मंगलवार, 25 फ़रवरी 2020

अवैध विदेशी माल डंप करने का अड्डा

अभिमन्यु चौरसिया की रिपोर्ट..


महाराजगंज। इन दिनों विदेशी मार्लों की तस्करी करने में अवैध कारोबारी सुर्खियों में है बॉर्डर क्रास के बाद दो थाने की पुलिस को भनक तक नहीं लगती तथा कोठीभार पुलिस बिल्कुल अनभिज्ञ है। जहां सबया में अवैध रूप से तस्करी के विदेशी मालों को डंप किया जाता है। बताते चलें कि महाराजगंज जनपद नेपाल के रास्ते विदेशी सामग्रियों की तस्करी रोकने में बिल्कुल नाकाम है जिसका जीता जागता उदाहरण सिसवा से निचलौल रोड पर देखा जा सकता है जहां अवैध विदेशी मालों की तस्करी पिकअप के द्वारा धड़ल्ले से की जा रही है ध्यानार्थ हेतु बता दें कि तेज गति से चलाई जा रही अवैध विदेशी मालों की लोडेड पिकअप खतरों से खाली नहीं है क्योंकि यह पिकअप बेखौफ बगैर रोक-टोक अनियंत्रित रूप से फर्राटे भरते हैं सामने कोई आ जाए बचना तो मुश्किल है क्योंकि साहब यह तस्कर है इंसान नहीं।


आइए जानते हैं कहां से होती है इनकी तस्करी…..


आपको बता दें की नेपाल बॉर्डर के द्वारा अवैध तस्करी जोरों पर हैं जिसे भारतीय क्षेत्रों में अत्यधिक दामों में बेचकर तस्कर खूब मालामाल हो रहे हैं विदेशी माल जैसे पाकिस्तानी छुहारा ,कनाडियन मटर ,काली मिर्च, इलायची जैसे कई सामान सम्मिलित है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कनाडिया मटर की तस्करी ठूठीबारी बॉर्डर व सीतलापुर बी.ओ.पी तस्करों के लिए सुरक्षित दिख रही है जहां से आसानी से माल को क्रास कराया जाता है जिसका एक मुख्य अड्डा जमुई गडौरा में है जहां से कनाडिया मटर व अवैध मालो की तस्करी भारतीय क्षेत्रों में जोर-शोर पर पिकअप के द्वारा की जाती है।


किस रोड पर तेजी से होती है तस्करों की सप्लाई….


प्राप्त जानकारी के मुताबिक उपरोक्त जमुई गडौरा में स्थित चर्चित गल्ले की दुकान से तस्कर अपने पिकअप को लोड करते हैं और निचलौल बलहीखोर कटहरी के रास्ते होते हुए कोठीभार थाना क्षेत्र का सबया तस्करों का सेफ जोन पड़ता है जहां माल को डंप किया जाता है आपको बता दें कि उक्त सबया ग्राम सभा अंतर्जनपदीय सीमा कुशीनगर से जुड़ा हुआ है जहां से तस्कर पुनः दूसरी गाड़ी पर माल को लोड कर कुशीनगर पड़ने वाला खड्डा थाना क्षेत्र से होते हुए मिश्रौलिया, पडरौना ,टेकुआटार, फाजिलनगर इत्यादि जगह सप्लाई करते हैं।


तस्करी रोकने में बॉर्डर पुलिस के साथ उत्तर प्रदेश पुलिस भी नाकाम…


अनेकों बार अवैध मालों की तस्करी करते हुए पकड़े गए तस्करों पर कार्यवाही तो की जाती है किंतु तस्कर अपनी रवैया बदलने को नाम नहीं ले रहे हैं । प्रश्नवाचक चिन्ह खड़ा होता है कि तस्कर के हौसले इतने बुलंद होते जा रहे हैं कि बॉर्डर क्रॉस कराने के बाद थाना ठूठीबारी ,निचलौल ,कोठीभार, खड्डा थाना क्राश कराते हुए अवैध मालों को सही ठिकानों पर पहुंचाने में सफल रहते हैं । प्रत्येक रास्ते पर पुलिस पिकेट व पुलिस रात्रि गश्त भी करती है जिसके बावजूद भी वह पिक अप को नहीं रोकती जो हाई स्पीड व अनियंत्रित रूप व तेजी से चलाते हैं और हां भला रोके भी तो कैसे सूत्रों की मानें तो संबंधित अधिकारियों को तय समयानुसार नजराना भेज दिया जाता है नहीं तो बॉर्डर पुलिस, कस्टम विभाग, एसओजी टीम, उत्तर प्रदेश पुलिस, इतने बड़े पैमाने पर हो रहे हो तस्करी को रोकने में नाकाम क्यों ?जो अपने आप में एक बहुत बड़ा सवाल है। वैसे तो पुलिस समय-समय पर सूचना के मुताबिक छापेमारी व अवैध कारोबार को रोकने का प्रयास करती है किंतु विदेशी माल की तस्करी रोकने में बिल्कुल नदारद दिखती है। हम तो यही मानकर चलेंगे कि तस्कर प्रशासन पर हाबी हैं।


कोठीभार थाना क्षेत्र का सबया बना विदेशी माल डंप करने का अड्डा


निचलौल ‘जमुई ‘ गडौरा व चंदा गूलरभार से पिकअप के द्वारा लोड कर अवैध विदेशी माल (कनाडियन मटर काली मिर्च इलायची पाकिस्तानी छुहारा आदि) को कोठीभार थाना क्षेत्र के सबया में दो चर्चित स्थान पर डंप किया जाता है जिसमें अवैध कामों को बड़े पैमाने पर अंजाम देने वाले दो-चार नामित कारोबारी सम्मिलित हैं जहां से उक्त माल को कुशीनगर जनपद के खड्डा थाना क्षेत्र होते हुए पडरौना ,टेकुआटार , फाजिलनगर इत्यादि जगहों पर पहुंचाया जाता है। उक्त तस्करी के अंजाम को स्थानीय पुलिस जान कर भी अंजान बनी हुई है। सवाल खड़ा होता है कि कनाडिया मटर व अन्य खाद्य सामग्री बहाने तस्कर किसी बड़ी तस्करी को भी आसानी से अंजाम दे लेते होंगे आखिर जिम्मेदार कौन ?


तेज रफ्तार गति से चला रहे पिकअप को पुलिस क्यो नही रोकती ?


बॉर्डर पुलिस ‘ कस्टम विभाग ‘ क्राइम ब्रांच ‘ उत्तर प्रदेश पुलिस होने के बावजूद भी तस्करी कैसे ?


रात दिन धड़ल्ले से हो रही पिकअप व बोलेरो द्वारा विदेशी मालो की तस्करी कोठीभार का सबया ‘ दुर्गवलिया गुरली खलील नगर ‘ सिसवा बना माल डंपिंग का सेफ अड्डा आखिर कैसे और कब रुकेगी तस्करी ?


