शनिवार, 27 फ़रवरी 2021

अमेरिका: 2 दशक में कर्ज का भार तेजी से बढ़ा

क्या आप जानते है। अमेरिका भी है भारत का कर्जदार जानिए कितने अरब डॉलर का है, कर्ज

वाशिंगटन डीसी। दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अमेरिका पर दो दशक में कर्ज का भार तेजी से बढ़ा है। भारत का भी उस पर 216 अरब डॉलर का कर्ज है। अमेरिका पर कुल 29 हजार अरब डॉलर का कर्ज चढ़ा हुआ है। एक अमेरिकी सांसद ने सरकार को देश पर बढ़ते कर्ज भार को लेकर आगाह किया है।
अमेरिका पर कर्ज में चीन और जापान का कर्ज सबसे ऊंचा है। वर्ष 2020 में अमेरिका का कुल राष्ट्रीय कर्ज भार 23400 अरब डॉलर था। इसका मतलब प्रत्येक अमेरिकी पर औसतन 72309 डॉलर का का ऋण था। अमेरिकी सांसद एलेक्स मूनी ने कहा हमारा कर्ज बढ़कर 29000 अरब डॉलर तक पहुंचने जा रहा है। इसका मतलब है कि हर व्यक्ति पर कर्ज का भार और अधिक बढ़ रहा है। कर्ज के बारे में सूचनाए बहुत भ्रामक हैं। कि यह कहां रहा है। जो दो देश-चीन और जापान हमारे सबसे बड़े कर्जदाता हैं। वे वास्तव में वे हमारे दोस्त नहीं हैं।
अमेरिकी प्रतिनिधि सभा में बाइडेन सरकार के करीब दो हजार अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज का विरोध करते हुए वेस्ट वर्जीनिया का प्रातिनिधित्व करने वाले सांसद मूनी ने कहा, चीन के साथ वैश्विक स्तर पर हमारी प्रतिस्पर्धा है। उनका हमारे ऊपर बहुत बड़ा कर्ज चढ़ा हुआ है। चीन का हम पर 1000 अरब डॉलर से अधिक का कर्ज बकाया है। हम जापान के भी 1000 अरब डॉलर से अधिक के बकायेदार हैं।
सांसद मूनी ने कहा कि वे देश जो हमको कर्ज दे रहे हैं। हमें उनका कर्ज चुकाना भी है। जरूरी नहीं कि इन देशों को हमारे श्रेष्ठ हित का ध्यान हो, जिनके बारे में हम यह नहीं कह सकते कि वे दिल में हमेशा हमारे हित का खयाल रखते हैं। उन्होंने कहा ब्राजील को हमें 258 अरब डॉलर देना है। भारत का हमारे ऊपर बकाया 216 अरब डॉलर है। हमारे विदेशी ऋणदताओं की यह सूची लंबी है।
वर्ष 2000 में अमेरिका पर 5600 अरब डॉलर का कर्ज था। ओबामा के समय यह दोगुना हो गया। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने जनवरी में 1900 अरब डॉलर के कोविड19 राहत पैकेज की घोषणा की ताकि इस महामारी के चलते अर्थव्यवस्था पर आए संकट का मुकाबला किया जा सके।
मून और विपक्ष के अन्य सांसदों ने पैकेज का विरोध किया। मूनी ने कहा कि ओबामा के आठ साल में हमने अपने ऊपर कर्ज का भार दो गुना कर लिया-और आज हम उसे और बढ़ाने जा रहे है। कर्ज और सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का अनुपात काबू से बाहर हो गया है।

शाहजहांपुर: युवती को जिंदा जलाने में 3 गिरफ्तार

युवती को जिंदा जलाने में तीन दोस्त गिरफ्तार, रेप में नाकाम होने पर दिया था घटना को अंजाम, युवती की सहेली भी घटना में शामि 

शाहजहांपुर। 22 फरवरी को एसएस कॉलेज से लापता बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा अधजली और नग्न अवस्था में नेशनल हाइवे 24 पर नगरिया मोड़ के किनारे पड़ी मिली थी। इस घटना का पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा किया है। पुलिस ने बताया कि रेप में नाकाम होने पर कॉलेज के ही दोस्तों ने छात्रा पर मिट्टी का तेल छिड़कर उसे जिंदा जलाने की कोशिश की थी। खास बात यह है। कि इस पूरी वारदात की साजिश छात्रा की सहेली ने आरोपियों के साथ मिलकर रची थी। फिलहाल पुलिस ने कॉलेज के 3 छात्रों और पीड़िता की सहेली को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है।
रेप में नाकाम होने पर दोस्तों ने ही जलाया था। बीए की छात्रा को, हाइवे किनारे नग्न अवस्था पड़ी मिली
तिलहर थाना क्षेत्र के नेशनल हाइवे 24 पर नगरिया मोड के पास ग्रामीणों ने नग्न अवस्था और अधजली हालत में एक लड़की को पड़ा हुआ देखा।
जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पुलिस आनन-फानन में मौके पर पहुंच गई और छात्रा को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया, जहां से उसे इलाज के लिए लखनऊ रेफर कर दिया गया। पीड़िता ने इलाज के दौरान लखनऊ में अपने साथ हुई दरिंदगी की जो घटना सुनाई उससे मजिस्ट्रेट के भी रोंगटे खड़े हो गए।
छात्रा का कहना है। कि कॉलेज पहुंचने पर उसकी सहेली ने उसे कुछ लोगों से मिलवाने की बात कही थी। जिसके बाद वह कॉलेज के मनीष, राजू, सुभाष और उसकी सहेली पिंकी उसे लेकर एक सुनसान बाग में ले गए। जहां उसके दोस्तों ने उसके साथ दुष्कर्म की कोशिश की। नाकाम होने पर सभी आरोपियों ने छात्रा पर मिट्टी का तेल छिड़ककर उसे जिंदा आग के हवाले कर दिया। घटना को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी फरार हो गए।
पीड़िता ने बताया कि वो किसी तरह आग बुझाकर सड़क पर आई। ग्रामीणों से मदद मांगी। बाद में तिलहर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उसे मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया जहां से हालत गंभीर होने पर उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया। एसपी एस आनंद ने बताया कि छात्रा के बयान के आधार पर पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है। और सभी को जेल भेज दिया गया है। अभी सभी आरोपियों की कॉल डिटेल, लोकेशन को विस्तृत ढंग से खंगाला जा रहा है। गवाही के साथ ही परिस्थितिजन्य सबूत जुटाए जा रहे हैं। ताकि केस मजबूत हो सके।

चीन समझ गया, कि पीएम मोदी डरे हुए हैं: राहुल

चीन समझ गया है कि प्रधानमंत्री डरे हुए हैं। और उनमें साहस नहीं। राहुल

तूतीकोरिन। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने चीन-भारत सीमा तनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर करारा प्रहार करते हुए शनिवार को आरोप लगाया कि वह अपने पड़ोसी देश से डरे हुए हैं। उन्होंने कहा कि पूर्वी लद्दाख में गतिरोध से पहले चीन ने डोकलाम में इस विचार को आजमाया (2017 में) था। पूर्वी लद्दाख में सैनिकों, हथियारों एव अन्य सैन्य साजो-सामान की पैंगोंग झील के उत्तरी एवं दक्षिणी किनारे से वापसी के साथ पीछे हटने की प्रक्रिया पूरी हो गई है।
कांग्रेस नेता ने कहा, ”निश्चित रूप से चीन ने हमारे देश के कुछ सामरिक इलाकों पर कब्जा किया है। इस विचार को पहले उन्होंने डोकलाम में आजमाया। उन्होंने कहा वे देखना चाहते थे। कि भारत क्या प्रतिक्रिया देता है। और उन्होंने देखा कि भारत ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। और फिर उन्होंने इस विचार को लद्दाख में आजमाया और मेरा मानना है। कि उन्होंने अरूणाचल प्रदेश में भी ऐसा किया होगा। तमिलनाडु में 6 अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले अपनी तीन दिवसीय यात्रा में कांग्रेस नेता ने यहां वकीलों से बातचीत की और केंद्र की सत्तारूढ़ सरकार पर ”हम दो, हमारे दो नारे के साथ कटाक्ष किया। सीमा पर गतिरोध के बारे में गांधी ने कहा कि चीन की घुसपैठ पर मोदी की पहली प्रतिक्रिया थी। कि ”भारत में कोई नहीं घुसा है। उन्होंने कहा इससे चीन को यह संकेत गया कि भारत के प्रधानमंत्री उनसे डरे हुए हैं। चीन को उन्होंने यही संदेश दिया कि वह उनसे डरे हुए हैं। और चीनी यह बात समझ गए।
उन्होंने कहा और तभी से चीन ने इसी सिद्धांत पर बातचीत की है। गांधी ने आरोप लगाए वे जानते हैं। कि भारत के प्रधानमंत्री उनका विरोध नहीं कर पाएंगे। मेरे शब्दों को लिख लीजिए, देपसांग में हमारी जमीन अब इस सरकार के कार्यकाल में वापस नहीं लौट सकती है। उन्होंने आरोप लगाए, प्रधानमंत्री जमीन वापस नहीं ले पाएंगे। वह बहाना करेंगे कि हर चीज का समाधान हो गया है। लेकिन भारत उस क्षेत्र को खोने जा रहा है।
उन्होंने आरोप लगाए कि चीन को इस तरह का संदेश देना भविष्य के लिए काफी खतरनाक है। क्योंकि चीन केवल लद्दाख तक ही नहीं मानने जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार चीन से बेझिझक निपटती थी।” गांधी ने कहा 2013 में जब चीन भारत में घुसा तो हमने कार्रवाई की जिससे वे समझौता करने के लिए बाध्य हुए हम आगे बढ़े और अन्य इलाकों पर भी कब्जा किया। कांग्रेस नेता ने कहा, अब वे समझ गए हैं। कि प्रधानमंत्री में साहस नहीं है। चीन समझ गया है। कि प्रधानमंत्री समझौता करने जा रहे हैं।

