सोमवार, 9 अक्तूबर 2023

निपाह वायरस: केरल में 6 मरीज मिलें, 2 की मौत

निपाह वायरस: केरल में 6 मरीज मिलें, 2 की मौत 

इकबाल अंसारी 
तिरुवनंतपुरम। कोविड की तरह निपाह वायरस भी एक से दूसरे को संक्रमित कर सकता है। केरल में छ: मरीज मिलने और दो मरीजों की मौत के बाद देश के कई राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है। उत्तराखंड में भी स्वास्थ्य विभाग की ओर से अस्पतालों में अलर्ट जारी किया है।
इसके लक्षण दिखने पर मरीजों को क्वारंटीन किया जाएगा। फिलहाल जिले में निपाह वायरस की जांच सुविधा नहीं है। अगर मरीज में लक्षण मिलते हैं तो जांच के लिए सैंपल ऋषिकेश एम्स भेजा जाएगा।
सीएमओ डॉ. संजय जैन ने बताया कि निपाह वायरस के मामले उत्तराखंड में अबतक सामने नहीं आए हैं, लेकिन अगर किसी भी मरीज में निपाह वायरस जैसे लक्षण दिखते हैं तो जांच के लिए ऋषिकेश एम्स भेजा जाएगा। दून मेडिकल कॉलेज के माइक्रोबायलॉजी विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. दीपक जुयाल ने बताया कि भारत में 2001 से अबतक निपाह वायरस छह बार आ चुका है। केरल में 2018 के बाद यह चौथी बार आया है।
यह चमगादड़ या सुअर से फैलता है। इसकी अबतक कोई दवा या वैक्सीन नहीं बनी है। लक्षण के आधार पर ही इलाज होता है। उमस और गर्मी वाले इलाकों में यह वायरस अधिक तेजी से फैलता है। ठंडे इलाकों में इसका प्रभाव कम रहता है। दून अस्पताल में अगर ऐसा कोई मरीज आता है और जांच की जरूरत पड़ी तो किट मंगाकर जांच की जाएगी।

हो सकती है मौत
डॉ. दीपक ने बताया कि इस वायरस से दिमाग में सूजन आने पर मरीज की मौत भी हो सकती है। हालांकि, यह वायरस एक से दूसरे में तभी फैलता है जब नजदीक कॉन्टैक्ट हो। फिलहाल सरकार की ओर से लोगों को जागरूक करने का प्रयास किया जा रहा है।

लक्षण
बुखार, सिर दर्द, कफ, गले में खराश, उल्टी, सांस लेने में दिक्कत, निमोनिया और दिमाग में सूजन।

उपचार
मरीज का इलाज लक्षण के आधार पर होता है।
मरीज को अन्य लोगों से अलग 21 दिन के लिए क्वारंटीन किया जाता है।
अन्य लोगों को संक्रमित के संपर्क में आने से मना किया जाता है।
मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी होता है।

धर्म परिवर्तन कराने वाले 9 लोग गिरफ्तार किए

धर्म परिवर्तन कराने वाले 9 लोग गिरफ्तार किए 

धर्म परिवर्तन कराने वाले नौ लोग गिरफ्तार

कौशाम्बी। चमत्कार के बहाने बीमारी ठीक करने की आड़ में प्रलोभन देकर धर्म परिवर्तन कराने वाले नौ लोगों को सैनी कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर आरोपियों के विरुद्ध पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है।
जानकारी के मुताबिक सैनी कोतवाली क्षेत्र के महुलीतीर गांव में शिव शंकर के घर में ग्रामीणों को एकत्रित कर चमत्कार के बहाने बीमारी ठीक कराने का झांसा देकर उन्हें प्रलोभन देकर धर्म परिवर्तन कराया जा रहा था।मामले की भनक सैनी कोतवाली पुलिस को लग गयी सूचना मिलते ही सैनी कोतवाली के उपनिरीक्षक तीर्थ राज गौतम सिपाहियों के साथ मौके पर जा पहुंचे। पुलिस ने मौके से झुरी लाल पुत्र मिठाई लाल वा उसके बेटे बृजेश पटेल वा वीरेंद्र कुमार पुत्र जवाहरलाल व शिव शंकर और चक्रधारी पुत्रगण मेवालाल व चिंगा पुत्र शिवपाल निवासी मलाक निंदुरा महुली तीर और पवन उर्फ भोला साहू पुत्र संतोष कुमार निवासी टेडीमोड थुलगुला वा छेदीलाल पुत्र रामदेव पासी और अरुण कुमार मौर्य पुत्र रुद्रपाल निवासी गण चौरा मलाक निंदुरा थाना सैनी को मौके से गिरफ्तार किया है। 
पकड़े गए आरोपियों पर धर्म परिवर्तन कराने का आरोप है।पुलिस ने धर्म परिवर्तन का मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को अदालत में पेश किया है।
सन्तलाल मौर्य

