शुक्रवार, 23 जून 2023

कर्मचारी के बेलगाम होने से 'सफाई' व्यवस्था चौपट 

कर्मचारी के बेलगाम होने से 'सफाई' व्यवस्था चौपट 


गांव की सड़क में बहते गंदे पानी से खराब हो रही सड़क

विकास खंड अधिकारियों का मुंह बंद कर देते हैं सफाई कर्मचारी

कौशाम्बी। नेवादा विकासखंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत औधन में सफाई कर्मचारी के बेलगाम हो जाने से गांव की सफाई व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो गई है। गांव की गलियों में गंदगी व्याप्त है नाली का गंदा पानी सड़को में बह रहा है, जिससे सड़के जल्द खराब हो रही है। खराब सड़कों पर लोगों को आवागमन में दिक्कतें होती हैं। बार-बार सफाई कर्मचारी के कारनामों को नेवादा विकास खंड कार्यालय में अवगत कराए जाने के बाद भी अधिकारी सफाई कर्मचारी को सही तरीके से ड्यूटी देने के लिए तैयार नहीं कर सके हैं।

बताया जाता है कि नेवादा विकासखंड के एडीओ पंचायत सफाई कर्मचारियों को बल दे रहे हैं। जिसके एवज में सफाई कर्मचारी उनका मुंह बंद कर देते हैं, जिससे पूरे क्षेत्र की सफाई व्यवस्था चौपट हो चुकी है। सड़कों पर गंदा पानी बहने से जहां सड़कें खराब होती हैं। वही, आने जाने वाले राहगीरों के कपड़ों में गंदे पानी कीचड़ की छीटे पड़ती हैं, जिससे लोगों के अंदर आक्रोश व्याप्त है।

लेकिन, उसके बाद भी मोटा वेतन लेने वाले सफाई कर्मचारी की नकेल अधिकारी टाइट नहीं कर पा रहे हैं। आखिर मामला क्या है ? जिससे सफाई कर्मचारी बेलगाम है और अधिकारी विवश दिखाई पड़ रहे हैं। लोगों ने शासन प्रशासन ध्यान आकृष्ट कराते हुए बेलगाम सफाई कर्मचारी को निलंबित कर नए सफाई कर्मचारी की तैनाती की मांग की है।

अनिल कुमार 

झुग्गी में केवल दो एलइडी बल्ब, 1,03,315 का बिल 

झुग्गी में केवल दो एलइडी बल्ब, 1,03,315 का बिल 

इकबाल अंसारी 

कोप्पल। कोप्पल क्षेत्र में 90 वर्षीय महिला उस समय स्तब्ध रह गई, जब उसे अपनी झुग्गी के लिए एक लाख रुपये का बिजली बिल मिला, जिसमें केवल दो एलईडी बल्ब लगे हुए हैं। एक छोटी सी झुग्गी में अपने बेटे के साथ रहने वाली गिरिजम्मा का बिजली का बिल आमतौर पर करीब 70 या 80 रुपये प्रतिमाह आता था। मई महीने के लिए 1,03,315 रुपये का बिल पाकर वह हैरान रह गईं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोप्पल जिले के भाग्यनगर में रहने वाली गिरिजम्मा को गुलबर्गा इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई कंपनी लिमिटेड (GESCOM) से मई महीने का बिजली बिल मिला। उसने बिल की राशि रुपये देखी। 1.03 लाख और इतनी बड़ी रकम के साथ बिल का भुगतान करने के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं थी। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मेरा बेटा दिहाड़ी मजदूर है और हममें से केवल दो लोग छोटे से घर में रहते हैं।

मुझे नहीं पता कि बिल का भुगतान कैसे करूं और आप लोगों (मीडियाकर्मियों) को मुझे इससे बाहर निकालने में मदद करनी चाहिए। बुजुर्ग महिला को भाग्य ज्योति योजना के तहत बिजली कनेक्शन मिला था, जिसका उद्देश्य मलिन बस्तियों में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों को न्यूनतम कीमत पर बिजली प्रदान करना है। खबर फैलने के तुरंत बाद, बिजली विभाग के अधिकारी उनके घर पहुंचे और पाया कि मीटर में गड़बड़ी थी और जो व्यक्ति मीटर रीडिंग लेने आया था, उसने भी गलती की थी। बाद में अधिकारियों ने उनसे बिल का भुगतान न करने को कहा और आश्वासन दिया कि इसे संशोधित किया जाएगा। बता दें कि कर्नाटक सरकार ने पहले ही कर्नाटक के सभी आवासीय परिवारों को 200 यूनिट तक मुफ्त बिजली प्रदान करने वाली 'गृह ज्योति' योजना लागू कर दी है।

इस बीच, कर्नाटक विद्युत नियामक आयोग ने 12 मई को अपने टैरिफ आदेश में फिक्स्ड और प्रति यूनिट शुल्क में 70 पैसे प्रति यूनिट की बढ़ोतरी को मंजूरी दे दी थी।

अनियंत्रित ट्रक ने बाइक सवार युवक को रौंदा, मौत 

अनियंत्रित ट्रक ने बाइक सवार युवक को रौंदा, मौत 


बाइक सवार को ट्रक ने रौंदा, मौके पर मौत

कौशाम्बी। कोखराज थाना क्षेत्र के मझियावा नेवारी पुल के पास बाइक सवार युवक को अनियंत्रित तेज गति ट्रक ने रौंद दिया है, जिससे बाइक सवार की घटनास्थल पर दर्दनाक मौत हो गई है। हादसे की जानकारी मिलते ही मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई। मामले की सूचना पुलिस को दी गई।

घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हादसे की जानकारी मिलते ही रोते बिलखते परिजन भी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं।

घटनाक्रम के मुताबिक भइला मखदुमपुर निवासी शिव सागर सरोज उर्फ मूलचन्द्र उम्र लगभग 32 वर्ष पुत्र जयप्रकाश बाइक से अपनी ससुराल पांडे मऊ गांव गया हुआ था। जहां से वह वापस अपने घर भईला मखदुमपुर जा रहा था जैसे ही कोखराज थाना क्षेत्र के मझियावा नेवारी पुल के पास पहुंचा अनियंत्रित ट्रक ने बाइक सवार को रौंद दिया है, जिससे युवक ट्रक के पहिए में फंस गया और उसकी घटनास्थल पर दर्दनाक मौत हो गई है।

हादसे की जानकारी मिलते ही मौके पर तमाम लोगों की भीड़ लग गई, मामले की सूचना पुलिस को दी गई। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताया जाता है कि युवक रोजी-रोटी के सिलसिले में मुंबई में रहता था मुंबई से वह आज ही वापस आया था और अपने घर जा रहा था। लेकिन, रास्ते में उसकी दर्दनाक मौत हो गई है।

अजीत कुशवाहा 

थाना संदीपनघाट का औचक निरीक्षण: अधीक्षक 

थाना संदीपनघाट का औचक निरीक्षण: अधीक्षक 


एसपी द्वारा थाना संदीपनघाट का किया गया औचक निरीक्षण

कौशाम्बी। पुलिस अधीक्षक द्वारा थाना संदीपनघाट का औचक निरीक्षण किया गया थाना कार्यालय सीसीटीएनएस कक्ष, अपराध रजिस्टर, मालखाना , अन्य रजिस्टरों व अभिलेखों को चेक किया गया एवं उनको अध्यावधिक रखने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए तथा साइबर हेल्प डेस्क का निरीक्षण किया गया एवं बैरकों और थाना परिसर के अन्य भवनों का भी निरीक्षण किया गया तथा साफ सफाई हेतु निर्देशित किया गया।

कानून एवं सुरक्षा व्यवस्था को प्रभावी व सुदृढ़ बनाए रखने हेतु सर्वसम्बन्धित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। इस दौरान अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

गणेश साहू 

परेड की सलामी ली, निरीक्षण किया: अधीक्षक 

परेड की सलामी ली, निरीक्षण किया: अधीक्षक 


एसपी द्वारा पुलिस लाइन्स मे ली गई परेड की सलामी

पुलिस लाइन्स परिसर का निरीक्षण कर संबंधित को दिए गए आवश्यक दिशा-निर्देश

कौशाम्बी। पुलिस अधीक्षक बृजेश कुमार श्रीवास्तव द्वारा पुलिस लाइन में शुक्रवार की परेड की सलामी ली गई तथा परेड का निरीक्षण किया गया, तत्पश्चात निरीक्षण के दौरान एसपी द्वारा परेड में उपस्थित समस्त पुलिसकर्मियों के टर्नआउट का अवलोकन किया गया तथा बेहतर टर्नआउट वाले पुलिसकर्मियों की प्रशंसा की गई एवं खराब टर्न आउट वालों को OR में पेश करने के निर्देश दिए तथा साथ ही परेड में शामिल समस्त पुलिसकर्मियों को साफ-सुथरी एवं निर्धारित वर्दी धारण करने तथा नियमानुसार टर्नआउट मेंटेन करने हेतु निर्देशित किया गया।

