रविवार, 2 जनवरी 2022

वरिष्ठ जोगी समाज सेवी की अध्यक्षता में सम्मेलन

वरिष्ठ जोगी समाज सेवी की अध्यक्षता में सम्मेलन
भानु प्रताप उपाध्याय           
शामली। उपाध्याय जोगी चेतना मंच का विशाल सम्मेलन चौ. चरण सिंह बारात घर मे वरिष्ठ समाज सेवी सतीश उपाध्याय की अध्यक्षता में हुआ। जिसका संचालन उपाध्याय चेतना मंच प्रदेश अध्यक्ष संजय उपाध्याय ने किया सामाजिक स्तर पर मुख्य अतिथि अखिल भारत  वर्ष नाथ समाज के राधेश्याम भारद्वाज। जबकि राष्टीय अध्यक्ष समाजवादी पार्टी माननीय अखिलेश यादव के निर्देश पर ओर समाजवादी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष जगपाल दास गुज्जर रहे उपाध्याय जोगी समाज ने एक मांग पत्र राजनीति हिस्से दारी व पर्टी में प्रतिनिधित्व की मांग रखी मुख्य अतिथि जगपाल दास ने कहा कि आपकी मांग आपका वकील बनकर दो दिन के अंदर माननीय राष्टीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के समक्ष रखूंगा और मैं विश्वास दिलाता हूँ कि आपके समाज को समाजवादी पार्टी में पूरा सम्मान दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि संजय उपाध्याय के हाथ मजबूत करे और 2022 में उपाध्याय जोगी समाज समाजवादी की सरकार बनाये और सरकार बनने पर राष्टीय अध्यक्ष उपाध्याय जोगी समाज को मुख्य धारा से जोड़ेगा और सम्मान जनक पद दिया जाएगा।
अखिल भारतवर्ष नाथ समाज के राष्टीयअध्यक्ष राधेश्याय भारद्वाज जी ने कहा कि सामाजिक संगठन मजबूत करे और राजीनीति क्षेत्र में बढ़चढ़ कर भाग ले  और अपने समाज जे नेता संजय उपाध्याय का साथ दे और उनके हाथों को मजबूत कर, कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे सतीश उपाध्याय ने कहा कि उपाध्याय जोगी समाज दशकों से भाजपा को वोट करता आया है। लेकिन उत्तर प्रदेश में समाज को कोई सम्मान नही दिया भाजपा ने 6 महीने पहले 25 निगम पिछड़ा वर्ग के चैयरमैन बनाये लेकिन भाजपा ने वह भी सम्मान नही दिया। जिस कारण उपाध्याय समाज भाजपा द्वारा उपेक्षा किये जाने से नाराज है और 2022 के चुनाव में समाज उसी दल को समर्थन करेगा। जो समाज को भागीदारी देगा। कार्यक्रम सयोजक संचय उपाध्याय ने सभी का आभार व्यक्त किया। सोमवार को उपाध्याय सम्मेलन में समाज का फोकस राजनीति पिछड़े पन पर रहा। आज समाज की हजारों की संख्या में पहुचे समाज के लोगों ने अपने नेता के समर्थन का एलान किया और कहा कि हम सभी साथ देंगे। 
सम्मेलन में अतिथि के रूप में पूर्व विधयक राजेश्वर बंसल, पूर्व मंत्री किरणपाल कश्यप, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष प्रसन्न चौधरी, समाज सेवी विजय कौशिक, नाथ समाज के राष्टीय महासचिव अनूप जोगी,प्राण प्रमुख बबलू उपाध्याय, उपाध्याय अध्यक्ष नवीन उपाध्याय एडवोकेट, समाज सेवी लाला सुरजन सिंह सेवा समिति अध्यक्ष बाबूराम उपाध्याय , रामफल उपाध्याय, मुकेश उवाध्यय  जोगी अनेश उपाध्याय, सुनील कुमार एडवोकेट, मास्टर धनप्रकाश उपाध्याय, अशोक उपाध्याय, विपिन पुण्डीर जोगी, मास्टर मांगेराम उपाध्याय, चंद्रपाल उपाध्याय राजेन्द्र उपाध्याय, महीपाल उपाध्याय, पवन  उपाध्याय, शामली जिलाध्यक्ष जसबीर उपाध्याय, ओम सिंह पटवारी , धर्मपाल भारद्वाज, अमित उपाध्याय, मैनपाल उपाध्याय, सतीश उपाध्याय, डॉक्टर कंवरपाल उपाध्याय, गम्भीर  उवाध्यय, महेश उपाध्याय, गोरधन उपाध्याय, सतबीर  उपाध्याय, सूर्यकांत उपाध्याय योगी राजकुमार उपाध्याय आदि ने विचार व्यक्त किये और एक ज्ञापन पूर्व मंत्री सुधाकर कश्यप के द्वारा माननीय अखिलेश यादव को भी दिया इस दौरान रमेश चंद उपाध्याय, सुंदर उपाध्याय, कृष्ण उपाध्याय  संचय उपाध्याय, अंकित उपाध्याय, रामशरण उपाध्याय मोहन उपाध्याय, प्रमोद उपाध्याय, सहेंद्र उपाध्याय, ओम सिंह उपाध्याय, राजेश उपाध्याय विनोद उवाध्यय हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहे।

