मंगलवार, 24 नवंबर 2020

ओवैसी ने गृहमंत्री शाह पर बोला हमला

रोहिंग्या मुसलमान के मामले पर असदुद्दीन ओवैसी ने गृह मंत्री अमित शाह पर बोला करारा हमला, पूछा किया गृह मंत्री सो रहे हैं?


हैदराबाद। आल इंडिया मजलिस इत्तिहाद उल मुस्लिमीन एआइएमआइएम के प्रमुख गृहमंत्री अमित शाह पर करारा हमला करते हुए कहा है कि अगर हैदराबाद की मतदाता लिस्ट में 30 हजार से ज्यादा रोहिंग्या मुसलमान हैं तो देश के गृहमंत्री क्या कर रहे हैं, क्या वो सो रहे हैं। ओवैसी ने गृहमंत्री को चुनौती देते हुए कहा है कि अमित शाह आज शाम तक ऐसे 1000 रोहिंग्या के नाम बताएं। उन्होंने  GHMC चुनाव के लिए प्रचार के दौरान कही ये बात कही। तेलंगाना में ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव के लिए प्रचार करने पहुंचे असदुद्दीन ओवैसी ने एक पब्लिक रैली में भाषण के दौरान कहा कि अगर वोटर लिस्ट में 30,000 रोहिंग्या हैं तो गृह मंत्री अमित शाह क्या कर रहे हैं, क्या वो सो रहे हैं? क्या ये उनकी जिम्मेदारी नहीं है कि वोटर लिस्ट में 30-40 हजार रोहिंग्या के नाम कैसे आए। ओवैसी ने ये भी कहा कि ‘अगर बीजेपी ईमानदार है तो मंगलवार की शाम तक 1000 रोहिंग्या के नाम बताएं।


BJP के तेजस्वी सूर्या ने लगाया था आरोप
दरअसल ये सारा मामला इसलिए शुरू हुआ क्योंकि बीजेपी के यूथ विंग के अध्यक्ष और सांसद तेजस्वी सूर्या ने आरोप लगाया था कि ओवैसी केवल विकास की बात करते हैं लेकिन वो हैदराबाद मे केवल रोहिंग्या मुसलमानों को आने की इजाजत देते हैं। इतना ही नहीं तेजस्वी सूर्या ने ये भी कहा कि असदुद्दीन ओवैसी, मोहम्मद अली जिन्ना के अवतार हैं, उन्हें वोट देने का मतलब भारत के खिलाफ वोट देना है। हैदराबाद में प्रचार कर रहे तेजस्वी सूर्या ने कहा कि ये सिर्फ एक निगम चुनाव नहीं है, अगर आप यहां ओवैसी को वोट देते हैं तो वो महाराष्ट्र, कर्नाटक, बिहार, यूपी जैसे राज्यों में मजबूत होते हैं। उन्होंने ओवैसी भाइयों के लिए कहा कि ये ठीक वैसी ही बातें करते हैं जैसे मोहम्मद अली जिन्ना किया करते थे और विभाजनकारी राजनीति करते हैं। कट्टर इस्लाम की बात करने वाली एआईएमआईएम से लोगों को दूर रहना चाहिए।


एक दिसंबर को है GHMC (ग्रेटर हैदराबाद नगर निकाय) चुनाव
गौरतलब है कि हैदराबाद में निकाय चुनाव के लिए एक दिसंबर को मतदान होना है। हैदराबाद में इस बार असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआीएम और केसीआर की टीआरएस अलग होकर चुनाव लड़ रही हैं जबकि राज्य की सत्ता में दोनों पार्टियां साथ हैं। नगर निगम के 150 वार्ड के लिए होने वाले चुनाव अहम माने जा रहे हैं और तेलंगाना के सीएम केसीआर की ओर से बयान दिया गया है कि इस बार वो ओवैसी के गढ़ में घुसकर उन्हें मात देंगे और सभी 150 सीटों पर लड़ेंगे।              


बाइडन को सत्ता सौंपने की औपचारिकता करें

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका में डोनाल्ड ट्रंप ने मान लिया है कि नव-निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन को सत्ता सौंपने की औपचारिक प्रक्रिया शुरू हो जानी चाहिए। ट्रंप ने ट्वीट कर कहा है कि सत्ता हस्तांतरण की निगरानी करने वाली अहम फ़ेडरल एजेंसी जीएसए को वो 'चीज़ें करनी चाहिए जो ज़रूरी हैं'।
हालांकि उन्होंने अब भी अपनी लड़ाई जारी रखने की बात कही है।
दूसरी तरफ़, जनरल सर्विस ऐडमिनिस्ट्रेशन यानी जीएसए ने जो बाइडन को 'विजेता' के तौर पर स्वीकार कर लिया है।
ये घटनाक्रम ऐसे समय हुआ है जब मिशिगन राज्य में जो बाइडन की जीत की आधिकारिक पुष्टि कर दी गई थी।
इस पुष्टि से ट्रंप के उस अभियान को गहरा झटका लगा था जिसमें वो अमेरिका के चुनावी नतीजों को चुनौती दे रहे हैं।
जो बाइडन के समर्थकों ने सत्ता हस्तांतरण की प्रक्रिया शुरू होने का स्वागत किया है, जो बाइडन अब 20 जनवरी को शपथ लेने की तैयारी कर रहे हैं।
हालांकि ट्रंप के कैंपेन का अब भी कहना है कि वो मिशिगन के चुनावी नतीजों को चुनौती देंगे. हालांकि अब वक़्त धीरे-धीरे ख़त्म हो रहा है। 14 दिसंबर को अमेरिकी इलेक्टोरल कॉलेज बाइडन की जीत की पुष्टि कर देगा।                                


24 घंटे में आएं कोरोना के 48,648 नए केस

देश में 24 घंटे में आए कोरोना के 48,648 नए केस, 480 की मौत, यहां देखिए राज्यों का हाल


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। तमाम एहतियात के बावजूद देश में कोरोना का कहर लगातार जारी है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में देश में कोविड-19 के 37,975 नए मामले आने के बाद कुल मामलों की संख्या 91,77,841 हो गई है। 480 नई मौतों के बाद कुल मौत की संख्या 1,34,218 हो गई है। वहीं कुल सक्रिय मामले 4,38,667 हैं। पिछले 24 घंटे में 42,314 नई रिकवरी के साथ 86,04,955 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। इससे पहले सोमवार की बात करें तो 24 घंटे में 44,059 मामले सामने आए थे। कोरोना से दिल्ली में हालात सबसे ज्यादा खराब हैं। यहां पिछले एक सप्ताह (15 नवंबर से 21 नवंबर तक) में कुल 1.83 फीसदी कोरोना पीड़ितों ने दम तोड़ा है। इस सप्ताह दिल्ली में कोरोना संक्रमण के कुल 40,947 मामले सामने आए हैं और इनमें से 751 लोगों की मौत हो गई। दिल्ली में शुरू से लेकर अब तक कोरोना की मृत्यु दर 1.59 फीसदी है, जबकि पिछले एक सप्ताह में यह 1.83 फीसदी रही है।


दिल्ली में कोरोना से कुल मौत का आंकड़ा साढ़े आठ हजार के पार जा चुका है और इनमें से करीब से 2 हज़ार मौतें एक नवंबर से 23 नवंबर के बीच जारी आंकड़ों में दर्ज की गई है।


महाराष्ट्र में सोमवार को 24 घंटे के अंदर 4153 नए केस मिले। 3729 लोग ठीक हुए और 30 की मौत हो गई। 394 एक्टिव केस बढ़े. अब तक 17 लाख 84 हजार 361 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 16 लाख 54 हजार 793 लोग रिकवर हो चुके हैं, जबकि जान गंवाने वालों की संख्या अब 46 हजार 653 हो गई है।           


केंद्र और राज्यों को 'एससी' का नोटिस

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने कोरोना वायरस की जांच के लिए आरटी-पीसीआर रेट तय करने के लिए केंद्र, राज्य और केंद्रशासित प्रदेशों को नोटिस जारी किया है। सुप्रीम कोर्ट में दायर एक याचिका में कहा गया था कि देश में आरटी-पीसीआर कीमत 400 रूपए तय की जाए। इससे लोगों को फायदा मिलेगा और ज्यादा कोरोना जांच भी की जाएगी। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने नोटिस जारी कर अब दो हफ्तों में जवाब मांगा है।            


कोरोना वैक्सीन पर पीएम का बड़ा बयान

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर बड़ा बयान दिया। पीएम मोदी ने कहा कि वैक्सीन कब आएगी, इसका वक्त हम तय नहीं कर सकते हैं बल्कि ये वैज्ञानिकों के हाथ में है। पीएम मोदी ने मंगलवार को आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में ये बात कही।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कुछ लोग इस मसले पर राजनीति कर रहे हैं, लेकिन किसी को राजनीति करने से नहीं रोका जा सकता है।               


सूट-बूट की 'सरकार' हैं पूंजीपतियों की मित्र

सूट-बूट की सरकार’ है चंद पूंजीपतियों की मित्र: राहुल


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार पर तंज कसते हुए आज फिर कहा कि यह “सूट बूट की सरकार” है और पूंजीपतियों के हितों को सुरक्षित करने में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि कि सरकार सिर्फ अपने उद्योगपति मित्रों को लाभ पहुंचाने के लिए व्यवस्थित तरीके से तथा धीरे-धीरे काम कर रही है। उसका मकसद सिर्फ पूंजीपतियों के हित साधने और उनके फायदे के लिए काम करना है।
राहुल गांधी ने ट्वीट किया, “सरकार जिस तरह से काम कर रही है वह क्रोनोलॉजी समझिए: पहले कुछ बड़ी कंपनियों का कर्ज माफ किया। फिर कंपनियों के बड़े स्तर पर टैक्स में छूट दी। अब इन्हीं कंपनियों द्वारा स्थापित बैंकों में जनता की कमाई सीधे जमा करने की तैयारी जर रही है सूट बूट की सरकार।” इसके साथ ही उन्होंने एक खबर को पोस्ट की है जिसमें रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन तथा प्रसिद्ध अर्थशास्त्री विरल आचार्य ने भारतीय कारपोरेट घरानों को बैंक स्थापित करने की सिफारिश संबंधी खबर को गलत आइडिया बताया है।           


धांधली के खिलाफ लड़ने की बात दोराईः ट्रंप

ट्रम्प की टीम ने चुनाव में धांधली के खिलाफ लड़ने की बात दोहराई


वाशिंगटन डीसी ने। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की चुनावी अभियान टीम ने 2020 के चुनावी नतीजे स्पष्ट होने के बावजूद कहा कि चुनावी में व्यापक स्तर पर धांधली हुई है और वह इसके खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखेगी। ट्रम्प की कानूनी टीम की वरिष्ठ सलाहकार जेना एलिस ने एक बयान जारी कर यह बातें कहीं।
उन्होंने सोमवार को कहा कहा, “राज्य के अधिकारियों से प्रमाण मिलना महज एक प्रक्रिया है। हम देशभर में हुई चुनावी धांधली के विरोध में अंत तक लड़ाई जारी रखेंगे।अमेरिकियों को आश्वस्त किया जाना चाहिए कि अंतिम परिणाम उचित और वैध हैं।”
गौरतलब है कि अमेरिका राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव परिणाम की आधिकारिक घोषणा अभी तक नहीं हुई है। हालांकि कई अमेरिकी मीडिया हाउस जो बिडेन को राष्ट्रपति प्रोजेक्ट कर चुके हैं। वहीं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चुनाव में धांधली का आरोप लगाया है।           


क्रिकेट में डिलीवरी का रिकार्ड अपने नाम रखते हैं

मुझ से ड्रग्स लेने को कहा गया था


नई दिल्ली। क्रिकेट जगत के सबसे तेज गेंदबाजों में से एक शोएब अख्तर अपनी पेस के लिए जाने जाते हैं। पाकिस्तान के महान क्रिकेटरों में से एक अख्तर आज भी इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे तेज डिलीवरी का रिकॉर्ड अपने नाम रखते हैं।
उन्होंने अपनी पेस और घातक गेंदबाजी से दुनिया के बेस्ट बल्लेबाजों को परेशान किया हुआ था। अख्तर का क्रिकेटिंग कई तरह के विवादों से घिरा रहा, लेकिन ड्रग या किसी भी प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन को लेकर उनके करियर पर कोई दाग नहीं लगा, लेकिन हाल ही में उन्होंने ड्रग्स को लेकर एक खुलासा किया है। शोएब अख्तर ने खुलासा किया कि उन्हें पेस बढ़ाने के लिए ड्रग्स का इस्तेमाल करने के लिए कहा गया था, लेकिन उन्होंने इससे इंकार कर दिया था। पूर्व पाकिस्तानी पेसर ने बिना नाम लिए यह दावा किया कि एक वर्ल्ड क्लास पाकिस्तानी क्रिकेटर का करियर ड्रग्स की वजह से बर्बाद हो गया था।             


