रविवार, 22 सितंबर 2019

मोदी फिर जीत लेंगे अमेरिकनो का दिल

न्यूयॉर्क। अमेरिका के ह्यूस्टन में आज रात भारतीयों का सबसे बड़ा शो हाउडी मोदी शुरू होगा। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी इसमें शामिल होंगे। ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में पीएम नरेंद्र मोदी 50 हजार भारतीय अमेरिकी समुदाय को संबोधित करेंगे।


भारतीय समय के मुताबिक रात साढ़े नौ बजे डोनल्ड ट्रंप हाउडी मोदी कार्यक्रम में शामिल होंगे। ट्रंप भारत-अमेरिका की साझा विरासत और विश्व शांति, मानव सभ्यता की प्रगति पर बात करेंगे। इस कार्यक्रम में अमेरिका के सभी 50 राज्यों से प्रतिनिधि शामिल होने के लिए आ रहे हैं।
ह्यूस्टन के लिए रवाना हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप हाउडी मोदी कार्यक्रम में करीब 50 हज़ार से ज्यादा लोग जमा होने वाले हैं। बताया जा रहा है कि किसी विदेशी नेता के लिए इतने लोगों को जमा होना अप्रत्याशित है।


अपने सात दिन के दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका पहुंच चुके हैं। ह्यूस्टन में होने वाले उनके 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम के लिए एनआरजी स्टेडियम में स्टेज भी सज चुका है। ऐसे में एक महिला ने अपने लिए हैदराबाद से एक स्पेशल साड़ी डिजाइन कराई है। इस साड़ी में महिला ने 'HOWDY MODI' लिखवाया है। पीएम मोदी के संबोधन से पहले एनआरजी स्टेडियम में जश्न मना रहे हैं। भारतीय समुदाय के भारत मूल के अमेरिका में रह रहे लोग आज अत्यंत प्रसन्न दिखाई दे रहे हैं। मोदी की यह सातवीं अमेरिकी यात्रा है ।जिससे हमारे और अमेरिकी व्यापारिक और व्यवहारिक सबंध अनुरुप दृष्टिकोण को देखते हुए हम भविष्य में इस संबंध से बहुत सारे लाभ प्राप्त कर सकते हैं। इन संबंधों का अमेरिका को भी बहुत लाभ प्राप्त होगा।


रेल भर्ती के नाम पर ठगे रायबरेली के युवा

रेलवे की मल्टीनेशनल कंपनी में नौकरी के नाम पर ठगे गये रायबरेली के युवक


सन्दीप मिश्रा


रायबरेली। रेलवे विभाग की एक मल्टीनेशनल कंपनी मैं नौकरी दिलाने के नाम पर लखनऊ की एक महिला द्वारा रायबरेली जनपद के युवकों को ठगे जाने का मामला प्रकाश में आया है। बताते हैं रेलवे विभाग का कार्य कर रही एलएनटी कंपनी में नौकरी दिलाने के लिए लखनऊ की एक महिला उमा श्रीवास्तव ने अपने पुत्र शिवेंद्र श्रीवास्तव और कंपनी के एक सेक्शन इंजीनियर हितेश राय के साथ जनपद के नवयुवकों को अपना शिकार बनाने का षड्यंत्र रचा । जिसके तहत नौकरी का प्रलोभन देकर नव युवकों से उनके अंक पत्रों की फोटो कॉपी आधार कार्ड फोटो और तमाम तरह के जरूरी कागजात के साथ-साथ एक से डेढ़ लाख रुपए तक ले लिए और उन्हें बताया कि पहले आप सबकी 2 महीने तक ट्रेनिंग होगी उसके बाद सभी को कंपनी के माध्यम से नौकरी मिल जाएगी। जगतपुर निवासी शोभित पांडेय ने बताया कि पैसा जमा करने के बाद उमा श्रीवास्तव के पुत्र शिवेंद्र श्रीवास्तव ने सभी को लखनऊ बुला कर दो महीने तक उनकी कोचिंग क्लास चलाई । कोचिंग क्लास का कोर्स पूरा होने के बाद सब को यह कहकर भेज दिया गया कि जब भी कंपनी से बुलावा आएगा आप सबको सूचित कर दिया जाएगा। बताते है कि उमा श्रीवास्तव और उनके पुत्र द्वारा फैलाए गए इस जाल में रायबरेली जनपद के ही नहीं बल्कि लखनऊ कानपुर सुल्तानपुर प्रतापगढ़ तक के युवक उनके शिकार में फस गए और आज 2 साल बीत जाने के बाद भी नौकरी के लिए भटक रहे हैं । रायबरेली के ही गवर्नमेंट कॉलोनी निवासी और ठगी का शिकार हुए एक युवक का कहना है कि इन लोगों ने फर्जी ढंग से सभी को आई कार्ड तक एलएनटी कंपनी का जारी कर दिया था और कुछ लोगों को तो भोपाल उड़ीसा आदि जगहों पर ट्रेनिंग के नाम पर भेज भी दिया था । परंतु आज तक उन लोगों को नौकरी नहीं मिली उल्टा उन लोगों का पूरा पैसा इन फर्जीवाड़ा करने वालों के पास जमा है । सूत्र बताते है कि इन लोगो ने तमाम जनपदो से लगभग 4 सौ युवकों को अपना शिकार बना रखा है । यही वजह है कि कई युवकों ने अपने रुपये वापस करने की बात कही तो उनको धमकी या फिर भय दिखा कर शांत करा दिया गया। लेकिन युवक आज भी अपनी नोकरी या इन ठगों के पास जमा धन के लिये भटक रहे है।



अंतर-कलह का फायदा उठाये भाजपा

राजस्थान में कांग्रेस की अंर्तकलह का फायदा उठा सकती है भाजपा। 

जयपुर। राजस्थान प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि अंर्तकलह के चलते प्रदेश में कांग्रेस की सरकार हिट विकेट हो जाएगी। भाजपा का प्रयास होगा कि अशोक गहलोत के नेतृत्व में चलने वाली कांग्रेस सरकार अपना कार्यकाल पूरा न कर सके। कांग्रेस में सीएम अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट के बीच पिछले कई माह से खींचतान चल रही है, लेकिन यह पहला मौका है जब प्रमुख विपक्षी भाजपा की ओर से इस तरह का बयान आया है। अब तक भाजपा के नेताओं का यही कहना रहा कि कांग्रेस के आंतरिक विवाद से हमारा कोई सरोकार नहीं है। असल में भाजपा और कांग्रेस के विधायकों में बड़ा अंतर है। कांग्रेस के पास अब 200 में से 106 विधायक हो गए हैं, जबकि भाजपा के 72 विधायक हैं। सरकार को गिराने के लिए भाजपा को कम से कम 28 विधायकों का जुगाड़ करना है। अब तक की चुप्पी के बाद 22 सितम्बर को जिस तरह भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष पूनिया का बयान आया है, उससे कांग्रेस में खलबली मच सकती है। अब तक जो भाजपा तमाशबीन की मुद्रा में थी, वह अब कांग्रेस के अंर्तकलह में रुचि दिखाने लगी है। यदि भाजपा की रुचि बढ़ती है तो राजस्थान में कांग्रेस की सरकार को खतरा हो सकता है। हालांकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को फिलहाल अपने ही लोगों से खतरा नजर आ रहा है। पिछले दिनों बसपा के छह विधायकों को कांग्रेस में शामिल करवाने से सीएम गहलोत बेहद उत्साहित थे। उम्मीद थी कि सरकार को मजबूती देेने के लिए बसपा के विधायकों को मंत्री बनाया जाएगा। गहलोत मंत्रिमंडल का विस्तार करते इससे पहले ही प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं क ो राजनीतिक नियुक्तियां देने का मुद्दा उठा दिया। हालांकि बसपा विधायकों को शामिल करने में पायलट की कोई भूमिका नहीं थी, लेकिन फिर भी पायलट ने कहा कि बसपा के विधायक बिना शर्त कांग्रेस में शामिल हुए हैं। पायलट का कहना रहा कि पहले कांग्रेस के उन कार्यकर्ताओं को सम्मान मिलना चाहिए जिन्होंने पांच वर्ष खून पसीना बहाकर प्रदेश में सरकार बनवाई है। पायलट के इस बयान के बाद गहलोत के मंत्रिमंडल का विस्तार टल गया। क्रिकेट की राजनीति में भी पायलट की ओर से गहलोत को खुली चुनौती दी जा रही है। पायलट के समर्थक माने जाने वाले कांग्रेस के दिग्गज नेता रामेश्वर डूडी ने राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष पद पर दावा ठोक दिया है। यह दावा तब किया गया है, जब सीएम गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत को एसोसिएशन का अध्यक्ष बनाने की कवायद हो रही है। देखना होगा कि अब भाजपा किस तरह से कांग्रेस की अंर्तकलह को हवा देती है। प्रदेश अध्यक्ष पूनिया के ताजा बयान से राजस्थान की राजनीति में खलबली मच गई है। 
एस.पी.मित्तल


पक्षपात में घुस गए दरगाह अध्यक्ष (विचार)

केन्द्र सरकार की दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान अब कांग्रेस के पक्ष में आए। इसे कहते हैं दोनों हाथ में लड्डू रखना। क्रिकेट लीग के नाम पर वसूली के आरोप। 

मौका परस्त व्यक्तियों के लिए कहावत है कि दोनों हाथ में लड्डू रखना। इस कहावत को अब अजमेर स्थित सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह की प्रबंध कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान चरितार्थ कर रहे हैं। दरगाह कमेटी केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय के अधीन काम करती है। स्वयं को कट्टर भाजपाई साबित कर अमीन पठान गत दो बार से कमेटी के अध्यक्ष बन रहे हैं। केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख्त्यार अब्बास नकवी की मिजाजपुर्सी कर पठान दो बार से कमेटी का अध्यक्ष पद हथियाने में सफल रहे हैं। राजस्थान में गत भाजपा के शासन में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को प्रभावित कर पठान हज कमेटी के अध्यक्ष भी बन गए। यानि भाजपा की सरकार राज्य में हो या केन्द्र में, पठान ने राजनीतिक लाभ लेने में कोई कसर नहीं छोड़ी। लेकिन राजस्थान की क्रिकेट की राजनीति में अब पठान कांग्रेस के नेताओं के साथ खड़े हो गए हैं। पठान पूर्व में राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के उपाध्यक्ष रह चुके हैं, इसलिए पठान का क्रिकेट की राजनीति में भी दखल हैं। इन प्रदेश में क्रिकेट की राजनीति में घमासान मचा हुआ है। विधानसभा और राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष सीपी जोशी चाहते हैं कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पुत्र वैभव गहलोत एसोसिएशन के अध्यक्ष बने। हालांकि जोशी-गहलोत को अपनी ही पार्टी के नेता रामेश्वर डूडी से चुनौती मिल रही है, लेकिन मौका देखते हुए पठान ने कांग्रेस सरकार के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पुत्र की उम्मीदवारी का समर्थन कर दिया है। जो अशोक गहलोत रोजाना भाजपा राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ को कोसते हैं उन्हीं गहलोत के पुत्र को पठान खुला समर्थन दे रहे हैं। असल में एक कारोबारी ने जयपुर में पठान के विरुद्ध 80 लाख रुपए वसूलने का आरोप लगाते हुए पुलिस में मुकदमा दर्ज करवाया है। पठान अब इसी मुकदमे में एफआर लगवाना चाहते हैं। एफआर लगवाने में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मदद चाहिए। यानि पठान पहले अपना हित देख रहे हैं। मुकदमे में एफआर लगवाने में केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्री नकवी कोई मदद नहीं कर सकते है। 
यूनिवर्सिटी के नाम पर भी चंदा वसूली:
ख्वाजा साहब की दरगाह के अनेक खादिमों ने दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान पर ख्वाजा साहब के नाम पर बनने वाली यूनिवर्सिटी के लिए चंदा वसूली का आरोप लगाया है। खादिमों का कहना है कि जिस यूनिवर्सिटी का शिलान्यास पठान ने केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख्त्यार अब्बास नकवी से करवाया उस यूनिवर्सिटी के भवन का मानचित्र भी अभी तक स्वीकृत नहीं करवाया है। इतना ही नहीं इस यूनिवर्सिटी के लिए किसी भी सरकारी संस्थान से मान्यता नहीं ली गई है। लेकिन इसके बावजूद भी व्यापक पैमाने पर प्रचार प्रसार कर यूनिवर्सिटी के नाम पर चंदा उगाया जा रहा है। 
एस.पी.मित्तल