बसपा की इंटरनेशनल विद्यालय मे हुईं बैठक: यूपी
समीर अहमद        
कौशाम्बी। बहुजन समाज पार्टी की मासिक बैठक रविवार को विछौरा रोड स्थित स्टार वैली इंटरनेशनल विद्यालय में आयोजित हुई। इस दौरान मौजूद पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने जिला जीत की भूमिका निभाने के लिए संकल्प लिया। कार्यक्रम को पार्टी जिलाध्यक्ष संतोष गौतम के अलावा मंझनपुर विधानसभा प्रत्याशी डॉ. नीतू कनौजिया ने सम्बोधित किया स्टार वैली इंटरनेशनल विद्यालय में आयोजित बसपा की मासिक बैठक को सम्बोधित करते हुए पार्टी की मंझनपुर विधानसभा प्रत्याशी डॉ. नीतू कनौजिया ने बसपा सुप्रिमो मायावती के उद्देश्यों और पार्टी की नीतियों के बारे में विस्तार से चर्चा किया। उन्होंने कहा कि पिछले 2012 से बसपा कार्यकर्ता अपने हक और अधिकार के अलावा सरकारी अफसरों से न्याय के लिए भटकता फिर रहा है। 2012 में जब सपा की सरकार बनी तो दलित, पिछडों व अल्पसंख्यकों को सपाईयों ने दूध में माछी निकालकर फेंक दिया। 2017 में जब भाजपा की सरकार बनी तो यह तबका उपेक्षित ही रहा। लेकिन इस बार बसपा के एक-एक कार्यकर्ता को चूक न करते हुए अपने हक, अधिकार और न्याय के लिए जिला जीत की भूमिका निभाना है। वहीं पार्टी जिलाध्यक्ष श्री गौतम ने पार्टी कार्यकर्ताओं के अंदर जोश भरते हुए 2022 का विधानसभा चुनाव फतह हो इसके लिए मंत्र भी दिया। उन्होंने कहा कि भाजपा की वर्तमान सरकार के कार्यों से आजिज जनता बसपा के साथ खडी नजर आ रही है। 
उन्होंने मंझनपुर विधान सभा प्रत्याशी डॉ. नीतू कनौजिया पर बोलते हुए कहा कि बहन मायावती ने नीतू जैसी प्रत्याशी हमे देकर हम सबका का ताकत दो गुना करने का काम किया है। नीतू ने जिस तरह से मंझनपुर विधान सभा के एक-एक गांव में अपने व्यक्तित्व का झंडा गाडा है उससे एक-एक बच्चा डॉ नीतू को जान चुका है। क्षेत्र में की गई प्रत्याशी की मेहनत और उसकी लगन इस बात का गवाह है कि यहां से अच्छे दिग्गज 2022 के विस चुनाव में परास्त होकर अपने घर को लौट जाएंगे। उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि इस बार जिले के बसपाई पूरी तरह से जिलाजीत की भूमिका में रहेंगे। इस मौके पर पार्टी नेता व मंझनपुर नगर पालिका अध्यक्ष महताब आलम ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया। कार्यक्रम में बंशीलाल चौधरी, मानिक सरोज, सन्याशी जी, एकलाख कुरैशी, शंकर दयाल पांडेय, सुनील पटेल सहित सैकडों की संख्या में कार्यकर्ता व पदाधिकारी मौजूद रहे। 

गाजियाबाद: 24 घंटे में 88 नए संक्रमितों की पुष्टि
अश्वनी उपाध्याय            गाजियाबाद। 24 घंटों की अवधि में गाज़ियाबाद ने 88 नए कोविड-19 संक्रमितों की पुष्टि हुई है। जिला सर्विलान्स अधिकारी आर के गुप्ता ने बताया कि इस अवधि में 12 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। डॉ. गुप्ता ने बताया कि जनपद में अभी 171 संक्रमित होम आइसोलेशन में हैं जबकि 5 मरीजों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। 

उन्होंने बताया कि जनवरी के पहले 2 दिनों में 6,259 व्यक्तियों की जांच की गई। फिलहाल, गाज़ियाबाद जिले में पोजिटिविटी रेट 1.76% है। गाजियाबाद में लगातार कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है। रविवार को 88 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। इलाज के बाद 12 लोग स्वस्थ्य हुए हैं। 2 दिन में 168 मरीज मिल चुके हैं, जबकि इस समय 280 सक्रिय मरीजों का इलाज चल रहा है।

छत्तीसगढ़ में तेज हवाओं का आगमन, पारा गिरेगा

छत्तीसगढ़ में तेज हवाओं का आगमन, पारा गिरेगा

दुष्यंत टीकम         रायपुर। छत्तीसगढ़ में उत्तर से तेज हवाओं का आगमन प्रारंभ हो गया है तथा छत्तीसगढ़ में मुख्यतः आकाश साफ है। इसलिए प्रदेश में कल दिनांक 2 जनवरी को मौसम शुष्क रहने की संभावना है तथा अधिकतम तापमान में मामूली वृद्धि के साथ ही न्यूनतम तापमान में अगले 3 दिनों में 3 से 4 डिग्री सेल्सियस तक गिरावट होने की संभावना है। उत्तर-पश्चिम भारत की ओर आ रहे सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव में 4 जनवरी से 7 जनवरी के बीच जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में अधिकांश स्थानों पर बारिश या बर्फबारी हो सकती है। एक पश्चिमी विक्षोभ जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, क्षेत्र को प्रभावित कर रहा है। इसके प्रभाव से, हम अगले 48 घंटों में इस क्षेत्र में छिटपुट वर्षा या हिमपात की उम्मीद कर रहे हैं।

कहा जा रहा है कि 4 जनवरी से, एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ उत्तर-पश्चिम भारत की ओर बढ़ेगा। इसके प्रभाव में 4-7 जनवरी तक पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र जैसे जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में ज्यादातर जगहों पर बारिश या बर्फबारी हो सकती है। यह राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश सहित उत्तर पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश या गरज के साथ बौछारें डालेगा। वहीं पारा गिरने के भी आसार जताए जा रहे हैं। भारतीय मौसम विभाग(आईएमडी) ने कई इलाकों में बारिश की चेतावनी जारी कर दी है।अगले दो दिनों तक तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल के कुछ हिस्सों में भारी बारिश जारी रहेगी।

वहीं निचले स्तरों में तमिलनाडु के तट से दूर तेज उत्तर-पूर्वी हवाएं चल रही हैं। एक चक्रवाती परिसंचरण मध्य क्षोभमंडल स्तर पर श्रीलंका तट से दूर बंगाल की दक्षिण-पश्चिम खाड़ी के ऊपर बना हुआ है। चेन्नई सहित कुछ जिलों में भारी से बहुत भारी बारिश होगी। आईएमडी के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में 3 जनवरी तक शीत लहर जारी रहेगी। दिल्ली में शनिवार की सुबह धुंध हुई है। दिल्ली में आज सुबह घना कोहरा छाए रहने से विजिबिलिटी कम हुई। यह पश्चिमी विक्षोभ पूर्व की ओर बढ़ेगा और इसकी तीव्रता कम होगी लेकिन वर्षा की गतिविधि पूर्वी भारत की ओर बढ़ेगी।जैसे-जैसे पश्चिमी विक्षोभ उत्तर पूर्व भारत के पास आता है, तापमान बढ़ता है। इसलिए, उत्तर पश्चिम भारत में कुछ स्थानों पर हम जो शीत लहर की स्थिति का अनुभव कर रहे हैं, वह धीरे-धीरे कम हो जाएगी।