निरीक्षण के पश्चात पुलिस कर्मियों को शारीरिक रूप से फिट रहने हेतु दौड़ लगवाई गई व परेड के दौरान अनुशासन व एकरूपता के लिए टोलीवार ड्रिल कराई गई। जवानों से ऑप्टिकल्स (दीवार कूदना, मंकी रोप, रस्सा चढ़ना, फायर मैन लिफ्ट इत्यादि) का अभ्यास कराया गया, तथा शस्त्राभ्यास भी कराया गया। इस दौरान राजपत्रित अधिकारियों द्वारा कमांड देकर पुलिस जवानों को स्क्वाड ड्रिल का अभ्यास कराया गया।

पुलिस अधीक्षक द्वारा पुलिस लाइन स्थित क्वार्टर गार्ड स्थित गार्द की सलामी ली गई एवं गार्द का निरीक्षण किया गया तथा समस्त शाखाओं, डीसीआर कार्यालय, डायल-112 एवं एमटी शाखा तथा जिम का निरीक्षण किया गया एवं पीआरवी वाहनों की नियत समय में स्टेपनी चेंज करने का अभ्यास कराया गया तथा थानों से आए हुए वाहनों को भी चेक किया गया। शौचालय/टायलेट की साफ-सफाई हेतु कड़े निर्देश दिए गए। साथ ही भोजनालय में भोजन की गुणवत्ता को चेक किया गया एवं संबंधित को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

शशिभूषण सिंह 

भारत में कोरोना संक्रमण के 51 नए मामलें

भारत में कोरोना संक्रमण के 51 नए मामलें

रियाज खान

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के 51 नए मामलें आए, जबकि उपचाराधीन मरीजों की संख्या 1,784 से कम होकर 1,712 रह गयी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार सुबह आठ बजे तक अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली तथा राजस्थान में संक्रमण से एक-एक मरीज की मौत होने के कारण मृतकों की संख्या 5,31,902 पर पहुंच गयी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, कोविड-19 के कुल मामलों की संख्या 4.49 करोड़ (4,49,93,817) दर्ज की गयी है। कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 98.81 फीसदी दर्ज की गई है। इस बीमारी से उबरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 4,44,60,203 हो गई है तथा मृत्यु दर 1.18 फीसदी दर्ज की गई। आंकड़ों के अनुसार, देशव्यापी कोविड-19 रोधी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक 220.66 करोड़ खुराकें दी गई है। 

'एएसडीसी' ने प्रशिक्षण कार्यक्रम तैयार किए 

'एएसडीसी' ने प्रशिक्षण कार्यक्रम तैयार किए 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्‍ली। ऑटोमोटिव स्किल्‍स डेवलपमेंट काउंसिल (एएसडीसी) ने रोबोटिक्स और ऑटोमेशन, इंडस्‍ट्री 4.0, इलेक्ट्रिक वाहन एवं वैकल्पिक ईंधन प्रौद्योगिकी, ऑटोमोटिव स्थिरता और सुरक्षा के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम तैयार किए हैं। स्किलिंग द फ्यूचर थीम पर यहां आयोजित एएसडीसी पार्टनर फोरम 2023 में वीईसीवी के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी और एएसडीसी के अध्यक्ष विनोद अग्रवाल ने कहा कि इन क्षेत्रों में युवाओं के कौशल प्रशिक्षण पर जोर दिया जाएगा।

इस कार्यक्रम में भारी उद्योग मंत्रालय के संयुक्‍त सचिव (ऑटोमोबाइल) डॉ हनीफ कुरैशी बतौर मुख्‍य अतिथि थे। इस मौके पर एएसडीसी ने संकल्‍प स्‍कीम के अधीन ‘ट्रेनिंग ऑफ ट्रेनर्स’ और 23 नये कोर्सेज को लेकर एक रिपोर्ट जारी की। इस कार्यक्रम में 250 से अधिक इंडस्‍ट्री पार्टनर, अधिकारी, पॉलिसी मेकर्स आदि शामिल हुए।

इस कार्यक्रम में कौशल की गुणवत्ता, चुनौती और महत्व को लेकर तीन विषय पर अलग-अलग सत्र आयोजित किए गए, जिसमें इंडस्‍ट्री पार्टनर ने अपनी राय रखी। डॉ कुरैशी ने बतौर मुख्‍य अतिथि लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि ऑटोमोबाइल क्षेत्र में कुशल लोगों के लिए बहुत सारे अवसर हैं। इस क्षेत्र में बहुत काम किया जा रहा है, लेकिन और करने की जरूरत है। नयी तकनीक के साथ उस क्षेत्र में कौशल प्रशिक्षण देना जरूरी है।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की ओर से ऑटोमोटिव इंडस्‍ट्री के लिए कई तरह की स्कीम जैसे पीएलआई एसीसी, एलआईआई ऑटो और फेम-2 चलाई जा रही है, जिसका मकसद इन मदद के जरिये इंडस्ट्री को वर्ल्ड मार्केट लीडर बनाना है। इलेक्ट्रिक वाहन के क्षेत्र में बहुत सारे अवसर हैं। इस क्षेत्र में बैटरी की लागत को कम करने पर फोकस किया जा रहा है। बैटरी को हल्‍का और लंबे समय तक चलने वाले बनाने की तकनीक पर काम हो रहा है।  

सचिवालय संघ चुनाव हेतु आचार संहिता लागू 

सचिवालय संघ चुनाव हेतु आचार संहिता लागू 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सचिवालय संघ के द्वारा कार्यकारिणी सदस्य, ऑडिटर, उपाध्यक्ष और अध्यक्ष पद हेतु निर्वाचन के लिए आचार संहिता लागू कर दी गई है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार ब्रज भूषण दुबे विशेष सचिव एवं निर्वाचन अधिकारी उत्तर प्रदेश सचिवालय संघ के द्वारा अधिसूचना जारी कर दी गई है। अधिसूचना के अनुसार कार्यकारिणी सदस्य, ऑडिटर, उपाध्यक्ष और अध्यक्ष पद के लिए 27 जून को नामांकन किया जाएगा 28 जून को नामांकन पत्रों की जांच एवं वैध 30 जून को नामांकन वापस लिया जा सकता है। 30 जून में ही अंतिम सूची जारी की जाएगी। 

उपरोक्त पदों हेतु 12 जुलाई को मतदान किया जाएगा। 13 और 14 जुलाई को मतगणना की जाएगी। इस चुनाव की खास बात यह है कि प्रचार हेतु कोई नारेबाजी नहीं की जाएगी, कोई पोस्टर बाजी नहीं की जाएगी। केवल व्यक्तिगत रूप से प्रत्याशी के द्वारा स्वयं प्रचार-प्रसार किया जा सकता है। मात्र पहचान हेतु एक बार विजिटिंग कार्ड, हैंड बिल वगैरह प्रचार में प्रयोग किए जा सकते हैं।

तेज गेंदबाज फिलिप को गेंदबाजी से निलंबित किया 

तेज गेंदबाज फिलिप को गेंदबाजी से निलंबित किया 

मोमीन मलिक 

वाशिंगटन डीसी। आईसीसी विश्व कप के लिए चल रहे क्वालीफायर मैचों के दौरान संयुक्त राज्य अमेरिका क्रिकेट को उस समय जोर का बड़ा झटका लगा है, जब टीम के तेज गेंदबाज काइल फिलिप को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी से निलंबित कर दिया गया है। एक्शन को संदिग्ध मानते हुए गेंदबाज को अपना गेंदबाजी एक्शन चेंज करने की सलाह दी गई है। यदि गेंदबाज अपने एक्शन को नहीं बदल पाया तो उसका कैरियर शुरू होने से पहले ही खत्म हो जाएगा।

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद की ओर से शुक्रवार को जारी किए गए बयान में कहा गया है कि संयुक्त राज्य अमेरिका के तेज गेंदबाज काइल फिलिप को रविवार 18 जून को हरारे में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए मैच के दौरान अवैध गेंदबाजी एक्शन का उपयोग करते हुए पाया गया था। इसके लिए आईसीसी द्वारा कराई गई जांच के बाद अब अमेरिका के तेज गेंदबाज को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाजी से निलंबित कर दिया गया है।

उल्लेखनीय है कि काइले फिलिप ने कैरेबियन के खिलाफ क्वालीफायर मैच में शानदार प्रदर्शन करते हुए 56 रन देकर तीन विकेट हासिल किए थे। हालांकि निगरानी समिति से जुड़े अफसरों ने 39 रनों की हार के बाद उनके एक्शन की रिपोर्ट को समीक्षा करने के बाद यह फैसला लिया है। आईसीसी के इवेंट पैनल ने तेज गेंदबाज के अवैध गेंदबाजी एक्शन का इस्तेमाल करने की शिकायत को सही पाया है।