तो क्या यही कश्मीरी है? (विविध)

तो क्या सुरक्षा बलों पर पत्थर फेंकने वाले ही कश्मीरी हैं? पीएम नरेन्द्र मोदी ने अमरीका में कश्मीरी पंडितों से मुलाकात पाकिस्तान को करारा जवाब दिया। 

 भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमरीका के ह्यूस्टन में भारतीय मूल के कश्मीरी  पंडितों के समुदाय से मुलाकात की। मोदी ने स्वीकारा की आम लोगों (कश्मीरी पंडित) को बहुत कष्ट झेलना पड़ा है। लेकिन कश्मीरी पंडितों ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने पर मोदी का आभार प्रकट किया। पंडितों का कहना रहा कि अब हम अपने घरों पर जा सकेंगे। असल में 370 हटने के बाद से पाकिस्तान और भारत में रह रहे पाकिस्तान परस्त नेता कश्मीर घाटी में लगी पाबंदियों को उठा रहे हैं। कहा जा रहा है कि कश्मीरियों पर अत्याचार हो रहा है। जब जानते हैं कि 5 अगस्त के बाद से सुरक्षा बलों को घाटी में एक भी गोली नहीं चलानी पड़ी है। मोदी ने कश्मीरी पंडितों से मुलाकात कर बता दिया कि असली कश्मीरी कौन हैं। पाकिस्तान तो उन कश्मीरियों की तरफदारी कर रहा है जो सुरक्षा बलों पर पत्थर फेंकते हैं। कश्मीर घाटी के मात्र पांच जिलों में कुछ पाबंदियां उन्हीं कश्मीरियों पर लगा रखी हैं जो अभी पत्थर फेंकने और माहौल बिगाडऩे को उतावले हैं। उन्हीं नेताओं को नजरबंद कर रखा है जो पत्थरबाजों को भड़काते हैं। असल में पाकिस्तान परस्त नेताओं की खेल खत्म हो गया है। अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद जम्मू कश्मीर प्रांत को केन्द्र शासित प्रदेश बना दिया है और 80 प्रतिशत क्षेत्र को आतंक से मुक्त कर दिया है। पाकिस्तान परस्त नेता जम्मू और लद्दाख के लोगों की खुशियों की बात नहीं करते, बल्कि मु_ीभर उन कश्मीरियों की दुहाई देते हैं, जो पाकिस्तान से पैसा लेकर आतंक फैलाते हैं। क्या भारत को अपने देश में आतंकियों के खिलाफ कार्यवाही का अधिकार नहीं है? जब जम्मू, लद्दाख तथा कश्मीर के अधिकांश जिलों से सभी पाबंदियां हटा ली गई है तो फिर घाटी के पाबंदी वाले पांच जिलों की स्थिति को समझा जा सकता है। ह्यूस्टन में कश्मीरी समुदाय से मुलाकात कर मोदी ने बताया कि कश्मीरी इतने मेहनती और सच्चे दिल के होते हैं। पाकिस्तान परस्त नेताओं की वजह से कश्मीरी पंडितों को कश्मीर छोडऩा पड़ा। अब जब कश्मीरी वापस अपने घरों पर जाएंगे तो उनकी खुशी का अंदाजा लगाया जा सकता है। पाकिस्तान को चाहिए कि वह अब कश्मीर का राग अलापना बंद करे। 
एस.पी.मित्तल


एसएचओ की रिवाल्वर छीन बदमाश फरार

लुटेरों से भिड़ गए एसएचओ, सर्विस रिवॉल्‍वर छीन बदमाश हुए फरार, भीड़ देखती रही तमाशा


रोहतक। लाखनमाजरा चौक के पास सदर थाना एसएचओ बदमाशों से भिड़ गए। वे सिविल वर्दी में गोहाना की तरफ से बाइक सवारों का पीछा कर रहे थे। लाखनमाजरा चौक के नजदीक पंक्‍चर लगवा रहे बदमाशों पर एसएचओ ने रिवाल्वर तान दी। बदमाशेां ने भी एसएचओ पर अवैध पिस्तौल तान दी। किसी भी ओर से गोली नहीं चलाई गई और फिर दोनों तरफ से हाथापाई शुरू हो गई। इसी बीच बदमाश एसएचओ की सर्विस रिवाल्वर लूटकर फरार हो गए।
इसके बाद मामले की सूचना आग की तरह फैल गई और घटनास्‍थल पर रोहतक एसपी राहुल शर्मा भी पहुंचे मौके पर पहुंचे। लाखनमाजरा थाने में मामला दर्ज करवाया गया है। और नाकेबंदी भी कर दी गई है। बताया जा रहा कई दिन से बाइक सवार बदमाशों की वीटी चल रही थी। शक होने पर एसएचओ ने पीछा करना शुरू किया था और जब बदमाशों ने उनके उपर पिस्‍तौल तानी तो शक यकीन में बदल गया। मगर हैरत की बात ये रही कि चौक पर एसएचओ और बदमाशों के बीच हाथापाई होती रही और भीड़ तमाशा देखती रही।


देखते हैं पाकिस्तान कितने आतंकी भेजेगा

पटना। देश के अभिन्न हिस्से को हम किसी भी रूप में अपने से जुदा नहीं कर सकते हैं। हमारे राष्ट्र का प्रत्येक भूभाग  स्वच्छंद रूप से हमारा है और हम राष्ट्रहित में उसका सदुपयोग करने से पीछे नहीं हटेगे। देश की जनता को इस बात का विश्वास होना चाहिए कि अनुच्छेद 370 ऐसा कैंसर था जिसने कश्मीर का बहुत खून बहाया है। जिन लोगों का खून बहाया गया है वे सब भारत के नागरिक थे। खून-खराबे से छुटकारे के लिए यह उचित समय था। जिसका हमारी सरकार ने लाभ भी उठाया। आज पाकिस्तान की जनता भय के साए से मुक्त है और स्वतंत्र जीवन जीने के लिए आजाद है। जो उन्हें इससे पहले कभी नहीं मिला वह भाजपा की सरकार ने दिया है। रही बात पाकिस्तान की पाकिस्तान अपनी निम्न हरकतों से बाज आने वाला नहीं है हम भी देखते हैं कि पाकिस्तान कितने आतंकवादी भेज सकता है, कोई लौट कर नहीं जा सकेगा। राजनाथ सिंह ने कहा
जम्मू कश्मीर की तीन चौथाई जनता अनुच्छेद-370 के अधिकतर प्रावधानों को निरस्त किए जाने के पक्ष में थी। 
आशा करते हैं कि पाकिस्तान 1965 और 1971 की गलतियां नहीं दोहराएगा, उनके साथ बातचीत सिर्फ पीओके पर होगी। अन्य किसी विषय पर बात करने का कोई औचित्य नहीं है।


अपराध रोकने का नया-अनोखा तरीका

बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। बढ़ते हुए अपराधों की रोकथाम और सुबह-सुबह टहलने वालों के साथ लगातार हो रही आपराधिक गतिविधियों पर लगाम कसने के लिए प्रयागराज पुलिस ने एक नया और अनोखा तरीक़ा निकाला है जिसे नाम दिया गया है गुड मॉर्निंग प्रयागराज। 
इस योजना के तहत प्रयाग राज पुलिस के चुनिंदा और कर्मठ जनपदीय महिला आरक्षी एवं पुरुष आरक्षी व सतर्कता पुलिस सेलऔर विशेष पुलिस अधिकारी नियुक्त होंगे जो की सादी वर्दी में जगह-जगत तैनात होंगे और सुबह सवेरे टहलने के लिए निकलने वाले लोगों के साथ आपराधिक वारदात करने वाले लोगों को चिन्हित कर, उनको उनके मुक़ाम तक पहुंचाएंगे। 
एसएसपी प्रयागराज का कहना है कि सबसे ज़्यादा अपराध सुबह सवेरे ही होते हैं। जिसमें मुख्यतः छिनौती, चोरी मुख्यत: है इसलिए शहर के प्रमुख स्थानों पर, जहाँ पर शहर के निवासी मॉर्निंग वॉक, योगा, कसरत करने निकलते हैं। उन स्थानों पर इस प्रकार की फ़ोर्स लगा देने से अपराधियों को चिन्हित करना एवं उनको गिरफ़्तार कर जेल भेजना सुगम होता जाएगा। 
यह एक तरीक़े से सही भी है क्योंकि अधिकतर मामलों में देखा गया है कि सुबह सवेरे वाहन चोरी छीनौती और लूटपाट की घटनाएँ बड़ती जा रही थी। और इन पर लगाम लगाना ज़रूरी हो गया था।


अलकायदा का वांछित आतंकी गिरफ्तार

अलकायदा का वांछित आंतकवादी गिरफ्तार।


जमशेदपुर। झारखंड एटीएस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। झारखंड एटीएस ने ओसामा बिन लादेन के वैश्विक आतंकी संगठन अलकायदा के एक खूंखार आतंकी मौलाना कलीमुद्दीन को जमशेदपुर से गिरफ्तार किया है। बताया गया है कि यह आतंकी स्लीपर सेल की सहायता से देश को दहलाने के फिराक में था। झारखंड एटीएस द्वारा उससे पूछताछ जारी है। गिरफ्तार आतंकी का नाम मौलाना कलीमुद्दीन बताया गया है। वह आतंकी संगठन अलकायदा के लिए काम करता है। आतंकी झारखंड के जमशेदपुर के मानगो इलाके के आजादनगर थाना क्षेत्र का रहने वाला है। वह लंबे वक्त से आतंकी संगठन से जुड़ा हुआ है। देश भर की सुरक्षा एजेंसियों को वर्ष 2016 से ही इस खूंखार आतंकी की तलाश थी।


बताया गया है कि एटीएस ने अलकायदा के आंतकी को जमशेदपुर से पकड़ा है। यह आतंकी भारत में अलकायदा के लिए सक्रिय रूप से काम कर रहा था। पूलिस सूत्रों के मुताबिक यह आतंकी अलकायदा में ऊंचे ओहदे पर काम करता था। देशभर की पुलिस के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनआइए) को भी इसकी तलाश थी।


सेब से भरा ट्रक गंग नहर में समाया

रिहान अंसारी 


मंडावली। दिन का उजाला होते ही मंडावली थाना क्षेत्र में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक सेब से भरा ट्रक भागूवाला के पास पूर्वी गंगा नहर में समा गया। ट्रक के चालक और परिचालक के गायब हो जाने से नहर में बहने की आशंका जताई जा रही है।


प्राप्त सूचना के अनुसार शनिवार को सुबह भागूवाला क्षेत्र में पूरी गंगा नहर में ट्रक के डूबने का मामला उस वक्त सामने आया। जब गांव के लोग नहर पर घूमने के लिए निकले थे । राहगीरों ने पूर्वी गंगा नहर में एक ट्रक को देखा जिसका केवल ऊपरी भाग में तिरपाल ही दिखाई दे रहा था। राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी, तो भारी पुलिस फोर्स के साथ दो क्रेन के सहारे सेब से भरे ट्रक को बाहर निकाला गया । ट्रक से अधिकतर सेव गंगा में समा गया था । बाहर निकाले गए ट्रक से चालक और परिचालक गायब थे। आशंका जताई जा रही है कि दोनों गंगा के तेज बहाव में बह गए हैं । घटना से लोगों में हड़कंप मच गया फिलहाल पुलिस की और से ट्रक स्वामी और सेब मालिक का पता किया जा रहा है । पुलिस पूरे मामले की जांच पड़ताल कर रही है ।थानाध्यक्ष मंडावली संजीव त्यागी का कहना है कि नींद की झपकी के चलते यह घटना घटित हुई है । ट्रक के शीशे टूटे हुए थे जिससे कयास लगाए जा रहे हैं कि चालक और परिचालक घटना से पहले कूदकर चले गए हैं । ट्रक मुरादाबाद क्षेत्र का बताया जा रहा है । जो हरिद्वार से नजीबाबाद की ओर आ रहा था।


