बुधवार, 31 मई 2023

किसान गोष्ठी का निरीक्षण कर, जायजा लिया

किसान गोष्ठी का निरीक्षण कर, जायजा लिया


ग्राम पंचायत बलकरनपुर एवं सकाढ़ा में आयोजित किसान गोष्ठी का सीडीओ ने किया निरीक्षण

कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी डॉ. रवि किशोर त्रिवेदी द्वारा आज विकास खण्ड मूरतगंज के ग्राम पंचायत-बलकरनपुर में आयोजित किसान गोष्ठी का निरीक्षण कर, जायजा लिया गया। किसान गोष्ठी में केवल 14 कृषकों द्वारा प्रतिभाग किया गया एवं उपस्थित कृषकों एवं ग्रामवासियों द्वारा अवगत कराया गया कि आज ही उन्हें किसान गोष्ठी की सूचना पूर्वान्ह में दी गई है। इसके पूर्व न ही ग्राम में मुनादी करायी गई और न ही डोर-टू-डोर कैम्पेन किया गया, जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने  कृषि विभाग के उपस्थित अधिकारियों/कर्मचारियां के प्रति नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिए गए कि भविष्य में जिन ग्रामों में किसान गोष्ठी का आयोजन किया जाएं, उन ग्रामों में पूर्व से ही मुनादी व डोर-टू-डोर कैम्पेन किया जाएं।

इसी प्रकार विकास खण्ड मूरतगंज के ग्राम पंचायत-सकाढ़ा में आयोजित किसान गोष्ठी में भी केवल 12 कृषक ही उपस्थित थे और किसानों को गोष्ठी की सूचना पूर्व में नहीं दिए जाने पर मुख्य विकास अधिकारी ने कृषि विभाग के उपस्थित अधिकारियों/कर्मचारियां के प्रति नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देशित किया कि जिन ग्रामों में किसान गोष्ठी का आयोजन किया जाएं, उन ग्रामों में पूर्व से ही मुनादी व डोर-टू-डोर कैम्पेन किया जाए।

इस अवसर पर जिला कृषि रक्षा अधिकारी इन्द्रजीत यादव, खण्ड विकास अधिकारी संजय गुप्ता एवं सचिव आशीष केसरवानी सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण व कृषकगण उपस्थित रहें।

समिति व टास्कफोर्स की बैठक संपन्न: सीडीओ 

समिति व टास्कफोर्स की बैठक संपन्न: सीडीओ 


जिला शिक्षा एवं अनुश्रवण समिति जनपद स्तरीय टास्कफोर्स की सीडीओ ने की बैठक

प्राथमिक विद्यालयां में बालिका शौचालय की स्थिति खराब पाएं जाने पर सचिव को किया जाएगा निलंबित: सी.डी.ओ

कौशाम्बी। मुख्य विकास अधिकारी डॉ. रवि किशोर त्रिवेदी की अध्यक्षता में उदयन सभागार में जिला शिक्षा एवं अनुश्रवण समिति तथा जनपद स्तरीय टास्कफोर्स की बैठक संपन्न हुई। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने ऑपरेशन कायाकल्प के तहत कराएं जा रहें कार्यों की समीक्षा के दौरान कहा, कि जनपद के प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयो में बालिका शौचालय की स्थिति खराब पाएं जाने पर सचिव, ग्राम पंचायत को निलम्बित तथा 02 से अधिक विद्यालयां में बालिका शौचालय की स्थिति खराब पाएं जाने पर एडीओ (पंचायत) को निलम्बित किया जाएगा।

उन्होंने जिला बेसिक शिक्षाधिकारी से कहा कि अध्यापकों द्वारा बच्चों को गुणवत्तापरक शिक्षा प्रदान किए जाने पर विशेष ध्यान दिया जाएं। उन्होंने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को विद्यालय खुलने पर विद्यालयों का निरीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए।