योगीः भ्रष्टाचार में किसी को छूट नही

प्रदीप पाठक


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में भ्रष्टाचार के किसी भी मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ किसी को भी छूट देने वाले नहीं है। भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टालरेंस की नीति पर चल रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खनन कार्य में भ्रष्टाचार के आरोपी पांच अधिकारियों के विरुद्ध जांच के आदेश दिए हैं।


इनमें शामली और कौशांबी में तैनात रहे दो सहायक भूवैज्ञानिक, हमीरपुर में तैनात रहे एक भूवैज्ञानिक तथा देवरिया में तैनात रहे खान निरीक्षक के साथ सहायक भूवैज्ञानिक शामिल हैं। यह सभी शासकीय नियमों को ताक पर रख कर अवैध खनन कराने, निजी लोगों को लाभ पहुंचाने, राजकोष को नुकसान पहुंचाने तथा पट्टा नवीनीकरण कराने के प्रकरण में आरोपित हैं। इस मामले की जांच सुधीर दुबे, वरिष्ठ वेधन अभियंता, भूतत्त्व एवं खनिकर्म निदेशालय करेंगे।


सीबीआई ने भी दर्ज किया है मुकदमा, यह हैं अधिकारी


1- डॉ सदल प्रसाद-सहायक भूवैज्ञानिक शामली, सम्प्रति मुजफ्फरनगर।


2-अरविंद कुमार, सहायक भूवैज्ञानिक, कौशाम्बी, सम्प्रति चंदौली।


3-मुईनुद्दीन, भूवैज्ञानिक/खान अधिकारी हमीरपुर, सम्प्रति मुख्यालय लखनऊ।


4- पंकज सिंह, खान निरीक्षक देवरिया, संप्रति मिर्जापुर खान अधिकारी।


5-विजय कुमार मौर्य, सहायक भूवैज्ञानिक/खान अधिकारी देवरिया, सम्प्रति भूवैज्ञानिक, प्रभारी, सोनभद्र।


सनसनीः पुजारी की बर्बरता पूर्वक हत्या

पीलीभीत। बीसलपुर पीलीभीत मार्ग पर स्थित बालाजी ट्रस्ट मंदिर पर 6 माह से बाबा रह रहे थे बीते मंगलवार को समय करीब 4:00 बजे से 5:00 बजे तक बीच में बाबा की बर्बरता पूर्वक हत्या कर दी गई। हत्या की सूचना मिलते ही कोतवाली पुलिस मंदिर पर पहुंच गई जहां पर पुलिस ने घटनास्थल का मौका माना किया। वही बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जमा हो गई। इसके बाद एसपी रोहित मिश्रा व डॉग स्क्वायड टीम ने भी निरीक्षण किया बाबा के शव को पुलिस ने शील कर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया है। इस घटना के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैली हुई है।
राजस्थान के अजमेर के थाना जेठाना निवासी बाबा विष्णु सहाय ब्रह्मचारी पिछले काफी समय से बालाजी ट्रस्ट मंदिर पर पुजारी का कार्य करते चले आ रहे हैं। मंगलवार को सुबह लगभग 4:00 से 5:00 के बीच किसी अज्ञात लोगों ने पहले लाठी-डंडों से बाबा के ऊपर प्रहार किया इतने पर भी दिल नहीं भरा तो हमलावरों ने उसकी धारदार हथियार से गर्दन रेत दी। जिससे बाबा की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई सुबह जब लोग पूजा अर्चना करने मंदिर पहुंचे तो बाबा का कपड़ा देखकर लोगों में हड़कंप मच गया। हत्या की सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में लोग मौके पर पहुंच गए मामले की सूचना मिलते ही सीओ धर्म सिंह मार्छल कोतवाल के के तिवारी पुलिस टीम के साथ पहुंच गए जहां पर पुलिस ने घटनास्थल का मौका माना किया। पुलिस ने आसपास के लोगों से पूछताछ भी की, लेकिन बाबा की अभी मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। उधर लोगों का कहना है कि मंदिर में चरखोला के बाबा रमेश भी रह रहे थे जो बाबा की हत्या के बाद से फरार है। कहीं ऐसा तो नहीं कि हत्या में उनका भी हाथ शामिल हो इस तरह की चर्चाएं शहर में जोरों पर चल रही है। घटना की सूचना पर एसपी रोहित मिश्रा व डॉग स्क्वायड की टीम भी मौके पर पहुंची जहां पर डाग स्क्वायड ने कई सबूत खंगाले, लेकिन कुछ हाथ नहीं लग सका फिलहाल एसपी ने कोतवाल को शीघ्र घटना का खुलासा किए जाने के निर्देश दिए हैं। फिलहाल समाचार लिखे जाने तक पुलिस ने किसी प्रकार का मुकदमा दर्ज नहीं किया।


विशेष पैकेज की सीएम से की अपील

मथुरा। यातायात एवं पर्यावरण जनजागरूकता समिति उत्तर प्रदेश रजिस्टर्ड के संरक्षक अंतरराष्ट्रीय भागवत आचार्य डॉक्टर मनोज मोहन शास्त्री ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अयोध्या में पहुंचकर मुलाकात की l मुलाकात के दौरान प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करते हुए डॉक्टर मनोज मोहन शास्त्री ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि मथुरा वृंदावन में आए दिन लगने वाले जाम के कारण लोग घंटो घंटो फंस जाते हैं किस कारण लोगों को परेशानी से गुजर ना पड़ता है साथ ही मथुरा और वृंदावन धार्मिक आस्था होने के कारण पूरे विश्व से मथुरा वृंदावन में हर साल लोग तीर्थ के लिए आते हैं मथुरा में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए विशेष पैकेज मांग करते हुए पर्यटन स्थल के लिए मथुरा वृंदावन में बहुत अधिक संभावना है पूरे बृज में धार्मिक आस्था के साथ पर्यटन स्थल के रूप में डेवलप करने का प्रतिनिधिमंडल ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को दिया सुझाव प्रतिनिधिमंडल को आश्वस्त करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री ने शीघ्र ही पर अमल में लाने के लिए प्रतिनिधिमंडल को भरोसा दिलाया l प्रतिनिधिमंडल को मुख्यमंत्री ने अवगत कराया के अयोध्या में बनने वाले मंदिर का निर्माण शीघ्र शुरू किया जाएगा l


उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल का सम्मेलन

 उमेश गुप्ता
महराजगंज। कोल्हुई थाना क्षेत्र के अन्तर्गत रविवार को उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल  का महासम्मेलन ओम मैरेज हाल कोल्हुई में  संपन्न हुआ ।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रदेश के सयुंक्त महामंत्री सीताराम अग्रहरी रहे ।कार्यक्रम की अध्यक्षता मनोज सिंह व संचालन कोल्हुई व्यापार मण्डल  अध्यक्ष श्रीराम जायसवाल ने किया ।कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष से लेकर जिले के तमाम व्यापारी नेता उपस्थित रहे ।वार्षिक सम्मेलन में सभी ने अपनी बातो को रखा जो संगठन हित में जरुरी था ।मुख्य अतिथि ने अपने सम्बोधन में कहा कि व्यापारी देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ होता है ।सबसे ज्यादा काम व्यापारी ही करता है ।व्यापारी उत्पीड़न रोकने व व्यापारी वर्ग को मजबूत व सशक्त बनाने के लिए संगठन की आवश्यकता होती है इसी के चलते आज हम लोग कोल्हुई में एकत्रित हुए है हमारा संगठन वर्षो पुराना है और व्यापारियो के हित में कार्य भी हो रहे है लेकिन अब हमें और मजबूत होने की आवश्यकता है ।संगठन मजबूत होने से हमारी आवाज को सरकारे गम्भीरता से लेंगी ।  जिलाध्यक्ष जितेंद्र जायसवाल ने भी अपने सम्बोधन में संगठन मजबूती पर जोर दिया और अमीर गरीब सभी तबके के व्यापारियो को संगठन के साथ जुड़कर अपने समस्याओं से अवगत कराने को कहा कार्यक्रम के अन्त में क्षेत्राधिकारी फरेन्दा  अशोक कुमार मिश्र,कोल्हुई थाना प्रभारी एसओ धनंजय सिंह व एसआई इस्माइल खान को शान्ति व्यवस्था बनाने में महती भूमिका निभाने के लिए जिलाध्यक्ष ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।इस अवसर पर फूलचंद अग्रवाल,विजय जायसवाल,अनिल गुप्ता,महेंद्र नाथ जायसवाल,अजय कसौधन,विवेक गुप्ता,रवि गोयनका,शैलेश अग्रवाल एवं बहुत से गणमान्य लोग मौजूद रहे ।


