मध्य प्रदेश लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
मध्य प्रदेश लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शनिवार, 7 जनवरी 2023

एमपी: कोहरे व शीतलहर के चलते 'कड़ाके की ठंड'

एमपी: कोहरे व शीतलहर के चलते 'कड़ाके की ठंड'

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। कोहरे और शीतलहर के चलते समूचे मध्यप्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ रही है। छतरपुर जिले के नौगांव में पारा आज दूसरे दिन भी शून्य के करीब रहा, यहां न्यूनतम तापमान 0़ 5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके साथ ही पर्यटन स्थल खजुराहो और उमरिया में भी कड़ाके की ठंड हैं, जहां पारा दो डिग्री के नीचे पहुंच गया। मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के वैज्ञानिकों ने यूनीवार्ता को बताया कि नव वर्ष के प्रारंभ से कड़ाके की ठंड का जो सिलसिला शुरू हुआ, वह अब भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश का मौसम आमतौर पर शुष्क रहा। इस दौरान दतिया जिले में बहुत घना कोहरा रहा।

वहीं, रीवा, ग्वालियर और छत्तरपुर जिलों में मध्यम से घना कोहरा छाया रहा, जिसके चलते इन स्थानों पर ठंड का कहर ज्यादा देखा गया, जिसके कारण अाम जनजीवन प्रभावित हुआ। इसके अलावा रायसेन, दमोह और सतना जिलों में कोहरा रहा। वहीं दतिया, उमरिया और छतरपुर जिलों में तीव्र शीतलहर एवं सतना, सीधी, जबलपुर, बालाघाट, सागर, दमोह, गुना और ग्वालियर जिलों में शीतलहर का प्रभाव रहा।

इस बीच प्रदेश का सबसे ठंडा नगर नौगांव रहा, जहां रात्रि का पारा 0़ 5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम वैज्ञानिकों ने अगले चौबीस घंटों के दौरान ग्वालियर और चंबल संभागों में तथा रायसेन, रतलाम, नीमच, मंदसौर, उमरिया, छतरपुर और टीकमगढ़ जिलों में मध्यम से घना कोहरा छाए रहने और चंबल संभाग के जिलों के अलावा उमरिया, छतरपुर, टीकमगढ़, दतिया और ग्वालियर जिलों में कहीं कहीं फसलों में पाला लगने की भी संभावना है।

वहीं इन स्थानों पर शीतलहर भी चल सकती है। राजधानी भोपाल तथा उसके आसपास के क्षेत्र में भी कड़ाके की ठंड का दौरान बना हुआ है। हालांकि दिन में धूप निकल जाने के चलते यहां ठंड से हल्की राहत रहती है। यहां रात्रि का तापमान 7़ 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जहां कल की तुलना में कुछ अधिक है। अगले चौबीस घंटों के दौरान यहां मौसम शुष्क रहने और 14 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से हवाएं चलने और अधिकतम तानमान 24 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस के आसपास बने रहने के आसार जताए गए हैं।

बुधवार, 4 जनवरी 2023

24 घंटे में 'कोरोना' संक्रमण का नया मामला नहीं 

24 घंटे में 'कोरोना' संक्रमण का नया मामला नहीं 

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया है। गृह मंत्री और राज्य सरकार के प्रवक्ता डॉ नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार को संवाददाताओं को बताया कि राज्य में कोरोना संक्रमण का कोई नया मामला सामने नहीं आया है।

वर्तमान में राज्य में संक्रमण के पांच सक्रिय मामले हैं। पिछले 24 घंटे में संक्रमण जांच हेतु 54 सैंपल लिए गए। उन्होंने बताया कि अब तक प्रदेश में टीकाकरण का आंकड़ा 13 करोड़ 35 लाख 98 हजार 717 रहा है। 

शनिवार, 24 दिसंबर 2022

अगले 13 दिनों तक मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश पर रोक

अगले 13 दिनों तक मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश पर रोक

मनोज सिंह ठाकुर 

उज्जैन। मध्य प्रदेश के उज्जैन में क्रिसमस की छुट्टियों और नए साल के दौरान प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर में भक्तों की संख्या तेजी से बढ़ने की संभावना को देखते हुए मंदिर की प्रबंधन समिति ने शनिवार से अगले 13 दिनों तक इसके गर्भगृह में लोगों के प्रवेश पर रोक लगाने का फैसला किया है।

मंदिर समिति के एक पदाधिकारी ने बताया कि गर्भगृह में प्रवेश पर प्रतिबंध पांच जनवरी तक लागू रहेगा। मंदिर प्रबंधन समिति के अध्यक्ष एवं जिलाधिकारी आशीष सिंह ने कहा, साल के अंतिम सप्ताह में छुट्टियों के चलते महाकाल लोक और महाकाल दर्शन के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के आने की संभावना को देखते हए 24 दिसंबर से पांच जनवरी तक गर्भगृह में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

इससे पहले, एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा कारणों से 20 दिसंबर से इस मंदिर के अंदर मोबाइल फोन ले जाने पर प्रतिबंध रहेगा। महाकालेश्वर मंदिर देश के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है और यहां दर्शन के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु आते हैं।

