गुरुवार, 1 फ़रवरी 2024

केंद्र सरकार ने अंतरिम बजट में 4 झूठ बोले

केंद्र सरकार ने अंतरिम बजट में 4 झूठ बोले

मनोज सिंह ठाकुर 
भोपाल। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा लोकसभा में वर्ष 2024-25 के लिए पेश अंतरिम बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने बृहस्पतिवार को कहा कि केंद्र सरकार ने अंतरिम बजट में भी चार झूठ बोले हैं। 
पटवारी ने अपना बयान जारी करते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने इस बजट में चार आर्थिक, सामाजिक, राजनीतिक और नैतिक झूठ बोला है। 80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज देने वाली केंद्र सरकार दावा कर रही है कि 25 करोड़ लोगों को गरीबी से बाहर निकाला। यह भाजपा का वर्ष 2024 में बोला गया सबसे बड़ा “आर्थिक झूठ” है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में लाड़ली बहना योजना में 3000 रुपए प्रतिमाह देने का दावा कर, वादे से मुकरने वाली भाजपा यदि करीब एक करोड़ महिलाओं को लखपति दीदी बनाने का दावा कर रही है, तो ये वर्ष 2024 में बोला गया सबसे बड़ा “सामाजिक झूठ” है। 
पिछले 45 सालों में देश में सबसे अधिक बेरोजगारी है। लेकिन, भाजपा सरकार का दावा है कि 54 लाख युवाओं को प्रशिक्षित किया गया है। ये भाजपा का बड़ा “राजनीतिक झूठ” है। पटवारी ने कहा कि भाजपा ने नैतिकता के नाम पर 'तीन काले क़ानून' जैसी अनैतिक नीतियां बनाईं, पर वित्त मंत्री की बजट-बुक कह रही है कि पीएम किसान योजना से 11.8 करोड़ लोगों को आर्थिक मदद मिली है। ये वर्ष 2024 का सबसे बड़ा “नैतिक झूठ” है।

वित्तमंत्री ने वर्ष 2024-25 का बजट पेश किया

वित्तमंत्री ने वर्ष 2024-25 का बजट पेश किया 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को संसद में वित्त वर्ष 2024-25 का अंतरिम बजट पेश करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के परिवर्तनकारी नेतृत्व और भारत की प्रगति पर उसके प्रभाव को रेखांकित करते हुए विकसित भारत के सपने को साकार करने के लिए कर्तव्य काल के रूप में अमृत काल पर जोर दिया। वित्त मंत्री ने कहा कि हमारी सरकार उच्‍च वृद्धि के साथ अर्थव्‍यवस्‍था को सशक्‍त बनाने और इसका विस्‍तार करने और लोगों की आकांक्षाएं पूरी करने के लिए उपयुक्‍त परिस्थितियां तैयार करने के लिये प्रतिबद्ध है। उन्होंने प्रधानमंत्री के स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्र के नाम संबोधन को उद्धृत किया और कहा,“ हम नई आकांक्षाओं, नई चेतनाओं और नए दृढ़ संकल्प के साथ राष्ट्र के विकास के प्रति स्वयं को समर्पित करें क्योंकि हमारा देश अनन्त संभावनाएं और अवसर प्रदान कर रहा है।” उन्होंने कहा यह हमारा ‘कर्तव्य काल’ है। उन्होंने कहा कि आर्थिक प्रबंधन और सुशासन के बल पर वर्ष 2014 से पहले के दौर की प्रत्येक चुनौती से उबर चुके हैं। इन प्रयासों ने हमारे देश को सतत् उच्च वृद्धि के संकल्प पथ पर आगे बढ़ा दिया है। यह सब सही नीतियों, सच्चे इरादों और उपयुक्त निर्णयों के कारण ही संभव हो सका है। सीतारमण ने कहा कि जुलाई में, पूर्ण बजट में हमारी सरकार ‘विकसित भारत’ के लक्ष्य का विस्तृत रोडमैप प्रस्तुत करेगी। ‘विकसित भारत’ के सपने को साकार करने के लिए राज्यों में संवृद्धि और विकास के अनेक समर्थकारी सुधार किए जाने की जरूरत है। उन्होंने पचास वर्ष के ब्‍याज-मुक्त ऋण के रूप में 75 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान करने का प्रस्ताव किया है जिससे राज्य सरकारों तक संबंधित सुधारों की मदद पहुंचाई जा सके। उन्होंने कहा कि सरकार तीव्र जनसंख्‍या वृद्धि और जनांकिकी परिवर्तनों से उत्‍पन्‍न चुनौतियों पर व्‍यापक रूप से विचार करने के लिए एक उच्‍चाधिकार प्राप्‍त समिति का गठन करेगी। इस समिति को ‘विकसित भारत’ के लक्ष्‍य को प्राप्त करने से संबंधित इन चुनौतियों का संपूर्ण रूप से निराकरण करने के लिए सिफारिशें करने का अधिकार दिया जाएगा। सीतारमण ने कहा कि आकांक्षी जिला कार्यक्रम के तहत सरकार, अधिक आर्थिक अवसर उपलब्ध कराने सहित आकांक्षी जिलों और ब्लॉकों के तीव्र विकास में राज्यों को सहायता देने के लिए तत्पर है। पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास पर जोर देते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार इस बात पर पूरा ध्यान देगी कि पूर्वोत्तर क्षेत्र और वहां के निवासी भारत के विकास के सशक्त संवाहक बनें।

