गुरुवार, 6 फ़रवरी 2020

पूर्व रेलवे में अप्रेंटिस पदों पर भर्ती

नई दिल्ली। ईस्टर्न रेलवे, कोलकाता ने अलग-अलग ट्रेड में अप्रेंटिस के पदों पर भर्ती के लिए नोटिफिकेशन जारी किया है। इच्छुक उम्मीदवार इसके लिए निर्धारित प्रारूप के माध्यम से अंतिम तिथि तक अपना आवेदन सिर्फ आनलाइन मोड में भर सकते हैं। इच्छुक उम्मीदवार 'आफिशियल वेबसाइट' के जरिए, आखिरी तारीख तक आनलाइन अप्लाय कर सकते हैं। इसके लिए योग्य उम्मीदवारों का चयन मेरिट लिस्ट के आधार पर किया जाएगा।


दूसरी पत्नी ने कराई 'बच्चन' की हत्या

लखनऊ। विश्व हिंदू महासभा के अन्तर्राष्ट्रीय अध्यक्ष रणजीत बच्चन की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसकी दूसरी पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर कराई थी। मामले में रणजीत की दूसरी पत्नी के साथ उसके प्रेमी और उसके सहयोगी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन हत्या को अंजाम देने वाला शूटर अभी भी फरार है।


लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने गुरुवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया कि रणजीत बच्चन की दूसरी पत्नी स्मृति श्रीवास्तव का देवेंद्र से प्रेम प्रसंग था। स्मृति अपने प्रेमी से शादी करना चाहती थी, लेकिन रणजीत तलाक देने को राजी नहीं था। ऐसे में छुटकारा पाने के लिए हत्या का रास्ता अपनाया गया।


पुलिस के बताए घटनाक्रम के अनुसार, हत्या के लिए शूटर जितेंद्र को तैयार किया गया। देंवेंद्र के साथी संजीत गौतम ने घटना के दिन शूटर को कार से भाजपा मुख्यालय के पास छोड़ा था। जहां से जितेंद्र रणजीत का पीछा करते हुए ग्लोब पार्क तक पहुंचा और सुनसान देखकर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। जांच में सबूत इकट्ठा होने के बाद पुलिस ने स्मृति को लखनऊ स्थित उसके आवास से, देवेंद्र को उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश बॉर्डर से और संजीत गौतम को मोहनलालगंज के जबरौली से गिरफ्तार किया गया है। शूटर जितेंद्र अभी भी पुलिस की पकड़ से दूर है। पुलिस ने उसे भी जल्द पकड़ लिए जाने की उम्मीद जताई है।


"हिंदुस्तान" को 'अकेला' ही काफी हूं

  नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर एक ऐसे ही बौखलाए और तिलमिलाए पाकिस्तानी नागरिक का वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें वह 'हाथ में बंदूक' लेकर कहता नजर आ रहा है कि वो बॉर्डर पर जा रहा है, हिंदुस्तान के लिए वो अकेला ही काफी है। सोशल मीडिया पर इस पाकिस्तानी का जमकर मजाक उड़ रहा है। पुलवामा हमले के बाद भारत द्वारा किए गए 'एयर स्ट्राइक' और फिर भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन की महज दो दिन में ही रिहाई से पाकिस्तानी बौखलाए हुए हैं। पाकिस्तानी नागरिक ने सोशल मीडिया के जरिए भारत के प्रति अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा, ‘पाकिस्तान कमजोर नहीं है।


18 घरो के नलो से निकलने लगी शराब

त्रिसूर। केरल के त्रिसूर जिले के सोलमन एवेन्यू के फ्लेट्स में अचानक नलों से शराब निकलने लगी। ये खबर जंगल में आग की तरह फैल गई, कि पानी के टैंक में किसी ने शराब मिला दी है। इस खबर को सुनकर लोग हैरान रह गए।पड़ोसियों ने एक-दूसरे के घर की जांच की तो पता चला कि कुल 18 घरों के नल से शराब निकल रही है। इंस्पेक्शन करने पर पता चला कि ये समस्या आबकारी विभाग के हालिया ऑपरेशन के कारण हुई है। बच्चा चोरी की अफवाह ने भीड़ ने ली थी जान, 3 गिरफ्तार, 45 लोग बने आरोपी टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार, आबकारी टीम ने 4500 लीटर जब्त की गई शराब को एक गड्ढे में फेंक दिया था।उनको इस बात का बिलकुल भी अंदाजा नहीं था कि ये शराब बहकर पास के कुएं में चली जाएगी जो सोलमन एवेन्यू के लोगों के पीने के पानी का मुख्य स्रोत है। वहां रहने वाले जोशी मालियेकल नाम के शख्स ने सबसे पहले देखा था। उन्होंने देखा कि नल से भूरे रंग का पानी आ रहा है। उनको लगा कि पाइपलाइन में कोई गड़बड़ी होगी। लेकिन पीने पर पता चला कि पानी के अंदर शराब मिलाई गई है। जिला पंचायत अध्यक्ष-उपाध्यक्ष चुनाव की तारीखों में हुआ बदलाव। जोशी ने चालकुडी नगर निगम से संपर्क किया और उनको पूरी बात बताई। उन्होंने प्रभावित परिवारों के लिए तत्काल स्वच्छ पानी की व्यवस्था की और वादा किया कि वो तब तक इन परिवारों को स्वच्छ पानी मुहैया कराएंगे जब तक कुआं पूरी तरह साफ नहीं हो जाता। वार्ड कॉन्सलर वीजे जोजी ने कहा, ”ये परिवार कई सालों से दूषित पानी पी रहे थे।


पाक के खिलाफ सड़क पर उतरे अफगानी

नई दिल्ली। काबूल में स्थित पाक के खिलाफ बुधवार को अफगानिस्तानियों का गुस्सा सड़क पर उतर आया। दरअसल, अफगानिस्तानियों ने पाकिस्तानी दूतावास के बाहर पाकिस्तान के लगातार अफगान और जम्मू-कश्मीर के मामलों में हस्तक्षेप करने को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने हाथों में 'डाउन विद पाकिस्तान' और 'पाकिस्तान इज एनिमी' के प्लाकार्ड पकड़े हुए थे।प्रदर्शनकारी ने पाकिस्तान से मांग की है कि वह पश्तून तहाफुज आंदोलन के मुखिया मंजूर पश्तीन को रिहा कर दे। यह पाकिस्तान में जातीय पश्तून लोगों की सुरक्षा के लिए चलाया जाना वाला आंदोलन है। 27 साल के कार्यकर्ता पश्तीन को पिछले महीने पेशावर में नौ समर्थकों के साथ गिरफ्तार करके 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था। इस विरोध प्रदर्शन ने पाकिस्तान दूतावास की भारत के खिलाफ कार्यक्रम आयोजित करने की योजना पर पानी फेर दिया। दरअसल, पाकिस्तान हर साल पांच फरवरी को कथित तौर पर कश्मीर सॉलिडेरिटी डे मनाता है। पाकिस्तान 1990 से लगातर इस दिन को मना रहा है।


वायरस अटैकः 563 लोगों की गई जान

नई दिल्ली। चीन में कोरोना वायरस अपना कहर बरपा रहा है। जानलेवा कोरोना वायरस के चलते चीन में मृतकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। चीन राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने बताया कि बुधवार को इससे 73 और लोगों की जान चली गई और इनमें से 70 हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान से थे, जहां इससे सबसे अधिक लोग मारे गए हैं। आयोग ने बताया कि देश में अभी तक इस वायरस की चपेट में आने से कुल 563 लोगों की जान जा चुकी है और 28,018 मामलों की पुष्टि हुई है।


नग्न अवस्था में नाले में मिली नवजात

नैनीताल। उत्तराखंड में कभी कूड़े में तो कभी नाले में नवजातों के मिलने का सिलसिला थम नहीं रहा है। नैनीताल के सात नंबर क्षेत्र में गुरूवार सुबह एक नवजात बच्ची नग्नावस्था में नाले में पड़ी हुई मिली। कड़ाके की ठंड में बच्ची को बिना कपड़ाें के देख राहगीरों का भी दिल पसीज गया। लोगों ने बच्ची को देखा तो तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बच्ची को देखा तो उसकी सांसे चल रही थी। पुलिस ने बच्ची को बीडी पांडे अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची को अभी वैंटीलेटर पर रखा गया है। ठंड में बिना कपड़ाें के रहने से उसे काफी परेशानी हुई है। बच्ची का इलाज किया जा रहा है। बच्ची प्रीमैच्योर है। बच्ची ठंड में अकड़ी हुई थी। ठंड में होने के कारण इसको हाइपोथर्मिया भी शिकायत थी। अभी स्थिति गंभीर बनी हुई है। जांचों के बाद ही सही स्थिति पता लगेगी। रुद्रपुर में रेलवे स्टेशन पर मिली थी बच्ची: गणतंत्र दिवस की रात रुद्रपुर रेलवे स्टेशन से रवाना हुई ट्रेन में एक व्यक्ति नवजात बच्ची को एक यात्री की गोद में डालकर भाग गया था। यात्री ने चेन खींचकर ट्रेन रोकने के बाद मासूम को आरपीएफ चौकी में सौंपा। जानकारी के अनुसार, एक व्यक्ति ने सामान्य कोच के गेट पर खड़े यात्री को उसका बच्चा पकड़ने को कहा ताकि वह ट्रेन में चढ़ सके, लेकिन जैसे ही गेट पर खड़े यात्री ने उसकी मदद के लिए बच्ची को गोद में पकड़ा, वैसे वह भाग गया। समाजसेवी बत्रा ने नवजात को अस्पताल में भर्ती कराया था। अस्पताल के सर्जन डॉ. जसविंदर सिंह ने कहा था कि बच्ची को एनआईसीयू में नि:शुल्क रखा जाएगा। समाजसेवी बत्रा और सुशील गाबा ने कहा कि बच्ची रात के अंधेरे में मिली, इसलिए इसका नाम उजाला रखा।


