रविवार, 9 जनवरी 2022

संगठन विस्तार को लेकर पदाधिकारियों की बैठक

संगठन विस्तार को लेकर पदाधिकारियों की बैठक 
अरविंद कुमार मौर्य            
कौशाम्बी। समाजवादी पार्टी युवजन सभा के संगठन विस्तार को लेकर रविवार को पार्टी कार्यालय में युवजन सभा के पदाधिकारियों की बैठक हुई। बैठक में पार्टी में सक्रियता से काम करने वाले युवाओं को जिम्मेदारी दी गई। इसके साथ ही आने वाले विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की सरकार बनाने के लिए चर्चा किया गया। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की अनुमति व प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल के अनुमोदन एवं युवजन सभा प्रदेश अध्यक्ष अरविंद गिरी के संस्तुति पर जिला अध्यक्ष चन्द्रजीत यादव ने शिवा यादव को युवजन सभा का जिला उपाध्यक्ष बनाया है। 
शिवा यादव के जिला उपाध्यक्ष बनते ही कार्यकर्ताओं और समर्थकों में खुशी की लहर है। कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर नवागत जिला उपाध्यक्ष का फूल मालाओं से स्वागत किया। इस दौरान नवनियुक्त सपा युवजन सभा के जिला उपाध्यक्ष शिवा यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व व जिलाध्यक्ष ने उन्हें जो जिम्मेदारी सौंपी है। उसका वह पूरी तरह से निर्वहन करेंगे। उन्होंने आगामी 2022 के विधानसभा चुनाव में भारी बहुमत से अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने की तैयारियों की चर्चा की है। इस मौके पर  सैफ, राशिद खान, कृष्णा जैक, विकास यादव सहित तमाम सपाई मौजूद रहे।

गाज़ियाबाद में धारा-144 लागू, पाबंदी लगाईं गई
अश्वनी उपाध्याय            गाजियाबाद। विधानसभा चुनावों की तैयारी के सिलसिले में जिला निर्वाचन अधिकारी ने गाज़ियाबाद में धारा-144 लागू की है। इस संबंध में जारी आदेश में कहा गया है कि आदर्श आचार संहिता के साथ-साथ कोविड-19 गाइड लाइंस का भी पालन किया जाएगा। आइए जानते हैं जिला मजिस्ट्रेट गाज़ियाबाद ने अपने आदेश में किन-किन बातों पर पाबंदी लगाई है। सार्वजनिक स्थल पर पाँच या पाँच से अधिक व्यक्तियों के एकत्र होने और एक साथ चलने पर पाबंदी लगा दी गई है। कोई भी व्यक्ति या व्यक्तियों का समूह सड़क पर यातायात बाधित नहीं करेगा और न ही जाम लगाएगा। किसी भी सरकारी अथवा गैर सरकारी कर्मचारी को ड्यूटी पर जाने से नहीं रोकेगा। कोई भी व्यक्ति मौखिक या लिखित रूप से (पोस्टर, पम्पलेट, पर्चे, सोशल मीडिया आदि) अथवा लाउडस्पीकर से ऐसी नारेबाजी या भ्रामक प्रचार नहीं करेगा जिससे वर्ग विशेष अथवा जाति संबंधी किसी प्रकार के तनाव उत्पन्न होने की संभावना हो। बिना लिखित अनुमति के किसी भी स्थान पर कोई आमसभा आयोजित नहीं की जाएगी। 

न ही कोई जुलूस अथवा किसी प्रकार का प्रदर्शन आयोजित किया जाएगा। यदि कोई व्यक्ति या व्यक्तियों का समूह अपने घर के भीतर अथवा बाहर सार्वजनिक स्थान पर ईंट के टुकड़े, सोडावाटर कि बोतलें या ऐसी सामग्री जिसका उपयोग किसी प्रकार के आक्रमण के दृष्टिकोण से किया जा सकता है, ऐसे ध्येय के लिए प्रयोग नहीं करेगा। कोई भी व्यक्ति/व्यक्तियों का समूह किसी प्रकार के राजनैतिक, जातीय, धार्मिक व सामाजिक भावनाओं को बिगाड़ने वाले किसी प्रकर के नारे आदि नहीं लगाएगा तथा न ही सोशल मीडिया पर प्रचार-प्रसार करेगा।  ऐसा कोई कार्य लिखकर, बोलकर अथवा किसी प्रतीक के माध्यम से नहीं करेंगे, जिससे किसी धर्म, मजहब, संप्रदाय, जाति या सामाजिक वर्ग की भावना आहत हो या उससे विभिन्न वर्गों /दलों/व्यक्तियों के बीच तनाव की स्थिति उत्पन्न हो। यह कि कोई भी व्यक्ति अपने घर अथवा सार्वजनिक स्थान पर किसी प्रकार की सभा आदि का आयोजन बिना जिलाधिकारी, अपर जिला मजिस्ट्रेट या संबन्धित तहसील के उप जिला मजिस्ट्रेट की पूर्व अनुमति के बिना नहीं करेगा। 

कोई भी व्यक्ति जनपद गाज़ियाबाद की सीमा के अंतर्गत किसी प्रकार का शस्त्र जैसे बंदूक, पिस्टल, रिवाल्वर, भाला, चाकू, लाठी, डंडा, स्टिक अथवा किसी प्रकार घातक अस्त्र या आग्नेयास्त्र तथा विस्फोटक पदार्थ आदि लेकर आवागमन नहीं करेगा। यह आदेश ड्यूटी पर तैनात अधिकारी/कर्मचारी पर लागू नहीं होगा।शादी/बारात व अन्य अवसरों पर किसी भी व्यक्ति द्वारा शस्त्र का शौकिया प्रयोग/हर्ष फायरिंग नहीं की जाएगी। कोई भी व्यक्ति सार्वजनिक स्थल पर शराब/मादक पदार्थ का सेवन नहीं करेगा। कोई भी व्यक्ति बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति के अनशन/धारणा/प्रदर्शन आदि नहीं करेगा, ना ही ऐसा करने के लिए किसी को प्रेरित करेगा और न ही ऐसे किसी कार्यक्रम में सम्मिलित होगा। यह कि कोई भी व्यक्ति रात 8 बजे से प्रातः 8 बजे तक किसी लाउडस्पीकर का प्रयोग नहीं करेगा। सोशल मीडिया (फेसबुक, व्हाट्सएप, या अन्य किसी इलेक्ट्रोनिक माध्यम से) किसी भी प्रकार की झूठी/भ्रामक सूचना, उत्तेजनात्मक अफवाह आदि नहीं फैलाई जाएगी। किसी भी ग्रुप में संबंधित ग्रुप एडमिन द्वारा उनके ग्रुप में कोई भी झूठी/भ्रामक सूचना, अफवाह अथवा ऐसी कोई विज्ञप्ति प्रकाशित होने से रोका जाएगा, जिससे जन सामान्य भ्रमित हो तथा लोक प्रशांति पर प्रतिकूल प्रभाव पड़े। 