लुधियानाः एक ही परिवार के 4 लोगों की मौत

लुधियाना में बड़ी वारदात, एक ही परिवार के 4 लोगों की हत्या


लुधियाना। लुधियाना से इस समय बड़ी ख़बर आ रही है। यहां थाना पी.ए.यू. अधीन पड़ते मयूर विहार में एक ही परिवार के 4 सदस्यों की हत्या का मामला सामने आया है। इस घटना के बाद इलाके में दहशत का माहौल है। घटना का पता मंगलवार सुबह लगा। फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस की तरफ से घटना की जांच शुरू कर दी गई है।             


टैक्स लगाने पर विचार कर रहे हैं शिवराज

मध्य प्रदेश में गौमाता कल्याण के लिए टैक्स लगाने पर विचार कर रहे हैं सीएम शिवराज


भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार गौ वंश के कल्याण के लिये धन जुटाने के लिये कुछ कर लगाने की योजना बना रही है। आगर-मालवा जिले में सुसनेर के समीप सालरिया में एक जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम शिवराज चौहान ने गौ वंश के कल्याण के लिये कर लगाने के संभावित कदम के पीछे भारतीय संस्कृति में गौ माता को पहली रोटी (गौ ग्रास) खिलाने का तर्क भी दिया।


सीएम शिवराज चौहान ने उपस्थित लोगों से सवाल किया, ”गौमाता के कल्याण के लिये और गौ शालाओं के ढंग से संचालन के लिये कुछ मामूली कर लगाने के बारे में सोच रहा हूं, क्या यह ठीक है?” लोगों ने इसका सकारात्मक उत्तर दिया। उन्होंने कहा, ”हमारे घरों में पहली रोटी गाय के लिये बनती थी। और आखरी रोटी कुत्ते को खिलाते थे। यह हमारी भारतीय संस्कृति थी। अब अधिकांश घरों में गौ ग्रास नहीं निकलता और हम अलग-अलग गौ ग्रास नहीं ले सकते इसलिये हम गायों के कल्याण के लिये कुछ छोटा-मोटा कर लगाने की सोच रहे हैं।


इसके अलावा, उन्होंने कहा कि प्रदेश में गौशाला संचालन के लिये एक कानून बनाया जायेगा और जिला कलेक्टरों को प्रत्येक गौशाला के संचालन के लिए एक नोडल अधिकारी नियुक्त करने का निर्देश दिया गया है। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रदेश में 2,000 गौ शालाएं बनाई जायेंगी तथा इन्हें सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से संचालित किया जायेगा।


शिवराज ने कहा, ”समाज को गायों की रक्षा में सरकार की मदद करनी चाहिये। पहले गायों के बिना कृषि असंभव थी, लेकिन ट्रेक्टरों ने खेती को बदल दिया है। उन्होंने कहा कि गायों के दूध देना बंद करने पर लोग गायों को छोड़ देते हैं। इसलिये लाखों गायें सड़कों पर भटक रही हैं। इन गायों को गौ अभयारण्य में आश्रय मिलेगा।


आंगनवाड़ी में बच्चों को दिये जाने वाले आहार के संदर्भ में मुख्यमंत्री ने कहा कि बच्चों को अंडे के बजाय गाय का दूध, जो कि अमृत समान है, देने का निर्णय लिया गया है। इससे गायों और गौ पालन करने वालों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि गाय के गोबर के कई उपयोग होते हैं और यह पर्यावरण की रक्षा करने में सहायक होता है. लकड़ी के स्थान पर गौकाष्ट (गोबर से बने बेलनाकार टुकड़े) का उपयोग करने से पर्यावरण की रक्षा होगी और अच्छी वर्षा भी होगी।


उन्होंने कहा, ”हमें पर्यावरण को बचाना होगा. यूरिया और डीएपी खाद का उपयोग धरती के लिये धीमे जहर जैसा है. जबकि गोबर की खाद धरती के लिये अमृत की तरह काम करता है। यदि रासायनिक उर्वरकों का उपयोग लंबे समय तक किया जाता है तो भूमि में गेंहूं की फसल का उत्पादन नहीं होगा।” मुख्यमंत्री ने कहा कि गौमूत्र से बनी दवा कई बीमारियों को ठीक कर सकती है। ऐसी कई दवाईयां गौ अभयारण्यों में बनाई जा रही हैं।


उन्होंने कहा, ”अंग्रेजी दवाईयां तो बीमारी ज्यादा लाती हैं. इसलिये कोई ये ना सोचे की गाय बेकार हैं. गाय बचेगी तो ये धरती बचेगी। ये याद रखना.” इससे पहले दिन में मुख्यमंत्री ने भोपाल में अपने निवास पर ऑनलाइन माध्यम से प्रदेश की नवगठित गौ कैबिनेट की बैठक की. इसमें गौ आधारित अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिये और आगर मालवा में स्थित गौ अभयारण्य में गौ उत्पादों के निर्माण के लिये एक अनुसंधान केन्द्र स्थापित करने का फैसला लिया गया।         


विधायक प्रताप के 10 ठिकानों पर रेड, मुकदमा

इस विधायक के घर और दफ्तर समेत 10 ठिकानों पर ED की रेड


मुंबई। अपने बयानों के कारण हमेसा सुर्खियों में रहने वाले शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक के आवास और दफ्तर पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने छापेमारी की है। हालांकि, छापेमारी किस सिलसिले में की जा रही है, इसको लेकर कोई खुलासा नहीं हुआ है। हालांकि, यह छापेमारी किस सिलसिले में की जा रही है, इसे लेकर फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिली है। बताया जा रहा है कि ईडी ने प्रताप सरनाईक के घर और ऑफिस समेत मुंबई और ठाणे के 10 ठिकानों पर तलाशी कर रही है।
बता दें कि प्रताप सरनाइक ठाणे में ओवला-मजीवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। वह शिवसेना के महाराष्ट्र प्रवक्ता और मीरा-भयंदर क्षेत्र के लिए संचार नेता भी हैं। हाल ही में कंगना रनौत द्वारा मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से करने के लिए राजद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग के बाद चर्चा में आए थे। अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार विधायक प्रताप सरनाईक के खिलाफ सीधे तौर पर कोई मामला नहीं है। बताया जा रहा है कि मामले कंपनी और कुछ लोगों के खिलाफ है, जिसमें रेड की जा रही है।               


तेजस्वी ने सीएम नीतीश पर साधा निशाना

तेजस्वी ने CM नीतीश पर साधा निशाना, पूछा- ‘कारनामे वाले’ को मंत्री बनाने के पीछे क्या है मजबूरी?


पटना। जेडीयू नेता मेवालाल चौधरी के इस्तीफा देने के बाद भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी को शिक्षा मंत्री बनाए जाने को लेकर विवाद जारी है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और आरजेडी लगातार इस मुद्दे को लेकर सीएम नीतीश पर हमला बोल रहे हैं। इसी क्रम में मंगलवार को नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट के सीएम नीतीश पर हमला बोला है और पूछा है कि ऐसी क्या मजबूरी है जो इन कारनामे वालों को मंत्री बनाना पड़ा? तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर लिखा, ” एक भ्रष्ट शिक्षा मंत्री को हटवाया नहीं कि दूसरे ऐसे व्यक्ति को शिक्षामंत्री बना दिया जिनपर सपरिवार करोड़ों के ग़बन की CBI जाँच चल रही है। नीतीश जी की ऐसी क्या मजबूरी जो शिक्षा व्यवस्था सुधारने की बजाय ऐसे कारनामे वाले को मंत्री बनाया जो किसी सदन का सदस्य नहीं है? क्या राज है जी?”


बता दें कि इससे पहले कल उन्होंने शपथ लेने के बाद भी नीतीश कुमार और राज्य की मौजूदा एनडीए सरकार पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि अगर आपने (बिहार सरकार) एक महीने के अंदर 19 लाख रोजगार नहीं दिए तो जो जनता ने हमें डेढ़ करोड़ से ज्यादा मत दिया है। उनके साथ हम लोग सड़कों पर मिलेंगे।


तेजस्वी ने सीएम नीतीश पर हमला बोलते हुए कहा था कि नीतीश कुमार जी भ्रष्टाचार के भीष्म पितामह हैं। उन्होंने चोर दरवाजे से एक बार फिर सरकार बनाने का काम किया है। वो भ्रष्टाचार के भीष्म पितामह इसलिए हैं क्योंकि जितने भी गुनहगार हैं, भ्रष्टाचारी हैं उन्हें संरक्षण देना और बचाव करना उनकी पुरानी फ़ितरत रही है।           


चेन्नई के लिए पहली फ्लाइट में 'राष्ट्रपति' कोविंद

चेन्‍नई के लिए एयर इंडिया वन की पहली फ्लाइट में राष्ट्रपति कोविंद, तिरुपति में करेंगे पूजा-अर्चना


चेन्नई। राष्‍ट्रपति राम नाथ कोविंद ने मंगलवार को चेन्‍नई के लिए शुरू की गई एयर इंडिया वन B777 एयरक्राफ्ट का शुभारंभ किया और प्रथम महिला सविता कोविंद के साथ चेन्‍नई के लिए रवाना हुए। यह जानकारी राष्‍ट्रपति भवन की ओर से दी गई। राष्‍ट्रपति कोविंद आंध्रप्रदेश  के तिरुपति जाएंगे और वहां श्री वेंकटेश्‍वर स्‍वामी मंदिर में पूजा-अर्चना करेंगे। राष्‍ट्रपति राम नाथ कोविंद एयरइंडिया वन B777 एयरक्राफ्ट की पहली फ्लाइट से आंध्र प्रदेश के तिरुपति गए हैं। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश की प्रथम महिला सविता कोविंद के साथ एयर इंडिया वन-बी777 विमान के उद्घाटन उड़ान के जरिए चेन्नई के लिए रवाना हुए। राष्‍ट्रपति की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘यह एयर इंडिया वन-B777 एयरक्राफ्ट की पहली फ्लाइट है। इसमें पर्याप्‍त इंधन है और VVIP ऑपरेशन के लिए तैनात किए जाने वाले B747-400 की तुलना में लंबी रेंज भी है। इस एयरक्राफ्ट का इंटीरियर खास है साथ ही इसमें शोर का लेबल भी कम रखा गया है।’ मिली जानकारी के अनुसार, राष्ट्रपति कोविंद तिरुपति में देवी पद्मावती की पूजा अर्चना करेंगे। इसके बाद भगवान वेंकटेश्वर के दर्शन के लिए पहाड़ियों पर जाएंगे। उल्‍लेखनीय है कि राष्ट्रपति के साथ इस कार्यक्रम में हिस्‍सा लेने वाले शामिल होने वाले शीर्ष अधिकारियों और अन्य लोगों की कोरोना जांच करवाई गई। एयर इंडिया वन बोइंग 777 एयरक्राफ्ट का दूसरा विशेष विमान है, जिसे खासतौर पर देश के प्रमुखों राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री की देश-विदेश यात्रा के लिए तैयार किया गया है। इसका पहला विमान पिछले माह भारत आया था। अमेरिका के डलास में इन विमानों को कस्टमाइज किया गया। इसके लिए 2018 में ही भारत और बोइंग कंपनी की डील हुई थी। इसकी खासियत यह है कि बिना रुके ही ये विमान अमेरिका से भारत तक उड़ान भर सकते हैं। इस विमान के भारत आने के बाद यह देश के तीनों गणमान्य व्यक्तियों के लिए समर्पित विमान का पहला सेट होगा। इन विमानों के आने से पहले तक तीनों गणमान्य व्यक्तियों की यात्रा के लिए एयर इंडिया के विमानों का प्रयोग किया जाता रहा है।               


सड़क हादसे में दादी-पोते की मौत, कई जख्मी

भात नोतने जा रहा था परिवार, रास्ते में ही हादसे में दादी-पोते की मौत, कई जख्मी


महेंद्रगढ़। शादी की खुशियों उस मातम में बदल गई, जब भात नोतने जा रहे परिवार के साथ रास्ते में हादसा हो गया। इस हादसे में दादी पोते की मौत हो गई और कई अन्य जख्मी हो गए। बताया जा रहा है कि गांव अगिहार में भात नोतने जा रहे परिवार की गाड़ी के अचानक ब्रेक फेल हो गए, जिससे गाड़ी असंतुलित होकर पेड़ से टकरा गई। इस हादसे में दादी और पोते की मौत हो गई और तीन महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गई। राहगीरों ने घायलों को नागरिक अस्पताल महेंद्रगढ़ भर्ती करवाया जहां पर चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार देकर हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया।


