मंगलवार, 14 सितंबर 2021

24 सितंबर को वाशिंगटन में मुलाकात करेंगे बाइडेन

नई दिल्ली/ वाशिंगटन डीसी। पीएम मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन 24 सितंबर को वाशिंगटन में मुलाकात करेंगे। जनवरी 2021 में जो बाइडेन के सत्ता संभालने के बाद यह पहला मौका होगा। जब भारत के प्रधानमंत्री और अमेरिका के राष्ट्रपति आमने-सामने मुलाकात होगी।पीएम मोदी 22 सितंबर की रात अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन पहुंचेंगे। इसको लेकर व्हाइट हाउस ने बयान जारी किया है। राष्ट्रपति बाइडेन के हवाले से जारी बयान में पीएम मोदी की मेजबानी को लेकर खुशी का इजहार किया गया है।

अमेरिका में क्वाड देशों की बैठक भी होनी है। जिसमें भारत अमेरिका के अलावा, ऑस्ट्रेलिया और जापान के प्रधानमंत्री भी शामिल होंगे। पीएम मोदी के अमेरिका दौरे पर तालिबान, चीन और कोरोना पर चर्चा होने की उम्मीद है। 25 सितंबर को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें सत्र को संबोधित करेंगे।

फसें दो ग्रामीणों को रेस्क्यू टीम ने बाहर निकाला

गरियाबंद। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिला मुख्यालय से महज 2 किलोमीटर दूर मजरकटा से चिखली मार्ग में आज बाढ़ में फंसे दो ग्रामीणों को आपदा प्रबंधन के तहत रेस्क्यू टीम ने बाहर निकाला है। पिछले 6 घंटे से पेड़ के सहारे फंसे ग्रामीण धनुराम निषाद और कामताराम निषाद को आखिरकार रेस्क्यू कर लिया गया है। बाढ़ की आपदा का सामना कर दोपहर एक बजे बाहर निकले हैं। यहां की पैरी नदी सहित नाले उफान पर है। मूसलाधार बारिश के बाद बाढ़ की स्थिति भयावह हो गई है। जिसके चलते अनेक तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं जनजीवन भी अस्त व्यस्त हो गया है।

गत 10 वर्षों बाद ऐसी बाढ़ की स्थिति गरियाबंद क्षेत्र में देखने को मिली है। मूसलाधार बारिश ने अपना असर दिखाया। ग्राम मजरकट्टा के दो ग्रामीण फंसे थे। निकालने के बाद राहत की सांस ली है। ग्रामीण बड़ी संख्या में मौजूद थे। बताया जाता है कि धनुराम निषाद और कामता राम निषाद आज सुबह ही खेत देखने गए थे। इसी दौरान बाढ़ के चपेट में आ गए। दोनों लोग बाढ़ के पानी के कारण गांव तक नहीं आ पा रहे थे।

भरवारी प्रांगण में हिंदी दिवस का कार्यक्रम मनाया

कौशाम्बी। भवंस मेहता महाविद्यालय भरवारी प्रांगण में हिंदी दिवस का कार्यक्रम धूमधाम से मनाया गया है। इस मौके पर वक्ताओं ने हिंदी दिवस के महत्व को बताते हुए हिंदी का प्रयोग करने पर जोर दिया है। वक्ताओं ने कहा कि हिंदी भाषा हमारे राष्ट्र के अस्मिता से जुड़ी है।
दिनांक 14 सितंबर राजभाषा हिंदी दिवस के अवसर पर भवंस मेहता स्नातकोत्तर महाविद्यालय भरवारी में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आरंभ महाविद्यालय के प्रबंधक और मुख्य अतिथि संदीप सक्सेना और महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ. रूबी चौधरी द्वारा विद्या की अधिष्ठात्री देवी माता सरस्वती के प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पण कर हिंदी दिवस पर कार्यक्रम की शुरुआत की गई। कार्यक्रम के संयोजक महाविद्यालय के हिंदी विभाग के प्राध्यापक डॉ. सी. पी. श्रीवास्तव ने कार्यक्रम प्रारंभ करते हुए अपने व्यक्तव्य में  कहा की राष्ट्रभाषा राष्ट्र की अस्मिता से जुड़ी होती है। उन्होंने छात्र छात्राओं को राजभाषा हिंदी प्रयोग और महत्व के विविध पहलुओं पर प्रकाश डालते हुए अपने व्यावहारिक जीवन में राजभाषा हिंदी के अधिकाधिक प्रयोग की बात कही।
तत्पश्चात महाविद्यालय छात्र छात्राओं ने अपनी कविताओं का पाठ किया। महाविद्यालय की प्राध्यापिका डॉ. नीति मिश्रा और डॉ. आदिल ने भी राजभाषा हिंदी के बारे में अपने उद्गार प्रकट किए।इस अवसर पर महाविद्यालय के डॉ. श्वेता यादव, डॉ. सतीश तिवारी, डॉ. योगेश मिश्र ,डॉ. विमलेश सिंह यादव, डॉ. राहुल राय, डॉ. महेंद्र उपाध्याय, डॉ. दीपक कुमार आदि लोग उपस्थित थे।कार्यक्रम के अंत में प्राचार्या डा. रूबी चौधरी ने मुख्य अतिथि , शिक्षक शिक्षिकाओं और छात्र छात्राओं का धन्यवाद ज्ञापन किया।
राजू सक्सेना 

हरियाणा कांग्रेस कमेटी की संगठन सूची घोषित की

राणा ओबरॉय           
चंडीगढ़। हरियाणा में कांग्रेस एक ऐसी पार्टी है। जिसका अभी तक संगठन तैयार नहीं हुआ है। 2014 में जब कांग्रेस के अशोक तंवर ने संगठन की जिम्मेदारी संभाली थी। तब से लेकर आज तक हरियाणा कांग्रेस का संगठन तैयार नहीं हुआ है। आज से लगभग 2 वर्ष पहले कुमारी शैलजा ने हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बागडोर संभाली थी तब शैलजा ने दावा किया था कि संगठन बहुत शीघ्र तैयार हो जाएगा। परंतु उनका यह दावा भी पूरी तरह फेल साबित हुआ। अभी कुछ समय पहले हरियाणा कांग्रेस प्रभारी ने भी मीडिया के समक्ष कहा था कि बहुत शीघ्र हरियाणा कांग्रेस कमेटी की संगठन सूची घोषित कर दी जाएगी। परंतु यह दावा भी बेकार ही गया। इसके पीछे कारण यह बताया जा रहा है। पूर्व सीएम हुड्डा और अध्यक्षा शैलजा की आपसी खींचतान के कारण ही प्रदेश संगठन की सूची लटकी हुई है। यदि इसी तरह गुटबाजी कांग्रेस में बनी रही तो ऐलनाबाद उपचुनाव व होने वाले पंचायत चुनाव में हरियाणा कांग्रेस को बुरी तरह हार का मुंह देखना पड़ेगा।

सपा सरकार को बनाने के लिए जनसमर्थन किया

भानु प्रताप उपाध्याय           
शामली। समाजवादी पार्टी के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ द्वारा समाजवादी जन सन्देश बूथ यात्रा के सातवे दिन मालेंड़ी,बधेव कुन्नु खेडा,मुडेट,कसेरवा खुर्द, टिटौली, टपराणा,पीरखेडा,दरगाहपुर,आदी गावो मे जनसमर्थन सपा सरकार को बनाने के लिये किया गया। सपा नेता अब्दुल गफ्फार मलक ने वीरेंद्र जाट के निवास पर कहा कि जाट ओर मुस्लिम एक साथ मिलकर गठबंधन प्रत्यासि को जिताकर हिन्दू मुस्लिम आस्था के प्रतिक चौ,चरण सिंह को समर्पित करेंगे। जोगी समाज के युवाओ ने रविन्द्र प्रधान जोगी का जोरदार स्वागत किया' यात्रा मे जन सन्देश सपा नेता जबरदीन मलिक,मधू देशवाल,इस्लाम धोबी मुडेट,दीपक जोगी,रवि जोगी,साहिल जोगी,सुभाष कश्यप,कृष्णपाल जोगी,नदीम,राकिब जोगी,वादिल जोगी,जफर अली जोगी,राहत खान,सपा नेता नासीर खान(पूर्व प्रधान)प्रवेश कोरी,कपिल जाट,रियासत दर्जी,अख्तर शेख,सरफराज शेख आदी से किया गया। यात्रा का रात्रि पड़ाव सपा नेता समरयाब काशमी के निवास हथछोया पर रहा।