मंगलवार, 20 दिसंबर 2022

पन्ना को स्वच्छ और सुंदर बनाने की अपील: जी-20

पन्ना को स्वच्छ और सुंदर बनाने की अपील: जी-20

मनोज सिंह ठाकुर 

पन्ना। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में जी-20 समूह देशों के प्रतिनिधिमंडल के प्रस्तावित भ्रमण को दृष्टिगत रखते हुए मंदिरों के शहर पन्ना को स्वच्छ और सुंदर बनाने की अपील भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष और खजुराहो लोकसभा क्षेत्र के सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने की है। शर्मा ने मंगलवार को नगर के जुगलकिशोर मंदिर प्रांगण में खुद झाड़ू लगाकर स्वच्छता अभियान की शुरुआत की। पन्ना जिले के प्रस्तावित भ्रमण के दौरान जी 20 देशों के प्रतिनिधि पन्ना टाइगर रिजर्व का भी भ्रमण करेंगे।

पन्ना कलेक्टर संजय कुमार मिश्र ने बताया कि वर्ष 2023 में खजुराहो में 23 से 25 फरवरी एवं 15 से 17 सितम्बर की अवधि में जी-20 की बैठकें प्रस्तावित हैं। मध्यप्रदेश की पर्यटन नगरी खजुराहो में 2023 फरवरी महीने में जी-20 समूह देशों के प्रतिनिधित्व मंडल को खजुराहो आना है, जिसकी तैयारियां शुरू हो गई हैं।

इस बावत आयोजित बैठक में पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री ऊषा ठाकुर ने कहा कि समूह 20 देशों के प्रतिनिधिमंडल के आगमन पर सभी संबंधित इमानदारी के साथ अपनी भूमिका का निर्वहन करें और बेहतर एवं गरिमापूर्ण आयोजन में सहयोग दें। प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने पन्ना को स्वच्छ और सुंदर बनाने का प्रयास शुरू कर दिया है। मंगलवार की सुबह स्वच्छता अभियान की शुरुआत करते हुए शर्मा ने बताया कि जी 20 देशों के प्रतिनिधि पन्ना टाइगर रिजर्व का भ्रमण करेंगे। उसके बाद नगर के जुगलकिशोर मंदिर में दर्शन करने आएंगे। इसलिए हम सभी को मिलकर अपने शहर को सुंदर बनाने में कोई कमी नहीं छोड़नी है।

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ विश्वस्तरीय विकास के विषय पर बैठक में चर्चाएं की जानी हैं। भ्रमण को दृष्टिगत रखते हुए बेहतर पार्किंग व्यवस्था, मंदिर में पाथवे निर्माण, मंदिरों में विद्युत तारों का बेहतर तरीके से संधारण, समुचित प्रचार-प्रसार और पन्ना टाइगर रिजर्व सहित जिले के पुरातात्विक एवं ऐतिहासिक महत्व के स्थानों के बारे में जानकारी से अवगत कराने के लिए बहुभाषी गाइड की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। 

शनिवार, 17 दिसंबर 2022

भोपाल: कबाड़ से 50 क्विंटल वजनी वीणा बनाई 

भोपाल: कबाड़ से 50 क्विंटल वजनी वीणा बनाई 

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। भारत की संस्कृति में संगीत का एक विशेष महत्व रहा है। वहीं शास्त्रीय संगीत जगत में वीणा सुर ध्वनियों के लिये भारतीय संगीत में प्रयुक्त सबसे प्राचीन वाद्ययंत्र है। वीणा प्राचीन काल से ही भारतीय संगीत की धरोहर रही है।

इस ही क्रम भोपाल में कबाड़ से 50 क्विंटल वजनी वीणा बनाई गई है। इसको लेकर दावा किया जा रहा है कि यह दुनिया की सबसे बड़ी वीणा है। कहा जा रहा है कि इस वीणा को बनाने में 12 से 15 लाख रुपये का खर्च आया है और निर्माण में 480 घंटे का समय लगा है। 

कबाड़ से जुगाड़ 
कबाड़ से कंचन थीम पर पवन देश पांडे और देवेन्द्र शाक्य की टीम ने इसे  तैयार किया है। कबाड़ से बनी इस वीणा की लंबी 28 फीट है और ऊंचाई 12 फीट है वही इस की चौड़ी 10 फीट है। इस वीणा को बनाने में कबाड़ का स्तेमाल किया गया है। जैसे चैन, गियर, बैयरिंग और वायर आदि  इस वीणा को  ऐसी जगह इंस्टॉल किया जाएगा जहां इस के सात सेल्फी ले सकें।