जानकारी के अनुसार गोपालवास निवासी पप्पू की 30 नवंबर को दो लड़कियों की शादी है। रविवार को उनका पूरा परिवार भात नोतने के लिए गांव अगिहार जा रहे थे। गाड़ी में लालचंद पुत्र सुलतान सिंह, राजो पत्नी पप्पू (45), कैलाश पत्नी मुनेश (43), लक्ष्मी देवी पत्नी सुलतान सिंह (86), आशीष पुत्र ओमपाल (05), सोनिया पुत्री मुनेश (20), राधा सवार थे। अगिहार से दो किलोमीटर पहले ही उनकी गाड़ी के ब्रेक फेल हो गए। जिस कारण गाड़ी असंतुलित होकर पेड़ से जा टकराई। इस हादसे में लक्ष्मी, आशीष, राजो, कैलाश, सोनू गंभीर रूप से घायल हो गई। जबकि पप्पू और लालचंद को मामूली खरोंचे आईं। राहगीरों ने उनको नागरिक अस्पताल महेंद्रगढ़ पहुंचाया जहां पर चिकित्सकों ने लक्ष्मी और आशीष को मृत घोषित कर दिया जबकि राजो, कैलाश एवं सोनू का हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया।
30 नवंबर को पप्पू की दो बेटियों की शादी होनी है। शादी के लिए घर पर जोरों से तैयारियां चल रही थीं। लोगों को शादी में आमंत्रित करने के लिए कार्ड भी वितरित कर दिए थे। रविवार को ग्रामीण महिलाओं ने भात नोतने जाने से पहले मांगलिक गीत गाकर भेजा था लेकिन रविवार को अचानक उनकी खुशी मातम में बदल गई।                             


बकरी ने बंदर जैसे बच्चे को दिया जन्म

कानपुर। कानपुर में एक अजीबोगरीब वाकया सामने आया है। जब एक बकरी ने बंदर के बच्चे जैसे मुंह के बच्चे को जन्म दिया। फिर क्या था गाँव के लोग कहने लगे कि कलियुग में बकरी ने हनुमान जी को जन्म दिया है। देखते ही देखते रूपये चढ़ाने शुरू कर दिए। बता दें कि घाटमपुर कस्बे के जहांगीराबाद गांव में एक किसान के घर एक बकरी पली थी।उसने एक बच्चे को जन्म दिया। जिसकी सूरत बंदर के बच्चे से मिलती जुलती है। इससे वहां मौजूद व्यक्तियों की आस्था जाग गई और देखते है। देखते हजारो रूपये चढ़ावे में आ गये है।बच्चा खबर लिखे जाने तक जीवित था। लोग उसे हनुमान जी का अवतार मानकर पूजा अर्चना कर रहे थे। कुछ लोग कह रहे थे की कोरोना अब चला जायेगा। इस तरह भारतीय लोंगों में धर्म की आस्था आज भी मजबूत है।         


तेंदुए जैसे जानवर ने कर्मचारी पर हमला किया

अंकित गोस्वामी


गाज़ियाबाद। जनपद के कवि नगर थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले राज कुंज इलाके में आज सुबह सुबह 11:15 बजे तेंदुए जैसे जानवर देखने से सनसनी फैल गई। जैसे ही इसके बारे में आसपास के लोगों को जानकारी हुई लोगों की भीड़ लगनी शुरू हो गई। इसी बीच राज नगर में रहने वाली जीडीए उपाध्यक्ष कंचन वर्मा के आवास पर काम करने वाले सफाई कर्मचारी हरिमोहन पर इस रहस्यमई जानवर ने हमला बोल दिया। इसके बाद आनन-फानन में नगर निगम और वन विभाग के दर्जनों कर्मचारी आवास में जांच पड़ताल के लिए लगाए गए। लेकिन जानवर के बारे में कोई सुराग नहीं लगा। इसके बाद पुलिस की टीमें पास के इंग्राहम स्कूल पहुंची और उसको खाली कराया गया ।



हो सकती है जंगली बिल्ली


वहीं वन विभाग की जिला वन अधिकारी दीक्षा भंडारी का कहना है कि तेंदुए जैसा नजर आ रहा है पर यह जानवर फिशिंग कैट यानी जंगली बिल्ली भी हो सकती है। कई टीमें जांच में लगी हुई है जैसा भी स्पष्ट होता है इसकी सूचना दी जाएगी। बता दें कि इससे पहले भी गाजियाबाद के वैशाली और वो पूरा जैसे इलाके में तेंदुए देखे गए थे। कई दिनों तक दहशत रही थी। राजनगर में इंग्राहम के पीछे घने जंगल हैं और यह पूरा इलाका कमला नेहरू नगर और रहीस पुर से जुड़ा होने के कारण यहां पर तेंदुए या जंगली बिल्ली आने की संभावना प्रबल हो सकती है।                                  


संजय की बीजेपी पर चुटकी, पहली पुण्यतिथि

संजय राउत की बीजेपी पर चुटकी, कहा- 3 दिन की सरकार की पहली पुण्यतिथि


मुंबई। महाराष्ट्र में बढ़ी सियासी हलचल के बीच शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने भारतीय जनता पार्टी के पुराने जख्म पर नमक छिड़कने वाला बयान दिया है। राउत ने देवेंद्र फडणवीस द्वारा गुपचुप तरीके से ली गई शपथ की याद दिलाते हुए कहा है कि आज उस तीन दिन की सरकार की पुण्यतिथि है। दरअसल, 2019 के महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी और शिवसेना ने मिलकर चुनाव लड़ा था। दोनों के पास सरकार बनाने के लिए जरूरी आकंड़ा भी था, लेकिन पुराने वादों की याद दिलाते हुए शिवसेना सत्ता में बराबर भागीदारी की बात पर अड़ गई थी। शिवसेना चाहती थी कि दोनों पार्टियों के पास ढाई-ढाई साल सीएम पद रहे लेकिन बीजेपी इस पर राजी नहीं हुई।
इन तमाम राजनीतिक गहमागहमियों के बीच बीजेपी के सीएम फेस देवेंद्र फडणवीस ने 23 नवंबर 2019 की सुबह सवेरे अचानक राजभवन जाकर सीएम पद की शपथ ले ली थी। इससे भी बड़ी चौंकाने वाली बात ये थी कि उनके साथ एनसीपी नेता अजित पवार ने भी शपथ ली। इस तस्वीर से महाराष्ट्र की राजनीति में भूचाल आ गया। अजित पवार ने फडणवीस ने वादा किया था कि वो एनसीपी के विधायकों का समर्थन उन्हें दिलाएंगे और सरकार बहुमत साबित कर देगी।
भतीजे अजित पवार का ये रुख देखकर एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने मोर्चा संभाल लिया। कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना ने मिलकर सरकार बनाने की रूपरेखा तैयार कर ली, दूसरी तरफ शरद पवार के सामने अजित पवार फेल हो गए और इस तरह देवेंद्र फडणवीस सरकार के लिए समर्थन नहीं जुटा पाए। फ्लोर टेस्ट से पहले ही 26 नवंबर को देवेंद्र फडणवीस ने अपना इस्तीफा दे दिया।
इसके बाद शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी महाविकास अघाड़ी के बैनर तले एकजुट हो गए और उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में तीनों दलों ने मिलकर सरकार बना ली तमाम सियासी उठापटक के बीच ये सरकार चल रही है. लेकिन फिर हलचल बढ़ने लगी है।


केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे पाटिल ने दावा किया है कि राज्य में बीजेपी की सरकार जल्द बन सकती है। दानवे के इस बयान पर पूर्व सीएम फडणवीस ने कहा है कि इस बार शपथ ग्रहण समारोह सही समय पर होगा, सुबह के वक्त नहीं होगा। बीजेपी नेताओं के इन बयानों के बीच संजय राउत ने कहा है कि पिछले साल जो 3 दिन की सरकार बनाई गई थी, अब उसकी पहली पुण्यतिथि है और हमारी सरकार 4 साल पूरे करेगी। राउत ने कहा कि विपक्ष के नेता ऐसे बयान फ्रस्ट्रेशन में दे रहे हैं क्योंकि उनके तमाम प्रयास फेल हो गए हैं।             


रोटरी क्लब ने असमर्थ बच्चों को किताबेंं बांंटी

अश्वनी उपाध्याय गाजियाबाद। रोटरी क्लब ऑफ गाज़ियाबाद ग्रीन ने श्री वैश्य समाज वसुन्धरा एवं रोहिला क्षत्रिय समाज गाज़ियाबाद के सहयोग से सेक्टर 16 वसुन्धरा गाज़ियाबाद में गूंज संस्था के साथ आज एक कैम्प का आयोजन किया। कैंप का शुभारंभ निगम पार्षद अरविन्द चौधरी चिंटू, श्री वैश्य समाज के प्रधान अनिल अग्रवाल, महासचिव पुनीत मित्तल, रोटरी क्लब ऑफ गाज़ियाबाद ग्रीन के अध्यक्ष रो. संजय रोहिला ने मिलकर किया।



इस अवसर पर प्रयोग किए गए पुराने वस्त्र, खिलौने, कॉपी किताब एवं अन्य सामान को गूंज संस्था के लिए एकत्रित किया गया। जिसे असमर्थ समाज के बच्चों में वितरित किया जाएगा।  रोटेरी क्लब गाज़ियाबाद ग्रीन इससे पहले भी कई बार बच्चों में कॉपी किताबें और मास्क आदि बाँट चुका है।रोटरी क्लब ऑफ गाज़ियाबाद ग्रीन से क्लब ट्रेनर पुनीत मित्तल, क्लब की प्रथम महिला रीतू रोहिला, सचिव रो. अवलोक अग्रवाल , प्रोजेक्ट चेयर बबीता अग्रवाल, सचिन अग्रवाल , संदीप अग्रवाल, मुकेश अग्रवाल, श्वेता अग्रवाल, शिखा मित्तल एवं अन्य सदस्य तथा वैश्य समाज से सुधाकर गुप्ता, हिमांशु अग्रवाल एवं अन्य सम्मानित सदस्य तथा रोहिला समाज के शिवदत्त रोहिला उपस्थित रहे।                                 


यूपी में बनेगें फाइटर प्लेन राफेल के पार्ट्स

लखनऊ। फाइटर प्लेन राफेल के पार्ट्स यूपी में बनेंगे। इसके लिए राफेल के पार्ट्स बनाने वाली फ्रांस की कंपनी थैलेस प्रदेश में निवेश करेगी। कंपनी ने अपना नया कॉरपोरेट ऑफिस नोएडा में खोला है। सोमवार को एमएसएमई मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने थैलेस के स्टेट ऑफ आर्ट न्यू कॉरपोरेट ऑफिस का वर्चुअली उद्‌घाटन किया। पहले यह ऑफिस दिल्ली में था। 1.50 लाख वर्ग फुट में बनी इस 6 मंजिला इमारत में 1,100 कर्मचारी काम करेंगे।             


राहुल ने समझाई सरकार की क्रोनोलॉजी

कारोबारी घरानों को बैंक खोलने की सिफारिश पर राहुल गांधी ने समझाई सरकार की क्रोनोलॉजी


नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सरकार को ‘सूट बूट की सरकार’ बताते हुए कहा कि ये सिर्फ पूंजीपतियों के हितों की सुरक्षा करने में लगी है। उन्होंने कहा कि सरकार पहले बड़ी कंपनियों का कर्ज माफ करती है, फिर उन्हें बैंक खोलने का मौका देती है और इसके बाद आम लोगों का पैसा भी वहीं जमा कराती है। इस तरह कुल मिलाकर सारा लाभ उन बड़े पूंजीपतियों के ही हिस्से आता है। राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर कारोबारी घरानों को बैंक खोलने की अनुमति के सुझाव पर ट्वीट कर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सरकार जिस तरह से काम कर रही है वो क्रोनोलॉजी समझिए- पहले कुछ बड़ी कंपनियों का कर्ज माफ किया। फिर कंपनियों के बड़े स्तर पर टैक्स में छूट दी। अब इन्हीं कंपनियों द्वारा स्थापित बैंकों में जनता की कमाई सीधे जमा करने की तैयारी कर रही है सूट बूट की सरकार।’


अपने ट्वीट के साथ राहुल ने एक खबर भी साझा की है जिसमें रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन और पूर्व डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने कहा है कि कॉरपोरेट घरानों को बैंक स्थापित करने की मंजूरी देने की सिफारिश आज के हालात में चौंकाने वाली है। उन्होंने इस सुझाव को ‘बैड आइडिया’ कहा था। दोनों का मानना है कि बैंकिंग क्षेत्र में कारोबारी घरानों की संलिप्तता के बारे में अभी आजमायी गयी सीमाओं पर टिके रहना अधिक महत्वपूर्ण है।             