आईएमए की कॉन्फ्रेंस में 17 डॉक्टर संक्रमित मिलें

अविनाश श्रीवास्तव         पटना। कोरोना संक्रमण के मामले में एक अहम खबर यह है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीते मंगलवार को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन,आईएमए की जिस कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन किया था। उसमें शामिल 17 डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री काफी देर तक रुके थे और अपने भाषण में तीसरी लहर के खतरे की ओर इशारा किया था। पॉजिटिव रिपोर्ट वाले सभी डॉक्टर नालंदा मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टर हैं। उनकी रिपोर्ट आने के बाद राज्य के स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है। चर्चा हो रही है कि मुख्यमंत्री उन डॉक्टर्स के संपर्क में आए थे अथवा नहीं। इसे देखते हुए संक्रमित डॉक्टर की कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है। जानकारी के मुताबिक रैपिड एंटीजन टेस्ट में इन्हें पॉजिटिव पाया गया है। आरटी पीसीआर टेस्ट का रिपोर्ट आना अभी बाकी है। दरअसल, बीते सोमवार को पटना के श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में आईएमए का 96 वां कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया था। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अगले दिन इसमें शामिल हुए थे। सीएम ने कांफ्रेंस में काफी समय बिताया था।

एनएमसीएच के अधीक्षक डॉ विनोद कुमार सिंह ने बताया कि आशंका होने पर कुल 70 डॉक्टर्स के सैंपल लिए गए।  उन सभी सैंपल की रैपिड एंटीजन कीट के जरिए जाँच कराई गई। जांच रिपोर्ट में 17 जूनियर डॉक्टर्स पॉजिटिव पाए गए। रिपोर्ट आने के बाद हड़कंप मच गया। अधीक्षक डॉ विनोद सिंह ने बताया कि सभी पॉजिटिव डॉक्टर्स को उनके हॉस्टल में आइसोलेट कर दिया गया है  और उनका प्रॉपर ट्रीटमेंट कराया जा रहा है। उनका  आरटीपीसीआर टेस्ट किया जा रहा है। उसकी रिपोर्ट अभी नहीं आई है। पटना के डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह ने पॉजिटिव आए लोगों के कांटेक्ट ट्रेसिंग करने का आदेश दिया है। पटना में तेजी से बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए डीएम ने निर्देश दिया है कि पटना में 50% आइसोलेशन और कोर्ट सेंटर को फिर से शुरू किया जाए।

सेहत के लिए बेहद फायदेमंद हैं टमाटर, जानिए

सेहत के लिए बेहद फायदेमंद हैं टमाटर, जानिए

सरस्वती उपाध्याय       टमाटर एक ऐसी सब्जी है। जिसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है। टमाटर आपको हर सीजन में आसानी से मिल जाएगा। इसमें कैल्शियम, फास्फोरस और विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। कुछ लोग टमाटर का सेवन सलाद के तौर पर करते हैं तो वहीं कुछ लोग इसे सूप, सब्जी या फिर चटनी के रूप में खाना पंसद करते हैं। वैसे तो टमाटर सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है और आंखों की रोशनी से लेकर मांसपेशियों के दर्द को ठीक करने और वजन कम करने के भी काम आता है। लेकिन कुछ लोगों को टमाटर का सेवन करने से परहेज करना चाहिए। हम आपको बताएंगे कि किन लोगों को टमाटर का सेवन नहीं करना चाहिए और साथ ही यह भी बताएंगे कि इसका सेवन करने से क्या नुकसान हो सकता है।

किडनी स्टोन से पीड़ित लोग ना खाएं: जिन लोगों के गाल ब्लैडर या फिर किडनी में स्टोन की समस्या है उन्हें टमाटर का सेवन करने से परहेज करना चाहिए। टमाटर में कैल्शियम की मात्रा ज्यादा होती है। टमाटर का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से शरीर में कैल्शियम ऑक्जलेट की मात्रा बढ़ जाती है। ऐसे में इसका सेवन करने से किडनी में स्टोन की समस्या और तेजी से बढ़ेता है।वहीं अगर जिन लोगों को पहले से ​पथरी की समस्या है तो वो भी टमाटर का सेवन ना करें।

जोड़ों का दर्द: जिन लोगों को जोड़ों के दर्द की समस्या रहती है, वैसे लोगों को टमाटर का अधिक सेवन सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। इसका सेवन करने से जोड़ों में दर्द या सूजन की परेशानी बढ़ा सकती है।

एलर्जी की समस्या: जिनको एलर्जी की समस्या है ,वो टमाटर का अधिक सेवन करने से बचें। कई बार टमाटर का अधिक सेवन स्किन एलर्जी, रैशेज, चेहरे पर सूजन आदि की वजह भी बन सकता है।

पाचन की परेशानी: टमाटर में साइट्रिक एसिड की मात्रा अधिक होती है। जिसकी वजह से पेट में पाचन संबन्धी समस्याएं हो सकती है। अधिक मात्रा में टमाटर का सेवन करने से पेट में गैस, सीने में जलन जैसी परेशानियां हो सकती हैं। इसलिए टमाटर का सेवन सीमित मात्रा में ही करें।

डायरिया की समस्या: अगर आप डायरिया की परेशानी से जूझ रहे हैं तो टमाटर का सेवन करने से बचें। इसमें साल्मोनेला नाम का बैक्टीरिया मौजूद होता है, जो डायरिया की समस्या को बढ़ाने का काम करता है।

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के सिल्वरवुड पॉजिटिव मिलें
मोमीन मलिक         
नई दिल्ली। एशेज सीरीज का चौथा टेस्ट मैच शुरू होने से पहले ही कोविड के कारण संकट में दिख रहा है। दोनों टीमों में लगातार कोविड के मामले आ रहे हैं। इंग्लैंड क्रिकेट टीम के मुख्य को क्रिस सिल्वरवुड अपने परिवार सहित मेलबर्न में आइसोलेशन में थे और इस दौरान उनका कोविड टेस्ट पॉजिटिव आया है। मेलबर्न में खेले गए तीसरे एशेज टेस्ट के बाद कोच कोविड संक्रमित शख्स के संपर्क में थे और इसलिए क्लोज कॉन्टेक्ट होने के नाते उन्हें परिवार सहित आइसोलेशन में रहने को कहा गया था। इसलिए वह टीम के साथ सिडनी नहीं गए थे।ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर ने जारी की चेतावनी, 4 साल पहले जैसी हो जाएगी इंग्लैंड की हालत चौथे टेस्ट मैच में उनका होना पहले से ही नामुमकिन था।
उनकी जगह टीम के सहायक कोच ग्राहम थोर्प सिडनी टेस्ट में टीम की देखरेख करेंगे। कोच में हालांकि किसी तरह के लक्षण नहीं हैं। वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड द्वारा जारी बयान के हवाले से लिखा है, "वह आठ जनवरी तक आइसोलेशन में रहेंगे। सिल्वरवुड में हालांकि अभी तक कोई लक्षण नहीं हैं। उनके होबार्ट में एशेज सीरीज के पांचवें टेस्ट मैच में टीम के साथ जुड़ने की उम्मीद है।