यदि कोई सदस्य इस प्रकार का संदेश/वीडियो डालता है तो ग्रुप एडमिन इसकी सूचना देगा। सभी राजनैतिक, सांस्कृतिक, धार्मिक, खेल संबंधी आयोजन, किसी प्रकार की प्रदर्शनी, रैलियाँ, जुलूस एवं अन्य सभी कार्यक्रम, जिसमें पाँच या पाँच से अधिक व्यक्ति सम्मिलित हो रहे हैं, बिना अनुमति के नहीं किए जाएंगे। किसी भी स्थान, मोहल्ले, गली आदि में किसी भी उद्देश्य से लोग एकत्रित नहीं होंगे। किसी भी बाहरी व्यक्ति परीक्षा अवधि में परीक्षा केंद्र से 100 मीटर की परिधि के अंदर खड़ा नहीं होगा तथा परीक्षा केंद्र परिसर में प्रवेश नहीं करेगा। परीक्षा केंद्र के 100 मीटर की परिधि के अंदर कोई भी व्यक्ति किसी प्रकार की ध्वनि विस्तारक यंत्रों द्वारा शोर/व्यवधान उत्पन्न नहीं करेगा। ना ही इनका प्रयोग बिना पूर्व अनुमति करेगा। कोई भी व्यक्ति या दल ऐसी निर्वाचन सामग्री अथवा पोस्टर न तो छपवाएगा और न ही प्रकाशित करेगा/कराएगा, जिसकी प्रिंट लाइन में प्रचारक/मुद्रक का नाम न हो। सार्वजनिक स्थानों पर फेस कवर/मास्क लगाना अनिवारी है। 

सार्वजनिक स्थान पर थूकना जुर्माने के साथ दंडनीय अपराध है। बाजार या साप्ताहिक बाजार में खुलने वाली दुकानों में कार्यरत प्रत्येक कर्मचारी मास्क व दस्तानों का उपयोग करेगा। दुकान में सैनिटाइजर की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी तथा दुकानदार, मात्र उन्हीं ग्राहकों को सामान विक्रय करेंगे, जो ख़रीदारी के समय मास्क का उपयोग करेंगे। कोविड19 संक्रमण की स्थिति को देखते हुए रात्रि 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक आवश्यक सेवाओं व मालवाहक वाहनों, एंबुलेंस आदि के साथ ही कोविड19 से जुड़े कार्मिक, पुलिसकर्मी और रात्रि उद्योगों से संबन्धित कर्मचारियों के आवागमन के अतिरिक्त अन्य कोई भी सार्वजनिक गतिविधि अनुमान्य नहीं होगी। बंद स्थानों पर एक समय में अधिकतम 100 से अधिक आमंत्रित अतिथियों को मास्क की अनिवार्यता, दो गज की दूरी, सेनेटाइजर का उपयोग एवं कोविड19 प्रोटोकॉल के अनुसार अन्य सावधानियों के साथ अनुमति होगी। कोविड-19 हेल्पडेस्क की स्थापना प्रवेश द्वार पर की जेगी। गृह मंत्रालय, भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा कोविड19 से संबन्धित दिशा-निर्देशों का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जाना अनिवार्य होगा। 15 जनवरी 2022 तक कोई पद यात्रा, रोड शो, साइकिल/बाइक/वाहन रैली या अन्य जुलूस की अनुमति नहीं होगी। राजनैतिक दल/प्रत्याशी/उम्मीदवार को किसी प्रकार की भौतिक रैली (फिजिकल रैली) की अनुमति नहीं होगी। रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक चुनाव प्रचार की अनुमति नहीं होगी।


डीएम उमेश ने राजनीतिक दलों का आह्वान किया
इमरान अंसारी         बिजनौर। जिलाधिकारी उमेश मिश्रा ने विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 को जिले में पूर्ण निष्पक्ष, शांतिपूर्वक, सुरक्षित और पारदर्शी रूप से सम्पन्न कराने, सहयोग करने में राजनीतिक दलों का आह्वान किया। जिला प्रशासन चुनाव की सभी प्रक्रिया को पूरी समानता और पारदर्शिता के साथ बिना भेदभाव एवं पक्षपात के भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुरूप सम्पन्न कराने के लिए प्रतिबद्ध। जिलाधिकारी उमेश मिश्रा ने उपस्थित सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों का स्वागत करते हुए कहा कि चुनाव का बिगुल बज चुका है और परस्पर सहयोग के साथ विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 को जिले में पूर्ण निष्पक्ष, शांतिपूर्वक, सुरक्षित और पारदर्शी रूप से सम्पन्न कराना है। उन्होंने आह्वान किया कि चुनाव की घोषणा के साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। इसलिए सभी दल निर्वाचन से संबंधित प्रचार-प्रसार सामग्री हटाने में जिला प्रशासन का सहयोग करें। 
उन्होंने आश्वस्त करते हुए कहा जिले में सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया पूर्ण रूप से निष्पक्ष और स्वतंत्र रूप से सम्पन्न कराने के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध है और इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। उन्होंने यह भी कहा कि चुनाव की सभी प्रक्रिया को पूरी समानता और पारदर्शिता के साथ बिना भेदभाव एवं पक्षपात के भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुरूप सम्पन्न कराया जाएगा।जिलाधिकारी श्री मिश्रा आज दोपहर 1ः00 बजे कलैक्ट्रेट सभागार में समस्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ निर्वाचन सम्बन्धी बैठक की अध्यक्षता करते हुए निर्देश दे रहे थे।
उन्होने बताया कि आगामी विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 को पूर्ण रूप से पारदर्शी निष्पक्ष बनाए रखने के लिये वीडियो निगरानी टीम, वीडियो अवलोकन टीम, व्यय अनुवीक्षण कक्ष, स्टेटिक्स सर्विलांस टीम, उड़न दस्ता टीम, सहायक व्यय प्रेक्षक, लेखा, लेखा टीम तथा मीडिया प्रमाणन और अनुवीक्षण समिति सहित विभिन्न टीमों का गठन किया गया है। उन्होंने सभी टीमों के प्रभारियों को निर्देश दिए कि जांच के समय अपना व्यवहार कुशल रखें और शालीनता का परिचय देते हुए वाहनों आदि की चैकिंग करें। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जिस वाहन या स्थान की चैकिंग की जाए, उसकी वीडियोग्राफी निश्चित रूप से करायी जाए और चैकिंग के दौरान निर्धारित मानक से अधिक नक़द रक़म पाए जाने अथवा शराब या अन्य कोई आपत्तिजनक वस्तु पाई जाती है तो तत्काल उसे जब्त करने की कार्यवाही अमल में लायें।
बैठक के दौरान वरिष्ठ कोषाधिकारी सूरज कुमार ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को निर्वाचन आयोग द्वारा निर्गत व्यय दरों की सूची उपलब्ध कराते हुए कहा कि यदि किसी दल को उक्त सामग्री की दरों पर आपत्ति हो तो वह शाम तक उपलब्ध करा दें। ताकि उक्त सम्बन्ध में आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जा सके। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन विनय कुमार सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक प्रवीन रंजन, वरिष्ठ कोषाधिकारी सूरज कुमार, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी प्रमोद कुमार सहित  राजनीतिक दल कांग्रेस से मुनीश त्यागी, भाजपा से वीर सिंह, बसपा से मो. सिद्दीक, सपा से हनी फैसल सहित अन्य दलों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की चेतावनी, अलर्ट

छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की चेतावनी, अलर्ट 

दुष्यंत टीकम            रायपुर। छत्तीसगढ़ के सीमावर्ती इलाकों में एक बार फिर मौसम ​में बदलाव हुआ है। पेंड्रा से लगे अमरकंटक इलाके में शनिवार दोपहर से बारिश हो रही है। वहीं, पेंड्रा जिले के भी कुछ हिस्सों में भारी बारिश हो रही है। बारिश के चलते इलाके में घना कोहरा भी छाया हुआ है और तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है।

