बुधवार, 13 दिसंबर 2023

दूसरे टी-20 मुकाबले में 5 विकेट से हारी 'इंडिया'

दूसरे टी-20 मुकाबले में 5 विकेट से हारी 'इंडिया'

अकांशु उपाध्याय 
नई दिल्ली/प्रिटोरिया। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच दूसरे टी-20 मुकाबले में भारतीय टीम पांच विकेट से हार गई। तीन मैचों की टी-20 सीरीज का पहला मुकाबला डरबन में हुआ। जहां बारिश के चलते मैच रद्द हो गया। भारतीय टीम की तरफ से सूर्यकुमार और रिंकू सिंह की शारदार पारी बेकार चली गई।

आखिरी बार साल 2018 में मिली थी हार

बता दें की भारतीय टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ उसी के होम ग्राउंड में पांच साल बाद कोई मैच हारा है। पिछली बार साल 2018 में भारतीय टीम को सेंचुरियन के मैदान पर साउथ अफ्रीका से हार का स्वाद चकना पड़ा था।
ऐसे में अब इस सीरीज में दक्षिण अफ्रीका की टीम ने १-० से बढ़त बना ली है। 14 दिसंबर को सीरीज का आखिरी मुकाबला होना है। ऐसे में देखना ये है की ये सीरीज टाई होती है या फिर दक्षिण अफ्रीका २-० से ये सीरीज जीतती है।


बारिश ने मैच का रोमांच बिगाड़ा
दक्षिण अफ्रीका की टीम के कप्तान एडेन मार्करम ने टॉस जीता और बॉलिंग करने का निर्णय लिया। भारत का स्कोर जब 19.3 ओवर में सात विकेट के नुक्सान पर 180 रन था।
तब बारिश के चलते मैच को रोक दिया गया। जिसके बाद ताम आगे सुर नहीं खेल पाई। जिसके बाद दक्षिण अफ्रीका को डकवर्थ लुईस नियम के अनुसार 15 ओवर में 152 रनों का लक्ष्य दिया गया। जिसके चलते टीम ने १४ ओवर में ही लक्ष्य हासिल कर पांच विकेट से मैच अपने नाम कर दिया।

दक्षिण अफ्रीका के विस्फोटक बल्लेबाज

दक्षिण अफ्रीका की टीम शुरआत से ही विस्फोटक बल्लेबाजी कर रही थी। जहां टीम के लिए सबसे ज्यादा रन रीजा हेंड्रिक्स ने बनाए। उन्होंने27 गेंदों पर 49 रन बनाए, तो वहीं कप्तान एडेन मार्करम ने 30, मैथ्यू ब्रीट्जके ने 16, मिलर ने 17, ट्रिस्टन स्टब्स और एंडिले फेहलुकवायो ने नाबाद 14 और 10 रनों की पार खेली। एंडिले फेहलुकवायो ने अंत में छक्का लगाकर टीम को विजयी बनाया। भारत के मुकेश कुमार को दो, मोहम्मद सिराज और कुलदीप यादव को एक एक विकेट मिला ।

रिंकू और सूर्यकुमार का अर्धशतक बेकार

भारत के रिंकू सिंह ने सबसे ज्यादा 39 गेंदों पर 68 रन बनाए। तो वहीं कप्तान ने भी 56 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली। तिलक वर्मा और रविंद्र जडेजा ने 29 और 29 रनों की पारी खेली।
शुभमन गिल, यशस्वी जायसवाल और अर्शदीप सिंह बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए।तो वहीं जितेश जितेश शर्मा ने एक और मोहम्मद सिराज बिना कोई रन बनाए नाबाद रहे। दक्षिण अफ्रीका के गेराल्ड कोएत्जी ने तीन, लिजाद विलियम्स, मार्को यानसेन, एडेन मार्करन और तबरेज शम्सी को एक-एक विकेट मिला।

20 दिसंबर से शुरू होगी कांग्रेस की 'परिवर्तन यात्रा'

