सोमवार, 5 जुलाई 2021

भारत को 30 लाख वैक्सीन मिलने के आसार: यूएसए

वाशिंगटन डीसी/ नई दिल्ली। भारत को अमेरिका से विशेष अनुदान के तौर पर आवंटित 30 लाख वैक्सीन मिलने के आसार हैं। दोंनों देशों के बीच वैक्सीन डिप्लोमेसी को लेकर लगातार संपर्क बना हुआ है। बता दें, कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन के हाल ही में ऐलान करने के करने के बाद विदेश विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, कि कोवैक्स के जरिए भारत को 8 करोड़ कोरोना वैक्सीन दी जाएगी।

बता दें कि 2 जून को अमेरिकी राष्ट्रपति ने घोषणा की थी कि अमेरिका समर्थित कोवैक्स ग्लोबल वैक्सीन शेयरिंग प्रोग्राम के तहत अपने भंडार से कोविड के 75 फीसद 2.5 करोड़ डोज की पहली किश्त में से तकरीबन 1.9 करोड़ आवंटित करेगा। यह दक्षिण और दक्षिण-पूर्व एशिया के साथ-साथ अफ्रीका के लिए भी होंगी। बाइडन का यह कदम जून के आखिरी तक वैश्विक स्तर पर आठ करोड़ वैक्सीन्स को शेयर करने के लिए उनके प्रशासन के फ्रेमवर्क का एक हिस्सा है।

भाजपा सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगीं 'कांग्रेस'

पंकज कपूर               

देहरादून। उत्तराखंड कांग्रेस आगामी सात और 10 जुलाई को विभिन्न पांच सूत्रीय मुद्दों पर राज्य की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगी और पुतला दहन करेगी। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने एक वीडियो जारी कर सभी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से आह्वान किया है कि बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, महिलाओं के साथ हो रही दुष्कर्म की घटनाओं, किसानों की समस्याओं तथा हरिद्वार कुम्भ में हुए आर.टी.पी.सी.आर. टेस्ट महा घोटाले के मुद्दे पर आगामी सात जुलाई को प्रदेश के सभी जिला और शहर मुख्यालयों में प्रदर्शन के साथ सरकार का पुतला दहन कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। उन्होंने कहा कि इसके बाद 10 जुलाई को इन्हीं मुद्दों पर मुख्यमंत्री आवास का घेराव किया जाएगा। उन्होंने पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं से बड़ी संख्या में इन आंदोलनों में भागेदारी का आह्वान किया है।

वाराणसी के दौरे की तैयारियों के कारण पहुंचें सीएम

हरिओम उपाध्याय           

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस माह अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के संभावित दौरे की तैयारियों के मद्देनजर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को यहां पहुंच गये। अधिकारिक सूत्रों ने बताया कि योगी का यहां सर्किट हाउस में आलाधिकारियों के साथ विभिन्न विकास कार्यों की समीक्षा करने अलावा काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर निर्माण, सड़क, अस्पताल, फ्लाइओवर, पार्किग समेत एवं अन्य महत्वाकांक्षी परियोजनाओं का जायजा लेंगे। उनके कई परियोजनाओं का स्थलीय निरीक्षण का कार्यक्रम है। 

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री यहां अरबों रुपये की करीब 50 विकास परियोजनाओं का लोकापर्ण एवं शिलान्यास करने उम्मीद है। कार्यक्रम की तैयारियों के मद्देनजर श्री योगी अधिकारियों के साथ समीक्षा के बाद अंतिम रूप देंगे। सूत्रों ने बताया कि लोकार्पण होने वाली संभावित परियोजनाओं में जापान के सहयोग से सिगरा में बना अंतरराष्ट्रीय कनवेंशन सेंटर ‘रुद्राक्ष’, गोदौलिया चौराहे के पास बहुमंजिला पार्किंग, बीएचयू में अतिरिक्त मातृ-शिशु विंग एवं क्षेत्रीय नेत्र अस्पताल, आशापुर फ्लाइओवर शामिल हैं। मुख्यमंत्री कोविड-19 टीकाकरण की व्यवस्था के साथ ही कोरोना की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर की जा रही तैयारियों का जायजा लेंगे तथा इस संबंध अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे सकते हैं।

आपराधिक केस वापस लेने की मांग, याचिका स्थगित

अकांशु उपाध्याय             

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने केरल विधानसभा में 2015 में हुए हंगामे और तोड़फोड़ के लिए मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के छह प्रमुख सदस्यों के खिलाफ आपराधिक मामले वापस लेने की मांग वाली राज्य सरकार की याचिका एक सप्ताह के लिए स्थगित कर दी है। हालांकि, न्यायालय ने सोमवार को कहा कि वह विधायकों के इस प्रकार के व्यवहार को क्षमा नहीं करेगा। न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति एम आर शाह की खंडपीठ ने सुनवाई के दौरान मौखिक टिप्पणी करते हुए सार्वजनिक सम्पत्तियों को नुकसान पहुंचाने वाले विधायकों के आचरण पर असंतोष जताया। 

न्यायमूर्ति चंद्रचूड़ ने राज्य सरकार की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता रंजीत कुमार से कहा, "इस प्रकार का व्यवहार अस्वीकार्य है। प्रथम दृष्टया हमें सख्त दृष्टिकोण अपनाना होगा।" खंडपीठ ने रंजीत कुमार से यह भी पूछा कि ऐसे विधायकों को बचाने के पीछे व्यापक जनहित क्या है ?

थाइलैंड: कारखाने में हुए भीषण विस्फोट से 1 की मौंत

बैंकॉक। थाइलैंड की राजधानी बैंकॉक के बाहरी इलाके में सोमवार को तड़के एक कारखाने में हुए भीषण विस्फोट में एक व्यक्ति की मौत हो गयी और दर्जनों अन्य घायल हो गये। जिनमें राहत एवं बचावकर्मी भी शामिल हैं। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि इस विस्फोट में घटनास्थल के आसपास के कई घर क्षतिग्रस्त हो गये हैं और जहरीला धुआं फैलने की आशंका के चलते बड़ी तादाद में लोगों को वहां से निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।अधिकारियों ने बताया कि इस घटना में 62 लोग घायल हो गये हैं। 

उन्होंने बताया कि घायलों में 12 लोग दमकल विभाग और बचाव दल के हैं और एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुयी है। उन्होंने बताया कि फोम और प्लास्टिक की गोलियां बनाने वाली इस फैकट्री में तड़के तीन बजे आग लगी। यह फैक्ट्री बैंकॉक के बाहर सुवर्णाभूमि हवाई अड्डे के पास स्थित है। विस्फोट के बाद आसपास के घरों की खिड़कियों के शीशे टूट गए और मलबा तथा धुएं का गुबार दूर दूर तक फैल गया। उन्होंने बताया कि विस्फोट की आवाज कई किलोमीटर दूर तक सुनी गई। स्थानीय आपदा रोकथाम अधिकारी-सी सुवन्नाकितपोंग ने बताया कि सुबह तक मिंग दिह केमिकल फैक्ट्री में लगी आग पर काबू पा लिया गया था। लेकिन स्टाइरीन मोनोमेर रसायन से भरा एक बड़ा टैंक जल रहा है।

रिलायंस के शेयरों में बढ़त से 395 अंक चढ़ा 'सेंसेक्स'

कविता गर्ग              
मुंबई। वैश्विक बाजारों के मिलेजुले रुख के बीच एचडीएफसी बैंक, एचडीएफसी, इन्फोसिस और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में बढ़त से सोमवार को सेंसेक्स 395 अंक चढ़ गया। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 395.33 अंक या 0.75 प्रतिशत की बढ़त के साथ 52,880 अंक पर पहुंच गया। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 112.15 अंक या 0.71 प्रतिशत के लाभ से 15,834.35 अंक पर पहुंच गया।सेंसेक्स की कंपनियों में भारतीय स्टेट बैंक का शेयर सबसे अधिक करीब दो प्रतिशत चढ़ गया। टाटा स्टील, एलएंडटी, बजाज फिनसर्व, एक्सिस बैंक, बजाज फाइनेंस, महिंद्रा एंड महिंद्रा तथा आईसीआईसीआई बैंक के शेयर भी लाभ में रहे। वहीं दूसरी ओर टेक महिंद्रा, डॉ. रेड्डीज, एचसीएल टेक तथा टाइटन के शेयरों में गिरावट आई। 

अन्य एशियाई बाजारों में चीन के शंघाई कम्पोजिट तथा दक्षिण कोरिया के कॉस्पी में लाभ रहा। वहीं हांगकांग के हैंगसेंग तथा जापान के निक्की में गिरावट आई। दोपहर के कारोबार में यूरोपीय बाजारों में मिलाजुला रुख था। शेयर बाजारों के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने शुक्रवार को 982.80 करोड़ रुपये के शेयर बेचे। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट कच्चा तेल 0.35 प्रतिशत की बढ़त के साथ 76.44 डॉलर प्रति बैरल पर चल रहा था।

2 साल के प्रतिबंध को चुनौती देने का फैसला किया

अकांशु उपाध्याय               

नई दिल्ली। भारतीय पहलवान सुमित मलिक ने डोप टेस्ट में नाकाम रहने पर उन पर लगाये गए दो साल के प्रतिबंध को चुनौती देने का फैसला किया है और वह सजा में कटौती की मांग करेंगे। ताकि, अगले साल राष्ट्रमंडल खेलों में भाग ले सकें। राष्ट्रमंडल खेल 2018 के स्वर्ण पदक विजेता सुमित पर युनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग (यूडब्ल्यूडब्ल्यू) ने शुक्रवार को दो साल का प्रतिबंध लगा दिया। जब उनके दूसरे नमूने में भी प्रतिबंधित पदार्थ के अंश पाये गए।

टोक्यो ओलंपिक में 125 किलोवर्ग में क्वालीफाई कर चुके सुमित ने स्वीकार किया कि वह शरीर में प्रतिबंधित पदार्थ पाये जाने के लिये जिम्मेदार हैं। लेकिन उनका उद्देश्य बेईमानी नहीं था। वह अपील करेंगे कि उनकी सजा घटाकर छह महीने की कर दी जाये। सुमित के करीबी सूत्रों ने बताया कि उन्होंने एक खास सप्लीमेंट अमेरिका में जांच के लिये भेजा है। इसके साथ ही वह दवा भी भेजी है। जो सुमित ने ली थी, ताकि यह पता किया जा सके कि क्या वह पदार्थ इनके जरिये उसके शरीर में आया है ?

