गुरुवार, 18 जून 2020

एनसीआर में बढ़ता संक्रमण, केंद्र चिंतित

अकाशुं उपाध्याय


गाजियाबाद। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली एवं दिल्ली से लगे हुए क्षेत्र में कोरोनावायरस कोविड-19 महामारी का प्रकोप तेजी से फल-फूल रहा है। वायरस का संक्रमण दिन प्रतिदिन दोगुना और रात चौगुना हो रहा है। जिस को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार के साथ-साथ राज्य सरकार भी चिंतित है। केंद्र सरकार ने संक्रमण नियंत्रण को ध्यान में रखते हुए एनसीआर के सभी जिला अधिकारियों एवं वरिष्ठ अधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंस के जरिए एक समीक्षा बैठक की। जिसमें जनपद गाजियाबाद के डीएम अजय शंकर पांडेय भी शरीक रहे। गृह मंत्रालय के द्वारा जारी दिशानिर्देश का अनुपालन किया जाएगा। जिससे वायरस संक्रमण को नियंत्रित करने में सहायता मिलेगी। गृहमंत्री,भारत सरकार अमित शाह ने एनसीआर क्षेत्र के जिलाधिकारियों,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों के साथ कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से बचाव के संबंध में वीडियो कांफ्रेंस की एवम् सभी को एक साथ एक जुट होकर इस महामारी से निपटने हेतु युद्ध स्तर पर कार्य करने के लिए
निर्देश दिए।


भारत में चीन के खिलाफ जबरदस्त गुस्सा

पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस और मुलायम सिंह…


नई दिल्ली। भारत और चीन के संबंधों में एक बार फिर खटास आ गई है,क्योंकि सोमवार को दोनों देशों के बीच लद्दाख की गलवान घाटी में हिंसक झड़प हुई,इसे लेकर भारत में चीन के खिलाफ जबरदस्त गुस्सा है। भारत के लिए चीन खतरा नया नहीं बल्कि दशकों पुराना है।पूर्व रक्षा मंत्री जार्ज फर्नांडीस चीन को भारत का दुश्मन नंबर वन मानते थे और मुलायम सिंह यादव ने तो चीन को पाकिस्तान से भी बड़ा दुश्मन करार दिया था,इस तरह से देश के दोनों पूर्व रक्षामंत्री चीन को लेकर लेकर समय-समय पर आगाह करते रहे।


बता दें कि दो दशक पहले 1998 में तत्कालीन एनडीए सरकार के रक्षामंत्री जॉर्ज फर्नांडिस ने सामरिक दृष्टि से चीन को भारत का दुश्मन नंबर एक करार दिया था।जॉर्ज फर्नांडिस ने रक्षामंत्री रहते हुए एक अंग्रेजी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा था, ‘हमारे देशवासी सच्चाई का सामना करने से कतराते हैं और चीन के इरादों पर कोई सवाल नहीं उठाते।चीन जिस तरह से पाकिस्तान को मिसाइलें और आर्थिक मदद दे रहा है,म्यांमार के सैनिक शासन को सैनिक मदद दे रहा है और भारत को जमीन और समुद्र के जरिए घेरने की कोशिश कर रहा है।इससे तो यही लगता है कि चीन हमारा सबसे बड़ा दुश्मन नंबर वन है।
जॉर्ज फर्नांडिस का यह बयान उस समय कई लोगों को रास नहीं आया था।जॉर्ज के कई साथी मंत्रियों ने उनके इस बयान का खुले तौर पर विरोध किया था,इतना ही नहीं विपक्षी दल कांग्रेस और वामपंथी दलों को भी जॉर्ज का यह बयान नहीं सुहाया था।हालांकि, मौजूदा दौर में चीन की इस घटना के बाद देश में कई लोग जॉर्ज की तरह ही चीन को दुश्मन नंबर वन मान रहे हैं।इसीलिए चीन को सबक सिखाने के लिए कई संगठन चीनी सामान का बहिष्कार कर रहे हैं।


मुलायम सिंह कहते थे- पाकिस्तान से बड़ा दुश्मन चीन


जॉर्ज फर्नांडिस की तरह पूर्व रक्षामंत्री मुलायम सिंह यादव भी चीन को भारत के लिए पाकिस्तान से बड़ा दुश्मन बता चुके हैं।साल 2017 में डोकलाम विवाद के बाद लोकसभा में चर्चा के दौरान मुलायम सिंह ने दो टूक कहा था कि भारत का सबसे बड़ा मुद्दा पाकिस्तान नहीं बल्कि चीन है। मुलायम सिंह पूर्व सरकार की आलोचना करते हुए ये भी कहा था कि तिब्बत को सौंपना भारत की बड़ी भूल थी।
मुलायम सिंह यादव चीन को लेकर इससे पहले भी कई बार सख्त टिप्पणी करने के साथ-साथ भारत को आगाह कर चुके हैं। 2013 में कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार को बाहर से समर्थन दे रहे मुलायम सिंह ने आरोप लगाया था चीन के घुसपैठ करने पर मनमोहन सिंह सरकार कुछ नहीं कर रही है।चीन को लेकर मुलायम सिंह द्वारा दिए गए बयान को समाजावदी पार्टी के नेता सहित कई लोग सोशल मीडिया में शेयर कर रहे हैं।


बीजेपी सांसद ने चीन को दुश्मन नंबर वन कहा था


राज्यसभा सांसद और संघ विचारक राकेश सिन्हा भी चीन को भारत का दुश्मन नंबर वन मानते हैं।जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को खत्म करने के बाद चीन की ओर से आई प्रतिक्रिया पर टिप्पणी करते हुए चीन को ‘भारत का दुश्मन नंबर वन’ बताया था। साथ ही कहा था कि चीन विस्तारवादी देश है,वो भारत का अच्छा दोस्त कभी नहीं हो सकता।राकेश सिन्हा ने कहा था कि चीन अरुणाचल पर भी दावा कर रहा है, सिक्किम पर भी दावा कर रहा है।अगर चीन के विस्तारवाद को हम मानेंगे तो भारत के कई हिस्सों को सुपुर्द कर देना पड़ेगा।


सैनिकों की 'शहादत' को किया सलाम

नई दिल्ली। भारत- चीन सीमा के गलवन घाटी में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में बिहार के छह जवान भी शहीद हो गए हैं। जवानों की शहादत की खबर से एक तरफ दुख और गम का माहौल है तो वहीं दूसरी तरफ चीन को लेकर काफी आक्रोश है। पूरे बिहार में अपने छह जवानों की शहादत की खबर मिलने के बाद भारत माता की जय की गूंज सुनाई दे रही है तो वहीं चीन से बदला लेने की ललकार सड़कों पर दिखाई दे रही है।

मई में होनेवाली थी बेटे की शादी, टूट गया मां के सपने

लद्दाख की गलवन घाटी में चीनी सैनिकों की झड़प में भोजपुर के दो जवानों ने अपनी शहादत दी है। सरहद की रक्षा करते हुए बिहार रेजिमेंट के जवान चंदन कुमार व कुंदन ओझा शहीद हो गए। जिले में दोनों की शहादत से गम का माहौल है।

बेटे की शहादत की खबर सुन मां की सूनी आंखें बेटे को तलाश रही हैं। शादी का सेहरा पहनने से पहले ही चंदन कुमार चीन के सैनिकों से लड़ते हुए शहीद हो गए। मां का बहू लाने का सपना टूट गया। जगदीशपुर के कौरा पंचायत अन्तर्गत ज्ञानपुरा गांव निवासी ह्रदयानंद सिंह के छोटे पुत्र चंदन की शादी इसी वर्ष जगदीशपुर प्रखंड के सुल्तानपुर गांव में राजमहल सिंह की पुत्री के साथ होने वाली थी।

 

पहले 29 अप्रैल को तिलक व शादी की तारीख 1 मई तय हो गई थी। लेकिन, कोरोना में लॉकडाउन के चलते शादी की तारीख को दोनों परिवारों की सहमति से आगे बढ़ा दी गई थी।

वीरांगना पत्नी ने पति को दी सलामी, कहा-बेटों को सेना में ही भेजूंगी

बिहटा प्रखंड के सिकरिया पंचायत के तारानगर गांव निवासी 36 वर्षीय हवलदार सुनील कुमार वीरगति को प्राप्त हो गए। उनके शहीद होने की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। बेटे की शहादत की खबर मिलते ही मां -बाप बेसुध हो गए। गुरुवार की सुबह शहीद का अंतिम संस्कार किया गया।

शहीद को पत्नी और उनकी बेटी ने आखिरी सलामी दी और वीरांगना पत्नी ने कहा कि आज मैंने पति को खोया है लेकिन मैं अपने दोनों बेटों को भी सेना में ही भेजूंगी और वे एक के बदले दस चीनी सैनिकों को मारकर अपने पिता का बदला लेंगे। सुनील के दो पुत्र आयुष (11) विराट (4) एवं एक पुत्र सोनाली (13) हैं। सभी आर्मी स्कूल दानापुर में पढ़ते हैं।

एक साल पहले हुई थी शहीद अमन की शादी, पत्नी से कहा था-जल्द वापस आऊंगा

भारत और चीनी सैनिकों के बीच पूर्वी लद्दाख स्थित गलवन घाटी में हुई हिंसक झड़प में समस्तीपुर ने भी अपना एक लाल खो दिया। जिले के मोहिउद्दीननगर प्रखंड के सुल्तानपुर निवासी सुधीर कुमार सिंह के 24 वर्षीय पुत्र अमन कुमार सिंह (बिहार रेजीमेंट) चीनी सैनिकों के साथ झड़प में शहीद हो गए। शहादत की खबर मिलते ही माता रेणु देवी, पत्नी मीनू देवी सहित पूरा परिवार चीत्कार उठा। पत्नी का रो-रोकर बुरा हाल है। एक वर्ष पहले 27 फरवरी 2019 को अमन से शादी हुई थी। ड्यूटी पर जाते समय उन्होंने जल्द लौटने की बात कही थी। किंतु, होनी को कुछ और ही मंजूर था।

22 साल का बेटा हुआ शहीद, पिता ने कहा-गर्व है अपने बेटे पर

लद्दाख की गलवन घाटी में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में वैशाली जिले के निवासी बिहार रेजिमेंट की 12 वीं बटालियन के जवान जयकिशोर सिंह ने देश की रक्षा में अपनी शहादत दी है।

22 वर्षीय जय किशोर के शहीद होने की खबर मिलते ही ग्रामीण, सगे-संबंधी एवं आसपास के लोग सांत्वना देने उनके घर पहुंचे। शहीद के पिता राजकपूर सिंह किसान हैं, जबकि बड़े भाई नंदकिशोर सिंह भारतीय थल सेना में सिक्किम में पदस्थापित हैं। शहीद सैनिक चार भाइयों में दूसरे नंबर पर थे। बड़े पुत्र द्वारा छोटे बेटे के शहीद होने सूचना मिलने पर एक तरफ जहां घर में कोहराम मच गया वहीं पिता ने कहा-गर्व है कि मैं एक शहीद का पिता हूं।

गम के आंसुओं के बीच कुंदन छोड़ गया अपनी चमक

लद्दाख के गलवन में चीनी सैनिकों से हुई हिंसक झड़प में भारतीय सैनिकों की शहादत में सहरसा के कुंदन का नाम दर्ज होने से जहां आरण गांव को गर्व है, वहीं चीन की तरफ से धोखे से हमला किए जाने के खिलाफ गुस्सा भी है। मंगलवार की रात कुंदन के शहीद होने की खबर उनकी पत्नी को मिली ।

बूढ़ी मां और पिता बेटे की शहादत की खबर सुनकर स्तब्ध रह गए। कुंदन की पत्नी की क्रंदन व चीत्कार से पूरे गांव में मातम छा गया। शहीद के दो छोटे-छोटे बच्चे हैं। उन्हें मां के रोने का कारण समझ में नहीं आ रहा था वो बस भीड़ को निहार रहे थे। वर्ष 2013 में इनकी शादी घेलाढ़ थाना के इनरवा गांव में हुई। पत्नी बेबी देवी ने बताया कि 27 दिसंबर, 2019 को वो अपने गांव आए थे। करीब दो माह रहने के बाद फरवरी में ड्यूटी के लिए विदा हुए। जाते वक्त उन्होंने कहा था कि जल्द ही वापस आऊंगा। जाते वक्त यह भी कहते थे कि अगर मैं लौट के नहीं आ सका तो अपने बच्चों का ख्याल रखना। 

भारत 8 वीं बार संयुक्त परिषद का सदस्य

भारत दो साल के लिए संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद का अस्‍थायी सदस्‍य चुन लिया गया है। 193 सदस्‍यों वाली संयुक्‍त राष्ट्र महासभा में भारत को 184 मत मिले।


न्यूयॉर्क/नई दिल्ली। भारत के साथ-साथ आयरलैंड, मैक्सिको और नॉर्वे भी कल रात सुरक्षा परिषद का चुनाव जीते हैं। भारत एशिया-प्रशांत क्षेत्र से 2021-22 के लिए अस्‍थायी सदस्‍यता का उम्‍मीदवार था। उसकी जीत इसलिए भी तय थी क्‍योंकि वह इस क्षेत्र से एकमात्र उम्‍मीदवार था। 55 सदस्‍यों वाले एशिया-प्रशांत समूह के सदस्‍यों ने पिछले साल जून में ही भारत की उम्‍मीदवारी को सर्वसम्‍मति से स्‍वीकृति प्रदान कर दी थी।