उज्जैन को जल्दी ही हवाई सुविधा मिलेगी: सीएम

उज्जैन को जल्दी ही हवाई सुविधा मिलेगी: सीएम 

मनोज सिंह ठाकुर 
मुरैना। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने गुरुवार को कहा कि उज्जैन को भी जल्दी ही हवाई सुविधा मिलेगी। डॉ यादव ग्वालियर-अहमदाबाद हवाई सेवा की शुरुआत के कार्यक्रम से मुरैना से वर्चुअल माध्यम से जुड़े हुए थे। केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस सेवा को हरी झंडी दिखाई, जिसमें डॉ यादव समेत अन्य अधिकारी वर्चुअली जुड़े। इस आयोजन के बाद डॉ यादव ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर पोस्ट किया, ''उज्जैन को भी जल्द मिलेगी हवाई सुविधा। अहमदाबाद-ग्वालियर हवाई सेवा के माध्यम से गुजरात से व्यापारिक रिश्ता बनाने में ग्वालियर महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। केंद्रीय मंत्री माननीय सिंधिया जी की मदद से हम जल्द ही बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन में भी एयरपोर्ट की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत हैं।'' मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंधिया के नेतृत्व में उड्डयन के क्षेत्र में देश को नई गति मिल रही है। मध्यप्रदेश को भी नई उड़ानें मिल रही हैं। बेंगलुरु के बाद अब अहमदाबाद के लिए मिली हवाई सुविधा, प्रदेश के पर्यटन और संस्कृति को बढ़ाने में मील का पत्थर साबित होगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्वालियर के नए सूर्य का उदय हुआ है। ग्वालियर का कला, संस्कृति और सभ्यता से युक्त सुदीर्घ गौरवशाली इतिहास रहा है। हमारा ग्वालियर, गुजरात और मध्यप्रदेश के मध्य सम्बन्ध स्थापित करने के लिए प्रवेश द्वार का कार्य करेगा।