सदर बाजार में रूई मंडी को 6 जुलाई तक बंद किया

अकांशु उपाध्याय                

नई दिल्ली। दिल्ली सरकार ने कोविड-19 के नियमों के उल्लंघन पर दक्षिण दिल्ली के मशहूर लाजपत नगर बाजार को अगले आदेश तक तथा सदर बाजार में रूई मंडी को छह जुलाई तक बंद कर दिया है। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने रविवार को बाजारों को बंद करने का आदेश जारी किया। उपमंडलीय दंडाधिकारी (एसडीएम), दक्षिण पूर्व जिला, पद्माकर राम त्रिपाठी ने बताया कि कोविड-19 नियमों के अनुपालन के लिए बनी टीम ने जांच के लिए लाजपत नगर सेंट्रल मार्केट का दौरा किया था। जहां ”नियमों का पालन नहीं” हो रहा था। डीडीएमए के आदेश में कहा गया है। ”इसलिए यह निर्देश दिया जाता है कि उक्त बाजार (लाजपत नगर सेंट्रल मार्केट) तत्काल प्रभाव से अगले आदेश के लिए बंद किया जाए।”

आदेश के अनुसार, ”सदर बाजार के रूई मंडी के दुकानदार, रेहड़ी-पटरी वाले और आम लोग कोविड-19 के नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। बाजार में अधिक संख्या में लोगों के आने से बाजार संघ और दुकानदार कोविड-19 के नियमों का अनुपालन सुनिश्चित नहीं कर पा रहे हैं।” आदेश में कहा गया है, ”सदर बाजार, रूई मंडी में कोविड नियमों का उल्लंघन हो रहा है। जिससे कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा है। इसलिए सदर बजार में समूची रूई मंडी को पांच जुलाई से छह जुलाई या अगले आदेश तक बंद करने का आदेश दिया जाता है।” दूसरी लहर के बाद यह पहली बार नहीं है। जब डीडीएमए ने किसी बाजार को बंद करने का आदेश दिया हो।

साक्षरता एवं संख्या ज्ञान मिशन का शुभारंभ किया

अकांशु उपाध्याय               

नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2026-27 तक प्रत्येक बच्चे को कक्षा तीन तक मूलभूत साक्षरता एवं संख्या ज्ञान उपलब्ध करवाने के विज़न को पूरा करने की तरफ एक कदम आगे बढ़ाते हुए सोमवार को यहां पर वर्चुअल माध्यम से ‘निपुण भारत’ नामक राष्ट्रीय मूलभूत साक्षरता एवं संख्या ज्ञान मिशन का शुभारंभ किया। डॉ. निशंक ने ‘निपुण भारत’ मिशन में प्री-स्कूल से लेकर कक्षा तीसरी तक के तीन से नौ वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों पर फोकस किया जाएगा और कक्षा चार एवं पांच के उन बच्चों को अतिरिक्त शिक्षा सामग्री उपलब्ध करवाई जाएगी। जिन्हें बुनियादी कौशल प्राप्त नहीं हो सका है।

इस अवसर साक्षरता और संख्या ज्ञान के महत्व को समझाते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा, “मेरा मानना है कि साक्षरता और संख्यात्मक कौशल की अच्छी बुनियाद सीनियर कक्षाओं में बच्चे की पढ़ाई पर सकारात्मक प्रभाव डालती है और शिक्षा में बच्चे की रुचि भी विकसित करती है।

देश के सभी बच्चों को इसकी बुनियादी समझ को विकसित करने के लिए हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री ने इस मिशन को शुरू करने के लिए पिछले साल सितंबर में आयोजित शिक्षक पर्व के अवसर पर ही अपना विज़न सभी के साथ साझा किया था।” डॉ. निशंक ने आगे कहा, “साक्षरता और संख्या ज्ञान का सीधा प्रभाव व्यस्कों की आय और अगली पीढ़ी के लिए बेहतर स्वास्थ्य जैसे उनके भविष्य के जीवन के परिणामों पर पड़ता है। मूलभूत साक्षरता के इसी महत्वपूर्ण पहलू को ध्यान में रखते हुए वर्ष 2021-22 के लिए 2130.66 करोड़ रुपए के स्वीकृत बजटीय आवंटन के साथ समग्र शिक्षा के तहत निपुण भारत की शुरुआत की जा रही है।” केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा कि निपुण भारत के कार्यान्वयन और निगरानी में सामुदायिक भागीदारी की अहम भूमिका है।

यूपी: पार्कों में वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया

अश्वनी उपाध्याय             

गाजियाबाद। भारतीय जनता पार्टी के गाज़ियाबाद महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा और महामंत्री पप्पू पहलवान के नेतृत्व में आज गांधी नगर मण्डल (वार्ड-12) के विभिन्न पार्कों में वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में मण्डल के सभी पदाधिकारियों के साथ स्थानीय महिलाओं और बच्चों ने भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी व्यक्तियों ने आज लगाए गए पौधों को संरक्षण देने एवं ध्यान रखने का संकल्प लिया।

इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा ने स्थानीय निवासियों से अपील की कि वे ज्यादा से ज्यादा संख्या में आकर पौधे लगाने में अपना सहयोग करें।  उन्होंने इस कार्यक्रम के महानगर संयोजक एवं महानगर महामंत्री पप्पू पहलवान की प्रशंसा करते हुए बताया कि पूरे गाजियाबाद महानगर में पौधारोपण का कार्य पूरे जोर-शोर से चलाया जा रहा है। नगर में चारों तरह पौधे लगाकर सभी को शुद्ध वायु मिल सके और हरियाली ही हरियाली रहे। इस अवसर पर मण्डल अध्यक्ष दयानंद बंसल, कार्यक्रम के मण्डल संयोजक दीपक सिंह भाटी, सुभाष शर्मा, सुनील प्रताप सिंह, विपुल अग्रवाल, अजीत गौतम, निधी चौधरी, गौरव चौधरी, गरीश कुमार, राकेश काका, राजेश चौहान एवं मंत्री मीडिया प्रभारी नीरज गोयल के साथ स्थानीय निवासी उपस्थित रहे।

एससी समाज से यूपी में मुख्यमंत्री बनाएंगी 'बीएमपी'

हरिओम उपाध्याय              
लखनऊ। मुस्लिम, ओबीसी, एससी समाज से उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री बनाएगी बहुजन मुक्ति पार्टी। हम कहते नहीं, करके दिखाते हैं। ₹100 के स्टांप पेपर पर लिख कर देंगे मनोज कुमार पासी। बहुजन मुक्ति पार्टी की प्रेस वार्ता में बहुजन मुक्ति पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश चुनाव प्रभारी मनोज कुमार पासी ने अपने वक्तव्य में यह क्लियर किया कि बहुजन मुक्ति पार्टी मुस्लिम समाज से ओबीसी समाज से एससी-एसटी समाज से मुख्यमंत्री बनाएगी। मनोज कुमार पासी ने बताया कि बहुजन मुक्ति पार्टी कहने में नहीं, करने में विश्वास रखती है। हम लोग करके दिखाते हैं और करके दिखाएंगे। 
आज तक राजनीतिक पार्टियों ने तोड़ने का और लूटने का काम किया। लेकिन अब देश को लूटने मिटने नहीं देंगे। जो देश की अर्थव्यवस्था राजनीतिक व्यवस्था सामाजिक व्यवस्था धूमिल की गई है। उसको उबारने का काम बहुजन मुक्ति पार्टी करेगी। बहुजन मुक्ति पार्टी मूल निवासियों की एकमात्र पार्टी है। हम लोग ₹100 के स्टांप पेपर पर लिखित में देते हैं। जो वादा करते हैं, उसको निभाते हैं। आज तक कांग्रेस बीजेपी सपा बसपा आप या जो भी पार्टियां भारत देश में काबिज हुई हैं। उन लोगों ने उन पार्टियों ने देश को लूट कर धर्मवाद महामारी फैला कर बर्बाद करने का काम किया। बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी ने बताया कि बहुजन मुक्ति पार्टी से छोटे-मोटे करीब 46 राजनीतिक पार्टियों ने साथ देने का इशारा किया है। 
वार्ता चल रही हैं और 84 सामाजिक संगठनों ने सहयोग दे दिया है तथा तन मन धन से साथ देने का वादा किया है तो आने वाले समय में और अब तक बहुजन मुक्ति पार्टी एकमात्र राजनीतिक दल है। जो विपक्ष की भूमिका मैं खड़ा है और जनता की आवाज बुलंद करने पर लगा है। लेकिन तीन परसेंट विदेशियों ने मीडिया पर कब्जा किया हुआ है। जो जल्द ही हट जाएगा और मीडिया में वही रहेगा जो मूल निवासियों की आवाज उठाएगा अन्यथा मूलनिवासी 87 परसेंट उन समाचार पत्रों इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को धराशाई करने का काम करेगी। जो सच होगा, वही चलेगा जो झूठा होगा। वह खत्म किया जाएगा। बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रेसवार्ता मे बहुजन क्रांति मोर्चा भारत क्रांति मोर्चा के प्रदेश प्रभारी ने पूर्णतया आश्वासन दिया कि बहुजन मुक्ति पार्टी भारत क्रांति मोर्चा के सौ पर्सेंट मुद्दों को उठा रही है और आगे भी उठाएगी तो 84 संगठनों का तन मन धन से पूर्ण सहयोग किया जाएगा। 
इस पर सभी सामाजिक संगठनों ने और बहुजन मुक्ति पार्टी ने विश्वास दिलाया 87 परसेंट मूल निवासियों शाही राज होगा अन्यथा विदेशियों को बाहर किया जाएगा। राष्ट्रीय किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय सुरेश कुमार वर्मा ने बताया कहा कि आने वाले वक्त में बहुजन मुक्ति पार्टी की सरकार बनने से किसानों को मजदूरों को मजदूरों को पूर्ण रूप से सहयोग मिलेगा इससे किसान खुशहाल की जिंदगी जिएंंगा। जो आज तक किसानों को खुशियां नहीं मिली। वह हम उम्मीद करते हैं कि बहुजन मुक्ति पार्टी से हर वर्ग खुशहाल होगा और इसीलिए हम बहुजन मुक्ति पार्टी का स्वागत करते हैं और कंधे से कंधा मिलाकर साथ दिया जाएगा इस बार बहुत जनों की सरकार बहुजन मुक्ति पार्टी की सरकार बनाने से कोई नहीं रोक पाएंगा।

