मंगलवार, 4 फ़रवरी 2020

आप को काले झंडे दिखाकर, करेंगे विरोध

नई दिल्ली। नरेला विधानसभा के होलंबी कला में आज केजरीवाल की सभा होने वाली है। इस सभा में केजरीवाल बीते 5 साल में स्लम एरिया में किए गए। अपने कार्यों का गुणगान करेंगे और यहां से प्रत्याशी और पूर्व विधायक शरद चौहान के लिए यहां के निवासियों से वोट की अपील करेंगे। आपको बता दे पुनर्वास संगठन ने अपना BSP का प्रत्याशी यहां से उतार रखा है। और इनका कहना है, कि आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी और पूर्व विधायक शरद चौहान ने हमारे यहां पर कोई विकास कार्य नहीं किया है। इसीलिए आज केजरीवाल की सभा का काले झंडे दिखा विरोध करेंगे। यहां के स्थानीय लोग सड़क पर खड़े होकर केजरीवाल मुर्दाबाद और शरद चौहान मुर्दाबाद के नारे लगा रहे हैं, आपको बता दें यहां से आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी शरद चौहान का यहां पहले भी काले झंडे दिखा विरोध हो चुका है। और साथ ही आपको यह भी बताना जरूरी है, कि यहां से आम आदमी पार्टी के निगम पार्षद ने  बीजेपी का दामन थाम लिया है जिससे नरेला विधानसभा में आम आदमी पार्टी की मुश्किलें खड़ी होती जा रही हैं।


गरीबों की मदद, ईश्वर की पूजा के सामान

बृजेश केसरवानी 


गरीबों की मदद ईश्वर के पूजा के समकक्ष होती है-अभिलाषा गुप्ता


प्रयागराज। गरीबों, असहाय व्यक्तियों की सेवा करना ही सबसे बड़ा पुण्य का कार्य है। गरीबों की मदद करना ईश्वर की पूजा के समकक्ष है। उक्त बातें सोमवार को सहसों स्थित रोहित गेस्ट हाउस में स्व0 प्यारे लाल केसरवानी की पुण्य स्मृति में आयोजित कम्बल वितरण समारोह में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित महापौर अभिलाषा गुप्ता नन्दी ने कही। महापौर अभिलाषा गुप्ता ने आगे कहा कि गरीबों को राहत पहुंचाने के बाद स्वयं को भी सुख, शांति प्राप्त होती है। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि को पुष्प गुच्छ भेंट करके किया गया। इस अवसर पर पीसीएस-जे की परीक्षा उत्तीर्ण कर परिवार व शहर का नाम रौशन करने वाली छात्रा प्रतीक्षा केसरवानी का स्वागत अभिनन्दन किया गया। वहीं कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए प्रतीक्षा केसरवानी ने कहा कि मैं इस मुकाम तक पहुंची हूं, इसका श्रेय हमारे माता-पिता व गुरुजनों को जाता है। इस मौके पर आयोजक ग्राम प्रधान कसेरुआ कला राहुल केसरवानी ने महापौर अभिलाषा गुप्ता नन्दी की प्रतिमा भेंट करते हुये कम्बल वितरण कार्यक्रम को सर्वोपरि बताया। कम्बल वितरण समारोह में सात सौ गरीब, असहाय, विधवा व दिव्यांगों को कम्बल वितरित किया गया। इस मौके पर चंद्रेश केसरवानी,पप्पू  केसरवानी,नन्हे केसरवानी, कमल केसरवानी, कल्लू जायसवाल, सोहन केसरवानी,कुनाल केसरवानी,रोहित केसरवानी, ज्ञान केसरवानीउमेश चंद्र केसरवानी, सुमित केसरवानी,सीमा केसरवानी,अक्षय केसरवानी सहित भारी संख्या में लोग उपस्थित रहे।


सीएम मनोहर लाल को हाईकोर्ट में चुनौती

राणा ओबराय

मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहरलाल के चुनाव को हाईकोर्ट में चुनौती

चण्डीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री और करनाल से विधायक मनोहर लाल खट्टर की मुश्किलें बढ़ सकती है। यहां से चुनाव जीतने को लेकर पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है। इस मामले में निर्दलीय प्रत्याशी रहे मा. रमेश खत्री ने माननीय कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।
निर्दलीय प्रत्याशी रहे मा. रमेश खत्री ने अपनी याचिका में कहा है कि मुख्यमंत्री ने चुनाव के दौरान प्रशासनिक अमले का दुरुपयोग किया था। इस मामले में हरियाणा सरकार की तरफ से एडवोकेट जनरल बलदेव राज महाजन कोर्ट में पेश हुए और उन्होंने जबाव देने के लिए समय की मांग की।
इस मामले में दोनों पक्षों की बात सुनने के लिए अब माननीय कोर्ट ने 27 मार्च की तारीख निर्धारित की है। अब दोनों तरफ से 27 मार्च को कोर्ट के सामने जबाव पेश करना होगा।


आईडीबीआई की हिस्सेदारी भी बेंंचेगी सरकार

एलआईसी के बाद अब आईडीबीआई बैंक की हिस्सेदारी भी बेचेगी सरकार


नई दिल्ली। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में बजट पेश करते हुए कहा कि सरकार आईडीबीआई बैंक की हिस्सेदारी निजी कंपनियों को बेचेगी, लेकिन नियंत्रण सरकार के पास ही रहेगा। हालांकि उन्होंने इसका खुलासा नहीं किया कि सरकार के पास कितनी हिस्सेदारी रहेगी। बजट 2020 में केंद्र सरकार ने एलान किया है कि वो आईपीओ के माध्यम से सबसे बड़ी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) की अपनी हिस्सेदारी बेचेगी। इसके अलावा सरकार ने आईडीबीआई बैंक में भी मौजूद अपनी हिस्सेदारी को निजी निवेशकों को बेचने की घोषणा की है। आईडीबीआई बैंक में सरकार की हिस्सेदारी 46.46 फीसदी हिस्सेदारी है। वित्त मंत्री की हिस्सेदारी बेचने की घोषणा के बाद आईडीबीआई बैंक के शेयर में बढ़त आई है। दोपहर 2:05 बजे एलआईसी का शेयर 3.75 अंक यानी 11.01 फीसदी की बढ़त के बाद 37.80 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। शुरुआती कारोबार में यह 34.35 के स्तर पर खुला था। जबकि पिछले कारोबारी दिन आईडीबीआई बैंक का शेयर 34.05 के स्तर पर बंद हुआ था। एलआईसी ने हाल ही में आईडीबीआई बैंक में 51 फीसदी हिस्सेदारी खरीदकर उसे संकट से बाहर निकाला। 2018 में बढ़ते एनपीए की वजह से आईडीबीआई को आरबीआई ने पीसीए की सूची में डाल दिया था। जिसके बाद एलआईसी ने आईडीबीआई के लिए संकटमोचक का काम किया।


एक बार फिर ट्रैक्टर-टेंपो में जबरदस्त टक्कर

ट्रेक्टर और टैंपो में जबरदस्त टक्कर, एक की गई जान, दूसरा पहुंचा अस्पताल


 
ऊना। पुलिस थाना हरोली के तहत छतरपुर टाडा रोड पर ट्रै और टैंपो की टक्कर में एक व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक की पहचान चरणदास पुत्र रुलिया राम निवासी बाथू हरोली के रूप में हुई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पौस्टिक ऊना भेज दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। हादसे में टैंपो चाल मोहन लाल भी घायल हुआ है जिसे अस्पताल में उपचाराधीन करवाया गया है। जानकारी के अनुसार छतरपुर टाडा में देर रात एक टैंपो और ट्रैक्टर में जबरदस्त टक्कर हो गई जिसमें ट्रैक्टर चालक चरणदास गंभीर रूप से घायल हो गया। बताया जा रहा है कि हादसा इतना जबरदस्त था कि चरण दास ने हादसे के तुरंत बाद दम तोड़ दिया जबकि टैंपो चालक मोहन लाल निवासी मैहतपुर को गंभीर हालत में अस्पताल पहुंचाया गया। हादसे के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है। उधर, डीएसपी अशोक वर्मा ने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। घायल के बयान कलमबद्ध किए जा रहे हैं।


विकास को दिशा देने वाली सरकार, दिल्ली ?

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को नई दिल्ली में द्वारका की चुनावी रैली को संबोधित किया। इसमें उन्होंने अरविंद केजरीवाल सरकार पर जमकर हमला बोला। मोदी ने कहा कि दिल्ली को दोष देने वाली नहीं, दिशा देने वाली सरकार चाहिए। उन्होंने कहा कि वोटिंग से 4 दिन पहले बीजेपी के पक्ष में ऐसा माहौल कई लोगों की नींद उड़ा रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने जहां अपनी सरकार की उपलब्धियों का जमकर बखान किया। उन्होंने केजरीवाल सरकार पर दिल्ली के विकास की राह में रोड़ा अटकाने का आरोप लगाया। पीएम ने अरविंद केजरीवाल बयानों की तरफ इशारा करते हुए कहा कि दिल्ली को ऐसी राजनीति नहीं चाहिए जो आतंकी हमले के समय भारत के पक्ष को कमजोर करे, जो अपने बयानों से दुश्मन को भारत पर वार करने का मौका दे दे।


प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'कल पूर्वी दिल्ली में और आज यहां द्वारका में यह साफ हो गया है कि 11 फरवरी को क्या परिणाम आने वाले हैं। दिल्ली को बढ़ाने के लिए, राष्ट्रहित के भाव को बुलंद रखने के लिए आपके इस जोश और जुनून को मैं आदरपूर्वक नमन करता हूं। उन्होंने कहा, 'दिल्ली को दोष देने वाली नहीं, दिशा देने वाली सरकार चाहिए। दिल्ली को रोड़े अटकाने वाली और नफरत फैलाने वाली राजनीति से मुक्ति चाहिए। दिल्ली को उलझाने वाली नहीं, सुलझाने वाली राजनीति चाहिए। दिल्ली को विकास की योजनाएं रोकने वाली नहीं, सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास वाला नेतृत्व चाहिए।' पीएम ने कहा कि गरीबों की भलाई वाली योजनाओं की राह में दिल्ली में रोड़े अटकाए गए। उन्होंने कहा, 'आप सोचिए, जो गरीब का हित चाहेगा, जिसके दिल में गरीब के लिए दर्द होगा, क्या वह गरीब को सरकार की योजनाओं से वंचित करेगा क्या? कितना भी राजनीतिक विरोध हो लेकिन गरीबों की भलाई में कोई रोड़े अटकाएगा क्या? लेकिन दिल्ली में पिछले 5 साल से गरीबों की भलाई की राह में रोड़े अटकाना ही चल रहा है। केंद्र की योजनाओं को लागू होने से पहले ही यहां मना कर दिया गया है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'दिल्ली के गरीबों का क्या गुनाह है कि उन्हें 5 लाख रुपये तक मुफ्त इलाज की सुविधा देने वाली आयुष्मान भारत योजना का लाभ नहीं मिलता। आयुष्मान भारत योजना में एक विशेषता है। मुद्दा 5 लाख का नहीं है। अगर दिल्ली का कोई नागरिक जो इस योजना का लाभार्थी है वह किसी काम से ग्वालियर गया, भोपाल गया, सूरत, नागपुर, हैदराबाद, चेन्नै गया और अचानक वहां बीमार हो गया तो यह मोहल्ला क्लिनिक वहां जाएगा क्या? लेकिन यह आयुष्मान भारत योजना दिल्ली में लागू होती और दिल्ली का कोई लाभार्थी वहां किसी काम से गया होता, वहां गंभीर से गंभीर स्वास्थ्य समस्या से परेशान होता तो 5 लाख रुपये तक मुफ्त इलाज होता। दिल्ली में ऐसी सरकार बैठी है जिसे आपके जान की परवाह नहीं है।