टाइगर रिजर्व में बाघों की संख्या घटी

रायपुर। वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने विधानसभा में बाघों को लेकर सत्ता पक्ष के विधायक अरूण वोरा के लिखित प्रश्रों के उत्तर में जानकारी दी है कि वर्ष 2014 में प्रदेश के टाईगर रिजर्व में बाघों की संख्या 46 थी जो वर्ष 2018 में घटकर 19 जा पहुंची।


वन मंत्री श्री अकबर ने बताया कि प्रदेश में कुल 3 टाइगर रिजर्व हैं। इन टाइगर रिजर्व के लिए वर्ष 2019-20 में 1193.29 लाख बजट स्वीकृत है एवं स्वीकृत बजट के विरूद्ध 954.6320 लाख रूपये की राशि जारी की गई है।


मंत्री ने बाघों की गणना के संबंध में बताया कि वर्ष 2006 और वर्ष 2010 में बाघों की संख्या 26 थी, वहीं वर्ष 2014 में बाघों की संख्या बढक़र 46 जा पहुंची, लेकिन वर्ष 2019 में बाघों की संख्या घटकर 19 जा पहुंची। वन मंत्री ने कहा कि बाघों की संख्या बढ़ाने के लिए राष्ट्रीय व्याघ्र संरक्षण प्राधिकरण नई दिल्ली की मदद से पड़ोसी राज्यों से छत्तीसगढ़ में बाघो की संख्या बढ़ाने हेतु रिकवरी कार्य प्रारंभ करने, बाघों की रेडियो कालरिंग करने, अचानकमार टायर रिजर्व के 03 ग्रामों के ग्रामीणों की पूर्व सहमति से नियमानुसार विस्थापन करने एवं भारतीय वन्यजीव संस्थान देहरादून जैसे विषय विशेषज्ञ संस्थान की मदद से बाघों के संरक्षण एवं संवर्धन की कार्यवाही की जा रही है।


'गो एयर' से सस्ता हवाई सफर

नई दिल्ली। बजट एयरलाइन्स गो एयर का नया ऑफर आपको जरूर अट्रैक्ट कर सकता है। काफी सस्ते में आपको हवाी सफर का मौका दे रही है एयरलाइन। कंपनी कई रूट्स पर काफी सस्ते टिकट्स बेच रही है। GO Air Fly Sale के तहत कंपनी की टिकट सेल 24 फरवरी को शुरू हो गई है। तीन दिन की यह सेल 26 फरवरी तक चलेगी। इस सेल के तहत कंपनी इंटरनैशनल फ्लाइट्स भी सस्ते दामों पर बेच रही है।


सस्ते में हवाई सफर
डमेस्टिक रूट्स पर गो एयर की टिकट के लिए आपको कम से कम 957 रुपये खर्च करने होंगे। वहीं, इंटरनैशनल फ्लाइट्स के लिए आपको 5295 रुपये की शुरुआती कीमत अदा करनी होगी। इस सेल में जो टिकटें जारी की जाएंगी, वे 11 मार्च से 15 अप्रैल 2020 के बीच के ट्रैवल प्लान्स के लिए होंगी।


सबसे सस्ता टिकट कहां का?
गो एयर की सस्ती उड़ान कई रूट्स के लिए होगी, जिसमें सबसे कम पैसे आपको अहमदाबाद से इंदौर के रूट के लिए चुकाने होंगे। इस रूट का टिकट 957 रुपये में मिलेगा। इसके अलावा, कोच्चि से बेंगलुरु के लिए आपको 1059 रुपये, कोलकाता से भुवनेश्वर के लिए 1529 रुपये, पुणे से बेंगलुरु के लिए 1590 रुपये, मुंबई से बेगलुरु के लिए 1654 रुपये, इंदौर से नई दिल्ली के लिए 1543 रुपये और हैदराबाद से गोवा के लिए 1659 रुपये खर्च करने होंगे।


इंटरनैशनल रूट्स पर कितना खर्च?
इंटरनैशनल उड़ान की बात करें तो बेंगलुरु से कोलंबो के लिए आपको सिर्फ 5295 रुपये में टिकट मिल जाएगा। अबुधाबी से कन्नूर के लिए सफर के लिए आपको 5626 रुपये खर्च करने होंगे, दिल्ली से बैंकॉक के लिए 6232 रुपये में टिकिट मिलेगा, मुंबई से बैंकॉक आप 6258 रुपये के टिकट मे ंपहुंच जाएँगे और अबुधाबी से मुंबई पहुंचने के लिए आपको 6286 रुपये खर्च करने होंगे।


फरवरी में दूसरी सेल
कंपनी एक ही महीने में दूसरी बार सस्ती टिकट्स का ऑफर दे रही है। इससे पहले एयरलाइन ने वैलंटाइन्स ऑफर पेश किया था। हालांकि, वैलंटाइन्स ऑफर देने वाली एयरलाइन्स में इंडिगो और एयर इंडिया भी थे।


ध्यान रखें ये बातें
कंपनी के इस ऑफर पर ग्रुप डिस्काउंट नहीं लिया जा सकेगा। एयरलाइन ने अपनी वेबसाइट पर लिखा है, इन्फैन्ट बुकिंग पर यह ऑफर लागू नहीं होगा। इसके अलावा, पहले खरीदे गए टिकटों पर यह ऑफर वैलिड नहीं होगा।


बदलते मौसम में फैली बीमारी

संजीव प्रताप सिंह


 मौसम में हो रहे बदलाव की वजह जिले भर में वायरल बुखार फैलने लगा है। जिला अस्पताल में रोजाना 400 से 500 मरीज़ उपचार के लिये के लिये पहुँच रहे हैं। सबसे अधिक मरीज़ सर्दीजुखामखांसी और वायरल बुखार से पीड़ित होकर आ रहे हैं। चिकित्सकों का कहना है कि ऐसे मौसम में वायरल फीवर तेजी से फैलने का अधिक खतरा रहता है।


दोपहर गर्मसुबह शाम लग रही सर्दी : दिन के समय मौसम में कई बार बदलाव हो रहा है। सुबह – शाम सर्दी रहती है। दोपहर के समय धूप निकलने के कारण मौसम गर्म हो जाता है। इस बदलाव के कारण लोगों में इम्युनिटी कम हो जाती है। इस वजह से लोग वायरल फीवर से बीमार हो रहे हैं।


