बुधवार, 6 दिसंबर 2023

झारखंड में दिखा तूफान ‘मिचौंग’ का असर, बारिश

झारखंड में दिखा तूफान ‘मिचौंग’ का असर, बारिश 

इकबाल अंसारी 
रांची। दक्षिण के राज्‍यों में तूफान ‘मिचौंग’ कहर बरपा रहा है। इसका असर झारखंड के विभिन्‍न जिलों में दि‍ख रहा है। तूफान के कारण 6 दिसंबर को रांची सहित कई जिलों में बारिश हुई। बीते 24 घंटें में अधिकतम तापमान में 6 डिग्री सेल्सियस से अधिक की गिरावट दर्ज की गई है। यह जानकारी रांची मौसम केंद्र ने 6 दिसंबर को दी है।

तापमान में बदलाव नहीं
केंद्र के मुताबिक अगले 2 दिनों में न्‍यूनतम तापमान में कोई बड़े बदलाव की संभावना नहीं है। इसके बाद अगले 3 दिन इसमें धीरे-धीरे 2 से 3 डिग्री सेल्यिस की गिरावट होने की संभावना है।

7 दिसंबर को यहां बारिश
मौसम केंद्र के अनुसार 7 दिसंबर को राज्‍य में कहीं-कहीं हल्‍के से मध्‍यम दर्जे की बारिश होने की उम्‍मीद है। हालांकि किसी तरह की कोई चेतावनी फिलहाल जारी नहीं की गई है।

सैन्य अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया

सैन्य अधिकारियों के साथ विचार-विमर्श किया

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल अनिल चौहान ने बुधवार को एक सम्मेलन में वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के साथ भू-रणनीतिक मुद्दों और भविष्य में किसी भी राष्ट्रीय सुरक्षा चुनौती से प्रभावी ढंग से निपटने के तरीकों पर व्यापक विचार-विमर्श किया। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि जनरल चौहान ने तीन दिवसीय सम्मेलन के पहले सत्र की अध्यक्षता करते हुए आधुनिक युद्ध और राष्ट्रीय सुरक्षा के बारे में जानकारी प्रदान की।

एक बयान में कहा गया, ‘‘सीडीएस जनरल अनिल चौहान ने नयी दिल्ली में ‘कंबाइंड लीडरशिप कॉन्क्लेव’ के पहले सत्र की अध्यक्षता की और सशस्त्र बलों के वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के साथ बातचीत की।’’ तीन दिवसीय सम्मेलन भू-रणनीतिक मुद्दों, समकालीन और उभरती सुरक्षा चुनौतियों और तीनों सशस्त्र बलों के एकीकरण और संयुक्तता सुनिश्चित करने के तरीकों पर ध्यान केंद्रित कर रहा है।

इस सम्मेलन में रक्षा उद्योग से संबंधित क्षेत्रों में प्रसिद्ध एवं अनुभवी प्रतिष्ठित लोग भी प्रतिभागियों के साथ विचार-विमर्श करेंगे और उन्हें राष्ट्रीय महत्व के मुद्दों के बारे में अवगत कराएंगे। सम्मेलन का लक्ष्य तीनों सेनाओं (थलसेना, वायुसेना और नौसेना) के वरिष्ठ अधिकारियों के लिए एक विकास गतिविधि के रूप में कार्य करना है, जो सशस्त्र बलों के भीतर परिचालन और रणनीतिक दोनों ही स्तरों पर तालमेल बढ़ाने के उद्देश्य से क्षेत्रीय एवं राष्ट्रीय स्तर के सुरक्षा मुद्दों पर केंद्रित है।

बयान में कहा गया कि इस कार्यक्रम के दौरान चीफ ऑफ इंटीग्रेटेड डिफेंस स्टाफ के अध्यक्ष, चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी (सीआईएससी) लेफ्टिनेंट जनरल जे पी मैथ्यू और इंटीग्रेटेड डिफेंस स्टाफ मुख्यालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। 

