तस्वीरें आईं सामने...
अमेरिका के यूएस नेवल इंस्टीट्यूट ने सैटेलाइट तस्वीरों के जरिए यह खुलासा किया है कि समुद्री मार्ग से किसी भी हमले से निपटने के लिए रूस ने सेवस्तोपोल बंदरगाह के एंट्री गेट पर डॉल्फिन्स को तैनात किया है। बता दें कि ये बंदरगाह क्रीमिया पेनिनसुला के दक्षिणी छोर पर है, जिस पर रूस ने 2004 में कब्जा किया था।

मिलिट्री द्वारा दी गई है ट्रेनिंग...
USNI का कहना है कि फरवरी में यूक्रेन पर अटैक की शुरुआत में रूस ने अपने नेवल बेस पर डॉल्फिन्स को शिफ्ट किया था। मिलिट्री द्वारा ट्रेन की गईं इन डॉल्फिन्स की तैनाती इसलिए की गई है कि अगर यूक्रेनी डाइवर समुद्र के रास्ते दाखिल होने की कोशिश करते हैं, तो मछलियां उन्हें पल भर में मौत दे सकें। वहीं, द गार्जियन ने रशियन न्यूज एजेंसी के सूत्रों के हवाले से बताया कि ये डॉल्फिन्स पानी के अंदर दुश्मन के साउंड और रेंज को डिटेक्ट कर सकती हैं।

रूस ने पहले भी की है तैनाती...
रूस इससे पहले भी अपने ठिकानों की सुरक्षा के लिए डॉल्फिन्स की तैनाती कर चुका है। 2018 में रिलीज हुई सैटेलाइट इमेजरी में ये खुलासा हुआ था कि रूस ने सीरिया के टर्तुस में बने अपने नेवल बेस पर डॉल्फिन्स का इस्तेमाल किया था। गौरतलब है कि रूस और यूक्रेन जंग को दो महीने से भी ज्यादा का समय हो गया है, लेकिन अब तक कोई परिणाम नहीं निकला पाया है। ये जंग रूस की उम्मीद से कहीं ज्यादा लंबी खिंच गई है। यूक्रेन लगातार उसे मुंहतोड़ जवाब दे रहा है।

बिना टिकट 107 पकड़े, 32,020 का जुर्माना

बिना टिकट 107 पकड़े, 32,020 का जुर्माना
भानु प्रताप उपाध्याय
नई दिल्ली/शामली। दिल्ली-शामली रेल मार्ग पर रेलवे की विशेष दल ने चेकिंग अभियान चलाया। बिना टिकट यात्रा कर रहे 107 लोगों को पकड़कर उनसे 32,020 रुपये का जुर्माना वसूलकर छोड़ा।
वाणिज्य कर अधिकारी राजरतन कुमार के नेतृत्व में टीम ने सुबह आठ बजे दिल्ली से शामली जाने वाली ट्रेन संख्या 04401 में दिल्ली, शाहदरा से शामली तक चेकिंग की। चेकिंग में 107 यात्री बगैर टिकट पकडे़ गए। टीम ने उनसे मौके पर ही 32,020 रुपये का जुर्माना वसूलकर उन्हें छोड़ा।
इस कार्रवाई से मार्ग के यात्रियों में दिन भर हड़कंप मचा रहा। वाणिज्य कर अधिकारी ने बताया कि समय समय पर विशेष चेकिंग अभियान चलाएगा। टीम में मुख्य टिकट निरीक्षक रामेश्वर कुमार सहित 14 टीटीई शामिल रहे।

