शनिवार, 20 अप्रैल 2024

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए

गर्मी में 'गुलकंद' खाने के अनेक फायदे, जानिए 

सरस्वती उपाध्याय 
बेहद सुंदर और सुगंधित फूल 'गुलाब' गुणों की खान है और इसकी पंखुड़ियों से बना गुलकंद स्वादिष्ट होने के साथ-साथ गर्मियों के लिए है वरदान स्वरूप। गुलाब से बने गुलकंद में कैल्शियम, पोटैशियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस और एंटीऑक्सीडेंट जैसे पोषक तत्व पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं। साथ ही विटामिन्स की भी अच्छी मात्रा होती है। गुलकंद की तासीर ठंडी होती है जो गर्मी में तन-मन दोनों को राहत देती है। इसके सेवन से ठंडक और सुकून का एहसास होता है। गर्मी में इसके अन्य क्या फायदे हैं, चलिए जानते हैं।

लू लगने का खतरा कम

गुलकंद का स्वाद लेते ही आपको ठंडक का एहसास होता है न, यही ठंडक गर्मियों में पूरे शरीर को राहत देती है। इसके सेवन से बाॅडी हाइड्रेटेड रहती है। इसके सेवन से शरीर की गर्मी शांत होती है और लू से भी बचाव होता है। यह अधिक पसीना आने की समस्या से भी राहत दिलाता है इससे कमज़ोरी और थकान से भी कुछ हद तक बचाव होता है।

आंखों की जलन से राहत

गर्मी के दिनों में आंखों में जलन, सूखापन, और असहजता आम समस्याएं हैं। गुलकंद के सेवन से आँखों को भी राहत मिलती है। आयुर्वेद के अनुसार इसके सेवन से आंखों की रोशनी भी बेहतर होती है।

स्किन पर ग्लो दिखेगा, जवां भी आएंगे नजर

गुलाब की पंखुड़ियों में विटामिन ए और सी की भरपूर मात्रा होती है। ये स्किन में कोलेजन के उत्पादन को बढ़ाती हैं। जिससे त्वचा अधिक उम्र तक जवां नज़र आती है। गुलकंद के सेवन से खून साफ होता है और दाग-धब्बे, कील-मुहांसे, इंफैक्शन और एलर्जी जैसी स्किन प्राॅब्लम्स दूर होती हैं। साथ ही आपकी स्किन की चमक भी बढ़ती है।

पाचन बेहतर

गर्मी में पेट से जुड़ी समस्याएं बहुत बढ़ जाती हैं। गुलकंद पेट को ठंडक देता है और गर्मी को हरता है। पेट से जुड़ी दिक्कतें गैस, कब्ज, बेचैनी, घबराहट आदि से गुलकंद राहत देता है। यह आंतों की कार्यप्रणाली को भी सुधारता है।

नकसीर से राहत

गर्मी में बहुत से लोगों को नकसीर फूटने की समस्या होती है। ऐसे लोगों को भी रोज़ाना गुलकंद के सेवन से राहत मिलेगी।

बाॅडी टाॅक्सिन रिलीज करने में मददगार

एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर गुलकंद बाॅडी से टाॅक्सिन बाहर निकालने में भी मददगार है।इसका फायदा अंततः वजन कम करने और शुद्ध रक्त के रूप में मिलता है। यह मेटाबॉलिज्म को भी बूस्ट करता है।

दिमाग को भी देता है राहत

गुलकंद दिमाग को भी राहत देता है। इसका खास अरोमा दिमाग को शांत करता है। उसकी नसों को रिलेक्स करता है। तनाव कम होने से नींद तो अच्छी आती ही है, हमारा गुस्सा भी कम होता है। रोज़ाना दूध के साथ चम्मच भर गुलकंद खाने से दिमाग तेज होता है और याददाश्त भी बेहतर होती है।

महिलाओं के लिए फायदे

गुलकंद के सेवन से महिलाओं को यूटीआई या मूत्र मार्ग संक्रमण से राहत मिलती है। यूरिन इंफेक्शन को दूर करने के साथ ही गर्भाशय को भी अंदरूनी बढ़ी हुई गर्मी से राहत देता है।