भारत का दो साल का कार्यकाल अगले साल पहली जनवरी से प्रारंभ होगा। संयुक्‍त राष्‍ट्र के इतिहास में भारत आठवीं बार प्रतिष्ठित सुरक्षा परिषद के लिए निर्वाचित हुआ है। संयुक्‍त राष्‍ट्र में भारत के स्‍थायी प्रतिनिधि टी.एस. तिरुमूर्ति ने कहा है कि भारत को संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद के चुनाव में सदस्‍य देशों का भरपूर समर्थन मिला और वह इस बहुराष्‍ट्रीय संगठन में सुधार और उसे नयी दिशा देने में नेतृत्‍व नेतृत्‍व प्रदान करता रहेगा। उन्‍होंने कहा कि सुरक्षा परिषद के लिए भारत का चुना जाना प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की दूरदर्शी सोच और, खास तौर पर, कोविड-19 आपदा के दौर में उनके प्रेरणास्पद वैश्विक नेतृत्‍व का प्रमाण है।


शांति प्रबंधन के लिए बदली गई नीतियां

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख की गलवां घाटी में 15-16 जून की दरमियानी रात को हुई हिंसक झड़प के दो दिनों बाद तक चीन दो तरह की बातें करता रहा। एक तरफ जहां वो शांति की बात कर रहा है वहीं दूसरी तरफ गलवां घाटी पर दावा ठोक दिया। अपने 20 जवानों के शहीद होने पर भारत ने फैसला लिया है कि यदि चीन चालबाजी से अपने कदम आगे बढ़ाने की कोशिश करेगा तो उसे इसकी कीमत चुकानी होगी। यह बात एक उच्च अधिकारी ने कही।


अधिकारी ने कहा कि वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारत की सीमा प्रबंधन के लिए शांति बनाए रखने की नीति बदल गई है। वहीं पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के लिए जब चाहे चले आने का विकल्प खत्म हो गया है। भारतीय सेना इस समय 3,488 किमी की एलएलसी और पूर्वी क्षेत्र पर अब तक की सबसे ज्यादा मुस्तैद पोजिशन पर तैनात है।


चीन ने भी एलएसी पर अपनी सेना बढ़ाई है खासतौर से गलवां, बेग ओल्डी, देपसान्ग, चुशुल और पूर्वी लद्दाख के दूसरे इलाकों में। मगर ऐसा लग रहा है कि भारतीय सेना युद्ध के लिए पूरी तरह से अलर्ट पर है। लद्दाख से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक एलएसी पर सेना किसी भी तरह की स्थिति का सामना करने के लिए मुस्तैद है। पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर 15 हजार सैनिक फॉरवर्ड इलाकों में हैं और इससे भी ज्यादा उनके पीछे खड़े हैं।


कांग्रेस, सैनिकों और सरकार के साथ

नई दिल्ली। चीन की सीमा पर शहीद हुए सैनिकों की शहादत पर कांग्रेस अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी ने कहा- मेरे प्यारे भाईयों और बहनों, नमस्कार!


चीन की सीमा पर हमारे 20 वीर सैनिकों की शहादत ने पूरे देश की अंतरात्मा को हिलाकर रख दिया है। मैं इन सभी बहादुर शहीदों को श्रद्धा के साथ नमन करते हुए दिल की गहराई से श्रद्धांजलि देती हूँ, साथ ही प्रार्थना करती हूँ कि उनके परिवारों को यह दुःख सहने की शक्ति दे। आप सब जानते हैं कि पिछले डेढ़ महीने से चीन की सेना ने लद्दाख में, भारतीय सीमा में घुसपैठ की है। आज जब देश में इस घटना को लेकर भारी आक्रोश है, तो प्रधानमंत्री जी को सामने आकर देश को सच्चाई बतानी चाहिए कि चीन ने हमारी सरजमीं पर कब्जा कैसे किया और 20 सैनिकों की शहादत क्यों हुई?


मौके पर आज की स्थिति क्या है? क्या हमारे सैन्य अधिकारी या सैनिक अभी भी लापता हैं? हमारे कितने सैन्य अधिकारी और सैनिक गंभीर रूप से घायल हैं? चीन ने हमारे कितने हिस्से पर और कहाँ-कहाँ कब्जा कर रखा है, इस पूरी स्थिति से निपटने के लिए भारत सरकार की सोच, नीति और हल क्या है?


नशा मुक्ति केंद्रों में कराया रजिस्ट्रेशन

 पंजाब में लॉक डाउन के दौरान डेढ़ लाख युवाओं ने नशा मुक्ति केंद्रों में करवाया रजिस्ट्रेशन



 मोहाली l कोरोना महामारी के चलते पंजाब सरकार ने कोरोना के मामलों की बढ़ती संख्या पर शिकंजा कसा है, जिसका पूरा श्रेय पंजाब सरकार व् स्थानीय प्रशासनिक इकाइयों को जाता है l इस मुद्दे पर वीरवार को मोहाली स्थित पंजाब सरकार में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री, बलबीर सिंह सिद्धू अर्थ प्रकाश से विशेष बातचीत की l जिसमें उन्होंने पंजाब सरकार के कर्फ्यू और लॉक डाउन के दौरान कोरोना से जंग में किये गए प्रयासों पर चर्चा कीl इस चर्चा का सबसे बड़ा बिंदु रहा पंजाब में युवा और नशा l बात करें लॉक डाउन की तो चार महीनों में जहाँ कोरोना से लोगों की सुरक्षा के लिए सोशल डिस्टन्सिंग को ध्यान में रखते हुए देश भर में कारोबार, नौकरी पेशा, काम धंधे बिलकुल चौपट पड़े रहे, वहीँ देश की अर्थ व्यवस्था को टिकाने वाले शराब के ठेकों पर भी ताला जड़ा गयाl बिलकुल ये स्थिति पंजाब में भी रही, विशेष बातचीत के इस बिंदु पर मंत्री सिद्धू ने बतलाते हुए कहा कि कोरोना और लॉक डाउन के चलते इन 3 -4 महीनों में पंजाब के युवाओं ने शराब के ठेकों की तरफ से रूख बदल नशा मुक्ति की तरफ रूख कियाl सिद्धू ने आकंड़ों पर बात करते हुए कहा प्रदेश के करीब डेढ़ लाख युवाओं ने लॉक डाउन में नशा मुक्ति केंद्रों में पंजीकरण करवाया है इससे पहले नशा मुक्ति केंद्रों में कुल 4 लाख पंजीकृत युवा थे इसका मतलब लॉक डाउन के असर पर ठेकों के बंद रहने के चलते पंजाब के युवा वर्ग ने नशाखोरी को त्यागने का मूड बनाया जरूर हैl आगे मंत्री सिद्धू ने कोरोना वीरों की सराहना करते हुए स्वास्थ्य विभाग में कुछ सुधार करने का आश्वासन देते हुए बताया कि पंजाब में 7500 स्वास्थ्य कर्मचारी भर्ती किये जायेंगे, जिसमें नर्सिंग स्टाफ पारामेडिकल व् चिकित्स्कों को स्थायी भर्ती किया जायेगा व् कोरोना महामारी में अहम् किरदार निभाने वाले सफाई कर्मी व् सैनिटाइज़ स्टाफ निजी कंपनियों द्वारा रखा जायेगा l



युवक की मौत से गुस्साए, चौकी पर पथराव

नीमका जेल में युवक की मौत से गुस्साए परिजनों ने किया चौकी पर पथराव



जेल के बाहर ग्रामीणों ने किया विरोध प्रदर्शन, टॉर्चर करके युवक की हत्या करने का पुलिस पर लगाया आरोप


फरीदाबाद। वीरवार को फरीदाबाद की नीमका जेल में एक युवक की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई। जिसकी खबर मृतक के परिजनों व गांव शाहजहांपुर को लगी, जिसके बाद ग्रामीणों ने चांदपुर चौकी पर पथराव कर दिया। इसके साथ-साथ कुछ ग्रामीणों ने जेल के बाहर एकत्रित होकर चक्का जाम किया। ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। उनका आरोप है कि जेल में पुलिस ने युवक का टॉर्चर किया जिससे उसकी मौत हो गई, लेकिन अब पुलिस इसे आत्महत्या कह रही है। ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस युवक के कोरोना पॉजिटिव होने की बात कह रही है।


मामले बारे जानकारी देते हुए गांव शाहजहांपुर के सरपंच नाहर सिंह ने बताया कि गत 10 जून को शाहजहांपुर गांव व चांदपुर गांव के युवाओं के लिए एक दौड़ प्रतियोगिता का आयोजन हुआ था, जिसमें दोनों गांवों के युवाओं में किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। गांव के बुजुर्गों के दखल के बाद मामला शांत हो गया। आरोप है कि जब गांव शाहजहांपुर के युवा शाम को गांव में घूम रहे थे, तभी सिविल वर्दी में आए दो पुलिस कर्मचारियों ने उनके साथ मारपीट की और उन पर मुकदमा दर्ज करके गांव शाहजहांपुर के सोनू नामक युवक को 14 जून को गिरफ्तार कर उसका मेडिकल कर उसे जेल भेज दिया। मृतक के परिजनों ने बताया कि पुलिस का कहना है कि सोनू ने जेल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है और मृतक के घर के बाहर कोविड-19 की चेतावनी का स्टीकर भी चिपका दिया। ग्रामीणों ने कहा कि यह सारा षड्यंत्र पुलिस द्वारा रचा गया है, सोनू की मौत आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या और उसे कोरोना वायरस नहीं था क्योंकि उनके गांव में किसी को यह बीमारी नहीं है।


ये कहना है एसपी जेल का


एसपी जेल संजीव कुमार का कहना है कि मृतक सोनू ने बैरक के जंगले में अपने लोअर के नाड़े से फांसी लगाई है। उन्होंने बताया कि 16 जून को सोनू नीमका जेल में लाया गया था और 17 की रात में ही उसने आत्महत्या कर ली। उसका कोविड-19 टेस्ट भी कराया गया था गुरुवार को जब उसकी रिपोर्ट आई तो वह रिपोर्ट में पॉजिटिव पाया गया था।



दृष्टिबाधित बहनों ने किया स्वयं को स्थापित

शिमला। कहते हैं ना कि अगर आपके मन में किसी लक्ष्य को हासिल करने का जज्बा हो तो आप किसी भी मुश्किल को पार पाकर अपने लक्ष्य को बड़ी आसानी से हासिल कर सकते हैं। इसी बात को साकार कियाहिमाचल प्रदेश की दो दृष्टिबाधित बेटियों ने, जिन्होंने अपनी शारीरिक अक्षमता को अपने लक्षय के आड़े नहीं आने दिया और वे दोनों आज सफल हैं। जैसा की हम सब को पता है हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की ओर से 12वीं कक्षा का रिजल्ट घोषितकर दिया गया है। इस बार रिजल्ट 76.07 फीसदी रहा। 12 वीं की परीक्षा पास करने वाले इन 76.07 फीसदी छात्रों में दो छात्राएं ऐसी हैं दृष्टिबाधित होने के बावजूद अच्छे नम्बरों से जमा दो की परीक्षा पास की है।


एक एचएएस ऑफिसर तो दूसरी म्यूजिक टीचर बनना चाहती है


मिली जानकारी के अनुसार राजधानी शिमला के प्रतिष्ठित पोर्टमोर स्कूल की दो दृष्टिबाधित छात्राओं- शालिनी और रजनी नेगी ने बहुत अच्छे नम्बरों से जमा दो की परीक्षा पास करते हुए अपने स्कूल और परिवार वालों का नाम रौशन किया है। शालिनी ने 84.80 प्रतिशत और रजनी ने 82.60 प्रतिशत अंक प्राप्त किए। दोनों कम्प्यूटर से पढ़ाई करने में सक्षम हैं। एक एचएएस ऑफिसर तो दूसरी म्यूजिक टीचर बनना चाहती है। अब उमंग फाउंडेशन उनके सपनों को साकार करने के लिए उन्हें छात्रवृत्ति देगा। उमंग फाउंडेशन के अध्यक्ष प्रो. अजय श्रीवास्तव ने बताया कि चम्बा की पंचायत चैला के गांव बेहीलोला की रहने वाली शालिनी को फाउंडेशन द्वारा दिए गए लैपटॉप से पढ़ाई में मदद मिली।


दसवीं की परीक्षा भी प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की थी


उसने सुन्दर नगर स्थित सीआरसी से एक महीने का कम्प्यूटर कोर्स भी किया है। उसका सपना हिमाचल प्रशासनिक सेवा में जाना है। उधर कुमारसैन की रहने वाली रजनी नेगी म्यूजिक टीचर बनना चाहती है। वह कंप्यूटर में दक्ष है और उसने भी सीआरसी सुंदर नगर से कंप्यूटर का कोर्स किया है। उन्होंने सुंदरनगर स्थित दृष्टिबाधित छात्राओं के विशेष विद्यालय से दसवीं की परीक्षा भी प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण की थी। उमंग फाउंडेशन से जुड़ी दोनों दृष्टिबाधित बेटियां अब आरकेएमवी कॉलेज से बीए करना चाहती हैं। श्रीवास्तव ने बताया कि कि फाउंडेशन उन्हें उच्च शिक्षा हेतु छात्रवृत्ति देगा ताकि वे अपने सपने पूरे कर सकें।


नायाब तहसीलदार रिश्वत लेते हुए अरेस्ट

धर्मशाला। जिला कांगड़ा के भवारना सब तहसील के नायब तहसीलदार को तीन हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। नायब तहसीलदार दवेंद्र कुमार ने यह रिश्वत राजस्व रिकॉर्ड में नाम दुरुस्त करवाने की एवज में मांगी थी। स्टेट विजिलेंस व एंटी क्रप्शन ब्यूरो की टीम ने नायब तहसीलदार को उनके कार्यालय से गिरफ्तार किया है। रिश्वत का यह विजिलेंस थाना धर्मशाला में दर्ज किया गया है।


