हरियाणा लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
हरियाणा लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

रविवार, 26 सितंबर 2021

कैथल की मंडी में प्रेसवार्ता को सम्बोधित किया

राणा ओबराय       
कैथल। कैथल के मॉडल टाऊन निवासी आढती सत्यवान व उनकी पत्नी की हुई हत्या को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिह सुरजेवाला ने उनके बेटे व परिवारजनो से मुलाकात की। तत्पश्चात कैथल की अनाज मंडी में प्रेसवार्ता को सम्बोधित किया। सुरजेवाला ने कहा कि खट्टर सरकार के पिछले 7 सालो के शासन में कैथल की अनाज मंडी और मॉडल टाउन में भय का माहौल है। आढ़ती, व्यापारी, दुकानदार ख़ौफ़ के साये में जी रहे हैं। औरतें-बच्चे सैर तक करने से कतरा रहे हैं। मंडी हड़ताल पर है, दुकानें बंद हैं।

गौरतलब है कि परसों दोपहर दिन दहाड़े कैथल में घर में घुसकर बुजुर्ग दंपति की बेरहम तरीके से चाकूओं से गोदकर हत्या कर दी गई थी। लेकिन हत्यारे अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। शहर में लगातार चोरी, डकैती, लूटपाट और हत्याओं से हर नागरिक अपने आपको असुरक्षित महसूस कर रहा है।

उन्होंने कहा कि पिछले 7 सालों से हरियाणा प्रदेश व कैथल शहर सहित पूरे जिले में गुंडो का आतंक इस कद्र हावी है कि दिन दहाड़े गुंडे सरेआम हत्या कर रहे हैं। बदमाश हावी हैं, जनता भयभीत है और भाजपा-जजपा सरकार सत्ता के नशे में सोई है। आज दिन दहाड़े आढ़ती सत्यवान व उनकी पत्नी की घर में घुसकर हत्या करना ये दर्शाता है कि कैथल में गुंडों का आतंक व दहशतगर्दी का आलम दोबारा फिर चरम सीमा पर है।

कांग्रेस के महासचिव रणदीप सिह सुरजेवाला ने कहा कि सिर्फ इतना ही नही बल्कि यही हाल बाक़ी दर्दनाक हत्याओं का भी है। 6 साल पहले भी 18 मई 2015 की दोपहर को कैथल की नई अनाज मंडी में दिन दहाड़े बाइक सवार बदमाश ने आढ़ती मनीष को गोली मारकर हत्या कर दी थी। बीते कुछ वर्षों में यह जिले का सबसे चर्चित हत्याकांड रहा। लेकिन 6 साल के बाद भी इस हत्या की कोई गुत्थी सुलझ नही पाई है। कैथल जिले के गांव करोड़ा में 23 जनवरी 2017 की रात को विकास की गांव में हुई थी हत्या। 5 साल बाद भी आज तक कोई सुराग नही लगा। अक्टूबर 2019 में गांव तितरम के पास ईंट भट्ठे पर काम करने वाले मजदूर की 3 साल की बच्ची के हाथ-पांव काट दिए गए, फिर आंखें निकालकर निर्मम हत्या कर दी जाती है, लेकिन हत्यारो का आज तक कोई सुराग नहीं।

गांव क्योड़क में हांसी बुटाना नहर किनारे 5 मार्च 2021 की सुबह वारदात को अंजाम दिया जाता है, कोई शिनाख्त नहीं और 5 महीने से ज्यादा का समय बीतने के बाद भी हत्यारो का कोई सुराख नहीं। न अपराधियों का अता-पता है। न कोई पकड़ा गया है और न ही किसी को न्याय मिला है।

गुरुवार, 23 सितंबर 2021

हरियाणा की नई विधानसभा बनने का रास्ता साफ

राणा ओबराय          
चंडीगढ़। चंडीगढ़ में हरियाणा की नई विधानसभा बनने का रास्ता साफ हो गया है। इसके साथ ही वर्तमान विधान भवन और पंजाब विश्वविद्यालय में भी प्रदेश को पूरी हिस्सेदारी मिलने वाली है। लंबे अरसे से इनके लिए प्रयासरत हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता की तीनों मांगें केंद्र सरकार ने मान ली हैं। मंगलवार शाम विधानसभा अध्यक्ष ने इन विषयों को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की। शाह ने विस अध्यक्ष को तीनों मांगों पर सकारात्मक आश्वासन दिया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के दौरान हरियाणा विधानसभा अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता ने तीनों मसलों पर विस्तार से बात की।