बकरी चुराने के संदेह में एक युवक की हत्या, अरेस्ट

बकरी चुराने के संदेह में एक युवक की हत्या, अरेस्ट
दिसपुर। असम के गोलाघाट जिले के एक सुदूरवर्ती गांव में तीन लोगों ने बकरी चुराने के संदेह में 45 वर्षीय युवक की पीट-पीट कर हत्या कर दी। पुलिस के एक अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। डेरगांव थाना क्षेत्र के ममरानी गांव में शनिवार रात स्थानीय लोगों की मौजूदगी में हुई इस घटना के सिलसिले में दो लोगों को हिरासत में लिया गया है। 
डेरगांव पुलिस थाने के प्रभारी अधिकारी प्रदीप चौधरी ने बताया कि मृतक की पहचान संजय दास के रूप में हुई है। उनके परिवार के सदस्य कुछ समय पहले थाने गए थे। शिकायत मिलने पर मामला दर्ज कर लिया गया है।” पुलिस के मुताबिक दास पर तीन लोगों ने हमला किया था, जो उसी गांव के निवासी हैं।
हमले के बाद दास को पहले डेरगांव सिविल अस्पताल ले जाया गया, लेकिन वहां के चिकित्सकों ने उसे जोरहाट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (जेएमसीएच) स्थानांतरित कर दिया। दास की रविवार तड़के मौत हो गई। पुलिस ने जिन दो आरोपियों को हिरासत में लिया है, उनसे मामले की विस्तृत जानकारी हासिल करने के लिए पूछताछ की जा रही है। चौधरी ने बताया कि हमारी जानकारी के अनुसार आरोपियों में से एक व्यक्ति की बकरी गायब हो गई थी और दास पर इसे चोरी करने का संदेह था। बकरी के मालिक ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर दास की पिटाई की, जिससे उसकी मौत हो गई।

विवाद: रेस्टोरेंट संचालक की गोली मारकर हत्या  
संदीप मिश्र      
गौतमबुद्ध नगर। नाईट कर्फ्यू के दौरान बंद हो चुके रेस्टोरेंट को दोबारा से खुलवाने के लिए विवाद हो गया। इस दौरान हुई कहासुनी के बाद दो लोगों ने रेस्टोरेंट संचालक की गोली मारकर हत्या कर दी और मौके से फरार हो गए। बाद में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।
हापुड़ के धौलाना के पारपा गांव निवासी कपिल राणा फ़िलहाल ग्रेटर नोएडा की आनंद आश्रय सोसाइटी में रह रहा है। अंसल गोल्फ लिंक सोसाइटी के पास ओमेक्स आर्केड कांप्लेक्स के भीतर कपिल राणा रेस्टोरेंट का संचालन करता था। डीसीपी अमित कुमार ने बताया है कि देर रात तक करीब 3ः30 बजे दो युवक उसके रेस्टोरेंट पर पहुंचे और परांठे बनाने के लिए कहा। लेकिन उसने नाईट कर्फ्यू में रेस्टोरेंट बंद होने का हवाला देते परांठा बनाकर देने से इंकार कर दिया। इस पर आरोपियों का रेस्टोरेंट संचालक के साथ झगड़ा हो गया। जिससे गुस्साकर आरोपियों ने रेस्टोरेंट के भीतर घुसकर कपिल की पिस्टल से गोली मार दी। गंभीर हालत के चलते कपिल को अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। बाद में पुलिस ने आरोपियों का पता लगाते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।

शराब की भट्टी पर छापेमारी, 1 तस्कर गिरफ्तार   
भानु प्रताप उपाध्याय         
शामली। पुलिस अधीक्षक सुकीर्ति माधव के निर्देशन में थाना झिंझाना पुलिस द्वारा शराब माफियाओं के विरुद्ध कार्यवाही करते हुए अवैध शराब के निर्माण को चलाई जा रही भट्टी पर छापेमारी कर 1 शराब तस्कर को गिरफ्तार किया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उसे जेल भेज दिया है।
पुलिस अधीक्षक सुकीर्ति माधव के आदेशानुसार अवैध शराब के निर्माण/बरामदगी/तस्करी में लिप्त आरोपियों गिरफ्तारी हेतु चलाए जा रहे अभियान के क्रम में थाना झिंझाना पुलिस द्वारा सूचना पर छापेमारी कर अवैध रुप से चलाई जा रही अवैध कच्ची शराब 20 लीटर, कच्ची शराब बनाने के उपकरण (01 पतीला सिल्वर, 01 भगोना सिल्वर, 01 पाईप प्लास्टिक का आदि), नष्ट कराया गया 100 लीटर लहन बरामद किया है। आरोपी का नाम श्रवण उर्फ शरमा पिता बैजनाथ निवासी ग्राम खानपुर कला थाना झिंझाना जनपद शामली बताया है। पुलिस ने गिरफ्तारी एवं बरामदगी के सम्बन्ध में थाना झिंझाना पर सुसंगत धाराओं मे अभियोग पंजीकृत कर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की है।

मुंबई: अभिनेत्री मौनी ने स्टनिंग तस्वीरें शेयर की

मुंबई: अभिनेत्री मौनी ने स्टनिंग तस्वीरें शेयर की

कविता गर्ग      मुबंई। गॉर्जियस एक्ट्रेस मौनी रॉय ने अपने नए साल का जश्न धूमधाम से मनाया। मौनी ने गोवा की एग्जॉटिक लोकेशन्स के बीच 2022 का खुले दिल से वेकलम किया। नए साल के पहले ही दिन मौनी ने अपनी सिजलिंग तस्वीरों से सोशल मीडिया का टेंपरेचर हाई कर दिया। मौनी ने नए साल के पहले दिन गोवा के बीच पर घूमते हुए ब्लैक बिकिनी टॉप में अपनी कुछ स्टनिंग तस्वीरें फैंस के साथ शेयर कीं, जो इंटरनेट पर हर जगह छाई हुई हैं। हवा में लहराते खुले बाल और न्यूड मेकअप में मौनी काफी स्टनिंग लग रही हैं।