रेप पीड़िता पर एसिड अटैक का मामला

अतुल त्यागी जिला प्रभारी


रेप पीड़िता पर घर में घुस कर एसिड अटैक डालने का मामला


हापुड़। कोतवाली बाबूगढ़ पुलिस ने घटना में शामिल मुख्य अभियुक्त तारिक निवासी गांव सरावनी को किया गिरफ़्तार दूसरा आरोपी मुनीर भागने में रहा कामयाब दोनों आरोपी भागने की थे फिराक़ में पुलिस ने मात्र 24 घंटे में की तारिक की गिरफ़्तारी कुचेसर रोड रेलवे फाटक के पास से तारिक को किया गिरफ़्तार।


दृष्टिहीन पति-पत्नी ने किया विरोध प्रदर्शन

जीत गए तो वतन मुबारक,
मर गए तो कफन मुबारक।
प्रयागराज। मंसूर अली पार्क में चौबिस दिन से एनपीआर एनआरसी और सीएए के खिलाफ चल रहे धरने मे, आज युवतियों ने हाँथो मे 'नो सीएए एनआरसी और एनपीर' के साथ आज़ादी लिखे टैटू बनवा कर, विरोध प्रदर्शन मे हिस्सा लिया। वहीं कालिन्दीपुरम कांशीराम आवास योजना मे रह रहे दोनो आँखों से माज़ूर पति-पत्नी, अपने दो बच्चों के साथ मंसूर अली पार्क में चल रहे विरोध प्रदर्शन मे आगे की पंक्ति में बैठ कर काले क़ानून को वापिस लेने की मांग की। तुफैल अहमद और रिज़वाना बेगम ने बताया की हम पति पत्नी दोनो की आँखो से नहीं दिखता दो छोटे छोटे बच्चे हैं पाँच सौ रुप्ये पेन्शिन मिलती है हम अपने परिवार का जैसे-तैसे गुज़ारा कर रहे हैं। अब जब यह काला क़ानून आ जाएगा तो न तो हम अपना काग़ज़ दिखा सकते है और न ही हम कहीं जा सकते.हैं।सरकार को हमारे जैसे देश के हज़ारो आँख पैर दिमाग़ से कमज़ोर लोगों के बारे में सोचना चाहिये।प्रदर्शन स्थल पर बड़ी संख्या में मौजूद महिलाओं ने काले क़ानून की वापसी न होने तक धरना चालू रखने की बात कहते हुए हिन्दुस्तान ज़िन्दाबाद,संविधान ज़िन्दाबाद,मंसूर पार्क की महिलाएँ ज़िन्दाबाद का नारा बुलन्द किया।इस मौक़े पर सायरा अहमद,अब्दुल्ला तेहामी,ज़ीशान रफत,इरशाद उल्ला,मो०ज़ाहिद आदि मौजूद रहे।
बृजेश केसरवानी


पतित-पावन उपन्यास'

पतित पावन   'उपन्यास' 
गतांक से...
 स्वराज दरवाजा खोल कर दलान में होता हुआ, पढ़ने वाले कमरे में चला आता है। जहां पहले से ही जया और कल्पना मौजूद थे। कुछ ही समय पश्चात आश्चर्य भी आ गए। सभी ने सादर सहित नमस्कार किया और अब अपने स्थान पर बैठ गए। अध्यापक के सिर पर 'नेहरू वाली टोपी' थी। थोड़ा ढीला-सा पायजामा, गले में जनेऊ और रुद्राक्ष की माला, बड़े से सीसो का चश्मा और बड़ी-बड़ी मूछों के साथ, भौंहे भी एक दूसरे में लिपट रही थी। उस पर खन्ना कट कुर्ता, भले ही खादी का था। अध्यापक की गरिमा का एहसास होता था। 
हरीश चंद्र शर्मा ने अज्ञानता से कहा- यह कौन है?
 जया ने स्थिति के अनुसार स्वयं ही उत्तर देना उचित समझा- गुरु जी, यह रतिराम की लड़की है सबसे बड़ी है। पढ़ने की इच्छा इसे यहां खींच लाई है।
 हरीश चंद्र शर्मा ने भौंहें सिकोड कर जया की तरफ देखा और नाक बनाते हुए कहा- नहीं यह शिक्षा कैसे प्राप्त कर सकती है? यह इसके योग्य नहीं है। इस का रहन-सहन, सामाजिक परिवेश। देख रहे हो तुम, इसके वस्त्रों से दुर्गंध आ रही है।
 स्वराज ने विनम्रता पूर्वक कहा- गुरुदेव यह इसलिए इस के योग्य नहीं है कि एक गरीब मजदूर की पुत्री है। आप इसे नीच जाति की समझते हैं। इसके वस्त्रों से बदबू आ रही है। इसलिए गुरुदेव! बुरा ना मानिए, बदबू तो आपके भी कपड़ों से आ जाएगी। आपको कुछ दिन तक इनके जैसे जीवन का आभाष करना चाहिए। जब मनुष्य के सामने आर्थिक परेशानी होती है तो इस प्रकार के पात्र-अपात्र से जुड़े हुए प्रश्न स्वयं प्रकट हो जाते हैं। मेरे विचार से तो शिक्षा पर जितना अधिकार मेरा है, उतना ही कल्पना का भी है। बल्कि शिक्षा सबके लिए है,उसको प्राप्त करने का सबको अधिकार होना भी चाहिए और आप तो विद्वान अध्यापक है। आपके नाम की ख्याति तो दूर-दूर तक फैली हुई है। आपके जैसे आचार्य तो सैकड़ों आचार्य में एक होते हैं। आचार्य हरिश्चंद्र के भीतर अल्प अहंकार जागृत हो गया और आवेशित मुद्रा में स्वराज से कहा- तुम हमसे बहस कर रहे हो, तुम्हारे मन में हमारे प्रति कोई आदर नहीं है, कोई सम्मान की भावना नहीं है। तुम विवेकपूर्ण निर्णय करने में समर्थ नहीं हो। शायद तुम्हें इस बात की भनक नहीं है, जिस मनुष्य के पास खाने की उचित व्यवस्था ना हो, पहनने को पर्याप्त वस्त्र ना हो, वह शिक्षा कैसे ग्रहण कर पाएगा?
 स्वराज ने विनम्रता से ही उत्तर दिया- गुरुदेव आपने कल्पना की भावनाओं को समझने का प्रयास नहीं किया है। भावनाओं को ध्यान में नहीं रखा, गुरुदेव मैं आपसे बहस नहीं कर रहा हूं और मैं इस योग्य भी नहीं हूं। मैं केवल आपसे यही कहना चाहता हूं आप तो आचार्य है। अध्यापक हैं आप शिक्षा का अनुदान कर रहे हैं। इसमें उचित-अनुचित का क्या भेद है। हम तीनों में से कौन आपकी शिक्षा आपकी विचारों के अनुसार ग्रहण करता है और कौन विचारों के विपरीत ग्रहण करता है। इसका अनुसरण कैसे कर सकते हैं आप? यह तो केवल विद्यार्थी पर निर्भर होता है कि वे शिक्षक के द्वारा दिए विज्ञान को किस प्रकार ग्रहण करता है और किस प्रकार जीवन में उसका उपयोग करता है। यदि आचार्य अध्यापक गुरु भी द्वेष भाव को बढ़ावा देंगे तो क्या शिक्षा के प्रति शिष्य भटक नहीं जाएगा। जहां द्वेष है वहां शिक्षा का क्या संबंध है। यदि शिक्षा है तो फिर द्वैष का क्या अर्थ होता है? इन दोनों में तो विरोध प्रकट होता है। यदि आप द्वैष पूर्ण इस प्रकार की बात कर रहे हैं तो फिर आप से किसी को शिक्षा ग्रहण करना ही नहीं चाहिए। इसके लिए मैं तो पूरी तरह अपात्र हूं। किंतु आचार्य जी जिस प्रकार अध्यापक में हीन भावना व्याप्त रहती है। वह शिक्षक शिक्षा के मर्म को नहीं जानता है। शिक्षा अध्ययन है, अध्ययन का भौतिक अनावरण एक शिक्षक का कार्य होता है। वेशभूषा अथवा रहन-सहन से किसी व्यक्ति के ज्ञान का आकलन नहीं किया जा सकता है। जहां श्वेत वस्त्रों में अस्त व्यस्त अध्यापक हीन भावना से ग्रस्त है। वहां वेदना के मर्म का कोई मोल नहीं है।
 जया उदारता पूर्वक बोली- गुरुदेव आप इसे पढ़ाना नहीं चाहते हैं और हमें लगता है कि हमें आपसे ही नहीं पढ़ना चाहिए। यदि आपके मन में विद्यार्थियों के प्रति हीन भावना व्याप्त है। तब आप हमें शिक्षा नहीं दे सकते हैं। आचार्य हरिश्चंद्र स्वराज की तरफ एकटक देखता रहा किंतु कुछ कहा नहीं। जया की उद्दंडता पर उन्होंने थोड़ी सी आंख जरूर तेरेरी। लेकिन जया को भी कुछ नहीं कहा। 
जया ने स्वराज से कहा- आचार्य से बहस करना अनुचित है।
 कल्पना ने हाथों से सभी को रुकने का इशारा किया और कहा- आचार्य जी, अगर आपकी आज्ञा हो तो मैं भी कुछ कहूं?
 आचार्य हरिश्चंद्र लज्जित मुद्रा में बोले- कहो।
 कल्पना पूर्ण शालीनता से बोली- आचार्य जी जितना भी ज्ञानदान आप के पल्ले था। आपके दिमाग में था सबका सब आप सिखा चुके हैं। अबके आपके पास अब अज्ञान ही अज्ञान है। आपने जो भी कहा, वह आप की मनोदशा है। आपने बता दिया है कि आपके विचार कितने उन्मुक्त है? आचार्य जी, पढ़ाई में मान-सम्मान नहीं होता है और आप एक आचार्य है। आप शिक्षा के संवाहक नहीं शत्रु है। आपको अपनी परिभाषा का पूर्ण ज्ञान नहीं है। पूरी जानकारी नहीं है आपके पास।
 आचार्य कल्पना की तरफ क्रोधित मुद्रा में देखने लगा। कल्पना भी आचार्य को वैसे ही ताड़ रही थी। स्वराज और जया की नजरें भी आचार्य पर ही गडी रह गई थी।


विशेषः 'अंतर्राष्ट्रीय कैंसर दिवस'

4 फरवरी हर साल विश्व कैंसर दिवस के रूप में मनाया जाता है, जिसका उद्देश्य जनसामान्य में कैंसर के प्रति जागरूकता बढ़ाना और कैंसर की रोकथाम, जांच और इलाज में नई खोजो को बढ़ावा देना होता है। साथ ही कैंसर को लेकर लोगो मे फैले मिथको को दूर करना भी इस दिन का लक्ष्य है। आज हम इसी बीमारी के बारे में कुछ चर्चा करते है। सबसे पहले जानते है कैंसर क्या है और कैसे होता है- कैंसर शरीर मे किसी भी कोशिका का अनियंत्रित बिभाजन होता है, जो अपने असामान्य विभाजन से बाकी कोशिकाओं का पोषण भी खींच लेता है और इस प्रकार विभिन्न परेशानिया पैदा करता है। कैंसर के कारण- सामान्य कारणों में तम्बाकू,प्रदूषण, रेडियेसन ( पराबैगनी किरणे और अन्य) के साथ साथ मोटापा, अनियमित खानपान और जीवनशैली कैंसर को बढ़ावा देते है, वही कुछ इन्फेक्शन जैसे ह्यूमन पैपिलोमा वायरस, हेपटाइटिस बी और सी, HIV, और H पाइलोरी भी कैंसर का कारण पाए गए है।