डीएम ने बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया

डीएम ने बस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया 

05 दिवसीय कृषक प्रशिक्षण के लिए 60 किसान रवाना

जिलाधिकारी ने सब मिशन ऑन एग्रीकल्चर एक्सटेंशन योजना के तहत कृषक प्रशिक्षण कार्यक्रम में किसान भाइयों के प्रतिभाग के लिए बस को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार ने कृषि विभाग द्वारा संचालित सब मिशन ऑन एग्रीकल्चर एक्सटेंशन (आत्मा) योजना के तहत चित्रकूट में आयोजित कृषक प्रशिक्षण कार्यक्रम में जनपद के किसान भाइयों के प्रतिभाग के लिए चित्रकूट जाने वाली बस को कलेक्ट्रेट परिसर से हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
उप कृषि निदेशक सतेन्द्र तिवारी ने बताया कि सब मिशन ऑन एग्रीकल्चर एक्सटेंशन (आत्मा) योजना के तहत वित्तीय वर्ष 2023-24 में अन्तः राज्यीय 05 दिवसीय कृषक प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन दिनॉक 09 अक्टूबर 2023 से 13 अक्टूबर 2023 तक तुलसी कृषि विज्ञान केन्द्र, गनीवा जनपद चित्रकूट में किया जा रहा है। प्रशिक्षण कार्यक्रम में किसान भाइयों को कृषक हितार्थ आगामी रबी फसलोत्पादन कीट रोग प्रबन्धन जलप्रबन्धन, जैविक खेती, पशुपालन, मत्स्य पालन आदि की नवीनतम जानकारी उपलब्ध करायी जाएगी। जनपद के 60 प्रगतिशील कृषकों को बस के माध्यम से भेजने की व्यवस्था सहयोगी संस्था सदाचार समिति, प्रयागराज द्वारा करायी गई है। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) डॉ. विश्राम सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।
गणेश साहू

रोजाना नीम की 10-12 पत्तियों का सेवन करें

रोजाना नीम की 10-12 पत्तियों का सेवन करें 

सरस्वती उपाध्याय 
नीम का नाम सुनते हैं मुंह में कड़वाहट महसूस होने लगती है। हम सभी नीम की पत्तियों के कड़वे स्वाद से अनजान नहीं हैं। आप जानते हैं कि नीम की ये कड़वी पत्तियां सेहत का ख़जाना है। औषधीय गुणों से भरपूर नीम की पत्तियां कई बीमारियों का उपचार करती हैं। नीम की पत्तियों का अगर रोजाना सेवन किया जाए तो इम्युनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाया जा सकता है और कई बीमारियों से बचाव किया जा सकता है। बॉडी को संक्रमण से बचाने में नीम की पत्तियां बेहद असरदार हैं। नीम का इस्तेमाल स्किन की कई परेशानियों जैसे पिंपल्स ,एक्ने,दाग-धब्बे, टैनिंग,बेजान और ड्राई स्किन का उपचार करने में किया जाता है।

आयुर्वेदिक एक्सपर्ट के मुताबिक एंटीफंगल और एंटीवायरल गुणों से भरपूर नीम का सेवन वायरल फीवर,सर्दी-खांसी,गले की खराश को दूर करने में किया जाए तो तुरंत राहत मिलती है। आइए जानते हैं कि रोजाना नीम की 10-12 पत्तियों का सेवन करने से कौन-कौन सी बीमारियों का उपचार होता है।