अस्पताल में मरीज़ों की बढ़ रही तादाद : इन दिनों जिला अस्पताल की ओपीडी में सुबह से मुख्यालय सहित आसपास के ग्रामीण अंचलों से आने वाले मरीज़ों की लाईन देखी जा रही है। उपचार के लिये ओपीडी में पर्ची बनवाने के लिये मरीज़ों को आधा से एक घण्टा लाइन में लगकर परेशान होना पड़ रहा है। निज़ि पैथॉलॉजी में भी सुबह से ही लोगों के द्वारा अपनी – अपनी जाँच करवाने के लिये लंबी – लंबी लाईन लगायी जा रही है।


मौसम की मार का बच्चों पर भी खासा असर पड़ रहा है। हर दिन लगभग 70 से 90 बच्चे सर्दी जुखाम की बीमारी से ग्रसित होकरउपचार के लिये अस्पतालों में पहुँच रहे हैं। ओपीडी में लंबी लाइन के कारण बच्चों के साथ उनके परिजनों को भी परेशान होना पड़ रहा है।


 


दिल्ली सीएम ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी के कुछ हिस्सों में बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर एक आपातकालीन बैठक बुलाई है। इस बैठक में दिल्ली सरकार गृह विभाग के वरिष्ठ अधिकारी, चीफ सेक्रेटरी, कई प्रमुख सचिव, भाजपा और आम आदमी पार्टी के विधायक शामिल होंगे। यह बैठक मुख्यमंत्री आवास पर मंगलवार सुबह 10.30 बजे शुरू होगी। बैठक का मुख्य एजेंडा उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसा ग्रस्त इलाकों में शांति बहाली है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इससे पहले स्थानीय लोगों से शांति एवं सद्भाव बनाए रखने की अपील कर चुके हैं।


सोमवार दोपहर से ही उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजपुर, बाबरपुर, गोकुलपुरी, करावल नगर, कर्दमपुरी आदि इलाकों में हिंसा व आगजनी की वारदातें हो रही हैं। हिंसा की इन वारदातों में एक पुलिस हेड कांस्टेबल समेत पांच लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली फायर सर्विस के मुताबिक, इन इलाकों में अलग-अलग स्थानों पर आग लगने की पैंतालीस सूचनाएं प्राप्त हुई है। हिंसा की ये वारदातें नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों व इस कानून का समर्थन कर रहे लोगों के बीच हुए टकराव के बाद शुरू हुई। नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे सैकड़ों लोग यहां मौजपुर जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नजदीक मुख्य सड़क मार्ग पर धरना दे रहे थे। नए कानून का समर्थन कर रहे लोगों ने इस धरने व सड़क बंद किए जाने का विरोध किया और जल्द ही दोनों गुटों के बीच हिंसक झड़पें शुरू हो गई।


उत्तर पूर्वी दिल्ली में रुक-रुक कर हो रही हिंसा व आगजनी को लेकर केजरीवाल ने कहा, “दिल्ली के कुछ हिस्सों की स्थिति को लेकर मैं काफी चिंतित हूं। हम सबको मिलकर शांति बनाए रखने के लिए सभी सामूहिक प्रयास करने चाहिए। मैं एक बार फिर सभी से किसी भी प्रकार की हिंसा में शामिल ना होने की अपील करता हूं।” वहीं, अपने आवास पर बुलाई गई आपातकालीन बैठक को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, “हिंसा ग्रस्त इलाकों के सभी विधायकों के साथ आज हम एक बैठक करने जा रहे हैं। इस बैठक में प्रभावित क्षेत्रों से आने वाले सभी पार्टियों के विधायक और वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे।”


बुखार में ड्यूटी कर रहा था रतनलाल

नई दिल्ली। रतनलाल हेड कॉन्स्टेबल मूलरूप से राजस्थान के सीकर के रहने वाले थे। वह दिल्ली पुलिस में साल 1998 में भर्ती हुए थे। वर्तमान में उनकी तैनाती गोकुलपुरी सब डिवीजन के एसीपी अनुज के ऑफिस में थी। रतनलाल के बारे में जानकारी मिली है कि वह साेमवार काे बुखार होने के बावजूद ड्यूटी पर थे। उनके परिवार में बारह साल की बेटी सिद्धी, दस साल की बेटी कनक और सात साल का बेटा राम है। रतनलाल की पत्नी पूनम ने कहा पहले उन्हें टीवी देखकर पता चला था। इस बीच पुलिस की ओर से बताया गया कि वह जख्मी हो गए हैं, जिन्हें अस्पताल ले जाया गया है। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद रतनलाल के भाई और परिवार के अन्य लोग दिल्ली आ गए।


रिटायर्ड पुलिस अधिकारी बोले- घटना दिल्ली पुलिस की नाकामी


दिल्ली पुलिस से रिटायर्ड अधिकारी इस बात को स्वीकार करते हैं कि हिंसा की यह घटना पुलिस की बड़ी नाकामी है। इस पूरे मामले को लेकर शुरू ही पुलिस का रवैया ढुलमुल रहा। एक रिटायर्ड पुलिस अधिकारी ने कहा कि शाहीनबाग में जिस दिन लोगों ने सड़क ब्लॉक की थी, तभी उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए थी। रिटायर्ड अधिकारी ने कहा पुलिस सिर्फ इस बात को लेकर डरती रही कि कहीं माहौल खराब न हो जाए। ऊपर से चुनाव के नजदीक होने और सड़क के इस मुद्दे का सियासी रंग लेने की वजह से पुलिस अधिकारियों ने अपने कर्तव्यों का ठीक से निर्वहन नहीं किया।


केंद्रीय गृह मंत्रालय से लेकर पुलिस कमिश्नर तक अलर्ट
हिंसक घटना को गृह मंत्रालय ने बेहद गंभीरता से लिया है। दिनभर हुए बवाल को लेकर पुलिस से लगातार जानकारी ली जाती रही। गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है। सीनियर पुलिस अफसर मौके पर तैनात हैं। दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक कंट्रोल रुम से हालात का जायजा लेते रहे। मंत्री गोपाल राय देर रात एलजी से मिलने उनके घर गए।