कार्यक्रम: डीएम ने अधिकारियों के साथ बैठक की

कार्यक्रम: डीएम ने अधिकारियों के साथ बैठक की

विकसित भारत संकल्प यात्रा कार्यक्रम की डीएम ने की समीक्षा दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार द्वारा उदयन सभागार में “विकसित भारत संकल्प यात्रा” कार्यक्रम के सम्बन्ध में सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक की गई।
बैठक में जिलाधिकारी ने ग्राम पंचायतों में आयोजित हो रहें “विकसित भारत संकल्प यात्रा” कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान नामित नोडल अधिकारियों एवं सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि ग्राम पंचायत में उपस्थित रहकर शासनादेश का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित कराते हुए “विकसित भारत संकल्प यात्रा” कार्यक्रम को सफलतापूर्वक आयोजित किया जाए। किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरती जाए, लापरवाही पाये जाने पर सम्बन्धित अधिकारी के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने सभी सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को स्टॉल के माध्यम से ग्रामवासियां को विभागीय योजनाओं की जानकारी तथा पात्र लोगों को लाभान्वित कराने के निर्देश दिए। उन्हांने जिला समाज कल्याण अधिकारी को पेंशन के पात्र लाभार्थियों का तत्काल आवेदन करवाकर तथा जिलापूर्ति अधिकारी को राशन कार्ड के लिए पात्र लोगों का आवेदन करवाकर लाभान्वित कराने के भी निर्देश दिए।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 रवि किशोर त्रिवेदी एवं अपर जिलाधिकारी अरूण कुमार गोंड सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहें बतादें कि शासन के निर्देशानुसार रोस्टरवार जनपद के प्रत्येक ग्राम पंचायत में “विकसित भारत संकल्प यात्रा” कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। विकसित भारत संकल्प यात्रा अभियान 26 जनवरी 2024 तक संचालित किया जायेंगा। विकसित भारत संकल्प यात्रा का उद्देश्य-सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में आमजन/विशेष कर वंचित लोगों को जागरूक करना,विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत छूटे हुए पात्र लोगों को चिन्हित कर लाभान्वित करना तथा लाभान्वित लाभार्थियों से उनके अनुभव/फीडबैक प्राप्त करना आदि है।
गणेश साहू

झारखंड विधानसभा का सत्र 22 तक चलेगा

झारखंड विधानसभा का सत्र 22 तक चलेगा 

इकबाल अंसारी 
रांची। झारखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र 15 दिसंबर से शुरू होगा, जो 22 दिसंबर तक चलेगा। राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन ने बुधवार को इससे संबंधित प्रस्ताव पर मंजूरी दे दी। सत्र में छह कार्य दिवस होंगे। इस दौरान द्वितीय अनुपूरक बजट भी पेश किया जाएगा। 
कई विधेयक भी इसमें पेश किये जाएंगे।
विधानसभा के शीतकालीन सत्र में नये नेता प्रतिपक्ष अमर कुमार बाउरी की अगुवाई में विपक्ष सरकार को घेरते दिखाई देगा। इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी को भाजपा ने अपना नेता प्रतिपक्ष बना रखा था, पर उनपर विधानसभा में दलबदल का केस चल रहा है।
हालांकि, पिछले करीब चार सालों से बाबूलाल ही सदन में भाजपा की अगुवाई कर रहे थे, लेकिन पिछले दिनों पूर्व मंत्री और विधायक अमर कुमार बाउरी को भाजपा ने नेता प्रतिपक्ष चुन लिया, जिसे कैबिनेट से भी स्वीकृति मिल चुकी है। अब इसके बाद से माना जा रहा है कि अगले साल के आखिर में झारखंड में होने वाले विधानसभा चुनाव तक बाउरी अपनी भूमिका जोरदार तरीके से निभाएंगे।