नीम की पत्तियां गट से कीटाणुओं का करती हैं सफाया
खाली पेट नीम की पत्तियों का सेवन किया जाए तो गट की हेल्थ दुरुस्त रहती है। खराब डाइट और बिगड़ता लाइफस्टाइल हमारी गट हेल्थ को बिगाड़ रहा है ऐसे में नीम की पत्तियों का सेवन गट को हेल्दी रखता है और बीमारियों से बचाव करता है।

ये पत्तियां लिवर को रखती हैं हेल्दी
खाली पेट नीम की पत्तियों का सेवन करने से लिवर की सेहत दुरुस्त रहती है। नीम की पत्तियों के सूजनरोधी गुण ऑक्सीडेटिव तनाव से लड़ते हैं जो मुक्त कणों के कारण होता है। ऑक्सीडेटिव तनाव लीवर के टिशू को नुकसान पहुंचाता है। लिवर को हेल्दी रखने में नीम की पत्तियां दवा की तरह असर करती हैं।

ब्लड शुगर करती हैं कंट्रोल
नीम का कड़वा स्वाद ब्लड शुगर को कंट्रोल करता है। जिन लोगों की ब्लड शुगर हाई रहती है वो रोजाना नीम के पत्तों का सेवन करें। आयुर्वेद के मुताबिक नीम की पत्तियों में तिक्त और कषाय रस पाया जाता है, जो शरीर के अंदर पहुंचकर ब्लड शुगर को कंट्रोल करता है।

नीम से होता है कब्ज का इलाज
नीम की पत्तियों का सबसे आम उपयोग पेट से संबंधित समस्याओं को ठीक करने में होता है। कब्ज और सूजन को दूर करने में नीम का सेवन बेहद असरदार साबित होता है। नीम की पत्तियों में मौजूद फाइबर मल डिस्चार्ज करने में मदद करता है और सूजन से भी राहत दिलाता हैं।

नीम की पत्तियों का सेवन कैसे करें
नीम की पत्तियों का सेवन पेस्ट बनाकर किया जा सकता है। नीम की पत्तियों का पेस्ट बनाते समय सावधानी बरतें, हमेशा ताजी बनी नीम की पत्तियों के रस का ही सेवन करें।
इसका जूस निकालकर भी इसका सेवन किया जा सकता है।
आप नीम की पत्तियों को तवे पर सूखा भूनकर भी कर सकते हैं।

जिला स्तरीय क्रिकेट मैच का आयोजन हुआ

जिला स्तरीय क्रिकेट मैच का आयोजन हुआ 

हाजी अब्दुल खालिक इण्टर कॉलेज के छात्रों का क्रिकेट टीम मण्डल में हुआ चयन

कौशाम्बी। सरकार द्वारा चल रहे खेल कूद प्रतियोगिता में सिराथू सम्भाग से जीत कर हाजी अब्दुल खालिक इण्टर कॉलेज के छात्र जिला स्तरीय क्रिकेट मैच में शामिल हुए। जिला स्तरीय क्रिकेट मैच का आयोजन सोमवार को विद्या पब्लिक स्कूल इमली गांव में आयोजित हुआ। जिसमे जिला स्तरीय क्रिकेट मैच जीत कर हाजी अब्दुल खालिक इण्टर कॉलेज परास सिराथू के छात्रों ने फिर परचम लहराया और मण्डल स्तर के लिए चयनित हुए है, उक्त जानकारी प्रधानाचार्य प्रेम गुप्ता ने दी है। विद्यालय प्रबंधक मुंसब अली उस्मानी ने छात्रों के प्रदर्शन की सराहना करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।
सन्तलाल मौर्य

14 को दूसरा सूर्य ग्रहण, शनि का नक्षत्र परिवर्तन

14 को दूसरा सूर्य ग्रहण, शनि का नक्षत्र परिवर्तन 

सरस्वती उपाध्याय 
14 अक्टूबर को साल का दूसरा सूर्य ग्रहण लगने वाला है और इसके ठीक अगले दिन यानी 15 अक्टूबर को शनि का नक्षत्र परिवर्तन होगा।
15 अक्टूबर को शनि देव धनिष्ठा नक्षत्र में प्रवेश करेंगे। सूर्य ग्रहण के बाद शनि के इस नक्षत्र परिवर्तन को तीन राशियों के लिए शुभ माना जा रहा है।