उपद्रवः गृहमंत्री ने बुलाई आपात बैठक

नई दिल्ली। दिल्ली के उत्तर-पूर्वी इलाकों में सोमवार को सीएए समर्थक और विरोधी गुटों में हुए हिंसक टकराव में हेड कॉन्स्टेबल और तीन आम नागरिक की मौत के बाद गृह मंत्रालय में देर शाम सचिव स्तर की बैठक हुई, जिसमें दिल्ली में सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा हुई। इस बैठक के बाद गृह राज्यमंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा कि केंद्र सरकार दिल्ली में हिंसा बर्दाश्त नहीं करेगी।
रेड्डी ने दिल्ली के पुलिस कमिश्नर को दिल्ली के सभी संवेदनशील स्थानों पर अतिरिक्त पुलिस फोर्स के साथ खुफिया टीमों को अलर्ट मोड में रखने का सख्त निर्देश दिया है। उन्होंने राजधानी में हो रही हिंसक घटनाओं पर मीडिया से बातचीत में कहा कि जानबूझकर लोगों को उकसाने की कोशिश हो रही है।
लोकतांत्रिक तरीके से लोगों को अपनी भावनाओं को जाहिर करना चाहिए। विरोध के नाम पर पत्थरबाजी, आगजनी और पुलिसवाले की हत्या करना लोकतंत्र की भावना के खिलाफ है। सरकार उसको बर्दाश्त नहीं करेगी। गृहमंत्रालय हालात पर नजर रखे हुए है। ट्रंप के दौरे के समय देश की छवि खराब करने की साजिश रची जा रही।
अमित शाह ने बुलाई आपात बैठक
उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद में शुरू हुए दंगों को तुरंत काबू करने के लिए उच्चस्तरीय मंथन शुरू हो गया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने तमाम आला हुक्मरानों को इस आपात बैठक में तलब किया है।
उधर, केंद्रीय गृह सचिव ए.के. भल्ला ने हालात पर कड़ी नजर रखे होने की बात कही है। उन्होंने हर हाल में शांति कायम करने के लिए की गई सभी जरूरी व्यवस्था पर संतुष्टि जताई। गृह मंत्रालय के उच्च पदस्थ सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अहमदाबाद पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप और उनके परिवार के स्वागत समारोह में व्यस्त थे।
इसी बीच उन्हें दिल्ली के जाफराबाद, भजनपुरा, मौजपुर, दयालपुर, गोकुलपुरी इलाके में दंगे फैलने की खबर मिली। चूंकि अमेरिकी राष्ट्रपति को सोमवार की रात में दिल्ली में ही ठहरना है।
लिहाजा, ऐसे में राजधानी की छवि धूमिल होने से बचाने की जरूरत भी महसूस हुई। आनन-फानन में उत्तर-पूर्वी दिल्ली जिले में बिगड़े हालात को काबू करने की जिम्मेदारी खुद अमित शाह ने अपने हाथ में ले ली है।
उच्च पदस्थ सूत्रों से मिली जानाकारी के मुताबिक, सोमवार को शाम ढले केंद्रीय गृहमंत्री ने आनन-फानन में एक आपात बैठक बुलाई। बैठक में केंद्रीय गृह सचिव एके भल्ला सहित दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल और दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक को सख्त हिदायत दी गई कि किसी भी तरह से जल्दी से जल्दी हालात पर काबू पाएं।
गृह सचिव बोले- सतर्क रहें पुलिस और अर्धसैनिक बल
उधर केंद्रीय गृह सचिव भल्ला ने देर शाम बताया, ‘उत्तर पूर्वी दिल्ली के हालातों पर पैनी नजर रखी जा रही है। काफी हद तक स्थिति नियंत्रण में आ चुकी है। पुलिस और अर्धसैनिक बलों को सतर्क रहने को कहा गया है। साथ ही अगर जरूरत महसूस हुई तो केंद्र सरकार अन्य कड़े कदम उठाने से भी नहीं चूकेगी। हमारा मकसद हर हाल में शांति कायम करना है।’ 9 इलाके छावनी में तब्दील दिल्ली के उन संवेदनशील स्थानों पर भारी पुलिस फोर्स की तैनाती की जा रही है जहां भीड़ के हिंसक होने की आशंका है। मौजपुर, जाफराबाद, सीलमपुर, गौतमपुरी, भजनपुरा, चांद बाग, मुस्तफाबाद, वजीराबाद और शिव विहार जैसे संवेदनशील स्थानों पर पुलिस तैनात की गई है। स्पेशल कमिश्नर ऑफ पुलिस (क्राइम) सतीश गोलचा ने कहा कहा, ‘हम कानून और व्यवस्था बनाए रखने की कोशिश कर रहे हैं। हम सभी से अनुरोध कर रहे हैं कि कानून और व्यवस्था बनाए रखने में दिल्ली पुलिस का समर्थन करने के लिए आगे आएं। हमारे अधिकारी शांति कायम करने के लिए पैदल मार्च और सभाएं कर रहे हैं।’
हेड कॉन्स्टेबल समेत 4 लोगों की मौत
सूत्रों के मुताबिक, ‘केंद्रीय गृहमंत्री द्वारा सीलमपुर, जाफराबाद, मौजपुर, करावल नगर और भजनपुरा-गोकुलपुरी में हुए दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस की भी अब नींद टूटी है। यह अलग बात है कि जब तक दिल्ली पुलिस अलर्ट मोड़ में आई, तब तक उसका एक बेकसूर हवलदार रतन लाल भीड़ की भेंट चढ़ चुका था।’ इसके अलावा शाहदरा के डीसीपी अमित कुमार घायल हो गए। हिंसा में मोहम्मद फुरकान नामक शख्स और 2 अन्य आम आदमी की भी जान चली गई है। इस तरह कॉन्स्टेबल समेत 4 लोग भीड़ की भेंट चढ़ गए।
उल्लेखनीय है कि शनिवार-रविवार से धीरे-धीरे फैली दंगों की आग ने सोमवार को विकराल रूप धारण कर लिया। सीएए के विरोध और पक्ष में जुटी भीड़ आमने-सामने आ गई। दोनों तरफ से जमकर पथराव और फायरिंग हुई। सोमवार को दोपहर बाद सीएए विरोधी भीड़ में से निकले एक युवक सीएए समर्थकों की भीड़ पर तमंचे से गोली चला दी, जिससे हड़कंप मच गया। गोली चलाने वाला युवक भीड़ का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गया। मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, गोली एक युवक के पांव में लगी है। उसे अस्पताल में दाखिल कराया गया है।


सोनभद्र में सोने के साथ फ्लोरोसिस रोग

सरवन कुमार सिंह की रिपोर्ट


लखनऊ। उत्तर प्रदेश का सोनभद्र जिला कथित सोना भंडार की वजह से भले ही एक हफ्ते से सुर्खियां बटोर रहा हो, लेकिन यहां वायु और जल प्रदूषण से 269 गांव के लगभग 10000 ग्रामीण फ्लोरोसिस बीमारी से ग्रस्त होकर अपंग हो गए हैं। सोनभद्र जिला इस समय सोना के कथित भंडार को लेकर देश दुनिया में सुर्खियां बटोर रहा है, लेकिन 60 फीसदी आदिवासी जनसंख्या वाले इस जिले के 269 गांव के करीब दस हजार व्यक्ति खराब गुणवत्ता की हवा और फ्लोराइड युक्त पानी पीने से फ्लोरोसिस नामक बीमारी से ग्रस्त होकर अपंग हो गए हैं। राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) के हस्तक्षेप के बाद भी राज्य सरकार या जिला प्रशासन कोई कारगर कदम नहीं उठा सका है। 


चोपन विकास खंड के पडरच गांव पंचायत की नई बस्ती के रामधनी शमार् (55), विंध्याचल शमार् (58), सलिल पटेल (18), गुड्डू (15), शीला (20), चिल्का डाड गांव के सुनील गुप्ता (35), ऊषा (16) तो सिर्फ बानगी हैं। इसके अलावा कचनवा, पिरहवा, मनबसा, कठौली, मझौली, झारो, म्योरपुर, गोविंदपुर, कुशमाहा, रास, पहरी, चेतवा, जरहा जैसे इस जिले के 269 ऐसे गांव हैं, जहां खराब गुणवत्ता की वायु और फ्लोराइड युक्त पानी पीने से करीब दस हजार व्यक्ति अपंग हो गए हैं या अपंग होने की कगार पर हैं।


गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) ‘वनवासी सेवा आश्रम’ से जुड़े पयार्वरण कार्यकतार् जगत नारायण विश्वकमार् बताते हैं, “सेंटर फॉर साइंस नई दिल्ली की एक टीम ने 2012 में यहां आकर लोगों के खून, नाखून और बालों की जांच की थी जिसमें पारा की मात्रा ज्यादा पाई थी और फ्लोरोसिस नामक बीमारी होना बताया था।”


विश्वकमार ने बताया, “साल 2018 के नवंबर माह में स्वास्थ्य महानिदेशक की पहल पर एक शिविर लगाया गया था, जिसमें यहां के व्यक्तियों के मूत्र जांच के दौरान फ्लोराइड एक मिलीग्राम प्रति लीटर के बजाय 12 मिलीग्राम प्रति लीटर पाया गया था, जो 11 मिलीग्राम ज्यादा था।” विश्वकमार् ने यह भी बताया, “वायु की खराब गुणवत्ता और पानी में फ्लोराइड की शिकायत एनजीटी में याचिका दायर कर की गई थी, लेकिन प्रशासन एनजीटी के निदेर्शों का भी पालन नहीं कर रहा है।”


सुप्रीम कोर्ट में यहां के आदिवासियों के हक-अधिकार की लड़ाई लड़ने वाले अधिवक्ता अश्विनी दुबे कहते हैं, “राज्य सरकार यहां खनिज और वन संपदा का दोहन कर राजस्व वसूल करती है और माफिया वैध और अवैध तरीके से खनन करते हैं, लेकिन आदिवासी आज भी चोहड़ (नाले) का गंदा पानी पीने को मजबूर हैं।” सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) म्योरपुर के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. फिरोज आंबेदिन ने रविवार को आईएएनएस से कहा, “यह क्षेत्र फ्लोराइड प्रभावित है, हम पीड़ित लोगों को कैल्शियम की गोली खाने की सलाह देते हैं। इसमें शुद्ध पानी व आंवला के सेवन से राहत मिलती है। अभी तक इसके इलाज की खोज नहीं हुई है।”


विधानसभा में विधायक-मंत्री में हाथापाई

पटना। बिहार विधानसभा में मंगलवार को राज्य का बजट पेश किया जाएगा। हालांकि, सदन में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच तकरार जारी है। संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने ‘काला कानून’ बताया। इस पर सत्ता पक्ष और विपक्षी सदस्यों के बीच तीखी नोकझोंक और हंगामा हुआ, जिसकी वजह से सदन की कार्यवाही 15 मिनट के लिए स्थगित कर दी गई। इस दौरान सदन में राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के विधायक भाई वीरेंद्र और मंत्री प्रमोद कुमार के बीच हाथापाई की नौबत आ गई।


बिहार विधानसभा की मंगलवार को कार्यवाही शुरू होने पर प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी ने एनपीआर को लेकर विपक्षी दलों की ओर से लाए गए कार्यस्थगन प्रस्ताव पर सबसे पहले चर्चा कराए जाने और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इसको लेकर स्थिति स्पष्ट किए जाने की मांग की। तेजस्वी ने सीएए को ‘काला कानून, संविधान विरोधी और देश को तोड़ने वाला’ करार दिया।


इस पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि तेजस्वी संविधान का अपमान कर रहे हैं। उन्होंने तेजस्वी से अपने कथन को वापस लिए जाने की मांग करते हुए कुछ कहा, जिस पर विपक्षी सदस्यों ने आपत्ति जताई। विपक्षी और सत्तापक्ष के सदस्यों के बीच नोकझोंक शुरू हो गई। बीजेपी के मंत्री नंदकिशोर यादव और विजय कुमार सिन्हा ने यह कहते हुए विपक्ष पर कटाक्ष किया कि क्या संसद एक काला कानून पारित करती है? विपक्षी और सत्तापक्ष के सदस्यों के हंगामे के चलते अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही 15 मिनट के लिए स्थगित कर दी।


बिहार विधानसभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बताया, ‘राज्य सरकार ने केंद्र को लिखा है कि एनपीआर के तहत राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर 2010 में अंकित श्रेणियों से संबंधित सूचनाएं ही प्राप्त की जाएं, जिससे लोगों को कठिनाई नहीं हो।’


राष्ट्रपति कोविंद ने ट्रंप का स्वागत किया

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके परिवार के गुजरात के अहमदाबाद में धमाकेदार स्वागत के बाद अब कूटनीति की बारी है। अपने दौरे के दूसरे और आखिरी दिन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दिल्ली में हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। राष्ट्रपति भवन में आज अमेरिकी राष्ट्रपति का औपचारिक स्वागत हुआ, यहां पर डोनाल्ड ट्रंप को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। सोमवार को मोटेरा स्टेडियम में ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति ने डिफेंस डील का ऐलान किया, जिसने दोनों देशों में बड़े समझौते की उम्मीद जगा दी है। इसके अलावा भी दोनों देश आज कई मसलों पर चर्चा करेंगे। वहीं, फर्स्ट लेडी मेलानिया ट्रंप दिल्ली में एक स्कूल में बच्चों से मुलाकात करेंगी।


दिल्ली में उपद्रव जारी, 7 लोगों की मौत

रवि चौहान


उत्तर-पूर्वी दिल्ली। दिल्ली के ब्रह्मपुरी और मौजपुर इलाके में तीसरे दिन भी पत्थरबाजी और हिंसक प्रदर्शन जारी है। आज सुबह ही कुछ इलाकों में उपद्रवियों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी। रविवार से शुरू हुई हिंसा में अब तक एक हेड कांस्टेबल समेत सात लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं एहतियात के तौर पर पांच मेट्रो स्टेशन, जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एंक्लेव और शिव विहार बंद कर दिए हैं। पढ़ें दिनभर के सभी अपडेट
करावल नगर से पलायन कर रहे लोग


दिल्ली के करावल नगर में रहने वाले कासिम अली, आगजनी से परेशान होकर, अपने घर को बंद कर लोनी में रहने वाले अपने रिश्तेदार के घर जा रहे हैं।


दिल्ली के कई इलाकों में शुरू हुई अमन कमेटी की बैठक


उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हो रही हिंसा को लेकर पश्चिमी दिल्ली में अमन कमेटी की बैठक शुरू हो गई है। हिंसा के मद्देनजर दक्षिण-पूर्वी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली सहित राजधानी दिल्ली के कई इलाकों में महत्वपूर्ण बैठक शुरू हो गई है। दिल्ली पुलिस के कमिश्नर द्वारा निर्देश दिया गया है कि सभी जिलों में अमन कमेटी सहित स्थानीय लोगों की बैठक की जाए और लोगों को अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की जानकारी प्रदान की जाए। साउथ ईस्ट दिल्ली में जॉइंट कमिश्नर देवेश श्रीवास्तव के नेतृत्व में हुई है अमन कमेटी की बैठक।

घोंडा में दोनों पक्षों के लोग राहगीरों को पकड़-पकड़ कर मार रहे हैं


घोंडा इलाके में दोनों पक्षों के लोग राहगीरों को पकड़-पकड़ कर मार रहे हैं। साथ ही बलवाइयों ने एक बस में भी आग लगा दी।


मौजपुर में छतों से चल रही गोलियां


मौजपुर में दोनों तरफ से पथराव जारी है। वहीं एक पक्ष लगातार गोलियां चला रहा है। मौजपुर में लोग छतों से गोलियां चला रहे हैं।


