सोमवार, 31 मई 2021

अलीगढ़: जहरीली शराब पीने से 80 लोगों की मौंत

हरिओम उपाध्याय               

अलीगढ़। यूपी के अलीगढ़ में जहरीली शराब का कहर लगातार चौथे दिन भी जारी रहा। जिले में जहरीली शराब पीने से अब तक 80 लोगों की मौत हो चुकी है। अलग-अलग स्थानों पर सोमवार को छ: ओर लोगों ने शराब से दम तोड़ दिया। सीएमओ ने अब तक 25 मौतों की पुष्टि करते हुए अन्य मौतों को संदिग्ध बताया। 

एक दर्जन से ज्यादा लोगों की हालत जहरीली शराब के सेवन गंभीर बनी हुई है। उधर, शासन ने शराब कांड में लापरवाही उजागर होने पर संयुक्त आबकारी आयुक्त आगरा व उप आबकारी आयुक्त अलीगढ़ मंडल को निलंबित करते हुए विभागीय जांच बैठा दी है। वहीँ, शासन में भाजपा नेताओं की शिकायतों को लेकर कार्यवाही को लेकर मंथन जारी है। 

शुक्रवार से जहरीली शराब के सेवन से मौत का खूनी खेल गांवों से निकलकर शहर आ गया। सुबह ही थाना क्वारसी के मोहल्ला चंदनिया में एक-एक कर तीन लोगों ने दम तोड़ दिया। पीड़ित परिजनों ने बताया कि शराब का ठेका बंद होने से क्षेत्र में ही अवैध शराब का काम करने वाली एक महिला से 70 का पव्वा 150 रुपये में खरीदा था। 

दो मौतें थाना गांधीपार्क के धनीपुर क्षेत्र में हुईं। इसी थानाक्षेत्र के मोहल्ला शीशिया पाड़ा में एक व्यक्ति की मौत भी शराब पीने के बाद हो गई। यहां गुस्साएं परिजनों ने जाम लगाने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस द्वारा समझाए जाने पर लोग मान गए। तीन मौतें देहात क्षेत्र में टप्पल व जट्टारी क्षेत्रों में हुईं।

कोरोना वायरस की उत्पत्ति चीन में मामला गरमाया

वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। एक बार फिर चीन की वुहान लैब से कोरोना वायरस निकलने की चर्चा तेज हो गई है। लैब की जांच की मांग बढ़ती जा रही है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कोरोना वायरस की उत्पत्ति की नए सिरे से जांच करने का आदेश दिया है। इससे पहले अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी अपने कार्यकाल में ऐसा कई बार कहा कि वायरस चीन की इसी लैब से निकला है। क्योंकि वुहान में ही संक्रमण का पहला मामला दर्ज किया गया था। जिसके बाद ये पूरी दुनिया में फैलता चला गया। अब इस मामले पर चीन ने आपत्ति दर्ज कराई है।

ट्रंप को लेकर चीन ने इतना तक कह दिया था कि वह अपने देश में संक्रमण को नियंत्रित नहीं कर पाए और इसका ठीकरा चीन पर फोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।इसी हफ्ते अमेरिका की एक खुफिया रिपोर्ट में ये दावा किया गया था कि वुहान इन्सीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के कई रिसर्चर नवंबर 2019 में ही बीमार पड़ गए थे।जिसके चलते इन्हें अस्पताल में भर्ती होना पड़ा था। अब बढ़ते दबाव के कारण अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन ने खुफिया अधिकारियों को दोगुनी कोशिश के साथ वायरस की उत्पत्ति के बारे में पता करने के लिए कहा है।

11 पान मसालों पर लगे बैन को साल तक बढ़ाया

इकबाल अंसारी                

रांची। झारखंड में राज्य सरकार ने रजनीगंधा, पान पराग समेत 11 पान मसालों पर लगे बैन को एक साल के लिए बढ़ा दिया है। झारखंड सरकार के फूड सेफ्टी कमिश्नर अरुण कुमार की ओर जारी हुए इस आदेश के मुताबिक इन पान मसालों में मैग्नीशियम कार्बोनेट मिला है। इससे हार्ट अटैक का खतरा रहता है। 

झारखंड में 11 पान मसालों पर बैन 8 मई 2020 को लगाया गया था। इसे अब एक साल के लिए बढ़ा दिया गया है। झारखंड के फूड सेफ्टी कमिश्नर अरुण कुमार ने इस आदेश को जारी किया है। आदेश में कहा गया कि अगर कोई उल्लंघन करता है तो उसके खिलाफ आईपीसी के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आदेश में कहा गया है कि 2019-20 में प्रदेश के अलग-अलग जिलों से 41 प्रकार के पान मसाला के सैंपल्स लिये गए थे। 

जांच में इनमें मैग्नीशियम कार्बोनेट होने की पुष्टि हुई थी। फूड सेफ्टी कमिश्नर अरुण कुमार ने इस आदेश में कहा कि मैग्नीशियम कार्बोनेट से लोगों को हाइपर मैग्निशया की शिकायत होती है। इससे हार्ट अटैक का खतरा रहता है। झारखंड सरकार ने जिन 11 पान मसालों पर एक साल के लिए बैन बढ़ाया है। उनमें पान पराग मसाला, शिखर पान मसाला, रजनीगंधा, दिलरुबा, राज निवास पान मसाला, मुसाफिर, मधु, बिमल, बहार, सेहरत और पान पराग प्रीमियम पान मसाला शामिल है।

19 दिनों तक मौत से लडा, स्वस्थ हुआ नवजात

गांधीनगर। सूरत के सिविल हॉस्पिटल से एक अच्छी खबर आई है। यहां कोरोना पॉजिटिव मां की कोख से जन्मा बालक क्रिटिकल कंडीशन में 19 दिनों तक मौत से लड़कर ठीक हो गया है। जन्म के समय मां को गंवाने वाले नवजात को बचाने के लिए सिविल के डॉक्टरों ने भरपूर कोशिश की। नतीजतन बिना मां के बच्चे की जान बच गई। कोरोना से 19 दिनों तक लड़ने वाले बच्चे का नाम परिजन अभय रखने पर विचार कर रहे हैं।

सिविल अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार मांगरोल इलाके में रहने वाली रुचि पांचाल (28) को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। उन्हें 6 मई को सिविल अस्पताल लाया गया था। गायनिक वार्ड में भर्ती करने के बाद रुचि की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जब 11 मई को रुचि को ज्यादा तकलीफ होने लगी, तो डॉक्टरों ने बच्चे को बचाने के लिए सीजेरियन डिलीवरी कराई।

गाजियाबाद में संक्रमितों की संख्या-1,688 हुईं

अश्वनी उपाध्याय                    

गाज़ियाबाद। जिलें में पिछले 24 घंटों की अवधि में केवल 47 नए संक्रमित मिले और 123 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। यहाँ 6 मरीजों की मौत के बाद अब सक्रिय संक्रमितों की संख्या 1,688 रह गई है। 

गौतम बुद्ध जिले में पिछले 24 घंटों की अवधि में केवल 68 नए संक्रमित मिले और 181 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। यहाँ 1 मरीज की मौत के बाद अब सक्रिय संक्रमितों की संख्या 1,073 रह गई है। 

मेरठ जिले पिछले 24 घंटों की अवधि में 105 नए संक्रमित मिले और 335 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। यहाँ 6 मरीजों की मौत के बाद अब सक्रिय संक्रमितों की संख्या 2,552 रह गई है।

