सोमवार, 5 अक्तूबर 2020

तेजपत्ता का काढ़ा है बहुत फायदेमंद

तेजपत्ता से बना काढ़ा सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। काढ़े को पीने से शरीर में कई तरह की चीजों को दूर किया जा सकता है। क्योंकि इसमें मिनिरल्स होते हैं। तेजपत्ता में कॉपर, पोटेशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, सेलेनियम और आयरन से भरपूर होता है। इतना ही नहीं ये एंटीऑक्सीडेंट्स भी होता है। जो कैंसर, ब्लड क्लॉटिंग और दिल से जुड़ी समस्याओं को भी दूर करता है। 
तेजपत्ते का काढ़ा पीने के फायदे। कमर दर्द होती है। तो ऐसे में आप तेजपत्ते का काढ़ा कम से कम दिन में दो बार रोज पीना चाहिए। साथ ही तेजपत्ते का तेल ले लाएं और इसकी मालिश कमर पर करें तेजपत्ते को सरसों के तेल में पका कर आप खुद भी तेल बना सकती हैं। ठंड लगने पर या ठंड से होने वाले शरीर दर्द में आपको तेजपत्ते के काढ़े को पीना चाहिए साथ ही इस तेल की मालिश भी करें। चोट या मोच लगने पर आपको तेजपत्ते का काढ़ा पीना चाहिए और इसी के तेल को लगाना चाहिए। ताकि मोच आई सूजन और दर्द से राहत मिलेगा तेज पत्ते को पीस कर मोच वाली जगह पर लगाएं। कई बार अगर सोते वक्त नसों में खिंचाव हो जाता है। या नसों में सूजन आ जाती है। तो ऐसे में तेजपत्ते के केढ़ा का सेवन करें ये आपको आराम देगा।
काढ़ा बनाने की विधि  इसे बनाने के लिए 10 ग्राम तेजपत्ता 10 ग्राम अजवायन और 5 ग्राम सौंफ को पीस लें और एक लीट पानी में डाल कर तब तक उबालें जब तक ये आधा न रह जाए। जब ये मिश्रण ठंडा हो जाए तो इसका काढ़ा पी लें।                  


24 घंटे में 74 हजार से अधिक नए संक्रमित

भारत में कोरोना का कहर। 24 घंटे में मिले 74 हजार से ज्यादा नए मरीज। 903 लोगों की हुई मौत।


नई दिल्ली। भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 74,442 नए मामले सामने आए हैं। और 903 मौतें हुई हैं। वहीं कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 66,23,816 हो गई है। जिसमें 9,34,427 सक्रिय मामले हैं।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, इलाज के बाद 55,86,704 मरीज ठीक हो चुके हैं। देश में अब तक इस बीमारी से 1,02,685 मरीज जान गंवा चुके हैं।
भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार, 4 अक्टूबर तक कोरोना वायरस के लिए कुल 7,99,82,394 सैंपल टेस्ट किए गए। जिनमें से 9,89,860 सैंपल रविवार को टेस्ट किए गए। छत्तीसगढ़ में रविवार को 1924 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई। वहीं 496 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया। जबकि आज 09 की मौत भी हुई।
इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना का संक्रमण बढ़कर 1,23, 324 हो गया है। जिसमें 93731 डिस्चार्ज किये गए। वहीं एक्टिव केस की संख्या घटकर 28548 हो गई है। जबकि आज हुई 9 मरीजों की मौत के साथ ही प्रदेश में मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 1045 हो गया है।                 


इंडियन ने सनराइजर्स को 34 रन से दी शिकस्त

मुम्बई इंडियंस ने सनराइजर्स हैदराबाद को 34 रन से दी शिकस्त, प्वाइंट टेबल में टॉप में बनाई जगह।


नई दिल्ली। आईपीएल सीजन-13 में आज मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच मुकाबला खेला गया। जहां पर मुंबई इंडियंस की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। मुकाबला शारजांह में था और इस मैदान पर खेले गए मैच में मुंबई इंडियंस की टीम ने सनराइजर्स हैदराबाद को 34 रन से हरा दिया। मुंबई इंडियंस ने 209 रन का टारगेट रखा था जिसके जवाब में सनराइजर्स हैदराबाद की टीम 174 रन ही बना सकी। मुंबई इंडियंस ने जीता मैच। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई इंडियंस की टीम ने 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 208 रन बनाए मुंबई इंडियंस की ओर से क्विंटन डिकॉक ने 39 गेंद में 67 रन की पारी खेली अपनी इस पारी में चार चौके और 4 छक्के लगाए हालांकि कप्तान रोहित शर्मा इस मैच में 5 गेंद में 6 रन बनाकर आउट हो गए 1 सिक्सर लगाया,  सूर्यकुमार यादव ने 18 गेंद में 27 रन की पारी खेली छह चौके लगाए इशान किशन ने 23 गेंद में 31 रन बनाए, एक चौका और दो सिक्सर लगाया, हार्दिक पंड्या को सिद्धार्थ कौल ने क्लीन बोल्ड तो किया लेकिन उन्होंने एक बार फिर से आखिरी में 19 गेंद में 28 रन की पारी खेली पारी में दो चौके और दो छक्के लगाए, कीरोन पोलार्ड 13 गेंद में 25 रन बनाकर नाबाद रहे तीन छक्के लगाए तो वही क्रुणाल पांड्या ने 4 गेंद में 20 रन ठोक दिए पारी में दो चौके और दो छक्के लगाए और इसके साथ ही मुंबई इंडियंस की टीम ने 209 रन का टारगेट सनराइजर्स हैदराबाद के बल्लेबाजों के सामने जीत के लिए रखा।
सनराइजर्स हैदराबाद की गेंदबाजी।
सनराइजर्स हैदराबाद के गेंदबाजों की करें तो संदीप शर्मा को जरूर दो विकेट मिले लेकिन 41 रन लुटाए सिद्धार्थ कौल ने भी दो विकेट हासिल किए 64 रन लुटाए जबकि राशिद खान ने चार ओवर में 22 रन खर्च करके एक विकेट हासिल किया।
सनराइजर्स हैदराबाद की बल्लेबाजी।
209 रन के टारगेट का पीछा करने उतरे सनराइजर्स हैदराबाद की बल्लेबाजों में कप्तान डेविड वॉर्नर को छोड़ दें तो बाकी के बल्लेबाज फ्लॉप रहे,  कप्तान डेविड वॉर्नर ने 44 गेंद में 7 रन की पारी खेली पांच चौके और दो छक्के लगाए बेयरस्टो 15 गेंद में 25 रन बनाकर आउट हो गए इनसे एक बड़ी पारी की उम्मीद इस सिचुएशन में टीम को रही लेकिन वह उसे पूरा करने में नाकाम रहे मनीष पांडे भी 19 गेंद में 30 रन बनाकर आउट हुए पारी में चार चौके और एक छक्का लगाया केन विलियमसन 5 गेंद में 3 रन बनाकर आउट हो गए प्रियम गर्ग 7 गेंद में 8 रन ही बना सके अभिषेक शर्मा 13 गेंद में 10 रन बनाकर आउट हो गए अब्दुल समद आखिरी में 9 गेंद में 20 रन की पारी जरूर खेली दो सिक्सर लगाया एक चौका जड़ा और इस तरह से सनराइजर्स हैदराबाद की टीम 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 174 रन ही बना सकी और मुंबई इंडियंस और सनराइजर्स हैदराबाद को 34 रन से हार का सामना करना पड़ा। टॉप पर पहुंचा मुंबई।
इसके साथ ही पॉइंट टेबल की बात करें तो इस जीत के साथ ही मुंबई इंडियंस की टीम ने 5 मैच खेल लिए हैं मौजूदा सीजन में जिसमें से तीन जीत और दो हार के साथ मुंबई इंडियंस की टीम टॉप पर पहुंच गई है, तो वहीं दिल्ली कैपिटल्स की टीम एक बार फिर से दूसरे पोजीशन पर खिसक गई है। सनराइजर्स हैदराबाद की टीम चौथे नंबर से सीधे छठे नंबर पर पहुंच गई है पांच मैच में इस टीम के दो जीत है तीन हार हैं इससे पहले मुंबई इंडियंस की टीम तीसरे नंबर पर थी।               


