शुक्रवार, 28 जुलाई 2023

मौज मस्ती के लिए मां ने 2 लाख में बच्चा बेचा 

मौज मस्ती के लिए मां ने 2 लाख में बच्चा बेचा    

मीनाक्षी लोढी

कोलकाता। पश्चिम बंगाल से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। राज्य के उत्तर 24 परगना जिले में रहने वाले पति-पत्नी ने नया मोबाइल फोन खरीदने के लिए अपने आठ महीने के बच्चे को बेच दिया। मोबाइल खरीदने के बाद पैसे बच गए तो दोनों ने राज्य के विभिन्न पर्यटन स्थलों की यात्रा की और हनीमून मनाया।

पड़ोसी ने जब पति-पत्नी के हाथ में नया मोबाइल फोन देखा और बच्चे को गायब पाया तो उन्होंने पुलिस को घटना की सूचना दी। पुलिस ने पड़ताल की तो पता चला कि दंपति ने बच्चे को बेच दिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दंपति के पास पहले से एक बेटी है। दोनों दीघा और मंदारमणि जैसे समुद्री तटों सहित कई जगहों पर घूमने गए थे।

पुलिस ने पति-पत्नी को पकड़ा, बच्चा बरामद

दंपति ने डेढ़ महीने पहले बच्चे को बेच दिया था। रविवार को घटना की जानकारी पुलिस को मिली। इसके बाद पुलिस एक्शन में आई। पुलिस ने पति-पत्नी को पकड़ लिया है। दोनों की पहचान जयदेव घोष और साथी के रूप में हुई है। पुलिस ने बेचे गए बच्चे को भी मुक्त करा लिया है।

2 लाख में किया था बच्चे का सौदा

दंपति की पड़ोसी लक्ष्मी कुंडू के अनुसार जयदेव और साथी ने अपने बच्चे को 2 लाख रुपए में बेचा था। इसी पैसे से दोनों ने मोबाइल फोन खरीदा और हनीमून मनाने के लिए कई जगहों पर गए। उसने यह भी आरोप लगाया कि साथी दूसरे लोगों को अपने घर लाती थी। दोनों अफीम और गांजा का नशा करते हैं। पुलिस ने बच्चा खरीदने वाली महिला प्रियंका घोष को भी गिरफ्तार किया है।

जयदेव के पिता कामई चौधरी ने बताया कि मुझे तो बेटे ने कहा था कि बच्चे को उसके मामा के घर भेज दिया है। बाद में मुझे पता चला कि बच्चे को बेच दिया गया था। मैं नहीं कह सकता कि बच्चे को क्यों और किसको बेच दिया गया था। बच्चे को बेचने के बाद मेरा बेटा और उसकी पत्नी दीघा और मंदारमणि समुद्री तटों पर गए थे। वे तारापीठ काली मंदिर भी गए थे।

मोदी एंड कंपनी देश व लोकतंत्र के लिए खतरा

मोदी एंड कंपनी देश व लोकतंत्र के लिए खतरा   

अमित शर्मा   

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि मोदी एंड कंपनी देश के लोकतंत्र के लिए खतरा खड़ा कर रही है। अगर देश को पीएम, गृह मंत्री और 28 राज्यपालों के द्वारा ही चलाना है तो देश में चुनाव करवाकर पैसा बर्बाद करने की क्या जरूरत है।

लोकतंत्र में इस खतरनाक प्रवृति को तुरन्त रोकने की जरूरत है। सीएम मान ने नरेन्द्र मोदी सरकार पर विपक्ष की आवाज ‘‘दबाने’’ तथा देश में नफरत की राजनीति को बढ़ावा देने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अपने ‘मन की बात’ रेडियो कार्यक्रम में बात करना पसंद करते हैं लेकिन वह देश के लोगों की बात सुनने के लिए कभी तैयार नहीं रहते। उन्होंने कहा कि देश के बुद्धिमान और लोकतंत्र पसंद लोग इसे कभी स्वीकार नहीं करेंगे और वे बीजेपी तथा उसके सहयोगियों को करार सबक सिखाएंगे।

सीएम भगवंत मान ने कहा कि मणिपुर में कानून व्यवस्था खराब होने के चलते जल्द से जल्द राष्ट्रपति शासन लगाया जाना चाहिए। वहां कानून व्यवस्था पूरी तरह से खराब हो चुकी है। वहां के राज्यपाल प्रदेश में हो रही जघन्य घटनाओं के बावजूद सिर्फ मूक दर्शक बनकर देख रहे हैं। सीएम मान ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से मणिपुर की घटना पर संज्ञान लेने और वहां राष्ट्रपति शासन लगाने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण है एक तरफ मणिपुर जल रहा है दूसरी तरफ पीएम मोदी दूसरे देशों की यात्राओं का आनंद ले रहे है।

