सोमवार, 1 अगस्त 2022

चरक जयंती का कार्यक्रम सफलतापूर्वक आयोजित 

चरक जयंती का कार्यक्रम सफलतापूर्वक आयोजित 

बृजेश केसरवानी 

प्रयागराज। जनपद प्रयागराज में विश्व आयुर्वेद परिषद, प्रयाग ( काशी प्रांत ) के तत्वावधान में महर्षि चरक जयंती का कार्यक्रम सफलतापूर्वक आयोजित किया गया। यह कार्यक्रम डाबर इंडिया के सहयोग से होटल मिलन में आयोजित हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ. जे. नाथ ( अध्यक्ष,वि० आयु० परि०, प्रयाग ) ने की तथा संचालन वैद्य नरेन्द्र कुमार पाण्डेय (सचिव, वि०आयु०परि०, प्रयाग) ने किया।
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि प्रो० जी. एस. तोमर (पूर्व प्राचार्य, रा०आयु०महाविद्यालय , हंडिया एवं गुरु, राष्ट्रीय विद्यापीठ ) , विशिष्ट अतिथि डॉ. प्रेमशंकर पाण्डेय ( केंद्रीय सह प्रभारी, वि० आयु० परि०, चिकित्सा प्रकोष्ठ ), डॉ. सुधांशु शंकर उपाध्याय ( सचिव , वि०आयु०परि०, उ०प्र०),
डॉ. विनोद कुमार गौड़ ( प्राचार्य, चंद्रशेखर आयुर्वेद संस्थान) , श्री मुनीश ( रा०स्व०संघ, प्रान्त प्रचारक, काशी प्रान्त) , डॉ एम० डी० दुबे ( सह प्रभारी, चिकित्सा प्रकोष्ठ , उ०प्र०) , डॉ. बी० एस० रघुवंशी ( संयोजक, वि०आयु०परि०, प्रयाग), डॉ. अमिता सिंह ( उपसचिव, प्रयाग) , डॉ. अतुल पाण्डेय ( सांस्कृतिक मंत्री, प्रयाग), डॉ. एस०के० राय , डॉ. अवनीश भूषण पाण्डेय ( राज.चिकित्साधिकारी) एवं डॉ. रासबिहारी मौर्य ने अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम में डॉ एस०सी० दुबे, डॉ अशोक केसरवानी, डॉ. शंकर मिश्र, डॉ त्रिवेणी शंकर शुक्ल, डॉ अर्चना पाण्डेय, डॉ. आशुतोष श्रीवास्तव, डॉ रकेशनाथ त्रिपाठी, श्री दीनानाथ जयसवाल, श्री ब्रह्मशंकर द्विवेदी एवं अनेक चिकित्सक और सदस्य उपस्थित रहे। कार्यक्रम को डाबर इंडिया कंपनी ने प्रायोजित किया।

चौधरी के नेतृत्व में सामूहिक 'राष्ट्रगान' का आयोजन 

चौधरी के नेतृत्व में सामूहिक 'राष्ट्रगान' का आयोजन 


किसी भी स्कूल के जरूरतमंद बच्चों की हरसंभव सहायता की जायेगी, विशेष तौर से बहन-बेटियों की: मनीष चौधरी 

अहिल्याबाई चौक पर सांप्रदायिक सौहार्द के साथ हुआ सामूहिक 'राष्ट्रगान' का आयोजन 

भानु प्रताप उपाध्याय 

मुजफ्फरनगर। जनपद में सांप्रदायिक सौहार्द कायम करने के साथ ही देशभक्ति की भावना कायम करने के प्रयासों में जुटे प्रमुख समाजसेवी मनीष चौधरी के नेतृत्व में सोमवार को शहर के प्रमुख व्यस्ततम चौराहे देवी अहिल्याबाई होल्कर चौक पर सामूहिक 'राष्ट्रगान' का आयोजन किया गया। पिछले गत वर्ष से नगर के विभिन्न चौराहों पर सामूहिक राष्ट्रगान करा रहे प्रमुख समाजसेवी मनीष चौधरी के नेतृत्व में सोमवार को जिला अस्पताल के निकट शहर के सबसे प्रमुख चौराहे देवी अहिल्याबाई होल्कर चौक पर अहिल्याबाई की मूर्ति पर माल्यार्पण कर विभिन्न स्कूलों के बच्चों के साथ ही युवाओं व बुजुर्गो के साथ मिलकर सामूहिक राष्ट्रगान का आयोजन कर जनपद में सांप्रदायिक सौहार्द कायम करने का संकल्प दोहराया।