संतों के स्‍थलों पर राजनीतिक दलों की नाटकबाजी

संत रविदास की जयंती पर बोलीं मायावती, कहा- स्‍वार्थ के लिए संतों के स्‍थल पर नाटकबाजी कर रहे राजनीतिक दल
हरिओम उपाध्याय 
लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने शनिवार को संत रविदास की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। केंद्र तथा राज्य सरकारों से संत रविदास के बताए रास्ते पर चलकर समाज व देश का कल्याण करने की अपील की।
मायावती ने राजनीतिक दलों पर संतों के स्‍थल पर जाकर नाटकबाजी करने का आरोप लगाया। शनिवार को बसपा द्वारा जारी एक बयान में कांग्रेस, भाजपा व अन्‍य विरोधी दलों पर हमला करते हुए बसपा अध्‍यक्ष ने कहा कि कांग्रेस, भाजपा व अन्‍य विरोधी दल, बसपा की स्‍थापना से पहले देश में दलितों आदिवासियों व अन्‍य पिछड़े वर्गों में जन्‍में महान संतों, गुरुओं व महापुरुषों की हमेशा उपेक्षा करते रहे हैं।
यह किसी से छिपा नहीं है। लेकिन आज ये राजनीतिक पार्टियां अपने स्‍वार्थ के लिए इन महापुरुषों की जयंती आदी पर इनसे जुड़े स्‍थलों पर जाकर नाटकबाजी कर रही हैं।
मायावती ने कहा कि दलितों, आदिवासियों और अन्‍य पिछड़े वर्ग के लोगों को इनसे सावधान रहने की जरूरत है। उल्‍लेखनीय है। कि कांग्रेस महासचिव व उत्‍तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाद्रा वाराणसी में शिरोमणि संत रविदास मंदिर में दर्शन पूजन के बाद सत्‍संग में शामिल हुईं।
राजग गठबंधन में शामिल रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया (आठवले) के अध्‍यक्ष व केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले लखनऊ में रविदास जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करेंगे । इनके अलावा समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव और केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी वाराणसी में रविदास जयंती के अवसर पर अलग-अलग कार्यक्रमों में शामिल होंगे।
बसपा प्रमुख ने सुबह एक ट्वीट में संत रविदास को नमन करते हुए कहा मन चंगा तो कठौती में गंगा’ का अमर मानवतावादी संदेश देने वाले महान संत गुरु रविदास जी की जयन्ती पर उन्हें शत्-शत् नमन व देश व दुनिया में रहने वाले उनके करोड़ों अनुयाइयों को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं।
संत गुरु ने अपना सारा जीवन आदमी को इन्सान बनाने के प्रयास में गुज़ारा। मायावती ने ट्वीट किया, ” बसपा की उत्तर प्रदेश में चार बार बनी सरकार में संतगुरु रविदास के सपनों को साकार करने का भरसक प्रयास हुआ व उनके सम्मान में जो जनहित व जनकल्याण का काम यहाँ किया गया वह किसी से छिपा नहीं है।
केन्द्र व राज्य सरकारें उनके (संत रविदास) बताए रास्ते पर चलकर समाज व देश का भला करें। बाद में बहुजन समाज पार्टी द्वारा जारी एक बयान में मायावती ने कहा कि संत रविदास का धर्म के लिए संदेश स्‍वार्थ के लिए नहीं बल्कि जनसेवा के लिए समर्पित होने का है। जिसे भुला दिये जाने के कारण ही वर्तमान समय में आम जनजीवन अनेक प्रकार की समस्‍याओं से पीडि़त व ग्रस्‍त है।

आरपीआई में शामिल हो जाएं तो बना देंगे अध्यक्ष

रामदास आठवले का मायावती को ऑफर, कहा- आरपीआई में शामिल हो जाएं तो बना देंगे अध्यक्ष
हरिओम उपाध्याय 
लखनऊ। रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया (आरपीआई) के अध्‍यक्ष और केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने शनिवार को कहा कि अगर बहुजन समाज पार्टी की अध्‍यक्ष मायावती उनकी पार्टी में शामिल हो जाएं तो वह अपनी पार्टी के अध्‍यक्ष का पद मायावती को दे देंगे और खुद उपाध्‍यक्ष बन जाएंगे।
शनिवार को यहां दौरे पर आये रामदास आठवले ने अति विशिष्‍ट अतिथि गृह में संवाददाताओं से कहा भीम आर्मी के संस्‍थापक चंद्रशेखर आजाद अगर मेरी पार्टी में आएं तो मैं उन्हें महत्‍वपूर्ण पद दूंगा और अगर मायावती आरपीआई में आ जाएं तो उन्‍हें अध्‍यक्ष का पद देकर खुद उपाध्‍यक्ष बन जाऊंगा, क्‍योंकि यह बाबा साहेब (डाक्‍टर भीम राव आंबेडकर) की पार्टी है। संवाददाताओं ने भीम आर्मी के संस्‍थापक चंद्रशेखर आजाद के साथ तालमेल को लेकर आठवले से सवाल पूछा था। इस पर उन्होंने आजाद के साथ ही मायावती को भी पार्टी में शामिल होने का न्योता दिया। आठवले ने कहा उत्‍तर प्रदेश में लोगों की बसपा से नाराज़गी बढ़ रही है। और लोग आरपीआई की तरफ आ रहे हैं। अगर भाजपा यहां हमारी पार्टी के लिए आठ-दस सीटें छोड़ दे तो आरपीआई बसपा को झटका दे सकती है।
उन्‍होंने कहा कि उत्‍तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए हम भाजपा के साथ समझौता करना चाहते हैं। और आज शाम को इस बारे में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ से हमारी बातचीत होगी। इसके बाद भाजपा अध्‍यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी बातचीत होगी।
यह पूछे जाने पर कि पांच वर्ष से आप बातचीत कर रहे हैं। लेकिन भाजपा आपको एक भी सीट नहीं दे रही है। केंद्रीय मंत्री ने कहा अभी हमारा संगठन बहुत मजबूत नहीं है लेकिन अब जिलों में भी ह‍म संगठन को मजबूत कर रहे हैं। उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यों की सराहना की। आरपीआई अध्‍यक्ष ने कहा कि देश के पांच राज्‍यों में होने वाले विधानसभा चुनाव हम भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ मिलकर लड़ना चाहते हैं। और अगर भाजपा ने समझौते में सीटें नहीं दी तो भी कुछ सीटों पर अपने उम्‍मीदवार उतारेंगे और बाकी जगह भाजपा का समर्थन करेंगे। उन्‍होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में 36 प्रतिशत दलित हैं। और अगर आरपीआई भाजपा के साथ रहेगी तो उसका फायदा मिलेगा। पश्चिम बंगाल में भाजपा को दो सौ से अधिक सीटें मिलने का दावा करते हुए आठवले ने कहा कि वहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में भाजपा को बड़ी सफलता मिलने जा रही है।
केंद्रीय मंत्री ने दावा किया कि चार राज्‍यों में राजग की सरकार आएगी और केरल में भी सफलता मिल सकती है। क्‍योंकि वहां के लोग भी भाजपा को सत्‍ता सौंपने का मन बना रहे हैं। किसान आंदोलन के बारे में पूछे जाने पर आठवले ने कहा हमारी सरकार किसानों के खिलाफ नहीं है। बल्कि किसानों को समर्थन देने वाली सरकार है। लेकिन एक भी कानून वापस लिया जाएगा तो संसद में हर कानून को वापस लेने का दबाव बढ़ेगा। उन्‍होंने कहा कि कृषि कानूनों में संशोधन के लिए सरकार तैयार है।

यूपी: पहचान छिपाकर युवती को प्रेम जाल में फंसाया

दिल्ली: पहचान छिपाकर दिल्ली की युवती को प्रेम जाल में फंसाया, शादी करने पहुँचा कोर्ट तो खुल गया भेद

कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर की तमकुहीराज तहसील में गुरुवार को कोर्ट मैरिज करने आए प्रेमी जोड़े के मामले में नया मोड़ आ गया है। हिन्दूवादी संगठनों के विरोध पर कोर्ट मैरिज रुक जाने के बाद दो दिनों से पुलिस अभिरक्षा में रह रही लड़की ने लड़के पर धर्म छिपाकर अपने जाल में फंसाने का आरोप लगाया है। लड़की प्रेमी के खिलाफ आरोपों की झड़ी लगा रही है। वह अपने परिवारीजनों के साथ वापस घर जाना चाहती है। वहीं मुकामी पुलिस लड़की को अभिरक्षा में लेकर दिल्ली पुलिस व परिवारीजनों के आने के इंतजार में है।
तरयासुजान थाना क्षेत्र के जवही चैनपट्टी निवासी दूसरे धर्म को मानने वाला लड़का व दिल्ली की रहने वाली लड़की के बीच पिछले कुछ महीने से प्रेम प्रसंग चल रहा था। गुरुवार को लड़का अपनी प्रेमिका को लेकर कोर्ट मैरिज कराने के लिए तमकुहीराज तहसील मुख्यालय स्थित एसडीएम कोर्ट पहुंचा था। आरोप है। कि कोर्ट मैरिज के दौरान लड़की को जब लड़के के दूसरे धर्म के होने की जानकारी हुई तो वह शादी से इनकार करने लगी। लड़की का आरोप है, कि लड़के ने उससे धर्म छिपाकर, गलत नाम और पता बताकर अपने जाल में फंसा लिया था। लड़की द्वारा शादी से इनकार करने के बाद लड़के के पक्ष के कुछ लोग उस पर जबरन दबाव देकर शादी कराने का प्रयास करने लगे। इसकी भनक कुछ अधिवक्ताओं और हिंदूवादी संगठनों को लग गयी। तहसील मुख्यालय पहुंचे हिंदूवादी संगठनों के विरोध प्रदर्शन के बाद मामला तरयासुजान पुलिस तक पहुंचा। इस दौरान आरोपी युवती को छोड़ मौके से फरार हो गया। दो दिन से पुलिस अभिरक्षा में रह रही युवती आरोपी युवक के खिलाफ धर्म छिपाकर व बहला फुसलाकर भगाने सहित तमाम गंभीर आरोप लगा। अपने परिवारीजनों के साथ वापस घर जाना चाहती है। घटना को लेकर हिंदूवादी संगठनों व स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है। लोग इस घटना को लव जेहाद से जोड़कर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। जबकि मुकामी पुलिस मामले में दिल्ली के बदरपुर थाने में मुकदमा पंजीकृत होने का हवाला देकर किसी भी कार्रवाई से परहेज कर रही है। इस संबंध में चौकी प्रभारी तमकुहीराज सुनील कुमार सिंह ने कहा कि मामला उच्चाधिकारियों के संज्ञान में है। मामले में युवती के परिवारीजनों ने दिल्ली में मुकदमा दर्ज कराया है। अधिकारियों के निर्देशानुसार आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

मिलीशिया ग्रुप के खिलाफ अमेरिका ने दी चेतावनी

वाशिंगटन डीसी/ तेहरान। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है, कि पूर्वी सीरिया में ईरान समर्थित मिलिशिया ग्रुप के खिलाफ अमेरिकी एयरस्ट्राइक ईरान के लिए एक चेतावनी है। उन्होंने कहा, कि इसे ईरान को एक वार्निंग के रूप में देखना चाहिए। शुक्रवार को ह्यूस्टन में उन्होंने यह बात कही। इससे पहले बाइडेन की प्रेस सचिव जेन साकी ने स्ट्राइक को एक मैसेज बताया था और कहा कि बाइडेन ने यह कदम अमेरिकियों की रक्षा के लिए उठाया है। उन्होंने कहा कि अमेरिका को खतरे से निपटने के लिए कार्रवाई करने और उसके तरीके के चयन का अधिकार है। साकी ने कहा कि स्ट्राइक के पीछे बाइडेन का उद्देश्य सीरिया और इराक में अमेरिका विरोधी गतिविधियों को कम करना था।