राज्यसभा-लोकसभा में हंगामा, सदन स्थगित

राज्यसभा-लोकसभा में हंगामा, सदन स्थगित 

अकाशुं उपाध्याय 

नईदिल्ली। आज शुक्रवार को संसद के मानसून सत्र का सातवां दिन है। अब तक के छह दिन सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच गतिरोध के बीच बीते। मणिपुर हिंसा और विवादित वायरल वीडियो पर विपक्षी दल प्रधानमंत्री मोदी से बयान की मांग कर रहे हैं। यही वजह है कि गुरुवार को भी सारा दिन दोनों सदनों में मणिपुर मुद्दा और लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा कराने को लेकर सरकार और विपक्षी सांसदों के बीच हंगामा होता रहा।

लोकसभा से पारित हुए ये बिल

स्थगन से पहले लोकसभा ने खान और खनिज (विकास और विनियमन) संशोधन विधेयक 2023 ध्वनि मत से पारित कर दिया। ‘द नेशनल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी कमीशन बिल, 2023’ और ‘द नेशनल डेंटल कमीशन बिल, 2023’ भी लोकसभा में पारित हुए। इंडिया ब्लॉक के प्रतिनिधिमंडल के मणिपुर दौरे पर बीजेपी सांसद रवि किशन ने कहा कि विपक्ष जहां चाहें वहां जा सकते हैं, उन्हें पाकिस्तान, श्रीलंका और चीन भी जाना चाहिए।

मणिपुर की स्थिति पर उच्च सदन में भी भारी नारेबाजी हुई। इस बीच तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओब्रायन और राज्यसभा के सभापति जगदीप धनखड़ के बीच तीखी नोकझोंक हुई। इसके बाद राज्यसभा को पूरे दिन के लिए स्थगित कर दिया गया। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि विपक्ष शांतिपूर्ण ढंग से चर्चा में भाग नहीं लेते और संसद में किसी भी विधेयक को पारित करने में सहयोग नहीं करते। हम उनसे रचनात्मक सुझाव लेने को तैयार हैं, लेकिन वे अचानक अविश्वास प्रस्ताव ले आए। जब भी जरूरत होगी, हम अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा करेंगे और चूंकि हमारे पास संख्या है, इसलिए हमें कोई समस्या नहीं है। अगर वे चाहते हैं कि मणिपुर के संबंध में सच्चाई सामने आए, तो संसद से बेहतर कोई मंच नहीं है।

60 करोड़ वर्ष पुराने समुद्री जल की खोज की

60 करोड़ वर्ष पुराने समुद्री जल की खोज की  

मोहम्मद रियाज  

बेंगलुरु। भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी) और निगाता विश्वविद्यालय, जापान के वैज्ञानिकों ने हिमालय में करीब 60 करोड़ वर्ष पुराने समुद्री जल की खोज की है। समुद्री जल की ये बूंदें खनिज भंडारों के बीच थीं। बेंगलुरु स्थित आईआईएससी ने बृहस्पतिवार को एक विज्ञप्ति में यह जानकारी दी।

विज्ञप्ति के अनुसार वहां एकत्र निक्षेपण में कैल्शियम और मैग्नीशियम कार्बोनेट दोनों थे। इसमें कहा गया है कि निक्षेपण के विश्लेषण से टीम को उन संभावित घटनाओं की जानकारी मिली जिनके कारण पृथ्वी के इतिहास में एक बड़ी ऑक्सीजनिकरण की घटना हुई होगी।

बयान के अनुसार, वैज्ञानिकों का मानना है कि 70 से 50 करोड़ वर्ष पहले, पृथ्वी बर्फ की मोटी चादरों से ढकी थी। इसमें कहा गया है कि इसके बाद पृथ्वी के वायुमंडल में ऑक्सीजन की मात्रा में वृद्धि हुई जिससे जटिल जीवन रूपों का विकास हुआ।

आईआईएससी ने कहा कि वैज्ञानिक अब तक, यह ठीक से नहीं समझ पाए हैं कि अच्छी तरह से संरक्षित जीवाश्मों की कमी और पृथ्वी के इतिहास में मौजूद सभी पुराने महासागरों के लुप्त होने की वजह का आपस में क्या संबंध था। उसने कहा कि हिमालय में ऐसी समुद्री चट्टानों का पता चलने से कुछ उत्तर मिल सकते हैं।

सेंटर फॉर अर्थ साइंसेज (सीईएएस), आईआईएससी के शोधार्थी और 'प्रीकैम्ब्रियन रिसर्च' पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन के पहले लेखक प्रकाश चंद्र आर्य ने कहा, ‘‘ हम पुराने महासागरों के बारे में ज्यादा नहीं जानते हैं।

वे वर्तमान महासागरों की तुलना में कितने अलग या समान थे? क्या वे अधिक अम्लीय या क्षारीय, पोषक तत्वों से भरपूर, गर्म या ठंडे थे, उनकी रासायनिक और समस्थानिक संरचना क्या थी?" उन्होंने कहा कि इस तरह के विश्लेषण से पृथ्वी पर प्राचीन जलवायु के बारे में जानकारी मिल सकती है।