अधिकारियों व कर्मचारियों पर कार्रवाई के आदेश

राणा ओबराय       
चंडीगढ़। हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने सख्ती दिखाते हुए बुधवार को रोडवेज बसों का बीमा न करवाने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों पर तत्काल कार्रवाई के आदेश दिए हैं। उन्होंने कहा कि यदि बीमा न होने की वजह से कोई बस डिपो में खड़ी रही और यात्रियों को असुविधा हुई तो इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसी लापरवाही करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों पर तत्काल कार्रवाई होगी। उन्होंने फतेहाबाद जिले में सामने आई ऐसी ही घटना पर तत्काल कार्रवाई के आदेश देते हुए परिवहन निदेशक से एक सप्ताह में रिपोर्ट मांगी है।

मंगलवार, 21 सितंबर 2021

हरियाणा: पूरे क्षेत्र में कार्यक्रमों का आयोजन किया

राणा ओबराय       
चंडीगढ़। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ऐसा माना जा रहा है कि पिछले दिनों भाजपा पार्टी व हरियाणा सरकार ने केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव का अहिर समुदाय में कद बढ़ाने के लिए पूरे क्षेत्र में उनके कार्यक्रमों का आयोजन किया। सोशल मीडिया और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रचारित किया गया कि भाजपा केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत का विकल्प बनाने के लिए भूपेंद्र यादव को अहिर समुदाय का नेता बनाने के लिए प्रयासरत है। इसलिए उनके कार्यक्रमों का आयोजन और खूब प्रचार प्रसार किया गया। 
ऐसा भी कह सकते हैं कि भाजपा अपनी चाल से बड़ा निशाना लगा कर राव इंद्रजीत का सरकार और पार्टी में दबाव औऱ प्रभाव कम करना चाहती है। इसका कारण यह है कि इंद्रजीत स्थायी भाजपाई नही है। वह अक्सर हवा के रुख के साथ पार्टी बदलते रहते हैं। इसीलिए भाजपा नेतृत्व भी चाहता है कि उसका अपना शुद्ध भाजपाई अहीर समुदाय का बड़ा नेता बने। क्योंकि अभी तक अहिरवाल क्षेत्र में राव इंदरजीत को ही यादवों का बड़ा नेता माना गया है। यूं तो कैप्टन अजय यादव भी यादव समुदाय में बड़ा कद रखते हैं लेकिन वह कांग्रेस विचारधारा के है। और राव इंदरजीत के मुकाबले में उनका दबदबा थोड़ा कम है। झज्जर रैली में भीड़ जुटाने के लिए विशेष तौर पर हरियाणा के दो मंत्रियो डॉ बनवारीलाल व ओपी यादव ने कमान कस रखी है। विधायक लक्ष्मण यादव , सीताराम यादव, सीता राम सिंगला आदि ने रैली की सफलता के लिए कोई कसर नही छोड़ रखी। माना जा रहा है अपनी झज्जर रैली के मंच पर सांसद, मंत्रियो व विधायको को एक साथ बिठाकर राव इंद्रजीत भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व व हरियाणा सरकार को अपनी ताकत दिखाने में कोई कोर कसर नही छोड़ेंगे। उनकी यह रैली वास्तव में वर्चस्व की लड़ाई है। इस रैली से यह साबित होगा की क्या यादव समुदाय आज भी राव इंद्रजीत को एक छत्र नेता मानता है या भूपेन्द्र यादव के प्रभाव में पासा बदलने को तैयार हो गया है।

शुक्रवार, 17 सितंबर 2021

पूर्वमंत्री कृष्ण बेदी का एक बार फिर कार्यालय बदला

राणा ओबराय          
चंडीगढ़। सिविल सचिवालय चंडीगड़ में हरियाणा सीएम के राजनीतिक सचिव व पूर्व मंत्री कृष्ण बेदी का एक बार फिर कार्यालय बदल दिया गया है। कृष्ण बेदी ने सचिवालय में 6 फ्लोर पर रूम नम्बर 40-बी बहुत मेहनत करके तैयार सुंदर कार्यालय बनाया था। कुछ दिन पहले बेदी की मेहनत पर पानी फेरते हुए इस रूम पर सीएम के प्रधान ओएसडी नीरज दफ़्तुआर की नेम प्लेट लग गयी है। 
बेचारा बेबस कृष्ण बेदी करे तो क्या करे! घूम फिर के 6 फ्लोर पर फिर अपने पुराने कार्यालय में आकर बैठ गया है।