वाहन चेकिंग के दौरान 2 अभियुक्तों को अरेस्ट किया

कौशाम्बी। सैनी कोतवाली क्षेत्र की सिराथू पुलिस चौकी इंचार्ज ने वाहन चेकिंग के दौरान दो अभियुक्तों को चोरी की बाइक समेत गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से मौके पर एक बाइक बरामद हुई है। जो चोरी की बताई जाती है। पकड़े गए आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने दो और बाइक बरामद की है। पुलिस ने चोरी की तीन बाइक बरामद होने के बाद दोनों आरोपियों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को जेल भेज दिया है।

घटनाक्रम के मुताबिक हेमंत मिश्रा चौकी इंचार्ज सिराथू मयहमरहियो भड़हरी पावर हाउस के पास वाहनों की जांच कर रहे थे। इसी बीच संदिग्ध हालत में एक व्यक्ति बाइक से आता दिखाई दिया पुलिस ने रोककर जब उससे वाहन के अभिलेख मांगे तो वह अभिलेख नहीं दिखा सका पूंछतांछ में अपने साथी मोतीलाल पटेल पुत्र रामचंद्र निवासी त्रिलोक पुर थाना सैनी  पुलिस ने दोनों ब्यक्तियो को हिरासत में ले लिया पुलिस ने पकड़े गए। 

दोनों ब्यक्तियो को जब कुछ कर्रा किया तो उन्होंने बताया कि वह बाइकों की चोरी कर उसे बाजार में बेच लेते हैं।पकड़े गए युवकों की निशानदेही पर पुलिस ने दो बाइक और बरामद की है। पुलिस ने चोरी की तीन बाइक बरामद कर आरोपी रवि कुमार पुत्र राजकुमार  निवासी कसरेहटा सुल्तानपुर घोष और मोती लाल पटेल पुत्र रामचंद्र निवासी त्रिलोकपुर थाना सैनी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।   
संतलाल मौर्य



विभागीय अधिकारियों को समाधान हेतु निर्देशित किया

बृजेश केसरवानी             
प्रयागराज। माननीय उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने लखनऊ प्रस्थान के पूर्व अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद सर्किट हाउस में पधारे। आम जनों एवं पार्टी कार्यकर्ताओं की शिकायतों की सुनवाई की और आई हुई समस्याओं से संबंधित विभागीय अधिकारियों को समाधान हेतु निर्देशित किया। 

जानकारी देते हुए मीडिया प्रभारी राजेश केसरवानी ने बताया कि ज्यादातर शिकायतें जिला प्रशासन, नगर निगम, पुलिस प्रशासन एवं विद्युत विभाग की रही। इस अवसर पर विधान परिषद सदस्य सुरेंद्र चौधरी महानगर अध्यक्ष गणेश केसरवानी, उपाध्यक्ष काशी, क्षेत्र अवधेश चंद्र गुप्ता एवं भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता गण उपस्थित रहे।

चाचा ने भतीजियों पर चाकुओं से किया हमला, घायल

बृजेश केसरवानी           
प्रयागराज। थाना खुल्दाबाद चकनिरतुल का है। जहां मकान के विवाद को लेकर कई बार इस तरह का विवाद होता चला आ रहा है। लेकिन आज दिनांक 31 मई 2021 को दोनों बहनें छत पर गेहूं फैला रही थी। तभी चाचा ने किसी बात को लेकर कहा सुनी हुई औए बात इतनी बढ़ गई कि चाचा ने भतीजियों पर चाकुओ से हमला कर दिया और अपने आप को बचाने कब लिए दोनों बहनों ने चाकू को पकड़ लिया। 

जिससे दोनों के हांथ लहूलुहान हो गए। प्राची और रुपाली शर्मा पहुंची महिला थाने प्राची शर्मा ने बताया कि मेरे चाचा घर मे रहते है और मकान कब्जे को लेकर हमेसा लड़ाई करते है। बेटियों के पिता रेलवे में सफाई कर्मी है और मेरे पिता इस समय बीमार भी और रेलवे हॉस्पिटल में भर्ती है।

शासिक राजमाता अहिल्याबाई की मनाईं गई जयंती

बृजेश केसरवानी 
प्रयागराज। समाजवादी पार्टी के महानगर कार्यालय चौक मे महानगर अध्यक्ष सै. इफ्तेखार हुसैन की अनुपस्थिति मे वरिष्ठ नगर उपाध्यक्ष विजय वैश्य की अध्यक्षता मे संगोष्ठी आयोजित कर भारतीय इतिहास की महान शासिक राजमाता अहिल्याबाई होल्कर की जयन्ती मनाई गई। सर्व प्रथम उनके चित्र पर पुष्प अर्पित किया गया। विजय वैश्य ने 31 मई 1725 मे महाराष्ट्र के चाउन्डी मे पिता मानकोजी शिन्दे व माता सुशीलाबाई के घर जन्मी धनगर समाज की बेटी व महान शासिका को नमन करते हुए उनके युद्ध कौशल की चर्चा की। 

महानगर महासचिव रवीन्द्र यादव रवि ने गोष्ठी का संचालन करते हुए भारतीय इतिहास की महान शासिका के जीवन पर आधारित उनके इतिहास पर विस्तार से प्रकाश डाला। कहा धनगर समाज से मराठी समाज की बहु बनने वाली अहिल्याबाई होल्कर मे ग़ज़ब का युद्ध कौशल था वह तीर अंदाज़ी के कौशल से परिपूर्ण और हाथी पर सवार होकर विरोधी सेना को धूल चटाने मे विख्यात थीं। वह मालम प्रान्त की महारानी थीं। वह किसी बड़े राज्य की महारानी तो थी नहीं, लेकिन अपने युद्ध कौशल से सब को चकित कर देने की उनमे छमता कूट कूट कर बसी थी। उनकी गणना देश के महान शासको के रुप मे की जाती है। 

उपाध्यक्ष दिनेश यादव उपाध्यक्ष मोईन हबीबी,महिला सभा की नगर उपाध्यक्ष प्रतिमा रावत व शहर उत्तरी विधान सभा अध्यक्ष ओ पी यादव तथा शहर फश्चिमी विधान सभा अध्यक्ष अभिमन्यु पटेल ने भी भिरतीय इतिहास की शेरनी राजमाता अहिल्याबाई होल्कर को स्मर्ण करते हुए उनके युद्ध कौशल और महान शासक होने पर विस्त्रित चर्चा की।समाजवादी पार्टी महानगर के पदाधिकारीयों ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए नमन किया और अहिल्याबाई होल्कर अमर रहें, नारे का उद्वघोष किया।कार्यक्रम में विजय वैश्य,दिनेश यादव, मोईन हबीबी, रवीन्द्र यादव रवि, प्रतिमा रावत, सै. मो०अस्करी, आशीष पाल, ओ पी यादव, अभिमन्यु पटेल, शकील अहमद, जितेन्द्र यादव आदि उपस्थित रहे।

'देशद्रोह' की सीमा को परिभाषित करें: सुप्रीम कोर्ट

अकांशु उपाध्याय                   

नई दिल्ली। भारतीय दंड विधान में शामिल देशद्रोह की धारा के तहत केस दर्ज करने के बढ़ते मामलों के बीच सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को बड़ी बात कह दी। शीर्ष कोर्ट ने कहा कि समय आ गया है। जब हम देशद्रोह की सीमा को परिभाषित करें। कोर्ट ने यह टिप्पणी आंध्र प्रदेश के दो तेलुगु चैनलों के खिलाफ कार्रवाई पर रोक लगाते हुए कार्रवाई की।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आंध्र प्रदेश सरकार को निर्देश दिया कि उसे समाचार चैनलों-टीवी 5 और एबीएन आंध्र ज्योति के खिलाफ कोई कठोर कदम नहीं उठाना चाहिए। न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ ने कहा, 'आंध्र प्रदेश सरकार चैनलों के खिलाफ देशद्रोह के मामले दर्ज कर उनको दबा रही है। यह समय है कि अदालत देशद्रोह को परिभाषित करे।'