गाजियाबाद: डीएम ने सुनी उद्यमियों की समस्याएं

अश्वनी उपाध्याय  
गाजियाबाद। जिला मुख्यालय स्थित महात्मा गांधी सभागार में शनिवार को जिला उद्योग बंधु की बैठक आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने की। बैठक में डीएम ने औद्योगिक विकास से जुड़े अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि औद्योगिक विकास की दृष्टि से गाजियाबाद महत्वपूर्ण जनपद है। डीएम ने उद्यमियों की समस्याओं की गहनता के साथ समीक्षा की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि जनपद के औद्योगिक विकास में और अधिक गतिशीलता लाने के उद्देश्य से जनपद के उद्यमियों के सम्मुख आने वाली समस्याओं का तत्परता के साथ निराकरण सुनिश्चित किया जाए ताकि जनपद का औद्योगिक विकास और अधिक तेजी से आगे बढ़ सके।

यूपी गेट पर मनाया गया 'मजदूर-किसान' दिवस

अश्वनी उपाध्याय  

गाजियाबाद। कृषि कानूनों के विरोध में गाज़ियाबाद के यूपी गेट पर चल रहे किसान आंदोलन में शनिवार को संत रविदास, क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद व किसानों के हितैषी विजय सिंह पथिक को समर्पित करते हुए मजदूर किसान दिवस बनाया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में किसानों के साथ साथ विभिन्न ट्रेड यूनियन के नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे। इस दौरान 11 किसान सुबह 8 बजे से 24 घण्टे के क्रमिक अनशन पर बैठे है। किसान आन्दोलन को गति देने के लिए किसानों द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। इस कड़ी में आज मजदूर किसान दिवस मनाया गया। इस दौरन किसान मंच से किसान नेताओ और मजदूर नेताओ ने केंद्र की भाजपा सरकार पर मजदूर और किसानों का हक छीन कर कॉर्पोरेट की तिजोरियों में बंद करना चाहते हैं। जो किसान और मजदूर नहीं होने देंगे।सीटू नेता गंगेश्वर दत्त ने कहा कि सरकार किसानों के पवित्र आंदोलन को बदनाम कर खत्म करना चाहती है। जबकि किसान अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहे हैं। ऐसे में सभी मजदूर संगठन भी किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर उनकी लड़ाई में साथ खड़े हैं। किसान आंदोलन स्थल पर आंदोलनरत किसानों देश व दुनिया की गतिविधियों की जानकारी उपलब्ध करना के लिए किसान मंच के नजदीक 8x 12 एलईडी स्क्रीन लगाई गई है। इस पर एलईडी स्क्रीन के माध्यम से किसानों को निरन्तर देश-विदेश के समाचारों से अवगत कराया जा रहा है।


गाज़ियाबाद में आने वालों को रहना होगा क्वारंटाइन

अश्वनी उपाध्याय   

गाजियाबाद। जिलाधिकारी अजय शंकर पाण्डेय ने शनिवार को कोविड जांच, वैक्सीनेशन और क्वारंटाइन से संबन्धित मामलों की समीक्षा की। कलेक्ट्रेट स्थित महात्मा गांधी सभागार में आयोजित इस बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी व अन्य अधिकारी शामिल हुए। समीक्षा बैठक में सबसे पहले जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के नगरीय क्षेत्रों में मोहल्ला निगरानी समिति और ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रामीण निगरानी समितियां अपने-अपने क्षेत्रों में महाराष्ट्र और केरल राज्यों से वापस आने वाले यात्रियों का विशेष ध्यान रखें और सुनिश्चित करें कि ऐसे यात्री क्वारंटाइन के नियमों का पालन कर रहे हैं। यदि इन दोनों राज्यों से आने वाले यात्रियों में कोरोना के लक्षण दिखाई दें या वे क्वारंटाइन का उल्लंघन करें तो निगरानी समितियां तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र, जनपद सर्विलान्स इकाई या कमांड सेंटर को फोन पर सूचित करें।  इसके साथ ही जिले की सभी आरडबल्यूए को भी केरल और महाराष्ट्र से आने वाले यात्रियों पर निगाह रखने के आदेश दिए गए हैं। डीएम ने आदेश दिए कि गाज़ियाबाद के सभी रेलवे स्टेशनों और बस अड्डों पर पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से प्रचार किया जाए कि केरल और महाराष्ट्र से आने वाले यात्री गाज़ियाबाद में प्रवेश करने के बाद इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम में सूचना दें ताकि उनके सर्विलान्स, क्वारंटाइन तथा जांच की उचित व्यवस्था की जा सके।

प्रीमियर लीग में खेलेंगे गाज़ियाबाद के 4 खिलाड़ी

अश्वनी उपाध्याय  
गाजियाबाद। इन्दिरापुरम कराटे स्कूल के 4 खिलाड़ियों का चयन राजस्थान राज्य के जयपुर जिले में आयोजित राजस्थान कराटे प्रीमियर लीग के लिए किया गया है। यह अंतर राज्य स्तरीय कराटे प्रतियोगिता इंडियन मार्शल आर्ट संस्थान द्वारा दिनांक 28 फरवरी 2021 को आयोजित की जाएगी। इस प्रतियोगिता में विभिन्न राज्यों से 300 से अधिक कराटे खिलाडी विभिन्न आयु व भार वर्ग में हिस्सा लेंगे।  इन्दिरापुरम कराटे स्कूल के अध्यक्ष एवं मुख्य कोच पुष्पेन्द्र सिंह रावत ने बताया है कि चयनित खिलाड़ियों में आध्या भंडारी, अभिनव सिंह, सुमन जायसवाल और पूरण सिंह हैं। इस अवसर पर स्कूल के पदाधिकारियों कृष्ण रावत, प्रदीप वर्मा, नैना रावत, संजय दुबे, लक्ष्मी वर्मा ने सभी खिलाड़ियों और कोच को शुभकामनाएं दी।

गैंगवार: 2 युवकों को गोलियों से भूना, हत्या

राणा ओबराय 
रोहतक। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के गांव निंदाना मे गांव गुगाहेड़ी रोड स्थित एक मकान की छत पर शराब पी रहे 5 युवकों पर हथियारबंद कार सवार युवकों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। जिसमें 2 युवकों की मौत हो गई। जबकि दो गंभीर रूप से घायल हो गए व एक युवक ने छत से कूदकर जान बचाई।
जानकारी के अनुसार गांव निंदाना निवासी सुमित, विकास, अंकित, अमित व गांव फरमाणा निवासी अंकुश खेत मे बने मकान में शराब पी रहे थे। इसी दौरान एक कार में सवार चार युवक अचानक से उपर आए और अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। जिसमें विकास की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि गांव फरमाणा निवासी अंकुश ने नागरिक अस्पताल में ईलाज के दौरान दम तोड़ दिया व सुमित व अंकित गंभीर रूप से घायल हो गए। वही सुमित ने खेत मे कूदकर जान बचाई। घायलों का रोहतक पीजीआई में ईलाज चल रहा है। मामले की जानकारी आसपास के खेतों में काम कर रहे किसानों ने पुलिस को दी। सूचना मिलते ही उप पुलिस अधीक्षक शमशेर दहिया, थाना प्रभारी कुलबीर कुमार बल के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की जांच की व घायलों को पीसीआर में अस्पताल भेजा। उसके बाद एफएसएल प्रभारी सरोज दहिया को जांच के लिए मौके पर बुलाया। उन्होंने मौके से साक्ष्य जुटाकर जांच शुरू कर दी। सरोज दहिया ने बताया कि मृतक विकास को लगभग 15 व अंकुश को 2 गोली मारी गई हैं। वही घायल सुमित व अंकित को 3 गोली लगी हुई है।
पुलिस अधीक्षक शमशेर दहिया ने बताया कि मामला गैंगवार का लग रहा है। घायलों के बयान होने के बाद मामले की पुष्टि हो पाएगी। अभी तक परिजनों ने गांव के 2 नामजदों व 2 अन्य पर शक जताया है। जांच के लिए स्पेशल टीम बना दी गई है। जल्द ही आरोपियों को काबू किया जाएगा।

बजट सत्र में विधायकों का बिना टेस्ट के होगा प्रवेश

राणा ओबराय 
चंडीगढ। 5 मार्च से शुरू होने वाले हरियाणा विधानसभा बजट सत्र में बिना कोरोना टेस्ट के विधायकों को प्रवेश मिलेगा। इस बार विधायको की सिर्फ थर्मल स्क्रीनिंग होगी। पिछली बार विद्यायको और अधिकारियों का कोरोना टेस्ट जरूरी था। परन्तु इस बार हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र में विधायकों को बिना कोरोना टेस्ट के प्रवेश मिलेगा। सत्र के लिए इस बार विधायकों की कोरोना जांच नहीं कराने का फैसला लिया गया है। प्रवेश से पहले विधायकों की सिर्फ थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। तामपान अधिक होने पर ही प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। यह जानकारी देते हुए विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने बताया कि सत्र के दौरान कोविड के सभी नियमों का पालन होगा।

आजाद, बलिदान दिवस पर वीरता को नमन किया

कौशांबी। महान क्रांतिकारी आजादी के पुरोधा चंद्रशेखर आजाद के बलिदान दिवस पर सराय अकिल कस्बे में 'जय जवान जय किसान' मंच द्वारा एक गोष्ठी आयोजित की गई है। चंद्रशेखर आजाद के बलिदान दिवस पर उनकी वीरता पर उन्हें नमन किया गया है। इस मौके पर जय जवान जय किसान मंच के संयोजक एडवोकेट हाई कोर्ट सुशील जय हिंद ने कहा कि देश की आजादी के लिए महान क्रांतिकारियों वीरों के योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि देश की आजादी को लेकर वीरों ने अपने प्राण न्योछावर कर दिए हैं। वीरों ने देश को आजाद कराते कराते अपना बलिदान कर दिया है। उन्हें कभी भुलाया नहीं जा सकता इस मौके पर उन्होंने कहा कि अंग्रेजों से लोहा लेते हुए महान क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद आज के दिन बलिदान हुए थे। उनकी वीरता पर उन्हें नमन किया जाता है। चंद्रशेखर आजाद के बलिदान दिवस पर एक सुर से उपस्थित लोगों के सिर श्रद्धा से झुक गए हैं।
इस मौके पर वक्ताओं ने वीर सपूत के जीवन गाथा पर विस्तार से चर्चा की है। कार्यक्रम में सुरेंद्र कुमार, सुखदेव वर्मा, दीपक वर्मा, अजीत कुमार, अनिल कुमार पांडेय, मोनू दिवाकर, रौनक तिवारी, परवेज आलम सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।
राजकुमार 

हापुड़ः पुलिस की गैंगरेप के 3 आरोपियों से मुठभेड़

अतुल त्यागी 
हापुड़। पुलिस की गैंगरेप के तीन आरोपियों से मुठभेड़ हुई। लखनऊ-दिल्ली हाइवे पर ऑटो सवार महिला से तीन लोगों ने गैंगरेप किया था। तीनों बदमाशों को पैर में गोली लगीं। एक सिपाही व एक दरोगा घायल। घटना में इस्तेमाल ऑटो, महिला का मोबाइल बरामद। पिलखुवा के गांव गालन्द के रहने वाले हैं, गैंगरेप के तीनों आरोपी।आरोपियों से तीन तमंचे व कारतूस बरामद। पुलिस आरोपियों का आपराधिक इतिहास खंगालने में जुटी। पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र के हाइवे के पास बम्बे पर मुठभेड़ हुई।