रतन टाटा को 'उद्योग रतन' पुरस्कार मिलेगा

रतन टाटा को 'उद्योग रतन' पुरस्कार मिलेगा   

कविता गर्ग  

मुंबई। महाराष्ट्र सरकार ने उद्योगपति एवं टाटा संस के मानद चेयरमैन रतन टाटा को पहला ‘उद्योग रत्न’ पुरस्कार देने का फैसला किया है। राज्य के एक मंत्री ने यह जानकारी दी। राज्य के उद्योग मंत्री उदय सामंत ने बृहस्पतिवार को राज्य विधान परिषद को बताया कि युवा उद्यमी, महिला उद्यमी और मराठी उद्यमी को भी पुरस्कार दिए जाएंगे।

उन्होंने कहा, विशिष्ट लोगों को दिए जाने वाले महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार की तरह, राज्य सरकार ने रतन टाटा को उद्योग रत्न पुरस्कार देने का फैसला किया है। उन्होंने बताया कि एक समिति ने इस संबंध में फैसला किया। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस तथा अजीत पवार और उद्योग मंत्री के तौर पर वह इस समिति के सदस्य थे।

अब तक का सबसे गर्म जुलाई महीना, रिकॉर्ड

अब तक का सबसे गर्म जुलाई महीना, रिकॉर्ड   

अकाशुं उपाध्याय  

नई दिल्ली। वैज्ञानिकों के एक नए विश्लेषण के अनुसार, इस साल का जुलाई महीना रिकॉर्ड के अनुसार अब तक का सबसे गर्म महीना होने वाला है जिसका औसत तापमान जुलाई 2019 की तुलना में काफी अधिक है। यूरोपीय संघ द्वारा वित्तपोषित कॉपरनिकस क्लाइमेट चेंज सर्विस (सी3एस) और विश्व मौसम विज्ञान संगठन (डब्ल्यूएमओ) ने गौर किया कि तापमान में वृद्धि उत्तरी अमेरिका, एशिया और यूरोप के बड़े हिस्सों में भीषण गर्मी के कारण हुयी है। 

इससे कनाडा और यूनान सहित कई देशों में दावानल के साथ ही लोगों के स्वास्थ्य, पर्यावरण और अर्थव्यवस्थाओं पर भी खासा प्रभाव पड़ा है। आंकड़ों के अनुसार पिछला सबसे गर्म महीना जुलाई 2019 था। एक नए विश्लेषण के अनुसार, जुलाई 2023 के पहले 23 दिन के दौरान वैश्विक औसत तापमान 16.95 डिग्री सेल्सियस था जो जुलाई 2019 के पूरे महीने के लिए दर्ज 16.63 डिग्री से काफी अधिक है। 

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि इस स्तर पर, यह लगभग निश्चित है कि जुलाई 2023 का मासिक औसत तापमान जुलाई 2019 से काफी अधिक हो जाएगा, जिससे यह रिकॉर्ड के अनुसार सबसे गर्म जुलाई और सबसे गर्म महीना बन जाएगा। डब्ल्यूएमओ के महासचिव पेटेरी तालास ने एक बयान में कहा कि जुलाई में जिस प्रतिकूल मौसम ने लाखों लोगों को प्रभावित किया है, वह दुर्भाग्य से जलवायु परिवर्तन की कठोर वास्तविकता और भविष्य के लिए एक संकेत है। 

उन्होंने कहा कि ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में कटौती पहले से कहीं अधिक आवश्यक है और जलवायु संबंधी कार्रवाई कोई विलासिता नहीं, बल्कि जरूरत है। डब्ल्यूएमओ ने कहा कि छह जुलाई को दैनिक औसत तापमान अगस्त 2016 के उच्चतम स्तर को पार कर गया जिससे यह रिकॉर्ड पर सबसे गर्म दिन बन गया। पांच जुलाई और सात जुलाई उससे कुछ ही पीछे थे।

भारत: 40 करोड़ डॉलर का निवेश करेगी एएमडी

भारत: 40 करोड़ डॉलर का निवेश करेगी एएमडी   

इकबाल अंसारी  

गांधीनगर। एएमडी ने शुक्रवार को भारत में पांच वर्षों में 40 करोड़ डॉलर का निवेश करने की घोषणा की और कहा कि कंपनी भारत के सेमीकंडक्टर पारिस्थितिकी तंत्र के निर्माण में एक मजबूत भागीदार होगी।

कंपनी बेंगलुरु में एक नया अनुसंधान एवं विकास परिसर खोलेगी, जो दुनिया में उसका सबसे बड़ा संयंत्र होगा। एएमडी के कार्यकारी उपाध्यक्ष (ईवीपी) एवं मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी (सीटीओ) मार्क पेपरमास्टर ने यहां 'सेमीकॉन इंडिया 2023' सम्मेलन में कहा, एएमडी पांच वर्षों में भारत में 40 करोड़ डॉलर का निवेश करेगी।