जैन कन्या इंटर कालेज नई मंडी की प्रधानाचार्या डा. कंचनप्रभा शुक्ला के सानिध्य में भारत स्काउट गाइड के पदाधिकारी भारत भूषण अरोरा, प्रभा दहिया व कुमारी ज्योति के निर्देशन में जैन कन्या इंटर कालेज की बालिका एवं शिक्षा सदन इंटर कालेज की प्रधानाचार्या सीमा त्यागी के सानिध्य में बबली कौर, मोनिका आर्य के नेतृत्व में सैंकड़ों बालिकाओं ने सामूहिक राष्ट्रगान में भाग लिया। शिक्षा सदन इंटर कालेज की छात्रा राबिया व सानिया ने देशभक्ति गीत से वातावरण को देशभक्ति से परिपूर्ण कर दिया। मेरठ सेवा समाज की प्रेरक श्रीमती परवीन ने भी आज के कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि इस तरह के आयोजन से समाज में सांप्रदायिक सौहार्द बढाने में सहायता मिलती है। उन्होंने इस अभियान में समाजसेवी मनीष चौधरी को हरसंभव सहयोग देने का भी भरोसा दिया है।

इसके बाद उन्होंने बच्चों के साथ मार्च भी निकाला। इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले बच्चे बेहद खुश नजर आये। कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले सभी लोगों का आभार जताते हुए प्रमुख समाजसेवी मनीष चौधरी ने कहा कि सभी के सहयोग से ही इस तरह के कार्यक्रम संभव हो सके हैं। उन्होंने आश्वासन दिया कि किसी भी स्कूल के जरूरतमंद बच्चों की हरसंभव सहायता की जायेगी,  विशेषकर बालिकाओं की सहायता के लिए हमेशा तत्पर रहूंगा। सामूहिक राष्ट्रगान के आयोजन में युवराज सक्षम चौधरी, केपी चौधरी, भरतवीर प्रधान, पंडित बृजबिहारी अत्रि, जयदेव पंवार इंद्रप्रस्थ, पीस आफ कंम्यूनिटी के डिस्ट्रिक्ट कार्डिनेटर कुलदीप त्यागी, प्रेरक नितिन कुमार, राजेश कुमार धनगर, विक्की चावला, नवीन कश्यप, नदीम अंसारी, हंसराज कश्यप, सौरभ चौधरी, मुन्नू कश्यप, कृष्णा चौधरी आदि मौजूद रहे।

वो दिन दूर नहीं, जब श्रीलंका की तरह हालात बन जाएं 

वो दिन दूर नहीं, जब श्रीलंका की तरह हालात बन जाएं 

नरेश राघानी 

जयपुर। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने जयपुर में जमकर केंद्र सरकार और आरएसएस पर निशाना साधा। ओवैसी ने कहा कि वो दिन दूर नहीं, जब श्रीलंका की तरह यहां भी हालात बन जाए। जनता प्रधानमंत्री आवास में घुस जाए। यहां तक की राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी एआईएमआईएम प्रमुख के निशाने पर रहे। जयपुर में आयोजित टॉक जर्नलिज्म के फाइनल सेशन में असदुद्दीन ओवैसी ने चर्चा की। इस दौरान उन्होंने भारत की श्रीलंका से तुलना की। उन्होंने कहा कि श्रीलंका की स्थिति खराब इसलिए हुई क्योंकि वहां की सरकार ने बेरोजगारी, महंगाई के मुद्दे का समाधान नहीं किया। अब भारत में भी लोग सड़क पर उतरने लगे हैं। किसान आंदोलन से लेकर अग्निवीर योजना तक का लोग विरोध कर रहे हैं। देखना एक दिन जैसे श्रीलंका में लोग राष्ट्रपति भवन में घुसकर बैठे थे, वैसे ही यहां प्रधानमंत्री आवास में घुस जाएंगे। लोग कहेंगे कि हमको नौकरी नहीं दी। मैं नहीं चाहता हूं की ऐसा हो, नहीं तो कल मुझपर यूएपीए लग जाएगा।

डोभाल बताएं, कौन फैला रहा कट्टरता...

एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा कि अजीत डोभाल को बताना चाहिए कि देश में धार्मिक कट्टरता कौन फैला रहा है। एनएसए सभी को बताए कि कट्टरता फैलाने वाले ‘कुछ तत्व’ कौन हैं। वे बातें क्यों बना रहे हैं। बता दें कि अजित डोभाल ने विभिन्न धर्मों के नेताओं से धर्म और विचारधारा के नाम पर दुश्मनी पैदा करने की कोशिश कर रही कट्टरपंथी ताकतों का मुकाबला करने का आग्रह किया था।

आरएसएस को लेकर कही दी ये बात...