मौनी की इन गॉर्जियस तस्वीरों को 5 लाख से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं। फैंस कमेंट सेक्शन में एक्ट्रेस के अंदाज और लुक की जमकर तारीफें कर रहे हैं और साथ में एक्ट्रेस को नए साल की बधाई भी दे रहे हैं। मौनी तस्वीरों में ब्लैक बिकिनी टॉप पहने हुए सनसेट को एन्जॉय करती हुई नजर आ रही हैं। मौनी की इन तस्वीरों पर फैंस फिदा हो रहे हैं। मौनी किसी फोटो में रेत पर नंगे पांव चलते हुए तो किसी फोटो में समंदर की लहरों को एन्जॉय करती हुई नजर आ रही हैं। बीच पर सनसेट की खूबसूरती मौनी की तस्वीरों में चार चांद लगा रही है।

ओकेजन न्यू ईयर का हो या फिर क्रिसमस का, मौनी का लुक फैंस को हमेशा ही इंप्रेस करता है। फैंस एक्ट्रेस के स्टाइल स्टेटमेंट पर फिदा रहते हैं। एक्ट्रेस मौनी रॉय अपनी शादी को लेकर भी लंबे समय से चर्चा में बनी हुई हैं। खबरें हैं कि मौनी रॉय नए साल 2022 में अपने बॉयफ्रेंड सूरज नंबियार संग शादी रचाएंगी। सूत्रों की मानें तो मौनी की शादी 25 जनवरी से 27 जनवरी के बीच होगी।अब यह देखने वाली बात होगी कि नए साल में मौनी अपनी नई जिंदगी का आगाज करती हैं।

अमेरिका-चीन के बीच टकराव, युद्ध के हालात बनें

अमेरिका-चीन के बीच टकराव, युद्ध के हालात बनें
वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग। नए साल में ताइवान और तिब्‍बत को लेकर अमेरिका और चीन के बीच टकराव बढ़ सकता है। ताइवान और तिब्‍बत को लेकर एक शीत युद्ध जैसे हालात बन सकते हैं। 
नए वर्ष के ठीक पहले अमेरिकी राष्‍ट्रपति जो बाइडन ने तिब्बत मामले के लिए भारतीय मूल की राजनयिक अजरा जिया को अपना स्पेशल को-आर्डिनेटर नियुक्त करके चीन को उकसा दिया है। अमेरिका के इस कदम से चीन पूरी तरह से तिलमिलाया है। एक तो मामला त‍िब्‍बत में अमेरिकी हस्‍तक्षेप और दूसरा भारतीय मूल के राजनयिक की नियुक्ति से चीन पूरी तरह से बौखला गया है। 
बाइडन प्रशासन के इस कदम से यह आशंका प्रबल हो गई है कि नए साल में भी अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढ़ना तय है।

अपनी 'आजादी' व लोकतंत्र की रक्षा का संकल्प
सुनील श्रीवास्तव    
ताइपे/ बीजिंग। ताइवान की राष्ट्रपति साइ इंग-वेन ने शनिवार को नए साल पर चीन को चेताया कि वह सैन्य संघर्ष के दुस्साहस की न सोचे। उन्होंने चीन की ओर से लगातार बढ़ते सैन्य व कूटनीतिक दबाव के बीच अपने आजादी व लोकतंत्र बनाए रखने की चुनौतियों का जवाब इस चेतावनी के साथ दिया कि यदि ताइवान पर चीन ने किसी भी लाल रेखा को पार किया तो यह गंभीर तबाही का कारण बनेगा। 
चीन लोकतांत्रिक रूप से शासित ताइवान को अपने क्षेत्र के रूप में दावा करता है और नए साल की पूर्व संध्या पर चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने एक बार फिर ताइवान के एकीकरण की बात कही। इस पर साइ ने कहा, ताइवान एक स्वतंत्र देश है और उसने अपनी आजादी व लोकतंत्र की रक्षा का संकल्प लिया है। उन्होंने कहा, लोकतंत्र और स्वतंत्रता कोई अपराध नहीं है। हांगकांग के समर्थन में भी ताइवान की स्थिति नहीं बदलेगी। 
साइ ने कहा, हम ताइवान को और भी बेहतर बनाएंगे और दुनिया को दिखाएंगे कि लोकतांत्रिक ताइवान में सत्तावादी चीन की छाया से बाहर निकलने का साहस है और हम दबाव में नहीं झुकेंगे। साइ के भाषण के बाद बीजिंग में ताइवान मामलों के कार्यालयीन प्रवक्ता झू फेंग्लियन ने कहा, हम शांतिपूर्ण एकीकरण के लिए तैयार हैं। लेकिन यदि उसे अलगाववादी ताकतें उकसाती हैं तो हमें निर्णायक कदम उठाने होंगे।
एक मीडिया सूत्र के अनुसार, ताइवान में हांगकांग से आव्रजन में वृद्धि देखी जा रही है, जहां चीन ने विवादित राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत अपनी कार्रवाई कड़ी कर दी है। जैसे-जैसे चीन विपक्ष पर अपना हमला तेज करता है, ताइवान हांगकांग से प्रवासियों की संख्या में वृद्धि देखता है। रेडियो फ्री एशिया के अनुसार, ताइवान में प्रवास करने वाले हांगकांग वासियों की संख्या 2021 में एक नई ऊंचाई पर पहुंच गई है।
चीन ने वर्ष 1990 के बाद से पहली बार निकारागुआ में दूतावास खोला है। चीन ने यह कदम निकारागुआ के राष्ट्रपति डेनियल ओर्टेगा की सरकार के ताइवान से संबंध समाप्त करने के बाद उठाया है। विदेश मंत्री डेनिस मोनकाडा ने कहा कि दोनों देशों के बीच एक प्रकार की वैचारिक आत्मीयता है। मोनकाडा ने कोरोना रोधी टीके सिनोफार्म की दस लाख खुराक देने के लिए चीन का आभार भी जताया।
दरअसल ओर्टेगा की सरकार ने चीन के साथ 1985 में संबंध स्थापित किए थे, लेकिन 1990 में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव हार जाने के बाद देश के नए राष्ट्रपति विलेटा कामारो की सरकार ने ताइवान को मान्यता दे दी। निकारागुआ की सरकार ने ताइवान के साथ नौ दिसंबर को संबंध समाप्त कर लिए थे और पिछले सप्ताह उसने ताइवान के दूतावास कार्यालय बंद कर दिया था।