मेरठ: युवक की हत्या का सनसनीखेज मामला मिला

अतुल त्यागी
मेरठ। जिले में लापता युवक की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया। किठौर से लगभग 6 माह पूर्व लापता हुए युवक की हत्या उसके दोस्त ने ही कर शव को ठिकाने लगाकर उसकी प्रेमिका से शादी रचाई थी। लेकिन मामले में उस वक्त नया मोड़ आ गया। जब आरोपी की प्रेमिका ने पूरी घटना का राजफाश कर दिया। 
जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में आरोपी दोस्त और उसकी प्रेमिका को भी गिरफ्तार किया गया। एक आरोपी फरार बताया गया है। बता दें कि किठौर के मवाना रोड निवासी नसीम 22 वर्ष पुत्र इजाहरुल हक बीती 16 मार्च को लापता हो गया था। इस मामले में परिजनों ने गुमशुदगी दर्ज कराते हुए उसके दोस्त और प्रेमिका पर शक जताया था। लेकिन पुलिस की जांच में नतीजा सिफर निकला। उधर परिजन भी दर-दर की ठोकर खाने के बाद बेटे के मिलने की आस छोड़ दी। लेकिन उधर मामले में जब नया मोड़ आ गया जब दो दिन पूर्व गढ़मुक्तेश्वर निवासी महिला नसीम के घर पहुंची।और परिजनों को बताया कि नसीम की हत्या की बात कही।महिला ने विस्तारपूर्वक बताया कि नसीम की हत्या उसके किठौर निवासी दोस्त दानिश ने करके उसके शव को ठिकाने लगा दिया था। इसके बाद परिजन किठौर थाने पहुंचे और तहरीर देते हुए दानिश नामक युवक पर हत्या कर शव गायब करने का आरोप लगाया। जिसके बाद पुलिस ने दानिश और उसकी प्रेमिका को हिरासत में लेकर पूछताछ की। पूछताछ में दानिश पुत्र जहीर ने पुलिस को बताया कि उसने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर नसीम की 16 मार्च को हत्या करके शव को अमरोहा जिले के धनोरा मंडी थाना क्षेत्र में नहर में फेंक दिया था। किठौर थाना प्रभारी निरीक्षक अरविंद मोहन शर्मा ने बताया कि नसीम की हत्या करने के लिए हिना ने दानिश को मजबूर किया था। जिसके बाद दानिश ने अपने किठौर निवासी दोस्त मुजीब के साथ मिलकर की थी। पुलिस ने दानिश और हिना को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है तथा अन्य आरोपी मुजीब को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

आतंकियों द्वारा किये हमले में 4 नागरिक घायल हुए

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में मंगलवार को सुरक्षा बलों को निशाना बनाकर आतंकवादियों द्वारा किये गए एक ग्रेनेड हमले में कम से कम चार नागरिक घायल हो गए। यह जानकारी अधिकारियों ने दी। आतंकवादियों ने आज दोपहर में पुलवामा चौक पर सुरक्षा बलों के एक वाहन की ओर ग्रेनेड फेंका, लेकिन ग्रेनेड सड़क किनारे फट गया। 
अधिकारियों ने बताया कि घायलों को अस्पताल ले जाया गया है, जबकि सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी है। कश्मीर में हाल के दिनों में आतंकियों के ग्रेनेड हमले बढ़ गए हैं। पिछले सप्ताह शहर के चनापोरा इलाके में एक ग्रेनेड हमले में दो महिलाओं सहित तीन लोग घायल हो गए थे। सुरक्षा बलों ने सोमवार को राष्ट्रीय राजमार्ग 44 के व्यस्त परिम्पिरा-पंथाचौक मार्ग पर आतंकवादियों द्वारा लगाए गए छह ग्रेनेड का पता लगाया था और उन्हें निष्क्रिय किया था।

दिक्कतों से संबंधित शिकायतों का संज्ञान लिया

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने किसान आंदोलन के कारण लोगों, औद्योगिक इकाइयों और कंपनियों को हो रही दिक्कतों से संबंधित शिकायतों का संज्ञान लेते हुए दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। आयोग ने कहा है कि उसे इस संबंध में अनेक शिकायतें मिली हैं जिनमें आरोप लगाया गया है कि आंदोलन के कारण रास्तों के बंद होने से छोटी बड़ी 900 से अधिक औद्योगिक इकाइयों पर प्रभाव पड़ा है। 
आंदोलन के कारण सड़क मार्ग भी प्रभावित हुआ है जिससे आम लोगों, रोगियों और शारीरिक रूप से अक्षम लोगों तथा वरिष्ठ नागरिकों को विशेष रूप से परेशानी हो रही है। आयोग को यह भी रिपोर्ट मिली है कि आंदोलनों स्थलों के पास बैरिकेड लगे होने के कारण लोगों को बहुत लंबी दूरी तय करनी पड़ती है। शिकायतों का संज्ञान लेते हुए आयोग ने उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा और राजस्थान के मुख्य सचिवों तथा पुलिस महानिदेशकों को इस संबंध में की गई कार्रवाई का ब्यौरा देने को कहा है।
आयोग को मिली शिकायतों में यह भी आरोप लगाया गया है कि आंदोलन स्थलों पर कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया जा रहा है साथ ही आसपास रहने वाले लोगों को रास्ते बंद होने के कारण अपने घरों में ही कैद होना पड़ रहा है। आयोग का मानना है कि विरोध प्रदर्शन मानव अधिकार का मुद्दा है लेकिन साथ ही इसके कारण अन्य लोगों के मानवाधिकार प्रभावित होने पर भी ध्यान दिए जाने की जरूरत है।
आयोग ने इन राज्यों से किसान आंदोलन के कारण औद्योगिक और व्यवसायिक कामकाज पर हुए प्रतिकूल प्रभाव का आकलन करने और यातायात सेवाओं के बाधित होने के कारण आम लोगों पर पड़े बोझ तथा खर्च पर 10 अक्टूबर तक रिपोर्ट देने को कहा है। आयोग ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण से भी आंदोलन स्थलों पर कोरोना प्रोटोकॉल के पालन के बारे में रिपोर्ट मांगी है। उसने आंदोलन स्थल पर एक मानवाधिकार कार्यकर्ता के साथ सामूहिक दुष्कर्म से संबंधित मामले में मुआवजे के बारे में भी जानकारी देने को कहा है।
इसके अलावा दिल्ली विश्वविद्यालय के दिल्ली स्कूल ऑफ सोशल वर्क से भी आंदोलन के कारण लोगों की आजीविका और उनके जीवन पर हुए असर के बारे में सर्वेक्षण करवाने को भी कहा गया है।

एप्पल ने आईफोन में सुरक्षा खामी को ठीक किया

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका की प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी एप्पल ने आईफोन में उस सुरक्षा खामी को ठीक कर लिया है। जिससे हैकर्स उपयोगकर्ता के इस्तेमाल के बगैर ही आईफोन तथा एप्पल के अन्य उपकरणों को सीधे हैक कर सकते थे। टोरंटो विश्वविद्यालय की सिटीजन लैब के अनुसंधानकर्ताओं ने कहा कि सऊदी अरब के एक कार्यकर्ता के आईफोन की जासूसी के लिए इस सुरक्षा चूक का फायदा उठाया गया।
उन्होंने बताया कि उन्हें पूरा भरोसा है कि दुनिया की सबसे कुख्यात हैकर कंपनी इजराइल का एनएसओ समूह इस हमले के पीछे है। अनुसंधानकर्ताओं ने बताया कि यह सुरक्षा खामी एप्पल के सभी प्रमुख उपकरणों आईफोन, मैक्स और एप्पल वॉच में थी। एनएसओ समूह ने एक पंक्ति का बयान जारी कर कहा कि वह ”आतंक और अपराध” से लड़ने के लिए उपकरण मुहैया कराता रहेगी।
अनुसंधानकर्ताओं ने सात सितंबर को एक संदिग्ध कोड पाया और तुरंत एप्पल को सूचना दी। यह पहली बार था जब तथाकथित ”जीरो-क्लिक” के दुरुपयोग के बारे में पता चला जिसमें उपयोगकर्ता को संदिग्ध लिंक या हैक फाइलों को खोलने के लिए उस पर क्लिक करने की आवश्यकता नहीं होती।
सिटीजन लैब ने पहले जीरो क्लिक का दुरुपयोग अल-जजीरा के पत्रकारों और अन्य लोगों के फोनों को हैक करने के किए जाने के सबूत पाए थे। एक ब्लॉग पोस्ट में एप्पल ने कहा कि वह आईफोन और आईपैड के लिए सुरक्षा अपडेट जारी कर रहा है क्योंकि एक संदिग्ध पीडीएफ फाइल से उनका फोन हैक हो सकता था।