एमपी: 15 तक जारी रहेंगा कर्फ्यू, छूट दी जाएंगी

मनोज सिंह ठाकुर               

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेशवासियों को संबोधित कर रहे हैं। सीएम ने पीएम मोदी का आभार माना कोरोना संक्रमण से निपटने में। सीएम ने कहा कि मैं हृदय से प्रधानमंत्री और उनकी टीम के साथ हर उस शख्‍स को धन्‍यवाद देता हूं। जिसने सहयोग दिया। उन्‍होंने कहा कि लड़ाई अभी बाकी है। यह बात अलग है कि अभी संतोषजनक स्थिति है।उन्‍होंने कहा कि हमने संक्रमण को नियंत्रित तो किया, लेकिन संकट टला नहीं है। हमें अभी सावधान रहने की आवश्‍यकता है। राज्‍य में कोरोना कर्फ्यू 15 जून तक जारी रहेगा लेकिन कर्फ्यू में छूट दी जाएगी। सीएम ने कहा कि हमने कोरोना की तीसरी लहर से निपटने की पूरी तैयारी की है। बच्‍चों की परीक्षाओं के लिए मंत्रियों का अलग समूह बनाया गया है। 

सीएम शिवराज ने प्रदेशवासियों ने कोविड अनुकूल व्‍यवहार भी करने का आह्वान किया। शिवराज ने कहा कि सामाजिक, धार्मिक, राजनीतिक गतिविधियां बंद रहेंगे। स्‍कूल, काॅलेज, कोचिंग, शापिंग माल, सिनेमाघर,जिम, थिएटर, पिकनिट स्‍पाट, बार, आडिटोरियम सभी बंद रहेंगे। अत्‍यावश्‍यक सेवाएं देने वाले कार्यालय के अतिरिक्‍त कार्यालय शर्तों के साथ खुलेंगे। सभी धार्मिक और पूजा स्‍थल चार से अधिक श्रद्धालुओं के साथ ही प्रवेश के लिए रहेंगे। अंतिम संस्‍कार में अधिकतम दस लोग शामिल होंगे। शोक कार्यक्रम में भी यही हालत रहेगी। विवाह में दोनों पक्षों के मिलाकर 20 लोग शामिल हो सकेंगे। शनिवार रात दस बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक जनता कर्फ्यू लागू रहेगा। रोज रात दस से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा।

आईटी नियमों का पालन करना ही होगा: एचसी

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने सोमवार को कहा कि यदि डिजिटल मीडिया संबंधी नए सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) नियमों पर रोक नहीं लगाई गई है तो ट्विटर को इनका पालन करना होगा। इस टिप्पणी के साथ ही न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने अधिवक्ता अमित आचार्य की याचिका पर केंद्र और सोशल मीडिया मंच ट्विटर को नोटिस जारी कर उन्हें अपना पक्ष रखने का निर्देश दिया है। आचार्य ने अपनी याचिका में दावा किया है कि ट्विटर ने नियमों का पालन नहीं किया है।
दूसरी ओर, ट्विटर ने अदालत के समक्ष दावा किया कि उसने नियमों का पालन किया है और एक शिकायत निवारण स्थानीय अधिकारी नियुक्त किया है, लेकिन केंद्र सरकार ने इस दावे को गलत ठहराया। अदालत ने कहा, ‘‘यदि इन (नियमों) पर रोक नहीं लगाई गई है, तो उन्हें इसका पालन करना होगा।’’ आचार्य ने वकील आकाश वाजपेयी और मनीष कुमार के जरिए दर्ज कराई गई याचिका में कहा कि जब उन्होंने कुछ ट्वीट के बारे में शिकायत दर्ज करवाने का प्रयास किया, तब उन्हें सरकारी नियमों का अनुपालन कथित रूप से नहीं किए जाने के बारे में पता चला।
सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार के स्थायी वकील रिपुदमन सिंह भारद्वाज ने अदालत से कहा कि ट्विटर ने नियमों का पालन नहीं किया है। याचिका में कहा गया है कि ट्विटर ने शिकायत निवारण स्थानीय अधिकारी नियुक्त करने संबंधी केंद्र के आईटी कानून के नियम का पालन नहीं किया है। इसमें अनुरोध किया गया है कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर को इस नियम का अविलंब पालन करने का निर्देश दिया जाए।

याचिका में कहा गया है कि नए आईटी नियम 25 फरवरी को प्रभाव में आए तथा केंद्र ने ट्विटर समेत सभी सोशल मीडिया मंचों को इनका पालन करने के लिए तीन महीने का वक्त दिया था। याचिका में कहा गया कि यह अवधि 25 मई को समाप्त हो गई लेकिन ट्विटर ने इस मंच पर ट्वीट से जुड़ी शिकायतों को देखने के लिए आज तक शिकायत निवारण स्थानीय अधिकारी की नियुक्ति नहीं।

याचिका में केंद्र को भी निर्देश देने का अनुरोध किया गया कि वह आईटी नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करे। ट्विटर ने हाल में नए आईटी नियमों की आलोचना की थी और कहा था कि ये नियम ‘‘मुक्त और खुली सार्वजनिक बातचीत को रोकते हैं।’’ इस पर प्रतिक्रिया में केंद्र ने कहा था कि ट्विटर भारत को बदनाम करने के लिए निराधार और झूठे आरोप लगा रहा है।

सेंट्रल विस्टा योजना को लेकर 1 गलत विमर्श गढ़ा

अखिलेश पाडेंय  
नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने सोमवार को कहा कि सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास योजना को लेकर एक गलत विमर्श गढ़ा गया और कहा कि यह “दिखावटी परियोजना” नहीं बल्कि एक आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि नए प्रधानमंत्री आवास के लिये किसी डिजाइन को अंतिम रूप नहीं दिया गया है और सिर्फ दो परियोजनाओं- संसद भवन व सेंट्रल विस्टा एवेन्यू – का काम करीब 1300 करोड़ रुपये की लागत से फिलहाल चल रहा है।
विपक्ष पर निशाना साधते हुए केंद्रीय आवासन एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप पुरी ने कहा कि केंद्रीय परियोजना को लेकर झूठा विमर्श गढ़ा जा रहा था और किसी भी विरासत इमारत को “छुआ” नहीं जाएगा। संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पुरी ने कहा, “यह एक व्यर्थ परियोजना नहीं है और इस परियोजना की आवश्यकता है।
दिल्ली उच्च न्यायालय ने सोमवार को सेंट्रल विस्टा परियोजना को जारी रखने की मंजूरी देते हुए कहा कि यह “अहम और आवश्यक” राष्ट्रीय परियोजना है। मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ ने कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के दौरान परियोजना रोके जाने का अनुरोध करने वाली याचिका खारिज करते हुए कहा कि यह किसी मकसद से ”प्रेरित” थी और ”वास्तविक जनहित याचिका” नहीं थी।

अदालत ने याचिकाकर्ताओं पर एक लाख रुपए जुर्माना लगाया। परियोजना के तहत एक नए संसद भवन और एक नए आवासीय परिसर के निर्माण की परिकल्पना की गई है, जिसमें प्रधानमंत्री और उप-राष्ट्रपति के आवास के साथ-साथ कई नए कार्यालय भवन और मंत्रालयों के कार्यालयों के लिए केंद्रीय सचिवालय का निर्माण होना है।