प्रतिदिन आठ घंटे इस पर किया काम
पवन देशपांडे और देवेंद्र शाक्य ने बताया वीणा को बनाने में 10 कलाकार ने काम किया है। जिनमें सैयद फारुख, शानिली देशपांडे, गुलफाम कुरैशी, गजेन्द्र शाक्य, संतोष मुआसी, फैजान अंसारी, फरहान कुरैशी और अरविंद पिछले छह महीने से जुटे थे। इसके निर्माण की शुरुआत बीते दो महीने पहले की गई थी। साठ दिन में हर रोज लगभग आठ घंटे इस वीणा के निर्माण के लिए काम किया गया।पवन देशपांडे और देवेंद्र शाक्य के अनुसार उनका और उनकी टीम का यह पांचवा प्रोजेक्ट है। इससे पहले भी उनकी टीम कबाड़ से रेडियो, गिटार, रोजा भोज और कोरोना वैक्सीन बना चुकी है। यह सामग्री शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में स्थापित है. अब उनकी टीम द्वारा भोपाल का यह पांचवां सबसे बड़ा प्रोजेक्ट वीणा के रूप में तैयार किया है।

50 क्विंटल लोहे से बनी है वीणा
इस वीणा को बनाने में 50 क्विंटल लोहा लगा है। जिनमें कबाड़ से चैन, गियर बॉक्स, बैयरिंग, वायर, लोहे की बड़ी चैन सहित अन्य सामान शामिल है। जबकि वीणा को खूबसूरती देने के लिए लगभग 20 लीटर कलर का उपयोग किया गया है। बता दें कि अयोध्या में बनी कांस्य की वीणा में लगभग आठ करोड़ रुपए खर्च करने की बात सामने आई है, जबकि भोपाल बनी इस वीणा में 15 लाख रुपए खर्च आया है।

सोमवार, 28 नवंबर 2022

कैलेण्डर वर्ष 2019 के कृति पुरस्कारों की घोषणा 

कैलेण्डर वर्ष 2019 के कृति पुरस्कारों की घोषणा 

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। मध्यप्रदेश संस्कृति विभाग की साहित्य अकादमी द्वारा कैलेण्डर वर्ष 2019 के कृति पुरस्कारों की घोषणा कर दी गई है। इसमें 13 अखिल भारतीय जबकि 15 प्रादेशिक कृति पुरस्कार शामिल हैं। एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि अखिल भारतीय पुरस्कार में प्रति रचनाकार को एक लाख रूपये एवं प्रादेशिक पुरस्कार में प्रति रचनाकार को 51,000 रूपये के साथ शॉल, श्रीफल, स्मृति-चिन्ह और प्रशस्ति के साथ अलंकृत किया जाता है।

अधिकारी ने बताया कि अखिल भारतीय पंडित माखनलाल चतुर्वेदी (निबंध) पुरस्कार डॉ. मनोज पाण्डेय, नागपुर की कृति आलोचना के नये परिप्रेक्ष्य को दिया गया है, जबकि अखिल भारतीय गजानन माधव मुक्तिबोध (कहानी) सच्चिदानंद जोशी, दिल्ली की कृति "पल भर की पहचान'' को दिया गया है।

अधिकारी ने बताया कि अखिल भारतीय राजा वीरसिंह देव (उपन्यास) प्रोफेसर मनीषा शर्मा, अमरकंटक की कृति ये इश्क... को, अखिल भारतीय आचार्य रामचन्द्र शुक्ल (आलोचना) डॉ. कविता भट्ट, उत्तराखण्ड की कृति भारतीय साहित्य में जीवन मूल्य को, अखिल भारतीय पंडित भवानी प्रसाद मिश्र (गीत एवं हिन्दी गजल) डॉ. आर. पी. सारस्वत, सहारनपुर की कृति "तुम बिन को और अखिल भारतीय अटल बिहारी वाजपेयी (कविता) डॉ. इन्दु राव, हरियाणा की कृति छांह संस्कृति की'' को दिया गया है।

उन्होंने कहा कि इसके अलावा, अखिल भारतीय कुबेरनाथ राय (ललित निबंध) राजेश जैन, दिल्ली की कृति ईश्वर की आत्मकथा को, अखिल भारतीय विष्णु प्रभाकर (आत्मकथा जीवनी) डॉ. कुलदीप चंद अग्निहोत्री, मोहाली की कृति श्री गुरु नानक देवजी को, अखिल भारतीय निर्मल वर्मा (संस्मरण) प्रो. सूर्यप्रकाश चतुर्वेदी, इंदौर की कृति बदलती हवाएँ' को, अखिल भारतीय महादेवी वर्मा (रेखाचित्र) प्रशांत पोल, जबलपुर की कृति वे पंद्रह दिन को, अखिल भारतीय प्रोफेसर विष्णुकांत शास्त्री (यात्रा-वृत्तांत) डॉ. सुधा गुप्ता 'अमृता', कटनी की कृति "चलें भ्रमण की ओर को, अखिल भारतीय भारतेन्दु हरिश्चन्द्र (अनुवाद) संतोष रंजन, भोपाल की कृति थेल्मा मेरी कोरिली को और अखिल भारतीय नारद मुनि (फेसबुक/ब्लाग /नेट) पुरस्कार अजय जैन 'विकल्प',इंदौर को उनके पेज फेसबुक,ब्लॉग व नेट को दिया गया है।