9 अक्टूबर को आएगा भयंकर चक्रवाती तूफान

9 अक्टूबर को आ रहा भयंकर चक्रवाती तूफानः राज्यों में मचा सकता है तबाही।


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। देश में मानसून की विदाई का वक्त चल रहा है। हालांकि जाते जाते भी मानसून की प्रदेश में बारिश कर रहा है। इस बीच, खबर है कि बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान की स्थिति बन रही है। मौसम विभाग के अनुसार, उत्तरी अंडमान सागर में 9 अक्टूबर को कम दबाव का क्षेत्र बन सकता है। इसके चक्रवाती तूफान बनकर आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटीय इलाके की ओर बढ़ने की आशंका है। कम दबाव वाले क्षेत्र से ओडिशा और तटीय आंध्र प्रदेश में 11-13 अक्टूबर के बीच बारिश हो सकती है। बंगाल की खाड़ी में बने इसी कम दबाव के क्षेत्र के कारण अभी मुंबई में बारिश जारी रहेगी।
वहीं स्कायमेट के अनुसार, यह सिस्टम अगले 48 घंटों तक बंगाल की खाड़ी में ओडिशा और इससे सटे भागों के करीब बना रहेगा। उसके बाद यह ओडिशा के रास्ते जमीनी भागों की ओर बढ़ेगा। 10 अक्टूबर तक यह छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश होते हुए महाराष्ट्र के कोंकण क्षेत्र पर पहुंच सकता है। इसका असर पूर्वी उत्तर प्रदेश से लेकर मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और गुजरात तक दिखेगा।
बता दें, अक्टूबर में भी बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान आता है। 2013 और 2014 के अक्टूबर महीने में भयंकर चक्रवाती तूफान फेलिन और हुदहुद आया था। इन दोनों तूफानों ने ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाके में काफी तबाही मचाई थी। स्काटमेट के अनुसार, दक्षिण पश्चिम मानसून साल 2020 में वापसी की राह पर है। इसकी विदाई की शुरुआत 11 दिनों की देरी से 28 सितंबर 2020 को शुरू हुई। 30 सितंबर को इसने समूचे उत्तर पश्चिम भारत को अलविदा कह दिया। दूसरे चरण में जम्मू कश्मीर से लेकर दिल्ली तक के क्षेत्र शामिल रहा। 30 सितंबर को मानसून की विदाई जम्मू कश्मीर से लेकर गिलगित-बालटिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश से हो गई।
अगले दो-तीन दिनों के दौरान उत्तरी मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों, राजस्थान के लगभग सभी क्षेत्रों और उत्तर प्रदेश के कुछ भागों से मानसून के वापस होने की संभावना है। लेकिन मध्य भारत के बाकी हिस्सों और पूर्वी तथा पूर्वोत्तर राज्यों से इसकी वापसी कुछ समय के लिए अभी लटक सकती है, क्योंकि एक निम्न दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी पर बना हुआ है। निम्न दबाव के रूप में उठा यह सिस्टम अगले 1 सप्ताह तक अस्तित्व में रहेगा और इसकी वजह से पूर्वी दक्षिण पूर्वी हवाएं देश के कई राज्यों पर चलती रहेगी। इसके कारण पूर्वी और पूर्वोत्तर राज्यों में बारिश तो होगी ही, साथ ही मध्य भारत में भी कुछ स्थानों पर वर्षा होगी। यह उत्तर-पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ते हुए 9-10 अक्टूबर तक पश्चिमी मध्य प्रदेश और इससे सटे गुजरात के पास पहुंच जाएगा। इसके आगे बढ़ने की इसी प्रक्रिया के दौरान बारिश की गतिविधियां भी पश्चिमी दिशा में बढ़ती रहेंगी और 9-10 अक्टूबर के बाद जब यह सिस्टम कमजोर होते हुए गुजरात को पार कर जाएगा तब फिर से मॉनसून की वापसी शुरू होगी।
उल्लेखनीय है कि गुजरात और महाराष्ट्र दो ऐसे राज्य हैं जहां पर 10-15 अक्टूबर तक मानसून की गतिविधियां जारी रहना सामान्य मौसमी घटना है। लेकिन इसके बाद मॉनसून समाप्त हो जाता है क्योंकि 15 अक्टूबर के आस-पास ही दक्षिण भारत में उत्तर पूर्वी मॉनसून के आगमन की आहट मिलने लगती है। इस बदलाव के साथ-साथ मॉनसून की विदाई के बाद बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफानों के बनने की संभावनाएं भी बढ़ जाती हैं और वर्तमान मौसमी तथा समुद्र की स्थितियां 10 अक्टूबर के बाद बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान के लिए अनुकूल बनती हुई नजर आ रही हैं।
गलत साबित हुए पूर्वानुमान।
मौसम का हाल आम जन ही नहीं, मौसम विज्ञानियों के लिए भी अबूझ पहेली बना हुआ है। आलम यह है कि राजधानी दिल्ली में 18 फीसदी तक मौसम पूर्वानुमान गलत साबित हो रहे हैं। राष्ट्रीय स्तर पर 25 से 30 फीसदी तक पूर्वानुमान गलत ही निकलते हैं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक डॉ. मृत्युंजय महापात्रा ?मानते हैं कि वायुुमंडलीय विज्ञान में सौ फीसद सटीकता संभव नहीं है। मौसम बदलता रहता है। जलवायु परिवर्तन से एक्स्ट्रीम इवेंट्स भी बढ़ रहे हैं। फिर भी अधिकतर पूर्वानुमान सटीकता के करीब होते हैं। स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत भी कुछ इसी तरह की बात करते हैं। उन्होंने कहा कि वायुमंडलीय विज्ञान विशुद्ध विज्ञान नहीं है। यहां कोई सेट फॉर्मूला लागू नहीं होता। इसीलिए मॉडलिग के आधार पर जारी पूर्वानुमान औसतन 70 फीसद ही सटीकता रखते हैं। बहुत बार ये कम या ज्यादा भी हो जाती है। इस बार जल्दी आएगा सर्दी का मौसम।
अक्टूबर का महीना शुरू होते ही हल्की हल्की ठंड का अहसास होने लगा है। सुबह और रात में तापमान घट जाता है, जबकि दिन में तीखी धूप होने के कारण गर्मी का अहसास होता है। सितंबर के महीने में मौसम में बड़ा उतार चढ़ाव देखने को मिला। भारी बारिश हुई तो गर्मी ने भी सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया। अधिकतम एवं न्यूनतम दोनों ही तापमान सामान्य से साढ़े 3 डिग्री तक अधिक दर्ज किए गए। मानसून के अधिक समय तक सक्रिय रहने से सर्दी की दस्तक इस बार जल्द हो सकती है। गुलाबी ठंड का एहसास अगले कुछ ही दिनों में होने लगेगा। अक्टूबर का महीना शुरू होते ही हल्की हल्की ठंड का अहसास होने लगा है। सुबह और रात में तापमान घट जाता है, जबकि दिन में तीखी धूप होने के कारण गर्मी का अहसास होता है। सितंबर के महीने में मौसम में बड़ा उतार चढ़ाव देखने को मिला। भारी बारिश हुई तो गर्मी ने भी सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया। अधिकतम एवं न्यूनतम दोनों ही तापमान सामान्य से साढ़े 3 डिग्री तक अधिक दर्ज किए गए। मानसून के अधिक समय तक सक्रिय रहने से सर्दी की दस्तक इस बार जल्द हो सकती है। गुलाबी ठंड का एहसास अगले कुछ ही दिनों में होने लगेगा।  स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत के अनुसार, राजधानी दिल्ली की फिजा में आंशिक बदलाव तो महसूस हो ही रहा है, पखवाड़े भर के दौरान गुलाबी ठंड भी महसूस होने लगेगी। अक्टूबर माह में ही अधिकतम तापमान 30 और न्यूनतम तापमान 20 डिग्री से नीचे चला जाएगा, जबकि नवंबर में बच्चों और बुजुर्गों को गर्म कपड़ों की जरूरत पड़ने लगेगी। सितंबर माह में सामान्यतः अधिकतम तापमान 32.8 डिग्री सेल्सियस रहता है, लेकिन इस बार यह औसतन 36.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो 3.4 डिग्री अधिक है। 19 सितंबर को तो अधिकतम तापमान 38.0 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। यह भी उल्लेखनीय है कि सितंबर का ऑल टाइम रिकॉर्ड 16 सितंबर 1938 के नाम है, जब अधिकतम तापमान 40.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। इसी तरह सितंबर का सामान्य न्यूनतम तापमान 24.9 डिग्री सेल्सियस है, जबकि इस बार यह औसतन 25.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 0.8 डिग्री अधिक है। हालांकि 30 सितंबर को न्यूनतम तापमान 21.8 डिग्री सेल्सियस भी रहा था। इस माह का ऑल टाइम रिकॉर्ड 26 सितंबर 1964 का है जब न्यूनतम तापमान 17.3 डिग्री सेल्सियस पहुंचा था। अगर बारिश की बात करें तो सितंबर में होने वाली बारिश का सामान्य आंकड़ा 125.1 मिमी का है, जबकि इस साल केवल 20.9 यानी 83 फीसद कम बारिश हुई। यह बात अलग है कि इस साल मानसून ने दिल्ली में दो दिन पहले 27 जून के बजाय 25 जून को ही दस्तक दे दी थी, वहीं इसकी विदाई भी 25 सितंबर की जगह पांच दिन देरी से 30 सितंबर को हुई।                 


गांधी की भनक से सरकार घबराईः शैलजा

राहुल गांधी के आने की भनक से ही भाजपा सरकार बौखलाई: कुमारी सैलजा।


राणा ओबरॉय


चंडीगढ़। हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद श्री राहुल गांधी जी के हरियाणा आगमन पर प्रदेश कांग्रेस द्वारा उनका जोरदार स्वागत किया जाएगा। हरियाणा सरकार के लोगों के बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण वक्तव्य आए हैं कि वह श्री राहुल गांधी जी को हरियाणा प्रदेश में आने देना नहीं चाहते हैं। श्री राहुल गांधी का अधिकार है कि वह लोगों की बात सुनें और उनका दुख दर्द बांटें। उनके आने की सूचना से ही भाजपा सरकार बौखलाई हुई है और डरी हुई है। हम देखेंगे कि कैसे हरियाणा सरकार उन्हें हरियाणा में आने से रोकती है। श्री राहुल गांधी जी हरियाणा आएंगे और अवश्य आएंगे।
यह बातें हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद श्री राहुल गांधी जी और कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी जी की अगुवाई में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के साथ हाथरस में दरिंदगी का शिकार हुई मृतक लड़की के परिजनों से मिलने के लिए जाने के दौरान दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर पत्रकारों से बातचीत में कहीं।
कुमारी सैलजा ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लगातार लोकतंत्र का गला घोंटा गया है। उत्तर प्रदेश के हाथरस में दरिंदगी का शिकार हुई मृतक लड़की के परिजनों की आवाज भाजपा सरकार द्वारा लगातार दबाई जा रही है। उत्तर प्रदेश सरकार को पहले ही दिन कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व सांसद श्री राहुल गांधी जी और कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी जी को हाथरस जाने की इजाजत दे देनी चाहिए थी।
कुमारी सैलजा ने कहा कि हरियाणा कांग्रेस द्वारा श्री राहुल गांधी जी का हरियाणा प्रदेश में आगमन पर जोरदार स्वागत किया जाएगा। श्री राहुल गांधी जी हर गरीब के लिए, हर जरूरतमंद के लिए हमेशा खड़े रहते हैं। भाजपा सरकार द्वारा तीन कृषि विरोधी काले कानून बनाए गए हैं, इन काले कानूनों के द्वारा भाजपा सरकार लोगों की रोजी रोटी को खत्म करना चाहती है। यह सरकार पूंजीपतियों को बढ़ावा दे रही है। इन काले कानूनों के खिलाफ किसान, मजदूर, आढ़तियों को अपना समर्थन देने के लिए श्री राहुल गांधी जी को हमने हरियाणा प्रदेश का दौरा करने के लिए आमंत्रित किया है। वह हरियाणा आकर किसान, मजदूर आढ़तियों से मुलाकात करेंगे और उनका दुख दर्द बांटेंगे। कुमारी सैलजा ने कहा कि प्रधानमंत्री जी के पास लोगों का दुख दर्द और पीड़ा सुनने के लिए समय नहीं है। श्री राहुल गांधी जी हमेशा देशवासियों की पीड़ा सुनते रहे हैं। इसी कड़ी में श्री राहुल गांधी जी हरियाणा प्रदेश में केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा लाए गए कृषि विरोधी काले कानूनों के खिलाफ किसान, मजदूर और आढ़तियों की बात सुनने के लिए आ रहे हैं। हरियाणा कांग्रेस उनका प्रदेश आगमन पर जोरदार स्वागत करेगी। 6 अक्टूबर को वह पंजाब से पेहवा आएंगे और फिर कुरुक्षेत्र जाएंगे। हरियाणा प्रदेश का आम आदमी आज इस सरकार से त्रस्त है और श्री राहुल गांधी जी से बात करना चाहता है। कुमारी सैलजा ने कहा कि हरियाणा सरकार के लोगों के बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण वक्तव्य आए हैं कि वह श्री राहुल गांधी जी को हरियाणा प्रदेश में आने देना नहीं चाहते हैं। उन्होंने कहा कि श्री राहुल गांधी जी पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी के पोते और पूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी जी के पुत्र हैं, वह एक राजनीतिक व्यक्ति हैं, उनका अधिकार है कि वह लोगों की बात सुनें और उनका दुख दर्द बांटें। उनके आने की सूचना से ही भाजपा सरकार बौखलाई हुई है और डरी हुई है। हम देखेंगे कि कैसे हरियाणा सरकार उन्हें हरियाणा में आने से रोकती है। हरियाणा कांग्रेस का एक-एक कार्यकर्ता देखेगा कि कैसे हरियाणा सरकार राहुल गांधी जी को हरियाणा में आने से रोकती है। श्री राहुल गांधी जी हरियाणा आएंगे और अवश्य आएंगे। कुमारी सैलजा ने कहा कि श्री राहुल गांधी जी के हरियाणा दौरे की तैयारियों को लेकर दिल्ली में शनिवार को होने वाली बैठक अब रविवार को आयोजित की जाएगी। इस बैठक में हरियाणा कांग्रेस के सांसद, विधायक, पूर्व सांसद, पूर्व विधायक व वरिष्ठ नेता हिस्सा लेंगे।             


गैंग का शूटर गिरफ्तार, दर्जनों मुकदमे दर्ज

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


उधम सिंह करनावल थाना सरुरपुर गैंग का शर्प शुटर अपराधी गिरफ्तार, एक दर्जन से भी ज्यादा मुकदमे दर्ज।


हापुड़। उत्तर प्रदेश-जनपद हापुड़ की थाना हाफिजपुर पुलिस को बड़ी सफलता मिली। चेकिंग के दौरान उधम सिंह गैंग के लिए काम करनेवाले आशु चड्डा उर्फ मोन्टी बदमाश को गिरफ्तार किया। बदमाश के कब्जे से एक नाजायज पिस्टल 7.65 बोर 3जिंदा कारतूस व एक खोखा कारतूस बरामद।जनपद की थाना हाफिजपुर पुलिस ने किया खुलासा। गिरफ्तार किए गए बदमाश ने कबूला 307- 10 धारा 302 मैं थाना हाफिजपुर से भेजा गया था जेल। जहां पर बदमाश का संपर्क उधम सिंह गैंग से हो गया और गैंग के लिए काम करने लगा और पैसों के लिए लूट व हत्या करने लगा वह लगातार अपराध करता रहा बदमाश ने बताया हम लूट करने के इरादे से आए थे लेकिन पकड़े गये बरामद से अवैध  असलाह के बारे में पूछा गया तो बताया मौके से भागे गए दूसरे बदमाश राजू द्वारा उपलब्ध कराया गया था। फरार अभियुक्त का नाम राजू और वह किठौर जनपद मेरठ का बताया राजू से मेरी मुलाकात जेल में हुई थी अब हम दोनों लूट के इरादे से आए थे। अभियुक्त आशु चड्डा उर्फ मोंटी का आपराधिक इतिहास एक दर्जन से भी ज्यादा मुकदमे है दर्ज।             