ब्लैक फंगस के 944 मामले, दवाई की किल्लत बडी

सत्येंद्र ठाकुर   
नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि राजधानी में ब्लैक फंगस के अब तक 944 मामले सामने आए हैं। केजरीवाल ने संवाददाताओं से बताया कि दिल्ली में सामने आए 944 ब्लैक फंगस मामलों में से 650 दिल्ली सरकार के अस्पतालों में भर्ती हैं तथा 300 अन्य केंद्र सरकार के अस्पतालों में इलाज करवा रहे हैं।
उन्होंने कहा कि ब्लैक फंगस के इलाज में प्रयोग की जाने वाली दवाओं में कमी है। उन्होंने कहा,“ब्लैक फंगस के इलाज में प्रयुक्त की जाने वाली इंजेक्शन की आपूर्ति कम है। हमने शनिवार को 1000 इंजेक्शन प्राप्त किए थे लेकिन रविवार को कोई इंजेक्शन नहीं मिला। उन्होंने कहा कि प्रत्येक मरीज को रोज तीन से चार इंजेक्शन लगते हैं।

विचार जारी, 2 के बजाए 3 बच्चें पैदा कर सकेंगे

सुनील श्रीवास्तव  
बीजिंग। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी उम्रदराज होती देश की आबादी के मद्देनजर बच्चों के जन्म पर लागू सीमा में और ढील देने पर विचार कर रही है ताकि दंपती दो के बजाए तीन बच्चों को जन्म दे सकें। सरकारी समाचार एजेंसी ने सोमवार को यह जानकारी दी। इससे पहले सामने आए जनसंख्या संबंधी आंकड़ों से पता चला था कि बीते एक दशक में चीन में कामकाजी आयुवर्ग की आबादी में कमी आई है और 65 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लोगों की संख्या बढ़ी है जिसका असर समाज और अर्थव्यवस्था पर पड़ रहा है। 
शिन्हुआ समाचार एजेंसी की ओर से बताया गया कि सत्तारूढ़ दल के पोलित ब्यूरो की सोमवार को हुई बैठक में तय हुआ कि ‘‘चीन बुजुर्ग होती आबादी से सक्रिय रूप से निबटने के लिए प्रमुख नीतियां और उपाय लाएगा।’’
रिपोर्ट में कहा गया कि पार्टी के नेताओं ने ‘‘कहा कि जन्म देने की आयु सीमा में ढील देनेए जिसके तहत दंपती तीन बच्चों को भी जन्म दे सकते हैं तथा इससे जुड़े अन्य कदम उठाने से चीन के आबादी संबंधी ढांचे को बेहतर बनाया जा सकता है।’’ दंपतियों के एक ही बच्चा पैदा करने की अनुमति संबंधी नियमों में 2015 में ढील दी गई थी और दो बच्चों को जन्म देने की इजाजत दी गई थी। इसके एक वर्ष बाद बच्चों की संख्या में बढ़ोतरी हुई लेकिन बाद में इसमें कमी देखी गई।

5जी को लेकर जूही ने एचसी में याचिका दायर की

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। अभिनेत्री जूही चावला ने देश में 5जी वायरलेस नेटवर्क स्थापित करने के खिलाफ सोमवार को दिल्ली उच्च न्यायालय का रुख किया और नागरिकों, जानवरों, वनस्पतियों और जीवों पर विकिरण के प्रभाव से संबंधित मुद्दों को उठाया। मामला सुनवाई के लिये न्यायमूर्ति सी हरिशंकर के पास आया, जिन्होंने मामले को दो जून को सुनवाई के लिए इसे दूसरी पीठ के समक्ष स्थानांतरित कर दिया। 
चावला ने कहा कि यदि दूरसंचार उद्योग की योजनाएं पूरी होती हैं तो पृथ्वी पर कोई भी व्यक्ति, कोई जानवर, कोई पक्षी, कोई कीट और कोई भी पौधा इसके प्रभाव से नहीं बच सकेगा। उन्होंने कहा कि इन 5जी योजनाओं से मनुष्यों पर गंभीर, अपरिवर्तनीय प्रभाव और पृथ्वी के सभी पारिस्थितिक तंत्रों को स्थायी नुकसान पहुंचने का खतरा है। अधिवक्ता दीपक खोसला के माध्यम से दायर याचिका में अधिकारियों को यह स्पष्ट करने का निर्देश देने का अनुरोध किया गया है कि 5जी प्रौद्योगिकी मानव जाति, पुरुष, महिला, वयस्क, बच्चे, शिशु, जानवरों और हर प्रकार के जीवों, वनस्पतियों के लिए सुरक्षित है।

स्पू​तनिक वी की खेप जून में मिलने की संभावना

रवि चौहान

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में टीकाकरण को महत्वपूर्ण बताते हुए सोमवार को कहा कि रूस के, कोविड-19 रोधी टीके स्पू​तनिक वी की पहली खेप राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को जून में मिलने की संभावना है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि हमने इस टीकाकरण अभियान की शुरूआत पत्रकारों एवं उनके परिजनों के लिये की है। पत्रकारों की ओर से, उनके लिए एक विशेष अभियान शुरूआत करने की मांग की गयी थी। 18-44 साल आयु वर्ग के लोगों के लिए तथा 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिये टीकाकरण की शुरूआत की जा रही है। मैं सभी पत्रकारों से आग्रह करता हूं कि बड़ी संख्या में आगे आयें और टीकाकरण करवायें। टीकाकरण के माध्यम से ही आप स्वयं को कोरोना वायरस संक्रमण से सुरक्षित रख सकते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मौजूदा समय में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ब्लैक फंगस के 944 मामले सामने आये हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में ब्लैक फंगस संक्रमण के 944 मामले हैं, इनमें से 300 मरीज केंद्र सरकार के अस्पतालों में भर्ती हैं। दवाईयों की बड़े पैमाने पर कमी है। हमें शनिवार को एक हजार इंजेक्शन मिले हैं और रविवार को कुछ नहीं मिला।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को रूस के कोविड रोधी टीके स्पूतनिक वी की खेप का एक हिस्सा मिलने की संभावना है जिसे संबंधित कंपनी 20 जून के बाद आयात करेगी। उन्होंने कहा कि टीके का निर्माण भारत में संभवत: अगस्त में शुरू हो जायेगा। भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने आपात स्थिति में कुछ शर्तों के साथ स्पूतनिक वी के उपयोग की अनुमति दे दी है। डॉ रेड्डीज लेबोरेटॅरीज इस दवा का भारत में आयात करेगी। है। ​मुख्यमंत्री ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में अभी म्यूकर मायकोसिस के 944 मामले हैं। इनमें से 300 मरीजों का केंद्र सरकार के अस्पतालों में इलाज चल रहा है। केजरीवाल राजधानी के एक स्कूल में मौजूद थे जहां उन्हें पत्रकारों एवं उनके परिवारों के ​लिये विशेष टीकाकरण अभियान की शुरूआत करनी थी।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि हमने इस टीकाकरण अभियान की शुरूआत पत्रकारों एवं उनके परिजनों के लिये की है। पत्रकारों की ओर से, उनके लिए एक विशेष अभियान शुरूआत करने की मांग की गयी थी। 18-44 साल आयु वर्ग के लोगों के लिए तथा 45 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिये टीकाकरण की शुरूआत की जा रही है। मैं सभी पत्रकारों से आग्रह करता हूं कि बड़ी संख्या में आगे आयें और टीकाकरण करवायें। टीकाकरण के माध्यम से ही आप स्वयं को कोरोना वायरस संक्रमण से सुरक्षित रख सकते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मौजूदा समय में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ब्लैक फंगस के 944 मामले सामने आये हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में ब्लैक फंगस संक्रमण के 944 मामले हैं, इनमें से 300 मरीज केंद्र सरकार के अस्पतालों में भर्ती हैं। दवाईयों की बड़े पैमाने पर कमी है। हमें शनिवार को एक हजार इंजेक्शन मिले हैं और रविवार को कुछ नहीं मिला। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को रूस के कोविड रोधी टीके स्पूतनिक वी की खेप का एक हिस्सा मिलने की संभावना है जिसे संबंधित कंपनी 20 जून के बाद आयात करेगी। उन्होंने कहा कि टीके का निर्माण भारत में संभवत: अगस्त में शुरू हो जायेगा। भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) ने आपात स्थिति में कुछ शर्तों के साथ स्पूतनिक वी के उपयोग की अनुमति दे दी है। डॉ रेड्डीज लेबोरेटॅरीज इस दवा का भारत में आयात करेगी।