स्थानों पर जाने की अनुमति देने का अनुरोध किया

अकांशु उपाध्याय        
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने मंगलवार को आम आदमी पार्टी की सरकार को उस प्रतिवेदन पर फैसला लेने का निर्देश दिया। जिसमें श्रद्धालुओं को कोविड-19 संबंधी नियमों का सख्ती से पालन करते हुए धार्मिक स्थानों पर जाने की अनुमति देने का अनुरोध किया गया है।
मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति ज्योति सिंह की पीठ ने गैर सरकारी संगठन ‘डिस्ट्रेस मैनेजमेंट कलेक्टिव’ की याचिका पर सुनवाई करते हुए आदेश दिया, ”हम संबंधित प्रतिवादी प्राधिकारियों को मामले में लागू कानून, नियमों, नियमनों और सरकारी नीति के अनुसार 25 जुलाई 2021 के प्रतिवेदन पर फैसला करने का निर्देश देते हैं।
याचिकाकर्ता की ओर से पेश वकील ने कहा कि कोविड-19 के मामलों में ”अच्छी-खासी कमी” को देखते हुए प्राधिकारियों ने मॉल, जिम और स्पा समेत कई स्थानों को खोलने की अनुमति दे दी लेकिन दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के 30 अगस्त के ताजा आदेश में भी धार्मिक स्थानों को नहीं खोला गया।
उन्होंने कहा, ”धार्मिक स्थान खुल सकते हैं लेकिन आम जनता को आने की अनुमति नहीं है…मैंने श्रद्धालुओं को आने की अनुमति देने का प्रतिवेदन 40 दिन पहले भेजा था।” दलीलों पर सुनवाई के बाद अदालत ने कहा, ”हम उन्हें इस मुद्दे पर फैसला करने का निर्देश दे रहे हैं।”
वकील रॉबिन राजू के जरिए दायर की याचिका में याचिकाकर्ता ने कहा कि ”ऑनलाइन पूजा करने की सेवा देने से वैसा अनुभव नहीं मिल सकता जो” जो शारीरिक रूप से जाकर दर्शन करने में मिलता है और श्रद्धालुओं पर जारी पाबंदी से ”ऐसा लगता है कि प्राधिकारी धार्मिक स्थलों को केवल पूजा स्थलों के तौर पर देखते हैं न कि जरूरत के तौर पर।” साथ ही याचिका में कहा गया है कि धार्मिक स्थलों पर श्रद्धालुओं के आने पर पाबंदी लगाना गैर कानूनी और मनमाना है तथा यह भारत के संविधान के अनुच्छेद 25 का उल्लंघन है।

50 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग को ठुकराया

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। 60 साल से कम आयु में मरने वाले वकीलों के परिवार को 50 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग सुप्रीम कोर्ट ने ठुकरा दी है। कोर्ट ने याचिका दाखिल करने वाले वकील को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि उसने प्रचार के उद्देश्य से ऐसी याचिका दाखिल की है। जजों ने यह भी कहा कि अगर कोई काले कोट में है, इसका मतलब यह नहीं कि उसकी जान दूसरों से ज्यादा कीमती है। कोर्ट ने याचिका को बेकार बताते हुए याचिकाकर्ता पर 10 हज़ार रुपए का हर्जाना भी लगाया।
मामले पर याचिका वकील प्रदीप कुमार यादव ने दाखिल की थी। उनका कहना था कि वकील सिर्फ अपने पास आने वाले मुकदमों से ही आय अर्जित करते हैं। उनकी आमदनी का कोई दूसरा साधन नहीं होता। वकील समाज की सेवा के लिए 24 घंटे तत्पर रहते हैं लेकिन उन्हें कई तरह की परेशानियां उठानी पड़ती हैं। यहां तक कि अधिकतर मकान-मालिक अपने यहां किसी वकील को किराएदार नहीं रखना चाहते।
याचिकाकर्ता ने यह भी कहा था कि हर साल जिला अदालतों से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक लाखों मुकदमे दाखिल होते हैं।  हर मुकदमे के दाखिल होते समय अधिवक्ता कल्याण कोष के लिए भी लगभग ₹25 का स्टांप लगाया जाता है। पर जब कोई वकील दिक्कत में होता है, तो इस कोष का उसे कोई लाभ नहीं मिल पाता। अलग-अलग बार एसोसिएशन और बार काउंसिल वकील की सहायता के लिए सामने नहीं आते। इसलिए, इस फंड का सही उपयोग यही होगा कि 60 साल से कम उम्र में कोई वकील मरे, तो उसके लिए 50 लाख रुपए मुआवजा मिले। वकील की मौत कोरोना या दूसरे किसी भी कारण से हो, परिवार को मुआवजा दिया जाना चाहिए।
आज यह मामला जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़, विक्रम नाथ और भी बी वी नागरत्ना की बेंच में लगा। जज याचिका से बिल्कुल भी आश्वस्त नजर नहीं आए। बेंच के अध्यक्ष जस्टिस चंद्रचूड़ ने नाराजगी जताते हुए कहा, अब समय आ गया है कि हमें इस तरह के फर्जी पीआईएल को रोकने के लिए कुछ करें। आपकी याचिका में एक भी बात ऐसी नहीं है जिस पर विचार करने की जरूरत है। आप समझते हैं कि आप कहीं से भी कट और पेस्ट कर याचिका दाखिल कर देंगे और जज उसे नहीं पढ़ेंगे, तो ऐसा नहीं होता है। कोर्ट ने आगे कहा कहा कि पिछले दिनों बड़ी संख्या में लोगों की जान गई है। सब के जीवन का समान महत्व है। वकीलों को अपवाद की तरह नहीं देखा जा सकता है।

प्रदेश के कई इलाकों में जलभराव की स्थिति बनीं

दुष्यंत टीकम         
रायपुर। छत्तीसगढ़ में हो रही लगातार बारिश से प्रदेश के कई इलाकों में जलभराव की स्थिति बन गई है। सोमवार को रायपुर में 68.2 मिमी बारिश हुई है। ये इस सीजन की अब तक की सबसे अतिभारी बारिश मानी जा रही है। प्रदेश भर के कई नदी-नाले उफान पर हैं। जिसके चलते कई जलप्रपात भी आकर्षण का केंद्र बने हुए हैं। प्रदेश के कई मंदिरों के गर्भगृह में भी पानी भर गया है। कई इलाकों में घरों और पुलिस थानों में भी जलभराव की स्थिति देखी जा रही है।
वहीं, गरियाबंद जिले के घटारानी जलप्रपात भी इन दिनों पूरे शबाब पर है। पिछले दो दिनों से अंचल सहित क्षेत्र में दिन रात हो रही लगातार बारिश के चलते माँ घटारानी का जलप्रपात लोगों को मंत्र मुग्ध कर आकर्षित कर रहा है। यहां पहाड़ों से होकर गिरने वाली तेज धार की शक्ल झरने में तब्दील हो गया है। जो अब लोगों के लिए आकर्षण का केंद्र बन गया है। यही वजह है कि अंचल सहित प्रदेश भर के दूर-दराज से लोग धार्मिक स्थल माँ घटारानी के दर्शन के साथ प्राकृतिक सौंदर्य का लुत्फ उठाने यहां पहुँच रहे हैं।


सड़क किनारे मौजूद सेंटर में डोसा का स्वाद चखा

कविता गर्ग       
मुबंई। साउथ सिनेमा के सुपरस्टार अल्लू अर्जुन अपनी फिल्मों के अलावा अपने डाउन टू अर्थ स्वभाव के लिए भी जाने जाते हैं। हाल ही में एक्टर फ‍िल्म पुष्पा की शूट‍िंग के लिए आंध्र प्रदेश स्थ‍ित जंगल से होकर जा रहे थे। इस दौरान अल्लू अर्जुन ने सड़क किनारे मौजूद एक छोटे से ट‍िफ‍िन सेंटर में डोसा का स्वाद चखा। उनका यह वीड‍ियो सोशल मीड‍िया पर वायरल हो रहा है।
रिपोर्ट्स के मुताबिक फिल्म के डायरेक्टर सुकुमार ने जंगल में एक लंबे शेड्यूल का प्लान बनाया है। हालांकि भारी वर्षा के कारण शूट लोकेशन को बदलकर काक‍िनाडा कर दिया गया। इसी बीच जब अल्लू अर्जुन ट्रैवल कर रहे थे तब उन्होंने सड़क किनारे डोसा का लुत्फ उठाया। डोसा खाने के बाद उन्होंने ट‍िफ‍िन सेंटर के माल‍िक को एक हजार रुपये दिए जिसे ओनर ने लेने से मना कर दिया।
 बातचीत में अल्लू अर्जुन को ट‍िफिन सेंटर के माल‍िक की खराब आर्थ‍िक स्थ‍ित‍ि का पता चला। एक्टर ने बिना किसी देरी के उनके आगे मदद का प्रस्ताव रखा और उन्हें हैदराबाद आने को कहा। इतने बड़े सुपरस्टार का यह सौम्य स्वभाव और उनकी दर‍ियादिली ने सभी का दिल जीत लिया है। फैंस अपने पसंदीदा एक्टर की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं।
बता दें सुकुमार के निर्देशन में बन रही फिल्म पुष्पा में अल्लू अर्जुन, रश्म‍िका मंधाना और फहद फास‍िल दो हिस्से में बनाया जाएगा। यह फिल्म क्रिसमस में रिलीज होने को तैयार है। दिलचस्प बात ये है कि क्रिसमस पर आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्ढा भी थ‍िएटर्स में रिलीज होगी। इन दोनों ही सुपरस्टार्स की फिल्मों का यह क्लैश देखने लायक होगा।