यूपी दिवस 2024 का सम्मान समारोह समापन

यूपी दिवस 2024 का सम्मान समारोह समापन

संदीप मिश्र 
लखनऊ। राजधानी के मवैया क्षेत्र में स्थित मवैया पार्क में दो दिवसीय उत्तर प्रदेश दिवस 2024 के समापन समारोह के मौके पर लखनऊ कम्यूनिकेशन सोसाइटी द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम के मंच पर नृत्य के रूप में गणेश वंदना की प्रस्तुति के साथ वैष्णवी ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। 
इसके उपरांत शहर की कई सम्मानित विभूतियां को मंच पर उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया गया। जिसमें मुख्य रूप से वैश्य व्यापारी महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष सत्य प्रकाश गुलहर वैश्य, चरणजीत राजीव गांधी पार्षद मवैया, सचिन कुमार वैद्य अध्यक्ष श्री कृष्णा एजुकेशनल ट्रस्ट, जगदीश वैश्य ओएसी मनकामेश्वर मंदिर, रेनबो से राजेश गुप्ता, महानगर महिला मोर्चा बीजेपी की मंत्री अनीता वर्मा, सुप्रसिद्ध लोक गायिका शिप्रा इन सभी को कार्यक्रम संयोजक विजयलक्ष्मी गुप्ता, वरिष्ठ समाजसेविका अध्यक्ष नव अंशिका फाउन्डेशन नीशू त्यागी, लखनऊ कम्युनिकेशन सोसाइटी के अध्यक्ष दबीर सिद्दीकी ने सम्मानित किया। उसके उपरांत मंच पर सौरभ कमल और मधु सिंह ने लोक नृत्य पेश करके, सभी दर्शकों को तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया। उसके बाद एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियां बच्चों ने पूरी ऊर्जा के साथ प्रस्तुत की। जिसमें स्टेप 1 डांस एकेडमी के बच्चों ने ए वतन गीत पर नृत्य पेश करके पूरे माहौल को देशभक्ति के रंग में रंग दिया। प्रदेश की सुप्रसिद्ध लोक गायिका शिप्रा ने राम बधाई गीत जैसे ही पेश किया चारों तरफ जय 'श्री राम' के नारों की आवाज़ गूंज गई। वहीं सुशील कुमार और प्रदीप ने भूले बिसरे गीत सुना कर सभी को भाव विभोर कर दिया। भोजपुरी  गीतकार परमहंस मौर्य ने अपनी नवीन रचनाएं सुना कर लोगों से खूब तालियां बटोरी। मवैया के स्थानीय बच्चों ने अपने नृत्य से अपनी प्रतिभा के जलवे बिखेरे, जिसमें निम्न रूप से अंजली गुप्ता निदेशक लक्ष्य आराध्य समाज सेवा समिति पलक रिया अभिनंदन शामिल रहे।

5 लोगों को आजीवन कारावास की सजा, जुर्माना

5 लोगों को आजीवन कारावास की सजा, जुर्माना 

संदीप मिश्र 
बलरामपुर। एक ही परिवार के तीन सदस्यों का मर्डर करते हुए अंजाम दिए गए सामूहिक हत्याकांड में दोषी पाए गए पांच लोगों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। 
अदालत ने दोषी पाए गए पांचो लोगों पर जुर्माना भी सुनाया है। बृहस्पतिवार को शासकीय अधिवक्ता कुलदीप सिंह की ओर से दी गई जानकारी में बताया गया है कि जनपद के रेहरा बाजार थाना क्षेत्र के अगया बुजुर्ग गांव में वर्ष 2019 की 25 फरवरी की रात को हमलावरों ने घर में घुसते हुए जगराम और उसकी बेटी लाली तथा बेटे राजू की धारदार हथियारों से काटकर हत्या कर दी थी। 
हमले की इस वारदात में जगराम की बहू निर्मला को भी हमलावरों द्वारा धारदार हथियारों से प्रहार कर जख्मी कर दिया गया था। उन्होंने बताया है कि जिला न्यायाधीश अनिल कुमार झा ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद दोषी पाए गए सद्दाम, शमसुद्दीन, मोहुरुद्दीन, मोहम्मद कलाम एवं गोली बंजारा को दोषी करार देते हुए इन सभी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। शासकीय अधिवक्ता ने बताया है कि अदालत की ओर से दोषी पाए गए सभी पांच लोगों पर ढाई ढाई लाख रुपए का जुर्माना करते हुए इन्हें अर्थदंड से भी दंडित किया गया है।