आरएसएस प्रचारक इंद्रेश कुमार ने कहा था कि ओवैसी अभी पूरी तक भारतीय नहीं बन पाए हैं। इंद्रेश कुमार के बयान पर ओवैसी ने पलटवार किया। उन्होंने कहा कि जो एक जमाने में खुद समझौता ट्रेन ब्लास्ट मामले में आरोपी था, उससे सर्टिफिकेट लेने की मुझे आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में कौन सी प्रार्थना बोली जाती है। संघ की शाखाओं में शपथ संविधान पर ली जाती है या किसी और पर यह भी जनता के सामने रखना चाहिए। उदयपुर के कन्हैयालाल हत्याकांड पर ओवैसी ने कहा कि हमने घटना की निंदा की है। हमारा मानना है कि जब कन्हैयालाल ने पुलिस को शिकायत दी थी, तब कार्रवाई करनी चाहिए थी।

स्मृति और उनकी बेटी रेस्टोरेंट की मालिक नहीं: एचसी

स्मृति और उनकी बेटी रेस्टोरेंट की मालिक नहीं: एचसी 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। गोवा रेस्टोरेंट बार का विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। बता दें कि इस मामले की सुनवाई दिल्ली हाईकोर्ट ने शुक्रवार (29 जुलाई) को की थी, जिसका डिटेल ऑर्डर अब सामने आया है। हाईकोर्ट ने कहा है कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और उनकी बेटी (Zoish Irani) गोवा में रेस्टोरेंट की मालिक नहीं हैं। ना ही उन्होंने कभी इसके लिए कोई आवेदन दिया। दिल्ली हाईकोर्ट में यह टिप्पणी जस्टिस मिनी पुष्कर्ण ने की। हाईकोर्ट ने कहा कि गोवा सरकार के शो कॉज नोटिस में भी स्मृति ईरानी और उनकी बेटी का नाम नहीं है। स्मृति की तरफ से पेश किए गए डॉक्युमेंट्स उनके पक्ष में हैं। कोर्ट ने कहा कि स्मृति ईरानी और उनके परिवार की छवि को नुकसान पहुंचाने के इरादे से फर्जी बयान दिए गए हैं।

जस्टिस मिनी पुष्कर्ण ने स्मृति ईरानी की तरफ से दायर मानहानि के मुकदमे पर कांग्रेस नेता जयराम रमेश, पवन खेड़ा और नेट्टा डिसूजा को समन भेजा है। ईरानी ने 2 करोड़ रुपये का मानहानि का नोटिस इन नेताओं को भेजा है। कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई के दौरान आदेश दिया था कि कांग्रेस नेता पवन खेड़ा स्मृति ईरानी की बेटी से जुड़ा ट्वीट तुरंत डिलीट करें।दिल्ली हाईकोर्ट के मुताबिक, असली तथ्यों का पता किये बिना बड़े आरोप लगा दिये गए थे, जिसकी वजह से स्मृति ईरानी और उनके परिवार की छवि को नुकसान पहुंचा। अगली सुनवाई अब 18 अगस्त को होनी है।

राज्य की जनता भी कांग्रेस को पूरी तरह नकार देगी 

राज्य की जनता भी कांग्रेस को पूरी तरह नकार देगी 

श्रीराम मौर्य 

शिमला। हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने सोमवार को कहा कि देश के लोगों ने कांग्रेस पार्टी को नकार दिया है और राज्य की जनता भी उसे पूरी तरह नकार देगी। ठाकुर ने आज चम्बा जिला के साहो में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए यह बात कही। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश के आर्थिक संकट के लिए पूर्व की कांग्रेस सरकारें जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के आर्थिक संकट का मूल कारण पिछली सरकार द्वारा अविवेकपूर्ण किए गए व्यय और अनियोजित विकास है। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार का कार्यकाल गरीब और पिछड़े लोगों के कल्याण और उत्थान के लिए समर्पित रहा है। मुख्यमंत्री ने जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि साहो में उप-तहसील खोलने के संबंध में शीघ्र ही अधिसूचना जारी की जाएगी और लोगों की सुविधा के लिए पार्किंग का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने चम्बा जिले को आकांक्षी जिला घोषित किया है ताकि जिले की विकासात्मक आवश्यकताओं के लिए अतिरिक्त धनराशि सुनिश्चित की जा सके।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को प्रदेश और प्रदेशवासियों के प्रति विशेष लगाव है और गत साढ़े चार वर्षों के दौरान वह राज्य का सात बार दौरा कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि गत दिवस मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने चम्बा के मिंजर मेले का विशेष उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार का मूल मंत्र है ‘जहां गरीब वहां सरकार’।मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिला यात्रियों को किराए में 50 प्रतिशत की छूट और घरेलू विद्युत उपभोक्ताओं को प्रतिमाह 125 यूनिट निःशुल्क बिजली उपलब्ध करवाई जा रही है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने प्रसिद्ध शिव मंदिर साहो में पूजा-अर्चना की और कहा कि मंदिर के छत की शीघ्र ही मरम्मत की जाएगी।