मुख्य विकास अधिकारी ने ऑपरेशन कायाकल्प केतहत कराये जा रहें कार्यों की समीक्षा के दौरान कहा, कि शेष रह गये विद्यालयों में टाइल्स लगाने, रनिंग वाटर, विद्युत कनेक्शन एवं बाउन्ड्रीवॉल आदि कार्यों को 15 जून तक अवश्य पूर्ण करा लिया जाएं। बैठक में जिला बेसिक शिक्षाधिकारी ने बताया कि सहायता प्राप्त प्राथमिक एवं उच्च प्राथमिक विद्यालयों द्वारा यू-डायस पोर्टल पर फीडिंग कार्य में लापरवाही बरती जा रहीं है, जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने यू-डायस पोर्टल पर फीडिंग न कराने वाले विद्यालयों को चिन्हित कर उनकी मान्यता समाप्त करने के निर्देश दिए।

बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि जनपद के सभी ऑगनबाड़ी केंद्रों को आधारभूत सुविधाओं-शौचालय, पेयजल, रनिंग वाटर एवं विद्युत कनेक्शन आदि से संतृप्त किया जाना है, जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रकाश सिंह एवं जिला विकास अधिकारी विजय कुमार सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहें।

गणेश साहू 

83 साल की उम्र में चौथी बार 'पिता' बनेंगे पचीनो

83 साल की उम्र में चौथी बार 'पिता' बनेंगे पचीनो

अखिलेश पांडेय 

वाशिंगटन डीसी। 83 साल की उम्र के अमेरिकन एक्टर 29 साल की गर्लफ्रेंड से उत्पन्न बच्चे के चौथी बार पिता बनने जा रहे हैं। एक्टर की गर्लफ्रेंड के अमेरिकन एक्टर से पहले भी हाई प्रोफाइल उम्र दराज बॉयफ्रेंड रह चुके हैं। दरअसल वर्ष 2022 के अप्रैल महीने के दौरान अमेरिकन एक्टर अल पचीनो एवं उनकी 29 साल की गर्लफ्रेंड नूर अल्फल्लाह के बीच नजदीकी होने की सुर्खियां सामने आई थी, पहली बार आर्ट गैलरी की ओपनिंग के भीतर दोनों को एक साथ देखा गया था। जानकारी मिल रही है कि एंडेमिक के दौरान एक्टर अल पचीनो एवं नूर अल्फल्लाह के बीच नज़दीकियां इतनी बड़ी थी कि जो गर्लफ्रेंड के प्रेग्नेंट रहने के दरवाजे तक पहुंच गई थी।

बताया जा रहा है कि 83 वर्षीय अमेरिकन एक्टर अल पचीनो की 29 साल की गर्लफ्रेंड नूर अल्फल्लाह के एक्टर से पहले भी कई उम्र दराज हाई प्रोफाइल ब्वॉयफ्रेंड्स रह चुके हैं। नूर अल्फल्लाह अमेरिकन कुवैत अमीर परिवार से ताल्लुक रखना बताई जा रही है। जानकारी मिल रही है कि अल पचीनो की नूर अल्फल्लाह से पहले भी कई गर्लफ्रेंड रह चुकी हैं। इस बार उन्होंने अपने से 54 साल छोटी नूर अल्फल्लाह के साथ डेटिंग की है, जो अब 8 महीने की प्रेग्नेंट है।

अधिनियम के तहत नियमों को अधिसूचित किया 

अधिनियम के तहत नियमों को अधिसूचित किया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को सिगरेट एवं अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम, 2004 के तहत संशोधित नियमों को अधिसूचित किया और ओटीटी (ओवर दी टॉप) कार्यक्रमों के लिए थिएटर में फिल्मों और टीवी कार्यक्रमों की तरह ही तंबाकू के खिलाफ चेतावनी जारी करना अनिवार्य कर दिया है।