मिली जानकारी के अनुसार हलदरा के रहने वाले संजय गुलेरिया एक अन्य व्यक्ति पंकज के साथ सब तहसील कार्यालय गए थे। संजय को राजस्व रिकॉर्ड में अपना नाम दुरुस्त करवाना था, जबकि पंकज को अपने पिता का नाम सही करवाना था। इस दौरान नायब तहसीलदार दवेंद्र कुमार ने दोनों से एक-एक हजार रुपए लिए। इसके बाद दोनों से ही 2500 रुपए की अतिरिक्त मांग की गई। इन पैसों के लेन देने के लिए दोनों को आज गुरुवार को कार्यालय (Office) बुलाया गया था। जिसकी सूचना मिलने के बाद विजिलेंस (Vigilance) ने जाल बिछाया और नायब तहसीलदार को रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार (Arrest) कर लिया। एसपी विजिलेंस धर्मशाला अरूल कुमार ने मामले की पुष्टि की है।


छत्तीसगढ़ः 148 डिस्चार्ज, 71 नए मरीज


  • 17 जून को 148 डिस्चार्ज हुए, 71 नये मरीज भी मिले

  • अब तक कुल 1099 डिस्चार्ज हो चुके है और 09 की मौ


रायपुर। छत्तीसगढ़ में एक दिन पूर्व 17 जून को 71 नये संक्रमित मरीजों के मिलने के बाद राज्य में कोरोना संक्रमितों का आकड़ा 1864 पहुंच गया है। हालांकि कल संक्रमित मरीजों में 148 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज भी किया गया है, जिसके बाद वर्तमान में 756 सक्रिय मरीज है जिनका ईलाज जारी है। कोरोना से अब तक 09 लोगों की मौत भी हुई है जिसके बाद यह आकड़ा थमा हुआ है।


स्वास्थ्य विभाग द्वारा बुधवार रात में जारी किए गए बुलेटिन के अनुसार राज्य में अब तक कुल 113613 संभावित लोगों का सैंपल लेकर जांच किया गया है, जिनमें 1864 लोग कोरोना संक्रमित पाये गये है। इनमें अब तक कुल 1099 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है, जबकि 09 लोगों की जान भी जा चुकी है। जिसके बाद राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या 756 है।


योगी सरकार में ज्यादा घोटाले और भ्रष्टाचार

भागवत पुर गांव में शौचालय निर्माण में हुए घोटाले को दबाने में लगे अधिकारी

कौशाम्बी। योगी सरकार में सरकारी धन में बड़े पैमाने पर हेराफेरी कर अधिकारी और योजना से जुड़े लोग मालामाल हो रहे हैं। स्वच्छ भारत मिशन और स्वच्छता अभियान के तहत जिले की ग्राम पंचायतों में भेजे गए शौचालय निर्माण की रकम में बैंक खातों से करोड़ों की रकम तो निकाल ली गई है। लेकिन शौचालय भवन का निर्माण नहीं कराया गया है।

इस बात की पुष्टि जांच अधिकारियों ने भी की है लेकिन सरकारी धन को लूटने वाले लोगों पर विभागीय अधिकारी मेहरबान है जिससे इन लुटेरों पर वर्षो बीत जाने के बाद कार्रवाई नहीं हो सकी है जो व्यवस्था पर बड़ा सवाल है सरसवां विकासखंड के भगवतपुर गांव में बीते वर्षो में शौचालय निर्माण की रकम में बड़े पैमाने पर हेराफेरी की गई है। शिकायत के बाद जांच अधिकारियों ने भगवतपुर गांव में घोटाले की रिपोर्ट भी जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय को सौंप दी है। लेकिन महीनों बीत जाने के बाद घोटाले में लिप्त ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत अधिकारी पर जिम्मेदारों ने कार्यवाही नहीं की है। जिससे इन अधिकारियों की मंशा साफ समझ में नहीं आती है।

भगवतपुर ग्राम पंचायत में शौचालय निर्माण योजना में यदि सरकारी रकम के घोटाले के बाबत शासन प्रशासन ने संज्ञान लिया तो ग्राम प्रधान सिंगरेट्री खण्ड बिकास अधिकारी के साथ साथ जिला पंचायत राज अधिकारी के भ्रष्ट कारनामे जहां be उजागर होंगे वही भ्रष्टाचार में लिप्त इन जिम्मेदारों को कठोर दंड भी मिल सकता है। लेकिन क्या घोटाले की निष्पक्ष जांच हो पाएगी।

गब्बर सिंह 

334 लोगों की मौत, 366946 संक्रमित

नई दिल्ली।  पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना वायरस के 12881 केस मिले हैं इसके साथ ही देश में अब कुल 366946 केस हो गए हैं। कल 334 लोगों की मौत हो गई और मृतकों की कुल संख्या 12237 हो गई है। इस दौरान देश में 7390 लोग रिकवर हुए और अब तक कुल 194325 लोग इस बीमारी को मात दे चुके हैं। देश में अब 160384  एक्टिव केस हैं।


मंत्रालय के अनुसार, संक्रमण के सर्वाधिक मामले महाराष्ट्र में हैं। इसके बाद तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पश्चिम बंगाल और मध्य प्रदेश जैसे राज्य हैं।


महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 116752 हो गई है। वहीं 59166 कोरोना को मात दे चुके हैं और 5651 लोगों की इस बीमारी से मौत हो चुकी है। वहीं महाराष्ट्र के बाद तमिलनाडु का नंबर आता है जहां कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 50193 हो गई है। यहां 576 लोगों की मौत हुई है और 27624 मरीज रिकवर हो चुके हैं।


तमिलनाडु के बाद तीसरे पायदान पर दिल्ली और चौथे पर गुजरात है। दिल्ली में कोरोना से महाराष्ट्र के बाद सबसे ज्यादा 1904 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं कोरोना के 47102 मामले हैं जिसमें से 17457 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। गुजरात में कोरोना के 25093 कुल मामले में हैं जिनमें से 6103 एक्टिव केस हैं। यहां 1560 लोगों की कोविड 19 से मौत हो चुकी है और 17457 लोग इस बीमारी को मात दे चुके हैं। अमेरिका, ब्राजील और रूस के बाद इस महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में भारत चौथे स्थान पर है। पूरी दुनिया से कोविड-19 के आंकड़ों का संकलन कर रहे जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के अनुसार इस बीमारी से मरने वालों की संख्या के मामले में भारत 8वें स्थान पर है।


एंकर के खिलाफ उलेमा-ए-हिंद ने की मांग

जमीयत उलेमा-ए-हिंद सुप्रीम कोर्ट में पक्षपाती मीडिया के खिलाफ मामले में इस शर्मनाक घटना को भी शामिल करेगी: मौलाना अरशद मदनी तरन्नुम अतहर

 

नई दिल्ली। ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती अजमेरी रहमतुल्ला अलैह की शान में अपशब्द कहने वाले न्यूज़ एंकर की कठोर शब्दों में निंदा करते हुए उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग करते हुए जमीअत उलमा हिंद के अध्यक्ष मौलाना सय्यद अरशद मदनी ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट में इस संबंध में पहले से ही मामला विचाराधीन है इसके बावजूद टीवी एंकर मुसलमानों के दिल को चोट पहुंचाने से बाज नहीं आ रहे हैं। मौलाना मदनी ने कहा कि सत्ताधारी लोगों के संरक्षण की वजह से न्यू एंकरों की हिम्मत इतनी बढ़ गई है कि मुसलमान इस्लाम मुसलमानों के तौर तरीके पर उंगली उठाते हुए अब मसाजिद मदारिस और ख़ानक़ाहों तक पहुंच गए हैं।

 

उन्होंने कहा कि मोईनुल हिन्द हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती अजमेरी की शान में एक टीवी चैनल के एंकर ने जिस तरह से अपशब्द कहे और उनको अक्रांता और लुटेरा तक कह डाला है उस से भारत ही नहीं पूरी दुनिया में सभी धर्मों के लोग जो ख्वाजा साहब में अपनी आस्था रखते हैं उनके दिल को ठेस पहुंची है। उन्होंने कहा कि हजरत ख्वाजा अजमेरी सिर्फ मुसलमान ही नहीं बल्कि दुनिया में पाए जाने वाले सभी जात धर्म और समुदायों के एक बड़े हिस्से को प्रिय हैं। उन्होंने कहा कि हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती इस्लामिक शिक्षा और मानवीय मूल्यों के एक महान वकील और एक निर्विवादित आध्यात्मिक गुरु के रूप में हिंदू-पाक उपमहाद्वीप में एक अद्वितीय स्थान रखते हैं। इस तरह के एक निर्विवाद आध्यात्मिक गुरु का अपमान करना और उन के खिलाफ बोलना संवैधानिक रूप से गलत है। इसलिए, सरकार को तुरंत इस चैनल और विशेष रूप से एंकर के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। ज्ञात रहे कि जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने मुस्लिमों को चोट पहुंचाने, उनके खिलाफ गलत प्रचार करने और उनको कोरोना के लिए दोषी देने के मीडिया के प्रचार के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में मामला दायर किया है। जिस पर शुक्रवार 19 जून सुनवाई होगी। जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने हजरत ख्वाजा अजमेरी के अपमान की इस शर्मनाक घटना को भी इसमें शामिल किया है। इस पर सुप्रीम कोर्ट बार काउंसिल के अध्यक्ष दुष्यंत दवे जिरह करेंगे।

192 में 184 वोट मिलेंं, जताया आभार

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में भारत को सदस्य चुनने में समर्थन करने वाले विश्व समुदाय का हार्दिक आभार व्यक्त करते हुए कहा कि देश वैश्विक स्तर पर शांति, सुरक्षा, लचीलापन और समानता के लिए सबके साथ मिलकर काम करेगा।


भारत को परिषद की बुधवार को हुई बैठक में अस्थायी सद्स्य चुना गया। भारत आठवीं बार परिषद का अस्थाई सदस्य बना है। यह कार्यकाल दो वर्ष 2021-22 होगा , जो एक जनवरी से शुरु होगा। मोदी ने गुरुवार को ट्वीट किया,” परिषद का सदस्य चुनने में वैश्विक समुदाय का जबर्दस्त समथर्न के लिये हार्दिक आभार। भारत परिषद के सभी सदस्यों के साथ मिलकर वैश्विक स्तर पर शांति, सुरक्षा,लचीलापन और समानता के लिए काम करेगा।” संयुक्त राष्ट्र महासभा के 193 देशों ने अपने 75वें सत्र के लिए अध्यक्ष, सुरक्षा परिषद के अस्थाई सदस्यों और आर्थिक एवं सामाजिक परिषद के सदस्यों के लिए चुनाव कराया था। भारत के साथ-साथ आयरलैंड, मेक्सिको और नॉर्वे को भी सुरक्षा परिषद में प्रवेश मिला है जबकि कनाडा को बाहर ही रहना पड़ेगा। भारत को 192 में से 184 वोट मिले।


सीबीआई ने कंपनीयों के खिलाफ की कार्रवाई

जितेन्द्र बच्चन

नई दिल्ली। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) से 180.15 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में इंदौर की एक कंपनी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। फर्म एवं उसके निदेशकों के इंदौर और राजस्थान के जोधपुर में कुल नौ ठिकानों पर छापे मारकर कई आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए हैं।

गुरुवार को सीबीआई प्रवक्ता आरके गौड़ ने बताया कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने इंदौर की इंडिसन एग्रो फूड्स प्राइवेट लि. और उसके निदेशकों विजय कुमार जैन, महेंद्र कुमार जैन, देवराज जैन और अज्ञात लोक सेवकों के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत की थी। उसी आधार पर सीबीआई ने आरोपितों के कुल नौ ठिकानों पर छापे मारे। इन छापों में आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद हुए हैं, जिससे पता चलता है कि कंपनी और उसके निदेशकों ने एसबीआई को 180 करोड़ से ज्यादा का चूना लगाया है। सीबीआई के अनुसार, इंडिसन एग्रो फूड्स प्राइवेट लि. कंपनी यूरोपीय व मध्य-पूर्व के देशों को दालों के आयात-निर्यात के कारोबार में लिप्त थी। कंपनी ने 2003 में कारोबार शुरू किया था। उसे एसबीआई के नेतृत्व वाले बैंकों के एक समूह-इलाहाबाद बैंक, आईडीबीआई बैंक, स्टेट बैंक ऑफ- पटियाला ने 2013 में कर्ज सुविधा मुहैया कराई थी। इसके एक साल बाद यानि 2014 से कंपनी का सीसी (कर्ज) खाता अनियमित हो गया। अंतत: 2015 में इसे एनपीए (डूबत कर्ज) घोषित कर दिया गया। अब जांच में इंडिसन एग्रो फूड्स प्राइवेट लि. कंपनी और उसके निदेशकों का फर्जीवाड़ा सामने आ रहा है। इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है। उनसे पूछताछ जारी है।


चीन की इच्छा को कमजोर न समझें

नई दिल्ली/बीजिंग। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चीन की आक्रामकता के खिलाफ चेतावनी देने के एक दिन बाद चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत मौजूदा हालात पर गलत राय न बनाए और चीन की इच्छा को कमजोर न समझे। चीन ने एक कदम आगे बढ़ते हुए भारत पर सहमति को तोड़ने और जानबूझकर उकसाने के भी आरोप लगाए हैं।


