मंगलवार, 21 जनवरी 2020

धोखाधड़ी मामले में 107.73 करोड़ किए जब्त

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एक बैंक धोखाधड़ी मामले में फेयरडील सप्लाइज लिमिटेड के निदेशकों की 107.73 करोड़ रुपए मूल्य की चल व अचल संपत्तियों को जब्त किया है। एजेंसी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। ईडी ने कहा कि जब्त की गई संपत्तियों में एसआईवी इंडस्ट्रीज की कोयंबटूर की भूमि और भवन,एक कार्यालय भवन,एक फार्महाउस और अहमदाबाद में एक बंगला और सात फिक्सड डिपॉजिट शामिल हैं। ईडी ने कहा कि इन संपत्तियों को धन शोधन अधिनियम 2002 (पीएमएलए) के तहत जब्त किया गया है। ईडी ने पीएमएलए के तहत फेयरडील सप्लाइ लिमिटेड व इसके निदेशकों-राम प्रसाद अग्रवाल, नारायण प्रसाद अग्रवाल व पवन कुमार अग्रवाल व सौरभ झुनझुनवाला व अन्य के खिलाफ बैंक धोखाधड़ी के मामले की जांच शुरू की। यह जांच कोलकाता में विशेष कोर्ट के समक्ष यूको बैंक कोलकाता से धोखाधड़ी को लेकर केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा दायर आरोप पत्र के आधार पर शुरू की गई।


जिम्मेदारः पियो मत साहब ट्रैफिक जाम है

अतुल त्यागी जिला प्रभारी 
प्रवीण कुमार रिपोर्टर, पिलखुआ रिंकू सैनी रिपोर्टर    


साहब बीड़ी मत पियो ट्रैफिक जाम है जिनकी जिम्मेदारी है ट्रैफिक को संभालने की वही लग रहे हैं धुएं के छल्ले उड़ाने- आखिर क्यों
हापुुुड़। एक अनोखा फोटो वायरल हुआ है वह भी तहसील चौराहे से, जिन साहब की जिम्मेदारी ट्रैफिक को संभालने की होती है वही अपनी जिम्मेदारी छोड़ लगे बीडी के धुएं के छल्ले उड़ाने, पुलिस कर्मी ,ट्रैफिक की जिम्मेदारी छोड़ लगे अपना शौक पूरा करना, योगी जी के आदेश की उड़ाई गई खुलेआम धज्जियां, योगी जी का आदेश प्रदेश के अंदर कोई भी कर्मचारी अधिकारी कार्य के वक्त नशीला पदार्थ यूज नहीं करेगा मगर यहां तो ट्रैफिक पुलिस के ही पुलिस कर्मी अपनी ड्यूटी छोड़ कर रहे हैं खुलेआम धूम्रपान का इस्तेमाल, उड़ा रहे हैं खुलेआम बीड़ी के धुएं के छल्ले,
 अब देखना यह होगा कि ट्रैफिक पुलिस के आला अधिकारी क्या कार्यवाही करते हैं इन साहब पर, या यूं ही यह पुलिसकर्मी बीड़ी के धुएं के छल्ले आसमान के अंदर यूं ही उड़ाते रहेंगे।


148 शिकायतों में 18 का किया निस्तारण

 अतुल त्यागी जिला प्रभारी, प्रवीण कुमार रिपोर्टर पिलखुवा रिंकू सैनी रिपोर्टटऱ, जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक द्वारा


तहसील हापुड़ में फरियादियों की सुनी गई शिकायतें
 
जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक द्वारा तहसील हापुड़ में फरियादियों की सुनी गई शिकायतें 


हापुड। उत्तर प्रदेश सरकार का महत्वपूर्ण कार्यक्रम तहसील संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन सभी तहसीलों में संपन्न, कुल 148 शिकायतें हुई दर्ज, 18 का किया गया मौके पर निस्तारण, जिलाधिकारी अदिति सिंह आज हापुड़ तहसील में संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता करते हुए जनता की सुनी गई शिकायतें, 08 का मौके पर कराया गया निस्तारण। जन सामान्य की शिकायतों एवं समस्याओं का त्वरित गति के साथ निस्तारण संभव हो सके इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रम तहसील संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन आज जनपद की तीनों तहसीलों में संपन्न हुआ। जहां पर कुल 148 शिकायतें जनता के द्वारा दर्ज कराई गई, जिसके सापेक्ष 18 शिकायतों का निस्तारण संबंधित विभागीय अधिकारियों द्वारा मौके पर ही सुनिश्चित किया गया। जिलाधिकारी अदिति सिंह आज हापुड़ तहसील में संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता करते हुए पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन एवं मुख्य विकास अधिकारी उदय सिंह के द्वारा जनता की शिकायतों को सुना गया। जहां पर कुल 72 शिकायतें दर्ज हुई और 08 शिकायतों का निस्तारण जिलाधिकारी के द्वारा मौके पर ही विभागीय अधिकारियों के माध्यम से सुनिश्चित कराया गया। डी एम ने कहा कि तहसील दिवस में प्राप्त शिकायतों का संबंधित अधिकारियों के माध्यम से समय से ही निस्तारण कराना सुनिश्चित किया जाए। तहसील संपूर्ण समाधान दिवस समापन अवसर पर उन्होंने समस्त जिला स्तरीय अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि तहसील संपूर्ण समाधान दिवस में जनता की जो शिकायतें दर्ज हो रही हैं, उनका समय अवधि के भीतर पूर्ण गुणवत्ता के साथ निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने समस्त अधिकारीगणों को निर्देशित करते हुये कहा कि तहसील दिवस के दौरान जिन विभागो से संबंधित शिकायते प्राप्त हो रही है उनसे संबंधित अधिकारी स्वयं मौके पर शिकायत की जांच करें तथा उसका गुणवत्ता परक निस्तारण कराना सुनिष्चित करें। उन्होंने स्पष्ट किया कि इस कार्य में किसी भी स्तर पर शिथिलता को बहुत ही गंभीरता के साथ लिया जाएगा और संबंधित अधिकारी के विरुद्ध प्रतिकूल प्रविष्टि की कार्यवाही प्रस्तावित की जाएगी। अतः सभी अधिकारी गण सरकार के इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम को बहुत ही गंभीरता के साथ लेकर जनता की शिकायतों एवं समस्याओं का समयबद्धता के साथ निस्तारण करेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि जनता की शिकायतों को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार का यह महत्वपूर्ण कार्यक्रम है और इस कार्यक्रम की समीक्षा शासन स्तर से सीधे की जा रही है, जिसमें शासन शिकायतकर्ता से डिस्पोजल के संबंध में जानकारी प्राप्त कर रहा है। अतः सभी अधिकारी गण बहुत ही गंभीरता के साथ लेकर पूर्ण मानकों के अनुरूप स्थल पर जाकर जनता की समस्याओं एवं शिकायतों का निस्तारण सुनिश्चित करें। दर्ज शिकायत का निस्तारण होने के उपरांत संबंधित अधिकारियों द्वारा तत्काल प्रभाव से संबंधी सूचना तहसील एवं शिकायतकर्ता को भी उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि जिला प्रशासन की ओर से भी वरिष्ठ अधिकारियों के माध्यम से गुणवत्ता की जांच कराई जा रही है। अतः सभी अधिकारी गण बहुत ही गंभीरता के साथ तहसील दिवसों में आने वाली शिकायतों का निस्तारण करेंगे, ताकि सरकार के इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम का अधिक से अधिक लाभ जनता को प्राप्त हो सके। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन, मुख्य विकास अधिकारी उदय सिंह, उप जिलाधिकारी हापुड़ सत्यप्रकाश, मुख्य चिकित्सा अधिकारी रेखा शर्मा, जिला विकास अधिकारी संजय कुमार अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। इसी क्रम में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व जयनाथ यादव के द्वारा धौलाना तहसील में संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता करते हुए जनता की समस्याओं को सुना गया। यहां पर कुल 44 शिकायतें दर्ज हुई, जिसके सापेक्ष 06 शिकायतों का निस्तारण संबंधित विभागीय अधिकारियों के माध्यम से कराया गया। धौलाना संपूर्ण समाधान दिवस का संचालन अपर जिलाधिकारी जयनाथ यादव के द्वारा किया गया। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी धौलाना विशाल यादव, तहसीलदार, क्षेत्राधिकारी पुलिस तथा अन्य विभाग के तहसील स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे। गढ़मुक्तेश्वर तहसील में उप जिलाधिकारी विजय वर्धन तोमर के द्वारा संपूर्ण समाधान दिवस की अध्यक्षता करते हुए जनता की समस्याओं को सुना। यहां पर कुल 32 शिकायतें दर्ज हुई और 04 शिकायतों का निस्तारण मौके पर कराया गया। इस अवसर पर तहसील स्तर के अधिकारी मौजूद रहे।


बिलासपुरः सड़क हादसे में पांच घायल, दो गंभीर

बिलासपुर तेज रफ्तार ट्रक ने एचआरटीसी मिनी बस को मारी टक्कर, 5 लोग घायल, 2 की हालत गंभीर


बिलासपुर। बिलासपुर में शिमला हमीरपुर NH पर मंगलवार सुबह एचआरटीसी मिनी बस और ट्रक में टक्कर हो गई। हादसे के समय बस में कुल 6 सवारियां थी जिनमें से 5 लोग घायल हुए हैं। हादसे में बस चालक और परिचाल गंभी रूप से घायल हुए हैं। बस चालक अश्वनी कुमार (46) की टांग फेक्चर हो गई है जबकि परिचालक यशपाल (36) को हेड इंजरी हुई है। जिनकी गंभीर हालत को देखते हुए शिमला रेफर किया गया है। हादसे के बाद मौके पर मौजूद लोगों ने 108 एंबुलेंस की सहायता से घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मारकंड पहुंचाया। जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायल चालक और परिचालक को शिमला रेफर कर दिया जबकि हादसे में 3 अन्य घायलों का उपचार स्वास्थ्य केंद्र मारकंड में ही चल रहा है। वहीं, हादसे के बाद NH पर जाम लग गया । स्थानीय लोगों ने घायलों को अस्पताल में पहुंचाने के बाद सड़क से पर लगे जाम को खुलवाया। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची और घटना का मामला दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि हादसे के समय ट्रक काफी तेज गति से चल रहा था। जिस कारण ट्रक चालक अपना नियंत्रण खो बैठा और सीधे ट्रैवलर को टक्कर मार दी । हालांकि ट्रैवलर चालक ने बस को बचाने की काफी कोशिश की और बस को साइड में घुसा दिया लेकिन ट्रक ने फिर भी बस को अपनी चपेट में ले लिया।


डिप्टी सीएम के स्वागत में कटी लोगों की जेब

डिप्टी सीएम के स्वागत के लिए आए लोगों की काट रहा था जेब, आरोपी गिरफ्तार


पंचकूला। पंचकूला में उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की सुरक्षा में सेंध का मामला सामने आया हैं। इसमें पुलिस ने पीडब्लूडी रेस्ट हाउस के पास से एक जेब कतरे को पकड़ा है। जोकि डिप्टी सीएम का स्वागत करने के लिए आए हुए लोगों की जेब काट रहा था। बता दें कि आरोपी ने महेंद्रगढ़ से जेेजेपी जिला अध्यक्ष के साथ आया हुए राजेश अग्रवाल की जेब से 14 हजार रूपये की चोरी की, लेकिन मौके पर मौजूद पुलिस ने आरोपी को जेब काटते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। वहीं पुलिस पूछताछ में पता चला कि आरोपी का नाम मनीष है जोकि पानीपत शहर का रहने वाला है। फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया हैं।


500 पेटी अवैध शराब के साथ 1 गिरफ्तार

बिलासपुर: खारसी में दुकान से 500 पेटी अवैध शराब बरामद, 1 गिरफ्तार


अमित शर्मा


बिलासपुर। बिलासपुर पुलिस की टीम ने एक दुकान से 500 पेटी अबैध शराब बरामद की है। पुलिस ने शराब को कब्जे में लेकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान नीलम कुमार (33) निवासी साई कनेती खारसी बिलासपुर के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार एसआईयू टीम को गुप्त सूचना मिली थी कि खारसी के एक दुकानदार ने अपनी दुकान के नीचे बने स्टोर में शराब रखी है। सूचना के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दुकान में छापा मारा तो स्टोर से अवैध शराब की 500 पेटियां बरामद की गई। पुलिस ने मौके पर शराब को कब्जे में लेकर आरोपी दुकानदार को गिरफ्तार कर लिया है। मामले की पुष्टि करते हुए डीएसपी बिलासपुर संजय शर्मा ने बताया कि पुलिस सुरक्षा शाखा टीम और पुलिस चौकी खारसी की टीम ने संयुक्त रूप से कार्रवाई की है और एक बड़ा जखीरा शराब का पकड़ा गया है। उन्होंने बताया की इस मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है कि वे इतनी भारी मात्रा में अवैध शराब की खेप कहां से लाया और इसे कहां सप्लाई करना था।