कोरोना मामलों को लेकर अमरजीत का बयान

रायपुर। कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने बयान दिया है। मंत्री ने कहा कि कोरोना को लेकर सरकार गंभीर है। बचाव के सभी उपाए किए जा रहे हैं। जरूरी है कि आम नागरिक भी ​सभी नियमों का पालन करें।संक्रमण को रोकने के लिए जो भी निर्देश हैं उसका सभी को पालन करना बेहद जरूरी है। बता दें कि राजधानी रायपुर में दीवाली त्योहार के बाद कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में रफ्तार देखी गई। दूसरी ओर प्रदेश सरकार कोरोना की दूसरी लहर आने से पहले ही प्रर्याप्त बेड की व्यवस्था कर ली है।               


नए अधिवक्ताओं को मिले ₹5000 मासिक

शेरखान


मेरठ। स्नातक क्षेत्र मेरठ खंड से प्रत्याशी सुरेन्द्र पाल सिंह  ने सोमवार को पिलखुआ में अधिवक्ताओं के बीच जनसंपर्क किया। सुरेन्द्र पाल सिंह जिला बार संघ मुजफ्फरनगर, सिविल बार संघ मुजफ्फरनगर और ऑल इंडिया लॉयर्स यूनियन के अधिकृत प्रत्याशी है। जनसंपर्क यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेन्सिंग प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सुरेन्द्र पाल सिंह पिलखुआ  कचहरी परिसर में अधिवक्ताओं से भेंट की और अपने संकल्प पत्र को दोहराया।



एडवोकेट सुरेन्द्र पाल सिंह ने कहा कि उनकी मांग है कि नए अधिवक्ताओं को बार जॉइन करने के बाद पहले तीन साल तक सरकार की ओर से 5,000 रुपए मासिक भत्ता दिया जाए, साथ ही उन्हें पुस्तकालय, चैंबर और आवास निर्माण के लिए बैंकों की ओर से सस्ती दरों पर ऋण की व्यवस्था की जाए।  इसके साथ ही अधिवक्ता सुरक्षा कानून यथाशीघ्र लागू किया जाना चाहिए।  वृद्ध अधिवक्ताओं के कल्याण के लिए 70 वर्ष से अधिक उम्र के अधिवक्ताओं को 10 हज़ार रुपए की मासिक पेंशन देने के साथ-साथ 10 लाख रुपए का दुर्घटना बीमा तथा 2 लाख रुपए के चिकित्सा बीमा की व्यवस्था की जाए।


एडवोकेट सुरेन्द्र ने कहा कि वे अधिवक्ता कल्याण निधि की राशि 1.25 लाख से बढ़ा कर 10 लाख तक कराने के लिए संघर्ष करेंगे। इसके साथ ही अधिवक्ता की मृत्यु होने पर मृत्यु दावे की रकम 5 लाख से बढ़ा कर 10 लाख रुपए कराने के लिए संघर्षरत रहेंगे।  इसके साथ ही उत्तर प्रदेश में भी महाराष्ट्र की भांति न्यूनतम अधिवक्ता फीस की व्यवस्था कराने का प्रयास करेंगे। इस मौके पर पिलखुआ कचहरी परिसर में मौजूद अधिवक्ताओं ने एडवोकेट सुरेन्द्र पाल सिंह को आगामी एमएलसी चुनावों में पूर्ण समर्थन का आश्वासन दिया। इस मौके पर उस्मान अंसारी, फूल सिंह और एडवोकेट मदन पाल सिंह आदि भी उपस्थित रहे।                                    

5वें दिन पेट्रोल-डीजल की कीमत में इजाफा

लगातार पांचवें दिन पेट्रोल-डीजल की कीमत में हुआ इजाफा


नई दिल्‍ली। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में कच्‍चे तेल की कीमत में इजाफा का असर घरेलू बाजार भी पड़ा है। सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों ने लगातार पांचवें दिन भी पेट्रोल-डीजल के दाम में इजाफा किया है। इसी के साथ दिल्‍ली में पेट्रोल 6 पैसे प्रति लीटर और डीजल 16 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया है।


चार महानगरों में पेट्रोल-डीजल के भाव
इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक देश के चार महानगरों दिल्‍ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता में पेट्रोल की कीमत बढ़कर क्रमश: 81.59 रुपये, 88.29 रुपये, 84.64 रुपये और 83.15 रुपये प्रति लीटर हो गया है। डीजल का भाव भी बढ़कर क्रमश: 71.41 रुपये, 77.90 रुपये, 76.88 रुपये और 74.98 रुपये प्रति लीटर हो गया है।


अन्‍य प्रमुख शहरों में पेट्रोल-डीजल के दाम
चार महानगर के अलावा, नोएडा में पेट्रोल 82.04 रुपये, रांची में 81.17 रुपये, लखनऊ में 81.96 रुपये और पटना में 84.20 रुपये प्रति लीटर के दाम पर मिल रहा है। डीजल की बात करें तो नोएडा में डीजल 71.86 रुपये, रांची में 75.60 रुपये, लखनऊ में 71.80 रुपये और पटना में 76.94 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड 45 डॉलर पार... गौरतलब है कि इसके पहले तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल की कीमत में लगातार 48 दिनों तक कोई बढ़ोतरी नहीं की थी। लेकिन, पिछले पांच दिनों में ही पेट्रोल 95 पैसे प्रति लीटर महंगा हो चुका है। वहीं, अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड 45 डॉलर के पार चला गया है। मध्यप्रदेश के शहरों में आज पेट्रोल-डीजल के दाम इस प्रकार हैं-।        


ट्रंप की यात्रा के दौरान दंगे कराना चाहता था

रोशन कुमार


नई दिल्ली। पूर्व छात्र नेता उमर खालिद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की दिल्ली यात्रा के दौरान दिल्ली में हिंसक दंगे करवाने की साजिश रच रहा है। इसका खुलासा दिल्ली पुलिस ने दंगों के सिलसिले में दाखिल अपने पूरक आरोप पत्र में किया है। जेएनयू के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद चाहता था कि भारत में अल्पसंख्यकों पर हो रहे तथाकथित अत्याचार का विश्व स्तर पर प्रचार हो सके। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अमिताभ रावत की अदालत में आज (मंगलवार को) इस पूरक आरोप पत्र की कॉपी आरोपियों को देने और संज्ञान लेने के बारे में सुनवाई करेगी। इससे पहले दिल्ली पुलिस ने रविवार को अदालत में हिंसा की साजिश रचने के आरोप में खालिद के अलावा जेएनयू छात्र शरजील इमाम के खिलाफ पूरक आरोप पत्र दाखिल किया है।


दिल्ली पुलिस ने आरोप पत्र में कहा गया है कि खालिद एक साजिश के तहत 23 फरवरी को दिल्ली से पटना गया और 27 फरवरी को वापस लौटा। खालिद ने अन्य आरोपियों के साथ चांद बाग में एक कार्यालय में बैठक भी की थी। पुलिस ने अदालत को बताया कि सांप्रदायिक हिंसा एक सोची समझी साजिश थी जिसे खालिद और दो अन्य लोगों ने अंजाम दिया। इसके लिए खालिद ने कथित तौर पर दो अलग-अलग स्थानों पर भड़काऊ भाषण दिए थे और नागरिकों से अपील की थी कि वे ट्रंप की यात्रा के दौरान सड़कों पर उतरें और रास्ते जाम करें, ताकि भारत में अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचारों का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रचार-प्रसार किया जा सके। दिल्ली पुलिस ने कहा है कि इस साजिश में कई घरों में हथियार, पेट्रोल बम, एसिड की बोतलें और पत्थर एकत्र किए गए थे। पुलिस ने आरोप लगाया कि सह-आरोपी मोहम्मद दानिश को दंगों में शामिल करने के लिए दो अलग-अलग स्थानों पर लोगों को एकत्रित करने की जिम्मेदारी दी गई थी। अदालत में दाखिल आरोपपत्र के अनुसार खालिद, इमाम और एक अन्य आरोपी फैजान खान के खिलाफ आतंकवादी निरोधक कानून ‘गैर-कानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम के विभिन्न धाराओं में तहत दर्ज इस मामले में अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अमिताभ रावत के समक्ष आरोप पत्र दाखिल किया।


आपको बता दें कि नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी के विरोध को लेकर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में 53 लोगों की मौत और 200 से अधिक घायल हो गए थे।                               


पृथ्वी की ओर तेजी से बढ़ रहा है 'उल्कापिंड'

साल 2020 में दुनिया को कई स्तर पर परेशानी का सामना करना पड़ा है। क्लाइमेंट चेंज, कोरोना वायरस महामारी जैसी तमाम चीजों ने दुनिया को इस साल में परेशान किया है। अब इस साल के खत्म होने से कुछ समय पहले एक उल्कापिंड के पृथ्वी की तरफ कदम बढ़ा रहा है और ये कोई छोटा-मोटा उल्कापिंड नहीं बल्कि इसका साइज दुनिया की सबसे लंबी बिल्डिंग दुबई की बुर्ज खलीफा जितना है। नासा ने कंफर्म किया है कि 153201 2000 WO107 नाम का ये उल्कापिंड नवंबर 29 यानि रविवार को धरती के पास से गुजरेगा। ये उल्कापिंड 90 हजार किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रैवल कर रहा है। इस उल्कापिंड का साइज 820 मीटर के आसपास बताया जा रहा है। बता दें कि बुर्ज खलीफा की हाइट 829 मीटर है और ये दुनिया का सबसे बड़ा मानव निर्मित स्ट्रक्चर है।           


भाजपा की मदद कर रहे हैं ओवैसीः पाशा

भाजपा की मदद कर रहे ओवैसी', बड़ा आरोप लगा तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुए एआईएमआईएम के कई बड़े नेता
 ऑल इंडिया मजलिस-ए- इत्तेहादुल- मुस्लिमीन पश्चिम बंगाल के नेता अनवर पाशा ने अपने साथियों के साथ ओवैसी का साथ छोड़कर सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस जॉइन कर ली।


कोलकाता। ऑल इंडिया मजलिस-ए- इत्तेहादुल- मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) की पश्चिम बंगाल इकाई के नेता अनवर पाशा सोमवार को यह दावा करते हुए अपने साथियों के साथ सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए कि उनकी मूल पार्टी वोटों का ध्रुवीकरण कर बस बीजेपी को मदद पहुंचाने का काम कर रही है।
पाशा ने आरोप लगाया कि लोगों का एक वर्ग धर्म का इस्तेमाल करके देश को विध्वंस की ओर ले जा रहा है। उन्होंने कहा कि फिलहाल पश्चिम बंगाल पर नजर गड़ाए हुए लोगों, चाहे उन्होंने भगवा पहन रखा हो या हरा, को जान लेना चाहिए कि ऐसे बांटने वालों की इस राज्य में कोई जगह नहीं है। उन्होंने कहा, 'एआईएमआईएम ने बिहार में वोटों के ध्रुवीकरण में भूमिका निभायी और वहां भाजपा को सरकार बनाने में मदद पहुंचायी लेकिन ऐसा बंगाल में नहीं होगा।'
वेस्ट बंगाल में हैं 30% मुसलमान-
पाशा ने कहा कि पश्चिम बंगाल की 30 फीसद जनसंख्या मुसलमान है और बिहार में जो भी राजनीतिक घटनाक्रम हुआ, उसे इस राज्य में नहीं दोहराया जा सकता है। मंत्री द्वय ब्रत्य बसु और मोली घाटक ने पाशा का तृणमूल कांग्रेस में स्वागत किया। एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने रविवार को कहा था कि उनकी पार्टी पश्चिम बंगाल में चुनाव लड़ने के विषय पर वहां के अपने नेताओं के साथ चर्चा करेगी।                            


सोने-चांदी की कीमतों में आईं भारी गिरावट

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार के प्रभाव से सोने-चांदी की कीमतों में जबरदस्त गिरावट आई है। धनतेरस से लेकर अब तक की स्थिति में सोने की कीमतों में 1700 रुपए की गिरवाट दर्ज की गई है और चांदी 3200 रुपए लुढ़क गई है। दोनों कीमती धातुओं में गिरावट सोमवार देर रात दर्ज की गई। सोना प्रति दस ग्राम 51,300 रुपए और चांदी प्रति किलो 62,400 रुपए रही।                 


विरोध में खड़ा होने पर 6 साल के लिए निष्कासित

एमएलसी का निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले मानवीर पुंडीर पूर्व जिलाध्यक्ष 6 साल के लिए बीजेपी से निष्कासित