उन्होंने कहा कि एएमडी भारत में अपने दो दशकों के विस्तार व सफल उपस्थिति को आगे बढ़ाएगी। पेपरमास्टर ने कहा कि कंपनी देश में अनुसंधान एवं विकास क्षमताओं का विस्तार कर रही है, जिसके चलते उसे 2028 तक भारत में 3,000 अतिरिक्त इंजीनियर के साथ काम करने की उम्मीद है।

कांग्रेश अध्यक्ष ने मांगी माफी, करेंगे प्रायश्चित

कांग्रेश अध्यक्ष ने मांगी माफी, करेंगे प्रायश्चित   

श्रीराम मौर्य   

देहरादून। उत्तराखंड कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा ने वायरल वीडियो के मामले में नाम लिए बिना कांग्रेस के ही कुछ लोगों पर निशाना साधा है। करन माहरा ने दावा किया कि 2-3 लोगों की एक टीम है जिसकी वजह से पहले भी कांग्रेस को खामियाजा भुगतना पड़ा और अब भी कुछ वैसा ही करने की साजिश रची गई। करन के मुताबिक 2022 चुनाव के दौरान मुस्लिम यूनिवर्सिटी के नाम पर हरीश रावत की फोटो वायरल करने वाला भी यही गिरोह था, जिसने अब उनका 5 सेकेंड का वीडियो वायरल किया है। करन माहरा ने कहा कि अगर उसी दौरान यानि 2022 चुनाव के दौरान ही हरीश रावत की तस्वीर वायरल करने और विवाद खड़ा करने वालों पर एक्शन ले लिया गया होता तो आज कांग्रेस सत्ता में होती। माहरा ने भरोसा जताया कि इस बार अनुशासन समिति तथ्यों के आधार पर जांच करेगी और उसी हिसाब से दोषियों के खिलाफ कार्रवाई भी करेगी।

करन माहरा ने दावा किया कि उनका वीडियो वायरल करने वाले कौन हैं और कैसे साजिश रची गई इसके तमाम सबूत भी जुटा लिए गए हैं। करन माहरा ने किसी का नाम तो नहीं लिया लेकिन माना जा रहा है कि उनका निशाना प्रदेश कांग्रेस महामंत्री राजेंद्र शाह पर है क्योंकि अनुशासन‌ समिति ने राजेंद्र शाह को ही कारण बताओ नोटिस भेजा है। बहरहाल माहरा के बयान के बाद एक बार फिर कांग्रेस की अंदरूनी सियासत गर्म होने के आसार हैं। वहीं पीसीसी चीफ ने एक दिन‌ का मौन व्रत रखकर प्राश्चित करने की बात भी कही है। करन माहरा ने कहा कि उनके एक वायरल बयान की वजह से अंकिता की लड़ाई का मुद्दा डायवर्ट हुआ और जो लोग घरों में सोए थे वो भी बयानबाजी करने लगे। इसीलिए एक दिन का मौन व्रत रखकर माफी मांगेंगे। करन‌ माहरा का गढ़वाल के लोगों को लेकर दिया गया बयान काफी वायरल हुआ है, जिस पर बीजेपी समेत कांग्रेस के भी कई नेता माहरा से माफी मांगने को कह रहे हैं।

जेल में छापेमारी, मोबाइल और चाकू बरामद

जेल में छापेमारी, मोबाइल और चाकू बरामद

आसिफ   

नई दिल्ली। दिल्ली के अति सुरक्षित माने जाने वाले तिहाड़ और मंडोली जेल में पिछले दिनों तलाशी अभियान चलाया गया, जिसमें जमीन में दबे हुए मोबाइल फोन और चाकू बरामद हुए हैं। तिहाड़ जेल में सर्च ऑपरेशन के दौरान अधिकारियों को तीन स्मार्टफोन और दो कीपैड वाले फोन मिले हैं। तिहाड़ जेल के अतिरिक्त राष्ट्रीय राजधानी के मंडोली जेल में भी तलाशी अभियान चलाया गया, जहां से मोबाइल और दम भरने के लिए बनाई गई हैंडमेड सिगरेट बरामद की गई।

तिहाड़ जेल प्रशासन के मुताबिक 25 जुलाई को जेल में एक खुफिया जानकारी के आधार पर सेंट्रल जेल नंबर 3 (तिहाड़) में तलाशी ली गई। गहन तलाशी अभियान के दौरान खुफिया सूचनाओं के आधार पर कई स्थानों पर जमीन में लगभग 2 से 3 फीट खुदाई करने के बाद मोबाइल फोन और दूसरी प्रतिबंधित वस्तुओं की बरामदगी की गई। इसमें तीन स्मार्ट मोबाइल फोन, दो कीपैड मोबाइल फोन, दो डेटा केबल, एक एडॉप्टर, एक चाकू और एक सुआ शामिल है।

