हिमाचल लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
हिमाचल लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 11 जून 2021

कैबिनेट बैठक में कोरोना कर्फ्यू में किए गए बदलाव

जसवीर सिंह हंस 

शिमला। हिमाचल कैबिनेट की बैठक आज पीटरहॉफ में सीएम जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हुई है। कैबिनेट की बैठक में हिमाचल के अंदर बसें चलाने को लेकर बड़ा निर्णय लिया है। 14 जून को हिमाचल में बसें चलेंगी। अभी बसें पचास फीसदी क्षमता के साथ एसओपी के तहत राज्य के अंदर ही चलेंगी। राज्य के बाहर बसें चलाने को लेकर बाद में फैसला होगा।

इसके अलावा निजी बस ऑपरेटरों को टोकन टैक्स व एसआरटी आदि को लेकर राहत प्रदान करने का भी निर्णय लिया है। साथ ही अब बाजार और दुकानें सुबह 9 बजे से पांच बजे तक खुली रहेंगी। पहले यह समय 9 से दो बजे तक था। कैबिनेट ने कॉलेज की परीक्षाओं को लेकर भी बड़ा फैसला लिया है।कॉलेज की परीक्षाएं करवाने का निर्णय लिया है। पहले जुलाई माह में अंतिम वर्ष की परीक्षाएं होंगी।

इसके बाद प्रथम व द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं करवाई जाएंगी। अभी स्कूल नहीं खोले जाएंगे। इसके अलावा टूरिस्ट सेक्टर के लिए भी बड़ी राहत प्रदान की है।शिक्षा विभाग की स्कूली बच्चों के परिजनों के साथ हुई चर्चा बाद यह कैबिनेट ने भी यह फैसला लिया है कि राज्य में स्कूल अभी बंद रहेंगे। इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया हैं। वहीं शादी, मंदिरों को लेकर कोई छूट नहीं दी गई हैं। मेडिकल, नर्सिंग, आयुर्वेद कॉलेज खुलेंगे। सरकारी दफ्तरों में भी अब कर्मचारी 50 फीसदी की हाजरी के साथ ऑफिस जा सकेंगे।

रविवार, 6 जून 2021

हिंदी साहित्य में नए छंद का आविष्कार किया: कवि

श्रीराम मौर्य                 
शिमला। हिमाचल के शिक्षक व कवि परमजीत सिंह ने हिंदी साहित्य में एक नए छंद का आविष्कार किया है। गौरतलब है कि परमजीत सिंह वर्तमान में राजकीय प्राथमिक पाठशाला भटेड़ में शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं। वे लगातार लेखन का कार्य भी करते हैं। वे राष्ट्रीय साहित्यकार मंच कलम की सुगंध के साथ जुड़े हैं। हाल ही में उन्होंने एक नए छंद का आविष्कार किया है। जिसे राष्ट्रीय पटल कलम की सुगंध मंच द्वारा विशेषज्ञों की उपस्थिति में मान्यता भी प्रदान कर दी गई है। परमजीत सिंह हिमाचल प्रदेश के नैना देवी क्षेत्र से जुड़े एक छोटे से गांव डडोह के निवासी हैं। उनके द्वारा दिए गए छंद का विधान निम्न प्रकार से है।
कोविद सवैया छंद विधान:- 211 222 211 22= 11वर्ण,18 मात्राएं। 211 222 112 22= 11वर्ण,18 मात्राएं। उपरोक्त विधान पर मंच के लगभग 25 कवियों ने अपनी कविताएं लिखी और मंच ने उन्हें सम्मानित भी किया। परमजीत सिंह अब तक लगभग 10 सांझा संग्रह लिख चुके हैं। इनका एक एकल संग्रह कोविद गीतांजलि के नाम से प्रकाशन की प्रक्रिया में है। ये अब तक 200 नवगीत,100 सोरठा,100 विज्ञात बेरी छंद,200 उल्लाला और 150 आल्हा आधारित छंद लिख चुके हैं। परमजीत सिंह "कोविद" ने साहित्य क्षेत्र की उपलब्धियों के लिए अपने साहित्यिक गुरु संजय कौशिक विज्ञात, मंच संचालिका अनीता मंदिलवार सपना, गोपाल पंडा, अनीता भारद्वाज अर्णव, बाबूलाल बोरा विज्ञ, अर्चना पाठक निरंतर, कुसुम कोठारी, चमेली कुर्रे सुवासिता और आदरणीय नीतू ठाकुर विदुषी का विशेष आभार व्यक्त किया है। जिन्होंने पग पग पर इस क्षेत्र में अपना सहयोग दिया है।