विधायक ने इंजीनियर के गाल पर जड़ा तमाचा 

विधायक ने इंजीनियर के गाल पर जड़ा तमाचा 

कविता गर्ग 

मुंबई। बगैर नोटिस के कार्रवाई करने के लिए पहुंचे अफसरों पर आग बबूला हुई भारतीय जनता पार्टी की विधायक ने बातचीत कर रहे इंजीनियर के गाल पर जोरदार तमाचा जड़ दिया। तपाक से लगे तमाचे की आवाज से मौके पर सन्नाटा पसर गया। सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी के साथ वायरल हो रहा है, जिसे देश की आर्थिक राजधानी मुंबई के भायंदर की भाजपा विधायक गीता जैन का होना बताया जा रहा है।

वायरल हो रहे वीडियो के मुताबिक महानगरपालिका के अफसर बरसात से ठीक पहले बिना नोटिस दिए इलाके में लोगों के घर तोड़ने की कार्यवाही करने के लिए मौके पर पहुंचे थे। महानगर पालिका के अफसरों ने जबरन लोगों को जब घर से बाहर निकाल कर उनके मकान तोड़ने की कार्यवाही शुरू की तो उसी समय भारतीय जनता पार्टी की विधायक गीता जैन मौके पर पहुंच गई और उन्होंने कार्यवाही कर रहे इंजीनियर की क्लास लेनी शुरू कर दी।

बीजेपी एमएलए का गुस्सा इस कदर सातवें आसमान पर पहुंचा कि वह इंजीनियर के जवाब से असंतुष्ट होकर खुद को नहीं रोक पाई और कैमरे के सामने ही उन्होंने इंजीनियर के गाल पर जोरदार तमाचा जड़ दिया। इंजीनियर के गाल पर झापड़ लगते ही मौके पर सन्नाटा पसर गया। एमएलए का कहना है कि जब वह अफसरों को डांट रही थी तो उसी दौरान इंजीनियर हंसने लगा जिसके चलते उन्होंने उसके गाल पर तमाचा जड़ दिया। उधर पीड़ित का कहना है कि वह हंस नहीं रहा था, बल्कि चुपचाप सिर झुकाए एमएलए की बात सुन रहा था।

लग्जरी गाड़ी छोड़कर, ई-बस में सवार हुई मालिनी 

लग्जरी गाड़ी छोड़कर, ई-बस में सवार हुई मालिनी 

हरिओम उपाध्याय 

मथुरा। लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही सांसदों की गतिविधियां भी बढ़ने लगी है। दोबारा से संसद की चौखट पर पहुंचने के लिए छोटे-छोटे मुद्दे खोजकर उनके समाधान का वादा कर मतदाताओं से जुड़ने की कोशिश की जा रही है। मथुरा से लोकसभा सांसद हेमा मालिनी ने अपनी लग्जरी गाड़ी छोड़कर ई-बस में सवार होते हुए भीतर बैठे यात्रियों से बातचीत की और कहा कि डग्गामार वाहनों पर रोक लगवाई जाएगी।

वर्ष 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जहां राजनीतिक दलों द्वारा अपनी गतिविधियां तेज करते हुए अपने पक्ष में माहौल बनाने प्रयास शुरू कर दिया गया है उसी तरह मौजूदा सांसद भी दोबारा से टिकट पाते हुए मतदाताओं के विश्वास के सहारे लोकसभा की चौखट तक पहुंचने की कवायद में जुट गए हैं। मथुरा से लोकसभा सांसद हेमा मालिनी ने अपनी लग्जरी गाड़ी छोड़कर तकरीबन 5 किलोमीटर तक ई- बस में सवार होकर यात्रा की। इस दौरान बस में सवार यात्रियों ने सांसद के साथ सेल्फी भी ली।

बस में सवार हुई सांसद ने व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए यात्रियों से सुझाव मांगे और ड्राइवर तथा कंडक्टर से हालचाल पूछा। बातचीत में सांसद ने कहा कि ई-बस के संचालन से डग्गामार वाहनों पर लगाम लगेगी और लोगों को जाम से छुटकारा भी मिलेगा। 

उन्होंने कहा कि भगवान कृष्ण की नगरी मथुरा और वृंदावन में दर्शन पूजन के लिए आने वाले पर्यटकों एवं यात्रियों को ई-बसों के संचालन से आसानी होगी। ई-बस में सीट और एसी समेत साफ-सफाई के इंतजाम को उन्होंने बेहतर बताया।

डीएम ने पानी की टंकी का निरीक्षण किया

डीएम ने पानी की टंकी का निरीक्षण किया

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। डीएम संजय कुमार खत्री ने शुक्रवार को ग्राम पंचायत कुई विकास खण्ड कौंधियारा में नवनिर्मित पानी की टंकी का निरीक्षण किया। पानी की टंकी में पानी की सप्लाई के लिए बनाये जा रहे पम्प हाउस के प्लास्टर में साल्टपिटर आने पर पम्प हाउस की लागत में 5 प्रतिशत कटौती किए जाने के निर्देश दिए है। डीएम ने जिला विकास अधिकारी को दो स्थानों पर खुदायी कराकर पाइप लाइन की गहराई व गुणवत्ता की जांच कराये जाने के लिए कहा है। डीएम ने लक्ष्य के सापेक्ष कनेक्शन की स्थिति, मैटेरियल, क्षमता, गांव में घरों की संख्या, ओवरफ्लो आदि के बारे में प्रोजेक्ट मैनेजर से जानकारी ली। उन्होंने सम्बंधित निर्माण एजेंसी को पीने के पानी की पाईप लाइन बिछाये जाने के बाद खराब हुई सड़कों की मरम्मत कराये जाने के निर्देश दिए है।
उन्होंने पानी की टंकी व बाउंड्रीवाल की गुणवत्ता देखी तथा विद्युत आपूर्ति हेतु सोलर इंस्टालेशन व निर्बाध विद्युत आपूर्ति हेतु वैकल्पिक व्यवस्था के लिए जनरेटर की व्यवस्था कराये जाने के लिए कहा है। उन्होंने प्रोजेक्ट मैनेजर से निर्माण की लागत तथा जलापूर्ति कब तक प्रारम्भ हो जायेगी, के बारे में जानकारी ली एवं परिसर में इण्टरलाॅकिंग कराये जाने के निर्देश दिए है। इसके उपरांत डीएम ने ग्राम पंचायत कुई, विकास खण्ड कौंधियारा में नवनिर्मित ग्राम पंचायत सचिवालय का निरीक्षण किया तथा कार्य की गुणवत्ता को संतोषजनक न पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए टाॅयलेट व अन्य अपूर्ण कार्यों को जल्द से जल्द पूर्ण कराये जाने के निर्देश ग्राम सचिव व ग्राम प्रधान को दिया है।
इसके उपरांत डीएम ने गोवंश आश्रय स्थल ग्राम-टिकरी, विकासखण्ड- कौंधियारा का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डीएम ने गोवंश आश्रय स्थल में गोवंशों की संख्या के बारे में जानकारी ली।
गोवंश आश्रय स्थल में गोवंशों की स्थिति ठीक न पाये जाने पर मुख्य पशुचिकित्साधिकारी, ग्राम प्रधान व सचिव को स्थिति में सुधार लाये जाने एवं एक माह के पश्चात जिला विकास अधिकारी को गो आश्रय स्थल का पुनः निरीक्षण करने के निर्देश दिए है। डीएम ने गौआश्रय स्थल पर लगायी जा रही इण्टरलाॅकिंग की गुणवत्ता को भी देखा। उन्होंने गोवंशों के स्वास्थ्य की जानकारी लेते हुए सम्बंधित पशुचिकित्सक को नियमित रूप से गोसंरक्षण केन्द्र का भ्रमण करते हुए संरक्षित गोवंशों का स्वास्थ्य परीक्षण करने के लिए कहा है। उन्होंने गोवंश आश्रय स्थल में गोवंशों के लिए हरा चारा, भूसा, पानी, साफ-सफाई की व्यवस्था को देखा तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिए है।
डीएम ने गोवंश आश्रय स्थल में साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था व गोवंशों की देखरेख में लापरवाही पाये जाने पर ग्राम सचिव से स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। डीएम ने गोवंश आश्रय स्थल पर संरक्षित गोवंशों का शत-प्रतिशत टीकाकरण किए जाने का निर्देश दिया है। डीएम ने वहां पर प्रतिदिन कितना गोबर होता है तथा गोबर का क्या उपयोग किया जा रहा है एवं वर्मी कम्पोस्ट बनाये जाने के बारे में जानकारी ली। डीएम ने गोवंश आश्रय स्थल पर गाय के बछड़ों व भूसा भण्डार को देखा एवं भूसे की मौजूदा क्रय दर के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने गो-पालकों, ग्राम प्रधान व ग्राम सचिव को गोवंशों की अच्छे से देखभाल व हरा चारा खिलाये जाने के लिए कहा है। डीएम ने गोवंशों को गुड़ भी खिलाया। ग्राम प्रधान के द्वारा बिजली की आपूर्ति बाधित होने व गौआश्रय स्थल के ऊपर बिजली का तार कम ऊंचाई पर होने की समस्या बतायी गयी, जिस पर डीएम ने सम्बंधित अधिकारियों को समस्या का समुचित समाधान करने के लिए कहा है।
इसके उपरांत डीएम ने गौ-आश्रय स्थल के समीप मियावाकी पद्धति से तैयार की जा रही वाटिका का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने वाटिका को विकसित किए जाने के लिए मिट्टी व कम्पोस्ट खाद को अच्छे ढंग से मिलाकर बेस तैयार करने के निर्देश दिए है। इस अवसर पर एसडीएम करछना, जिला विकास अधिकारी भोलानाथ कनौजिया, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी अनिल सिंह, खण्ड विकास अधिकारी कौंधियारा सहित सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