मुंह के छालों में आराम

पेट में गर्मी बढ़ने से मुंह में छाले हो जाते हैं। ठंडी तासीर वाला गुलकंद पेट की गर्मी को शांत करने में प्रभावी होता है। इस तरह गुलकंद खाने से छालों की समस्या से जल्द राहत मिल सकती है।

वनाग्नि की रोकथाम के संबंध में वर्चुअल बैठक की

वनाग्नि की रोकथाम के संबंध में वर्चुअल बैठक की

पंकज कपूर 
देहरादून। उत्तराखंड में सीएम धामी चुनाव के बाद एक्शन में आ गए है। उन्होंने शनिवार को मुख्यमंत्री आवास में प्रभागीय वनाधिकारियों के साथ वनाग्नि की रोकथाम के संबंध में वर्चुअल बैठक की। जिसमें उन्होंने कई सख्त निर्देश दिए है। सीएम ने कहा कि जैसे ही वनाग्नि घटना की सूचना मिलती है,उस पर तुरंत कार्यवाई होनी चाहिए तथा जिसका रिस्पॉन्स टाइम कम से कम होना चाहिए।
मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि गर्मियों के चार महीने वनाग्नि की दृष्टि से हमारे लिये चुनौतीपूर्ण होते हैं l इन महीनों में अधिक से अधिक सतर्क रहते हुये पूरा प्रयास किया जाए कि वनाग्नि की घटनायें न के बराबर हों। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को वनाग्नि की रोकथाम के सम्बन्ध में निर्देश दिये कि स्थानीय स्तर पर प्रभारी वनाधिकारी के स्तर पर नोडल अधिकारी नामित किया जाये, हेल्पलाइन नम्बर तथा टोल फ्री नंबर जारी करते हुए, उनका व्यापक प्रचार-प्रसार करते हुए लोगों में जागरूकता लाई जाएं।
मुख्यमंत्री ने ये भी निर्देश दिये कि वनाग्नि की रोकथाम के लिए सभी सम्बंधित विभाग आपसी तालमेल स्थापित करना सुनिश्चित करें तथा इस कार्य में स्थानीय लोगों, जन-प्रतिनिधियों, ग्राम प्रधानों आदि का भी सहयोग लिया जाये। उन्होंने कहा कि जिस क्षेत्र में भी वनाग्नि की घटनाये घटित होती हैं, उसके लिये सम्बंधित अधिकारी की जिम्मेदारी तय होनी चाहिए l उन्होंने निर्देश दिये कि जानबूझ कर अगर कोई वनों में आग लगाने की घटना में लिप्त पाया जाता है, तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएं।
बैठक में पिरुल का उपयोग किये जाने तथा आबादी क्षेत्रों में बंदरों के आवागमन को रोकने पर भी विस्तृत विचार-विमर्श हुआ। बैठक में प्रमुख सचिव आर. के.सुधांशु ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से मुख्यमंत्री को राज्य का कुल कितना क्षेत्र वनों से ढका है, कौन-कौन से वन क्षेत्र अति संवेदनशील व संवेदनशील हैं तथा आग लगने की घटनाओं की रोकथाम के लिये क्या-क्या उपाय किये जा रहे हैं आदि के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारी दी।

बस-ऑटो की टक्कर में ड्राइवर घायल, भर्ती कराया

बस-ऑटो की टक्कर में ड्राइवर घायल, भर्ती कराया 

राणा ओबरॉय 
नारनौल। बच्चों से भरी स्कूली बस और ऑटो की आमने-सामने की टक्कर में ऑटो ड्राइवर घायल हो गया।‌ आसपास के लोगों ने उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। मौके पर जमा हुए लोगों ने स्कूल बस को रोक लिया, मौके पर पहुंचे स्कूल प्रबंधक ने बड़ी मुश्किल से लोगों को समझा बुझाकर बस को बंधन मुक्त कराया। शनिवार को नारनौल में पार्क गली के सामने निजी स्कूलों की बस और ऑटो के बीच आमने-सामने की टक्कर हो गई। यह हादसा उस समय हुआ जब ऑटो ड्राइवर तेज गति से महावीर चौक से होता हुआ रेलवे स्टेशन की तरफ जा रहा था। 
पार्क गली के सामने मोड पर ऑटो की निजी स्कूल बस के साथ आमने-सामने की टक्कर हो गई। स्कूल बस के साथ ऑटो की टक्कर होने की जानकारी मिलते ही काफी संख्या में लोग मौके पर जमा हो गए और उन्होंने गाड़ी चालक को बंधक बना लिया। इसी बीच मामले की जानकारी पाकर स्कूल प्रबंधक मौके पर पहुंचे और पब्लिक को समझा बुझाकर शांत कर ड्राइवर को मुक्त कराया। इस हादसे में जख्मी हुए ऑटो ड्राइवर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

