मंगलवार, 28 जून 2022

गलत सूचना देने पर 'कारण बताओ' नोटिस जारी किया

गलत सूचना देने पर 'कारण बताओ' नोटिस जारी किया

हरिओम उपाध्याय    

देवरिया। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने नलकूप खंड देवरिया एवं नलकूप खंड सलेमपुर के अधिशासी अभियंता को समीक्षा बैठक में गलत सूचना देने पर 'कारण बताओ' नोटिस जारी किया है। उन्होंने कहा कि धान रोपाई के दृष्टिगत समस्त नलकूप अपनी अधिकतम क्षमता के अनुरूप चलाये जाए। जिससे किसानों को किसी भी प्रकार की असुविधा न हो। दिनांक 24 जून को जनपद में सप्ताहांत बंद नलकूपों की समीक्षा की गई थी। जिसमें अधिशासी अभियंता नलकूप खंड सलेमपुर विक्रम सिंह ने बताया कि मोटर जलने की वजह से 2 तथा विद्युत दोष की वजह से 5 नलकूप बंद हैं। इसी प्रकार नलकूप खंड देवरिया के अधिशासी अभियंता गौरव सिंह ने बताया कि मोटर जलने से एक तथा विद्युत दोष की वजह से 6 नलकूप बंद हैं।

जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंताओं द्वारा प्रदत्त सूचना की जाँच कराई गई। ऐसी 1010 ग्राम पंचायते एवं राजस्व ग्राम, जहाँ नलकूप लगें हैं, वहां के ग्राम प्रधानों, कृषकों एवं नलकूप चालकों से संपर्क कर वास्तविक स्थिति का जायजा लिया गया। जाँच में अधिशासी अभियंताओं द्वारा बताए गए कुल 14 नलकूप के सापेक्ष 76 नलकूप बंद मिले। कुल 1010 में से 934 नलकूप चालू अवस्था में मिले।जांच में वास्तविक स्थिति सामने आने के बाद जिलाधिकारी ने गहरी नाराज़गी व्यक्त करते हुए दोनों अधिशासी अभियंताओं को कड़ी फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि जनपद में कई स्थानों पर धान रोपाई का कार्य प्रारंभ हो चुका है। किसानों को धान रोपाई के लिए पानी उपलब्ध कराने में नलकूपों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। ऐसे में नलकूप खंड सलेमपुर एवं देवरिया के अधिशासी अभियंताओं द्वारा गलत एवं भ्रामक सूचना देकर गुमराह करने का प्रयास किया गया है। अपने पदीय दायित्वों का प्रति लापरवाही बरतने एवं गलत सूचना देने पर इन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। तीन दिन की समयसीमा में इन्हें जवाब देना होगा। जवाब संतोषजनक न होने पर दंडात्मक कार्यवाही के लिए शासन को पत्र लिखा जाएगा।

जियो: अंबानी का इस्तीफा, आकाश को चेयरमैन बनाया

जियो: अंबानी का इस्तीफा, आकाश को चेयरमैन बनाया

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। रिलायंस समूह के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने अपनी दूरसंचार सेवा कंपनी रिलायंस जियो के निदेशक मंडल से इस्तीफा दे दिया है। इसके साथ ही उनके बड़े पुत्र आकाश अंबानी को कंपनी का नया चेयरमैन बनाया गया है। रिलायंस जियो इन्फोकॉम ने मंगलवार को शेयर बाजारों को इसकी सूचना दी। इसके मुताबिक, कंपनी के निदेशक मंडल की सोमवार को हुई बैठक में गैर-कार्यकारी निदेशक आकाश अंबानी को कंपनी के चेयरमैन के रूप में नियुक्ति को मंजूरी दी गई। इसके साथ ही पंकज मोहन पवार को अगले पांच साल के लिए कंपनी के प्रबंध निदेशक पद पर नियुक्त किया गया है। वहीं, रमिंदर सिंह गुजराल और के वी चौधरी को स्वतंत्र निदेशक नियुक्त किया गया है।

मुकेश अंबानी बने रहेंगे, जियो प्लेटफॉर्म्स के चेयरमैन...