सिपाही की दुर्घटना में मौत, छाया मातम

दुर्घटना में पुलिस के सिपाही की मौत से ग्राम पिलखुनी में छाया मातम


कासगंज। थाना सिढंपुरा क्षेत्र के ग्राम पिलखुनी निवासी लोकेश कुमार पुत्र सूरजपाल उम्र 23 वर्ष की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। स्वर्गीय लोकेश कुमार उत्तर प्रदेश पुलिस में सिपाही के पद पर कार्यरत था। सिपाही लोकेश उत्तर प्रदेश पुलिस में 2017 में भर्ती हुआ था और बरेली के थाना किला में आरक्षी के पद पर तैनात था। मात्र 2 माह पहले फिरोजाबाद से शादी हुई थी। लोकेश चार भाई बहनों में सबसे बड़ा था, बरेली में मोटरसाइकिल से जाते समय डिवाइडर से टकराकर मौत हो गई। इसकी सूचना जब परिजनों को मिली तो पूरे गांव में मातम छा गया और सभी लोग लोकेश के शव के आने की प्रतीक्षा करने लगे और सिपाही लोकेश के अंतिम दर्शन के लिए हजारों की संख्या में लोग एकत्रित होने लगे। जब सूचना जनपद कासगंज के उच्चाअधिकारी को मिली तो सभी अधिकारी ग्राम पिलखुनी की तरफ रवाना हो लिए। सीओ पटियाली गवेंद्रपाल गौतम और थाना अध्यक्ष सिढपुरा राजकुमार सिंह फोर्स के साथ मृतक सिपाही के गांव पिलखनी पहुंचे।जहां सिपाही के शव के साथ आए अधिकारियों और पुलिस के जवानों ने नम आंखों से अंतिम सलामी दी। इसके बाद लोकेश का अंतिम संस्कार किया गया।


रिपोर्टर-बिपिन कुमार


नोएडा कप्तान की टीम बनी जॉन चैंपियन

गौतम बुध नगर कप्तान वैभव कृष्ण की बैडमिंटन टीम बनी मेरठ जोन चैंपियन


प्रमोद यादव


गौतमबुध नगर। 19 सितंबर 2019 से 21 सितंबर 2019 तक जनपद बागपत के स्टेडियम में आयोजित 37 वी मेरठ जोन बैडमिंटन एवं टेबल टेनिस महिला पुरुष प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। जिसमें मेरठ जोन के 8 जनपदों ने हिस्सा लिया। लगभग 100 से ऊपर खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में पहुंचे। सभी ने अपना कौशल दिखाया, जनपद गौतम बुद्ध नगर की टीम के खिलाड़ियों में अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी गगन पासवान चौकी इंचार्ज बहलोलपुर, वरुण पवार चौकी इंचार्ज एनटीपीसी, विकास चारण, अखिलेश यादव, रूपेश राठी ने हिस्सा लिया जो कोच अशोक त्यागी की देखरेख में सभी मैच खेले। वह अपने अच्छे खेल का उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए जनपद गौतम बुध नगर का नाम रोशन कर दिया व मेरठ जोन के चैंपियन बने महिला वर्ग में गाजियाबाद महिला टीम बैडमिंटन में टेबल टेनिस में प्रथम रही, गौतम बुध नगर की महिला टीम बैडमिंटन टेबल टेनिस में द्वितीय स्थान पर रही, टेबल टेनिस पुरुष वर्ग में मुजफ्फरनगर प्रथम बागपत सेकेंडरी रही बैडमिंटन पुरुष वर्ग का फाइनल मुकाबला जनपद गौतम बुद्ध नगर व जनपद बुलंदशहर के बीच खेला गया। जिसमें गौतम बुध नगर में एकतरफा मुकाबला जीते हुए चल वैजयंती पर कब्जा किया। जनपद गौतम बुध नगर की टीम का हिस्सा रहे, अखिलेश यादव सिंगल बैडमिंटन में जॉन के चैंपियन बने जनपद गाजियाबाद से कांस्टेबल विनय जॉन के एकल स्पर्धा में उपविजेता रहे। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि जनपद गौतम बुद्ध नगर के होनहार खिलाड़ी गगन पासवान विगत 2 वर्षों से वर्ल्ड पुलिस में भारत की ओर से परिचित प्रतिनिधित्व कर उत्तर प्रदेश पुलिस का गौरव बढ़ा रहे हैं। वर्ष 2017 में अमेरिका व वर्ष 2019 में चाइना मे आयोजित वर्ल्ड पुलिस में भाग ले चुके हैं तथा अपना उत्कृष्ट खेल का प्रदर्शन कर चुके हैं। जिनकी प्रशंसा पुलिस के सभी अधिकारी करते हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नोएडा वैभव कृष्ण द्वारा जीतने वाली अपनी टीम को बधाइयां दी है। वह उनका हौसला अफजाई किया है। जनपद गौतम बुध नगर पुलिस लाइन सूरजपुर में नियुक्त प्रतिसार निरीक्षक गौतम बुध नगर से ही बार-बार फोन द्वारा टीम का हौसला अफजाई करते रहें। खेल की स्थिति जानते रहे। जिससे सभी खिलाड़ियों का हौसला बढ़ता रहा। वह अपने खेल का सभी खिलाड़ी उत्कृष्ट प्रदर्शन करते रहे। इस बारे में गगन पासवान से बात हुई तो उन्होंने अपना आदर्श अपने पिता जो उत्तर प्रदेश पुलिस में एसआई एमटी मुरादाबाद में नियुक्त है उन्हें बताया और डीआईजी श्री सुभाष दुबे एवं जनपद गौतम बुद्ध नगर कप्तान श्री वैभव कृष्ण को बताया।


ग्रीन बेल्ट में कूड़ा घर बनाने का विरोध

ग्रीन बेल्ट में कूड़ा घर बनाने का विरोध 


देव गुर्जर


गौतमबुध नगर। नोएडा प्राधिकरण सेक्टर 93 में एक्सप्रेस व्यू अपार्टमेंट के ठीक सामने ग्रीन बेल्ट में कूड़ा घर बना रहा है। एक्सप्रेस व्यू अपार्टमेंट, लाल क्वार्टर और आसपास की दूसरी सोसायटी के लोग इस कूड़ा घर का विरोध कर रहे हैं। इन लोगों का कहना है कि कई बार विकास प्राधिकरण के अधिकारियों से निवेदन करने और तकनीकी जानकारियां देने के बावजूद यह कूड़ा घर बनाया जा रहा है। अब लोगों ने मजबूर होकर इलाहाबाद हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने की योजना बनाई है। एक्सप्रेस व्यू अपार्टमेंट के निवासी और एओए के सीओओ सुजीत कुमार पांडेय का कहना है कि ग्रीन बेल्ट में कूड़ा घर बनाने का नियम कहां से आया, हम यह नहीं समझ पा रहे हैं। विकास प्राधिकरण के नक्शे और प्लानिंग में कहीं कूड़ा घर की जगह चिन्हित नहीं की गई है। विकास प्राधिकरण के अधिकारी केवल अपने अहंकार की तुष्टि के लिए यहां कूड़ा घर बना रहे हैं। हम लोग अब तक विकास प्राधिकरण से लेकर मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री तक को पांच चिट्ठियां लिख चुके हैं। विकास प्राधिकरण की ओर से हमारे चिट्ठी का जवाब तक देना मुनासिब नहीं समझा गया है।


सुजीत पांडेय बताते हैं कि इस ग्रीन बेल्ट का इस्तेमाल आसपास रहने वाले हजारों परिवार कर रहे हैं। ग्रीन बेल्ट के नीचे से सीएनजी की पाइप लाइन गुजर रही है और नजदीक ही ट्रांसफार्मर भी रखा हुआ है। जहां पूरा कूड़ा घर बनाया जा रहा है, उसके बराबर में ही वाटर पंपिंग स्टेशन भी लगा हुआ है। इन सब सुविधाओं के नजदीक कूड़ा घर का निर्माण करना बेतुकी बात है। अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन के सचिव एनके यादव इस मुद्दे पर कहते हैं कि हम लोगों ने विकास प्राधिकरण को आसपास कई और जगह दिखाई हैं, जो विकास प्राधिकरण की जमीन है। उन जमीनों पर कूड़ा घर बनाया जा सकता है। क्योंकि वहीं से होकर गंदा नाला गुजरता है लेकिन, विकास प्राधिकरण के अधिकारियों की मिलीभगत से इन जगहों पर नर्सरी और पौधे बेचने की दुकान में खुली गई हैं। जिनसे विकास प्राधिकरण के अफसर वसूली करते हैं। सुजीत कुमार पांडेय कहते हैं कि विकास प्राधिकरण के अधिकारी मनमानी कर रहे हैं तो हम लोगों को मजबूर होकर इलाहाबाद हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाना पड़ेगा। हम लोग हाईकोर्ट में विकास प्राधिकरण के खिलाफ रिट दायर कर रहे हैं। हम यह भी मांग करेंगे कि इस कूड़ा घर के निर्माण पर होने वाले खर्च और इसको तोड़ने से होने वाली बर्बादी के पैसे की वसूली भी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों की तनख्वाह से की जाए। विकास प्राधिकरण, नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल, नोएडा के बिल्डिंग बायलॉज और मास्टर प्लान के खिलाफ जाकर या कूड़ा घर बना रहा है।


वाकई गुड्डा मुक्त हो सकती है सड़कें

हैदर अली-संवाददाता


गाजियाबाद। ट्रैफिक नियम के बदलाव की सराहना पूरे देश में चल रही है। मगर एक तरफ जहां रोड एक्सीडेंट में कमी आई है दूसरी तरफ रोड पर गड्ढे भी बेशुमार है। यह वह गड्ढे हैं जो रात को नहीं दिन में भी मौत को दावत देते हैं।


बताते चलें शहर गाजियाबाद की सडको पर दस 10 इंच के गड्ढे भी देखे जा सकते हैं। ऐसा ही कुछ मामला हिंडन बैराज से कनावनी की पुलिया वाले मेन रोड पर देखने को मिले। अब देखना यह है कि रोड पर इस तरह की दुर्घटना होने के बाद क्या सरकार को कोई एक्सीडेंट बीमा योजना शुरू करनी चाहिए या फिर रोड को गड्ढा मुक्त करना चाहिए। अगर सुविधा अनुसार चालान किया जाता है तो सुविधानुसार रोड को गड्ढा मुक्त भी करना चाहिए। जिससे लोगों को एक अच्छा शहर कहने में और सरकार द्वारा चलाए जा रहे अभियानों में मदद मिल सके। पब्लिक सरकार का साथ दे सके, जो चालान लोगों के जेब से पैसा खर्च हो रहा है। अगर वह पैसा रोड पर गड्ढों को मुक्त कराने के लिए लगा दिया जाए। किसी हद तक शहर की सडको का विकास होता दिखाई देगा और शहर की गड्ढा मुक्त सड़क दिखाई देंगी।