वहीं, दूसरी ओर मौसम विभाग ने छत्तीसगढ़ में एक बार फिर भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश और ओले गिरने की संभावना है। मौसम विभाग की माने तो पश्चिम विक्षोभ और ऊपरी हवाओं के चक्रवात के असर से प्रदेश में बारिश और ओले गिरने की संभावना है। इसे लेकर मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने रायपुर, बिलासपुर और सरगुजा संभाग में मध्यम बारिश की संभावना जताई है। वहीं दक्षिण पूर्वी नमी युक्त हवाओं के कारण ज्यादातर जगहों के तापमान में वृद्धि हुई है।

यूके: 24 घंटे में कोरोना के 1,413 नए मामलें मिलें

पंकज कपूर         देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना का ग्राफ एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगा है। 24 घंटे के भीतर प्रदेश के सभी 13 जनपदों में रविवार को 1413 मामले सामने आए है। राज्य में आज 270 लोग कोरोना से जिंदगी की जंग जीतकर अपने घरों को रवाना हुए। राज्य में अब 4118 एक्टिव कोरोना केस हो गए हैं। जबकि 482 लोग कोरोना से जिंदगी की जंग जीतकर अपने घरों को रवाना हुए। रविवार को राज्य में 1,413 नए लोगों में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई।

जिनमें देहरादून जिले से 505, हरिद्वार से 299, नैनीताल जिले से 139, उधमसिंह नगर से 203, पौडी से 147, टिहरी से 22, चंपावत से 12, पिथौरागढ़ से 08, अल्मोड़ा जिले में 02, बागेश्वर से 03, चमोली से 34, रुद्रप्रयाग से 12, उत्तरकाशी से 08 सैंपल पॉजिटिव मिले है।

मुकाबला: सीरीज के चौथे टेस्ट मैच को ड्रॉ कराया

मुकाबला: सीरीज के चौथे टेस्ट मैच को ड्रॉ कराया      

मोमीन मलिक         सिडनी/ लंदन। इंग्लैंड ने अपने बल्लेबाजों के संघर्ष के सहारे सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) पर ऑस्ट्रेलिया के साथ खेले गए एशेज सीरीज के चौथे टेस्ट मैच को ड्रॉ करा दिया है। इस मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 388 रनों का लक्ष्य रखा था। लेकिन इंग्लैंड की टीम ने मैच के पांचवें और अंतिम दिन रविवार को 9 विकेट पर 270 रन बनाकर मैच ड्रॉ करा दिया। चौथा टेस्ट ड्रॉ होने के बाद भी मेजबान ऑस्ट्रेलिया अभी पांच मैचों की एशेज सीरीज में 3-0 से आगे है।

इंग्लैंड को इस सीरीज में अबतक एक भी जीत नहीं मिली है। दोनों टीमों के बीच एशेज सीरीज का पांचवां और अंतिम टेस्ट 14 जनवरी से होबार्ट में खेला जाएगा।ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहली पारी में भी ख्वाजा के शतक की मदद से 8 विकेट पर 416 रन बनाकर पारी घोषित कर दी थी। इसके जवाब में इंग्लैंड की टीम अपनी पहली पारी में 294 रन पर सिमट गई। जॉनी बेयरस्टो ने इंग्लैंड के लिए शतक जड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में भी 6 विकेट पर 265 रन बनाकर अपनी पारी घोषित कर दी और इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 388 रनों का लक्ष्य रखा। इसके बाद इंग्लैंड की टीम दूसरी पारी में मैच के पांचवें और अंतिम दिन रविवार को 9 विकेट पर 270 रन बनाकर मैच ड्रॉ करा दिया।

खून की कमी के लिए मददगार हैं 'नारी का साग'

सरस्वती उपाध्याय        अगर आपको साग खाना पसंद है तो नारी का साग खाया होगा और साग पसंद नहीं है तो एक बार इसे जरूर ट्राई करें। इस साग का स्वाद और सेहत के फायदें जाननें के बाद आपकी डाइट में ये जरूर शामिल हो जाएगा।

खून की कमी करेगा दूर: नारी का साग शरीर में खून की कमी को दूर करने में मदद करता है। नारी के साग में काफी मात्रा में आयरन पाया जाता है। जो खून की कमी को दूर करने में मददगार साबित होता है।

करें लिवर डिटॉक्स: नारी का साग लिवर डिटॉक्स करने में मदद करता है, ये साग आपके लिवर की गंदगी को दूर करने में मददगार है। नारी के साग में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट लिवर के एंजाइम को एक्टिवेट करते हैं, जिससे आपका लिवर हेल्दी रहता है।

बढ़ाए आंखों की रोशनी: नारी के साग में काफी मात्रा में विटामिन ए और कैरोटीनॉयड मौजूद होता है। ये आंखों की रोशनी को बढ़ाने में मदद करता है। इतना ही नहीं नारी के साग को डाइट में शामिल करने से रतौंधी रोग भी दूर रहता है।

पाचन क्रिया को करें फिट: पाचन क्रिया को दुरुस्त रखने में भी नारी का साग अच्छी भूमिका निभाता है। इस साग में फाइबर की मात्रा काफी अच्छी होती है और ये नेचुरल लेक्सटेसिव की तरह काम करता है। साथ ही ये फाइबर मेटाबोलिक रेट को भी बेहतर बनाने में मदद करता है। जिससे आप जो कुछ भी खाते हैं वो आसानी के साथ पच जाता है।

दिल का रखें ख्याल: नारी का साग खाने में मैग्नीशियम अधिक मात्रा में पाया जाता है। ये ब्लड वेसेल्स को स्वस्थ रखता है जिससे ब्लड सर्कुलेशन भी सही रहता है और दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है। जिससे आप हार्ट सम्बन्धी बीमारियों से बचे रहते हैं।

एक जिंदा पेंगोलिन के साथ आरोपी अरेस्ट किया

एक जिंदा पेगोलिन के साथ आरोपी अरेस्ट किया
पंकज कपूर     
रुद्रपुर। उधमसिंह नगर एसओजी और तराई केंद्रीय वन प्रभाग रुद्रपुर की संयुक्त कार्रवाई में एक जिंदा पेगोलिन के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार राज्य में बढ़ते वन्य जीव जंतु की अवैध तस्करी की धरपकड़ को लेकर चलाए जा रहे अभियान के तहत उत्तराखंड एसटीएफ एवं तराई पूर्वी वन प्रभाग की संयुक्त कार्यवाही में रुद्रपुर क्षेत्र अंतर्गत महतोश मोड से एक वन्यजीव तस्कर को संयुक्त टीम ने गिरफ्तार किया। 
पकड़े गए तस्कर की पहचान सुखविंदर सिंह पुत्र गुरमुख सिंह निवासी सिलबाती थाना नानकमत्ता 30 वर्ष जिला उधम सिंह नगर के रूप में हुई है। संयुक्त टीम ने उसके कब्जे से एक पैंगोलिन जिसका वजन करीब 34 किलोग्राम था को बरामद किया। जिसके बाद संयुक्त टीम ने पकड़े गए अभियुक्त के विरुद्ध पीपल पड़ाव रेंज के रुद्रपुर में वन जीव जंतु संरक्षण अधिनियम की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर उसका चालान कर दिया।
संयुक्त टीम ने पकड़े गए वन्यजीव तस्कर से उसके आपराधिक इतिहास के बारे में भी जानकारी जुटाई है बताया जाता है कि दुर्लभ वन्य जीव शेड्यूल वन यानी टाइगर के समकक्ष दुर्लभ प्राणी की श्रेणी में आता है जिसके लिए वन विभाग संरक्षण के प्रति कार्य कर रहा है। लेकिन तस्करों द्वारा की जा रही इस कार्रवाई से वन्य जीव जंतु प्रेमी में निराशा है। वन विभाग एवं एसटीएफ द्वारा की गई कार्रवाई पर वन्यजीव प्रेमियों ने आभार व्यक्त किया है।
वन्यजीव तस्कर को पकड़ने वाली टीम में एसटीएफ निरीक्षक एमपी सिंह ,उपनिरीक्षक के जी मठपाल, कांस्टेबल किशोर कुमार ,गोविंद सिंह बिष्ट ,गुणवंत सिंह ,चंद्रशेखर नवीन कुमार ,महेंद्र गिरी तथा सुरेंद्र कंडवाल जबकि तराई केंद्रीय वन विभाग की टीम में वन क्षेत्राधिकारी पीपल पड़ाव रूपनारायण गौतम ,वन दरोगा कैलाश तिवारी ,एसओजी तराई केंद्रीय संदीप सोटा ,वीरेंद्र परिहार , सुरेंद्र सिंह तथा राहुल कंनवाल आदि थे।