35 लाख की ब्राउन शुगर के साथ 1 गिरफ्तार

करीब 35 लाख कीमत की ब्राऊन शुगर के साथ एक गिरफ्तार


अमित शर्मा


अम्बाला। हरियाणा पुलिस रेवाडी की सीआईए टीम ने रेलवे चैक से करबी 35 लाख रुपए कीमत की ब्राऊन सुगर के साथ एक तस्कर को गिरफ्तार किया है। 
पुलिस प्रवक्ता के अनुसार तस्कर की पहचान राजस्थान के पाली के गांव आकड़ावास निवासी बादरराम के रूप में हुई है।आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। 
प्रवक्ता के अनुसार सोमवार की रात सी आई ए टीम नईवाली चैक के पास अपनी टीम के साथ रूटीन गश्त कर रहे थे। इसी दौरान सूचना मिली की एक संदिग्ध व्यक्ति रेलवे चैक पर सार्वजनिक शौचालय के पास खड़ा हुआ है। देखने में वह नशा तस्कर लग रहा है। सूचना के तुरंत बाद सीआईए की टीम ने रेलवे चैक को घेर लिया। इसी बीच वहां खड़ा व्यक्ति भागने लगा। लेकिन पुलिस टीम ने उसे दबोच लिया। सीआईए टीम ने इसकी सूचना तुरंत डीएसपी मोहम्मद जमाल को दी। सूचना के बाद डीएसपी भी मौके पर पहुंच गए। उसके बाद आरोपी बादरराम के पास बैग की तलाशी ली गई। तलाशी के दौरान अंदर एक पैकेट मिला। उसके बारे में पूछताछ की तो पता चला कि पैकेट में रखी ब्राऊन सुगर है। उसके बाद ब्राऊन सुगर का वजन तोला गया तो वह 734 ग्राम था। पकडी गई ब्राउन सुगर की अनुमानित बाजार कीमत 35 लाख रुपए बताई गई है। 
आरोपी को कोर्ट में पेशकर पूछताछ के लिए रिमांड पर लिया जाएगा।
-एसपी ने थपथपाई पीठ
नशे के खिलाफ रेवाड़ी पुलिस की यह बहुत बड़ी कार्रवाई है, क्योंकि ड्रग्स जैसे नशे में फंसकर युवा वर्ग अपना जीवन खराब कर रहे है। सीआईए रेवाड़ी की टीम द्वारा की गई इस कार्रवाई पर पुलिस अधीक्षक नाजनीन भसीन ने सीआईए इंचार्ज विद्या सागर व उनकी टीम की प्रशंसा करते हुए पीठ थपथपाई है।


सुलझा '312 लापता' लोगों का रहस्य ?

चंडीगढ़ः स्मार्ट शहर स्मार्ट पुलिस, फिर भी आज तक नहीं सुलझा 312 लापता लोगों का रहस्य



अमित शर्मा


चंडीगढ़। शहर स्मार्ट, पुलिस स्मार्ट, फिर भी 312 लापता लोगों का रहस्य अभी तक अनसुलझा है। ये लोग पिछले पांच साल से अपनों से दूर हैं। पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 2015 से अब तक 1728 लोग लापता हुए हैं। इनमें से 1416 लोगों को तलाशा जा चुका है, जबकि 312 ऐसे हैं जिनका अब तक कोई पता नहीं चला है। सबसे ज्यादा लापता होने का आंकड़ा मलोया, मनीमाजरा और सेक्टर-11 थाने के अंतर्गत है, जहां क्रमश: 100, 77 और 41 लोगों को आंकड़ा है। पुलिस इन्हें अब तक तलाशने में नाकाम साबित हुई है। जनवरी 2015 से शहर के अलग-अलग जगहों से 1728 लोगों के लापता होने की पुलिस को सूचना मिली। इनमें से ज्यादातर बच्चे, स्कूली छात्रा, महिलाएं समेत बुजुर्ग हैं। शिकायत पर संबंधित थाना पुलिस ने कुछ केसों में डीडीआर और बाकी के मामलों में केस दर्ज किया। इनमें अधिकतर लापता लोग बाद में अपने आप ही घर लौट आए। कई मामलों में पुलिस ने इनकी तलाश कर घरवालों के चेहरे पर खुशियां ला दीं। 1728 में से 1416 लोगों को पुलिस तलाश चुकी है। 312 मामले अब भी अनसुलझे हैं। लापता में ज्यादातर नाबालिग पुलिस आंकड़ों के मुताबिक ज्यादातर मामलों की शिकायत नाबालिगों के लापता होने की है। ज्यादातर बच्चे घर से गुस्सा होकर या फिर उनकी जिद पूरी नहीं होने पर लापता हो जाते हैं और कुछ दिन बाद घर लौट आते हैं। इनमें से कई ऐसे भी हैं जो शहर के बाहर घूमना जाना चाहते हैं, लेकिन परिवार वालों के मना करने के बावजूद वह बिना बताएं भाग जाते हैं। हाल ही में सेक्टर-41 निवासी 16 साल का 11वीं का छात्र अचानक घर लापता हो गया था। हालांकि बाद में वह खुद ही लौट आया। पूछने पर पता चला कि दिल्ली घूमने गया था। लगभग हर दिन एक शख्स हो रहा है लापता जनवरी 2015 से दिसंबर 2019 तक शहर के अलग-अलग थानों में लापता होने के 1728 मामले सामने आए। इनमें से सेक्टर-3 थाने से 30, सेक्टर-11 से 206, सेक्टर-17 से 34, सेक्टर-19 से 123, सेक्टर-26 से 121, सेक्टर-31 से 95, सेक्टर-34 से 108, सेक्टर-36 से 63, सेक्टर-39 से 178, सेक्टर-49 से 22, मलोया से 130, इंडस्ट्रियल एरिया से 69, सारंगपुर से 42, मौलीजागरां से 74, आईटी पार्क से 36 और मनीमाजरा थाने से पुलिस 130 लोगों को तलाश कर चुकी है। यानी शहर में हर दिन कोई न कोई न शख्स लापता हो रहा है।


बाल विकास विभाग भी दे गीता को सहायता

गीता देवी के परिवार को बिना शर्त के नोकरी दे प्रदेश सरकार दमयंती कहा,स्वस्थ्य विभाग सहित बाल विकास विभाग भी दे गीता के परिवार को मुआवजा


अमित शर्मा


मनाली। आंगनवाड़ी कर्मचारी जिला संघ कुल्लू  सवन्धित भारतीय मजदूर संघ की अध्यक्ष दमयंती राजपूत और जिला की समस्त कार्यकारिणी ने पोलियो डियूटी के दौरान आंगनवाड़ी कार्यरता गीता देवी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है तथा प्रभावित परिवार के प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट की है। उन्होंने कहा कि पोलियो डियूटी के दौरान गीता देवी की बर्फ में पांव पिसलने से मौत हो गई थी। इस घटना से आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओ में शोक छा गया है। दुख की घड़ी में हिमाचल का पूरा आंगनवाड़ी कर्मचारी संघ गीता के परिवार के साथ  खड़ा है। दमयंती ने  कहा कि प्रदेश सरकार गीता के परिवार वालों को बिना शर्त सरकारी नोकरी दे। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के साथ साथ  बाल विकास विभाग भी गीता के परिवार को उचित मुआवजा प्रदान करे।  राजपूत ने कहा कि गीता देवी ने अपने कर्तव्य का पालन करते हुए समाज के लिये अपनी जान दी है। 
उन्होंने कहा की आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं की सुरक्षा राम भरोसे है।  आंगनवाड़ी कार्यकर्ता  अपने कर्तव्य से पीछे नही हटती है। जिस भी क्षेत्र में उनकी डियूटी लगाई जाती है वहां वो पूरी निष्ठा व ईमानदारी से काम करती है। उन्होंने प्रदेश सरकार से आग्रह किया की आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकाओं की सुरक्षा व्यवस्था पर भी विचार किया जाए और सभी के भविष्य को सुरक्षित किया जाए। दमयंती ने कहा कि सरकार उनकी इन मांगों को नही मानती है तो आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सड़क पर उतरने को विवश होंगे।


शिविर में 200 ने कराई 'स्वास्थ जांच'

ॐ दुर्गा युवक मंडल व नेहरू युवा केन्द्र ने नरोगी में करवाया स्वास्थ्य शिविर 
200 लोगों ने इस कैंप में अपना स्वास्थ्य जांच करवाया 


अमित शर्मा


कुल्लू। नरोगी गांव में नेहरू युवा केन्द्र कुल्लू और ओम दुर्गा युवा मंड़ल के संयुक्त तत्वावधान में स्वास्थय और नेत्र जांच शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर की ओपनिंग नेहरू युवा केंद्र के जिला युवा समन्वयक सोनिका चन्द्रा और ग्राम पंचायत के उपप्रधान प्यारे लाल ने की । युवक मंडल के प्रधान रविन्द्र ठाकुर ने युवक मंडल की ओर से सभी का स्वागत किया। सोनिका चन्द्रा ने नेहरू युवा केन्द्र के बारे में जानकारी दी और कहा कि युवक मंडल गांव के विकास के लिए बेहतर कार्य कर रहे हैं। अगर जिला के प्रत्येक पंचायत में युवक मंडल गांव के विकास के लिए कार्य करे तो गांव के विकास में योगदान सराहनीय है। आज पुरे भारत वर्ष में युवक मंडल और महिला मंडल देश के विकास में बेहतर कार्य कर रहे हैं। लोगों को आने वाले पंचायती राज के चुनावों में ज्यादा से ज्यादा वोट करने की अपील की और जिन युवाओं की आयु 18 वर्ष हो चुकी है, वो वोटर लिस्ट में अपना नाम शामिल करे और 2020 में होने वाले चुनावों में अपनी सहभागिता करें। वहीं ग्राम पंचायत के उपप्रधान प्यारे लाल और सोनिका चन्द्रा ने और ने गांव में पोधा रोपण भी किया। युवक मंडल के रविन्द्र ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि नरोगी गांव में पहली बार इस तरह के स्वस्थय शिविर का आयोजन किया गया। जोकि नरोगी गांव के इतिहास में पहली बार हुआ है। रविन्द्र ने कहा की युवक मंडल गांव के विकास के लिए हर तरह के जागरूकता शिविर आयोजित कर रहा है और ज्यादा से ज्यादा लोगों को सुविधा उपलब्ध करवा रहा। शिविर के दौरान 70 लोगों के नेत्र जांच की गई जिसमें 6 लोगों को सरर्जरी के लिए सलाह दी गई। दूसरी ओर 130 लोगों ने स्वस्थय जांच करवाई। कुल 200 लोगों ने इस कैंप में अपना स्वस्थय जांच करवाया जिसमें 75 साल की मायादासी ने भी अपना स्वस्थय जांच करवाई। कार्यक्रम के दौरान डाक्टर निर्मल शर्मा, विशाल कुमार, प्रीतमसिंह,ओम दुर्गा युवा मंड़ल,शक्ति महिला मंडल शौरन,भागा सिद्व महिला मंडल के सदस्य शिविर के दौरान उपस्थित रहे।