डीएम की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक आयोजित हुई

कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में सोमवार को कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने आईजीआरएस, बाटमाप सिचांई, कृषि, लघु सिचांई, पीडब्ल्यूडी, गोसंरक्षण, स्वास्थ्य, प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण एवं शहरी आवास, मुख्यमंत्री आवास, मनरेगा, लोक निर्माण, सेतु निगम, पीएमजीएसवाई, जल निगम, सीएनडीएस, राजकीय निर्माण निगम, जिलापूर्ति, मत्स्य पालन, जिला उद्यान, समाज कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण, आईसीडीएस एवं दुग्ध विकास विभाग सहित अन्य विभागों की बिन्दुवार समीक्षा की। 
बैठक में जिलाधिकारी ने कार्यो को समयबद्धता एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये है। साथ ही साथ उन्होने कार्यो में लापरवाही या उदाशीनता बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने के भी निर्देश दिये है। बैठक में गोसंरक्षण केन्द्रों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने निराश्रित गोवंशों को गोसंरक्षण केन्द्रों में संरक्षित करने का निर्देश दिया है। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को अभियान चलाकर पशुओं का टीकाकरण कराये जाने एवं पालतू पशुओं की टैंगिंग कराये जाने का निर्देश दिया है। उन्होने यह भी निर्देशित किया है कि कोई भी निराश्रित गोवंश खुला इधर-उधर न घूमने पाये उन्होंने गोसंरक्षण केन्द्रों में पशुओं के लिए पर्याप्त मात्रा में चारा, पानी की व्यवस्था सुनिश्चित बनाये रखने का निर्देश दिया है। 
स्वास्थ्य विभाग के कार्यो की समीक्षा के दौरान आयुष्मान गोल्डेन कार्ड बनाने की धीमी प्रगति पाये जाने पर जिलाधिकारी ने कडी नाराजगी व्यक्त करते हुए डॉ0 हिन्द प्रकाश मणि को स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है उन्होंने जननी सुरक्षा, टीकाकरण एवं संस्थागत प्रसव सुनिश्चित कराये जाने का भी निर्देश दिया है। विद्युत विभाग के कार्यां की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागों सहित पंचायत भवनों एवं विद्यालयो के बकाया विद्युत बिल का भुगतान कराने का निर्देश संबंधित को दिया है श्रम विभाग की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने गांव-गांव में कैम्प लागाकर सभी श्रमिकों का पंजीकरण कराये जाने का निर्देश श्रम प्रवर्तन अधिकारी को दिया है। प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण एवं शहरी की समीक्षा के दौरान उन्होने चयनित लाभार्थियों के खाते में पैसा ट्रान्सफर करने का निर्देश दिया है। 
कृषि विभाग की समीक्षा करते हुए उन्होंने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत छूटे हुए पात्र लाभार्थियों का पंजीकरण कराये जाने एवं आधार फीडिंग कराये जाने का निर्देश दिया है। साथ ही साथ प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत बीमित किसानों की क्षतिग्रस्त फसल की भरपाई करने का निर्देश बीमा कंपनी को दिया है। कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा करते हुए उन्होने स्कूलों में पढ़ने वाली छात्राओं को कन्या सुमंगला योजना से लाभान्वित कराये जाने का निर्देश जिला बेसिक शिक्षाधिकारी को दिया है। उन्होंने वृद्धा, विधवा, विकलांग पेंशन, सामूहिक विवाह की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सभी संबंधित अधिकारियों को लंबित आवेदन पत्रों को जांच कर उनको तत्काल फीड कराये जाने का निर्देश दिया है आईजीआरएस की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने प्राप्त शिकायतों का निस्तारण समय से कराये जाने का निर्देश दिया है। 
एनआरएलएम की समीक्षा के दौरान उन्होंने महिलाओं के समूह गठित कराये जाने का निर्देश जिला विकास अधिकारी को दिया है। सिंचाई विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने सभी नहरों में टेल तक पानी पहुंचाये जाने का निर्देश दिया है। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी शशिकान्त त्रिपाठी, जिला विकास अधिकारी विजय कुमार, अर्थ एवं संख्याधिकारी श्रवण कुमार सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. पीएन चतुर्वेदी, परियोजना निर्देशक सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।
सुशील केशरवानी 

हापुड़: अमरोहा पुलिस ने 3 बदमाशों को किया अरेस्ट

अतुल त्यागी                  
हापुड़। जनपद के बदमाश से चोरी के जेवर खरीदने वाला पुलिस द्वारा गिरफ्तार हो चुका है। जिससे पुलिस पूछताछ कर रही है। मामला जनपद हापुड़ अमरोहा तथा बुलंदशहर के से जुड़ा है। बीती 24 मार्च को जनपद हापुड़ के थाना सिंभावली क्षेत्र के गांव राजपुर निवासी रजुआ ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर अमरोहा के गजरौला में महिलाओं को के साथ लूटपाट की घटना को अंजाम दिया था। 
इसके बाद अमरोहा पुलिस ने तीनों बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार बदमाशों ने बताया, कि बुलंदशहर के मोहल्ला सराय वाली गली का निवासी टिल्लू उनसे चोरी का सामान खरीदा था। अमरोहा पुलिस ने रविवार को सर्राफा को गिरफ्तार कर लिया। जिससे ₹6230 नगद बरामद किए गए हैं। अमरोहा पुलिस को शक है कि बदमाश आसपास के जिले में चोरी के जेवर बेचते थे।

अरब सागर में चीन को मछली पकड़ने का अधिकार

नई दिल्ली/ इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने बलूचिस्तान में ग्वादर बंदरगाह के पास अरब सागर में चीन को मछली पकड़ने का अधिकार दिया है। इसके बाद अब बलूच तट पर समुद्र सैकड़ों चीनी मछली पकड़ने वाली नौकाओं से भरा हुआ है। पाकिस्तान ने ग्वादर में चीन के मछली पकड़ने वाले जहाजों को लाइसेंस दे दिया है। जिससे अब स्थानीय मछुआरों में आक्रोश पैदा हो गया है। पाकिस्तानी अखबार डॉन ने बताया कि सैकड़ों मछुआरों, राजनीतिक एक्टिविस्ट और नागरिक समाज के सदस्यों ने ग्वादर में चीन के मछली पकड़ने वाले जहाजों को मछली पकड़ने का अधिकार देने के लिए संघीय सरकार के खिलाफ एक विरोध रैली का मंचन किया। 
नेशनल पार्टी और बलूच छात्र संगठन ने विरोध का आह्वान किया था। सरकार के इस कदम के खिलाफ ग्वादर प्रेस क्लब के सामने रैली और धरना प्रदर्शन किए गए। इस कदम से बलूच के मछुआरे अपने आप को दोगुना ठगा हुआ महसूस कर रहे है। उन्हें पहले सुरक्षा चिंताओं के कारण चीन द्वारा संचालित ग्वादर बंदरगाह के लिए उनकी भूमि से विस्थापित किया गया था। चीन के अरबों डॉलर के निवेश के बावजूद, स्थानीय लोग वंचित महसूस कर रहे हैं। अब, विशाल मछली पकड़ने वाले चीनी जहाजों के आने से वे पूरी तरह से कुचले हुए या दबाए हुए महसूस कर रहे हैं। 
उनकी चिंता इसलिए भी बढ़ रही है, क्योंकि चीनी जहाज कोई साधारण नौकाएं नहीं हैं। ये इस तरह की फैक्ट्री शिप हैं। चूंकि चीनी जहाजों ने अपने बड़े पैमाने पर संचालन शुरू कर दिया है, न केवल बलूचिस्तान में बल्कि पाकिस्तान के लगभग 1,000 किलोमीटर के तट पर मछुआरे अब अपनी आजीविका के लिए परेशान है।चीनियों ने पाकिस्तानी समुद्र तट को तहस-नहस कर दिया है।
पिछले साल मछली पकड़ने वाले चीनी जहाजों को कराची बंदरगाह पर देखा गया था, जिससे सिंध में मछुआरों में डर फैल गया था।
मछली पकड़ने वाले ये बड़े और भारी भरकम जहाज समुद्र में बड़े क्षेत्र में काफी बड़े जाल फैंकते हैं। ये जहाज संकरे जालों से सुसज्जित हैं। जो न केवल मछली पकड़ते हैं। बल्कि समुद्र में मौजूद विभिन्न प्रकार के अंडों को भी नष्ट कर देते है। यह समुद्र तल में भारी हलचल पैदा करते हैं। जिससे समुद्री खाद्य श्रृंखला भी नष्ट हो जाती है।  पाकिस्तानी मछुआरा समुदाय चिंतित है। क्योंकि प्रत्येक चीनी पोत एक पाकिस्तानी नाव की तुलना में दस गुना अधिक मछली पकड़ सकता है। चिंता की बात यह है कि चीनी जहाजों के प्रवेश से बलूच और सिंधी मछुआरों के बीच बड़े पैमाने पर बेरोजगारी बढ़ेगी।
पाकिस्तानी मछुआरों की चिंता इस बात को लेकर भी है कि गहरे समुद्र में मछली पकड़ना न केवल बड़े पैमाने पर की जाती है, बल्कि यह विनाशकारी भी है।