ब्राउन यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में स्नातक आकाश अंबानी से पहले उनके पिता मुकेश अंबानी रिलायंस जियो के चेयरमैन के नाते काम देख रहे थे। मुकेश अंबानी के चेयरमैन पद से  इस्तीफे और आकाश अंबानी की नियुक्ति को नई पीढ़ी को नेतृत्व सौंपने के तौर पर देखा जा रहा है। हालांकि, मुकेश अंबानी अभी जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड के चेयरमैन बने रहेंगे।

80 साल की दादी ने पुल से गंगा में लगाई छलांग

80 साल की दादी ने पुल से गंगा में लगाई छलांग  

पंकज कपूर     
हरिद्वार। गर्मियों में नदी व नहर किनारे अठखेलियां करते युवाओं को आपने जरूर देखा होगा। लेकिन, हरिद्वार में एक करीब 80 साल की दादी ने पुल से गंगा में छलांग लगा कर सबको चौंका दिया। गंगा में कूदने के बाद वृद्धा बिल्कुल युवाओं की तरह तैर कर काफी दूर निकल गई।
वृद्धा का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वृद्धा हरियाणा की बताई जा रही है। हालांकि, पुलिस को इस बारे में अभी कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।
पुलिस ने बताया कि एक वीडियो सामने आया है। जिसमें एक वृद्धा पुल से गंगा में छलांग लगाती नजर आ रही है। पुलिस छलांग लगाने वालों पर अभियान चलाकर कार्रवाई करती है। इस वीडियो की भी जांच कराई जा रही है।

मुंबई: 53,177.45 अंक पर बंद हुआ, बीएसई सेंसेक्स

मुंबई: 53,177.45 अंक पर बंद हुआ, बीएसई सेंसेक्स 

कविता गर्ग     

मुंबई। घरेलू शेयर बाजार मंगलवार को शुरुआती गिरावट से उबरते हुए मामूली बढ़त के साथ बंद हुए। वैश्विक बाजारों में तेजी आने के साथ कारोबार समाप्त होने से पहले ऊर्जा, सूचना प्रौद्योगिकी और वाहन शेयरों में लिवाली से बाजार लाभ में रहा। तीस शेयरों पर आधारित बीएसई सेंसेक्स 16.17 अंक यानी 0.03 प्रतिशत की बढ़त के साथ 53,177.45 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह 389.75 अंक तक लुढ़क गया था।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 18.15 अंक यानी 0.11 प्रतिशत के लाभ के साथ 15,850.20 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में महिंद्रा एंड महिंद्रा, रिलायंस इंडस्ट्रीज, डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज, टेक महिंद्रा, टाटा स्टील और लार्सन एंड टूब्रो प्रमुख रूप से लाभ में रहे। दूसरी तरफ, गिरावट वाले शेयरों में टाइटन, एशियन पेंट्स, बजाज फिनसर्व, कोटक महिंद्रा बैंक और आईसीआईसीआई बैंक शामिल हैं। एशिया के अन्य बाजारों में जापान का निक्की, चीन का शंघाई कंपोजिट, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और हांगकांग का हैंगसेंग शुरुआती गिरावट से उबरते हुए लाभ में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी दोपहर के कारोबार में तेजी का रुख रहा। इसी बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.58 प्रतिशत उछलकर 116.9 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशक पूंजी बाजार में शुद्ध बिकवाल रहे। उन्होंने सोमवार को 1,278.42 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।

युवाओं का भविष्य अब ठेके पर लगता है: प्रसाद

युवाओं का भविष्य अब ठेके पर लगता है: प्रसाद 

विमलेश यादव   

रांची। झारखण्ड प्रदेश काँग्रेस कमेटी के प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि देश के युवाओं का भविष्य अब ठेके पर लगता है और भाजपा सरकार पूरे देश को ठेके के अग्निपथ पर भेज दम लेगी। प्रसाद ने आज यहां कहा कि वर्ष 2020-21 के एक साल में पक्की नौकरी 27% घटी है और वर्ष 2017 से 2021 के बीच ठेके पर रखे जाने वाले युवाओं की संख्या दुगनी हुई। केंद्रीय पब्लिक सेक्टर अंडर टेकिंग में 5,21,000 नौकरी घटी है।