अरविंद सैनी


सहारनपुर। जानकारी के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के निर्देश पर महामंत्री जेपी राठौर ने मानवीर पुन्डीर को भाजपा के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ चुनाव लड़ने को अनुशासनहीनता माना है और उन्हें तत्काल 6 साल के लिए भारतीय जनता पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है ।उन्होंने बताया कि जनपद सहारनपुर के प्रत्येक मंडल में कुछ भाजपा पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं की भी शिकायतें प्राप्त हुई हैं ,जो लोग दिनेश गोयल भाजपा प्रत्याशी के अलावा अन्य प्रत्याशियों का सहयोग कर रहे हैं ।उनके विरुद्ध भी निष्कासन की कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में मंडल अध्यक्षों ने जिला अध्यक्ष महेंद्र सैनी को अवगत कराया है। इस संबंध में क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल से रिपोर्ट मंगाई गई है, स्नातक एवं शिक्षक चुनाव में भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष मोहित बेनीवाल सहारनपुर के प्रभारी हैं ,और उनके पास भी इस प्रकार की कुछ शिकायतें प्राप्त हुई हैं ।जिसमें भाजपा के कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी अधिकृत प्रत्याशी दिनेश गोयल के अलावा अन्य प्रत्याशियों का चुनाव में प्रचार एवं सहयोग कर रहे हैं।                             


हादसे में दादी-पोते की हुई मौत, कई जख्मी

भात नोतने जा रहा था परिवार, रास्ते में ही हादसे में दादी-पोते की मौत, कई जख्मी


महेंद्रगढ़। शादी की खुशियों उस मातम में बदल गई, जब भात नोतने जा रहे परिवार के साथ रास्ते में हादसा हो गया। इस हादसे में दादी पोते की मौत हो गई और कई अन्य जख्मी हो गए। बताया जा रहा है कि गांव अगिहार में भात नोतने जा रहे परिवार की गाड़ी के अचानक ब्रेक फेल हो गए, जिससे गाड़ी असंतुलित होकर पेड़ से टकरा गई। इस हादसे में दादी और पोते की मौत हो गई और तीन महिलाएं गंभीर रूप से घायल हो गई। राहगीरों ने घायलों को नागरिक अस्पताल महेंद्रगढ़ भर्ती करवाया जहां पर चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार देकर हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया। जानकारी के अनुसार गोपालवास निवासी पप्पू की 30 नवंबर को दो लड़कियों की शादी है। रविवार को उनका पूरा परिवार भात नोतने के लिए गांव अगिहार जा रहे थे। गाड़ी में लालचंद पुत्र सुलतान सिंह, राजो पत्नी पप्पू (45), कैलाश पत्नी मुनेश (43), लक्ष्मी देवी पत्नी सुलतान सिंह (86), आशीष पुत्र ओमपाल (05), सोनिया पुत्री मुनेश (20), राधा सवार थे। अगिहार से दो किलोमीटर पहले ही उनकी गाड़ी के ब्रेक फेल हो गए। जिस कारण गाड़ी असंतुलित होकर पेड़ से जा टकराई। इस हादसे में लक्ष्मी, आशीष, राजो, कैलाश, सोनू गंभीर रूप से घायल हो गई। जबकि पप्पू और लालचंद को मामूली खरोंचे आईं। राहगीरों ने उनको नागरिक अस्पताल महेंद्रगढ़ पहुंचाया जहां पर चिकित्सकों ने लक्ष्मी और आशीष को मृत घोषित कर दिया जबकि राजो, कैलाश एवं सोनू का हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया।
30 नवंबर को पप्पू की दो बेटियों की शादी होनी है। शादी के लिए घर पर जोरों से तैयारियां चल रही थीं। लोगों को शादी में आमंत्रित करने के लिए कार्ड भी वितरित कर दिए थे। रविवार को ग्रामीण महिलाओं ने भात नोतने जाने से पहले मांगलिक गीत गाकर भेजा था लेकिन रविवार को अचानक उनकी खुशी मातम में बदल गई।                 


बेकाबू कार सवारियों समेत नदी में गिरीं

ऋषिकेश। जहां ऋषिकेश से दिल्ली जा रहीऑल्टो कार अचानक ही बेकाबू होकर गंगनहर में गिर गई। मुजफ्फरनगर के पुरकाजी इलाके के कमहेडा पुल के पास हुए इस हादसे के बाद यहां से गुजर रहे लोगो ने शोर मचा दिया। तत्काल ही राहत कार्य शुरू हो गया लेकिन तब तक 1 युवती की सांसे टूट चुकी थी तो एक युवती अचेत अवस्था मे मिली ग्रामीणों ने रस्सा डालकर राहत कार्य को अंजाम दिया। लोगो का कहना है कि हादसे के दौरान ऑल्टो कार में 4 लोग सवार थे।              


शहर में वेश्यावृत्ति का बना टॉप होटल

शहर में वैश्यावृत्ति का दलदल बना होटल “ऑल इज वेल”


कलक्टरगंज। शहर के कई होटलों में ऐसे कई घटनाक्रम बंद कमरों में रोज घटित हो रहे हैं जो संभवतः कभी बाहर ही नहीं आ पाएंगे।थाना कलक्टरगंज स्थित कोपरगंज का होटल, जो बना हुआ हैं वैश्यावृत्ति का दलदल। होटल ऑल इज़ वेल के एसी कमरे रेड कारपेट पर रोज करते हैं कई इंसानी भेड़ियों का स्वागत। कई रंग बदलते हैं और कई रूप, लेकिन नहीं बदलता तो वो है। इन वहशी दरिंदों और होटल संचालकों की सांठ-गांठ का ढंग।महज 2 से ढाई घंटों के लिए बुक होने वाले इन एसी कमरों में क्या होता है, यह प्रशासन भी बखूबी समझता है। कब होगी होटल ऑल इज वेल पर सख्ती या जारी रहेगी ये वैश्यावृत्ति?  आज हम 21वीं सदी के उस दौर में आ पहुंचे हैं जहां पर महिला उत्पीड़न और यौन शोषण के मामले हर सरकार के रहते हुए भी हर दिन के साथ बढ़ते नजर आ रहे हैं। जिसको लेकर चुनाव के वक्त राजनीति भी खूब गर्माती है तो कई दल खुद दुष्कर्म के आरोपियों को टिकट से लेकर संरक्षण देने का काम भी किया करते हैं। इन सबके बीच नई पैकिंग के साथ पुरानी योजनाओं को लॉन्च किए जाने का सिलसिला भी जारी रहता है जिनमें निर्भया फंड, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जैसी अनेक योजनाएं शामिल हैं लेकिन धरातल पर इसका भी कुछ खास असर दिखाई नहीं पड़ता।


देश की आधी आबादी के साथ उत्पीड़न, छेड़खानी, यौन शोषण और दुष्कर्म जैसे गंभीर मामलों से आए दिन अखबार और टीवी चैनल पटे रहते हैं लेकिन क्या कोई भी कभी इन खबरों के अंदर की गहराई तक पहुंचने का प्रयास करता है। यकीन मानिए यह जितने भी मामले दर्ज होते हैं, वास्तविकता में इनकी संख्या 10 गुने से भी ज्यादा है। वर्तमान में टीनएजर्स में इन मामलों की संख्याबल अत्यधिक है लेकिन यह कभी सामने नहीं आ पाते। कानपुर शहर में भी कई ऐसे घटनाक्रम बंद कमरों में रोज घटित हो रहे हैं जो  संभवतः कभी बाहर ही ना आ पाएंगे। आपको जानकर हैरानी होगी कि कानपुर शहर के कई होटल वैश्यावृत्ति के दलदल में हर दिन के साथ धसते चले जा रहे हैं जिनमें एक नाम थाना कलक्टरगंज स्थित कोपरगंज के होटल ऑल इज वेल का है। जो आसानी से 15-21 वर्ष की आयु के टीनेजर्स को अपना शिकार बना रहे हैं। मासूम और नाबालिग बच्चियां कहिए या टीनएजर्स जिनमें हार्मोनल चेंजेज के साथ हो रहे शारीरिक परिवर्तन के बीच जारी आकर्षण को होटल ऑल इज़ वेल के एसी कमरे रेड कारपेट पर स्वागत करते हैं। शहर में इंसानी मुखौटा पहने कुछ दरिंदे होटल आल इज वेल के एसी कमरों में टीनएजर्स के साथ जीने-मरने की कसमें खाते हैं और अपनी हवस का शिकार बनाते हैं। कई रंग बदलते हैं और कई रूप, लेकिन नहीं बदलता तो वो है इन वहशी दरिंदों और होटल संचालकों की सांठ-गांठ का ढंग।
महज 2 से ढाई घंटों के लिए बुक होने वाले इन एसी कमरों में क्या होता है, यह प्रशासन भी बखूबी समझता है लेकिन अफसोस तो तब होता है कि जब मां की दुलारी और पापा की एक और परी का ख्वाब टूटता है और वहशी दरिंदे से उसका नाता छूटता है। कसमों-वादों के साथ बहला-फुसलाकर देश के भविष्य को वैश्यावृत्ति का शिकार बनाने वाला दरिंदा निकल पड़ता है अपने अगले शिकार की ओर जो कमजोर होती हैं वो ढह जाती हैं, जो हिम्मत दिखाती हैं वो सह जाती हैं, तो कई जिंदगी के इस बीच सफर में ही पीछे छूट जाती हैं।


इस पूरे घटनाक्रम में सबसे बड़े कसूरवार है ऑल इज़ वेल जैसे होटल जो मात्र अपनी गाढ़ी कमाई के लालचवश इन दरिंदों का पूरा साथ देते है…. जो मासूम बच्चियों का चारित्रिक हनन होने देते हैं…. जो अपने एसी कमरों को वैश्यावृत्ति का अड्डा बनाते हैं… सेटिंग-गेटिंग के तहत संचालित हो रहे इन होटलों पर अगर लगाम नहीं लगी तो इसी प्रकार से ये होटल कई घरों की मासूमों को अपना शिकार बनाते रहेंगें।           


सर्दियों में लहसुन खाने के गजब फायदें

सर्दी के मौसम में लहसुन खाना हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इससे शरीर की इम्युनिटी  बूस्ट होती है और बीमारियां दूर भागती हैं। डाक्टरों की मानें तो लहसुन खाने से शारीरिक और मानसिक हेल्थ भी सही रहता है। लहसुन शरीर को अंदर से गर्म रखता है। ऐसे में सर्दियों में लहसुन खाना हेल्थ के लिए अच्छा होता है। आइए आपको बताते हैं कि लहसुन का सेवन करने से आप किन शारीरिक समस्याओं सरह सकते हैं।           


हादसे में दामाद और ससुर की दर्दनाक मौत

दर्दनाक हादसाः हादसे में दामाद और ससुर की मौत, दामाद सरकारी नौकरी की कर रहा था तैयारी


भिवानी। हरियाणा के भिवानी जिले के लोहारू रोड पर लोहानी व देवसर के बीच सोमवार शाम ट्रक की चपेट में आने से बाइक सवार ससुर व दामाद की मौत हो गई। दोनों शवों को जिला सामान्य अस्पताल के शवगृह में रखवाया गया। इस संबंध में मामले की सूचना पुलिस को दी। हादसा सोमवार दोपहर बाद करीब साढ़े चार बजे का है।
सड़क हादसे में मृतक गांव पायल निवासी सत्यनारायण दो बच्चों बेटी मनीष व एक बेटी का पिता था। वह गांव में ही खेतीबाड़ी करता था। बेटी की शादी उसने गांव बरालु निवासी तस्वीर सिंह के साथ करीब एक साल पहले की थी। तस्वीर सिंह अभी पढ़ाई के साथ साथ सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहा था। उसका पिता आर्मी से रिटायर्ड है। तस्वीर की पत्नी गर्भवती है। हादसे में हुई मौत के कारण वह अपने होने वाले बच्चे का मुंह भी नहीं देख सका।


विद्यानगर निवासी जयबीर ने बताया कि उसका साला गांव पायल निवासी 40 वर्षीय सत्यनारायण खेतीबाड़ी करता था। रविवार दोपहर बाद वह उससे मिलने के लिए विद्यानगर आ रहा था। उसके साथ में उसका दामाद गांव बरालु निवासी 20 वर्षीय तस्वीर सिंह भी बाइक पर सवार था। जब वो गांव लोहानी और देवसर मोड़ के बीच में पहुंचे तो अचानक ही अज्ञात वाहन की टक्कर मार दी। हादसे में सत्यनारायण और तस्वीर सिंह गंभीर रूप से घायल हो गया। राहगीर उन्हें उपचार के लिए अस्पताल लेकर गए, जहां ड्यूटी चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। इस संबंध में मामले की सूचना जूई पुलिस थाना को दी। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।                 