फैशन सेन्स की वजह से सुर्खियों में रहती हैं परिणिति

कविता गर्ग         
मुबंई। बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणीति चोपड़ा अक्सर अपने लुक्स और फैशन सेन्स की वजह से सुर्खियों में रहती हैं।हाल ही में उन्होंने इंस्टाग्राम पर कुछ तस्वीरें शेयर की हैं।जिनमें वह अपने जूतों का कलेक्शन दिखा रही हैं। सोशल मीडिया पर उनकी ये तस्वीरें तेजी से वायरल हो रही हैं।
इस तस्वीर में उनका काफी बड़ा जूतों का कलेक्शन दिख रहा है। इस तस्वीर के साथ परिणीति ने कैप्शन लिखा, " बस पांच मिनट में तैयार। एक्ट्रेस की इन तस्वीरों पर कई सेलेब्स ने अपना रिएक्शन दिया है। 
परिणीति ने एक और तस्वीर शेयर की, जिसमें वह सोफे के नजर आ रही हैं। परिणीति के लुक्स उनके फैंस जमकर अपना रिएक्शन दे रहे हैं। परिणीति को जूतों का कलेक्शन रखना बेहद पसंद है। वह लगभग हर ब्रांड के जूते यूज करती हैं।
परिणीति को अक्सर अलग अलग जूतों में स्पॉट किया जाता है। एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि उन्हें जूतों का कलेक्शन रखना पसंद है। परिणीति समय समय पर फैंस के साथ अपनी तस्वीरें शेयर करती रहती हैं।
हाल ही में परिणीति फिल्म 'संदीप और पिंकी फरार', 'सायना' और 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' में नजर आईं थीं। वह जल्दी ही रणबीर कपूर के साथ फिल्म 'एनिमल' में नजर आएंगी।




एमपी: तीन साथियों को 8.22 कैरेट का हीरा मिला

मनोज सिंह        
भोपाल। मध्यप्रदेश के पन्ना जिले की एक खदान में एक मजदूर और उसके तीन साथियों को 15 साल के इंतजार के बाद 8.22 कैरेट का हीरा मिला है। स्थानीय विशेषज्ञों का कहना है कि हीरे की कीमत 40 लाख रुपये तक हो सकती है और अधिकारियों के अनुसार, ऐसे कच्चे हीरों की नीलामी से होने वाली आय सरकारी रॉयल्टी और करों की कटौती के बाद संबंधित खनिकों को दी जाएगी।
पन्ना कलेक्टर संजय कुमार मिश्रा ने संवाददाताओं को बताया कि रतनलाल प्रजापति और उनके सहयोगियों ने जिले के हीरापुर तपरिया इलाके में पट्टे पर दी गई जमीन से 8.22 कैरेट का हीरा निकाला और उसे हीरा कार्यालय में जमा कर दिया। उन्होंने कहा कि हीरे को अन्य रत्नों के साथ 21 सितंबर को नीलामी के लिए रखा जाएगा।
रत्नलाल प्रजापति के सहयोगियों में से एक रघुवीर प्रजापति ने सरकारी कार्यालय में कीमती पत्थर जमा करने के बाद संवाददाताओं से कहा कि उन्होंने हीरे खोजने के लिए पिछले 15 साल विभिन्न खदानों में उत्खनन में बिताए हैं, लेकिन उन्हें पहली बार सफलता मिली है।
उन्होंने कहा हमने पिछले 15 वर्षों से विभिन्न क्षेत्रों में छोटी खदानें लीज पर लीं, लेकिन एक भी हीरा नहीं मिला। इस साल, हम पिछले छह महीनों से हीरापुर तपरिया में एक पट्टे की जमीन पर खनन कर रहे हैं और 8.22 कैरेट वजन का हीरा पाकर हैरान हैं। खनिक ने कहा कि वह और उसके साथी हीरे की नीलामी से प्राप्त धन का उपयोग अपने बच्चों को बेहतर जीवन और शिक्षा प्रदान करने के लिए करेंगे।

फिल्म टाइगर 3 की शूटिंग के लिए तुर्की में सलमान

कविता गर्ग            
मुबंई। बॉलीवुड एक्टर सलमान खान इन दिनों अपनी फिल्म टाइगर 3 की शूटिंग के लिए तुर्की में हैं। उन्होंने रविवार रात की शूटिंग खत्म करने के बाद अपने कुछ फैन्स के साथ जमकर पार्टी की। सलमान खान के फैन पेज पर इस पार्टी का वीडियो शेयर किया गया है। वीडियो में सलमान अपने फैंस और दोस्तों संग 'जीने के हैं चार दिन' पर नाचते हुए नजर आ रहे हैं।  सोशल मीडिया पर यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है।
वीडियो में देखा जा सकता है कि सलमान के साथ उनके फैन्स भी जमकर डांस कर रहे हैं। सलमान इस पार्टी में ब्लू शर्ट, ब्लू पैंट, ब्लैक लेदर जैकेट और बेरी पहने नजर आ रहे हैं. इस दौरान उन्होंने फेमस टॉवल-टू-द-क्रॉच डांस स्टेप भी किया। उनके आसपास के लोगों ने सीटी बजाई और उनके लिए चीयर भी किया। सलमान के फैंस इस वीडियो पर जमकर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। हाल ही में उन्होंने तुर्की से एक फोटो भी इंस्टाग्राम पर शेयर किया था।
सलमान बहुत जल्द बिग बॉस 15 को भी होस्ट करने वाले हैं। इसके कई प्रोमो भी सोशल मीडिया पर सामने आ चुके हैं। फिलहाल शो का एक डिजिटल स्पिन-ऑफ, बिग बॉस ओटीटी को वूट ऐप पर टेलीकास्ट किया जा रहा है. इस शो को करण जौहर होस्ट कर रहे हैं।
सलमान और कैटरीना इस समय तुर्की में टाइगर 3 की शूटिंग कर रहे हैं। फिल्म में इमरान हाशमी भी अहम भूमिका में नजर आने वाले हैं। इसके लिए उन्होंने रूस में कुछ हिस्सों की शूटिंग पहले ही पूरी कर ली है। वे अगले शेड्यूल के लिए ऑस्ट्रिया जाने वाले हैं। फिल्म में सलमान रिसर्च एंड एनालिसिस विंग एजेंट टाइगर के रूप में वापसी करेंगे, जबकि कैटरीना पाकिस्तानी खुफिया एजेंट जोया की भूमिका निभाएंगी।

खेल: 19 सितंबर से होगी दूसरे चरण की शुरुआत

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग- 14 के दूसरे चरण की शुरुआत 19 सितंबर से होगी। इस दौरान टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली एक बड़ा रिकॉर्ड अपने कर सकते हैं। दरअसल, कोहली टी20 क्रिकेट में दस हजार रन के काफी करीब हैं और वह 71 रन बनाते ही इस आंकड़े तक पहुंच जाएंगे। गौरतलब है कि भारत का कोई भी बल्लेबाज अब तक टी20 क्रिकेट में दस हजार रन के आंकड़े को नहीं छू सका है।
रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान कोहली ने अबतक 311 टी20 मैचों में 9,929 रन बनाए हैं। जिसमें पांच शतक और 72 अर्धशतक शामिल रहे। इस दौरान कोहली का एवरेज 41.71 और स्ट्राइक रेट 133.95 का रहा है। कोहली के बाद मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा टी20 क्रिकेट में सबसे रन बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं। रोहित के नाम अब तक 350 टी20 मैचों 32.12 की औसत से 9315 रन दर्ज हैं। इस दौरान उन्होंने छह शतक और 65 अर्धशतक जड़े हैं। टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड कैरिबियाई बल्लेबाज क्रिस गेल के नाम है। गेल ने अबतक 444 टी20 मैचों में 37.02 की औसत से 14,219 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से 22 शतक और 87 अर्धशतक निकले हैं।
वेस्टइंडीज के ही कीरोन पोलार्ड 560 मैचों में 11,133 रन बनाकर इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं। इस सूची में तीसरा स्थान पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शोएब मलिक का है, जिन्होंने अब तक 435 टी20 मैचों में 10,802 रन बनाए हैं. वहीं, ऑस्ट्रेलियाई ओपनर डेविड वॉर्नर 10,017 रनों के साथ चौथे और विराट कोहली पांचवें नंबर पर काबिज हैं। आईपीएल में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड विराट कोहली के ही नाम है। कोहली ने अब तक 199 मैचों में 37.97 की औसत से 6,076 रन बनाए हैं, जिसमें 5 शतक और 40 अर्धशतक शामिल रहे।
दिल्ली कैपिटल्स के ओपनर शिखर धवन इस सूची में दूसरे नंबर पर हैं। धवन के नाम पर अब तक 184 मैचों में 35.29 की औसत से 5,577 रन दर्ज हैं। धवन ने इस दौरान दो शतक और 44 अर्धशतक लगाए हैं। इस लिस्ट में तीसरा स्थान चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाज सुरेश रैना का है। रैना ने अब तक 200 मैचों में 33.07 की औसत से 5,491 रन बनाए हैं, जिसमें एक शतक और 39 अर्धशतक शामिल रहे