भाजपा ही जलियांंवाला बाग बना देगी

नई दिल्ली। एआईएमआईएम के अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बुधवार को आशंका जताई है कि मतदान के बाद दिल्ली के शाहीन बाग को भाजपा जलियांवाला बाग बना देगी। शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ पिछले 50 दिनों से धरने पर बैठे हैं। बुधवार को संसद की कार्यवाही में भाग लेने के बाद बाहर निकले असदुद्दीन ओवैसी ने मीडिया के पूछने पर कहा कि दिल्ली में 8 फरवरी को मतदान है। इसके बाद भाजपा शाहीन बाग में गोलियां चलवा देगी। वह शाहीन बाग को जलियावालां बाग में बदल देंगे। भाजपा के एक मंत्री ने ही गोली मारने के नारे लगवाए हैं। इसलिए सरकार को इस मामले पर जवाब देना चाहिए।
ओवैसी का इशारा केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर की ओर था। हाल ही में रिठाला क्षेत्र में हुई एक चुनावी सभा के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के मंच से नारे लगवाने के बाद से शाहीन बाग दिल्ली की राजनीति का केंद्र बन गया है। एआईएमआईएम नेता ने पूछा कि सरकार को बताना चाहिए कि कौन भड़का रहा है। सीएए के खिलाफ शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन और लंबे समय से दिल्ली-नोएडा मार्ग बंद रहने पर भाजपा नेताओं ने आक्रामक रुख अपना रखा है। अनुराग ठाकुर के अलावा गृह मंत्री अमित शाह, सांसद प्रवेश वर्मा, मॉडल टाउन से प्रत्याशी कपिल मिश्रा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आदि इस प्रदर्शन की मंशा पर सवाल उठा चुके हैं।


मॉब लीचिंगः पांच गंभीर, एक की मौत

धार। एमपी के धार जिले के मनावर में मॉब लिंचिंग का इल दहलाने वाली मामला सामने आया था। यहां बच्चा चोरी की अफवाह के चलते भीड़ ने गाड़ियों में आए 6 लोगों को घेरकर उनकी लाठी और पत्थर मारकर पिटाई की। इसमें से 1 की मौत हो गई और 5 गंभीर रूप से घायल हो गए। दिल दहलाने वाली घटना के बाद एक थाना प्रभारी और सिपाही को निलंबित कर दिया गया है। मॉब लिंचिंग के मामले में बनी स्पेशल टीम ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने धारा 307, 147, 435 में केस दर्ज किया है। कमलनाथ ने अपने ट्‍वीट में कहा कि पूरे मा मामले में प्रशासन को जांच के आदेश दे दिए गए हैं। दोषियों पर सख्त कदम उठाया जाएगा। खबरों के अनुसार इस मामले में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मंत्री जीतू पटवारी घटना में मारे गए एक किसान के अंतिम संस्कार में शामिल होंगे। इसके साथ ही वे इंदौर के अस्पताल में भर्ती घायलों से भी मिलेंगे। बेकाबू भीड़ ने लाठी-डंडों और पत्थरों के साथ इन लोगों पर हमला बोल दिया। लोगों ने गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। घटना के बाद इलाके में तनाव का माहौल है। धार के एसपी आदित्य प्रताप सिंह के मुताबिक पूरा विवाद पैसों के लेन-देन जुड़ा है। पुलिस के अनुसार पैसों के लेन-देन के लिए जब ये लोग पहुंचे, तो दूसरे पक्ष के लोगों ने इन्हें घेरकर पिटाई की।


संतः ट्रस्ट निर्माण में की गई उपेक्षा

अयोध्या। संत समाज में इसका विरोध शुरू हो गया है। मामले में अयोध्या के संतों ने गुरुवार शाम तीन बजे अहम बैठक बुलाई है। यह बैठक महंत नृत्य गोपाल दास की आवास मणिराम राम दास छावनी में होनी है। महंत नृत्य गोपाल दास के नेतृत्व में होने वाली इस बैठक में अयोध्या के संत आगे की रणनीति पर चर्चा करेंगे। 
बता दें कि ट्रस्ट के गठन के बाद राम जन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास ने आरोप लगाया है, कि अयोध्यावासी संत-महंतों का ट्रस्ट के माध्यम से अपमान किया गया है। उन्होंने कहा कि जिन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए अपना पूरा जीवन कुर्बान कर दिया, उनका इस ट्रस्ट में कहीं कोई नामो-निशान तक नहीं है। नृत्य गोपाल दास ने कहा कि जो ट्रस्ट बना है, उसमें अयोध्यावासी संत-महंतों की अवहेलना की गई है। गुरुवार को दोपहर तीन बजे संत समाज की बैठक होगी। इस बैठक में हम निर्णय लेंगे। इससे पहले महंत नृत्य गोपाल दास के उत्तराधिकारी कमल नयन दास ने कहा कि हम इस ट्रस्ट को मानने के लिए तैयार नहीं हैं। इस ट्रस्ट में वैष्णव समाज के संतों का अपमान किया गया है। इसके अलावा उन्होंने आंदोलन की भी चेतावनी दी. ट्रस्ट में शामिल हुए अयोध्या राजपरिवार के विमलेश मोहन प्रताप मिश्रा को उन्होंने राजनीतिक व्यक्ति बताया। उन्होंने कहा कि ये तो बीएसपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं।इनका राम जन्म भूमि से कोई लेना-देना नहीं है। ऐसे लोगों को क्यों राम जन्मभूमि ट्रस्ट में जगह दी गई है। कमल नयन दास ने कहा कि राम मंदिर आंदोलन के समय ही कानून बना था कि वैष्णव ही राम जन्म भूमि का अध्यक्ष होगा।


नयना देवी न्यास के व्यवस्थापक की मौत

 नैनीताल। सरोवरनगरी नैनीताल की आराध्य देवी माता नयना के मंदिर की व्यवस्थाएं संभालने वाले श्री मां नैना देवी मंदिर अमर उदय ट्रस्ट के संस्थापक न्यासी व कोषाध्यक्ष जेपी साह का बृहस्पतिवार शाम असामयिक निधन हो गया है। मंदिर ट्रस्ट से प्राप्त जानकारी के अनुसार 84 वर्षीय साह ने शाम करीब चार बजे अपने कैलाखान स्थित आवास पर हृदयाघात होने के बाद अंतिम सांस ली। स्वर्गीय साह राज्य कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष रहे थे तथा उनकी उत्तराखंड राज्य आंदोलन में भी प्रमुख भूमिका रही थी। उनकी अंतिम यात्रा शुक्रवार सुबह 11 बजे उनके आवास से प्रारंभ होगी। स्वर्गीय साह अपने पीछे एक पुत्र सहित भरा-पूरा परिवार छोड़ गए हैं। वे 1984 में श्री मां नैना देवी मंदिर अमर उदय ट्रस्ट स्थापना से ही न्यास में विभिन्न व्यवस्थाओं से जुड़े हुए थे, तथा धार्मिक परंपराओं के काफी जानकार थे। उनके बड़े भाई विश्वंभर नाथ साह ‘सखा दाज्यू’ भी कर्मचारी नेता एवं रंगकर्मी एवं शिल्पी हैं।


सुरक्षा को मजबूत करने की प्रतिबद्धता

लखनऊ। भारत ने समुद्री सुरक्षा को और मजबूत बनाने के लिए मेडागास्कर के साथ अपनी प्रतिबद्धता को दोहराया है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने डिफेंस एक्सपो के दूसरे दिन मेडागास्कर के रक्षामंत्री लेफ्टिनेंट जनरल आर. रिचर्ड के साथ इस बाबत मंथन किया। चर्चा के दौरान दोनों रक्षामंत्रियों ने एक बार फिर से समुद्री सुरक्षा सहयोग बढ़ाने पर जोर दिया। इस दौरान रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि दोनों देशों की समुद्री सीमा जुड़ी होने के मद्देनजर दोनों की जिम्मेदारी बनती है कि वे समुद्री क्षेत्र में सुरक्षित माहौल सुनिश्चित करें, जिससे कि व्यापार संबंधी गतिविधियां सुचारु ढंग से चल सके। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की गत वर्ष मार्च में मेडागास्कर की यात्रा का जिक्र करते हुए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, “इस ऐतिहासिक यात्रा से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंध और मजबूत हुए हैं। इस दौरान हुए करारों से दोनों के बीच रक्षा सहयोग बढ़ाने का फ्रेमवर्क तैयार हुआ है।” रक्षामंत्री ने एक बार फिर भरोसा जताते हुए कहा कि यह रक्षा प्रदर्शनी दोनों देशों के बीच रक्षा संबंधों को बढ़ाने में मददगार साबित होगी और परस्पर सहयोग की संभावानाओं के अन्य क्षेत्रों का भी इसके माध्यम से पता चलेगा। मेडागास्कर के रक्षामंत्री रिचर्ड ने कहा, “हिंद महासागर क्षेत्र में सुरक्षा का माहौल बनाए रखने में भारत की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने चक्रवाती तूफान डियाने के दौरान भारतीय नौसेना द्वारा की गई मदद के लिए आभार प्रकट किया। उन्होंने रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को 26 जून को मेडागास्कर के स्वतंत्रता दिवस समारोह में शामिल होंने का न्यौता भी दिया है।