शनिवार, 22 मई 2021

हद: अस्पताल में मृत महिला के आभूषण गायब

श्रीराम मौर्य   
कांगड़ा। हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। जहां पर एक महिला की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने अस्पताल प्रबंधक पर मृत महिला के गहने चुराने की आरोप लगाए हुए है। परिजनों का आरोप है कि लगभग डेढ़ लाख रुपये के वे गहने नहीं मिल पाए जो उन्होंने अस्पताल में भर्ती होते समय पहने थे। पालमपुर की पाहड़ा पंचायत के एक शख्स ने कांगड़ा के डीसी से आॅनलाइन शिकायत दी है और शिकायत को डीसी आॅफिस ने सीएमओ को भेजकर जवाब मांगा गया है। 
मिली जानकारी के मुताबिक पालमपुर के पाहड़ा पंचायत के तप्पा में रहने वाले बलवंत की शिकायत है कि उनकी 60 साल की माता चम्पा देवी 14 मई को पालमपुर अस्पताल में भर्ती थीं।कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उन्हें 15 मई को कोविड केयर सेंटर पपरोला में भर्ती करवाया गया, मगर वहां उसी रात उन्होंने दम तोड़ दिया। बलवंत ने शिकायत में लिखा है कि 16 मई को सूचना मिलने पर वे पपरोला पहुंचे और फिर पंचायत प्रधान की मौजूदगी में उनकी मां का अंतिम संस्कार किया गया। बलवंत का कहना है कि जब उनकी मां को अस्पताल में एडमिट किया था, तब उनके हाथ में तीन सोने की अंगूठियां, कानों में बालियां और मंगलसूत्र था। उनका कहना है कि इन गहनों की कीमत लगभग डेढ़ लाख रुपये है।
वहीं बेटा बलवंत ने आशंका जताई है कि इन गहनों को उनकी मां के शरीर से गायब कर दिया गया था। उन्होंने लिखा है कि उन्हें इसका अंदेशा तब हुआ जब अंतिम संस्कार के बाद चिता की राख को धोया जा रहा था। उन्होंने कहा कि उनकी मां के पार्थिव शरीर को कोरोना प्रोटोकॉल के तहत पूरी तरह बॉडी बैग में रखा गया था, इसलिए उन्हें पता नहीं चल पाया कि गहने थे या नहीं।
बलवंत का कहना है कि चिता की राख में सिर्फ पांव के फुलगुट्ठू (बिछुए) ही मिले। उनका आरोप है कि राख में न तो अंगूठियां मिलीं, न मंगलसूत्र और ना ही बालियां। ये चीजें अस्पताल प्रशासन की ओर से भी उन्हें नहीं लौटाई गईं। वहीं, पपरोला कोविड केयर सेंटर का जिम्मा सम्भाल रहे एमएस डॉक्टर कुलदीप बन्याल ने इस घटना पर हैरानी जताई है।