भाजपा की फिल्म पहले ही शो में फ्लॉप हुई: यादव

भाजपा की फिल्म पहले ही शो में फ्लॉप हुई: यादव 

सत्येंद्र पंवार 
मेरठ। मेरठ पहुंचे अखिलेश यादव ने भाजपा पर जमकर हमला बोला। उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि पहले ही चरण में भाजपा की फिल्म पहले ही शो में फ्लॉप हो गई है।
समाजवादी पार्टी के मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव शनिवार को मेरठ पहुंचे। उन्होंने सभा स्थल हापुड़ रोड के नजदीक बिजली बंबा बाईपास के पास जनसभा को संबोधित किया। अखिलेश ने सभा को संबोधित करते हुए भाजपा पर जमकर हमला बोला।
अखिलेश यादव ने कहा पश्चिम की हवा ने सब पलट दिया है। पहले ही चरण में हवा ने सब पलट दिया है। भाजपा की फिल्म पहले ही शो में फ्लॉप हो गई है। अब कोई इनकी घिसी पिटी कहानी नहीं सुन्ना चाहता। कोई इनके डायलॉग नहीं सुनना चाहता। ना कोई इन्हें वोट देना चाहता है।
अखिलेश यादव ने कहा कि माहौल बन गया है। यह क्रांति की धरा है। भाजपा से भी आजादी चाहती है। कहा कि यह धरती भाजपा से भी आजादी दिलाएगी। मुख्यमंत्री इतने घबराए हुए हैं कि मेरठ छोड़ने का नाम नहीं ले रहे। पता चला है कि कई बार आ चुके हैं। अभी भी मेरठ नहीं छोड़ रहे।
उन्होंने कहा कि हिसाब मांग लिया तो यूपी छोड़ना पड़ेगा। अखिलेश ने कहा कि भाजपा का सफाया होगा। भाजपा वाले अब गारंटी लेकर आए हैं। यह गारंटी नहीं घंटी है। हमारे पास बाबा भीमराव आंबेडकर की संविधान की गारंटी है। हमें उसे अपनाना है। भाजपा सरकार की गारंटी तो घंटी है। हमारी इंडिया गठबंधन की सरकार आई तो अग्निवीर योजना खत्म कर देंगे। हम पूरी नौकरी देंगे।

कक्षा 10वीं-12वीं में उत्तीर्ण विद्यार्थियों को बधाई दी

कक्षा 10वीं-12वीं में उत्तीर्ण विद्यार्थियों को बधाई दी 

संदीप मिश्र 
लखनऊ। यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं में उत्तीर्ण छात्र एवं छात्राओं को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बधाई दी है और साथ ही उनके स्वर्णिम भविष्य की कामना करते हुए परिश्रम, लगन और धैर्य बनाए रखने के लिए प्रेरित किया।
सीएम योगी ने अपने एक्स हैंडल पर लिखा, “माध्यमिक शिक्षा परिषद, उत्तर प्रदेश की 10वीं व 12वीं कक्षा की परीक्षाओं में उत्तीर्ण सभी विद्यार्थियों, उनके अभिभावकों और गुरुजनों को हार्दिक बधाई।
आप सभी ‘नए उत्तर प्रदेश’ का स्वर्णिम भविष्य हैं। ऐसे ही परिश्रम, लगन और धैर्य के साथ आप सभी जीवन की हर परीक्षा में सफल हों, यही कामना है। मां शारदे की कृपा आप सभी पर सदैव बनी रहे।
उल्लेखनीय है कि शनिवार को यूपी बोर्ड ने 10वीं और 12वीं के रिजल्ट की घोषणा की है। जिसमें दसवीं में 89.55 प्रतिशत तो इण्टर में 82.60 प्रतिशत परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए हैं।