देश भीख-प्रदेश चोरी 'संपादकीय'

देश भीख-प्रदेश चोरी     'संपादकीय'
देश की भाजपा सरकार के विरुद्ध एक बड़ा वर्ग क्रांतिकारियों की सूची में स्थापित हो चुका है। आंदोलन के प्रभाव और प्रसार पर नियंत्रण करने में भी बड़ी चूक रही है। सरकार के विरोध को समझने के अभाव में राष्ट्र का हित संभव ही नहीं है। तकनीकी क्षेत्र और औद्योगिक गतिविधियों के विकास का ग्राफ भी ठीक नहीं है। विरोध को शांत करना सरकार की प्राथमिकता का आधार होना चाहिए। किसी भी दशा और अवस्था में आंदोलन की समस्या का मार्ग प्रशस्त किया जाएं। विरोध के चलते भाजपा संगठन को बाधाओं का सामना करना पड़ेगा। भविष्य में भाजपा के द्वारा कई राज्यों के चुनावों में 'मुंह की खानी पड़ेगी'। विरोध का मूल, सदैव पतन का द्वार खोलता है। किसी भी राष्ट्र के कृषकों में व्याप्त आक्रोश सरकार की नींव कमजोर कर देता है। इसिलिए, सनातन शास्त्रों में इसका सीधा-सा उदाहरण अंकित किया गया है, कि 'देश भीख-प्रदेश चोरी' समान फल देने वाले होता हैं। भौतिक विकास में मानवीय विकास की गति की दिशा से सरकार भटक गई है। जनसंस्था घनत्त्व और बेरोजगारी जैसी गंभीर समस्याओं पर सरकार की बोलतीं बंद है। भयावह और प्रमुख समस्याओं पर सरकारी उदारता बरकरार है। सरकार को कई विशेष पहलूओं पर मंथन करने की जरूरत है। यदि समय रहते आवश्यक बिंदुओं पर रचनात्मक उपयोग नहीं किए गए तो भाजपा को बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ेगा।

 चंद्रमौलेश्वर शिवांशु 'निर्भयपुत्र'

यूपी-बिहार में राशन कार्ड बनवाने में खासी परेशानी

यूपी व बिहार में राशन कार्ड बनवाने हो रही परेशानी, तो यहां करें अपनी शिकायत
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। बिहार और यूपी सहित देश के कई राज्यों में इस समय राशन कार्ड बनाने का काम चल रहा है। बिहार में जहां प्रखंड मुख्यालय स्थित आरटीपीएस काउंटर पर आवेदकों की भीड़ सुबह से ही उमड़ने लगती है। तो वहीं दूसरे राज्यों में भी कमोबेश यही स्थिति है। ऐसे में अगर आपको राशन कार्ड से संबंधित कोई भी जानकारी या शिकायत करनी पड़े तो आप टोल फ्री नंबर पर भी कर सकते हैं। कार्डधारकों को मुफ्त आनाज लेने में भी दिक्कत आ रही है। तो वह भी इसकी शिकायत इस टोल फ्री नंबर 1800-180-2087, 1800-212-5512 और 1967 पर कर सकते हैं।
बिचौलियों के द्वारा बहकाया गया तो करें यहां शिकायत
इसके साथ ही संबंधित जिला खाद्य एवं पूर्ति नियंत्रक कार्यालय में या फिर राज्य उपभोक्ता सहायता केंद्र पर भी कर सकते हैं।
कई राज्य सरकारों ने अलग से भी हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। राशन वितरण को लेकर अगर आप कोई भी शिकायत करना चाहें तो एनएफएसए के वेबसाइट पर भी जा कर सकते हैं। इस वेबसाइट पर मेल के जरिए और फोन नंबर के जरिए शिकायत दर्ज किए जाते हैं। हर राज्यों का अलग-अलग टोल-फ्री नंबर है। एनएफएसए के आधिकारिक पोर्टल https://nfsa.gov.in/portal/State_UT_Toll_Free_AA पर हेल्पलाइन नंबर पर आप अपने क्षेत्र के डीलर के बारे में शिकायत कर सकते हैं।

दिल्ली: फैक्ट्री में आग लगाने से 1 की मौत, 3 घायल

दिल्ली के प्रताप नगर में फैक्ट्री में लगी आग, एक की मौत, तीन घायल
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। दिल्ली के प्रताप नगर इलाके में शनिवार तड़के एक फैक्ट्री में आग लग गई। दिल्ली दमकल सेवा के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि आग लगने की सूचना तड़के करीब तीन बजकर 47 मिनट पर मिली, जिसके बाद दमकल की 18 गाड़ियों को रवाना किया गया। आग लगने के कारणों के बारे में फिलहाल पता नहीं चल पाया है।
घटनास्थल से एक शव बरामद किया जा चुका है। इस फैक्ट्री में कार और बाइक के पार्ट बनते हैं। आग लगने के समय फैक्टरी में कुछ मजदूर मौजूद थे। जो कि समय रहते ही बाहर निकल आए और सुरक्षित हैं। आग लगने के बाद फैक्ट्री में अफरा-तफरी मच गई। बताया जा रहा है। कि फैक्ट्री में आग तेजी से फैली।
चीफ फायर अफसर रजिंदर के अनुसार इस फैक्ट्री में आग लगने की घटना में तीन लोग घायल हुए हैं। इनमें से 2 लोग फैक्ट्री में काम करने वाले हैं। और एक फायर कर्मचारी भी घायल हुआ है।

मोदी को मिलेगा वैश्विक पर्यावरण नेतृत्व 'पुरस्कार'

प्रधानमंत्री मोदी को मिलेगा वैश्विक ऊर्जा एवं पर्यावरण नेतृत्व पुरस्कार
अकांशु उपाध्याय   
वाशिंगटन डीसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अगले सप्ताह वार्षिक अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा सम्मेलन में सेरावीक वैश्विक ऊर्जा एवं पर्यावरण नेतृत्व’ पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। प्रधानमंत्री ‘सेरावीक कॉन्फ्रेंस-2021 को संबोधित करेंगे। यह सम्मेलन डिजिटल तरीके से एक से पांच मार्च तक आयोजित किया जाएगा।
कार्यक्रम के आयोजक ‘आईएचएस मार्किट ने यह जानकारी दी। इस सम्मेलन के नामी वक्ताओं में पर्यावरण के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष दूत जॉन केरी बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन’ के सह अध्यक्ष और ब्रेकथ्रू इनर्जी बिल गेट्स’ के संस्थापक और सऊदी अरामको के अध्यक्ष एवं सीईओ अमीन नासेर होंगे। आईएचएस मार्किट के उपाध्यक्ष और कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष डेनियल येरगिन ने कहा हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र की भूमिका पर दृष्टिकोण जानने के लिए उत्सुक हैं। देश की तथा पूरी दुनिया की भविष्य की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने में भारत के नेतृत्व का विस्तार करने की उनकी प्रतिबद्धता के लिए प्रधानमंत्री को सेरावीक वैश्विक ऊर्जा एवं पर्यावरण नेतृत्व पुरस्कार से सम्मानित करते हुए प्रसन्नता का अनुभव कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि आर्थिक विकास, गरीबी घटाना और नए ऊर्जा भविष्य के पथ पर आगे बढ़ते हुए भारत वैश्विक ऊर्जा और पर्यावरण के एक केंद्र के तौर पर उभरा है। और वैश्विक ऊर्जा पहुंच सुनिश्चित करते हुए अच्छे भविष्य के लिए जलवायु परिवर्तन संबंधी लक्ष्यों को पूरा करने के लिए उसका नेतृत्व महत्वपूर्ण है। वार्षिक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में ऊर्जा उद्योग के प्रतिनिधि, विशेषज्ञ, सरकारी अधिकारी, नीति निर्माता, प्रौद्योगिकी, आर्थिक और उद्योग क्षेत्र से जुड़े लोग और ऊर्जा प्रौद्योगिकी के नवोन्मेषकर्ता हिस्सा लेंगे।

96 हजार की डाउन पेमेंट में लें जाएं नेक्सन की कार

मात्र 96 हजार की डाउन पेमेन्ट में घर ले जाएं टाटा नेक्सन की ये कार, जानें कितनी है इसकी कीमत
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। साल की शुरुआत में ही कार कंपनियों ने अपने पैसेंजर सेगमेंट के दाम में बढ़ोत्तरी कर दी थी। कार कंपनियां समय-समय पर वाहनों के दाम में बढ़ोत्तरी करती रही है। ऐसे में नई कार खरीदना मुश्किल होता जा रहा है। वे लोग जो कि खुद की कार खरीदना चाहते हैं। लेकिन एकसाथ कार की पूरी कीमत चुकाने में असमर्थ होते हैं। उनके लिए फाइनेंस का विकल्प बेहतर माना जाता है।
महज कुछ डाउनपेमेंट करने के बाद कार को अपने नाम कर घर ले जाया जा सकता है। यही वजह है। कि कार कंपनियां ग्राहकों को फाइनेंस पर कार उपलब्ध करवाती हैं। अगर आप फाइनेंस पर कार खरीदने की सोच रहे हैं। टाटा की नेक्सन कार को खरीद सकते हैं।
आप इस कार के एक्स डीजल मॉडल को 96 हजार रुपये की डाउनपेमेंट के बाद घर ले जा सकते हैं।
इस कार की कुल कीमत 9,61,691 रुपये (ऑन रोड प्राइस, नई दिल्ली) है। 96 हजार रुपये की डाउनपेमेंट करने के बाद आपको पांच साल के लिए कुल 8,65,691 रुपये का लोन लेना होगा। इसपर 9.8 फीसदी की ब्याज दर लागू होगी।
आपको पांच साल में कुल 10,98,480 रुपये चुकाने होंगे जिसमें 2,32,789 रुपये ब्याज होगा। आपको हर महीने 18,308 रुपये ब्याज चुकाना होगा। अगर आप चाहते हैं। कि ईएमआई का बोझ हल्का हो तो 6 साल के लिए भी कार फाइनेंस करवा सकते हैं।
इस दौरान आपको कुल 11,48,400 रुपये का भुगतान करना होगा जिसमें 2,82,709 रुपये ब्याज होगा। इस दौरान आपको 6 साल तक कुल 15,950 रुपये ईएमआई का भुगतान करना होगा। वहीं अगर आप सात साल के लिए कार फाइनेंस करवाते हैं। तो आपको हर महीने कुल 14,282 रुपये ईएमआई का भुगतान होगा।