सोमवार, 17 मई 2021

तेज हवा व भारी बारिश का अलर्ट जारी: हिमाचल

श्रीराम मौर्य   
शिमला। हिमाचल प्रदेश में एक बार फिर मौसम करवट ले रहा है। मौसम विभाग ने चेतावनी जारी की है आगामी दो दिनों तक मौसम को देखते हुए लोग अनावश्यक अपने घरों से बाहर न निकले। मौसम विभाग ने हिमाचल में भारी और भारी से भारी बारिश, गरज के साथ बिजली गिरने व तेज हवाएं चलने के लिए आॅरेंज अलर्ट जारी किया है। इस दौरान हवाओं की गति 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे रहने का अनुमान लगाया गया है।लाहुल स्पीति, किन्नौर, चंबा, कुल्लू, मंडी, शिमला व सोलन और सिरमौर के कुछ क्षेत्रों में भारी और भारी से भारी बारिश के लिए आॅरेंज अलर्ट जारी किया गया है। साथ ही यहां पर ओलावृष्टि, गरज के साथ बिजली गिरने के साथ 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है। शिमला, मंडी, कुल्लू, चंबा के सिहुंता, चुवाड़ी, चंबा शहर, सोलन, सिरमौर, ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा में 18 और 21 मई के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। यह दो दिन उक्त क्षेत्रों की अलग अलग जगहों पर गरज के साथ बिजली गिरने की संभावना है।
उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर ने बताया कि मौसम विज्ञान केंद्र शिमला द्वारा 19 व 20 मई, 2021 को मंडी जिले के कई स्थानों पर भारी वर्षा की चेतावनी जारी की है । उन्होंने भारी बारिश की चेतावनी को ध्यान में रखते सभी नागरिकों से नदी-नालों के किनारे न जाने व भूस्खलन संभावित क्षेत्रों तथा अधिक उंचाई और निम्न तापमान वाले इलाकों में जाने से बचने का आग्रह किया है। उन्होंने लोगों से अपील की कि खराब मौसम में अनावश्यक तौर पर घरों से न निकलें, सुरक्षित स्थानों पर रहें और किसी प्रकार का जोखिम न उठाएं ।उन्होंने समस्त पंचायत प्रधानों, गैर सरकारी संगठनों एवं नागरिकों से भी अनुरोध किया है कि वे इस बारे अधिक से अधिक लोगों तक इस संदेश को पहुंचाएं ताकि किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से बचा जा सके । उपायुक्त ने बताया कि किसी भी प्रकार की प्राकृतिक आपदा/घटना की स्थिति में तत्काल जिला आपदा प्रबंधन परिचालन केंद्र के दूरभाष नम्बर 01905-226201, 202, 203, 204 अथवा टोल फ्री 1077 नम्बर पर सूचित करें।

हिमाचल: 2,392 नए मामले, 4,974 मरीज ठीक

श्रीराम मौर्य   
शिमला। हिमाचल प्रदेश में लगातार कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। हिमाचल में आज 2,392 नए मामले आए हैं। वहीं, 4,974 कोरोना पॉजिटिव ठीक हुए हैं। आज रिकॉर्ड 70 लोगों की जान गई है। हिमाचल में कुल आंकड़ा एक लाख 60 हजार 254 पहुंच गया है। अभी 36 हजार 923 एक्टिव केस हैं। अब तक एक लाख 20 हजार 990 ठीक हुए हैं। कोरोना डेथ का आंकड़ा 2,311 है। कांगड़ा जिले में कोरोना से 30 मौतें और 801 मामले आए हैं। बिलासपुर में दो महिलाओं की मौत हुई है जबकि 26 बच्चों समेत कोरोना के 113 नए मामले सामने आए हैं। कुल्लू में कोरोना से दो की मौत और 80 नए मामले आए हैं। लाहौल-स्पीति में एक मौत और 23 नए पॉजिटिव पाए गए हैं। हमीरपुर में 4 की मौत और 145 नए मामले सामने आए हैं। सिरमौर में 10 मामले आए हैं।
चंबा में 1 मौत और 181 नए पॉजिटिव पाए गए हैं। ऊना में 4 की मौत और 150 नए पॉजिटिव पाए गए हैं। सोलन में 6 की मौत और 333 नए मामले सामने आए हैं। शिमला में 12 की मौत और 133 नए मामले सामने आए हैं। प्रदेश में अब कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 160240 पहुंच गया है। सक्रिय मामले 36909 हैं जबकि बीते 24 घंटों में रिकॉर्ड 4974 संक्रमित ठीक हुए हैं। कांगड़ा में 1643, मंडी में 680, शिमला में 560 और सोलन में 505 संक्रमितों ने कोरोना को मात दी। 
चंबा: उपायुक्त चंबा डीसी राणा ने  जानकारी देते हुए बताया कि कोविड के मामलों की वृद्धि को ध्यान में रखते  हुए  पूर्वोक्त आदेश द्वारा लगाए गए कोरोना कर्फ्यू को 26 मई 2021 को सुबह 6 बजे तक बढ़ाया गया है। उन्होंने बताया कि  “कोरोना कर्फ्यू” 17 मई 2021 की सुबह 6 बजे से 26 मई 2021 को सुबह 6 बजे तक रहेगा।  उपयुक्त चंबा डीसी राणा ने इस संबंध में आदेश जारी करते हुए कहा कि विवाह में अधिकतम 20 व्यक्तियों की उपस्थिति पर लगाए गए प्रतिबंध जारी रहेंगे। विवाह के प्रयोजन के लिए किसी भी सामुदायिक भवन या टेंट का उपयोग नहीं किया जाएगा  तथा किसी भी बाहरी खानपान और डीजे -बैंड का उपयोग भी  नहीं किया जाएगा और बारात  की अनुमति भी नहीं होगी।