भाजपा के 10 सांसदों का लोकसभा से इस्तीफा

भाजपा के 10 सांसदों का लोकसभा से इस्तीफा 

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली। भारत निर्वाचन आयोग को 10 लोकसभा सीटों पर या तो उपचुनाव कराने पड़ेंगे अन्यथा वर्ष 2024 में होने वाले चुनाव तक इन लोकसभा सीटों को रिक्त रखा जाएगा। क्योंकि पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में जीत हासिल कर राज्य विधानसभाओं में पहुंचे भारतीय जनता पार्टी के 10 सांसदों ने लोकसभा से इस्तीफा दे दिया है।  बुधवार को छत्तीसगढ़, राजस्थान, तेलंगाना, मध्य प्रदेश और मिजोरम में हुए विधानसभा चुनाव के वोटो की गिनती में जीत हासिल करने वाले भारतीय जनता पार्टी के 10 सांसदों ने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। मंगलवार की देर रात भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हुई बैठक में इस बात पर लिए गए फैसले के बाद आज भारतीय जनता पार्टी के 10 सांसदों ने लोकसभा से इस्तीफा दे दिया है। 
लोकसभा सीट से इस्तीफा देने वालों में मध्य प्रदेश से नरेंद्र सिंह तोमर, प्रहलाद सिंह पटेल, राकेश सिंह, उदय प्रताप और रीति पाठक शामिल है। जबकि छत्तीसगढ़ से अरुण शाव एवं गोमती साइ ने लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा दिया है। राजस्थान में विधानसभा का चुनाव जीतकर विधानसभा में पहुंचे राज्यवर्धन सिंह राठौड़, दिया कुमारी और किरोड़ी लाल मीणा ने लोकसभा की सदस्यता से आज इस्तीफा दे दिया है। भारतीय जनता पार्टी के 10 सांसदों द्वारा लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद अब चुनाव आयोग को या तो 2024 से पहले इन सीटों पर उप चुनाव कराने होंगे। अन्यथा लोकसभा चुनाव होने तक इन सीटों को रिक्त रखा जाएगा, जिसके चलते 10 लोकसभा सीट के मतदाताओं को बिना जनप्रतिनिधि के ही रहना पड़ेगा। ऐसे में सांसद को मिलने वाली निधि का क्या होगा इस बाबत अभी कुछ नहीं बताया गया है।

भाजपा को ‘सबसे बड़ा जेबकतरा’ करार दिया

भाजपा को ‘सबसे बड़ा जेबकतरा’ करार दिया 

मिनाक्षी लोढी  
कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए उसे देश में ‘‘सबसे बड़ा जेबकतरा’’ करार दिया। साथ ही, उसे चुनाव से पहले मतदाताओं को झांसा देने वाला दल बताया।
उत्तर बंगाल के लिए रवाना होने से पहले यहां नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पत्रकारों से बातचीत में बनर्जी ने कहा कि भाजपा के लिए ‘‘राजनीतिक दाना-पानी’’ को लेकर केंद्रीय एजेंसियां बार-बार राज्य का दौरा करती हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘वे (भाजपा) देश में सबसे बड़े जेबकतरे हैं और लोगों को इसके कारण सबसे ज्यादा परेशानी हुई है।
प्रत्येक व्यक्ति के खाते में 15 लाख रुपये भेजने के उनके वादे, फिर नोटबंदी, महामारी के दौरान मुश्किलें...उन्होंने चुनाव से पहले झूठे वादे कर लोगों को झांसा दिया।’’ बनर्जी ने कहा, ‘‘हम (तृणमूल कांग्रेस) उनसे अलग हैं।’’ बड़ी संख्या में फर्जी ‘जॉब कार्ड’ हटाए जाने के बाद भी उत्तर प्रदेश को (केंद्र से) निधि मिलने का जिक्र करते हुए बनर्जी ने आश्चर्य जताया कि केंद्र पश्चिम बंगाल को 100 दिनों की कार्य योजना का बकाया क्यों नहीं दे रहा है।
पश्चिम बंगाल का बकाया प्राप्त करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मिलने की केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह की सलाह पर मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पहले ही तीन बार प्रधानमंत्री से मिल चुकी हैं तथा एक और मुलाकात के लिए समय मांगा है।