हुक्का बार संचालित करनें वाले 12 अरेस्ट

पुलिस की बड़ी कार्रवाई हुक्का बार संचालित करने वाले 12 युवक गिरफ्तार।


अतुल त्यागी 


हापुड़। जनपद की पिलखुवा कोतवाली पुलिस ने एक ऐसी साझी का पर्दाफाश किया है, जो नशे का काला कारोबार कर रहे छात्रों को नशे की दलदल में धकेलने का काम करते थे, एसपी संजीव सुमन के नेतृत्व में पिल्लुवा पुलिस का सनसनीखेज खुलासा किया। हापुड़ में नशे के सौदागरों पर पुलिस का छापा, पिलखुवा पुलिस ने बड़ी कार्यवाही करते हुए हुक्का बार संचालित करने वाले व्यक्ति सहित 12 युवक गिरफ्तार किया हैं, मालिक मौके से फरार हो गए, हुक्का बार की आड़ में छात्रों को नशे की तरफ धकेलने की जा रही है। रही थी, बीफराम, एलएलबी, ग्रेजुएशन, कर पकड़े जाने वाले सभी छात्र, 11 मोबाइल 5 बाइक 3400, की ड्रिंक्स, 7 हुसे 16 चिलम व 15 कार्ट में फ्लेवर बरामद किए गए, पिलखुवा पुलिस पुलिस ने हुक्का बार चलाने वाले व्यक्तियों पर बड़ी कार्रवाई की। की।                   


हापुड़ः 3 शातिर वाहन चोर किए गिरफ्तार

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


17 मोटरसाइकिलों के साथ तीन शातिर वाहन चोर गिरफ्तार


हापुड़। जनपद के थाना बहादुरगढ़ क्षेत्र में थाना पुलिस और स्वाट टीम 2 की संयुक्त टीम ने कार्रवाई करते हुए विभिन्न क्षेत्रों से मोटरसाइकिल चोरी करने वाले एक गैंग का खुलासा किया।पुलिस द्वारा तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया जिनके पास से 17 मोटरसाइकिलों की कीमत लगभग 5 लाख है। बताई जा रही है बरामद की है। पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने बताया कि यह गैंग पिछले काफी समय से मोटरसाइकिल चोरी कर रही थी और यह लोग भोले वाले लोगों को नंबर प्लेट व मोटरसाइकिल के हिस्से बदल कर बेकते थे और उन्हों से अच्छी मुनाफा कमा रहे हैं। यह लोग काफी लंबे समय से इस धंधे में लगे हुए थे मुखबीर की सूचना पर सलारपुर तिराहे पर पुलिस द्वारा रात्रि 10: 00 बजे अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। थाना बहादुरगढ़ प्रभारी नीरज कुमार, उप निरीक्षक राव रतन स्वाट टीम, उपनिरीक्षक अमित कुमार, उप निरीक्षक हसन सिंह आदि का विशेष सहयोग अपराधियों को पकड़ने में।


मामूली घटत के साथ सोने के दाम स्थिर

फिर सस्ता हुवा सोना, जानिए आज के सोने चांदी की क्या है कीमत, खरीदने का सही है मौका।


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। सोने और चांदी ने बीते हफ्ते दो महीनों की अपनी सबसे बड़ी गिरावट देखी थी। भारत में सोने की कीमतें आज 53,790 रुपये से गिरकर 53,780 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई, जबकि चांदी 61,200 रुपये प्रति किलोग्राम पर चल रही थी। आज सोमवार को नई दिल्ली में 22 कैरेट सोने की कीमत 49,310 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बनी रही और चेन्नई में यह 48,510 रुपये तक चढ़ गई।
एक वेबसाइट के मुताबिक मुंबई में यह दर 49,410 रुपये थी।चेन्नई में 24 कैरेट सोने की कीमत 52,910 रुपये प्रति 10 ग्राम थी। वहीं लखनऊ में 22 और 24 कैरेट गोल्ड की कीमत 49310 और 53,790 प्रति 10 ग्राम थी। यही दरें पटना में 49410 और 50410 रुपये प्रति 10 ग्राम थी।
एमसीएक्स पर अक्टूबर का सोना वायदा 0.13 प्रतिशत उछलकर 50,470 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया, जबकि चांदी दिसंबर वायदा 61,145 रुपये प्रति किलोग्राम पर थी। शुक्रवार को सोने ने लगभग दो महीनों में सबसे अच्छा साप्ताहिक लाभ प्राप्त किया।
पिछले सत्र में सोना 1 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1892.06 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर बंद हुआ था, जो पिछले सत्र में 1,911.66 डॉलर के उच्च स्तर पर था। अमेरिकी सोना वायदा 1 फीसदी गिरकर 1,898 डॉलर प्रति डॉलर पर आ गया. हालांकि इस सप्ताह बुलियन में 1.8 प्रतिशत की वृद्धि हुई है, यह सप्ताह समाप्त होने के बाद इसका सबसे बड़ी साप्ताहिक प्रतिशत वृद्धि है।
सोने की औसत कीमत पिछले महीने की तुलना में पांच फीसदी कम थी। दिलचस्प बात यह है कि अगस्त 2020 का पहला महीना था जब सोने के निवेश से नकारात्मक रिटर्न मिला. भारत सोने का सबसे बड़ा आयातक है, जो मुख्य रूप से ज्वैलरी इंडस्ट्री की मांग को पूरा करता है. भारत सालाना 800-900 टन सोना आयात करता है।                 


6 महीने बाद शूटिंग पर लौटे 'सलमान'

6 महीने बाद ‘राधे’ फिल्म की शूटिंग पर लौटे सलमान खान।


मुंबई। बिग बॉस-14 का प्रीमियर एपिसोड शूट करने के बाद सलमान खान अब अपनी अपकमिंग फिल्म की शूटिंग शुरू कर दी है। दबंग खान ने फिल्म ‘राधे: योर मोस्ट वॉन्टेड भाई’ के शूटिंग सेट पर 6 महीने बाद वापसी कर ली है। मीडिया के अनुसार, फिल्म की 80 प्रतिशत शूटिंग पूरी हो चुकी है। हालांकि फिल्म के एक गाने की शूटिंग बाकी है। फिल्म की शूटिंग मार्च तक पूरी होनी थी, लेकिन कोरोना लाॉकडाउन के चलते ऐसा संभव नहीं हो सका। अब सलमान ने शूटिंग सेट पर वापसी की अपनी एक तस्वीर फैन्स के लिए सोशल मीडिया पर शेयर की है। बता दें की सलमान फोटो में ब्लैक कूल जैकेट में नजर आ रहे हैं। एक्टर के पीछे कैमरा तो सामने कार और बाइक है। इस फोटो के साथ सलमान ने कैप्शन ने लिखा- ‘6.5 महीने के बाद शूट पर लौटा। अच्छा लग रहा है। राधे।’ वहीं दिशा पाटनी ने फिल्म ‘राधे’ की शूटिंग शुरू करने का ऐलान अपनी एक इंस्टाग्राम स्टोरी के जरिए किया। मीडिया के मुताबिक सलमान खान की फिल्म के सेट पर कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए खास व्यवस्था की गई है। मुंबई से बाहर शूट के दौरान रोज-रोज के ट्रैवल से बचने के लिए प्रोडक्शन टीम ने एनडी स्टूडियो के पास एक होटल किया है जहां पर सभी टेक्निशियंस रहेंगे। उन्हें शूट के दौरान बाहरी लोगों से मिलने की अनुमति नहीं रहेगी। वह सभी का कोरोना टेस्ट किया जा चुका है, जिसमें सभी निगेटिव आए हैं। जल्द ही दूसरा टेस्ट लिया जाएगा, जिसमें एक्टर्स और कोर टीम शामिल होगी। किसी को कोई कन्फ्यूजन हो इसके लिए क्रू को स्पेशल वीडियो के जरिए सेट पर फॉलो किए जाने वाले प्रोटोकॉल्स की जानकारी दी जा चुकी है। सेट पर हाइजीन और अनुशासन बरतने के लिए डॉक्टरों की टीम के साथ-साथ सलमान खान की अपनी पर्सनल टीम भी मौजूद होगी।
आपको बता दें कि ‘राधे: योर मोस्ट वॉन्टेड भाई’ फिल्म में सलमान खान के अपोजिट दिशा पाटनी हैं। दिशा और सलमान को ऑनस्क्रीन रोमांस करते हुए देखने के लिए फैन्स बेहद उत्साहित हैं।               


भाजपा शासन में बेटियां बिल्कुल सुरक्षित नहीं

भारतीय जनता पार्टी सरकार में बेटियां बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं: मीना शर्मा।


पंकज कपूर


देहरादून। उत्तराखंड प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी की वरिष्ठ उपाध्यक्ष और रुद्रपुर नगर पालिका परिषद की पूर्व चेयरपर्सन श्रीमती मीना शर्मा ने हाथरस उत्तर प्रदेश में मनीषा बाल्मीकि के साथ अमानवीय और क्रूर घटना की घोर शब्दों में निंदा की है। उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भारतीय जनता पार्टी सरकार मैं बेटियां बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है। श्रीमती शर्मा ने कहा कि हाथरस में हुई यह जघन्य घटना इसका जीता जागता प्रमाण है। प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी की वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्रीमती मीना शर्मा ने इस घटना के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से नैतिकता के आधार पर इस्तीफा देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए इससे पूर्व गांधी पार्क में जन्मी फाउंडेशन उत्तराखंड और उधम सिंह नगर कराटे डू एसोसिएशन के पदाधिकारियों और सदस्यों द्वारा मनीषा बाल्मीकि के साथ हुए अत्याचार और अमानवीय दुर्व्यवहार की निंदा की गई और मोमबत्ती जलाकर गहरा शोक व्यक्त किया गया यहां से सभी लोग कैंडल मार्च निकालते हुए संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जी की मूर्ति स्थल पहुंचे जहां उन्होंने 2 मिनट का मौन रखकर मनीषा बाल्मीकि को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की इस अवसर पर प्रदेश महिला कांग्रेस कमेटी की वरिष्ठ उपाध्यक्ष और रुद्रपुर नगर पालिका परिषद की पूर्व चेयरपर्सन श्रीमती मीना शर्मा ने घटना की तीव्र निंदा करते हुए दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की इस अवसर पर कांग्रेस नेता अनिल शर्मा मोहम्मद हसन खान कुबेर भारती विशाल शर्मा लक्ष्य दिवाकर अभिषेक सिंह रविंद्र सहित बड़ी संख्या में अन्य लोग उपस्थित थे।           


पत्रकार एकजुट हो कराएं चौथे स्तंभ का एहसास

सभी पत्रकार एकजुट होकर करायें चौथे स्तंभ का आभास जेसीआई


संदीप मिश्र


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले के प्रकरण में खासतौर पर महिला पत्रकारों के साथ हुई अभद्रता का संज्ञान लेते हुए जर्नलिस्ट काउंसिल ऑफ इंड़िया ने चौथे स्तंभ के महत्व को लेकर चिंता जाहिर की। जर्नलिस्ट काउंसिल ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुराग सक्सेना ने कहा कि पत्रकार ने हमेशा समाज को सच का आइना दिखाने का काम किया है। सरकार और समाज के बीच की सबसे मजबूत कडी पत्रकार ही है। और निष्पक्ष पत्रकारिता से ही समाज और सरकार के सामने सच्चाई को उजागर करता है। देश का चौथा स्तम्भ।
मगर वर्तमान समय मे सबसे उपेक्षित आज देश का चौथा स्तम्भ ही है। सुविधाओं के नाम पर हमेशा सबसे पीछे दिखाई देता है। अध्यक्ष ने देश के सभी मीडिया संगठनों और पत्रकारों से एकजुट होकर देश के चौथे स्तंभ का आभास कराने का आवाह्न किया। उन्होने कहा कि आज पत्रकारों की दुर्दशा का जिम्मेदार और कोई नहीं बल्कि स्वयं पत्रकार ही है। और इसका एकमात्र कारण है। उनका एकजुट न होना। आज बडे बैनरों के पत्रकारों को छोड दें तो छोटे और मध्यम वर्गीय बैनरों के पत्रकारों को इतना वेतन भी नहीं मिलता कि वह अपने परिवार का भरण पोषण आसानी से कर सके। अगर ग्रामीण क्षेत्रों के पत्रकारो की बात करें तो उन्हें तो पर्याप्त मानदेय भी नहीं मिलता । ऐसे में सच्चाई को उजागर करना कितनी बडी चुनौती होती है। पत्रकार के सामने इसका एहसास केवल पत्रकार ही कर सकता है। लेकिन फिर भी अपनी निजी समस्याओं को नजरअंदाज कर दिन रात सच्चाई को समाज के सामने लाने का प्रयास करता है। एक पत्रकार।क्योंकि समाज को आज भी देश के चौथे स्तंभ पर ही भरोसा है। कि वह ही सच का आइना दिखायेगा। आज समाज का चौथा स्तम्भ कितना कमजोर हो चुका है। इसका भी एहसास है। पत्रकार को लेकिन फिर भी अपनी कलम के माध्यम से सच को सामने लाने का प्रयास करता है। जब भी कभी बात होती है। तो सरकार हमेशा मान्यता प्राप्त पत्रकारों के बारे में कुछ घोषणायें करके इतिश्री कर लेती है। और एक श्रमजीवी पत्रकार अपने आपको हमेशा ठगा महसूस करता है। आज डिजिटल मीडिया का दौर आ गया हर किसी को पल भर मे ही देश के किसी भी कोने में हुई घटना की जानकारी मिल जाती है। लेकिन डिजिटल मीडिया सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत आता ही नहीं इसकी जानकारी किसी को नहीं l इस पर सरकार भी चुप्पी साधे बैठी है यही कारण है। कि कभी कभी फेक समाचार भी इतना वायरल हो जाता है कि अगले दिन घटना की सही जानकारी मिलती है। सरकार डिजिटल मीडिया को लेकर अभी तक कोई ठोस नीति नहीं बना पाई है। और डिजिटल इंडिया का नारा देने बाली मोदी सरकार भी इसको लेकर कोई ठोस कदम नही उठा रही जिसके चलते चौथा स्तंभ लगातार कमजोर होता दिखाई दे रहा है। अब समय आ गया है। कि देश के सभी पत्रकार एकजुट होकर देश मे चौथे स्तंभ का एहसास करायें। अपनी मूलभूत मांगे जो अत्यंत आवश्यक हैं। उन्हे पूरी करायें। देश के सभी पत्रकारों को सूचीबद्ध किया जाये डिजिटल मीडिया को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत लाकर इसका भी एमआईवी और आरएनआई की तरह रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया हो। पत्रकारों को सुविधाएं बिना किसी भेदभाव के एक समान मिलें और किसी भी पत्रकार पर मुकदमा दर्ज होने से पूर्व उसकी वरिष्ठ अधिकारी द्वारा जांच हो। जर्नलिस्ट काउंसिल ऑफ इंडिया की बैठक मे सभी उपस्थित पत्रकारों ने इसका एकजुट होकर सर्मथन किया।                   