अधिसूचना के अनुसार, ऑनलाइन सामग्री में तंबाकू उत्पाद या उनके इस्तेमाल को दिखाए जाने के दौरान प्रसारकों को कार्यक्रम के शुरू और मध्य में कम से कम 30 सेकेंड तक तंबाकू के खिलाफ स्वास्थ्य संबंधी चेतावनी जारी करना होगा। जब कार्यक्रम के दौरान तम्बाकू उत्पादों या उनके उपयोग को दिखाया जाता है, तो उन्हें इस दौरान स्क्रीन के नीचे एक संदेश के रूप में तम्बाकू विरोधी स्वास्थ्य चेतावनी दिखाना अनिवार्य होगा।

सूत्रों ने कहा कि साथ ही कार्यक्रम की शुरुआत और मध्य में तम्बाकू के उपयोग के दुष्प्रभावों पर कम से कम 20 सेकेंड का एक ऑडियो-विजुअल डिस्क्लेमर भी दिखाना होगा। अधिसूचना में कहा गया है, उप-नियम (1) के खंड (बी) में निर्दिष्ट तंबाकू विरोधी स्वास्थ्य चेतावनी संदेश सफेद पृष्ठभूमि पर काले रंग के अक्षरो में तंबाकू से कैंसर होता है या तंबाकू मारता है की चेतावनी दिखानी होगी, जो स्पष्ट और पठनीय होनी चाहिए।

इसके अलावा, तंबाकू विरोधी स्वास्थ्य चेतावनी संदेश और ऑडियो-विजुअल डिस्क्लेमर उसी भाषा में होने चाहिए, जिसका उपयोग ऑनलाइन बनाई गई सामग्री में किया जाता है। ऑनलाइन बनाई गई सामग्री में तम्बाकू उत्पादों का प्रदर्शन या उनका उपयोग सिगरेट या अन्य तम्बाकू उत्पादों के ब्रांड के प्रदर्शन या किसी भी रूप में तम्बाकू उत्पाद का प्रचार और तम्बाकू उत्पादों के प्रदर्शन या प्रचार सामग्री में उनके उपयोग का जरिया नहीं होना चाहिए। मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय और अन्य हितधारकों के साथ विचार-विमर्श के बाद यह निर्णय लिया गया। 

1 लाख करोड़ रुपये की योजना को मंजूरी: सरकार 

1 लाख करोड़ रुपये की योजना को मंजूरी: सरकार 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। सरकार ने बुधवार को सहकारी क्षेत्र में खाद्यान्न भंडारण क्षमता 700 लाख टन बढ़ाने के लिए एक लाख करोड़ रुपये की योजना को मंजूरी दी। सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने मंत्रिमंडल की बैठक में किए गए निर्णय की जानकारी देते हुए कहा, कि देश में अनाज भंडारण क्षमता फिलहाल 1,450 लाख टन है।

उन्होंने कहा, कि अगले पांच साल में भंडारण क्षमता बढ़ाकर 2,150 लाख टन की जाएगी। यह क्षमता सहकारी क्षेत्र में बढ़ेगी। ठाकुर ने प्रस्तावित योजना को सहकारी क्षेत्र में दुनिया का सबसे बड़ा खाद्यान्न भंडारण कार्यक्रम बताया। इसके तहत प्रत्येक प्रखंड में 2,000 टन क्षमता के गोदाम बनाये जाएंगे। उन्होंने कहा, कि इस कदम का उद्देश्य भंडारण सुविधाओं की कमी से अनाज को होने वाले नुकसान से बचाना, किसानों को संकट के समय अपनी उपज औने-पौने दाम पर बेचने से रोकना, आयात पर निर्भरता कम करना तथा गांवों में रोजगार के अवसर सृजित करना है।