श्रम विभाग: मजदूरों के लिए कई योजनाएं शुरू की

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। हैल्लो दोस्तों आज हम आप लोगो को इस आर्टिकल में  श्रमिक कार्ड/मजदूर कार्ड/लेबर कार्ड बनवाने के फायदे एवं उनको कैसे बनवाया जाता है।इसकी जानकारी लेकर आये है। लॉक डाउन के समय आज कल सभी राज्य लेबर रजिस्ट्रशन करा रहे है। यदि आप भी मजदूरी करते है तो आप घर बैठे ही श्रमिक कार्ड बनवाने हेतु ऑनलाइन पंजीयन करा सकते है। मजदूर कार्ड के फायदे एवं एवं उनको बनवाने की प्रक्रिया को आप जानना चाहते है तो कृपया इस पोस्ट को अंत तक अवश्य पढ़ें।
श्रमिक कार्ड असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूर श्रमिक कार्ड का लाभ ले सकते है। देश में श्रम विभाग द्वारा मजदूरों के लिए कई योजनाएं शुरू की गयी है। जिसका लाभ असंगठित क्षेत्रो में काम करने वाले मजदूर ले सकते है। श्रमिक कार्ड धारी मजदूरों को शासन के विभिन्न योजनाओं का लाभ मिलता है। श्रमिक कार्ड धारी मजदूरों को सरकार द्वारा वित्तीय मदद सीधे उनकी खाते में कर दिया जाता है। हर राज्य में मजदूर अपने राज्य के श्रम विभाग के वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीयन करा सकते है। श्रमिक कार्ड को लेबर कार्ड,मजदुर कार्ड आदि नाम से जाना जाता है।

वनरक्षक 894 पदों में भर्ती विज्ञापन जारी किया

पंकज कपूर         
देहरादून। वन विभाग के अंतर्गत वनरक्षक के पदों में नौकरी हेतु आवेदन करने के इच्छुक अभ्यर्थियों के पास सुनहरा अवसर है। क्योंकि अभी हाल ही उत्तराखंड अधीनस्थ चयन आयोग ने वनरक्षक 894 पदों में भर्ती विज्ञापन जारी कर भारतीय नागरिकों आवेदन आमंत्रित किया है। यदि आप भी उक्त पदों में नौकरी हेतु आवेदन करने के इच्छुक है तो कृपया विभाग द्वारा जारी विभागीय नोटिफिकेशन को पहले अच्छे से पढ़ें उकसे बाद अर्हता होने पर ही ऑनलाइन आवेदन करें। 
विभाग द्वारा जारी विज्ञापन अनुसार 894 पदों में भर्ती हेतु केवल ऑनलाइन आवेदन किया जा सकेगा। आवेदक को  विभागीय वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करने  लिए 24 अगस्त से 07 अक्टूबर 2021 तक का समय निर्धारित किया गया है। उत्तराखंड अधीनस्थ चयन बोर्ड द्वारा आयोजित समूह - ग  के अंतर्गत भर्ती विज्ञापन जारी किया है। उक्त पदों में नियमानुसार सभी राज्यों के अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन कर भर्ती प्रक्रिया में भाग ले सकते है। आवेदन के सम्बन्ध में अन्य सभी जानकारी को नीचे क्रमश। देख सकते है। 

उड़ान भरें एयर इंडिया के विमान से टकराया पक्षी

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली के लिए उड़ान भर रहे एयर इंडिया के विमान से अचानक पक्षी टकरा गया। जिससे विमान के भीतर बैठे यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में फ्लाइट से सभी यात्रियों को सुरक्षित उतारा गया। बताया जा रहा है कि एयर इंडिया कि इस फ्लाइट में केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह भी सवार थी।
मंगलवार को छत्तीसगढ़ के रायपुर स्थित एयरपोर्ट पर एक बड़ा हादसा होने से बच गया। एयर इंडिया की फ्लाइट ने जैसे ही राजधानी दिल्ली के लिए रनवे से उड़ान भरी, वैसे ही आसमान में मंडरा रहा एक पक्षी विमान से टकरा गया। पक्षी के विमान से टकराते ही भीतर बैठे यात्रियों में अनहोनी की आशंका से अफरा तफरी मच गई। आनन-फानन में विमान को रनवे पर उतारा गया और भीतर बैठे यात्रियों को सुरक्षित तरीके से बाहर निकाला गया। बताया जा रहा है कि पक्षी से टकराने वाले एयर इंडिया के इस विमान में केंद्रीय जनजाति विकास राज्यमंत्री रेणुका सिंह भी सवार थी जो छत्तीसगढ़ से चलकर राजधानी दिल्ली जा रही थी। बताया जा रहा है कि मंगलवार को यह घटना सवेरे तकरीबन 10.00 बजे रनवे नंबर 24 पर हुई। एयर इंडिया के पायलट ने सूझबूझ दिखाते हुए पक्षी के विमान से टकराने के बाद फ्लाइट को नीचे उतारा और सभी यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। इसके बाद इंजीनियरों द्वारा एयर इंडिया के विमान की जांच की जा रही है कि कहीं उसमें कोई तकनीकी खराबी तो नहीं आई है। हादसा टलने से लोगों ने राहत की सांस ली है।

प्रियंका ने विधानसभा चुनाव को लेकर बुलाई बैठक

हरिओम उपाध्याय      
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अपना तीन दिवसीय दौरा समाप्त करने के बाद राजधानी दिल्ली पहुंची कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने वर्ष 2022 में होने वाले उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर मंगलवार को बैठक बुलाई है।
मंगलवार को कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा राजधानी दिल्ली में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर एक महत्वपूर्ण बैठक बुलाई गई है। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की अध्यक्षता में होने वाली इस बैठक में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद समेत 9 सदस्यों को आमंत्रित किया गया है। बताया जा रहा है कि बीते दिनों उत्तर प्रदेश के दौरे के दौरान संगठन के सभी जोनवार पदाधिकारियों के साथ चुनाव को लेकर की गई चर्चा के बाद राजधानी में होने वाली बैठक में अहम मंथन किया जाएगा।
राजधानी में होने वाली बैठक में वर्ष 2022 में होने वाले चुनाव की तैयारियों में जुटी उत्तर प्रदेश कांग्रेस की टीम को कैसे और किस प्रकार धार दी जाए, इस मुद्दे को लेकर गहनता के साथ मंथन किया जाएगा। राजधानी दिल्ली में दोपहर बाद होने वाली इस बैठक में कांग्रेस के घोषणा पत्र को लेकर भी गंभीरता के साथ चर्चा की जाएगी।
कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव एवं उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा उत्तर प्रदेश के मतदाताओं में पैठ जमाने के लिए और क्या किया जा सकता है? इस बात को लेकर भी मंथन करेंगी। इसके अलावा बैठक के दौरान देश में सुरसा के मुंह की तरह बढ़ती महंगाई के मुद्दे और किसान आंदोलन को लेकर भी चर्चा की जाएगी।