सघन सामुदायिक सर्वे अभियान किया शुरू

जिले में कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान शुरू


कलेक्टर ने नागरिकों से सहयोग की अपील की


बिलासपुर। 5 अक्टूबर कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर के मागदर्शन में जिले मेें कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान आज से शुरू किया गया है। कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर ने जिले के सभी नागरिकों से अपील की है कि सर्वे टीम को सही जानकारी दें और आवश्यक सहयोग करें। यह हम सभी की सुरक्षा एवं बचाव के लिये बेहद जरूरी है।  
उल्लेखनीय है कि कोविड-19 संक्रमण के प्रसार श्रृंखला को तोड़ने हेतु छत्तीसगढ़ शासन के निर्देशानुसार राज्य के सभी जिलों के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर भ्रमण कर कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे आज से शुरू किया गया है। यह अभियान 12 अक्टूबर 2020 तक चलाया जायेगा।
 कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर ने सभी नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण से बचने के लिए जागरूकता, जल्द से जल्द संक्रमित व्यक्ति की पहचान और उपचार और इस उद्देश्य को पूरा करने में जिला प्रशासन को आम जनता का सहयोग सबसे महत्वपूर्ण है। उन्होंने बताया कि सर्वे के बाद जांच दल द्वारा लक्षण वाले मरीजों को कोरोना समुचित उपचार का प्रबंध किया जायेगा। कलेक्टर डाॅ. सारांश मित्तर ने कहा कि कोरोना से संबंधित सुरक्षात्मक उपायों का स्वयं अनुशासित होकर पालन करें और तीन बातों का विशेष ध्यान दें- मास्क को सही तरीके से पहनंे यानी कि मास्क से मुंह और नाक पूरी तरह ढंके होने चाहिए। दो गज की दूरी सबसे जरूरी है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। हैंडवाश या सैनिटाइजेशन का उपयोग करें। बार-बार अपने हाथ साबुन से धोते रहें या सैनिटाईज करते रहें। उन्होंने कहा कि नागरिकों की सहभागिता और जागरूकता से हम कोरोना से चल रही इस जंग को जीतने में जरूर कामयाब होगें।                


पुलिस ने पशु तस्करों को किया गिरफ्तार

अतुल त्यागी


गाजीपुर। जमानिया कोतवाली पुलिस ने रविवार की रात दुरहिया के पास से तीन तस्करों को गिरफ्तार किया गया। उनके कब्जे से एक बछिया और दो बाछा बरामद किया। इस संबंध में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक राजीव कुमार सिंह ने बताया कि पुलिस कर्मियों के साथ गश्त पर थे। इसी दौरान रात करीब आठ बजे दुरहिया गांव के पास पशु तस्कर आफताब कुरैशी, फिरोज कुरैशी और सरफराज कुरैशी को गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से एक बछिया और दो बाछा बरामद किया। अभियुक्तों का संबंधित धाराओं में चालान कर जेल भेज दिया गया। गिरफ्तार करने वाली टीम में कांस्टेबल सकेन्द्र सिंह, कांस्टेबल कुलदीप सरोज, कांस्टेबल दिनेश कुमार, कांस्टेबल फुजैल, कांस्टेबल बलवंत सिंह, कांस्टेबल रत्नेश कुमार और कांस्टेबल गोविंद निर्मल शामिल थे।               


1100 ग्राम गांजा के साथ तस्कर गिरफ्तार

गाजीपुर। जमानिया पुलिस ने एक गांजा तस्कर को गिरफ्तार किया। जमानिया थाना प्रभारी राजीव कुमार सिंह ने बताया कि रविवार की शाम उपनिरीक्षक मंजर अब्बास ने गंगा पुल के पास से दिलबर कुरैशी को 1 किलो 100 ग्राम गांजे के साथ गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अभियुक्त ने बताया कि वह गांजा को बिहार राज्य में बेचने के लिए ले जा रहा था। गिरफ्तार करने वाली टीम में कांस्टेबल सौरव सिंह, कांस्टेबल शिवा कुमार, कांस्टेबल बलवंत सिंह, कांस्टेबल रत्नेश कुमार और कांस्टेबल गोविंद निर्मल शामिल रहे।               


नाबालिक लड़के के साथ कुकर्म, आरोपी गिरफ्तार

नाबालिग लड़के के साथ कुकर्म करने वाला आरोपी गिरफ्तार।


बृजेश केसरवानी


लखनऊ। थाना शिवाजी कालोनी के एरिया में नाबालिग लड़के के साथ कुकर्म करने का मामलें सामने आया है। रोहतक पुलिस ने मामलें में त्वरित कार्यवाही करते हुए अभियोग अंकित कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को आज पेश अदालत किया गया है। प्रभारी थाना शिवाजी कालोनी निरीक्षक बलवंत सिंह ने बताया कि बिहार निवासी महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई जिसके आधार पर धारा 377/506 भा.द.स. व पोस्को एक्ट के तहत अभियोग अंकित किया गया। प्रारंभिक जांच में सामने आया कि महिला अपने परिवार सहित थाना शिवाजी कालोनी के एरिया में किराये पर रहती है। उसी मकान में राहुल निवासी गोरखपुर (उत्तर प्रदेश) भी किराये पर रहता है। दिनांक 27.09.2020 को राहुल ने महिला के 5 वर्षीय लडके के साथ कुकर्म किया है। मामलें की जांच उप.नि. राजकरण द्वारा अमल में लाई गई। दौराने जांच दिनांक 03.10.2020 को आरोपी राहुल पुत्र सर्वजीत निवासी रुदरपुर भारतोला जिला देवरीया (उत्तर प्रदेश) को गिरफ्तार किया गया है। मामलें की गहनता से जांच की जा रही है।               


राहुल का हरियाणा भ्रमण मौलिक अधिकार

राहुल गांधी का हरियाणा भ्रमण मौलिक अधिकार: सुनीता दुग्गल।


राजेन्द्र कुमार
सिरसा। हरियाणा में सिरसा की सांसद व भाजपा नेता सुनीता दुग्गल ने कहा कि कांग्रेसी नेता राहुल गांधी का हरियाणा में भ्रमण करना मौलिक अधिकार है, बशर्ते कि वह कानून हाथ में ना लें। सुनीता दुग्गल आज यहां राहुल गांधी के हरियाणा व पंजाब में भ्रमण को लेकर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रही थी। साथ ही सुनीता दुग्गल ने हाथरस में हुए कांड पर कहा योगी सरकार ने संबंधित पुलिस अधिकारियों को निलंबित कर सही समय पर सही कदम उठाया है, उन्होंने कहा इस घटना के प्रति जिम्मेवार लोगों को फांसी की सजा दी जानी चाहिए। उन्होंने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अटल टनल देश को समर्पित करने पर बधाई दी और कहां अब लेह और लद्दाख का रास्ता सुगम हुआ है। सांसद सुनीता दुग्गल ने कहा की कृषि संशोधन विधेयक लाने की आरंभ में बात कांग्रेस ने ही की थी जो कि आज सस्ती राजनीति बटोरने के लिए इसका विरोध कर रही है सांसद दुग्गल ने कल डबवाली वोडा हमें काले झंडे दिखाए जाने की बात पर कहा कि काले झंडे दिखाए जाने में किसान नहीं बल्कि कांग्रेसी थे ।उन्होंने तीनों कृषि विधेयकों की वकालत करते हुए कहा कि यह किसान और व्यापारी के हित में है इन बिलों के लागू होने से किसान की आर्थिक स्थिति में इजाफा होगा। उन्होंने कहा कि अब किसान अपनी फसल को किसी भी मंडी में बेचने के लिए आजाद हैं।उन्होंने कहा नई नीति के तहत बड़े उद्योग घरानों से एमओयू कर अपनी फसल का बढ़िया भाव किसान ले सकता है ।उन्होंने कहा कि किसानों को उग्र प्रदर्शन करनेबकि बजाय तीनों अध्यादेश को गौर से समझना चाहिए । इस दौरान उनके साथ वरिष्ठ भाजपा नेता जगदीश चोपड़ा ,पूर्व विधायक मक्खन लाल सिंगला व पदम जैन भी मौजूद थे। सांसद सुनीता दुग्गल ने कहा भारतीय जनता पार्टी की पहली सरकार है जो किसान की फसल एमएसपी पर खरीद रही है अब से पहले की सरकारों ने किसान को एमएसपी के नाम पर गुमराह किया। उन्होंने भरोसा दिलाया कि हरियाणा में किसान की फसल का दाना दाना खरीदा जाएगा। उन्होंने बाजरा व अन्य फसलों की खरीद में बरती जा रही कोताही पर जिला प्रशासन के अधिकारियों को सुधारने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रधानमंत्री कृषि बीमा योजना का जिक्र करते हुए का किसान को आज उसकी खराब हुई फसल का तुरंत मुआवजा मिलता है किसानों को हाल ही में खराब हुई फसल के बदले तीन किस्तो 2-2 हजार रुपए मिले हैं जबकि पूर्व के शासन के चलते दो-दो रुपए मिलते थे। उन्होंने किसानों से आह्वान किया कि वे फसल चक्र अपनाएं। उन्होंने कहां की आज देश में जमाना बदला है किसानों को चाहिए की फल व सब्जी की फसल बोयें ताकि उनकी आर्थिक स्थिति और सुदृढ़ हो सके। डबवाली व  कलावाली में कल किसानों द्वारा दिखाए गए काले झंडे व सिरसा में कम समय रहने की खबर पर सुनीता दुग्गल मीडिया पर बरसी और कहां की तोड़ मरोड़ कर खबरें पेश करने वाले पत्रकारों के खिलाफ वह  मुकदमा दर्ज करवाएगी।                         


नाबालिग के साथ बलात्कार, आरोपी गिरफ्तार

नाबालिग युवती के साथ बलात्कार करने का आरोपी गिरफ्तार।


लखनऊ। सांपला एरिया में नाबालिग युवती के साथ बलात्कार करने के आरोप में रोहतक पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को कल पेश अदालत किया जाएगा। प्रभारी थाना सांपला निरीक्षक कुलबीर सिंह ने बताया कि थाना एरिया के गांव की रहने वाली महिला ने दिनांक 01.10.2020 को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई जिसके आधार पर धारा 354ए,376,506,34 भा.द.स. व पोस्को एक्ट के तहत अभियोग अंकित किया गया। जांच में सामने आया कि गांव के रहने वाले दो लड़के उसकी 14 वर्षीय लड़की के साथ अश्लील छेड़छाड करते है। फोन पर लड़की को तंग करते है। लड़की को उनका कहना न मानने पर परिवार को जान से मारने की धमकी देते है। युवकों ने नाबालिग लड़की के साथ जबरदस्ती बलात्कार किया है। मामलें की जांच महिला निरीक्षक सुशीला द्वारा अमल में लाई गई। दौराने जांच पीडिता का मेडीकल परीक्षण कराया गया। पीडिता के मजिस्ट्रेट के समक्ष कथन अंकित कराए गए। पीडिता की काउंसिलिंग कराई गई तथा कानूनी सहायता उपलब्ध कराई गई। दिनांक 04.10.2020 को 23 वर्षीय आरोपी युवक को गिरफ्तार किया गया है। मामलें की गहनता से जांच की जा रही है।                   