विभिन्न मांगों को लेकर धरना देंगे, पीएम मोदी के भाई 

विभिन्न मांगों को लेकर धरना देंगे, पीएम मोदी के भाई 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। पीएम मोदी के भाई और ‘ऑल इंडिया फेयर प्राइस शॉप डीलर्स फेडरेशन’ (AIFPSDF) के उपाध्यक्ष प्रह्लाद मोदी संगठन की विभिन्न मांगों को लेकर मंगलवार को यहां धरना देंगे। पीएम मोदी के भाई एआईएफपीएसडीएफ के अन्य सदस्यों के साथ जंतर-मंतर पर धरना देंगे। एआईएफपीएसडीएफ ने एक बयान में कहा कि धरने के बाद पीएम मोदी को संबोधित एक ज्ञापन सौंपा जाएगा। बयान में कहा गया कि सदस्यों की बुधवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से मिलने की भी योजना है। एआईएफपीएसडीएफ की नौ मांगें हैं जिनमें उचित दर की दुकानों से बेचे जाने वाले चावल, गेहूं और चीनी के साथ ही खाद्य तेल और दालों पर होने वाले नुकसान के लिए मुआवजे की मांग भी शामिल है।

उनकी यह भी मांग है कि मुफ्त वितरण के ‘पश्चिम बंगाल राशन मॉडल’ को देश भर में लागू किया जाए। एआईएफपीएसडीएफ ने बयान में कहा, “हम मांग करते हैं कि जम्मू-कश्मीर समेत सभी राज्यों के देय मार्जिन की तुरंत प्रतिपूर्ति की जाए।”

पंचकूला में शुरू हुआ, कांग्रेस का ‘चिंतन शिविर’ 

पंचकूला में शुरू हुआ, कांग्रेस का ‘चिंतन शिविर’ 

राणा ओबरॉय 

चंडीगढ़। हरियाणा कांग्रेस का एक दिवसीय ‘चिंतन शिविर’ सोमवार को पंचकूला में शुरू हुआ, जिसमें महंगाई, बेरोजगारी और कानून-व्यवस्था सहित कई ज्वलंत मुद्दों को लेकर लोगों तक पहुंच बनाने की रणनीति पर चर्चा की गई। यह जानकारी पार्टी सूत्रों ने दी। इसके अलावा किसानों, दलितों, पिछड़े वर्गों और राज्य की आर्थिक स्थिति से जुड़े अन्य मुद्दों पर भी चर्चा की गई। कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता रघुवीर सिंह कादियान ने कृषि से संबंधित मुद्दों पर एक प्रस्ताव रखा और कहा कि सरकार को स्वामीनाथन आयोग के सुझाव के अनुसार सी2 फॉर्मूला (लागत पर 50 प्रतिशत लाभ) के तहत न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) तय करना चाहिए। पार्टी ने यह भी मांग की कि किसानों को एमएसपी पर कानूनी गारंटी दी जाए। इसमें नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा, हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष उदय भान, राज्य इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष, राज्यसभा सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा और पार्टी के अन्य सांसद और विधायक हिस्सा ले रहे हैं।

सूत्रों ने बताया कि हालांकि, इसमें कांग्रेस महासचिव एवं हरियाणा मामलों के प्रभारी विवेक बंसल मौजूद नहीं हैं। हरियाणा कांग्रेस के प्रमुख उदय भान ने हाल ही में उन खबरों को अधिक तवज्जो नहीं दी थी, जिसमें कहा गया था कि बंसल को न तो आमंत्रित किया गया है और न ही इस शिविर के बारे में सूचित किया गया है। मंथन सत्र के दौरान विधायक अमित सिहाग ने किसानों और श्रमिकों की दशा सुधारने के लिए सुझाव दिए। एक अन्य विधायक राव दान सिंह ने आर्थिक मामलों पर प्रस्ताव रखा। उन्होंने कहा कि राज्य का कर्ज बढ़ रहा है जबकि निवेश और नौकरियां कम हो रही हैं। उन्होंने दावा किया कि हरियाणा पर 3 लाख करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज है और बेरोजगारी की दर 30 प्रतिशत को पार कर गई है। एक अन्य वरिष्ठ नेता एवं विधायक गीता भुक्कल ने दलित और पिछड़े वर्गों और महिलाओं से जुड़े मुद्दों पर एक प्रस्ताव रखा। उन्होंने कहा कि वर्तमान भाजपा नीत सरकार में इन वर्गों की ‘अनदेखी’ की जा रही है। भुक्कल ने कहा कि भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नेतृत्व वाली पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के दौरान शुरू की गई कई कल्याणकारी योजनाओं को या तो वर्तमान सरकार ने रोक दिया है या अप्रभावी बना दिया है। विधायक जगबीर मलिक ने राज्य में कथित रूप से बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर प्रस्ताव पेश किया। उन्होंने कहा कि यहां तक ​​कि विधायकों को भी धमकियां मिल रही हैं और कोई भी सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा है।