हिंदी रीमेक में मल्होत्रा के साथ काम करेंगें राजकुमार

कविता गर्ग            
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता राजकुमार राव सुपरहिट तेलुगू फिल्म हिट के हिंदी रीमेक में सान्या मल्होत्रा के साथ काम करते नजर आयेंगे।
राजकुमार राव अपनी आने वाली फिल्म हिट को लेकर चर्चा में हैं और उन्‍होंने इस पर काम भी शुरू कर दिया है। सान्‍या मल्‍होत्रा के साथ राजकुमार तेलुगू थ्रिलर 'हिट' के हिंदी रीमेक में नजर आएंगे। तेलुगू थ्रिलर हिट में विश्‍वाक सेन लीड रोल में नजर आए थे और इसकी कहानी एक ऑफिसर के इर्द-गिर्द थी जो होमिसाइड इंटरवेन्‍शन टीम (हिट) का हिस्‍सा होता है और एक गायब हो चुकी महिला के रेस्‍क्‍यू के लिए वह सबकुछ करता है।
टी-सीरीज के ऑफिशल सोशल मीडिया हैंडल से अनाउंस किया गया कि फिल्‍म पर काम शुरू हो गया है। फिल्‍म को लेकर सान्‍या भी काफी एक्‍साइटेड हैं और उन्‍होंने अपनी इंस्‍टाग्राम स्‍टोरी में लिखा कि वह टीम के साथ जुड़ने का बेसब्री से इंतजार कर रही हैं।

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.61 पर पहुंचा रुपया

कविता गर्ग           
मुंबई। घरेलू शेयर बाजारों में सकारात्मक रुख और विदेशी कोष के निरंतर प्रवाह के बीच मंगलवार को शुरुआती कारोबार में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले सात पैसे चढ़कर 73.61 पर पहुंच गया। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया डॉलर के मुकाबले 73.62 पर खुला और फिर पिछले बंद भाव के मुकाबले सात पैसे की बढ़त दर्ज करते हुए 73.61 पर आ गया। शुरुआती सौदों में रुपया अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले गिरकर 73.65 पर पहुंच गया था।
रुपया सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 73.68 पर बंद हुआ था। इस बीच छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.10 प्रतिशत गिरकर 92.58 पर आ गया। विदेशी संस्थागत निवेशक सोमवार को पूंजी बाजार में शुद्ध खरीदार थे।
शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार उन्होंने 1,419.31 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। घरेलू शेयर बाजार के मोर्चे पर, 30 शेयरों वाला बीएसई सेसेंक्स 244.08 अंक या 0.42 प्रतिशत की बढ़त के साथ 58,421.84 पर कारोबार कर रहा था। इसी तरह, व्यापक एनएसई निफ्टी 70.75 अंक या 0.41 प्रतिशत की तेजी के साथ 17,426.05 पर कारोबार कर रहा था। वहीं वैश्विक तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड वायदा 0.75 प्रतिशत बढ़कर 74.06 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

शिकायतों को खत्म करने की कोशिश, जवाब दिया

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने अफगानिस्तान से सेना वापस बुलाने के तरीके पर रिपब्लिकन सांसदों की आलोचना का जवाब देते हुए कहा कि जो बाइडन प्रशासन को युद्ध को खत्म करने के लिए तालिबान के साथ समझौता विरासत में मिला लेकिन इसके लिए कोई योजना नहीं मिली थी।
सदन की विदेश मामलों की समिति के समक्ष सोमवार को सुनवाई के दौरान ब्लिंकन ने अफगान सरकार के अचानक गिरने को लेकर नाराज सांसदों की शिकायतों को खत्म करने की कोशिश करते हुए जवाब दिया और खासतौर से अमेरिकियों तथा अन्य लोगों को बाहर निकालने के लिए विदेश विभाग के कदमों की जानकारी दी। उन्होंने सोमवार को कहा, ”हमें समयसीमा विरासत में मिली। हमें कोई योजना विरासत में नहीं मिली।” उन्होंने कहा कि प्रशासन ने 20 साल के युद्ध को खत्म करके सही चीज की।
विदेश मंत्री ने कहा, ”हमने अमेरिका के सबसे लंबे युद्ध को खत्म करके सही फैसला किया।” वह मंगलवार को सीनेट की विदेश संबंधों की समिति के समक्ष पेश होंगे। रिपब्लिकन सांसदों ने अफगानिस्तान से अमेरकी सेना की वापसी की प्रक्रिया को ”तबाही और अपमान” बताया। कुछ डेमोक्रेट्स सांसदों ने कहा कि यह अभियान बेहतर तरीके से चलाया जा सकता था जबकि कई अन्य ने पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की आलोचना की।
विदेश विभाग को अमेरिकी नागरिकों, वैध निवासियों और खतरे में पड़े अफगान नागरिकों को अफगानिस्तान से बाहर निकालने के लिए पर्याप्त और तेजी से कदम न उठाने के लिए आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। तालिबान ने अफगानिस्तान की सत्ता पर 15 अगस्त को कब्जा जमाया था। ब्लिंकन ने बताया कि करीब 100 अमेरिकी नागरिक अफगानिस्तान में फंसे हुए हैं जिन्होंने देश से बाहर निकाले जाने की इच्छा जतायी है।
साथ ही ”कई हजार” ग्रीन कार्ड धारक भी देश में हैं। रिपब्लिकन सांसदों के सवालों से पहले रिपब्लिकन नेशनल कमिटी ने सोमवार को ”ब्लिंकन को बर्खास्त करो” बैनर के साथ एक बयान जारी कर मांग की कि उन्हें बार-बार की नाकामियों के लिए जिम्मेदार ठहराया जाए।
रिपब्लिकन पार्टी के सांसदों की समिति ने कहा, ”ब्लिंकन के अफगानिस्तान की स्थिति से बेहद खराब तरीके से निपटने और कमजोर नेतृत्व ने अमेरिकी लोगों की जान खतरे में डाल दी और कुछ अमेरिकी अब भी अफगानिस्तान में फंसे हुए हैं।” ब्लिकंन को बाइडन का बेहद करीबी माना जाता है लेकिन अफगानिस्तान से सेना को वापस बुलाने के प्रशासन के तरीके को लेकर रिपब्लिकन ही नहीं बल्कि डेमोक्रेट सांसद भी उनकी आलोचना कर रहे हैं।

सेंसेक्स में 180 अंक से अधिक की उछाल आईं

कविता गर्ग                 
मुंबई। खुदरा मुद्रास्फीति में नरमी की वजह से बाजार में लिवाली की भावना बढ़ने से मंगलवार को शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स में 180 अंक से अधिक की उछाल आयी। शेयर दलालों ने कहा कि इसके अलावा दूसरे एशियाई बाजारों में मजबूती के रुख से भी घरेलू शेयर बाजार में तेजी आयी। मंगलवार सुबह 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 186.98 अंक या 0.32 प्रतिशत की तेजी के साथ 58,364.74 पर कारोबार कर रहा था। 54.65 अंक या 0.31 प्रतिशत की तेजी के साथ 17,409.95 पर पहुंच गया। सेंसेक्स में बजाज फाइनेंस 0.78 प्रतिशत की बढ़त के साथ शीर्ष पर रहा। इसके बाद डॉ रेड्डीज, कोटक बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, इंडसइंड बैंक, सन फार्मा, एक्सिस बैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज का स्थान रहा। वहीं इंफोसिस, बजाज ऑटो, पावरग्रिड और अल्ट्राटेक सीमेंट के शेयरों को नुकसान हुआ। सब्जियों जैसे खाद्य पदार्थों की कीमतों में गिरावट की वजह से खुदरा मुद्रास्फीति लगातार तीसरे महीने अगस्त में घटकर 5.3 प्रतिशत हो गयी। उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) आधारित खुदरा मुद्रास्फीति अगस्त में घटकर 5.3 प्रतिशत हो गयी, जो एक साल पहले इसी महीने में 6.69 प्रतिशत थी।

वहीं खाद्य मुद्रास्फीति अगस्त 2020 के 9.05 प्रतिशत से बहुत तेजी से घटकर 3.11 प्रतिशत हो गयी। पिछले सत्र में सेंसेक्स 127.31 अंक या 0.22 प्रतिशत की गिरावट के साथ 58,177.76 पर बंद हुआ था। वहीं व्यापक एनएसई निफ्टी 13.95 अंक या 0.08 प्रतिशत गिरकर 17,355.30 पर बंद हुआ था।

एशिया में शंघाई, सियोल, टोक्यो और हांगकांग के शेयर बाजार मध्य सत्र सौदों में लाभ के साथ कारोबार कर रहे थे। विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) पूंजी बाजार में शुद्ध खरीदार थे और अस्थायी विनिमय आंकड़ों के अनुसार उन्होंने सोमवार को 1,419.31 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.44 प्रतिशत बढ़कर 73.83 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