लक्षण और पहचान – कैंसर अगर शुरुआती अवस्था मे पहचान लिया जाए तो उसका उचित इलाज उपलब्ध है। इसके सामान्य लक्षणों में वजन में असामान्य कमी, किसी घाव का न भरना, असामान्य रक्त स्त्राव, किसी मस्से का आकर बढ़ना या शरीर मे कोई गांठ का होना शामिल है। जिसकी जांच करवानी चाहिए। बार बार पीलिया होना,सांस लेने में दिक्कत होना ,लगातार बुखार आना या पाचन की समस्या भी प्राथमिक लक्षण हो सकते है। इसके अलावा डॉक्टरों द्वारा बड़ी आंत, बच्चेदानी और स्तन कैंसर के लिए समय समय मे कुछ जांचे करवाने की सलाह दी जाती है।


बचाव कैसे करे- इन्फेक्शन से होने वाले कुछ कैंसर की संभावना को आप उनका सही इलाज से कम कर सकते है। एच पी वी वैक्सीन 9 से 25 साल की महिलाओं को लगवाने से उनको बच्चेदानी और स्तन कैंसर की संभावना काफी कम हो जाती है। इसके अलावा स्वस्थ जीवनशैली भी कैंसर की संभावना कम करती है।


कैंसर बीमारी छूत की बीमारी नही है, यह एक व्यक्ति से दूसरे में नही फैलती, परंतु कुछ कैंसर अनुवांशिकता से जुड़े होते है. कैंसर से पीड़ित व्यक्ति और उसका परिवार न केवल आर्थिक रूप से अपितु मानसिक और सामाजिक रूप से भी टूट जाता है, जहाँ उन्हें आर्थिक सहायता के लिए बहुत की शासकीय और अशासकीय योजनाए और संस्थाएं मौजूद है, उनके मानसिक और सामाजिक मजबूती हमारे हाथ मे है। हमे ऐसी गंभीर बीमारीयो से पीड़ित मरीज़ों के लिए एक संवेदनशील समाज का निर्माण करना चाहिए, जो ऐसी विषम परिस्थितियों में पीड़ित का साथ दे।


डॉ. अनिमेष


राहुल गांधी ने वित्त मंत्री को दी चुनौती

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गांधी ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को खुली चुनौती देते हुए कहा कि मेरे सवालों से डरे बिना उनको मेरे सवालों का जवाब देना चाहिए।
राहुल गांधी ने बकायदा ट्वीट कर कहा कि वित्त मंत्री जी, मेरे सवालों से मत डरिए। मैं यह सवाल देश के युवाओं की ओर से पूछ रहा हूं जिनका जवाब देना आपकी जिम्मेदारी है। उन्होंने दावा किया कि देश के युवाओं को रोजगार की जरूरत है और आपकी सरकार उन्हें रोजगार देने में बुरी तरह नाकाम साबित हुई है।
दरअसल, राहुल गांधी ने वित्त मंत्री के उस बयान पर चुनौती दे डाली जिसमें उन्होंने नौकरियों से जुड़े सवाल पर कहा कि वह कोई आंकड़ा नहीं देना चाहती क्योंकि बाद में राहुल गांधी पूछेंगे कि एक करोड़ नौकरियों का क्या हुआ। उनके उसी सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने निर्मला को खुली चुनौती दे डाली।


ओवैसी भी पढ़ेगा हनुमान चालीसाः योगी

लखनऊ। देश की राजधानी दिल्ली में चुनाव करीब आ चुके है वही लगातार ताबतोड़ प्रचार का सिलसिला चल रहा है। वही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और बीजेपी के स्टार प्रचारक योगी आदित्यनाथ मंगलवार को दिल्ली के किरारी में रैली की। इस दौरान सीएम योगी ने ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर निशाना साधा है। आज मंगलवार है वही इस रैली में सीएम योगी ने कहा की एक दिन ओवैसी भी हनुमान चालीसा पड़ता नजर आएगा।


वही सीएम योगी ने रैली को संबोधित करते हुए केजरीवाल को भी निशाने पर लिया। सीएम योगी ने कहा कि केजरीवाल शाहीन बाग में बिरयानी खिलाते हैं और हनुमान चालीसा पढ़ते हैं। ये सिर्फ इसलिए की वह बताना चाहते हैं की मैं हिन्दू हूं। इसी के साथ उन्होंने ने राहुल गांधी को भी निशाने पर लेते हुए कहा एक बार वे चुनाव प्रचार के दौरान पर गुजरात के एक मन्दिर में पूजा कराने गए थे, लेकिन उनको पूजा करते समय सही से बैठने का सलीका भी नहीं पता था। उस दौरान पंडित को कहना पड़ा की यह मंदिर है मस्जिद नहीं। इसके आगे उन्होंने कहा कि अगर ऐसा ही रहा तो एक दिन ओवैसी भी हनुमान चालीसा पड़ता नजर आएगा और आप लोग अभियान को आगे बढाते रहिए।


झांसा-दर-झांसा भाजपा का एजेंडा

लखनऊ। झांसा-दर-झांसा भाजपा का एजेण्डा है। आखिर रोजगार देने के भाजपाई दावों का क्या हो रहा है? नौजवान कब तक रोजगार के झांसे में रहेंगे? पहले बैंकिंग सेक्टर को संकट में फंसा दिया अब उसको उबारने की घोषणा निरर्थक एक्सरसाईज नहीं तो क्या है? दुग्ध उत्पादन बढ़ाने और गौमाता को संरक्षण देने की स्थिति यह है कि सरकारी संरक्षण में रोज गायों की मौत हो रही है। जीवन बीमा निगम, एयर इण्डिया और रेलवे से सरकार हाथ खींच रही है। भाजपा सरकार की नीतियों के कारण अन्नदाता को ऊर्जाविहीन बनाया जा रहा है। ये बातें सपा प्रमुख व पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने सोमवार को जारी बयान में कही। उन्होंने कहा कि मंहगाई पर कोई नियंत्रण नहीं है। उद्योग धंधे बंद हो रहे हैं। बाहरी निवेश आ नहीं रहा है। नौजवानों के लिए रोजगार के अवसर सृजित नहीं हो रहे हैं। भारत में एक प्रतिशत अमीरों के पास 70 प्रतिशत आबादी की चार गुना दौलत बंधक है। देश के 63 अरबपतियों की सम्पत्ति तो भारत के एक साल के बजट से भी अधिक है। देश में एक टाप सीईओ साल में जितना कमाता है उतना हासिल करने में घर की मेड को 22,277 साल लग सकते हैं। स्पष्ट है, भाजपा राज में अमीर ही और अमीर हो रहे हैं। गरीबी हटाओं का अर्थ गरीब को हटाओं हो गया है। अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार के राज में कौन सी अर्थव्यवस्था है जिससे आम नागरिक का कोई भला नहीं हुआ है। किसान, गरीब, गांव-खेती, छोटा कारोबारी, छात्र-छात्राएं सभी तो भाजपा के धोखे के शिकार हैं। आयुष्मान योजना का क्या हुआ? अस्पतालों में दवाएं नहीं हैं, जिन दवाओं के दाम घटाने के वादे हुए वे भी वादे लागू नहीं हुए। योजनाओं के विचित्र नाम रखकर जनता को भ्रमित करने का काम ही यह भाजपा सरकार कर रही है तभी किसान उड़ान, विजन, डिजिटल क्रांति जैसी शब्दावाली चल रही हैं। जनसाधारण को सस्ती, सुविधाजनक यात्रा की सुविधा देने की परवाह नहीं,तेजस जैसी मंहगी 150 ट्रेने चलाने जा रहे हैं।


मिड डे मील के खाने में गिरी बच्ची, मौत

मिर्जापुर। लालगंज के पटेहरा ब्लाक के रामपुर अतरी प्राथमिक विद्यालय में सोमवार को दर्दनाक हादसा हो गया। स्कूल में बन रहे मिड डे मील की सब्जी में गिरने से तीन साल की बच्ची की मौत हो गई। बच्ची गांव के आंगनबाड़ी केंद्र में पढ़ती थी। उसके दो भाई विद्यालय में पढ़ते हैं। परिजनों ने रसोइयां पर लापरवाही का आरोप लगाया है। परिजनों ने आरोप लगाया कि रसोइयां मोबाइल पर गाना सुन रही थी। इससे उसने बच्ची पर ध्यान नहीं दिया। फिलहाल पुलिस को कोई तहरीर नहीं दी गयी है। जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल ने हेडमास्टर को निलंबित कर दिया है। रसोइया के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने का आदेश दिया है।


रामपुर अतरी गांव निवासी भागीरथी कोल को तीन बच्चे हैं। बड़ा बेटा हिमांशु कक्षा दो, छोटा गणेश कक्षा एक में रामपुर अतरी प्राथमिक विद्यालय में पढ़ते हैं। बेटी आंचल आंगनबाड़ी केंद्र में पढ़ती है। आंगनबाड़ी केंद्र को विद्यालय से अटैच कर दिया गया है। दोपहर में मिड डे मील के मीनू के अनुसार बच्चों के लिए सब्जी और रोटी तैयार की जा रही थी। विद्यालय में तैनात रसोइया लीलावती देवी, कमलावती देवी, सोना देवी, मोना, रीता और नगीना ने सब्जी तैयार कर भगौने में रख दिया। इसी दौरान आंचल खेलते हुए सब्जी वाले भगौने के पास पहुंच गयी और अचानक उसमें गिर गयी।


विद्यालय के अध्यापक और रसोइयां उसे लेकर पीएचसी भागे। जहां से चिकित्सकों ने मण्डलीय अस्पातल ले जाने को कहा। उपचार के दौरान शाम को पांच बजे के करीब मौत हो गयी। एबीएसए राम मिलन यादव का कहना है कि विद्यालय में निर्माण कार्य चल रहा है। बच्ची ठोकर लगने से भगौने में गिर गयी।


भूमि विवाद में मारपीट, आधा दर्जन घायल

प्रतापगढ़। लालगंज कोतवाली क्षेत्र में भूमि विवाद को लेकर मारपीट हो गई। इसमें पिता-पुत्र सहित आधा दर्जन लोग लोग घायल हो गए। सोमवार की सुबह ग्राम पंचायत के उप चुनाव में मतदान करने जा रहे पिता और पुत्र करने जा रहे थे। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए सीएचसी में भर्ती कराया। वहीं पुलिस मामले की जांच-पड़ताल कर रही है।


मिली जानकारी के अनुसार लालगंज कोतवाली के खजुरी तिरकोनिया गांव के जमुना प्रसाद यादव (48) का अपने भाई महादेव प्रसाद यादव से जमीन का विवाद चला आ रहा है। इसे लेकर कई बार दोनों पक्षों में मारपीट भी हो चुकी है। सोमवार को प्रतापगढ़ में ग्राम पंचायत का उप चुनाव के तहत मतदान हो रहा है। इसी क्रम में जमुना प्रसाद सुबह करीब 10 बजे अपने पिता रामेश्वर प्रसाद यादव (70) को लेकर खजुरी स्थित मतदान केंद्र पर वोट दिलाने ले जा रहा था।


जमुना प्रसाद का आरोप है कि वह अपने पिता के साथ अभी घर से थोड़ी दूर ही गया था। इसी दौरान महादेव व उसके परिवार के लोगों ने उनसे मारपीट शुरू कर दी। चीख-पुकार मचने पर जमुना के घर से परिवार के लोग दौड़े और वहां पहुंचकर बीच-बचाव का प्रयास किया। जमुना प्रसाद और उसके पिता महादेव प्रसाद समेत आधा दर्जन लोगों को मारपीट कर घायल कर दिया गया। जब तक ग्रामीण पहुंचते, दूसरा पक्ष फरार हो चुका था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों काे लालगंज सीएचसी में इलाज के लिए भर्ती कराया। पुलिस घटना की जांच कर रही है।