तनाव से आर्थिक विकास संभव नहीं

नई दिल्ली। कांग्रेस ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) से उत्पन्न हालात और गहराते आर्थिक संकट पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि सामाजिक तनाव के कारण आर्थिक विकास संभव नहीं है। कांग्रेस के मनीष तिवारी ने बजट पर चर्चा की शुुरुआत करते हुए गुरुवार को कहा कि सरकार सीएए, राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) जैसे कानून लाएगी तो इससे देश की अर्थव्यवस्था पर नकारात्मक असर पड़ेगा। उन्होंने कहा देश की अर्थव्यस्था को बेहतर करने के लिए सरकार को दलगत राजनीति से ऊपर उठकर काम करना होगा। सामाजिक तनाव के साथ आर्थिक विकास की परिकल्पना करना संभव नहीं है। मनीष तिवारी ने कहा कि सात दशक पहले संविधान को अपनाया गया जिसमें लोगों को सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक न्याय देने वादा किया था और सामाजिक एवं राजनीति न्याय तो कुछ हद तक मिल गया है लेकिन आर्थिक न्याय अब भी सही मायने में नहीं मिल पा रहा है। देश का 73 प्रतिशत धन एक प्रतिशत लोगों को पास है। देश के आर्थिक ढांचे को बेहतर करने के लिए गंभीरता से विचार करना चाहिए। सरकार ने 125 करोड़ देशवासियों के लिए जो आर्थिक ढांचा अपनाया है वह सही नहीं है इसलिए इस पर पुनर्विचार करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सरकार 1990 के दशक के नवउदारवाद के सिद्धातों को पुन: अपनाकर अर्थव्यवस्था को ठीक करना चाहती है जबकि इसके जनक देश ने इस सिद्धांत को नकार दिया है। देश की अर्थव्यवस्था कोरोना जैसी गंभीर बीमारी की चपेट में हैं और उसे जुकाम की दवाई देने की कोशिश की जा रही है। देश का सकल घरेलू उत्पादन (जीडीपी) 11 साल के सबसे कम स्तर पर पहुंच गया है। इसी प्रकार कृषि, निवेश सभी क्षेत्रों में गिरावट दर्ज की गयी है। मनीष तिवारी ने कहा कि देश की गाढ़ी कमाई से सार्वजनिक उपक्रमों को बनाया गया लेकिन सरकार अब इन उपक्रमों एक एक करके बेचने की योजना बना रही है ताकि वित्तीय घाटे को कम किया जा सके। सरकार को यह समझना होगा कि इन्हीं सार्वजनिक उपक्रमों ने आर्थिक मंदी के दौर से उबारा था और इन उपक्रमों की वजह से अर्थव्यस्था मजबूत बनी रही थी। उन्होंने कहा कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय की एक प्रोफेसर ने कहा कि बजट में दिया गया एक एक आंकड़ा झूठा है। उन्होंने कहा कि वह उनकी बातों से पूरी तरह से सहमत नहीं हैं लेकिन अर्थशास्त्र की एक प्रोफेसर के द्वारा इस प्रकार की बात करना वैश्विक स्तर पर देश का नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। वहीं, मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में वित्त राज्य मंत्री रहे जयंत सिन्हा ने गुरुवार को कहा कि सरकार की सोच आगे की तरफ है, जबकि विपक्ष पीछे देख रहा है। और इसलिए उसे बजट के वे आंकड़े नजर नहीं आते जहां सरकार ने अर्थव्यवस्था को गति देने का काम किया है। वित्त वर्ष 2020-21 के लिए संसद में 01 फरवरी को पेश बजट पर लोकसभा में आज शुरू हुई चर्चा को आगे बढ़ाते हुए सिन्हा ने कहा कि 50 खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य तो पूरा हो जायेगा, हो ही रहा है। पचास खरब डॉलर हो गया। अब हमें 100 खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था पर ध्यान देना चाहिये।


कर्नाटक में किया मंत्रिमंडल का विस्तार

बेंगलुरु। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने गुरुवार को मंत्रिमंडल में उन 10 नव-निर्वाचित विधायकों को शामिल किया है। जो पिछले वर्ष जनता दल सेक्युलर (जदएस)-कांग्रेस गठबंधन को छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हुए थे। येदियुरप्पा ने आज 10 नव-निर्वाचित विधायकों को शामिल कर छह महीने पुराने मंत्रिमडल का विस्तार किया है। कर्नाटक के राज्यपाल वजूभाई वाला ने राजभवन में शपथ ग्रहण समारोह में इन विधायकों को शपथ दिलायी। विधायकों में बी. बासवाराज, एस. टी. सोमशेखर, के. गोपालैयाह, रमेश जराकीहोली, आनंद सिंह, शिवराम हैब्बार, के. नारायणागौडा, बी. सी. पाटिल, डॉ. के. सुधाकर और श्रीमंथा बालासाहेब पाटिल शामिल हैं। इस अवसर पर राज्य के गृह मंत्री बोम्मामी, लोक निर्माण विभाग मंत्री गोविंद काराजो, कर्नाटक के मुख्य सचिव विजयभाष्कर, वरिष्ठ पुलिस अधिकािरियों सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे। 10 नये मंत्रियों के शामिल हाेने के साथ येदियुरप्पा के मंत्रिमंडल में मंत्रियों की संख्या 27 हो गयी है लेकिन छह और पद अभी भी रिक्त हैं। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार येदियुरप्पा की योजना मंत्रिमंडल में आज 13 विधायकों को शामिल करने की थी लेकिन अंतिम समय में उन्होंने अपना इरादा बदलकर 10 विधायकों को ही शामिल किया।


रिजर्व बैंक का नीति समिति में फैसला

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ने मौद्रिक नीति समिति की बैठक में बड़ा फैसला लिया है। इससे बैंक ग्राहकों को फायदा होगा। आरबीआई ने बेहतर और सुरक्षित चेक सिस्टम, चेक ट्रंकेशन सिस्टम यानी सीटीएस को पूरे देश में लागू करने का ऐलान किया है। इस संदर्भ में आरबीआई ने कहा है कि सीटीएस से काफी फायदा हुआ है। इसलिए सितंबर 2020 तक इसका इस्तेमाल हर जगह होगा। इससे बैंक ग्राहकों को होता है फायदा अगर आप सीटीएस यानी चेक ट्रंकेशन सिस्टम वाले चेक का इस्तेमाल करते हैं तो आपका काम जल्दी होता है। यह सुरक्षित आर्थिक लेनदेन की प्रक्रिया होती है। ऐसा इसलिए क्योंकि आपके चेक को क्लीयर होने के लिए एक बैंक से दूसरे बैंक नहीं जाना होगा। सीटीएस प्रणाली 2010 में लाई गई थी। इस प्रणाली के तहत चेक को क्लीयर करने के लिए एक बैंक से दूसरे बैंक ले जाने के बजाय इसकी इलेक्ट्रॉनिक इमेज भेजी जाती है। इससे काम और आसान हो जाता है। इसके साथ ही अन्य जरूरी जानकारी जैसे एमआईसीआर बैंड आदि भी भेजी जाती है। इसके माध्यम से समय की भी बचत होती है।


निशुल्क एक लाख की हिमोग्लोबिन जांच

हरीश राठौर


जांजगीर-चाम्पा। कलेक्टर ने विकासखण्ड मुुख्यालय नवागढ़, पामगढ़, अकलतरा और बलौदा में वृहद निःशुल्क हीमोग्लोबीन जांच अभियान की तैयारी के लिए मैदानी अमलों की संयुक्त बैठक ली। बैठक में स्वास्थ्य विभाग के मितानिन, महिला एवं बाल विकास विभाग के आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व सहायिका, ग्राम पंचायत के सचिवों को संबोधित करते हुए कहा कि शत-प्रतिशत सुपोाषण का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए वृहद निःशुल्क हीमोग्लोबीन जांच अभियान का आयोजन पूरे जिले में 10 फरवरी को किया जा रहा है। इसके लिए पूरे जिले में 636 केन्द्र के माध्यम से शून्य से 5 वर्ष तक के छोटे बच्चों, 15 से 49 वर्ष तक की महिलाआंे और किशोरियों के हीमोग्लोबीन की जांच की जाएगी। कलेक्टर ने अकलतरा में आयोजित बैठक में कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए उपिस्थित स्वास्थ्य कार्यकताआंे से अपनी रक्त में हिमोग्योबीन की जांच करवायी। हिमोग्योबीन मीटर पर 14 ग्राम हिमोग्योबीन प्रदर्शित हुआ। कलेक्टर ने उपस्थित अमलों को प्रेरित करते हुए कहा कि गांव और नगर मंे सेवा दे रहे मैदानी कार्यकर्ताओं का इस अभियान में महत्वपूर्ण भूमिका होगी।