6 साल के निचले स्तर पर पहुंचे सोने के दाम, वृद्धि

6 साल के निचले स्तर पर पहुंचे सोने के दाम, वृद्धि 

अकांशु उपाध्याय       नई दिल्ली। अगर आप सोना खरीदने की सोच रहे हैं तो फिर आपके लिए खुशखबरी है। दरअसल, सोने के दाम इस समय अपने 6 साल के निचले स्तर पर है। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज यानी एमसीएक्स पर सोने का भाव इस समय 48 हजार रुपये के आसपास चल रहा है। जो कि 56,200 रुपये प्रति 10 ग्राम के इसके ऑल टाइम हाई से 8 हजार रुपये नीचे है। कमोडिटी मार्केट के एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस समय सोने की कीमतें इसके ऑलटाइम हाई से 8000 रुपये नीचे दिख रही है और जब भी सोना 1800 डॉलर प्रति औंस के नीचे जाता है। तब हमें इसमें खरीदारी आती दिखती है। यहां तक की पिछले पखवाड़े के उतार-चढ़ाव भरे कारोबार के दौर में भी 1820-1835 डॉलर के रेंज में आई मुनाफावसूली के बाद गोल्ड के भाव में जोरदार उछाल आया था।

बाजार जानकारों का कहना है कि गोल्ड की कीमतों का रुख फिलहाल हाजिर बाजार से तय हो रहा है। जानकारों का कहना है कि हाजिर बाजार के भाव से सोने के साइडवेज लेकिन पॉजिटीव रुझान के साथ कारोबार करने के संकेत मिल रहे है। मार्केट एक्सपर्ट्स का कहना है कि निवेशकों को इस समय गिरावट में खरीद की रणनीति अपनानी चाहिए।एक्सपर्टस का कहना है कि मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर सोने का भाव 48,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के ऊपर नजर आ रहा है। इसको 47,500 के ऊपर सपोर्ट है। 47,800-47,900 की रेंज शॉर्ट टर्म ट्रेडरों के लिए सोने में खरीदारी करने के लिहाज से सबसे बेहतर रेंज है। सोना जल्द ही 49,300-49,500 रुपये प्रति ग्राम तक जाता दिख सकता है।

संक्रमण: कोरोना के मामलों में लगातार बढ़ोतरी

अकांशु उपाध्याय      नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के बीच केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को अस्थायी अस्पताल बनाने की प्रक्रिया शुरू करने और होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों की निगरानी के लिए स्पेशल टीम गठित करने की सलाह दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को शनिवार को एक पत्र में लिखा है कि कोरोना केस बढ़ने के साथ ही स्वास्थ्य ढांचे को अपग्रेड करने की जरूरत है। साथ ही सभी राज्यों को यह सुनिश्चित करना होगा कि जिला स्तर पर या स्थानीय स्तर पर कंट्रोल रूम सही तरीके से काम कर रहे हों।

स्वास्थ्य सचिव ने पत्र में लिखा, “कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए राज्यों को स्वास्थ्य सुविधाओं को बढ़ाने और अस्थायी अस्पतालों का निर्माण शुरू करने की सलाह दी जाती है। यह डीआरडीओ और CSIR के साथ-साथ निजी क्षेत्रों, एनजीओ के साथ मिलकर किया जा सकता है। बड़ी संख्या में संक्रमित हुए मरीज होम आइसोलेशन में हो सकते हैं। इसलिए इन मामलों को प्रभावी तरीके से फॉलोअप करने की जरूरत होगी। साथ ही ऐसे मरीजों की तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें तुरंत अस्पताल में भर्ती कराने की प्रक्रिया बनाई जाए।”

राजेश भूषण ने कहा कि सभी राज्यों को अपने होम आइसोलेशन प्रोटोकॉल और इसे लागू किए जाने को मॉनिटर करना चाहिए। उन्होंने लिखा, “होम आइसोलेशन के सभी मामलों की निगरानी के लिए स्पेशल टीम गठित की जाएं। सभी राज्यों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि जिला स्तर पर या स्थानीय स्तर पर कंट्रोल रूम सही तरीके से काम कर रहे हों।

'एटीसी' की मंजूरी के बिना राजकोट से उड़ान भरीं

अकांशु उपाध्याय           नई दिल्ली। निजी विमानन कंपनी स्पाइसजेट के यात्री विमान ने 30 दिसंबर को हवाई यातायात नियंत्रक (एटीसी) की मंजूरी के बिना राजकोट हवाई अड्डे से उड़ान भरी। जिसके बाद उड्डयन नियामक डीजीसीए ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। स्पाइसजेट के प्रवक्ता ने बताया कि नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) की जांच लंबित रहने के दौरान राजकोट-दिल्ली उड़ान में सवार चालकों को ड्यूटी से हटा दिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि राजकोट-दिल्ली उड़ान ने 30 दिसंबर को सुबह करीब साढ़े नौ बजे उड़ान भरी और पूर्वाह्न 11 बजकर 15 मिनट पर दिल्ली हवाई अड्डे पर विमान उतरा। उन्होंने बताया कि विमान को उड़ान भरने से पहले एटीसी से कई बार अनुमति लेनी होती है।

2,36,530 'मकानों' की बिक्री: 71 फिसदी बढ़त

अकांशु उपाध्याय        नई दिल्ली। देश के शीर्ष सात शहरों में घरों की बिक्री 2021 में इससे पिछले साल की तुलना में 71 प्रतिशत बढ़कर 2,36,530 इकाई हो गई। हालांकि, घरों की मांग अब भी कोविड-पूर्व के स्तर से 10 प्रतिशत कम है। संपत्ति संबंधी परामर्श देने वाली कंपनी एनारॉक ने यह जानकारी दी। इसके मुताबिक, वर्ष 2020 में 1,38,350 आवासीय इकाइयां बिकीं थीं और 2019 में कुल 2,61,358 इकाइयों की बिक्री हुई थी। मुंबई स्थित कंपनी एनारॉक ने बताया कि गृह ऋण पर निचली ब्याज दरों, मजबूत मांग, घर के स्वामित्व की आकांक्षा में वृद्धि और महाराष्ट्र सहित कुछ राज्यों द्वारा स्टाम्प शुल्क में कटौती के साथ बिल्डरों द्वारा दी जा रही छूट के कारण आवास बिक्री में वृद्धि हो रही है। एनारॉक के चेयरमैन अनुज पुरी ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी काबू में रहती है, तो 2021 के प्रदर्शन के आधार पर कहा जा सकता है कि 2022 में वृद्धि संतोषजनक रहेगी।