गाजियाबाद पुलिस मॉडर्न स्कूल का कायाकल्प

पुलिस मॉडर्न स्कूल का होगा कायाकल्प


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री कलानिधि नैथानी द्वारा  पुलिस मॉडर्न स्कूल गाजियाबाद का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। एसएसपी द्वारा स्कूल में छात्रों के साथ इन्टरैक्शन किया गया तथा स्कूल में स्मार्ट क्लासेज चलाने पर जोर दिया गया । 
एसएसपी द्वारा संबंधित उच्चाधिकारीगण को स्कूल में नया प्रशासनिक भवन बनाने, कक्षाओं में नया फर्नीचर लगाने,  प्रयोगशालाओं को हाईटेक बनाने,  प्ले ग्राउंड की मरम्मत, अल्पाहार के लिए कैंटीन व्यवस्था शुरू करने, बिजली हेतु सौरलाइट लगवाने, छात्रों के लिए पेयजल व  वाशरूम की सुव्यवस्था करने हेतु निर्देशित किया गया है।


5 पत्नियों से कराता था देह व्यापार

शाहजहांपुर। एक साधु ने 5-5 शादियां की और फिर नशीले इंजेक्शन देकर पत्नियों को देह व्यापार के धंधे में झोंक दिया। अब साधु की कुटिलता की शिकार महिलाओं ने पुलिस से गुहार लगाई है। यह मामला यूपी के शाहजहांपुर का है।


पीडि़़त महिलाओं ने डीआईजी से शिकायत की है। इसके बाद डीआईजी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी साधु के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। डीआईजी से शिकायत करते हुए महिलाओं ने अनुज चेतन सरस्वती नाम के साधु पर गंभीर आरोप लगाए हैं। महिलाओं का आरोप है कि अनुज चेतन सरस्वती, साधु के रूप में वहशी दरिंदा है। वह सत्संग करता है और तंत्र विद्या कर महिलाओं को अपने जाल में फंसा लेता है।


महिलाओं का आरोप है कि इस साधु ने अब तक 5 शादियां की हैं। महिलाओं का आरोप है कि वह इसी तरीके से लोगों को अपने जाल में फंसा लेता है, फिर उन्हें नशीला इंजेक्शन देता है और देह व्यापार करने के लिए मजबूर करता है।जो भी महिला उसकी बात नहीं मानती उसको बुरी तरह से मारता-पीटता है और बंधक बनाकर रखता है। महिलाओं का कहना है कि उसकी एक पत्नी आत्महत्या कर चुकी है जबकि बाकी पत्नियां उसे छोडक़र जा चुकी हैं।


जनता से झूठे वायदे करती है भाजपा

नई दिल्ली। शत्रुघ्न सिन्हा ने रामलीला मैदान दुर्गा पार्क में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने भाजपा पर निशाना साधा। भाजपा के अलावा आम आदमी पार्टी पर भी शत्रुघ्न सिन्हा ने अपना गुस्सा जाहिर किया। वही दिल्ली के द्वारका विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के प्रत्याशी आदर्श शास्त्री को लेकर लोगों के बीच शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी बात रखी। कांग्रेस उम्मीदवार आदर्श शास्त्री के प्रचार करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा,'जब मैं लोलीपोप पॉलिटिक्स की बात करता हूं, तो याद रखना आदर्श शास्त्री के व्यक्तित्व की बौखलाहट से अच्छे-अच्छे लोग बौखलाएंगे, तरह-तरह के वादे करेंगे। जहां नदियां नहीं होंगी वहां भी पुल बनाने के वादे करेंगे।'  


बीजेपी के अलावा आम आदमी पार्टी पर भी शत्रुघ्न सिन्हा ने अपना गुस्सा जाहिर किया। इसके साथ ही उन्होंने इस बार हो रहे दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को सबसे मजबूत पार्टी माना। वहीं रविवार शाम गांधीनगर विधानसभा क्षेत्र में हो रहे प्रचार के दौरान भी बिहारी बाबू ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। सिन्हा ने कांग्रेस उम्मीदवार अरविंदर सिंह लवली को समर्थन देने की अपील की। वहीं संगम विहार क्षेत्र से प्रत्याशी पूनम आजाद को लेकर भी शत्रुघ्न सिन्हा ने लोगों के बीच अपनी बात रखी।


दाऊद, अनिल कपूर की फोटो वायरल

मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनम कपूर के पिता अनिल कपूर की एक फोटो अंडरवर्ल्ड दाऊद इब्राहिम के साथ वायरल हो रही है। एक यूजर ने सोनम को ट्रोल करने के लिए उनके पिता अनिल कपूर की फोटो शेयर की। अनिल इस फोटो में दाऊद के साथ दिखाई दे रहे थे। हालांकि ये फोटो काफी पुरानी थी। यूजर ने उनसे इस तस्वीर पर जवाब मांगा,जिसका सोनम ने बेबाकी से जवाब दिया। उन्होंने जवाब में कहा,'वह राज कपूर और कृष्णा कपूर के साथ मैच देखने गए थे और बॉक्स में थे। मुझे लगता है आपको किसी पर ऊंगली उठाना बंद कर देना चाहिए क्योंकि ऐसे में अन्य 3 ऊंगलियां आप पर होती हैं। भगवान आपको हिंसा फैलाना के लिए माफ करें। सोनम कपूर को और भी कई सोशल मीडिया यूजर्स ने उन्हें कमेंट में ट्रोल करने की कोशिश, जिसका अभिनेत्री ने मजबूती से जवाब दिया।


फिरोजाबाद में संदिग्ध मरीज, रेफर

देवाषीश शर्मा 


फिरोजाबाद। सुहागनगरी में सोमवार को कोरोना वायरस का एक संदिग्ध मरीज मिलने से हड़कंप मच गया। युवक को मेडिकल कॉलेज के स्पेशल वार्ड में शिफ्ट करने के बाद उसे जांच को दिल्ली भेज दिया गया। युवक अपने व्यवसाय संबंधी कार्य को निपटाने के बाद कुछ दिन पूर्व ही चीन से लौटा है। युवक अपना परीक्षण कराने के लिए मेडिकल कॉलेज पहुंचा था।
थाना रसूलपुर के मोहल्ला रहमत नगर निवासी 36 वर्षीय मोहम्मद इमरान पुत्र सरदार अहमद मिरर (शीशा) कारोबारी है। वह अपने व्यवसाय के संबंध में एक जनवरी को चीन के शहर सिमटाई गया था। आठ जनवरी को व्यवसायी अपने घर लौट आया। कुछ दिन बाद उसे सर्दी, जुकाम एवं हल्के बुखार की शिकायत महसूस हुई। युवक जब अपनी जांच को मेडिकल कॉलेज पहुंचा और चीन से लौटकर आने की बात कही तो चिकित्सकों ने मामले की गंभीरता को समझते हुए तत्काल उसे कोरोना के लिए बनाए स्पेशल वार्ड में भर्ती करा दिया। मामले की जानकारी मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा.आरके पांडेय को दे दी। स्पेशल वार्ड में भर्ती करने के बाद विशेष सतर्कता बरतना प्रारंभ कर दिया। सीएमएस के आदेश पर मिरर व्यवसायी को जांच के लिए दिल्ली भेज दिया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.शिव कुमार दीक्षित ने बताया है कि जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट होगी। फिलहाल वह कोरोना वायरस का संदिग्ध रोगी है। दिल्ली में होने वाले चेकअप के बाद वायरस की पुष्टि होगी।


कोरोना वायरस को लेकर भयभीत न हों लोग ।


कोरोना वायरस को लेकर लोग भयभीत न हों। फिलहाल जिले में इस तरह का एक संदिग्ध मामला प्रकाश में आया है लेकिन इसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह सतर्क है। मेडिकल कॉलेज में स्पेशल वार्ड के साथ रोगी की देखभाल को पूरे स्टाफ की भी तैनाती सुनिश्चित कर ली गई है।
कांच उद्योग होने से शहर के कई लोगों का चीन के विभिन्न शहरों अकसर आना-जाना लगा रहता है। इसी को देखते हुए शासन के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग पूरी सतर्कता बरत रहा है। वायरस को देखते हुए मेडिकल कॉलेज में सभी व्यवस्थाएं कर ली गई हैं। मेडिसन विभाग के ठीक सामने संभावित कोरोना मरीज को भर्ती करने को वार्ड बनाया है जो पूरी तरह स्पेशल है तथा इसमें लोगों के प्रवेश पर पूरी तरह पाबंदी लगा रखी है।
वार्ड में रोगियों की देखभाल को समुचित मात्रा में स्टाफ तैनात किया गया है। इसके अलावा प्रारंभिक स्थिति में प्रयोग की जाने वाली सभी दवा भी उपलब्ध कराई गई हैं। जनपद का स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह अलर्ट है इसलिए लोगों को इससे भयभीत होने की जरूरत नही हैं।
मास्क बेहद जरूरी है इसे जरूर लगाएं ।
स्पेशल वार्ड में आम जनमानस का प्रवेश पूरी तरह प्रतिबंधित है। जो लोग वार्ड में जाएं तो चेहरे पर मास्क लगाकर ही जाएं। अधिकारियों ने स्टाफ को सख्त निर्देश दिए हैं कि वह बिना मास्क के किसी को वार्ड में प्रवेश न कराएं।
सार्वजनिक स्थलों पर न घूमे मिरर व्यवसायी ।
संदिग्ध कोरोना वायरस के संदिग्ध रोगी चीन से लौटे मिरर व्यवसायी रहमत नगर निवासी मोहम्मद इमरान पुत्र सरदार अहमद को सार्वजनिक स्थलों पर घूमने के लिए मना किया गया है। मिरर व्यवसायी को निर्देश दिए हैं कि वह लोगों से मिलने से फिलहाल परहेज रखें। स्पेशल वार्ड में उनको रखा जा रहा है व देखभाल की जा रही है। लखनऊ से जब तक ब्लड की रिपोर्ट नहीं आ जाती तब तक मामले में सतर्कता के निर्देश दिए हैं।
मिरर व्यवसायी के परिवार पर भी है नजर । संदिग्ध मामला पकड़ में आने के बाद जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा मिरर व्यवसायी के परिवार भी नजर रखना शुरू कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के अनुसार फिलहाल वह इसे लेकर कोई कोताही बरतने के मूड में नहीं हैं।
चीन से लौटने वालों की हो रही निगरानी
कांच उद्योग को लेकर शहर के कई व्यवसाइयों का चीन आवागमन बना रहता है। ऐसी स्थिति को देखते हुए फिलहाल जो लोग चीन से लौटकर आ रहे हैं उन पर कड़ी नजर रखी जा रही है तथा उनकी मेडिकल कॉलेज में जांच के लिए स्पेशल वार्ड में भर्ती कराया जाता है।
पूरे मामले पर बोले सीएमओ ।
शहर में कोरोना वायरस का कोई मरीज नही हैं। चूंकि मिरर व्यवसायी चीन से लौटकर आया है इसलिए पर कड़ी नजर रखी जा रही है। उनके अंदर जो लक्षण हैं उन्हें देखते हुए ब्लड सैंपल लखनऊ भेजे हैं। मिरर व्यवसायी की तरह अन्य ऐसे लोगों पर भी नजर रहेगी जो चीन से लौटकर आ रहे हैं। संदिग्ध मरीज की सही जानकारी ब्लड रिपोर्ट से होगी।


उत्तराखंडः महिला सुरक्षा के प्रति पुख्ता कदम

देहरादून। महिलाओं और युवतियों की सुरक्षा को लेकर उत्तराखण्ड पुलिस नेे एक और पुख्ता कदम उठाया गया है। अशोक कुमार, महानिदेशक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड के निर्देशन में पुलिस मुख्यालय में स्थापित महिला सुरक्षा सेल में महिला व्हट्सएप हेल्पलाइन सेवा शुरू की गयी है।


अशोक कुमार ने बताया कि महिला व्हट्सएप हेल्पलाइन सेवा में महिला, युवती व छात्राएं मोबाइल नम्बर 9411112780 पर व्हट्सएप के माध्यम से अपनी शिकायत दर्ज करा सकती हैं। इस नम्बर पर कोई भी घटना और समस्या से संबंधित मैसेज (संदेश), फोटो या वीडियो व्हट्सएप के जरिए पुलिस मुख्यालय में स्थापित महिला सुरक्षा सेल को भेज सकती हैं।


महिला सुरक्षा सेल में तैनात पुलिस अधिकारी व्हट्सएप पर आए संदेश पर पीड़ित महिला से संबंधित जनपद में जानकारी देगी, जिस पर जनपद के संबंधित थाने की ओर से अविलम्ब कार्यवाही की जाएगी।


यह होंगे फायदे…..