गंगा की लहरों में समाई पांच जिंदगी

गंगा की लहरों में समाई पांच जिंदगियां, किशोरियों को बचाने में युवक भी डूबा


आगरा। खुशियां और उत्साह अचानक मातम में बदल गया। जैसे किसी की नजर सी लग गई हो। गंगा में डूबी पांच जिंदगियों को बचाने का प्रयास तो एक बहादुर युवक ने किया लेकिन एक को किनारे तक पहुंचा कर चार किशोरियों समेत खुद भी डूब गया। यह दर्दनाक हादसा हुआ कासगंज के लहरा घाट पर।


रविवार को कासगंज के कादरबाड़ी निवासी राजेन्द्र पुत्र हीरालाल ने सेकेंड हैंड ट्रैक्टर खरीदा था। ट्रैक्टर खरीदने की खुशी में परिवारीजन मोहल्ले और पड़ोस के लोगों सहित करीब 50 महिलाएं, पुरुष, बच्चे लहरा घाट पर स्नान करने गए थे। नहाते समय छह किशोरियां गहरे पानी की ओर चली गईं और डूबने लगीं। चीख- पुकार सुनकर घाट के किनारे स्नान कर रहे हरिओम पुत्र जद्दू उम्र 20 वर्ष ने किशोरियों को बचाने के लिए गंगा में छलांग लगा दी।
जिंदगी और मौत के बीच फंसी किशोरी रूबी पुत्री झब्बू उम्र 15 वर्ष को सकुशल किनारे तक पहुंचा दिया। हरिओम ने फिर अन्य किशोरियों को बचाने के लिए दूसरी छलांग लगाई लेकिन इस प्रयास में युवक खुद ही डूब गया। गंगा में डूबने वाली ममता पुत्री सुरेश उम्र 17 वर्ष, प्रीति पुत्री पप्पू उम्र 18 वर्ष, रूपा पुत्री जग्गू उम्र 17 वर्ष, पूजा पुत्री दुलारे उम्र 18 वर्ष गंगा में डूब गई। किशोरियों के गंगा में डूबते ही परिजनों में कोहराम मच गया। सूचना मिलते ही मौके पर कोतवाली प्रभारी रिपुदमन सिंह मौके पर पहुंच गए। पुलिस और परिजन डूबे युवक और किशोरियों को तलाश कराने में जुटे हुए हैं।


विधायक की भतीजी,युवक को मारी गोली

विधायक की भतीजी और युवक की गोली मारकर हत्या


मुगेंर। बिहार के राजद विधायक विजय कुमार की भतीजी और एक युवक का शव बरामद किया गया है। दोनों के सिर पर गोली मारी गई है। पुलिस पहले इसे असफल प्रेम प्रसंग में आत्महत्या का मामला बता रही थी लेकिन बाद में हत्या करार दिया। मुंगेर एसपी गौरव मांगला ने बताया, विधायक की भतीजी ट्विंकल यादव और युवक मोहम्मद आसिफ का शव सदर ब्लॉक परिसर के पीछे मिला है। दोनों की उम्र 25 साल है।


मांगला ने बताया कि ट्विंकल शुक्रवार शाम सात बजे दोस्त के घर से किताब लेने की बात कहकर निकली थी। देर रात तक वह नहीं लौटी तो परिजनों ने तलाश शुरू की। एसपी के मुताबिक, ट्विंकल और आसिफ कोटा में रह कर मेडिकल की तैयारी कर रहे थे। दोनों एक साल पहले कोटा से लौटे और ट्विंकल तैयारी करने दिल्ली चली गई। वह कुछ दिनों पहले ही मुंगेर लौटी थी। आसिफ के पिता सऊदी अरब में रहते हैं। मांगला ने बताया, आसिफ का दोस्त दानिश कुछ साथियों के साथ उस जगह पहुंचा जहां आसिफ और ट्विंकल थे। दानिश ने ट्विंकल से जबरदस्ती करने की कोशिश की तो आसिफ और ट्विंकल ने कड़ा विरोध किया। गुस्से में आकर दानिश ने दोनों को गोली मार दी और फरार हो गया। शुरुआत में दानिश ने पुलिस से बताया था उसने आसिफ को पिस्तौल दी थी और आसिफ ने ट्विंकल को गोली मारने के बाद खुद गोली मार ली।


चार लोगों की हत्या से मचा हडकंप

मऊ। जनपद में दंपति समेत चार लोगों की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। हमला तब हुआ जब रानीपुर थाना क्षेत्र के ब्राह्मणपुरा गांव के हुड़हरा की मठिया पुरवे में रहने वाला परिवार ट्यूबवेल पर सो रहा था। हमलावर आधा दर्जन की संख्या में थे। इसमें एक हमलावर भी मारा गया है। एक बुजुर्ग को गंभीर चोटें आई। जिसे उपचार के लिये वाराणसी रेफर कर दिया गया। घटना का कारण एक दशक से पट्टीदारों के बीच पोखरी पर कब्जे को लेकर माना जा रहा है। घटना से गांव में दहशत फैल गई।


ग्राम सभा ब्राह्मणपुरा के हुड़हरा की मठिया पुरवा निवासी शिवचंद घर से भोजन करने के बाद अपनी पत्नी 40 वर्षीय गीता , 60 वर्षीय पिता देवकी, 12 वर्षीय बेटा राज, 16 वर्षीय गोलू के साथ ट्यूबवेल पर सोने चला गया । शुक्रवार की रात 12 बजे पट्टीदार टुनटुन आधा दर्जन बदमाशों के साथ ट्यूबवैल पर आया। बाहर सो रहे शिवचंद पर हमला बोल दिया। मौके पर ही इसकी मौत हो गई। शोर सुनकर जैसे ही शिवचंद की पत्नी गीता बाहर निकली हमलावरों ने इसे भी गड़ासे से काटकर हत्या कर दी।
बेटा राज, गोलू व इनके दादा को भी हमलावरों ने हमला करना शुरू कर दिया। इसमें एक हमलावर टुनटुन की अपने साथियों के हमले में ही मौत हो गई। बुजुर्ग देवकी गंभीर रूप से घायल हो गये। घटना को देखकर हमलावर भाग निकले। शोर गुल सुनकर मौके पर पहुंचे ग्रामीण तीन हत्याओं को देखकर आवाक हो गये। जानकारी होते ही एसपी अनुराग आर्य भारी फोर्स के साथ पहुंच गये। पचलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये जिला अस्पताल भेज दिया। गंम्भीर रूप से घायल देवकी को डाक्टरों ने वाराणसी के लिये रेफर कर दिया है। थाना प्रभारी रानीपुर इंस्पेक्टर अशोक यादव ने बताया की दोनों पक्षों के बीच पोखरी को लेकर विवाद चला आ रहा है। मामला कोर्ट में भी है। पूरी घटना की छानबीन की जा रही है।


वामपंथी राष्ट्र दुनिया के लिए खतरा:ट्रंप

न्यूयॉर्क। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन की बढ़ती सैन्य ताकत पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि यह वामपंथी राष्ट्र दुनिया के लिए एक खतरा है। साथ ही उन्होंने अपने पूर्ववर्तियों पर अमेरिका की बौद्धिक संपदा चोरी करने से चीन को नहीं रोकने का भी दोष मढ़ा जिसके जरिए उसने अपनी रक्षा क्षमताओं को मजबूत किया। चीन ने सेना पर होने वाले खर्च को सात प्रतिशत बढ़ा कर 152 अरब डॉलर कर लिया है और उसका लक्ष्य विवादित दक्षिण चीन सागर में अमेरिका के बढ़ते दबाव से निपटना है।


ट्रंप ने शुक्रवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि निश्चित तौर पर चीन दुनिया के लिए इस मायने में खतरा है कि वे किसी की भी तुलना में बहुत तेजी से अपनी सेना बना रहे हैं और सच कहूं तो वे अमेरिकी पैसे का इस्तेमाल कर रहे हैं। ट्रंप के साथ इस दौरान ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरीसन भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि उनसे पहले के अमेरिकी राष्ट्रपतियों ने चीन को हर साल 500 अरब डॉलर या उससे ज्यादा की राशि लेने की इजाजत दी।
ट्रंप ने कहा कि उन्होंने चीन को हमारी बौद्धिक संपदा एवं संपत्ति अधिकारियों को चुराने की इजाजत दी और मैं ऐसा नहीं करने वाला हूं। राष्ट्रपति के अनुसार दोनों देश एक व्यापार सौदे को अंजाम देने के काफी करीब थे। इस साल की शुरुआत में चीन के साथ व्यापार सौदे के अचानक समाप्त हो जाने का संदर्भ देते हुए उन्होंने आरोप लगाया कि हमने बहुत करीब से काम किया, बौद्धिक संपदा से लेकर हर मुश्किल चीज पर चर्चा की गई और आखिरी क्षण में उन्होंने कहा कि वे इस पर सहमत नहीं हैं। वहीं अमेरिकी दौरे पर पहुंचे ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री ने चीन पर अलग नजरिया पेश किया। मॉरीसन ने कहा कि हमारी चीन के साथ समग्र राजनीतिक साझेदारी है। हमारे चीन के साथ अच्छे रिश्ते हैं। लेकिन जैसा कि हमने कई बार कहा है, हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि जैसे-जैसे देश विकास करते हैं और अपनी क्षमताओं को पहचानते हैं, वे एक नए स्तर पर पहुंच जाते हैं और इसका अर्थ यह होता है कि उनके ऊपर कुछ खास नियम लागू होंगे।


आकाश से करीब तीन अरब परिंदे गायब

उत्तरी अमेरिका के आकाश का अकेलापन और सन्नाटा बढ़ गया है, बीते 50 सालों में अमेरिकी आकाश से करीब 3 अरब परिंदे गायब हो गए हैं। एक नई रिसर्च में उन चिड़ियों के बारे में पता लगाने की कोशिश की गई है जिनकी तादाद लगातार कम होती जा रही है हालांकि यह परिंदे अभी लुप्त नहीं हुए हैं। अमेरिका और कनाडा में 50 साल पहले चिड़ियों की तादाद करीब 10.1 अरब थी जो 29 फीसदी घट कर अब 7.2 अरब रह गई है। गुरुवार को साइंस जर्नल में इस बारे में रिपोर्ट छपी है। कॉर्नेल यूनिवर्सिटी के संरक्षण वैज्ञानिक केनेथ रोजेनबर्ग का कहना है, “जरूरत इस बात की है कि लोग अपने आसपास के चिड़ियों पर ध्यान दें। वे धीरे धीरे गायब हो रही हैं। सबसे ज्यादा डराने वाली बात यह है कि यह हमारी आंखों के सामने हो रहा है। मुमकिन है कि हमें पता भी ना चले और बहुत देर हो जाए। रोजेनबर्ग और उनके सहयोगियों ने मौसम के रडार का इस्तेमाल कर चिड़ियों की आबादी के आंकड़े जुटाए हैं। इसके अलावा 1970 से अब तक चिड़ियों पर हुए 13 सर्वेक्षणों और उत्तरी अमेरिका की 529 पक्षी प्रजाति के ट्रेंड के बारे में कंप्युटर मॉडल की भी मदद ली गई है। इनमें सभी प्रजातियां नहीं हैं लेकिन करीब तीन चौथाई प्रजातियां शामिल हैं।


जो छूट गई हैं उनमें ज्यादातर दुर्लभ प्रजाति की चिड़िया हैं। रोजेनबर्ग ने बताया कि मौसम रडार का इस्तेमाल नया है यह प्रवासी पक्षियों के झुंड की जानकारी देता है। हर साल कनेक्टिकट यूनिवर्सिटी की मार्गरेट रुबेगा को लोग फोन कर बताते हैं कि उन्होंने चिड़ियों की तादाद कम होती महसूस की है. यह रिसर्च इस समस्या के बारे में जानकारी देती है।
रुबेगा ने ईमेल से दिए जवाब में कहा है, “अगर आप किसी दिन सुबह घर से बाहर निकलें और देखें कि आपके आसपास के सारे घर खाली हो गए हैं, तो आपका अंदाजा सही होगा कि कुछ खतरनाक हो रहा है। हमारे 3 अरब पड़ोसी जो हमारी फसलों को नुकसान पहुंचाने वाले और एंसेफिलाइटिस जैसी बीमारी फैलाने वाले कीड़ों को खाते थे वो अब चले गए हैं। मेरे ख्याल से हम सब को यह सोचना चाहिए कि यह खतरनाक है। आमतौर पर ज्यादा दिखने वाली और आसानी से पहचानी जाने वाली चिड़ियों का हाल सबसे ज्यादा बुरा है हालांकि अभी वो लुप्त होने की स्थिति में नहीं आई हैं। घरेलू पक्षी गौरैया पर इसका सबसे ज्यादा असर हुआ है।