इसके अलावा 26 जुलाई को सेंट्रल जेल नंबर 11 (मंडोली) में एक और तलाशी अभियान चलाया गया, जिसमें 3 सिम के साथ 3 कचौड़ा मोबाइल और दम के लिए हाथ से बने सिगरेट जैसे अन्य प्रतिबंधित सामान बरामद किए गए। मामले को आगे की जांच और कानून के अनुसार आवश्यक कार्रवाई के लिए भेज दिया गया है। अधिकारी ने बताया कि सहायक अधीक्षक सुजीत, अविश तोमर, राजेश दहिया, रविंदर यादव, राम निवास और केन्द्रीय कारागार संख्या-3 के त्वरित प्रतिक्रिया दल (क्यूआरटी) के कर्मचारी भी इस दौरान मौके पर तैनात थे।

तेजाब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध संभव नहीं

तेजाब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध संभव नहीं  

मोमिन अहमद  

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को शहर में तेजाब की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने से इनकार कर दिया। उच्च न्यायालय ने कहा कि इससे उन कारोबारों तथा लोगों पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है जिन्हें वैध उद्देश्यों के लिए इसकी जरूरत पड़ती है।

उच्च न्यायालय ने दिल्ली सरकार को तेजाब की बिक्री के लिए मौजूदा नियमों तथा नियमनों को सख्ती से लागू करने तथा अपराध के लिए इसके दुरुपयोग को रोकने का निर्देश दिया। उच्च न्यायालय ने कहा कि नियमों का पालन न किए जाने या तेजाब की गैरकानूनी बिक्री के मामलों में प्राधिकारियों को अपराधियों के खिलाफ त्वरित तथा निर्णायक कार्रवाई करनी चाहिए। इसने कहा कि तेजाब की गैरकानूनी बिक्री या दुरुपयोग में शामिल पाए जाने वाले लोगों पर सख्त जुर्माना लगाकर राज्य प्राधिकारी प्रभावी तरीके से इससे निपट सकते हैं।

नियमों पर सख्ती से अमल जरूरी

दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा कि इस मुद्दे पर लगातार सतर्कता तथा प्रभावी कदम उठाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि एक नियामक तंत्र मौजूद है, लेकिन हमें लगता है कि और कदम उठाए जाने की आवश्यकता है। दिल्ली जहर कब्जा और बिक्री नियम 2015 में ऐसे प्रावधान हैं, जिसमें तेजाब की बिक्री ऐसे विक्रेताओं को करने की इजाजत दी गई है, जिन्हें प्राधिकरण ने लाइसेंस दिया है। लाइसेंस केवल उन आवेदकों को दिया जाता है जो निर्धारित प्रावधानों का अनुपालन करते हैं। दिल्ली हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश सतीश चंद्र शर्मा और न्यायमूर्ति संजीव नरुला की पीठ ने कहा, ‘‘इन प्रावधानों को सख्ती से लागू किया जाना चाहिए और राज्य को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि तेजाब अपराधियों के हाथों में न जाए। साल 2015 के नियमों को हटाने या पूर्ण प्रतिबंध लगाने का निर्देश देने के बजाय, हम दिल्ली सरकार को मौजूदा कानूनी रूपरेखा का उचित क्रियान्वयन सुनिश्चित करने का निर्देश देते हैं।’’

पत्नी ने पति के कुल्हाड़ी से 5 टुकड़े किए

पत्नी ने पति के कुल्हाड़ी से 5 टुकड़े किए   

संदीप मिश्रा   

पीलीभीत। उत्तर प्रदेश जिले में एक महिला ने अपने पति की कुल्हाड़ी से हत्या करने और उसके शरीर को पांच टुकड़ों में काटने की बात कबूल की है। मृतक की पहचान गजरौला क्षेत्र के 55 वर्षीय रामपाल के रूप में हुई है।

रिपोर्ट के अनुसार रामपाल की पत्नी दुलारो देवी अपने पति के दोस्त के साथ भाग गई थी। वह एक महीने पहले गांव लौट कर आई और अपने बेटे को पति के लापता होने की जानकारी दी। पड़ोस में ही अपनी पत्नी और बच्चों के साथ रहने वाले रामपाल के बेटे सोनपाल ने थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने संदेह के आधार पर दुलारो देवी को हिरासत में ले लिया था और उसके पति के बारे में पूछताछ की थी। जिसके बाद महिला ने पुलिस को बताया कि उसने रविवार की रात को सोते समय रामपाल की हत्या कर दी थी।पुलिस को उसने यह भी बताया कि उसने शरीर के अंगों को पास के ही नहर में फेंक दिया था। पुलिस रामपाल के शरीर के अंगों को निकालने के लिए गोताखोरों की मदद ले रही है और मामले की विस्तृत जांच कर रही है।