देश में संक्रमितों की संख्या-3,32,89,579 हुईं

अकांशु उपाध्याय         
नई दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 25,404 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,32,89,579 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या कम होकर 3,62,207 रह गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 339 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,43,213 हो गई।
उपचाराधीन मरीजों की संख्या कम होकर 3,62,207 हो गई है, जो कुल मामलों का 1.09 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में कुल 12,062 मामलों की कमी आई। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 97.58 प्रतिशत है। आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक कुल 54,44,44,967 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है, जिनमें से 14,30,891 नमूनों की जांच सोमवार को की गई।
दैनिक संक्रमण दर 1.78 प्रतिशत है, जो पिछले 15 दिन से तीन प्रतिशत से कम बनी है। वहीं, साप्ताहिक संक्रमण दर 2.07 प्रतिशत है, जो पिछले 81 दिन से तीन प्रतिशत से कम है। देश में अभी तक कुल 3,24,84,159 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और कोविड-19 मृत्यु दर 1.33 प्रतिशत है। आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की कुल 75.22 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी।

वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे।

यूके: नंबर स्विच ऑफ करने का अभियान शुरू हुआ

पंकज कपूर             
देहरादून। ऊर्जा निगमों के कर्मचारियों और धामी सरकार के बीच बनती दिख रही सहमति अब टूट के करार पर नजर आ रही है। ऊर्जा निगमों के कर्मचारियों ने 14 सूत्री माँगों पर आश्वासन के बावजूद प्रगति न हो पाने से ख़फ़ा होकर नए सिरे से आंदोलन का बिगुल फूँक दिया है। ऊर्जा निगम कार्मिकों ने शनिवार से रोज शाम पांच बजे से अगले दिन सुबह 10 बजे तक सरकारी मोबाइल नंबर स्विच ऑफ करने का अभियान भी शुरू हो गया है।
इसके अलावा कार्मिकों ने हफ्ते में दो दिन गेट मीटिंग और 23, 25, व 27 सितंबर को सत्याग्रह करने का ऐलान कर दिया है। इसके बाद भी सरकार माँगों पर मुहर नहीं लगाती है तो कार्मिकों ने 6 अक्तूबर से हड़ताल पर जाने का एलान किया गया। कर्मचारियों ने धामी सरकार को चेताया है कि जब तक लंबित समस्याओं पर कार्रवाई नहीं होती, आंदोलन जारी रहेगा।
शनिवार को देहरादून सहित तमाम जिलों में तीनों ऊर्जा निगमों के कर्मचारियों ने पावर हाउस, बांध, बैराज, ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन और उत्तराखंड पावर कॉरपोरेशन के विभिन्न बिजली घरों पर 10 बजे से 12 बजे तक गेट मीटिंग की। ज्ञात हो कि जुलाई में सहमति के बावजूद सरकार माँगों पर फैसला लेने को आगे नहीं बढ़ पाई तो विद्युत अधिकारी कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा ने 31 अगस्त से आंदोलन छेड दिया था।

पहाड़ी जिलों में तैनाती सुनिश्चित करने के आदेश दिए

पंकज कपूर           
देहरादून। लेकिन, कोरोना काल के चलते शासन द्वारा शून्य सत्र का हवाला देते हुए इस ट्रांसफर कार्रवाई पर रोक लगाई गई थी। हालांकि, पिछले सप्ताह ही उत्तराखंड शासन ने इस ट्रांसफर आदेश पर रोक हटाते हुए इसे बहाल करने की अनुमति दे दी थी। ऐसे में इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए सोमवार को पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार द्वारा कार्मिक आईजी और गढ़वाल डीआईजी सहित संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर हर हाल में सितंबर महीने के अंत तक सभी संबंधित ट्रांसफर पुलिस कर्मियों को पहाड़ी जिलों में तैनाती सुनिश्चित करने के आदेश दिए हैं।
जानकारी के मुताबिक मैदानी से पहाड़ी और पहाड़ से मैदानी जिलों में दारोगा-इंस्पेक्टर के तबादलों की सूची में 15 से 20 ट्रांसफर कर्मियों ने अपने व्यक्तिगत पारिवारिक व अन्य मेडिकल संबंधित समस्याओं का हवाला देते मुख्यालय कार्मिक को प्रार्थना पत्र देकर ट्रांसफर रोकने का आग्रह किया है। ऐसे में इस विषय पर ईटीवी भारत को मिली जानकारी के मुताबिक ट्रांसफर आपत्ति प्रार्थना पत्रों का आकलन करने पर लगभग 2 फीसदी पुलिस कर्मियों को ही बेहद व्यक्तिगत समस्याओं के कारण पहाड़ चढ़ने के ट्रांसफर आदेश से राहत मिल सकती है। अगले 2 दिन में आ सकता है आदेश। दारोगा-इंस्पेक्टरों के तबादले के संबंध में डीआईजी गढ़वाल नीरू गर्ग का कहना है कि फिलहाल मुख्यालय की तरफ से लिखित आदेश उनको प्राप्त नहीं हुआ है। जैसे ही आदेश प्राप्त होगा उसके तत्काल बाद ही संबंधित पुलिस कर्मियों को ट्रांसफर के लिए रिलीव कर रवाना कर दिया जाएगा। हालांकि, डीआईजी ने यह भी साफतौर पर कहा कि अगले 1 से 2 दिन में इस संबंध में आदेश मिलने की संभावना है, जिसके उपरांत जिन 108 दारोगा और 19 इंस्पेक्टरों को मार्च-अप्रैल महीने में ट्रांसफर आदेश जारी हुए थे, उन्हें संबंधित जिलों में नियमावली अनुसार तैनात किया जाएगा।

चुनाव में उतरने की तैयारी, जुटी वीआईपी पार्टी

हरिओम उपाध्याय         
वाराणसी। लंका सोमवार को वीआईपी पार्टी के वाराणसी अध्यक्ष सुचित कुमार साहनी की अध्यक्षता में लंका सामने घाट स्थित शिव वाटिका लॉन में प्रदेश अध्यक्ष चौधरी लौटनराम निषाद ने वीआईपी मिशन 2022 अपने दमखम पर मजबूती से चुनावी समर में उतरने की तैयारी में जुटी है। अनुसूचित जाति के आरक्षण व निषाद मछुआरों के परम्परागत अधिकारों की बहाली के साथ-साथ सेन्सस 2021 में जातिगत आधार पर जनगणना कराने व सभी स्तरों पर समानुपातिक आरक्षण कोटा की मांग के लिए वीआईपी आगे बढ़ेगी। कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने अपने वायदे के अनुसार 17 अतिपिछड़ी जातियों को अनुसूचित जाति का आरक्षण एवं निषाद मछुआरों का परम्परागत अधिकार नहीं दिया तो 2022 में भाजपा को हराया जायेगा। अब वादा नहीं,अनुसूचित जाति आरक्षण का राजपत्र व शासनादेश चाहिए। प्रदेश अध्यक्ष लौटन राम निषाद ने कहा कि 5 अक्टूबर, 2012 को भाजपा के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी ने फिशरमेन विजन डाक्यूमेन्ट्स जारी करते हुए वायदा किया था कि 2014 में भाजपा की सरकार बनने पर आरक्षण की विसंगती को दूर कर निषाद मछुआरा जातियों को अनुसूचित जाति का आरक्षण दिया व नीली क्रान्ति के माध्यम से आर्थिक विकास किया जायेगा। परन्तु भाजपा ने अभी तक अपना वायदा पूरा नहीं किया। 
   प्रेस  प्रतिनिधियों से बात करते हुए निषाद ने बताया कि मझवार, तुरैहा,गोड़,बेलदार आदि राष्ट्रपति की प्रथम अधिसूचना जो 10 अगस्त,1950 को जारी की गयी, उसमें अनुसूचित जाति में शामिल किया गया। उन्होंने इन जातियों को परिभाषित कर मल्लाह, केवट,मांझी,बियार,धीमर,धीवर, तुरहा,गोडिय़ा,रायकवार,कहार, बाथम आदि को अनुसूचित जाति का आरक्षण का लाभ नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने साफ़ तौर पर कहा कि भाजपा ने वायदा खिलाफी किया तो विधान सभा चुनाव 2022 में निषाद समाज भाजपा को हराने का काम करेगा। जब से उ.प्र. में भाजपा की सरकार बनी है, निषाद समाज के परम्परागत पुश्तैनी पेशों को माफियाओं के हाथों नीलाम किया जा रहा है। मत्स्य पालन व बालू खनन के पेशों पर माफियाओं का एकछत्र राज कायम है। उ.प्र., बिहार,मध्य प्रदेश, झारखण्ड की सरकारों ने मल्लाह,केवट,बिन्द, धीवर,धीमर,कहार,गोडिय़ा, तुरहा,बाथम,रायकवार,राजभर, कुम्हार जाति को अनुसूचित जाति में शामिल करने का प्रस्ताव केन्द्र को भेजा है। परन्तु केन्द्र सरकार ने गम्भीरता से नहीं लिया। आरक्षण नहीं तो मिशन 2022 में वीआईपी का भाजपा से गठबंधन नहीं। उन्होंने सेन्सस 2021 में जातिवार जनगणना व अनुच्छेद-15(4),16(4) के तहत ओ.बी.सी. को कार्यपालिका, विधायिका,न्यायपालिका, पदोन्नति व निजी क्षेत्र के उपक्रमों में समानुपातिक आरक्षण कोटा की मांग की। कहा कि जब पेड़ों, जानवरों व हिजड़ों की जनगणना करायी जाती है तो पिछड़ों और अगड़ों की क्यों नहीं।