1. महिलाएं और छात्राएं अपने साथ होने वाली छेड़छाड़ और घटना का वीडियो, फोटो और मैसेज पुलिस को भेज सकेंगी।


2. विपरीत परिस्थिति में शिकायत नहीं देने पर सिर्फ मैसेज या वीडियो से भी पुलिस पीड़िता तक पहुंच जाएगी।


3. लोकलाज के चलते थाने नहीं जाने वाली पीड़ित महिलाओं को भी शिकायत देने में आसानी होगी।


'सत्याग्रह को ड्रामा' कहना निंदनीय

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सत्याग्रह को ‘ड्रामा’ बताने वाले के बयान की आलोचना करते हुए आज कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सांसद का यह बयान बेहद आपत्तिजनक और निंदनीय है। कमलनाथ ने अपने ट्वीट के जरिए भाजपा सांसद पर निशाना साधा।


मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के स्वतंत्रता आंदोलन के समय किए गए सत्याग्रह को भाजपा सांसद द्वारा ड्रामा बताना बेहद आपत्तिजनक और निंदनीय है। उन्होंने कहा कि भाजपा नेतृत्व यदि पूर्व में ही बापू के हत्यारे गोडसे को दो-दो बार देशभक्त बताने वाली भाजपा सांसद पर दिखावटी कार्रवाई की बजाय, कड़ी कार्रवाई कर देता तो शायद आज गांधी जी के बारे में इस तरह कहने की किसी में हिम्मत ना होती। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब समय आ गया है कि भाजपा को स्पष्ट करना चाहिये कि वो किस विचारधारा के साथ है। गांधी की या गोडसे की।


चीन ने अमेरिका से सहायता मांगी

बीजिंग। चीन में जानलेवा कोरोना वायरस से अब तक 425 से अधिक लोगों की मौत हो गयी और ऐसे में वह अमेरिका से महामारी का रूप ले चुका इस वायरस से जल्द से जल्द निपटने के लिए मदद की उम्मीद कर रहा है। साउथ चीन पोस्ट के अनुसार चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने मंगलवार को कहा, “चीन को पता है कि अमेरिका ने कई बार उसकी मदद करने की इच्छा जताई है। हमें उम्मीद है कि अमेरिका जल्द से जल्द इस वायरस से निपटने के लिए हमारी हरसंभव मदद करेगा।”


प्रवक्ता चुनयिंग ने कहा, “चीन सरकार और उसके नागरिक मिल कर इस जानलेवा कोरोना वायरस से निपटने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे है। हमने इस बीमारी के फैलने पर पूरी तरह से अंकुश लगाने के लिए निर्णायक और प्रभावी कदम उठाये हैं और रोकथाम तथा नियंत्रण के प्रयास धीरे-धीरे परिणाम दे रहे हैं।” उन्होंने कहा, “अमेरिका को अति प्रतिक्रिया देने से बचना चाहिए और इस स्थिति में उसे शांत और उद्देश्यपूर्ण तरीके से चीन की मदद करनी चाहिए। कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के लिए अमेरिका को चीन के साथ मिलकर काम करना चाहिए।”


इससे पहले सोमवार को अमेरिका द्वारा चीन के यात्रियों पर लगाए गए प्रतिबंध के खिलाफ चीन ने कड़ा बयान देते हुए अमेरिका पर मदद नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा था कि अमेरिका मदद की बजाय दुनिया में दहशत का माहौल फैला रहा है। इस मामले में व्हाइट हाउस के आर्थिक सलाहकार लैरी कुडलो ने भी कहा था कि चीन ने अमेरिकी स्वास्थ्य विशेषज्ञों को देश में मदद करने की अनुमति देने पर सहमति व्यक्त की है लेकिन चीन ने बहुत ही संक्षिप्त प्रतिक्रिया दी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने हालांकि कहा, “अमेरिका ने चीन को सहायता प्रदान करने के लिए अपनी तत्परता को दोहराया है और हम उम्मीद करते हैं कि संबंधित सहायता जल्द से जल्द पहुंचेगी।”


हांगकांग में काेरोना वायरस के पहली मौत
हांगकांग में मंगलवार को जानलेवा काेरोना वायरस के संक्रमण से मौत का पहला मामला सामने आया है। अस्पताल के प्रवक्ता ने पुष्टि करते हुये बताया है कि उनतालीस वर्षीय एक व्यक्ति की काेरोना वायरस के कारण मौत हो गयी है जाे हांगकांग का निवासी था। उसकी कारोना वायरस से संक्रमण के 13वें मामले के रूप में पुष्टि की गई थी और प्रिंसिस मार्गरेट अस्पताल में उपचार के लिए एक अलग से वार्ड में रखा गया था। प्रवक्ता ने बताया कि मरीज की हालत बिगड़ने के बाद आज सुबह उसकी मौत हो गयी। वह कोवलून में एक प्राइवेट एस्टेट के व्हापोआ गार्डन में रहता था।


गौरतलब है कि चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 425 से अधिक हो गयी है और 37643 लोगों में इस संक्रमण के पाये जाने की पुष्टि हुई है। कोरोना वायरस का पहला मामला गत वर्ष दिसंबर में वुहान में सामने आया था। मौजूदा समय में भारत सहित दुनिया से 26 से अधिक देशों में यह संक्रमण फैल चुका है।


घोषणाः दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाएंगे

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) ने मंगलवार को अपना घोषणा-पत्र जारी कर दिया। आप ने घोषणा-पत्र में मतदाताओं से दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्ज दिलाने, जन लोकपाल विधेयक लाने और दिल्ली स्वराज विधेयक लाने का वादा किया है। आप ने सफाई कर्मचारियों की नई नियुक्ति का वादा किया है। इसके साथ ही आप ने मृत सफाई कर्मी के आश्रितों को एक करोड़ रुपये देने का भी वादा किया है। घोषणा-पत्र में मतदाताओं से उनके घर पर राशन पहुंचाने का वादा किया है। दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए मतदान आठ फरवरी को होना है


वन्य-जीव, पर्यावरण की सुंदरता देखी

फारुख हुसैन


लखीमपुर-खीरी। वन्य जीव पर्यावरण की सुन्दरता को देखने के लिये उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल सोमवार करीब तीन बजे अपने उड़नखटोले से पहुंचीं। इस दौरान उनके साथ उनका पूरा परिवार भी था। राज्यपाल की सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर डीएम व एसपी भारी पुलिस बल के साथ तैनात रहे। हवाई पट्टी से राज्यपाल आनंदी बेन पटेल कार में सवार होकर दुधवा नेशनल पार्क पहुंची। हवाई पट्टी पर भी उनका भव्य स्वागत डीएम शैलेन्द्र सिंह व एसपी पूनम सहित जिले के सभी बड़े अधिकारियों ने किया।


उत्तर प्रदेश के राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल दुधवा टाइगर रिजर्व के पांच दिवसीय दौरे पर खीरी जिले में पहुंची हैं। अपने प्रोटोकाल 3:15 मिनट से करीब दस मिनट पहले उनका उड़नखटोला मुजहा हवाई पट्टी पर उतरा। जिसके बाद अपने परिजनों के साथ कार में सवार होकर राज्यपाल दुधवा टाइगर रिजर्व पर्यटन परिसर पहुंची। इस दौरान पुलिस व प्रशासन द्वारा सुरक्षा के पुख्ता इंतेजमात किये गये थे।


राज्यपाल के भ्रमण कार्यक्रम को लेकर पहले से ही प्रशासन अलर्ट पर था। रविवार को प्रशासन व पुलिस द्वारा राज्यपाल के स्वागत को लेकर तैयारियां पूरी कर ली गयी थी। राज्यपाल के आगमन से पहले ही सोमवार को डीएम शैलेन्द्र सिंह एसपी पूनम, सीडीओ अरविन्द सिंह, सीएमओ डा. मनोज अग्रवाल सहित जिले के सभी बड़े अधिकारी पलिया पहुंच गये थे।


पलिया हवाई पट्टी से कार पर सवार होकर अपने परिवार के साथ उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल दुधवा नेशनल पार्क पहुंची, जिसके बाद पार्क प्रशासन द्वारा पर्यटकों के लिये उपलब्ध करायी गयी जंगल सफारी जीप से वे जंगल भ्रमण पर निकल गयी। वन्य जीवों को लेकर उत्तर प्रदेश की राज्यपाल बेहद संवदेनशील है। दुधवा नेशनल पार्क में उनके भ्रमण कार्यक्रम का उद्देश्य वन्य-जीवों सहित पार्क प्रशासन की व्यवस्था को जानना है। रात्रि विश्राम के बाद वह मंगलवार की सुबह गैंडा परिक्षेत्र सलूकापुर का भी दौरा करेंगी। जिसके बाद करीब साढ़े नौ बजे वह सुनारीपुर रेंज का दौरा करेंगी।


करीब 11 बजे वह वापस दुधवा नेशनल पार्क पहुंचेगी, जहां वे दोपहर के खाने का आनंद लेंगी। जिसके बाद करीब चार बजे पलिया एयरपोर्ट से वह लखनऊ के लिये रवाना हो जायेंगी। जहां वह प्रधानमंत्री से नरेन्द्र मोदी से मुलाकात करेंगी। जिसके बाद वह पुनः दुधवा नेशनल पार्क खीरी के लिये रवाना होंगी। जहां से वह करतनियाघाट जाएगी। यहां पर भी वन्य जीव संरक्षण को लेकर समीक्षा करेंगी। इसके बाद रात्रि विश्राम करने के बाद अगले दिन गुरूवार की दोपहर दुधवा नेशनल पार्क में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करेंगी। शुक्रवार को वह लखनऊ के लिये पुनः रवाना हो जायेंगी।


एक्सरसाइज से फायदे और नुकसान

आजकल शहरों के लोग काफी फिटनेस फ्रीक हो गए हैं। बिजी शेड्यूल के बीच भी लोग एक्सरसाइज, योगा, जिम करने का वक्त निकाल ही लेते हैं। एक्सरसाइज एक हद तक की जाए तो यह ठीक होती है, लेकिन ज्यादा एक्सरसाइज करना सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।