सेमीकंडक्टर निर्माण में 50 फ़ीसदी वित्तीय सहायता

सेमीकंडक्टर निर्माण में 50 फ़ीसदी वित्तीय सहायता 

अखिलेश पांडेय  

गांधीनगर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि देश में सेमीकंडक्टर विनिर्माण संयंत्र स्थापित करने के लिए प्रौद्योगिकी कंपनियों को 50 प्रतिशत वित्तीय सहायता दी जाएगी। उन्होंने शुक्रवार को यह घोषणा करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने सेमीकंडक्टर उद्योगों को हर तरह की सुविधाएं दी हैं।

मोदी ने गांधीनगर में 'सेमीकॉन इंडिया 2023' सम्मेलन का उद्घाटन करने के बाद कहा कि देश में सेमीकंडक्टर उद्योग की वृद्धि के लिए एक पूरा पारिस्थितिकी तंत्र तैयार किया जा रहा है। उन्होंने कहा, ''हम सेमीकॉन इंडिया कार्यक्रम के तहत प्रोत्साहन की पेशकश कर रहे थे।

अब इसे बढ़ा दिया गया है, और अब प्रौद्योगिकी फर्मों को भारत में सेमीकंडक्टर विनिर्माण संयंत्र स्थापित करने के लिए 50 प्रतिशत वित्तीय सहायता मिलेगी।'' मोदी ने कहा कि भारत में सेमीकंडक्टर उद्योग तेजी से वृद्धि करेगा। उन्होंने कहा, ''एक साल पहले, लोग पूछते थे कि उन्हें भारत के सेमीकंडक्टर क्षेत्र में निवेश क्यों करना चाहिए, और अब वे ही पूछते हैं कि भारत में निवेश क्यों नहीं करना चाहिए।

'उन्होंने कहा कि दुनिया को एक भरोसेमंद चिप आपूर्ति श्रृंखला की जरूरत है। मोदी ने कहा कि सेमीकंडक्टर डिजाइन पर पाठ्यक्रम शुरू करने के लिए भारत में 300 विद्यालयों की पहचान की गई है। उन्होंने कहा कि दुनिया में हुई प्रत्येक औद्योगिक क्रांति अलग-अलग समय में लोगों की आकांक्षाओं से प्रेरित थी और उनका मानना है कि अब जो चौथी औद्योगिक क्रांति देखी जा रही है, वह भारत की आकांक्षाओं से प्रेरित है।

पूर्व बलूचिस्तान पीएम ने स्वतंत्रता की प्रार्थना की

पूर्व बलूचिस्तान पीएम ने स्वतंत्रता की प्रार्थना की

सुनील श्रीवास्तव   

नई दिल्ली/देहरादून। प्रधानमंत्री डॉ नायला कादरी पाकिस्तान से बलूचिस्तान की स्वतंत्रता की गुहार लगाने मां गंगा की शरण में पहुंची हैं। वह यहां पर चौधरी चरण सिंह वीआईपी घाट पर मां गंगा का विशेष पूजन हवन और दुधाभिषेक कर बलूचिस्तान की स्वतंत्रता की प्रार्थना कर रही हैं।

धर्मनगर हरिद्वार पहुंचने पर उन्होंने विशेष बातचीत में पाकिस्तान के आतंक के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराया हैं। प्रधानमंत्री डॉ नायला कादरी ने आरोप लगाया कि जो काम ब्रिटिश सरकार करती थी, अपनी स्वार्थ सिद्धि को अब वही काम चीन कर रहा हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने परमाणु परीक्षण सहित चीन को हर कार्य के लिए अपनी भूमि के उपयोग की अनुमति दे दी है।

बलूचिस्तान के नागरिकों के साथ हो रही बर्बरता

भावुक होते हुए प्रधानमंत्री डॉ नायला कादरी ने कहा कि इस वक्त बलूचिस्तान के नागरिकों के साथ जो हो रहा है उसके बारे में विश्व सोच भी नहीं सकता है। उसकी सोच से कहीं अधिक वहशीपना वहां के नागरिकों के साथ किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सभ्य समाज में इस तरह के कृत्य कोई किसी इंसान के साथ नहीं किया जा सकता।

लड़कियों की बॉडी को मशीन से ड्रिल किया जा रहा है

बलूचिस्तान की निर्वासित सरकार की प्रधानमंत्री डॉ नायला कादरी ने आरोप लगाया कि वहां लड़कियों की बॉडी को मशीन से ड्रिल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के साथ बर्बरता की जा रही है। पाकिस्तान ने बलूचिस्तान में दुष्कर्म की  फैक्ट्री खोल दी है। यहां महिलाओं को सिर्फ एक खिलौने की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है। एक प्रश्न के उत्तर में बलूचिस्तान की निर्वासित सरकार की प्रधानमंत्री डॉ. नायला कादरी बलोच ने कहा कि बलूचिस्तान का बच्चा-बच्चा दहशतगर्दों और पाकिस्तान के अवैध कब्जे से आजादी चाहता है। पाकिस्तान ने यहां की जनता के साथ जो व्यवहार किया है उसे बयां कर पाना भी मुश्किल है।