सबसे पुराने सेक्टर की हालत देहात के जैसी

चंडीगढ़ शहर का सबसे पुराना सेक्टर-20, लेकिन हालात गांव जैसे


अमित शर्मा


चंडीगढ़। शहर के सबसे पुराने सेक्टर-20 की अगर बात करें तो आजादी के 72 साल के बाद भी यहां के लोग मूलभूत सुविधाओं के लिए तरस रहे हैं। सेक्टर-20 के हालात शहर के गांवों से बदतर हो चुके हैं। सेक्टर की सड़कों पर जगह-जगह गड्ढे और पार्किग की समस्या से आए दिन यहां के लोग जूझ रहे हैं। प्रशासन और नगर निगम यहां की सुध तक लेने के लिए तैयार नहीं। सेक्टर-20 के रेजिडेंट्स लगातार अपनी समस्या नगर निगम और प्रशासन को बताते आ रहे हैं। लेकिन अफसरशाही पर कोई असर नहीं दिख रहा है। सेक्टर-20 की सड़कों की वर्षो से नहीं हुई रीकारपेटिग सेक्टर-20 में सड़कों की हालत खस्ता हो चुकी है। जगह-जगह सड़कों पर गड्ढे हैं। इन गड्ढों की वजह से दोपहिया वाहन सवार चोटिल हो रहे हैं। यहां के रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन और सीनियर सिटीजन एसोसिएशन की ओर से कई बार नगर निगम को सड़कों की रीकारपेटिग को लेकर कहा जा चुका है। लेकिन सेक्टर-20 की खस्ता हालत सड़कों पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। पार्किग की नहीं जगह, सड़कों पर लगता है जाम। सेक्टर-20 में लोगों को आए दिन पार्किंग की समस्या झेलनी पड़ती है। पार्किंग की पर्याप्त जगह न होने के कारण लोगों को मजबूरन अपनी गाड़ियां घर के बाहर सड़कों और पार्कों में खड़ी करनी पड़ती है, जिससे जाम की स्थिति पैदा हो जाती है और लोगों में भी विवाद होता है। वहीं, बच्चों के खेलने के लिए बने पार्कों में रेजिडेंट्स अपनी गाड़ियां पार्क करने के लिए मजबूर हैं। जिसकी वजह से बच्चों को पार्क में खेलने को नहीं मिलता। बच्चों के लिए जो पार्क बनाए गए हैं, उनमें नगर निगम द्वारा लगाए झूले टूट चुके हैं। बुजुर्गों, महिलाओं और युवाओं के लिए पार्क में बैठने के लिए लगे बेंच भी टूट चुके हैं। लेकिन नगर निगम इस ओर ध्यान नहीं देर रहा है। सेक्टर-20 में अकसर सीवरेज की प्रॉब्लम रहती है। ग्रीन बेल्ट में बच्चों के खेलने के लिए लगे झूले टूटे पड़े हैं। सड़के की हालत खस्ता हो चुकी है। सालों से सेक्टर-20 की सड़कों की रीकारपेटिग नहीं हुई है। रजेश गुप्ता, रेजिडेंट, सेक्टर-20 आजाद मार्केट में लोगों के बैठने के लिए बेंच तक नहीं हैं। सेक्टर की बाकी सभी मार्केट में लोगों के बैठने के लिए बेंच लगे हैं। सड़कों में जगह-जगह गड्ढे हैं, जिनसे हादसे हो रहे हैं। पार्किग की जगह न होने के कारण लोगों को अपने घरों के बाहर सड़कों के किनारे गाड़ी पार्क करनी पड़ती है। जिसकी वजह से अकसर सेक्टर में ट्रैफिक जाम की समस्या रहती है। सोनू, रेजिडेंट, सेक्टर-20 सेक्टर-20 में मस्जिद के पास अकसर कूड़ा जमा रहता है। यहां सफाई नहीं की जाती है। जिसके कारण मस्जिद के आसपास के घरों में रहने वाले लोगों को बहुत दिक्कत होती है। लोगों को रोजाना पार्किंग के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। हरमेल केसरी, रेजिडेंट, सेक्टर-20 सेक्टर-20 में जितने भी पार्क हैं, उनमें चूहों ने सुरंग बना ली हैं। जिसकी वजह से बच्चे पार्क में खेलने नहीं जाते हैं। पार्कों की मेंटेनेंस सही ढंग से नहीं हो रही है। सेक्टर-20 ए की तरह सरोवर पथ पर गारबेज बिन में सफाई नहीं होती है। यहां से कूड़े नहीं उठाया जाता है।


रिश्वत लेते 'सहायक थानेदार' रंगे हाथ काबू

20 हजार रिश्वत लेते सहायक थानेदार रंगे हाथ काबू


अमित शर्मा


डेराबस्स। विजिलेंस ब्यूरो, फ्लाइंग स्क्वायड, पंजाब पुलिस के उपकप्तान बरजिन्दर सिंह के नेतृत्व मेें विजिलेंस ब्यूरो की टीम ने ट्रैप लगाकर सहायक थानेदार ओंकार सिंह को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। टीम ने यह कार्रवाई शिकायत पर की है। परमजीत सिंह विर्क पीपीएस एआईजी फ्लाइंग स्क्वायड विजिलेंस ब्यूरो, पंजाब ने बताया कि राजू पुत्र बालक राम निवासी वार्ड नंबर 11 डेराबस्सी ने शिकायत दी थी कि वह ट्रक चलाता है। उसकी लड़की की शादी फरवरी 2018 में हुई थी। कुछ समय बाद ही लड़की का ससुराल परिवार दहेज के लिए उसे परेशान करने लगा था। इसके चलते उसने अप्रैल 2019 में एक शिकायत एसएसपी मोहाली को दी थी जिसकी जांच एएसआई ओंकार सिंह कर रहे थे। ओंकार सिंह शिकायतकर्ता को बार-बार अपने पास बुला लेता था लेकिन उसकी शिकायत पर कोई काम नहीं करता था। इसके बाद ओंकार सिंह ने शिकायतकर्ता को बुलाकर रिपोर्ट उसके हक में लिखने के बदले 20 हजार रुपये रिश्वत की मांग की। इस पर उसने विजिलेंस के पास उसकी शिकायत कर दी।
इसके बाद शिकायत पर कार्रवाई करते हुए सहायक थानेदार को ट्रैप लगाकर सोमवार को विजिलेंस की टीम ने थाना डेराबस्सी से रिश्वत लेते हुए दो सरकारी गवाहों की हाजिरी में रंगे हाथों गिरफ्तार किया और उससे रिश्वत के 20 हजार रुपये की रकम भी बरामद की गई है। मामले की पूरी जानकारी लेने के लिए एसएचओ डेराबस्सी को फोन किया पर उन्होंने फोन नहीं उठाया।


खतराः ज्यादा टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल

स्पेशल रिपोर्ट: छात्र अपनी पढ़ाई के प्रति कम रुचि दिखा रहे हद से ज्यादा कर रहे है टैक्नोलॉजी का इस्तेमाल


अमित शर्मा


चंडीगढ़। हद से ज्यादा टैक्नोलॉजी का इस्तेमाल करने वाले छात्र अपनी पढ़ाई के प्रति कम रुचि दिखा रहे हैं। इसके अलावा वे टैस्ट का पता लगते ही बेचैन भी हो जाते हैं। यूके की स्वानसी यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने शोध के दौरान छात्रों के डिजिटल टेक्नॉलजी इस्तेमाल  करने के पैटर्न, उनकी चिंता, अकेलापन, पढ़ाई और प्रेरणा का आंकलन किया है। जनरल ऑफ कंप्यूटर असिस्टेड लर्निंग में हुए इस शोध में 285 छात्रों को शामिल किया गया, जो हेल्थ से जुड़े एक डिग्री कोर्स की पढ़ाई कर रहे थे। इस दौरान पाया गया कि जिन छात्रों को इंटरनेट की लत पड़ जाती है उनके लिए पढ़ाई करना कठिन हो जाता है और एग्जाम आने पर वे ज्यादा बेचैन होने लगते हैं। शोधकर्ताओं ने तो यह भी बताया है कि इंटरनेट की लत से छात्रों को अकेलापन भी महसूस होता है, जिससे पढ़ाई कर पाना और भी मुश्किल हो जाता है। स्टडी के मुताबिक, छात्र मुख्यतौर पर इंटरनेट का इस्तेमाल 40% सोशल नेटवर्किंग और 30% जानकारी प्राप्त करने के लिए कर रहे हैं। इसके बाद शोधकर्ताओं ने कहा कि लत और कम सामाजिक मेलजोल मिलकर ही व्यक्ति को अकेलापन महसूस कराते हैं।


कमल के भरोसे चुनाव लड़ने को 'कमर कसी'

अकाली उम्मीदवार कमल के फूल के भरोसे चुनाव लडऩे के लिए तैयार बैठे 


अमित शर्मा


नई दिल्ली।  शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह आजकल दिल्ली डेरे लगाकर अपने हिस्से आती 4 विधान सभा सीटों कालका, शाहदरा, रिजौरी गार्डन और हरि नगर में अकाली तकड़ी के चुनाव निशान और चुनाव के लिए जुगतबंदी बनाकर अड़े बताए जा रहे हैं। इन हलकों में चुनाव लडऩे वाले दिल्ली के अकाली उम्मीदवार कमल के फूल के भरोसे चुनाव लडऩे के लिए तैयार बैठे बताए जा रहे हैं, क्योंकि दिल्ली बैठे इन उम्मीदवारों को पता है, कि पिछले 2 सालों में अकाली-भाजपा में आई खटास व हरियाणा में अकाली दल की तरफ से अलग होकर लड़े चुनाव एवं लोक सभा चुनाव में मिली हार को लेकर भाजपा लीडरशिप तथा वर्कर अकाली दल के साथ अब वह पहले वाला प्यार और सांझ नहीं दिखा रहे। जबकि भाजपा भी इस बार दिल्ली में ‘करो या मरो लेकिन राज हासिल करो’ की स्थिति के चलते एक भी सीट गंवाने से पहले सौ बार सोच रही है। दिल्ली से मिली खबरों के मुताबिक दिल्ली भाजपा 2015 के चुनाव के उनके नतीजे को आगे रखकर तत्कालीन हालात को आज के हालात के साथ जोड़कर अकाली दल के साथ सीधे मुंह बात भी नहीं कर रही क्योंकि 2015 में इन 4 सीटों में से 3 स्थानों पर कमल फूल और अकाली उम्मीदवारों ने चुनाव लड़े थे। और 1 सीट रजौरी गार्डन से सिरसा ने तकड़ी चुनाव निशान पर चुनाव लड़ा था, ये चारों हार गए थे। और बाद में जनरल के इस्तीफे के बाद रजोरी गार्डन के उपचुनाव में सिरसा जीते थे। सूत्रों ने बताया कि दिल्ली में अकाली समर्थक उम्मीदवार तकड़ी की अपेक्षा कमल के फूल पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं। अब फैसला ऊपरी हाईकमान के पास जाने के बाद सुखबीर सिंह बादल चारों सीटों पर चुनाव लडऩे के लिए अड़े बताए जा रहे हैं।


'सीआईडी चीफ' को लेकर, गृह मंत्री सख्त

सीआईडी चीफ को लेकर सख्त गृहमंत्री विज, नहीं हटाया तो आगे की देखी जाएगी


अमित शर्मा


चंडीगढ़। सीआईडी को लेकर चल रहे विवाद को लेकर एक बार फिर हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कैमरे के सामने बोला है कि उन्होंने सीआईटी चीफ को हटाने के लिे कहा है। उन्होंने बताया कि सीआईडी चीफ मेरे बार बार करने के बावजूद भी मुझे इंटेलिजेंस की इनपुट नहीं दे रहे थे। इससे प्रदेश की शांति को खतरा हो सकता है। अगर मेरे पास इनपुट नहीं होगा तो मैं कार्यवाही कैसे करुंगा। अनिल विज ने कहा कि मेरे बार बार कहने के बाद भी अधिकारी नहीं माने तो पूछना मेरी ड्यूटी बनती है। सीआईडी विभाग किसी के पास रहरे लेकिन मैं गृहमंत्री हूं मुझे रिपोर्टिंग करनी ही पड़ेगी। मुझे गृहमंत्री होने के नाते खुद को तैयार रखना पड़ता है। इसलिए मेरे पास सूचनाएं होना जरुरी है। सीआईडी चीफ को हटाने के मामले में बोलते हुए अनिल विज ने कहा कि मैंने कार्रवाई के आदेश दिये हैं। क्योंकि यह बहुत बड़ी लापरवाही है। प्रदेश की जनता की जिंदगी का सवाल है, अगर कोई अप्रिय घटना होती है तो उसके लिए गृह विभाग जिम्मेदार होता है। वहीं उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के साथ किसी प्रकार की कोई खींचतान नहीं है। मुख्यमंत्री ही ऑल इन ऑल होते हैं। जब चाहे विभाग ले सकते हैं और मंत्री को दे सकते हैं।अनिल विज ने कहा कि सीआईडी चीफ अनिल राव को नहीं हटाया गया तो आगे की बात देखी जाएगी।


7 घंटे इंतजार के बाद, 'एके का नामांकन'