उन्होंने बताया कि अखिल भारतीय कॉंग्रेस कमिटी के निर्देश पर और झारखण्ड प्रदेश काँग्रेस कमिटी के अध्यक्ष राजेश ठाकुर के आह्वान पर झारखण्ड के 81 विधानसभा क्षेत्र में अग्निपथ योजना के विरोध में 27 जून को लोगों ने बड़े पैमाने पर कांग्रेस जनों के साथ मिलकर धरना-प्रदर्शन और सत्याग्रह किया। ताकि, केन्द सरकार इस योजना को तत्काल वापस ले। प्रसाद ने कहा कि देशभर में आक्रोश है, खासतौर पर युवाओं में।

सबसे ज्यादा सर्च होने वाली पर्सनैलिटी में शुमार उर्फी

सबसे ज्यादा सर्च होने वाली पर्सनैलिटी में शुमार उर्फी 

कविता गर्ग             

मुंबई। उर्फी जावेद हमेशा अपने अतरंगी कपड़ों की वजह से सुर्खियों में रहती हैं। अपने अजीबो-गरीब लुक से वह हमेशा फैंस को सरप्राइज कर देती हैं। उनके कपड़े पहनने के अंदाज से वह सबको हैरान कर देती हैं। उर्फी सोशल मीडिया पर भी कुछ ऐसे ही अंदाज की वजह से लाइम लाइट में रहती हैं। हाल ही में उर्फी एक बार फिर से अपने पहनावे की वजह से चर्चाओं में आ गई हैं। उन्होंने सोशल अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है। जिसमें वह फूलों वाली बिकिनी पहने दिखाई दी थी।

आज उर्फी सबसे ज्यादा सर्च होने वाली पर्सनैलिटी में शुमार हो गई हैं। मोस्ट सर्च एशियन पर्सनैलिटी के मामले में उर्फी जावेद ने जाह्नवी कपूर, कियारा आडवानी और कंगना को भी पिछे छोड़ दिया है।

न्यायमूर्ति शर्मा ने मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली

न्यायमूर्ति शर्मा ने मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। न्यायमूर्ति चंद्र शर्मा ने मंगलवार को दिल्ली उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली। उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने उपराज्यपाल के सचिवालय राज निवास में एक समारोह में 60 वर्षीय न्यायमूर्ति शर्मा को शपथ दिलाई। समारोह में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती और मदन लाल शामिल हुए।समारोह में वरिष्ठ न्यायाधीश और अधिवक्ता भी मौजूद थे। 
न्यायमूर्ति शर्मा ने पहले तेलंगाना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में कार्य किया था। न्यायमूर्ति डी एन पटेल की सेवानिवृत्ति के बाद से दिल्ली उच्च न्यायालय नियमित मुख्य न्यायाधीश के बिना काम कर रहा था। न्यायमूर्ति विपिन सांघी 13 मार्च से कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश थे। अब उन्हें उत्तराखंड उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है।