अधिकारी ने बताया कि इन 13 अखिल भारतीय कृति पुरस्कारों के अलावा 15 प्रादेशिक कृति पुरस्कारों की घोषणा भी की गई है, जिनमें वृन्दावन लाल वर्मा (उपन्यास) पुरस्कार डॉ. अश्विनी कुमार दुबे, इंदौर की कृति "किसी शहर में'' और सुभद्रा कुमारी चौहान (कहानी) डॉ. गरिमा संजय दुबे, इंदौर की कृति "दो ध्रुवों के बीच की आस'' शामिल हैं।

शनिवार, 19 नवंबर 2022

शिक्षा जगत को कॉन्फ्रेंस में हुई चर्चाओं का लाभ होगा

शिक्षा जगत को कॉन्फ्रेंस में हुई चर्चाओं का लाभ होगा

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। महर्षि पतंजलि संस्कृत संस्थान, मध्यप्रदेश के चेयरमेन भरत बैरागी ने कहा कि कॉउंसिल ऑफ बोर्डस ऑफ एज्यूकेशन (कोबसे) की तीन दिवसीय कॉन्फ्रेंस में हुई चर्चाओं का निश्चित ही शिक्षा जगत को लाभ होगा। भरत कॉन्फ्रेन्स के समापन-सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि कॉन्फेंस के माध्यम शिक्षा की दृष्टि से भारत में बदलाव आएगा। उन्होंने कहा कि सभी बच्चों में एक योग्यता होती है और हम उस योग्यता को कहाँ जोड़ पा रहे हैं, हम उनको क्या शिक्षा दे रहे हैं, यह देखना बहुत जरूरी है। बच्चों की रूचि के अनुसार ही शिक्षा देना चाहिए और उसके अनुरूप ही शिक्षा नीति होना चाहिए। बच्चों के पास अपनी विधा हो, एक कौशल हो, यह सब शिक्षा से ही आयेगा।

नई शिक्षा में आमूलचूल बदलाव कर हम बच्चे को एक योग्य नागरिक बनाये, जिससे भारत में एक समरसता का भाव होगा और वह समाज को पोषक करेगा। श्री बैरागी ने कहा कि इस कॉन्फ्रेंस में आये भारत वर्ष के 32 राज्यों के अधिकारियों द्वारा शिक्षा नीति पर की किये गये मंथन से निकला अमृत स्कूल शिक्षा बोर्ड की प्रक्रिया सुधारने का काम करेगा।

कोबसे की प्रेसीडेन्ट एवं नागालेण्ड एज्यूकेशन बोर्ड की चेयरमेन श्रीमती असानो सिकोसे ने कहा कि 51वीं वार्षिक कॉन्फ्रेन्स में जो चर्चा और निर्णय हुए हैं, उनको शीघ्र ही मूर्तरूप दिया जायेगा। महासचिव एम. सी. शर्मा ने कहा कि शिक्षा नीति पर हुई ऑनलाइन और ऑफलाइन चर्चा के निष्कर्ष को शीघ्र ही सभी ओपन बोर्ड को अपने राज्यों में आगामी कार्यवाही के लिए भेजा जाएगा।

रविवार, 6 नवंबर 2022

लोगों के समक्ष समस्या का निराकरण किया: प्रतिनिधि 

लोगों के समक्ष समस्या का निराकरण किया: प्रतिनिधि 


अपने क्षेत्र मे लोगो की समस्या जानने मध्यरात्री भी पोहच जाते है रविंद्र कृष्णचंद्र ठाकुर (‌सिसोदिया)

मनोज सिंह ठाकुर 

रतलाम। मध्यप्रदेश के रतलाम जिले के आलोट तहसील अंतर्गत आलोट जनपद प्रतिनिधि ने मध्यरात्रि में अपने क्षेत्र के लोगो के लिए क्षेत्र मे जाकर लोगों के समक्ष समस्या का निराकरण किया। लोगो का कहना है, कि हमने आज तक ऐसा प्रतिनिधि नही देखा, ना मिला है। जो हमेशा क्षेत्र का दोरा तो करते ही है, पर रात्रि में हमारे लिए मसीहा बन के हमारी समस्याओं का निराकरण करते है।

अगर एसा नेता हो तो, गांव-गांव शहरो की तरह चमकता दिखाई देगा और लोगो ने बहुत प्यार दिया और बोले हमे गर्व है। हमारे प्रतिनिधि पर की एक कॉल पर रविंद्र भाई हमारे गांव आएं और लोगो ने नारे लगाएं... हमारा नेता केसा हो, रविंद्र ठाकुर (सिसोदिया) जेसा हो।

श्रीमद् भागवत महापुराण कथा का आयोजन जारी 

श्रीमद् भागवत महापुराण कथा का आयोजन जारी 


सिंधी कॉलोनी में श्री मद भागवत कथा की पूर्णाहुति

मनोज सिंह ठाकुर 

खंडवा। सिंधी समाज के परम पूज्य महंत बाबा श्यामदास साहेब जी की 23वीं पुण्यतिथि के अवसर पर धार्मिक स्थल तीरथ धाम एवं महंत बाबा स्वरूप दास जी के द्वारा श्रीमद् भागवत महापुराण कथा का आयोजन जारी है। यह कथा 31 अक्टूबर से प्रारंभ हुई। शनिवार को भी बड़ी संख्या में महिलाएं और पुरुष आयोजन स्थल पहुंचे और परम श्रद्धेय बापू श्री अशोकानंद जी महाराज जबलपुर के मुखारविंद से ज्ञान भक्ति एवं मुक्ति के इस त्रिवेणी संगम कार्यक्रम में आकर महापुराण कथा का रसपान किया और पुण्य लाभ लिया।