फिल्म फसल का गाना 'बलमु के हिपिया' रिलीज

फिल्म फसल का गाना 'बलमु के हिपिया' रिलीज 

कविता गर्ग 
मुंबई। भोजपुरी सिनेमा के जुबली स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ और यूट्यूब क्वीन आम्रपाली दुबे की फिल्म फसल का गाना 'बलमु के हिपिया' रिलीज हो गया है। 'बलमु के हिपिया' गाना वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स भोजपुरी के ऑफिसियल यूट्यूब चैनल से रिलीज किया गया है। इस गाने को भोजपुरी सिंगर शिल्पी राज ने गाया है। गाने की शुरुआत में निरहुआ-आम्रपाली दोनों फिल्म देख रहे होते हैं और निरहुआ उठकर घर चले आते हैं और आम्रपाली भी उनके पीछे पीछे चली आती हैं। इसके बाद आम्रपाली दुबे अपने पति निरहुआ से कहती है कि उड़ेला फर-फर बहे पुरवइया...चश्मा पहिरी जब लेले अंगड़ाया....उड़ेला फर फर बहे पुरवइया...चश्मा पहिरी जब लेले अंगड़ाया...दिलवा में गोली दाग है...राजा जी के हिपिया हीराउआ से हैपी लागे है...। 'बलमु के हिपिया' के लिरिक्स विजय चौहान ने लिखे हैं। गाने का म्यूजिक आर्या शर्मा ने दिया है।

ज्ञानवापी फैसला, समिति की बैठक आयोजित

ज्ञानवापी फैसला, समिति की बैठक आयोजित 

कौशाम्बी। महेवाघाट कोतवाली परिसर में बृहस्पतिवार को ज्ञानवापी फैसले को लेकर शांति समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में आने वाले फैसले का सम्मान करते हुए सौहार्द बनाए रखने के लिए महेवा घाट थाना अध्यक्ष चंद्रभूषण मौर्य ने संभ्रांत लोगों से अपील किया।
कोतवाली परिसर में आयोजित पीस कमेटी की बैठक को संबोधित करते हुए महेवा घाट थाना अध्यक्ष चंद्रभूषण मौर्य ने कहा कि ज्ञानवापी मामले में आने वाले कोर्ट के फैसले का सभी लोग सम्मान करें। आपसी सौहार्द रखें। किसी भी अफवाह पर ध्यान न दें। सोशल मीडिया पर भी अफवाहों का दौर है। उन्होंने कहा कि समाज की शांति व्यवस्था में खलल डालने वालों और सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचना डालने वालों व शरारती तत्वों पर पुलिस की पैनी निगाह है। अपराधी सिर्फ अपराधी होता है। चाहे वह जिस धर्म जाति से ताल्लुक रखता हो। उन्होंने सभी से शांति व्यवस्था व आपसी सौहार्द बनाए रखने की अपील किया। उन्होंने कहा कि शांति व्यवस्था भंग करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह ने कहा कि पुलिस शरारती तत्वों और संदिग्ध लोगों पर अपनी नजर बनाए हुए है। उन्होंने कहा कि किसी भी समस्या के लिए तुरंत पुलिस को सूचना दें। इस मौके पर क्षेत्र के तमाम वरिष्ठ गणमान्य मौजूद रहे।
शैलेंद्र मौर्य