हालांकि अभी तक भारत के साथ चल रहे तनाव और दोनों सेनाओं की बीच हुई हिंसक झड़प के बाद चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने कोई बयान नहीं दिया है। झड़प में भारत के 20 सैनिक शहीद हो चुके हैं और चीनी सैनिकों के हताहत होने की खबरें भी सामने आई हैं, मगर इसके बाद भी जिनपिंग ने चुप्पी साध रखी है। चरम पर चल रहे तनाव के बीच अब बीजिंग के प्रवक्ता ने भारत की चेतावनी का जवाब देने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया है।


चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने एक ट्वीट में कहा, भारत मौजूदा हालात पर गलत राय न बनाए और चीन की अपनी क्षेत्रीय संप्रभुता की रक्षा करने की दृढ़ इच्छा को कमतर न आंके। चीन केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख की गलवान घाटी पर अपना दावा करता रहा है। हुआ ने कहा, भारत के फ्रंटलाइन सैनिकों ने सहमति तोड़ी और वास्तविक नियंत्रण रेखा पार की और जानबूझकर चीन के सैनिकों और अधिकारियों को उकसाया और उन पर हमला किया, जिससे हिंसक झड़प शुरू हुई और जवान हताहत हुए।
ट्विटर पर यह बयान उस समय आया है, जब भारतीय और चीनी सेना लद्दाख में टकराव को खत्म करने के लिए बातचीत कर रही है। गौरतलब है कि बुधवार को भी चीन के विदेश मंत्रालय ने एक प्रेस वार्ता में कहा था कि गलवान घाटी में हुई घटना के लिए उन्हें जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने बुधवार को कहा, इसमें सही और गलत बिल्कुल साफ है। यह घटना एलएसी के चीन के तरफ वाले क्षेत्र में हुई और इसके लिए चीन को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। प्रवक्ता ने साथ ही यह भी कहा कि चीन अब और संघर्ष नहीं चाहता है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच कूटनीतिक और सैनिक स्तरों पर बातचीत चल रही है। वहीं बुधवार को भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने चीन की जमकर आलोचना की। जयशंकर ने चीन पर पूर्व नियोजित कार्रवाई करने का आरोप लगाया।


57 मरीजों को डिटेक्ट, 8 घर भेजेंं

देहरादून। स्वस्थ्य विभाग का आज दोपहर बाद ढाई बजे जारी हुआ हेल्थ बुलेटिन आ गया है। आज कुल 57 कोरोना मरीजों को डिटेक्ट किया गया। जबकि आठ लोगों को स्वास्थ्य लाभ के बाद घर भेजा गया। इस प्रकार प्रदेश में अब तक कुल कोरोना पाजिटिवों की संख्या 2079 हो गई है। ्रपदेश में 89 कटेंनमेंट जोन बनाए गए हैं। आज अल्मोड़ा एक व्यक्ति कोरोना पाजिटिव पाया गया। यह व्क्ति दिल्ली एनसीआर से लौटा है। चमोली में दिल्ली से लौटे तीन लोग पाजिटिव पाए गए हैं।


देहरादून में आज एक प्राइवेट लैब को मिला कर 28 कोरोना पाजिटिव मामले सामने आए हैं। इनकी ट्रेवल हिस्ट्री अभी उप​लब्ध नहीं कराई गई है। हरिद्वार में दिल्ली से लौटे पांच लोग कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। उत्तरकाशी में महाराष्ट्र से लौटा एक व्यक्ति कोरोना पाजिटिव पाया गया है। टिहरी में एक हेल्थ केयर वकर्र कोरोना संक्रमित पाया गया है। रुद्रप्रयाग में आज चार केस डिटेक्ट किए गए हैं। इनमें से दो दिल्ली से और दो पूर्व में कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए स्थानीय हैं। पौड़ी में 14 केस सामने आए हैं जिनमें से तीन दिल्ली, ए​क हरियाणा, छह स्थानीय लोग, और चार लोग कोरोना संक्रमितों के संपर्क में आए है। आज डिस्चार्ज किए गए मरीजों में देहरादून के 6, नैनीताल का एक और हरिद्वार का एक मरीज शामिल है।


एसएसपी के गार्ड ने गोली मार किया सुसाइड

दरभंगा। दरभंगा के एसएसपी बाबू राम के सुरक्षा गार्ड ने गोली मारकर सुसाइड कर लिया है। जवान ने एसएसपी आवास में ही खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली है।जिसके बाद से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। मृतक जवान की पहचान एसएसपी के गार्ड चिंटू पासवान के रुप में की गई है। मिली जानकारी के अनुसार चिंटू पासवान अरवल का रहने वाला था और 24 जून को ही उसकी शादी होने वाली थी।


लेकिन लॉकडाउन के कारण शादी की तिथि आगे बढ़ा दी गई थी | मिली जानकारी के अनुसार मंगल की सुबह अचानक एसएसपी के आवास परिसर में गोली चलने की आवाज सुनाई दी | गोली की आवाज सुन वहां मौजूद सुरक्षाकर्मी समेत अन्य लोग जब वहां पहुंचे तो देखा कि चिंटू जमीन पर गिरा है और तड़प रहा है | उनके हाथ में गन था और गर्दन में तीन गोली लगी थी | आनन-फानन में उसे डीएमसीएच ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया | मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच जांच में जुट गए है। पुलिस मेंस एसोसिएशन के कई नेता भी मौके पर पहुंचे हैं। घटना के कारण की जानकारी नहीं मिल पाई है, जांच जारी है।


तीसरी मंजिल पर नंबर 315 मे लगी आग

नई दिल्ली। दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में जबरदस्त आग लग गई है। बताया जा रहा है कि आग तीसरी मंजिल पर स्थितकोर्ट नंबर 315 में आग लगी है।
आग लगने के कारण अफरा-तफरी का माहौल है। कोर्ट रूम में लगी आग के बाद चारों तरफ जबरदस्त धुएं का गुबार देखा जा रहा है। आग को बुझाने के लिए दमकल की गाड़ियों को बुलाया गया है। फिलहाल, आग पर काबू पाने की कोशिश की जा रही है। अभी आग लगने के कारण का पता नहीं चल पाया है, लेकिन माना जा रहा है कि शार्ट सर्किट की वजह से आग लग सकती है। कोर्ट रूम से लोगों को बाहर निकाला जा रहा है और दमकल विभाग के कर्मचारी आग पर काबू पाने की कोशिश कर रहे है।


जिलें में कोरोना मरीजों की संख्या-65 हुई

मऊ। जिले में बुधवार देर शाम तीन लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। संक्रमितों में से दो एक ही गांव के हैं जो मुंबई से लौटे हैं, जबकि एक मरीज नगर के छोटी महरानिया में मिला है। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सतीशचंद्र सिंह ने इसकी पुष्टि की है। जिलें में कोरोना मरीजों की संख्या अब 65 हो गई है। इसमें आठ मरीज सक्रिय हैं, जबकि एक मरीज की रिपोर्ट आने से पहले ही मौत हो चुकी है।


यूपी में प्रतिदिन हो रहे 18,000 कोरोना टेस्ट: योगी आदित्यनाथः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में कोरोना वायरस के हालात के बारे में कहा कि अब तक राज्य में कोरोना वायरस की जांच के लिए पांच लाख से अधिक टेस्ट हो चुके हैं। प्रतिदिन लगभग 18,000 टेस्ट किए जा रहे हैं। 20 जून तक इसे बढ़ाकर 20,000 किए जाने का लक्ष्य है। इस समय प्रदेश में 503 कोविड अस्पताल क्रियाशील हैं। इनमें कुल 1,01,236 बेड उपलब्ध हैं। मेरठ में एक और मरीजः मेरठ में सरधना क्षेत्र के मोहल्ला कमरा नवाबान में गुरुवार को एक पॉजिटिव मरीज मिला। सीएचसी प्रभारी डॉ. राजेश कुमार ने इसकी पुष्टि की है। यह युवक बिनौली सीएचसी में कार्यरत है। जनपद में अब तक 729 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। इनमें से 443 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 55 लोगों की अब तक कोरोना से मौत हो चुकी है। मथुरा में कुल 208 पॉजिटिवः मथुरा जनपद में बुधवार देर रात आई रिपोर्ट के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 208 पहुंच गई है। जनपद में एक्टिव केस 117 हैं। जिला अस्पताल के सीएमएस कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद देर रात अस्पताल के 18 लोगों की स्क्रीनिंग कराई गई थी। फिरोजाबाद में दो नए मरीजः फिरोजाबाद में  बुधवार देर रात आई रिपोर्ट में दो और पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं। जिले में अब तक 425 संक्रमित मरीज मिल चुके हैं, वहीं 20 की मौत हो चुकी है। सभी मरीजों को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। बस्ती में 15 नए कोरोना पॉजिटिवः बस्ती जिले में बुधवार की देर रात आई रिपोर्ट में 15 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए। अब जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 299 पहुंच गई है। जिसमें से 12 लोगों की मौत हो चुकी है। 203 लोग इलाज के बाद ठीक होकर घर जा चुके हैं। फिलहाल एक्टिव केस 84 हैं। इसकी पुष्टि डीएम आशुतोष निरंजन ने की है।


लोनी में चाकुओं से गोदकर युवक की हत्या

अभिषेक कुमार क्राइम रिपोर्टर!


गाजियाबाद। लोनी क्षेत्र में अपराध दिन प दिन बढ़ता ही जा रहा है। पुलिस अवैध उगाही और अवैध धंधों के प्रोत्साहन को बढ़ावा देने के अलावा और कोई काम नहीं कर रही है। क्षेत्र में अपराधिक गतिविधियां भली-भांति फल-फूल रही है। स्थानीय पुलिस अपराधियों पर शिकंजा कस पाने में असफल है ।जिसके कारण क्षेत्र में आए दिन गंभीर अपराधों को अंजाम दिया जा रहा है। एक मामला प्रकाश में आया है। लोनी कोतवाली क्षेत्र के अशोक विहार हड्डी मिल के पीछे लगभग 28 वर्षीय युवक की चाकू से गोदकर हत्या की गई। युवक की शिनाख्त नहीं हो सकी है। पुलिस ऑटो नंबर के आधार पर घटना को ट्रेस करने का प्रयास कर रही है। सुबह 6:00 बजे मॉर्निंग वॉक पर गए एक युवक ने घटना को देख पुलिस को सूचना दी पुलिस कानूनी कार्रवाई में जुट गई है।


खूब ध्यान रखता है 11 साल का पिता

फादर्स डे की तैयारियां दुनिया के हर देश में चल रही है। सभी अपने पिता के लिए इस दिन को ख़ास बनाने में जुटे हैं। लेकिन आज हम आपको दुनिया के सबसे छोटे उम्र के पिता के बारे में बता रहे हैं। ये बच्चा तब चर्चा में आया था, जब एक टीवी शो के दौरान इस कपल ने ऐलान किया था कि वो प्रेग्नेंट हैं और जल्द अपने बच्चे का स्वागत करने वाले हैं। उस समय लड़के की उम्र 10 साल और लड़की की 13 थी। खबर के सामने आने के बाद कई डॉक्टर्स भी हैरान हो गए थे कि आखिर 10 साल का बच्चा किसी को प्रेग्नेंट कैसे कर सकता है? हालांकि, बाद में लड़की ने सच दुनिया को बता दिया था कि ये बच्चा किसी और का था। लेकिन फिर भी उसके 11 साल के प्रेमी ने उसका साथ  नहीं छोड़ा। आज दोनों अपने आने वाले बच्चे का इन्तजार कर रहे हैं


रूस की रहने वाली 14 साल की दरया और 10 साल का इवान इस साल की शुरुआत से ही चर्चा में है। दरअसल, ये कपल प्रेग्नेंट है और दोनों ही अपने बच्चे के स्वागत में जुटा है। इस कपल के बीच तीन साल का ऐज डिफ़रेंस है। इतनी कम उम्र के बावजूद कपल अपने आने वाले बच्चे के स्वागत की तैयारी कर रहा है।



साल की शुरुआत में एक टीवी शो में दोनों ने अपने रिश्ते को कबूला था। हालांकि उसी समय से ये बहस शुरू हो गई थी कि 10 साल का बच्चा क्या किसी को प्रेग्नेंट कर सकता है? हालांकि, बाद में दरया ने इस रहस्य से पर्दा उठा दिया था। उसने खुलासा किया था कि  इवान का नहीं है। बल्कि अंधेरे में एक मोटे शख्स ने उसका रेप किया था।


इस सच के सामने आने के बाद भी इवान ने दरया से अपना रिश्ता नहीं तोडा। वो आज भी दरया के साथ है और दोनों ही इस बच्चे के स्वागत की तैयारियां कर रहे हैं। दरया ने बताया कि इवान की फैमिली और उसकी मां में गहरी दोस्ती हो चुकी है। दोनों एक-दूसरे से बेहद प्यार भी करते हैं। उम्र में भले ही दोनों छोटे हैं लेकिन प्यार के आगे ये मैटर नहीं करता।


अवैध कारोबार और गुंडागर्दी चरम पर

ट्रोनिका सिटी थाना क्षेत्र में अवैध कारोबार व कारोबारियों की गुंडागर्दी चरम पर

 सरताज खान

गाजियाबाद/लोनी। ट्रोनिका सिटी थाना क्षेत्र में लगातार अवैध कारोबारी अपने पैर पसार रहे है। हालांकि ट्रोनिका सिटी थाने में तैनात प्रभारी रमेश चंद सिंह ने काफी हद तक अवैध कारोबार पर अंकुश लगाया है।पिछले दिनों नशे की मंडी कहे जाने वाले कासिम बिहार में खुलेआम हो रहे नशे के अवैध कारोबार का सफाया करते है दर्जन भर अवैध कारोबारी जेल की सलाखों के पीछे भेज दिए है। जो पुलिस की बड़ी उपलब्धि भी मानी जा रही है। क्योंकि अब से पहले कासिम बिहार में कभी पुलिस इस प्रकार अवैध कारोबारियों पर अंकुश नही लगा पाई है।

विश्वसनीय सूत्रों की माने तो क्षेत्र में अन्य जगहों पर अवैध कारोबार पैर पसार रहा है। जिस पर अगर जल्द ही अंकुश न लग पाया तो युवा पीढ़ी नशे व सट्टे की चपेट में आ जायेगी। जिसकी वजह से क्षेत्र में लगातार अपराध बढ़ने की संभावना से इनकार नही किया जा सकता। 

कौन कौन है अवैध कारोबारी ?