सीएम ने वैकल्पिक उर्जा विभाग की समीक्षा की

पंकज कपूर       
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को सचिवालय में उर्जा एवं वैकल्पिक उर्जा विभाग की समीक्षा की। उन्होंने उर्जा निगमों में कार्यों की गुणवत्ता एवं सुधारों के प्रति ध्यान देने के साथ ही योजनाओं के क्रियान्वयन में तेजी लाये जाने के लिये सामुहिक जिम्मेदारी के साथ कार्य करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्यों की धीमी प्रगति के लिये अधिकारियों की जिम्मेदारी भी निर्धारित कर ‘‘की परफारमेंस इंडिकेशन से इसे जोड़ा जाय। 
 मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने निर्देश दिये कि उर्जा निगमों के कार्यकलापों में तेजी लाये जाने तथा गुणात्मक सुधार के लिये टेक्निकल परफारमेंस आदि में व्यवस्था बनायी जाय। उन्होंने उर्जा निगमों के स्तर पर संचालित परियोजनाओं एवं योजनाओं में टेक्निकल परफारमेंस आडिट की व्यवस्था सुनिश्चित किये जाने, संचालित विद्युत परियोजनाओं का पर्यवेक्षण के साथ एसओपी तैयार किये जाने, पुरानी विद्युत परियोजनाओं का अनुरक्षण एवं मरम्मत पर हुए व्यय तथा इससे उपलब्ध विद्युत क्षमता विकास का विवरण तैयार किये जाने के भी निर्देश दिये हैं। 
मुख्यमंत्री ने शहरों के विस्तारीकरण के साथ पावर स्टेशनों की स्थापना के लिये भूमि की उपलब्धता आदि का मास्टर प्लान भी तैयार किये जाने, तथा प्रदेश के सामग्र इनर्जी प्लान के साथ लाइन लॉस को कम करने के लिये कारगर प्रयासों की भी जरूरत बतायी। उन्होंने इसके लिये अधिकारियों की जिम्मेदारी भी निर्धारित करने को कहा। 
मुख्यमंत्री ने प्रदेश में विद्युत बिलों में गडबडी की शिकायतों को दूर करने के लिये 15 सितम्बर से 30 सितम्बर तक शिविर लगाकर बिजली बिलों के सम्बन्ध में जनता की शिकायतों का निराकरण करने के भी निर्देश दिये हैं। उन्होंने विद्युत योजनाओं से सम्बंधित कार्यों की टेण्डर प्रक्रिया को पारदर्शी बनाये जाने पर भी ध्यान देने को कहा ताकि अधिक से अधिक प्रतिभागी इसमें भागीदारी कर सके। मुख्यमंत्री ने विद्युत स्टेशनों की स्थापना विद्युत लाइनों आदि से सम्बन्धित वन भूमि हस्तान्तरण के प्रकरणों के निस्तारण में तेजी लाये जाने के भी निर्देश दिये। 
मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिये कि प्रदेश में उद्योगों को बिजली कटौती का सामना न करना पडे इसकी प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। मुख्यमंत्री ने अण्डर ग्राउण्ड केबलिंग एवं स्मार्ट मीटर योजना के क्रियान्वयन में भी तेजी लाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने केन्द्र सरकार के स्तर पर लम्बित योजनाओं का विवरण तैयार करने के साथ ही लखवाड व्यासी जमरानी आदि परियोजनाओं के क्रियान्वयन में भी तेजी लाये जाने के निर्देश दिये। इस सम्बन्ध में यदि आवश्यकता हुई तो केन्द्रीय उर्जा एवं सिंचाई मंत्रियों से भी मुख्यमंत्री द्वारा वार्ता की जायेगी।  सचिव उर्जा श्रीमती सौजन्या ने व्यापक प्रस्तुतीकरण के माध्यम से उर्जा के तीनों निगमों तथा उरेडा की कार्य प्रगति, संचालित परियोजनाओं एवं योजनाओं की स्थिति विद्युत उत्पादन खपत भावी योजनाओं तथा आय व्ययक से सम्बन्धित जानकारी दी गई।
इस अवसर पर मुख्य सचिव डॉ. एस.एस.सन्धु, अपर मुख्य सचिव  आनन्द वर्धन, अपर सचिव इकबाल अहमद, प्रबन्ध निदेशक दीपक रावत के साथ ही उर्जा निगमों एवं उरेडा, विद्युत सुरक्षा से सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

केबीसी 13 के एक सवाल पर गलत होने का इल्जाम

कविता गर्ग               
मुबंई। केबीसी 13 के एक सवाल पर एक दर्शक ने गलत होने का इल्जाम लगाया है। ऐसे में शो के प्रोड्यूसर सिद्धार्थ बसु ने उन्हें जवाब दिया है। असल में सोमवार शाम के एपिसोड में होस्ट अमिताभ बच्चन ने कंटेस्टेंट दीप्ति तुपे से संसद से जुड़ा सवाल पूछा गया था। जो दर्शक के मुताबिक गलत था।
सवाल था- आमतौर पर भारत की संसद के प्रत्येक बैठक की शुरुआत इनमें से किससे होती है।  इसका जवाब था- प्रश्नकाल। हालांकि एक दर्शक ने सवाल का स्क्रीनशॉट लेकर ट्वीट किया। आज के एपिसोड में गलत सवाल और जवाब दिखाया गया है। मैंने टीवी पर कई बार फॉलो किया है। लोक सभा का सेशन शून्यकाल में शुरू होता है और राज्य सभा का प्रश्नकाल में। कृपया इस सवाल की जांच करें। इसके जवाब में शो के प्रोड्यूसर ने लिखा, 'इसमें कोई गलती नहीं है। कृपया लोक सभा और राज्य सभा की हैंडबुक को आप खुद देख लीजिए। दोनों में ही अगर स्पीकर या चेयरपर्सन द्वारा कुछ और ना कहा गया हो तो सेशन की शुरुआत प्रश्नकाल से ही होती है और उसके बाद शून्यकाल होता है।
यूजर ने सिद्धार्थ बसु को जवाब दिया कि उन्होंने दोबारा क्रॉस चेक किया है और उन्हें समझ आया है कि सवाल और जवाब सही में गलत ही थे। हालांकि इसके बाद सिद्धार्थ कुछ नहीं बोले। बता दें कि कौन बनेगा करोड़पति अपने 13वें सीजन में है। शो को दृष्टिहीन कंटेस्टेंट हिमानी बुंदेला में अपनी पहली करोड़पति मिल चुकी हैं और यह तेजी और सफलता से आगे बढ़ रहा है।

वैश्विक स्तर पर भी हिन्दी भाषा की स्वीकार्यता बढ़ी

पंकज कपूर         
देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेशवासियों को हिन्दी दिवस की शुभकामनाएं दी है। अपने संदेश में मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा है कि किसी भी देश की मातृभाषा ही अपनी संस्कृति एवं परम्पराओं से जोड़ने में मददगार होती है। आज वैश्विक स्तर पर भी हिन्दी भाषा की स्वीकार्यता बढ़ी है।
उन्होंने कहा कि वैश्विक स्तर पर हिन्दी भाषा का और तेजी से प्रचार-प्रसार हो, इसके लिए सामूहिक प्रयासों की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने सभी से अपने दैनिक जीवन में हिन्दी के अधिकाधिक प्रयोग का संकल्प लेने की भी अपेक्षा की है।

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों द्वारा किया गया हमला

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों द्वारा हमला किया गया है। जिसमें तीन आम नागरिक जख्मी हो गए हैं। जानकारी के मुताबिक, हमले का निशाना पुलिस पार्टी को बनाया गया था। 
लेकिन हैंड ग्रेनेड सड़क पर ही फट गया जिससे तीन आम नागरिक जख्मी हो गए हैं। ये हमला पुलवामा के राजपोरा चौक के पास हुआ है। फिलहाल इलाके को खाली करा लिया गया है। वहां भारी संख्या में फोर्स तैनात है।


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-395 (साल-02)
2. बुधवार, सितंबर 15, 2021
3. शक-1984,सावन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-नवमीं, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -24 डी.सै., अधिकतम-35+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...