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 7 घंटे के इंतजार के बाद अपना नामांकन पत्र दाखिल किया। इससे पहले उन्होंने ट्वीट किया था कि वह नामांकन पत्र दाखिल करने के लिए लाइन में खड़े हैं। केजरीवाल ने ट्वीट किया, अपना नामांकन पत्र भरने का इंतजार कर रहा हूं। मेरा टोकन नंबर 45 है। यहां नामांकन दाखिल करने के लिए अनेक लोग हैं। मुझे खुशी है कि इतने अधिक लोग लोकतंत्र में भागीदारी कर रहे हैं। बता दें कि 'आप' के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल को अपना नामांकन पत्र सोमवार को दाखिल करना था, लेकिन अपने रोड शो के कारण विलंब के चलते वह ऐसा नहीं कर पाए। केजरीवाल ने कहा, अगले पांच साल की यात्रा अब यहां से शुरू होती है। दिल्ली में हुए अच्छे काम की तरह मैं उम्मीद करता हूं कि अगले पांच साल में भी अच्छा काम होगा। उन्होंने कहा कि विपक्षी दलों का उद्देश्य जहां उन्हें हराने का है, वहीं उनका उद्देश्य भ्रष्टाचार को हराना और दिल्ली को आगे ले जाने का है। केजरीवाल ने कहा, भाजपा, कांग्रेस, लोजपा, जजपा, जदयू और राजद साथ आ गए हैं।


ज्यादातर विद्याओं की फिल्मो का अनुभव

मुंबई। ड्रामा, रोमांस, कॉमेडी और ऐतिहासिक विधा की फिल्में कर चुकीं अभिनेत्री कृति सैनन का कहना है कि बतौर अभिनेत्री वह हर विधा की फिल्में करना चाहती हैं और खुद को एक्सप्लोर करना चाहती हैं। कृति ने कहा कि यहां हर कोई अलग-अलग तरह की फिल्में पसंद करता है। अगर मैं हर प्रकार के दर्शकों का मनोरंजन करना चाहती हूं और अलग-अलग विधा वाली फिल्मों में खुद को एक्सप्लोर करना चाहती हूं तो ऐसा इसलिए है क्योंकि यह बेहद मजेदार है अन्यथा आप एक ही तरह की विधा और किरदार में फंस कर रह जाते हैं और यह नीरस हो जाता है। उन्होंने कहा कि वह हर विधा व शैली और हर किरदार को करना चाहती हैं और खुद को किसी दायरे में सीमित नहीं रखना चाहती। इन दिनों कृति फिल्म 'मिमी' की रिलीज की तैयारियां कर रही हैं, जो सरोगेसी पर आधारित है। इसमें कृति एक युवा सरोगेट मां की भूमिका में हैं।


श्रीराम 'निर्भय-पुत्र'


सहायक संपादक


'भारत में भूख' से एक 'दर्दनाक मौत'

अंबिकापुर। मासूम बच्चे के साथ भटक कर अंबिकापुर पहुंची महिला की पहचान हो गई है। खाना नहीं मिलने से महिला के गोद में ही बच्चे की मौत हो गई थी। सोशल मीडिया के माध्यम से खबर मिली तो परिजन अंबिकापुर पहुंचे। यहां चार दिन बाद बच्चे के शव का पीएम कराया गया। शॉर्ट पीएम रिपोर्ट में चिकित्सकों ने बच्चे की मौत भूख से होने से पुष्टि की।



गौरतलब है कि भटक कर अंबिकापुर पहुुंची महिला का नाम गीता विश्वकर्मा है। उसका ससुराल झारखंड के छतरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम लोहराही में है। पति सत्येंद्र विश्वकर्मा व सौतन द्वारा आए दिन उससे मारपीट व प्रताडि़त किया जाता था। प्रताडऩा से परेशान होकर मायके वाले महिला को दिसंबर में अपने घर गोदरमाना थाना क्षेत्र के ग्राम हारदोहर ले लाए थे।


महिला ढाई वर्षीय बेटे के साथ मायके में रह रही थी, जबकि तीन बच्चों को वह ससुराल में ही छोड़ आई थी। 17 जनवरी की शाम महिला बच्चे को गोद में लेकर मायके से निकल गई थी। उधर मायके वाले महिला व बच्चे को तलाश भी कर रहे थे। महिला छतरपुर की बस मेंचढऩे की बजाय छत्तीसगढ़ आने वाली बस में बैठ गई थी और भटक कर अंबिकापुर पहुंच गई। 18 दिसंबर की रात 11.30 बजे महिला ढाई वर्षीय पुत्र को मृत अवस्था में गोद में लेकर भटकती रो रही थी। इस दौरान प्रतीक्षा बस स्टैंड पुलिस को उस पर नजर पड़ी तो उसे तत्काल मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेजा गया। यहां चिकित्सकों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद महिला सदमे में आ गई थी और कुछ बताने की स्थिति में नहीं थी। इस दौरान महिला अस्पताल के सेप्टिक टैंक में कूदकर जान देने की भी कोशिश की थी। इसके बाद से महिला को महिला पुलिस की निगरानी में इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल में ही भर्ती कराया गया और बच्चे के शव को मरच्यूरी में रखवा कर पुलिस परिजन के आने का इंतजार कर रही थी।



सोशल मीडिया से परिजन को मिली जानकारीः अचानक बच्चे के साथ महिला के गायब हो जाने से मायके वाले भी परेशान थे। वे अपने रिश्तेदारों से बातचीत कर महिला की तलाश कर रहे थे। इधर अंबिकापुर पुलिस ने घटना के संबंध में वाट्सएप्प के माध्यम से महिला की फोटो वायरल की थी। वाट्सएप्प के ही माध्यम से परिजन को पता चला तो मंगलवार को महिला के भाई रामा विश्वकर्मा, अरुण विश्वकर्मा व जीजा गिरजा विश्वकर्मा अंबिकापुर पहुंचे।



परिजन के आने के बाद हुआ पीएमः मां के गोद में बच्चे की मौत हो जाने से सभी असमंजस में थे। लोग तरह-तरह की चर्चा कर रहे थे। चार दिन से बच्चे का शव परिजन के इंतजार में मरच्यूरी में रखा हुआ था। मंगलवार को परिजन के पहुंचने के बाद शव का पीएम डॉ. संजीव खाखा द्वारा किया गया। पीएम करने के बाद चिकित्सक ने परिजन को बताया कि बच्चे के पेट में अन्न का एक दाना भी नहीं था। इससे बच्चे की मौत भूख से हुई होगी। वहीं चिकित्सक ने इस्टो पैथो जांच के लिए भेज दिया है।


नहीं पहुंचे ससुराल वालेः महिला की शादी झारखंड के छतरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम लोहराही निवासी सत्येंद्र विश्वकर्मा से हुई है। सत्येंद्र पूर्व से भी शादीशुदा है। उसे पहली पत्नी से बच्चे नहीं हो रहे थे, इस कारण उसने दूसरी शादी गीता विश्वकर्मा से की थी। शादी के बाद गीता के चार बच्चे हैं। इसके बाद पति व सौतन द्वारा उसके साथ मारपीट व प्रताडि़त किया जाता था। इससे महिला परेशान रहती थी। घटना की जानकारी मायके वालों ने उसके पति को भी दी लेकिन उसने आने से इंकार कर दिया।


दुष्प्रचार करके पार्टियां फैला रही भ्रम

लखनऊ। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि सीएए पर विरोधी पार्टियां दुष्प्रचार करके और भ्रम फैला रही हैं इसीलिए भाजपा जन जागरण अभियान चला रही है, जो देश को तोड़ने वालों के खिलाफ जन जागृति का अभियान है। कांग्रेस,ममता बनर्जी,अखिलेश,मायावती,केजरीवाल सभी इस बिल के खिलाफ भ्रम फैला रहे हैं। इस बिल को लोकसभा में मैंने पेश किया है। मैं विपक्षियों से कहना चाहता हूं कि आप इस बिल पर सार्वजनिक रूप से चर्चा कर लो। ये अगर किसी भी व्यक्ति की नागरिकता ले सकता है तो उसे साबित करके दिखाओ। यह बात गृहमंत्री शाह ने लखनऊ के बंगला बाजार स्थित रामकथा पार्क में रैली को संबोधित करते हुए कही। गृहमंत्री ने कहा कि देश में सीएए के खिलाफ भ्रम फैलाया जा रहा है, दंगे कराए जा रहे हैं।
सीएए में कहीं पर भी किसी की नागरिकता लेने का कोई प्रावधान नहीं है, इसमें नागरिकता देने का प्रावधान है। इस बिल में किसी की नागरिकता लेने का प्रावधान नहीं है। पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश में रहने वाले अल्पसंख्यकों पर वहां अत्याचार हुए, वहां उनके धार्मिक स्थल तोड़े जाते हैं। वो लोग वहां से भारत आए हैं। ऐसे शरणार्थियों को नागरिकता देने का ये बिल है। अमित शाह ने कहा कि मैं वोट बैंक के लोभी नेताओं को कहना चाहता हूं, आप इनके कैंप में जाइए, कल तक जो सौ-सौ हेक्टेयर के मालिक थे वे आज एक छोटी सी झोपड़ी में परिवार के साथ भीख मांगकर गुजारा कर रहे हैं। कांग्रेस के पाप के कारण धर्म के आधार पर भारत के दो टुकड़े हुए। पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों की संख्या कम होती रही। आखिर कहां गए ये लोग? कुछ लोग मार दिए गए, कुछ का जबरन धर्म परिवर्तन किया गया।


कॉलेज मैनेजमेंट का विवाद हुआ समाप्त

जौनपुर। लगभग 4 दशक के विवाद के बाद नगर की बीआरपी इण्टर कालेज के मैनेजमेंट का विवाद समाप्त हो गया। साथ ही नयी टीम ने कालेज के विकास का कार्य भी शुरू कर दिया।


बता दें कि मुक्तेश्वर प्रसाद बालिका इण्टर कालेज व बीआरपी इण्टर कालेज कायस्थ पाठशाला सोसाइटी के अन्तर्गत संचालित हैं। इस बाबत सोसायटी के अध्यक्ष रविन्द्र अस्थाना ने बताया कि एक समय था कि यह कालेज कोएजुकेशन की श्रेणी में शामिल था जिसमें विज्ञान की पढ़ाई एक स्थान रखती थी लेकिन प्रबंधकीय विवाद के चलते कालेज की स्थिति बिगड़ती चली गयी। हालांकि वर्ष 2006 में सोसाइटी का विवाद उच्चतम न्यायालय से खत्म हो गया जिसके बाद मुक्तेश्वर प्रसाद बालिका इण्टर कालेज के प्रबंधक जीवन शंकर की जगह दिलीप श्रीवास्तव एवं सोसाइटी के अध्यक्ष रविन्द्र अस्थाना बनाये गये। इसी को लेकर बीते 16 दिसम्बर 2019 को न्यायालय के निर्देश पर नये प्रबन्ध तंत्र की मौजूदगी में हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव ने बीआरपी इण्टर कालेज के प्रबन्धक के रूप में कार्यभार संभाल लिया।
बताते चलें कि मुक्तेश्वर प्रसाद जो बीआरपी इण्टर कालेज के प्रबन्धक हुआ करते थे, के लड़के प्रेमशंकर व जीवन शंकर में प्रेमशंकर को मुक्तेश्वर प्रसाद की मृत्यु के बाद बीआरपी इण्टर कालेज का प्रबन्धक बना दिया गया था। वहीं जीवन शंकर को बीआरपी बालिका इण्टर कालेज का प्रबन्धक बनाया गया। बाद में जीवन शंकर ने बीआरपी बालिका इण्टर कालेज का नाम मुक्तेश्वर बालिका इण्टर कालेज करा दिया था। प्रबंधकीय व सोसाइटी की नियमावली के अनुसार मैनेजमेंट में वंशानुगत परम्परा नहीं होती है तथा उसमें करीबी रिश्तेदार को सदस्य या उप प्रबंधक नहीं बनाया जाता है। इसी को लेकर सोसाइटी से जुड़े लोगों ने चैलेंज कर दिया। वर्ष 1981 में प्रेमशंकर बीआपी इण्टर कालेज के प्रबन्धक हुये जिसके बाद वर्ष 1987 से बीआरपी इण्टर कालेज के प्रबंधकीय एवं सोसाइटी का विवाद शुरू हो गया। इसके बाद वर्ष 2006 में सोसाइटी के अध्यक्ष रविन्द्र अस्थाना की जीत हुई लेकिन एक लम्बी लड़ाई के बाद उच्च न्यायालय के निर्देश पर हरिश्चन्द्र श्रीवास्तव व रविन्द्र अस्थाना ने बाजी मारी। इस लड़ाई के दौरान सोसाइटी के अध्यक्ष रविन्द्र अस्थाना का दावा किया कि बीआरपी इण्टर कालेज के कुछ भवन को लेकर प्रेम शंकर श्रीवास्तव ने वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय से मान्यता लेकर मुक्तेश्वर महाविद्यालय की स्थापना कर लिया जिसकी शिकायत महामहिम राज्यपाल से भी की गयी है। उसकी जांच रिपोर्ट पूविवि के कुलपति के पास लम्बित है। उम्मीद है कि मुक्तेश्वर महाविद्यालय के मामले में शीघ्र ही कोई फैसला हो जायेगा।