सूत्रों से पता चला है कि थानान्तर्गत राम पार्क चौकी क्षेत्र के विकास बिहार में दीपक नामक व्यक्ति बड़े पैमाने पर सट्टे का अवैध कारोबार कर रहा है। जो लगातार कई सालों से कर रहा है ,बस सख्ती होने पर कुछ दिनों के लिये बन्द कर देता है ,फिलहाल कारोबार चरम पर बताया जा रहा है। वही राम पार्क चौकी से मात्र 3 सौ मीटर की दूरी पर जहां से पुलिस की हर समय आवाजाही रहती है फुलवारी नामक अधेड़ परचून (किराना ) की दुकान में इंग्लिश शराब धड़ल्ले से बेच रहा है। इसके अलावा खानपुर गांव के पश्चिमी दिशा में बबली नामक व्यक्ति अपने प्लाट में खुलेआम अवैध शराब हरियाणा मार्का ( संतरा) बेच रहा है। वही पुस्ता चौकी क्षेत्र के खुशहाल पार्क कॉलोनी में इकबाल व उसके बेटे आजाद व शहजाद स्मैक व गांजे का अवैध कारोबार कर रहे है। 

पत्रकार को भी दे चुके है अवैध कारोबारी धमकी 

सूत्रों के अनुसार जानकारी मिली है कि सूचना मिलने पर एक पत्रकार इकबाल के बेटे शहजाद जो खंडहर पड़े अपने मकान में दो पडौसी छोटे बच्चों के साथ गाजा पी व बेच रहा था कवरेज करने के लिये मौके पर गया था। जिसके वापिस आने के बाद उक्त अवैध कारोबारियों ने पत्रकार की गैर मौजूदगी में घर पर जाकर जान से मारने की धमकी देते हुए उनके बच्चों से बदसलूकी का प्रयास किया था और उन्होंने दरवाजा बंदकर अपनी जान बचाई थी। हालांकि पीड़ित पत्रकार ने सम्बन्धित चौकी में तहरीर दी थी। बताया जा रहा है कि अभी तक न तो अवैध कारोबार बंद कर उनके खिलाफ कोई कार्रवाई हो पाई है तथा न ही पत्रकार की तहरीर पर कार्रवाई हो पाई है। उल्टा पत्रकार को नसीहत दी जा रही है कि वे गंदे लोग है ,आपके खिलाफ उल्टी सीधी तहरीर देकर फर्जी मुकदमा लिखवा देंगे। पीड़ित पत्रकार व उसका परिवार काफी भयभीत है। क्योंकि पत्रकार को उक्त आरोपी जहां भी दिखेगा जान से मारने की लगातार धमकी दे रहे है। अब सवाल उठता है कि एसपी ग्रामीण महोदय के निर्देश व उनके द्वारा भी खुद प्रयास करने के वावजूद क्षेत्र में ऐसे लोगो मे इतनी हिम्मत और अवैध कारोबारों क्यो पनप रहे है। आखिर किन लोगों का इन्हें संरक्षण प्राप्त है। जो इनके हौसले इतने बढ़े है। क्यो पुलिस इन चंद लोगो के खिलाफ कार्रवाई नही कर पा रही है। ऐसे सभी सवालों के जवाब तो पुलिस ही दे सकती है। लेकिन ऐसे अपराध व अपराधियो पर अंकुश लगना समाज हित मे अति आवश्यक है।

परेशान क्षेत्रवासी भी दे चुके है पुलिस को शिकायती पत्र

बताया जा रहा है कि अवैध कारोबारियों इकबाल व इसके परिजनों के अवैध कारोबार से परेशान होकर कॉलोनी वासी भी पुलिस से शिकायती पत्र देकर अवैध कारोबार बंद कराकर सख्त कार्रवाई की गुहार लगा चुके है। लेकिन बावजूद इसके कोई कार्रवाई नही हो पा रही है। जबकि कुछ महीने पहले इसी अवैध कारोबार के चक्कर मे इनके मकान पर गोली चल चुकी है। जिसमे एक युवक को पैर में गोली लगकर घायल हुआ था। बताया जा रहा है कि परिवार के सभी लोग कई बार अवैध कारोबार में जेल भी जा चुके है।

33004 खातों के 30.16 करोड़ किए निर्गत

 गौतम बुद्ध नगर। महामेधा अर्बन को ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड गाजियाबाद जो उत्तर प्रदेश सहकारी समिति अधिनियम 1965 के अंतर्गत निबंधित एक प्राथमिक सहकारी समिति है को भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जनपद गाजियाबाद हापुड़ एवं गौतमबुद्धनगर में बैंकिंग कारोबार करने हेतु 2001 में बैंक विनिमयकारी अधिनियम 1949 के अंतर्गत अनुमति प्रदान की गई थी।

उक्त नगरीय सहकारी बैंक में अनेक प्रकार की वित्तीय अनियमितता गबन धोखाधड़ी आदि के प्रकरण प्रकाश में आने पर जमा कर्ताओं के व्यापक हितों को दृष्टिगत रखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा 21 अगस्त 2017 को उक्त बैंक का बैंकिंग लाइसेंस वापस ले लिया गया तथा आयुक्त व निबंधक सहकारिता उत्तर प्रदेश से उक्त बैंक के परिसंपत्तियों  दायित्वों के निस्तारण हेतु परिसमापक  नियुक्त करने का अनुरोध किया गया था। तद्क्रम में संयुक्त आयुक्त एवं संयुक्त निबंधक सहकारिता मेरठ मंडल मेरठ द्वारा दिनांक 31 अगस्त 2017 को अपर जिला सहकारी अधिकारी दादरी को अपने मूल कर्तव्य और दायित्व के साथ-साथ उक्त बैंक को परिसमापित  करने हेतु परिसमापक नियुक्त किया गया।

उल्लेखनीय है कि उक्त बैंक की मुख्य शाखा 36 नई बस्ती गाजियाबाद में तथा एक शाखा राजनगर गाजियाबाद, सेक्टर 49 नोएडा, सूरजपुर, दादरी एवं हापुड़ में स्थित है। बैंक के कुल 37588 खाताधारकों का 100.47 करोड रुपए बैंक में जमा है/था। उपर्युक्त खाताधारकों में 36176 खाताधारक एक लाख से कम के खाता धारक है तथा 1412 खाताधारक जिनकी जमा धनराशि 1 लाख से अधिक है। भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बैंक विनिमयकारी अधिनियम 1949 के अंतर्गत बैंकिंग कारोबार का लाइसेंस जिन बैंकों को प्रदान किया जाता है के निक्षेप बीमा एवं प्रत्यय गारंटी अधिनियम 1961 की धारा 2G से आच्छादित खाताधारकों की धनराशि उल्लिखित सीमा तक बीमित होती है। तद क्रम में 5 सितंबर 2018 को बैंक के खाताधारकों के बीमित धनराशि के भुगतान हेतु निक्षेप बीमा एवं प्रत्यय गारंटी निगम मुम्बई में दावा प्रस्तुत किया गया था। तत्कालीन बैंक प्रबंधन द्वारा भारतीय रिजर्व बैंक के बैंकिंग कारोबार संबंधी लाइसेंस वापस लिए जाने से क्षुब्ध होकर बैंक विनिमय कारी अधिनियम 1949 की धारा 22(5) के अंतर्गत अपीलीय प्राधिकारी/संयुक्त सचिव वित्त मंत्रालय, वित्तीय सेवाएं विभाग नई दिल्ली के समक्ष अपील संख्या 14 सी /2017 (एसी) योजित की गई थी जिसके कारण उक्त बैंक के बीमित खाताधारकों की बीमित धन राशि का भुगतान निक्षेप बीमा एवं प्रत्यय गारंटी कारपोरेशन द्वारा होल्ड पर रखा गया था। बैंक प्रबंधन द्वारा दाखिल अपील अपीलीय अधिकारी द्वारा 27 फरवरी 2020 को खारिज कर दी गई जिसके क्रम में परिसमापक द्वारा 4 मार्च 2020 को डीआईसीजीसी से बीमित धन राशि के भुगतान का अनुरोध किया गया।डीआईसीजीसी द्वारा 30 मार्च 2020 को परिसमापक द्वारा प्रस्तुत दवा पत्र को स्वीकार करते हुए उक्त बैंक के 33004 खाता धारकों की 30.16 करोड़ की धनराशि निर्गत कर दी गई है जिसका नियमानुसार जमा कर्ताओं का दावा-पत्र प्राप्त कर और परीक्षण कर एनईएफटी के माध्यम से भुगतान किया जाना है।

जमा कर्ताओं के प्राप्त दावा पत्र का परीक्षण कर प्रस्तुत बैंक एडवाइज के आधार पर बैंक के लिक्विडेटर के मुम्बई स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के सेंट्रल खाते से धन राशि का अंतरण किया जाएगा। उक्त बीमित धनराशि के नियमानुसार भुगतान हेतु दावा पत्र के प्रारूप के साथ 18 जून 2020 के हिंदी दैनिक समाचार पत्र अमर उजाला में लिक्विडेटर द्वारा विज्ञप्ति प्रकाशित कर समस्त अर्ह खाताधारकों के दावा पत्र आमंत्रित किए गए हैं। अवधेश खाताधारक जिनके संबंध में डीआईसीजीसी द्वारा आपत्तियां की गई है के संबंध में आपत्तियों का निस्तारण कर अनुपूरक दावा पत्र प्रस्तुत किया जाएगा। बैंक में गबन वित्तीय अनियमितता धोखाधड़ी आदि के संबंध में आयुक्त एवं निबंधक सहकारिता उत्तर प्रदेश के निर्देश पर विशेष ऑडिट कार्य पूर्ण करा लिया गया है। उक्त ऑडिट रिपोर्ट का परीक्षण कर दोषियों की परिसंपत्ति से धनराशि की वसूली एवं दोषियों के विरुद्ध  प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीकृत कराए जाने हेतु हेतु उत्तर प्रदेश सहकारी समिति अधिनियम 1965 की धारा 68(1) के अंतर्गत जांच आख्या प्रस्तुत करने हेतु संयुक्त आयुक्त एवं संयुक्त निबंधक सहकारिता मेरठ मंडल मेरठ द्वारा सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक सहकारिता गाजियाबाद की अध्यक्षता में एक जांच कमेटी का गठन किया गया है जो जांच कार्य कर रही है। बैंक में वित्तीय अनियमितता गबन धोखाधड़ी मे संलिप्त प्रबंध कमेटी के पदाधिकारियों एवं बैंक के अधिकारियों तथा कर्मचारियों की अचल संपत्ति को दायित्व निर्धारण के आदेश निर्गत होने तक उत्तर प्रदेश सहकारी समिति अधिनियम 1965 की धारा 94 के अंतर्गत अटैचमेंट की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है।उक्त के अतिरिक्त बैंक के 127 बड़े बकायदार जिन पर बैंक का लगभग 38 करोड रुपए मूलधन तथा जमा तिथि तक  का ब्याज बकाया है उनके विरुद्ध वसूली की कार्रवाई भी की जा रही है।

अतः बैंक के समस्त खाताधारकों से अनुरोध है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुए केवल पंजीकृत डाक से संलग्न दावा-पत्र पर निर्दिष्ट प्रपत्रों के साथ ʼʼपरिसमापक, महामेधा अर्बन को ऑपरेटिव बैंक लिमिटेड गाजियाबाद (परी0), 36-नई बस्ती गाजियाबाद (उत्तर प्रदेश) पिन कोड-201001ʼʼ के पते पर प्रेषित करने का कष्ट करें, सुलभ संदर्भ हेतु दावा पत्र का प्रारूप निम्नानुसार है।

दीप जलाकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित

चीन सीमा पर शहीद भारतीय सैनिकों को दीप जला कर समाजवादी पार्टी ने पेश किया खेराजे अक़िदत