पाकिस्तान ने अपना विशेष आर्थिक क्षेत्र (ईईजेड) चीनी मछली पकड़ने वाली कंपनियों के लिए खोल दिया है। फिशरमेन को-ऑपरेटिव सोसाइटी (एफसीएस) के चेयरमैन अब्दुल बेर ने अरब न्यूज को बताया कि चीन पाकिस्तानी मछली पकड़ने के उद्योग को अपग्रेड करने और उसके निर्यात को बढ़ाने में मदद करेगा। 
बेर ने कहा, गहरे समुद्र में मछली पकड़ने के लिए चीनी जहाज लाना सरकार की गहरे समुद्र में मछली पकड़ने की नीति के अनुरूप है और इसका उद्देश्य स्थानीय मछुआरों को रोजगार के अवसर प्रदान करने के अलावा मछली पकड़ने का उन्नयन और आधुनिकीकरण करना है। 
आठ जून को विश्व महासागर दिवस से ठीक पहले मई 2020 में ओवरसीज डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट (ओडीआई) द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन का डिस्टेंट वाटर फिशिंग (डीडब्ल्यूएफ) बेड़ा पहले की तुलना में पांच से आठ गुना बड़ा हो चुका है। ओडीआई ने लगभग 17,000 जहाजों के बेड़े का अनुमान लगाया है। 
ओडीआई रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि चीन के डीडब्ल्यूएफ बेड़े का स्वामित्व और परिचालन नियंत्रण जटिल और अपारदर्शी दोनों है। ओडीआई के 6,122 जहाजों के एक उप-नमूने के विश्लेषण में पाया गया कि केवल आठ कंपनियां 50 से अधिक जहाजों के स्वामित्व या संचालन करती हैं। जटिल कंपनी संरचनाएं और पारदर्शिता की कमी निगरानी और नियामक प्रयासों में बाधा डालती है।  इससे कदाचार के लिए जिम्मेदार लोगों को जवाबदेह ठहराया जाना मुश्किल हो जाता है।
चीनी मछली पकड़ने वाली कंपनियों के लिए अपना ईईजेड खोलकर, पाकिस्तान चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) में 62 अरब डॉलर के विशाल निवेश के लिए कम्युनिस्ट देश के पक्ष में तो हो सकता है। लेकिन ऐसा करके पाकिस्तान का इस्लामी गणराज्य अपने ही लोगों - सिंधियों और बलूचिस्तान के लोगों के लिए काफी गलत कर रहा है, जो पहले से ही स्वतंत्रता के लिए लड़ रहे हैं।

अनियमितताओं के संबंध में नया मामला दर्ज किया

अकांशु उपाध्याय              
नई दिल्ली। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने लखनऊ में गोमती रिवर फ्रंट परियोजना में कथित अनियमितताओं के संबंध में एक नया मामला दर्ज किया है। उत्तर प्रदेश में पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान परियोजना संचालित हुई थी। राज्य में अगले वर्ष विधानसभा चुनाव होने हैं।
अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने इस मामले में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद सोमवार को कई राज्यों में करीब 43 जगहों पर व्यापक तलाशी अभियान चलाया। उन्होंने कहा कि सुबह शुरू हुआ तलाशी अभियान अभी चल रहा है और आज जारी रह सकता है।
अधिकारियों के मुताबिक, प्राथमिकी में करीब 180 अधिकारियों को आरोपी बनाया गया है जिनमें बड़ी संख्या में उत्तर प्रदेश सरकार के अभियंता तथा अन्य अधिकारी शामिल हैं। सीबीआई ने उक्त परियोजना के सिलसिले में यह दूसरी प्राथमिकी दर्ज की है।
उत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। जिनमें अखिलेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी और मायावती की अगुवाई में बहुजन समाज पार्टी के साथ ही कांग्रेस एवं अन्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी को राज्य की सत्ता से हटाने की कोशिश करेंगे।

ताजा बयानों के परिप्रेक्ष्य में भागवत को सलाह दी

मनोज सिंह ठाकुर                
भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत के ताजा बयानों के परिप्रेक्ष्य में आज ट्वीट के जरिए उन्हें सलाह दी हैं। दिग्विजय सिंह ने ट्वीट के जरिए मोहन भागवत के हिंदू मुस्लिम एकता और भारतीयों के डीएनए के संबंध में आए ताजा बयानों के परिप्रेक्ष्य में लिखा है ‘मोहन भागवत, यह विचार क्या ?आप अपने शिष्यों, प्रचारकों, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल कार्यकर्ताओं को भी देंगे।
क्या यह शिक्षा आप मोदी शाह जी व भाजपा मुख्यमंत्री को भी देंगे ?’ कांग्रेस नेता ने सिलसिलेवार ट्वीट में लिखा है, ‘यदि आप अपने व्यक्त किए गए विचारों के प्रति ईमानदार हैं, तो भाजपा में वे सब नेता जिन्होंने निर्दोष मुसलमानों को प्रताड़ित किया है। उन्हें उनके पदों से तत्काल हटाने का निर्देश दें। शुरूआत नरेंद्र मोदी व योगी आदित्यनाथ से करें।
दिग्विजय सिंह ने साथ में यह भी लिखा है कि उन्हें मालूम है कि मोहन भागवत ऐसा नहीं करेंगे, क्योंकि उनकी कथनी और करनी में अंतर है। दिग्विजय सिंह के मुताबिक मोहन भागवत ने सही कहा है कि पहले हम सब भारतीय हैं। लेकिन पहले यह उन्हें अपने शिष्यों को समझाना होगा। मोहन भागवत का ताजा बयान आया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि हिंदू मुस्लिम अलग नहीं हैं और सभी भारतीयों का डीएनए एक है।

पीएम के नाम से विधानसभा चुनाव लड़ेगी 'भाजपा'

पंकज कपूर                           
देहरादून। आगामी विधानसभा चुनाव में उत्तराखण्ड भाजपा अब चेहरा विहीन हो गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम से अब भाजपा विधानसभा चुनाव लड़ेगी।क्या पांच साल पहले का पीएम का प्रलोभन और डबल इंजन की बात जनता भूल गई होगी ?
उत्तराखण्ड में नए मुख्यमंत्री बनने के बाद से साफ हो गया कि भाजपा के पास अब चुनावी चेहरा नही रह गया। ज़ाहिर सी बात है, जब दो बार के विधायक को मुख्यमंत्री की कमान दी गई और उनसे वरिष्ठ विधायकों को दरकिनार किया गया है। यह यही साबित करता है कि अब भाजपा के पास प्रदेश में नेतृत्व क्षमता वाले नेता नही रहे।
उत्तराखण्ड में नए मुख्यमंत्री बनने के बाद से साफ हो गया कि भाजपा के पास अब चुनावी चेहरा नही रह गया। ज़ाहिर सी बात है जब दो बार के विधायक को मुख्यमंत्री की कमान दी गई और उनसे वरिष्ठ विधायकों को दरकिनार किया गया है। यह यही साबित करता है कि अब भाजपा के पास प्रदेश में नेतृत्व क्षमता वाले नेता नही रहे। कुमाऊँ के मैदानी क्षेत्र से मुख्यमंत्री बनने का निर्णय इसलिए भी जोड़ा जा रहा है कि विधानसभा चुनाव में किसानों को साधने का प्रयास किया जा रहा है। जिस जिले से मुख्यमंत्री आते है वह किसान बाहुल्य क्षेत्र है। किसान आंदोलन की गूंज पूरे देश में भाजपा के विरोध में काम कर रही है। उत्तराखण्ड में आगमी विधानसभा चुनाव में भाजपा को खासतौर पर तराई के किसानों का विरोध झेलना पड़ेगा।
त्रिवेन्द्र रावत, तीरथ रावत के बाद अब पुष्कर धामी को चार साल में मुख्यमंत्री बनने का अवसर मिला है। हाईकमान ने प्रदेश में भाजपा के हालातों को देखते हुए युवा कार्ड खेलने का भी प्रयास किया गया है, युवा मुख्यमंत्री बनाने से प्रदेश के यूथ को अपने पक्ष में करने का काम किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने पहली कैबिनेट में ही युवाओं के लिए नौकरी बम जो फोड़ा है, वह कितना असरदार होगा वह आने वाला समय ही बताएगा। ज़ाहिर-सी बात है, जब दिल्ली हाईकमान का प्रदेश में मुख्यमंत्री चेहरे को लेकर प्रयोग जारी है। इस दशा में विधानसभा चुनाव किसके चेहरे पर भाजपा लड़ेगी यह तय करना बहुत ही मुश्किल है। जब प्रदेश भाजपा में चेहरा ही नही होगा तो मोदी के चेहरे पर ही जनता से वोट मांगने का काम किया जाएगा। साथ ही जनता को भी याद रखना होगा कि पिछले विधानसभा चुनाव में पीएम मोदी द्वारा किये गए वादों का क्या हुआ ?