20 दिसंबर से शुरू होगी कांग्रेस की 'परिवर्तन यात्रा' 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2024 को देखते कांग्रेस ने यूपी में अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। राहुल गांधी का भारत जोड़ो यात्रा की तर्ज पर कांग्रेस जल्द ही यूपी में परिवर्तन यात्रा की तैयारी कर रही है। कांग्रेस की इस परिवर्तन यात्रा में खुद प्रियंका गांधी शामिल हो सकती है। कांग्रेस की ये परिवर्तन यात्रा 20 दिसंबर से शुरू होने जा रही है। ये पदयात्रा प्रदेश नौ जिलों से होकर गुजरेगी।
इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता जमीन स्तर पर लोगों को कांग्रेस के साथ जोड़ने की कोशिश करेंगे और संगठन को मजबूत बनाने पर काम किया जाएगा। इस पदयात्रा के लिए 25 दिनों का कार्यक्रम तैयार किया गया है।कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा की शुरुआत 20 दिसंबर से सहारनपुर के गंगोह से होगी।
जहां से ये यात्रा बिजनौर, अमरोहा, मुरादाबाद होते हुए सीतापुर पहुंचेगी। इसी के साथ काग्रेस अपना स्थापना दिवस भी जनता के बीच ही मनाएगी। इस दौरान प्रदेश के तमाम हिस्सों से बड़े स्तर पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं के शामिल होने की उम्मीद है। पिछले दिनों लखनऊ में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय राय की अध्यक्षता में एक बैठक हुई थी।
जिसमें यूपी में कांग्रेस के संगठन को मजबूत बनाने के लिए भारत जोड़ो यात्रा की तर्ज पर परिवर्तन पदयात्रा निकालने का सुझाव दिया गया था, पार्टी के तमाम अधिकारियों ने इस पर अपनी सहमति जताई थी, जिसके बाद आगामी चुनाव को देखते हुए इसे बेहद अहम माना जा रहा है।

दूध में मिलावट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई

दूध में मिलावट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई

मनोज सिंह ठाकुर 
जबलपुर। दूध में मिलावट करने वालों की खैर नहीं हैं। बगैर लाइसेंस दूध बेचने वालों पर भी शिकंजा कसा जाएगा। जबलपुर हाईकोर्ट में दूध में मिलावट करने वालों के खिलाफ कार्रवाई का ब्यौरा पेश किया गया है। सरकार ने पिछले 5 सालों का रिकॉर्ड पेश किया। इस दौरान बताया कि बीते 3 सालों में 200 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है।
दरअसल मध्य प्रदेश के जबलपुर में दूध में मिलावट के मामले लगातार सामने आ रहे थे। जिसके बाद नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच ने याचिका दायर की थी। मंच के डॉक्टर पी जी नाजपांडे ने साल 2017 में हाईकोर्ट में याचिका दायर की। जिसमें जबलपुर समेत पूरे मध्यप्रदेश में दूध में मिलावट कर लोगों की जान से खेलने की बात कही गई थी।
सरकार ने पिछले 5 साल में हुई कार्रवाई का कोर्ट में ब्योरा पेश किया। सरकार की ओर से जानकारी दी गई कि पिछले 3 साल में 200 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। साथ ही वचन पत्र भी दिया गया है कि आगे भी इस तरह की कार्रवाई की जाएगी। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। न्यायालय ने यह शपथ पत्र रिकॉर्ड में लेते हुए हाईकोर्ट ने याचिका निराकृत कर दी।