हापुड़ में भी मिले 'गोवंश के अवशेष'

अतुल त्यागी जिला प्रभारी, प्रवीण कुमार रिपोर्टर 


हापुड़ में गाय के अवशेष मिलने का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है जहां


हापुुुड़। पुलिस क्राइम को रोकने में हर संभव प्रयास कर रही है लेकिन अपराधी लगातार अपने कारनामों से बाज नहीं आ रहे हैं। गाय के अवशेष मिलने की खबर पर डीएसपी सहित आला अधिकारी पहुंचे मौके पर मामले की जांच पड़ताल में जुटे।वहीं सूचना पाकर मौके पर पहुंचे क्षेत्रीय बीजेपी विधायक ने मामले को लिया संज्ञान में भारी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता मौके पर मौजूद आरोपियों के गिरफ्तारी की मांग को लेकर पुलिस से जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी की की सिफारिश जनपद हापुड़ के थाना देहात क्षेत्र का मामला। 


राजेश कुमार


केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का आश्वासन

नंगल में बन रहे फलाईओवर को नया नंगल के कलसेड़ा तक करने के लिए केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गढकरी का आश्वासन- हिमाचल प्रदेश भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती


अमित शर्मा


नंगल। नंगल व नया नंगल में बन रहे फलाईओवर को नया नंगल के कलसेड़ा तक करने के लिए जन जागरण मंच के अध्यक्ष राकेश शर्मा पम्मी हिमाचल प्रदेश भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती के साथ केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गढकरी से मिले। नंगल व नया नंगल में बन रहा फलाईओवर को अजोली मोड़ फाटक तक बनाया जा रहा है। अगर इस फलाईओवर को अजोली मोड़ तक ही बनाया जाता है तो भविष्य में इसके बहुत नुकसान हो सकते है। क्योंकि अजोली मोड़ फाटक से थोड़ी दूर पर शिवालिक एवन्यू फेज 1 बी का चौराहा है। लोग शिवालिक एवन्यू फेज 1 बी से एन.एफ.एल. के सैक्टर दो जाने के लिए हाईवे सड़क पार करके जाते है। इस चौराहे में सैकड़े हादसे हो चुके है। जिसमें दर्जनों लोगों की जाने चली गई है। अगर यह फलाईओवर इस चौराहे के पीछे खत्म हो जाएगा तो फलाईओवर से उतरने वाले व फलाईओवर पर चढऩे वाले वाहन इस चौराहे से काफी तेज रफतार से निकलेगे जिसके कारण भविष्य में इस चौराहे में और ज्यादा हादसे होंगे। इस लिए नया नंगल वासियों की मांग है के फलाईओवर को शिवालिक एवन्यू का चौराहा पार करके कलसेड़े तक बनाया जाए। जिससे शिवालिक एवन्यू से सैक्टर दो को जाने वाले वाहन फलाईओवर के नीचे से बड़ी आसानी से गुजर जाएगे और हादसे भी नही होंगे। जिसके चलते सतपाल सत्ती के साथ नया नंगल के लोगों द्वारा हस्ताक्षर किया मांग पत्र केंद्रीय परिवहन मंत्री को सौंपा।
इस दौरान हमनें नितिन गढकरी को पूरे मामले से अवगत कराया। इस दौरान केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गढकरी ने हमें आश्वासन दिया के जलद से जलद अधिकारी मौके पर जा कर इसकी समीक्षा करेंगे। उनकी रिपोर्ट पर फलाईओवर को कलसेड़े तक करने के लिए जितने और पैसे की जरूरत होगी, वह दिया जाएगा। अगर फलाईओवर पीछे खत्म होने से लोगों की जान को खतरा है तो उसे आगे तक बढ़ाया जाएगा।


पत्नी पर गोली चलाने वाले डीएसपी सस्पेंड

पत्नी पर गोली चलाने के आरोपी डीएसपी अतुल सोनी सस्पेंड, जल्द गिरफ्तारी वारंट जारी करने की तैयारी


अमित शर्मा


मोहाली। पंजाब सरकार की ओर से मंगलवार को विवादित डीएसपी अतुल सोनी को सस्पेंड कर दिया गया। राज्य के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी (गृह व न्याय) की ओर से इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं। आदेश में कहा गया है कि निलंबन के दौरान अतुल सोनी का मुख्यालय चंडीगढ़ सेक्टर 9 स्थित पंजाब पुलिस मुख्यालय रहेगा।
बीते दिनों पंजाब पुलिस की ओर से राज्य सरकार को सिफारिश भेजी गई थी कि डीएसपी अतुल सोनी को निलंबित किया जाए। इसमें राज्य पुलिस की ओर से यह भी कहा गया था कि डीएसपी अतुल सोनी के घृणा योग्य व्यवहार को गंभीरता से लेते हुए, उन्हें निलंबित किए जाने की सिफारिश की जाती है। इससे साथ ही राज्य पुलिस ने अतुल सोनी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू करने की सिफारिश भी की थी। इस संबंध में पंजाब पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस विभाग में सुधारात्मक ढांचे की व्यवस्था स्थापित की जा रही है ताकि ऐसे व्यवहार वाले व्यक्तियों की पहचान करके उन्हें पुलिस फोर्स से बाहर किया जा सके। इसके चलते अतुल सोनी को निलंबित करने की सिफारिश की गई है। उल्लेखनीय है कि अतुल सोनी जोकि 82वीं बटालियन पीएपी चंडीगढ़ में तैनात था, पर अपनी पत्नी पर गोली चलाने का आरोप लगा था। यह आरोप अतुल सोनी की पत्नी द्वारा ही लगाया गया था, जिसके आधार पर अतुल सोनी के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। लेकिन अगले ही दिन अतुल सोनी की पत्नी अपने आरोपों से मुकर गई और गोली चलाए जाने की घटना से उन्होंने इंकार कर दिया। इसके बावजूद विभिन्न तथ्यों को ध्यान में रखते हुए पंजाब पुलिस ने अतुल सोनी के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी। इस बीच सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, निलंबन के आदेश के बाद जल्द ही अतुल सोनी के गिरफ्तारी वारंट भी जारी होने की तैयारी की जा रही है।


एयरलाइंस की गलती, झेलनी पड़ी परेशानी

एयरलाइंस की गलती से महिला को झेलनी पड़ी परेशानी,70 लाख हर्जाना


अमित शर्मा


चंडीगढ। चंडीगढ़ की एक सीनियर सिटीजन महिला को विदेश यात्रा के दौरान परेशानी का सामना करना पड़ा। सेक्टर-35 में रहने वाली 60 वर्षीय हरशरण कौर ने दिल्ली से ज्यूरिक, ज्यूरिक से सेन फ्रांसिस्को, सेन फ्रांसिस्को से फ्रैंकफर्ट और फ्रैंकफर्ट से नई दिल्ली का सफर किया था। इस दौरान उन्हें न ढंग से खाना मिला न ही अन्य सुविधाएं। यही नहीं, एयरलाइंस ने बिना सहमति के यात्रा का रूट बदल दिया, जिसकी वजह से उन्हें डेनमार्क में वीजा नहीं होने की वजह से पुलिस ने काफी परेशान किया। किसी तरह वह चंडीगढ़ पहुंचीं तो यहां आकर उनकी तबीयत खराब हो गई।एयरलाइंस की गलती के कारण हुई परेशानी को लेकर हरशरण कौर धालीवाल ने उपभोक्ता आयोग में लुफ्थांसा जर्मन एयरलाइंस, ब्रिटिश एयरवेज, और सूर्या ट्रेवल्स एंड एसोसिएट्स सेक्टर-17 सी चंडीगढ़ के खिलाफ शिकायत दी थी। शिकायतकर्ता ने बताया कि उन्होंने सूर्या ट्रेवल से राउंड ट्रिप बुकिंग की थी। सभी टिकट कंफर्म थी और उन्होंने 18 जनवरी 2018 को अपनी यात्रा शुरू की। इस पूरी यात्रा के दौरान उन्हें काफी परेशानी झेलनी पड़ी। बताया कि उनकी सैन फ्रांसिस्को से पहले फ्रैंकफर्ट तक के लिए फ्लाइट थी, जिसके लिए उन्होंने बोर्डिंग पास भी ले लिए था और चेक इन भी कर लिया था। वह तीन घंटे तक प्लेन में वेट करती रही, जिसके बाद उन्हें प्लेन से उतार दिया गया। उन्हें बाद में बताया गया कि लुफ्थांसा एयरलाइंस ने बिना उनकी सहमति के उनकी यात्रा के रूट को बदल दिया है। उन्हें कई बार मानसिक प्रताड़ना झेलनी पड़ी। उन्हें व्हीलचेयर, स्पेशल डाइट व अन्य सुविधाएं भी प्रदान नहीं की गई। वीजा न होने के कारण डेनमार्क में लोकल बॉर्डर पुलिस ने उन्हें डिटेंशन में रखा। उनके साथ क्रिमिनल की तरह बर्ताव किया गया। उनके पति ने एंबेसडर के साथ संपर्क किया और उनकी सहायता से उन्हें रिलीज किया गया और वह उसके बाद ही फ्लाइट लेकर किसी तरह नई दिल्ली पहुंचीं। दूसरे तीनों पक्षों ने आयोग में अपना पक्ष रखते हुए कहा कि उन्होंने सेवा में कोई कोताही नहीं बरती। यह हैं आयोग के आदेश
आयोग ने अपने आदेशों में कहा कि लुफ्थांसा एयरलाइंस सैन फ्रांसिस्को एयरपोर्ट पर फ्लाइट कैंसिल होने के चलते शिकायतकर्ता को 10 लाख रुपये अदा करे। बिना सहमति के यात्रा के रूट को बदलने के लिए लुफ्थांसा एयरलाइंस व ब्रिटिश एयरवेज दोनों शिकायतकर्ता को 5 लाख रुपये अदा करें। लुफ्थांसा एयरलाइंस व ब्रिटिश एयरवेज को डेनमार्क के लिए ट्रांजिट वीजा का बंदोबस्त न करने के लिए 10 लाख रुपये मुआवजा देना होगा। बिना किसी गलती के शिकायतकर्ता को लोकल पुलिस द्वारा डिटेंशन में रखने के चलते लुफ्थांसा एयरलाइंस व ब्रिटिश एयरवेज दोनों को कुल 25 लाख रुपये मुआवजा देना होगा। दोनों एयरलाइंस को व्हील चेयर, डायबिटिक मील व अन्य सहायता न प्रदान करने के चलते शिकायतकर्ता को 10 लाख रुपये मुआवजा देना होगा। शिकायतकर्ता की यात्रा में 52 घंटे देरी करने के चलते दोनों एयरलाइंस को समान शेयर में 5 लाख रुपये मुआवजा देना होगा। सूर्या ट्रेवल्स एंड एसोसिएट्स को अपनी जिम्मेदारी से भागने के लिए 5 लाख रुपये मुआवजा शिकायतकर्ता को देना होगा। इसके अलावा तीनों पार्टियों को 50 हजार रुपये मुकदमा खर्च भी देना होगा। आदेश की प्रति मिलने पर 45 दिनों के अंदर इन आदेशों का पालन करना होगा।