मलिक ने कहा, ‘‘एक विधायक और उनके परिवार को धमकियों का सामना करना पड़ा जिसके बाद विधायक को इस्तीफा देने के बारे में सोचने के लिए मजबूर होना पड़ा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘न विधायक और न ही जनता सुरक्षित है। डीएसपी रैंक के एक अधिकारी की हाल ही में दिनदहाड़े हत्या कर दी गई। ऐसा लगता है कि लोगों की सुरक्षा इस सरकार के एजेंडे में नहीं है।’’ एक अन्य विधायक शमशेर गोगी ने सवाल किया कि सरकार अवैध खनन मामले की उच्च स्तरीय स्वतंत्र जांच से क्यों भाग रही है। कांग्रेस पार्टी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के तहत 9 से 15 अगस्त तक राज्य के हर जिले में पदयात्रा कार्यक्रम को ‘चिंतन शिविर’ में अंतिम रूप दिए जाने की भी उम्मीद है।

हॉस्पिटल में भीषण आग लगने से 10 लोगों की मौंत 

हॉस्पिटल में भीषण आग लगने से 10 लोगों की मौंत 

शहनवाज अहमद 

जबलपुर। मध्य प्रदेश के जबलपुर में न्यू लाइफ मल्टी स्पेशिलिटी हॉस्पिटल में सोमवार को भीषण आग लग गई। बताया जा रहा है कि इस घटना में अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है, 13 लोग घायल हैं, जिनकी हालत गंभीर है। मरने वालों में 4 अस्पताल के स्टाफ हैं। मौतों का आंकड़ा और बढ़ सकता है। रेस्क्यू जारी है। फायर ब्रि‍गेड की टीम मौके पर है। आग लगने से अस्‍पताल में अफरा तफरी का माहौल है। पुलिस के मुताबिक़, अस्पताल में शॉट सर्किट के कारण आग लगी है। आग ग्राउंड फ्लोर से थर्ड फ्लोर तक फैल गई।

सिद्धार्थ बहुगुणा (SP, जबलपुर) ने बताया कि जबलपुर के अस्पताल में शॉर्ट सर्किट से लगी आग में करीब 9-10 लोगों की मृत्यु हुई है। वहीं, NDRF के संजीव कुमार गुप्ता ने बताया कि हमारी टीम तुरंत मौके पर पहुंची। हमने तलाशी अभियान पूरा कर लिया है और कोई भी अंदर नहीं फंसा है। पहली मंजिल पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है।

सीएम ने जताया दुःख...
वहीं, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जबलपुर के एक अस्पताल में भीषण अग्नि दुर्घटना का दुखद समाचार प्राप्त हुआ है। स्थानीय प्रशासन और कलेक्टर से निरंतर संपर्क में हूं। मुख्य सचिव को संपूर्ण मामले पर नजर बनाये रखने के लिए निर्देश दिया है। राहत एवं बचाव के लिए हरसंभव प्रयास किये जा रहे हैं। जबलपुर के न्यू लाइफ अस्पताल में आग से हुई दुर्घटना में अमूल्य जिंदगियों के असमय निधन के समाचार से हृदय दु:ख से भरा हुआ है। ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति और परिजनों को यह गहन दु:ख सहन करने की शक्ति देने एवं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।

मुआवजे का ऐलान...
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दु:ख की इस घड़ी में शोकाकुल परिवार स्वयं को अकेला न समझें,मैं और संपूर्ण मध्य प्रदेश परिवार के साथ है। राज्य सरकार की ओर से मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता प्रदान की जायेगी।घायलों के संपूर्ण इलाज का व्यय भी सरकार वहन करेगी। सीएम ने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद घटना हुई है। मैं लगातार प्रशासन के संपर्क में हूं। आग पर काबू पा लिया गया है। घायलों को अस्पताल में उपचार के लिए भेजा गया है। कमिश्नर जबलपुर को घटना की जांच के निर्देश दिए हैं।