बाबा नारायणदास सेवा मंडल के प्रवक्ता कमल नागपाल ने जानकारी देते हुए बताया कि बापू श्री अशोकानंद महाराज के मुखारविंद से महापुराण कथा 31 अक्टूबर से प्रारंभ हुई। प्रतिदिन दोपहर 1 से 5 बजेतक परम पूज्यनीय महंत बाबा स्वरूपदास जी के सानिध्य में श्रीमद् भागवत कथा महापुराण का आयोजन निरंतर जारी रहा। 6 नवंबर रविवार को कथा की पूर्णाहुति होगी। यह आयोजन सिंधी समाज बगीचा ग्राउंड स्वामी नारायण नगर सिंधी कॉलोनी खंडवा में जारी है। शनिवार को भी बापू ने जब कथा के मध्य में धार्मिक भजन प्रस्तुत किए तो श्रद्धालु झूम उठे।

बुधवार, 12 अक्तूबर 2022

रेलवे स्टेशन के बीच बिजली गिरने से ट्रैक मैन की मौंत

रेलवे स्टेशन के बीच बिजली गिरने से ट्रैक मैन की मौंत

मनोज सिंह ठाकुर 

सतना। मध्यप्रदेश के सतना जिले खुटहा-चितहरा रेलवे स्टेशन के बीच बिजली गिरने से एक ट्रैक मैन की मौंत हो गयी और तीन अन्य झुलस गए हैं। राजकीय रेल पुलिस के अनुसार कल खुटहा-चितहरा रेलवे स्टेशनो के बीच ट्रैक मरम्मत का कार्य चल रहा था। तभी तेज बारिश होने लगी। बारिश से बचने के लिये रेल पटरियो के निकट एक पेड़ के नीचे खड़े रेलवे के चार गैंगमैन हादसे का शिकार हो गये। दुर्घटना में इंद्रसेन की मौंत हो गई, जबकि गंभीर रूप से घायल तीन लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बुधवार, 5 अक्तूबर 2022

अशोभनीय कृत्य के मामलें में एक पटवारी निलंबित 

अशोभनीय कृत्य के मामलें में एक पटवारी निलंबित 

मनोज सिंह ठाकुर 

सागर। मध्यप्रदेश के सागर जिले में जिला प्रशासन ने अशोभनीय कृत्य के मामलें में एक पटवारी को निलंबित कर दिया है। कलेक्टर दीपक आर्य ने बीना तहसील कार्यालय के भानगढ़ हल्का क्रमांक 14 के पटवारी विनोद अहिरवार को जनपद पंचायत सदस्य के साथ अशोभनीय कृत्य, जनप्रतिनिधि का अपमान किया जाने और राजस्व विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों की छवि धूमिल करने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

शनिवार, 17 सितंबर 2022

चंबल अंचल में दौड़ेंगे चीते, टाइगर मारेंगे दहाड़

चंबल अंचल में दौड़ेंगे चीते, टाइगर मारेंगे दहाड़

इकबाल अंसारी

ग्वालियर। चंबल-अंचल में चीतो की फुर्तीली दौड़ के बाद अब टाइगर भी दहाड़ मारेंगे। 17 सितंबर शनिवार को प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिवस पर श्योपुर जिले के कूनो सेंचुरी में चीतों की भारत में वापसी हुई है, तो अब बहुत जल्द ही शिवपुरी जिले के माधव नेशनल पार्क में टाइगर की दहाड़ सुनाई देगी।

यह बड़ा बयान केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दिया है। टाइगर लाने को लेकर उन्होंने कहा है कि शिवपुरी के माधव नेशनल पार्क में अगले साल तक पांच टाइगर रिलीज किए जा सकते हैं। टाइगर लाने की मेरी सोच है और केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव जी से इस विषय को लेकर चर्चा भी हुई है। रणथंबोर में टाइगर है, कूनो पालपुर में चीता होगा। आगे पन्ना सेंचुरी है, उन्होंने कहा कि अगले साल तक पांच टाइगर रिलीज करने की वह कोशिश करेंगे।

यह पूरी पट्टी रणथंबोर, फिर कूनो पालपुर, फिर माधव नेशनल पार्क शिवपुरी, फिर पन्ना सेंचुरी के जरिए पूरा सर्किट तैयार होगा। राजस्थान के कोने से पन्ना तक वन्य प्राणियों का एक विशेष सर्किट होगा, जो सैलानियों के लिए आकर्षण का केंद्र बनेगा।