शुक्रवार, 14 मई 2021

ऊना में 7259 व्यक्तियों ने कोरोना को मात दी

श्रीराम मौर्य                  
ऊना। जिला ऊना में अब तक 7259 व्यक्तियों ने कोरोना वायरस को मात दी है तथा अब वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं। इस संबंध में जानकारी देते हुए सीएमओ डॉ. रमण कुमार शर्मा ने बताया कि जिला ऊना में कोरोना संक्रमण की शुरूआत होने से लेकर अब तक 9864 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए हैं। जिनमें से 7259 पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं।
सीएमओ ने कहा कि जिला ऊना में कोरोना संक्रमण के आज 2443 एक्टिव केस हैं, जिनमें से डीसीसीसी खड्ड में 36, डीसीएचसी हरोली में 40, मेक शिफ्ट अस्पताल पालकवाह में 63, जबकि होम आइसोलेशन में 1967 मरीज स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं। बाकी मरीजों को राज्य के अन्य अस्पतालों में रेफर किया गया है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग ने जिला प्रशासन के साथ मिलकर कोरोना मरीजों के लिए उचित प्रबंध किए हैं। बेड क्षमता बढ़ाने की दिशा में भी लगातार कार्य चल रहा है।
डॉ. रमण कुमार शर्मा ने कहा कि जिला में कोरोना की रोकथाम के लिए दवाओं, आक्सीजन तथा अन्य सुविधाओं की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर सर्दी, खांसी, सांस लेने में दिक्कत जैसे लक्षण आने पर सही समय पर टेस्ट करवा लिया जाए, तो इलाज में मदद मिलती है। उन्होंने अगर हालत बिगड़ने के बाद ही मरीज को अस्पताल पहुंचाया जाता है, तो इससे जान बचाने में मुश्किल होती है। इसलिए लक्षण आने पर तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य संस्थान में जाकर जांच कराएं तथा सेहत बिगड़ने का इंतजार न करें क्योंकि अकसर देखा गया है कि अचानक ऑक्सीजन का स्तर गिरने से मौत हो जाती है।

शनिवार, 8 मई 2021

धर्मशाला में महसूस किए गए भूकंप के हल्के झटके

श्रीराम मौर्य                

शिमला। हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में शनिवार की सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार यहां किसी प्रकार के जान-माल का नुकसान नहीं हुआ है। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ने हिमाचल प्रदेश में झटके लगने की पुष्टि करते हुए कहा है कि वहीं रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 3 रही। बता दें, कि हाल ही में 5 मई को असम के सोनितपुर में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे।इनकी भी रिक्टर पैमाने पर तीव्रता काफी कम 3.5 रही थी। वहीं 28 अप्रैल को असम में आए भूकंप की रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 6.4 तीव्रता मापी गई थी।