पांच सदस्यीय उच्चस्तरीय कमेटी बनाने की मांग की

पांच सदस्यीय उच्चस्तरीय कमेटी बनाने की मांग की

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। दिल्ली यूनिवर्सिटी (डीयू) एससी-एसटी ओबीसी टीचर्स फोरम ने वाइस चांसलर से शिक्षकों की स्थायी नियुक्तियों से पूर्व रोस्टर, काले कमेटी की रिपोर्ट, 10 फीसदी अतिरिक्त ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू करते हुए व विज्ञापनों की सही से जांच कराने के लिए एक पांच सदस्यीय उच्चस्तरीय कमेटी बनाने की मांग की है। शिक्षकों का कहना है कि कमेटी में वरिष्ठ प्रोफेसर्स, पूर्व विद्वत परिषद सदस्य के अलावा रोस्टर की जानकारी रखने वालों को रखा जाए और यह कमेटी अपनी रिपोर्ट एक महीने के अंदर दे। शिक्षकों ने वाइस चांसलर से कहा है कि सही रोस्टर के बाद ही कॉलेजों के विज्ञापन निकालकर शिक्षकों की स्थायी नियुक्ति की जाए। साथ ही उनका कहना है कि य पांच सदस्यीय कमेटी बनाने, रोस्टर की सही जांच व प्रोफेसर काले कमेटी को लागू कराने की मांग के अलावा हाल ही में 10 फीसदी अतिरिक्त ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू करते हुए सभी वर्गो के शिक्षकों को नियुक्तियों में प्रतिनिधित्व दिया जाए। दिल्ली यूनिवर्सिटी एससी एसटी ओबीसी टीचर्स फोरम के महासचिव व पूर्व विद्वत परिषद सदस्य डॉ. हंसराज सुमन ने बताया है कि हाल ही में आ रहे स्थायी शिक्षकों की नियुक्तियों के विज्ञापनों में अनेक प्रकार की विसंगतियां है।

कॉलेजों द्वारा निकाले जा रहे विज्ञापनों में भारत सरकार की आरक्षण नीति व डीओपीटी के निर्देशों को सही से लागू नहीं किया गया है। साथ ही जो पद निकाले जा रहे हैं उनमें शॉर्टफाल, बैकलॉग और विश्वविद्यालय द्वारा बनाई गई प्रोफेसर काले कमेटी की रिपोर्ट को स्वीकारते हुए करेक्ट रोस्टर नहीं बनाया गया है। इससे एससी,एसटी, ओबीसी अभ्यर्थियों को जिस अनुपात में आरक्षण मिलना चाहिए था नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने बताया है कुछ कॉलेजों में लंबे समय से पढ़ा रहे एससी एसटी व ओबीसीकोटे के शिक्षकों की सीटें ही खत्म कर दी हैं। वाइस चांसलर को लिखे गए पत्र में विश्वविद्यालय में सामाजिक न्याय दिलाने की मांग करते हुए आरक्षण, रोस्टर और विज्ञापनों की जांच करने के लिए एक वरिष्ठ प्रोफेसर के नेतृत्व में पांच सदस्यीय कमेटी का गठन की मांग है। आर्थिक रूप से कमजोर वर्गो (ईडब्ल्यूएस आरक्षण) का 10 फीसदी आरक्षण फरवरी, 2019 में आया था, जिसे विश्वविद्यालय और कॉलेजों ने स्वीकारते हुए इसको रोस्टर में शामिल कर लिया। शिक्षकों का कहना है कि कॉलेजों ने ईडब्ल्यूएस रोस्टर को फरवरी 2019 से न बनाकर उसे एससी, एसटी, ओबीसी आरक्षण के आरक्षण लागू होने से पहले लागू करते हुए रोस्टर बना दिया। वहीं 10 फीसदी आरक्षण के स्थान पर किसी-किसी कॉलेज ने 10 फीसदी से ज्यादा आरक्षण दे दिया, जिससे कि एससी, एसटी, ओबीसी आरक्षण कम कर दिया गया और ईडब्ल्यूएस बढ़ाकर दिया गया।

फोरम का कहना है कि यूजीसी भी ओबीसी की बकाया सेकेंड ट्रांच के पदों को भरने के निर्देश कॉलेजों को कई बार दे चुकी हैं, लेकिन अभी तक कॉलेजों ने ओबीसी एक्सपेंशन की बढ़ी हुई सीटों को रोस्टर में शामिल नहीं किया है। कॉलेज ईडब्ल्यूएस व सेकेंड ट्रांच को रोस्टर में शामिल किए बिना ही पदों को निकाल रहे थे, इसमें किसी तरह का आरक्षण न देना डीओपीटी के नियमों का सरेआम उल्लंघन है।