दुष्कर्म और हत्या के मामलें में कांस्टेबल बर्खास्त 

दुष्कर्म और हत्या के मामलें में कांस्टेबल बर्खास्त 

नरेश राघानी 

जयपुर/बीकानेर। बीकानेर जिले में दलित युवती से सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामलें में परिजनों द्वारा शव नहीं लिए जाने के कारण शुक्रवार को भी गतिरोध जारी रहा। परिजनों ने सभी आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शव लेने से इनकार कर दिया है।

इधर, पुलिस प्रशासन ने मामले में कथित संलिप्तता के लिए पुलिस कांस्टेबल मनोज को बर्खास्त कर दिया है। बीकानेर के पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम ने बताया कि गतिरोध को दूर करने के लिए खुद वह और पुलिस महानिरीक्षक तथा संभागीय आयुक्त परिजनों के साथ बैठक कर समाधान ढूंढ़ने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि एक वीडियो में कांस्टेबल मनोज को पीड़िता को ले जाते दिखाई देने पर उसे सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है वहीं निलंबित कांस्टेबल भागीरथ के खिलाफ जांच जारी है। दोनों कांस्टेबल पुलिस हिरासत में है, मुख्‍य आरोपी दिनेश बिश्नोई फरार है।

दरअसल, कांस्टेबल मनोज और दिनेश बिश्नोई दोनों का एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। इसमें दोनों पीड़िता को अस्पताल में ले जाते दिख रहे हैं और फिर मौके से भाग जाते हैं। वहीं, भाजपा का एक तीन सदस्यीय दल भी खाजूवाला पहुंचा है। दल ने अस्पताल के बाहर धरना दे रहे पीड़ित परिवार के साथ बातचीत की। भाजपा दल में शामिल विधायक अनिता भदेल, अनुसूचित जनजाति मोर्चा के अध्यक्ष कैलाश मेघवाल और भाजपा नेता विनीता सेठ ने पीड़ित परिजनों के साथ धरना स्थल पर बैठकर विरोध दर्ज कराया।

मेघवाल ने मीडिया से कहा कि चार दिन बीत जाने के बाद भी आरोपियों को नहीं पकड़ा गया है। विधायक अनिता ने कहा कि जब तक पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिलेगा और मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होगी, तब तक वह उस परिवार के साथ खड़ी हैं।

परिवर्तन, यूपी में लू चलने की आशंका दोगुनी

परिवर्तन, यूपी में लू चलने की आशंका दोगुनी

मोनू खान 

लखनऊ। जलवायु परिवर्तन के कारण उत्तर प्रदेश में लू चलने की आशंका कम से कम दोगुनी हो गई। क्लाइमेट शिफ्ट इंडेक्स (सीएसआई) नामक पद्धति से किए गए एक विश्लेषण में यह दावा किया गया है। सीएसआई का विकास क्लाइमेट सेंट्रल ने किया है, जो अमेरिका में रह रहे वैज्ञानिकों और संचारकों का एक स्वतंत्र समूह है।

यह पद्धति दैनिक तापमान पर जलवायु परिवर्तन का असर आंकने में मदद करती है। हाल में भीषण लू की गिरफ्त में आने के कारण उत्तर प्रदेश में बड़ी संख्या में लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराना पड़ा था। अकेले बलिया में लू की चपेट में आने से जिला अस्पताल में पांच दिनों में 68 मरीजों की मौत होने की खबर थी। हालांकि, अधिकारियों ने कहा कि लू के कारण सिर्फ दो लोगों की जान गई।

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, पड़ोसी देवरिया जिले में भी लू से कई मौतें हुईं। क्लाइमेट सेंट्रल का सीएसआई इस बात का अंदाजा लगाता है कि तापमान में ऐतिहासिक औसत से कितनी बार और किस हद तक बदलाव आया है।

सीएसआई स्तर एक अंक से अधिक होना जलवायु परिवर्तन का संकेत देता है। वहीं, इसके दो से पांच अंक के बीच होने का मतलब है कि जलवायु परिवर्तन ने तापमान में बदलाव की संभावना दो से पांच गुना बढ़ा दी। विश्लेषण से पता चला है कि उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में सीएसआई स्तर तीन अंक तक पहुंच गया, जिसका अर्थ है कि जलवायु परिवर्तन के कारण तापमान में बदलाव की संभावना तीन गुना बढ़ गई।

क्लाइमेट सेंट्रल के अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि नये विश्लेषण से संकेत मिलते हैं कि उत्तर प्रदेश 14 से 16 जून तक भीषण लू की चपेट में था और इस दौरान मानव-जनित जलवायु परिवर्तन ने क्षेत्र में लू चलने की आशंका को कम से कम दोगुना कर दिया था। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में बेहद उच्च तापमान और उमस के कारण लू का प्रकोप काफी बढ़ गया।

6 व्यापार विवाद समाप्त, सहमत हुए भारत-यूएसए

6 व्यापार विवाद समाप्त, सहमत हुए भारत-यूएसए

डॉक्टर सुभाषचंद्र गहलोत 

नई दिल्ली/वाशिंगटन डीसी। भारत और अमेरिका विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) में छ: व्यापार विवादों को समाप्त करने पर सहमत हुए हैं। इसके साथ ही नयी दिल्ली बादाम, अखरोट और सेब जैसे 28 अमेरिकी उत्पादों पर प्रतिशोधात्मक सीमा शुल्क भी हटाएगी।

अमेरिका ने एक आधिकारिक बयान जारी कर यह जानकारी दी। यह बयान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और अमेरिका की प्रथम महिला जिल बाइडन के निमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका की राजकीय यात्रा के बीच आया है। अमेरिका ने 2018 में राष्ट्रीय सुरक्षा के आधार पर कुछ इस्पात और एल्यूमीनियम उत्पादों पर क्रमशः 25 प्रतिशत और 10 प्रतिशत आयात शुल्क लगाया था।

जवाबी कार्रवाई में भारत ने जून 2019 को चना, दाल, बादाम, अखरोट, सेब, बोरिक एसिड और डायग्नोस्टिक अभिकर्मकों सहित 28 अमेरिकी उत्पादों पर सीमा शुल्क लगाया। बृहस्पतिवार को जारी बयान के मुताबिक, ''अमेरिका की व्यापार प्रतिनिधि कैथरीन ताई ने आज घोषणा की कि संयुक्त राज्य अमेरिका और भारत गणराज्य विश्व व्यापार संगठन में छह बकाया विवादों को समाप्त करने पर सहमत हुए हैं। राष्ट्रीय सुरक्षा की धारा 232 के तहत इस्पात और एल्युमीनियम पर लगाए गए शुल्क के बदले भारत ने प्रतिशोधात्मक सीमा शुल्क को खत्म करने पर भी सहमति जताई।'' ताई ने कहा, ''आज का समझौता हमारे आर्थिक और व्यापार संबंधों को मजबूत करने के लिए पिछले दो वर्षों से जारी द्विपक्षीय जुड़ाव को दर्शाता है।

'' दोनों देश डब्ल्यूटीओ में जिन छह विवादों को हल करने पर सहमत हुए हैं, उनमें से तीन भारत ने शुरू किए थे, जबकि इतने ही अमेरिका ने। इनमें हॉट-रोल्ड कार्बन स्टील फ्लैट उत्पादों पर प्रतिकारी उपाय, सौर कोशिकाओं और मॉड्यूल से संबंधित कुछ उपाय, नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र से संबंधित उपाय, निर्यात-संबंधी उपाय, स्टील और एल्यूमीनियम उत्पादों पर कुछ उपाय शामिल हैं।