आईपीएस अधिकारियों के स्थानातंरण किए, आदेश

राणा ओबराय       
चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने आज तुरंत प्रभाव से पांच आईपीएस अधिकारियों के स्थानातंरण एवं नियुक्ति आदेश जारी किए हैं।
एससीबी, गुरुग्राम की एडीजीपी चारू बाली को भौंडसी पुलिस परिसर, गुरुग्राम का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।
करनाल रेंज, करनाल की आईजीपी ममता सिंह को आईजी, एसटीएफ का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया हैं।
आईजी, एसटीएफ व परिवहन विभाग के परिवहन आयुक्त व सचिव का अतिरिक्त कार्यभार संभाल रहे अमिताभ सिंह ढिल्लों को आईजी, आधुनिकीकरण, हरियाणा और परिवहन विभाग के परिवहन आयुक्त व सचिव का अतिरिक्त कार्यभार दिया गया है।
हिसार रेंज, हिसार के आईजीपी राकेश कुमार आर्य को आईजीपी, कार्मिक, हरियाणा का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है।
इसी प्रकार, इंटर-कैडर स्थानातंरण के तहत असम-मेघालय से हरियाणा आने पर मयंक गुप्ता को एएसपी, खरखौदा (सोनीपत) लगाया गया है। 

गुरुवार, 16 सितंबर 2021

52 हजार करोड़ की परियोजना पर काम: गड़करी

राणा ओबरॉय            
चडींगढ। हरियाणा सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि दिल्ली की सबसे बड़ी समस्या प्रदूषण और जाम है तथा राष्ट्रीय राजधानी को इनसे मुक्ति दिलाने के लिए वह 52 हजार करोड़ रुपए की परियोजना पर काम कर रहे हैं। नितिन गडकरी ने बुधवार को यहां दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे के विकास कार्यो का निरीक्षण करते हुए कहा कि दिल्ली का सबसे बड़ा संकट प्रदूषण और जाम है। जिससे मुक्ति दिलाने के लिए उनका मंत्रालय निरंतर काम कर रहा है।
उन्होंने कहा कि दिल्ली को देहरादून, हरिद्वार, चंडीगढ़, मेरठ, जयपुर, मेरठ, कटरा जैसे शहरों से जुड़ने के लिए बेहतर सड़कों का निर्माण किया जा रहा है। दिल्ली में प्रदूषण नहीं हो। इसके लिए दिल्ली से बाहर सड़को का निर्माण किया गया है। ताकि दूसरे राज्यो को जाने वाले वाहन दिल्ली के बाहर से आवाजाही करे और दिल्ली में नहीं घुसे, इससे दिल्ली में प्रदूषण घटेगा और जाम लगने कम होगा। गडकरी ने कहा कि दिल्ली से कटरा जे बीच एक्सप्रेसवे बन रहा है जिससे दिल्ली कटरा के बीच की दूरी छह घंटे में तय की जा सकेगी और यह काम दो साल में पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उनका ध्यान बेहतर सड़क बनाने और शहरी दूरी को कम करने पर है। उन्होंने कहा कि सड़कें ऐसी बनाई गई है जिससे दिल्ली से चंडीगढ़ दो घंटे, दिल्ली से देहरादून दो घंटे, दिल्ली से हरिद्वार डेढ़ घंटा, दिल्ली चंडीगढ़ की दूरी दो घंटे में और दिल्ली से मेरठ की दूरी 40 मिनट में तय की जा सकेगी।

मंगलवार, 14 सितंबर 2021

हरियाणा कांग्रेस कमेटी की संगठन सूची घोषित की

राणा ओबरॉय           
चंडीगढ़। हरियाणा में कांग्रेस एक ऐसी पार्टी है। जिसका अभी तक संगठन तैयार नहीं हुआ है। 2014 में जब कांग्रेस के अशोक तंवर ने संगठन की जिम्मेदारी संभाली थी। तब से लेकर आज तक हरियाणा कांग्रेस का संगठन तैयार नहीं हुआ है। आज से लगभग 2 वर्ष पहले कुमारी शैलजा ने हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बागडोर संभाली थी तब शैलजा ने दावा किया था कि संगठन बहुत शीघ्र तैयार हो जाएगा। परंतु उनका यह दावा भी पूरी तरह फेल साबित हुआ। अभी कुछ समय पहले हरियाणा कांग्रेस प्रभारी ने भी मीडिया के समक्ष कहा था कि बहुत शीघ्र हरियाणा कांग्रेस कमेटी की संगठन सूची घोषित कर दी जाएगी। परंतु यह दावा भी बेकार ही गया। इसके पीछे कारण यह बताया जा रहा है। पूर्व सीएम हुड्डा और अध्यक्षा शैलजा की आपसी खींचतान के कारण ही प्रदेश संगठन की सूची लटकी हुई है। यदि इसी तरह गुटबाजी कांग्रेस में बनी रही तो ऐलनाबाद उपचुनाव व होने वाले पंचायत चुनाव में हरियाणा कांग्रेस को बुरी तरह हार का मुंह देखना पड़ेगा।