इस्टर्न मिडोलार्कऔर वेस्टर्न मीडोवाक पर इसका बहुत बुरा असर पड़ा है। इनकी तादाद करीब तीन चौथाई तक कम हो गई है। सभी चिड़ियों की संख्या कम नहीं हो रही है। जैसे कि ब्लूबर्ड की संख्या बढ़ रही है लेकिन इसकी वजह यह है कि लोग उनकी संख्या बढ़ाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं।


रोजेनबर्ग 3 साल की उम्र से ही बर्डवाचर हैं। करीब 60 साल पहले उन्होंने पहली बार चिड़ियों को देखना शुरू किया था। जब वो छोटे थे तब उनके पिता उन्हें न्यूयॉर्क में चिड़ियों को दिखाने ले जाते थे। वहां एक फीडर के पास 200-300 ग्रोसबीक (बड़े चोंच वाली छोटी चिड़िया) दिखती थीं।अब उनका कहना है कि 10 चिड़ियों को देख कर ही लोग खुश हो जाते हैं।


प्रेमी-युगल ने मारी खुद को गोली,मौत

लखनऊ। कोतवाली हसनगंज के डालीगंज मे पूर्व पार्षद के मकान मे किराए पर रहने वाली एक युवती को उसके कथित प्रेमी ने गोली मारने के बाद खुद भी गोली मार कर आत्महत्या कर ली। दोपहर करीब 11 बजे घनी बस्ती के बीच बने मकान मे हुई इस सनसनी खेज़ घटना के बाद पूरे इलाके मे हड़कम्प मच गया। सूचना पाकर हसनगंज पुलिस मौके पर पहुॅची और मामले की जाॅच शुरू कर दी। मौका-ए-वारदात से एक जिन्दा कारतूस और एक तमन्चा बरामद हुआ है। मृतक युवक और युवती दोनो बस्ती ज़िले के रहने वाले थे । युवती लखनऊ मे अपनी छोटी बहन के साथ रह कर एक प्राईवेट अस्पताल मे नर्स थी उसकी छोटी बहन पढ़ाई कर रही है। सूचना पाकर एसएसपी कलानिधि नैथानी भी मौके पर पहुॅचे । हसनगंज पुलिस ने मौके पर पर मिले साक्ष्यो को अपने कब्ज़े मे लेने के बाद दोनो शवो को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताया जा रहा है कि युवती को गोली मार कर खुद भी गोली मार कर आत्महत्या करने वाला युवक युवती पर शादी के लिए दबाव बना रहा था। लेकिन युवती शादी के लिए राज़ी नही थी आज भी युवक उसके घर आया और दोनो मे कहा सुनी हुई इस बीच उसने तमन्चे से पहले युवकी को गोली मार दी, फिर खुद भी गोली मार ली। पुलिस पूरे मामले की जाॅच कर रही है। हालाकि एसएसपी ने अभी कुछ भी साफ तौर पर नही बताया है उन्होने घटना की जाॅच के आदेश दिए है।
जानकारी के अनुसार बस्ती के ग्राम परसा मे रहने वाले त्रिभूवन चाौधरी की 24 वर्षीय बेटी वन्दना चैधरी अपनी छोटी बहन 20 वर्षीय अर्चना चैधरी के साथ हसनगंज के ठठेरी मोहल्ला गली बब्बू वाली गली डालीगंज हसनगंज मे कदम रसूल वार्ड के पूर्व पार्षद कमरूददीन के मकान मे पिछले ढाई साल से किराए पर रह रही थी । वन्दना बालागंज में स्थित एक प्राईवेट अस्पताल मे स्टाफ नर्स थी और उसकी छोटी बहन अर्चना चाौधरी बीएससी की पढ़ाई करने के साथ कम्प्यूटी की कोचिंग कर रही है। शुक्रवार की सुबह अर्चना कोचिंग गई थी वन्दना घर मे थी तभी सुबह करीब 11 बजे उसके पड़ोसियो ने दो गोलिया चलने की आवाज़ सुनी तो पड़ोसी जब दौड़ कर वन्दना के कमरे मे पहुॅचे तो उनके होश उड़ गए कमरे मे वन्दना और एक युवक लहुलुहान अवस्था मे पड़े थे पूरे कमरे मे खून बिखरा हुआ था । पड़ोसियो ने पुलिस को सूचना दी तो पुलिस मौके पर पहुॅची । पुलिस के पहुॅचने से पहले ही युवक और युवती की मौत हो चुकी थी । बताया जा रहा है कि वन्दना को गोली मारने वाला युवक रूदौली ज़िला बस्ती के रहने वाले प्रभुनाथ मुडियार का 26 वर्षीय पुत्र मदन लाल है और काफी समय से मदन वन्दना पर शादी के लिए दबाव बना रहा था आज भी मदन वन्दना के घर आया और उसने वन्दना पर शादी के लिए दबाव बनाया वन्दना के इन्कार पर उसने पहले वन्दना की गोली मार कर हत्या की फिर खुद भी गोली मार कर उसने आत्महत्या कर ली। मौके पर पहुॅची पुलिस को मदन की जेब से एक ज़िन्दा कारतूस भी मिला है इससे ये अन्दाज़ा लगाया जा रहा है कि मदन पूरी तैयारी के साथ आया था क्यूकि घटना के समय वन्दना की छोटी बहन अर्चना घर पर नही थी यदि अर्चना भी घर मे मौजूद होती तो शायद मदन उसे भी गोली मार सकता था क्यूकि एक ज़िन्दा कारतूस मदन की जेब से बरामद होने का क्या कारण है अगर वो वन्दना की हत्या के बाद खुद आत्महत्या के इरादे से आता तो दो गोलिया ही पर्याप्त थी। सनसनीखेज़ घटना की सूचना के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी भी मौके पर पहुॅचे एसएसपी ने बताया कि कमस्ददीन के मकान मे युवती के अलावा भी कई परिवार किराए पर रहते है लोगो ने दो गोलियां चलने की आाज़ सुनी थी उन्होने बताया कि किसी ने भी किसी को यहंा से भागते नही देखा है उन्होने बताया कि आसपास लगे सीसीटीवी कैमरो के फुटेज की जाॅच भी की जाएगी दोनो मृतको के परिजनो को सूचना देदी गई है और पूरे मामले की जाॅच की जा रही है। खबर लिखे जाने तक मामले की जाॅच जारी थी पुलिस अभी किसी निष्कर्ष पर नही पहुॅची थी।


22 करोड़ की वसूली,रचा इतिहास

जिलाधिकारी बीएन सिंह के निर्देशन में राजस्व वसूली में आज 22 करोड़ से अधिक वसूली करते हुए इतिहास रचा


गौतमबुध नगर। डीएम बीएन सिंह के निर्देश पर ज़िला प्रसशन द्वारा पिछले ढाई साल से राजस्व वसूली को बढ़ाने के लिए कई तरह की कार्यवाही प्रचलित की गयी है, जिससे राजस्व वसूली को बढ़ाने में ज़िला प्रशासन कामयाब भी हो रहा है। उसी क्रम में आज एक बड़ी कार्यवाही करते हुए राजस्व विभाग द्वारा एक ही फ़र्म से रुपये 22.25 करोड़ वसूले गये है। यह राजस्व वसूली के इतिहास में एक ऐतिहासिक उपलब्धि है एवं ज़िलाधिकारी बी०एन०सिंह की राजस्व वसूली को बढ़ाने के संकल्प को दर्शाता है। ईटी इंफ्रा डेवलपर्स पर नॉएडा प्राधिकरण के बकाए के क्रम में आज उक्त फ़र्म से रुपये 22.25 करोड़ वसूले गए।गौतमबुद्दनगर जिले के जिलाधिकारी बी एन सिंह के निर्देशानुसार प्रभारी अधिकारी संग्रह संजय कुमार मिश्रा व अभय कुमार सिंह व उनके सहयोगी अधिकारी उप जिलाधिकारी दादरी राजीव राय व तहसीलदार दादरी विनय प्रताप सिंह भदौरिया  द्वारा आज ये वसूली सुनिस्चित की गयी। तहसीलदार न्यायिक दुर्गेश सिंह द्वारा जानकारी देते हुए अवगत कराया है कि राजस्व वसूली के संदर्भ में नियमित रूप से अभियान संचालित किया जा रहा है एवं ज़िलाधिकारी गौतम बुध नगर के निर्देशों के क्रम में राजस्व वसूली को एक नई संरचना में ढालने का प्रयास भी किया जा रहा है।उन्होंने तहसील के समस्त बकायेदारों को सचेत करते हुए स्पष्ट चेतावनी दी है कि उनके द्वारा अपनी बकाए की धनराशि तहसील में जमा कराना सुनिश्चित किया जाए अन्यथा की स्थिति में उनके विरुद्ध भी इसी प्रकार की सख्त कार्यवाही की जाएगी। जिला सूचना अधिकारी गौतम बुद्ध नगर।


व्यापारियों से फिर मांगी रंगदारी,हड़कंप

रिपोर्ट- गुलवेज सिद्दीकी कैराना/ शमशाद चौधरी 


शामली,कैराना। रंगदारी मांगने के बाद से व्यापारी का परिवार दहशत में, रंगदारी सहारनपुर आैर शामली जिले में कुख्यात रह चुके बदमाश मुकीम काला के बाप के नाम से मांगी गई है। कैराना । जैन संस ऑटो पार्ट्स के व्यापारी से 2 लाख रुपये की रंगदारी मांगे जाने की घटना सामने आई है। यह रंगदारी सहारनपुर आैर शामली जिले में कुख्यात रह चुके बदमाश मुकीम काला के बाप मुस्तकीम के नाम से मांगी गई है।रंगदारी मांगे जाने के बाद से ही व्यापारी आैर उसका परिवार में दहशत है। पुलिस ने मामला दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी है।कैराना में पहले भी मांगी जाती रही है। रंगदारीकैराना में रंगदारी मांगे जाने का यह पहला मामला नहीं है। बदमाश बेखौफ होकर व्यापारी आैर किसानों से रंगदारी मांगते रहे हैं। 


इतना ही नहीं बदमाश धमकी भी देते हैं कि यदि रंगदारी नहीं दी गयी तो जान से मार देंगे। अब व्यापारी दीपांशु जैन, हिमांशु जैन से रंगदारी मांगी गई है। व्यापारी से अज्ञात बदमाशों ने सहारनपुर- मुजफ्फरनगर रोड पर स्थित जैन संस ऑटो पार्ट्स की दुकान पर 2 लाख रुपये चिट्ठी डालकर रंगदारी की मांगी है और 27 सितंबर तक न देने पर अंजाम भुगतने  की धमकी दी है। आरोप है कि इन्हें कुख्यात बदमाश मुकीम काला के बाप मुस्तकीम के नाम से  चिट्ठी आई है। चिट्ठी में  इनसे 2 लाख रुपये की रंगदारी मांगी है। चिट्ठी में लिखा है  कि अगर 27 तारीख तक 2 लाख रुपये नहीं दिए ताे अंजाम भुगतना पड़ेगा। धमकी भरी इस चिट्ठी के बाद से व्यापारी के परिवार के सदस्य दहशत में हैं। खुद व्यापारी ने बदमाशाें के खिलाफ काेतवाली में तहरीर दी है।