एक्सरसाइज की लत उन लोगों में चार गुना ज्यादा होती है जिनमें खानपान से जुड़े विकार होते हैं। एक हालिया शोध में यह खुलासा किया गया है। कसरत की लत स्वास्थ्य के प्रति ऐसी दीवानगी है जो किसी के शरीर और सामाजिक जीवन पर नकारात्मक प्रभाव डालते हैं।
अनहेल्दी फूड भी है एक्सराइज का जिम्मेदार!
यूके की एंजेलिया रस्किन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता माइक ट्रोट ने कहा, यह बात ज्ञात है कि जिन लोगों में खानपान संबंधी विकार होते हैं उनका व्यक्तित्व और व्यवहार जुनूनी होता है। यह भी पता है कि खाने की अनहेल्दी आदतों के कारण एक्सरसाइज करने की इच्छा ज्यादा होती है।
एक्सरसाइज है बुरी लत
शोध में पहली बार दर्शाया गया है कि ज्यादा एक्सरसाइज की लत बुरी हो सकती है। पत्रिका इटिंग एंड वेट डिसऑर्डर में प्रकाशित शोध में 25 साल की उम्र के 2,140 लोगों के डाटा का अध्ययन किया गया है। जो लोग खानपान के विकार से ग्रस्त थे उनमें कसरत करने की लत 3.7 गुना तक ज्यादा पाई गई। ट्रोट ने कहा अपने खानपान को स्वस्थ बनाने की इच्छा बेहद सामान्य है, खासकर साल की शुरुआत में। ये जरूरी है कि इस व्यवहार को मध्यम स्तर का रखा जाए और किसी तरह की क्रैश डाइटिंग के चक्कर में न फंसा जाए।
इन लोगों पर किया गया अध्ययन 
दिमागी स्वास्थ्य पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है कसरत की लत से न सिर्फ खानपान की आदतें खराब होती हैं, बल्कि इससे दिमागी स्वास्थ्य पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और किसी तरह की चोट भी लग सकती है। इन मरीजों में हृदयरोगों और अचानक मौत का खतरा भी अधिक होता है।
ज्यादा एक्सरसाइज क्यों है खतरनाक?
इससे पहले भी कई शोध में यह बात सामने आई है कि ज्यादा एक्सरसाइज करना सेहत के लिए हानिकारक होता है।


जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज करने से हड्डियों को नुकसान पहुंचता है। साथ ही जोड़ों, कमर, सिर और शरीर के पिछले हिस्सों में दर्द की समस्या हो सकती है।
रोजाना एक्सरसाइज करने से ब्लड प्रेशर बढ़ता है, जो हार्ट प्रॉब्लम का कारण बन सकता है।
अधिक व्यायाम से शरीर में हार्मोनल असंतुलन का खतरा रहता है। हार्मोन असंतुलित होने की वजह से ज्यादा बीमार होने का खतरा रहता है।
ज्यादा एक्सरसाइज करने से भूख कम लग सकती है और कमजोरी हो सकती है।


भाजपा सांसदों को कहा रावण की औलाद

खुशबू गुप्ता


नई दिल्ली। कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। अधीर रंजन चौधरी ने बीजेपी नेताओं को रावण की औलाद बताया है। लोकसभा में अधीर रंजन चौधरी ने बीजेपी नेताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी की, जिसके बाद सदन में जबरदस्त हंगामा हुआ। शून्य काल के दौरान लोकसभा में कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि कि देशभर में सीएए और एनआरसी को लेकर शांतिपूर्ण प्रदर्शन हो रहे हैं। हम महात्मा गांधी के आदर्शों पर चलते हुए शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हैं।


उन्होंने कहा कि दुनियाभर में गांधी जी के आदर्शों की बात होती है, लेकिन अब इनकी ओर से उनके बारे में गलत बातें कही जा रही हैं। इसी दौरान अधीर रंजन चौधरी ने बीजेपी नेताओं को रावण की औलाद करार दिया। अधीर रंजन चौधरी की आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद सदन में हंगामा शुरू हो गया।


सीएए कानून देश में अभी नहीं होगा लागू

राकेश


नई दिल्ली। देशभर में नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन लागू होगा या नहीं? इस सवाल पर मंगलवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लोकसभा में लिखित बयान दिया है। गृह मंत्रालय का कहना है कि अभी तक देशभर में NRC लागू करने का फैसला नहीं लिया गया है।


लोकसभा में सांसद चंदन सिंह, नागेश्वर राव की ओर से गृह मंत्रालय से कुछ सवाल पूछे गए थे। इसमें क्या एनआरसी को लागू करने के लिए सरकार कदम उठा रही है, क्या राज्य सरकारों से इस बारे में चर्चा की गई है? समेत कुल 5 सवाल थे। इनके जवाब में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने लोकसभा में लिखित में बयान में कहा है, ‘...अभी तक भारत सरकार ने पूरे देश में नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन लागू करने का कोई फैसला नहीं लिया है।’


गौरतलब है कि मंगलवार को ही लोकसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी बयान देने वाले थे, लेकिन विपक्ष के हंगामे के कारण वह अपना बयान नहीं दे सके। स्पीकर ओम बिड़ला ने सदन की कार्यवाही को स्थगित कर दिया था। इसके बाद इस जवाब को गृह मंत्रालय की तरफ से सदन के पटल पर रख दिया गया।


ममता का पूजा से मना, संसद में हंगामा

खुशबू गुप्ता


नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल की ममता सरकार ने राज्य में युवाओं को सरस्वती पूजा करने की इजाजत नहीं दी।  ममता दीदी ने सरस्वती पूजा पर रोक लगाई दी। ये आरोप लोकसभा में बीजेपी की सांसद लॉकेट चटर्जी ने लगाया है। लॉकेट चटर्जी ने लोकसभा में इस बात की चर्चा की है कि पश्चिम बंगाल में हिंदुओं को सरस्वती पूजा करने की इजाजत नहीं दी गई।


पश्चिम बंगाल के हुगली लोकसभा सीट से सांसद लॉकेट चटर्जी ने संसद में जब यह मामला उठाया तो जबरदस्त हंगामा शुरू हो गया। सत्ता पक्ष के दूसरे सांसद भी अपनी सीट पर खड़े हो गए और ममता सरकार के खिलाफ जमकर नाराजगी जताई। लॉकेट चटर्जी के इस आरोप के बाद कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी सहित टीएमसी के अन्य सांसद भी अपनी जगह पर खड़े हो गए। लोकसभा में बवाल इतना ज्यादा बढ़ गया की स्पीकर ओम बिरला को अपनी सीट पर खड़े होकर सदस्यों को शांत कराना पड़ा।


दोषियों को जल्द मिलनी चाहिए फांसी

खुशबू गुप्ता


नई दिल्ली। निर्भया को न्याय मिलने में हो रही देरी का मामला आज राज्यसभा में जमकर गूंजा। आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने निर्भया के दोषियों को फांसी दिए जाने में देरी के मामले पर राज्यसभा में चर्चा का प्रस्ताव दिया था। जिसके बाद सभापति और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने भी इस मामले पर गंभीरता दिखाते हुए दोषियों को सजा मिलने में हो रही देरी पर नाराजगी जताई। वेंकैया नायडू ने कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि कानूनी पेंच के कारण निर्भया के दोषियों को अब तक सजा नहीं मिल पाई है। हालांकि आम आदमी पार्टी के सांसद की तरफ से इस मामले को राज्यसभा में उठाए जाने के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इसके लिए दिल्ली सरकार पर ठीकरा फोड़ा।


प्रकाश जावड़ेकर ने राज्यसभा में कहा कि निर्भया के दोषियों को फांसी दिए जाने में जेल प्रशासन की तरफ से जो मंजूरी दी जानी थी उसमें जानबूझकर दिल्ली सरकार की तरफ से देरी की गई। जावड़ेकर ने कहा कि इस मामले को लटका कर रखा गया, हालांकि सभापति वेंकैया नायडू ने इस मामले पर कोई भी राजनीति नहीं करने की सलाह देते हुए इस पर गंभीरता से विचार करने की बात कही है।


गोकशीः एसडीएम पर साधा निशाना

मीना श्रीवास्तव


गाजियाबाद। लोनी स्थित रेलवे विहार डीएलएफ चौकी के अंतर्गत कॉलोनी के बीचो-बीच गोकशी की सरेआम वारदात को अंजाम देना। यह साफ जाहिर करता है कि डीएलएफ चौकी इंचार्ज गौ तस्करों के साथ मिले हुए हैं। ऐसे व्यक्ति को तुरंत सस्पेंड किया जाए। जब से लोनी में एसडीएम खालिद अंजुमन आए हैं। तब से यह तीसरी-चौथी घटना गोकशी की लोनी में हुई है। उनके आने से गौ-तस्करों के हौसले बुलंद हुए हैं। ऐसे एसडीएम को तुरंत लोनी से हटाकर किसी सख्त एवं इमानदार एसडीएम को लोनी में लगाया जाए। ताकि गौमाता पहले की तरह सुरक्षित लोनी में वास कर सकें। हम सुबह से ही रेलवे बिहार में उपस्थित हैं। अभी तक यहां कोई नहीं पहुंचा, ना शासन ना प्रशासन का कोई आदमी। इससे साफ जाहिर होता है कि यह अधिकारी सिर्फ और सिर्फ माल कमाने के लिए आए हैं। इन्हें अपने कर्तव्य की कोई चिंता नहीं है।


विश्व हिंदू परिषद एवं बजरंग दल की टीम मौके पर अभी मौजूद है। सभी से निवेदन है कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में यहां पहुंचे। गौ माता की सुरक्षा के लिए घटनास्थल पर पहुंचे। लोनी नगर अध्यक्ष विश्व हिंदू परिषद अभय चौहान  अपने सभी साथियों के साथ धरने पर बैठे।


नगरपालिका के असली रूप का पर्दाफाश

अधिकारी की हठधर्मिता का शिकार तो नहीं हो रहे लाल बाग कॉलोनी वासी


कहीं अनदेखी का नुकसान भाजपा जनप्रतिनिधियों को ना उठाना पडे।


क्यों लोनी के अधिकारी पॉश आवास कॉलोनी को बनाना चाह रहे हैं डंपिंग ग्राउंड


सचिन विशौरिया


गाजियाबाद। लोनी में भाजपा का खिसकता आधार कहीं भारतीय जनता पार्टी के जनप्रतिनिधियों व नेताओं के द्वारा जनता के अनदेखी करना मुख्य कारण तो नहीं। हम बात कर रहे हैं लोनी में भारतीय जनता पार्टी के गढ़ माने जाने वाले लाल बाग कॉलोनी की। जहां शुरू से ही भारतीय जनता पार्टी का वर्चस्व कायम रहा है। कोई और विपक्षी पार्टी इसमें सेंध लगाने में आज तक कामयाब नहीं हुई। लेकिन अधिकारियों का रूखापन व जनप्रतिनिधियों की अनदेखी से लाल बाग कॉलोनी के लोग भाजपा के अलावा किसी और पार्टी के नेताओं की राह देख रहे हैं। उनकी समस्या का समाधान कर सके। किसी अधिकारी की हठधर्मिता की वजह से भाजपा का जनाधार कहीं खिसक ना जाए। लाल बाग कॉलोनी वैसे तो लोनी नगर पालिका क्षेत्र की पॉश कॉलोनियों में एक है। लेकिन यहां एक अधिकारी की हठधर्मिता के चलते उसको डंपिंग ग्राउंड बनने पर मजबूर कर दिया है। लोगों की माने तो अधिकारी की शिकायत करने पर उसने जबरन यहां पर जनता को समस्या उत्पन्न करने के लिए पोश कॉलोनी में डंपिंग ग्राउंड बना दिया। जिसकी जनसुनवाई पोर्टल के माध्यम से अधिकारी ने पुष्टि की है। अब ऐसे में लाल बाग कॉलोनीवासी क्या आगे भी भारतीय जनता पार्टी के जनप्रतिनिधियों का साथ देंगे। यह एक देखने वाली बात है कि पॉश कॉलोनी में कैसे एक अधिकारी ने अपने बदले कीी भावना से कॉलोनी में जबरन कूड़ा डलवाना शुरू कर दिया है। जिसकी शिकायत लोनी क्षेत्र वासियों ने उपजिलाधिकारी से भी की थी। उप जिलाधिकारी ने उन्हें आश्वासन दिया है कि जल्द ही उनकी समस्या का समाधान होगा।