त्योहारों के मद्देनजर बढ़ी मांग और अन्य सकारात्मक कारकों के कारण, पिछले वर्ष के दौरान कुल बिक्री में चौथी तिमाही का लगभग 39 प्रतिशत का योगदान रहा। एनारॉक के वार्षिक आंकड़ों के मुताबिक, मुंबई महानगर क्षेत्र में आवासीय बिक्री 2021 में 72 फीसदी बढ़कर 76,400 इकाई रहीं, जो इससे पिछले वर्ष में 44,320 इकाई रही थी। हैदराबाद में पिछले वर्ष घरों की बिक्री तीन गुना बढ़कर 25,410 इकाई रही।

2020 में यह आंकड़ा 8,560 था। दिल्ली-एनसीआर में 2021 में 73 प्रतिशत वृद्धि के साथ 40,050 इकाइयां बिकीं, 2020 में यह आंकड़ा 23,210 इकाई का था। पुणे में 2021 में 53 फीसदी वृद्धि के साथ 35,980 इकाइयां बिकीं। 2020 में यह आंकड़ा 23,460 इकाइयां था। बेंगलुरु में 2021 में 33 प्रतिशत वृद्धि के साथ 33,080 घर बेचे गए। 2020 में 24,910 घर बिके थे। चेन्नई में 2021 में 86 प्रतिशत वृद्धि के साथ 12,530 इकाइयों की बिक्री हुई।

स्वामी रामानुजाचार्य का स्टैच्यू हैदराबाद में स्थापित

स्वामी रामानुजाचार्य का स्टैच्यू हैदराबाद में स्थापित      मोहम्मद रियाज

हैदराबाद। दुनिया का सबसे बड़ा सिटिंग स्टैच्यू (बैठा हुआ) 302 फीट हाइट का ग्रेट बुद्धा का है, जो थाइलैंड में है। और दूसरे नंबर पर अब भारत में 216 फीट ऊंचा स्वामी रामानुजाचार्य का स्टैच्यू हैदराबाद में स्थापित हो चुका है। हालांकि राजस्थान के नाथद्वारा में 351 फीट ऊंची शिव मूर्ति भी तैयार हो चुकी है। लेकिन इसका इनॉगरेशन मार्च में है, इसके पहले फरवरी में रामानुजाचार्य के स्टैच्यू का इनॉगरेशन पीएम मोदी करने जा रहे हैं।

इस स्टैच्यू के साथ 108 मंदिर भी बनाए गए हैं। जिन पर कारीगरी ऐसी है कि कुछ मिनट को पलकें ठहर सी जाती हैं। साथ ही 120 किलो सोने का इस्तेमाल करते हुए आचार्य की एक छोटी मूर्ति भी तैयार की गई है। इस जगह को स्टैच्यू ऑफ इक्वालिटी नाम दिया गया है। वैष्णव संप्रदाय के संत चिन्ना जीयर स्वामी की देखरेख में पूरे हुए इस प्रोजेक्ट पर अब तक 1400 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं। नए साल से यह दर्शकों के लिए खुलने जा रहा है। 

'कोरोना' के बढ़ते मामलों को लेकर सरकार अलर्ट

अमित शर्मा       चंडीगढ़। हरियाणा में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को लेकर प्रदेश सरकार अलर्ट हो गई है। तमाम स्कूल-कालेज, पालिटेक्निक, आइटीआइ, कोचिंग इंस्टीट्यूट, लाइब्रेरी, प्रशिक्षण संस्थान, आंगनबाड़ी केंद्र और क्रेच 12 जनवरी तक बंद कर दिए गए हैं। अंतिम संस्कार में 50 और शादियों में 100 से अधिक लोग इकट्ठे नहीं हो सकेंगे। रात्रि कर्फ्यू रात 11:00 से सुबह 5:00 बजे तक जारी रहेगा। धार्मिक स्थलों में एक समय में केवल 50 लोग इकट्ठे हो सकते हैं।

कोविड के प्रकोप के चलते हरियाणा राज्य में 3 से 12 जनवरी तक सभी राजकीय व प्राइवेट स्कूल, कोलेज, पॉलीटैक्निक, आईटीआई, कोचिंग इंस्टिट्यूट, लायब्रेरी तथा ट्रेनिंग इन्स्टिटूट और आंगनवाड़ी केंद्र बंद रहेंगे। हरियाणा राज्य आपदा प्रबंधन अथॉरिटी के चेयरमैन तथा हरियाणा के मुख्य सचिव ने जारी किए महामारी अलर्ट - सुरक्षित हरियाणा आदेश। दाह संस्कार और विवाह समारोह में क्रमश 50 और 100 लोगों से ज़्यादा भाग नहीं ले सकते हैं, उन्हें भी कोविड अनुकूल व्यवहार तथा सोशल डिस्टेंसिंग नियमों का पालन करना होगा। एन जी ओ तथा शहरी स्थानीय निकायों को पब्लिक में मास्क वितरण की सलाह दी गई है।

प्रतिदिन पॉज़िटिव केसों के आधार पर, ग्रुप ए ज़िलों नामत- गुरुग्राम फ़रीदाबाद अंबाला, पंचकूला और सोनीपत में कुछ और प्रतिबंध भी लगाए गए हैं। जिनमें सभी सिनेमाहॉल, थियेटर,मल्टीप्लैक्स बंद रखने, सभी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स , स्टेडियम, स्विमिंग पूल बंद रखे जाएंगे केवल राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खेल स्पर्धाओं में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को इस नियम में छूट होगी, किसी बाहरी व्यक्ति अथवा दर्शक को स्टेडीयम में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। गुरुग्राम सहित इन पाँच ज़िलों में मॉल और मार्केट शाम पाँच बजे तक ही खुले रखे जा सकते हैं। इन ज़िलों में बार और रेस्टोरेंट 50% सीटिंग क्षमता के साथ ही संचालित होंगी।

कृषि ऋण को बढ़ाकर 18 लाख करोड़ करेंगीं सरकार  

अकांशु उपाध्याय            नई दिल्ली। सूत्रों के अनुसार, कृषि क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार 1 फरवरी को पेश होने वाले 2022-23 के बजट में कृषि ऋण लक्ष्य को बढ़ाकर लगभग 18 लाख करोड़ रुपये कर सकती है। चालू वित्त वर्ष के लिए सरकार का कृषि ऋण लक्ष्य 16.5 लाख करोड़ रुपये का है। सूत्रों ने कहा कि सरकार हर साल कृषि क्षेत्र के लिए ऋण लक्ष्य बढ़ा रही है और इस बार भी 2022-23 के लिए लक्ष्य को बढ़ाकर 18-18.5 लाख करोड़ रुपये कर सकती है। सूत्रों ने कहा कि महीने के आखिरी सप्ताह में बजट को अंतिम रूप देते समय इस संख्या को फाइनल किया जाएगा।