आदित्य को शिवसेना का राहुल गांधी कहा

मुबंई। राजनीति में आये दिन किसी न किसी नेता के बयान से बखेड़ा खड़े होते हुए सभी ने देखा है। हालांकि कई नेता सुर्ख़ियों में बने रहे के लिए ऐसा करते हैं तो कोई अनजाने में ऐसा बोल जाते हैं जिससे विवाद खड़ा हो जाता है। खैर ऐसा तो राजनीति में होता रहा है। फिलहाल मौजूदा समय में सोशल मीडिया में एक न्यूज एंकर का वीडियो काफी तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें वे शिवसेना के युवा नेता और शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे के पुत्र आदित्य ठाकरे को शिवसेना का राहुल गांधी बता रही हैं। हालांकि उनका यह बयान लाइव शो के दौरान सुनाई पड़ा। लाइव शो के दौरान उनकी आवाज़ को म्यूट नहीं किया गया और इसी वजह से उनका यह बयान सामने आ गया। अब यह गड़बड़ी उनके लिए भारी पड़ सकती है।


दरअसल यह बयान है अपने आप को सबसे तेज चैनल बताने वाले इंडिया टुडे ग्रुप के चैनल आजतक की मशहूर एंकर और पत्रकार अंजना ओम कश्यप का। हालांकि यह स्पष्ट है कि यह लाइव शो के दौरान पीसीआर की गड़बड़ी के कारण अंजना का यह बयान भी लाइव हो गया जिसे में चैनल पर नहीं कहना चाहती। इस बयान में साफ़ सुना जा सकता है कि अंजना ओम कश्यप आदित्य ठाकरे के बारे में कह रही हैं कि “ये शिवसेना का राहुल गांधी साबित होगा', लिखकर रख लीजिए आप।” अब उनके इस अनऑफिशियल बयान के क्लिप को सोशल मीडिया पर जमकर वायरल किया जा रहा है। इसे लेकर अंजना ओम कश्यप को जमकर ट्रोल भी किया जा रहा है। हालांकि कुछ यूजर उनका समर्थन कर रहे हैं।


अब अंजना के इस बयान के जवाब में प्रियंका चतुर्वेदी ‏ने ट्वीट करते हुए लिखा, “कौन क्या साबित होगा वो तो समय ही तय करेगा, पर कुछ लोग तो बहुत पहले से ही भाड़े के  टट्टू साबित हो चुके हैं! पत्रकारित्ता पर ध्यान दें, भविष्यवाणी तो तोता भी सड़कों पर पैसे से करता है।” गौरतलब है कि इंडियन नेशनल कांग्रेस का साथ छोड़ प्रियंका चतुर्वेदी हाल ही में शिवसेना में शामिल हुई हैं। फिलहाल अंजना के इस बयान पर शिवसेना की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। लेकिन अंजना के इस बयान से नया विवाद पैदा हो सकता है। हालांकि यह तो आने वाला वक़्त ही बताएगा।


जेनिफर के बोल्ड अंदाज ने जीता दिल

हॉलीवुड एक्ट्रेस जेनिफर लोपेज ने हाल ही में मिलान फैशन वीक में रैंप पर उतरीं तो अपने हॉट और बोल्ड अंदाज से सभी का दिल जीत लिया। आगे की स्लाइड्स में देखिए जेनिफर की हॉट तस्वीरें। जेनिफर ने इस दौरान जंगल ड्रेस पहनी थी। इसके साथ ही रैम्प वॉक के दौरान भी अपनी वाइल्ड अदाएं दिखाईं।


इसके साथ ही आपको बता दें कि जेनिफर लोपेज की ये ड्रेस बोल्डनेस के साथ साथ एक और कारण से बेहद खास है।दरअसल जेनिफर ने इस थीम की ये ड्रेस दोबारा पहनी है। इससे पहले ,जेनिफर ने साल 2000 में ग्रैमी अवार्ड्स के दौरान भी कुछ ऐसी ही ड्रेस पहनी थी। उन दिनों जेनिफर की ड्रेस के कारण ही गूगल में इमेज का फीचर जोड़ा गया था। दरअसल जेनिफर की ड्रेस देखने के बहुत से लोगों ने इसे इंटरनेट पर सर्च किया था।


फर्जी लाइसेंस प्रकरण में 12 गिरफ्तार

फर्जी शस्त्र लाइसेंस में पूर्व असलहा बाबू और सपा नेता गिरफ्तार
रिपोर्टर-रतन गुप्ता 
गोरखपुर। फर्जी शस्त्र लाइसेंस प्रकरण में पुलिस ने पूर्व असलहा बाबू विजय प्रकाश श्रीवास्तव और व्यापारी तथा सपा नेता मो. आजम को गिरफ्तार किया है। विजय प्रकश को पुलिस पहले से ही तलाश रही थी। जबकि एसआईटी की जांच में सपा नेता का नाम सामने आया था। सपा नेता मो. आजम ने न सिर्फ फर्जी लाइसेंस बनवाया था। बल्कि उस पर पिस्टल भी खरीद लिया था। पुलिस ने मो.आजम के पास से फर्जी लाइसेंस और पिस्टल बरामद कर लिया है। वहीं पूर्व असलहा बाबू ने अपने लिए फर्जी लाइसेंस बनवाया है हालांकि पुलिस अभी उनके पास से लाइसेंस या फिर असलहा नहीं बरामद कर पाई है।  पुलिस ने  शनिवार को दोनों को कोर्ट में पेश किया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।


शिकंजा
फर्जी लाइसेंस में अब तक 12 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है एसआईटी
पूर्व असलहा बाबू विजय प्रकाश ने अपना भी बनवाया था फर्जी लाइसेंस
व्यापारी व सपा नेता मो.आजम ने फर्जी लाइसेंस पर खरीदी है पिस्टल


 एसआईटी प्रभारी एएसपी/सीओ कैंट रोहन प्रमोद बोत्रे ने बताया कि फर्जी शस्त्र लाइसेंस के बारे में बनी टीम जांच में जुटी थी इस बीच फर्जी लाइसेंस गैंग से जुड़े कुछ लोगों की जानकारी मिली। पता चला कि वे शहर छोड़कर भाग रहे हैं। कैंट एसएसआई नवीन सिंह के नेतृत्व में चटेपुर चौकी प्रभारी मदन मोहन मिश्रा, इंजीनियरिंग कॉलेज चौकी प्रभारी मनीष कुमार यादव एवं अन्य पुलिस बल के साथ कार्मल रोड से कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला धमाल बड़ी मस्जिद निवासी मो. आजम पुत्र शाह आलम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।
तलाशी में उसके पास से फर्जी लाइसेंस और उस पर बना पिस्टल बरामद किया। इस बीच पुलिस टीम को वांछित चल रहे शाहपुर क्षेत्र के एस न्यू शाहपुर कॉलोनी निवासी पूर्व असलहा बाबू विजय प्रकाश श्रीवास्तव यातायात तिराहे से आगे धर्मशाला रोड पर मौजूद होने की सूचना मिली। पुलिस टीम तत्काल मौके पर पहुंच कर उसे गिरफ्तार कर ली। हालांकि पुलिस अभी उसके पास से फर्जी लाइसेंस और असलहा बरामद नहीं कर सकी है।


पाक में 3 नाबालिगो की कुकर्म के बाद हत्या

नई दिल्ली। पाकिस्‍तान रहने के लिहाज से दुनिया की खतरनाक और बदतर जगहों में से एक है। देश में नाबालिग लड़कियों औऱ लड़कों के साथ रेप और हत्या आम बात है। देश के पंजाब प्रांत में तीन नाबालिग लड़कों का पहले तो रेप किया गया फिर उनका मर्डर कर दिया गया। जिससे देश के इस राज्य के लोग और बच्चों के मां-बाप खौफ में हैं।


पाकिस्‍तान के सिंध में पहले ही एक मेडिकल स्‍टूडेंट की हत्‍या की वजह से विरोध प्रदर्शन जारी हैं। पुलिस को पंजाब के कासुर जिले में तीन लड़कों की लाश मिली। स्‍थानीय लोगों का कहना है कि एक पूरा रैकेट सक्रिय है जो नाबालिग लड़कों की रेप के बाद हत्‍या कर रहा है।


दो दिवसीय भाषा-साहित्य संगोष्ठी प्रारंभ

रायपुर। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के साहित्य एवं भाषा-अध्ययनशाला विभाग में आज से दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी की शुरुआत हो गई है। भाषा, साहित्य और भाषाविज्ञान विषय पर आयोजित इस संगोष्ठी में छत्तीसगढ़ के विभिन क्षेत्रों से बड़ी संख्या में प्राध्यापक, शोधार्थी और छात्र-छात्राएँ शामिल हुए। संगोष्ठी का शुभारंभ साहित्यकार राजेन्द्र मिश्र, वरिष्ठ पत्रकार रमेश नैय्यर और कुलपति डॉ. के. एल. वर्मा ने किया। शुभारंभ सत्र में साहित्यकार डॉ. राजेंद्र मिश्र ने कहा, कि भाषा हमारे अस्तित्व का अपरिहार्य हिस्सा है और इसका गहरा संबंध नागरिकता से होता है। रमेश नैयर ने आज की पत्रकारिता की भाषा को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि भाषा का सही प्रयोग पत्रकारिता के लिए जरूरी है। जब तक भाषायी शुद्धता की ओर ध्यान नहीं दिया जाएगा तब तक भाषा का सौंदर्य और प्रभाव दोनों की कल्पना करना मुश्किल है। कुलपति डॉ. केशरी लाल वर्मा ने भाषा, साहित्य अध्ययनशाला की विकास यात्रा पर प्रकाश डालते हुए बताया कि इस विभाग की गौरवशाली परंपरा को साथ लेकर काम करने वाले विद्वान किसी न किसी रूप में विभाग का नाम रोशन कर रहे हैं। भाषा का संबंध ज्ञान-विज्ञान के हर क्षेत्र से है और बिना भाषा के समाज की कल्पना करना असंभव है।


समारोह के प्रमथ सत्र की अध्यक्षता डॉ. रामजी भारती ने कही, जबकि विषय विशेज्ञय के तौर पर डॉ. चितरंजन कर और डॉ. सैय्यद रब्बानी मौजूद रहें। डॉ. भारती ने अंग्रेजी साहित्य पर बातचीत की। वहीं डॉ. चितरंजन कर ने बताया कि भाषा मनुष्यता के लिए कितनी अहम है। उन्होंने कहा जो शब्दों का धनी है वहीं मूल्यवान है। डॉ. रब्बानी ने हिंदी के बदलते परिवेश पर बात की। इस दौरान प्राध्यापकों और शोधार्थियों ने शोध-पत्र भी पढ़े। वहीं समोरह के दूसरे सत्र में बतौर विशेष अतिथि छत्तीसगढ़ी सिनेमा के सुपर स्टार पद्मश्री अनुज शर्मा शामिल हुए. दूसरे सत्र में अध्यक्षता डॉ. राजेश दुबे ने की। वहीं विषय विशेषज्ञ के तौर पर डॉ. सुधीर शर्मा मौजूद रहें।


189 चालान का नया कीर्तिमान बना

चंडीगढ। जबसे नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू हुआ है लोग चालान की रकम सुन सुनकर चकरा जा रहे हैं। लेकिन एक  खतरों का खिलाड़ी ऐसा भी है जिसने चालान करवाने का रिकार्ड बना दिया है।


दरअसल चंडीगढ़ के सेक्टर-39 में रहने वाले संजू को 26 जुलाई को ट्रैफिक पुलिस ने ट्रैफिक रुल तोड़ने पर 300 रुपये के जुर्माने का चालान किया था। जब संजू का चालान चंडीगढ़ डिस्ट्रिक कोर्ट पहुंचा तो पता चला कि उनकी मोटरसाइकिल के कुल 189 चालान बाकी हैं। इतना सुनकर संजू के होश ही उड़ गए।खास बात ये है कि उन्होंने डेढ़ साल पहले मोटरसाइकिल खरीदी और दो साल पहले उनके चालान कट गए। संजू ने बताया कि 189 चालान के बारे में जानकारी मिलते ही मैं हैरान रह गया। मैं बहुत ही सावधानी और सतर्कता से गाड़ी चलाता हूं। मुझे समझ ही नहीं आ रहा कि मेरे खिलाफ इतने सारे चालान कैसे हो गए जबकि मुझे उनकी जानकारी ही नहीं है।