सादगी पूर्ण मनाया जाएगा चेहल्लुम का पर्व

इस वर्ष सादगी पूर्ण मनाया जाएगा चेहल्लुम का पर्व।


नई दिल्ली। कोरोना महामारी और विधानसभा उपचुनाव के आचार संहिता के बीच शहर में इस बार 7 अक्टूबर से शुरू होने वाले दो दिवसीय चेहल्लुम का पर्व सादगी पूर्ण तरीके से मनाया जाएगा। इसको लेकर इतवारिया बाजार सुसनेर में तैयारियां का दौर शुरू हो चुका है। विद्युत साज-सज्जा के साथ ही वर्षों पुराने व नए ताजियों को आकर्षक रूप में सजाया जाकर उनकी साफ सफाई की जा रही है। शासन के गाइडलाइन के अनुसार ताजियों की ऊंचाई शासन के निर्देशानुसार रखी जाएगी। इसी के तहत प्रतिवर्ष चेहल्लुम के पर्व पर निकाले जाने वाले जुलूस भी इस बार नहीं निकाला जाएगा सिर्फ नगर के इतवारिया बाजार में एक ही जगह पर ताजियों का मुकाम लगाकर श्रद्धालुओं द्वारा मन्नतें मांगी जाएंगी। शब्बीर हुसैन बोहरा के अनुसार 40 वें के पर्व को इस बार सादगी से मनाया जाएगा। कोविड-19 को देखते हुए सरकार की गाइडलाइन का पूरा पूरा पालन किया जाएगा इसके लिए आयोजन स्थल पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए मांस्क व सैनिटाइजर की भी व्यवस्था रहेगी। यहां पर 7 व 8 अक्टूबर को चेहल्लुम का पर्व मनाया न 2 जाएगा। दिनों में यहां आने वाले श्रद्धालुओं के द्वारा नारियल चढ़ाकर मन्नतें मांगी जाती है। साथ ही मन्नतें पूरी होने पर मिठाई और नारियल जैसी सामग्री से तुला दान भी किया जाता है। इस दो दिवसीय पर्व में शामिल होने वाले श्रद्धालुओं से सरकार की गाइडलाइन का पालन करने की अपील शब्बर हुसैन बोहरा  ने नागरिकों से की है।               


सीआरपीएफ टीम पर आतंकी हमला किया

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। कश्मीर में आतंकियों ने सीआरपीएफ की टीम पर कायराना हमला कर दिया। जिसमें दो जवान शहीद हो गए। दरअसल, आतंकियों ने सीआरपीएफ की रोड ओपनिंग पार्टी पर हमला कर दिया। आतंकी हमले के लिए घात लगाए बैठे थे। जिसमें दो जवान घायल हो गए और इलाज के दौरान दोनों की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक आज दिन में आतंकियों ने कश्मीर में पंपोर के बाहरी इलाके से सटे तंगन बाईपास पर सीआरपीएफ की 110वीं बटालियन पर हमला किया। इस हमले में दो जवान गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जिन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन चोट अधिक लगने से उनकी मौत हो गई। अब सीआरपीएफ ने आतंकवादियों को पकड़ने के लिए अभियान शुरू कर दिया है।     

चरम पर साइबर अपराध, 3 खातों से निकाले पैसे

साइबर अपराध चरम सीमा पर, तीन लोगों के खातों से निकले ₹ 1.14 लाख।


अश्वनी उपाध्याय


गाज़ियाबाद। साइबर अपराधी लोगों को लगातार अपना निशाना बना रहे हैं। और पुलिस कुछ नहीं कर पा रही है। इसी क्रम में साइबर अपराधियों ने सॉफ्टवेयर इंजीनियर और छात्र समेत तीन लोगों को अपना निशाना बना डाला। तीनों के खातों से 1.14 लाख रुपए की नकदी निकाल ली।
पहले मामले में कवि नगर में रहने वाले संयम जैन ने बताया कि वह गुड़गांव में स्थित एक कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। उनके दो खाते हैं। इसमें एक खाता राजनगर आरडीसी में स्थित एचडीएफसी बैंक में है। जबकि दूसरा खाता भी नगर में स्थित पंजाब नेशनल बैंक में है। उन्होंने बताया कि साइबर अपराधियों ने जहां एचडीएफसी बैंक के खाते से तीन बार में 20 हजार रुपए निकाल लिए। वहीं पंजाब नेशनल बैंक के खाते से 10 हजार रुपए की नगदी उड़ा दी। मोबाइल पर खातों से रकम निकलने का मैसेज आने पर उन्हें ठगी का पता चला। इसके बाद मामले की जानकारी दोनों बैंकों के अधिकारियों और पुलिस को दी। दूसरे मामले में विजयनगर के शांति नगर में रहने वाला बीए सेकंड ईयर का छात्र राहुल सिंह ने बताया कि उसका खाता जीटी रोड पर स्थित एमएमएच कॉलेज के निकट सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में है। खाते से साइबर अपराधियों ने 5 हजार रुपए की नकदी निकाल ली। उसने बताया कि जिस समय नगदी की निकासी हुई उस समय वह मोबाइल पर अपने दोस्त से बात कर रहा था। मोबाइल पर बात खत्म होने पर आया मैसेज चेक किया गया तो खाते से रकम निकलने का पता चला। उधर सिहानी गेट कोतवाली क्षेत्र में रहने वाले पंकज कुमार के खाते से भी साइबर अपराधियों ने 79 हजार रुपए की नकदी निकाल ली। मोबाइल पर मैसेज आने पर ठगी का पता चला तो मामले की जानकारी संबंधित बैंक और पुलिस को दी गई। पुलिस ने बताया कि तीनों मामलों में ठगी की रिपोर्ट दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही।              


बैंक की राजनीति का हिस्सा, बिलों का विरोध

वोट बैंक की राजनीति का हिस्सा है। किसान बिलों का विरोध जनरल (रि) वी. के सिंह


नई दिल्ली। केंद्र सरकार में राज्य मंत्री व गाज़ियाबाद के सांसद पूर्व जनरल वीके सिंह ने कहा कि हाल में देश की संसद और राज्य सभा से पारित हुए किसानों से जुड़े बिल का विरोध केवल वोट बैंक की राजनीति का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि जो विपक्ष आज किसान बिलों को लेकर विरोध कर रहा है। देश की संसद में पेश किए जाने के दौरान उसने किसी तरह की आपत्ति नहीं जतायी। उन्होंने कहा कि इन दोनों बिलों से किसान को निश्चित तौर से लाभ होगा और जो मंडियों में आढ़ती आदि किसानों का शोषण करते थे। वह भविष्य में नहीं कर पाएंगे। किसान हिंदुस्तान के किसी भी हिस्से में अपने सामान को बेच सकते है। उन्होंने कहा कि जिस वक्त केंद्र में मोदी सरकार सत्ता में आयी थीं।तभी से उसका उद्देश्य देश के अन्नदाता को उसकी उपज का उचित मूल्य दिलाना है। जनरल सिंह ने कांग्रेस तथा दूसरे दलों का नाम लिए बगैर कहां कि विपक्षी दल देश के किसानों को गुमराह करने का काम कर रहे है। दोनों बिल किसानों को आत्म निर्भर बनाने से जुडे हुए है। उन्होंने कहा कि किसानों की सुविधा के लिए देश भर में मंडी बनी लेकिन दुर्भाग्य पूर्ण स्थिति ये है। कि सबसे अधिक मंडी शुल्क पंजाब में साढे़ आठ फीसदी है। जबकि सबसे कम मंडी शुल्क गुजयरात में है।
सवालों के जबाव में केंद्रीय राज्य मंत्री ने कहा कि सहयोगी अकाली दल को भी डर लगने लगा था। कि यदि उसके द्वारा इन बिलों का विरोध नहीं किया जाता है। तो उसकी जमीन खिसक जाएंगी। उन्होंने दावे के साथ कहा कि मंडी व्यवस्था खत्म नहीं होगी। बल्कि मंडी के स्टाफ को शिफ्ट किया जा रहा है। इन नए बिलों के मंजूर होने के बाद मार्केट में व्यापारी बढेंगे और इसका किसान को लाभ मिलेगा। किसानों की आय डबल करने के उद्देश्य से ही मधु मक्खी पालन पर भी जोर दिया जा रहा है। जो देश में कृषि का बजट एक वक्त 12 हजार करोड़ था। उसे बढ़ाते हुए दस गुणा किया गया है। बांस का पेड़ पहले चीन से आयात किया जाता था। जबकि अब हिंदुस्तान के गांवों में बांस के पेड़ लगाने को प्रोत्साहन दिया जा रहा है। इन विधेयक में यहां तक व्यवस्था दी गई है। कि जो किसान अपने खेत को किराए पर देते है। खेत की फसल का मूल्य एग्रीमेंट में उल्लेख करना होगा। एग्रीमेंट के बाद मोल भाव नहीं किया जा सकेगा। एग्रीमेंट केवल फसल तक ही सीमित रहेगा। जमीन पर इसके बाद चर्चा नहीं की जा सकेगी। देश के किसानों को बिलों के प्रति जागरूक करने का पूरे देश में कार्य आरंभ किया गया है। उन्होंने सवालों के जबाव में कहा कि गन्ना किसानों को एक वक्त में पांच से आठ साल अपनी फसल के पैसे के लिए इंतजार करना पडता था। जबकि अब ऐसा नहीं है। कुछ बदमाश चीनी मिल संचालक है। उन पर नियंत्रण के लिए सरकार कदम उठा रही है। जहां तक यूपी की कानून व्यवस्था का सवाल है। योगी सरकार के द्वारा सुधार के कदम उठाए जा रहे है। संवाददाता सम्मेलन के दौरान बीजेपी नेताओं ने हाथरस प्रकरण पर ये कहते हुए चुप्पी साध ली की एजेंसियों के द्वारा पड़ताल की जा रही है। इस दौरान महापौर आशा शर्मा, मुरादनगर से विधायक अजीत पाल त्यागी, साहिबाबाद विधायक सुनील शर्मा, महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा आदि मौजूद रहे।               


रिपोर्ट के बाद स्वरा भास्कर का ट्वीट वायरल

रिया को रिहा करो एम्स की रिपोर्ट के बाद स्वरा भास्कर का ट्वीट वायरल।


रोशन प्रजापति
नई दिल्ली। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की रिपोर्ट आने के बाद ड्रग तस्करी और अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले में बंद अभिनेत्री रेय चक्रवर्ती को रिहा करने की मांग उठने लगी है। इस मामले में अभिनेत्री स्वरा भास्कर का रिएक्शन भी सामने आया है। उन्होंने रिया को रिहा करने की मांग की है। दरअसल सुशांत मामले में भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के डॉक्टरों ने कहा कि यह केस सुसाइड का है। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने भी एम्स की रिपोर्ट सामने आने के बाद लोकसभा में रिया को रिहा करने की मांग की थी। कांग्रेस नेता की बात के समर्थन में स्वरा ने एक ट्वीट में लिखा।वेल डन सर। और हैशटैग के साथ हाथ जोड़ने वाली इमोजी के साथ लिखा। रिलीज रिया चक्रवर्ती। स्वरा भास्कर के इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स भी अपना-अपना रिएक्शन दे रहे हैं।
कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने एक ट्वीट में लिखा। हम सभी सुशांत जी की मृत्यु से दुखी हैं। लेकिन एक महिला को आरोपी के रूप में फंसा कर उन्हें (सुशांत को) सम्मानित नहीं किया जा सकता। मैंने पहले ही कहा है कि रिया चक्रवर्ती एक बेकसूर महिला है। उन्हें और अधिक प्रताड़ित किए बगैर रिहा किया जाना चाहिए वह राजनीतिक साजिश का शिकार हुई है।
हाल ही में द वीक में प्रकाशित एक कॉलम में स्वरा ने लिखा था कि नेपोटिज्म की शुरुआती बहस के बाद सुशांत के पिता द्वारा पटना में एफआईआर दर्ज कराने के बाद ध्यान रिया की ओर कर दिया गया। स्वरा ने लिखा।यह एक चौंकाने वाले बदनामी कैपेंन और हिस्टेरिकल मीडिया ट्रायल के कारण हुआ जिसने व्यावहारिक रूप से रिया को हत्या का दोषी बता दिया। बिना किसी सबूत और तथ्यों के आधार पर जो अब झूठ साबित हो रहा है।               


सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का करेंगे लोकार्पण

सीएम- शिवराज 7 अक्टूबर को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल का करेंगे लोकार्पण।


रीवा। सुपर स्पेशलिटी के लोकार्पण की तारीख दो बार बढ़ चुकी है। तीसरी बार 7 अक्टूबर को फिर से तय किया गया है। इस दिन सीएम शिवराज सिंह चौहान सुपर स्पेशलिटी का लोकार्पण करने आ रहे हैं। इस दिन वह त्योथर के पूर्व विधायक एवं मंत्री रहे रमाकांत तिवारी के आवस पर श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए जाएंगे। सुपर स्पेशलिटी को सजाया जा रहा। सीमए शिवराज के आगमन को लेकर सुपर स्पेशलिटी को सजाया जा रहा है। परिसर में मंच आदि की तैयारियां प्रारंभ कर दी गई हैं। अस्पताल से लेकर पूरे परिवार को चकाचक किया जा रहा है। आप-पास एरिया में खराब दिखने वाली दीवारों का भी रंगरोगन किया जा रहा है। इस बार की तैयारी से लग रहा है कि अबकी बार तिथि बढऩे की संभावना नहीं है। इधर, सुपर स्पेशलिटी में अभी डॉक्टर, स्टाफ नर्स समेत अन्य स्टाप की नियुक्तियों का मामला फाइनल नहीं हो सका है। स्टाफ नर्स स्टाफ की नियुक्ति में शामिल अभ्यर्थियों में असंतोष है। कलेक्टर तैयारियों की समीक्षा करेंगे आज रीवा। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का रीवा जिले में एक दिवसीय दौरा आगामी 7 अक्टूबर को प्रस्तावित है। कलेक्टर इलैयाराजा टी 5 अक्टूबर को प्रात: 10.30 बजे से कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री के दौरे की तैयारियों की समीक्षा करेंगे। बैठक में सभी संबंधित अधिकारियों को उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं।              


कैपिटल-चैलेंजर्स के बीच होगा घमासान

आईपीएल सीजन-13, दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बंग्लुरू के बीच होगा घमासान, जो जीतेगा वो नंबर-1 बनेगा।


नई दिल्ली। आइपीएल सीजन-13 में आज एक ही मुकाबला खेला जाएगा। मैच रॉयल चैलेंजर्स बंग्लुरु और दिल्ली कैपिटल्स के बीच होगा। जिस पर सबकी नजर रहने वाली है, क्योंकि यह दो ऐसी टीम है। जो दोनों ही फॉर्म में चल रही हैं और शानदार खेल दिखा रही हैं और दोनों ही टीम अपने जीत के सिलसिले को इस मैच में भी बरकरार रखना चाहेंगी ऐसे में दोनों ही टीमों के बीच जबरदस्त घमासान होने की उम्मीद है।
जानिए कहां होगा मैच ?
रॉयल रॉयल चैलेंजर्स बंग्लुरु और दिल्ली कैपिटल्स के बीच मुकाबला दुबई में खेला जाएगा मैच भारतीय समयानुसार शाम 7:30 बजे से शुरू होगा। सीजन-13 में दोनों टीम। दोनों टीमों के पॉइंट टेबल की पोजीशन की बात करें तो दिल्ली कैपिटल्स की टीम दूसरे नंबर पर है तो वहीं रॉयल चैलेंजर्स बंग्लुरु की टीम तीसरे नंबर पर है।हालांकि मुकाबले जीतने की बात करें तो दोनों ही टीमों ने चार-चार मैच खेले हैं और तीन -तीन मुकाबलों में जीत दर्ज की है, तो वहीं 11 मैच में दोनों टीमों को हार का सामना करना पड़ा है, लेकिन इसमें फर्क बस इतना है। कि दिल्ली कैपिटल्स की टीम नेट रन रेट में रॉयल चैलेंजर्स बंग्लुरु की टीम से आगे है। दिल्ली कैपिटल्स में जहां युवा खिलाड़ियों की भरमार है और इस टीम के कप्तान श्रेयस अय्यर हैं। दिल्ली कैपिटल्स की टीम से शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत  यह सभी खिलाड़ी शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। जो रॉयल चैलेंजर्स बंग्लुरु के गेंदबाजों के लिए सर दर्द साबित हो सकते हैं। तो स्टोइनिस ऑलराउंडर खेल दिखाकर दिल्ली के लिए काफी कियायती खिलाड़ी भी साबित हो रहे है। टीम को बैलेंस कर रहे हैं। इसके अलावा गेंदबाजी में अमित मिश्रा, आर अश्विन कैगिसो रबादा जैसे खतरनाक गेंदबाज भी इस टीम में शामिल है। इतना ही नहीं रॉयल चैलेंजर्स बंगलुरु की बात करें तो इस टीम में भी धुरंधर खिलाड़ियों की भरमार है। हालांकि इस टीम में विराट कोहली कप्तान है और एबी डिविलियर्स जैसा स्टार प्लेयर इस टीम में है। इसके अलावा पडिक्कल युवा खिलाड़ी हैं। और बहुत अच्छे फॉर्म में चल रहे हैं। और इस टीम को शानदार शुरुआत दे रहे हैं। जिनकी तारीफ खुद विराट कोहली भी कर चुके हैं। मतलब साफ है। मुकाबला दिलचस्प होने वाला है। दो इनफॉर्म टीमों के बीच मैच है। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि कौन सी टीम बाजी मारती है। क्योंकि जो भी टीम आज का मैच जीतेगी वह पॉइंट टेबल में टॉप पर पहुंच जाएगी।                


बधाई को लेकर किन्नरों के दो पक्षों में मारपीट

गाज़ियाबादः बधाई को लेकर किन्नरों के दो पक्षों में हुई जमकर लड़ाई कई घायल।


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। कविनगर इलाके में किन्नरों के दो गुट आपस में भिड़ गए जिसके बाद दोनों पक्षों में जमकर मारपीट हुई। मारपीट में कई किन्नर घायल हो गए। जिन्हें जिला अस्पताल में प्राथमिक उपचार दिलवाया गया है। मामले की शिकायत पुलिस को दी गई है। एक पक्ष का आरोप है। कि दूसरे पक्ष के लोग फर्जी किन्नर हैं। जो इलाके में अपना वर्चस्व कायम करने के लिए मारपीट करते हैं। बताया जा रहा है। कि पहले भी इस मामले को लेकर मारपीट हो चुकी है। आरोप लगाया जा रहा है। कि दूसरा पक्ष अपने साथ पिस्टल भी ले कर आया था। घटना के तुरंत बाद मौके पर पुलिस पहुंची और सभी घायल किन्नरों को पहले थाने लाया गया फिर अस्पताल ले जाया गया। फिलहाल मामले की जांच पड़ताल के बाद ही सही वजह साफ हो पाएगा।
मामले में दूसरा पक्ष फिलहाल फरार बताया जा रहा है। वहीं पुलिस दावा कर रही है। कि जल्द मामले में एफआईआर दर्ज करके संबंधित वैधानिक कार्रवाई की जाएगी। वहीं किन्नरों ने कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है। पुलिस उन्हें समझाने में जुटी हुई है और कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिया है।             


दो मुंह, चार हाथ, दो पैर एक धड़ वाला बच्चा

शाहजहांपुर। नगर के सत्यानंद अस्पताल में एक महिला ने एक ऐसे बच्चे को जन्म दिया है। जिसे डाक्टर भी देखकर चकित रह गये कि ऐसे आधुनिक जमाने में ऐसे बच्चे का जन्म होना मेडिकल सांइस को सोचने पर बिवस होना पड रहा है। लेकिन ईश्वर जो चाहे वह करता है और वही होता है। उसके सामने सभी विज्ञानिक और विज्ञान फेल है। दर असल मामला एक ऐसा सामने आया है कि एक महिला के प्रसव पीडा होने पर उसे शाहजहाँपुर के सत्यानन्द अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहाँ उसने एक ऐसे बच्चे को जन्म दिया। जिसके दो मुंह चार हाथ दो पैर एक धड है। जिसे डा० भी देखकर चकित रह गये है। दो सिर दो मुँह चार हाथ दो पैर एक धड वाले बच्चे के जन्म की सूचना अस्पलाल वालों व वहाँ भर्ती मरीजों के तीमार दारों को लगी तो बच्चे को देखने के लिये भीड लग गयी। यह खबर जब अन्य लोगों को मिली तो बच्चे को देखने के लिए उत्सुक लोगों का अस्पताल में आना जाना शुरू हो गया तथा देखने वालों का ताता लगा हुआ है। जिला हरदोई के गांव धुसेपुर थाना बेहटा गोकुल निवासी यासीन पत्नी शाहीन बेगम उम्र लगभग 25 वर्ष को कल समय लगभग शाम 9:00 बजे सत्यानंद अस्पताल में भर्ती कराया था। जिसकी आज सुबह डिलीवरी हुई जिसमें महिला ने दो मुंह चार हाथ दो पैर एक धड के स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया। ईश्वर का करिश्मा एक अनोखे बच्चे को देखने के लिए लोगो का अस्पताल में जमावाडा लग गया। बच्चे की साँसे भी सही चल रहीं हैं तथा स्वस्थ भी दिखाई दे रहा है। 


गुल मोहम्मद               


वाटसन और फाफ की बेहतर बल्लेबाजीः धोनी

जीत के बाद बोले एम एस धोनी, शेन वाटसन और फाफ डुप्लेसिस की बेहतर बल्लेबाजी का खोला राज।


नई दिल्ली। आखिरकार लगातार तीन हार के बाद चेन्नई सुपर किंग्स को वह जरूरी जीत मिल ही गई, जिसका इंतजार चेन्नई सुपर किंग्स की टीम और उसके फैंस लंबे समय से कर रहे थे।बीते रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच मुकाबला खेला गया। दोनों ही टीमों के लिए जीत जरूरी थी। जहां चेन्नई सुपर किंग्स ने इस लड़ाई में बाजी मारी चेन्नई सुपरकिंग्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 10 विकेट से करारी शिकस्त दी। किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने 179 रन का टारगेट सेट किया था जिसके जवाब में चेन्नई सुपर किंग की टीम ने 17.4 ओवर में ही बिना कोई विकेट खोए 181 रन ठोक दिए।
इस तूफानी जीत के बाद चेन्नई सुपर किंग की टीम ने पांच मैच में अब दो मैच जीत लिए हैं तीन मैच में इस टीम को हार का सामना करना पड़ा है, अपने शुरुआती मैच में इस टीम ने मुंबई इंडियंस को हराया था और अब किंग्स इलेवन पंजाब को हराया है। इस जीत के साथ ही पॉइंट टेबल में चेन्नई सुपर किंग्स की टीम छठे नंबर पर पहुंच गई है जीत के बाद कप्तान धोनी ने कहा कि ‘मुझे लगता है कि हमने छोटी-छोटी चीजें सही की है यह हमारे लिए बेहद जरूरी था बल्लेबाजी में हमें जिस तरह की शुरुआत मिली उसकी हमें बहुत जरूरत थी उम्मीद है हम आने वाले मैचेस में इसे दोहरा सकेंगे।
धोनी ने जीत के बाद वाटसन और डुप्लेसिस की भी जमकर तारीफ की लेकिन धोनी ने ये भी कहा कि आक्रामक होने की बात नहीं है, वाटसन नेट में गेंद को काफी अच्छे से मार रहे थे और आपको यह पिच पर भी करना अहम है यह सिर्फ समय की बात है फाफ ने हमारे लिए शीट एंकर का रोल अदा किया है वह अपने लैप शॉट से हमेशा गेंदबाजों को दुविधा में डाल देते हैं।
टीम चयन को लेकर भी एम एस धोनी ने कहा है कि टीम सेलेक्श में निरंतरता पर हम भरोसा करते हैं और कई बार स्टीफन फ्लेमिंग को इसका श्रेय नहीं मिलता ऐसा नहीं है कि हम इसे लेकर चर्चा नहीं करते लेकिन हमारे पास एक ही प्लान होता है हमारे बीच इसी तरह का संबंध है।
गौरतलब है कि चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने जिस तरह की धमाकेदार जीत दर्ज की है लगातार तीन हार के बाद जिस तरह से 10 विकेट से धमाकेदार जीत दर्ज कर वापसी की है, वो काबिले तारीफ है, फाफ डु प्लेसिस और शेन वॉटसन ने जिस तरह की बल्लेबाजी की है वह काबिले तारीफ है शेन वॉटसन ने जहां किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ 53 गेंद में 83 रन ठोक दिए पारी में 11 चौके और तीन छक्के लगाए तो फाफ डु प्लेसिस ने 53 गेंद में नाबाद 87 रन ठोक दिए पारी में 11 चौके और एक छक्का लगाया।             