कोरोना के बढ़ते मामलों से 'एससी' नाराज

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। कोर्ट ने केंद्र सरकार और सभी राज्यों से कहा है कि वह अगले दो दिन में एक रिपोर्ट पेश करें। इस रिपोर्ट में सरकारें बताएं कि कोविड-19 से निपटने के लिए क्या-क्या कदम उठाए गए हैं। पिछले कुछ हफ्तों में दिल्ली और गुजरात में कोरोनावायरस संक्रमण तेजी से फैल रहा है जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने राज्यों और केंद्र सरकार से रिपोर्ट मांगी है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि गुजरात में हालात बेकाबू हो चुके हैं। कोरोनावायरस संक्रमण पर चेतावनी के लहजे में सुप्रीम कोर्ट ने कहा, “अगर राज्य सरकारें पहले से तैयार नहीं रहेंगी तो दिसंबर में सबसे बुरा दौर आ सकता है।”               


सपना का दिल्ली 'सीएम' अरविंद पर निशाना

सपना चौधरी का दिल्ली सीएम केजरीवाल पर निशाना, कही ये बात


चंडीगढ़। हरियाणवी फोक सिंगर सपना चौधरी मां बनने के बाद पहली बार सोमवार को फेसबुक और इंस्टाग्राम पर लाइव होकर बात की। सपना चौधरी ने 25 मिनट के अपने लाइव कार्यक्रम में दिल्ली की केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा। सपना चौधरी ने कलाकारों की बेरोजगारी को लेकर कहा कि शादी-विवाह समारोह में सिर्फ 50 लोगों के शामिल होने की लिमिट के आदेश से लाखों कलाकारों का रोजगार छिन गया है।
दरअसल सपना चौधरी कई महीनों बाद अपने प्रशंसकों के सामने लाइव आई थी। उन्होंने कहा कि कलाकार को जब काम नहीं मिलता तो वो गरीब होता है और इस वक्त वो भी गरीब हैं, क्योंकि लॉकडाउन और कोरोना वायरस संक्रमण के कारण से इवेंट इंडस्ट्री का काम बुरी तरह प्रभावित हुआ है। उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल के अक्षरधाम मंदिर से दिवाली कार्यक्रम करने पर सवाल उठाते हुए कहा कि क्या उससे कोरोना संक्रमण नहीं फैलता। जबकि शादी समारोह में सभी लोग एक स्थान पर कुछ ही देर के लिए मास्क लगाकर एकत्रित होते हैं।
सपना चौधरी ने कहा कि बस स्टैंड आदि सार्वजनिक स्थानों पर भी लोगों की भीड़ होती है, यहां भी नियम टूटते हैं। केजरीवाल सरकार द्वारा शादी-विवाह समारोह में मेहमानों की संख्या पर पाबंदी के निर्णय से लाखों कलाकारों की जिंदगी प्रभावित होगी, क्योंकि यह सीजन उनके लिए सालभर की कमाई करने का समय होता है। सपना ने कहा कि बेशक लोगों को यह मुद्दा छोटा लगता हो, लेकिन इससे लाखों कलाकारों का रोजगार छिन गया और वो सुसाइड की तरफ बढ़ रहे हैं। उन्होंने केजरीवाल सरकार ने शादी समारोह पर लागू पाबंदियों को हटाने की अपील की।                 


नशेड़ी पिता ने 3 बच्चों को नहर में फेंका

नशेड़ी पिता की करतूत, तीन बच्चों को नहर में फेंका, घर आकर कही ये बड़ी बात


करनाल। पिता अपने बच्चों का सबसे बड़ा रक्षक है, वहीं एक निर्दयी नशेड़ी पिता ने अपने मासूम तीन बच्चों को नहर फेंक दिया। मामला हरियाणा के जिला करनाल के कुंजपुरा क्षेत्र का है। बताया जा रहा है कि गांव नल्लीपार के रहने वाले एक पिता ने घरेलू कलह के बाद अपने तीन मासूम बच्चों को कलवेहरी व सुबरी गांव के पास आवर्धन नहर में फेंक दिया। वहां मौजूद लोगों ने भी रोकने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं माना और बच्चों को फेंक कर फरार हो गया। बाद में घर आकर बताया कि बच्चों को नहर में फेंक आया हूं। सूचना पर पुलिस ने बच्चों की तलाश के लिए गोताखोरों को बुलाया है। अंधेरा होने के कारण मंगलवार सुबह सर्च ऑपरेशन शुरू किया जाएगा।


जानकारी के अनुसार नल्लीपार निवासी सुशील गन्ने के जूस की रेहड़ी लगाता है। वह नशे का आदी है। इसके चलते घर में आए दिन झगड़ा होता। सोमवार शाम को भी इसी बात को लेकर पत्नी से झगड़ा हो गया। इससे गुस्साए सुशील ने 8 साल की बेटी मीना, 5 साल के बेटे देव, व 3 साल के बेटे जानी को जबर्दस्ती बाइक पर बैठा लिया और नहर के पास ले गया।


नहर पर मौजूद कुछ लोगों ने बच्चों के रोने की आवाज सुनी। लोगों ने दूर से आरोपी को रुकने को कहा, लेकिन वह नहीं माना। कुछ दूर आगे जाने के बाद उसने तीनों बच्चों को नहर में फेंक दिया। जब तक लोग मौके पर पहुंचे, सुशील फरार हो चुका था।


आरोपी सुशील कुछ देर बाद घर पहुंचा और घरवालों से बोला कि बच्चों को नहर में फेंक आया हूं। इसके बाद फरार हो गया। कंट्रोल रूम में फोन करने के साथ ही सुशील की पत्नी खुद थाने पहुंच गई। गांव वाले व परिजन बच्चों की तलाश में नहर पर पहुंचे। पुलिस भी मौके पर पहुंची और रेस्क्यू के लिए गोताखोरों को फोन किया। नहर पर अंधेरा होने व बहाव तेज होने के चलते तलाशी अभियान मंगलवार सुबह शुरू किया जाएगा।                           


प्रेमी ने प्रेमिका और मां-बाप की हत्या की

प्रेमी ने प्रेमिका और मां-बाप की हत्या कर की खुदकुशी, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान


बठिंडा। एक प्रेमी ने अपनी प्रेमिका और उसके मां-बाप की गोली मारकर हत्या कर दी और फिर आत्महत्या कर ली। ना-जाने ऐसे कितने ही प्रकार के मामले सामने आएं है। इस हत्याकांड की वजह जानकार आप हैरान हो जाएंगे, दरअसल प्रेमिका प्रेमी पर शादी के लिए दवाब बना रही थी। मामला पंजाब के बठिंडा का है। मृतकों की पहचान सहकारी सभा बीबी वाला के सचिव चरनजीत सिंह (55), उनकी पत्नी जसविंदर कौर (45) और बेटी सिमरन कौर (20) के तौर पर हुई है। क्षेत्र के गांव मानसा खुर्द का आरोपी युवकरन सिंह इस तिहरे हत्याकांड को अंजाम देने के बाद अपने गांव मानसा खुर्द जिला मानसा पहुंचा और गोली मारकर खुदकुशी कर ली।थाना कैंट पुलिस ने तिहरे हत्या कांड के आरोपी युवक युवकरन सिंह के खिलाफ मृतका सिमरन कौर के मामा हरबंस सिंह के बयान पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है। हत्याकांड को अंजाम देने से पहले बनाए गए वीडियो में युवक ने प्रेमिका पर शादी न करने पर दुष्कर्म का केस दर्ज कराने की धमकी देने का आरोप लगाया है। एसएसपी भूपिंदरजीत सिंह विर्क ने मीडिया को युवकरन सिंह का वीडियो जारी किया है। एसएसपी के अनुसार युवकरन सिंह का बठिंडा की कमला नेहरू कालोनी में रहने वाले दंपती चरनजीत सिंह एवं जसविंदर कौर की लड़की सिमरन कौर से पिछले दो वर्ष से प्रेम संबंध थे। इसी दौरान युवकरन सिंह को अपनी प्रेमिका के किसी अन्य से अफेयर के बारे में पता लगा तो वह सिमरन से बात करने से पीछे हट गया। वहीं सिमरन कौर उस पर शादी करने का दबाव डालने लगी। शादी से इनकार करने पर वह दुष्कर्म का केस दर्ज करवाने की धमकियां देने लगी। वीडियो में लड़के ने बताया कि पिछले छह माह से सिमरन उसे मानसिक तौर पर बहुत ज्यादा परेशान कर रही थी। इससे वह तनाव में रहने लगा था। इस पर वह रविवार देर रात को अपने भाई का लाइसेंसी रिवाल्वर लेकर कार से अपनी प्रेमिका सिमरन के घर आया और प्रेमिका और उसके माता-पिता के सिर में एक-एक गोली मारकर हत्या करने के बाद वापस अपने गांव चला गया था। एसएसपी के अनुसार सोमवार की सुबह दूध देने वाला चरनजीत सिंह के घर पर दूध देने पहुंचा। दूध वाले के डोर बेल बजाने पर कोई बाहर नहीं आया। इस पर वह अंदर चला गया। बेडरूम में चरनजीत सिंह, उनकी पत्नी जसविंदर कौर और बेटी सिमरन कौर के शव पड़े थे। इस पर आसपास के लोगों और पुलिस को मामले की जानकारी दी। सूचना मिलने पर एसपी सिटी जसपाल सिंह और थाना कैंट की पुलिस मौके पर पहुंची। एसपी सिटी ने तिहरे हत्याकांड की जांच शुरू करते हुए सिमरन कौर के मोबाइल की कॉल डिटेल निकलवाई। इसके बाद पूरा मामला सामने आ गया।एसएसपी ने बताया कि आरोपी युवकरन सिंह ने अपनी प्रेमिका सिमरन कौर से दुखी होकर उसकी एवं उसके माता-पिता की उनके सिर में एक-एक गोली मारकर हत्या की। इसके बाद आरोपी ने अपने गांव मानसा खुर्द में जाकर गोली मारकर खुदकुशी कर ली थी। एसएसपी ने बताया कि पुलिस ने युवकरन के भाई का 32 बोर का लाइसेंसी रिवाल्वर बरामद कर लिया है। पुलिस ने मृतका सिमरन कौर के मामा हरबंस सिंह के बयान पर थाना कैंट में मृतक युवकरन सिंह के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने सिमरन कौर, चरनजीत सिंह और जसविंदर कौर के शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल भेजा है।


तिहरे हत्याकांड में जान गंवाने वाली महिला जसविंदर कौर के भाई हरबंस सिंह निवासी मोगा ने बताया कि उसका भांजा मनप्रीत सिंह इंग्लैंड में रहता है और वहीं पर उसने इंग्लैंड निवासी महिला के साथ शादी कर ली थी। इसके बाद वह वहां का पक्का निवासी हो गया था। उसने बताया कि उसकी बहन एवं जीजा और भांजी को कुछ दिनों बाद मनप्रीत सिंह से मिलने इंग्लैंड जाना था।           


दिल्ली के बाजार में 'लेडी डॉन' का आतंक

नई दिल्ली। अक्सर आपने इस तरह के वीडियो देखे होंगे जहां आदमी नशे की हालत में दुकानदार के साथ दबंगई करते हैं, उनके साथ मारपीट करते हैं और उनके ऊपर बंदूक तान देते हैं। लेकिन दिल्ली के चौहान बांगड़ इलाके में पिछले हफ्ते एक महिला ने नशे की हालत में जकर उत्पात मचाया। रिपोर्ट के अनुसार 18 नवंबर को 28 वर्षीय महिला ने एक मोबाइल दुकानदार के साथ बहस के बाद उसकी दुकान के बाहर जमकर बवाल काटा और हवाई फायरिंग की। महिला के उत्पात का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।                 


कार्यालय भवन पर ऑब्जेक्शन लगाना पड़ा भारी

भाजपा जिला कार्यालय के भवन पर ऑब्जेक्शन लगाना पड़ा भारी, जेई की नियुक्ति की रद्द


राणा ऑबराय


चंडीगढ़। नगर निकाय विभाग ने नारनौल नप में पार्ट 2 पालिसी के तहत एक साल के लिये लगाए गए BI की नियुक्ति रद्द की है। बताया जा रहा है कि इस BI ने नप में JE पद पर रहते हुए नारनौल में BJP के जिला कार्यालय के प्रस्तावित भवन के नक्शे पर ऑब्जेक्शन लगाया था। जिसके चलते नारनौल नप में DC रेट पर JE के रिक्त पद पर लगे विकास शर्मा को कुछ दिनों बाद ही यहां का JE का रिक्त पद भर कर हटा दिया था।