आगे से सब एकसाथ मिलकर चुनाव लड़ें: नीतीश

आगे से सब एकसाथ मिलकर चुनाव लड़ें: नीतीश 

अविनाश श्रीवास्तव 
पटना। बिहार के मुख्यमंत्री एवं जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के शीर्ष नेता नीतीश कुमार ने राज्यों के विधानसभा चुनाव परिणाम को लेकर विपक्षी गठबंधन इंडिया के दलों को स्पष्ट संदेश देते हुए आज कहा कि वह चाहते हैं कि बहुत तेजी से विपक्ष एकजुट हो और आगे से सब एकसाथ मिलकर चुनाव लड़ें।
कुमार ने बुधवार को यहां बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर को उनके महापरिनिर्वाण दिवस के अवसर पर श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में हाल में हुये विधानसभा चुनाव परिणाम से संबंधित प्रश्न पर कहा कि चुनाव में पिछली बार कांग्रेस उन राज्यों में जीती थी। कांग्रेस को इसबार भी अच्छा वोट आया है लेकिन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) जीती। तेलंगाना में कांग्रेस जीती है। इनसब चीजों पर कोई खास चर्चा की बात नहीं है। उन्होंने कहा कि वह तो यही चाहते हैं कि बहुत तेजी से विपक्ष एकजुट हो।
मुख्यमंत्री ने कहा, “खबर में चल रहा था कि हम ‘इंडिया’ गठबंधन की बैठक में नहीं जा रहे हैं जबकि ऐसी कोई बात नहीं थी। मेरी तबीयत खराब थी। मुझे सर्दी-खांसी, बुखार लगा हुआ था। अगली बैठक होगी तो हम फिर कहेंगे कि अब देर नहीं कीजिए। आपस में बैठकर सबकुछ जल्दी से तय कर लीजिए। हम एक साल से विपक्षी एकजुटता में लगे हुए हैं। राज्यों के चुनाव में सभी पार्टियां अपनी-अपनी जीत के लिए लग जाती हैं वो अलग चीज है। लेकिन हम चाहते हैं कि आगे से सब एकजुट होकर चुनाव लड़ें।”
कुमार ने ‘इंडिया’ गठबंधन का नेतृत्व करने के सवाल पर कहा कि प्रधानमंत्री पद को लेकर उनके बारे में अक्सर खबरें आती हैं कि लेकिन वह स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि उन्हें कुछ नहीं चाहिए। वह केवल इतना चाहते हैं कि विपक्ष एकजुट हो और अभी जो पार्टी केंद्र की सत्ता में है उसके खिलाफ चुनाव लड़े। उन्होंने परोक्ष रूप से भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि वे लोग देश के इतिहास को बदलने में लगे हुए हैं। नयी पीढ़ी को आजादी की लड़ाई को याद रखना चाहिए।

प्रणाली ‘कवच’ ​​को 139 इंजनों के साथ जोड़ा

प्रणाली ‘कवच’ ​​को 139 इंजनों के साथ जोड़ा 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बुधवार को लोकसभा को बताया कि स्वदेशी रूप से विकसित स्वचालित ट्रेन सुरक्षा प्रणाली ‘कवच’ ​​को दक्षिण मध्य रेलवे जोन में 139 इंजनों के साथ जोड़ा गया है। उन्होंने सदन में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में यह जानकारी दी। वैष्णव ने कहा, ‘‘कवच को अब तक दक्षिण मध्य रेलवे के 1,465 किलोमीटर के रूट पर और 139 लोकोमोटिव के साथ जोड़ा गया है।’’
उन्होंने बताया कि लिंगमपल्ली-विकाराबाद-वाडी और विकाराबाद-बीदर खंड (265 मार्ग किमी), मनमाड-मुदखेड-धोन-गुंटकल खंड (959 मार्ग किमी) और बीदर-परभणी खंड (241 मार्ग किमी) में यह प्रणाली सक्रिय है। वैष्णव ने कहा कि कवच एक स्वदेशी रूप से विकसित स्वचालित ट्रेन सुरक्षा प्रणाली है और इसके लिए उच्चतम स्तर के सुरक्षा प्रमाणीकरण की आवश्यकता होती है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1. अंक-47, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. बृहस्पतिवार, दिसंबर 07, 2023

3. शक-1945, माघ, कृष्ण-पक्ष, तिथि-दसमीं, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 06:36, सूर्यास्त: 05:18।

5. न्‍यूनतम तापमान- 16 डी.सै., अधिकतम- 24+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया

'बुंदेलखंड' को निवेश का नया गंतव्य बनाया  संदीप मिश्र  लखनऊ। कभी पिछड़े क्षेत्र के रूप में पहचान रखने वाले बुंदेलखंड को योगी सरकार न...