डीएम ने विकास भवन के सभागार में बैठक की

डीएम ने विकास भवन के सभागार में बैठक की

भानु प्रताप उपाध्याय 
मुजफ्फरनगर। डीएम अरविन्द मल्लप्पा बंगारी ने जनपद की दस निकायों के चेयरमैन और अधिकारियों के साथ विकास भवन के सभागार में समीक्षा बैठक की है। डीएम ने सभी निकायों के ईओ को 15वें वित्त आयोग से होने वाले विकास कार्य आचार संहिता से पहले शुरू कराने के निर्देश दिए है। डीएम ने कहा कि लोकसभा चुनाव को लेकर कभी भी आचार संहिता लग सकती है। इसलिए आचार संहिता से पहले उक्त विकाय कार्यों के टेंडर प्रक्रिया को पूरा करते हुए शीघ्र शुरू कराया जाए।
जनपद की दो नगर पालिका और आठ नगर पंचायतों में 15वें आयोग से होने वाले विकास कार्यों को लेकर करोडों रुपए की धनराशि आयी हुई है। अभी हाल में पांच निकायों में करीब पांच करोड से अधिक विकास कार्यों के प्रस्ताव पर डीएम ने स्वीकृति दी है। बुधवार को डीएम अरविन्द मल्लप्पा बंगारी की अध्यक्षता में विकास भवन के सभागार में दस निकायों के विकास कार्यों की समीक्षा बैठक हुई है। इस बैठक में प्रत्येक निकाय के विकास कार्यों पर बिन्दुवार समीक्षा की गई है।
डीएम अरविन्द मल्लप्पा बंगारी ने सभी निकायों के अधिकारियों को विकास कार्य शीघ्र शुरू कराने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि लोक सभा चुनाव को लेकर शीघ्र आचार संहिता लगने जा रही है। आचार संहिता से पहले सभी निकाय 15वें वित्त आयोग से होने वाले विकास कार्यों के टेंडर कराते हुए शीघ्र कार्य शुरू कराए। बैठक में एडीएम प्रशासन नरेन्द्र बहादुर सिंह, पालिकाध्यक्ष मीनाक्षी स्वरूप, नगर पालिका के कार्यवाहक ईओ एवं टीएस नरेश शिवालिया, एई अखंड प्रताप सिंह, नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा. अतुल कुमार, लिपिक आकाश दीप समेत सभी निकाय के अधिकारी मौजूद रहे।
सभी निकायों के अधिकारियों के साथ विकास कार्यों को लेकर समीक्षा बैठक की गई है। जनपद की सभी निकायों में 15वें वित्त आयोग की धनराशि से विकास कार्य कराए जाने है। 15वें वित्त आयोग से होने वाले विकास कार्य आचार संहिता लगने से पहले शुरू करने के निर्देश दिए गए है।

कौशाम्बी: पीस कमेटी की मीटिंग आयोजित की गई

कौशाम्बी: पीस कमेटी की मीटिंग आयोजित की गई 

ज्ञानवापी के व्यास तहखाने में हिंदू पक्ष को पूजा करने का अधिकार के बाद कोखराज थाना में पीस कमेटी की बैठक

कौशाम्बी। कोखराज थाना में गुरुवार को पीस कमेटी की मीटिंग आयोजित की गई। मीटिंग में ज्ञानवापी के आदेश को लेकर शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए क्षेत्र के सभी ग्राम प्रधानों और मस्जिदों के इमाम व गणमान्य लोगों की उपस्थिति में एसओ कोखराज इंद्रदेव ने लोगों से अपील की और क्षेत्र की स्थितियों के बारे में जानकारी ली और कोई भी दिक्कत होने पर तत्काल कोखराज के सीयूजी नम्बर पर सूचना देने की अपील की। जिससे समस्या को निदान कराया जा सके।
ज्ञानवापी मस्जिद में वाराणसी की जिला कोर्ट ने हिंदू पक्ष के हक में बड़ा फैसला दिया है। ज्ञानवापी के व्यास तहखाने में हिंदू पक्ष को पूजा करने का अधिकार दे दिया है सात दिन में पूजा का अधिकार बहाल करते हुए जिला अदालत के आदेश पर अमल करने के लिए प्रशासन को कहा गया है ।श्रृंगार गौरी की कोर्ट द्वारा पूजा के आदेश को लेकर कोखराज थाना में पीस कमेटी बैठक बुलाई गई थाना प्रभारी ने लोगो को शांति ब्यवस्था बनाए रखने की अपील की पीस कमेटी बैठक में थाना क्षेत्र के संभ्रांत लोग मौजूद रहे खास कर मुस्लिम समुदाय के मौलवी मौजूद रहे।
अजीत कुशवाहा