शिव मंदिर: रात में रुकने पर पत्थर के बन जाते है लोग

शिव का ऐसा मंदिर जहां रात में रुकने पर पत्थर के बन जाते है। लोग, जानिए क्या है। इसका सच
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। भारत में कई ऐसी जगहें हैं। जहां रात को रूकना मना है। उन जगहों से जुड़ी कुछ मान्यताएं लोगों में खौफ पैदा करती हैं। इन जगहों को लोग भूतिया मानते हैं। और रात में उन जगहों पर रूकने से डरते हैं। अथवा उन जगहों पर रात में रुकने की मनाही होती है। ऐसी हैं। एक जगह भारत के राजस्थान में है। यह है बारमेड़ स्थित किराड़ू मंदिर, यहां लोगों के रात में रूकने की मनाही है। 
किराडू मंदिर अपनी बुरी कहानियों के लिए प्रसिद्ध तो है। लेकिन इस मंदिर की कलाकृतियां सदियों पुरानी हैं। यह भगवान शिव का मंदिर है। 11वी शताब्दी के शिलालेख इस मंदिर में आज भी मौजूद हैं। इसे लघु खजुराहो भी कहा जाता है। किराड़ू मंदिर अपने अंदर एक रहस्य समेटे हुआ है। इसके लिए विश्वभर में इसकी एक अलग ही पहचान है।
इस मंदिर के बारे में प्रचलित है। कि रात में जो भी इसमें ठहरता है। को पत्थर का बन जाता है। स्थानिय निवासियों का मानना है। कि इस मंदिर को एक ऋषी ने श्राप दिया था। जिसके कारण माना जाता है। कि जो भी रात में इस मंदिर में ठहरता हैं। वो पत्थर का बन जाता है। 
लोक मान्यताएं हैं। कि सदियों पहले एक ऋषी अपने शिष्यों के साथ किराडू मंदिर आए थे। साधु कुछ दिनों की तपस्या के लिए मंदिर छोड़कर गांव वालों के भरोसे अपने शिष्यों को छोड़कर गए थे। साधु को लगा कि जिस तरह से गांव वाले उनकी देखभाल करते हैं। उसी तरह उनके शिष्यों का भी ख्याल रखा जाएगा। साधु की उनुपस्थिति में शिष्यों का स्वास्थ्य खराब हो गया। लेकिन कोई भी गांव वाला उनकी सहायता करने नहीं आया। ऋषी जब अपनी तपस्या करके वापस लौटे तो उन्होंने अपने शिष्यों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। साधु को उनके शिष्यों ने बताया कि लोगों ने उनकी कोई सहायता नहीं कि जिस पर क्रोधित होकर साधु ने कहा कि यहां के लोग पत्थल दिल के हैं। वह इंसान बने रहने के योग्य नहीं हैं। इसलिए उन्होंने सबको पत्थर बन जाने का श्राप दे दिया। जिसके बाद गांव के सभी लोग पत्थर के बन गए।
पूरे गांव में केवल एक ही महिला था। जिन्होंने साधु के शिष्यों की मदद की थी। इसलिए साधु ने इस महिला को गांव छोड़कर कहीं चले जाने को कहा था। साथ ही साधु ने उस महिला को कहा था। कि वो गांव छोड़कर जाते समय पीछे मुंडकर ना देखे लेकिन कहा जाता है। कि उस महिला के मन में संदेह हुआ कि तपस्वी की बात सच भी है। या नहीं। इसीलिए उसने पीछे मुड़कर देखा जिसके कारण वह भी पत्थर की बन गयी। किराडू मंदिर से कुछ दूरी पर बसे सिहणी गांव में आज भी उस महिला की पत्थर की मूर्ति को देखा जा सकता है। जिसके कारण इस मंदिर की कहानी को सही माना जाता है।

राष्ट्रपति-प्रधानमंत्री ने संत रविदास को दी श्रद्धांजलि

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री ने संत रविदास को दी श्रद्धांजलि
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद... उपराष्ट्रपति एम वेकैंया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को संत-कवि रविदास को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी।
कोविंद ने ट्वीट कर कहा कि श्री गुरु रविदास जयंती के पावन अवसर पर सभी देशवासियों को शुभकामनाएं। गुरु रविदास जी ने सामाजिक समानता। एकता, नैतिकता तथा परिश्रमरत रहने के मूल्यों पर बल दिया। आइए। हम उनकी शिक्षाओं का पालन करते हुए समता, एकता और न्याय पर आधारित समाज तथा देश के निर्माण के लिए एकजुट होकर आगे बढ़ें।
नायडू ने ट्विटर पर लिखा कि महान कवि-संत गुरु रविदास जी को उनकी जयंती पर आज मेरी विनम्र श्रद्धांजलि। रविदास जी सार्वभौमिक भाईचारे में विश्वास करते थे। और उन्होंने अपनी रचनाओं तथा शिक्षाओं से एकता का संदेश फैलाया है। आज जब हम उन्हें याद कर रहे हैं। तो, उनकी शिक्षाओं का अनुसरण भी करें और संकल्प लें कि उनके दिखाए गए मार्ग पर चलेंगे।
मोदी ने कहा कि सदियों पहले संत रविदास द्वारा समानता, सद्भावना और करूणा पर दिया गया संदेश देश के लोगों को पीढ़ियों तक प्रेरित करेगा। उन्हें (संत रविदास को) उनकी जंयती पर मेरी विनम्र श्रद्धांजलि।
प्रधानमंत्री ने माघ पूर्णिमा के अवसर पर लोगों को बधाई भी दी।

देश में तीसरे दिन कोरोना के 16,488 नए मामले

देश में तीसरे दिन कोरोना के 16,488 नए मामले, 113 की मौत
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। देश में शनिवार को लगातार तीसरे दिन कोविड-19 के 16,000 से अधिक मामले आने से संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,10,79,979 हो गयी जबकि अब तक 1,07,63,451 लोग ठीक हो चुके हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शनिवार सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में संक्रमण के कुल 16,488 मामले आए।
संक्रमण से 113 और लोगों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या 1,56,938 हो गयी है। आंकड़ों के मुताबिक देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,59,590 है। जो कि संक्रमण कुल मामलों का 1.44 प्रतिशत है। संक्रमण से अब तक 1,07,63,451 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। जिससे ठीक होने की दर 97.14 प्रतिशत हो गयी है। जबकि मृत्यु दर 1.42 प्रतिशत है।
देश में पिछले साल सात अगस्त में संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवम्बर को 90 लाख और 19 दिसम्बर को एक करोड़ के पार चले गए थे।

पीछा करने वाले को सुनाई 22 महीने की सजा: एचसी

लड़की का पीछा करता था युवक, कोर्ट ने सुनाई ये सजा
कविता गर्ग  
ठाणे। महाराष्ट्र में ठाणे की एक विशेष अदालत ने एक लड़की का पीछा करने के जुर्म में 24 वर्षीय युवक को 22 महीने के सश्रम कारावास की सजा सुनायी। हाल ही में जारी आदेश में अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश आर आर वैष्णव ने दोषी सुनील कुमार दुखीलाल जायसवाल पर 500 रुपये का जुर्माना भी लगाया।
अदालत ने सुनील को भारतीय दंड संहिता की धारा 354 डी (पीछा करना) और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) कानून के तहत दोषी करार दिया। अतिरिक्त लोक अभियोजक उज्ज्वला मोहोलकर ने अदालत को बताया कि युवक लगातार एक लड़की का पीछा करता था। लड़की के पिता ने जून 2016 में शिकायत दर्ज करायी थी।

अमेजोनिया-1 मिशन के लिए उल्टी गिनती शुरू

पीएसएलवी-सी51/अमेजोनिया-1 मिशन के लिए उल्टी गिनती शुरू

बेंगलुरु। पीएसएलवी- सी51/अमेजोनिया-1 मिशन को आंध्र प्रदेश में श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से प्रक्षेपित करने के लिए उल्टी गिनती शनिवार को शुरू हो गई। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने बताया कि पीएसएलवी-सी51 पीएसएलवी का 53वां मिशन है। इस रॉकेट के जरिए ब्राजील के अमेजोनिया-1 उपग्रह के साथ 18 अन्य उपग्रह भी अंतरिक्ष में भेजे जाएंगे। इस रॉकेट को चेन्नई से करीब 100 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपित किया जाएगा।
इस रॉकेट को प्रक्षेपित करने का समय 28 फरवरी सुबह 10 बजकर 24 मिनट है। जो मौसम की स्थिति पर निर्भर करता है। उल्टी गिनती सुबह आठ बजकर 54 मिनट पर शुरू हो गई। पीएसएलवी (पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल) सी51/अमेजोनिया-1 इसरो की वाणिज्य इकाई न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) का पहला समर्पित वाणिज्यिक मिशन है। अमेजोनिया-1 के बारे में बयान में बताया गया है। कि यह उपग्रह अमेज़न क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी और ब्राजील के क्षेत्र में विविध कृषि के विश्लेषण के लिए उपयोगकर्ताओं को दूरस्थ संवेदी आंकड़े मुहैया कराएगा तथा मौजूदा ढांचे को और मजबूत बनाएगा।

कुत्तों को खाना खिलाने का विवाद पहुंचा हाईकोर्ट

कुत्तों को खाना खिलाने का विवाद पहुंचा कोर्ट, जानिए फिर अदालत ने क्या कहा।
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने भारतीय पशु कल्याण बोर्ड (एडब्ल्यूबीआई) से, आवारा कुत्तों को खिलाने को लेकर राष्ट्रीय राजधानी के वसंत कुंज के एक सेक्टर के निवासियों और पशु प्रेमियों के बीच विवाद के मामले में दखल देने को कहा है। अदालत ने एडब्ल्यूबीआई को उन स्थानों को चिह्नित करने को कहा है। जहां पर कुत्तों को खिलाया जा सकता है। ताकि आसपास के क्षेत्र में शांति और सद्भाव की स्थिति कायम रहे। 
न्यायमूर्ति प्रतिभा एम सिंह ने वसंत कुंज के ई-2 ब्लॉक के रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन (आरडब्ल्यूए) द्वारा डाली जा रही अड़चन के खिलाफ पशु प्रेमियों द्वारा दाखिल एक याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश दिया। अधिवक्ता अभीक चिमनी द्वारा दाखिल याचिका में अदालत को बताया गया कि जब भी वे सड़कों पर रहने वाले कुत्तों को खाना देने का प्रयास करते हैं। तो स्थानीय निवासी इसमें रुकावट डालते हैं। न्यायमूर्ति सिंह ने कहा कि उच्च न्यायालय ने 2009 में एक आदेश में एडब्ल्यूबीआई को कुत्तों को खाना देने के लिए कॉलोनियों में जगह चिह्नित करने का निर्देश दिया था। अदालत ने कहा ऐसा प्रतीत होता है। कि स्थान चिह्नित करने पर सहमति नहीं बन पायी। आरडब्ल्यूए को आशंका है। कि ब्लॉक के खुले क्षेत्र में बच्चे और बुजुर्ग निवासी भी घूमते-टहलते हैं। इससे उन्हें दिक्कतें हो सकती हैं।
अदालत ने निर्देश दिया कि, क्षेत्र में शांति और सद्भाव कायम रखने के लिए एडब्ल्यूबीआई 8 मार्च को दो प्रतिनिधियों को भेजकर आरडब्ल्यूए और याचिकाकर्ताओं के साथ बैठक करेगा। बैठक के दौरान निवासियों से बात कर कुत्तों को भोजन देने के लिए ऐसे स्थान को चिह्नित किया जाएगा जहां पर बच्चे, वरिष्ठ नागरिक नहीं आते-जाते। इस निर्देश के साथ अदालत ने पशुप्रेमियों की याचिका का निपटारा कर दिया।