शुली ने 313 किग्रा का नया खेल रिकॉर्ड हासिल किया

शुली ने 313 किग्रा का नया खेल रिकॉर्ड हासिल किया 

मोमीन मलिक 

बर्मिघम। भारत के 20 वर्षीय भारोत्तोलक अचिंता शुली ने राष्ट्रमंडल खेलों 2022 में पुरुषों के 73 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीतकर बर्मिघम के एनईसी हॉल नंबर 1 में कुल 313 किग्रा का नया खेल रिकॉर्ड हासिल किया। उन्होंने स्नैच में 143 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 170 किग्रा भार उठाकर मलेशिया के एरी हिदायत मुहम्मद से आगे निकल गए। उन्होंने कुल 303 किग्रा के साथ रजत पदक जीता, जबकि कनाडा के एस। डार्सिग्नी ने कुल 298 किग्रा के साथ कांस्य पदक जीता।

शुली का स्वर्ण यहां 2022 के राष्ट्रमंडल खेलों में भारत का तीसरा और भारोत्तोलन में आने वाला कुल छठा पदक है।पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले की 20 वर्षीय पूर्व दर्जी शेउली 73 किग्रा में पसंदीदा थी और उसने 143 किग्रा भार उठाकर स्नैच वर्ग से ही बढ़त बना ली। क्लीन एंड जर्क में उन्होंने अपने पहले प्रयास में 165 किग्रा के साथ शुरुआत की, जिसने उन्हें मलेशियाई से 1 किग्रा आगे रखा।

भारतीय युवा खिलाड़ी अपने दूसरे प्रयास में 170 किग्रा भार उठाने में विफल रहा और तीसरे प्रयास में उसने अपना कुल 313 किग्रा वजन उठाया, जो राष्ट्रमंडल खेलों का रिकॉर्ड है। मलेशिया के मुहम्मद ने भारतीय को पछाड़ने के लिए 175 किग्रा भार उठाने का एक हताश, लेकिन निर्थक प्रयास किया, लेकिन दो प्रयासों में सफल नहीं हुए, जिससे शुली को स्वर्ण पदक मिला।

झटका: मामलें पर बहस कर रहे अधिवक्ता का निधन

झटका: मामलें पर बहस कर रहे अधिवक्ता का निधन 

संदीप मिश्र 

वाराणसी। ज्ञानवापी मस्जिद एवं श्रंगार गौरी मामलें में मस्जिद पक्ष की ओर से पैरवी करते हुए बहस कर रहे अधिवक्ता का निधन हो जाने से मुस्लिम पक्ष की तैयारियों को जोरदार झटका लगा है। अधिवक्ता की मौत हो जाने के बाद अब ज्ञानवापी मस्जिद मामले को समझने और रणनीति बनाने के लिए मुस्लिम पक्ष को नए सिरे से कानूनी दांव पर अपनाने की तैयारियां करनी पड़ेगी। Also Read - मुजफ्फरनगर के रालोद विधायक आए कोरोना के लपेटे में-हुए संक्रमित ज्ञानवापी मस्जिद के पक्ष में अंजुमन इंतजमिया मस्जिद कमेटी की तरफ से अभी तक प्रमुख वकील के तौर पर अदालत में पेश होते हुए जिरह करते दिखाई देने वाले अधिवक्ता अभय नाथ यादव का रविवार की देर रात निधन हो गया है। इस बाबत वकील मदन मोहन ने बताया है कि दिवंगत अभय नाथ यादव को बीती देर रात दिल का दौरा पड़ा था। इस मामले की जानकारी होने पर अधिवक्ता के परिवारजन तथा वकील साथी उन्हें चौकाघाट आवास से खजूरी स्थित शुभम हॉस्पिटल में इलाज के लिए ले गए थे। जहां पर जांच पड़ताल करने के बाद डॉक्टरों ने अधिवक्ता अभय नाथ यादव को मृत घोषित कर दिया है।

ज्ञानवापी मस्जिद के पक्ष में अभी तक अंजुमन इंतजामिया मस्जिद कमेटी की तरफ से अधिवक्ता अभय नाथ प्रमुख वकील के तौर पर अदालत में पेश होते हुए जिरह कर रहे थे। उनके निधन से मस्जिद पक्ष को जोरदार झटका लगा है। अधिवक्ता के निधन के बाद अब इस मामले को समझने और रणनीति बनाने के लिए मुस्लिम पक्ष को नए तरीके से तैयारियां करनी होंगी। हालांकि अधिवक्ता के निधन के बाद से अंजुमन इंतजामियां मसाजिद कमेटी की ओर से अभी तक कोई वक्तव्य जारी नहीं किया गया है।