गुरुवार, 6 मई 2021

500 लीटर/मिनट की दर से ऑक्सीजन उत्पादन

उमेश भारद्वाज   
मंडी। भारत सरकार के डीआरडीओ द्वारा जोनल अस्पताल मंडी में जिला का सबसे बड़ा आॅक्सीजन प्लांट दस दिनों के भीतर स्थापित करके उसे शुरू कर दिया जाएगा। इसको लेकर डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर के निदेर्शों पर एनएचएआई और स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने जोनल अस्पताल का दौरा किया और प्लांट के लिए जगह चिन्हित की। एनएचएआई 10 दिनों के भीतर आॅक्सीजन प्लांट के लिए ढांचा तैयार करके देगी जिसमें बिजली की सुविधा भी होगी।
जबकि इसके बाद डीआरडीओ इसमें आॅक्सीजन प्लांट की सारी मशीनरी स्थापित करके इसे सुचारू रूप से चलाकर जोनल अस्पताल प्रबंधन के हवाले कर देगा। सीएमओ मंडी डा. देवेंद्र शर्मा ने बताया कि यह प्लांट एक हजार लीटर प्रति मिनट की दर से आॅक्सीजन का उत्पादन करेगा और इससे अस्पताल में उपचाराधीन मरीजों को बहुत ज्यादा लाभ मिलेगा। उन्होंने बताया कि प्रशासन के निदेर्शों पर तुरंत कार्रवाई करते हुए एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर नवीन मिश्रा और जोनल अस्पताल के एमएस डा. डीएस वर्मा के साथ उन्होंने खुद संयुक्त दौरा करके जगह का चयन कर लिया है।
बता दें कि मंडी जिला के नेरचौक स्थित मेडिकल कॉलेज में 500 लीटर प्रति मिनट की दर से आॅक्जसीन का उत्पादन करने वाला प्लांट पीएम केयर्स की तरफ से हाल ही में स्थापित किया गया है। जबकि अब जोनल अस्पताल में एक हजार लीटर वाला प्लांट लगने वाला है। यह सरकारी क्षेत्र का जिला का सबसे बड़ा प्लांट होगा। सीएमओ मंडी डा. देवेंद्र शर्मा ने बताया कि भारत सरकार के डीआरडीओ की तरफ से प्रदेश के लिए 6 आॅक्सीजन प्लांट मंजूर किए गए हैं जिनमें से एक जोनल अस्पताल में लगने जा रहा है।बता दें कि अभी तक 90 बिस्तरों वाले जोनल अस्पताल मंडी में सिलेंडरों के माध्यम से आॅक्जसीन की सप्लाई की जाती है। जबकि 100 बिस्तरों वाला एमसीएच भी बहुत जल्द सुचारू होने वाला है। इसके बाद अस्पताल में बिस्तरों की संख्या बढ़कर 200 तक पहुंचने वाली है। वहीं कोरोना के मौजूदा समय और भविष्य में यह प्लांट काफी ज्यादा मददगार साबित होने वाला है।

गुरुवार, 22 अप्रैल 2021

फर्जी डिग्री लेकर नौकरियां हथियाने वालों की छुट्टी

राणा ओबराय                
शिमला। विनियामक आयोग के अध्यक्ष मेजर जनरल सेवानिवृत्त अतुल कौशिक ने बताया, कि सरकार के विभिन्न विभागों में एमबीयू से शिक्षा प्राप्त कई लोग नौकरियां कर रहे हैं। सरकार से मंजूरी मिलते ही जांच कमेटियों का गठन किया जाएगा।
हिमाचल निजी शिक्षण संस्थान नियामक आयोग:
मानव भारती विश्वविद्यालय (एमबीयू) से फर्जी डिग्री लेकर हिमाचल प्रदेश में सरकारी नौकरियां हथियाने वालों की छुट्टी होने वाली है। राज्य निजी शिक्षण संस्थान विनियामक आयोग ने मुख्य सचिव अनिल खाची को पत्र लिखकर फर्जी डिग्रियों की जांच करने की मंजूरी मांगी है। सरकार अगर आयोग को जांच की मंजूरी देती है तो एमबीयू से डिग्री लेने वालों का आंकड़ा जुटाकर विभिन्न विभागों से इस बाबत जानकारी ली जाएगी।
विनियामक आयोग के अध्यक्ष मेजर जनरल सेवानिवृत्त अतुल कौशिक ने बताया कि सरकार के विभिन्न विभागों में एमबीयू से शिक्षा प्राप्त कई लोग नौकरियां कर रहे हैं। सरकार से मंजूरी मिलते ही जांच कमेटियों का गठन किया जाएगा। इस जांच से फर्जी और सही डिग्री प्राप्त करने वालों में अंतर हो जाएगा। एमबीयू की अभी तक करीब 35 हजार डिग्रियां फर्जी मिली हैं।