मंत्री ने कहा कि अधिक भंडारण क्षमता से किसानों के लिए परिवहन लागत कम होगी और खाद्य सुरक्षा मजबूत होगी। देश में सालाना करीब 3,100 लाख टन खाद्यान्न का उत्पादन होता है। लेकिन, मौजूदा क्षमता के तहत गोदामों में कुल उपज का 47 प्रतिशत तक ही रखा जा सकता है।

पहलवानों को इंसाफ दिलाने के लिए वार्ता: टिकैत 

पहलवानों को इंसाफ दिलाने के लिए वार्ता: टिकैत 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारतीय किसान यूनियन टिकैत के राष्ट्रीय प्रवक्ता नरेश टिकैत पहलवानों से मिलने मौके पर पहुंचे। उन्होंने काफी देर तक पहलवानों को समझाया। उन्होंने पहलवानों को आश्वासन दिया, कि वह पहलवानों को इंसाफ दिलाने के लिए वार्ता करेंगे। नरेश टिकैत की बात मानने के बाद पहलवान करीब पौने दो घंटे के बाद वापस दिल्ली लौट गए।

बता दें कि मंगलवार को बजरंग पुनिया ने मेडल गंगा में प्रवाहित करने की जानकारी अपने ट्वीटर एकाउंट पर दी थी। उन्होंने लिखा ’28 मई को जो हुआ वह आप सबने देखा। पुलिस ने हम लोगों के साथ क्या व्यवहार किया। हमें कितनी बर्बरता से गिरफ़्तार किया। हम शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे थे। हमारे आंदोलन की जगह को भी पुलिस ने तहस नहस कर हमसे छीन लिया और अगले दिन गंभीर मामलों में हमारे ऊपर ही एफआईआर दर्ज कर दी गई। क्या महिला पहलवानों ने अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न के लिए न्याय मांगकर कोई अपराध कर दिया है ?

बजरंग पुनिया ने लिखा, पुलिस और तंत्र हमारे साथ अपराधियों जैसा व्यवहार कर रही है। जबकि, उत्पीड़क खुली सभाओं में हमारे ऊपर फबतियां कस रहे हैं। टीवी पर महिला पहलवानों को असहज कर देनी वाली अपनी घटनाओं को कबूल करके उनको ठहाकों में तब्दील कर दे रहा है। यहां तक, कि पाक्सो एक्ट को बदलवाने की बात सरेआम कह रहा है। महिला पहलवान अंदर से ऐसा महसूस कर रही हैं कि इस देश में हमारा कुछ बचा नहीं है ! हमें वे पल याद आ रहे हैं, जब हमने ओलंपिक, वर्ल्ड चैंपियनशिप में मेडल जीते थे।

अब लग रहा है कि क्यों जीते थे ? क्या इसलिए जीते थे कि तंत्र हमारे साथ ऐसा घटिया व्यवहार करे ? हमें घसीटे और फिर हमें ही अपराधी बना दे। कल पूरा दिन हमारी कई महिला पहलवान खेतों में छिपती फिरी हैं। तंत्र को पकड़ना उत्पीड़क को चाहिए था, लेकिन वह पीड़ित महिलाओं को उनका धरना खत्म करवाने, उन्हें तोड़ने और डराने में लगा हुआ है। अब लग रहा है कि हमारे गले में सजे इन मेडलों का कोई मतलब नहीं रह गया है। इनको लौटाने की सोचने भर से हमें मौत लग रही थी, लेकिन अपने आत्म सम्मान के साथ समझौता करके भी क्या जीना ?