आइपीएल-14 के बाकी मैच 17 सितंबर से होंगे

इकबाल अंसारी  

दुबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) शेष आईपीएल 2021 सत्र को संयुक्त अरब अमीरात में (यूएई) करवाने का फैसला लेने के बाद इस दिशा में सक्रिय रूप से काम कर रहा है। अमीरात क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के साथ चर्चा के बाद बीसीसीआई के पदाधिकारी अब यूएई सरकार के साथ आईपीएल 2021 के आयोजन प्रबंध को अंतिम रूप देने के बारे में चर्चा के लिए दुबई पहुंचे हैं। सूत्रों के मुताबिक इंडियन प्रीमियर लीग सीजन 14 के बाकी बचे मैच 17 सितंबर से फिर से शुरू हो सकते हैं।

बीसीसीआई के सचिव जय शाह, कोषाध्यक्ष अरुण सिंह धूमल, उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला और संयुक्त सचिव जयेश जॉर्ज की मौजूदगी वाला प्रतिनिधिमंडल विशेष अनुमति मिलने के बाद सोमवार को दुबई पहुंचा है। जानकारी के मुताबिक यूएई सरकार के भारत से आने-जाने पर प्रतिबंध के मद्देनजर ईसीबी के अधिकारियों को बीसीसीआई पदाधिकारियों के यहां आने की अनुमति लेने के लिए यूएई सरकार के पास पहुंच करनी पड़ी थी।अनुमति मिलने के बाद पदाधिकारी चार्टर उड़ान से यहां पहुंचे हैं। बीसीसीआई पदाधिकारियों के तात्कालिक उद्देश्य से दुबई आने के पीछे 19 सितंबर से 10 अक्टूबर तक होने वाले शेष आईपीएल 2021 सत्र के लॉजिस्टिक और परिचालन मुद्दों को व्यवस्थित करना है। पदाधिकारियों की ओर से इस दौरे पर उन होटलों के रियायती मूल्य पर भी चर्चा की संभावना है, जिनकी दुबई एक्सपो के मद्देनजर काफी डिमांड है।

ईसीबी के अधिकारियों के मुताबिक इस बार 31 मैचों को आयोजित करना मुश्किल नहीं होगा, क्योंकि उनके पास पिछले साल इसे आयोजित करने का अनुभव है। इसके अलावा उनके पास आयोजन संबंधी व्यवस्था करने के लिए 100 दिनों का पर्याप्त समय है, हालांकि ईसीबी के लिए टी-20 विश्व कप के आयोजन को लेकर बना आसमंजस मुश्किलें पैदा कर सकता है।

टीकाकरण की शर्त पर लौट सकती है दर्शकों की भीड़

आईपीएल 2021 के यूएई चरण में कुछ शर्ताें के साथ दर्शकों की मौजूदी को अनुमति मिल सकती है। दरअसल संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) सरकार की नीति के मुताबिक कोरोना टीकाकरण की शर्त पर खेल आयोजनों के लिए दर्शकों की मौजूदगी को अनुमति दी जाएगी और जानकारी के मुताबिक यूएई की अधिकतकर आबादी का टीकाकरण हो गया है।

समझा जाता है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के साथ-साथ अमीरात क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के लिए आईपीएल 14 के शेष 31 मुकाबलों के लिए भीड़ को अनुमति देना चिंता का बड़ा विषय नहीं होना चाहिए, जब तक कि स्थानीय सरकार एक कार्यक्रम-विशिष्ट नियम नहीं बनाती। ईसीबी के अधिकारियों के मुताबिक टीका लगवा चुके 50 प्रतिशत दर्शकों को स्टेडियम में प्रवेश की अनुमति दी जा सकती है।

अवैध खनन रोकने गए एसडीएम पर हमला किया

संदीप मिश्र  
बरेली। इज्जतनगर के गांव राजपुरा में अवैध खनन रोकने गए एसडीएम सदर विशु राजा व उनकी टीम पर पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। हमले में एक होमगार्ड घायल हो गया। एसडीएम को किसी तरह वहां से बचकर निकलना पड़ा। सूचना पर भारी पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गई। मौके से जेसीबी और दो ट्रैक्टर भी सीज किए गए हैं।
इस मामले में होमगार्ड की तरफ से एफआईआर कराई गई। एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि एसडीएम और उनकी टीम को आरोपियों ने सिंगल बैरल लाइसेंसी बंदूक और तमंचे दिखाकर घेराबंदी कर दी। इस मामले में एसपी सिटी रविंद्र कुमार ने बताया कि एसडीएम और उनकी टीम पर फायरिंग की गई। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

कोरोना के लिए इलाज के लिए 5 लाख का ऋण

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। कोविड-19 से पीड़ित व्यक्ति के इलाज के लिए सरकारी क्षेत्र के बैंकों ने बड़ी घोषणा की है। अब सरकारी बैंकों से कोरोना के लिए इलाज के लिए 5 लाख का ऋण दिया जाएगा। खास बात यह होगी कि यह कर्ज बिना किसी सिक्योरिटी के दिया जाएगा ताकि लोग अपना या परिवार में कोरोना पीड़िता का इलाज करवा सकें। बैंकों ने यह फैसला ऐसे समय लिया है जब कोरोना वायरस की दूसरी लहर देश में हर आय वर्ग के लोगों पर कहर बनकर टूटी है।

बैंकों की यह घोषणा रविवार को जारी किए तीन नए कर्ज कार्यक्रमों का हिस्सा है, जो वैक्सीन निर्माताओं, अस्पतालों, पैथोलॉजी लैब, ऑक्सीजन के निर्माताओं और आपूर्तिकर्ताओं, वेंटिलेटर, टीका खरीदने वालों और कोविड की दवाओं, लॉजिस्टिक्स फर्मों और इससे पीड़ित व्यक्तियों को नए ऋण सहायता प्रदान करने के लिए हैं।

5 लाख तक का निजी लोन

इंडियन बैंक एसोसिएशन और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी घोषणा की जिसमें कहा गया है कि वेतनभोगी, गैरवेतन भोगी और पेंशनर कोविड-19 से इलाज के लिए 25,000 रुपये से लेकर 5 लाख तक का निजी लोन ले सकेंगे। इस कर्ज को 5 साल के अंदर वापस करना होगा। इस कर्ज पर एसबीआई 8.5 प्रतिशत सालाना ब्याज लेगी। दूसरे बैंकों ने अभी अपनी ब्याज दर की घोषणा नहीं की है।

सरकारी बैंकों ने ईसीजीएलएस के तहत पॉवर बैक अप सिस्टम के साथ ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित करने के लिए मौजूदा अस्पतालों, नर्सिंग होम को 2 करोड़ रुपये तक स्वास्थ्य देखभाल व्यवसाय ऋण देने की पेशकश की है। 7.5% की ब्याज दर से दिए जाने वाले इस कर्ज को ईसीएलजीएस 4.0 के तहत नेशनल क्रेडिट गारंटी ट्रस्टी कंपनी लिमिटेड (NCGTC) के तहत 100% गारंटी कवर मिलेगा। जिसकी घोषणा वित्तीय सेवा विभाग और भारत सरकार द्वारा की गई थी। इस कर्ज को भी वापस करने की अवधि 5 वर्ष है।