गिरफ्तारी को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा

गिरफ्तारी को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा

मिनाक्षी लोढी

आसनसोल। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को ‘ऑल्ट न्यूज’ के सह-संस्थापक जुबैर अहमद और कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ की गिरफ्तारी को लेकर मंगलवार को भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर निशाना साधा। पश्चिम बर्धमान जिले के आसनसोल में पार्टी की बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने अग्निपथ सेना भर्ती योजना को लेकर भी केंद्र पर निशाना साधा और इसे 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले ‘बड़ा घोटाला व जुमलों की राजनीति का एक और उदाहरण’ करार दिया।

बनर्जी ने कहा, ‘‘आपने मोहम्मद जुबैर और तीस्ता सीतलवाड़ को क्यों गिरफ्तार किया है ? उन्होंने क्या गलत किया है ? क्या सच बोलना या सच को उजागर करना अपराध है ? जो लोग इस सरकार के खिलाफ बोल रहे हैं, उन्हें या तो एजेंसियों का इस्तेमाल करके परेशान किया जा रहा है, या उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाता है। पैगंबर मोहम्मद के बारे में निलंबित भाजपा नेता नुपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी का जिक्र करते हुए बनर्जी ने आरोप लगाया कि देश में नफरत और हिंसा फैलाने वालों को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है। बनर्जी ने कहा कि देश में नफरत और हिंसा फैलाने वालों को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है, कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। उन्होंने कहा कि समुदायों के बीच दुश्मनी पैदा करने वालों को उन्होंने (भाजपा ने) छुआ तक नहीं, लेकिन ऐसे लोगों के खिलाफ लड़ने वालों को परेशान किया जा रहा है।

अग्निपथ योजना के बारे में बनर्जी ने कहा कि केंद्र को इसके तहत भर्ती किए गए सैनिकों की सेवानिवृत्ति की आयु 60 वर्ष तक बढ़ानी चाहिए। उन्होंने दावा किया कि वे चार साल का अनुबंध खत्म होने पर अनिश्चित भविष्य का सामना करेंगे। उन्होंने कहा कि हाल ही में उन्हें एक पत्र मिला, जिसमें उनसे अनुरोध किया गया कि उन अग्निवीरों को, चार साल बाद राज्य सरकार की नौकरियों में अवसर मिलना चाहिए। ममता ने कहा कि यह केंद्र सरकारी की पैदा की हुई समस्या है, इसलिए उसे ही इसकी जिम्मेदारी लेनी होगी, हमारी सरकार इसकी जिम्मेदारी नहीं लेंगी।

कन्नड़ के हिस्सों में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए

कन्नड़ के हिस्सों में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए

इकबाल अंसारी

बेंगलुरु। कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिले के कई हिस्सों में मंगलवार को सुबह भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार की सुबह करीब पौने आठ बजे आए इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.5 मापी गई है। 25 जून को भी भूकंप के ऐसे ही झटके महसूस किए गए थे। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के अनुसार, भूकंप का केंद्र पांच किलोमीटर की गहराई पर था।

जिले के सुलिया तालुक के संपाजे, अरनथोडु, पेरजे, जल्सूर, उबराद्का, थोदिकाना और मित्तुर में करीब चार सेकंड तक भूकंप के झटके महसूस किए गए। यहां 25 जून को सुबह नौ बजकर नौ मिनट पर 2.3 तीव्रता का भूकंप आया था। भूकंप के झटके उसके केंद्र से करीब 4.7 किलोमीटर की दूरी तक महसूस किए गए थे।

वकील के साथ दिल्ली के लिए रवाना हुए, फडणवीस

वकील के साथ दिल्ली के लिए रवाना हुए, फडणवीस

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस एक वकील के साथ मंगलवार को दिल्ली के लिए रवाना हो गए। पार्टी के एक पदाधिकारी ने यह जानकारी दी। महाराष्ट्र में शिवसेना के नेतृत्व वाली महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार संकट का सामना कर रही है। क्योंकि एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में उसके कई विधायकों ने विद्रोह कर दिया है और वर्तमान में गुवाहाटी में डेरा डाले हुए हैं। पार्टी के पदाधिकारी ने कहा, ‘‘फडणवीस एक वकील के साथ नयी दिल्ली के लिए रवाना हुए हैं।