विभिन्न शाखाओं की 35 कंपनियां सुरक्षा में तैनात


दिल्ली पुलिस ने हिंसा को देखते हुए विशेष सेल, अपराध शाखा और आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के अधिकारियों के साथ उत्तर पूर्वी दिल्ली में अर्धसैनिक बलों की 35 कंपनियां तैनात की हैं। दिल्ली के विभिन्न जिलों से स्थानीय पुलिस को भी बुलाया गया है।

गौतम गंभीर घायल डीसीपी से मिले


पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर गोकुलपुरी हिंसा में घायल शहादरा डीसीपी अमित शर्मा से मिलने मैक्स हॉस्पिटल पहुंचे। डीसीपी के साथ ही मैक्स में एक हेड कांस्टेबल भर्ती है। घायलों और उनके परिजनों से मिलकर सांसद गौतम गंभीर ने उनका हालचाल जाना।

लोनी बॉर्डर पर पुलिस बल तैनात


दिल्ली के लोनी बॉर्डर पर पुलिस और प्रशासन के अधिकारी डटे हुए हैं। उपद्रवी लोनी की सीमा में ना घुसें इसको लेकर पुलिस ने दिल्ली की सीमा में घुसकर लोगों को समझाया।

घोंडा में उपद्रवियों ने एक बस और कार में लगाई आग


दिल्ली के कई इलाकों के बाद अब घोंडा में उपद्रवियों ने एक बस और कार में आग लगा दी है। 

आश्वासन मिला कि सब साथ मिलकर काम करेंगे


गृहमंत्री अमित शाह के साथ बैठक खत्म कर पत्रकारों से मुखातिब हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि बैठक सकारात्मक रही। सभी लोग दिल्ली में शांति व्यवस्था कायम करने के लिए मिलकर प्रयास करेंगे ऐसा आश्वासन मिला है। बैठक में डिसाइड हुआ है कि दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सभी दिल्ली की समस्या को खत्म करने की कोशिश करेंगे। पहले लग रहा था कि निचले स्तर पर पुलिस के पास कमी है लेकिन गृहमंत्री ने आश्वासन दिया है कि उससे निपटने की कोशिश होगी। शांति व्यवस्था कायम करने की हर कोशिश की जाएगी। उन्होंने ये भी कहा कि सभी चाहते हैं कि हिंसा की घटनाओं पर  लगाम लगे। उन्होंने ये भी बताया कि कई पुलिसवाले घायल हैं जिनका इलाज चल रहा है।


गोली चलने पर डीसीपी मौके से भागे


मौजपुर में गोली चलने की लगातार घटना के बाद डीसीपी आलोक कुमार घटनास्थल से भाग खड़े हुए। पब्लिक गुहार लगाती रही लेकिन डीसीपी मौके से फरार हो गए। डीसीपी के फरार होने पर एसीपी ने संभाला मोर्चा।

6 लोगों को मौजपुर में लगी गोली


मौजपुर इलाके में 6 लोगों को गोली मारने की सूचना है। इस दौरान एक महिला भी गंभीर रूप से घायल हो गई है। हालांकि इस घटना की पुलिस अधिकारिक रूप से पुष्टि नहीं कर रही है।
मौजपुर में एक बार फिर हालात तनावपूर्ण हैं


मौजपुर में सुबह हुई पत्थरबाजी के बाद मौजपूर में एक बार हालात तनावपूर्ण हो गए हैं। यहां फायरिंग की कुछ घटनाएं भी सामने आ रही हैं।

सुदामापुरी में भी पथराव शुरू


मंगलवार सुबह ब्रह्मपुरी, मौजपुर, कबीरनगर और करावल नगर में बवाल के बाद सुदामापुरी में पथराव शुरू हो गया है। मस्जिद के पास दो गुटों में पथराव शुरू हो गया है। हालात काफी बुरे हो गए हैं। गलियों में अफरा-तफरी का माहौल है।गौतम गंभीर ने कहा- कपिल मिश्रा हों या कोई और भड़काऊ भाषण देने वालों पर हो कार्रवाई


गौतम गंभीर ने बड़ा देते हुए कहा कि वो चाहें कपिल मिश्रा हों या कोई और हो, चाहे वो किसी भी पार्टी का हो अगर किसी ने भड़काऊ भाषण दिया है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।


कबीर नगर में पत्थरबाजी


मंगलवार को ब्रह्मपुरी, मौजपुर और करावल नगर में हिंसा के बाद अब कबीर नगर से भी पत्थरबाजी की घटनाएं सामने आ रही हैं।

दिल्ली हाईकोर्ट में हिंसा को लेकर डाली गई ये याचिका


दिल्ली हाईकोर्ट में मंगलवार को एक याचिका डाली गई है जिसमें मौजपुर और उससे सटे उत्तर-पूर्वी दिल्ली के इलाकों में हुई हिंसा पर स्वतंत्र न्यायिक जांच की मांग की गई है। साथ ही मृतकों के लिए मुआवजे की भी मांग की गई है। इसके साथ ही कुछ प्रमुख राजनीतिक लोगों की गिरफ्तारी की भी मांग की गई है जो नफरत भरे भाषणों से लोगों को भड़का रहे हैं।

केजरीवाल ने ये भी कहा कि पुलिस को एक्शन लेने की इजाजत मिलनी चाहिए और उनकी संख्या भी कम है उसे भी बढ़ाया जाए। उन्होंने ये भी कहा कि खबर है कि बाहर से भी लोग आ रहे हैं, ऐसे में दिल्ली से सटे राज्यों को अपने बॉर्डर सील करने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि आपात बैठक में उन्होंने हिंसाग्रस्त इलाकों के विधायकों और अधिकारियों को बुलाया और कहा कि वह स्थानीय स्तर पर सभी धर्मों के लोगों के साथ बैठक कर सौहार्द कायम करें।

केजरीवाल ने मीटिंग के बाद कहा- हिंसा में सबका नुकसान, कल किसी का भी नंबर आ सकता है


केजरीवाल ने आपात बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि जो हिंसा हो रही है वह ठीक नहीं है। कल किसी का भी नंबर आ सकता है। वह आगे बोले कि अस्पताल और दमकलकर्मी तैयार रहें। दमकल विभाग पुलिस के साथ कॉर्डिनेट कर काम करें। उन्होंने कहा कि शिकायत ये भी है कि निचले स्तर पर पुलिस को कोई एक्शन लेने का हक नहीं है। उसके लिए उन्हें ऊपर से ऑर्डर लेना पड़ रहा है, उन्हें एक्शन के लिए इजाजत मिलनी चाहिए।

गोकुलपुरी इलाके में सुरक्षा बल तैनात


सोमवार को दिल्ली के गोकुलपुरी में हुई हिंसा में हेड कांस्टेबल की मौत और डीसीपी शाहदरा के घायल होने के बाद मंगलवार को यहां की सुरक्षा व्यवस्था चौकस कर दी गई है। भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिए गए हैं।


सुप्रीम कोर्ट पहुंचा दिल्ली हिंसा का मामला, वजाहत हबीबुल्लाह पहुंचे सुप्रीम कोर्ट