महादेवी घाट पर गंगा में नहाते समय 2 दोस्त डूबे, मौंत

हरिओम उपाध्याय              
कन्नौज। महादेवी घाट पर गंगा में नहाते समय दो दोस्त गहरे पानी में जाने से डूब गए। गोताखोरों ने एक युवक को बचा लिया। जबकि उसके साथी की डूबकर मौत हो गई। युवक को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
सोमवार सुबह ठठिया थाना क्षेत्र के ग्राम चौहानपुरवा निवासी गोलू उर्फ प्रिंस व गुड्डू महादेवी घाट पर गंगा स्नान करने आए थे। नहाते समय दोनों अचानक गहराई में चले गए, जिससे डूबने लगे। घाट पर मौजूद अन्य लोगों ने शोर मचाया तो गोताखोरों ने छलांग लगा दी। 
गोताखोरों ने गुड्डू को सुरक्षित निकाल लिया। इसके बाद गोलू की तलाश शुरू की गई। कुछ देर बाद उसे भी गंगा नदी से बाहर निकाला गया। दोनों को जिला अस्पताल लाया गया। 
जहां चिकित्सकों ने गोलू को मृत घोषित कर दिया। गुड्डू काे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हादसे की जानकारी पाकर स्वजन भी अस्पताल पंहुच गए, गोलू का शव देखकर कोहराम मच गया। महादेवी घाट चौकी प्रभारी जसवंत सिंह ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

धार्मिक स्थल विभिन्न शर्तों के साथ खोलने की अनुमति

बेंगलुरु। कर्नाटक सरकार ने कोविड-19 के मद्देनजर लगी पाबंदियों में ‘अनलॉक 3.0’ के तहत ढील देते हुए सोमवार से रेस्तरां, मॉल निजी कार्यालय तथा धार्मिक स्थल विभिन्न शर्तों के साथ खोलने की अनुमति दे दी है। मेट्रो और बस जैसे सार्वजनिक वाहन भी अपनी बैठने की क्षमता के साथ चलेंगे। ये सेवाएं रात नौ बजे तक ही उपलब्ध रहेंगी। क्योंकि सरकार ने रात नौ बजे से लेकर सुबह पांच बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है।
धार्मिक स्थल को केवल दर्शन के लिए खोले जाने के बाद कम संख्या में श्रद्धालु आज नजर आए। लेकिन सभी कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन करते दिखे। राज्य के बाकी स्थानों से भी ऐसी ही खबरें मिल रही हैं। कार्यालय और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के आज से पूरी क्षमता के साथ काम करने की अनुमति के मद्देनजर बेंगलुरु और अन्य शहरों में कई जगह सुबह सड़कों पर जाम लग गया। बैंगलोर महानगर परिवहन निगम ने कहा कि सभी एहतियाती नियमों का पालन करते हुए बस सेवाएं सुबह पांच बजे से रात नौ बजे तक चलेंगी
शहर और उपनगर इलाके में अभी 4500 बसें चलेंगी। यात्रियों की संख्या देखते हुए बस सेवाएं बढ़ाई जाएंगी। इस दौरान अधिकारी यह सुनिश्चित करते दिखे कि बस में भीड़ ना हो और कोई यात्री खड़े होकर यात्रा ना करे। बेंगलुरु मेट्रो सेवा ने कहा कि मेट्रो सोमवार से शुक्रवार सुबह सात बजे से रात आठ बजे तक, भीड़भाड़ वाले समय से लेकर सामान्य समय में पांच से 15 मिनट के अंतर पर चलेगी। शनिवार और रविवार को छुट्टी होने के कारण स्थिति को देखते हुए सेवाएं बढ़ाईं और कम की जाएंगी।
शहर में रेस्तरां और होटल में भी लोग नजर आए। सोमवार से राज्य में ‘बार’ खुल गए हैं, लेकिन ‘पब’ बंद अभी हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने शनिवार को कहा था कि नए दिशा-निर्देश पांच जुलाई सुबह छह बजे से 19 जुलाई सुबह छह बजे तक लागू रहेंगे। बेंगलुरु के पुलिस आयुक्त कमल पंत ने कहा था कि नियमों का उल्लंघन करने वालों पर नजर रखने के लिए मार्शल और पुलिस कर्मियों के 54 दलों की तैनाती की गई है।
पंत ने ट्वीट किया, ” मैं सभी से अपनी सुरक्षा के लिए कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करने का आग्रह करता हूं। याद रखें, मामले कम हुए हैं, लेकिन संक्रमण अब भी आसपास है।” नए दिशा-निर्देशों के तहत, थिएटर, सिनेमा और पब बंद रहेंगे जबकि प्रशिक्षण के उद्देश्य से स्वीमिंग पूल खोले जाएंगे।

प्राथमिकियां दर्ज किएं जाने पर जवाब तलब किया

अकांशु उपाध्याय              

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सूचना प्रौद्योगिकी कानून की निरस्त की गई धारा 66ए के तहत प्राथमिकियां दर्ज किए जाने को लेकर आश्चर्य व्यक्त करते हुए केंद्र सरकार से सोमवार को जवाब तलब किया। शीर्ष अदालत ने श्रेया सिंघल मामले में फैसला सुनाते हुए संबंधित कानून की धारा 66ए को 2015 में ही निरस्त कर दिया था। इसके बावजूद इस धारा के तहत प्राथमिकियां दर्ज की जा रही हैं। न्यायमूर्ति आर एफ रोहिंगटन की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने पीपल्स यूनियन फॉर सिविल लिबर्टीज (पीयूसीएल) की याचिका की सुनवाई के दौरान केन्द्र सरकार को नोटिस जारी करके जवाब मांगा। न्यायालय ने उक्त कानून की निरस्त धारा के तहत पुलिस द्वारा प्राथमिकियां दर्ज किए जाने पर आश्चर्य व्यक्त किया।

न्यायमूर्ति नरीमन ने कहा, “आश्चर्य है। श्रेया सिंघल मामले में शीर्ष अदालत ने 2015 में फैसला दे दिया था। जो हो रहा है वह खतरनाक है।” सुनवाई जैसे ही शुरू हुई, पीयूसीएल की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता संजय पारिख ने दलील दी कि सम्बन्धित प्रावधान के निरस्त किए जाने के बाद भी देश भर में हजारों की संख्या में प्राथमिकियां दर्ज की जा रही हैं। न्यायालय ने केन्द्र सरकार को नोटिस जारी करके दो सप्ताह में जवाबी हलफनामा दायर करने का निर्देश दिया।


योग गुरु की याचिका पर 12 जुलाई को होगीं सुनवाई

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को कहा कि एलोपैथी दवाइयों के इस्तेमाल के खिलाफ रामदेव के कथित बयान के संबध में दर्ज प्राथमिकियों के सिलसिले में जांच पर रोक लगाने की योग गुरु की याचिका पर 12 जुलाई को सुनवाई की जाएगी। न्यायालय ने कहा कि उसे उक्त बयान के मूल रिकॉर्ड रविवार की रात को ही मिले हैं। शीर्ष अदालत योग गुरु रामदेव के कोविड-19 के दौरान एलोपैथिक दवाओं के इस्तेमाल के बारे में दिए बयानों के मूल रिकॉर्ड पर सोमवार को गौर करने वाली थी। रामदेव ने मामले में याचिका दायर कर जांच पर रोक लगाने और इस सिलसिले में उनके खिलाफ दर्ज मामलों को दिल्ली स्थानांतरित करने का आग्रह किया है। 
प्रधान न्यायाधीश एनवी रमण, न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना और न्यायमूर्ति ऋषिकेश रॉय की पीठ ने कहा, ” कल रात 11 बजे हमें फाइलों का एक मोटा बंडल मिला, जिसमें बयानों और वीडियो की प्रतियां थी।
प्रधान न्यायाधीश ने कहा, ” हम इस मामले को एक सप्ताह बाद सुनवाई के लिए सूचीबद्ध कर रहे हैं।” इससे पहले, रामदेव की ओर से पेश हुए वकील मुकुल रोहतगी ने कहा था कि मामले पर कभी और सुनवाई की जा सकती है। भारतीय चिकित्सा संघ (आईएमए) ने पटना और रायपुर में कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान एलोपैथिक दवाओं के इस्तेमाल के खिलाफ दिए गए उनके बयान को लेकर कई प्राथमिकियां दर्ज कराई हैं।
इससे पहले, पीठ ने मामले पर रामदेव के कथित बयानों के मूल रिकॉर्ड मांगे थे। 
रामदेव ने आपराधिक शिकायत रद्द करने के साथ ही अपनी याचिका में पटना तथा रायपुर में दर्ज प्राथमिकी दिल्ली स्थानांतरित करने का अनुरोध भी किया है। योग गुरु पर आपदा प्रबंधन कानून, 2005 की विभिन्न धाराओं और भारतीय दंड संहिता की धारा 188, 269 तथा 504 के तहत मामला दर्ज किया गया है।
गौरतलब है कि बाबा रामदेव के कथित बयान से देश में एलोपैथी बनाम आयुर्वेद की बहस शुरू हो गई थी। हालांकि, केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन द्वारा टिप्पणी को ‘अनुचित’ करार दिए जाने और पत्र लिखने के बाद रामदेव ने 23 मई को अपना बयान वापस ले लिया था।

निदेशक को निवारण अधिनियम के तहत अरेस्ट किया

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शक्ति भोग फूड्स लिमिटेड के मुख्य प्रबंध निदेशक केवल कृष्ण कुमार को धन शोधन निवारण अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया है। ईडी के सूत्रों के मुताबिक कुमार को गिरफ्तार करने के बाद विशेष अदालत के समक्ष पेश किया गया। जहां से उन्हें नौ जुलाई तक ईडी की हिरासत में भेज दिया।
अधिकारियों ने मामले की निष्पक्ष और संपूर्ण जांच का हवाला देते हुए रिमांड पर जोर दिया था। अधिकारियों ने बताया कि इससे पहले दिल्ली और हरियाणा में नौ स्थानों पर छापे मारे जाने के दौरान विभिन्न आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए गए थे। केंद्रीय जांच ब्यूरो ने कुमार और अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी और आपराधिक साजिश एवं कदाचार के मामले में प्राथमिकी दर्ज की थी। ईडी इसी प्राथमिकी के आधार पर धन शोधन की जांच कर रही है।