पत्नी की कुल्हाड़ी से हत्या, पति ने खुदखुशी की
मनोज सिंह ठाकुर            बड़वानी। मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के पाटी थाना क्षेत्र के कुंभखेत में एक व्यक्ति ने कथित तौर पर चरित्र शंका को लेकर दो पुत्रियों के सामने कुल्हाड़ी से पत्नी की नृशंस हत्या कर दी। पत्नी की हत्या के बाद पति ने कीटनाशक खाकर खुद भी आत्महत्या कर ली। पाटी के थाना प्रभारी आरके लोवंशी ने बताया कि 45 वर्षीय भोपा ने उसकी पत्नि बिसना बाई (40) की शुक्रवार सुबह कुल्हाड़ी के करीब 15 वार कर हत्या कर दी। बाद में उसने कीटनाशक का सेवन कर आत्महत्या कर ली। शुक्रवार रात ग्रामीणों की सूचना पर आरंभ की गयी विवेचना में पाया गया कि दम्पती की तीन बेटियां और एक शादीशुदा बेटा था। भोपा द्वारा चरित्र शंका को लेकर शराब पीकर मारपीट करने के चलते बिसना बाई कई बार अपने ससुराल गन्धावल चली जाती थी। 
दरवाजा तोड़ की पत्नी की हत्या पुत्र और पुत्र वधू के बाहर जाने पर बहुत दिनों के बाद भोपा 6 जनवरी को उसे लेकर वापस आया था। शुक्रवार तड़के फिर से विवाद होने पर वह बिसना बाई को मारने के लिए कुल्हाड़ी लेने गया। संभावित घटना को भांप कर बिसना बाई ने इस दौरान वहां उपस्थित अपनी 15 वर्षीय और 4 वर्षीय दो पुत्रियों को कमरे के अंदर ले जाकर दरवाजा बंद कर लिया। भोपा दरवाजा तोड़कर घुसा और कुल्हाड़ी के करीब 15 वार कर बिसना की हत्या कर दी। 
भाई और बेटियों को भी मारने की कोशिश की इसके बाद भोपा अपनी बड़ी लड़की टेमरी बाई को भी मारने दौड़ा लेकिन किसी तरह वह छोटी बहन को लेकर पड़ोस में ताऊ के घर पहुंचने में सफल हो गई। भोपा उसके पीछे दौड़ा और उसके बाद उसने अपने बड़े भाई को भी मारने की कोशिश की ,जो सपरिवार जंगलों में भाग गया। इसके बाद उसने घर में रखे कीटनाशक का सेवन कर आत्महत्या कर ली। शुक्रवार दोपहर के बाद जब भोपा के भाई ग्रामीणों के साथ घर पहुंचे तो दोनों के शव मिलने पर पुलिस को जानकारी दी।

अभिनेत्री दिशा ने इंस्टाग्राम पर फोटो शेयर किया

अभिनेत्री दिशा ने इंस्टाग्राम पर फोटो शेयर किया   
कविता गर्ग            मुंबई। बॉलीवुड की हॉट एंड सिज्जलिंग डीवाज में से एक दिशा पाटनी अपने फैंस को चौंकाने का कोई भी मौका नहीं छोड़तीं। एक्ट्रेस आए दिन अपनी बोल्ड तस्वीरों से फैंस की धड़कने बढ़ाने का काम कर जाती हैं, इसी कड़ी में एक बार फिर उन्होंने अपनी डेडली गॉर्जियस पिक से सोशल मीडिया पर तहलका मचा दिया है। दिशा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक नई फोटो साझा की है, जिसमें वे टू-पीस में दिखाई दे रही हैं। इस फोटो में दिशा काफी ग्लैमरस नजर आ रही हैं। हालांकि यह तस्वीर पीछे से ली गई है, इसके बावजूद उनकी फोटो पर लोग जमकर प्यार बरसा रहे हैं। दिशा ने फोटो को शेयर करते हुए बीच साइड वाला इमोजी डाला है। 
दिशा की इस फोटो पर लोग तो कमेंट कर ही रहे हैं, लेकिन सबसे ज्यादा टाइगर श्रॉफ का कमेंट लोगों का ध्यान खींच रहा है। टाइगर श्रॉफ ने इस फोटो पर तीन फायर वाले इमोजी कमेंट किए हैं।  टाइगर के इस कमेंट पर लोगों ने भी अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं देनी शुरू कर दी हैं। एक सोशल मीडिया यूजर ने टाइगर के कमेंट पर रिप्लाई करते हुए लिखा है, "भाई आपसे रहा नहीं जाता अब। तो वहीं एक और यूजर ने लिखा है, "आपने ही तो खींची है दिशा की फोटो।  इस तरह के ढेरों कमेंट्स दिशा की इस तस्वीर पर आए हैं। गौरतलब है कि दिशा और टाइगर काफी सालों से एक-दूसरे को डेट कर रहे हैं। दोनों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब चर्चा बटोरती है।

एक्ट्रेस ने सोशल मीडिया पर नया पोस्ट किया: मुंबई
कविता गर्ग     
मुुुबंई। बॉलीवुड एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती के लिए सब कुछ पहले की तरह नहीं रह गया है। सुशांत सिंह राजपूत केस में फंसने के बाद से एक्ट्रेस के जीवन में कई सारे बदलाव आए हैं। उन्होंने अपने जीवन की नए सिरे से शुरुआत की है। इसमें उन्हें फैंस का सपोर्ट भी मिल रहा है। रिया चक्रवर्ती अब ग्लैमर वर्ल्ड से दूर अपनी अलग ही दुनिया में मशगूल रहती हैं। सोशल मीडिया के जरिए वे फैंस संग जुड़ी भी रहती हैं। हाल ही में एक्ट्रेस ने सभी लड़कियों को एक खास संदेश दिया है। एक में उन्होंने लड़कियों के नाम एक नोट लिखा है। उन्होंने लिखा है कि- सभी लड़कियों को मैं एक जेंटल रिमाइंडर देने जा रही हूं। आप जैसी हैं बहुत खूबसूरत हैं। आप इंस्टा ब्यूटी और फिल्टर्स के मायाजाल में मत फंसना। मुझे पता है कि आप अपने बारे में क्या सोचती हैं मगर आपको अपने बारे में अच्छा मेहसूस करना है। ढेर सारा प्यार और रोशनी। 
इसके अलावा रिया ने अपनी खुद की एक फोटो भी शेयर की है। जिसमें वे पर्दे के उस पार बैठी नजर आ रही हैं। एक्ट्रेस अकेले में सुकून के पल ब‍िताती नजर आ रही हैं। रिया चक्रवर्ती ने साल 2022 की शुरुआत काफी पॉजिटिव नोट पर की है। उन्होंने सभी फैंस को नए साल की बधाई भी दी और अपनी एक बेहद खूबसूरत फोटो भी शेयर की। एक्ट्रेस ने कुछ समय पहले ही खुद की हौसलाफजाई की थी और एक सेल्फ लव नोट लिखा था। 2020 और 2021 उतना अच्छा नहीं रहा। सुशांत सिंह राजपूत केस में फंसने के बाद कुछ समय के लिए एक्ट्रेस को जेल की हवा खानी पड़ी थी। अब एक्ट्रेस पूरी तरह से बदली नजर आ रही हैं। वे धार्मिक किताबों में गुम रहती हैं और पॉजिटिविटी से हमेशा घिरे रहना पसंद करती हैं।