दिल्ली में सीएए को लेकर हाल ही में हुई हिंसा के मामले में प्राथमिकी दर्ज कराने की मांग करते हुए पूर्व सीआईसी वजाहत हबीबुल्लाह व अन्य ने उच्चतम न्यायालय का रुख किया। वजाहत हबीबुल्लाह, अन्य ने उच्चतम न्यायालय से शाहीन बाग और शहर के अन्य हिस्सों में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए निर्देश देने की मांग की है।उच्चतम न्यायालय ने कहा कि वजाहत हबीबुल्लाह और अन्य द्वारा दायर याचिका पर बुधवार को सुनवाई की जाएगी।
सीएम के घर पहुंच रहे अधिकारी विधायक


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पहुंच रहे विधायक और अधिकारी। मुख्यमंत्री ने दिल्ली हिंसा को लेकर अधिकारियों और विधायकों की आपात बैठक बुलाई है।



 


अफवाहों से पोल्ट्री किसानों को नुकसान

नई दिल्ली। पिछले काफी समय से पोल्ट्री फार्मिंग कर रहे किसान लगातार घाटे में जा रहे थे ।क्योंकि लागत 80रु किलों और मुर्गा 65 के भाव से बिक रहा ।अब एक अफवाह करोना वायरस की फैल गयी ।जिससे मुर्गा बाजार और धराशाई हो गयी ।जबकि करोना वायरस से मुर्गे से कोई लेना देना नहीं ।भारत में कोई भी करोना वायरस का केस नहीं मिला।और जानकार डाक्टर का कहना है।करोना चीन में है ।और आदमी से आदमी में ही हो रहा ।भारतीय पोल्ट्री इंडस्ट्री के डॉक्टरों ने किसी भी क्षेत्र में मुर्गे में या किसी भी चिड़िया में करोना का कोई वायरस नहीं पाया ।लखनऊ एनीमल हजबैंडी ने भी साफ किया कि करोना वायरस मुर्गे में नहीं है ।मुर्गा एक स्वस्थ आहार है।जिसे भारत सहित पूरी दुनिया में खाया जाता है।और बहुत ही साफ सुथरी सफाई में पाला जाता है ।ईसी कड़ी में लखनऊ सहित पूरे प्रदेश में पोल्ट्री किसान परेशान हैं ।जबकि इस पोल्ट्री व्यवसाय से पूरे देश में लगभग दो करोड़ लोग जुड़े हैं ।और पूरे भारत में करीब 50 लाख फार्मर है ।यदि ऐसा ही चलता रहा तो देश के लाखों लोग बेरोजगार हो जायेंगे ।


राकेश वर्मा बब्बू की रिपोट


बिहार में तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि

नीतिश कुमार सिंह (विहान सिंह राजपूत)



पटना : एक बार फिर से मौसम का मिजाज बदल गया है , पटना सहित आरा , रोहतास में तेज बारिश के साथ ओला गिरने की सूचना है । वही राजधानी पटना में करीब डेढ़ घंटे से झमाझम बारिश शुरू है । बारिश को लेकर मौसम विभाग ने अलर्ट जारी करते सावधानी बरतने की बात कही है।


इन जिलों को किया गया अलर्ट:


मौसम ने भोजपुर, रोहतास, भभुआ, औरंगाबाद, जहानाबाद, पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, सीवान और सारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, वैशाली, शिवहर और समस्तीपुर, उत्तर पूर्व बिहार के सुपौल, अररिया, मधेपुरा, किशनगंज और सहरसा और पूर्णिया, बक्सर,जहानाबाद और अरवल, पटना, गया, नालंदा, शेखपुरा, बेगूसराय, लखीसराय और नवादा समेत कई जिलों को लेकर अलर्ट जारी किया है। बताया जा रहा है कि इन जिलों में बारिश के साथ ओले के साथ वज्रपात होने की भी संभावना है।


चाचा के लिए उमड़ा भतीजे का प्यार

मनीष कुमार


पटना। विधानसभा में तीखी नोकझोंक के बाद भतीजे तेजस्वी यादव को आखिरकार चाचा नीतीश कुमार की याद आ ही गई। सदन से निकले तेजस्वी यादव नीतीश कुमार से मिलने उनके चेंबर में पहुंच गए। लंच के लिए जब सदन की कार्यवाही स्थगित हुई तो रवाना होने से पहले तेजस्वी ने नीतीश कुमार से मुलाकात की है। नीतीश कुमार से मुलाकात कर तेजस्वी यादव ने NPR को लेकर बिहार सरकार के रुख पर धन्यवाद भी जताया है। तेजस्वी चाहते हैं कि नीतीश कुमार नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर भी एक बार पुनर्विचार करें। दोनों नेताओं के बीच यह मुलाकात बहुत छोटी हुई है। दरअसल सदन में एनपीआर पर बहस के दौरान तेजस्वी यादव को नीतीश कुमार ने चाचा वाले अंदाज में यह समझाते हुए बैठने को कहा था कि लालू यादव अगर उनके खिलाफ बोले तो अच्छा लगेगा। अब उसके बाद मुलाकात की है। मुख्यमंत्री ने भी स्वागत किया था।


तेजस्वी यादव नीतीश कुमार से मुलाकात करने उनके चेंबर में गए तो उनके साथ आरजेडी के सीनियर लीडर अब्दुल बारी सिद्धकी भी थे। कांग्रेस के विधायक अवधेश कुमार सिंह भी इन नेताओं के साथ नीतीश कुमार के चेंबर में पहुंचे थे। नीतीश कुमार ने सदन में आज ही चर्चा के दौरान टोकाटोकी कर रहे कांग्रेस विधायक अवधेश कुमार सिंह को कहा था कि आप कांग्रेस में कितने दिन रहने वाले हैं। चुटकिले अंदाज में कहा था कि क्या आप विधानसभा का अगला चुनाव कांग्रेस के टिकट पर लड़ेंगे इसकी गारंटी है। तेजस्वी यादव ने अपनी मुलाकात में नीतीश कुमार ने कहा है कि वह नागरिकता संशोधन कानून मैं मुस्लिमों को जोड़ने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव बनाएं।


राज्यसभा चुनाव की अधिसूचना जारी

मनीष कुमार


पटना। राज्यसभा चुनाव को लेकर आज अधिसूचना जारी हो गई है। बिहार में 5 सीटें खाली हो रही है। इसको लेकर 26 मार्च को चुनाव होगा।


बिहार में पांच नेताओं का कार्यकाल हो रहा पूरा
बिहार के जो पांच सीटें खाली हो रही है। उसमें कहकशां परवीन, आरके सिन्हा, रामनाथ ठाकुर, सीपी ठाकुर समेत पांच नेताओं का कार्यकाल पूरा हो रहा हैंं। इसको लेकर चुनाव कराया जाएगा। बिहार के पांच सीटों समेत कई 55 सीटें खाली हो रही है. इसमें झारखंड की भी दो सीटें हैं। इसको लेकर चुनाव कराया जाएगा. बता दें कि चुनाव की आहट से पहले ही बिहार के नेता जुगाड़ लगाने में जुट गए हैं। इसको लेकर कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा और शरद यादव ने कुछ दिन पहले ही रांची के रिम्स में लालू प्रसाद से मिले थे।


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सभी देशवासियों को होली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


फरवरी 26, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-199 (साल-01)
2. बुधवार, फरवरी 26, 2020
3. शक-1941,फाल्गुन - शुक्ल पक्ष, तिथि-तीज, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 06:54,सूर्यास्त 06:10
5. न्‍यूनतम तापमान 14+ डी.सै.,अधिकतम-23+ डी.सै., हल्की बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)



दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...