सोमवार, 12 सितंबर 2022

सदानंद को शारदा पीठ का नया शंकराचार्य बनाया 

सदानंद को शारदा पीठ का नया शंकराचार्य बनाया 

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। ज्योतिष पीठ एवं शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के निधन के दूसरे दिन नए उत्तराधिकारियों का ऐलान हो गया है। अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती को ज्योतिष पीठ का नया शंकराचार्य बनाया गया है। वहीं, शारदा पीठ के नए शंकराचार्य सदानंद सरस्वती को बनाया गया है। शंकराचार्य स्वरूपनानंद सरस्वती को समाधि से पहले ही इस संबंध में सोमवार को घोषणा कर दी गई। शंकराचार्य परंपरा के मुताबिक गुरु की समाधि से पहले ही उत्तराधिकारी की घोषणा की जाती है। स्वरूपानंद सरस्वती दो पीठों के शंकराचार्य थे। दोनों पीठों के लिए उन्होंने अलग-अलग उत्तराधिकारी तय किए, उनके निजी सचिव ने उनका 'विल' पढ़कर घोषणा की है।

बता दें कि उत्तर के ज्योतिष पीठ एवं पश्चिम के द्वारका शारदा पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानन्द सरस्वती का शनिवार को निधन हो गया था। उन्होंने 99 साल की उम्र में मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले में स्थित आश्रम में अंतिम सांस ली।

रविवार, 11 सितंबर 2022

शंकराचार्य स्वरूपानंद का 99 साल की उम्र में निधन 

शंकराचार्य स्वरूपानंद का 99 साल की उम्र में निधन 

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल। मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर में द्वारकापीठ के शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती का 99 साल की उम्र में निधन हो गया। ज्योतिष और द्वारका-शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वामी शंकराचार्य सरस्वती की उम्र 99 वर्ष थी। 

उन्होंने मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर के परमहंसी गंगा आश्रम में ली दोपहर 3.30 बजे अंतिम सांस ली। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। वह आजादी की लड़ाई में भाग लेकर जेल भी गए थे। उन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए लंबी कानूनी लड़ाई भी लड़ी थी।

मंगलवार, 16 अगस्त 2022

बाढ़: लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के निर्देश

बाढ़: लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के निर्देश 

मनोज सिंह ठाकुर 

भोपाल/विदिशा। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विदिशा जिले में बाढ़ की स्थिति के बीच आज सुबह जिला कलेक्टर से चर्चा कर लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के निर्देश दिए। आधिकारिक जानकारी के अनुसार अब तक विदिशा जिले से लगभग 200 लोगों का बचाव कार्य कर लिया गया है और मिल रही सूचनाओं के आधार पर ये काम जारी है। आज सुबह से विदिशा के ग्राम बर्री, तहसील गुलाबगंज से जिला प्रशासन और होमगार्ड के जवानों ने बेतवा नदी से 6 लोगों को सुरक्षित निकाला गया है। ग्राम बैरागढ़, तहसील लटेरी में टैम नदी से 12 लोगों को, विदिशा शहर के नौलक्खी से बेतवा के जलस्तर बढ़ने से 107 लोगों को, रंगाई से 27 लोगों को और ग्राम पमारिया, तहसील नटेरन में संजय सागर डैम के कैचमेंट एरिया में पानी आ जाने से 32 लोगों को सुरक्षित निकाला गया है।

वहीं, बासौदा में पाराशरी नदी से 17 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। वहीं करारिया में बेस नदी का जलस्तर बढ़ने से वहां फंसी एक गर्भवती महिला को जिला अस्पताल पहुंचाया जा रहा है। वहीं विदिशा से यूनीवार्ता संवाददाता के मुताबिक जिले में हुई अतिवृष्टि तथा भोपाल के बांधों से छोड़े गए पानी के कारण बेतवा नदी खतरे के निशान के लगभग पास पहुंच गई है। जिले के सभी जलाशयों में अधिक जलभराव के कारण बांधों के गेट खुले हुए हैं। इस कारण बेतवा और उनकी सहायक नदियों में जलस्तर अत्यधिक हो गया है। निचली बस्तियों में जलभराव होने से बचाव कार्य किया जा रहा है। गंजबासौदा, अम्बानगर, बर्रीघाट, कागपुर पुल सहित बाह नदी पर पुल के ऊपर पानी होने से यातायात बंद के लिए बैरिकेडिंग लगाए गए हैं। आज सुबह जिले के संजय सागर बाँध के सभी सातों गेट खोले गए हैं।

सोमवार, 1 अगस्त 2022

हॉस्पिटल में भीषण आग लगने से 10 लोगों की मौंत 

हॉस्पिटल में भीषण आग लगने से 10 लोगों की मौंत 

शहनवाज अहमद 

जबलपुर। मध्य प्रदेश के जबलपुर में न्यू लाइफ मल्टी स्पेशिलिटी हॉस्पिटल में सोमवार को भीषण आग लग गई। बताया जा रहा है कि इस घटना में अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है, 13 लोग घायल हैं, जिनकी हालत गंभीर है। मरने वालों में 4 अस्पताल के स्टाफ हैं। मौतों का आंकड़ा और बढ़ सकता है। रेस्क्यू जारी है। फायर ब्रि‍गेड की टीम मौके पर है। आग लगने से अस्‍पताल में अफरा तफरी का माहौल है। पुलिस के मुताबिक़, अस्पताल में शॉट सर्किट के कारण आग लगी है। आग ग्राउंड फ्लोर से थर्ड फ्लोर तक फैल गई।