विशेषज्ञों ने कहा कि डब्ल्यूटीओ में व्यापार विवादों को खत्म करने के भारत और अमेरिका के फैसले से द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि दोनों देशों को व्यापार संबंधी मुद्दों को द्विपक्षीय रूप से हल करने के लिए एक उचित और मजबूत तंत्र बनाना चाहिए ताकि उन्हें डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज न करनी पड़े।

अंतरराष्ट्रीय व्यापार विशेषज्ञ विश्वजीत धर ने कहा कि यह एक सकारात्मक घोषणा है और इससे दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी। फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन (फियो) के महानिदेशक अजय सहाय ने कहा कि इससे अमेरिका में भारत के निर्यात को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने कहा, ''हम इस फैसले का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे। इससे अमेरिका के लिए भारत का निर्यात बढ़ेगा।

लाइफस्टाइल में बदलाव, सुंदर दिख सकते हैं

लाइफस्टाइल में बदलाव, सुंदर दिख सकते हैं

सरस्वती उपाध्याय 

आज के समय में हर कोई व्यक्ति अच्छा दिखना चाहता है, वह चाहता है कि कहीं भी जाए तो अपनी पहचान छोड़कर आए। लोग उसकी तरफ आकर्षित हों। लोग सुंदर दिखने के लिए बहुत से प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं। सुंदर दिखने के लिए कई रुपए खर्च भी कर देते हैं। लेकिन हम आपको बता दें की अगर अपनी लाइफस्टाइल में थोड़ा-सा भी बदलाव किया जाए तो आप सुंदर दिख सकते हैं।

आकर्षक और सुंदर दिखने के लिए क्या करें?
अगर आप सुंदर दिखना चाहते हैं तो सबस पहले भरपूर मात्रा में पानी पीना चाहिए। इससे पानी स्किन को हाइड्रेट रखता है। साथ ही स्किन की कई समस्याओं को दूर करने में भी आपके बेहद मददगार होता है।

व्यक्ति को अपनी दिनचर्या में फिजिकल एक्टिविटीज को भी जोड़ना चाहिए। फिजिकल एक्टिविटिज को जोड़ने से ब्लड सर्कलेशन बेहतर हो सकता है।

गर्मियों में आप जब भी चिलचिलाती धूप के संपर्क में आते हैं तो उस दौरान आप खुद को कवर करें, जिससे टैनिंग से बचा जा सके या सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। व्यक्ति को धूम्रपान, शराब और अन्य प्रकार का नशा करने से भी बचना चाहिए। इसका दुष्परिणाम व्यक्ति की त्वचा पर पड़ सकता है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-253, (वर्ष-06)

2. शनिवार, जून 24, 2023

3. शक-1944, आषाढ़, शुक्ल-पक्ष, तिथि- सप्तमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:23, सूर्यास्त: 07:18। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 25 डी.सै., अधिकतम- 39+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'मिशन शक्ति' के अभियान के संबंध में चौपाल लगाई 

'मिशन शक्ति' के अभियान के संबंध में चौपाल लगाई 


लाभकारी योजनाओं की जानकारी पाकर खिले चेहरे

कौशाम्बी। नगर पालिका परिषद मंझनपुर के वार्ड नं 24 संत कबीर नगर ग्राम ओसा में पुलिस महानिदेशक द्वारा चलाए गए मिशन शक्ति के 15 दिवसीय अभियान के संबंध में बीट महिला कांस्टेबल तथा महिला बीट आरक्षी द्वारा गांव में जाकर चौपाल लगाई गई।

चौपाल में मौजूद महिलाओं व बच्चों को हेल्पलाइन 1090 वीमेन पावर हेल्पलाइन, 181 महिला हेल्पलाइन, 1098 चाइल्ड हेल्पलाइन, 1076 सी0एम0 हेल्पलाइन, 1930 साइबर हेल्पलाइन आदि के बारे में महिला सिपाहियों ने जानकारी दी।

इस दौरान महिलाओ, बेटियों को विभिन्न हेल्पलाइन नम्बरों के अलावा थानो पर स्थापित महिला हेल्प डेस्क के बारे में विस्तार से जानकारी देकर जागरूक किया गया। हेल्पलाइन नम्बरों के पम्पलेट वितरित किए गए। बताया गया कि किसी भी प्रकार के उत्पीड़न के सम्बन्ध में पुलिस से चुप्पी तोड़ो तथा सरकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी जाती है। तथा जनता के प्रति खास तौर से ग्रामीण महिलाओं के मन में पुलिस के प्रति जो डर है, उसको दूर करने के लिए इस प्रकार का माहौल बनाया जाता है कि महिलाएं खुलकर अपनी समस्या को महिला पुलिस अधिकारियों को बताएं और उनका निस्तारण किया जाए।

आर्यवीर

हादसा: खाई में गिरी बोलेरो कार, 9 लोगों की मौत   

हादसा: खाई में गिरी बोलेरो कार, 9 लोगों की मौत   

श्रीराम मौर्य   

पिथौरागढ़। उत्तराखंड से बड़ी दुःखद खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि पिथौरागढ़ में यात्रियों से भरी बोलेरो वाहन दर्दनाक हादसा का शिकार हो गई है। इस हादसे में 9 लोगों की मौत हो गई, जबकि दो घायल हुए हैं। जिन्हें पुलिस टीम द्वारा अस्पताल भिजवाया गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आज दोपहर बागेश्वर जिले के सामा से होकरा जा रही बोलेरो वाहन सड़क से अनियंत्रित होकर 500 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। वाहन में 11 लोग सवार थे। इसमें 9 लोगों की मौके पर मौत हो गई। 2 लोग घायल बताए जा रहे, जिन्हें अस्पताल भिजवाया गया है।

आनन-फानन में इस घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना पर नाचनी थाने से थानाध्यक्ष चंदन सिंह अपनी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने गहरी खाई में उतर कर मृतकों के शव को बरामद किए, साथी घायल हुए दो लोगों को 108 एंबुलेंस के मदद से अस्पताल भिजवाया गया। जहां उन दोनों का उपचार चल रहा है।

थानाध्यक्ष चंदन सिंह ने बताया कि यह लोग अपनी बोलेरो कार से होकरा मंदिर में पूजा करने के लिए जा रहे थे। तभी बीच रास्ते में कार अनियंत्रित होकर सड़क से 500 मीटर गहरी खाई में जा समाई। उन्होंने बताया कि जिस जगह पर यह हादसा हुआ है, वहां की सड़क बहुत ज्यादा खराब है।

सरकार पर आरोप, भाजपा सांसद गिरफ्तार   

सरकार पर आरोप, भाजपा सांसद गिरफ्तार   

नरेश राघानी   

जयपुर। राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा को गुरुवार को यहां अशोक नगर पुलिस स्टेशन के पास गिरफ्तार कर लिया गया, जहां वह धरने पर बैठे थे। टेंडर में 20 हजार करोड़ रुपये की अनियमितता का आरोप लगाकर मीणा दो दिनों से पुलिस अधिकारियों से राज्य के जल मंत्री महेश जोशी और आईएएस अधिकारी सुबोध अग्रवाल के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के लिए कह रहे थे। पुलिस के रवैये से क्षुब्ध होकर उन्होंने थाने के बाहर धरना दिया। गुरुवार की सुबह जब वह पास की जगह पर तरोताजा होने के लिए गए तो पुलिस टीम ने धरना स्थल को घेर लिया और वहां खड़ी गाड़ियों को क्रेन से हटवा दिया। बाद में जब मीणा वापस धरना स्थल पर आये, तो उन्हें गिरफ्तार कर चाकसू पुलिस थाने ले जाया गया। उनके अनुयायी अब इस जगह पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

मीडिया से बातचीत में मीणा ने कहा कि सीएम अशोक गहलोत कह रहे हैं कि जिसे भी दिक्कत होगी, एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। उन्होंने कहा, अब इसका मतलब है कि सीएम झूठ बोल रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनके पास अपने दावों के सबूत हैं। जब उनसे पूछा गया कि राज्य मंत्री महेश जोशी ने कहा है कि वह उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करेंगे, तो उन्होंने कहा, संबंधित मंत्री मानहानि का मुकदमा दायर कर सकते हैं।

बुधवार को मीना ने खान एवं भूविज्ञान विभाग में बड़े पैमाने पर घोटाले का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर आरोप लगाया। सांसद ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, गहलोत के इस कार्यकाल में भी खान विभाग में अनियमितताएं हैं। राज्य की खानों को एक साथ लूटा जा रहा है। सांसद ने कहा कि राजस्थान देश का पहला राज्य है जहां सबसे अधिक खनन पट्टे दिए गए हैं। ई-नीलामी के बजाय दान में परमिट बांटे गए हैं।

44 जिलों में अलर्ट, तेज हवाएं-बरसात: यूपी 

44 जिलों में अलर्ट, तेज हवाएं-बरसात: यूपी 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में चक्रवात का असर दिखने लगा है। 44 जिलों में अलर्ट जारी किया गया है। वहीं, चक्रवात से लोगों को सतर्क करने की सलाह दी गई है। तेज हवा चलेगी। इसके साथ ही आंधी गर्जना के साथ भारी बारिश की भी चेतावनी जारी की गई है। हालांकि पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में तापमान में वृद्धि देखी जा सकती है। वही अगले 72 घंटे में उत्तर प्रदेश में बारिश के साथ ही मानसून की दस्तक शुरू होगी। मंगलवार 8:00 बजे तक 2.1 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई थी। वहीं बुधवार को भी कई क्षेत्रों में बारिश से तापमान में गिरावट रिकॉर्ड की गई है।


उत्तर प्रदेश में बारिश...