बृजेश केसरवानी

प्रयागराज। भारतीय सैनिकों की शहादत पर हर कोई मर्माहत है।चीन को सबक़ सिखाने और चीनी वस्तुओं के बहिष्कार की आवाज़ लगातिर मुखर हो रही है।समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता २०भारतीय सैनिकों की शहादत पर ग़मज़दा हैं।समाजवादी पार्टी ने दायरा शाह अजमल में २०भारतीय सैनिकों की शहादत पर सैनिकों के चित्र के आगे दीप जलाकर श्रद्धान्जलि अर्पित की।महानगर मीडिया प्रभारी सै०मो०अस्करी के आवास पर सपाईयों ने शहीद सैनिकों को खेराजे अक़िदत पेश करते हुए चायनीज़ सामानों के बहिष्कार का आहवाहन किया।अल्पसंख्यक सभा के महानगर अध्यक्ष शाहिद अब्बास रिज़वी,छात्र सभा के कार्यवाहक महानगर अध्यक्ष आक़िब जावेद खान,अल्पसंख्यक सभा के प्रदेश सचिव मो०शारिक़ आदि के साथ जुटे सपाईयों ने शहीद सैनिकों के परिवार के प्रति सहानूभूति प्रकट करते हुए शहीद सैनिकों को खेराजे अक़िदत पेश की।अस्करी ने भारतीय विदेश नीति को पुरी तरहा असफल क़रार दिया।कहा देश का हर एक नागरिक चीनी फौजियों की कायराना हरकत से उद्वेलित है।मौजूदा केन्द्र सरकार की अमेरीका के प्रति अन्धभक्ति ने सारे समीकरण को ध्वस्त कर दिया है।अल्पसंख्यक सभा के प्रदेश सचिव मो०शारिक़ ने इस दुख की घड़ी में शहीद सैनिकों के साथ समुचे भारत को एकजुटता प्रदर्शित करते हुए शहीदों को नमन किया।शाहिद अब्बास ने केन्द्र सरकार की विदेश नीति की आलोचना करते हुए कहा की अजीब विडम्बना है की आज हमारा मित्र देश नेपाल भी हमे आँख दिखा रहा है और प्रधानमंत्री जी कोई ठोस क़दम उठाने से पता नहीं क्यूँ हिचकिचा रहे हैं।आक़िब जावेद ने २०भारतीय सैनिकों की शहादत पर ग़म व ग़ुस्से का इज़हार करते हुए भारतीय सैनिकों के मनोबल को बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री से ठोस क़दम उठाने का आहवाहन किया।

शोक प्रकट करने वालों में मो०शारिक़,सै०मो०अस्करी,शाहिद प्रधान,आक़िब जावेद खान,रज़ा अब्बा,सूफी हसन,धीर सिंह यादव,त्रिलोकी यादव आदि उपस्थित थे।

'परिवार संपर्क' अभियान में बांटे मास्क

गोपीचंद सैनी


बागपत। भाजपा युवा मोर्चा के जिला मीडिया प्रभारी प्रशांत चौधरी ने ‘परिवार सम्पर्क’ अभियान के अंतर्गत आज बागपत विधानसभा क्षेत्र के गांव फतेहपुर में घर-घर जाकर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देशवासियों के लिए लिखित पत्र एवं मास्क व सैनिटाइज़र वितरित किए और केंद्र सरकार और उत्तर प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से लोगों को अवगत कराया व उनके साथ में जिला मंत्री जयंत चौधरी, विकास, धनपाल प्रजापति, अमरदीप व अन्य उपस्थित रहे।


सपा ने चीन के राष्ट्रपति का पुतला फूंका

अतुल त्यागी(मेरठ मंडल प्रभारी)


भारतीय सेना पर किए गए हमले के विरोध मे समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने चाइना के राष्ट्रपति का पुतला फूंका

हापुड़। आज चाइना सेना द्वारा भारतीय सैनिकों पर किए गए हमले के विरोध में चाइना के राष्ट्रपति शी जिंन पिग का पुतला फूंका इस मौके पर समाजवादी पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष सुबोध नागर ने कहा कि चाइना द्वारा किए गए हमले में मारे गए भारतीय सैनिकों के परिवार को एक एक करोड़ रुपए सहायता राशि व एक सरकारी नौकरी दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि वह भारतीय सरकार के साथ हैं और चाइना को इस घिनौनी हरकत के लिए मुंह तोड़ जवाब देना चाहिए।समाजवादी पार्टी के पूर्व जिला उपाध्यक्ष संजय यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी हमेशा से देश के स्वाभिमान के लिए आगे रही है आज चाइना द्वारा जो यह घिनौनी हरकत की गई है। जिसमें हमारे देश के 20 सैनिक शहीद हुए यह बहुत ही घिनोनी हरकत है उन्होंने कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चाइना की इस हरकत का जवाब जरूर देना चाहिए। इस मौके पर पूर्व समाजवादी पार्टी  समाजवादी पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष सुबोध नागर संजय यादव  रविंद्र यादव  श्यामसुंदर भुर्जी ललित कुमार एडवोकेट अमित केदार, गौरव, राहुल जाटव, मनोज कुमार  आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

भाकियू अंबावता ने उठाई चार प्रमुख मांग

भाकियू अंबावता किसानों को न्याय दिलाएगी।

रामपुर। भाकियू अंबावता की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन समाजसेवी किसान नेता मोनू पवार के रामपुर घौरिया के निवास पर आयोजित हुईं भारतीय किसान यूनियन अंबावता जिला अध्यक्ष जितेंद्र गुर्जर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी तीन दिवसीय किसान अधिवेशन 19 से 21 जून तक हरिद्वार में आयोजित होगा। किसान नेता व सपा जिला उपाध्यक्ष मोनू पवार ने बताया हरिद्वार में किसान अधिवेशन में किसानों की समस्या समाधान के लिए किसान नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल रूपरेखा बनाकर किसानों की मदद करेंगे।

मुख्य मांगे किसानों ने उठाई

1 देश के अन्नदाता का कर्ज माफ हो

2अन्नदाता के बिजली बिल माफ हो

3 किसानों के गन्ने का सही पेमेंट समय से हो

4 किसानों के उत्पादन का उचित मूल्य मिले

 प्रेस वार्ता के समापन में भाकियू ने चीन द्वारा हमले की निंदा करते हुए शहीदों की आत्मा को उनके लिए मौन धारण कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई

 जितेंद्र गुर्जर और मोनू पवार ने बताया अधिवेशन  में राष्ट्रीय अध्यक्ष रिशिपाल अंबावता जी के साथ किसान नेताओं का  प्रतिनिधिमंडल भी रहेगा 

प्रेस कॉन्फ्रेंस में मुख्य रूप से जितेंद्र गुर्जर मोनू पवार जी अमित कसाना सुमित सोनू विकास  राहुल गुर्जर ऋषभ बॉबी आदि मौजूद रहे।

चीनी कंपनी के साथ किया अनुबंध रद्द

नई दिल्ली। भारतीय समर्पित मालवहन कॉरीडोर निगम लिमिटेड ने चीनी कंपनी को दिये गये 471 करोड़ रुपए के अनुबंध को रद्द करने का निर्णय लिया। यह अनुबंध पूर्वी समर्पित मालवहन गलियारे (डीएफसी) में कानपुर-दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन खंड में आधुनिक सिगनल एवं संचार प्रणाली लगाने के लिए किया गया था।


आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि चीन की बीजिंग नेशनल रेलवे रिसर्च एंड डिजायन इंस्टीट्यूट ऑफ सिगनल एंड कम्युनिकेशन ग्रुप कंपनी लिमिटेड को जून 2016 को पूर्वी डीएफसी पर कानपुर से दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन तक 417 किलोमीटर के खंड में आधुनिक संकेतन एवं संचार प्रणाली लगाने के लिए अनुबंध दिया गया था। कंपनी को विश्व बैंक से प्राप्त ऋण के माध्यम से भुगतान किया जाना था।


सूत्रों के अनुसार कंपनी अपने दायित्वों को लेकर लापरवाही बरत रही थी और चार साल के दौरान उसने केवल 20 प्रतिशत काम किया। बताया कि कंपनी अनुबंध की शर्त के मुताबिक इलैक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग की डिजाइन जैसे तकनीकी दस्तावेज देने में आनाकानी कर रही थी। कुछ सॉफ्टवेयर के विवरण को भी साझा करने से मना कर दिया था। डीएफसी निगम या रेलवे के उच्चाधिकारियों के दौरे के समय कंपनी के अधिकारी या इंजीनियर उपलब्ध नहीं रहते थे। निर्माण कार्य के लिए स्थानीय एजेंसियों से कोई तालमेल नहीं था। सामग्री की खरीद तक नहीं की। डीएफसी निगम और कंपनी के अधिकारियों के बीच कई दौर की बैठकों के बाद भी काम में कोई प्रगति नहीं हुई। सूत्रों ने कहा कि उपरोक्त कारणों से भारतीय डीएफसी निगम लिमिटेड से चीनी कंपनी का अनुबंध रद्द करने का फैसला लिया है।


चालाकी, सेटेलाइट ने चीन की पोल खोली

नई दिल्ली। लद्दाख में चीन की चालबाजियां लगातार जारी हैं। जब बातचीत चल रही थी और सैनिकों को पीछे हटाने की बात हो रही थी, उस समय वह वहां लगातर आपने सैनक बढ़ा रहा था और सैनिक वाहनों की तैनाती कर रहा था। गलवान घाटी से सैनिकों को हटाने के लिए भारत से बातचीत के बीच ही ड्रैगन ने वहां सैकड़ों सैनिकों और निर्माण के काम में आने वाले उपकरणों को तैनात कर दिया है। ताजा सैटलाइट तस्वीरों में चीन की चाल साफ दिख रही है। बता दें कि सोमवार रात यहां पर चीनी और भारतीय सैनिकों के बीच संघर्ष में भारत के 20 जवान शहीद हो गए जबकि चीन के 40 जवान मारे गए थे।


गलवान में चीन की चाल जारी
बता दें कि तनाव कम करने के लिए बुधवार को मेजर जनरल लेवल स्तर की बातचीत फिर से असफल रही थी। इससे साफ पता चल रहा है कि चीन गलवान घाटी से अपने सैनिकों को नहीं हटाना चाहता है। आने वाले दिनों में और बातचीत हो सकती है लेकिन जमीनी स्थिति जस की तस बनी हुई है तनाव बरकरार है।


लगातार धोखा दे रहा है चीन
सूत्रों ने बताया कि चीन अपनी बातों से लगातार मुकर रहा है। पहली की बातचीत में इसपर सहमति बनी थी कि दोनों पक्ष मौजूदा जगह से एक किलोमीटर पीछे हटेंगे और वहां का इलाका खाली छोड़ देंगे। पर चीन ने इस क्षेत्र में इसके उलट अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती कर दी है और पेट्रोल पॉइंट 14 के करीब लगातार सैनिकों को तैनात करना जारी रखे हुए है।


सैटलाइट इमेज में चीन की चाल दिख रही है
पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के करीब 800 जवानों ने भारतीय जवानों पर हमला किया था। इस हमले में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। मंगलवार को लिए गए सैटलाइट तस्वीरों से साफ पता चलता है कि सैनिकों को लाने वाले वाहन, भारी कंस्ट्रक्शन उपकरण और टेंट लगाए गए हैं। सैटलाइट इमेज एक्सपर्ट कर्नल विनायक भट्ट (रि.) ने कहा कि चीन गलवान घाटी और श्योक नदी के करीब कब्जा करना चाहता है। श्योक नदी के करीब भारत सड़क बना चुका है।


ऐसी ही खबरें गोगरा पोस्ट के पास से भी मिल रही है। यहां चीनी सेना वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के दो किलोमीटर अंदर तक घुस गई है। भारत ने यहां चीनी सेना को रोकने के लिए पर्याप्त तैनाती कर दी है। इसके अलावा पेंगौंग शो झील के करीब फिंगर इलाके में भी तनाव है। यहां भी चीनी सैनिक बड़ी संख्या में तैनात हैं। सूत्रों ने बताया कि कई अन्य इलाकों में चीनी सैनिक हाईपावर रायफल्स के साथ तैनात हैं।


अमेरिकाः तोड़ा रिकॉर्ड संक्रमित 22,33000

वाशिंगटन। अमेरिका में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या गुरुवार सुबह तक बढ़कर 22 लाख 33 हजार पार हो गई। वहीं कुल 1 लाख 19 हजार 941 लोगों की मौत हो चुकी है।हालांकि 9 लाख 15 हजार लोग ठीक भी हुए हैं।


11 लाख 98 हजार लोगों का अस्पतालों में अभी इलाज चल रहा है। अमेरिका में कुल 5 फीसदी कोरोना संक्रमित लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 41 फीसदी लोग इस बीमारी ठीक हो चुके हैं। अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में सबसे ज्यादा 406,367 केस सामने आए हैं। सिर्फ न्यूयॉर्क में ही 31,046 लोग मारे गए हैं। इसके बाद न्यू जर्सी में 170,599 कोरोना मरीजों में से 12,891 लोगों की मौत हुई. इसके अलावा मैसाचुसेट्स, इलिनॉयस, फ्लोरिडा भी सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं।


एटीपी टूर की शुरुआत वाशिंगटन ओपन के साथ 14 अगस्त से होगी। वहीं, अमेरिका ओपन के कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं होगा और यह 31 अगस्त से ही शुरू होगा। एटीपी टूर ने अपने एक बयान में इसकी जानकारी दी। नए कलैंडर में आस्ट्रिया ओपन को भी शामिल किया गया है और यह अमेरिका ओपन के दूसरे हाफ में शुरू होगा। बयान में कहा गया है कि विश्व के शीर्ष 10 एकल खिलाड़ी आस्ट्रिया ओपन में भाग लेने में सक्षम नहीं हो पाएंगे क्योंकि उस समय उन्हें अमेरिका ओपन में खेलना है। कैलेंडर में अंतिम टूर्नामेंट 27 सितंबर से शुरू होगा। एटीपी के चेयरमैन एंडिया गुडेंजी ने उम्मीद जताई कि इसमें और ज्यादा टूर्नामेंट को शामिल किया जा सकता है। एटीपी चैलेंजर टूर की शुरुआत भी 17 अगस्त से शुरू होगी।