छापेमारी कर आरोपी क़ाबू किए, 7 पिस्तौलें बरामद

अमित शर्मा  
जालंधर। पुलिस को चुनौती देकर पैट्रोल पंप ओर महिला से दिन दिहाडे इनौवा गाड़ी लूटी गई। वहीं होशियारपुर के एस एस पी नवजोत सिंह माहल ने कुख्यात अपराधियों को नाजायज पिस्तौलों सहित क़ाबू किया है। होशियारपुर पुलिस ने कतल केस में फ़रार चल रहे दोषियों को यू पी में छापामारी करके गिरफ़्तार किया है। एस एस पी नवजोत माहल ने बताया कि होशियारपुर के अधीन व्यक्ति को गोलियाँ मार हत्या के बाद उन्होंने सूचना के आधार पर एस पी डी रविंद्र पाल सिंह संधू के द्वारा बनाई टीम ने यूपी में छापेमारी करके आरोपी क़ाबू किए है। जिनके पास से नाजायज 7 पिस्तौलें बरामद हुई है। आरोपियो से पूछताछ में अन्य कई बढ़ी अपराधिक वारदातें हल होने की संभावना है। पकड़े गए आरोपी गुरजिंदर सिंह उर्फ़ सोनू रोडमजारिया,जो कि प्रीत  सेखो नाम के गैंगसटर के साथ मिलकर वारदातें करता था। प्रीत सेखो ने अमृतसर तरनतारन इलाक़े में काफ़ी दहशत मचाई हुई थी।

कोरोना से जुड़ी पाबंदियां 15 दिनों के लिए बढ़ाई

कविता गर्ग   

मुंबई। देश में कोरोना की लहर अब धीरे धीरे कम हो रही है। कई राज्‍य अनलॉक की तरफ बढ़ रहे हैं। ऐसे में महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे ने लोगों को ढिलाई न बरतने की बात कही है। इसके साथ ही राज्य में कोरोना से जुड़ी पाबंदियां 15 दिनों के लिए बढ़ा दी गई है। ठाकरे ने महाराष्‍ट्र के लोगों से कहा कि मुझे नहीं पता कि कब और किस तारीख को कोरोना की तीसरी लहर आएगी। लिहाजा अभी हमें किसी को सतर्कता में कमी लाने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। उन्‍होंने कहा कि हमें कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयार रहना चाहिएबहुत जरूरी न हो तो घर से ना ही निकलें और कोरोना नियमों का पालन करें। 

उन्‍होंने कहा कि हम प्रतिबंध धीरे धीरे कम करेंगे। उन्‍होंने कहा कि हम आंकड़ों की बात करें तो अभी भी नंबर 1 पर हैं। हालांकि राहत की बात ये है कि एक्‍टिव केस पहले से कम हो रहे हैं। वहीं रिकवरी रेट में भी तेजी से सुधार हो रहा है। ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में अभी भी कई जिले ऐसे है जहां नियम हल्के करके देखा तो वहां केसेस बढ़ने लगे। शहर से ज्यादा गांवों में ऐसी स्थिति देखने को मिली। ठाकरे ने कहा कि कोरोना के पहली लहर में बुजुर्गों को दिक्‍कत हुई।दूसरी लहर में युवाओं को और ऐसी उम्‍मीद की जा रही है कि तीसरी लहर बच्‍चों पर भारी पड़ सकता है। उन्‍होंने कहा कि हमें बच्चों को सुरक्षित रखना है। इसकी हमने व्यापक तैयारी की है। हमने टास्क फोर्स गठित किया है। ठाकरे ने कहा कि पिछली बार का वायरस और इस बार का वायरस अलग है। कोरोना का नया स्ट्रेन अधिक घातक है।

क्रिकेट: आंखों में खुशी के आंसू और चेहरे पर सुकून

सिडनी। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में खेलने वाले आस्ट्रेलियाई क्रि​केटर लंबे इंतजार के बाद आखिरकार सोमवार को जब अपने परिजनों से मिले तो उनके आंखों में खुशी के आंसू और चेहरे पर सुकून साफ झलक रहे थे। भारत में कोविड-19 के मामलों और आईपीएल के बीच में स्थगित किये जाने के बाद आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर और इस टूर्नामेंट से जुड़े अन्य सहकर्मी यात्रा प्रतिबंधों के कारण सीधे स्वदेश नहीं लौट पाये थे। उन्हें पहले कुछ दिन मालदीव में बिताने पड़े। आस्ट्रेलिया का 38 सदस्यीय दल दो सप्ताह पहले स्वदेश लौटा था।

तेज गेंदबाज पैट कमिन्स भी इन खिलाड़ियों में शामिल थे। वह होटल से बाहर निकले और अपनी गर्भवती हमसफर बेकी बोस्टन के गले लग गये। इसका वीडियो आस्ट्रेलिया की मशहूर खेल पत्रकार चोली अमांडा बेली ने अपने ट्विटर पर डाला है। बेली ने वीडियो के साथ लिखा है, ‘दिन का खास वीडियो। आईपीएल के लिये आठ सप्ताह बाहर रहने के बाद पैट कमिन्स आखिर में होटल में पृथकवास से बाहर निकलकर अपनी गर्भवती साथी बेकी से मिले।

35.38 लाख से अधिक लोगों की मौंत हुई, संक्रमण

वाशिंगटन डीसी। विश्वभर में कोरोना वायरस (कोविड-19) का कहर जारी है और अब तक 17 करोड़ से अधिक लोग इस महामारी से संक्रमित हो चुके हैं। जबकि 35.38 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इस बीच राहत की बात यह है कि दुनियाभर में अभी तक 186.59 करोड़ से अधिक लोगों को कोराेना का टीका लग चुका है।

अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र (सीएसएसई) की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार दुनिया के 192 देशों एवं क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 17 करोड़ एक लाख 89 हजार 835 हो गयी है। जबकि 35 लाख 38 हजार 196 लोगों की इसके संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है।

दिल का दौरा पड़ने से भाजपा विधायक का निधन

हरिओम उपाध्याय                  

कासगंज। जिले की अमांपुर सीट से भाजपा विधायक देवेंद्र प्रताप सिंह का सोमवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 56 वर्ष के थे। पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि भाजपा विधायक को अचानक दिल का दौरा पड़ने पर जिला चिकित्सालय ले जाया गया था। जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

एटा जिला चिकित्सालय के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राजेश अग्रवाल ने बताया कि सिंह को सुबह करीब सात बजे अस्पताल लाया गया था उन्होंने तथा अन्य चिकित्सकों ने जब उन्हें देखा, तब तक उनका निधन हो चुका था। कुल तीन बार विधायक रह चुके देवेंद्र प्रताप सिंह दो बार सोरों विधानसभा सीट से विधायक चुने गए थे। बाद में इसी सीट का नाम बदलकर अमापुर कर दिया गया जिससे वह मौजूदा विधायक थे।

कुओं पर अवैध निर्माण कर कब्जा, प्रशासन मौन

हरिओम उपाध्याय                     

काशीपुर। नगर निगम क्षेत्र के कुओं पर अतिक्रमण कर कुछ लोगों ने दुकाने निर्माण कर उन से धन कमा रहे हैं। तो कुछ लोगों ने अवैध निर्माण कर कब्जा कर रखा है और स्थानीय नगर निगम प्रशासन मौन साधे हुए हैं। बता दें कि नगर में अधिकांश कुएं पाट दिए गए हैं। कुछ पर रसूखदारों ने कब्जा कर रखा है और कुछ पर कब्जा किया जा रहा है। जो बचे हैं, उनकी साफ-सफाई व सुरक्षा के प्रति नगर निगम प्रशासन गंभीर नहीं है। जिन स्थानों पर हुए है।