विकास शर्मा BJP के एक पूर्व चेयरमैन का नजदीकी रिश्तेदार था, इसके बावजूद भी इस JE ने BJP के ही आफिस के नक्शे पर ऑब्जेक्शन लगाया था। जिस पर चर्चा यह चली थी कि BJP की गुटबाजी के चलते ही इस JE ने ऐसा किया था। मामला CM और पार्टी हाई कमान तक लाया गया तो एक पखवाड़े के अंदर अंदर इस JE को हटाने के लिये रिक्त पद भरने के लिए पहले कनीना के JE को चार्ज दिया गया फिर इसे हटाया गया है।             


भिवानी में क्लर्क पदों के लिए निकाली भर्ती

भिवानी में क्लर्क पदों के लिए निकली भर्ती, जल्द करे आवेदन


भिवानी। कार्यालय जिला और सत्र न्यायाधीश, भिवानी ने क्लर्क के 34 पदों को भरने के लिए एक अधिसूचना जारी की है। योग्य / इच्छुक उम्मीदवार निर्धारित आवेदन प्रारूप में 03.12.2020 पर या उससे पहले आवेदन कर सकते हैं। इन पदों को भरने के लिए शैक्षणिक योग्यता, आयु सीमा, चयन प्रक्रिया और आवेदन कैसे करें नीचे दिए गया हैं। यहां जारी क्लर्क के कुल पदों की संख्या 34 है, जिसमें सामान्य वर्ग के 18 पद, BCA के 04 पद, BCB के 02 पद एससी वर्ग के 06 पद, जनरल (ईएसएम) का 01 पद, जनरल (PwD) का 01 पद, बीसीए (ईएसएम) का 01 पद, बीसीबी (ईएसएम) का 01 पद शामिल है।


इन पदों के लिए आवेदन करने के लिए सामान्य वर्ग के आवेदक का जन्म 02.01.1978 से पहले और 01.01.2002 के बाद का नहीं होना चाहिए। वही एससी / बीसी के आवेदक का जन्म 02.01.1973 से पहले और 01.01.2002 के बाद का नहीं होना चाहिए। (दोनों तिथियां सम्मिलित)। इन पदों पर आवेदन के लिए आवेदक के पास किसी भी स्ट्रीम में बैचलर डिग्री होनी चाहिए और इस पद के लिए पात्र आवेदकों के लिए कोई शुल्क नहीं है।


चयन प्रक्रिया व वेतनमान: चयन लिखित परीक्षा और कंप्यूटर प्रवीणता टेस्ट में प्रदर्शन के आधार पर होगा। चयन के बाद आवेदक को 25500 / – तक वेतन देय होगा |


आवेदन कैसे करें: योग्य / इच्छुक उम्मीदवार निर्धारित आवेदन प्रारूप में आवेदन पत्र पर चिपकाए गए राजपत्रित अधिकारी द्वारा प्रशंसापत्र और सत्यापित फोटो की स्वप्रमाणित प्रतियों के साथ आवेदन कर सकते हैं। आवेदकों को अपना भरा हुआ आवेदन पत्र जिला एवं सत्र न्यायाधीश भिवानी, 127021, हरियाणा को भेजना होगा।           


जूनियर भारतीय हॉकी टीम में हुआ चयन

फतेहाबाद की बेटी सुमिता नैन छाई, जूनियर भारतीय हॉकी टीम में हुआ चयन


राणा ऑबरॉय


चंडीगढ़। हरियाणा खेलों में कितना आगे है। यह पूरा देश जानता है। इसी खेल को आगे बढ़ाते हुए जिला फतेहाबाद के गांव बैजलपुर की बेटी सुमिता नैन ने भारतीय हॉकी टीम के कैंप में जगह बना ली है। देशभर से 37 जूनियर महिला हॉकी खिलाड़ियों का हॉकी कैंप के लिए चयन हुआ है। इनमें फतेहाबाद जिले से एकमात्र खिलाड़ी सुमिता नैन अपने गांव से हॉकी प्रशिक्षण कैंप के लिए बंगलूरू स्थित साईं सेंटर रवाना हुई। बंगलूरू में 22 नवंबर से 31 दिसंबर तक जूनियर भारतीय महिला हॉकी टीम के लिए कैंप चलेगा। पूरे हरियाणा से बंगलूरू कैंप के लिए सात खिलाड़ियों का चयन हुआ है।


सुमिता नैन इससे पहले हॉकी में कई बार लोहा मनवा चुकी है। वर्ष 2016 में इंडिया सब जूनियर 7वीं हॉकी चैंपियनशिप व इंडिया जूनियर महिला हॉकी चैंपियनशिप में सुमिता का बेहतर प्रदर्शन रहा था। वर्ष 2017 में एक बस दुर्घटना में सुमिता के दाहिने पैर पर गंभीर चोट आई थी। इस कारण वह एक साल ग्राउंड से दूर रही। मगर सुमिता का हौसला कमजोर नहीं हुआ और फिर से उसने कड़ी मेहनत के साथ खेल को और भी ज्यादा तराशा। वर्ष 2019 में भारतीय महिला जूनियर 9वीं चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल लेकर अपना लोहा मनवाया और उसी उपलब्धि के कारण उसका चयन इस कैंप के लिए हुआ है।


जूनियर नेशनल हॉकी खिलाड़ी सुमिता नैन कोरोना महामारी के दौरान साई सेंटर हिसार से अपने गांव बैजलपुर लौट आई थी। लॉकडाउन के दिनों में राजकीय उच्च विद्यालय बैजलपुर के हॉकी ग्राउंड में अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी संदीप कुमार नैन व कोच रणसिंह की देखरेख में नियमित अभ्यास जारी रखा। सुमिता के पिता जगदीश नैन सहित सभी परिजनों ने उम्मीद जताई है कि सुमिता का चयन राष्ट्रीय टीम में भी होगा और वह अपने गांव का नाम रोशन करेंगी।


सुमिता के पिता हॉकी खिलाड़ी जगदीश नैन ने बताया कि सुमिता ने कोरोना महामारी के बीच भी अपना अभ्यास लगातार जारी रखा है। बंगलूरू कैंप में उसे अपनी प्रतिभा को निखारने का और मौका मिलेगा। पूरी उम्मीद है कि सुमिता एक दिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी खेलेगी।           


घर लौट रहे 2 नवयुवकों को मारी टक्कर, मौत

खेत से घर लौट रहे दो नवयुवकों को तारकोल बिछाने वाली गाड़ी ने मारी टक्कर, दोनों की मौत


राणा ऑबरॉय


चंडीगढ़। हरियाणा के टोहाना हल्के के गांव करंडी के समीप रविवार रात को एक दर्दनाक हादसे में बाइक सवार दो युवकों की मौत हो गई। दोनों मृतक युवक करंडी गांव के रहने वाले थे। रविवार रात करीब 8 बजे खेत से घर लौट रहे थे। इस दौरान सड़क पर तारकोल बिछाने वाली मशीन ने बाइक को सामने से टक्कर मार दी। सूचना मिलने पर कुलां चौकी पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया है।


गांव करंडी निवासी 22 वर्षीय गुरबाज सिंह पुत्र गुलजार सिंह व 21 वर्षीय कमलजीत सिंह पुत्र सतबीर सिंह रविवार रात को बाइक पर सवार होकर घासवा रोड से अपने खेतों से बनछटियां काटने के काम से मुक्त होकर वापस घर लौट रहे थे। बताया गया है कि गांव से बाहर निकलते ही करंडी-घासवा मार्ग पर तेज गति से आ रहीं सड़क पर तारकोल डालने वाली मशीन से बाइक की जोरदार टक्कर हो गई। हादसे बाद मशीन चालक मौके से भाग निकला। राहगीरों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।


सूचना पाकर पहुंची पुलिस व लोगों ने दोनों घायलों को उपचार के लिए अस्पताल भिजवाया जहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। जांच अधिकारी कुलां पुलिस चौकी प्रभारी कपिल देव ने बताया कि दोनों युवकों का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों के सौंप दिया है। वहीं मशीन को अपने कब्जे में लेकर अज्ञात चालक के विरुद्ध मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश की जा रही है।             


रोडवेज विभाग को घाटे से उभारने की तैयारी

रोडवेज विभाग को अब घाटे से उभारने की तैयारी, अपनाया जाएगा ये फॉर्मूला


राणा ऑबराय


चंडीगढ़। हरियाणा सरकार अब रोडवेज विभाग को घाटे से उबारने की तैयारी में है। इसके लिए सरकार ने आईपीएस अधिकारी शत्रुजीत कपूर को परिवहन विभाग की जिम्मेदारी सौंपी है। आपको बता दें कि हरियाणा के बिजली विभाग को घाटे से उबारने वाले आईपीएस अधिकारी शत्रुजीत कपूर ही हैं। पूरी तरह से हाईटेक हुआ बिजली विभाग आज पहले से काफी अच्छी स्थिति में है। जहां बिजली विभाग में बिजली चोरी न के बराबर रह गई है। वहीं शत्रुजीत कपूर के दिशा निर्देश पर चले बिजली विभाग ने जनता हितैषी कई योजनाएं चलाई और जहां जनता का लाखों रूपये का बकाया बिल हजारों रूपये में निपट गया। वहीं सरकार के खजाने में हजारों करोड़ रूपया जमा हुआ।
शत्रुजीत कपूर को परिवहन विभाग की जिम्मेदारी दी गई है, जिसमें वह बतौर प्रधान सचिव के रूप में काम करेंगे। शत्रुजीत कपूर ने बताया कि प्रदेश की ढाई करोड़ जनता को विशेष सुविधाएं देने के साथ-साथ ड्राईविंग लाइसेंसिंग, रजिस्ट्रेशन, व्हीकल फिटनैस के मुख्य मुद्दे हैं, जिसमें बड़े स्तर पर सुधार की जरूरत है। साथ ही उन्होंने कहा कि विभाग को पूरी तरह से ऑनलाईन तो किया ही जाएगा, साथ ही टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर सेवाओं को बेहतर बनाना उनकी प्राथमिकता रहने वाली है।
इस मौके पर नए डीटीओ लगाने के सरकार के फैसले को भी अच्छा कदम बताया। उन्होंने कहा कि यह फैसला विभाग को बहुत अधिक लाभ पहुंचाने वाला साबित होगा। उन्होंने कहा कि इससे अधिकारी फोकस तरीके से अपना काम करेंगे। उनका ध्यान मोटर व्हीकल एक्ट और इससे जुड़े जितने भी नियम बने हैं, उनको सख्ती से लागू करवाने की तरफ रहेगा और इसके परिणाम काफी बेहतर आएंगे।


शत्रुजीत कपूर ने बताया हाल ही में परिवहन विभाग भले ही आर्थिक रूप से अच्छी स्थिति में न हो परन्तु प्रदेश में 24 डिपो और काफी सब डिपो भी हैं, जिसमें जीएम स्तर के अधिकारी इंचार्ज हैं। जिन्हें कपूर के द्वारा डिमांड की जगह ज्यादा-से-ज्यादा गाडिय़ां चलाने के निर्देश दे दिए गए हैं, जिससे जनता को भी प्रदेश रोडवेज की अधिक सुविधाएं मिलेंगी और प्राईवेट वाहनों पर भी शिकंजा कसा जा सकेगा। इससे प्रदेश के इस विभाग का अच्छा बिजनेस निकलेगा और घाटा कम होगा।


कपूर ने बताया कि बताया कि सड़कों पर दौडऩे वाले वाहनों की संख्या में जहां इजाफा हुआ है, उससे एक्सिडेंट की घटनाएं भी काफी बढ़ी हैं। इसे लेकर भी परिवहन विभाग उन जगहों की पहचान करेगा जहां घटनाएं ज्यादा घटती हैं, उसके बाद मुख्य कारणों का पता लगाकर विभाग द्वारा जितना मुमकिन हो पाएगा सुधार किया जाएगा। साथ ही अब सिस्टम में ऐसे बदलाव किए जाएंगे कि लाइसेंस दलालों के माध्यम से नहीं बल्कि योग्यता से मिलेंगे। इससे भी एक्सिडेंट में कमी आना लाजमी है। कपूर के अनुसार अब प्रदेश की सड़कों पर जो भी शराब के नशे में या ओवर स्पीड गाड़ी चलाएगा, उनपर किसी प्रकार की रियायत नहीं बरती जाएगी। नियमों का पालन करवाने के लिए सख्ती बरती जाएगी।           