दुनिया में 83 लाख 92 हजार 582 संक्रमित

नई दिल्ली। दुनियाभर में अब तक 83 लाख 92 हजार 582 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 4 लाख 50 हजार 452 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 44 लाख लोग संक्रमण मुक्त भी हुए हैं। दुनिया के करीब 62 फीसदी कोरोना के मामले सिर्फ 8 देशों से आए हैं। इन देशों में कोरोना पीड़ितों की संख्या 51 लाख से अधिक है।


कोरोना ने सबसे ज्यादा कहर अमेरिका में बरपाया है।अमेरिका में 22 लाख से ज्यादा लोग अबतक कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। एक लाख से ज्यादा यहां मौतें हो चुकी हैं। लेकिन अब हर दिन ब्राजील में अमेरिका से ज्यादा मामले और मौतें दर्ज की जा रही हैं। ब्राजील के बाद रूस और भारत में संक्रमितों की संख्या दुनिया में सबसे ज्यादा तेजी से बढ़ रही है।


अमेरिका: केस- 2,233,957, मौतें- 119,941
ब्राजील: केस- 960,309, मौतें- 46,665
रूस: केस- 553,301, मौतें- 7,478
भारत: केस- 367,264, मौतें- 12,262
यूके: केस- 299,251, मौतें- 42,153
स्पेन: केस- 291,763, मौतें- 27,136
पेरू: केस- 240,908, मौतें- 7,257
इटली: केस- 237,828, मौतें- 34,448
इरान: केस- 195,051, मौतें- 9,185
जर्मनी: केस- 190,179, मौतें- 8,927


8 देशों में दो लाख से ज्यादा केस


ब्राजील, रूस, स्पेन, यूके, इटली, भारत, पेरू में कोरोना मामलों की संख्या दो लाख पार हो चुकी है। इनके अलावा आठ देश ऐसे हैं जहां एक लाख से ज्यादा कोरोना केस हैं। चार देश (अमेरिका, ब्राजील, ब्रिटेन, इटली) ऐसे हैं, जहां 30 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। अमेरिका में मौतों का आंकड़ा 1.20 लाख हो चुका है। चीन टॉप-18 संक्रमित देशों की लिस्ट से बाहर हो चुका है। वहीं भारत टॉप-4 देशों में शामिल हो गया है।


सपूतों को श्रध्दांजलि देते हुए नमन किया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने पूर्वी लद्द्धाख के गलवान में एलएसी पर शहीद हुये वीर सपूतों को अपनी श्रद्धांजलि देते हुये उनके साहस और पराक्रम तथा वीरता को नमन किया है।


उन्होने कहा है कि शहीदों का बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा, राष्ट्र रक्षा में अपने प्राण न्यौछावर करने वाले वीर शहीदों को देश हमेशा याद रखेगा। उन्होंने कहा कि शोक की घड़ी में सरकार शहीदों के परिवार के साथ है और उनके परिवारों को हर सम्भव सहायता उपलब्ध करायी जायेगी। मौर्य ने मेरठ निवासी सेना के हवलदार विपुल राय सहित अन्य शहीदों की शहादत को शत्-शत् नमन करते हुये उनके परिवारीजनों के प्रति संवेदना प्रकट की है। मौर्य ने कहा है कि भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत की अखण्डता और सम्प्रभुता के साथ कोई समझौता नहीं किया जायेगा। उन्होने कहा कि शहीद जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा। हमें अपने जवानों पर गर्व है कि वे मारते-मारते मरे हैं। भारत शांति चाहता है, लेकिन भारत हर चीज का जवाब देने में भी सक्षम है।


सीएम-गृहमंत्री, उपराज्यपाल होंगे क्वॉरेंटाइन

नई दिल्ली। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पोजेटिव पाई गई है, कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद सत्येंद्र जैन के संपर्क में आए लोगों में कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया है, ऐसे में कई नेताओं को क्वारनटीन करना पड़ सकता है, जिनमे दिल्ली के मुख्यमंत्री, गृहमंत्री और उपराज्यपाल सहित कई नेता शामिल होंगे |


गौरतलब है कि स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने हाल में गृह मंत्रालय की बैठक में हिस्सा लिया था, इस बैठक में वह मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ एक साथ कार में पहुंचे थे, इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह के अलावा उपराज्यपाल अनिल बैजल, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन, डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया समेत कई अफसर मौजूद थे, ऐसे में या तो इन सभी हस्तियों को कोरोना टेस्ट कराना होगा या फिर 14 दिनों के लिए क्वारंटीन रहना पड़ेगा, दरअसल स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन तबीयत बिगड़ने से पहले काफी सक्रिय थे, वो लगातार बैठकें ले रहे थे, वहीं मीडिया के साथ भी लगातार वो संपर्क में थे, ऐसे में सिर्फ नेता ही नहीं कई पत्रकारों और अन्य लोगों को आइसोलेट होना होगा। बरहाल 55 वर्षीय सत्येंद्र जैन दिल्ली के राजीव गांधी सुपर स्पेशियालिटी हॉस्पिटल में दाखिल हैं और ताजा रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद जल्द अस्पताल से छुट्टी की संभावना भी झीण हो गई है, अब दिल्ली के मुख्यमंत्री को उनका प्रतिनियोक्ता ढूढ़ना होगा जो दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री का प्रभार ले सके |


चीनी कंपनियों को दूर रखेगा बीएसएनल

नई दिल्ली। सरकार ने चीन को आर्थिक रूप से पस्त करने की तैयारी शुरू कर दी है। सरकार ने फैसला लिया है कि टेलीकॉम मंत्रालय के अधीन काम करने वाली कंपनी बीएसएनएल की 4जी टेक्नोलॉजी की स्थापना में चीन की कंपनियों को दूर रखा जाएगा।


जानकारी के मुताबिक संचार मंत्रालय ने बीएसएनएल को इसके बारे में निर्देश दे दिया है। खास बात ये है कि सरकार अब जारी किये टेंडर को वापस लेगी और चीनी कंपनियां अब इससे बाहर की जाएंगी। दरअसल, सरकार बीएसएनएल को पुनर्जीवित करने के लिए इन दिनों कई प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में बीएसएनएल की 4जी सेवा की स्थापना भी है। 4जी सेवा की स्थापना के लिए टेंडर की प्रक्रिया चल रही है।


सूत्रों के मुताबिक इस टेंडर में चीनी कंपनियों को रोकने के लिए टेंडर को नए नियमों के साथ फिर से जारी करने का निर्देश दिया गया है। चीनी उपकरणों को लेकर भारत सरकार के सख्त रवैये को देखते हुए अब 5जी टेक्नोलॉजी के टेंडर में भी चीनी कंपनियों को कोई मौका सरकार नहीं देगी।


दिल्ली में कोरोना की जांच की दोगुना


कविता गर्ग





नई दिल्ली। दिल्ली सरकार को जारी किए गए निर्देश, 14 जून को गृह मंत्री द्वारा लिए गए निर्णयों के अनुसरण में दिल्ली में कोरोनावायरस की जांच दोगुना किया जा रहा है। मंत्रालय द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, 15 जून और 16 जून कुल 16,618 सैंपल लिए गए। इससे पहले 14 जून तक 4,000-4,500 सैंपलों की जांच हो रही थी। अब तक प्राप्त 6,510 सैंपल की रिपोर्ट 18 जून तक आ जाएगी।


गृह मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि दिल्ली के कई इलाकों में स्वास्थ्य सर्वेक्षण भी शुरू किया गया है। गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक, 242 कंटेनमेंट जोन में 230466 की कुल जनसंख्या में से 177692 लोगों की जांच 15 और 16 जून को की गई थी, शेष बचे लोगों की जांच 20 जून तक पूरी कर ली जाएगी।


कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने देश भर में जांच की एक समान कीमत तय करने की मांग की। पटेल ने कहा है कि कोरोनावायरस जांच की कीमत देश की सभी निजी लैब्स में एक समान होनी चाहिए।


पटेल ने कहा, “निजी लैब्स में कोरोना जांच शुल्क देश के विभिन्न हिस्सों में अलग-अलग क्यों है। अहमदाबाद में यह 4,500 रुपये है, जबकि मुंबई में 2,200 रुपये है। केंद्र सरकार को राज्यों के साथ मिलकर देश भर में निजी लैब्स में एक समान मूल्य निर्धारण नीति लागू करने के लिए काम करना चाहिए।” दिल्ली में, इससे पहले कोरोना जांच शुल्क 4,500 रुपये था।




कार्यपालक ने साथियों संग दिया धरना

सन्दीप मिश्रा


रायबरेली। उ0प्र0 उद्योग व्यापार मंडल मिश्रागुट द्वारा जिलाध्यक्ष आशीष द्विवेदी की अगुवाई में मंदी शुल्क पूर्णतया समाप्त किये जाने की मांग को लेकर सोशल डिस्टेंसिंग व निर्देशों का पालन करते हुवे समिति कार्यालक पर साथियों समेत दिया गया सांकेतिक धरना, मुख्यमंत्री को संबोधित मांगपत्र सचिव-मंडी समिति को सौंपा।विगत वर्षों से राष्ट्रीय अध्यक्ष पं श्याम बिहारी मिश्रा के नेतृत्व में संगठन द्वारा मंडी शुल्क समाप्त किये जाने की माग को लेकर अथक प्रयास किये गए जिस क्रम में वर्तमान केंद्र सरकार ने हमारी मांगों को स्वीकार करते हुवे दो अध्यादेशों के माध्यम से मंडी समिति व मंडी लाइसेंस पूर्णतः समाप्त करने का सराहनीय कार्य किया किन्तु उक्त संदर्भ में प्रदेश सरकार की सार्थक सहभागिता के बिना केंद्र सरकार का अध्यादेश मंडी परिसर में निष्प्रभावी हो जाएगा। यह उदगार व्यापारी नेता आशीष द्विवेदी ने जारी प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से व्यक्त करते हुवे कहा कि मंडी परिसर राज्य सरकार के अधीन संचालित होती है और वर्तमान में 1.5℅ मंडी शुल्क के साथ ही 0.5℅ सेस टैक्स व्यापारियों व अढ़ातियों से लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र के अनुरूप राज्य सरकार मंडी शुल्क पूर्णतया समाप्त करे। मंडी परिसर के बाहर व अंदर के खाद्यान के मूल्य में 02℅ का अंतर होने से परिसर के व्यापारियों-अढ़ातियों का व्यापार चौपट हो जाएगा। केंद्र व राज्य नीति में असमानता से मंडी समितियां होंगी वीरान, आढ़त बंद करने को मजबूर होंगे अढाती। उन्होंने कहा कि हम प्रदेश सरकार से मांग करते है कि समितियों का अस्तित्व व अढ़ातियों का व्यापार बचाये रखने के लिए मंडी शुल्क व सेस टैक्स पूर्णतया समाप्त हो।इस अवसर पर जिलामहामंत्री जितेंद्र सिंह, मुशर्रफ खान, नगर अध्यक्ष सतीश वर्मा, नगर महामंत्री सत्रोंहन सोनकर, युवा अध्यक्ष दिलदार रायनी, गल्ला मंडी व्यापार मंडल से अध्यक्ष मनोज सोनकर, महामंत्री उपकार सोनकर एवं स्थानीय व्यापारी उपस्थित रहे।


एक साथ ट्रेन से 48 बकरीयां कट गई

विवेक कुमार मिश्र 


भुपियामऊ। प्रतापगढ़ के रेलवे स्टेशन के पास से दिल हिला देने वाली घटना बुधवार की शाम को 4 बजे घटी। जहां एक साथ 48 बकरियों ट्रेन से कट कर जान गई। बताया जा रहा है कि रेलवे लाइन के किनारे घास चर रही थी। तभी वहां एक श्रमिक ट्रेन आने की आवाज सुन कर बकरियां लाइन के इधर- उधर भागने लगी। जिससे बहुत से बकरियां ट्रेन के चपेट में आ जाने के कारण मौत हो गई। सभी बकरियां के मालिक अलग- अलग तीन लोगों की है। ये चरवाह राजकुमार पाल, जयकरन पाल, बदल पाल रामपुर गौरी के निवासी हैं। जिससे इन चरवाहों को बड़ी मात्रा में नुकसान का सामना करना पड़ा।


शादी से पहले प्रेमिका को चाकू से मारा

शादी से 2 दिन पहले नाराज प्रेमी ने प्रेमिका की चाकू गोदकर मार डाला



कविता गर्ग




नई दिल्ली। युवती की आज से दो दिन बाद 20 जून को शादी होनी थी। इसी के चलते युवती बुधवार देर रात कुछ सामान लेने के लिए अपने घर से बाहर निकली थी, तभी आरोपी युवक ने चाकू से ताबड़तोड़ कई वार कर उसे लहूलुहान कर दिया और फिर मौके से फरार हो गया। घायल युवती को तुरंत अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी मौत हो गई।


आरोपी युवक दिल्ली के नंद नगरी के रहने वाला है। पुलिस ने युवती के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस आरोपी को जल्द पकड़ लेने की बात कह रही है।




गाजीपुरः मरीजों की संख्या में भारी इजाफा

गाजीपुर। कोरोना संक्रमण के मामले काफी तेजी से बढते जा रहे हैं। इसका खौफ लोगों के चेहरे पर साफ दिखाई दे रहा हैं। इसी बीच जनपद गाजीपुर में बुधवार को कोरोना मरीजों की संख्या में भारी इजाफा हुआ है। 21 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। स्क्रीनिंग और सैंपलिंग के बाद इन्हें क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था। नए मरीजों के साथ ही संक्रमितों की संख्या 226 हो गई है। इसमें सक्रिय केसों की संख्या 64 है। इलाज के बाद गाजीपुर के 162 मरीज ठीक हो चुके हैं। नए मरीजों को मुहम्मदाबाद के कोविड-19 अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


लॉकडाउन के बाद स्पेशल ट्रेनों से गाजीपुर पहुंचे श्रमिकों में कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ पॉजिटिव मरीजों की संख्या में हर दिन इजाफा हो रहा है। 21 कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन और स्वास्थय विभाग की दुश्वारियां बढ़ती जा रही हैं। रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थय विभाग की टीम ने क्वारंटीन सेंटर से संक्रमितों को कोविड -19 अस्पताल पहुंचाया। वहां सभी को भर्ती करने के बाद इलाज शुरू कर दिया गया। नए मरीजों में दो देवकली, दो रेवतीपुर, 4 मोहम्दाबाद, एक बाराचबर, सात जमानियां, दो कासिमाबाद, दो मरदा और एक सदर का निवासी है l





प्रशांत कुमार





फांसी के फंदे पर नाबालिक प्रेमी जोड़े..!