जहरीली शराब से छह की मौत,चार गंभीर

अजित सिंह


देहरादून। जहरीली शराब के सेवन से देहरादून में छह लोगों की मौत हो गई है और चार की हालत खराब है। बताया जा रहा है कि मरने वालों की संख्या में इजाफा हो सकता है। घटना के बाद से ही लोगों में आक्रोश बना हुआ है। मृतकों के नाम आकाश (22 साल) पुत्र किशन, सुरेंद्र (38 साल) पुत्र अशोक चौहान, इंदर, गुड्डु (35 साल) पुत्र नत्थू, राजेंद्र (45 साल) पुत्र प्यारे लाल और शरन पुत्र सुखलाल सभी निवासी पथरिया पीर देहरादून हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मामले की गंभीरता को देखते हुए न्यायिक जांच के आदेश दे दिए हैं और तीन आबकारी अधिकारियों को भी निलंबित कर दिया है।


आसमानी बिजली गिरने से तीन की मौत

चरखीदादरी। जिले के गांव बीजना के पास खेत मे काम करते समय आसमानी बिजली गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई।मिली जानकारी के अनुसार आज दिन मे मोहित सुपुत्र श्री सुरेश कुमार शर्मा (उम्र 20 वर्ष), गांव जावा निवासी धोलिया यादव (उम्र 40 वर्ष )और उसकी पत्नी (उम्र 37 वर्ष) खेत में काम कर रहे थे, उसी समय गरज के साथ आसमानी बिजली गिरने से उनकी मौत हो गई । गांव बीजना के सरपंच श्री कृष्ण कुमार ने बताया कि इस दुखद घटना से गांव बीजना,जावा मे मातम पसर गया है।गाव के सभी लोग इस घटना से बहुत दुखी है। घटना के बाद गांव मे लोगों का सांत्वना देने के लिए तांता लगा है।


कश्मीरी पंडितों से अलग-अलग मुलाकात की

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सात दिनों के अमेरिकी दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने ह्यूस्टन में सिख, बोहरा और कश्मीरी पंडितों के एक-एक प्रतिनिधिमंडल से अलग-अलग मुलाकात की। इस दौरान प्रधानमंत्री लोगों से बात करते दिखे और फोटो खिंचवाई। कश्मीरी पंडितों के प्रतिनिधिमंडल में शामिल सुरिंदर कौल ने पीएम मोदी के हाथों को चूम लिया। उन्होंने पीएम मोदी से कहा, ''सात लाख कश्मीरी पंडितों की तरफ से आपको धन्यवाद.'' इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आपने जो कष्ट झेला है वो भी कम नहीं है। सुरिंदर कौल ने बताया, ''पीएम ने कहा कि कश्मीरी पंडितों ने बहुत पीड़ा सही है। हम नया कश्मीर बनाएंगे। मैंने समुदाय की ओर से एक ज्ञापन दिया। उसने स्वीकार कर लिया।'' उन्होंने कहा, ''हमने एतिहासिक फैसले (अनुच्छेद 370) के लिए दुनिया भर के सात लाख कश्मीरी पंडितों की ओर से उन्हें धन्यवाद दिया। हमने पीएम मोदी को आश्वासन दिया कि हमारा समुदाय कश्मीर के लिए आपके सपने को पूरा करने के लिए सरकार के साथ काम करेगा।''


हाउडी मोदी कार्यक्रम लगभग 3 घंटे चलेगा

टेक्सास। अमेरिका के ह्यूस्टन में आयोजित 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम में भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल टेक्सास राज्य के ह्यूस्टन शहर पहुंच गए हैं।


पीएम मोदी का एयरपोर्ट पर ट्रेड एंड इंटरनेशनल अफेयर्स के डायरेक्टर क्रिस्टोफर ओलसन और अन्य अधिकारियों ने रिसीव किया। इस दौरान भारत में यूएस के राजदूत केनेथ जस्टर और यूएस में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रंगला भी मौजूद रहे। पीएम मोदी आज कार्यक्रम में भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करेंगे। 'हाउडी मोदी' कार्यक्रम की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। इस समारोह के अब तक 50 हजार टिकट बिक चुके हैं। हाउडी मोदी कार्यक्रम करीब तीन घंटे तक चलेगा।


इस कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी शिरकत करेंगे। ह्यूस्टन को अमेरिका के तेल और गैस की राजधानी के रूप में जाना जाता है। भारत और अमेरिका ने ऊर्जा के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के लिए पिछले साल रणनीतिक ऊर्जा साझेदारी को समझौता किया था।अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रंगला ने कहा कि ह्यूस्टन आगमन के बाद मोदी एक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे, जिसमें वह ऊर्जा कंपनियों के कुछ प्रमुख सीईओ से मुलाकात करेंगे। उन्होंने कहा कि ऊर्जा का केंद्र होने के कारण ह्यूस्टन दौरे के केंद्र में रहेगा।श्रंगला ने कहा, “अमेरिका के शेल से उत्पादित तेल और एलएनजी क्षेत्र में दिलचस्पी के होने के कारण ऊर्जा के क्षेत्र में अमेरिका के साथ हमारा सहयोग काफी बढ़ेगा। हम भारतीय ऊर्जा कंपनियों के लिए प्रौद्योगिकी की भी तलाश कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ऊर्जा क्षेत्र की कुछ शीर्ष कंपनियों से मिलेंगे, जिनमें ज्यादातर कंपनियों के मुख्यालय ह्यूस्टन में हैं।


कलाकार देंगे प्रस्तुतियां
वेबसाइट के अनुसार, 71,995 सीटों वाले एनआरजी फुटबाल स्टेडियम में यह कार्यक्रम रविवार सुबह 8.45 बजे शुरू होगा और दोपहर बाद 12.30 बजे समाप्त हो जाएगा। इस आयोजन का महत्व इस बात से समझा जा सकता है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप स्वयं प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत करने समारोह में उपस्थित रहेंगे। भारतवंशी समुदाय इस तीन घंटे के शो की तैयारी करने में व्यस्त है, जिसमें कलाकार अन्य प्रस्तुतियों के साथ भारतीय शास्त्रीय संगीत, लोकगीत और नृत्य पेश करेंगे। ह्यूस्टन के 1,000 से ज्यादा गुजराती समारोह में प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए गुजरात के पारंपरिक नृत्य 'डांडिया' की तैयारी कर रहे हैं।


ईर्ष्यालु व्यक्ति से दूर रहे:मिथुन

राशिफल


मेष-बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। स्थायी संपत्ति के कार्य बड़ा लाभ दे सकते हैं। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। कार्य के दस्तावेज ध्यान से पढ़ें। रुके कार्य बनेंगे। नौकरी में अधिकार बढ़ सकते हैं। पार्टनरों का सहयोग प्राप्त होगा। शारीरिक कष्ट की आशंका है। विवाद से बचें।


वृष-बौद्धिक कार्य सफल रहेंगे। पार्टी व पिकनिक का कार्यक्रम बन सकता है। संगीत में रुचि रहेगी। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। नौकरी में नए कार्य कर पाएंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। पारिवारिक जीवन सुखमय व्यतीत होगा। प्रमाद न करें।


मिथुन-नकारात्मकता रहेगी। बेबात चिड़चिड़ापन रहेगा। भावना में न बहें। दौड़धूप अधिक होगी। दु:खद समाचार मिल सकता है। पुराना रोग परेशानी का कारण बन सकता है। ईर्ष्यालु व्यक्तियों से दूर रहें। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। आय बनी रहेगी।


कर्क-मित्रों तथा रिश्तेदारों की सहायता कर पाएंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। स्वास्थ्य अच्‍छा रहेगा। उत्साह व प्रसन्नता से कार्य कर पाएंगे। नौकरी में अधिकार बढ़ सकते हैं। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। किसी विशेष व्यक्ति से हानि संभव है। ध्यान रखें।


सिंह-आत्मसम्मान बना रहेगा। भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। नए संपर्क बनेंगे। उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। आय में वृद्धि होगी। किसी बनते कार्य में बाधा संभव है। चिंता तथा तनाव रहेंगे। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। जल्दबाजी न करें।


कन्या-बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। भेंट व उपहार की प्राप्ति हो सकती है। किसी बड़ी समस्या से छुटकारा मिल सकता है। समय की अनुकूलता का लाभ लें। भरपूर प्रयास करें। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। यात्रा लाभदायक रहेगी। प्रसन्नता रहेगी।


तुला-किसी भी प्रकार के विवाद में न पड़ें। फालतू खर्च होगा। लेन-देन में सावधानी रखें। पुराना रोग उभर सकता है। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। किसी अपरिचित व्यक्ति पर आंख मूंदकर विश्वास न करें। व्यापार ठीक चलेगा।


वृश्चिक-बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। यात्रा लाभदायक रहेगी। कोई बड़ा काम मिल सकता है। कारोबार में वृद्धि होगी। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। व्यस्तता के कारण स्वास्थ्य बिगड़ सकता है। परिवार के छोटे सदस्यों के बारे में चिंता का वातावरण बनेगा।


धनु-योजना फलीभूत होगी। कार्यस्थल पर सुधार व परिवर्तन हो सकता है। बिगड़े काम बनेंगे। व्यापारिक नए अनुबंध हो सकते हैं। सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी। बेचैनी रहेगी। स्वास्थ्य कमजोर रह सकता है। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। व्यापार अच्‍छा चलेगा।


मकर-तंत्र-मंत्र में रुचि जागृत होगी। प्रभाव बढ़ेगा। जीवनसाथी से सहयोग प्राप्त होगा। कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति अनुकूल होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। कारोबार में वृद्धि होगी। नौकरी में अधिकार बढ़ सकते हैं। जोखिम व जमानत के कार्य बिलकुल न करें।


कुंभ-आते-जाते कार्य करते समय सावधान रहें। शारीरिक हानि की आशंका है। विवाद न करें। बात बिगड़ सकती है। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। दुष्टजन हानि पहुंचा सकते हैं। कारोबार अच्‍छा चलेगा। आय होगी।


मीन-कुंआरों को वैवाहिक प्रस्ताव प्राप्त हो सकता है। कानूनी अड़चन दूर होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। आय में वृद्धि होगी। प्रसन्नता का वातावरण बनेगा। कारोबार अच्‍छा चलेगा। नौकरी में सहकर्मी साथ देंगे। थकान रह सकती है।


वायुमंडल का अनुमानित क्षेत्र एवं ताप

पृथ्वी को घेरती हुई जितने स्थान में वायु रहती है उसे वायुमंडल कहते हैं। वायुमंडल के अतिरिक्त पृथ्वी का स्थलमंडल ठोस पदार्थों से बना और जलमंडल जल से बने हैं। वायुमंडल कितनी दूर तक फैला हुआ है, इसका ठीक ठीक पता हमें नहीं है, पर यह निश्चित है कि पृथ्वी के चतुर्दिक् कई सौ मीलों तक यह फैला हुआ है।


वायुमंडल के निचले भाग को (जो प्राय: चार से आठ मील तक फैला हुआ है) क्षोभमंडल, उसके ऊपर के भाग को समतापमंडल और उसके और ऊपर के भाग को मध्य मण्डलऔर उसके ऊपर के भाग को आयनमंडल कहते हैं। क्षोभमंडल और समतापमंडल के बीच के बीच के भाग को "शांतमंडल" और समतापमंडल और आयनमंडल के बीच को स्ट्रैटोपॉज़ कहते हैं। साधारणतया ऊपर के तल बिलकुल शांत रहते हैं।