हिमाचल में कोरोना के 422 मामलें सामने आएं

श्रीराम मौर्य 
शिमला। हिमाचल प्रदेश में अब तक कोरोना के 422 मामलें आए हैं। वहीं, 562 कोरोना पॉजिटिव ठीक हुए हैं। आज अब तक सात लोगों ने दम तोड़ा है। कांगड़ा और मंडी में तीन व सोलन में एक की जान गई है। हिमाचल में कुल आकड़ा 81,524 पहुंच गया है। अभी 10,645 एक्टिव केस हैं। अब तक 69,620 ठीक हुए हैं। कोरोना डेथ का आंकड़ा 1,230 है। हिमाचल में कोरोना रिकवरी रेट 85.39 फीसदी और डेथ रेट 1.50 फीसदी है।

देश के सबसे ऊंचे क्रिकेट स्टेडियम का होगा निर्माण

श्रीराम मौर्य             

शिमला। हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिले लाहौल-स्पीति के सिस्सू में देश के सबसे ऊंचे क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण किया जाएगा। इसके लिये पहली बाधा पार कर ली गई है। स्टेडियम के लिए स्थानीय पंचायत और राजस्व विभाग ने 38 बीघा जमीन की निशानदेही के बाद फाइल वन विभाग को भेज दी है। वन विभाग अब प्रदेश सरकार से आशयपत्र मिलने के इंतजार में है। स्टेडियम के लिए भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया जारी है। लाहौल-स्पीति जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष सुरेद्र ठाकुर ने बताया कि सात वर्ष पूर्व सिस्सू में स्टेडियम निर्माण की कवायद शुरू हुई थी। कुल्लू जिले में रोहतांग स्थित अटल सुरंग के उत्तरी छोर से महज आठ किमी दूर 11000 हजार फीट की ऊंचाई पर प्रस्तावित यह क्रिकेट स्टेडियम देश में सबसे ऊंचा होगा। इसकी क्षमता 10 हजार दर्शकों की होगी। अभी सोलन के चायल में देश का सबसे ऊंचा क्रिकेट स्टेडियम है। जो 7500 फुट की ऊंचाई पर स्थित है। इसका निर्माण वर्ष 1891 में पटियाला के महाराजा भूपेंद्र सिंह ने कराया था।

मंगलवार, 20 अप्रैल 2021

हिमाचल में कोरोना के 758 मामलें सामने आएं

श्रीराम मौर्य             
शिमला। हिमाचल में आज अब तक कोरोना के 758 मामले आए हैं। वहीं, 810 कोरोना पॉजिटिव ठीक हुए हैं। आज अब तक 12 लोगों की जान गई है। कांगड़ा  में पांच, शिमला में चार व ऊना में तीन लोगों ने दम तोड़ा है। हिमाचल में कोरोना डेथ का आंकड़ा 1,200 पार हो गया है। अब तक 1,202 लोगों की जान जा चुकी है। प्रदेश में कुल आंकड़ा 78,828 पहुंच गया है। अभी 9,717 एक्टिव केस हैं। अब तक 67,882 कोरोना संक्रमित ठीक हो चुके हैं। कोरोना रिकवरी रेट 86.11 फीसदी है। कोरोना डेथ 1.52 फीसदी है।सोलन  में 171, शिमला में 129, सिरमौर में 113, ऊना  में 93, लाहुल स्पीति में 73, हमीरपुर  में 70, बिलासपुर में 59, किन्नौर में 33, कांगड़ा में 15 व मंडी  में दो मामले आए हैं। कांगड़ा के 327, शिमला के 106, हमीरपुर के 99, ऊना के 71, सिरमौर  के 56, मंडी के 50, लाहुल स्पीति के 49, कुल्लू के 42, चंबा  के सात व किन्नौर के तीन ठीक हुए हैं। सोलन में अभी सबसे अधिक 2,037 एक्टिव केस हैं। कांगड़ा में 1,972, शिमला में 975, मंडी में 839, ऊना में 829, सिरमौर में 775, हमीरपुर में 654, बिलासपुर में 560, कुल्लू में 360, लाहुल स्पीति में 320, चंबा में 240 व किन्नौर में 156 एक्टिव केस (Active Case) हैं। शिमला में 303, कांगड़ा में 276, मंडी में 146, ऊना में 92, कुल्लू में 89, सोलन में 82, हमीरपुर में 57, चंबा में 55, सिरमौर में 44, बिलासपुर में 28, किन्नौर में 17 व लाहुल स्पीति में 13 की अब तक जान गई है।