'श्रद्धालु' ने 35 किलो वजन सोना चढ़ाया

मुंबई। आस्था और भक्ति के लिए समर्पण का एक अद्भुत उदाहरण देखने को मिला है। मुंबई स्थित लोकप्रिय सिद्धिविनायक मंदिर में एक श्रद्धालु ने तकरीबन 35 किलो वजन का सोना चढ़ाया है। सोने की कीमत बाजार में 14 करोड़ रुपये के आसपास बताई जा रही है। बता दें कि सिद्धिविनायक मंदिर मुंबई के सबसे ज्यादा लोकप्रिय मंदिरों में से एक है। जानकारी के मुताबिक, दिल्ली के रहने वाले श्रद्धालु ने हफ्ते भर पहले मंदिर को यह सोना दान में दिया था। मंदिर से जुड़े लोगों ने बताया कि सिद्धिविनायक मंदिर को हर साल करोड़ों का चढ़ावा आता है। यह मुंबई के सबसे अमीर मंदिरों में से एक है। श्रद्धालु द्वारा दान में मिले 35 किलो सोने का इस्तेमाल मंदिर के दरवाजे और छत बनाने में किया जाएगा। हालांकि, मंदिर ने दान देने वाले श्रद्धालु की पहचान उजागर करने से मना कर दिया है।


अंतिम सांस तक कैद में रहने की सजा

गूंगी पैरों से विकलांग 4 वर्षीया मासूम का किया था बलात्कार
जबलपुर। आरोपी रवि मशीह बल्द बब्ली मशीह उम्र पच्चीस वर्ष निवासी चाँदमारी तलैया घमापुर जबलपुर पर यह आरोप था कि उसने दिनांक 23-05-2017 रात्रि 8 से 9 के बीच कचहरी वाले बाबा की दरगाह के पास पेड़ के नीचे सो रही मासूम बच्ची का बलात्कार किया। मामला यह है कि आरोपी बच्ची के माँ बाप को जानता था और बच्ची की माँ ने उसको बच्ची सम्हालने के लिये कह कर रेलवे स्टेशन तक गई थी।



वह जब वापस आई तो उसने देखा की बच्ची के कपड़े गीले हैं तो उसने आरोपी से कहा कि बच्ची के कपढ़े गीले हैं, शायद बच्ची ने पेशाब कर ली है। जब उसने बच्ची के कपड़े उतारे तो उसने देखा की बच्ची के गुप्तांग से खून बह रहा है। तो उसने आरोपी रवि मसीह से पूंछा की तुमने बच्ची के साथ कुछ किया तो नहीं? जिस पर आरोपी रवि मसीह ने शराब के नशे में जवाब दिया की मैनें आपकी बच्ची के साथ बलात्कार किया है।


माँ बच्ची को लेकर विक्टोरिया अस्पताल भागी जहाँ पर प्राथमिक उपचार के बाद एल्गिन अस्पताल रिफर कर दिया गया। एल्गिन अस्पताल की सूचना पर थाना ओमती ने अपराध क्रमांक 235/17 पंजीबद्ध कर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायलय में पेश किया गया। आज दिनांक न्यायलय श्रीमान व्ही पी सिंह विशेष न्यायाधीश जबलपुर ने विशेष अभियोजक श्रीमती कृष्णा प्रजापति के तर्कों से संतुस्ट होकर आरोपी रवि मसीह को धारा 376 आई पी सी, 3, 4 पाक्सो एक्ट व एस सी एस टी एक्ट में दोषी सिद्ध करते हुए प्राकर्तिक जीवनकाल तक जेल में रहने की सजा सुनाई व बीस हजार रु. का अर्थदंड भी लगाया।



रिपोर्ट: डॉ. सिराज खान


कपिल सिब्बल ने पीएम पर बोला हमला

नई दिल्ली। वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने नागरिकता संशोधन कानून को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह पर झूठ बोलने का आरोप लगाया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा जो भी भारत में पैदा होता है उसे यहां की नागरिकता अपने आप ही मिल जाती है और जो व्यक्ति पिछले 11 सालों से देश में रह रहा हो उसे भी यहां की नागरिकता अपने आप मिल जाती है और जो लोग यहां की नागरिकता के लिए आवेदन करते हैं उन पर केंद्र सरकार विचार करती है। इन प्रावधानों के बाद इस मामले में धर्म का कोई लेना-देना नहीं है। कपिल सिब्बल ने आगे कहा कि मैं पीएम मोदी जी से कहना चाहता हूं कि संविधान और कानून में कहीं भी नागरिकता धर्म के आधार पर हो ऐसा कहीं नहीं लिखा है, इसीलिए हम इस नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे हैं क्योंकि यह धर्म के आधार पर है। कपिल सिब्बल यहीं पर चुप नहीं हुए उन्होंने पीएम मोदी पर हमला जारी रखते हुए कहा कि, मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को और गृह मंत्री अमित शाह को चुनौती देता हूं कि वो इस मुद्दे पर आकर मुझसे डीबेट करें।सिब्बल ने बताया 9 दिसंबर 2019 को अमित शाह ने लोकसभा में कहा था कि CAA के पास होने के बाद देश भर में NRC कराया जाएगा। इसलिए ये कहना झूठ है कि CAA और NRC में कोई संबंध नहीं है।
वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने आगे कहा कि आईएमएफ ये कहती है कि विकास दर 4.8 हो गया है। देश के 63 प्रतिशत ग्रेजुएट युवा बेरोजगार हैं देश में रोजगार है ही नहीं और आप बात कर रहे हैं नागरिकता कानून (CAA) और नागरिकता जनसंख्या रजिस्टर (NPR) की। कपिल सिब्बल ने पीएम मोदी और गृहमंत्री पर हमला जारी रखते हुए कहा कि ये लोग देश की समस्या को भूल चुके हैं इन्हें सिर्फ सत्ता चाहिए।


निगम के दफ्तर में आग, 10 की मौत

दिल्ली परिवहन निगम के दफ्तर में आग, दमकल की 8 गाड़ियां मौके पर


नई दिल्ली। दिल्ली के सिविल लाइन्स इलाके में सोमवार को दिल्ली नगर निगम दफ्तर में आग लग गई। सूचना पर दमकल विभाग की 8 गाड़ियां मौके पर पहुंची हैं और बुझाने का काम जारी है। बता दें कि पिछले साल दिसंबर महीने में दिल्ली के किराड़ी इलाके में कपड़ा गोदाम में भीषण आग लग गई थी,जिसमें 10 लोगों की जान चली गई थी। आग जिस वक्त लगी उस वक्त गोदाम में कुछ लोग सो रहे थे। आग की सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की टीम ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया, लेकिन इससे पहले दम घुटने से 10 लोगों की मौत हो गई। जान गंवाने वाले सभी एक ही परिवार के थे।


पेट्रोल-डीजल के दाम में 'गिरावट'

पटना। पूरे देश में पेट्रोल-डीजल सस्ता हो गया है। मंगलवार (21 जनवरी 2020) को पेट्रोल 16 पैसे और डीजल 21 पैसे सस्ता हुआ है। सोमवार को पेट्रोल 11 पैसे और डीजल में 20 पैसे की गिरावट आई थी। दिल्ली में आज पेट्रोल के दाम 16 पैसे घटकर 74.82 रुपये प्रति लीटर और डीजल के दाम 21 पैसे घटकर 68.05 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से बिक रहा है।


गैस-हिटर के कारण हुई, 8 की मौत

नेपाल। केरल के 8 पर्यटकों की मौत हो गई। पर्यटकों की लाश मंगलवार सुबह दमन के एक रिसॉर्ट में मिली। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अभी पर्यटकों की पहचान नहीं हो पाई है, लेकिन इनकी मौत गैस हीटर के कारण हुई है।


दंडी संन्यासी प्रबंध समिति की बैठक

प्रयागराज। अखिल भारतीय दंडी संन्यासी प्रबंध समिति की आमसभा की बैठक सोमवार को अध्यक्ष विमल देव आश्रम के नेतृत्व में कार्यकारिणी समिति के सदस्य पदाधिकारियों ने अपनी निष्ठा जताई। इस दौरान प्रबंध समिति से इस्तीफा देकर, अलग संगठन बनाने वाले 8 पदाधिकारियों को निष्कासन की पुष्टि की गई । साथ ही उपाध्यक्ष महामंत्री प्रवक्ता और संगठन मंत्री के पदों पर सर्वसम्मति से नए सिरे से पदाधिकारी का चयन किया गया। स्वामी राजेश्वर आश्रम डंडी सन्यासी प्रबंध समिति के नए महामंत्री होंगे सेक्टर 5 स्थित स्वामी हरी स्वरानंद तीर्थ के बुरा मत शिविर में हुई कार्यकारिणी की आम सभा की बैठक जगतगुरु वासुदेवानंद सरस्वती की मौजूदगी में आरंभ हुई।सबसे पहले स्वामी महेश आश्रम ब्रह्म आश्रम और शंकर आश्रम के निष्कासन की पुष्टि की गई इसके बाद स्वामी वासुदेवानंद ने कहा कि विमल देव ही दंडी संन्यासी प्रबंध समिति के अध्यक्ष थे हैं और रहेंगे इस दौरान स्वामी हरिहरानंद टीकरमाफी मच के स्वामी हरी चेतन ब्रह्मचारी जी वरेश्वरा नंद तीर्थ को प्रबंध समिति का संरक्षक चुना गया है।


माघ-मेले के बाद पांच दिवसीय रामकथा

प्रयागराज। माघ मेला के तुलसी मार्ग इस्थित श्रीमत परमहंस आश्रम टीकरमाफी अमेठी में पांच दिवसीय श्रीराम कथा आरंभ हो गई। कथा का शुभारंभ मेला एसपी आशुतोष मिश्रा ने दीप जलाकर किया। मानस मर्मज्ञ जयप्रकाश ने संगीतमय राम कथा सुनाई। कथा प्रतिदिन 2:00 से 5:00 बजे तक होगी कथा के साथ-साथ रामायण मेला का भी शुभारंभ किया गया कार्यक्रम में मुख्य रूप से परम अध्यक्ष स्वामी हरी चेतन ब्रह्मचारी जी हर्ष चेतन ब्रह्मचारी जी समाजसेवी फूल चंद दुबे सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।


बृजेश केसरवानी


भारत को हिंदूराष्ट्र घोषित करने: निश्चलानंद

प्रयागराज। गोवर्धन मठ पुरी के शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती ने सोमवार को भारत समेत पड़ोसी देश नेपाल और भूटान को हिंदू राष्ट्र घोषित करने के लिए विश्व स्तर पर पहल करने की जरूरत पर जोर दिया।


उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र में इस आशय का प्रस्ताव लाया जाना चाहिए दुनिया में मुस्लिम ईसाई की तरह हिंदू राष्ट्र के रूप में कोई देश नहीं है इसलिए इस पर विचार किया जाना चाहिए । त्रिवेणी मार्ग स्थित माघ मेला के गोवर्धन पुरी मठ शिविर में पत्रकारों से बातचीत में राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के संदर्भ में उन्होंने कहा कि मुसलमान अयोध्या ही नहीं देश के किसी भी कोने में अगर एक इंची भूमि स्वीकार करते हैं तो वे बाबर के अनुयाई साबित होंगे। उन्होंने कहा कि भारत ने 3 मुसलमानों को राष्ट्रपति बनाया गृहमंत्री शिक्षा मंत्री व मुख्य न्यायधीश जैसे पदों पर भी मुसलमान रहे हैं अभी केरल के राज्यपाल मुसलमान ही है ।क्या इस तरह की उदारता का परिचय देते हुए किसी मुस्लिम देश में हिंदू को ऐसा पद दिया जा सकता है।