लोकतंत्र के मंदिर की सुरक्षा में भारी चूक हुई

लोकतंत्र के मंदिर की सुरक्षा में भारी चूक हुई 

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। संसद भवन पर हमले की 22वीं बरसी के दिन एक बार फिर लोकतंत्र के मंदिर की सुरक्षा में भारी चूक हो गई। बुधवार को लोकसभा की कार्यवाही के दौरान दो लोग अचानक से दर्शक दीर्घा में कूद आए। इन लोगों ने जूते में कुछ छिपा रखा था, जिससे धुआं छोड़ने लगे। लोकसभा के अंदर तस्वीरों में धुआं-धुआं देखा जा रहा है। इन लोगों को पहले कुछ सांसदों ने घेर लिया और फिर सुरक्षाकर्मियों ने पकड़ लिया। इनमें से एक शख्स का नाम सागर बताया जा रहा है, जो एक सांसद के लेटर पर गेस्ट के तौर पर दर्शक दीर्घा में आया था। इन दोनों ही संसद मार्ग थाने ले जाया गया है। संसद में पहली बार इस तरह का वाकया हुआ है। आतंकी हमले के दौरान भी सुरक्षा बलों ने दहशतगर्दों को बाहर ही रोक लिया था, जबकि अंदर कार्यवाही चल रही थी।
इसके अलावा संसद परिसर के बाहर भी हंगामा हुआ। यहां एक महिला और एक पुरुष हंगामा कर रहे थे और तानाशाही नहीं चलेगी के नारे लगा रहे थे। सुरक्षा सूत्रों के अनुसार नारेबाजी करने वाली महिला का नाम नीलम बताया जा रहा है, जो महाराष्ट्र की रहने वाली है। लोकसभा में जिस वक्त यह वाकया हुआ, उस दौरान भाजपा के सीनियर सांसद राजेंद्र अग्रवाल चेयर पर थे। उन्होंने पूरे वाकये की जानकारी देते हुए बताया कि एक शख्स जब गैलरी से कूदा तो लगा कि वह गिर गया। वहीं इसके बाद जब एक और शख्स कूदा तो पता चला कि ऐसा जानबूझकर किया गया है। एक शख्स ने गैस छोड़ी, जबकि दूसरा बेंच को ठोक रहा था।
राजेंद्र अग्रवाल ने कहा कि यह जानकारी नहीं है कि ये लोग नारेबाजी कर रहे थे या नहीं। उन्होंने कहा कि यह साफ नहीं है कि इन लोगों का क्या इरादा था, लेकिन कुछ तो सोचकर ही आए थे। इन लोगों को सुरक्षाकर्मियों ने तत्परता से पकड़ लिया था। इस बारे में कार्ति चिदंबरम ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। वहीं कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि सांसदों की मदद से इन लोगों को पकड़ा गया और फिर सुरक्षाकर्मियों के हवाले किया गया। यह बड़ी बात है कि कार्यवाही के बीच कूदने वाले दोनों लोगों को सांसदों ने साहस दिखाते हुए घेर लिया। बता दें कि संसद भवन परिसर के अंदर की सुरक्षा सीआरपीएफ के हाथ होती है और बाहर दिल्ली पुलिस की तैनाती रहती है।
इस घटना से हड़कंप मच गया और लोकसभा की चेयर संभाल रहे राजेंद्र अग्रवाल ने तुरंत ही कार्यवाही 2 बजे तक के लिए स्थगित करने की घोषणा की। संसद के बाहर जिन लोगों को पकड़ा गया, उनके हाथ में स्मॉग गन थी, जिससे पीले रंग का धुआं निकल रहा था। दिल्ली पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। पहला सवाल यही है कि आखिर इन लोगों को कैसे अंदर जाने की परमिशन मिली थी। क्या अंदर लोकसभा में कूदने वाले और बाहर हंगामा करने वाले लोगों के बीच कोई संबंध है? इस बात का भी पता लगाया जाएगा।

सरकार ने 167 डीएसपी अफसरों के तबादले किए

सरकार ने 167 डीएसपी अफसरों के तबादले किए 

संदीप मिश्र 
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बुधवार को यूपी पुलिस में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल करते हुए 167 डीएसपी अफसरों के तबादले कर दिए हैं। इस फरमान के तहत पुलिस विभाग में तैनात सहायक पुलिस आयुक्त/पुलिस उपाधीक्षकों के बंपर तबादलने की सूची जारी की गई है।
ट्रांसफर लिस्ट के मुताबिक, हीरालाल कन्नौजिया सीओ बहराइच बनाए गए हैं। वहीं कमलेश कुमार सीओ कन्नौज, देवेंद्र सिंह CO कानपुर देहात बनाए गए है। राजवीर सिंह बांदा, विजय पाल सिंह को मैनपुरी में तैनाती दी गई है। वहीं रविकांत पराशर सहारनपुर, राममोहन शर्मा औरैया भेजे गए है।