'इंधन बचाओ पर्यावरण बचाओ' आयोजन

जालौन। रामपुरा राजा चित्तर सिंह जूदेव बालिका इंटर कॉलेज रामपुरा में सक्षम प्रतियोगिता महोत्सव धूमधाम से मनाया गया जिसका मुख्य उद्देश्य था ईंधन बचाओ पर्यावरण ईंधन बचाओ पेट्रोल डीजल गैस इत्यादि वस्तुओं को कम से कम खर्च करना चाहिए जिससे कि पर्यावरण दूषित ना हो एवं बीमारियां भी कम फैल सकें।


इसी प्रतियोगिता के चलते चित्रकला एवं निबंध प्रतियोगिता में कुछ बच्चों को प्रोत्साहित भी किया गया
 चित्रकला में -प्रिंसी यादव कक्षा 11 (प्रथम), खुशी कक्षा 7 (द्वितीय) ,एवं अंजना कक्षा 9(तृतीय) व निबंध प्रतियोगिता मैं अर्जुन सिंह राजावत कक्षा 9 प्रथम, खुशी सिंह कक्षा 7 द्वितीय, एवं मुस्कान पर कक्षा 5 तृतीय ,आदि बच्चों को अतिथि गढ़ के द्वारा प्रोत्साहित किया गया।
 इसके बाद  राजा चित्तर सिंह बालिका इंटर कॉलेज रामपुरा के बच्चों सहित नगर रामपुरा में रैली भी निकाली गई इस रैली के मुख्य अतिथि रहे आदर्श नगर पंचायत अध्यक्ष शैलेंद्र सिंह एवं एजेंसी डीलर राजा केशवेंद्र सिंह जूदेव एवं सेल्स ऑफिसर हर्ष गुप्ता बुंदेलखंड प्रभारी संरक्षक अजीत सिंह व गैस वितरण मैनेजर जमुना प्रसाद एवं विद्यालय परिवार की ओर से प्रधानाचार्य महेंद्र कुमार सीनियर कोऑर्डिनेटर अरुण सोनी मनीष मोनश डीके सर संतोष केवट अजय सिंह राजावत आदि शिक्षक उपस्थित रहे।


निदेशक सहित 12 डीएमो पर मुकदमा

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने परफॉर्मेंस ग्रांट की 700 करोड़ की धनराशि में हुए  हेरफेर के इस मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए पंचायतीराज विभाग के पूर्व निदेशक अनिल कुमार दमेले सहित 12 जिलों के अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। इसकी खबर लगते ही हड़कंप मच गया। विजिलेंस द्वारा पूरे मामले की जांच किया जा रहा था।


बता दे कि वर्ष 2016-17 में 14वें वित्त आयोग के तहत मिली परफॉर्मेंस ग्रांट राशि को पंचायतीराज विभाग ने केंद्र सरकार के नियमों की अनदेखी करते हुए बांट दिया। विजिलेंस ने यह गड़बड़ी 1123 ग्राम पंचायतों को आवंटित की गई 700 करोड़ रुपये की धनराशि में पाई। इस आधार पर 22 नवंबर, 2019 को लखनऊ के अलीगंज थाने में विभाग के उपनिदेशक गिरीशचंद्र रजक, अपर निदेशक राजेंद्र सिंह, तत्कालीन मुख्य वित्त एवं लेखाधिकारी केशव सिंह, अपर निदेशक शिवकुमार और तत्कालीन पटल सहायक रमेशचंद्र यादव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था।


सीएम  योगी ने सोमवार को इस प्रकरण में बड़ी कार्रवाई कर दी। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा ट्वीट कर बताया गया कि परफार्मेंस ग्रांट घोटाले में पंचायतीराज विभाग के पूर्व निदेशक अनिल कुमार दमेले के साथ ही 12 जिलों के पंचायतीराज अधिकारियों, सहायक विकास अधिकारियों, संबंधित ग्राम पंचायत अधिकारियों व सचिवों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं। इस मामले में जिला स्तर के अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ भी जांच हो रही है। इसमें जिला पंचायतराज अधिकारी रामकेवल सरोज, चंद्रिका प्रसाद बाराबंकी, अरविंद कुमार सिंह वाराणसी, लालजी दुबे गाजीपुर, अमरजीत सिंह सहारनपुर, मिही लाल यादव इटावा, शीतला प्रसाद सिंह देवरिया, दिनेंद्र प्रकाश शर्मा महराजगंज, अनिल कुमार सिंह आजमगढ़, राधाकृष्ण भारती गोरखपुर, राजेंद्र प्रसाद मथुरा, धनंजय जायसवाल आगरा, शहनाज अंसारी अलीगढ़ अन्य शामिल हैं।


दायित्व से मुंह मोड़ती सरकार

देश के असल मुद्दे हुए विलुप्त, जनता का ध्यान भटका कर राजनीतिक फायदा उठा रही है मोदी सरकार, देश चलाने में असक्षम दिख रही है मोदी सरकार 


देश के ताज़ा राजनीतिक हालात पर राजनीतिक विश्लेषक और समाजसेवी प्रकाशपुंज पांडेय ने कहा है कि केंद्र की मोदी सरकार देश को सुचारू रूप से चलाने में असक्षम दिख रही है क्योंकि केंद्र सरकार, महंगाई, बेरोजगारी, भुखमरी, महिलाओं पर अत्याचार, शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण आदि जैसे देश के अहम मुद्दों पर विचार विमर्श करने के बजाय केवल देश को अलग अलग विचारधाराओं में बांटने में लगी हुई है। 


प्रकाशपुन्ज पाण्डेय ने कहा कि उन्होंने ऐसा इसलिए कहा क्योंकि जो सत्तारूढ़ दल होता है देश की ज़िम्मेदारी उसी पर होती है। जहाँ एक ओर देश का एक वर्ग CAA और NRC के खिलाफ़ 50 दिनों से देश के विभिन्न हिस्सों में धरना-प्रदर्शन कर रहा है वहीं दूसरी ओर देश के सत्तारूढ़ दल के नेता अनर्गल बयानबाजी करने में व्यस्त हैं। हाल ही में देश के वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने भरी जनसभा को संबोधित करते हुए गोली मारने जैसे भड़काऊ बयान दिया, भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने भी घर में घुसकर महिलाओं के साथ रेप करने जैसे भर्त्सना योग्य बयान दिया, भाजपा नेता अनंत हेगड़े ने तो देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आज़ादी की लड़ाई को ही ड्रामा करार दिया और पूर्व में भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने भी देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त साबित कर दिया। 


अब सोचने वाली बात यह है कि ऐसी गलत बयानबाजी करने वाले नेताओं के खिलाफ कोई कार्रवाई करने के बजाय नरेंद्र मोदी चुप क्यों हैं? उल्टा दिल्ली में एक चुनावी सभा में शाहीन बाग पर जहां महिलाएं और बच्चे 50 दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं, उसे संयोग और प्रयोग बता रहे हैं। नरेंद्र मोदी को समझना चाहिए कि वहाँ जो माताएँ बहनें और लोग बैठे हैं वो भी भारत की ही जनता हैं जिनके वे प्रधानमंत्री हैं। अगर CAA और NRC के विषय पर देश के एक वर्ग को कोई संदेह है तो उन्हें समझाने की ज़िम्मेदारी भी केंद्र सरकार की ही है और केंद्र सरकार इससे बचती हुई दिखाई दे रही है। 


 प्रकाशपुन्ज पाण्डेय,
 राजनीतिक विश्लेषक और समाजसेवी,


दिल्ली में दिग्गज गर्जेगें आमने-सामने

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली के विधानसभा चुनाव में महज चंद दिन बचे हैं। इन चंद दिनों में मतदाताओं को अपनी ओर लुभाने के लिए सभी राजनीतिक दल एड़ी-चोटी का जोर लगा रहे हैं। चुनाव प्रचार कार्यक्रम भी जोर-शोर से चल रहे हैं। इसी कड़ी में भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह मंगलवार को कार्यक्रम करेंगे तो कांग्रेस की ओर से पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी और राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता डॉ. मनमोहन सिंह मैदान में होंगे। मनमोहन सिंह राजौरी गार्डन में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारका में एक जन रैली को संबोधित करेंगे। अमित शाह की आज तीन रैलियां होंगी। वह दिल्ली कैंट, पटेल नगर और तीमारपुर में रैलियों को संबोधित करेंगे। वहीं, कांग्रेस की ओर से प्रियंका गांधी और राहुल गांधी जंगपुरा और संगम विहार में रैलियों को संबोधित करेंगे।


आप कार्यकर्ता करेंगे 15 हजार बैठकें


दिल्ली चुनाव के आखिरी चरण में आम आदमी पार्टी (आप) दिल्ली के सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में करीब 15,000 बैठकें करने के साथ ही ‘अच्छे होंगे पांच साल, दिल्ली में तो केजरीवाल’ टैग लाइन के साथ आप कार्यकर्ता गलियों में चक्कर लगाएंगे। दिलचस्प यह कि इस दौरान आप कार्यकर्ता भाजपा समर्थकों से भी मुलाकात कर दिल्ली के भविष्य के नाम पर आप को वोट करने की अपील करेंगे। पार्टी दफ्तर में मीडिया से बात करते हुए आप सांसद संजय सिंह ने मंगलवार को कहा कि आप तीन दिनों का महाअभियान लांच करने जा रही है। इसमें पार्टी के अनुषांगिक संगठनों के करीब 500 पदाधिकारी दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में रोजाना 10-10 बैठकें करेंगे। इस हिसाब से तीन दिनों में करीब 15,000 बैठकें होंगी। उन्होंने बताया कि इस फेज की टैग लाइन ‘अच्छे होंगे पांच साल, दिल्ली में तो केजरीवाल’ होगी।


दिल्ली विधानसभा में 50 प्लस रहेगी आप

टाइम्स नाउ के सर्वे के मुताबिक, इस चुनाव में आम आदमी पार्टी को 54-60 सीटें मिल रही हैं। बीजेपी 10-14 सीटों पर जीत दर्ज कर पाएगी, जबकि कांग्रेस बमुश्किल से 2 सीटें जीत पाएगी। सर्वे में कहा गया है कि अगर आज फिर से दिल्ली में लोकसभा चुनाव हो तो बीजेपी एकबार फिर से क्लीन स्वीप करेगी और सातों सीट पर जीत दर्ज करेगी।


नई दिल्ली। दिल्ली में एकबार फिर से अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में सरकार बन सकती है। टाइम्स नाउ-IPSOS ऑपिनियन पोल के अनुसार, दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) बेहद मजबूत है और इस चुनाव में उसे 54-60 सीटें मिल सकती हैं। वहीं, बीजेपी को 10-14 सीटों से संतोष करना पड़ सकता है। पोल में कांग्रेस को भी 2 सीटें मिलने का अनुमान है। बता दें कि दिल्ली में विधानसभा की 70 सीटें हैं। पोल के अनुसार अगर दिल्ली में अभी लोकसभा चुनाव हुए तो सभी 7 सीटों पर बीजेपी जीत सकती है।
आप को 52 फीसदी वोट का अनुमान


आप को 52% वोट मिलने का अनुमान है जबकि, बीजेपी को 34% वोट मिल सकता है। अगर पोल के अनुमान सीटों में तब्दील होते हैं तो आपको 60 तक सीटें मिल सकती हैं। हालांकि 2015 चुनाव के मुकाबले आप के वोट शेयर में 2.5 फीसदी का नुकसान है जबकि बीजेपी को भी 1.7 प्रतिशत वोटों का नुकसान होता दिख रहा है।


पीएम पद के लिए मोदी पसंदीदा उम्मीदवार
अगर अभी लोकसभा चुनाव हुए तो बीजेपी को 46% वोट मिल सकते हैं जबकि आप को 38% वोट मिल सकता है। नरेंद्र मोदी पीएम पद के लिए पसंदीदा उम्मीदवार हैं। पोल के अनुसार 75% वोट के साथ मोदी पीएम पद की पहली पसंद हैं जबकि राहुल गांधी 8% लोगों की पसंद के साथ दूसरे नंबर पर हैं।