पीएम की अध्यक्षता में बैठक के नतीजे पर निराशा

श्रीनगर। पीपल्स एलायंस फॉर गुपकार डिक्लेरेशन (पीएजीडी या गुपकार गठबंधन) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में जम्मू-कश्मीर को लेकर हाल में हुई सर्वदलीय बैठक के नतीजे पर निराशा जताते हुए सोमवार को कहा कि इसमें राजनीतिक कैदियों तथा अन्य कैदियों की रिहाई जैसे विश्वास बहाली के ठोस कदमों का अभाव है। 
पीएजीडी के प्रवक्ता एवं माकपा नेता एमवाई तारिगामी ने कहा कि विश्वास बहाली के कदमों (सीबीएम) से जम्मू-कश्मीर के लोगों तक पहुंच बनाने की अत्यंत आवश्यक प्रक्रिया शुरू होती ”जो जम्मू कश्मीर की समस्या में सबसे बड़े पक्ष और सबसे ज्यादा पीड़ित हैं।कोविड-19 नियमों का उल्लंघनअगले आदेश तक दिन
तारिगामी की ओर से जारी बयान में कहा गया कि गुपकार गठबंधन के सभी सदस्यों ने दिल्ली में हुई बैठक के निष्कर्ष पर निराशा जताई है। खासकर जेलों से राजनीतिक कैदियों एवं अन्य कैदियों की रिहाई और जम्मू कश्मीर में 2019 से बने कथित ‘दबाव के माहौल’ को समाप्त करने जैसे विश्वास बहाली के कोई ठोस कदम के अभाव पर।
रविवार शाम को नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला की अध्यक्षता में उनके आवास पर गुपकार गठबंधन की बैठक हुई थी। इसमें बताया गया कि बैठक में गठबंधन की उपाध्यक्ष एवं पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती, तारिगामी, नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता हसनैन मसूदी, पीपल्स मूवमेंट के प्रमुख जावेद मुस्तफा मीर और अवामी नेशनल कॉन्फ्रेंस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष मुजफ्फर अहमद शाह शामिल हुए।
प्रवक्ता ने बताया कि 24 जून को दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में हुई सर्वदलीय बैठक के बारे में चर्चा करने के लिए यह बैठक बुलाई गई थी। गुपकार गठबंधन जम्मू-कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे को बहाल करने की मांग करता रहा है। तारिगामी ने कहा, ”पीएजीडी पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर के लोगों पर थोपे गए असंवैधानिक एवं अस्वीकार्य परिवर्तनों को पलटने की खातिर एकजुट होकर संवैधानिक, कानूनी और सियासी संसाधनों के जरिए लड़ने का अपना संकल्प दोहराता है।

शपथ ग्रहण समारोह के बाद मंत्रिमंडल की बैठक हुईं

पंकज कपूर                   
हल्द्वानी। नए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शपथ ग्रहण समारोह के बाद रात को मंत्रिमंडल की पहली बैठक बुलाई और कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर मुहर लगाई है।
सचिवालय में हुई कैबिनेट बैठक में 22 हजार पदों पर सरकारी नौकरी देने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। इसके साथ ही लगभग 20 हजार उपनल कर्मचारियों को काम का समान वेतन देने का लाभ देने के लिए मंत्री मंडलीय उप समिति गठित करने का निर्णय लिया गया।
इसके अलावा राज्य के हित व विकास को लेकर छह संकल्प प्रस्तावों पर भी निर्णय लिया गया। पुलिस विभाग में कांस्टेबलों के ग्रेड पे प्रस्ताव पर उप समिति गठित करने की मंजूरी दी गई। 
शासकीय प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि कैबिनेट की पहली बैठक में बेरोजगार, नौजवानों के हित में रोजगार व स्वरोजगार को लेकर अहम निर्णय लिए गए। इसके साथ ही राज्य के विकास और आवश्यकताओं के लिए महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं।

नोएडा पुलिस ने 1 सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया

विजय भाटी 
गौतमबुद्ध नगर। नोएडा पुलिस ने रविवार को एक बड़े सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। नोएडा के एक होटल में देह व्यापार का काम किया जा रहा था, पुलिस ने रविवार को ओवाईओ होटल पर छापेमारी करते हुए महिला समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया है।
पुलिस द्वारा साझा की गई जानकारी के अनुसार, थाना सेक्टर 58 पुलिस द्वारा, सेक्टर 62 स्थित होटल रॉयल पैलेस जिसे ओवाईओ होटल के तौर पर चलाया जा रहा था। वहां देह व्यापार कराने वाले गिरोह का पदार्फाश किया। 
पुलिस ने मौके से कुल 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें 5 पुरुष और एक महिला शामिल है।हालांकि जिस होटल में ये देह व्यापार किया जा रहा था उसमें उसके होटल मालिक की भी बड़ी भूमिका सामने आई है। 
पुलिस ने इनके कब्जे से 12 मोबाइल, 37,675 रुपए नकद और एक कार मिली है साथ ही आपत्तिजनक वस्तुऐ के अलावा 5 लेडीज पर्स और 1 लैपटाप भी बरामद किया है। पुलिस द्वारा आरोपियों से पूछताछ करने पर महिला आरोपी ने बताया कि, वो होटल मालिक मनोज के होटल में देह व्यापार के लिए लड़कियां लाया करती थी और जो भी कमाई होती थी उसमें से उसे कमीशन मिलता था। वहीं होटल में आने वाले पुरुषो की व्यवस्था होटल मालिक खुद करते है, इस काम के अलग से पैसे लेते है।
होटल में प्रथम व द्वितीय तल पर चार कमरो में मेरे द्वारा लायी गयी चार लडकियां है जिनके पास होटल मालिक ने चार व्यक्तियो को भेजा हुआ है। फिलहाल पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर आगे की विधिक कार्यवाही की जा रही है।

दिल्ली: संक्रमितों की संख्या-14,34,554 तक पहुंचीं

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 24 घंटे के दौरान रविवार शाम तक कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के 94 नए मामले सामने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 14,34,554 तक पहुंच गयी। इस दौरान 111 और मरीजों ने महामारी को मात दी। इस बीच कोरोना सक्रिय मामलों की संख्या एक हजार से कम हो गई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से आज जारी बुलेटिन के मुताबिक राजधानी में संक्रमण दर 0.13 फीसदी बनी हुई है। 
जबकि सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 992 रह गयी है। इस अवधि के दौरान 111 और मरीजों के ठीक होने के बाद कोरोना मुक्त लोगों की कुल संख्या 14,08,567 हो गयी है। दिल्ली में कोरोना संक्रमण से सात और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 24,995 हो गया। राजधानी में मृत्यु दर 1.74 फीसदी पर बरकरार है। मृतकों के मामले में देशभर में दिल्ली चौथे स्थान पर है। दिल्ली में पिछले 24 घंटों के दौरान 75,133 नमूनों का परीक्षण किया गया, जिनमें आरटीपीसी के 52,856 नमूने और रैपिड एंटीजन नमूनों की संख्या 22,277 है।
राजधानी में पिछले 24 घंटों के दौरान 1,61,110 लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया, जिनमें से कोरोना की पहली डोज लेने वालों की संख्या 1,21,222 और दूसरी डोज लेने वालों की संख्या 39,888 रही। राजधानी में होम आइसोलेशन में रहने वालों की संख्या अब महज 300 है। राजधानी में अब कोरोना निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या 701 रह गयी है।

कांग्रेस ने कोरोना काल में लोगों को सहायता प्रदान की

गोपीचंद                       
बागपत। उत्तर प्रदेश देश की आजादी के लिये अनगिनत कुर्बानियां देने वाली देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस ने कोरानाकाल में जिस प्रकार लोगों को सहायता प्रदान की है। कोरोना संक्रमण के प्रारम्भ से ही कांग्रेस के कार्यकर्ता सामर्थ्य के अनुसार तन-मन-धन से देश के लोगों की सहायता कर रहे है। लोगों को निशुल्क दवाईयां उपलब्ध कराने के साथ-साथ उनको उचित चिकित्सीय सेवा उपलब्ध कराने में अहम भूमिका निभा रहे है। बागपत कांग्रेस के जिला महासचिव प्रमोद गोस्वामी समाजसेवा के क्षेत्र में एक बड़ा चेहरा है। 
वह स्वयं गांव-गांव जाकर लोगों का हाल-चाल पूछ रहे हैं और दवाईयों का निशुल्क वितरण कर रहे है। प्रमोद गोस्वामी ने कहा है कि कांग्रेस हर दुख और परेशानी में देश की जनता के साथ कदम से कदम मिलाकर खड़ी है। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका वाड्रा के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए बागपत के खेकड़ा ब्लाॅक में विभिन्न गांवों के प्रधानों को उनकी जीत की शुभकामनाओं का पत्र और निशुल्क कोरोना किट बागपत कांग्रेस के महासचिव द्वारा प्रदान की गयी। प्रमोद गोस्वामी ने कहा कि जनपद के सभी ग्राम प्रधानों से मिला जायेगा और उनको जीत का शुभकामना पत्र दिया जायेगा। बागपत जिला महासचिव ने जिन गांवों का आज दौरा किया उनमें सांकरौद, अब्दुलपुर, नूरपुर, घड़ी, सुभानपुर, डूंडाहेड़ा, फखरपुर, मुबारकपुर, फिरोजपुर, निरोजपुर आदि गांव शामिल थे। 
इस मौके पर नीतीश शर्मा, वेदपाल नेताजी, इंद्रजीत सिंह, अति कुमार त्यागी, गजेंद्र, सोमनाथ त्यागी, अनुज, कंवरपाल, मिंटू चौधरी, मनोज, सतपाल त्यागी, लोकेंद्र धामा, ब्रहमपाल आदि मौजूद थे।