गुजरात के शहरों में 15 दिन के लिए बढ़ा रात्रि कर्फ्यू

लौट के कोरोना फिर से आया, इन शहरों में 15 दिन के लिए बढ़ाया गया कर्फ्यू
अहमदाबाद। गुजरात सरकार ने हाल ही में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने के बाद अहमदाबाद सहित राज्य के चार प्रमुख शहरों में लगाया गया रात का कर्फ्यू 15 दिन और बढ़ाने का निर्यण किया है। अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा और राजकोट में रात के कर्फ्यू की अवधि 28 फरवरी को समाप्त हो रही थी। शुक्रवार रात जारी एक बयान में कहा गया कि कोरोना वायरस संक्रमण के मामले हाल में बढ़ने के बाद सरकार ने चार नगर निगमों में रात का कर्फ्यू 15 दिन और बढ़ाने का फैसला किया है।
गौरतलब है। कि पिछले वर्ष दीपावली के बाद इन शहरों में संक्रमण के मामले बढ़ने के बाद पहली बार रात का कर्फ्यू लगाया गया था। और यह पांचवीं बार है। जब रात्रि कर्फ्यू की अवधि को बढ़ाया गया है। यह कर्फ्यू आधी रात से शुरू हो कर सुबह छह बजे तक चलता है। लेकिन बयान में यह नहीं बताया गया है। कि बढ़ाए गए रात्रिकालीन कर्फ्यू का वक्त क्या रहेगा।मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने शुक्रवार को गुजरात में संक्रमण के हालात की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की थी। जिसके बाद यह बयान जारी किया गया है। बयान के अनुसार राज्य में कोविड-19 टीकाकरण अभियान के प्रथम चरण में कुल 4.82 लाख स्वास्थ्य कर्मियों में से 4.07 लाख से अधिक को टीके की पहली खुराक दी गई थी।इसमें कहा गया कि अब तक 1.23 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को टीके की दूसरी खुराक दी जा चुकी है।

बरेली: कलेक्ट्रेट परिसर में कई विभागों के टूटे ताले

बरेली: कलेक्ट्रेट परिसर में कई विभागों के टूटे ताले, दो लैपटॉप, एक मोबाइल समेत अन्य सामान चोरी
संदीप मिश्र 
बरेली। कलेक्ट्रेट परिसर स्थित कामर्शियल कोर्ट के मंडलीय कार्यालय, आबकारी विभाग के मालखाना और भूलेख विभाग के कार्यालय के चोरों ने ताले तोड़ दिए। चोर भूलेख कार्यालय से दो लैपटॉप, एक मोबाइल बिना सिम के, एक डिवाइस चुरा ले गये। आबकारी के मालखाने से भी सामान चोरी हुआ है। कई फाइलें भी चोरी होने की चर्चा है।
इस मालखाने में अवैध शराब के पकड़े गये सामान रखा था। यहां का कुछ सामान कामर्शियल कोर्ट की छत पर बिखरा मिला। तमंचा, बीयर की खाली केन प्लास्टिक के कट्टे भी पड़े मिले। पुलिस ने सामान कब्जे में ले लिया है। चोरी की घटना गुरूवार की रात की बताई जा रही है। कामर्शियल कोर्ट कार्यालय से कोई सामान चोरी नहीं हुआ है। पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

भारत के टॉप सरकारी अस्पताल, बेहतर इलाज

भारत के ये है। टोप बेस्ट सरकारी अस्पताल, यहां होता है। बड़ी से बड़ी बीमारी का इलाज, आप भी जानें
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। भारत के कई ऐसे सरकारी अस्पताल हैं। जहां बड़ी से बड़ी बीमारियों का सस्ती इलाज होता हैं। इसके बारे में सभी लोगों को सही जानकारी होनी चाहिए ताकि लोग किसी भी बीमारी का इलाज कम से कम खर्च पर वो करा सके।
ये हैं। भारत के टॉप-5 सबसे बेस्ट सरकारी अस्पताल, सभी को जानना ज़रूरी।
1 .अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली: भारत के सबसे बेस्ट सरकारी अस्पतालों में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली पहले नंबर पर हैं। बता दें की इस अस्पताल में सभी प्रकार के बीमारियों का इलाज होता हैं।
2 .पीजीआईएमईआर, चंडीगढ़। भारत के सबसे बेस्ट सरकारी अस्पतालों में पीजीआईएमईआर चंडीगढ़ दूसरे नंबर पर हैं।
इस अस्पताल में कई तरह की उच्च स्तरीय व्यवस्था भी मौजूद हैं। आप यहां बड़े दे बड़े बीमारियों का इलाज करा सकते हैं।
3 .सफदरजंग अस्पताल, नई दिल्ली। भारत के बेस्ट अस्पतालों में सफदरजंग अस्पताल, नई दिल्ली का नाम आता हैं। सरकार ने इस अस्पताल में कई तरह की सुविधाएं उपलब्ध करा रखी हैं। यहां सस्ते दामों पर बड़ी से बड़ी बीमारियों का इलाज करा सकते हैं।
4 .दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल, नई दिल्ली। बड़ी से बड़ी बीमारियों का इलाज कराने के लिए दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल, नई दिल्ली भी अच्छा माना जाता हैं। इस अस्पताल में कई तरह की फैसलिटी मौजूद हैं। यह देश के बेस्ट अस्पतालों में मौजूद हैं।
5 किंग एडवर्ड मेमोरियल अस्पताल, मुंबई। बता दें की मुंबई का किंग एडवर्ड मेमोरियल अस्पताल देश के बेस्ट अस्पतालों में से एक हैं। आप इस अस्पतालों में सस्ते दामों पर बड़ी से बड़ी बीमारियों का इलाज करा सकते हैं। यहां करीब-करीब सभी प्रकार की बीमारियों का इलाज किया जाता हैं।

5 साल में 1 दिन स्कूल नही पहुंची शिक्षिका, वेतन

यूपी का शिक्षा विभाग महान है। पांच साल में एक दिन स्कूल नही पहुंची शिक्षिका, फिर भी मिलता रहा वेतन, तीन पर मामला दर्ज

लखनऊ। बेसिक शिक्षा विभाग में बड़ा घपला सामने आया है। एक शिक्षिका का 1297 दिनों तक गैर हाजिर रहने के बाद भी उसका वेतन जारी होता रहा। मामले का खुलासा होने के बाद अब आरोपी शिक्षिका और उसके पति समेत तीन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराकर गैरहाजिरी के दौरान वेतन के रूप में ली गई धनराशि की रिकवरी कराने की कार्रवाई शुरू कर दी है। डीएम ने शिक्षिका से रिकवरी के आदेश भी दिए हैं।
अफसरों और शिक्षिका की साठ-गांठ का यह मामला अजीमनगर थाना क्षेत्र के सैदनगर ब्लाक के कुम्हरिया गांव के प्राथमिक स्कूल से जुड़ा हुआ है। यहां प्रीति यादव नाम की एक शिक्षका की तैनाती लगभग 62 माह (2011 से 2015) तक रही है। वह स्कूल से लगातार गैरहाजिर रही
पांच सालों में वह 1297 दिन गैर हाजिर रही। रजिस्ट्रर में उसे गैर हाजिर दिखाया गया है। लेकिन उसके वेतन का भुगतान कर दिया जाता रहा। खास बात यह है। कि तत्कालीन बीएसए ने उसके खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए थे।
एबीएसए ने भी वेतन जारी करने की संस्तुति नहीं की थी। इसके बाद भी वेतन जारी कर दिए गए थे। इस मामले की जानकारी मिलने के बाद जिलाधिकारी ने जांच बैठा दी और बीएसए से रिपोर्ट तलब की थी। रिपोर्ट मिलने के बाद डीएम के आदेश पर अजीमनगर थाने में खंड शिक्षाधिकारी प्रेम सिंह राणा की ओर से रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। एसओ रविंद्र कुमार ने पुष्टि की कि आरोपी शिक्षिका, उसके पति और एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।
फिलहाल बाराबंकी में तैनात है। शिक्षिका
सैदनगर के कुम्हरिया कलां गांव के स्कूल में तैनात रही शिक्षिका प्रीति यादव 2011 में रामपुर में तैनात हुई थीं। वह 2005 से शिक्षिका के पद पर तैनात हैं। बेसिक शिक्षा अधिकारी ऐश्वर्य लक्ष्मी ने बताया कि प्रीति यादव 15 जुलाई 2011 से रामपुर में तैनात थी। ज्वाइन करने के दो दिन बाद से ही वह गैरहाजिर हो गईं। खंड शिक्षाधिकारी ने उसके खिलाफ कार्रवाई को लिखा। वेतन रोकने के आदेश हुए, लेकिन जब बैंक स्टेटमेंट जारी हुआ तो पता चला कि वेतन जारी हो रहा है। तत्कालीन बीएसए ने सेवा समाप्ति को भी लिखा था। लेकिन जब सेवा समाप्ति का नोटिस जारी हुआ तो उक्त शिक्षिका अंतरजनपदीय तबादले के तहत बाराबंकी चली गई। कार्रवाई के लिए बाराबंकी के बीएसए को भी लिखा गया है।
अफसरों की साठ-गांठ से निकलता रहा वेतन
रामपुर। स्कूल न जाने वाली शिक्षिका का वेतन यूं ही नहीं निकलता रहा। इसके पीछे अफसरों और लेखा विभाग से जुड़े अफसरों और कर्मियों की साठ-गांठ भी कम जिम्मेदार नहीं है। ब्लाक स्तर से बीएसए दफ्तर और लेखा दफ्तर और आला अफसरों तक की साठ-गांठ के चलते यह सब हुआ है। इस तरह के कई केस सामने आ चुके है।

46 साल के व्यक्ति ने खरीदी, 12 साल की लड़की

46 साल के व्यक्ति को 10,000 रुपये में 12 साल की लड़की बेची

नेल्लोर। आंध्र प्रदेश के नेल्लोर जिले में एक दंपति ने अपनी 12 साल की लड़की को 46 वर्षीय एक व्यक्ति को बेच दिया। दंपति ने ऐसा इसलिए किया, क्योंकि उन्हें अपनी बड़ी बेटी का इलाज करना था। उनकी बड़ी बेटी सांस के रोग से पीड़ित है। चिन्ना सुब्बैया ने नाबालिग से शादी की। हालांकि महिला और बाल विकास अधिकारियों ने लड़की को बचा लिया। नाबालिग को जिला बाल स्वास्थ्य केंद्र में स्थानांतरित कर दिया गया है। जहां उसकी काउंसलिंग की जा रही है।
कोट्टूर निवासी दंपति से उनके पड़ोसी सुब्बैया ने मुलाकात की। उसने कथित तौर पर 10,000 रुपये में सौदा किया। रिपोर्ट के अनुसार लड़की के माता-पिता ने 25,000 रुपये मागे थे। इस मामले की जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों ने कहा कि सुब्बैया की पत्नी ने झगड़े के बाद उसे छोड़ दिया था। नाबालिग से शादी करने के बाद वह उसे अपने रिश्तेदार के यहां धामपुर जिले में ले आया। जहां नाबालिग ने रोना शुरू कर दिया, जिसके बाद पड़ोसियों ने उससे पूछताछ की और गांव के सरपंच को मामले की जानकारी दी। गांव के सरपंच ने तब बाल विकास विभाग से संपर्क किया।