सोमवार, 13 सितंबर 2021

हरियाणा: लेडी डॉन को साथी सहित गिरफ्तार किया

राणा ओबराय            
चंडीगढ़। पुलिस की अपराध शाखा ने लारेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ी उस लेडी डॉन को उसके साथी सहित गिरफ्तार किया है। जोकि हरियाणा, दिल्ली सहित अन्य राज्यों में हथियार सप्लाई करती है। मंजू आर्य उर्फ मीनू नाम से मशहूर इस लेडी डॉन की सोशल मीडिया पर भी चर्चा है।
सोशल मीडिया पर हथियार लहराते हुए लेडी डॉन की कई वीडियो वायरल हुई हैं। पुलिस के मुताबिक लेडी डॉन मंजू आर्या उर्फ मीनू का मकसद पिछले दिनों पंजाब के जालंधर में रहने वाले अपने पति व झज्जर के ही एक व्यक्ति की हत्या कराए जाने का था। लेकिन वह अपने मकसद में सफल हो पाती। इससे पहले ही उसे पुलिस ने धर दबोचा। 
महिला पर अपने साथियों के साथ झज्जर व रोहतक में हथियारों के बल पर गाड़ी लूटने का भी आरोप है। बता दें कि पिछले दिनों झज्जर पुलिस को कंट्रोल रूम पर सूचना मिली थी कि झज्जर से एक गाड़ी छीनी गई है। 

शनिवार, 11 सितंबर 2021

जिम्मेदारी: भूल का सुधार करेगी हरियाणा सरकार

राणा ओबराय         
चंडीगढ़। कभी खट्टर सरकार के अति विश्वसनीय रहे हरियाणा सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के पूर्व महानिदेशक आईएएस समीरपाल सरो की सेवाएं की फिर खट्टर सरकार को मानो जरूरत पड़ गयी है। लगभग दो साल पहले सेवानिवृत्त होने के बाद कयास लगाये जा रहे थे कि खट्टर सरकार सरो को कोई महत्वपूर्ण पद देकर हरियाणा सिविल सचिवालय में बिठाएगी। कयास बेकार ही साबित हुए। अब किसान आंदोलन से घिरी हरियाणा सरकार को एक बार फिर समीरपाल सरो जैसे महत्वपूर्ण अधिकारी की याद आयी हैं। माना जा रहा है कि बहुत जल्दी हरियाणा सरकार पूर्व आईएएस समीरपाल सरो को महत्वपूर्ण विभाग के चेयरमैन पद की जिम्मेदारी सौंप कर अपनी भूल का सुधार करेगी।

सरकार के बीच चल रहा टकराव हो सकता हैं खत्म

राणा ओबरॉय          
करनाल। हरियाणा में करनाल में किसानों और सरकार के बीच चल रहा टकराव जल्द ही खत्म हो सकता है।करनाल के बसताड़ा टोल पर 28 अगस्त को किसानों पर हुए लाठीचार्ज के बाद एसडीएम आयुष सिन्हा के खिलाफ सख्त कार्रवाई समेत अन्य मांगों को लेकर किसान यहां धरना दे रहे हैं। अब किसानों और अफसरों के बीच टकराव खत्म हो सकता है और इसके संकेत शुक्रवार देर रात तक चली अफसरों और किसानों की बैठक में मिले। बता दें कि सरकार के निर्देश पर किसानों से बातचीत करने के लिए शुक्रवार को कृषि विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) देवेंद्र सिंह करनाल पहुंचे हुए थे। वहीं, किसानों की ओर से इस बैठक में भाकियू हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम सिंह चढ़ूनी समेत पंद्रह सदस्यीय कमेटी के किसान नेता भी शामिल थे।