भाजपा कार्यकर्ताओं ने बेहद खुशी का एहसास किया

हरिओम उपाध्याय            
हरदोई। उत्तर प्रदेश में भाजपा के 67 जिला पंचायत अध्यक्ष के निर्वाचित होने पर भारतीय जनता पार्टी के मण्डल माधौगंज में भाजपा कार्यकर्ताओं ने बेहद खुशी का एहसास करते हुए एक दूसरे को मिठाई खिलाकर मुंह मीठा कराया। इस मौके पर पूर्व जिला मंत्री मनोज हिन्दू, मंडल अध्यक्ष अरविंद सिंह, जिला कार्यसमिति सदस्य धर्मेंद्र सिंह,मण्डल महामंत्री रामनरेश आर्य, शैलेंद्र सिंह पटेल, यशपाल सिंह, गंगाराम कुशवाहा, आत्माराम पटेल, मंडल उपाध्यक्ष दीपू सिंह अर्कवंशी,आंनद कुमार, शिवभान सिंह राणा, गंगाराम कुशवाहा आदि अनेक भाजपा कार्यकर्ताओं ने उत्तर प्रदेश जिला पंचायत अध्यक्ष की कुल 75 सीटों में से 67 सीटों पर भाजपा प्रत्याशियों के  निर्वाचित होने पर अपार खुशी जताते हुए नरेंद्र मोदी जिंदाबाद- योगी आदित्यनाथ जिंदाबाद- जिंदाबाद, अटल बिहारी बाजपेई -अमर रहे,भारतीय जनता पार्टी जिंदाबाद- जिंदाबाद के जोशीले तीव्र स्वरों में नारे लगाए और एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशी का इजहार किया। इसी श्रंखला में शहब्दा ग्राम प्रधान महेश सिंह उर्फ पप्पू ने लगभग 2000  हजार पेड़ लगवाएं और शीर्ष नेतृत्व का आभार व्यक्त किया।

जानकारी पहुंचाने के लिए दंपत्ति संपर्क पखवाड़ा शुरू

हरिओम उपाध्याय                           
इटावा। परिवार नियोजन की स्वीकार्यता बढ़ाने के लिए जनपद में हर दंपत्ति तक परिवार नियोजन की जानकारी पहुंचाने के लिए दंपत्ति संपर्क पखवाड़ा शुरू हो गया है। प्रत्येक वर्ष  11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है। इस अवसर पर  योग्य दंपत्ति को परिवार नियोजन की सुविधाएं व संसाधनों के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान की जाएगी जिससे परिवार नियोजन के साधनों को अपनाने के प्रति आम लोगों में जागरूकता बढे। यह कहना है, कि  परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डिप्टी सीएमओ डॉ सुशील कुमार का। उन्होंने बताया कोरोना जैसी महामारी के दौर में भी परिवार नियोजन के कार्यक्रमों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है और हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी सभी केंद्रों पर दंपत्ति संपर्क पखवाड़ा अभियान 27 जून से 10 जुलाई तक चलाया जा रहा है। 
जिसमें आशा कार्यकर्ताओं द्वारा घर घर जाकर योग्य दंपतियों को परिवार नियोजन  के लिए बास्केट ऑफ चॉइस के बारे में विस्तार पूर्वक बताया जा रहा है। उन्होंने बताया जनपद में  8 सामुदायिक केंद्र, 28 ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, 6 शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और जनपद के सभी सब-सेंटरों पर मोबाइल पब्लिसिटी वैन के द्वारा परिवार नियोजन के प्रचार प्रसार को जोर शोर से प्रसारित किया जा रहा है|जिला परिवार नियोजन और लॉजिस्टिक प्रबंधक अमित विश्वकर्मा ने बताया जनपद में अब महिलाएं बढ़-चढ़कर परिवार नियोजन की सुविधाओं  को अपना रही हैं। पिछले माह जनपद में खुशहाल परिवार दिवस पर परिवार नियोजन संसाधनों को बढ़ चढ़कर अपनाया गया। 1082 लाभार्थियों ने इस दिवस पर निम्न परिवार नियोजन संसाधनों को अपनाया- छाया 384 ,अंतरा 334, आईयूसीडी 22, पीपीआईयूसीडी 17, नई पहल किट 154 ,कंडोम वितरण 5776, और बसरेहर ब्लॉक में 4 महिलाओं ने नसबंदी भी कराई।
उत्तर प्रदेश तकनीकी सहयोग इकाई से जिला परिवार नियोजन विशेषज्ञ ने बताया कि  पुरुषों को परिवार नियोजन के संदर्भ में जागरूक करने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं।  विस्तृत जानकारी के लिए जिला अस्पताल की परामर्श दात्री के नंबर 9690338700 पर जानकारी भी ले सकते हैं।मिशन परिवार विकास कार्यक्रम के तहत आने वाले जनपद इटावा में नसबंदी अपनाने वाले पुरुषों को 3,000 रुपये और महिलाओं को 2,000 रूपये दिए जाते है। साथ ही नसबंदी के लिए दंपति को अस्पताल लाने वाली आशाओं को पुरुष नसबंदी पर 400 रुपये और महिला नसबंदी पर 300 रुपये की प्रोत्साहन राशि भी दी जाती है। पीपीआईयूसीडी लगवाने वाली महिला को 300 रूपए और सेवा प्रदाता को 150 रूपए की धनराशि दी जाती है | अंतरा इंजेक्शन अपनाने वाली महिलाओं को 100 रुपये की राशि दी जाती है। वहीं इन महिलाओं को लाने वाली आशा कार्यकर्ता को 100 रुपये प्रोत्साहन राशि दी जाती है।

प्रेरणा स्रोत स्वामी विवेकानंद की पुण्य तिथि मनाई

हरिओम उपाध्याय 
हरदोई। स्वामी विवेकानन्द ने भारतीय संस्कृति को विश्व स्तर पर पहचान दिलाई सत्येन्द्र राजपूतशाहाबाद (हरदोई) भारत विकास परिषद के तत्वावधान में स्टेशन रोड पर महान प्रेरणा स्रोत स्वामी विवेकानंद की पुण्य तिथि मनाई गई। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के जिला महामंत्री सत्येन्द्र कुमार राजपूत ने कहा कि भारतीय संस्कृति को विश्व स्तर पर पहचान दिलाने वाले महापुरुष स्वामी विवेकानंद के शक्तिदाई विचार आज भी समाज के लिए प्रासंगिक हैं। 
ऐसी महान विभूति के जन्म से भारत माता भी गौरवान्वित हुईं। ये कहना अतिश्योक्ती न होगा कि भारतीय संस्कृती को विश्वस्तर पर पहचान दिलाने का श्रेय अगर किसी को जाता है तो वो हैं स्वामी विवेकानंद। भाजपा नेता नवनीत गुप्ता ने कहा किनरेन्द्र के चरित्र में जो भी महान है। वो उनकी सुशिक्षित एवं विचारशील माता की शिक्षा का ही परिणाम है। बचपन से ही उनमें परमात्मा को पाने की चाह थी। परमहंस की कृपा से उन्हे आत्म साक्षात्कार हुआ। 1893 में शिकागो विश्व धर्म परिषद में अपने व्यख्यान से स्वामी जी ने सिद्ध कर दिया कि सनातन धर्म में सभी धर्मों को समाहित करने की क्षमता है। 
इस अदभुत सन्यासी ने सात समंदर पार भारतीय संस्कृति की ध्वजा को फैराया। स्वामी केवल संत ही नही देशभक्त, वक्ता, विचारक, लेखक एवं मानव प्रेमी थे। 1899 में कोलकता में भीषण प्लेग फैला, अस्वस्थ होने के बावजूद स्वामी जी ने तन मन धन से महामारी से ग्रसित लोगों की सहायता करके इंसानियत की मिसाल दी। स्वामी विवेकानंद ने, 1 मई, 1897 को रामकृष्ण मिशन की स्थापना की। भारत विकास परिषद के अध्यक्ष अम्बरीष कुमार सक्सेना ने कहा कि39 वर्ष के संक्षिप्त जीवन काल में स्वामी ने जो अदभुत कार्य किये हैं। वो आने वाली पीढ़ियों का मार्ग दर्शन करते रहेंगे। 4 जुलाई 1902 को स्वामी का अलौकिक शरीर परमात्मा मे विलीन हो गया।
स्वामी जी का आदर्श- “उठो जागो और तब तक न रुको जब तक मंजिल प्राप्त न हो जाए” अनेक युवाओं के लिये प्रेरणा स्रोत है। स्वामी विवेकानंद का जन्मदिन राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। उनकी  सर्वोपरी शिक्षा ”मानव सेवा ही ईश्वर सेवा है।”स्वामी विवेकानन्द के पुण्य स्मरण कार्यक्रम में शामिल अधिवक्ता आशीष पांडेय,ऋषभ बाथम,रमाकांत मौर्य,प्रदीप गुप्ता,इंद्रेश दीक्षित,योगेश गुप्ता,सुल्तान खां आदि ने स्वामी विवेकानन्द के चित्र पर माल्यार्पण,पुष्पारपण करते हुए श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