अमेरिका: भविष्य की रणनीति, बदलाव की संभावना

अमेरिका: भविष्य की रणनीति, बदलाव की संभावना     

अखिलेश पांडेय           वाशिंगटन डीसी। अमेरिका में जो बाइडन प्रशासन ने रूस को नयी जोरदार चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर रूस, यूक्रेन पर हमला करने की दिशा में आगे बढ़ता है तो उस पर प्रतिबंध लगाए जाएंगे। अमेरिकी अधिकारियों ने यूरोप में अमेरिका की भविष्य की रणनीति की स्थिति के बारे में निर्णयों में लगातार बदलाव की संभावना जताई है। लेकिन उन्होंने यह भी कहा कि अगर रूस यूक्रेन में हस्तक्षेप करता है तो उसे प्रतिबंधों का सामना करना पड़ेगा। अधिकारियों ने कहा कि प्रशासन यूक्रेन में भविष्य में मिसाइलों की संभावित तैनाती को कम करने और पूर्वी यूरोप में अमेरिका और नाटो के सैन्य अभ्यासों को सीमित करने पर रूस के साथ चर्चा के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि रूस को यूक्रेन में हस्तक्षेप करने पर आर्थिक प्रतिबंधों का सामना करना होगा।

इनमें रूसी संस्थाओं पर प्रत्यक्ष प्रतिबंधों के अलावा अमेरिका से रूस को निर्यात किए जाने वाले उत्पादों और विदेश निर्मित उत्पादों पर महत्वपूर्ण प्रतिबंध शामिल हो सकते हैं जो संभावित रूप से अमेरिकी क्षेत्राधिकार में आते हैं। यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब यूक्रेन को लेकर बढ़ते तनाव के बीच सोमवार को स्विट्जरलैंड में वरिष्ठ अमेरिकी और रूसी अधिकारियों की बैठक होनी है। अधिकारियों ने कहा कि अमेरिका उन वार्ताओं में अपने यूरोपीय सुरक्षा रुख के कुछ सीमित पहलुओं पर चर्चा करने को तैयार है। उन्होंने कहा कि इस बात की कोई संभावना नहीं है कि रूस की मांग के अनुरूप अमेरिका पूर्वी यूरोप में अपनी सैन्य उपस्थिति या हथियारों को कम करेगा। ऊर्जा और उपभोक्ता वस्तुओं पर प्रतिबंधों के अलावा अमेरिका और उसके सहयोगी अमेरिकी उपकरणों का उपयोग करने वाले उन्नत इलेक्ट्रॉनिक पुरज़ों, सॉफ्टवेयर और संबंधित प्रौद्योगिकी के रूस को निर्यात पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहे हैं।अधिकारियों ने कहा कि निर्यात नियंत्रण उद्देश्यों के लिए रूस को क्यूबा, ​​​​ईरान, उत्तर कोरिया और सीरिया के साथ प्रतिबंधात्मक समूह में शामिल किया जा सकता है। इसका मतलब यह होगा कि इस क्षेत्र में अमेरिका का सॉफ्टवेयर, प्रौद्योगिकी और उपकरणों में वैश्विक प्रभुत्व होने के कारण, एकीकृत सर्किट और एकीकृत सर्किट वाले उत्पादों को प्राप्त करने की रूस की क्षमता गंभीर रूप से प्रभावित होगी, जिसका असर एयरक्राफ्ट एवियोनिक्स, मशीन टूल्स, स्मार्टफोन, गेम कंसोल, टैबलेट और टीवी तक हो सकता है।

इस तरह के प्रतिबंध महत्वपूर्ण रूसी उद्योग को भी लक्षित कर सकते हैं, जिसमें इसके रक्षा और नागरिक उड्डयन क्षेत्र शामिल हैं, जो रूस की कृत्रिम बुद्धि या क्वांटम कंप्यूटिंग में उच्च-तकनीकी महत्वाकांक्षाओं को प्रभावित करेगा। जिनेवा में अमेरिका और रूस के बीच सोमवार को होने वाली सामरिक और सुरक्षा वार्ता से पहले एक अधिकारी ने शनिवार को कहा, ”हमें लगता है कि हम कम से कम रूसियों के साथ प्रगति की संभावना तलाश सकते हैं। सोमवार की बैठक के बाद बुधवार को रूस और नाटो के सदस्यों के बीच और बृहस्पतिवार को यूरोपीय लोगों के साथ चर्चा होगी।


भारतीय तटरक्षकों ने पाकिस्तानियों को पकड़ा
सुनील श्रीवास्तव 
इस्लामाबाद। पाकिस्तान अपनी आदत से बाज नहीं आ रहा है। पोरबंदर में भारतीय तटरक्षकों ने रविवार को दस पाकिस्तानियों को भारतीय जल सीमा में पकड़ा है और यह सब तब हुआ जब तटरक्षक जहाज ‘अंकित’ ने शनिवार रात अरब सागर में अपने ऑपरेशन के दौरान एक पाकिस्तानी नाव ‘यासीन’ को पकड़ा है। इस नाव में चालक दल के साथ पाकिस्तानी सवार थे।
दरअसल, न्यूज एजेंसी ने बताया कि पाकिस्तानी नाव भारतीय जलक्षेत्र में प्रवेश करने की कोशिश कर रही थी। फिलहाल भारतीय तटरक्षक बल के अधिकारियों ने कहा है कि पाकिस्तानी चालक दल को पूछताछ के लिए पोरबंदर लाया जा रहा है।
अधिकारियों के मुताबिक पाकिस्तानी नाव भारतीय जल क्षेत्र के अंदर छह से सात मील की दूरी में प्रवेश कर चुकी थी। जैसे ही भारतीय तटरक्षक जहाज को पाकिस्तानी नाव ने देखा वे वापस भागने लगे, इसके बाद उनको पकड़ा गया।
बता दें कि इससे पहले शुक्रवार को ही बीएसएफ ने पंजाब के फिरोजपुर जिले में सीमा पर पाकिस्तान की नाव पकड़ी गई थी। बीएसएफ के एक अधिकारी ने बताया था कि पेट्रोलिंग के दौरान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर नाव पकड़ी गई थी। ऐसे नाव के इस्तेमाल से ड्रग्स की खेप पहुंचाई जाती है।
ठंड के दिनों में पाकिस्तानी घने कोहरे का फायदा उठाकर ड्रग्स की सप्लाई करते हैं।पंजाब में तो हाल के दिनों में पाकिस्तान के कई सारे ड्रोन भी पकड़े गए हैं। पिछले महीने इंडियन कोस्‍ट गार्ड और गुजरात एटीएस ने एक संयुक्‍त अभियान चलाकर पाकिस्‍तानी नौका को भारतीय समुद्री सीमा में पकड़ा था। इसकी तलाशी के दौरान इसमें 77 किलो हेरोइन बरामद की गई थी। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में इसकी कीमत करीब 400 करोड़ रुपये आंकी गई। इस दौरान पाकिस्‍तानी नौका से 6 लोगों को भी पकड़ा गया था।