मंगलवार, 23 मार्च 2021

11 अप्रैल से स्कूल खोलने के आदेश दिए: हिमाचल

शिमला। हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच 11 अप्रैल से नए शैक्षणिक सत्र की शुरुआत होगी। शिक्षा विभाग की ओर से प्रदेश के सभी स्कूलों में 11 अप्रैल से गैर-बोर्ड कक्षाओं के छात्रों के लिए नियमित कक्षाएं शुरू करने के आदेश जारी किए गए हैं।
शिक्षा विभाग की ओर से जारी पत्र के अनुसार, 31 मार्च को गैर बोर्ड कक्षाओं का परिणाम घोषित होगा और इसके बाद नए शैक्षणिक सत्र के लिए प्रवेश प्रक्रिया 1 अप्रैल से शुरू होगी। उच्च शिक्षा निदेशालय की ओर से प्रदेश के सभी सरकारी स्कूल के प्रधानाचार्यों को गैर-बोर्ड कक्षाओं की वार्षिक परीक्षा परिणाम समयबद्ध तरीके से 31 मार्च को घोषित करने के निर्देश जारी किए गए हैं।

बुधवार, 10 मार्च 2021

बस के खाई में गिरने से 8 लोगों की मौत, 11 घायल

शिमला। हिमाचल प्रदेश के चम्बा जिले में एक निजी बस के गहरे खड्ड में गिरने से आठ लोगों की मौत हो गई और 11 अन्य घायल हो गए। चम्बा के पुलिस अधीक्षक एस. अरुल कुमार ने बताया कि हादसा बुधवार सुबह तीसा उपमंडल में हुआ। विधानसभा में बजट सत्र के दौरान मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने दोपहर को सदन को बताया कि घटना के कारण का पता लगाने के लिए उन्होंने जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने हादसे पर दुख प्रकट करते हुए सदन को बताया कि तीसा में कॉलोनी मोड़ के पास सुबह करीब सवा 10 बजे एक बस के 200 मीटर गहरे खड्ड में गिरने से आठ लोगों की मौत हो गई। ठाकुर ने बताया कि घायलों को मेडिकल कॉलेज चम्बा में भर्ती कराया गया है। घायलों में से चार की हालत गंभीर है।

मंगलवार, 9 मार्च 2021

हिमाचल में फिर महसूस किए गए भूकंप के झटके

शिमला। हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में एक बार फिर से भूकंप आया है। यहां लगातार दूसरे दिन धरती हिली है। मंगलवार को 12 बजकर 34 मिनट पर भूकंप आया और रिक्टर स्केल पर तीव्रता 3.5 थी। इस दौरान किसी तरह का कोई नुकसान नहीं हुआ है। मौसम विभाग के शिमला केंद्र ने भूकंप की पुष्टि की है।
इससे पहले, आठ मार्च को भी भूकंप आया था। सोमवार को सुबह 10.20 मिनट पर भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे। इस दौरान भूकंप की तीव्रता 3.6 रिक्टर स्केल मापी गई थी।