पत्नी ने मारा ताना, गला घोट कर हत्या

नई दिल्ली। अधिवक्ता की चकाचौंध में समय के साथ रिश्ते बदलते जा रहे है कभी पति के लिए जान देने की सती प्रथा होती थी। किन्तु समय के साथ सती प्रथा का अंत हो गया किन्तु वही रिश्ते  अब कलंकित होते जा रहे है ऐसा ही वाक्य देखने को मिला। दिल्ली में देर से सो कर उठे पति को पत्नी द्वारा उस समय महंगा पड़ गया जब पत्नी ने पति को ताना मार दिया बस पति ने आव देखा न ताव आक्रोश में आ कर पती ने पत्नी का गला घोट दिया। दिल्ली पुलिस ने एक 45 वर्षिय व्यक्ति  को अपनी पत्नी को कथित तौर पर गला घोंट कर हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। बता दे कि उस व्यक्ति की पत्नी ने देर से सो कर उठने को लेकर अपनी बहन के सामने ताना मार दिया था।
 पुलिस जकड़ी देते हुए बताया कि आरोपि का नाम फजरुद्दीन है तथा वह गाजियाबाद का  रहने वाला है पुलिस उपायुक्त दक्षणी अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि जांच के दौरान यह पाया गया। कि समीना नामक महिला को ऐम्स के ट्रामा सेंटर ले जाया गया जहाँ उसे डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया उन्होंने कहा नीम सराय पुलिस थाने में एक हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है जहां मंगलबार को समीना अपनी बहन के साथ बैठी हुई थी उसी समय उसने अपने पति को देर से सो कर उठने के लिए ताना मार दिया था। तभी आरोपी ने नाराज हो कर समीना को धमकी दिया तथा बाद में उसकी गला घोंट कर हत्या कर दिया अब मामला कुछ भी हो यह तो जांच करने पर ही पता चल पाएगा।
 किन्तु पति ने अपनी पत्नी की गला घोंट कर हत्या मामूली सी बात में कर दी यह जांच का विषय है।


प्रस्तावों पर लग सकती है 'मुहर'

भूपेश मंत्रिमंडल की बैठक में बजट प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर


मनोज सिंह ठाकुर


रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र को देखते हुए भूपेश मंत्रिपरिषद की आगामी बैठक में बजट प्रस्तावों पर चर्चा कर मुहर लगाई जा सकती है। 
विधानसभा का बजट सत्र 24 फरवरी से प्रारंभ होने जा रहा है जो 01 अप्रैल तक चलेगा। इस सत्र में सरकार वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए मुख्य बजट लाएगी। बजट के लिए मुख्यमंत्री श्री बघेल ने सभी मंत्रियों के साथ बारी-बारी बैठक कर उनके विभागों के सम्बद्ध में बजट प्रस्तावों पर चर्चा कर चुके है। संभावना जतायी जा रही है कि भूपेश मंत्रिपरिषद की आगामी दिनों में होने वाली बैठक में इन प्रस्तावों पर चर्चा कर मुहर लगाई जा रही सकती है। संभवत: मंत्रिपरिषद की अगली बैठक 8 फरवरी को हो सकती है। 
मंत्रिपरिषद की बैठक में धान खरीदी के साथ-साथ बेमौसम बारिश से हुई फसलों के नुकसान की भी समीक्षा की जा सकती है।


शेयर बाजार बढ़त के साथ हुआ बंद

मुंबई। शेयर बाजार में गुरुवार को रौनक रही। लगातार चौथे दिन शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ। बंबई स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 163.37 अंकों की बढ़त के साथ 41306.03 अंकों पर कारोबार हुआ है। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 48.80 अंकों की बढ़त के साथ 12137.95 अंकों पर बंद हुआ है। दरअसल आबीआई की द्वैमासिक मौद्रिक समीक्षा बैठक में नीतिगत दरों को स्थिर रखने के फैसले के बाद शेयर बाजार में तेजी के का आलम रहा है और इसके साथ ही बंद हुआ। आज शेयर बाजार में बैंकिंग सेक्टर में तेजी देखने को मिली है। आईटी सेक्टर में 100 से ज्यादा अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ है। वहीं विदेशी निवेशकों की ओर से भी अच्छी खरीदारी देखने को मिली है। यही कारण है कि सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त देखने को मिली है। विशेषज्ञों के अनुसार नीतिगत दर में बदलाव नहीं होने के बाद भी आरबीआई के नरम रुख से निवेशकों की धारणा मजबूत हुई। दुनिया के अन्य बाजारों में चीन का शंघाई, हांगकांग, जापान का टोक्यो और दक्षिण कोरिया का सोल 2.88 प्रतिशत की तेजी के साथ बंद हुए। वहीं यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरूआती कारोबार में तेजी रही।


मुद्दे की बात नहीं करते पीएम मोदी

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए गुरुवार को कहा कि वह जितना चाहें बाेलते हैं और कुछ भी कह देते हैं लेकिन मुद्दे की बात पर कभी भी एक शब्द उनके मुंह से नहीं निकलता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर हुई चर्चा का जवाब देने के बाद राहुल गांधी ने संसद भवन परिसर में पत्रकारों के सवालों पर कहा कि प्रधानमंत्री ने डेढ़ घंटे तक भाषण दिया लेकिन देश के युवाओं की असली समस्या बेरोजगारी पर एक शब्द नहीं बोला। उन्होंने कहा “देश के सामने इस समय सबसे बड़ा मुद्दा बेरोजगारी और अर्थव्यवस्था का है। देश का हर युवा चाहता है कि पढ़ाई पूरी करने के बाद उसे रोजगार मिले। देश में सबसे बड़ी समस्या रोजगार की है।


हुसैनाबाद ट्रस्ट को कुर्सियों का अनुदान

लखनऊ। भारतीय स्टेट बैंक की लखनऊ चौक शाखा ने हुसैनाबाद ट्रस्ट को कुर्सियों का किया अनुदान, इस मौके पर शाखा के मुख्य प्रबंधक उमेश कुमार आर्या ने बताया कि यहां आने वाले पर्यटकों की सुविधा हेतु उनके बैठने की व्यवस्था के लिए कुर्सियों का अनुदान किया गया है। जिसमे मुख्य रूप से उमेश कुमार आर्या के साथ भारतीय स्टेट बैंक के छेत्र पंचम के क्षेत्रीय प्रबंधक मनीष उप्पल एवं मुख्य प्रबंधक मोहित श्रीवास्तव भी उपस्थित रहें, शाखा के प्रबंधक उमेश कुमार आर्या इससे पहले भी ऐसे कई सामाजिक कार्य करते आए उनका कहना है। कि समाज में रहते हुए सामाजिक कार्य करना हर मानव की बड़ी ज़िम्मेदारी है। क्योंकि इंसानी ज़िन्दगी और समाज की सेवा और लोगो के काम आना ये इंसानी धर्म है, उमेश कुमार आर्या के इस सामाजिक कार्यों को नजर अंदाज नहीं किया जा सकता इससे पहले भी वो सामाजिक कार्यों में वर्षा से हिस्सा लेते रहे हैं। और गरीबों की मदद के लिए हमेशा आगे रहते हैं, यही वजह है। कि उनकी शाखा में हर खाताधारी को हर सुविधा दी जाती है। साथ ही उनकी हर समस्याओं का तत्काल समाधान किया जाता है, समय समय पर अनेको बार पर्यटकों की सविधा के लिए शाखा प्रबंधकों ने ऐसे कार्य किये और शाखा ने अनुदान किये।