अंतरिक्ष को लेकर अमेरिका-चीन में जंग के हालात
अखिलेश पांडेय     
वाशिंगटन डीसी। अंतरिक्ष की दुनिया में अमेरिका और चीन के बीच रेस शुरू हो चुकी है। दोनों देशों के बीच अब अंतरिक्ष को लेकर जंग छिड़ती दिखाई दे रही है। चांद को लेकर अमेरिका और चीन के बीच प्रतिद्वंदिता नजर आ रही है। अमेरिका के नील आर्मस्ट्रॉन्ग अपोलो 11 मिशन के तहत 20 जुलाई 1969 को पहली बार चांद पर कदम रखा था। इसके बाद अमेरिका ने अगले तीन साल तक अंतरिक्षयात्रियों के साथ कई अपोलो यान को चांद पर भेजा। लेकिन अमेरिका को लगा कि यह मिशन खर्चीला है और उसे चांद से कुछ फायदा नहीं होने वाला है, तो उसने चंद्रयात्राओं का बंद कर दिया। 
साल 1972 में आखिरी अपोलो यान चांद पर गया था। अब एक बार फिर अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा मून मिशन की तैयारी में जुट गई है। अब आर्टेमिस प्रोग्राम के तहत मानव रहित अंतरिक्ष यान को चांद पर भेजेगा जिसे फिर वापस धरती लाने की योजना है। अमेरिका अब चांद पर स्थायी रूप से डेरा जमाने की तैयारी शुरू कर रहा है। अमेरिका के इस मिशन में दुनिया की तीन बड़ी अंतरिक्ष एजेंसियां उसके साथ हैं। इन तीनों एजेंसियों का संबंध यूरोप, कनाडा और जापान से हैं। आर्टेमिस मिशन के लिए नासा ने इस अंतरिक्ष एजेंसियों के साथ समझौता किया है।
इन तीनों स्पेस एजेंसियों के अलावा नासा ने और भी कई देशों के साथ आर्टेमिस समझौता किया है जिनमें मेक्सिको, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, न्यूजीलैंड, दक्षिण कोरिया, इटली, यूक्रेन, पोलैंड और लग्जेमबर्ग की स्पेस एजेंसियां शामिल हैं। इस समझौते के मुताबिक, वैज्ञानिक प्रयोगों और चंद्र-संसाधनों के दोहन में उनकी भी साझेदारी हो सकती है। 
हालांकि रूस ने इस समझौते से दूरी बनी ली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रूस ने इस अभियान के अमेरिका-केंद्रित होने की वजह से अपने हाथ पीछे खींच लिए। रूस को लगता है कि चीन के साथ मिलकर एक समानांतर चंद्र-अभियान में शामिल होना बेहतर विकल्प हो सकता है। 

चंद्रमा से जुड़े प्रयोगों में चीन दुनिया के दूसरे देशों से बहुत आगे हैं। इस सदी में चीन ने चांद पर सफलता पूर्वक अपना रोवर उतारा, लंबे समय तक ज़मीनी प्रेक्षण किया और चंद्रमा से एक किलो 731 ग्राम नमूने ले आया है। इसके अलावा चीन के दो रोवर- झूरोंग और यूटू-2 अभी भी चांद उम्मीद की जा रही है कि अमेरिका 2035 में चांद पर अपने ठिकाना बनाने का अपना लक्ष्य हासिल कर लेगा। दोनों अभियानों के प्रस्ताव के मुताबिक, अमेरिका चंद्रमा की सतह की जगह उसकी कक्षा में अपना अड्डा बनाना चाहता है, तो वहीं चीन सतह पर ही अपना बेस कैंप तैयार करना चाहता है।  अब ऐसा लगा रहा है कि चंद्रमा में चीन की बढ़ती दिलचस्पी को देखकर अमेरिका इस तरफ लौट रहा है। अमेरिका को चंद्रमा पर मिलने वाला एक खनिज हीलियम आर्थिक दृष्टि से आकर्षित कर रहा है। चंद्रमा से हीलियम को लाना इतना आसान नहीं है। इसके अलावा कई और भी चीजें हैं जो अमेरिका को चंद्रमा की तरफ आकर्षित कर रही हैं। आने वाले दिनों में चांद को लेकर चीन और अमेरिका के बीच प्रतिद्वंदिता तेज हो सकती है।

टीएमसी को आड़े हाथ लिया, कडा रुख अख्तियार

टीएमसी को आड़े हाथ लिया, रुख अख्तियार किया   
कविता गर्ग    
मुंबई। शिवसेना सांसद संजय राउत ने गोवा विधानसभा चुनाव से पहले ‘कांग्रेस विरोधी’ रुख अख्तियार करने के लिए तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को आड़े हाथों लेते हुए रविवार को दावा किया कि तटीय राज्य में ममता बनर्जी नीत पार्टी की मौजूदगी से सबसे ज्यादा लाभ भाजपा को होगा। शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में अपने साप्ताहिक स्तंभ ‘रोखठोक’ में राउत ने कहा कि टीएमसी कांग्रेस समेत अन्य दलों से ‘अविश्वनसीय नेताओं’ को शामिल कर रही है और ऐसा रवैया भाजपा से लड़ने वाली पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बनर्जी को शोभा नहीं देता।
उन्होंने दावा किया कि टीएमसी गोवा विधानसभा चुनावों के लिए अत्यधिक खर्च कर रही है और कई लोग कहते हैं कि पार्टी की ओर से खर्च किए गए धन का स्रोत “कहीं और” है। गोवा की मौजूदा स्थिति का जिक्र करते हुए राउत ने कहा कि सभी दलों ने राज्य को ‘राजनीतिक प्रयोगशाला’ बना दिया है भारत निर्वाचन आयोग ने शनिवार को घोषणा की कि गोवा में सभी 40 विधानसभा सीटों पर 14 फरवरी को चुनाव होंगे।
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), कांग्रेस, गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी), महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी), आम आदमी पार्टी (आप), टीएमसी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) चुनाव मैदान में हैं। राउत ने दावा किया कि टीएमसी की गोवा में मौजूदगी से भाजपा को सबसे ज्यादा लाभ होगा।
राज्यसभा सदस्य ने कहा कि बनर्जी अन्य दलों के ‘अविश्वसनीय नेताओं” को अपने दल में शामिल करा रही हैं। यह उनकी छवि के अनुकूल नहीं है। राउत ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा का उद्देश्य कांग्रेस के अस्तित्व का सफाया करना है तो यह समझ में आता है, लेकिन बनर्जी का भी यही उद्देश्य है, तो यह उनकी छवि के अनुकूल नहीं है।
उन्होंने कहा कि गोवा के पिछले विधानसभा चुनावों में, कांग्रेस ने 17 सीटें जीतीं थी और सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी और अब यह केवल दो सीटों पर सिमट गई है। राउत ने कहा कि इसकी वजह गोवा में कांग्रेस के पास मजबूत नेतृत्व नहीं होना है। उन्होंने दावा किया कि गोवा का चुनाव जीतना भाजपा के लिए आसान नहीं है, लेकिन आप और टीएमसी जैसे दल भाजपा की मदद करने के लिए कांग्रेस की राह में रोड़े अटका रहे हैं।