स्तर गिरने के बाद ट्रंप को दी डेक्सामेथासन

ऑक्सीजन का स्तर गिरने के बाद ट्रम्प को दी गयी डेक्सामेथासन।


वाशिंगटन डीसी। कोरोना वायरस (कोविड-19) से संक्रमित अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का इलाज कर रहे डॉक्टरों की टीम ने कहा है। कि ट्रम्प के रक्त में ऑक्सीजन का स्तर कम होने के बाद उन्हें ऑक्सीजन दी गयी। डॉक्टरों के मुताबिक ट्रम्प को डेक्सामेथासन दवाई भी दी गयी जिससे उनकी हालत में लगातार सुधार हो रहा है। और वह जल्द ही पूर्ण रूप से स्वस्थ होकर व्हाइट हाउस लौटेंगे। वाल्टर रीड नेशनल मिलिट्री मेडिकल सेंटर के डॉक्टरों की टीम ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए यह जानकारी दी। कोरोना से संक्रमित पाए जाने के बाद ट्रम्प इलाज के लिए शुक्रवार से इसी अस्पताल में भर्ती हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति का इलाज कर रहे डॉक्टर ब्रायन गैरीबाल्डी ने कहा। ऑक्सीजन का स्तर कम होने के बाद 74 वर्षीय राष्ट्रपति को शनिवार को डेक्सामेथासन दवा दी गयी। ट्रम्प के रक्त में ऑक्सीजन का स्तर इस समय सामान्य है।
विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक डेक्सामेथासन दवाई केवल कोरोना के उन मरीजों को दी जानी चाहिए जिनकी हालत गंभीर बनी हुई है। डॉक्टरों के बयान के कुछ देर बाद राष्ट्रपति के चीफ ऑफ स्टाफ मार्क मीडॉ ने कहा। पिछले 24 घंटों के दौरान राष्ट्रपति के सभी स्वास्थ्य मानकों की हालत काफी चिंताजनक थी और अगले 48 घंटे उनके स्वास्थ्य की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण होंगे। हम अभी स्पष्ट रूप से नहीं कह सकते कि वह कब तक ठीक हो पायेंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने गुरुवार को ट्वीट करके स्वयं और पत्नी मेलानिया ट्रम्प के कोरोना से संक्रमित होने के बारे में जानकारी दी थी। गौरतलब है। कि ट्रम्प ऐसे समय में कोरोना से संक्रमित हुए हैं। जब राष्ट्रपति चुनाव में केवल एक माह का समय रह गया है।                 


'सीएम' आवास का घेराव करेंगे पदाधिकारी

मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे पदाधिकारी।
शगुफता परवीन 


देहरादून। 14 दिनों से आंदोलन कर रहे राज्य के नेतृत्व वाले संगठन के पदाधिकारी मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे।इसके लिए जगह-जगह से 2000 के करीब ग्राम प्रधान देहरादून पहुंच गए हैं। संगठन 12 बजे गांधी पार्क से कूच करेगा। रविवार को धरना जारी रखते हुए प्रदेश अध्यक्ष भास्कर सम्मल ने बताया कि 21 सितंबर से शुरू हुए धरने प्रदर्शन में हर जिले से ग्राम प्रधान धरने में शामिल हुए लेकिन सरकार ने उनकी सुध नहीं ली। उन्होंने बताया कि प्रदेश प्रधान संगठन की 12 सूत्रीय मुख्य मांगों में जल जीवन मिशन में कार्यदायी संस्था ग्राम पंचायत को बनाया जाए। योजना में ठेकेदारी प्रथा को समाप्त कर मिशन के अंतर्गत बनने वाली योजना की राशि परियोजना की देखरेख योजना के निर्माण में पूर्ण रूप से ग्राम प्रधान का हस्तक्षेप रखा जाए व ग्राम प्रधानों को विश्वास में लेकर योजना निर्माण किया जाए।
मनरेगा में वर्तमान वर्ष में कार्य दिवस 100 दिन प्रति परिवार से बढ़ाकर 200 दिन प्रति परिवार किया जाए। वहीं मनरेगा कार्य में मजदूरी 202 से बढ़ाकर 400, कुशल श्रमिकों की मजदूरी 398 से बढ़ाकर 600 किया जाए। प्रदेश में ग्राम पंचायत विकास अधिकारी पंचायत कनिष्ठ अभियंता कंप्यूटर ऑपरेटर के पदों में तुरंत बढ़ोतरी की जाए।
वर्तमान में एक ग्राम पंचायत विकास अधिकारी के पास 25 ग्राम पंचायतों का चार्ज है। जिससे जनता को पंचायत से संबंधित कार्य में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।इसके अलावा प्रधानों का मानदेय 1500 से बढ़़ाकर पांच हजार किया जाए। यातायात भत्ते के रूप में 15000 अतिरिक्त ग्राम प्रधान को दिया जाए व पेंशन की सुविधा भी प्रधानों को मिले।               


चाइल्ड पोर्नोग्राफी का मामला, केस दर्ज किया

उत्तराखंड की धार्मिक राजधानी में सामने आया चाइल्ड पोर्नोग्राफी का मामला केस दर्ज।


देहरादून। उत्तराखंड में चाइल्ड पोर्नोग्राफी का मामला हरिद्वार में दर्ज किया गया है। खासबात यह है। कि फेसबुक ने इस मामले में स्वयं संज्ञान लेते हुए पुलिस के केंद्रीय आईटी सेल को शिकायत भेजी। इसके बाद छानबीन में पता चला कि यह पोस्ट उत्तराखंड की धार्मिक राजधानी हरिद्वार से डाली गई थी। फेसबुक ने पोस्ट को ब्लॉक कर दिया है। और अब नगर कोतवाली हरिद्वार में मामला दर्ज करने के बाद जांच पड़ताल शुरू कर दी गई है। बताया गया है। कि पोस्ट में क्या है। इसकी एक वीडियो सीडी के माध्यम से पुलिस को भेजी गई है। अब पुलिस को यह पता करना है। कि यह वीडियो हरिद्वार के किसी फेसबुक यूजर ने डाली और उसका मकसद क्या था। यही नहीं अगर आपत्तिजनक कंटेन्ट वीडियो है। तो वह कहां शूट हुई और अगर वह तस्वीर है। तो वह कहां खींची गई। हालांकि पुलिस सूत्र बता रहे हैं। कि अभी सीडी को प्ले करके नहीं देखा गया है। लेकिन पुलिस ने फेसबुक की शिकायत के आधार पर अज्ञात शख्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।               


बीमारी की 8वीं शिकार बनी 12 वर्षीय बच्ची

गलघोंटू ने ली सिमखेत गांव की 12 वर्षीय बच्ची की जान, एसटीएच हल्द्वानी में तोड़ा दम, जानलेवा बीमारी की बनी 8वीं शिकार।


हल्द्वानी। बागेश्वर के गरूड़ तहसील की गलघोंटू (डिप्थीरिया) बीमारी से ग्रस्त एक 12 वर्षीय छात्रा ने यहां एसटीएच में कल रात दम तोड़ दिया। गरूड़ के सिमखेत की रहने वाले हरीश सिंह नेगी की बेटी हर्षिता इस बागेश्वर जिले में इस जानलेवा बीमारी की 8वीं शिकार है। परिजनों के अनुसार हर्षिता नामक इस 12 वर्षीय बच्ची को चिकित्सकों ने जब उसके टेस्ट कराए तो उन्हें बच्ची में डिप्थीरिया के लक्षण दिखे इस पर उन्होंने बच्ची को एसटीएच हल्द्वानी के लिए रेफर कर दिया। शनिवार को परिजन बच्ची को लेकर एसटीएच हल्द्वानी पहुंचे जहां उसका उपचार चल रहा था कल रात लगभग पौने बारह बजे बच्ची ने दम तोड़ दिया। बच्ची की मौत के बाद उसके घर में कोहराम मचा हुआ है।               


पेंट फैक्टरी में लगी भयंकर आग, फैला धुआं

पेंट फैक्टरी में लगी भयंकर आग कई सौ मीटर दूर से दिख रहा था धुआ


कानपुर। मंधना पचोर रोड पर आज सुबह एक पेंट फैक्ट्री में आग लग गई। पेंट में केमिकल होने के होने के कारण लगभग 50 धमाकों के साथ पूरा मंधना दहल गया। धुंआ का गुबार कई सौ मीटर की दूर से देखा जा सकता है। सूचना पर दमकल की आधा दर्जन से ज्यादा गाड़ियां मौके पर पहुंच चुकी है। फैक्ट्री में किसी मजदूर के न फंसे होने की बात अभी तक सामने आ रही है। कमल ग्रामोद्योग के नाम से पचोर रोड पर पेंट फैक्ट्री चलाई जा रही है। फैक्ट्री मालिक कमल धीर को घटना के बारे में जानकारी दी गई है। मजदूरों से मिली जानकारी के अनुसार सुबह लगभग 9:30 बजे वह लोग काम करने पहुंचे थे। सुबह के समय पांच मजदूर आए थे। जैसे ही उन्होंने फैक्ट्री का गेट खोला तो अंदर आग धधक रही थी। मजदूर बाहर की तरफ शोर मचाते हुए भागे और उन्होंने आसपास के लोगों को सूचना दी गई। ग्रामीणों ने पुलिस के अलावा फैक्ट्री मालिक को सूचना दी। इसी दौरान एक-एक कर लगभग 50 धमाके हुए।
ग्रामीण अपने घरों को छोड़कर सड़क की तरफ भाग निकले। धमाके इतने जोरदार थे। की ड्रम के टुकड़े उड़कर 100 मीटर से अधिक दूरी तक गिरे। दमकल की गाड़ियां ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू कर दिया है। अधिकारियों के मुताबिक शार्ट सर्किट से आग लगने की आशंका है। अभी तक किसी मजदूर के फंसे होने की बात पुष्ट नहीं हो सकी है।             


4 धाम यात्रा के लिए बढ़ा श्रद्धालुओं का कोटा

चार धाम यात्रा के लिए बढ़ा श्रद्धालुओं का कोटा। जानिए कहाँ करें रजिस्ट्रेशन।


नई दिल्ली। देवस्थानम बोर्ड ने चार धाम की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ा दी है। संबन्धित तीनों जिलों के जिलाधिकारियों की रिपोर्ट के आधार देवस्थानम बोर्ड ने यह फैसला लिया है। अब तक बदरीनाथ में रोज 1200, केदारनाथ में 800, गंगोत्री में 600 व यमुनोत्री में 450 श्रद्धालुओं को दर्शन की मंजूरी थी।
पिछले सप्ताहांत में धामों में उमड़ी भीड़ के मद्देनजर बोर्ड ने श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ाने का फैसला लिया। बोर्ड ने धामों में तय संख्या से अधिक श्रद्धालुओं के पहुंचने के कारणों की पड़ताल कराई तो पता चला कि दो और तीन अक्तूबर की तारीख में दर्शन करने को लोगों ने 10 से 15 अक्तूबर के पास का प्रयोग कर लिया। इस पर बोर्ड ने तय किया कि पास की जांच हरिद्वार, ऋषिकेश, मुनिकीरेती, गौचर, सोनप्रयाग में होगी।  इस दौरान आगे की तारीख वाले पासधारकों को वहीं रोक दिया जाएगा। बोर्ड के रविनाथ रमन ने बताया कि यात्रियों की संख्या धामों में आवास, भोजन, शौचालय व अन्य जरूरतों के साथ ही सामाजिक दूरी के मानक के अनुसार तय की गई है।
तीन बजे के बाद सोनप्रयाग से आगे प्रवेश नहीं
केदारनाथ धाम आने वाले श्रद्धालुओं को शाम तीन बजे के बाद सोनप्रयाग से आगे प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। ऐसा रात के समय में धाम में सीमित संख्या में ही श्रद्धालुओं की मौजूदगी सुनिश्चित कराने के लिहाज से किया जा रहा है।
हरिद्वार, ऋषिकेश से ही सख्ती से होगी पास की जांच
धामों में तय संख्या से अधिक श्रद्धालुओं के पहुंचने के कारणों की बोर्ड ने पड़ताल कराई। तो मालूम चला कि लोगों ने दो तीन अक्तूबर की तारीख में दर्शन करने को 10 से 15 अक्तूबर की तारीख के पास का इस्तेमाल कर लिया। इस पर बोर्ड ने तय किया है। कि हरिद्वार, ऋषिकेश, मुनिकीरेती, गौचर, सोनप्रयाग में ही पास की जांच होगी। यदि पास आगे की तारीख के होंगे। तो श्रद्धालुओं को वहीं रोक लिया जाएगा। इसके लिए हरिद्वार, देहरादून और टिहरी, पौड़ी, रुद्रप्रयाग, चमोली के जिलाधिकारियों को सख्ती से व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए गए हैं।                 