पवित्र मां गंगा की गोद में प्रवाहित करेंगे मेडल

लिखा कि मन में यह सवाल आया कि किसे लौटाएं ये मेडल। हमारी राष्ट्रपति को, जो खुद एक महिला हैं। मन ने ना कहा, क्योंकि वह हमसे सिर्फ दो किलोमीटर दूर बैठीं सिर्फ देखती रहीं, लेकिन कुछ भी बोली नहीं। हमारे प्रधानमंत्री को, जो हमें अपने घर की बेटियां बताते थे। मन नहीं माना, क्योंकि उन्होंने एक बार भी अपने घर की बेटियों की सुध नहीं ली, बल्कि नई संसद के उद्घाटन में हमारे उत्पीड़क को बुलाया। वह तेज सफेदी वाले चमकदार कपड़ों में फोटो खिंचवा रहा था. उसकी सफेदी हमें चुभ रही थी, मानो कह रही हो कि मैं ही तंत्र हूं।

इस चमकदार तंत्र में हमारी जगह कहां हैं। भारत में बेटियों की जगह कहां हैं। क्या हम केवल नारे बनकर या सत्ता में आने भर का एजेंडा बनकर रह गई हैं। ये मेडल अब हमें नहीं चाहिए। क्योंकि, इन्हें पहनाकर हमें मुखौटा बनाकर केवल अपना प्रचार करता है। यह तेज सफेदी वाला तंत्र और फिर हमारा शोषण करता है। हम उस शोषण के खिलाफ बोलें, तो हमें जेल में डालने की तैयारी कर लेता है।

इन मेडलों को हम गंगा में बहाने जा रहे हैं। क्योंकि, वह गंगा मा हैं। जितना पवित्र हम गंगा को मानते हैं, उतनी ही पवित्रता से हमने मेहनत कर इन मेडलों को हासिल किया था। ये मेडल सारे देश के लिए ही पवित्र हैं और पवित्र मेडल को रखने की सही जगह पवित्र मां गंगा ही हो सकती है !

रिपोर्ट: एक दशक से कम समय में बदला 'भारत'

रिपोर्ट: एक दशक से कम समय में बदला 'भारत'

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत बदल गया है और आज विश्व व्यवस्था में एक स्थान हासिल करने की ओर है। अमेरिकी ब्रोकरेज कंपनी की एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है। रिपोर्ट में कहा है कि आज भारत एशिया और वैश्विक वृद्धि में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाने को तैयार है।

रिपोर्ट कहती है कि भारत को लेकर संदेह, विशेषरूप से विदेशी निवेशकों के मामले में, 2014 के बाद से हुए उल्लेखनीय बदलावों को नजरअंदाज करने जैसा है। रिपोर्ट में इन आलोचनाओं को खारिज किया गया है कि दुनिया की दूसरी सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था होने और पिछले 25 साल के दौरान सबसे बेहतर प्रदर्शन करने वाले शेयर बाजार के बावजूद भारत अपनी क्षमता के अनुरूप नतीजे नहीं दे सका है।

रिपोर्ट कहती है कि भारत एक दशक से कम समय में बदल गया है। यह भारत 2013 से अलग है। 10 साल के छोटे से अरसे में भारत ने दुनिया की व्यवस्था में स्थान बना लिया है। प्रधानमंत्री मोदी के पद संभालने के बाद 2014 से हुए 10 बड़े बदलावों का जिक्र करते हुए ब्रोकरेज कंपनी ने कहा कि भारत में कॉरपोरेट कर की दर को अन्य देशों के बराबर किया गया है।

इसके अलावा बुनियादी ढांचे में निवेश बढ़ रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि इसके साथ ही माल एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह लगातार बढ़ रहा है। साथ ही सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के प्रतिशत में डिजिटल लेनदेन बढ़ रहा है, जो अर्थव्यवस्था के संगठित होने का संकेत है। 

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-230, (वर्ष-06)

2. बृहस्पतिवार, जून 01, 2023

3. शक-1944, ज्येष्ठ, शुक्ल-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:40, सूर्यास्त: 06:45। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 22 डी.सै., अधिकतम- 35+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'भाजपा' ने दस साल में महंगाई, बेरोजगारी बढ़ाई

'भाजपा' ने दस साल में महंगाई, बेरोजगारी बढ़ाई संदीप मिश्र  लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा सरकार न...