पतित-पावन 'उपन्यास'

पतित-पावन     'उपन्यास' 
गतांक से...
 कल्पना ने उत्सुकता से कहा- वहां तो बहुत सारे आचार्य होंगे, तुम्हें डर नहीं लगेगा।
जया ने कहा- वहां केवल अध्यापिका ही पढ़ाती है, रही बात उनके स्वभाव की, वह तो वही जाकर पता लग पाएगा। रही बात दिल लगने की, तुम्हारी याद जो साथ रहेगी। अतीत में जाकर तुम्हारी बातों को याद करके आराम से टाइम कट जाएगा। कल्पना ने जया की बात काटते हुए कहा- चलो मैं तुम्हे एक कहानी सुनाती हूं। 
जया आश्चर्य से कल्पना की ओर देखती रही- ठीक है, सुनाओ। कल्पना आराम से आलती-पालती लगाकर बैठ जाती है और खखार कर कहने लगी- एक वन में एक समी का बहुत बड़ा वृक्ष था। वह वृक्ष बहुत पुराना और विशालकाय था। उस वृक्ष पर हजारों पशु-पक्षी निवास करते थे। उस वृक्ष के नीचे कई पशु, जंगली जानवर सुरक्षित रहते थे। वृक्ष का फैलाव काफी दूर तक हो गया था और उसकी गहरी छाया में बहुत सारे जंगली पशु, पक्षी, जीव-जंतु आराम करते थे। शमी का वृक्ष सभी जीव जंतुओं को समान रूप से शुद्ध वायु और शांत वातावरण प्रदान करता था। इसी कारण तोते, कबूतर, बंदर, जंगली सूअर, गीदड़ आदि बहुत सारे जंगली पशु-पक्षी उस पेड़ के आगोश में रहते थे। उसकी गहरी छाया में हिंसक और अहिंसक दोनों ही प्रकार के जीव खुशी-खुशी रहते थे। एक बार एक मस्त हवा का झोंका वृक्ष के पास आया, आकर वृक्ष से गुम गया, परंतु वह मस्त हवा का झोंका भारी भरकम शमी के वृक्ष में इस कदर लुप्त हो गया की कई घंटों तक वह वहां से निकल ही नहीं पाया। इस प्रकार से अपनी दुर्दशा पर वह बहुत लज्जित हुआ और स्वभाविक रूप से वह क्रोधित भी हो गया। क्रोधित होकर उसने वृक्ष से कहा कल बहुत तेज आंधी-तूफान बन कर आऊंगा। कल मैं देख लूंगा आज तूने मेरे साथ भद्दा मजाक किया है। हवा का झोंका चेतावनी देकर वहां से चला गया।
 लेकिन उसके कहे हुए शब्द शमी के वृक्ष के मस्तिष्क में गूंजने लगे। शमी के वृक्ष ने इस बात का अनुमान लगाया था कि आंधी-तूफान हकीकत में मुझे जड़ से उखाड़ देगा। अब अपनी आत्मरक्षा के लिए मैं क्या करूं? वह इसी प्रकार बहुत सारे उपाय सोचने लगा। झोंके ने चेताया है कि वह कल आंधी तूफान बन कर आएगा। क्रोध और आवेश में वह इस प्रकार विचलित हो गया है कि वह कल अवश्य आएगा। शमी का वृक्ष इस बात से वाकिफ हो गया था। हवा के झोंके को आत्मग्लानि महसूस हुई है और इसे अपना अपमान मानकर अपनी संपूर्ण शक्ति लगा देगा। इस अपमान के बदले वह मुझे अपमानित करने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा। हवा के झोंके ने अपना रूप बदलने के लिए अपना विस्तार प्रारंभ कर दिया। उधर समी ने बहुत सोच-विचार करने के बाद सभी पशु-पक्षियों को संबोधित किया। जितने भी पशु-पक्षी, जीव-जंतु मेरा आश्रय पाते हैं। उन सभी से मेरा अनुरोध है कि शीघ्र अति शीघ्र अपने बच्चे, अंडे मुझ से हटा ले। क्योंकि जल्दी यहां आंधी-तूफान आने वाला है और ऐसी स्थिति में मेरा उखड़ कर गिरना निश्चित है। इससे पहले की आंधी-तूफान आ जाए। तुम सभी सुरक्षित हो जाओ और जल्दी-जल्दी मुझे छोड़ दो। सभी पशु-पक्षी, जीव-जंतु एक साथ चिल्लाए। तुम्हें कैसे पता है कि आंधी-तूफान आने वाला है? शमी के वृक्ष ने सभी जीव-जंतुओं को हवा के झोंके वाली बात बताई, और झोंके के द्वारा दी गई चेतावनी की भी जानकारी दी। इस पर पशु- पक्षी उदास हो गए। जब किसी पक्षी ने पूछा- क्या इसका कोई उपाय नहीं है? शमी के वृक्ष ने कहा- इसका उपाय है। खासकर बंदर इस बात को ध्यान से सुने। अगर बंदर कहीं से तेजधार हथियार ले आए और मेरे चारों तरफ फैले हुए पत्तों की भारी शाखाओं को काट दे तो शायद हम सब सुरक्षित रह सकते हैं। सभी पशु-पक्षी, जीव-जंतु भयभीत और चिंतित हो गए थे। सभी शमी के वृक्ष पर चिल्लाने लगे। तुमने हमारे बच्चे और अंडे तथा घौंसले के बारे में कुछ भी नहीं सोचा है। अब हमारा क्या होगा?
 शमी के वृक्ष ने उन्हें समझाते हुए कहा- तुम सभी मेरे प्राणों की रक्षा चाहते हो और अपने परिवारों की रक्षा चाहते हो तो तुम्हें ऐसा ही करना होगा और घबराने की आवश्यकता नहीं है। कुछ ही महीनों के बाद नए पत्ते और शाखाएं आ जाएगी और मैं फिर से हरा-भरा और विशाल हो जाऊंगा। कुछ समय तुम्हें समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। वह भी बहुत कठिन समस्या नहीं है। लेकिन अगर तुमने आज मेरे पत्ते और शाखाओं को नहीं काटा तो आंधी-तूफान मुझे जड़ से उखाड़ देगा। अब तुम्हें क्या करना है यह तुम सोच सकते हो? विचार-विमर्श करने का समय नहीं है। जल्दी ही तुम्हें कुछ ना कुछ फैसला लेना होगा। बंदरों की अक्ल में बात आ गई और वह गांव की तरफ भागे। जल्दी तो-तीन बंदर तेजधार हथियार उठाकर ले आए और सुबह होने से पहले ही शमी के वृक्ष की भारी शाखाएं नीचे आ गिरी थी। अब उसके चारों तरफ कुछ ही शाखाएं और पत्ते रह गए थे। हवा के झोंके की चेतावनी के अनुसार आंधी-तूफान का रूप धारण करके सुबह की पहली किरण के साथ झोका तूफान बन कर आ गया। आंधी-तूफान का वेग इतना कठिन था कि आसपास के पेड़ जड़ से उखाड़ने लगे। शमी का वृक्ष भी घबरा गया था। लेकिन उसने अपनी अक्लमंदी से स्वयं को खतरे से बाहर कर लिया था। आंधी-तूफान चारों तरफ देखता रहा, लेकिन उसे वह शमी का वृक्ष कहीं दिखाई नहीं दिया। आंधी-तूफान शमी के वृक्ष के चारों तरफ तेज गति से आवागमन करने लगा। लेकिन शमी के वृक्ष का कुछ भी न बिगाड़ सका। इस पर लज्जाकर आंधी-तूफान ने कहा- मूर्ख शमी जब कोई निर्वस्त्र हो जाता है तो उसको कोई कुछ नहीं कर पाता है। 
कल्पना ने लंबी सांस लेकर 
कहा- जया कभी-कभी अधिक चतुराई आदमी को निर्लज्ज और निर्वस्त्र कर देती है। पता नहीं मैं तुम्हारी मित्रता निभा पाऊंगी या नहीं शायद कमजोर पड़ जाऊंगी। क्योंकि मेरी खुदगर्जी मुझे अपमान की चादर भी नहीं होने देगी। मैं फिर भी समस्याओं की वेदना बन कर घायल नागिन की भांति हो जाओगी। मेरी बहनों में मुझे तुम्हारा प्रतिबिंब दिखने लगा है और मैं व्यर्थ ही कोशिश क्यों करूं?
 जया ने कहा- तुम कैसी बातें करती हो, सही अर्थ मालूम नहीं होता है? क्या कहती हो समझ में नहीं आता है? देखो मुझे किसी बात से कोई लेन-देन नहीं है। मुझे तुमसे मित्रता रखनी है, सो हम मित्र है। 
कल्पना ने कहा- मित्रता का अर्थ भी नहीं जानते हैं, इसकी परिभाषा भी नहीं जानते हैं। मित्रता किसे कहते हैं?
 जया ने सरलता से उत्तर दिया- मित्रता आत्माओं का संबंध है जो सभी नाते और रिश्तो से अलग है। सबसे विशेष बंधन जो दुख में राहत लाए, सुख में खुशियां बढ़ाएं। दुख-सुख को बांटने के अधिकारी होते हैं। जीवन में गलती होने पर सुधार के उपाय-उपचार करें। मित्र को सही रास्ता दिखाएं, जो अपने मित्र पर उपकार करें। सहानुभूति स्नेह का आवरण रखें। दुख-सुख का पूर्णतया विभाजन करने की क्षमता रखें। व्याकुलता को संतुष्टी में बदलने का सामर्थ्य रखे। वही एक सच्चे अर्थ में मित्र होता है।
 कल्पना ने उदारता से कहा- बिल्कुल सही कह रही हो। मगर जया कभी-कभी मुझ से खुदगर्ज लोग अपनी खुशियां नहीं बताते हैं और दुखों की फेहरिस्त लेकर बैठ जाते हैं। कभी-कभी खुद्दार मित्र अपने गम, दुख, दर्द नहीं बताते, छुपा लेते हैं। जानती हो सच्चा मित्र अपने मित्र को मित्र के दुखों की बू हवा से पहचान लेता है और उसके खुशियों के रंग फूलों में ढूंढ लेता है। अपने मित्र की चिंता को शांत पानी की लहरों में भी जान लेता है और यह सब तुम्हारी पहुंच से बाहर है। क्योंकि हालात की लात शायद तुम्हें नहीं पड़ी है मैं भी यही चाहती हूं कि तुम्हें लात ना पड़े और खास बात है जया कि सच्चे मित्र तानाशाह की तरह वार्तालाप नहीं करते हैं। जब तक उनका अंतरमन एक दूसरे को अच्छे से नहीं पहचानता है ।तब तक मित्रता से किसी भी रिश्ते को परिभाषित नहीं किया जा सकता है। जानती हो तुम्हारे और मेरे बीच क्या अंतर है। यही कि मुझे गरीबी के साथ भगवान ने सहनशीलता दी है और तुम्हें धन के साथ अभिमान। जया बुरा मत मानना मैं आज तुम्हें अपने घर बुला लेती हूं। वह तुम्हारी दावत करती हूं। लेकिन शायद ही तुम मेरे घर पर आओ और अगर आ भी गई तो, तुम्हें मेरे घर कोई पकवान भी चने के भोरड की जली रोटी नजर आएगी और इससे अधिक मेरी अक्षमता नहीं है कि मैं तुम्हारे लिए पकवानों का ढेर लगा सकूं।