गुरुवार, 9 सितंबर 2021

हरियाणा: मोबाइल इंटरनेट सेवाओं का निलंबन बढ़ा

राणा ओबराय             
चंडीगढ़। करनाल में जिला मुख्यालय में प्रदर्शनरत किसानों का धरना ”अनिश्चितकाल” तक के लिए जारी रहने के बीच हरियाणा सरकार ने बृहस्पतिवार आधी रात तक जिले में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं का निलंबन बढ़ा दिया है। राज्य के गृह विभाग द्वारा बृहस्पतिवार को जारी एक आदेश में कहा गया है, ”करनाल जिले में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं सुबह सात बजे से रात 12 बजे तक निलंबित रहेंगी।”करनाल में पिछले महीने पुलिस के लाठीचार्ज पर जिला अधिकारियों और प्रदर्शनरत किसानों के बीच बुधवार को एक अन्य दौर की वार्ता विफल रही। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने कहा कि वे जिला मुख्यालय पर अपना धरना ”अनिश्चितकाल” तक जारी रखेंगे। 
इससे पहले छह सितंबर को रात साढ़े 12 बजे से सात सितंबर को रात 11 बजकर 59 मिनट तक मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद की गयी थीं और स्थिति के ”अब भी संवेदनशील” होने के कारण यह निलंबन बुधवार आधी रात तक के लिए बढ़ा दिया गया है। अब ताजा आदेश में कहा गया है कि स्थिति की समीक्षा की गयी और इसे अब भी तनावपूर्ण माना गया है। आदेश में प्रदर्शनकारियों के ”अनिश्चितकाल” तक धरना करने के आह्वान का जिक्र करते हुए कहा गया है, ”हरियाणा के एडीजीपी (सीआईडी) नौ सितंबर को मेरे संज्ञान में लेकर आए कि स्थिति की समीक्षा की गयी है और हालात अब भी तनावपूर्ण हैं और कभी भी स्थिति बिगड़ सकती है जिससे करनाल जिले में जन सुरक्षा और कानून एवं व्यवस्था की स्थिति पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है।”
अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) राजीव अरोड़ा द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि करनाल जिले में वॉयस कॉलिंग के अलावा मोबाइल नेटवर्क पर मुहैया कराए जाने वाली सभी सेवाएं निलंबित रहेगी। इसमें कहा गयाा है कि मोबाइल फोन पर सोशल मीडिया मंचों जैसे कि व्हाट्सएप, फेसबुक और ट्वीटर के जरिए गलत सूचनाओं और अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाओं के निलंबन का आदेश दिया गया। 
इस बीच, धरने के तीसरे दिन प्रदर्शनकारी करनाल में लघु सचिवालय परिसर के प्रवेश द्वार पर डटे हुए हैं।
किसान संघ के नेताओं ने कहा कि अधिकारियों और आम जनता को प्रवेश करने से नहीं रोका जाएगा। उनकी मुख्य मांग आईएएस अधिकारी आयुष सिन्हा से संबंधित है। सिन्हा को किसानों के 28 अगस्त के प्रदर्शन के दौरान एक टेप में पुलिसकर्मियों को कथित तौर पर यह कहते हुए सुना गया कि अगर प्रदर्शनकारी सुरक्षा तोड़ते हैं तो उनका ”सिर फोड़ देना”। भारतीय जनता पार्टी की एक बैठक स्थल की ओर मार्च करने की कोशिश के दौरान पुलिस के साथ झड़प में करीब 10 प्रदर्शनकारी घायल हो गए थे।


बुधवार, 8 सितंबर 2021

किसानों पर लाठीचार्ज का आदेश, कार्रवाई की

राणा ओबरॉय       

करनाल। हरियाणा के करनाल जिले के बसताड़ा टोल प्लाजा पर गत 28 अगस्त काे किसानों पर लाठीचार्ज का आदेश देने वाले पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई तथा आईएएस अधिकारी और करनाल के तत्कालीन एसडीएम आयुष सिन्हा के विवादित आदेशों को लेकर उन्हें निलम्बित करने की मांग को लेकर किसानों का आज यहां लघु सचिवालय के बाहर धरना दूसरे दिन भी जारी रहा। किसान नेताओं राकेश टिकेत, गुरनाम सिंह चड़ूणी और योगेंद्र यादव के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल और प्रशासन के बीच दो दौर की बातचीत हुई लेकिन ये बेनतीजा रहीं। किसान नेताओं की मांग है कि बसताड़ा टाेल प्लाजा पर लाठीचार्ज का आदेश देने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए। वहीं श्री सिन्हा को निलम्बत किया जाये। किसान नेता लाठीचार्ज में गम्भीर रूप से घायल होने और इलाज के दौरान दम तोड़ देने वाले किसान सुशील काजल के परिवार को 25 लाख रुपए मुआवजा और एक सदस्य को सरकारी नौकरी तथा घायल किसानों को दो-दो लाख रुपए मुआवजा देने की भी मांग कर रहे हैं।

जिला प्रशासन ने लेकिन किसान प्रतिनिधिमंडल की ये मांगे नहीं मानी और कहा कि इस सम्बंध में जांच चल रही है तथा जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कार्रवाई को लेकर कोई फैसला लिया जाएगा। लेकिन किसान नेता इस पर संतुष्ट नहीं हुये और इन्होंने मांगे माने जाने तक अपना धरना जारी रखने का निर्णय लिया है। वहीं लघु सचिवालय के अंदर और वाहर सुरक्षा तथा कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिये पुलिस और अर्द्ध सुरक्षा बलों की 40 कम्पनियां तैनात की गई हैं।