गोली का जवाब गोली, वांछित लुटेरा गिरफ्तार

गोली का जवाब गोली, वांछित लुटेरा गिरफ्तार
भानु प्रताप उपाध्याय  
मुज़फ्फरनगर। जिला मुजफ्फरनगर के थाना सिविल लाइन प्रभारी बिजेंद्र सिंह रावत व उनकी टीम के जांबाज सुजड़ू गेटवे चौकी इंचार्ज कौशल गुप्ता व एसआई बच्चन सिंह अत्री व उनकी टीम ने एक सराहनीय गुड वर्क को अंजाम देते हुए एक एक मुठभेड़ के दौरान एक शातिर वांछित लुटेरे सोनू गुर्जर को गोली का जवाब गोली से देते हुए अभियुक्त के पैरों में गोली मारकर घायल कर, उसको गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।
थाना सिविल लाइन पुलिस द्वारा एक वांछित लुटेरे अभियुक्त को संधावली रोड के पास अन्डरपास से घायल कर गिरफ्तार किया गया।

यूएस ने मस्जिद पर घातक हमले की निंदा की

यूएस ने मस्जिद पर घातक हमले की निंदा की
अखिलेश पांडेय  
काबुल। अफगानिस्तान के लिए संयुक्त राष्ट्र के मानवीय समन्वयक रमिज़ अलकबरोव ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल स्थित एक मस्जिद पर हुए घातक हमले की निंदा की है।
काबुल की एक मस्जिद में शुक्रवार को विस्फोट हुआ था। अफगानिस्तान के आंतरिक मंत्रालय के अनुसार इस हमले में 10 लोग मारे गए और 15 घायल हो गए, जबकि मीडिया रिपोर्ट में लगभग 50 लोगों के मारे जाने की जानकारी दी गयी।
अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र मिशन ने शुक्रवार देर रात एक बयान में कहा, "श्री अलकबरोव ने हमले की निंदा करते हैं और पीड़ित परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हैं तथा घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं।
उन्होंने इस हमले को अफगानिस्तान के लोगों के लिए एक और दर्दनाक झटका बताया।
मिशन की ओर से जारी बयान में कहा गया। अलकबरोव सभी पक्षों को अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानून और मानवाधिकार कानून के तहत अपने दायित्वों का पूरी तरह से पालन करने की याद दिलाते हैं और अपराधों के लिए जवाबदेही की मांग करते हैं।"
अभी तक किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

यूक्रेन ने जल क्षेत्र में बारूदी सुरंग बिछाई, खतरा

यूक्रेन ने जल क्षेत्र में बारूदी सुरंग बिछाई, खतरा
अखिलेश पांडेय  
मास्को। रूस ने कहा है कि यूक्रेन ने अपने आंतरिक जल और क्षेत्रीय समुद्र में विदेशी जहाजों की आवाजाही को रोका है तथा गोलाबारी का खतरा पैदा कर रहा है।
रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने समाचार एजेंसी शिन्हुआ को दिए साक्षात्कार में कहा, "रूस काला सागर और आज़ोव समुद्र में नागरिक नौपरिवहन सुनिश्चित करने के लिए उपाय कर रहा है। हर दिन एक मानवीय गलियारा खोला जाता है, जो जहाजों की आवाजाही के लिए एक सुरक्षित मार्ग है।
उन्होंने कहा, " यूक्रेन विदेशी जहाजों को रोक रहा है। अपने आंतरिक जल और क्षेत्रीय समुद्र में गोलाबारी का खतरा पैदा कर रहा है। 
उन्होंने कहा, "इसके अलावा यूक्रेन की नौसेना की इकाइयों ने तट पर, बंदरगाहों के पानी और क्षेत्रीय जल में बारूदी सुरंगें लगाई हैं। ये विस्फोटक उपकरण लंगर केबल से अलग हो जाते हैं और खुले समुद्र में बह जाते हैं, यही कारण है कि वे नौसेनाओं के लिए और काला सागर के बंदरगाह बुनियादी ढांचा के लिए गंभीर खतरा।