डिजिटल भुगतान में कर्नाटक सबसे आगे

नई दिल्ली। सरकार के डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा के साथ ही यूपीआई, भीम ऐप और फिनटेक कंपनियों के सरल डिजिटल भुगतान समाधान उपलब्ध कराने से इनके माध्यम से लेनदेन में तेजी आयी है। इसको अपनाने के मामले में देश में कर्नाटक अव्वल रहा है जबकि महाराष्ट्र दूसरे और दिल्ली तीसरे पायदान पर है। वित्तीय कंपनी रेजरपे ने मंगलवार को यहां ‘द एरा ऑफ राइजिंग फिनटेक’ रिपोर्ट का चैथा संस्करण जारी किया जिसमें यह खुलासा किया गया है।रिपोर्ट में कहा गया है कि डिजिटल भुगतान अपनाने के मामले में कर्नाटक अव्वल राज्य रहा वहीं डिजिटलाइज्ड शहरों में बेंगलुरु पहले और दिल्ली दूसरे स्थान पर है। इस मामले में हैदराबाद तीसरे स्थान पर रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली एनसीआर में डिजिटल लेनदेन वर्ष 2018 की तुलना में 2019 में 235 फीसदी बढ़ा है। दिल्ली एनसीआर में यूपीआई लेनदेन 2018 और 2019 के बीच 442 फीसदी बढ़ा। दिल्ली एनसीआर में वित्तीय सेवा क्षेत्र में डिजिटल भुगतान की हिस्सेदारी सबसे अधिक 12 फीसदी से अधिक रही। दिल्ली एनसीआर के लोग खाद्य और पेय पदार्थों के साथ ही यात्रा के लिए डिजिटल भुगतान का उपयोग तेजी करने लगे हैं। रेजरपे के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं सह संस्थापक हर्षिल माथुर ने कहा कि पिछले साल दिल्ली में फिनटेक क्षेत्र के लिए काफी जोर रहा। नए डिजिटल भुगतान मोड को अपनाने के साथ, डिजिटल मुद्रा को मुख्यधारा में लाया गया है। और पिछले छह महीनों में क्षेत्र में डिजिटल भुगतान के व्यवसायों और उपभोक्ता वरीयताओं के उपभोग पैटर्न में जबरदस्त बदलाव देखा गया। उन्होंने कहा कि भारत में उपभोक्ताओं के वित्तीय समावेशन पर बहुत अधिक ध्यान केंद्रित किया गया है। दिल्ली एक ऐसा क्षेत्र है जो व्यवसायों के लिए वित्तीय समावेशन के समाधान की दिशा में सक्रिय रूप से शामिल है। फिनटेक स्पेस ने तेजी ने दिल्ली में 350 से अधिक स्टार्टअप उभरे हैं।


पाकःगेहूं आयात करने को दी गई मंजूरी

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में जारी गेंहू संकट के बीच सरकार ने आसमान छूती कीमतों पर लगाम लगाने के लिए 3,00,000 टन गेंहू आयात करने को मंजूरी दे दी है। गेंहू के इस आयात पर कोई शुल्क नहीं लगाया जाएगा।


डॉन न्यूज के अनुसार, यह निर्णय मंत्रिमंडल की आर्थिक समन्वय समिति (ईसीसी) की सोमवार को हुई एक बैठक में लिया गया। बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री के वित्त एवं वाणिज्य मामलों के सलाहकार डॉ. अब्दुल हफीज शेख ने की। बैठक में विभाग को अब अनुमानित 1,720 अरब रुपये के सर्कुलर ऋण के एक भाग को चुकाने के लिए 200 अरब रुपये के इस्लामिक सुकूक बॉन्ड्स जारी करने का भी निर्णय लिया गया। रपट में विश्वस्त सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा एवं अनुसंधान मंत्रालय ने ईसीसी बैठक में कहा कि सरकार के पास अभी 42 लाख टन गेंहू का भंडारण है, जिससे दो महीने तक घरेलू खपत हो सकती है। वहीं नई फसल भी मार्च के मध्य तक बाजार में आने लगती है। पाकिस्तान में गेंहू के आटा की कीमत 800 रुपये से 1,200 रुपये प्रति 20 किलोग्राम है। जिसमें प्रति किलोग्राम 20 रुपये तक की वृद्धि दर्ज की गई है। इस संकट के पीछे एक कारण यह है कि पिछले साल इस समय गेंहू का भंडारण 70 लाख टन था, वहीं इस वर्ष सिर्फ 42 लाख टन बचा है। लेकिन इससे भी ज्यादा महत्वपूर्ण बात यह है कि मांग और आपूर्ति में अंतर और घरेलू तथा अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में इसकी कीमतों में भारी अंतर के कारण जमाखोरों, कालाबाजारी करने वालों और कमोडिटी तस्करों को कमाई करने का अवसर मिल गया है। इसके अलावा दो और कारण हैं, जिनके चलते पाकिस्तान गेंहू संकट का सामना कर रहा है। पहला यह कि सिंध सरकार ने अंतरप्रांतीय खाद्य समिति और ईसीसी द्वारा तय लक्ष्य से 35 प्रतिशत कम खरीदारी की थी। दूसरा कारण संचार मंत्रालय के अंतर्गत एजेंसियों द्वारा शुल्क बढ़ाए जाने के बाद हड़तालें हो गईं और गेंहू का सामान्य वितरण प्रभावित हो गया। सूत्रों के अनुसार, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मंत्री खुसरो बख्तियार ने 4,00,000 टन गेंहू आयात करने पर जोर दिया। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के वरिष्ठ नेता जहांगीर तरीन ने पहले ही चार लाख टन गेंहू आयात करने की घोषणा की थी। लेकिन डॉ. हफीज ने तीन लाख टन आयात को पर्याप्त समझा। इस बीच, देश के राष्ट्रपति आरिफ अलवी ने सोमवार को देश में मौजूदा गेंहू संकट से अनभिज्ञता जाहिर कर आम आदमी के जले पर नमक छिड़क दिया। सोशल मीडिया पर उपलब्ध एक वीडियो क्लिप में गेंहू की कमी से संबंधित एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा, “यह मेरे संज्ञान में नहीं है, लेकिन मुझे इसकी जानकारी होनी चाहिए।


आंध्र-प्रदेश प्रदेश में समावेशी विधेयक पेश

अमरावती। आंध्रप्रदेश विधानपरिषद में मंगलवार को ‘आंध्र प्रदेश विकेंद्रीकरण और सभी क्षेत्रों के समावेशी विकास विधेयक 2020′ पेश हो गया, जिसके तहत राज्य में तीन राजधानी बनाने का प्रस्ताव है। विधानसभा ने सोमवार देर रात इस विधेयक को पारित कर दिया था। मुख्यमंत्री वाई.एस जगन मोहन रेड्डी ने इस विधेयक पर विधानपरिषद में प्रदेश में तीन राजधानी की महत्ता को बताया। वहीं अमरावती के आंध्र प्रदेश की एकमात्र राजधानी का दर्जा खोने से नाराज तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के नेता दोक्का माणिक्य वरप्रसाद राव ने मंगलवार को राज्य विधान परिषद से इस्तीफा दे दिया। रेड्डी ने घोषणा किया, “हम दो अन्य राज्य विशाखापत्तनम को प्रशासनिक राजधानी और कुरनूल को न्यायिक राजधानी के रूप में जोड़ रहे हैं। सचिवालय और विभागों के मुख्यालय विशाखापत्तनम में होंगे।” इस विधेयक का उद्देश्य विशाखापत्तनम को प्रशासनिक राजधानी, कुरनूल को न्यायिक राजधानी और अमरावती को आंध्र प्रदेश की विधायी राजधानी बनाना है। मुख्यमंत्री ने कहा, “लोगों को सच जानना चाहिए। मैं आप लोगों को ग्राफिक्स और गलत दावे करके ठग नहीं सकता हूं। हम सिर्फ 10 प्रतिशत के खर्च से विशाखापत्तनम का विकास कर सकते हैं जो कि पहले से ही राज्य का अच्छा शहर है। राज्य की प्रथमिकताएं प्रतिष्ठित भवनों और पूंजीगत खर्चे से कहीं अधिक जरूरी है।” उन्होंने श्री कृष्ण और श्री रामकृष्ण समिति का जिक्र करते हुए कहा कि इन दोनों समितियों की रिपोर्ट स्पष्ट रूप से विकेंद्रीकरण का सुझाव देती हैं। मौजूदा समय में हम एक लाख करोड़ रुपये केवल राजधानी के निर्माण में खर्च करने की स्थिति में नहीं है।” रेड्डी कहा, “हमें सिंचाई परियोजनाओं को पूरा करने के लिए 30,000 करोड़ रुपये की आवश्यक्ता है। सरकारी संस्थानों में शिक्षा और बेहतर स्वास्थ्य सेवाओं के लिए 26,000 करोड़ रुपये तथा हर जिले में बेहतर सुविधाओं को लागू करने के लिए हर नगरपालिका में 500 करोड़ रुपये की जरूरत है। कहा कि तीन राजधानी बनाने से अमरावती के साथ कोई अन्याय नहीं होगा बल्कि अन्य के साथ न्याय होगा।” उन्होंने कहा कि वाईएसआरसीपी सरकार में अमरावती के किसानों के साथ राज्य के किभी जिले के किसानों के साथ कोई अन्याय नहीं होगा।” अमरावती के आंध्र प्रदेश की एकमात्र राजधानी का दर्जा खोने से नाराज तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा) के नेता दोक्का माणिक्य वरप्रसाद राव ने मंगलवार को राज्य विधान परिषद से इस्तीफा दे दिया। पूर्व मंत्री ने अपना इस्तीफा तेदेपा प्रमुख एन. चंद्रबाबू नायडू को भेजा है। राव ने लिखा कि उनका इस्तीफा वाईएसआर कांग्रेस पार्टी(वाईएसआरसीपी) सरकार द्वारा राज्य में तीन राजधानियों को विकसित करने के कदम के विरोध में है। उन्होंने कहा कि उन्हें अमरावती के राज्य की राजधानी के तौर पर दर्जा खोने का दुख है, क्योंकि प्रमुख कार्यों को विशाखापट्टनम और कुरनूल में स्थानांतरित कर दिया जाएगा।


नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में रैली

लखनऊ। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मंगलवार को लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में रैली की। उन्होंने कहा वे देश को बताना चाहते हैं कि सीएए के खिलाफ  दुष्प्रचार किया जा रहा है। शाह ने ऐलान किया कि वे लखनऊ की भूमि से डंके की चोट पर कहते हैं जिसे विरोध करना हो करें, सीएए वापस नहीं होगा। सीएए के समर्थन में शाह की यह छठी रैली है। शाह ने कहा मैंने इस बिल को लोकसभा में पारित किया। वह राहुल, अखिलेश, ममता, मायावती से सार्वजनिक चर्चा के लिए तैयार हैं। अल्पसंख्यक छोड़ दीजिए, किसी की भी नागरिकता चली जाए यह बता दीजिए। कांग्रेस, सपा, बसपा और तृणमूल देश में दंगे व धरना प्रदर्शन करा रही है। सीएए में किसी की नागरिकता छीनने का प्रावधान नहीं है। नागरिकता देने का प्रावधान है। शाह ने कहा पाकिस्तान, बांग्लादेश व अफगानिस्तान में करोड़ों लोग रह रहे हैं, वहां अब अत्याचार हो रहा है। मैंने उनके दर्द को सुना है। सामूहिक बलात्कार किया जाता है। जबरन निकाह, धर्म परिवर्तन कराया जाता है। हजारों मंदिर, गुरुद्वारे तोड़े जाते हैं। अफगानिस्तान के भीतर आसमान को छूने वाला भगवान बुद्ध के पुतले को गोले दागकर जीर्ण शीर्ण करने का पाप हुआ है। यह आजादी के वक्त से चल रहा है। नरेंद्र मोदी सीएए लेकर आए। सीएए के खिलाफ  राहुल बाबा एंड कंपनी, ममता दीदी, अखिलेश, बहन जी सभी कांव कांव करने लगे। कांग्रेस के पाप के कारण देश के दो टुकड़े हो गए। कांग्रेस ने विभाजन को स्वीकार कर लिया। लाखों लोग मारे गए, अत्याचार हुआ। जब विभाजन हुआ तब पाकिस्तान में 23 प्रतिशत अल्पसंख्क थे, लेकिन आज 3 प्रतिशत बचे हैं। कहां गए वो लोग या तो मार दिया गया, या फिर भारत में शरण ली। तब आपका ह्यूमन राइट्स कहां सो रहा था। कश्मीर के अंदर से पांच लाख से ज्यादा कश्मीरी पंडितों को अपने देश के भीतर विस्थापित होना पड़ा। नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दिसंबर 2019 में उत्तर प्रदेश के 22 जिलों में हिंसा हुई थी। इस दौरान 21 लोगों की जान गई। हिंसा में शामिल लोगों पर पुलिस ने बड़े स्तर पर कार्रवाई की। प्रदेश में अभी भी प्रयागराज के अलावा राजधानी लखनऊ के घंटाघर पर विरोध प्रदर्शन जारी है। महिलाएं तीन दिन से धरने पर बैठी हैं। प्रदर्शनकारियों और उनके समर्थकों की ओर से सोशल मीडिया पर विवादित पोस्ट भी हो रहे हैं। पुलिस ने ऐसे 112 लोगों के खिलाफ  केस दर्ज किया है।