टिकैत ने मीडिया से बातचीत में कहा कि प्रशासन हमारी नहीं सुन रहा है और जो मांगे उसके समक्ष रखी गई है उन पर भी कार्रवाई करने से इनकार कर दिया है। ऐसे में उनके पास अब धरना आगे जारी रखने के सिवा कोई विकल्प नहीं बचा है। जब तब मांगे नहीं मानी जाएंगी यह धरना जारी रहेगा। उधर, लघु सचिवालय के बाहर किसानों का जमावड़ा आज दिन भर जारी रहा। किसानों ने पक्का माेर्चा लगाने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। टैंट और तम्बू मगाये जा रहे हैं। धरने पर बैठे किसानों के खाने पीने की व्यवस्था के लिय लंगर की व्यवस्था की गई है।

इससे पहले गत सात सितम्बर को स्थानीय अनाज मंडी में उक्त मांगों को लेकर आयोजित किसान महापंचायत के दौरान भी किसानों की 11 सदस्यीय समिति की जिला प्रशासन के साथ तीन दौर की वार्ता हुई थी लेकिन यह विफल रही थी। इसके बाद किसानों ने अपने पूर्व घोषित कार्यक्रम अनुसार लघु सचिवालय का घेराव करने के लिये अनाज मंडी से उस ओर कूच कर दिया था। इस दौरान बड़ी संख्या में किसान रास्ते में स्थापित अनेक अवरोधको को तोड़ते हुये लघु सचिवालय तक पहुंच गये थे जहां इन्हें तितर बितर करने के लिये वॉटर कैनन का भी इस्तेमाल किया गया था। स्थिति को बिगड़ने से रोकने के लिये टिकैत समेत कुछ किसान नेताओं को हिरासत में भी लिया गया था लेकिन इन्हें बाद में रिहा कर दिया गया।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली-करनाल राष्ट्रीय राजमार्ग पर बसताड़ा टोल प्लाजा पर गत 28 अगस्त को पुलिस ने किसानों पर उस समय लाठीचार्ज किया था जब वे भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) नेताओं को एक बैठक जाने से रोकने के लिये वहां एकत्रित हुये थे। इस लाठीचार्ज में घायल करनाल के रायपुर जाटान गांव के किसान सुशील काजल ने अगले दिन दम तोड़ दिया था। वहीं अनेक किसान घायल हो गये थे। गत 30 अगस्त को भारतीय किसान यूनियन ने घरौंडा अनाज मंडी में महापंचायत कर राज्य सरकार से सुशील काजल के परिवार को 25 लाख रुपए मुआवजा और एक सदस्य को सरकारी नौकरी, घायल किसानों को दो-दो लाख रुपए मुआवजा और लाठीचार्ज के आदेश देने वाले एसडीएम आयुष सिन्हा और पुलिस उपाधीक्षक और अन्य अधिकारियों पर कार्रवाई करने की मांग की थी।राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और गृह मंत्री अनिल विज का कहना है कि प्रजातंत्र में सभी को शांतिपूर्ण ढंग से अपनी बात कहने और आंदोलन करने का अधिकार लेकिन इससे किसी अन्य नागरिकों के अधिकारों का हनन नहीं होना चाहिये।

मंगलवार, 7 सितंबर 2021

किसान महापंचायत पर व्यवस्था के इंतजाम किए

राणा ओबरॉय           
करनाल। राज्य के बसताड़ा टोल प्लाजा पर नए कृषि कानूनों को रदद किये जाने समेत अपनी अन्य मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज के विरोध में मंगलवार को आहूत की गई किसान महापंचायत को लेकर सरकार की ओर से सुरक्षा व्यवस्था के मुकम्मल इंतजाम किए गए हैं। इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। किसानों को मिनी सचिवालय तक पहुंचने से रोकने के लिए पैरामिलिट्री फोर्स के अलावा सुरक्षा बलों की 40 कंपनियां तैनात की गई है। मंगलवार को करनाल के पुलिस अधीक्षक गंगाराम पूनिया ने बताया है कि राज्य के अलावा करनाल में कानून व्यवस्था बनाए रखने को लेकर पुलिस और प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है। इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। मिनी सचिवालय तक आंदोलनकारी किसानों को पहुंचने से रोकने के लिए पैरामिलिट्री फोर्स सहित सुरक्षा बलों की 40 कंपनियां तैनात की गई हैैं। 
पुलिस की तीन कंपनियों की भी पंचायत स्थल और उसके इर्द-गिर्द नियुक्ति की गई है। पैरामिलिट्री फोर्स की 10 कंपनियां अलग से लगाई गई है। महापंचायत के मद्देनजर 5 पुलिस अधीक्षक और 25 एचपीएस कम डीएसपी की ड्यूटी लगाई गई है। इसके साथ ही वाटर कैनन और ड्रोन की भी तैनाती की गई है। उन्होंने बताया है कि करनाल शहर का तकरीबन पूरा हिस्सा सील कर दिया गया है। गुड़गांव, करनाल, हिसार, रोहतक और रेवाड़ी रेंज की फोर्स भी किसान महापंचायत के मददेनजर करनाल में आई हुई है। महापंचायत आयोजन के सुरक्षा के मददेनजर शहर में लगाई गई 10 कंपनियों में बीएसएफ, सीआरपीएफ, आरएएफ तथा आइटीबीपी शामिल है। 