शेयर बाजार में एफपीआई का निवेश प्रवाह सुधरा

कविता गर्ग       मुबंई। लगातार तीन महीने की बिकवाली के बाद विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने जनवरी के पहले सप्ताह में भारतीय शेयर बाजारों में 3,202 करोड़ रुपये डाले हैं। बाजार में आए ‘करेक्शन’ की वजह से एफपीआई का निवेश प्रवाह सुधरा है। विशेषज्ञों का कहना है कि आगे चलकर अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दरों में बढ़ोतरी की संभावना व ओमीक्रोन को लेकर बढ़ती चिंता तथा मुद्रास्फीति के ऊंचे स्तर की वजह से भारतीय बाजारों को लेकर एफपीआई का प्रवाह उतार-चढ़ाव वाला रहेगा।एफपीआई का ताजा निवेश अक्टूबर-दिसंबर, 2021 के दौरान भारतीय बाजारों से उनकी 38,521 करोड़ रुपये की शुद्ध निकासी के बाद आया है। इससे पहले पिछले साल सितंबर में एफपीआई ने भारतीय बाजारों में 13,154 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया था। डिपॉजिटरी के आंकड़ों के मुताबिक, एफपीआई ने 3-7 जनवरी के दौरान भारतीय शेयर बाजारों में शुद्ध रूप से 3,202 करोड़ रुपये डाले हैं।

मॉर्निंगस्टार इंडिया के एसोसिएट निदेशक- प्रबंधक शोध हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा कि एफपीआई द्वारा रुक-रुक कर की जा रही खरीदारी की वजह बाजार में अंतरिम ‘करेक्शन’ है। इसकी वजह से उनको खरीदारी का अच्छा अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि भारत सहित दुनियाभर में कोरोनो वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने के बीच एफपीआई अपने निवेश में रुख में सतर्कता बरतेंगे।

जनवरी के पहले सप्ताह में एफपीआई ने भारतीय ऋण या बांड बाजार में 183 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया है। बीते साल उन्होंने 1.04 लाख करोड़ रुपये की बिकवाली की थी। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के मुख्य निवेश रणनीतिकार वी के विजय कुमार ने कहा कि एफपीआई की मुख्य चिंता अमेरिका में मौद्रिक रुख को सख्त किए जाने को लेकर है। अमेरिका में बांड पर प्रतिफल बढ़ने की वजह से वे उभरते बाजारों में बिकवाली कर सकते हैं।

दिल्ली सीएम में संक्रमण की पुष्टि, हल्के लक्षण दिखे

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि वह कोरोना वायरस के संक्रमण से उबर गए हैं और लोगों की सेवा में लौट आए हैं। मुख्यमंत्री के चार जनवरी को कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी और उन्होंने घर पर खुद को पृथक कर लिया था। उनमें बीमारी के हल्के लक्षण थे।

केजरीवाल ने रविवार सुबह ट्वीट किया कि करोना से ठीक होकर मैं वापिस आपकी सेवा में हाज़िर हूं। केजरीवाल ने तीन जनवरी को उत्तराखंड के देहरादून में एक रैली की थी जिसके अगले दिन उनके संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। पिछले साल अप्रैल में केजरीवाल की पत्नी सुनीता कोविड-19 से पीड़ित हो गई थीं।

गुरु गोबिंद का 350वां प्रकाश उत्सव मनाया: पीएम

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिखों के 10वें गुरु गोबिंद सिंह के प्रकाश पर्व पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए रविवार को कहा कि उनका जीवन और संदेश लाखों लोगों को ताकत देता है। मोदी ने कहा कि उन्हें हमेशा इस बात की खुशी रहेगी कि उनकी सरकार को गुरु गोबिंद सिंह का 350वां प्रकाश उत्सव (जयंती) मनाने का अवसर मिला। उन्होंने 2017 में मनाए गए गुरु गोबिंद सिंह के 350वें प्रकाश उत्सव के अवसर पर अपने पटना दौरे की कुछ तस्वीरें ट्विटर पर साझा कीं। जिनमें वह पटना साहिब गुरुद्वारे में मत्था टेकते दिखाई दे रहे हैं। 

मोदी ने ट्वीट किया, ”श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के प्रकाश पर्व की शुभकामनाएं। उनका जीवन और संदेश लाखों लोगों को ताकत देता है। मुझे हमेशा इस बात की खुशी रहेगी कि हमारी सरकार को उनका 350वां प्रकाश उत्सव मनाने का अवसर मिला। मैं उस समय पटना के अपने दौरे की कुछ झलकियां साझा कर रहा हूं।

ऑनलाइन परीक्षाएं लेने का निर्णय, निर्देश जारी किया

दुष्यंत टीकम      रायपुर। इंजीनियरिंग छात्रों के लिए बड़ी खबर सामने आई है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच स्वामी विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय ने ऑनलाइन परीक्षाएं लेने का फैसला लिया है। इसे लेकर विश्वविद्यालय से एफिलिएटेड सभी कॉलेजों के लिए निर्देश जारी किया गया है। आपको बता दें कि कोरोना के तीसरी लहर के दस्तक देने के बाद से लगातार छात्रों की ओर से मांग हो रही थी। कॉलेज के एग्जाम ऑनलाइन लिए जाए। 

इसे लेकर तमाम संगठनों ने मांग की थी इसके साथ ही विश्वविद्यालय का घेराव भी किया गया थ। अब इसे लेकर नॉटिफिकेशन जारी हो गया है।आपको बता दें ​कि छत्तीसगढ़ में कोरोना के मामले पहले के मुकाबले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। इस बीच राज्य सरकार ने कई सेवाओं में पाबंदी लगाई है।

वायरस: गृहमंत्री शाह का बंगाल दौरा स्थगित हुआ

मिनाक्षी लोढी           कोलकाता। बंगाल में कोरोना के बढ़ते मामले के मद्देनजर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के बाद अब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का बंगाल दौरा भी स्थगित हो गया है। इससे पहले बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा व केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बंगाल आने की बात थी, लेकिन कोरोना के कारण फिलहाल उनका बंगाल दौरा स्थगित हो गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार नगर निगम के चुनाव से पहले गृह मंत्री अमित शाह के उत्तर बंगाल में आने की बात थी। हालांकि इस बीच, कोविड के बढ़ते ग्राफ के कारण फिलहाल अमित शाह का दौरा भी स्थगित किया गया है। अमित शाह इसी महीने बंगाल के दौरे पर आने वाले थे।

राज्य के चार नगर निगमों सिलीगुड़ी, आसनसोल, चंदननगर व बिधाननगर के लिए 22 जनवरी को चुनाव होने वाले हैं। बता दें कि जेपी नड्डा नौ जनवरी, रविवार को बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर आने वाले थे, लेकिन उनका दौरा पहले ही स्थगित कर दिया गया था। राज्य स्वास्थ्य विभाग के बयान के अनुसार नियमित तौर पर कोरोना संक्रमित होने वालों की संख्या लगातार दूसरे दिन 18 हजार से अधिक रही है। पिछले 24 घंटे के दौरान 63 हजार 518 लोगों के सैंपल जांचे गए हैं जिनमें से 18 हजार 802 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके अलावा 19 लोगों की मौत हुई है।