जेल से भागे 400 से ज्यादा कैदी, 25 कैदियों की मौत

जेल में हड़कंप, भागे 400 से ज्यादा कैदी, 25 कैदियों की मौत

पोर्ट-ओ-प्रिंस। हैती की सरकार ने शुक्रवार को कहा कि जेल से 400 से ज्यादा कैदी फरार हो गए हैं। और गोलीबारी की घटना में जेल निदेशक समेत 25 लोगों की मौत हो गई। यह घटना गुरुवार को राजधानी पोर्ट ओ प्रिंस के उत्तर पूर्व में स्थित क्रूआ दि बूके सिविल जेल में हुई। घटना के वक्त जेल में 1542 कैदी थे। इस जेल का निर्माण 2012 में कनाडा ने कराया था। वर्ष 2014 में इसी जेल से 300 से अधिक कैदी फरार हुए थे। मारे जाने वाले लोगों में एक शक्तिशाली गैंग का सरदार और जेल निदेशक भी शामिल हैं। यह घटना राजधानी पोर्ट-ओ-प्रिंस के बाहरी इलाके में गुरुवार को क्रॉक्स-डेस-बुकेट्स जेल में घटित हुई।
माना जा रहा है, कि गैंग लीडर अर्नेल जोसेफ को जेल से भगाने के लिए इस घटना को अंजाम दिया गया। जोसेफ हैती में 2019 में गिरफ्तारी से पहले तक दुष्कर्म, अपहरण और हत्या के आरोपों में वांछित भगोड़ा था। जेल से फरार होने के बाद उसके पैरों में जेल की चेन थी। और वह मोटरसाइकिल पर बैठकर भाग रहा था।
जोसेफ के भागने के एक दिन बाद उसे एक चेकप्वांइट पर देखा गया। पुलिस प्रवक्ता गैरी डेसोर्स ने कहा कि देखे जाने पर जोसेफ ने पुलिसवालों पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में उसकी मौत हो गई। गैंग लीडर राजधानी पोर्ट ओ प्रिंस में स्थित गांग डी एडियो और अन्य समुदायों पर शासन करता था।
अधिकारियों ने अभी तक जेल तोड़े जाने को लेकर ज्यादा जानकारी नहीं दी है। सिवाय इसके कि 60 कैदियों को दोबारा पकड़ लिया गया है। और मामले की जांच जारी है। राज्य सचिव, फ्रांट्ज़ एक्जेंटस ने कहा कि अधिकारियों ने जेल तोड़े जाने की घटना की जांच के लिए कई आयोग बनाए हैं। मारे जाने वालों में जेल निदेशक भी शामिल हैं। जिनकी पहचान पॉल जोसेफ हेक्टर के तौर पर हुई है।
स्थानीय लोगों ने बताया कि उन्होंने कैदियों के फरार होने से पहले बड़ी संख्या में हथियारबंद लोगों को जेल के सुरक्षाकर्मियों पर गोलियां चलाते देखा था। गोलीबारी शुरू होने के काफी देर बाद तक जेल के अंदर गोलियों की आवाजें सुनाई देती रहीं। हैती के राष्ट्रपति जोवेलेन मोइस ने शुक्रवार को ट्वीट कर कैदियों के भागने और गोलीबारी की घटना की निंदा की और लोगों से धैर्य बनाए रखने को कहा।
वहीं कुछ लोगों का मानना है, कि घटना को एक प्रमुख व्यवसायी के बेटे क्लिफोर्ड ब्रांड्ट को मुक्त करने के लिए अंजाम दिया गया था। जिसे 2012 से प्रतिद्वंद्वी व्यवसायी के वयस्क बच्चों का अपहरण करने के आरोप में जेल में बंद किया गया है। डोमिनिकन रिपब्लिक सीमा के पास ब्रांड्ट को दो दिन बाद पकड़ लिया गया।

महाराष्ट्र: कई इलाकों में स्कूल-कॉलेज व मंदिर बंद

कई इलाकों में स्कूल, कॉलेज, मंदिर बंद
मनोज सिंह ठाकुर   
मुंबई। महाराष्ट्र में लगातार तीसरे दिन पिछले 24 घंटों में 8,000 से अधिक नए कोविड-19 के मामले दर्ज किए गए जो फिलहाल देश के किसी भी राज्य में सबसे अधिक है। 8,333 नए मामलों के साथ, राज्य में अब कुल मामलों की संख्या 2,138,154 हो गई है।
इन ताज़ा मामलों में से शुक्रवार को अकेल मुंबई में 1,035 कोविड-19 के नए मामले सामने आए हैं। हालांकि शुक्रवार को बताए गए ताजा संक्रमणों की संख्या में गुरुवार की संख्या से मामूली गिरावट दर्ज की गई। पूरे राज्य में इस समय कोविड-19 की स्थिति गंभीर बनी हुई है।
आपको बता दें कि फरवरी के दूसरे सप्ताह से ही राज्य के अमरावती जैसे जिलों से रोजाना संक्रमण की संख्या में वृद्धि की सूचना आ रही थी। इसे देखते हुए इन जिलों में प्रतिबंध भी लगाए गए हैं। जबकि मुंबई में निगरानी को मजबूत किया गया है। इसके अलावा सतारा, नागपुर, पुणे, जालना और लातूर सहित कई जिलों ने प्रतिबंध लगाए गए हैं। वहीं अमरावती में एक सप्ताह का लॉकडाउन और यवतमाल में 28 फरवरी तक 10 दिन का लॉकडाउन लगाया गया है।
महाराष्ट्र के अन्य जिलों में भी कोरोना मामलों को कम करने के लिए विदर्भ क्षेत्र से यात्रा पर प्रतिबंध लगाया गया है। कई इलाकों में स्कूल, कॉलेज, मंदिर सब बंद कर दिए गए हैं। पूरे राज्य में 22 फरवरी से राजनीतिक, सांस्कृतिक समारोह पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है।
लॉकडाउन की अटकलों के बीच, महाराष्ट्र के मंत्री विजय वडेट्टीवार ने स्थानीय मीडिया को बताया कि महाराष्ट्र में पूर्ण, राज्यव्यापी तालाबंदी नहीं की जाएगी लेकिन आम जनता के लिए मुंबई की स्थानीय सेवाओं को बंद करने जैसे अतिरिक्त प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।

असुविधा: पेट्रोल-डीजल की कीमतों में फिर बढ़ोतरी

पेट्रोल-डीजल के दामों में आज लगी आग
अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। सरकारी तेल कंपनियों की ओर से तीन दिन की राहत के बाद शनिवार को फिर पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी की गई है। शनिवार को डीजल की कीमत में 15 से 16 पैसे तक की बढ़ोतरी हुई है। तो वहीं पेट्रोल की कीमत 24 से 25 पैसे तक बढ़ी है। दिल्ली और मुंबई सहित देश के लगभग सभी राज्यों में पेट्रोल की कीमत अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का दाम 91.17 रुपये जबकि डीजल का दाम 81.47 रुपये पहुंच गया है। वहीं मुंबई में पेट्रोल की कीमत 97.57 रुपये व डीजल की कीमत 88.60 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई है। कोलकाता में पेट्रोल 91.35 रुपये और डीजल 84.35 रुपये प्रति लीटर है। चेन्नई में पेट्रोल 93.11 रुपये और डीजल 86.45 रुपये प्रति लीटर है। नोएडा में पेट्रोल 89.38 रुपये और डीजल 81.91 रुपये प्रति लीटर है। बैंगलूरु में पेट्रोल 94.22 रुपये और डीजल 86.37 रुपये प्रति लीटर है। भोपाल में पेट्रोल 99.21 रुपये और डीजल 89.76 रुपये प्रति लीटर है। चंडीगढ़ में पेट्रोल 87.73 रुपये और डीजल 81.17 रुपये प्रति लीटर है। पटना में पेट्रोल 93.48 रुपये और डीजल 86.73 रुपये प्रति लीटर है। लखनऊ में पेट्रोल 89.31 रुपये और डीजल 81.85 रुपये प्रति लीटर है।

माघ पूर्णिमा पर स्नान करते 5 श्रद्धालु डूबे, 3 लापता

कासगंज। उत्तर प्रदेश में कासगंज के सिकंदरपुर क्षेत्र में माघ पूर्णिमा के मौके का गंगा स्नान के दौरान पांच श्रद्धालु नदी में डूब गए। जिनमें से तीन को बचा लिया गया। धिकृत सूत्रों ने शनिवार को बताया कि आज बड़ा गंगा स्नान के मौके पर कादरगंज गंगा घाट पर बड़ी संख्या में स्नानार्थी जुटे थे कि इस बीच स्नान कर रहे दो लोग पैर फिसलने के कारण नदी के तेज बहाव की चपेट में आ गये जिन्हे बचाने के प्रयास में एक एक कर तीन और लोग डूबने लगे।

आईपीएल के लिए बीसीसीआई ने 5 शहर चुनें

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 के आयोजन के लिए देश में कोलकाता और अहमदाबाद समेत पांच शहरों का चुनाव किया है। लेकिन कोराना वायरस (कोविड-19) महामारी के फिर से बढ़ते मामलों को देखते हुये अभी तक मुंबई को इस सूची में शामिल नहीं किया गया है। आईपीएल के 14वें सीजन के लिए हाल ही में चेन्नई में नीलामी प्रक्रिया पूरी हो गई है। टूर्नामेंट के स्थान और शेड्यूल को लेकर तैयारियां चल रही हैं। कोरोना महामारी और लॉकडाउन की वजह से आईपीएल का 13वां सीजन संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में खेला गया था। अब स्थिति के पहले से बेहतर होने और टीकाकरण की शुरुआत होने के बाद इस बार आईपीएल का आयोजन भारत में होना पूरी तरह तय है।

चौथें टेस्ट से पहले टीम से बाहर हुए गेंदबाज बुमराह

अहमदाबाद। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को निजी कारणों से गुरूवार से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू हो रहे चौथे क्रिकेट टेस्ट के लिये भारतीय टीम से रिलीज किया गया है। बीसीसीआई ने यह जानकारी देते हुए कहा कि चौथे टेस्ट के लिये बुमराह की जगह किसी को टीम में शामिल नहीं किया गया है। बोर्ड के सचिव जय शाह ने एक विज्ञप्ति में कहा,” जसप्रीत बुमराह ने अनुरोध किया था कि निजी कारणों से वह चौथा टेस्ट नहीं खेल पायेंगे। उन्हें टीम से रिलीज कर दिया गया है और वह चयन के लिये उपलब्ध नहीं हैं।” बुमराह को सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिये पहले ही आराम दिया गया है।