सप्लाई बंद हो तो नंबर पर कर सकते हैं फोन

बिजली कर्मचारी हड़ताल पर सप्लाई बंद हो तो इस नंबर पर करें फोन।


अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। पूर्वी उत्तर प्रदेश में विभाग के प्रस्तावित निजीकरण का विरोध कर रहे विद्युत निगम के कर्मचारी आज से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे। गाज़ियाबाद जिले में हड़ताल पर जाने वाले विद्युत विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की संख्या लगभग 1200 है। इसके चलते कई इलाकों में विद्युत आपूर्ति बाधित होने की आशंका है।
हड़ताल को देखते हुए जिला प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी किया है। पूरे जिले को छह जोन में बांटकर अधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है। स्थिति पर नजर रखने के लिए मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) को नोडल प्रभारी बनाया गया है। शासन की तरफ से उन कंपनियों के नाम भी जिलों को उपलब्ध कराएं गए हैं ।जो पूर्व में मेंटेनेंस का काम देखती रही हैं। आपात स्थिति में प्रशासन की तरफ से विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए इन फर्मों की मदद ली जाएगी।
10 दिनों से चल रहा है। आंदोलन
विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले पिछले 10 दिनों से विद्युत कर्मी आंदोलन कर रहे हैं। तीन घंटे कार्य बहिष्कार के बाद अब आज से पूरे दिन कार्य का बहिष्कार होगा।जिससे उपभोक्ताओं की मुश्किल भी बढ़ सकती है। समिति के पदाधिकारियों ने निजीकरण के मुद्दे पर आरपार की लड़ाई का एलान किया है। विद्युत मजदूर संगठन भी संघर्ष समिति के बैनर से अलग कार्य का बहिष्कार कर रहा है। ऐसी स्थिति में शासन ने सभी जिलाधिकारी को निर्देश दिया है। कि वह अपने स्तर से पुख्ता इंतजाम करें और विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराएं। हड़ताल के मद्देनजर उपद्रव होने की भी आशंका है। जिसको देखते हुए पुलिस को भी अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए गए हैं।
जोन में बांटा जिला सब स्टेशनों पर रहेगी नजर
149 सब स्टेशन और 22 पारेषणों पर अधिकारियों की 24 घंटे ड्यूटी रहेगी। जिले को छह जोन में बांटकर उप जिलाधिकारी स्तर के अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में सब स्टेशनों और पारेषणों पर निगाह रखेंगे। इनके साथ एक-एक तकनीकी अधिकारी की ड्यूटी भी लगाई गई है। अपर जिलाधिकारी प्रशासन को ग्रामीण और अपर जिलाधिकारी नगर को शहरी क्षेत्र की जिम्मेदारी दी गई है। इसके अलावा आईटीआई पास लोगों को भी समस्या के निस्तारण के लिए लगाया गया है।
आकस्मिक स्थिति के लिए बना कंट्रोल रूम
अपर जिलाधिकारी नगर के कार्यालय में कंट्रोल रूम बनाया गया है। आपूर्ति बाधित होने पर 0120-2828411 पर कॉल कर सकते हैं। इसके साथ ही तकनीकी कंट्रोल रूम भी बनाया गया है। जिसका प्रभारी सुरक्षा अधिकारी रमेश चंद को बनाया गया है। तकनीकी समस्याओं के लिए 6390004126 पर कॉल कर सकते हैं। इसके अलावा जिले में अन्य कंट्रोल रूम भी बनाए गए हैं। डीएम अजय शंकर पाण्डेय ने बताया कि प्रस्तावित हड़ताल को देखते हुए संबंधित अधिकारियों के साथ लगातार बैठक की गई। सभी व्यवस्थाएं जिला प्रशासन ने की हैं। पुलिस को भी निर्देश दिए गए हैं। जिले को छह जोन में बांटा गया है। जिनकी निगरानी के लिए सीडीओ को नोडल ऑफिसर बनाया गया है।                     


तीन पैरों के बच्चें को देवता मान रहे हैं लोग

अंधविश्वासः तीन पैरों वाले बच्चे को देवता का रूप मान रहें हैं। लोग


गाजीपुर। उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में तीन पैरों वाला एक बच्चे का जन्म हुआ है।  इस घटना से परिवार के साथ-साथ गांव वाले भी हैरान हैं। वहीं कुछ लोग इस बच्चे को देवता का रूप मान रहे हैं। धीरे-धीरे यह बात पूरे इलाके में फैल गई और तब से बच्चे को देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ी हुई है। वहीं कुछ लोग बच्चे को दैवीय रूप मानकर दूर से प्रणाम भी कर रहे हैं।
सूचना के अनुसार मामला बिरनो थाना क्षेत्र स्थित तियरा गांव का है। तियरा गांव निवासी प्रियंका देवी ने 29 सितंबर इस तीन पैर वाले बच्चे को जन्म दिया है। उनका कहना है। कि नवजात बच्चे के तीन पैर हैं। एक पैर बच्चे के गुप्तांग से जुड़ा हुआ है। खास बात यह है। कि तीसरे पैर में छह उंगलियां भी हैं। वहीं परिजनों का कहना है। कि बच्चा स्वस्थ है। वह सामान्य बच्चों की तरह ही व्‍यवहार कर रहा है।
दूर-दूर से देखने आ रहे लोग। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह बच्चा परिवार वालों के साथ-साथ गांव वालों के लिए भी कौतूहल का विषय बना हुआ है। लोग दूर-दूर से बच्चे को देखने के लिए आ रहे हैं। स्थानीय लोगों की मानें तो बच्चे के पिता विवेकानंद राम आर्थिक रूप से काफी कमजोर हैं। विवेकानंद राम के पास बच्चे के इलाज कराने के लिए प्रयाप्त पैसे नहीं हैं। ऐसे में वे बच्चे का इलाज कराने के लिए लोगों से मदद मांग रहे हैं। साथ ही उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ से भी मदद की गुहार लगाई है। वहीं इस मामले में एसीएमओ उमेश कुमार ने बताया कि यह खास तरह की बीमारी है। इसे कंजेनिटल अनोमिली कहा जाता है। इसमें मरीज की जांच के बाद ही इलाज से ठीक होने की बात कही जा सकती है। प्रेग्नेंट महिला अगर रेडिएशन के संपर्क में आ जाए या फिर कोई दवा साइड इफेक्ट कर जाए तो ऐसे बच्चे पैदा होते हैं।               


संजय दत्त की स्थिति पहले से ही खराब

संजय दत्त की स्थिति पहले से खराब सामने आई ये तस्वीर देखकर आप भी चौक जाएंगे।


मुंबई। लंग्स कैंसर से जुझ रहे संजय दत्त की स्थिति पहले से और खराब हो गई है। इसका अंदाजा उनकी सामने आई तस्वीर से लगाया जा सकता है। संजय दत्त ने 11 अगस्त को सोशल मीडिया के माध्यम से बताया था। कि वह कुछ समय के लिए इलाज की खातिर छुट्टी ले रहे हैं। इसी बीच सोशल मीडिया पर संजय दत्त की एक तस्वीर वायरल हो रही है। जिसमें अभिनेता काफी कमजोर दिखाई दे रहे हैं। नया वायरल पोस्ट देखने के बाद फैंस उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना कर रहे हैं। जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हुए एक यूजर ने लिखा बाबा काफी कमजोर दिखाई दे रहे हैं। उनके जल्द ठीक होने की कामना करता हूं।
सामने आई फोटो में संजय दत्त का वेट काफी कम नजर आ रहा है। इस फोटो में उनका लुक बदला हुआ नजर आ रहा हैं। फैंस उनके रिकवरी के लिए दुआएं मांग रहे हैं। वायरल हो रही फोटो में संजय दत्त लाइट ब्लू कलर की टी-शर्ट और डार्क ब्लू कलर की जीन्स में नजर आ रहे हैं। उन्होंने हाथ में मास्क पकड़ रखा है। ये तस्वीर अस्पताल के एक स्टॉफ ने अपने ट्वीटर पर पोस्ट की है।               


एप के नए वर्जन का शुभारंभ करेंगे 'भूपेश'

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार शाम साढ़े 6 बजे अपने निवास कार्यालय से मोर बिजली एप के नए वर्जन का शुभारंभ करेंगे। छत्तीसगढ़ स्टेट पावर डिसटीब्यूशन कंपनी द्वारा बनाए गए इस एप में प्रदेश के सभी श्रेणी के बिजली उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधा उपलब्ध होगी। मोर बिजली एप के नए वर्जन में नयी तकनीक का उपयोग करके कई नए फिचर जोड़े गए हैं। कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनीज के चेयरमैन सुब्रत साहू प्रबंध निदेशक हर्ष गौतम सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे।
मोर बिजली एप के नए वर्जन से बिजली उपभोक्ताओं को विद्युत से संबंधित कार्यों के लिए बिजली दफ्तर के चक्कर लगाने से निजात मिलेगी। इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर जाकर कोई भी उपभोक्ता निःशुल्क डाउनलोड कर सकता है। और बिजली संबंधित 16 प्रकार से अधिक सेवाओं का लाभ घर बैठे किसी भी समय प्राप्त कर सकता है। यह सुविधा पूरी तरह से निःशुल्क है। पावर कंपनी प्रबंधन द्वारा उपभोक्ताओं से अपील की गई है। कि निःशुल्क जनहितकारी मोर बिजली एप अधिक से अधिक लाभ उठाएं।                          


मोर बिजली एप के नए वर्जन का होगा शुभारंभ

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार शाम साढ़े 6 बजे अपने निवास कार्यालय से मोर बिजली एप के नए वर्जन का शुभारंभ करेंगे। छत्तीसगढ़ स्टेट पावर डिसटीब्यूशन कंपनी द्वारा बनाए गए इस एप में प्रदेश के सभी श्रेणी के बिजली उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधा उपलब्ध होगी। मोर बिजली एप के नए वर्जन में नयी तकनीक का उपयोग करके कई नए फिचर जोड़े गए हैं। कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनीज के चेयरमैन सुब्रत साहू प्रबंध निदेशक हर्ष गौतम सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल होंगे।
मोर बिजली एप के नए वर्जन से बिजली उपभोक्ताओं को विद्युत से संबंधित कार्यों के लिए बिजली दफ्तर के चक्कर लगाने से निजात मिलेगी। इस ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर जाकर कोई भी उपभोक्ता निःशुल्क डाउनलोड कर सकता है। और बिजली संबंधित 16 प्रकार से अधिक सेवाओं का लाभ घर बैठे किसी भी समय प्राप्त कर सकता है। यह सुविधा पूरी तरह से निःशुल्क है। पावर कंपनी प्रबंधन द्वारा उपभोक्ताओं से अपील की गई है। कि निःशुल्क जनहितकारी मोर बिजली एप अधिक से अधिक लाभ उठाएं।                  


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण



यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)











 अक्टूबर 06, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-52 (साल-02)
2.  मंगलवार, अक्टूबर 06, 2020
3. शक-1944, अश्विन, शुक्ल-पक्ष, तिथि- पंचमी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 60:00, सूर्यास्त 06:20।


5. न्‍यूनतम तापमान 21+ डी.सै.,अधिकतम-34+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेंगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275                                


(सर्वाधिकार सुरक्षित)                                           " alt="" aria-hidden="true" /> 












दुनिया में सबसे अधिक परेशान देश है 'अमेरिका'

वाशिंगटन डीसी। कोरोना महामारी की शुरुआत के साथ ही दुनिया भर में सबसे अधिक परेशान देश अमेरिका है। वैश्विक मामलों का आंकड़े की लिस्ट में पहले ...