रविवार, 2 जनवरी 2022

सेहत के लिए बेहद फायदेमंद हैं टमाटर, जानिए

सेहत के लिए बेहद फायदेमंद हैं टमाटर, जानिए

सरस्वती उपाध्याय       टमाटर एक ऐसी सब्जी है। जिसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है। टमाटर आपको हर सीजन में आसानी से मिल जाएगा। इसमें कैल्शियम, फास्फोरस और विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। कुछ लोग टमाटर का सेवन सलाद के तौर पर करते हैं तो वहीं कुछ लोग इसे सूप, सब्जी या फिर चटनी के रूप में खाना पंसद करते हैं। वैसे तो टमाटर सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है और आंखों की रोशनी से लेकर मांसपेशियों के दर्द को ठीक करने और वजन कम करने के भी काम आता है। लेकिन कुछ लोगों को टमाटर का सेवन करने से परहेज करना चाहिए। हम आपको बताएंगे कि किन लोगों को टमाटर का सेवन नहीं करना चाहिए और साथ ही यह भी बताएंगे कि इसका सेवन करने से क्या नुकसान हो सकता है।

किडनी स्टोन से पीड़ित लोग ना खाएं: जिन लोगों के गाल ब्लैडर या फिर किडनी में स्टोन की समस्या है उन्हें टमाटर का सेवन करने से परहेज करना चाहिए। टमाटर में कैल्शियम की मात्रा ज्यादा होती है। टमाटर का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से शरीर में कैल्शियम ऑक्जलेट की मात्रा बढ़ जाती है। ऐसे में इसका सेवन करने से किडनी में स्टोन की समस्या और तेजी से बढ़ेता है।वहीं अगर जिन लोगों को पहले से ​पथरी की समस्या है तो वो भी टमाटर का सेवन ना करें।

जोड़ों का दर्द: जिन लोगों को जोड़ों के दर्द की समस्या रहती है, वैसे लोगों को टमाटर का अधिक सेवन सेहत के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। इसका सेवन करने से जोड़ों में दर्द या सूजन की परेशानी बढ़ा सकती है।

एलर्जी की समस्या: जिनको एलर्जी की समस्या है ,वो टमाटर का अधिक सेवन करने से बचें। कई बार टमाटर का अधिक सेवन स्किन एलर्जी, रैशेज, चेहरे पर सूजन आदि की वजह भी बन सकता है।

पाचन की परेशानी: टमाटर में साइट्रिक एसिड की मात्रा अधिक होती है। जिसकी वजह से पेट में पाचन संबन्धी समस्याएं हो सकती है। अधिक मात्रा में टमाटर का सेवन करने से पेट में गैस, सीने में जलन जैसी परेशानियां हो सकती हैं। इसलिए टमाटर का सेवन सीमित मात्रा में ही करें।

डायरिया की समस्या: अगर आप डायरिया की परेशानी से जूझ रहे हैं तो टमाटर का सेवन करने से बचें। इसमें साल्मोनेला नाम का बैक्टीरिया मौजूद होता है, जो डायरिया की समस्या को बढ़ाने का काम करता है।

इंग्लैंड क्रिकेट टीम के सिल्वरवुड पॉजिटिव मिलें
मोमीन मलिक         
नई दिल्ली। एशेज सीरीज का चौथा टेस्ट मैच शुरू होने से पहले ही कोविड के कारण संकट में दिख रहा है। दोनों टीमों में लगातार कोविड के मामले आ रहे हैं। इंग्लैंड क्रिकेट टीम के मुख्य को क्रिस सिल्वरवुड अपने परिवार सहित मेलबर्न में आइसोलेशन में थे और इस दौरान उनका कोविड टेस्ट पॉजिटिव आया है। मेलबर्न में खेले गए तीसरे एशेज टेस्ट के बाद कोच कोविड संक्रमित शख्स के संपर्क में थे और इसलिए क्लोज कॉन्टेक्ट होने के नाते उन्हें परिवार सहित आइसोलेशन में रहने को कहा गया था। इसलिए वह टीम के साथ सिडनी नहीं गए थे।ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर ने जारी की चेतावनी, 4 साल पहले जैसी हो जाएगी इंग्लैंड की हालत चौथे टेस्ट मैच में उनका होना पहले से ही नामुमकिन था।
उनकी जगह टीम के सहायक कोच ग्राहम थोर्प सिडनी टेस्ट में टीम की देखरेख करेंगे। कोच में हालांकि किसी तरह के लक्षण नहीं हैं। वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड द्वारा जारी बयान के हवाले से लिखा है, "वह आठ जनवरी तक आइसोलेशन में रहेंगे। सिल्वरवुड में हालांकि अभी तक कोई लक्षण नहीं हैं। उनके होबार्ट में एशेज सीरीज के पांचवें टेस्ट मैच में टीम के साथ जुड़ने की उम्मीद है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Thank you, for a message universal express.

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन

अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन  अविनाश श्रीवास्तव  चक्की। प्रखंड की अरक पंचायत में वार्षिक आम सभा का आयोजन किया गया। जि...