आवासीय इमारत में लगी आग, 11 की मौत

मॉस्को। रूस के टॉम्स्क क्षेत्र में स्थित एक आवासीय इमारत में मंगलवार को आग लगने के कारण करीब 11 लोगों की मौत हो गई। आपातकालीन मंत्री के बयान के हवाले से समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बताया, “सुबह 7.03 बजे 11वें व्यक्ति का शव बरामद किया गया।” मंगलवार तड़के लगी आग ने लकड़ी से बनी इमारत को अपनी चपेट में ले लिया, जिसमें 11 लोगों की जान चली गई, वहीं दो लोग भागकर अपनी जान बचाने में कामयाब रहे। प्रशासन ने इस घटना के कारण की जांच करने की घोषणा की है।


विधानसभा में प्रस्ताव लाएगी बंगाल सरकार

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प.बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी लगातार मुखर हैं। इस कानून के खिलाफ वह मोदी सरकार पर लगातार हमलावर हैं। अब नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ पश्चिम बंगाल विधानसभा में प्रस्ताव लाने की तैयारी में हैं। पश्चिम बंगाल सरकार एंटी सीएए प्रस्ताव 27 जनवरी को दोपहर 2 बजे पेश करेगी। इस प्रस्ताव को विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान पेश किया जाएगा। बता दें कि ममता बनर्जी पहले ही कह चुकी हैं कि वह नागरिकता संशोधन कानून को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं करेंगी। इससे पहले ममता बनर्जी ने नागरिकता कानून के बाद अब एनपीआर के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कहा कि आपको इस कानून को अपने राज्य में लागू करने से पहले इसे अच्छे से पढ़ना चाहिए। इसके बाद ही इसे लागू करने को लेकर किसी निष्कर्ष पर पहुंचना चाहिए। ममता ने ऐलान किया है कि वो 22 जनवरी को सीएए और एनआरसी के खिलाफ दार्जिलिंग एक रैली निकालने जा रही हैं।


ममता बनर्जी ने कहा कि मैं भाजपा शासित पूर्वोत्तर-त्रिपुरा, असम, मणिपुर और अरुणाचल तथा विपक्षी दलों के शासन वाले राज्यों के सभी मुख्यमंत्रियों से अपील करूंगी कि वे निर्णय पर पहुंचने से पहले कानून को ठीक तरह से पढ़ें और एनपीआर फॉर्म के विवरण खंडों का संज्ञान लें। उन्होंने कहा कि एनपीआर एक खतरनाक खेल है और यह एनआरसी और सीएए से पूरी तरह संबंधित है। राज्यों को इसे वापस करने के लिए प्रस्ताव पास करना चाहिए। बनर्जी ने एनपीआर की कवायद को 'खतरनाक खेल' करार देते हुए कहा कि माता-पिता के जन्मस्थान का विवरण मांगने वाला फॉर्म कुछ और नहीं, बल्कि राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के क्रियान्वयन का पूर्व संकेत है। ममता ने कहा कि, ने कहा कि पश्चिम बंगाल विधानसभा संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ जल्द ही प्रस्ताव पारित करेगी।


2 दिवसीय कार्यशाला का किया आयोजन

राजनांदगांव। जिले के पीटीएस में अन्तर्राज्यीय नक्सल विरोधी अभियान पर दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में केन्द्रीय आंतरिक सुरक्षा सलाहकार के.विजय कुमार विशेष रूप से उपस्थित हुए। राजनांदगांव मे आयोजित नक्सल विरोधी अभियान के कार्यशाला को अहम माना जा रहा है। कार्यशाला में गढ़चिरौली,नारायणपुर,कांकेर और राजनांदगांव के पुलिस, डीआरजी,एसटीएफ,आईटीबीपी,बीएसएफ,सीआरपीएफ के आला अधिकारी शामिल हुए। कार्यशाला में क्षेत्र मे चलाये जा रहे नक्सली उन्मूलन के लिए व्यापक योजना तैयार की गई। इस मौके पर राजनांदगांव पुलिस अधीक्षक बीएस धुर्वे ने कहा कि नक्सलियों के खात्मा के उद्देश्य से यह कार्यशाला का आयोजन किया गया है। केंद्रीय आंतरिक सुरक्षा सलाहकार के.विजय कुमार की उपस्थिति ने केंद्र सरकार की नक्सली विरोधी अभियान में एक बड़े बदलाव की ओर इशारा कर रही है। इस मौके पर के.विजय कुमार ने क्षेत्र में चलाए जा रहे नक्सली उन्मूलन की गतिविधियों की जानकारी ली और कई अहम सुझाव भी दिए।


समस्या कम होने की बजाय बढ़ी, लगातार

नई दिल्ली। भारत में बेरोजगारी की समस्या कम होने की बजाय लगातार बढ़ती जा रही है। सितंबर-दिसंबर 2019 के बीच ये 7.5 फीसदी पर पहुंच गई। बेरोजगारी की स्थिति पढ़े-लिखे युवाओं में सबसे अधिक पाई गई है। उच्च शिक्षित लोगों में बेरोजगारी दर 60 फीसदी से अधिक पहुंच गई है। ये बात सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी के द्वारा जारी आंकड़ों में कही गई है। रिपोर्ट के मुताबिक ग्रेजुएट लोगों के लिए 2019 सबसे बुरा साल रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है,'बेरोजगारी में मई-अगस्त 2017 के बाद लगातार सात बार वृद्धि हुई है। उस वक्त बेरोजगारी दर 3.8 फीसदी थी।' सीएमआईई के सर्वे के अनुसार, इस सर्वे में 1,74,405 घरों को शामिल किया गया। इसमें पता चला कि बेरोजगारी दर ग्रामीण भारत से अधिक शहरी भारत में है। शहरी बेरोजगारी दर राष्ट्रीय औसत से अधिक रही, जो देश में आर्थिक मंदी को दर्शाती है। बता दें सीएमआईई एक निजी थ‍िंक टैंक है, जिसके सर्वे और आंकड़ों को काफी विश्वसनीय माना जाता है।


शहरी भारत में सितंबर-दिसंबर 2019 के दौरान बेरोजगारी की दर 9 फीसदी तक पहुंच गई। वहीं ग्रामीण भारत में इस दौरान बेरोजगारी 6.8 फीसदी रही। यह हाल तब है जब कुल बेरोजगारी में करीब 66 फीसदी हिस्सा ग्रामीण भारत का होता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि ग्रामीण भारत में कम बेरोजगारी दर है और इसका भारत की समग्र बेरोजगारी दर को कम करने पर बड़ा प्रभाव पड़ा है। लेकिन, ग्रामीण रोजगार खराब गुणवत्ता का है। रिपोर्ट में सबसे ज्यादा चिंता की बात ये है कि बेरोजगारी की दर शहरी युवाओं में सबसे अधिक है, खासतौर पर पढ़े लिखे लोगों में। '20-24 आयु वर्ग के युवाओं में बेरोजगारी की दर 37 फीसदी पाई गई, ग्रेजुएट में ये दर सबसे अधिक 60 फीसदी रही। साल 2019 के दौरान उनमें बेरोजगारी की औसत दर 63.4 फीसदी तक पहुंच गई।' बेरोजगारी की ये दर 2016 में 47.1 फीसदी, 2017 में 42 फीसदी और 2018 में 55.1 फीसदी थी। 20-29 साल के ग्रेजुएट्स में बेरोजगारी दर 42.8 फीसदी, पोस्ट-ग्रेजुएट लोगों में 23 फीसदी और 15-19 आयु वर्ग के नौकरी की तलाश कर रहे युवाओं में 45 फीसदी रही।


चिल्फी में दिखा बाईसन गौर, दहशत

कवर्धा। जिले के सीमावर्ती क्षेत्र चिल्फ़ी के ग्राम बेंदा के पास एक बार फिर से बाईसन गौर के दस्तक से आसपास के ग्रामीण दहशत में है। बताया जा रहा है कि चार की झुंड में बाईसन गांव के पास घूम रहे थे। आपको बता दें कि ग्राम बेंदा टाईगर रिजर्व कान्हा से लगा हुआ है, यही कारण है कि इस इलाके में आये दिन कई वन्यप्राणी देखे जा रहें हैं, और आसपास के गांव में रहने वाले लोग जंगली जानवर के डर से दहशत में हैं। वहीं सूचना मिलने के बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुँचकर बाईसन को जंगल की ओर खदेड़ दिए हैं।


डेटोनेटर बरामद, 2 आरोपी गिरफ्तार

बरमकेला। रायगढ़ पुलिस ने भारी मात्रा में विस्फोटकों से लदी एक चार पहिया वाहन पकड़ा है। गाड़ी से पुलिस ने 700 डेटोनेटर, 7 बोरी अमोनियम नाइट्रेट और 1 बंडल सेफ्टीवायर को बरामद किया हैं। पुलिस ने गाड़ी जब्त कर ड्राइवर सहित दो लोगों को हिरासत में लिया है। जहां दोनों से पूछताछ की जा रही है। सरिया टीआई आशीष वासनिक के मुताबिक पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली थी कि ओडिशा से चार पहिया वाहन में भारी मात्रा में विस्फोटक भरकर लाया जा रहा है। सूचना के बाद ओडिशा की सीमा से लगा हुए ग्राम कंचनपुर में पुलिस ने घेराबंदी कर गाड़ी पकड़ा। पुलिस ने गाड़ी मे भारी मात्रा में मौजूद विस्फोटकों को बरामद कर लिया है। वहीं ओडिशा के रहने वाले सुरेश तांडी और ईश्वर नायक नाम के दो शख्स को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है। पूछताछ के बाद ही पता चल पाएगा कि आरोपी विस्फोटकों को लेकर कहां जा रहे थे।


विप्रो ने मथुरा कारागार में बाटें कंबल

मथुरा। उत्तर प्रदेश अपराध निरोधक समिति लखनऊ के सहयोग से जिला कारागार मथुरा में सर्व ब्राह्मण महासभा की महानगर इकाई ने शीतलहर को देखते हुए कंबल वितरण का कार्यक्रम किया। सर्व ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय संगठन सचिव श्री अखिलेश गौड़ ने बताया यहां अपने दण्ड की सजा काट रहे बंदियों को इस भारी ठंड के प्रकोप से बचने के लिए महासभा द्वारा कंबल का वितरण किया गया । उत्तर प्रदेश अपराध निरोधक समिति लखनऊ के चेयरमैन डॉ उमेश शर्मा जी के निर्देशानुसार अनुसचिव चेयरमैन श्री वीरेंद्र शर्मा जी कार्यक्रम में मौजूद रहे साथ ही उन्होंने ने सर्व ब्राह्मण महासभा की  प्रशंसा की एवं सभी का आभार प्रकट किया। कपिल देव शर्मा ने जानकारी दी कि मथुरा जिला कारागार के जेल अधीक्षक श्री शैलेंद्र कुमार मैत्रेह जी ने सभी विप्रजनों को बंदियों की दिनचर्या के बारे में अवगत कराया एवं आगामी 26 जनवरी के कार्यक्रम की जानकारी दी एवं निमंत्रण दिया। इस कार्यक्रम में जेल अधीक्षक श्री शैलेन्द्र कुमार मैत्रेह जी,जेलर श्री अरविंद पाण्डेय जी, श्री वीरेन्द्र शर्मा,श्री कपिल देव शर्मा,श्री अखलेश गौड़,श्री शुभाष तिवारी,श्री संजय पंडित,श्री रमेश गौड़,श्री चैतन्य महाप्रभु, श्री अचल शर्मा, श्री आनंद वशिष्ठ, श्री केशव गौड़ आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।