सोमवार, 6 सितंबर 2021

ट्रांसपोर्ट विभाग में आईपीएस अधिकारी की नियुक्ति

राणा ओबराय        
चंडीगढ़। हरियाणा गृहमन्त्री अनिल विज व मुख्य सचिव विजय वर्धन की असहमति के बावजूद भी हरियाणा सीएम खट्टर ने ट्रांसपोर्ट विभाग में आईपीएस अधिकारी कला रामचंद्रन की नियुक्ति कर दी है। हरियाणा की आईएएस लाबी पहले से सीएम खट्टर के इस निर्णय के खिलाफ है। गृहमन्त्री विज भी दूसरे विभागों में आईपीएस अधिकारियों की नियुक्ति को लेकर मुख्यमंत्री को अपने विचारों से अवगत करा चुके हैं। वैसे तो मुख्यमंत्री का विशेष अधिकार होता है कि वह किसी भी अधिकारी को कही भी नियुक्त कर सकते हैं। परन्तु जब प्रदेश का मुख्य सचिव औऱ प्रदेश का गृहमन्त्री सवैधानिक बात करे तो उसे मानना भी चाहिए ? परन्तु यहाँ सब विपरीत है, मुख्यमंत्री ने विरोध के बावजूद अपनी मर्जी की नियुक्ति करी। इस फैंसले का परिणाम यह होगा प्रशासनिक अधिकारियों का एक वर्ग अंदर ही अंदर सरकार की नीतियों का विरोध करने लग जायेगा।प्रदेश की जनता में मुख्यमंत्री खट्टर की पहचान एक अहंकारी शासक के रूप में देखी जाने लगेगी। इसलिए सीएम खट्टर को फैंसले लेते वक्त अपने सहयोगी मन्त्री की बात और उनके मान सम्मान का भी ध्यान अवश्य रखना चाहिए।

शनिवार, 4 सितंबर 2021

कांग्रेस टिकट किसी को नही जाने देगा शाह परिवार

राणा ओबराय          
पानीपत। युवा नेता बिक्रम शाह के मित्रो के अनुसार पानीपत शहरी सीट पर शाह परिवार कांग्रेस टिकट किसी और को नही जाने देगा। 
पिछली बार भी बुल्लेशाह के चुनाव न लड़ने के कारण कांग्रेस की टिकट गैर शाह परिवार में चली गयी थी। बिक्रम के दोस्तो की माने तो पूर्व मंत्री बलबीरपाल शाह के आशीर्वाद से उनके पुत्र बिक्रम शाह को चुनाव लड़ाने का हमने पूरी तरह से मन बना लिया है। मिली जानकारी के अनुसार बिक्रम शाह अब की बार चुनाव अवश्य लड़ेंगे चाहे उसे आजाद प्रत्याशी के तौर पर ही चुनाव लड़ना पड़े। पूरे प्रदेश औऱ पानीपत की जनता पूर्व मंत्री बलबीर शाह की ईमानदारी के बारे में भली भांति जानती है। जिसका पूरा लाभ बिक्रम शाह को चुनाव लड़ने के मौके पर मिल सकता है। बिक्रम के दोस्तो को पूरा विश्वास है कि अब की बार पानीपत शहरी सीट से बिक्रम ही विधायक बनेगा?