एमपी: यादव ने सीएम पद की शपथ ली

एमपी: यादव ने सीएम पद की शपथ ली 

मनोज सिंह ठाकुर 
भोपाल। मध्य प्रदेश को आज अपना नया मुख्यमंत्री मिल गया है। मोहन यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी, अमित शाह, जेपी नड्डा समेत अन्य गणमान्य अतिथियों की मौजूदगी में सीएम पद की शपथ ली। मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया। सीएम मोहन यादव के साथ दो डिप्टी सीएम जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुक्ला ने भी पद की शपथ ली। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में शानदार जीत के बाद बीजेपी आलाकमान ने मोहन यादव को सीएम पद के लिए चुना। मोहन यादव उज्जैन दक्षिण से बीजेपी विधायक हैं और राज्य में बड़ा ओबीसी चेहरा हैं। उनको राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) का करीबी माना जाता है।
सीएम मोहन यादव के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान पीएम मोदी,(PM Modi) गह मंत्री अमित शाह, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, यूपी के  सीएम योगी, मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, और विधानसभा स्पीकर नरेंद्र तोमर मंच पर मौजूद रहे। इन सभी गणमान्य अतिथियों की मौजूदगी में मोहन यादव ने सीएम तो जगदीश देवड़ा और राजेंद्र शुक्ला ने डिप्टी सीएम के तौर पर शपथ ली। नए सीएम के शपथ ग्रहण समारोह में राज्य के पुराने सीएम शिवराज सिंह ने हाथ हिलाते हुए जनता का अभिवादन किया।

मोहन यादव पहली बार कब बने विधायक? 

मोहन यादव पहली बार 2013 में उज्जैन दक्षिण से विधायक चुने गए थे। इसके बाद 2018 और फिर 2023 में भी विधानसभा सीट पर जीत हासिल की। वह शिवराज कैबिनेट में उच्च शिक्षा मंत्री रह चुके हैं। बीजेपी आलाकमान ने शिवराज सिंह चौहान के बाद अब उनको राज्य की सत्ता सौंपी है।

OBC, दलित, ब्राह्मण वोटों पर बीजेपी की नजर

मध्य प्रदेश में मोहन यादव (ओबीसी) का प्रतिनिधित्व करते हैं। उनके डिप्टी के तौर पर जगदीश देवड़ा (दलित) और राजेंद्र शुक्ला (ब्राह्मण) समुदाय का नेतृत्व कर रहे हैं। जबकि पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के रूप में एक ठाकुर को भी सरकार में जगह दी गई है। नरेंद्र सिंह तोमर को विधानसभा का स्पीकर बनाया गया है।

जगदीश देवड़ा, राजेंद्र शुक्ला डिप्टी CM

छत्तीसगढ़ के सीमा पार भी बीजेपी आदिवासी वोटों पर कड़ी नजर रख रही है। पार्टी ने एसटी उम्मीदवारों के लिए रिजर्व 47 विधानसभा सीटों में से 24 पर जीत हासिल की। राज्य की डेमोग्राफिक मेकअप में कम महत्वपूर्ण इस समुदाय को खुश करने के लिए बीजेपी ने जगदीश देवड़ा को डिप्टी सीएम चुना है। जबकि ब्राह्मण चेहरे राजेंद्र शुक्ला को दूसरा डिप्टी सीएम बनाया गया है। ऐसा करके बीजेपी ने राज्य में उच्च जाति के मतदाताओं को खुश रखने की संतुलित कोशिश की है।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

1. अंक-54, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2010/57254

2. बृहस्पतिवार, दिसंबर 14, 2023

3. शक-1945, माघ, कृष्ण-पक्ष, तिथि-दूज, विक्रमी सवंत-2079‌‌। 

4. सूर्योदय प्रातः 06:36, सूर्यास्त: 05:18।

5. न्‍यूनतम तापमान- 16 डी.सै., अधिकतम- 28+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेगी।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

बीएएलएलबी-एलएलएम का कोर्स हिंदी में शुरू करें

बीएएलएलबी-एलएलएम का कोर्स हिंदी में शुरू करें  संदीप मिश्र  लखनऊ। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ ने कहा कि बीएएलएल...