सोमवार, 8 मार्च 2021

हिमाचल में कोरोना के कुल 30 मामले सामने आएं

शिमला। हिमाचल में आज सोमवार तक कोरोना को लेकर कुछ राहत और कुछ आफत की बात है। हिमाचल में अब तक कोरोना के 30 मामले आए हैं। वहीं, 73 लोग ठीक होने में कामयाब रहे हैं। आज अब तक कोरोना के चलते तीन की जान गई है। बिलासपुर, कांगड़ा और ऊना में एक-एक कोरोना पॉजिटिव ने दम तोड़ा है। कोरोना का कुल आंकड़ा 59,148 पहुंच गया है। अभी 568 एक्टिव केस हैं। अब तक 57,580 कोरोना पॉजिटिव ठीक हुए हैं। कोरोना डेथ का आंकड़ा 987 पहुंच गया है। हिमाचल में आज अब तक कोरोना के 296 सैंपल जांच को आए हैं। इनमें से 82 नेगेटिव रहे हैं। 211 की रिपोर्ट आनी बाकी है। आज के सैंपल से तीन पॉजिटिव केस हैं। पिछले कल के 40 सैंपल की रिपोर्ट आनी बाकी है।

शनिवार, 6 मार्च 2021

दलाई लामा ने कोरोना टीके की पहली खुराक लीं


धर्मशाला। तिब्बती आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा ने शनिवार सुबह यहां एक अस्पताल में कोरोना वायरस से बचाव के लिए टीके की पहली खुराक ली। दलाई लामा के कार्यालय ने आध्यात्मिक गुरु को टीके की पहली खुराक की व्यवस्था के लिए भारत सरकार और हिमाचल प्रदेश सरकार का शुक्रिया अदा किया। टीका लेने के बाद दलाई लामा ने लोगों से आगे आने और टीका लगवाने की अपील की।

शुक्रवार, 5 मार्च 2021

हिमाचल: लव मैरिज के 6 महीने बाद पत्नी की हत्या

श्रीराम मौर्य   
शिमला। हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के पांवटा साहिब के पुरुवाला गांव में एक मकान से महिला का शव बरामद किया गया है। महिला का शव संदूक में छिपाया गया था। पति को पुलिस ने हिरासत में लिया है।बताया जा रहा है कि आरोपी पति सुनील ने लव मैरिज की थी और शादी के बाद अपनी पत्नी के चरित्र पर शक करता था। जिसके चलते दोनों के बीच नोकझोंक होती रहती थी। 

शुक्रवार, 26 फ़रवरी 2021

राज्यपाल के साथ विधायकों ने की धक्का-मुक्की

शिमला। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन शुक्रवार को अपने अभिभाषण के बाद सदन से लौट रहे राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय के साथ कांग्रेस के कुछ विधायकों ने कथित तौर पर धक्कामुक्की की। इसके बाद, विधानसभा अध्यक्ष विपिन परमार ने कांग्रेस के पांच विधायकों को निलंबित कर दिया गया।ससंदीय कार्य मंत्री सुरेश भारद्वाज ने बताया कि सत्र के बाद जब राज्यपाल अपने वाहन के पास जा रहे, तब सदन में विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री, कांग्रेस विधायक हर्ष वर्धन चौहान, सुंदर सिंह ठाकुर, सत्यपाल रायजादा और विनय कुमार ने उनके साथ धक्कामुक्की की। इसके बाद सुरेश भारद्वाज ने कांग्रेस के पांच विधायकों के निलंबन का प्रस्ताव सदन में पेश किया जिस पर उन्हें निलंबित कर दिया गया।

सोमवार, 15 फ़रवरी 2021

सड़क हादसा में एसबीआई के मैनेजर की मौत

शिमला। हिमाचल के सिरमौर जिला में एक सड़क हादसे में एसबीआई के मैनेजर की जान चली गई है। यह हादसा देर रात सिरमौर के हरिपुरधार- रोहनाट मार्ग पर हुआ है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है।जानकारी के अनुसार एसबीआई की पनोग शाखा में बतौर मैनेजर कार्यरत युवराज भाटिया का कार( एचपी 14-बी 8940) देर रात हरिपुरधार-रोहनाट मार्ग पर हादसे का शिकार हो गई। युवराज भाटिया सोलन के रहने वाले थे और कार में अकेले ही सवार थे और उनकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई। सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भिजवाया। एएसपी बबीता राणा ने हादसे की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि मामले ही जांच की जा रही है।

जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...