सिद्धार्थ बहुगुणा (SP, जबलपुर) ने बताया कि जबलपुर के अस्पताल में शॉर्ट सर्किट से लगी आग में करीब 9-10 लोगों की मृत्यु हुई है। वहीं, NDRF के संजीव कुमार गुप्ता ने बताया कि हमारी टीम तुरंत मौके पर पहुंची। हमने तलाशी अभियान पूरा कर लिया है और कोई भी अंदर नहीं फंसा है। पहली मंजिल पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है।

सीएम ने जताया दुःख...
वहीं, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जबलपुर के एक अस्पताल में भीषण अग्नि दुर्घटना का दुखद समाचार प्राप्त हुआ है। स्थानीय प्रशासन और कलेक्टर से निरंतर संपर्क में हूं। मुख्य सचिव को संपूर्ण मामले पर नजर बनाये रखने के लिए निर्देश दिया है। राहत एवं बचाव के लिए हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं। जबलपुर के न्यू लाइफ अस्पताल में आग से हुई दुर्घटना में अमूल्य जिंदगियों के असमय निधन के समाचार से हृदय दु:ख से भरा हुआ है। ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने एवं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।

मुआवजे का ऐलान...
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दु:ख की इस घड़ी में शोकाकुल परिवार स्वयं को अकेला न समझें,मैं और संपूर्ण मध्य प्रदेश परिवार के साथ है। राज्य सरकार की ओर से मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता प्रदान की जायेगी।घायलों के संपूर्ण इलाज का व्यय भी सरकार वहन करेगी। सीएम ने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद घटना हुई है। मैं लगातार प्रशासन के संपर्क में हूं। आग पर काबू पा लिया गया है। घायलों को अस्पताल में उपचार के लिए भेजा गया है। कमिश्नर जबलपुर को घटना की जांच के निर्देश दिए हैं।

रविवार, 31 जुलाई 2022

'विशाल निशुल्क नोटबुक' वितरण कार्यक्रम रखा गया 

'विशाल निशुल्क नोटबुक' वितरण कार्यक्रम रखा गया 


ज़ेड एच फाउंडेशन का नि:शुल्क नोटबुक वितरण कार्यक्रम, इंडियन रेडक्रॉस सोसाइटी के मार्गदर्शन में

सब को शिक्षा, सब को स्वास्थ्य का सपना संजोए 

शहनवाज अहमद   

जबलपुर। ज़ेड एच फाउंडेशन विगत 7 वर्षों से निरंतर उल्लेखनीय कार्य करता आ रहा है। इसी कड़ी में रविवार को अनवर खां महबूब कंपनी, हनुमानताल जबलपुर के सामने स्थित फाउंडेशन की शाखा में 'विशाल निशुल्क नोटबुक' वितरण कार्यक्रम रखा गया। जिसमें ऐसे बच्चों को नोटबुक वितरित की गई, जो गरीब, बेसहारा एवं कोरोना काल में अपने माता पिता को खो चुके हैं। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि इंडियन रेडक्रॉस सोसाइटी के मेंबर, सिविल डिफेंस के डिविजनल वार्डन सुनील गर्ग जी उपस्थित थे। एवं कार्यक्रम के सफल आयोजन पर ज़ेड एच फाउंडेशन के फाउंडर हजरत सैय्यद आमिर हसन दादा ने जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया।


मंगलवार, 26 जुलाई 2022

अवसर: असिस्टेंट रजिस्ट्रार के पदों पर भर्ती निकाली

मनोज सिंह ठाकुर  

भोपाल। जो युवा मध्य प्रदेश में नौकरी की तलाश में हैं ये उनके लिए शानदार मौका हो सकता है। दरअसल, मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा हायर एजुकेशन डिपार्टमेंट में असिस्टेंट रजिस्ट्रार के पदों पर भर्ती निकाली हैं। जिसके लिए उसने अधिसूचना जारी की है। बता दें इस भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया 6 अगस्त से शुरू होगी। उम्मीदवार को आवेदन करने के लिए ऑफिशियल साइट mppsc.mp.gov.in की मदद लेनी होगी। इन पदों के लिए उम्मीदवार 25 अगस्त तक आवेदन कर सकेंगे।

शैक्षणिक योग्यता...
इस भर्ती के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर होना जरूरी है। साथ ही उम्मीदवार के परीक्षा में 55 प्रतिशत अंक होने आवश्यक  है।

उम्र सीमा...
अधिसूचना के अनुसार इस भर्ती के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की आयु 21 साल से 40 साल के मध्य होनी चाहिए।

चयन प्रक्रिया...
इस भर्ती अभियान के तहत हो रही भर्ती के लिए उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के जरिए किया जाएगा।

ऐसे करें आवेदन...