71 फीसदी ने माना CAA पर सरकार का फैसला सही
नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के बारे में पूछे गए सवाल पर 71% लोगों का मानना था कि केंद्र सरकार ने सही कदम उठाया है। इसके अलावा 52% लोग शाहीन बाग धरना के खिलाफ हैं जबकि 25% लोग प्रदर्शनकारियों के समर्थन में दिखे। बाकी 24% लोगों ने इस बारे में अपनी कोई राय नहीं दी।


7321 सैंपल के आधार पर सर्वे रिपोर्ट
टाइम्स नाउ-IPOS के इस सर्वे में 7,321 लोगों की राय ली गई और उन्हें दिल्ली के अलग-अलग इलाकों से चुना गया। लोगों की राय 27 जनवरी से 1 फरवरी के बीच लिए गए।


पाकिस्तान से भिड़ी अंडर-19 की टीम

क्रिकेट इतिहास की दो चिर-प्रतिद्वंद्वी, भारत और पाकिस्तान की टीमें मंगलवार को सेनवेस पार्क मैदान पर अंडर-19 विश्व कप के सेमीफाइनल में आमने-सामने होंगी। सीनियर टीमों का मैच होता है तो जबरदस्त हो-हल्ला होता है लेकिन युवा टीमों के इस मैच को लेकर अधिक हो-हल्ला नहीं है। वैसे इससे इस मैच की अहमियत कम नहीं होती और दोनों टीमों के लिए यह मैच किसी फाइनल से कम नहीं होगा। आइए जानें भारत के किन खिलाड़ियों पर नजरें हैं…
यशस्वी जायसवाल की गजब फॉर्म
शीर्ष क्रम में यशस्वी जायसवाल गजब के फॉर्म में चल रहे हैं। उन्होंने 4 मैच खेले हैं और 3 में हाफ सेंचुरी लगाई है। इस दौरान उनके नाम 103.50 की औसत से 207 रन दर्ज हुए हैं। एक बार उनसे वैसे ही प्रदर्शन की उम्मीद होगी। अगर यह बल्लेबाज चल गया तो पाकिस्तान के लिए मुश्किल हो सकती है।


प्रियम गर्ग खेलनी होगा कप्तानी पारी
कप्तान प्रियम गर्ग को वैसे तो बैटिंग का बहुत मौका नहीं मिला है, लेकिन यहां सूझ-बूझ भरी कप्तानी के साथ-साथ बैटिंग में भी अच्छा करने का दबाव होगा। उन्होंने वर्ल्ड कप में अपने पहले मैच में श्रीलंका के खिलाफ 72 गेंदों में 56 रनों की महत्वपूर्ण पारी खेली थी, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 5 रन ही बना पाए थे।


रवि बिस्नोई से फिर धमाल की उम्मीद
गेंदबाजों की बात करें तो टूर्नमेंट में रवि बिस्नोई ने 4 मैच में कुल 11 विकेट झटके हैं और भारत के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज हैं। उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 5 रन देकर 4 विकेट लेने का है, जो जापान के खिलाफ लिया था। इसके अलावा उन्होंने 4 विकेट न्यू जीलैंड के खिलाफ भी 4 विकेट झटके थे। रवि बैटिंग भी अच्छी कर सकते हैं। उन्होंन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्वॉर्टर फाइनल में महत्वपूर्ण 30 रन बनाए थे।


फिर दिखेगी कार्तिक त्यागी करिश्माई बोलिंग!


भारतीय टीम के महत्वपूर्ण खिलाड़ी कार्तिक त्यागी भी फॉर्म में हैं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ क्वॉर्टर फाइनल में 4 विकेट झटकते हुए भारत को अहम मौके पर जीत दिलाई थी। यह तेज गेंदबाज जब पाकिस्तान के खिलाफ मैदान पर उतरेगा तो वैसे ही करिश्माई प्रदर्शन की उम्मीद होगी। त्यागी ने अब तक 4 मैचों में 9 विकेट झटके हैं।


गाजियाबाद में चीन से 150 वापिस आए

अकांशु उपाध्याय


गाजियाबाद। करॉना वायरस के खौफ के चलते सोमवार को उस समय स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया, जब पता चला कि 1 महीने के अंदर करीब 150 लोग चीन से जिले में आ चुके हैं। इन लोगों के बारे में विभाग को अब तक कोई जानकारी नहीं मिल सकी है। ऐसे में अब शासन से इनकी जानकारी मांगी गई है। सीएमओ एनके सिंह ने बताया कि शासन से लिस्ट मिलने के बाद रैपिड रिस्पॉन्स टीम ऐसे लोगों की जांच करेगी। इसके लिए कुल 12 टीमें बनाई गई हैं।


करॉना वायरस के संक्रमण को लेकर जिले में लगातार दहशत बढ़ती जा रही है। सीएमओ ने बताया कि शासन के अधिकारियों के साथ हुई विडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बताया गया है कि 29 दिसंबर 2019 से 20 जनवरी 2020 तक देश भर से 1304 लोगों ने चीन की यात्रा की है। इनमें से लगभग 150 लोग गाजियाबाद के रहने वाले हैं। ये लोग 1 महीने के दौरान चीन गए और वापस लौटे। शासन स्तर से ऐसे लोगों की सूची बनाई जा रही है। सीएमओ ने बताया कि सूची मिलने के बाद सभी लोगों की तलाश करके उनके स्वास्थ्य की जांच की जाएगी।


तलाशने की चुनौती
करॉना को लेकर जिले में दहशत कायम है। 150 लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री सामने आने के बाद से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। विभागीय सूत्रों का कहना है कि अगर चीन से वापस लौटा एक भी व्यक्ति करॉना वायरस से संक्रमित रहा होगा, तो उसने बहुत से लोगों को संक्रमित कर दिया होगा। ऐसे में जिले में भी यह संक्रमण फैल सकता है। विभागीय सूत्र यहां तक कह रहे हैं कि शासन स्तर से जो सूची बनाई जा रही है, वह पासपोर्ट और वीजा के आधार पर बनाई जा रही है। हो सकता है कि जिन लोगों ने चीन यात्रा की हो वे अब अपने पासपोर्ट वाले पते पर न रहकर कहीं और रह रहे हों। ऐसे में उनकी तलाश करना किसी चुनौती से कम नहीं होगा।


रैपिड रिस्पॉन्स टीमें तैयार
तमाम आशंकाओं के बीच स्वास्थ्य विभाग अपनी तैयारियां करने में जुटा है। जिला मलेरिया-फाइलेरिया अधिकारी जीके मिश्रा ने बताया कि 150 लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री को देखते हुए विभाग ने रैपिड रिस्पॉन्स टीमों की संख्या बढ़ाकर 12 कर दी गई है। पहले विभाग के पास केवल एक ही टीम थी। करॉना संक्रमण बहुत तेजी से फैलता है। जल्द से जल्द, ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच की जा सके, इसलिए टीमों की संख्या बढ़ाई गई है। सभी टीमों को विशेष ड्रेस और जरूरी संसाधन मुहैया करवाए गए हैं।


मांसाहार से करें परहेज
कम्बाइंड अस्पताल के सीनियर फिजिशियन डॉ. आरसी गुप्ता ने कहा कि करॉना संक्रमण से बचाव के लिए जरूरी है कि मांसाहार से परहेज करें। फिलहाल आईसक्रीम, कोल्ड ड्रिंक और ठंडी वस्तुओं का भी प्रयोग न करें। जितना संभव हो सके, घर में बना शाकाहारी खाना ही खाएं। फास्ट फूड और जंक फूड से भी परहेज करें।


आयुर्वेद की सहायता लें
आयुर्वेद व यूनानी चिकित्सा विभाग के क्षेत्रीय अधिकारी डॉ. अशोक राना ने कहा कि करॉना से बचाव के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना जरूरी है। ऐसे में जरूरी है कि रोग प्रतिरोधक क्षमता को इंप्रूव किया जाए। इसके लिए तुलसी, गिलोय, आंवला, नीम सत आदि का सेवन किया जा सकता है। गोमूत्र अर्क भी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के साथ कई बीमारियों को दूर करता है। खाने में गुड़ को शामिल करें।


एमपी के 3 शहरों में होगा आईफा अवॉर्ड्

भोपाल। आईफा अवॉर्ड्स-2020 की मेजबानी इस बार मध्य प्रदेश करेगा। सोमवार को फिल्म अभिनेता सलमान खान और जैकलीन फर्नांडीज ने कार्यक्रम की तारीखों की घोषणा की। मिंटो हॉल में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री कमलनाथ भी शामिल हुए। वहां सलमान और जैकलीन ने मुख्यमंत्री को आईफा मोमेंटो दिया। नेक्सा के प्रतिनिधि शशांक श्रीवास्तव ने कमलनाथ को आईफा का पहला टिकट दिया। वहीं, सीएम ने सलमान के बचपन की तस्वीरों का कोलाज उन्हें प्रेजेंट किया।


आईफा अवॉर्ड्स- 2020 में खास


21 मार्च- भोपाल के मिंटो हॉल में आईफा अवॉर्ड्स का उद्घाटन होगा। आईफा की म्यूजिकल नाईट होगी, जिसमें बॉलीवुड कलाकार और तमाम सिंगर्स भोपाल में परफॉर्म करेंगे।
27 मार्च- इंदौर के डेली कॉलेज में आईफा रॉक्स होगा। कार्यक्रम 6 बजे से शुरू होगा। अरिजीत सिंह, जोनिता गांधी, जुबिन नौटियाल और तनिष्क बागची परफॉर्म करेंगे।
28 मार्च को मोहन सिस्टर्स लता मंगेशकर पर एक विशेष प्रस्तुति देंगी। लता मंगेशकर मध्यप्रदेश से ही हैं।
29 मार्च को अवॉर्ड्स के दौरान होस्ट सलमान खान खुद करेंगे। रीतेश देशमुख भी होंगे। कटरीना और जैकलीन भी इसी दिन परफॉर्म करेंगी।
2 शहरों में तीन दिन का होगा कार्यक्रम


आईफा 2020 का आयोजन 27-29 मार्च के बीच होगा। एक आयोजन भोपाल जबकि बाकी इंदौर में होंगे। अवॉर्ड समारोह में 400 से अधिक फिल्म कलाकार समेत फिल्म इंडस्ट्री के 5 हजार से ज्यादा लोग शिरकत करेंगे। आयोजन के लिए नेहरू स्टेडियम लगभग तय है। आयोजक कंपनी विजक्राफ्ट ने होलकर स्टेडियम और डेली कॉलेज की लोकेशंस भी देखी हैं। आईफा अवॉर्ड्स का प्रसारण दुनिया के 90 देशों में किया जाएगा, जिस पर 30 करोड़ रुपए व्यय होंगे। तीन दिन का यह समारोह एक दिन भोपाल और दो दिन इंदौर में होगा। पहला आईफा अवॉर्ड्स समारोह 2000 में लंदन में आयोजित किया गया था।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


फरवरी 05, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-179 (साल-01)
2. बुधवार, फरवरी 05, 2020
3. शक-1941, माघ - शुक्ल पक्ष, तिथि- एकादशी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:02,सूर्यास्त 05:58
5. न्‍यूनतम तापमान 8+ डी.सै.,अधिकतम-23+ डी.सै., हल्की बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


80 वर्षीय पेले को चिकित्सा कक्ष में भर्ती किया

ब्रासीलिया। ब्राजील के दिग्गज फुटबॉलर पेले की आंत से ट्यूमर निकालने के लिये किये आपरेशन के बाद स्थिति सामान्य बनी हुई है और उनकी बेटी केली न...