कर्क- शनि के नक्षत्र परिवर्तन को कर्क राशि के जातकों के लिए अशुभ माना जा रहा है‌। इस राशि वालों को संभलकर रहने की सलाह दी गई है।

कर्क राशि के जातकों को धन, संपत्ति का नुकसान हो सकता है।आर्थिक मोर्चे पर जल्दबाजी में कोई फैसला न करें।

कन्या- शनि के नक्षत्र परिवर्तन से पहले सूर्य ग्रहण इसी राशि में लगेगा। करियर, आर्थिक और सेहत के मामले में लापरवाही न दिखाएं। नौकरी-व्यापारी में दिक्कतें आ सकती हैं। रुपये-पैसे का नुकसान हो सकता है। घरेलू कलह मानसिक तनाव का कारण बन सकते हैं।

धनु- धनु राशि वाले ठगी का शिकार हो सकते हैं। लंबी यात्राओं पर जाने से बचें। वाद-विवाद में पड़ने से नुकसान उठाएंगे।

मीन- आय के स्रोत प्रभावित हो सकते हैं। रुपये-पैसे का लेन-देन बिल्कुल न करें। स्वास्थ्य गड़बड़ हो सकता है‌। पुराने रोग घेर सकते हैं‌।

सुनक की नई दिल्ली यात्रा की संभावना पर विचार

सुनक की नई दिल्ली यात्रा की संभावना पर विचार 

अखिलेश पांडेय 
नई दिल्ली/लंदन। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक की नयी दिल्ली यात्रा की संभावना पर भारत और ब्रिटेन विचार कर रहे हैं, लेकिन यह अंततः इस बात पर निर्भर कर सकता है कि क्या दोनों पक्ष बहुप्रतीक्षित मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) पर आगे बढ़ने के लिए लंबित मतभेदों को सुलझा पाएंगे या नहीं। मामले से अवगत लोगों ने सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दोनों पक्ष 28 अक्टूबर के आसपास यात्रा की संभावना तलाश रहे हैं। लेकिन अभी तक कुछ तय नहीं हुआ है। 
उन्होंने कहा कि यह यात्रा महत्वाकांक्षी एफटीए को अंतिम रूप देने से जुड़ी हो सकती है। उक्त लोगों ने कहा कि समझा जाता है कि दोनों पक्ष एफटीए के 26 अध्यायों में से लगभग 24 को अंतिम रूप दे चुके हैं और अब वे कुछ वस्तुओं पर आयात शुल्क रियायतों समेत विवादास्पद मुद्दों पर जारी मतभेदों को दूर करके इसे अंतिम रूप देने पर विचार कर रहे हैं। माना जा रहा है कि दोनों पक्ष इस बात की संभावना पर भी विचार कर रहे हैं कि क्या सुनक 29 अक्टूबर को लखनऊ में भारत और इंग्लैंड के बीच एकदिवसीय क्रिकेट विश्वकप का मैच देख सकते हैं। 
उक्त लोगों ने कहा कि यात्रा पर कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है और यह इस बात पर निर्भर हो सकता है कि दोनों पक्ष मुक्त व्यापार समझौते को अंतिम रूप देने के लिए तैयार हैं या नहीं। सुनक पिछले महीने आयोजित जी20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने भारत आए थे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और सुनक ने शिखर सम्मेलन से इतर द्विपक्षीय वार्ता की थी। 
वार्ता में, मोदी और सुनक ने एफटीए वार्ता की प्रगति की समीक्षा की थी और उम्मीद जताई कि शेष मुद्दों पर जल्द से जल्द ध्यान दिया जा सकता है ताकि एक संतुलित, पारस्परिक रूप से लाभप्रद और दूरदर्शी व्यापार समझौता जल्द ही हो सके।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  


1. अंक-357, (वर्ष-06)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. मंगलवार, अक्टूबर 10, 2023

3. शक-1944, आश्विन, कृष्ण-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:11, सूर्यास्त: 06:13।

5. न्‍यूनतम तापमान- 18 डी.सै., अधिकतम- 21+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है 'गन्ने का रस'

स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है 'गन्ने का रस'  सरस्वती उपाध्याय  चिलचिलाती गर्मी के मौसम में सभी को ठंडा रहने के लिए शरीर को ठंडक ...