सके बगैर नहीं जी सकती थी…!” और झूल गये फांसी के फंदे पर नाबालिक प्रेमी जोड़े..!


विकास जायसवाल




जांजगीर-चाम्पा। दो नाबालिगों ने प्रेम प्रसंग के चलते फांसी लगाकर जान दे दी है। यह घटना जिले के सक्ती थाना क्षेत्र के मोहंदीकला गांव की है। पुलिस मौके पर पहुंच गई है। जांच जारी है।



  • जानकारी मिली है कि शवों के साथ एक सुसाइडल नोट मिला है जिसमें लिखा हुआ है कि मम्मी पापा मुझे माफ करना मैं उसके बगैर नहीं जी सकती थी। जिसके आधार पर पुलिस इसे प्रेम प्रसंग के कारण आत्महत्या का प्रकरण मान रही है। किशोर का नाम मोहित पटेल उम्र 15 वर्ष और किशोरी का नाम अनिता पटेल उम्र 14 साल बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि दोनों एक ही कक्षा में पढ़ते थे और एक ही गांव के रहने वाले थे। सुसाइडल नोट देखकर पुलिस का अनुमान है कि दोनों के बीच प्रेम प्रसंग था। किसी बात को लेकर दोनों आहत थे, जिसके कारण आत्महत्या कर ली। फिलहाल, इस खुदकुशी की वजह को लेकर आधिकारिक तौर पर किसी ने पुष्टि नहीं की है।



अनुमति नहीं तो, जगन्नाथ हमें माफ कर देगें

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ”अगर हम रथयात्रा को अनुमति नहीं देंगे तो भगवान जगन्नाथ हमें इसके लिए माफ कर देंगे।” कोर्ट ने यह भी कहा कि ”भगवान जगन्नाथ का काम कभी नहीं रुकता है।


भूवनेश्वर। ओडिशा  विकास परिषद नाम के संगठन ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर कहा था कि राज्य में 30 जून तक धार्मिक स्थलों को बंद रखने का फैसला लिया गया है।लेकिन प्रशासन की तरफ से रथयात्रा को मंजूरी दिए जाने के संकेत मिल रहे हैं। लाखों लोगों के जमा होने से कोरोना के विष्फोटक तरीके से फैलने की आशंका है।इसलिए कोर्ट रथयात्रा पर रोक लगाए। राज्य सरकार से कहे कि वह इस साल यात्रा की अनुमति न दे। पुरी में नौ दिन तक चलने वाली रथयात्रा के दौरान भगवान जगन्नाथ, भगवान बलभद्र और देवी सुभद्रा के लकड़ी के बने भारी-भरकम रथों को परंपरागत रूप से दो बार तीन किलोमीटर तक हाथ से खींचा जाता है।


कार्यकर्ताओं में उत्साह की लहर दौड़ी

सन्दीप मिश्रा


रायबरेली। प्रदेश कांग्रेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की जमानत मंजूर किए जाने की सूचना जब रायबरेली जनपथ पहुंची। तो यहां पर भी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में उत्साह की लहर दौड़ गई । वरिष्ठ कांग्रेसी नेता आशीष द्विवेदी ने इसे भारतीय संविधान की जीत बताया है ।तो वहीं महिला कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों ने एक दूसरे को आर्म खिलाकर मुंह मीठा किया और प्रदेश अध्यक्ष कि रिहाई पर खुशियां मनायी। महिला कांग्रेस कमेटी की पदाधिकारी ऊषा सिंह ने कहा कि
उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को अदालत से जमानत मिल गयी ।हमारे प्रदेश अध्यक्ष को प्रवासी मजदूरों को उनके गंतव्य स्थानों तक पहुंचाने के लिए पार्टी द्वारा 1000 बसें दिए जाने के मामले में धोखाधड़ी के आरोप में उन्हें गिरफ्तार किया गया था। महिला कांग्रेसी नेता प्रीता नैथन ने आम के बहाने लोगो का मुँह मीठा कराते हुए कहा कि अजय कुमार लल्लू को गत 19 मई को धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। कांग्रेस ने लॉकडाउन के कारण अपने घर लौट रहे प्रवासी श्रमिकों को उनके गंतव्यों तक पहुंचाने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के सामने 1000 बसें भेजने का प्रस्ताव रखा था जिसे सरकार ने स्वीकार कर लिया था। बसों के दस्तावेजों की जांच में उनमें से कई वाहनों के रजिस्ट्रेशन नंबर बेमेल पाए गए थे। इस मामले में लखनऊ के हजरतगंज थाने में मुकदमा दर्ज कर लल्लू को गिरफ्तार किया गया था। जबकि इससे उनका कोई लेना देना नही है। झूठे आरोप लगाकर उनको जेल भेज दिया गया था। जिसको लेकर कांग्रेसी कार्यकर्ता आक्रोशित हैं और आज सत्य की जीत हुई है।


पीड़िता को परिवार समेत मारने की धमकी

रेप पीडिता को परिवार समेत जान से मार डालने की धमकी दे रहे नामजद अभियुक्त

 

राकेश मौर्य

 

लखीमपुर खीरी। फूलबेहड कोतवाली क्षेत्र के एक गांव की रेप पीडिता किशोरी व उसके परिवार को अभियुक्तों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराना काफी महंगा पड रहा है। नामजद अभियुक्त मुकदमा वापस न लेने पर पीडिता व उसके परिवार को जान से मार डालने के लिए धमका रहे है। पीडित परिवार की शिकायत के बाद भी फूलबेहड पुलिस कोई कार्यवाही नही कर रही है। जिसके चलते पूरा परिवार डरा व सहमा हुआ है। 

 

जानकारी के मुताबिक फूलबेहड कोतवाली क्षेत्र के गांव में शादी का झांसा देकर किशोरी के साथ करीब एक साल तक शारीरिक शोषण किये जाने के मामले मे न्यायालय के आदेश के बाद फूलबेहड पुलिस ने कोतवाली क्षेत्र के बसहा माफी गांव निवासी मुख्य आरोपी *आरिफ खां समेत उसके  भाई मेराज खां, छोटे उर्फ एजाज खां व पिता मुख्तयार खां तथा मां शफीकुनिशा* के खिलाफ रेप व पाॅक्सो एक्ट समेत विभिन्न धाराओं मे मुकदमा दर्ज कर लिया है। लेकिन मुकदमा दर्ज किये जाने के 18 दिन बाद भी फूलबेहड पुलिस अभी तक नामजद अभियुक्तों को गिरफ्तार नही कर पाई है। जिससे पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान खडे हो रहे है। पुलिस की इस लापरवाही के चलते नामजद अभियुक्तों के हौंसले इतने बुलंद हो गए है कि वह सुलह समझौते के लिए पीडित परिवार को लगातार डरा धमका रहे है। पीडिता की मां का आरोप है कि नामजद अभियुक्त मुकदमा वापस लेने के लिए घर मे घुस कर धमकी देकर गये है कि अगर तुमने मुकदमा वापस नही लोगी तो तुम्हारी बेटी समेत पूरे परिवार को जान से मार डालेंगे।

 

मुख्य आरोपी ने  नाबालिग के साथ रचा ली शादी

 

रेप पीडिता का आरोप है कि आरिफ ने पहले उसे शादी का झांसा देकर उसकी इज्जत के साथ एक साल तक खिलवाड किया। अब उसने रिश्तेदारी मे ही मुझसे भी छोटी उम्र की लडकी से शादी रचा ली है। हम शिकायत लेकर फूलबेहड कोतवाली गये तो पुलिस ने दिन भर थाने मे बिठा रखा, फिर शाम को कोतवाल साहब ने यह कह कर भगा दिया कि अब कुछ नही हो सकता, जाकर सुलह कर लो, इसी में तुम्हारी भलाई है।

चलती बस में महिला से 'गैंगरेप' किया

बस को कब्जे में लेकर पुलिस ने सीज किया


बस को पुलिस ने कब्जे में लिया: क्लीनर गिरफ्तार, ड्राइवर- कंडक्टर फरार


लखनऊ/नोएडा। बच्चों के साथ बस में सफर कर रही महिला के साथ चलती बस में दरिंदों ने बलात्कार किया। रेप की ये सनसनीखेज घटना प्रतापगढ़ से नोएडा जा रही बस के अंदर घटी। पुलिस ने मामला दर्ज कर एक आरोपी चालक को गिरफ्तार कर बस को कब्जे में ले लिया है। प्रतापगढ़ से नोएडा जा रही महिला के साथ बस के ड्राइवर और कंडक्टर ने रेप किया‌ महिला ने विरोध किया लेकिन उसे बस में सबसे पीछे वाली सीट पर बांधकर दुष्कर्म को अंजाम दिया गया। नोएडा पहुंचकर महिला ने पति को अपने साथ घटी घटना की जानकारी दी जिसके बाद दोनों ने पुलिस से शिकायत की है। पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर महिला को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेजा। वह जिस बस में सफर कर रही थी, उसे पुलिस ने जब्त कर लिया है।
बच्चों को जान से मारने की धमकी देकर किया रेप
महिला ने पुलिस को बताया कि वह अपने दो बच्चों के साथ प्रतापगढ़ से नोएडा आ रही थी, वह पहली बार नोएडा आई है। कंडक्टर ने उसे बस में सबसे पीछे वाली सीट दी थी। मथुरा तक सब कुछ सामान्य रहा, मथुरा से जब बस नोएडा के लिए निकली तो बस का ड्राइवर उसके पास आ गया और छेड़छाड़ करने लगा। महिला ने विरोध किया तो ड्राइवर ने धमकी दी कि अगर उसने शोर मचाया या विरोध किया तो उसे और उसके दोनों बच्चों को जान से मार देगा। इस बीच क्लीनर बस चलाता रहा। इसके बाद महिला को पीछे वाली सीट पर बांधकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया।
महिला ने झांसा देकर पति को फोन कर बुलाया…
महिला का कहना है कि बाद में बस का कंडक्टर और क्लीनर भी आए। उन्होने भी महिला से दुष्कर्म किया। महिला को पैसे देकर मुंह बंद रखने की चेतावनी दी। महिला का कहना है कि उसने इन तीनों लोगों को झांसा देने के लिए हां में हां भर दी। यह लोग जब आगे जाकर बैठ गए तो महिला ने अपने पति को मोबाइल से कॉल कर घटनाक्रम के बारे में जानकारी दी। बुधवार की सुबह जब बस नोएडा पहुंची तो सेक्टर 62 में महिला का पति अपने एक साथी के साथ वहां पहुंचा तो हंगामा खड़ा हो गया, बस का ड्राइवर और कंडक्टर बस को सेक्टर 62 में छोड़कर भाग गए।


डीसीपी वृंदा शुक्ला मामले की जानकारी देते हुए


शिकायत मिलते ही पुलिस ने एक्शन लिया…
इसके बाद महिला और उसका पति सेक्टर 20 थाने पहुंचे और घटनाक्रम के बारे में जानकारी दी। पुलिस तत्काल महिला की बताई गई जगह पर पहुंची, पुलिस ने बस को जब्त कर लिया। पुलिस का कहना है कि जल्दी ही फरार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। पुलिस ने आरोपियों की पहचान कर ली है। बस मालिक और कंडक्टर, ड्राइवर, हेल्पर के पते-ठिकाने मिल गए हैं, उनकी तलाश के लिए छापेमारी चल रही है। पुलिस ने वोल्वो बस को कब्जे में लेकर थाने ले जाकर सीज कर दिया। फरार बस के ड्राइवर और कंडक्टर को गिरफ्तार करने के लिए डीसीपी (महिला अपराध) वृंदा शुक्ला ने टीम गठित की है जो गिरफ्तारी के लिए लगातार छापामारी कर रही है। विजय आनंद वर्मा की रिपोर्ट


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


 जून 19, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-311 (साल-01)
2. शुक्रवार, जूूून 19, 2020
3. शक-1943, अषाढ़, कृष्ण-पक्ष, तिथि- त्रयोदशी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 05:36,सूर्यास्त 07:28।


5. न्‍यूनतम तापमान 25+ डी.सै.,अधिकतम-41+ डी.सै.।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275


(सर्वाधिकार सुरक्षित)


तेलांगना कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष ने माफी मांगीं

हैदराबाद। पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर के खिलाफ अपनी कथित अपमानजनक टिप्पणी को लेकर तेलांगना प्रदेश कांग्रेस कमेटी...