बारिश की वजह से अधिकतम तापमान 4.3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट के साथ 37 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया जबकि रात के तापमान में भी 2 फीसद की गिरावट रिकॉर्ड की गई है। वहीं लू से भी लोगों को राहत मिलेगी। हालांकि नमी बढ़ने से उमस बढ़ गई है वहीं चक्रवात के कमजोर पड़ने के साथ ही कम दबाव का क्षेत्र में सक्रिय हुआ था।  जिसके बाद अब उत्तर प्रदेश में बारिश देखने को मिलेगी।


मानसून के आगमन में 24 से 48 घंटे का समय...

ऐसे में आसमान में बादल है। हल्की बारिश हुई है। बुधवार से गुरुवार के बीच बारिश के साथ ही शुक्रवार की रात तक उत्तर प्रदेश में मानसून की दस्तक देखी जाएगी। इसके साथ ही पूर्वी हवा चलने भी शुरू हो गई। जिसके साथ ही मानसून के आगमन में 24 से 48 घंटे का समय लग सकता है।


सुबह से रुक-रुक कर बारिश का दौर जारी...

वही चक्रवाती तूफान उत्तर प्रदेश के लिए राहत महसूस कर आने वाला है। उत्तर-पश्चिम हवा के साथ कमजोर हो चुके तूफान से 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी। 72 घंटे तक चक्रवात का असर रहेगा। बंगाल की खाड़ी से आ रही नम हवाओं के कारण क्षेत्रों में बारिश देखी जाएगी। सुबह से रुक-रुक कर बारिश का दौर जारी है। वहीं भीषण गर्मी से भी लोगों को राहत मिली है।


इन क्षेत्रों में बारिश की चेतावनी...

जिन क्षेत्रों में बारिश की चेतावनी जारी की गई है। उनमें कानपुर नगर, कानपुर देहात के अलावा झांसी, औरैया, महोबा, ललितपुर, बांदा, चित्रकूट, फतेहपुर ,जालौन, बलरामपुर, गोंडा, बस्ती, संत कबीर नगर, महाराजगंज, गोरखपुर, देवरिया और कुशीनगर शामिल है। इन क्षेत्रों में भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

8 राज्यों में भारी बारिश होने का अनुमान 

8 राज्यों में भारी बारिश होने का अनुमान 


उत्तर प्रदेश समेत 8 राज्यों में भारी बारिश का अनुमान, असम के 10 जिलों में बाढ़, 1 लाख से ज्यादा प्रभावित, बंगाल-बिहार में 11 लोगों की मौत

हरिओम उपाध्याय 

नई दिल्ली। मानसून को आए हुए 15 दिन हो चुके हैं। अब तक यह आधे राज्यों में भी ठीक से नहीं पहुंचा है। मौसम विभाग ने बताया है कि आज और कल मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और झारखंड समेत 8 राज्यों में भारी बारिश हो सकती है।

इधर, पूर्वोत्तर राज्यों में बारिश से बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। असम में ब्रह्मपुत्र नदी उफान पर है। असम स्टेट डिजास्टर के मुताबिक, राज्य के 10 जिलों में बाढ़ से हालात खराब हैं। 108 गांवों में 1 लाख 20 हजार लोग प्रभावित हुए हैं। सबसे ज्यादा नलबाड़ी जिले में बाढ़ से 45 हजार लोग प्रभावित हैं।

मौसम विभाग ने अगले 4 दिन यानी 22 से 26 जून तक पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम और मेघालय में भारी बारिश का अनुमान जताया है। पश्चिम बंगाल के मालदा और बिहार के जमुई जिले में बुधवार को बिजली गिरने से 11 लोगों की मौत हो गई। मालदा में 12 बच्चे भी बिजली गिरने से घायल हुए हैं।

अगले 4 दिन 4 राज्यों में लू का अलर्ट...

भारतीय मौसम विभाग ने अगले 4 दिन 4 राज्यों में लू का अलर्ट जारी किया है। ओडिशा, बिहार, झारखंड और तेलंगाना में लू चलने की आशंका है। वहीं, इन्हीं 4 दिनों में मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

पिछले 24 घंटों के दौरान 6 राज्यों में लू चली, 11 में बारिश हुई...

पिछले 24 घंटों के दौरान 6 राज्य महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, ओडिशा, बिहार और झारखंड में लू चली। वहीं, सिक्किम, असम और अरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश हुई है। मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, राजस्थान, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में हल्की से मध्यम बारिश हुई।

विपक्षी दलों को एकजुट करने की मुहिम को झटका 

विपक्षी दलों को एकजुट करने की मुहिम को झटका 

अकाशुं उपाध्याय 

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी दलों को एक करने की मुहिम को एक बार फिर झटका लगा है। अब रालोद के मुखिया जयंत चौधरी ने पटना में होने वाली मीटिंग में शामिल होने पर असमर्थता जताई है। हालांकि, उन्होंने पत्र लिखकर समर्थन जताया है। उन्होंने बताया कि पूर्व निर्धारित पारिवारिक कार्यक्रम के चलते वह बैठक में हिस्सा नहीं ले सकेंगे।

विपक्षी एकता की कोशिशों पर लगा ग्रहण...

दरअसल बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 23 जून को पटना में गैर भाजपा दलों की बैठक बुलाई है। इसमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, आम आदमी पार्टी (आप) सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल और कई वाम दलों के नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है। मगर इस बीच राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के मुखिया जयंत चौधरी ने खुद को इस बैठक से अलग कर लिया है।

उन्होंने पारिवारिक कार्यक्रम का हवाला देकर बैठक में न जाने की बात कही है। रालोद मुखिया जयंत चौधरी ने एक पत्र जारी कर लिखा कि आगामी 23 जून 2003 को पटना में होने वाली विपक्षी दलों की बैठक में अपने पूर्व निर्धारित पारिवारिक कार्यक्रम के चलते मैं भाग न ले सकूंगा।

'विपक्षी दलों का एकजुट होना समय की मांग'

जयंत ने आगे कहा, 'आज देश में अधिनायकवादी और साम्प्रदायिक शक्ति जिस तरह लोकतंत्र तथा सामाजिक समरसता के लिए खतरा पैदा कर रही हैं, उसे देखते हुए समानधर्म विपक्षी दलों का एकजुट होना समय की मांग है। देश की अहम समस्याओं और चुनौतियों पर संवाद कर समूचा विपक्ष जनता के सामने एक दूरगामी, व्यावहारिक योजना प्रस्तुत कर सकता है। ऐसे हम मिलकर युवा, महिलाएं, किसान और वंचित समाज की आकांक्षाओं और विश्वास के साथ देश में सार्थक परिवर्तन ला सकते हैं। मुझे विश्वास है कि यह बैठक विपक्षी एकता की राह में एक महत्वपूर्ण पद सिद्ध होगी। उद्देश्य की सफलता के लिए शुभकामनाएं।

पटना में हो रही विपक्षी दलों की बैठक पर पूरे देश की नजरें टिकी हुई हैं। बैठक में कई राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल होंगे। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे भी मौजूद रहेंगे। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विपक्षी एकता के लिए लगातार कोशिशें कर रहे हैं। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी इस पर सहमति जताई है। उन्होंने कहा कि जिन राज्यों में जो भी दल प्रभावी है सभी मिलकर उसका साथ दें।

22 और 24 कैरेट सोने की कीमतों में कमी आई 

22 और 24 कैरेट सोने की कीमतों में कमी आई 

अकाशुं उपाध्याय 

नई दिल्ली। सोने के भाव में गुरुवार को बड़ी गिरावट देखने को मिली है। 22 और 24 कैरेट सोने की कीमतों में आज कमी देखने को मिली। सोने की कीमतों में आई कमी के बाद ग्राहकों में खुशी दिख रही है। सोने के साथ-साथ चांदी के रेट में भी गिरावट दर्ज की गई है।

जानें 22 कैरेट सोने का भाव...