हंगामे के बीच लोकसभा में 3 विधेयक पारित   

हंगामे के बीच लोकसभा में 3 विधेयक पारित   

अकांशु उपाध्याय  

नई दिल्ली। लोकसभा में शुक्रवार को विपक्ष के हंगामे के बीच खान एवं खनिज (संशोधन एवं विनियमन) विधेयक 2023, नेशनल नर्सिंग एवं मिडवाइफ कमीशन विधेयक, 2023 और नेशनल डेन्टल कमीशन विधेयक, 2023 ध्वनिमत से पारित किये गये।

कोयला एवं खान मंत्री प्रह्लाद जोशी ने खान एवं खनिज (संशोधन एवं विनियमन) विधेयक 2023 सदन में पेश किया, जिसे मणिपुर मुद्दे पर विपक्ष के हंगामे और नारेबाजी के दौरान ध्वनिमत से पारित किया गया। इसी बीच, जोशी ने कहा कि यह महत्वपूर्ण विधेयक है और यह ‘गेम चेन्जर’ हो सकता है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल में कोयला क्षेत्र में बड़ा बदलाव आया है। उन्होंने कहा कि एनर्जी क्षेत्र काे आत्मनिर्भर बनाना है, इसके लिए अनेक जरूरी कार्य करने होंगे। मोदी सरकार के कार्यकाल में खनिज राजस्व में भारी बढ़ोतरी हुई है।

सदन में नेशनल नर्सिंग एवं मिडवाइफ कमीशन विधेयक 2023 और नेशनल डेन्टल कमीशन विधेयक 2023 पेश करते हुए केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा कि आमजन से जुड़े ये बहुत महत्वपूर्ण विधेयक हैं। इनके पारित होने से जनता को बहुत सहूलियतें होंगी। विपक्षी सदस्यों के हंगामे के बीच ही तीनों विधेयक ध्वनिमत से पारित कर दिये गये।

कचरा बीनने वाली महिला ने 10 करोड़ रुपए जीते

कचरा बीनने वाली महिला ने 10 करोड़ रुपए जीते   

इकबाल अंसारी  

मलप्पुरम (केरल)। स्थानीय नगर पालिका की प्लास्टिक कचरा बीनने वाली इकाई में काम कर रही ग्यारह महिला कामगारों को कभी यह सपने में भी उम्मीद नहीं रही होगी जिस लाटरी टिकट को उनमें से प्रत्येक ने 25 रूपये से भी कम धन देकर खरीदा था, वह उन्हें 10 करोड़ रूपये का जैकपॉट दिलवा देगी। इन 11 महिलाओं ने कुल 250 रूपये देकर लाटरी का टिकट खरीदा था।

बुधवार को जब यह खबर आई तो उस समय ये 11 महिलाएं अपने हरे ओवरकोट और रबर के दस्ताने पहने हुए थीं और परप्पनंगडी नगरपालिका गोदाम में घरों से एकत्र किए गए प्लास्टिक कचरे को अलग कर रही थीं। केरल लॉटरी विभाग ने घोषणा की कि महिलाओं द्वारा पैसे इकट्ठा करने के बाद खरीदे गए टिकट पर उन्हें मानसून बंपर के रूप में 10 करोड़ रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।

इन महिलाओं के पास इतनी सामर्थ्य नहीं थी कि उनमें से कोई अकेले ही 250 रूपये का लाटरी का टिकट खरीद सके। लॉटरी विजेताओं से मिलने और उन्हें बधाई देने के लिए बृहस्पतिवार को बड़ी संख्या में लोग यहां नगर निगम गोदाम परिसर में उमड़ पड़े। विजेताओं में से एक राधा ने कहा ''जब हमें अंततः पता चला कि हमने जैकपॉट हासिल कर लिया है तो हमारे उत्साह और खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा।

हम सभी जीवन में कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं और यह पैसा कुछ हद तक हमारी समस्याओं को हल करने में मदद करेगा।'' परप्पनंगडी नगर पालिका द्वारा शुरू की गई हरित पहल- हरित कर्म सेना के तहत कार्यरत इन महिलाओं को उनके काम के अनुसार 7,500 रुपये से 14,000 रुपये के बीच वेतन मिलता है।

पीओके पर भारत का एक्शन प्लान, बौखलाया पाक

पीओके पर भारत का एक्शन प्लान, बौखलाया पाक

सुनील श्रीवास्तव

नई दिल्ली। पाकिस्तान ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की उस टिप्पणी की आलोचना की है जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत अपने सम्मान और प्रतिष्ठा को बनाए रखने के लिए नियंत्रण रेखा (एलओसी) को पार करने के लिए तैयार है। पाकिस्तान ने कहा कि जुझारू बयानबाजी क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के लिए खतरा है। राजनाथ सिंह की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए इस्लामाबाद में विदेश कार्यालय ने कहा कि पाकिस्तान किसी भी आक्रामकता के खिलाफ अपनी रक्षा करने में पूरी तरह सक्षम है।