स्वस्थ राष्ट्र के लिए जरूरी मनुष्य का स्वस्थ रहना

स्वस्थ राष्ट्र के लिए जरूरी मनुष्य का स्वस्थ रहना

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। मेडिवेज फाउण्डेशन की ओर से नई दिल्ली में एक सेमीनार का आयोजन किया गया। इस सेमिनार का विषय रहा स्वास्थ्य के क्षेत्र में मोदी सरकार की दस साल की उपलब्धियां और आगे पांच साल के कार्य। 
इस सेमिनार में देश के जाने-माने स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने भाग लिया। जिसमें प्रमुख नाम इस प्रकार थे। जीएलए के प्रो चांसलर प्रोफेसर दुर्ग सिंह चौहान, जाने माने हृदय रोग विशेषज्ञ पद्म विभूषण डॉ केके तलवार, मशहूर कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ मीनू वालिया, एसोसिएट्स ऑफ हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स के डायरेक्टर जनरल डॉ गिरधर ज्ञानी, डॉ हरसिंह गौर विश्वविद्यालय,सागर की कुलपति डॉ नीलम गुप्ता, किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ नेहा सिंह जाधव प्रमुख थे। 
इस मौके पर बोलते हुए सभी स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने इस बात पर तो संतोष जताया कि बीते दस सालों में हेल्थ सेक्टर में बहुत अच्छा काम हुआ है। गंभीर रोगों से लोगों को बचाने के लिए मोदी सरकार के स्तर न केवल योजनाएं शुरु की गयी हैं बल्कि जन जन तक स्वास्थ्य सेवाओं को सुलभ बनाने के लिए आयुष्मान जैसी महत्वाकांक्षी योजना शुरु की गयी है। 
कासा किडनी क्लिनिक से जुड़ी किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ नेहा सिंह जाधव ने कहा कि 2030 तक भारत के डॉइबिटीज कैपिटल होने की बात कही जा रही है इसे देखते हुए हमें आज से ही सतर्क हो जाने की जरूरत है। इसका सीधा असर हमारी किडनी पर होता है और हालात डायलिसिस तक पहुंच जाता है। ऐसे में अगर शुरुआत में हम किडनी रोगों के प्रति सचेत रहें तो दवाइयों से ही इलाज संभव है। आंकड़ों सहित उन्होंने बताया कि 2013 से 2019 के बीच 48 हजार किडनी ट्रांसप्लांट भारत में हुए हैं। लेकिन लोगों में मृत्यु के बाद अंगदान करने की प्रवृत्ति न होने से इस काम में कठिनाई आती है। 
लेकिन विशेषज्ञों ने कहा कि अभी सरकार के स्तर पर जितना काम करने की जरूरत है उससे अधिक जरूरत गैर सरकारी संस्थाओं द्वारा लोगों में जनजागरण पैदा करने की है। इस काम में मेडिवेज फाउण्डेशन जैसी संस्थाएं महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती हैं। 
मैक्स हॉस्पिटल की कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ मीनू वालिया ने इस मौके पर कहा कि कैंसर एक तरह का दीमक है जो उसको तो खाता ही है जिसे हो जाता है लेकिन इसके इलाज के लिए जो खर्च होता है उसके कारण उसके पूरे परिवार को खा जाता है। भारत में कैंसर रोगों की जांच और इलाज में बहुत अच्छी प्रगति हुई है लेकिन अभी भी लोग लापरवाही करते हैं। अस्पतालों में तब पहुंचते हैं जब कैंसर काफी बढ़ चुका होता है। अगर इसको शुरुआत में ही जांच से पकड़ लिया जाए तो इसका इलाज आसान होता है। 
महिलाओं में कैंसर की समस्या पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि महिलाओं में ब्रेस्ट और सर्वाइकल कैंसर की समस्या अधिक है। हर दस मिनट में एक महिला सर्वाइकल कैंसर से मर रही है। अब इसकी रोकथाम के लिए टीका उपलब्ध है लेकिन इसकी जानकारी का अभाव होने से लोग सर्वाइकल कैंसर का टीका नहीं लगा पाते। मीडिया को इस बारे में जानकारी देनी चाहिए ताकि अधिक से अधिक महिलाओं की जिन्दगी सर्वाइकल कैंसर से बच सके। उन्होंने जोर देकर कहा कि स्वस्थ्य राष्ट्र के लिए जरूरी है कि वहां के नागरिक स्वस्थ हों। 
एसोसिएट्स ऑफ हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स के डीजी डॉ गिरधर ज्ञानी ने कहा कि भारत में हेल्थ को लेकर कोई पोलिटिकल प्रोग्राम नहीं था। इसे सबसे पहले 2007 में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री राजशेखर रेड्डी ने शुरु किया था। लेकिन राष्ट्रीय स्तर पर पब्लिक हेल्थ को पहली बार महत्व मोदी सरकार में मिला। आयुष्मान कार्ड जैसी महत्वाकांक्षी योजना गरीब आदमी को गंभीर रोगों में इलाज की सुविधा देता है। इसके साथ ही नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन भी शुरु किया गया है। 