गोल्ड रिटर्न्स वेबसाइट के मुताबिक, गुरुवार को 22 कैरेट सोने के भाव में 200 रुपये की कमी आई. बुधवार को जहां 22 कैरेट सोना 54,700 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव पर बिक रहा था वहीं यह गुरुवार को सस्ता होकर 54,500 रुपये प्रति दस ग्राम हो गया।

24 कैरेट सोने की कीमतें, जानें...

इसी तरह 24 कैरेट सोने की कीमतों में गुरुवार को 220 रुपये की कमी दर्ज की गई। बुधवार को यह 59,670 रुपये प्रति दस ग्राम से बिक रहा था, गुरुवार को यह और सस्ता होकर 59,450 रुपये प्रति दस ग्राम हो गया।

रिकॉर्ड रेट से 2950 रुपये सस्ता हुआ सोना...

सोने के भाव में रिकॉर्ड रेट से काफी कमी आई है। जहां 5 मई को 24 कैरेट सोना अपने रिकॉर्ड रेट 62,400 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया था, वहीं यह आज 59,450 रुपये प्रति दस ग्राम पर बिक रहा है। अगर 5 मई के भाव से तुलना करें तो यह 2950 रुपये सस्ता हो गया है।


महानगरों में सोने का भाव...

महानगर          22 कैरेट               24 कैरेट

चेन्नई               ₹54,850       ₹59,830 

मुंबई               ₹54,500       ₹59,450 

दिल्ली             ₹54,650       ₹69,600 

कोलकाता       ₹54,500       ₹59,450

 (सभी कीमतें प्रति दस ग्राम में)


चांदी के रेट भी हुए कम...

चांदी की कीमतों में 1 हजार रुपये प्रति किलो की कमी आई है। जहां बुधवार को चांदी का रेट 73 हजार रुपये प्रति किलो था वहीं आज यह घटकर 72 हजार रुपये प्रति किलो हो गया है।

ट्रैक बिछाने-ओएचई वायर इंस्टॉल का काम शुरू 

ट्रैक बिछाने-ओएचई वायर इंस्टॉल का काम शुरू 

अश्वनी उपाध्याय 

गाजियाबाद। दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ रैपिड रेल कॉरिडोर पर दिल्ली सेक्शन में टनल बनाने का काम पूरा हो गया है। अब टनल के भीतर ट्रैक बिछाने और ओएचई वायर इंस्टॉल करने पर काम शुरू होगा।

फरवरी-2022 में हुई था काम शुरू...

सुदर्शन 4.1 (टीबीएम) मशीन ने फरवरी-2022 में आनंद विहार से न्यू अशोक नगर की तरफ टनल बनाने की शुरूआत की थी। फिर एक समानांतर टनल बनाने के लिए दूसरी मशीन अप्रैल-2022 में लॉन्च हुई थी। 

अभी क्या है स्थिति ?

आनंद विहार स्टेशन से साहिबाबाद स्टेशन की तरफ बन रही दो टनल में एक का काम पहले ही पूरा हो चुका है, जबकि दूसरे का काम 75 फीसदी कर लिया गया है। इन टनलों का व्यास 6.5 मीटर है। यह टनल 180 किमी प्रतिघंटे की डिजाइन गति से तैयार की गई हैं।

जून-2023 तक का टारगेट...

एनसीआरटीसी का टारगेट है कि जून-2023 में पहले फेज में गाजियाबाद के दुहाई डिपो से साहिबाबाद स्टेशन तक रैपिडएक्स का संचालन शुरू कर दिया जाए। सिर्फ उदघाटन की तारीख घोषित होने का इंतजार है। वहीं दिल्ली से मेरठ तक 82 किलोमीटर लंबे ट्रैक पर 2025 तक रैपिडएक्स का संचालन शुरू करने का दावा एनसीआरटीसी की तरफ से किया गया है।

हरियाणा: रोडवेज में बुजुर्गों के किराए में छूट 

हरियाणा: रोडवेज में बुजुर्गों के किराए में छूट 

राणा ओबरॉय 

चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने हरियाणा रोडवेज की बसों में 65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों के लिए किराये में छूट उपलब्ध कराने के लिए नई घोषणा की है। इसके अनुसार, 1 अप्रैल से पहले उम्र 60 साल से अधिक होने वाले बुजुर्गों को आधा किराया माफ कर दिया जाएगा। इस सुविधा का लाभ प्राप्त करने के लिए, 60 से 65 साल की उम्र के बुजुर्गों को बस पास बनवाना आवश्यक होगा।

बस पास को कंडक्टर को दिखाना होगा, और तभी उन्हें छूट वाला टिकट दिया जाएगा। पहले से ही इस सुविधा का लाभ उठा रहे यात्रियों को बस पास बनवाने की आवश्यकता नहीं होगी।

उनके लिए, आधार कार्ड या समाज कल्याण विभाग द्वारा जारी किया गया पहचान पत्र पर्याप्त होगा। विशेषज्ञों ने बताया कि महिलाओं को रोडवेज पास बनवाने की आवश्यकता नहीं होगी।

हालांकि, पहले रोडवेज की बसों में, 65 वर्ष से अधिक उम्र के पुरुषों और 60 साल से अधिक उम्र की महिलाओं को आधा किराया माफ किया जाता था। सरकार ने अप्रैल 1 से पुरुषों की उम्र 65 से 60 कर दी थी। इसके कारण, पहले से इस सुविधा का लाभ लेने वाले लोगों के लिए निर्देश स्पष्ट नहीं थे, जिसके परिणामस्वरूप बसों में कंडक्टर और बुजुर्गों के बीच रोज़ाना विवाद और बहस हो रही थी। जब लोग टिकट खरीदते समय अपना आधार कार्ड या समाज कल्याण विभाग का कार्ड दिखाते, तो कंडक्टर उन्हें बस पास बनवाने के लिए कहता, इससे अब काम नहीं चलेगा, आपको रोडवेज पास बनवाना होगा। बुजुर्ग लोग अपनी उम्र और कागज़ी कार्रवाई के मजबूरी का उल्लेख करके पास नहीं बनवा पाते थे।

इस संदर्भ में, विभाग ने नए लाभार्थियों के लिए स्पष्ट किया है कि 60 से 65 साल के पुरुषों के लिए रोडवेज पास बनवाना आवश्यक होगा। पहले लाभार्थियों के लिए पहले के पहचान पत्र, आधार कार्ड या समाज कल्याण विभाग का पहचान पत्र मान्य रहेंगे।

फ़िलहाल, रोडवेज के मुख्य निरीक्षक राजबीर जनौला ने बताया है कि महिलाओं और 65 साल से अधिक आयु वाले लोगों को पास बनवाने की ज़रूरत नहीं है, वे अपने पहचान पत्र के माध्यम से ही टिकट पर छूट प्राप्त कर सकते हैं।

उपभोक्ताओं की समस्याओं पर विभाग की उदारता 

उपभोक्ताओं की समस्याओं पर विभाग की उदारता 

मोनू खान

सहारनपुर। नगरीय सिटी में बिजली उपभोक्ता बिजली की समस्याओं की त्रुटियों को लेकर समाधान नहीं निकल पाने से खासे परेशान है। बिजली विभाग में अलग-अलग मुद्दों पर शिकायती प्रार्थना पत्रों के आधार पर समस्याओं का समाधान विभागीय स्तर पर दूर करना तो दूर की बात है। बल्कि पिछले दो-तीन वर्षों से टेढ़ी खीर साबित हो रहा है। यह आलम तब है जब सभी विभाग के सिस्टम को ऑनलाइन कर दिया गया है। उपभोक्ताओं के द्वारा अपनी अलग-अलग समस्याओं को लेकर लाख भागदौड़ का सिलसिला फलाफल शून्य ही निकलता हुआ दिखाई दे रहा है।

सहारनपुर नगरीय सिटी में बिजली की समस्याओं का आलम यह है की अनाप शनाप भेजे गए उपभोक्ताओं को उनके बिजली बिल का मुद्दा हो, या फिर उपभोक्ताओं को नए बिजली कनेक्शन की आवश्यकता हो, या उनके गली मोहल्लों में बिजली के लटके हुए तारों का जंजाल हो, या बिजली ट्रिपिंग सिस्टम में बार-बार गड़बड़ी के चलते उपभोक्ता परेशान हों, ऐसी अनेक समस्याओं को लेकर विभागीय समाधान फौरी तौर पर करने का तो दम भरता है। लेकिन धरातल पर बिजली विभाग का सिस्टम नाकाम ही साबित हो रहा है। सहारनपुर नगरीय विभाग के बिजली विभाग में उपभोक्ताओं के द्वारा दिए गए अलग-अलग प्रकार के शिकायती पत्रों का अंबार लगा हुआ है। खास तौर पर बिजली का नया कनेक्शन लेने वाले आवेदनकर्ता उपभोक्ताओं के मामले में विभाग पूरी तरह से नाकाम साबित होता हुआ दिखाई दे रहा है।