'फर्जी खबरें' नए खतरे के रूप में आई सामने

नई दिल्ली । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि पत्रकारिता एक 'मुश्किल दौर' से गुजर रही है। फर्जी खबरें नए खतरे के रूप में सामने आई हैं, जिनका प्रसार करने वाले खुद को पत्रकार के रूप में पेश करते हैं और इस महान पेशे को कलंकित करते हैं। उन्होंने कहा सामाजिक और आर्थिक असमानताओं को उजागर करने वाली खबरों की अनदेखी की जाती है और उनका स्थान सामान्य बातों ने ले लिया है। वैज्ञानिक सोच को प्रोत्साहित करने में मदद के बजाय कुछ पत्रकार रेटिंग पाने और ध्यान खींचने के लिए अतार्किक तरीके से काम करते हैं। उन्होंने कहा 'ब्रेकिंग न्यूज सिंड्रोम' के शोरशराबे में संयम और जिम्मेदारी के मूलभूत सिद्धांत की अनदेखी की जा रही है। कोविंद ने कहा कि पुराने पत्रकार 'फाइव डब्ल्यू -व्हाट (क्या), व्हेन (कब), व्हाई (क्यों), व्हेयर (कहां), हू (कौन) और हाउ (कैसे) के मूलभूत सिद्धांतों को याद रखते थे, जिनका जवाब देना खबर के लिए अनिवार्य था। राष्ट्रपति ने कहा पत्रकारों को अपने कर्तव्य के निर्वहन के दौरान कई तरह का काम करना पड़ते हैं। इन दिनों वे अक्सर एक साथ जांचकर्ता, अभियोजक और न्यायाधीश की भूमिका निभाने लगे हैं। कोविंद ने कहा सच्चाई तक पहुंचने के लिए पत्रकारों को काफी आंतरिक शक्ति और जुनून की आवश्यकता होती है। उन्होंने कहा पत्रकारों की बहुमुखी प्रतिभा प्रशंसनीय है। राष्ट्रपति ने कहा कि सत्य की खोज निश्चित रूप से कठिन है। यह कहना बेहद आसान है लेकिन इसे करना बहुत मुश्किल है। उन्होंने कहा हमारे जैसा लोकतंत्र तथ्यों के उजागर होने और उन पर बहस करने की इच्छा पर निर्भर करता है। लोकतंत्र तभी सार्थक है, जब नागरिक अच्छी तरह से जानकार हो।


कनवेयर बेल्ट में लगी भीषण आग

मनोज सिंह ठाकुर


किरंदुल 11 सी डाउन हिल के कनवेयर बेल्ट में लगी भीषण आग


दंतेवाड़ा। जिले के एनएमडीसी लौह अयस्क खदान में किरंदुल के 11सी के डाउन हिल में मंगलवार की दोपहर में आग लगी है। आग लगने से कन्वेयर बेल्ट जल रहा है। घटना के बाद से सीआईएसएफ के जवान और फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंच गई है और आग बुझाने की कोशिश की जा रही है। आग इतनी भीषण है कि उसके धुएं के गुबार को दूर से ही देखा जा सकता है।
एनएमडीसी के किरंदुल के लौह अयस्क खदान में आगजनी से कुछ देर के लिए वहां अफरा तफरी का मौहल हो गया। अब तक किसी प्रकार के जनहानी की जानकारी नहीं मिली है। आग लगने की वजह कन्वेयर बेल्ट का रोटर जाम होना माना जा रहा है। आग से करीब 90 मीटर कन्वेयर बेल्ट जलकर खाक हो गया है। ज्ञात हो कि लौह अयस्क खदान क्षेत्र धुर नक्सल प्रभावित है। इसे ध्यान में रखते हुए सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस के साथ ही सुरक्षा बल के अन्य जवान भी वहां मौजूद हैं।


बस-ट्रक की टक्कर 3 की मौत 8 घायल

जबलपुर। के नज़दीक एक भीषण सड़क दुर्घटना में 3 लोगों की मौत और 8 लोग घायल हो गए। यहां एक बस सड़क किनारे खड़े ट्रक से जा टकरायी। दुर्घटना इतनी ज़बरदस्त थी कि 3 लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी। जबलपुर से सिवनी जा रही थी बस जबलपुर के नज़दीक मगेला गांव में बस और ट्रक की टक्कर में तीन लोगों की मौत हो गयी, जबकि आठ लोग घायल हुए हैं। बस यात्रियों से भरी थी। बरगी थाना इलाके में मगेला गांव के पास वो सड़क किनारे खड़े ट्रक में पीछे से जा भिड़ी।ज़ोरदार टक्कर के बाद बस में चीख-पुकार मच गयी। 3 यात्रियों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि 8 बुरी तरह ज़ख़्मी हो गए। कोहरे और अंधेरे में दुर्घटना ये यात्री बस जबलपुर से सिवनी जा रही थी। बताया जा रहा है कि बस की रफ़्तार ज़्यादा थी। कोहरा और धुंध होने के कारण ड्राइवर, सड़क किनारे खड़े ट्रक को नहीं देख पाया और सीधे बस उससे जा टकरायी। रफ़्तार ज़्यादा होने के कारण ड्राइवर बस पर काबू खो बैठा। सभी घायलों को जबलपुर लाया गया और यहां मेडिकल अस्पताल में दाखिल कराया।


3 भीषण विस्फोट, 6 लोग घायल

बग़दाद। तीन भीषण विस्फोट हुए हैं। इराक़ी संचार माध्यमों ने इस देश की राजधानी में तीन भीषण विस्फोटों की सूचना दी है। रविवार की रात को उत्तरी और पूर्वी बग़दाद में तीन विस्फोट हुए जिसमें कम से कम 6 लोग बुरी तरह से घायल हो गए। इससे पहले भी बग़दाद में शुक्रवार को भी 4 विस्फटो हुए थे। पिछले सप्ताहों के दौरान इराक़ की राजधानी बग़दाद में कई विस्फोट हुए और गोलीबारी भी हुईं और यहां पर जन प्रदर्शन भी जारी हैं। इससे पहले बसरा के पुलिस प्रमुख ने अपने एक बयान में कहा था कि इराक़ को अशांत बनाने के लिए अवैध ज़ायोनी शासन लगतार प्रयास कर रहा है।


चिंकी आऊ मिंकी भिलाई, आय रिहीन

रायपुर। द कपिल शर्मा शो म प्रतिभागी बन के पूरा विश्व पटल म छा जाए वाला दू नाम चिंकी अऊ मिंकी भिलाई आय रिहिन , ये दूनो बहिनी एके असन दिखथे अऊ खासबात कि अगर येमन चाहे त एक्के साथ गोठियाथे घलो , चिंकी अऊ मिंकी के असली नाम सुरभि अऊ समृधि आय ,ये मन कपिल शर्मा शो ले सेलिब्रिटी बन गे हे अऊ भिलाई  एक टेलेंट हंट शो बर आय रिहिन, जात जात चिंकी अऊ मिंकी मन किहिन कि छत्तीसगढ़ म ओमन ल खूब प्यार मिलिस अऊ दुबारा घलो आय के बात चिंकी अऊ मिंकी ह किहिस।


पिकअप पलटी 60 घायल, 9 गंभीर

मोहला। सोमवार की रात बालोद (संजारी) से हल्बा सामाजिक मीटिंग से पौरखेड़ा लौट रहे यात्रियों से भरी पिकअप वाहन रायसिंग साल्हे के पुल के पहले मोड़ पर अनियंत्रित होकर पलट गई , वाहन में समाज के लगभग साठ लोग सवार थे जिसमें सभी घायल हुए और नौ गंभीर लोगो को जिला अस्पताल रिफर किया गया । घटनास्थल पर तत्काल मोहला पुलिस पहुँचकर घायलों को उपचार के लिए मोहला के उपस्वास्थ्य केंद्र लाया गया । पुलिस ने वाहन क्रमांक cg,08,aj- 2467 और चालक के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर जांच में लिया गया है ।


175 की रफ्तार से गेंद फेंक, मचाई सनसनी

नई दिल्ली। किम्बरली के डायमंड ओवल मैदान में खेले गए अंडर 19 क्रिकेट विश्व कप के एक मैच में जीत तो मिली भारतीय टीम को लेकिन उस मैदान पर सबका दिल जीता श्रीलंका के युवा गेंदबाज माथेशा पथिराना ने जिन्होंने गेंदबाजी में ऐसा रिकॉर्ड बनाया जिसे तोड़ना लगभग असंभव ही है। जी हां हम ऐसा इसलिए कह रहें हैं, क्योंकि 17 साल के दाएं हाथ के तेज गेंदबाज माथेशा पथिराना ने अपने जीवन की अब तक की सबसे तेज गेंद फेंकी जिसकी स्पीड स्कोर बोर्ड पर देखकर लोग भी अचंभे में पड़ गए। पथिराना ने अपनी गेंदबाजी के दौरान एक डिलीवरी ऐसी डाली जिसने सबसे तेज गेंद फेंकने के हर रिकॉर्ड को ध्वस्त कर दिया. स्पीड गन के मुताबिक उस गेंद की रफ्तार 175 किलोमीटर प्रति घंटे थी। लोगों को इस युवा बॉलर की गेंदबाजी देखकर श्रीलंका के ही तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की याद आ गई। हालांकि पेसर पथिराना को कोई विकेट तो नहीं मिला लेकिन गेंदबाज होने के लिहाज से रविवार का दिन उनके लिए बेहद बड़ा साबित हुआ। भारत की बल्लेबाजी पारी के चौथे ओवर में पथिराना ने करीब 175 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद डाली। इस गेंद को बल्लेबाज के छोड़ने के बाद कीपर ने अपने दाईं ओर पकड़ा। फिर स्क्रीन के दाहिने कोने पर डिलीवरी की गति 108 मील प्रति घंटे दिखाई गई। हालांकि 175 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड को लेकर तकनीकी गड़बड़ी होने का संदेह भी जताया जा रहा है। बता दें कि यह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के किसी भी स्तर पर दर्ज की गई सबसे तेज़ रिकॉर्ड की गेंद थी. इससे पहले, शोएब अख्तर ने 2003 विश्व कप के दौरान केपटाउन के न्यूलैंड्स में इंग्लैंड के खिलाफ एकदिवसीय मैच के दौरान 161.3 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की थी। शॉन टेट और ब्रेट ली ने 160 किलोमीटर प्रति घंटे के निशान को भी छू लिया था, लेकिन इससे आगे कोई भी नहीं गया था।


2 विदेशी युवतियों सहित, 6 गिरफ्तार

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एक हाई प्रोाफाइल सेक्स रैकेट का खुलासा हुआ है। क्राइम ब्रांच ने देर रात शहर के पॉश कॉलोनी में चल रहे देह व्यापार के कारोबार को पकड़ा है। पुलिस ने मौके से दो युवक और चार युवतियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवतियां उज्वेकिस्तान और नेपाल की बताई जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार क्राइम ब्रांच की टीम ने शहर की पॉश कालोनी इंद्रविहार कॉलोनी में दबिश देकर देह व्यापार के बड़े गिरोह का भांडाफोड़ किया है। पुलिस ने मौके से 2 युवक और 4 युवतियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवतियों में एक उज्वेकिस्तान और एक नेपाल की बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि एस हुसैन नाम का युवक इस देह व्यापार गिरोह का मुख्य आरोपी है, वही गिरोह का संचालन करता है। मिली जानकारी के अनुसार एस.हुसैन शहर के कई बड़े लोगों को लड़कियों की सप्लाई करता है। इस काम के लिए ही उसने इंद्रविहार कॉलोनी में किराए पर मकान लेकर रखा था। वहीं, पुलिस ने मौके से एक बैंक मैनेजर को भी गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि हुसैन इस काम के लिए 10 से 25 हजार चार्ज करता है। मौके पर पहुची पुलिस ने दो विदेशी युवतियों को गिरफ्तार किया है। प्रारंभिक पूछताछ के दौरान पता चला कि सेक्स रैकेट संचालक के कनेक्शन कई देशों से है और वह ग्राहकों की डिमांड के हिसाब से युवतियों को विदेश से बुलाता है।


निवास कार्यालय में बैठक आयोजित

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में आयोजित बैठक में वित्तीय वर्ष 2020-21 के बजट की तैयारियों के सिलसिले में स्कूल शिक्षा, आदिमजाति, अनुसूचित जाति, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण तथा सहकारिता मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम से सम्बद्ध विभागों के बजट प्रस्तावों पर विस्तृत विचार-विमर्श किया गया। डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम की उपस्थित में आयोजित बैठक में मुख्य सचिव आर. पी. मण्डल, अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त अमिताभ जैन, प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा आलोक शुक्ला, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी, सचिव आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति विकास डी.डी. सिंह, सहकारिता सचिव सुश्री रीता शांडिल्य, संचालक लोक शिक्षण एस. प्रकाश, प्रबंध संचालक समग्र शिक्षा पी. दयानंद सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


जनवरी 22, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-165 (साल-01)
2. बुधवार, जनवरी 22, 2020
3. शक-1941, माघ - कृष्ण पक्ष, तिथि- द्वादशी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:09,सूर्यास्त 05:30
5. न्‍यूनतम तापमान -4 डी.सै.,अधिकतम-15+ डी.सै., बरसात के साथ शीतलहर की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...