वह वहां भाजपा के कुछ वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करेंगे।’’ भाजपा के वरिष्ठ नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने पहले कहा था कि वह मुंबई में फडणवीस के आधिकारिक आवास पर एक बैठक में शामिल हुए थे, जहां पार्टी के कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे। मुनगंटीवार ने यह भी कहा था कि उनकी पार्टी राज्य में वर्तमान राजनीतिक स्थिति पर ‘‘इंतजार करो और देखो’’ का रुख बनाए हुए है।

पूर्व प्रधानमंत्री राव की जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित: मोदी

पूर्व प्रधानमंत्री राव की जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित: मोदी 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री पी. वी नरसिंह राव की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा कि राष्ट्रीय प्रगति में उनके समृद्ध योगदान के लिए भारत उनका आभारी है। राव का जन्म वर्ष 1921 में आज ही के दिन तेलंगाना के करीमनगर में हुआ था। मंगलवार को उनकी 101वीं जयंती है। मोदी ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘हमारे पूर्व प्रधानमंत्री पी. वी नरसिंह राव को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि।

राष्ट्रीय प्रगति में उनके समृद्ध योगदान के लिए भारत उनका आभारी रहेगा। उन्होंने एक महान विद्वान और बुद्धिजीवी के रूप में भी छाप छोड़ी।’’ वरिष्ठ कांग्रेस नेता राव 1971 से 1973 तक आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। केंद्र की कांग्रेस सरकारों में वह विदेश मंत्री, गृह मंत्री, रक्षा मंत्री और मानव संसाधन विकास मंत्री भी रहे। वह 21 जून, 1991 से 16 मई, 1996 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे। वर्ष 2004 में उनका दिल्ली में देहांत हो गया था। 

ईडी ने राउत को पूछताछ के लिए नया नोटिस जारी किया

ईडी ने राउत को पूछताछ के लिए नया नोटिस जारी किया 

कविता गर्ग  

मुंबई। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शिवसेना के सांसद संजय राउत को मुंबई की एक ‘चॉल’ के पुन: विकास और उनकी पत्नी और मित्रों से जुड़े अन्य वित्तीय लेन-देन से संबंधित धन शोधन मामलें की जांच के सिलसिले में पूछताछ के लिए मंगलवार को नया नोटिस जारी किया और उनसे शुक्रवार को एजेंसी के समक्ष पेश होने को कहा। इससे पहले केंद्रीय एजेंसी ने राज्यसभा के सदस्य राउत से कहा था कि वह मंगलवार को दक्षिण मुंबई में स्थित संघीय जांच एजेंसी के दफ्तर में उसके अधिकारियों के सामने पेश हों और धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत अपना बयान दर्ज कराएं।

राउत ने आज एजेंसी के समक्ष पेश होने में असमर्थता जताते हुए कहा था कि ईडी उन्हें पेश होने के लिए नई तारीख दे दे। उन्होंने इसके लिए आधिकारिक प्रतिबद्धताएं और अलीबाग में एक जनसभा में शामिल होने का हवाला दिया था। उनके वकीलों ने मंगलवार को मुंबई में ईडी के अधिकारियों से मुलाकात की और उनकी पेशी के लिए 14 दिन का समय मांगा, लेकिन एजेंसी ने उन्हें इस महीने के अंत तक की राहत दी। राउत ने ईडी के समन को सोमवार को साजिश बताया था और कहा था कि उन्हें गिरफ्तार किया जाए। हालांकि उन्होंने अधिकारियों के साथ सहयोग करने की बात भी कही थी।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-263, (वर्ष-05)
2. बुधवार, जून 29, 2022
3. शक-1944, आषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि-अमावस्या, विक्रमी सवंत-2079।
4. सूर्योदय प्रातः 05:22, सूर्यास्त: 07:15।
5. न्‍यूनतम तापमान- 30 डी.सै., अधिकतम-40+ डी.सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...