कृतः- चंद्रमौलेश्वर शिवांशु 'निर्भयपुत्र'


यूपी पंचायत-चुनाव का बजा बिगुल

बज गया पंचायत चुनाव का बिगुल, 4 चरणों में होगा मतदान, 1 नवंबर को होगी मतों की गिनती


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनावों का औपचारिक शंखनाद हो गया है। राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव को लेकर चुनाव कार्यक्रम जारी कर दिया है। कार्यक्रम के तहत चुनाव चार चरणों में संपन्न करवाये जाएंगे। चुनाव कार्यक्रम की शुरुआत 9 अक्टूबर से होगी जबकि मतगणना एक नवंबर को करवाई जाएगी। उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनावों का औपचारिक शंखनाद हो गया है। राज्य निर्वाचन आयोग ने पंचायत चुनाव को लेकर चुनाव कार्यक्रम जारी कर दिया है। कार्यक्रम के तहत चुनाव चार चरणों में संपन्न करवाये जाएंगे। चुनाव कार्यक्रम की शुरुआत 9 अक्टूबर से होगी जबकि मतगणना एक नवंबर को करवाई जाएगी। राज्य निर्वाचन आयुक्त सतीश कुमार अग्रवाल ने संवाददाताओं को आज यहां यह जानकारी दी। अग्रवाल ने बताया कि पंचायत चुनाव के प्रथम चरण में जिला पंचायत सदस्यों और क्षेत्र पंचायत सदस्यों के चुनाव होंगे। मतदान 9, 13, 17 और 29 अक्टूबर को होगा जबकि मतगणना एक नवम्बर को होगी। चुनाव की घोषणा के साथ ही सूबे में आदर्श आचार संहिता लागू की जायेगी। उन्होंने बताया कि गौतमबुद्ध नगर जिले को छोडकर राज्य के अन्य 74 जिलों में चुनाव होंगे। इस तरह संपन्न करवाए जाएंगे चुनाव पहला चरण 9 अक्‍टूबर, दूसरा चरण 13 अक्‍टूबर को जबकि तीसरे और चौथा चरण क्रमश: 17 और 29 अक्‍टूबर को होगा। इन सभी चार चरणों के मतदान वाली जगहों पर मतगणना एक साथ एक ही दिन 1 नवंबर को होगी।
पहले चरण के लिए नामांकन की तारीख 28 सितंबर से 29 सितंबर दोपहर 4 बजे तक रहेगी वहीं जांच का काम 30 सितंबर से 1 अक्‍टूबर तक किया जाएगा। उम्‍मीदवार अपने नाम 3 अक्‍टूबर को दोपहर 3 बजे तक वापस ले सकते हैं।
वहीं दूसरे चरण के लिए 1 अक्‍टूबर से 3 अक्‍टूबर तक नामांकन दाखिल करने के बाद इनकी 4-5 अक्‍टूबर तक की जाएगी। दूसरे चरण के लिए उम्‍मीदवार अपने नाम 6 अक्‍टूबर को दोपहर तक वापस ले सकते हैं।
तीसरे चरण के लिए नामांकन 6 अक्‍टूबर से शुरू होगा जो 7 अक्‍टूबर तक चलेगा। 8 अक्‍टूबर को जांच के बाद उम्‍मीदवार 10 अक्‍टूबर तक अपने नाम वापस ले सकते हैं।
चौथे चरण के लिए 9 अक्‍टूबर से 10 अक्‍टूबर के बीच नामांकन लिए जाएंगे वहीं 14 अक्‍टूबर को जांच के बाद 16 अक्‍टूबर तक उम्‍मीदवार नाम वापस ले सकते हैं।


प्रधानमंत्री के निर्णय का किया स्वागत

प्रयागराज। भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट में प्रयागराज से श्रीमद् ज्योतिष्पीठाधिश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी श्री वासुदेवानंद सरस्वती जी महाराज जी को ट्रस्ट का सदस्य मनोनीत होने पर अखिल भारतीय तीर्थ पुरोहित महासभा ने माननीय प्रधानमंत्री जी के निर्णय का स्वागत किया है। अखिल भारतीय तीर्थ पुरोहित महासभा के राष्ट्रीय महासचिव श्री चन्द्रनाथ चकहा मधु जी ने तत्काल प्रभाव से परम पूज्य महाराज श्री जी को फोन के माध्यम से बधाई। और महाराज जी से आग्रह किया है, कि माघ मेले के पश्चात भव्य आयोजन करके अखिल भारतीय तीर्थ पुरोहित महासभा के पदाधिकारियों एवं प्रयाग प्रतिनिधियों द्वारा जोरदार स्वागत अभिनन्दन करने का निर्णय लिया। महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता अमित राज वैध ने बताया कि महासभा के राष्ट्रीय महासचिव जी के देखरेख में तिथि निर्धारित करके भव्य अभिनंदन समारोह आयोजित किया जाएगा।


अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का अभियान

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने चलाया यातायात जागरूकता अभियान


मेरठ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद गाजियाबाद की मोदीनगर इकाई द्वारा यातायात जागरूकता अभियान चलाया गया। जिसमें विद्यार्थी परिषद् के कार्यकर्ताओं ने हाथों में पोस्टर लेकर, लोगों से शराब पीकर वाहन न चलाने, वाहन चलाते समय मोबाइल का प्रयोग न करने व हेलमेट और सीट बेल्ट का प्रयोग आदि की अपीलें की। यह अभियान 5 तारीख से 8 तारीख तक प्रतिदिन समय शाम 5:00 बजे व स्थान सौंदा रोड कट पर चलाया जाएगा।
जिसमे प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य विपुल शर्मा, नगर मंत्री सैंकी बड़गुर्जर, उत्कर्ष त्यागी, आयुष, रजत, सागर पंवार, शिवम पंवार,हिमांशु जांगड़ा आदि उपस्थित रहे।


विपुल शर्मा


रनवे पर फिसला विमान, 179 यात्री घायल

इस्तांबुल। तुर्की की पेगासस एयरलाइंस का एक विमान इस्तांबुल के सबीहा गोकेन एयरपोर्ट पर लैंडिंग के दौरान रनवे पर फिसल गया। हादसे में विमान बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। और उसके तीन टुकड़े हो गए। विमान में सवार कुल 183 लोगों में से 179 लोग घायल हुए हैं। तीन लोगों की अस्पताल में मौत हो गई। इस्तांबुल के गवर्नर अली यारलीकाया ने एक नए ट्वीट में कहा कि दुर्घटना स्थानीय समय अनुसार शाम 6.19 बजे उस वक्त हुई जब 183 यात्री से भरा तुर्की पेगासस एयरलाइंस का विमान लैंडिंग के तुरंत बाद रनवे से फिसल गया।