प्राणियों और पादपों के जीवनपोषण के लिए वायु अत्यावश्यक है। पृथ्वीतल के अपक्षय पर भी इसका गहरा प्रभाव पड़ता है। नाना प्रकार की भौतिक और रासायनिक क्रियाएँ वायुमंडल की वायु के कारण ही संपन्न होती हैं। वायुमंडल के अनेक दृश्य, जैसे इंद्रधनुष, बिजली का चमकना और कड़कना, उत्तर ध्रुवीय ज्योति, दक्षिण ध्रुवीय ज्योति, प्रभामंडल, किरीट, मरीचिका इत्यादि प्रकाश या विद्युत के कारण उत्पन्न होते हैं।


वायुमंडल का घनत्व एक सा नहीं रहता। समुद्रतल पर वायु का दबाव 760 मिलीमीटर पारे के स्तंभ के दाब के बराबर होता है। ऊपर उठने से दबाव में कमी होती जाती है। ताप या स्थान के परिवर्तन से भी दबाव में अंतर आ जाता है।


सूर्य की लघुतरंग विकिरण ऊर्जा से पृथ्वी गरम होती है। पृथ्वी से दीर्घतरंग भौमिक ऊर्जा का विकिरण वायुमंडल में अवशोषित होता है। इससे वायुमंडल का ताप - 68 डिग्री सेल्सियस से 55 डिग्री सेल्सियस के बीच ही रहता है। 100 किमी के ऊपर पराबैंगनी प्रकाश से आक्सीजन अणु आयनों में परिणत हो जाते हैं और परमाणु इलेक्ट्रॉनों में। इसी से इस मंडल को आयनमंडल कहते हैं। रात्रि में ये आयन या इलेक्ट्रॉन फिर परस्पर मिलकर अणु या परमाणु में परिणत हो जाते हैं जिससे रात्रि के प्रकाश के वर्णपट में हरी और लाल रेखाएँ दिखाई पड़ती हैं।


काजू की मिठाईयां और मदिरा

काजू (द्विपद नामकरण-आनाकार्द्यूम् ओक्सीदेन्ताले) एक प्रकार का पेड़ है जिसका फल सूखे मेवे के लिए बहुत लोकप्रिय है। काजू का आयात निर्यात एक बड़ा व्यापार भी है। काजू से अनेक प्रकार की मिठाईयाँ और मदिरा भी बनाई जाती है।


काजू का पेड़ तेजी से बढ़ने वाला उष्णकटिबंधीय पेड़ है जो काजू और काजू का बीज पैदा करता है। काजू की उत्पत्ति ब्राजील से हुई है। किन्तु आजकल इसकी खेती दुनिया के अधिकांश देशों में की जाती है। सामान्य तौर पर काजू का पेड़ 13 से 14 मीटर तक बढ़ता है। हालांकि काजू की बौनी कल्टीवर प्रजाति जो 6 मीटर की ऊंचाई तक बढ़ता है, जल्दी तैयार होने और ज्यादा उपज देने की वजह से बहुत फायदेमंद साबित हो रहा है।


काजू का उपभोग कई तरह से किया जाता है। काजू के छिलके का इस्तेमाल पेंट से लेकर स्नेहक (लुब्रिकेंट्स) तक में होता है। एशियाई देशों में अधिकांश तटीय इलाके काजू उत्पादन के बड़े क्षेत्र हैं। काजू की व्यावसायिक खेती दिनों-दिन लगातार बढ़ती जा रही है क्योंकि काजू सभी अहम कार्यक्रमों या उत्सवों में अल्पाहार या नाश्ता का जरूरी हिस्सा बन गया है। विदेशी बाजारों में भी काजू की बहुत अच्छी मांग है। काजू बहुत तेजी से बढ़ने वाला पेड़ है और इसमे पौधारोपण के तीन साल बाद फूल आने लगते हैं और उसके दो महीने के भीतर पककर तैयार हो जाता है। बगीचे का बेहतर प्रबंधन और ज्यादा पैदावार देनेवाले प्रकार (कल्टीवर्स) का चयन व्यावसायिक उत्पादकों के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है।


यमाचार्य नचिकेता वार्ता

गतांक से...
 मैं उच्चारण कर रहा था यह दीप मालिका का वर्णन हमारे वैदिक साहित्य में वायु को वाहन बनाकर के एक-एक मालिका का वर्णन आता रहता है। वाहन के रूप में गाना गाने वाले की कोई सीमा नहीं होती है। एक गान गा रहा है माता प्रसन्न हो रही है। बालक गान गा रहा है, माता प्रसन्न हो रही है। एक ब्रहमवेता ब्रह्मा का गाना गा रहा है। समाज प्रसन्न हो रहा है। एक गाना गाता हुआ अंतर हृदय में उसका हृदय स्‍वत: प्रसन्न हो रहा है। तो गान गाने वाले कुछ योगेश्वर इस प्रकार के भी हुए हैं। जिन्होंने शब्द विज्ञान के ऊपर बहुत अनुसंधान किया है। जिन्होंने गान के ऊपर अनुसंधान किया है यह जो  गायात्री है जो मां के रूप में गाई जाती है। क्योंकि गान कौन गाता है? गायत्री क्या है मुनीवरो देखो, जो गायत्री गाई जाती है प्रत्येक वेद के मंत्र को गायत्री कहते हैं। कौन गायक है, गायत्री क्या है? जो मुनिवरो, देखो गाई जाती हो प्रत्येक वेद के मंत्र को गायत्री कहते हैं। हमारे यहां गायत्री नामोंकरण एकोंकी का नहीं कहलाता है। यह गायत्री इसलिए विशेष मानी जाती है कि इसमें 24 अक्षर माने गए हैं। इसलिए मानव का शरीर भी 24 खम्‍बों वाला है। यह ब्रह्मांड भी 24 खंभों वाला है। 10 प्राण, दस इंद्रियां है और मुनिवर मन, बुद्धि, चित्त अहंकार कहा जाता है। यह 24 खबों वाला ब्रह्मांड दृष्‍टिपात आ रहा है यही मानव के शरीर में है। यह 24 खंभों वाला ब्रह्मांड मानव शरीर कहलाता है। इसके ऊपर आधारित रहता है। प्रणेश्वर अपनी आभा में गति करता रहता है तो परिणाम क्या है। जब वह गाता है गाने वाला गाता ही रहता है। सदैव ही गाता है। जब माता मल्हार गाती है तो मैं उससे वृष्टि प्रारंभ हो जाती हैं। जब मानव पांडित्य गान गाता है तो उसकी पंडित की धारा अंतरिक्ष में उत्पन्न हो जाती है। यजमान जब यज्ञशाला में स्‍वाह करके हृदय से गाना गाता है तो मुनिवरो देखो यज्ञशाला की तरंगों के साथ में उनके जो स्‍वाह शब्द है वह अंतरिक्ष में औत-प्रॏत हो जाते हैं। मेरे प्यारे देखो, मुझे स्मरण आता रहता है इसके ऊपर नाना वैज्ञानिक हुए हैं जिन वैज्ञानिकों ने बहुत अनुसंधान किया है। यह विज्ञान महाराजा महर्षि भारद्वाज मुनि की यज्ञशाला में भी विधमान था। यही विज्ञान मेरे पुत्रों देखो उद्यालयक गोत्र के कुछ ॠषियों के आश्रम में भी यह विज्ञान पनपता रहा है। मैच विज्ञान के ऊपर कोई विशेष विशेष विवेचना देना नहीं चाहता हूं परंतु विचार यह है कि ऐसे संयंत्रों का निर्माण भी हुआ है। जैसे शब्द है, शब्द के साथ में उसका चित्र यंत्रावलियो में दृष्टिपात आता रहता है।यज्ञोमयी ब्रह्मा वाचा: इस शब्द को लेकर के रचना की गई है तो विचार क्या है। मेरे पुत्रों देखो वेद कहता है कि यह शब्द विज्ञान है। सात्विकता में रमण करने वाला जो सत्यता में रहने वाला है। उसके ऊपर मानव को सदैव चिंतन और मनन करना चाहिए। हृदय से इसके ऊपर विचारशील बन करके अपनी आभा में आभाहित रहना चाहिए। जिससे मानव का जीवन पवित्रता में रमण करता हुआ वैदिक विज्ञान को वैदिक ज्ञान को अपने साकार रूप में लाकर के दर्शाते रहे। विचार-विनिमय करते रहे विचार क्या है एक पंडित गाना गा रहा है ।माता अपने पुत्र से कहती है बालक तू सदैव सत्यवादी  बन,सत्यवादी बनने के लिए माता ही प्रेरणा क्यों देती है। आचार्य ही क्यों प्रेरणा दे रहा है। सत्य उच्चारण करने की प्रेरणा इसलिए दे रहा है। क्योंकि माता का हृदय है, वह बालक माता का हृदय है। और आचार्य का कुल कहलाता है वह विद्यालय में कुल है। माता का हृदय है पिता की श्रुति है। सर्वत्रीय हे ब्रह्मवर्चॏसी तू ब्रह्मवर्चॏसी बन, का अर्थ है। वह सत्यवादी बन,वह सार्थकता मेरा मन कर रहा है। जो प्राण और मन को दोनों को एक सूत्र में लाना जानता है। जो ॠचाती प्रतिभा को लोको की श्रुतियों में कटिबद्ध कर देता है। वह तो सत्य मे रमन करता है। जब मैं अंतरिक्ष के गान रुप में प्रवेश करता हूं। जैसे लोक- लोकांतर है। एक दूसरा, एक दूसरे के प्रति गाना गा रहा है। गान का अभिप्राय है उसे उल्लास दे रहा है। जैसे माता की परिक्रमा करने वाला पुत्र है, कहीं माता पुत्र की परिक्रमा कर रही है और क्योंकि उसी से माता का शब्द का निर्माण हुआ है। वह गान गाता है परंतु देखो वही वृत्‍तियों में वह पुत्र माता की, माता पुत्र की परिक्रमा कर रही है। परिक्रमा का अर्थ है गान गाना, कहीं मुनिवर, देखो पुत्र माता का गाना गा रहा है उसकी प्रसन्नता में मानव मग्‍न हो रहा है ।गान गाता है, हृदय से गा रहा है ममता कर रहा है। इसी प्रकार कहीं पिता की परिक्रमा कर रहा है पिता-पुत्र की परिक्रमा कर रहा है। वह गान रूपों में सत्यता से उपदेश दे रहा है। विचार-विनिमय क्या है, मेरे पुत्रों देखो इसी प्रकार प्राणी एक दूसरे की परिक्रमा कर रहा है। एक वेद का पठन-पाठन करने वाला भयंकर वनों में गा रहा है सिंहराज ध्वनि को श्रवण कर रहा है, सर्पराज आ कर के उसके चरणों में औत-प्रॏत हो रहा है। वह गान की ही महिमा है जो गाता है। हृदय से जब गाता है तो गान को पान करता हुआ परमात्मा के गान से उसका समन्वय हो जाता है। इस लोक में एक प्राणी दूसरे प्राणी की परिक्रमा कर रहा है। गान गाने के रूप में मेघगान गाता है


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


september 23, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-51 (साल-01)
2. सोमवार,23 सितबंर 2019
3. शक-1941,अश्‍विन, कृष्‍णपक्ष,तिथि नवमी,विक्रमी संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 6:12,सूर्यास्त 6:10
5. न्‍यूनतम तापमान -24 डी.सै.,अधिकतम-33+ डी.सै., हवा की गति धीमी रहेगी, बरसात की संभावना रहेगी।
6. समाचार पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है! सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


पाकिस्तान दौरा सुरक्षा कारणों को लेकर रद्द किया

वेलिंग्टन/ इस्लामाबाद। क्रिकेट पर संकट के बादल एक बार फिर से घिर आए हैं। न्यूजीलैंड का पूरा पाकिस्तान दौरा सुरक्षा कारणों को लेकर रद्द कर दि...