गोरखपुर में ‘संभव' अभियान 2 अक्टूबर तक चलेगा

हरिओम उपाध्याय      
गोरखपुर। आंगनबाड़ी की सलाह पर बच्चे को ले जाएं अस्पताल और एनआरसी। जिले में एक जुलाई से शुरू हुआ ‘संभव अभियान दो अक्टूबर तक चलेगा।
अभियान के दौरान कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों की होगी मददगोरखपुर, 4 जुलाई 2021 जिले में एक जुलाई से संभव अभियान शुरू हुआ है। जिसकी थीम है, पोषण संवर्धन की ओर एक कदम। इस अभियान का उद्देश्य कम वजन, कुपोषित और अति कुपोषित बच्चों की मदद करना है। दो अक्टूबर तक चलने वाले इस अभियान के दौरान जिले के 4172 आंगनबाड़ी केंद्रों से जुड़े ऐसे बच्चों की नियमित मॉनीटरिंग होगी। जिला कार्यक्रम अधिकारी (डीपीओ) हेमंत सिंह का कहना है कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मॉनीटरिंग के दौरान अगर बच्चे को अस्पताल ले जाने या पोषण पुनर्वास केंद्र (एनआरसी) ले जाने की सलाह दें तो उनकी बात अवश्य मानें।
श्री सिंह ने बताया कि 17 जून से 24 जून तक जिले में वजन सप्ताह मनाया गया था। इस सप्ताह में जो बच्चे कम वजन, कुपोषित और अति कुपोषित मिले हैं। उनकी नियमित निगरानी संभव अभियान के दौरान होनी है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को दिशा-निर्देश है कि वह साप्ताहिक तौर पर ऐसे बच्चों के घरों का भ्रमण करें और उन्हें पौष्टिक भोजन की सलाह दें। बच्चों के घर पोषाहार दिया जाए और पोषक तत्वों से भरपूर खानपान की जानकारी दी जाए। जिन बच्चों की सेहत घरेलू देखरेख से ठीक नहीं हो पाएगी। उन्हें अस्पताल पहुंचाया जाएगा।
डीपीओ ने बताया कि पूर्व के अनुभव रहे हैं कि लोग बच्चों को अस्पताल ले जाने और पोषण पुनर्वास केंद्र तक ले जाने में लापरवाही करते हैं और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की सलाह नहीं  मानते हैं। उनका यह व्यवहार बच्चों के स्वास्थ्य और जीवन के लिए हितकर नहीं है। पोषण स्तर में सुधार के लिए बच्चे की स्वास्थ्य जांच, सही उपचार और आवश्यकता पड़ने पर एनआरसी भेजा जाना आवश्यक है। यह अभियान तभी सफल होगा जब पूरी तरह से सामुदायिक सहयोग प्राप्त होगा।
*सितम्बर में फिर होगा वजन संभव अभियान के तहत 20 से 25 सितम्बर तक फिर से वजन सप्ताह मनाया जाएगा। इस दौरान उन सभी बच्चों का वजन लिया जाएगा जो जून माह में कम वजन, कुपोषित और अति कुपोषित पाए गये थे। इससे यह पता चल सकेगा कि कितने बच्चों की सेहत में सुधार हुआ। जिन बच्चों की स्थिति नहीं सुधरेगी। उनके लिए नये सिरे से प्रयास किये जाएंगे।

मुठभेड़ के कारण 3 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया

हरिओम उपाध्याय                     
हाथरस। एसपी विनीत जायसवाल के आदेशानुसार अपराधियों की धर पकड़ हेतु चलाये जा रहे अभियान के क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक हाथरस के निर्देशन एवं क्षेत्राधिकारी नगर के कुशल नेतृत्व में थाना हाथरस गेट पुलिस एवं एसओजी टीम हाथरस की संयुक्त कार्यवाही में बदमाशों से हुई पुलिस मुठभेड़ के उपरान्त 3 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया। 
शातिरहमवीर सिहं पुत्र, रामगोपाल निवासी, नगला उदय सिहं, थाना बल्देव जनपद मथुरा, नन्दकिशोर पुत्र, राजेन्द्र सिंह, निवासी ग्राम बेशमा, थाना इगलास, जनपद अलीगढ हाल निवासी, शान्तिकुँज कालोनी थाना हाइवे जनपद मथुरा, भूपेन्द्र सिहं उर्फ भोला पुत्र वीरेन्द्र सिहं निवासी ग्राम सुसावली थाना मुरसान लुटेरो को गिरफ्तार करने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त की है। अभियुक्तगणों के कब्जे से लूटे गये 2 मंगलसूत्र, 15 नग लोंग, 25 नग बाली, अंगूठी, 6 पैंडल (छोटा - बडा) ,₹10000 नगद,एक मोबाइल व घटना में प्रयुक्त एक मोटरसाईकिल होंडा सीडी व दो तमंचा 315 बोर , 4  जिन्दा कारतूस 315 बोर व 1 खोखा कारतूस 315 बोर बरामद हुए हैं। गिरफ्तारी व बरामदगी के सम्बन्ध थाना हाथऱस गेट पर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। ज्ञात हो कि दिनांक 24.06.2021 को थाना क्षेत्र हाथरस गेट क्षेत्र के ग्राम जोगिया के समीप हरिओम पुत्र, जगन सिंह, नामक सुनार के साथ मोटरसाइकिल पर सवार बदमाशों द्वारा लूट की घटना कारित की गई थी। जिसके सम्बन्ध में थाना हाथरस गेट पर सुसंगत धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कराया गया था। 
पुलिस अधीक्षक हाथरस द्वारा घटना को गंभीरता से लेते हुए तत्काल टीमों का गठन कर घटना के अनावरण एवं अभियुक्तो की गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया था। जिसके क्रम में थाना हाथरस गेट पुलिस व एसओजी टीम की संयुक्त कार्यवाही में आज दिनांक 04.07.2021 को सुनार से हुई लूट की घटना का सफल अनावरण करते हुए घटना में शामिल 3 लुटेरो को पुलिस मुठभेड़ के उपरान्त मय अवैध असलाह तथा लूये गये आभूषण, नगदी, मोबाइल फोन तथा घटना में प्रयुक्त मोटर साईकिल होंडा सीडी व अवैध असलाह-कारतूस सहित गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अभियुक्तों से विस्तृत पूछताछ की जा रही है तथा घटना में संलिप्त शेष वांछित अभियुक्तों की भी शीघ्र गिरफ्तारी कर ली जाएगी। 
गिरफ्तारी करने वाले पुलिस टीम के नाम प्रभारी निरीक्षक मुनीश चन्द्र थाना हाथरस गेट , डी. के. सिसौदिया प्रभारी निरीक्षक थाना सादाबाद. उ.नि प्रमोद शर्मा, प्रभारी एसओजी, उ.नि दिनेश कुमार थाना हाथऱस गेट, उ.नि ततवीर सिहं थाना हाथऱस गेट, उ.नि सुशील कुमार थाना हाथऱस गेट, हे. कां. 341 शीलेश कुमार, एसओजी टीम, है, कां 64 जवाहर लाल, एसओजी टीम , हे, का 501 चन्द्रपाल सिंह एसओजी टीम, हे, का 395 शैलेन्द्र प्रताप सिहं थाना हाथऱस गेट,. हे, का 426 संतोष कुमार थाना हाथऱस गेट, कां 723 सचिन कुमार, एसओजी टीम, कां0 303 सोनवीर सिंह , एसओजी टीम, कां 282 जोगेन्द्र सिंह, एसओजी टीम, कां0 251 चेतन राजौरा, एसओजी टीम, का 652 जितेन्द्र मलिक थाना हाथरस गेट, रि का 834 अंकुर कुमार थाना हाथऱस गेट जनपद हाथरस थे।

प्रकृत्ति के साथ खिलवाड़ ने समस्याओं को जन्म दिया

हरिओम उपाध्याय              
हरदोई। प्रकृत्ति के साथ खिलवाड़ ने आज बहुत सी समस्याओं को जन्म दे दिया है। जिससे मानव जीवन पर संकट भी खड़ा हो रहा है। हमारे वेदो मे एक वृक्ष को दस पुत्रों के समान बताया गया है। इसलिये हम सबको कम से कम एक-एक वृक्ष जरुर लगाकर उसकी सुरक्षा करनी  चाहिये। उक्त विचार सतौथा की प्रधान अंजना त्रिपाठी ने आज वृक्षारोपण महोत्सव के शुभारंभ अवसर पर व्यक्त किये। ग्राम मे निर्मित हो रहे तालाब पर सर्वप्रथम हरिशंकरी पौधों जिनमें एक साथ पीपल,बरगद और पाकड के पौधे का रोपण प्रधान अंजना त्रिपाठी ने किया। 
हिन्दू मान्यता में पीपल को विष्णु, बरगद को शंकर व पाकड़ को ब्रह्मा का स्वरूप माना जाता है। इसके उपरांत प्रधान ने प्राथमिक विद्यालय सतौथा, उच्च प्राथमिक विद्यालय सतौथा, प्राथमिक विद्यालय गौटिया व कुंड़िया सहित ग्राम सचिवालय व खेल मैदान में आम, आंवला, नीम, पीपल, बरगद, कंजी, इमली,सागौन आदि के पौधे रोप पौधों को सुरक्षित रखने का संकल्प लिया। साथ ही प्रदेश सरकार की मंशानुसार गांव के धार्मिक महत्व के स्थलों पर वाटिका निर्माण, गांव के सम्पर्क मार्ग पर और तालाब पर वृहद वृक्षारोपण क्रमिक तौर पर करा गांव को हरा भरा बनाने का संकल्प ग्रामवासियों को दिलाया। 
इस अवसर पर विधायक प्रतिनिधि रजनीश कुमार त्रिपाठी, क्षेत्र पंचायत सदस्य पूनम , ग्राम पंचायत सदस्य संध्या कुशवाहा, सुमन कश्यप, पूजा वर्मा, अनुपम पाण्डेय, अनंतराम वर्मा, अंश कुमार, बूथ अध्यक्ष शैलेंद्र वर्मा, युवा मोर्चा मंडल महामंत्री राहुल त्रिपाठी, राजेश मिश्रा, योगेश पाठक, मनमोहन शास्त्री, वीरेंद्र कश्यप, राजेश अवस्थी, हरिओम वर्मा, भानु प्रताप यादव, अरविंद, बंशीलाल आदि ग्रामवासियों ने पौधे रोपे।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-324 (साल-02)
2. मंगलवार, जुलाई 6, 2021
3. शक-1984,अषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:42, सूर्यास्त 07:16।
5. न्‍यूनतम तापमान -21 डी.सै., अधिकतम-39+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की

कौशांबी: डीएम ने संशोधन के सम्बन्ध में बैठक की राजकुमार              कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा सम्राट उदयन सभागार में राजनैतिक...