फिर भी देश में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति अभी बहुत बेहतर नहीं हुई है। देश में प्रति एक हजार व्यक्तियों पर 1.5 हॉस्पिटल बेड हैं। इसमें भी राज्यों और शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में बहुत असमानता है। मसलन बिहार में प्रति एक हजार पर 0.3 बेड हैं तो कर्नाटक में सर्वाधिक 4.2 बेड हैं। इसी तरह अधिकांश अस्पताल सिर्फ बड़े शहरों में ही हैं। छोटे शहरों और ग्रामीण इलाकों में आज भी अस्पतालों का घोर अभाव है। 
डॉ ज्ञानी ने कहा कि स्वास्थ्य जागरुकता की दिशा में सबसे अधिक काम किये जाने की जरूरत है।  अगर स्वास्थ्य जागरुकता पर 1.5 रुपया खर्च किया जाता है तो स्वास्थ्य सेवाओं पर 10 रुपये की बचत होती है। 
हृदयरोग विशेषज्ञ पद्मश्री डॉ केके तलवार ने कहा कि सब्सिडाइज्ड इन्श्योरेन्श की शुरुआत होनी चाहिए ताकि आम आदमी के लिए इलाज का खर्च उठाना आसान हो। वातावरण की स्वच्छता और साफ पानी जैसी बुनियादी जरूरतों को पूरा करके हम कई सारे रोगों से बच सकते हैं। उन्होने यह भी बताया कि टेक्नॉलाजी के कारण अब हृदय रोगों का इलाज काफी आसान हो गया है। 
इस मौके पर बोलते हुए डॉ नीलिमा गुप्ता ने छात्रों में स्वास्थ्य जागरुकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि छात्रों पर सिर्फ पढाई का दबाव नहीं बनाना चाहिए बल्कि उन्हें खेलकूद के लिए भी प्रोत्साहित करना चाहिए ताकि उनकी शारीरिक गतिविधि भी होती रहे। उन्होने कहा कि आज के विद्यार्थी भविष्य के नागरिक हैं। वो स्वस्थ रहेंगे तो देश विकास करेगा। 
इस मौके पर बोलते हुए प्रोफेसर दुर्ग सिंह चौहान ने कहा कि आरोग्य पुरुषार्थ का मूल कारण है। एक बीमार व्यक्ति कोई पुरुषार्थ नहीं कर सकता। स्वस्थ व्यक्ति ही अपनी और समाज की सेवा कर सकता है इसलिए हमारे शास्त्रों में व्यक्ति के स्वस्थ्य रहने पर बहुत बल दिया गया है। विदुर नीति में तो आरोग्य को ही सबसे बड़ा सुख कहा गया है। उन्होंने कहा कि अगर भारतीय जीवन दर्शन और आचरण को अपनाया जाए तो शरीर और मन में बीमारी के लिए कोई जगह नहीं रहेगी। 
इस मौके पर मेडिवेज फाउंडेशन की ओर से विभिन्न विभूतियों को उनके सामाजिक कार्य के लिए सम्मानित भी किया गया। लाइफ टाइम अचीवमेंट से  जम्मू कश्मीर अध्ययन केन्द्र के पद्म श्री जवाहरलाल कौल, दिव्यांग विभूति रमनलाल माधवलाल पटेल और राष्ट्रगाथा के संस्थापक श्री भारत भूषण,
के नाम शामिल हैं। 
समाज में स्वास्थ्य, कला, पत्रकारिता व अन्य क्षेत्र में बदलाव लाने वालों को 
दी चैम्पियन आप चेंज से सम्मानित किया गया। इनमें प्रमुख रुप से डा. अनुज सिंघल, संजय चतुर्वेदी, अरविंद, रवि प्रकाश, कन्हैया लाल, सौरभ दुबे, डा नितिन अग्रवाल, डॉ हरीश चन्द्र बर्णवाल, एयर कोमोडोर स्वप्न समाधार, राकेश आर्य, दीपक तोमर, मोनिका अरोड़ा, गीतांजलि शर्मा, नेहा, बिनिता देवी, डा श्वेता श्रीवास्तव, इमर जैदी, अंबर जैदी और  अनुज भाटी शामिल रहे।
ज्ञात हो कि मेडिवेज फाउण्डेशन दिल्ली के बृजेश श्रीवास्तव और अनुराग श्रीवास्तव द्वारा शुरु किया गया प्रयास है। यह फाउण्डेशन मुख्य रूप से गरीब महिलाओं के बीच हेल्थ अवेयरनेस के साथ ही स्वास्थ्य से संबंधित नीतियों पर काम रहा है।
मंच का संचालन डाक्टर राजश्री भट्टाचार्य और मोनिका अरोड़ा ने किया। कार्यक्रम में सैकड़ों लोगों की उपस्थिति के साथ ही प्रमुख रुप से साईं शरणागत, पूर्व डीआईजी सचिदानंद राय, राजेश गुप्ता, राकेश मिश्रा, राहुल, पूर्व आईजी बीएसएफ सुधीर कुमार श्रीवास्तव, अंकित सिंह, ज्ञान पाण्डेय रहे। कार्यक्रम के आयोजन में एनआईईईएस, गेल इंडिया, इफ्को, प्रुडेंट स्कूल, कासा किडनी, एआरआर रिक्रुटमेंट, एआरआर मेडि और मीडिया सोशल मीडिया रिसर्च फाउंडेशन का योगदान रहा।