भाजपा: दोनों प्रत्याशियों ने नामांकन-पत्र दाखिल किया 

भाजपा: दोनों प्रत्याशियों ने नामांकन-पत्र दाखिल किया 

संदीप मिश्र 

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में रिक्त हुई विधानसभा की 2 सीटों पर होने वाले चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी की ओर से उम्मीदवार बनाए गए दोनों प्रत्याशियों ने अपना-अपना नामांकन-पत्र सोमवार को दाखिल कर दिया है। मुख्यमंत्री तथा दोनों डिप्टी सीएम की मौजूदगी में बीजेपी उम्मीदवारों ने अपने नामांकन-पत्र आरओ के पास जमा कराए हैं। सोमवार को उत्तर प्रदेश में विधान परिषद की रिक्त हुई 2 सीटों के लिए होने वाले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी की ओर से उम्मीदवार बनाए गए धर्मेंद्र सिंह सैंथवार तथा निर्मला पासवान ने नामांकन तिथि के अंतिम दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य तथा उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक की मौजूदगी में विधान भवन के सेंट्रल हाल में अपने-अपने नामांकन-पत्र रिटर्निंग अधिकारी के पास जमा कराए हैं।

विधान परिषद सदस्य की रिक्त हुई 2 सीटों पर आगामी 11 अगस्त को उपचुनाव होना है। संख्या बल के लिहाज से भारतीय जनता पार्टी के दोनों उम्मीदवारों की जीत निश्चित है। उधर समाजवादी पार्टी की ओर से भी रविवार को अपने एक प्रत्याशी के नाम का ऐलान किया गया था।

36 रुपये प्रति सिलेंडर की कमी किए जाने का ऐलान 

36 रुपये प्रति सिलेंडर की कमी किए जाने का ऐलान 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। आमतौर पर रोजाना एलपीजी गैस-सिलेंडर के दामों में बढ़ोतरी करने की खबर देने वाली देश की पेट्रोलियम कंपनियों ने कमर्शियल गैस-सिलेंडर के उपभोक्ताओं को इस बार दामों में कमी किए जाने का ऐलान करते हुए कुछ दिन मुस्कुराने को मौका दिया है। जिसके चलते राजधानी दिल्ली में एलपीजी गैस-सिलेंडर के दामों में 36 रुपये प्रति सिलेंडर की कमी आई है। सोमवार को देश की पेट्रोलियम कंपनियों ने कमर्शियल गैस-सिलेंडर के दामों में कमी किए जाने का ऐलान किया है। पिछले काफी समय से दाम बढ़ाने का काम कर रही पेट्रोलियम कंपनियों ने श्रावण मास के तीसरे सोमवार को कमर्शियल गैस-सिलेंडर के दामों में 36 रुपये प्रति सिलेंडर की कमी किए जाने का ऐलान किया है। जिससे निश्चित ही कमर्शियल गैस सिलेंडर के उपभोक्ताओं को राहत मिली होगी।
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में एलपीजी सिलेंडर के दाम में 36 रुपये की कटौती की गई है, जिसके चलते कमर्शियल गैस सिलेंडर का दाम अब राजधानी दिल्ली में 1976 रूपये 50 पैसे प्रति सिलेंडर हो गया है। जबकि पहले इसके दाम 2012 रूपये 50 पैसे प्रति सिलेंडर थे। कोलकाता में कमर्शियल गैस सिलेंडर के दाम में 36 रूपये 50 पैसे की कटौती के बाद अब इसके दाम 2095 रूपये 50 पैसे प्रति सिलेंडर पर पहुंच गए हैं। जबकि इससे पहले कोलकाता के लोगों को 2132 रुपए प्रति सिलेंडर के दाम पर खरीदकर गैस इस्तेमाल करनी पड़ रही थी।

पीएम को महंगाई के कारण कठिनाई के बारे में बताया 

पीएम को महंगाई के कारण कठिनाई के बारे में बताया 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। अभी हाल में ही हुए जीएसटी की दरों में बदलाव के बाद देश में कई चीजें महंगी हो गई हैं। मंहगाई का झटका हर इंसान को लगा है। इससे बच्चे भी अछूते नहीं है। बच्चों की पढ़ाई लिखाई से संबंधित चीजों पर जीएसटी लगने से पेसिंल और रबड़ (इरेजर) भी मंहगी हो गई है। उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले की रहने वाली एक मासूम बच्ची ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से इसकी शिकायत की है। पहली कक्षा में पढ़ने वाली छ: साल की बच्ची ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर महंगाई के कारण हो रही कठिनाई के बारे में बताया है।