उपभोक्ताओं को नए कनेक्शन नहीं दिए जा रहे बल्कि हजारों लाखों का एस्टीमेट थमा कर उन्हें आपूर्ति से वंचित किया जा रहा है, इसके अतिरिक्त लिखित में शिकायत प्राप्त होने के बावजूद गलियों में जर्जर झूलते हुए तारों का भी कोई समाधान नहीं किया जा रहा है। ऐसा ही मामला वार्ड न. 67 मोहल्ला मजीद कॉलोनी मूसा पैलेस के पास का है जहां 33 हज़ार की विद्युत लाइन नीचे तक लटकी हुई हादसों को दावत दे रही है, जिस के संदर्भ में निवासी अब्दुल अजीम के द्वारा नगरीय खंड द्वितीय उपखंड अधिकारी को कई बार प्रार्थना पत्र भी दिए जा चुके हैं। 

लेकिन लगभग साढ़े तीन माह गुजर जाने के बाद भी आज तक विभागीय अधिकारियों की और से किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की गई है। बल्कि उपभोक्ताओं को हर बार आश्वासन देकर टरका दिया जाता है। ज्ञात हो इससे पहले भी इसी क्षेत्र में इसी  33 हज़ार की नीचे तक लटकी हुई विद्युत लाइन से अपनी छत पर वाइपर से पानी निकालने के लिए गए एक लड़के को यही विधुत लाइन अपना काल का निवाला बना चुकी है। लेकिन दुःखद यह है कि आज तक भी किसी भी विभागीय बिजली अधिकारी ने इस और अपना ध्यान केंद्रित नहीं किया है।

ट्रेलर से टकराया ट्रक, 3 की मौत, 1 घायल 

ट्रेलर से टकराया ट्रक, 3 की मौत, 1 घायल 


तेज रफ्तार बालू लदा ट्रक रॉन्ग साइड से जाकर ट्रेलर ट्रक में भिड़ा

ट्रक-ट्रेलर भीडन्त, चालक सहित तीन की मौत

कौशाम्बी। जिले में एक बार फिर तेज रफ्तार का कहर देखने को मिला है। यातायात का नियंत्रण समाप्त हो गया है। तेज रफ्तार बालू लदा हुआ ट्रक रॉन्ग साइड से जाकर ट्रेलर से टकरा गया। जिसमे तीन लोगो की घटनास्थल पर दर्दनाक मौत हो गई है, जबकि एक व्यक्ति गंभीर घायल है। घायल को पुलिस ने एंबुलेंस से जिला अस्पताल भेजा है। जहां उसका इलाज किया जा रहा है।

घटना कोखराज और सैनी थाना के बॉर्डर ननमई मोड़ की हैं। जहां कानपुर की तरफ से एक तेज रफ्तार ट्रेलर ट्रक आ रहा था। तभी अचानक तेज रफ्तार रांग साइड से जा रहा बालू लदा हुआ ट्रक सामने से आ रहे ट्रेलर ट्रक से तेज आवाज के साथ टकरा गया। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि दोनो ट्रको के केबिन के परखच्चे उड़ गए। ट्रक और ट्रेलर में बैठे सभी लोग केबिन में फंस गए,हादसे के बाद लोगो की भीड़ जमा हो गई। लोगो की सूचना पर तीन थानो की फ़ोर्स मौके पर पहुंची और वाहनों में फसें लोगो को जेसीबी मशीन के सहारे पुलिस निकालने में जुट गई।

ट्रक हादसे में ट्रक चालक शबीहुल प्रतापगढ़ निवासी,ट्रेलर चालक जीत राम सैनी और क्लीनर बबलू राजस्थान निवासी की मौके पर ही मौत हो गई। घटना की सूचना पर पहुंची हाइवे पेट्रोलिंग और पुलिस ने जेसीबी और गैस कटर की सहायता से केबिन फंसे हुए लोगो को बाहर निकाला। मृतक के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा और घायल को एंबुलेंस से अस्पताल भेज दिया गया है। हादसे के पीछे खनन विभाग की बोलेरो चर्चा में है।

धर्मेंद्र सोनकर

नेटो युद्ध मैदान में आए, हम तो पहले ही तैयार

नेटो युद्ध मैदान में आए, हम तो पहले ही तैयार

अखिलेश पांडेय 

मॉस्को। नेटो के महासचिव के बयान के जवाब में रूसी विदेश मंत्री ने कहा है कि नेटो को युद्ध के मैदान में सामने आए तो सही हम तो पहले से ही तैयार हैं। उन्होंने कहा कि रूस यूक्रेन में अपना सैन्य ऑपरेशन जारी रखेगा।

रिपोर्ट्स के मुताबिक़, नेटो के महासचिव जेन्स स्टोलटेनबर्ग ने कहा है कि शांति का मतलब युद्ध को रोकना और उस समझौते को स्वीकार करना नहीं है जो रूस चाहता है, केवल यूक्रेन को ऐसी सभी शर्तों को सामने रखने का अधिकार है जिसे स्वीकार किया जा सके। इस बीच रश्या टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में नेटो महासचिव के बयान का जवाब देते हुए कहा कि अगर नेटो स्टोलटेनबर्ग के शब्दों को दोहराता है कि हम यूक्रेन में संघर्ष विराम के ख़िलाफ़ हैं और अगर वे युद्ध के मैदान में उतरने का इरादा रखते हैं, तो मैं उनसे कहना चाहूंगा कि बहुत अच्छी बात है। मैदान में सामने तो आओ रूसी सेना मुक़ाबले कि लिए पूरी तरह तैयार है। रूसी विदेश मंत्री ने कहा कि हम बहुत पहले से ही यूक्रेन में नेटो की चल रही योजना और उसके लक्ष्यों के बारे में जानकारी है।

उल्लेखनीय है कि मॉस्को ने बार-बार संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके नेटो सहयोगियों पर यूक्रेन को हथियारों की आपूर्ति करने और इस हाइब्रिड युद्ध में रूस से लड़ने में सीधे तौर पर शामिल होने का आरोप लगाया है। इस बीच रूसी राष्ट्रपति भवन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कुछ दिनों पहले कहा था कि केएफ के हथियार ख़त्म हो गए हैं और उसे पश्चिमी हथियारों का इस्तेमाल करने के लिए मजबूर होना पड़ा है। रूस अपने लक्ष्य तक पहुंच गया है। युद्ध आरंभ होने से पहले यूक्रेन के पास बहुत हथियार थे। 

जबकि राष्ट्रपति पुतिन का एक लक्ष्य यूक्रेन को को निरस्त्र करना था और वह लक्ष्य इस सैन्य अभियान के ज़रिए हासिल कर लिया गया है। ग़ौरतलब है कि पिछले एक साल में, संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके सहयोगियों ने यूक्रेन को 100 बिलियन डॉलर से अधिक के हथियारों की आपूर्ति की है, जबकि यूक्रेन ने यह कहते हुए इसे अपर्याप्त बताते हुए कहा है कि जब तक उसे रूस के ख़िलाफ़ जीत हासिल नहीं कर लेते, तब तक हम इस बात की शिकायत करते रहेंगे कि उसके पास हथियारों और अन्य उपकरणों की कमी है।

राम की छवि बिगाड़ने वालीं, आदि पुरुष बैन करें 

राम की छवि बिगाड़ने वालीं, आदि पुरुष बैन करें 

दुष्यंत टीकम 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट कर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का भगवान राम के ननिहाल में स्वागत किया है। इसके साथ ही डॉयलॉग की वजह से विवादों में आई फिल्म आदिपुरुष को प्रतिबंधित करने की मांग की।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट में लिखा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का भगवान राम के ननिहाल छत्तीसगढ़ में सभी श्री राम भक्तों और प्रदेशवासियों की ओर से स्वागत है। साथ ही विनम्र निवेदन करता हूँ कि आज ही रामायण और प्रभु की छवि बिगाड़ने वाली फिल्म आदिपुरुष को बैन करने की घोषणा करें। जय सिया राम...।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-252, (वर्ष-06)

2. शुक्रवार, जून 23, 2023

3. शक-1944, आषाढ़, शुक्ल-पक्ष, तिथि- षष्ठी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:23, सूर्यास्त: 07:18। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 24 डी.सै., अधिकतम- 38+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू  पंकज कपूर  देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू हो गय...