पिछले साल की शुरुआत में हुए बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद दिसंबर में कोलकाता नगर निगम चुनाव में बीजेपी की हुई करारी हार की वजह से पार्टी के भीतर यहां घमासान मचा है। कोलकाता निगम चुनाव में हार के बाद हाल में प्रदेश व जिला इकाई में बड़े स्तर पर सांगठनिक फेरबदल भी किया गया जिसके बाद कई नेता नाराज बताए जा रहे हैं। वहीं, चुनाव में हार के बाद से कार्यकर्ताओं का मनोबल भी गिरा है। ऐसे में पार्टी नेताओं को एकजुट करने और कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के लिए नड्डा और अमित शाह का दौरा तय किया गया था, लेकिन कोरोना की वजह से दोनों दिग्गज नेताओं का दौरा रद्द हो गया है। गौरतलब है कि आगामी 22 जनवरी को बंगाल के चार नगर निगमों आसनसोल, सिलीगुड़ी, चंदननगर व बिधाननगर के चुनाव होने हैं। आयोग चुनाव प्रचार को लेकर पहले ही सख्त दिशानिर्देश जारी कर चुका है। आयोग ने राजनीतिक दलों को वर्चुअल प्रचार पर जोर देने को कहा है। चुनावी सभाओं में पहले अधिकतम 500 लोगों को एकत्र होने की अनुमति दी गई थी, जिसे बाद में घटाकर 250 कर दिया गया। आयोग अब चाहता है कि चुनाव सभाएं न हो क्योंकि इससे कोरोना और तेजी से फैलने की आशंका पैदा हो सकती है।

एमपी में ओलावृष्टि पर सीएम ने चिंता ज़ाहिर की

मनोज सिंह ठाकुर        भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कई ज़िलों में हुई ओलावृष्टि पर चिंता ज़ाहिर की है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के कई ज़िलों में और ओलावृष्टि के कारण फसलों को नुक़सान हुआ है. सीएम ने बताया कि बीते 3 दिन से प्रदेश में कई स्थानों पर ओलावृष्टि होने की सूचना मिली है। इससे गेहूं, चना, अरहर और सब्जियों की फसलें प्रभावित हुई हैं। इस दौरान प्राकृतिक आपदा से प्रभावित किसानों को सहायता पहुंचाने में सरकार कोई कसर नहीं छोड़ेगी। उन्होंने कहा है कि नुकसान के आकलन के आधार पर फसल बीमा के अनुसार सहायता उपलब्ध कराई जाएगी।क्षइन सबके लिए सभी अधिकारी को निर्देश दिए गए हैं। संकट की इस घड़ी में सरकार किसानों के साथ खड़ी हुई है। ऐसे में किसानों के नुक़सान की क्षतिपूर्ति के लिए नुक़सान की भरपाई की जाएगी। 

दरअसल, जानकारी के अनुसार सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश के अनेकों गांव और कुछ जिलों में वर्षा के साथ- साथ ओलावृष्टि भी हुई है। ऐसे में बारिश के कारण फसलों को लाभ भी है। लेकिन, ओलावृष्टि के कारण किसानों की फसलों को कई स्थानों पर नुकसान पहुंचा है, इस दौरान उन्होंने कहा कि फिलहाल मैंने निर्देश दिए हैं। जहां ओलावृष्टि के कारण जहां-जहां हमारे किसान भाइयों बहनों की फसलें बर्बाद हुई हैं वहां, तत्काल सर्वे किया जाए। वहीं, सर्वे कराने के दौरान क्षति का आकलन किया जाएगा और क्षति के आकलन के बाद किसान को राहत राशि देने की व्यवस्था की जाएगी। प्रदेश के कई जिलों के गांवों में ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान हुआ है। मैंने निर्देश दिए हैं कि ओलावृष्टि से जहां-जहां किसान भाई-बहनों की फसलें बर्बाद हुई हैं, उनका तत्काल सर्वे व क्षति का आकलन करें, इसके बाद राहत राशि दी जाएगी। फसल बीमा योजना का लाभ भी मिले इसके निर्देश दिए हैं।

बता दें कि प्रदेश की राजधानी भोपाल समेत उज्जैन, सागर और ग्वालियर संभाग के कुछ जिलों में ओलावृष्टि से फसलों को नुकसान होने की जानकारी है। इससे मूंग, मसूर, चना, सरसों, आलू, टमाटर समेत अन्य बागवानी फसलों को नुकसान पहुंचा है। हालांकि नुकसान का आंकलन करने के बाद रिपोर्ट के आधार पर किसानों को मुआवजा दिया जाएगा। वहीं, भोपाल, ग्वालिर,उज्जैन मंदसौर, रतलाम, उज्जैन, गुना, राजगढ़, दतिया सहित कुछ अन्य जिलों में ओलावृष्टि और अतिवृष्टि की वजह से किसान को काफी नुकसान हुआ है। इस दौरान मंदसौर में नाराज किसानों ने चक्काजाम किया तो राजस्व के अमले ने सर्वे का काम शुरू कर दिया है। लेकिन कुछ जगहों पर अभी भी सर्वे का किसान इंतजार कर रहे हैं। गौरतलब हैं कि प्रदेश की सरकार हमेशा संकट की घड़ी में अपने किसानों के साथ खड़ी है। इस दौरान सीएम कहा कि मैं आश्वस्त कर रहा हूं तकलीफ है, परेशानी है, नुकसान हुआ है, कष्ट, संकट है लेकिन, इस संकट के पार निकालकर हम अपने किसान भाइयों और बहनों को, जिनका नुकसान हुआ है। उन्हें ले जाएंगे चिंता करने की जरूरत नहीं है। वहीं, कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि ओलावृष्टि के दूसरे ही दिन राजगढ़ प्रशासन ने फसल बीमा के लिए अधिसूचना जारी कर दी है।

तमिलनाडु में संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का आदेश 

चेन्नई। तमिलनाडु में ओमिक्रोन और डेल्टा वैरिएंट के चलते तमिलनाडु में बेकाबू होते कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर की चेन तोड़ने के लिए रविवार को पूर्ण रूप से लॉकडाउन लगा दिया गया है। रविवार को वीकेंड लॉकडाउन इस साल का पहला लॉकडाउन रहेगा। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए तमिलनाडु सरकार ने पहले ही नाइट कर्फ्यू राज्य में घोषित कर दिया है। कई पाबंदियों के साथ इस रविवार को संपूर्ण लॉकडाउन रखने का आदेश दिया गया है। यह निर्णय मुख्यमंत्री एमके स्टालिन की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया। 

संपूर्ण लाकडाउन के तहत रविवार को सिर्फ जरूरी सेवाएं जैसे मेडिकल, किराना आदि खुले रहेंगे। इसके अलावा सभी दुकानें व सेवाएं स्थगित रहेंगी। पुलिस विभाग कई टीमों का गठनकर स्थितियों पर नजर रखेगी। वहीं अन्य विभाग लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए सभी तैयारी कर रही है। नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। मास्क न लगाने पर जुर्माना देना होगा। रेस्त्रां खुले रहेंगे, लेकिन केवल होम डिलीवरी होगी। मॉल, जिम, स्पा और ऑडिटोरियम बंद रहेंगे। साप्ताहिक बंदी के साथ ही नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा। इस दौरान नाइट कर्फ्यू के नियम भी लागू रहेंगे।

टैरिफ कीमतों की वृद्धि के साथ ऑफर पेश कियें

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-83, (वर्ष-05)
2. सोमवार, जनवरी 10, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-अष्टमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:10, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 8 डी.सै., अधिकतम-17+ डी.सै.।  बर्फबारी व शीतलहर के साथ मैदानी क्षेत्रों में कहीं- कहीं तेज बारिश की संभावना।
कउ.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवाशुं के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745 
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया  जे.एस.वी. किड्स एकेडमी में सारथी वेलफेयर फाउंडेशन ने मनाया अमृत महो...