बुधवार, 1 सितंबर 2021

एचसीएस अधिकारी का तबादला, आदेश जारी किए

राणा ओबरॉय        

चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने 19 आईएएस और एक एचसीएस अधिकारी के तत्काल प्रभाव से तबादले के आज आदेश जारी किए। एक आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार श्री वरिंद्र सिंह कुंडू को रोजगार विभाग, सैनिक एवं अर्द्ध सैनिक कल्याण विभाग तथा मुद्रण एवं लेखन विभाग का अतिरिक्त मुख्य सचिव(एसीएस), श्री एस. एन. रॉय को वन एवं वन्यजीव विभाग, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग तथा चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग का एसीएस, डॉ. राजा शेखर वुंडरू को श्रम का एसीएस, श्रीमती. अनुपमा को हरियाणा व्यापार मेला प्राधिकरण, नई दिल्ली का मुख्य प्रशासक, महिला एवं बाल विकास विभाग का प्रधान सचिव और अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव, 2020 का नोडल अधिकारी, श्री अरूण कुमार गुप्ता को शहरी स्थानीय निकाय विभाग तथा कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग का प्रधान सचिव, श्री विजय सिंह दहिया को खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग का महानिदेशक एवं सचिव, रेणू एस. फूलिया को अम्बाला मंडलायुक्त, जगदीप सिंह को अनुसूचित जाति एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग का महानिदेशक एवं सचिव, चंद्र शेखर खरे को उच्च शिक्षा विभाग का निदेशक एवं विशेष सचिव तथा तकनीकि शिक्षा विभाग का निदेशक एवं विशेष सचिव, रिपूदमन सिंह ढिल्लों को भिवानी का उपायुक्त, श्री सुजान सिंह को ग्रामीण विकास विभाग का निदेशक एवं विशेष सचिव, जयबीर सिंह आर्य को हरियाणा शासन सुधार प्राधिकरण का निदेशक तथा कॉनफेड का प्रबंध निदेशक लगाया गया है।

मंगलवार, 31 अगस्त 2021

सड़क हादसे में महिला कलाकार सपना की मौंत हुईं

राणा ओबरॉय     

सिरसा। सिरसा में एक सड़क हादसे में महिला कलाकार सपना की मौत हो गई है। जबकि पांच लोग घायल हुए हैं। हादसे के बाद घायलों को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। वहीं सपना का पोस्टमार्टम करवाने के बाद परिजनों को शव सौंप दिया है।

जानकारी के मुताबिक रविवार की देर रात कलाकार मंडली फतेहाबाद से सिरसा आ रही थी। तभी रास्ते में गाड़ी के आगे गाय आ गई। गाय को बचाते हुए गाड़ी डिवाइडर से जा टकराई। जिससे गाड़ी में सवार सभी लोग घायल हो गए।

सोमवार, 30 अगस्त 2021

स्टाफ-कार ड्राइवर के पदों पर नोटिस जारी किया

राणा ओबरॉय        
चंडीगढ़। अगर आप 10वीं पास है और सरकारी विभाग में नौकरी की तलास कर रहे हैं तो हम आपके लिए लाए हैं हिंदी में नौकरियों की जानकारी। राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान ने स्टाफ-कार ड्राइवर के पदों पर नोटिस जारी किया है। अगर आप हरियाणा डीसी रेट की जानकारी सबसे पहले पाना चाहते हैं तो  वेबसाइट पर डेली विजिट करते रहें।

इक्छुक व योग्य उम्मीदवार जो इन पदों की सभी पात्रता को पूरा करते हैं और इन पदों पर आवेदन करने की इच्छा रखते हैं। उनसे अनुरोध है कि राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान के इन पदों पर आवेदन करने से पहले विभाग द्वारा जारी किया गया। नोटिस ध्यान से पढकर आवेदन संबंधित पूरी जानकारी लेने के बाद ही अपनी योग्यता के अनुसार इन पदों पर आवेदन करें। इन पदों पर आवेदन करने वाले उम्मीदवार की योग्यता 10वीं पास या या इसके सामान उपाधि होने पर भी स्वीकृति है।

हरियाणा के सभी 22 जिलों का दौरा करेंगे चौटाला

राणा ओबरॉय        
चंडीगढ़। पूर्व मुख्यमंत्री एवं इंडियन नेशनल लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी ओम प्रकाश चौैटाला पार्टी संगठन को मजबूती देने के लिए 1 सितम्बर से ‘कार्यकर्ता मिलन समारोह’ के तहत प्रदेश के सभी 22 जिलों का दौरा करेंगे।

इनेलो सुप्रीमो रिहाई के बाद पहली बार सार्वजनिक रूप से जहां पार्टी पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और जनता से रूबरू होकर भाजपा सरकार द्वारा किसानों पर थोपे गए काले कृषि कानूनों, बेतहाशा बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, कानून व्यवस्था और पैट्रोल-डीजल के आसमान छूते दाम और किसानों को उनकी फसलों के उचित दाम न मिलने जैसे गंभीर मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

दुनिया में सबसे अधिक परेशान देश है 'अमेरिका'

वाशिंगटन डीसी। कोरोना महामारी की शुरुआत के साथ ही दुनिया भर में सबसे अधिक परेशान देश अमेरिका है। वैश्विक मामलों का आंकड़े की लिस्ट में पहले ...