सरकार बैंकिंग क्षेत्र के लिए फसल ऋण लक्ष्य सहित वार्षिक कृषि ऋण निर्धारित करती है। पिछले कुछ वर्षों में कृषि ऋण प्रवाह में लगातार वृद्धि हुई है, जो प्रत्येक वित्तीय वर्ष के लिए निर्धारित लक्ष्य से अधिक होती है। 2017-18 में किसानों को 11.68 लाख करोड़ रुपये का ऋण दिया गया, जो उस वर्ष के लिए निर्धारित 10 लाख करोड़ रुपये के लक्ष्य से बहुत अधिक है। इसी तरह, वित्तीय वर्ष 2016-17 में 10.66 लाख करोड़ रुपये के फसल ऋण वितरित किए गए, जो 9 लाख करोड़ रुपये के ऋण लक्ष्य से अधिक है।

उच्च कृषि उत्पाद हासिल करने के लिए ऋण एक महत्वपूर्ण निवेश है। सूत्रों ने कहा कि संस्थागत ऋण किसानों को गैर-संस्थागत स्रोतों से अलग करने में भी मदद करेगा, जहां वह ज्यादा ब्याज की दरों पर उधार लेने के लिए मजबूर होता हैं।आम तौर पर, कृषि ऋण पर नौ प्रतिशत की ब्याज दर लगती है। हालांकि, सरकार सस्ती दर पर अल्पकालिक फसल ऋण उपलब्ध कराने और कृषि उत्पादन को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए ब्याज सबवेंशन प्रदान करती है। सरकार किसानों को तीन लाख रुपये तक के अल्पकालिक कृषि ऋण को सात प्रतिशत प्रति वर्ष की प्रभावी दर से सुनिश्चित करने के लिए दो प्रतिशत ब्याज सब्सिडी प्रदान करती हैदेय तिथि के भीतर ऋणों की शीघ्र अदायगी के लिए किसानों को तीन प्रतिशत का अतिरिक्त प्रोत्साहन दिया जाता है, जिससे प्रभावी ब्याज दर चार प्रतिशत हो जाती है। ऐसे अगर सरकार कृषि ऋण लक्ष्य को और बढ़ाती है तो इससे किसानों को फायदा होगा। ज्यादा किसान लोन ले पाएंगे।


एनसीबी ने बंबई 'हाईकोर्ट' का रुख किया: नवाब   
कविता गर्ग          मुंबई। महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने रविवार को स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) पर फिर से हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि एक एनसीबी अधिकारी ने एक मामले में पूर्व की तारीख के पंचनामा कागजातों पर हस्ताक्षर कराने के लिए एक ‘पंच’ को बुलाया था। मलिक की यह टिप्पणी तब आई है। जब एनसीबी ने मादक पदार्थ के एक मामले में उनके दामाद को दी गई जमानत को रद्द करने के लिए बंबई उच्च न्यायालय का रुख किया है। 

संपर्क करने पर, एनसीबी के एक अधिकारी ने मलिक के आरोपों का खंडन किया और उन्हें “झूठा और निराधार” करार दिया। मलिक ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए दो ऑडियो क्लिप भी जारी किए। एक ऑडियो एनसीबी अधिकारी द्वारा एक मामले से संबंधित पुराने कागजात पर हस्ताक्षर करने के लिए एक पंच (गवाह) ‘मैडी’ को बुलाए जाने के बीच की कथित बातचीत से जुड़ा था।

'कोरोना' के मामले बढ़ें, घबराने की जरूरत नहीं  

अकांशु उपाध्याय         नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि शहर में कोविड-19 के मामले भले ही बढ़ रहे हों। लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है। क्योंकि ये मामले कम गंभीर हैं और इनमें लोगों को अस्पतालों में भर्ती कराने की जरूरत नहीं पड़ रही है। उन्होंने यह दिखाने के लिए आंकड़े प्रस्तुत किए कि मामलों में वृद्धि के बावजूद, अस्पतालों में बिस्तर की जरूरत एक प्रतिशत से भी कम है और पिछले साल अप्रैल में आई कोरोना वायरस की घातक दूसरी लहर की तुलना में बहुत कम है।

केजरीवाल ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उपचाराधीन मामलों की संख्या 29 दिसंबर, 2021 को करीब 2,000 रहने के बाद एक जनवरी को करीब 6,000 हो गई, लेकिन अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या इस दौरान घटी। 29 दिसंबर, 2021 को 262 बिस्तरों पर लोग भर्ती थे लेकिन एक जनवरी को यह संख्या महज 247 थी।


5वीं तक की कक्षाओं को खोलने का फैसला रद्द   

भुवनेश्वर। कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बीच ओडिशा सरकार ने रविवार को कहा कि वह सोमवार से विद्यालयों में पहली से पांचवीं तक की कक्षाओं को फिर से खोलने का अपना फैसला वापस ले रही है। विद्यालय और जन शिक्षा मंत्री एस आर दास ने एक बयान में कहा कि अधिकारियों ने राज्य के विभिन्न प्राथमिक विद्यालयों का निरीक्षण किया और हितधारकों से बातचीत के बाद यह निर्णय लिया गया।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के मामलों में दैनिक वृद्धि और राज्य में अभिभावकों से मिली प्रतिक्रिया के आधार पर हमने तीन जनवरी से विद्यालयों में पहली से पांचवीं तक की कक्षाएं फिर से नहीं खोलने का निर्णय लिया है। हालांकि, उन्होंने कहा कि विद्यालयों में छठी से 10वीं तक की कक्षाओं की पढ़ाई होगी। ओडिशा में रविवार को कोविड-19 के 424 नए मामले सामने आए हैं।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-76, (वर्ष-05)
2. सोमवार, जनवरी 3, 2021
3. शक-1984, मार्गशीर्ष, शुक्ल-पक्ष, तिथि-प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 07:10, सूर्यास्त 05:24।
5. न्‍यूनतम तापमान- 9 डी.सै., अधिकतम-23+ डी.सै.।  बर्फबारी व शीतलहर के साथ मैदानी क्षेत्रों में कहीं- कहीं तेज बारिश की संभावना।
कउ.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवाशुं के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित) 

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया

फाउंडेशन द्वारा बच्चों के साथ 'अमृत महोत्सव' मनाया  जे.एस.वी. किड्स एकेडमी में सारथी वेलफेयर फाउंडेशन ने मनाया अमृत महो...