बेरोजगारों को रोजगार दिलाना मेरा उद्देश्य

शिक्षित बेरोजगारों को उचित रोजगार दिलाना मेरा उद्देश्य
आदर्श श्रीवास्तव


लखीमपुर खीरी। 6 नवम्बर 2020 को मण्डलायुक्त कार्यालय में लखनऊ खण्ड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से विधान परिषद् सदस्य पद के लिए नामांकन कर दिया है। पूरी निष्ठा से पिछले कार्यकाल में जनसेवा की है। उसी आशा और विश्वास के साथ पुनः आपके बीच उपस्थित हूँ।
प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांति सिंह प्रत्याशी सदस्य विधान परिषद ने बताया, 2014 से लेकर अबतक पूरी पारदर्शिता, निष्पक्षता और कर्मठता से सातों जनपदों में विकास के लिए कार्य किया है। अपनी निधि का शत-प्रतिशत सदुपयोग करते हुए सातों जिलों में सोलर लाइटें, हैण्ड पम्प, सड़क निर्माण, विद्यालय में भवन व शौचालय निर्माण, विद्युतीकरण, कचहरियों में टिन शेड, स्मृति द्वार, गरीबों के इलाज हेतु अनुदान, गरीब लड़कियों के विवाह में आर्थिक सहायता आदि कार्य पूरी सक्रियता से सम्पन्न कराया है। जैसा कि आप जानते हैं कि पहले सरकारी प्राइमरी स्कूलों के बच्चे टाट पट्टी पर बैठकर पढ़ाई करते थे, इस ओर सरकार का ध्यान आकृष्ट करते हुए सरकारी प्राइमरी विद्यालयों में फर्नीचर आदि की उचित व्यवस्था करायी।
जैसा कि हम सभी अवगत हैं कि विधान परिषद के लखनऊ खण्ड स्नातक क्षेत्र का चुनाव दिनांक 1 दिसम्बर 2020 को प्रातः 8 बजे से सायं 5 बजे तक सम्पन्न होगा। मैंने पिछला चुनाव आप सबके आशीर्वाद से भारी मतों से जीता था। मेरी कार्यकुशलता एवं लोकप्रियता से फायदा उठाने के लिए कुछ मिलते-जुलते नाम वाले लोगों ने भी विधान परिषद सदस्य पद के लिए नामांकन किया है। आप के अखबार/चैनल के माध्यम से मैं निवेदन करती हूँ कि चुनाव में कान्ति सिंह पत्नी एस पी सिंह के नाम एवं फोटो के सामने वाले खाने में 1 लिखें।
ग्रामीण क्षेत्रों के बेरोजगार समुचित सूचना व जानकारी के अभाव में शिक्षित व योग्य होते हुए भी नौकरियाँ नहीं पा पाते हैं। युवकों को बेहतर रोजगार के अवसर दिलाना हमारी प्राथमिकता है। इस कड़ी में डाॅ0 एस0पी0 सिंह की लिखी हुई पुस्तक ‘सपने और रोजगार की राहें’ जिसमें हजारों क्षेत्रों में नौकरियों के अवसरों की सूचनाएँ दी गई हैं काफी मददगार साबित हो रही है। डाॅ0 एस0पी0 सिंह के साथ बड़े पैमाने पर कॅरियर काॅउंसिलिंग व युवाओं के लिए मार्गदर्शन का कार्य कर रही हूँ। हर वर्ष लखनऊ स्थित लखनऊ पब्लिक काॅलेज आॅफ प्रोफेशनल स्टडीज में राष्ट्रीय जाॅब फेस्टिवल का आयोजन कराती हूँ जिसमें हजारों युवाओं को आॅफर लेटर दिये जाते हैं।
महिला कल्याण, बाल विकास, स्वास्थ्य व शिक्षा के लिए सदैव प्रयासरत हूँ। कम्प्यूटर शिक्षा की उपयोगिता विषय पर उच्च सदन में अपनी बात रखी, कि सरकारी विद्यालयों में कम्प्यूटर की पढ़ाई और अच्छे ढंग से करायी जाये जिससे हमारे बच्चे कम्प्यूटर शिक्षा में बेहतर ज्ञान अर्जित कर सकें। कोरोना काल में आयुष मंत्रालय द्वारा अनुसंशित प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली होम्योपैथिक दवा आर्सेनिकम अल्बम 30 को सातों जनपदों में लगभग 90 हजार से अधिक परिवारों में निःशुल्क वितरित कराया। कोरोना वाॅरियर्स पुलिस कर्मियों एवं स्वास्थ्य कर्मियों को थर्मस बोतल, छाता, सेनेटाइज़र व मास्क बाँटा। जरूरतमंदों हेतु जनता रसोई में सहयोग किया। घर वापस लौट रहे प्रवासी मजदूरों को नहाने व कपड़ा धोने का साबुन वितरित कराया।
स्नातक मतदाताओं के सहयोग से, अभी बहुत कुछ कार्य सम्पन्न कराना है, जैसे- शिक्षकों एवं कर्मचारियों की पुरानी पेंशन व्यवस्था को लागू कराना, जनकल्याण के कार्यों को सम्पन्न कराना, बच्चों को गुणवत्तापरक शिक्षा उपलब्ध कराना, महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना, शिक्षा मित्रों व अनुदेशकों को उचित वेतन दिलाना, वित्तविहीन शिक्षकों को सरकार की ओर से उचित मानदेय दिलाना, शिक्षित बेरोजगारों को उचित रोजगार दिलाना, ग्रेजुएट्स की समस्या के निदान हेतु सशक्त कार्य करना, संविदा कर्मियों को नियमित कराना, कोरोना महामारी के दौरान आर्थिक तंगी से जूझ रहे वित्तविहीन शिक्षकों के लिए उचित मानदेय दिलाना, अन्वेषण-नवाचार व तकनीकी उपक्रमों को दूर-दराज के गाँवों में पहुँचाना आदि।


40 ट्रेनों का संचालन को हरी झंडी मिलींं

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्‍ली। भारतीय रेलवे ने नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के लंबे आंदोलन के बाद अब पंजाब से गुजरने वाली तीन दर्जन से ज्‍यादा यात्री ट्रेनें फिर से शुरू कर दी हैं। इससे रेल यात्रियों को बड़ी राहत मिलेगी। दरअसल, शनिवार को पंजाब के सीएम कैप्‍टन अमरिंदर सिंह  और किसान संगठनों के बीच हुई बैठक में रेल रोको आंदोलन  को 23 नवंबर 2020 से 15 दिन के लिए रोकने पर सहमति बन गई थी। इसके बाद रेलवे ने आज पंजाब के लिए 40 ट्रेनों को पटरी पर उतार दिया है। बता दें कि नए कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब और हरियाणा के किसान संगठन 24 सितंबर से रेल रोको आंदोलन कर रहे थे।













रेलवे ने बताया कि किसानों की सहमति के बाद अब 40 ट्रेनों का फिर से संचालन शुरू कर दिया गया है। हालांकि, अब भी कई ट्रेनों को पूरी तरह रद्द किया गया है। इसके अलावा कई ट्रेनों को आंशिक रूप से भी रद्द किया गया है। बता दें कि किसान संगठन दो महीने से ट्रैक पर धरना दे रहे थे, जिसकी वजह से रूट पूरी तरह से बंद पड़ा था। किसानों से बैठक के बाद पंजाब सरकार ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को चिट्ठी लिखकर कहा था कि ट्रेनों का संचालन नहीं होने से जम्मू-कश्मीर में सेना के जवानों को जरूरी सामान की आपूर्ति में दिक्‍कत होगी। साथ ही पंजाब के पॉवर प्लांट को भी कोयले की सप्लाई की जरूरत है। रेलमंत्री पीयूष गोयल ने इस पर कहा था कि प्रदेश में ट्रेनों का संचालन तभी शुरू होगा, जब राज्‍य सरकार सभी ट्रेनों की सुरक्षा सुनिश्चित करेगी।


रेलवे ने बताया कि नई दिल्‍ली-ऊना हिमाचल एक्‍सप्रेस, मुंबई सेंट्रल-अमृतसर एक्सप्रेस स्पेशल, बिलासुपर-जम्मूतवी एक्सप्रेस स्पेशल, धनबाद-फिरोजपुर एक्सप्रेस स्पेशल, ऊना हिमाचल-नई दिल्ली एक्सप्रेस स्पेशल, फिरोजपुर-धनबाद एक्सप्रेस स्पेशल, पाटलीपुत्र-चंडीगढ एक्सप्रेस स्पेशल, चंडीगढ-पाटलीपुत्र एक्सप्रेस स्पेशल, जम्मूतवी-भागलपुर एक्सप्रेस स्पेशल, भागलपुर-जम्मूतवी एक्सप्रेस स्पेशल, फिरोजपुर-पटना एक्सप्रेस स्पेशल, पटना-फिरोजपुर एक्सप्रेस स्पेशल, हावड़ा-जम्मूतवी एक्सप्रेस स्पेशल, जम्मूतवी-हावड़ा एक्सप्रेस स्पेशल, चंडीगढ़-गोरखपुर एक्सप्रेस स्पेशल, गोरखपुर-चंडीगढ़ एक्सप्रेस स्पेशल, अमृतसर-सहरसा एक्सप्रेस स्पेशल, सहरसा-अमृतसर एक्सप्रेस स्पेशल, दरभंगा-जलंधर एक्सप्रेस स्पेशल समेत तीन दर्जन से ज्‍यादा ट्रेनें पूरी तरह बहाल कर दी गई हैं। इनमें वैष्णो देवी कटड़ा-जबलपुर एक्सप्रेस स्पेशल, वैष्णो देवी कटड़ा एक्सप्रेस स्पेशल, वैष्णो देवी कटड़ा-कोटा एक्सप्रेस स्पेशल, वैष्णो देवी कटड़ा-नई दिल्ली एक्सप्रेस स्पेशल और नई दिल्ली-वैष्णो देवी कटड़ा एक्सप्रेस स्पेशल भी शामिल हैं।                       


वायरस प्रभावित 8 राज्यों के सीएम संग बैठक

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। आशंका जताई जा रही है शादियों की सीजन और सर्दी के मौसम में कोरोना संक्रमण और फैल सकता है। इन हालातों के बीच पीएम नरेंद्र मोदी एकबार फिर से विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना संक्रमण के हालात जानने और आगे की रणनीति बनाने के लिए चर्चा कर रहे हैं। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद है। पीएम  मोदी सर्वाधिक आठ प्रभावित राज्य के सीएम से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये बात कर रहे हैं। इनमें महाराष्ट्र, केरल, पश्चिम बंगाल, हरियाणा, गुजरात, दिल्ली आदि राज्यों के मुख्यमंत्री जुड़े हैं। इस दौरान कोरोना की वर्तमान स्थिति की समीक्षा और टीका वितरण की रणनीति को लेकर मुख्यमंत्रियों और राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों के अन्य प्रतिनिधियों के साथ भी चर्चा होगी।


प्रधानमंत्री मोदी कोरोना की स्थिति की समीक्षा के लिए अब तक कई बार राज्यों साथ बैठक कर चुके हैं। पीएम राज्यों से कोरोना केस की जानकारी, बचाव के लिए अपनाएं जा रहे तरीके व केंद्र के सहयोग को लेकर प्रमुखता से बातचीत करेंगे। देश भर में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले पिछले कुछ दिनों से 50,000 के नीचे आ रहे हैं, वहीं कुछ राज्यों में मामले तेजी से बढ़े हैं। कुछ शहरों में तो रात का कर्फ्यू भी लगाया गया है। इसके साथ-साथ शादी समारोहों जैसे कार्यक्रमों में गेस्ट की संख्या भी तय कर दी गई है। इसके अलावा मास्क नहीं लागने वालों के लिए जुर्माने की राशि को भी बढ़ा दिया गया है। ऐसी रिपोर्ट है कि प्रधानमंत्री संग बैठक के बाद राज्य अपने यहां कोविड से बचाव के लिए और सख्ती बरत सकते हैं। इनमें लॉकडाउन या वीकेंड लॉकडाउन जैसी व्यवस्था भी शामिल हो सकती है। उधर, केंद्र सरकार की ओर से लगातार यह प्रयास हो रहे हैं कि जब भी कोरोना का टीका उपलबध होगा, उसके सुचारू वितरण की व्यवस्था हो सके। भारत में फिलहाल 5 वैक्सीन तैयार होने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। इनमें से चार परीक्षण के दूसरे या तीसरे चरण में हैं, जबकि एक पहले या दूसरे चरण में है।                                  


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन



यूपी-गुजरात, एमपी के मुख्यमंत्रियों के इस्तीफे की मांग

अकांशु उपाध्याय              नई दिल्ली। कांग्रेस ने कोविड से मौत के आंकडे़ छुपाने का आरोप लगाते हुए भाजपा की प्रदेश सरकारों को आड़े हाथ लिया...