कोरिया ने चीन के साथ रेल यातायात निलंबित किया

कोरिया ने चीन के साथ रेल यातायात निलंबित किया

सुनील श्रीवास्तव  

सियोल। उत्तर कोरिया ने कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को ध्यान में रखते हुए चीन के साथ रेल यातायात को निलंबित कर दिया है।

योनहाप न्यूज एजेंसी ने उ. कोरिया के एक सूत्र के हवाले से अपनी रिपोर्ट में कहा, "उत्तर कोरियन पार्टी के अनुरोध पर डांडोंग के अधिकारियों ने उ. कोरिया और चीन के बीच रेलवे कार्गो यातायात को निलंबित कर दिया है। श्रमिक और लोडर एक होटल में 14 दिवसीय क्वारंटीन पर हैं। उ. कोरिया ने चीन के सीमावर्ती शहर डांडोंग में कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के बाद यह निर्णय लिया है। रेलवे यातायात कम से कम 14 दिनों के लिए निलंबित रहेगा।



विद्युत संयंत्रों से उत्पादन, बहाली का आश्वासन

विद्युत संयंत्रों से उत्पादन, बहाली का आश्वासन 
अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली । देश में मौजूदा कोयले और बिजली संकट से निपटने के प्रयासों के तहत हरियाणा ने उन विद्युत संयंत्रों से उत्पादन को पहले की तरह बहाल करने का आश्वासन दिया है, जिनके पास पीपीए (विद्युत खरीद समझौता) है।
बिजली मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक इसी सिलसिले में केंद्रीय विद्युत, नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर.के. सिंह ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के साथ बैठक की। बैठक में हरियाणा में निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न आवश्यक उपायों पर चर्चा की गई। इस मौके पर केन्द्रीय विद्युत राज्य मंत्री कृष्ण पाल भी उपस्थित थे।खट्टर ने आश्वस्त किया कि हरियाणा में स्थित उन विद्युत संयंत्रों से उत्पादन को अगले तीन दिनों में पहले की तरह बहाल किया जायेगा ,जिनके पास पीपीए (विद्युत खरीद समझौता) है। इसके अलावा अरुणाचल प्रदेश में कामेंग जल विद्युत संयंत्र से लगभग 300 मेगावाट बिजली के लिए हरियाणा नीपको (नॉर्थ ईस्टर्न इलेक्ट्रिक पावर कारपोरेशन लिमिटेड) के साथ एक विद्युत खरीद समझौता करेगा। बैठक में रेलवे के माध्यम से कोयले के परिवहन पर निर्भरता कम करने के लिए हरियाणा टोलिंग विकल्प को लागू करने पर सहमत हुआ हैमंत्रालय के मुताबिक हरियाणा ने अपने यमुना नगर संयंत्र में 750 मेगावाट की एक नयी इकाई स्थापित करने का निर्णय लिया है। इसके लिए विद्युत मंत्रालय हर संभव सहायता प्रदान करेगा। हरियाणा ने आगामी 15 मई तक की अवधि के लिए लगभग 500 मेगावाट बिजली आवंटित करने तथाझारखंड में अपने कैप्टिव कोयला ब्लॉक के जल्द अन्वेषण में सहायता के लिए भी अनुरोध किया। केंद्रीय विद्युत मंत्री ने बिजली आवंटन के मुद्दे पर विचार करने तथा शीघ्र कार्रवाई का आश्वासन दिया। वहीं संबंधित मामले को कोयला मंत्रालय के सामने रखने का आश्वासन दिया।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण     

1. अंक-204, (वर्ष-05)
2. रविवार, मई 1, 2022
3. शक-1984, वैशाख, शुक्ल-पक्ष, तिथि-प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2078‌‌। 
4. सूर्योदय प्रातः 07:04, सूर्यास्त: 06:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 30 डी.सै., अधिकतम-43+ डी सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न

'जिला स्वच्छ भारत मिशन' की बैठक संपन्न    सुशील केसरवानी         कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी शशिकान्त त्रिपाठी की अध्यक्षता में उद...