पाकिस्तान की ओर से एक बयान में कहा गया कि हम भारत को अत्यधिक सावधानी बरतने की सलाह देते हैं क्योंकि उसकी आक्रामक बयानबाजी क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के लिए खतरा है और दक्षिण एशिया में रणनीतिक माहौल को अस्थिर करने में योगदान देती है। इसमें कहा गया है कि यह पहली बार नहीं है कि भारत के राजनीतिक नेताओं और वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों ने कश्मीर और गिलगित-बाल्टिस्तान के बारे में अत्यधिक गैर-जिम्मेदाराना टिप्पणी की है। कश्मीर मुद्दे और पाकिस्तान से होने वाले सीमा पार आतंकवाद को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच संबंध अक्सर तनावपूर्ण रहे हैं।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भारत अपना सम्मान और प्रतिष्ठा बनाए रखने के लिए नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार करने को तैयार है। साथ ही उन्होंने आम नागरिकों से ऐसी स्थिति में सैनिकों के समर्थन के लिए तैयार रहने का आह्वान भी किया। रूस-यूक्रेन युद्ध का उदाहरण देते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि युद्ध एक साल से भी अधिक समय से चल रहा है, क्योंकि नागरिक आगे आए और युद्ध में हिस्सा ले रहे हैं। सिंह 24वें करगिल विजय दिवस के अवसर पर करगिल युद्ध स्मारक पर बोल रहे थे। इससे पूर्व उन्होंने स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित कर, 1999 के करगिल युद्ध में अपना जीवन बलिदान करने वाले सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि देश की संप्रभुत्ता, एकता और अखंडता की रक्षा करने में कोई समझौता नहीं किया जाएगा। हमने देश के शत्रुओं का खात्मा करने के लिए सशस्त्र बलों को खुली छूट दी है। रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत एक शांति प्रिय देश है जो अपने सदियों पुराने मूल्यों में यकीन रखता है और अंतरराष्ट्रीय कानूनों के लिए समर्पित है, लेकिन अपने हितों की रक्षा के लिए हम एलओसी पार करने से भी नहीं हिचकिचाएंगे।

8 साल के बच्चे ने ऑनलाइन एके-47 मंगवाई

8 साल के बच्चे ने ऑनलाइन एके-47 मंगवाई   

अखिलेश पांडेय  

नीदरलैंड। आप घर बैठे ऑनलाइन शॉपिंग तो करते ही होंगे। लेकिन, एक आठ साल के बच्चे ने कुछ ऐसी चीज खरीद ली, जिसे देख उसकी मां के होश उड़ गए। दरअसल, 8 साल के एक लड़के ने डार्क वेब के जरिए ऑनलाइन AK-47 ऑर्डर कर दी। ये राइफल जब घर पहुंची तो परिवार के होश उड़ गए। उन्होंने जानकारी जुटानी शुरू की तो पता चला कि इसके पीछे इंटरनेट की काली दुनिया डार्क वेब थी, जहां धड़ल्ले से इस तरह के अवैध काम होते हैं। 

बच्चे की मां ने एक इंटरव्यू में बताया कि उनके आठ साल के एक बच्चा ने डार्क वेब (Dark Web) के जरिए ऑनलाइन AK-47 ऑर्डर कर दी। हैरानी की बात यह है कि उसे ये राइफल डिलीवर भी कर दी गई। इंटरव्यू में AK-47 खरीदने वाले बच्चे की मां बारबरा जेमेन ने बताया कि उनका बेटा कंप्यूटर पर बहुत समय बिताता था और उसने आठ साल की उम्र में हैकिंग आदि शुरू कर दी थी। यहां तक ​​कहा कि हैकर्स ने उनके बेटे का इस्तेमाल मनी लॉन्ड्रिंग के लिए भी किया।

बारबरा के मुताबिक, जब हम बेटे के कमरे में जाते वो ऑनलाइन गेम्स खेलते वक्त कोड वर्ड में बात करता रहता था। चीजें तब बिगड़ीं जब पता चला कि बेटे ने AK-47 मंगवा ली है। बेटे ने सीमा शुल्क से बचने के प्रयास में बंदूक को पोलैंड से बुल्गारिया भेज दिया, फिर वो नीदरलैंड पहुंची। बारबरा ने आगे कहा कि मैंने राइफल को स्थानीय पुलिस विभाग को सौंप दिया। पूछताछ के बाद पुलिस ने उसके बेटे के खिलाफ कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की।  जांच में पता चला कि वह अंतरराष्ट्रीय हैकरों के जाल में फंस गया था।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-286, (वर्ष-06) पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. शनिवार, जुलाई 29, 2023

3. शक-1944, श्रावण, शुक्ल-पक्ष, तिथि-एकादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 05:14, सूर्यास्त: 07:10।

5. न्‍यूनतम तापमान- 25 डी.सै., अधिकतम- 33+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू  पंकज कपूर  देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू हो गय...