  • इन पदों के लिए आवेदन करने के लिए उम्मीदवार सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट mppsc.mp.gov.in पर जाएं।
  • अब उम्मीदवार होमपेज पर दिए गए Apply Online के पर क्लिक करें।
  • इसके बाद वह संबंधित पद के लिए आवेदन की प्रक्रिया को शुरू करें।
  • अब उम्मीदवार आवश्यक विवरण दर्ज करें और दस्तावेज को अपलोड करें।
  • इसके बाद उम्मीदवार आवेदन शुल्क का भुगतान करें और फॉर्म सबमिट करें।
  • अंत में उम्मीदवार फॉर्म को डाउनलोड कर उसकी हार्ड कॉपी अपने पास रखें।

सोमवार, 18 जुलाई 2022

बस नर्मदा नदी में गिरी, हादसे में 12 की मौत हुई

बस नर्मदा नदी में गिरी, हादसे में 12 की मौत हुई 

दुष्यंत टीकम


खरगोन। मध्य प्रदेश के खरगोन में एक बड़ा हादसा हो गया यहां 55 यात्रियों से भरी एक बस नर्मदा नदी में गिर गई, हादसे में 12 की मौत हो गई और 15 लोग बचाए गए। मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने खलघाट, खरगोन में हुई बस दुर्घटना का संज्ञान लिया,मुख्यमंत्री ने घायलों के समुचित इलाज की व्यवस्था के निर्देश दिए हैं। सीएम खरगोन, इंदौर जिला प्रशासन के साथ निरंतर संपर्क बनाए हुए हैं, हादसे के बाद बस को क्रेन के द्वारा निकाल लिया गया है।सीएम चौहान ने साथ ही खरगोन कलेक्टर से फोन पर फिर चर्चा कर रेस्क्यू ऑपरेशन की विस्तृत जानकारी ली।

मुख्यमंत्री शिवराज चौहान ने घटना पर दुख जताते हुए ट्वीट कर लिखा कि खरगोन के खलघाट में बस के खाई में गिरने से हुई दुर्घटना का दुखद समाचार प्राप्त हुआ।ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्रीचरणों में स्थान और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने तथा घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।

शनिवार, 16 जुलाई 2022

आधार के जनक जायसवाल को प्रथम पुरस्कार

आधार के जनक जायसवाल को प्रथम पुरस्कार
मनोज सिंह ठाकुर

इन्दौर। आधार कार्ड के जनक सुनील जायसवाल द्वारा भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के पूर्व चेयरमैन नंदन नीलकेणी के खिलाफ शिकायत पर संज्ञान में लेते हुए भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण को एक सूचना पत्र जारी किया गया है। उक्त शिकायत पर एक माह में कार्यवाही सुनिश्चित कर सूक्ष्मता से जांच कर एवं तीन माह में अनुसंधान कर जवाब मांगा गया है।
स्मरण रहे कि 29 सितंबर 2021 को आधार कार्ड के जनक सुनील जायसवाल इंदौर ने सदर बाजार थाना, बाणगंगा थाने से लेकर सीएसपी, एसपी, डीएसपी, कमिश्नर, कलेक्टर, मुख्यमंत्री, सामान्य प्रशासन मंत्रालय, मध्य प्रदेश शासन भोपाल व नई दिल्ली के सभी मंत्रालयों, प्रधानमंत्री कार्यालय, राष्ट्रपति सचिवालय एवं सीबीआई को भी अपनी आधारायण ग्रंथ शिकायत बुक पिटीशन याचिका 1176 पेज के माध्यम से भेजी थी। जिसमें उन्होंने अपना शोध-पत्र कर लो इंसान को मुट्ठी में जो 15 अगस्त 2005 को राष्ट्रपति सचिवालय, प्रधानमंत्री कार्यालय भारत सरकार को भेजा गया था। तब से लेकर अभी तक 14 वर्षों के संघर्ष के दौरान आधार कार्ड के जनक होने का दावा पेश करते हुए उक्त ग्रन्थ में आधार कार्ड के जन्म की कहानी लिखी है। उपरोक्त शिकायत पर सीबीआई ने संज्ञान लेते हुए एक सूचना पत्र जारी किया है। आधार कार्ड के जनक सुनील जायसवाल ने बताया कि शीघ्र ही हमारे पक्ष में फैसला आएगा और कल्चुरी समाज को उक्त सम्मान मिलेगा एवं मां अहिल्या की पावन नगरी इंदौर शहर को एक और सर्वश्रेष्ठ सौगात मिलेगी। स्मरण रहे कि आधार कार्ड के जनक सुनील जायसवाल को पिछले दिनों भारत स्वच्छ मिशन इंदौर नगर पालिका निगम द्वारा आयोजित स्लोगन प्रतियोगिता में प्रथम अवार्ड मिला था जिसका स्लोगन था घर परिवार और अपनों को मुझे बचाना है, मुझे आज ही वैक्सीन लगवाना है।

गणतंत्र दिवस    'संपादकीय'

गणतंत्र दिवस    'संपादकीय' 'भारत' देश है हमारा, संविधान पर विवाद नहीं। 'सभ्यता' सबसे पहले आई, ...