उनमें से मुंशीराम चौराहा, भगवत राशन वालों के सामने, भारत पब्लिक स्कूल के बाहर, भाजपा महानगर अध्यक्ष मोहन बिष्ट के मकान के नजदीक, काली मंदिर के निकट, मौहल्ला किला मे, मौहल्ला खालसा में कांग्रेसी नेता शिवनन्दन अग्रवाल जी के आवास के समीप दो कुएं, सिंघान स्ट्रीट में शिक्षक मुनीशकांत के घर के सामने, मोहल्ले काजीबाग में लकड़ी की टाल के निकट, कटोराताल मौहल्ले में छावनी के निकट, तथा एक कुंआ जसपुर खुर्द कोर्ट रोड मोड पर एक मिष्ठान भंडार की जगह पर था जहां पर आज दुकाने निर्माण कर ली गई है। और मिष्ठान भंडार चल रहा है। नगर निगम द्वारा कुओं की ओर ध्यान देना जरूरी नहीं समझा जा रहा है। एक बार पालिकाध्यक्ष एवं दो बार महापौर चुनी गईं श्रीमती ऊषा चौधरी ने इस ओर ध्यान दिया होता तो आज मोहल्ला किला स्थित आर्य समाज स्कूल के निकट कुए पर कब्जा करने की नौबत नहीं आती। परंतु नगर निगम प्रशासन कुंभकरण की नींद सोया हुआ है। और अतिक्रमण कारी बेखौफ होकर नगर के कुए पर अतिक्रमण कर कब्जा कर रहे हैं। अब देखने वाली बात यह है। यह क्या प्रशासन नींद से जाग कर अतिक्रमण किए गये कुँओं से अतिक्रमण हटवा पाता है या नहीं यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

याचिकाकर्ताओं पर 1 लाख रुपए का जुर्माना लगाया

अकांशु उपाध्याय                

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने सेंट्रल विस्टा परियोजना के निर्माण कार्य को जारी रखने की सोमवार को अनुमति देते हुए कहा कि यह एक ‘‘अहम एवं आवश्यक’’ राष्ट्रीय परियोजना है। अदालत ने ‘‘किसी मकसद से प्रेरित’’ याचिका के लिए याचिकाकर्ताओं पर एक लाख रुपए का जुर्माना लगाया।

अदालत ने कहा कि उच्चतम न्यायालय इस परियोजना को पहले ही वैध ठहरा चुका है। उसने कहा कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने भी इसे जारी रखने की अनुमति दी है। कर्मी पहले से ही स्थल पर मौजूद हैं और इसलिए ‘‘हमें काम रोकने का कोई कारण नजर नहीं आता’’।

भारत: 24 घंटे में 1.52 लाख से अधिक नए मामलें

अकांशु उपाध्याय                        

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में लगातार गिरावट के बीच पिछले 24 घंटों के दौरान भी स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या सक्रमित होने वालों से कहीं अधिक रही। जिससे रिकवरी दर बढ़कर 91.60 फीसदी हो गई है। देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना के 1.52 लाख से अधिक नये मामले सामने आये हैं और 2.38 लाख से ज्यादा स्वस्थ हुये हैं। इस दौरान स्वस्थ होने वालों की संख्या में निरंतर इजाफा होने से सक्रिय मामलों में 88,416 की गिरवाट हुई है।

इस बीच रविवार को 10 लाख 18 हजार 076 लोगों को कोरोना के टीके लगाये गये। देश में अब तक 21 करोड़ 31 लाख 54 हजार 129 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार की सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में 1,52,734 नये मामले आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर दो करोड़ 80 लाख 47 हजार 534 हो गया। इस दौरान दो लाख 38 हजार 022 मरीज स्वस्थ हुए हैं। जिसे मिलाकर देश में अब तक दो करोड़ 56 लाख 92 हजार 342 लोग इस महामारी को मात दे चुके हैं।

लॉकडाउन को 8 जून तक बढ़ाने का निर्णय लिया

अविनाश श्रीवास्तव  
पटना। बिहार सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर राज्य में पहले से लागू लॉकडाउन की अवधि आठ जून तक के लिए बढा दी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को ट्वीट किया, ‘‘कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए लॉकडाउन को एक सप्ताह अर्थात 8 जून, 2021 तक बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। परन्तु व्यापार के लिए अतिरिक्त छूट दी जा रही है। सभी लोग मास्क पहनें और सामाजिक दूरी बनाए रखें।’’
राज्य में संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में चार मई को हुई आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में 05 से 15 मई तक लॉकडाउन लगाने का निर्णय लिया गया था, जिसे बाद में बढ़ाकर 25 मई और फिर 31 मई तक कर दिया गया था। बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण रविवार को और 52 लोगों की मौत होने के साथ ही राज्य में संक्रमण से मरने वालों की संख्या 5104 हो गयी है। प्रदेश में वर्तमान में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 18,377 है और अभी तक राज्य में कुल 7,05,648 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

चार धाम यात्रा शुरू करने पर सरकार का मंथन

पंकज कपूर   

देहरादून। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर स्थगित की गई चारधाम यात्रा को शुरू करने पर सरकार विचार कर रही है। इसके तहत प्रथम चरण में चारधाम वाले जिलों के स्थानीय निवासियों को धामों में दर्शन की अनुमति दी जा सकती है। पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि परिस्थितियां सामान्य होने के बाद सभी पहलुओं पर मंथन कर चरणबद्ध ढंग से चारधाम यात्रा शुरू की जाएगी।

प्रदेश के कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के तेज होने के कारण सरकार ने इस वर्ष 14 मई से प्रारंभ होने वाली चारधाम यात्रा स्थगित कर दी थी। अलबत्ता, चारों धामों बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री के कपाट निर्धारित तिथियों पर खोले गए और वहां सीमित संख्या में तीर्थ पुरोहित पूजा-पाठ कर रहे हैं। श्रद्धालुओं को वहां जाने की इजाजत नहीं है। अब जबकि कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आई तो चारधाम यात्रा को लेकर सरकार मंथन में जुट गई है। पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि रुद्रप्रयाग, चमोली व उत्तरकाशी जिलों के निवासियों की ओर से उन्हें धामों में दर्शन की अनुमति देने का आग्रह किया जा रहा है। चारों धाम इन्हीं जिलों में हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार प्रत्येक पहलू से चारधाम यात्रा को लेकर विचार कर रही है। प्रथम चरण में तीन जिलों के स्थानीय निवासियों को अनुमति दी जा सकती है। इसके बाद परिस्थितियों की समीक्षा कर पहले राज्य के अन्य जिलों और फिर बाहरी राज्यों के श्रद्धालुओं को भी यात्रा की अनुमति दी जा सकती है। चारधाम यात्रा के लिए स्वास्थ्य विभाग की गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए मानक संचालन प्रक्रिया जारी की जाएगी।

बेदखली, तोड़फोड़ व कोई नीलामी नहीं: एचसी

बृजेश केसरवानी   

प्रयागराज। महामारी कोविड -19 के प्रकोप को देखते हुए, इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने सभी अंतरिम आदेशों की अवधि 2 अगस्त तक बढ़ा दी है। कोर्ट ने यह भी प्रावधान किया है कि कोई बेदखली, तोड़फोड़ नहीं की जाएगी और बैंक किसी भी संपत्ति की नीलामी नहीं करेंगे।

2 अगस्त से पहले समाप्त होने पर अदालत द्वारा दी गई अग्रिम जमानत को बढ़ाया जाएगा। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश संजय यादव और न्यायमूर्ति प्रकाश पाडंया की पीठ ने कहा कि “जब मामला आज उठाया जाता है, तो हमें अवगत कराया जाता है। कारोना महामारी कि स्थिति में अभी तक सुधार नहीं हुआ है और जिला अदालतों, न्यायाधिकरणों के साथ-साथ उच्च न्यायालय सहित सभी न्यायालय सीमित क्षमता के साथ वर्चुअल मोड में काम कर रहे हैं। अत: न्याय हित में आदेश दिनांक 24.04.2021 से 02.08.2021 तक जारी रखने की मांग है।” इससे पहले कोर्ट ने अंतरिम आदेश 31 मई 2021 तक बढ़ाया था।