जनहित में विधिक सहायता केंद्र का लोकार्पण

जनहित में विधिक सहायता केंद्र का लोकार्पण

गोपीचंद सैनी
बागपत। बड़ौत नगर पालिका परिषद में शनिवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बागपत के तत्वावधान में आम जन की सहायता हेतु श्री संजीव पाण्डेय जिला जज व अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण और सचिव श्री शिव कुमार के निर्देशन में तहसील परिसर में विधिक सेवा केंद्र स्थापित किया गया। जिसका लोकार्पण माननीय प्रशासनिक न्यायमूर्ति श्री ओमप्रकाश शुक्ला माननीय उच्च न्यायालय इलाहाबाद के कर कमलों द्वारा किया गया। इस अवसर पर श्री विनायक सोमवंशी न्यायाधिकारी ग्राम न्यायालय बड़ौत एवं अन्य न्यायिक अधिकारिगण,बागपत व उपजिलाधिकारी बड़ौत, ग्रामीण न्यायालय कर्मचारी श्री ब्रजेश कुमार यादव, श्री हेमंत कुमार मौर्य, श्री जितेन्द्र कुमार, श्री संजय सिंह, पीएलवी श्री गोपी चन्द सैनी, श्री विनीत कुमार, और अधिवक्तागण उपस्थित रहें।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-104, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. शुक्रवार, फरवरी 02, 2024

3. शक-1945, पौष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-अष्टमी, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 07:13, सूर्यास्त: 06:52।

5. न्‍यूनतम तापमान- 9 डी.सै., अधिकतम- 19+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

बीएएलएलबी-एलएलएम का कोर्स हिंदी में शुरू करें

बीएएलएलबी-एलएलएम का कोर्स हिंदी में शुरू करें  संदीप मिश्र  लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ ने कहा कि बीएएलएल...