जेल में बच्चों के लिए खुलेगा प्ले स्कूल

पटना। जेल में बंद महिला कैदियों के बच्चों के लिए प्ले स्कूल खुलेगा। बच्चों में बौद्धिक विकास के साथ-साथ मनोविज्ञान में बदलाव लाकर घर जैसा माहौल दिया जाएगा। उन्हें महसूस नहीं होने दिया जाएगा कि बच्चे जेल में बंद हैं। उनके लिए रहन-सहन, खेलकूद और पढ़ाई की व्यवस्था की जाएगी। जेल से बाहर पार्क में भी घुमाया जाएगा और बर्थ डे पार्टियां भी मनाई जाएंगी। सूबे के जेलों में करीब 164 बच्चे महिला कैदियों के साथ रह रहे हैं। बच्चों के भविष्य संवारने के लिए कई योजनाएं तैयार
सूबे में भागलपुर और बक्सर जिले में महिला कारा है। दोनों जेल में सजायाफ्ता महिला कैदियों को रखा जाता है, लेकिन विचाराधीन कैदियों को जिले के काराओं में रखा जाता है। वहां पर काफी संख्या में महिला कैदियों के बच्चे रह रहे हैं। जेल में बंद बच्चों के बौद्धिक विकास में कमी पाई गई थी। जेल प्रशासन ने बच्चों के भविष्य संवारने के लिए कई योजनाएं तैयार की हैं। इसी के तहत बच्चों को प्ले स्कूल में दाखिला कराया जाएगा। शिक्षित महिला कैदियों को  जिम्मेदारी: महिला कक्षपालों और जेल में बंद शिक्षित महिला कैदियों को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। सुबह से शाम तक के लिए बच्चों का रूटीन तैयार किया गया है। समय-समय पर हेल्थ चेकअप भी किया जाएगा, ताकि बच्चे स्वस्थ रह सकें। बच्चों के भोजन और नाश्ते का मेन्यू भी तैयार किया गया है। उनके लिए दूध, अंडा, फल और हरी सब्जी अनिवार्य किया गया है।


बच्चों के लिए अलग से मिलेगी राशि
जेल में बंद बच्चों के लिए कारा मुख्यालय ने अलग से राशि का प्रावधान किया है। बच्चों के खेलने के लिए कई तरह के खिलौने, अक्षर ज्ञान के लिए फ्लैक्स लगाने, वार्ड में बनाए गए प्ले स्कूल की दीवार पर फल, फूल, जानवर व कार्टून की चित्रकारी कराई गई है। जेल प्रशासन के मुताबिक सूबे के जेल अधीक्षकों को सामान खरीद के लिए राशि उपल्बध कराई गई है। कई जेलों में सामान की खरीद की गई है। सभी का जन्म तिथि के अनुसार बर्थ डे मनाया जाएगा। जेल आईजी मिथिलेश मिश्रा स्वयं कारा सुधार की योजनाओं की मॉनेटरिंग कर रहे हैं। कैदियों के बच्चों को सुरक्षा के बीच महिला कक्षपाल की सुरक्षा में पार्क में घुमाया जाएगा। कटिहार जेल में बच्चों को पार्क में घुमाया गया है।
रूपम पाठक को दी गई जिम्मेदारी: पूर्णिया विधायक की हत्या के आरोप में महिला कारा, भागलपुर में बंद रूपम पाठक को प्ले स्कूल की देखरेख की जिम्मेदारी दी गई हैं। जेल में करीब 20 बच्चे महिला कैदी के साथ रह रही हैं। बच्चों के साथ खेलने और पढ़ाने के लिए दो महिला कक्षपाल को टीचर बनाया गया है। जेल अधिकारी ने कहा कि रूपम पाठक पूर्णिया में पहले स्कूल चलाती थीं। बच्चों को पढ़ाने और देखभाल की बेहतर समझ है। इसलिए रूपम पाठक का शिक्षक के रूप में चयन किया गया है।


साजिश के तहत लालू को भेजा जेल

पटना। लालू के बड़े लाल और आरजेडी नेता तेज प्रताप यादव इन दिनों तेजस्वी से भी ज्यादा एक्टिव हैं। तेज प्रताप यादव लगातार जनसभाएं कर रहे हैं। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ तेज प्रताप यादव ने बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। मसौढ़ी के मालिकाना में CAA के खिलाफ आयोजित सभा को संबोधित करते हुए तेज प्रताप ने बीजेपी को जमकर कोसा। तेज प्रताप यादव ने कहा कि बीजेपी और आरएसएस वालों ने षडयंत्र के तहत लालू जी को जेल भेजा फिर देश में काला कानून ला दिया। तेज प्रताप ने कहा कि अगर लालू जी जेल से बाहर होते तो किसी भी कीमत पर देश में CAA-NRC जैसा काला कानून लागू नहीं होता। तेज प्रताप यादव ने कहा कि बीजेपी वाले भारत को हिंदू राष्ट्र बनाना चाहते हैं, इसलिए पहले पूरे हिंदुस्तान पर कब्जा किया फिर हिंदू-मुसलमान को आपस में लड़वा रहे हैं। तेज प्रताप यादव ने नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर भी हमला बोला। तेज प्रताप ने नीतीश कुमार को पलटूराम करार देते हुए कहा कि उन्होंने धोखा देते हुए रातोंरात महागठबंधन तोड़कर बीजेपी के साथ हाथ मिला लिया।


सीतापुर में परिवार के 7 लोगों की मौत

सीतापुर। उत्तर प्रदेश के सीतापुर में गुरुवार सुबह एक दर्दनाक हादसे में एक परिवार के सात लोगों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि यह हादसा चंदनपुर गांव स्थित एक एसिड फैक्ट्री में गैस रिसाव के चलते हुआ है। गैस रिसाव के चलते पास की दरी फैक्ट्री में रह रहे एक ही परिवार के 7 लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में तीन पुरुष, एक महिला व तीन बच्चे हैं। घटना की सूचना के बाद पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीम राहत और बचाव के लिए मौके पर पहुंच गई है। इनके साथ-साथ डीएम और एसपी भी मौके पर पहुंच गए हैं। एसपी एलआर कुमार ने बताया कि मरने वाले एक ही परिवार के लोग हैं, जिसमें से 3 बच्चे एक महिला और तीन पुरुष है। थाना प्रभारी अजय रावत ने बताया कि मौके पर रेस्क्यू में दिक्कतें आ रही हैं। गैस लीक के कारण कोई भी फैक्ट्री तक नहीं पहुंच पा रहा है। स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन की टीमें भी जांच के लिए पहुंच रही हैं। गैस के असर से फैक्ट्री के आसपास 5 कुत्तों समेत कई मवेशियों की भी जान गई है। वहीं, इलाके में गंध फैलने से लोग दहशत में हैं। मृतकों के रिश्तेदार मुनौव्वर ने बताया कि पूरा परिवार एक ही छप्पर के नीचे सो रहा था। सुबह जब जहरीली गैस चोरों और फैली तो बच्चों में झटपटाहट हुई। सभी ने छप्पर से निकलकर भागने की कोशिश की, लेकिन वे बच नहीं सके और दम तोड़ दिया। गांव के लोग कहते है कि जब गैस फैलती हुई गांव तक पहुंची तो उन लोगों को आंखों में जलन होने की दिक्कत महसूस हुई। इसी के बाद कई लोग गांव छोड़कर भाग निकले। बदहवासी का आलम पूरे गांव में देखने को मिला। हर किसी ने अफसोस जताया है।


ट्यूबलाइट के साथ ऐसा ही होता है

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को राहुल गांधी के एक बयान का जिक्र संसद में किया। राहुल ने बुधवार को एक चुनावी रैली में कहा था कि 6 महीने बाद देश के युवा पीएम मोदी को डंडे मारेंगे। पीएम ने कहा कि मैंने भी तय कर लिया कि सूर्यनमस्कार की संख्या बढ़ा दूंगा। ताकि मेरी पीठ को मार झेलने की सहनशक्ति बढ़ जाये। पीएम ने कहा कि पिछले 20 साल से गाली सुनने की आदत पड़ गयी है। राहुल पर तंज कसते हुए कहा कि 35 मिनट से बोल रहा हूं लेकिन अब जाकर करंट लगा है। पीएम ने कहा कि 30-40 मिनट से बोल रहा था मगर करंट पहुंचते हुए इतनी देर लगी।ट्यूबलाइट के साथ ऐसा ही होता है।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


फरवरी 07, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-181 (साल-01)
2.  शुक्रवार, फरवरी 07, 2020
3. शक-1941, माघ - शुक्ल पक्ष, तिथि- त्रयोदशी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:02,सूर्यास्त 06:01
5. न्‍यूनतम तापमान 8+ डी.सै.,अधिकतम-22+ डी.सै., हल्की बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...