रुद्रपुर में कई जगहों पर बनेंगे हाईटेक शौचालय

रुद्रपुर। शहर के मुख्य स्थानों पर नगर निगम नए हाईटेक शौचालय बनाने की तैयारी में है। जिसके लिए नगर निगम द्वारा टेंडर भी निकाला गया है। बता दें बाजार क्षेत्र में अतिक्रमण के ध्वस्तीकरण के दौरान कई शौचालय भी ध्वस्त कर दिये गए थे, जिसको लेकर अब नगर निगम नए हाईटेक शौचालय बनाने जा रहा है। जिसके लिए नगर निगम द्वारा टेंडर भी निकाला गया है।
न्यायालय के आदेश पर रुद्रपुर बाजार क्षेत्र में 12 मई 2018 से अतिक्रमण के खिलाफ नगर निगम ने व्यापक अभियान शुरू किया था। कई दिनों तक चले इस अभियान में अतिक्रमण की जद में आए कई शौचालयों को भी ध्वस्त किया गया था। इसके बाद बाजार क्षेत्र में नगर निगम ने नए शौचालयों का निर्माण नहीं कराया। इस कारण व्यापारियों के साथ ही खरीदारी के लिए बाजार आने वाले लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
शहर में दुकानदारों व ग्राहकों को शौच संबंधित समस्याओं को देखते हुए नगर निगम बाजार क्षेत्र में जल्द छह नए हाईटेक शौचालयों के निर्माण करने के लिए आठ मार्च को टेंडर खोलने जा रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार इस टेंडर में केवल संस्थाएं ही आवेदन करेंगी। ठेकेदारों द्वारा कार्यों में बरती जा रही लापरवाही के चलते नगर निगम द्वारा यह फैसला लिया गया है।

पर्यावरण अनुकूल वस्तु का उपयोग बढ़ाने का आह्वान

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को खिलौना निर्माताओं से नवप्रवर्तन पर ध्यान केन्द्रित करने और विनिर्माण में प्लास्टिक का इस्तेमाल घटा कर उसकी जगह पर्यावरण अनुकूल सामग्रियों का उपयोग बढ़ाने का आह्वान किया। भारत के पहले खिलौना मेला 2021 का उद्घाटन करते हुए, मोदी ने कहा कि हमें खिलौना क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनना होगा और वैश्विक बाजार की जरुरतों को भी पूरा करना होगा। उन्होंने बाजार में भारत की वर्तमान स्थिति पर खेद जताते हुए कहा कि 100 अरब डॉलर के वैश्विक खिलौना बाजार में भारत की हिस्सेदारी बहुत कम है, और देश में बिकने वाले लगभग 85 प्रतिशत खिलौने आयात किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि हमें भारत में हाथ से बने उत्पादों को बढ़ावा देने की जरूरत है।

हैवानियत: बहन से दुष्कर्म करता था नाबालिग भाई

राणा ओबराय  

यमुनानगर। हरियाणा के यमुनानगर जिले में भाई-बहन के रिश्ते को शर्मसार करने का मामला प्रकाश में आया है। नाबालिग भाई (16 साल) मानसिक रूप से बीमार सगी बहन (17 साल) से दुष्कर्म करता रहा। बहन की तबीयत खराब होने पर जब परिजन उसे लेकर अस्पताल पहुंचे तो पांच माह के गर्भ का पता चला। इसके बाद पूछताछ में सच्चाई उजागर हुई। अस्पताल प्रबंधन की सूचना पर पहुंची पुलिस ने किशोरी और परिजनों के बयान दर्ज किए। साथ ही मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार किशोरी के माता-पिता काम पर चले जाते थे। उनका बेटा और मानसिक रूप से बीमार बेटी घर पर रहते थे। शुक्रवार को माता पिता को किशोरी के पैरों में सूजन व आंखों में पीलापन दिखाई दिया। इस पर वे उसे अस्पताल लेकर गए, जहां चिकित्सकों ने जांच की तो किशोरी पांच माह की गर्भवती निकली। यह सुनकर परिजन हैरान रह गए।

बालिकाएं-महिलाएं खुलकर बोले, चुप्पी तोड़ो मंच

संदीप मिश्र  
रायबरेली। प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं और बालिकाओं की सुरक्षा हेतु पिछली नवरात्रि के आगामी नवरात्र तक पूरे प्रदेश में मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है। जिसे जनपद रायबरेली में बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित मीना मंच सुगम करता टीम बखूबी बच्चों अभिभावकों के सहयोग से चार्ट पोस्टर रंगोली पेंटिंग पपेट आदि के माध्यम से जबरदस्त जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में अमावा विकासखंड की मीना मंच विद्यालय ओ न ई जंगल के प्रांगण में मिशन शक्ति जागरूकता कार्यक्रम विद्यालय स्टाफ द्वारा कराया गया जिसमें बतौर मुख्य अतिथि महिला थाना अध्यक्ष उमा अग्रवाल ने उपस्थित बालिकाओं एवं महिलाओं को जागरूक करते हुए कहा कि विषम परिस्थितियों में डरे नहीं सहे नहीं खुलकर मुकाबला करें हिम्मत और साहस से सामना करके परिस्थितियों से निपटें आवश्यकता पड़ने पर हेल्पलाइन नंबर का प्रयोग करें खुद सुरक्षित रहें और दूसरों को सुरक्षित करें।
सेवानिवृत शिक्षिका डॉक्टर शैल सिंह ने कहा कि आज बालिकाएं एवं महिलाएं आत्मनिर्भर निडर साहसी बन रही हैं जरूरत है कि अपने आप को कमजोर न समझे अगला अपने आप कमजोर हो जाएगा।
कार्यक्रम में बालिका शिक्षा रिसोर्स पर्सन शिक्षक एस .एस पाण्डेय ने बताया कि आज पूरे जनपद में गांव-गांव घर-घर तक प्रदेश सरकार की मुहिम को पहुंचाने के लिए पूरी सुगम करता टीम पेंटिंग रंगोली पपेट चार्ट मेहंदी स्लोगन के माध्यम से मिशन शक्ति अभियान को प्रभावशाली तरीके से जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी आनंद प्रकाश शर्मा के दिशा निर्देशन चलाया जा रहा है श्री पांडे ने कहा कि आवश्यक एवं महत्वपूर्ण नंबर सभी को जानकारी होना चाहिए जिसमें वुमन पावर लाइन 1090 महिला सुरक्षा हेल्पलाइन 181 आपातकालीन पुलिस सहायता 112 स्वास्थ्य सेवा 102 एंबुलेंस सेवा 108 तथा मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076 को आवश्यकता पड़ने पर डायल करें।
विद्यालय स्टाफ राजेंद्र कुमार कंचन मीना मंच सुगम करता गरिमा सिंह ने बच्चों के द्वारा मिशन शक्ति से संबंधित रंगोली एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा स्टाल के माध्यम से ग्रामीणों को जागरूक करने हेतु बालिकाओं की भागीदारी कराई गई प्रस्तुत सांस्कृतिक कार्यक्रम की भूरी भूरी सराहना की गई।
आयोजित कार्यक्रम को राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह संचालन नीरज बृजेंद्र सिंह नोडल बालिका शिक्षा सौदामिनी सिंह कुमकुम आकांक्षा गुप्ता उषा सिंह गीता सहित अन्य आगंतुकों द्वारा मिशन शक्ति अभियान पर विचार व्यक्त किए गए।
अंत में सभी आगंतुकों के प्रति धन्यवाद एवं आभार विद्यालय प्रभारी राजेंद्र कुमार एवं गरिमा सिंह द्वारा संयुक्त रुप से व्यक्त किया गया।

निषाद समाज के लोगों को 10 लाख रुपये की मदद

 बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू पहुंचे बंसवार। उनके साथ पूर्व विधायक अनुग्रह नारायण सिंह, प्रदेश पदाधिकारी, जिला अध्यक्ष समेत कई वरिष्ठ भी पहुंचें। बताते चले कि पुलिसिया उत्पीड़न के शिकार निषाद समाज के लोगों को 10 लाख रुपये की दी मदद। इससे पूर्व महासचिव प्रियंका गांधी ने बंसवार में आकर की थी पीड़ितों से मुलाकात की थी
। श्रीमती गांधी ने पीड़ित परिवार को हर सम्भव मदद का भरोसा दिया था। जिसे महासचिव प्रियंका गांधी ने पूरा किया वादा। श्रीमती गांधी ने ट्वीट करके किया था आर्थिक मदद देने का ऐलान।

8वें दिन भी फीता बांधकर कर्मचारियो का प्रदर्शन

सन्दीप मिश्र  

रायबरेली। राज्य कर्मचारी सँयुक्त परिषद उत्तर प्रदेश के आह्वाहन पर रायबरेली में 8 वे दिन कर्मचारियो ने किया प्रदर्शन परिषद के जिला मंत्री राजकुमार ने बताया कि करोना महामारी में लगातार जनता की सेवा करने वाले कर्मचारियो के मांगो पर माननीय मुख्य सचिव से हुए समझौतों पर अभी तक शासनादेश जारी नही हुआ है। जिससे कर्मचारियो में आक्रोश ब्याप्त है। कर्मचारियो के भत्ते बन्द किये गये गए डीए फ्रीज किये गये है। परिषद माननीय मुख्य मंत्री जी उत्तर प्रदेश से अनुरोध करता है कि कर्मचारियो के 27 सूत्रीय मांगपत्र पर /पूर्व में हुए समझौतों पर सहानभूति पूर्वक विचार कर जल्द से जल्द शासनादेश जारी करने की कृपा करें। जिससे समस्त कर्मचारी सौहारदपुरक सरकारी कार्यो का सम्पादन कर सकें तथा अपने बच्चों का लालन पालन शिक्षा की ब्यवस्था भी कर सके उक्त प्रदर्सन में मुख्य रूपस्वास्थ्य विभाग ,परिवहन विभाग सिचाई विभाग समाज कल्याण विभाग वन विभाग के कर्मचारियो के द्वाराकिया जा रहा हैआलोक वाजपेई....
ड्राज कुमार, संजयमधेशिया, आर पी कनौजिया अवधेश सिंह, अनिता, सुमन राजीव, चतुर्वेदी चंद्रकेश, मायापति मोहन, राजेश कुमार, सुरेन्द्र कुमार, अमरेश कुमार, अभिषेक गुप्ता, भीष्म सिंह, देवकी नंदन वर्मा, सरोजनी तिवारी, रूबी मौर्या, सपना सचान, रंजना मौर्या, पूजा यादव, आलोक वर्मा, चेतना वर्मा, रत्नम तिवारी, अंशिका सिंह आदि कर्मचारी उपस्थित रहे।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   

1. अंक-195 (साल-02)
2.  रविवार, फरवरी 28, 2021
3. शक-1983, फाल्गुन, कृष्ण-पक्ष, तिथि- प्रतिपदा, विक्रमी संवत 2077। 

4. प्रातः 06:48, सूर्यास्त 06:21।

5. न्‍यूनतम तापमान -09 डी.सै.,अधिकतम-28+ डी.सै.। 

6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110

http://www.universalexpress.page/

email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +91935030275                                        (सर्वाधिकार सुरक्षित)

दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...