11 विधानसभाओं की ईवीएम को सुरक्षित रखा

11 विधानसभाओं की ईवीएम को सुरक्षित रखा

पंकज कपूर 
हरिद्वार। मतदान के बाद बीएचईएल स्थित केंद्रीय विद्यालय में बनाए गए स्ट्रांग रूम में जनपद की सभी 11 विधानसभाओं की ईवीएम को कड़ी सुरक्षा के बीच रखा गया है। 
4 जून को मतगणना होने तक ईवीएम मशीन स्ट्रांग रूम में बंद रहेंगी। ईवीएम मशीनों की सुरक्षा के लिए त्रिस्तरीय व्यवस्था की गई है। ईवीएम मशीनों की निगरानी के लिए 66 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है। प्रत्याशियों के प्रतिनिधि 4 जून तक स्ट्रांग रूम के बाहर बने कंट्रोल रूम में ईवीएम मशीनों की सुरक्षा की निगरानी कर सकेंगे। 
इसके लिए बड़ी एलईडी स्क्रीन भी लगाई गई हैं। स्क्रीन पर प्रत्याशियों के प्रतिनिधि किसी भी समय आकर ईवीएम की तस्वीरें देख सकते है या फिर स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर रह सकते हैं। जिला निर्वाचिन अधिकारी एवं डीएम धीराज सिंह गर्बयाल ने बताया कि स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के लिए आईटीबीपी, पीएसी और पुलिस को तैनात किया गया है। आईटीबीपी स्ट्रांग रूम के अंदर की सुरक्षा संभालेगी। इसके बाद पीएसी और पुलिस का सख्त पहरा रहेगा। स्ट्रांग रूम की निगरानी के लिए कंट्रोल रूम बनाएंगे। प्रत्याशी या उनके प्रतिनिधि किसी भी समय आकर देख सकते हैं। यदि प्रत्याशी या उनके प्रतिनिधि परिसर में रहकर निगरानी करना चाहते हैं तो इसके लिए भी व्यवस्था की गयी है।

जांच में खारिज हुए 'बसपा' प्रत्याशियों के पर्चे

जांच में खारिज हुए 'बसपा' प्रत्याशियों के पर्चे

संदीप मिश्र 
बरेली। उत्तर प्रदेश में बरेली और आंवला लोकसभा क्षेत्र से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रत्याशियों के पर्चे जांच में खारिज हो गए हैं। निर्वाचन अधिकारी द्वारा नामांकन पत्रों की जांच की गई, तब पाया गया कि दोनों लोकसभा क्षेत्र से बसपा प्रत्याशियों ने फार्म अधूरा भरा था। जिला निर्वाचन अधिकारी जिला अधिकारी रविंद्र कुमार ने बताया कि बरेली लोकसभा क्षेत्र से 28 लोगों ने नामांकन कराया था ,जांच में 14 नामांकन पत्र अधूरे पाए गए जिनको रद्द कर दिया गया है। अब कुल 14 प्रत्याशी मैदान में है। नामांकन पत्र खारिज होने में बसपा प्रत्याशी छोटे लाल गंगवार भी शामिल है। पहले चरण में फ्लॉप आंवला लोकसभा क्षेत्र से कुल 20 प्रत्याशियों ने नामांकन कराया था। शनिवार सुबह 11:00 बजे से नामांकन पत्रों की जांच शुरू हुई। जिसमें बसपा प्रत्याशी आबिद अली का पर्चा अधूरा पाया गया। कुल 11 प्रत्याशियों के नामांकन पत्र खारिज हुए हैं। आंवला लोकसभा क्षेत्र में अब सिर्फ 09 प्रत्याशी चुनाव मैदान में बचे हैं। बरेली जिला में 09 विधानसभा क्षेत्र है जिसमें पीलीभीत बरेली और आंवला संसदीय क्षेत्र आते हैं। बरेली जिला में 33,66,366 मतदाता हैं।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-183, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. रविवार, अप्रैल 21, 2024

3. शक-1945, पौष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-त्रयोदशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 06:03, सूर्यास्त: 06:43।

5. न्‍यूनतम तापमान- 29 डी.सै., अधिकतम- 17+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना

अगले 4-5 दिनों तक तेज 'हीटवेव' की संभावना  अकांशु उपाध्याय  नई दिल्ली। इस समय देश में सभी देशवासियों का गर्मी से हाल बेहाल है और अभी...