छिबरामऊ कस्बे की रहने वाली लड़की ने अपने पत्र में लिखा है, “मेरा नाम कृति दुबे है। मैं कक्षा 1 में पढ़ती हूं। मोदीजी, आपने बहुत अधिक मूल्यवृद्धि की है। यहां तक कि मेरी पेंसिल और रबर (इरेजर) भी महंगा हो गया और मैगी की कीमत भी बढ़ा दी गई है। अब मेरी मां पेंसिल मांगने पर मुझे मारती है। मैं क्या करूं? दूसरे बच्चे मेरी पेंसिल चुरा लेते हैं।” हिंदी में लिखा पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। बच्ची के पिता विशाल दुबे पेशे से वकील हैं। उन्होंने कहा कि यह पत्र मेरी बेटी की मन की बात है। वह हाल ही में उस समय नाराज हो गई, जब उसकी मां ने उसे स्कूल में पेंसिल खो जाने पर डांटा था। वहीं, छिबरामऊ के एसडीएम अशोक कुमार ने संवाददाताओं से कहा कि उन्हें इस छोटी बच्ची के पत्र के बारे में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से पता चला। उन्होंने कहा कि मैं किसी भी तरह से बच्ची की मदद करने के लिए तैयार हूं और यह सुनिश्चित करने की पूरी कोशिश करूंगा कि उसका पत्र संबंधित अधिकारियों तक पहुंचे।”

सीएम ने राष्ट्रीय प्रवक्ता के साथ विचार-विमर्श किया 

सीएम ने राष्ट्रीय प्रवक्ता के साथ विचार-विमर्श किया 

पंकज कपूर 

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को मुख्यमंत्री आवास में भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा के साथ उत्तराखण्ड में हर घर तिरंगा अभियान की तैयारियों के संबंध मे विस्तार से विचार-विमर्श किया। श्री संबित पात्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की पहल पर आजादी के अमृत महोत्सव के तहत हर घर तिरंगा अभियान संचालित किया जा रहा है। इसमें 13 अगस्त से 15 अगस्त तक सभी देशवासियों से अपने-अपने घरों में तिरंगा फहराने का अनुरोध किया गया है। यह केवल सरकारी कार्यक्रम नहीं है।

यह एक जनआंदोलन है, जिसमें सभी की भागीदारी जरूरी है। अधिक से अधिक लोग इससे जुङें इसके लिये व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार किया जाए। विशेष तौर पर सोशल मीडिया का उपयोग किया जा सकता है। प्रधानमंत्री जी ने अपने मन की बात कार्यक्रम में राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे को सोशल मीडिया अकाउंट में डीपी और प्रोफाइल पिक लगाने की अपील की है। सभी संगठनों को साथ लिया जाए। स्कूली बच्चों और युवाओं को देश की आजादी से जुङी गौरवगाथाएं बताई जाएं। लोग इस अभियान से जुङ सकें इसके लिये फ्लैग कोड में कतिपय संशोधन किये गये हैं।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि हर घर तिरंगा अभियान की तैयारियां चल रही हैं। प्रदेश में 20 लाख घरों में तिरंगा फहराया जाएगा। सभी विभागों को निर्देशित किया गया है। गैर सरकारी संगठनों व संस्थाओं को भी साथ लिया जा रहा है। उत्तराखण्ड देवभूमि के साथ वीर भूमि भी है। राष्ट्रवाद यहा की परम्परा है। निश्चित रूप से लोग स्वतः ही हर घर तिरंगा अभियान में बढ चढकर हिस्सा लेंगे। इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री डॉ धन सिंह रावत, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री महेन्द्र भट्ट, संगठन महामंत्री श्री अजेय कुमार, भाजपा के प्रदेश महामंत्री श्री कुलदीप कुमार उपस्थित थे।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन 


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 


1. अंक-297, (वर्ष-05)

2. मंगलवार, अगस्त 2, 2022

3.शक-1944, श्रावण, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पंचमी, विक्रमी सवंत-2079।

4. सूर्योदय प्रातः05:20, सूर्यास्त: 07:15। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 26 डी.सै., अधिकतम-34+ डी.सै.। उत्तरभारत में बरसात की संभावना। 

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक कासहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु,(विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीरसिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी। 

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27,प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.inemail:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवलव्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

 (सर्वाधिकार सुरक्षित)

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...