उत्तराखंड में 8 जून तक बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू

पंकज कपूर   

देहरादून। उत्तराखंड से आज की सबसे बड़ी खबर एक हफ्ता और बढ़ा कोरोना कर्फ्यू यानि 8 जून सुबह 6 बजे तक। अब हफ्ते में दो दिन दुकानें खुलेंगी। आज हुए फैसले के अनुसार 1 जून और 5 जून को परचून की दुकानें खोली जाएगी 8 बजे से 1 बजे तक खुलेगी। दुकानें वही 1 जून को स्टेशनरी और किताबो की दुकानों को खोला जाएगा बाकी निर्देश यथावत रहेंगे। उत्तराखंड में कोरोना का कर्फ्यू को एक सप्ताह के लिए बढ़ा दिया गया है। हालांकि कोरोना संक्रमण के आंकड़ों में कमी आने के कारण सरकार द्वारा कुछ राहत दी गई है।

उत्तराखंड सरकार ने कोरोना कर्फ्यू को लेकर नया फैसला लिया है । सरकार ने एक हफ्ते के लिए कोरोना कर्फ्यू को बढ़ा दिया गया है। कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी के बाद सरकार ने फैसला किया है कि अब परचून की दुकाने हफ्ते में 2 दिन खुल पाएंगी। सरकार के प्रवक्ता व कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने बताया कि 1 जून और 5 जून को परचून की दुकानें खोली जाएगी। इनका वक्त भी 8 बजे से एक बजे तक रहेगा। इसके अलावा 1 तारीख को स्टेशनरी और किताबो की दुकान खुलेगी। बाकि नियम पहले जैसे ही रहेंगे। उत्तराखंड में कोरोना Curfew 8 जून तक लागू रहेगा। सुबह आठ से दोपहर एक बजे तक खुलेंगी आवश्यक वस्तुओं की दुकानें।

परीक्षाएं स्थगित याचिका, 2 दिन का समय मांगा

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने सीबीएसई और आईसीएसई की 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं रद्द करने संबंधी याचिका पर सुनवाई गुरुवार तक के लिए टाल दी है। न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति दिनेश माहेश्वरी की अवकाशकालीन खंडपीठ ने सोमवार को संक्षिप्त सुनवाई के दौरान एटर्नी जनरल के के वेणुगोपाल का अनुरोध स्वीकार करते हुए इस पर गुरुवार को विचार करने का निर्णय लिया।

वेणुगोपाल ने खंडपीठ से कहा कि सरकार परीक्षा को लेकर अगले दो दिन में फैसला लेगी, इसलिए सुनवाई को तब तक स्थगित कर दिया जाये। इस पर न्यायालय ने  वेणुगोपाल से कहा कि सरकार निर्णय ले सकती है, लेकिन यदि वह पिछले साल की नीति से अलग कोई आदेश पारित करेगी तो उसे अच्छे कारण गिनाने होंगे।न्यायालय ने कहा कि याचिकाकर्ताओं की आशा है कि पिछले साल अपनाई गई नीति पर अमल इस साल भी किया जाना चाहिए, इसलिए अगर सरकार इससे अलग कर रही है तो उसे अच्छे कारण देने होंगे। 

न्यायालय ममता शर्मा की उस जनहित याचिका पर सुनवाई कर रहा है, जिसमें सीबीएसई और आईसीएसई की 12वीं बोर्ड की परीक्षाएं रद्द करने का अनुरोध किया गया है। याचिकाकर्ता ने पिछले साल की परीक्षा परिणाम नीति पर अमल करते हुए परीक्षाफल घोषित करने का भी अनुरोध किया है।

यूपी के 20 जिलों में किसी प्रकार की छूट नहीं होगी

बाज़ार खुलेंगे साप्ताहिक बंदी जारी रहेगी


संदीप मिश्र   

लखनऊ। प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू के संबंध में नई गाइडलाइन जारी कर दी गई है। जिन जिलों में 600 से अधिक केस हैं, वहां कोई ढील नहीं दी जायेगी। 600 से कम केस वाले ज़िलों में सुबह 7 से शाम 7 तक खुलेंगे बाज़ार, साप्ताहिक बंदी जारी रहेगी। 55 जिलों को छूट मिलेगी। लखनऊ समेत 20 जिलों में कोई छूट नहीं मिलेगी।

लखनऊ, मेरठ, सहारनपुर, वाराणसी, गाजियाबाद, बरेली, मुरादाबाद, गाजीपुर, बिजनौर, देवरिया, गोरखपुर, बुलंदशहर, जौनपुर, सोनभद्र, झांसी, प्रयागराज, लखीमपुर खीरी जिले में कोई छूट नहीं मिलेगी। इन जिलों में पहले की तरह स्कूल, कोचिंग संस्थान बंद रहेंगे। सिनेमा, मॉल, जिम, पूल्स पूर्णतः बंद रहेंगे।

कोरोना कर्फ़्यू को लेकर यूपी सरकार ने जारी किए निर्देश:

-1 जून सुबह सात बजे से अग्रिम आदेश तक कोरोना कर्फ़्यू तमाम गतिविधियों के साथ लागू रहेगा। यूपी की राजधानी लखनऊ में कोई राहत नहीं होगी। वीकेंड लॉकडाउन पूरे प्रदेश में जारी रहेगा।

- प्रदेश के सभी बाज़ार सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक साप्ताहिक लॉकडाउन को छोड़कर खुले रहेंगे। सभी फ़्रटलाइन सरकारी दफ़्तरों में पूरी उपस्थिति रहेगी जबकि बाकी जगहों पर पचास प्रतिशत कर्मचारियों के साथ काम कर सकेंगे।माध्यमिक और उच्च शिक्षण संस्थानों में ऑनलाइन क्लास विभागीय फ़ैसले के हिसाब से चल सकेंगे।सभी धार्मिक स्थलों में पांच से ज़्यादा लोग एक साथ नहीं रह सकेंगे।

-औद्योगिक संस्थान खुले रहेंगे। सब्जी मंडी पहले की तरह खुली रहेंगी। प्रत्येक सब्जी मंडल स्थल में कोविड-19 की स्थापना की अनिवार्यता होगी। स्कूल कॉलेज तथा शिक्षा संस्थान शिक्षण कार्य हेतु बंद रहेंगे। रेस्टोरेंट्स होम डिलीवरी की केवल अनुमति होगी। सेंट जॉन को छोड़कर शेष स्थानों में धर्म स्थलों के अंदर एक बार में एक स्थल पर 5 से अधिक श्रद्धालु ना हो। अंडे मांस और मछली की दुकानों को पर्याप्त साफ-सफाई तथा सैनिटाइजेशन का ध्यान रखते हुए बंद स्थान अथवा ढके हुए खोलने की अनुमति होगी। समस्त प्रदेश में गेहूं क्रय केंद्र एवं राशन की दुकानें खुली रहेंगी।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-289 (साल-02)
2. मंगलवार, जून 01, 2021
3. शक-1984, ज्येठ, कृष्ण-पक्ष, तिथि-सप्तमी, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:52, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -18 डी.सै., अधिकतम-40+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से घबराया 'चीन'

बीजिंग। जी-7 के बिल्ड बैक बेटर वर्ल्ड प्लान से चीन घबरा गया है। यही वजह है कि जी-7 देशों की बैठक के तुरंत बाद चीन ने जिनपिंग के ड्रीम प्रोजे...