मंगलवार, 17 अगस्त 2021

विरोधियों ने अवसरों का लाभ उठाना शुरू किया

वाशिंगटन डीसी। अफगानिस्तान में सुरक्षा बलों की विफलता और तालिबान के सत्ता पर काबिज होने के तुरंत बाद अमेरिका के विरोधियों ने अवसरों का लाभ उठाना शुरू कर दिया। यूएस न्यूज में लिखे एक लेख में पाल डी शिंकमैन ने कहा कि अफगानिस्तान में अफरा-तफरी के बीच चीन, रूस और ईरान ने बिना समय गंवाए अपने हितों को आगे बढ़ाना शुरू कर दिया।

लेख के अनुसार, रूस ने इसे प्रत्यक्ष तौर से अमेरिका और नाटो से शीत युद्ध के दौर का बदला लेने के अवसर के रूप में देखा। चीन इसे विदेश में अपनी इच्छा को लागू करने की क्षमता के बारे में अमेरिकी विफलता का सबसे बड़ा उदाहरण मानता है। ईरान इसे युद्ध के मैदान में अमेरिकी विफलता मानता है। जिससे लगता है कि क्षेत्र को लेकर उसकी अपनी महत्वाकांक्षा है।

यूएस न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, चीन पहले ही बोल चुका है कि तालिबान अफगान के लोगों का आदर करता है और वह तालिबान को वैध सरकार के तौर पर मान्यता देगा। बीजिंग से मिली खबरों के अनुसार, चीनी विदेश मंत्री वांग ई ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात पर अपने रूसी समकक्ष सर्गेई लावरोव से टेलीफोन पर बातचीत की। चीनी विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि दोनों नेताओं की बातचीत एक दिन पहले हुई। इस दौरान दोनों नेताओं ने इस बात पर सहमति जताई कि अफगानिस्तान में स्थिति तेजी से बदल रही है। पूर्ववर्ती सरकार ने बिना संघर्ष किए हथियार डाल दिया और तालिबान विजेता बनकर उभरा।

बीएएमएस व बीयूएमएस की परीक्षाओं का कार्यक्रम

संदीप मिश्र           

बरेली। एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय ने बीएएमएस और बीयूएमएस की परीक्षाओं का कार्यक्रम जारी कर दिया है। दोनों की परीक्षाएं 7 सितंबर से शुरू होंगी। परीक्षा कार्यक्रम विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड कर दिए गए हैं।

परीक्षा नियंत्रक अशोक कुमार अरविंद के मुताबिक बीएएमएस तृतीय वर्ष की मुख्य परीक्षा 7 सितंबर से शुरू होकर 14 तक होंगी। परीक्षा सुबह 10 से दोपहर 1 बजे तक होगी। इसी तरह से बीएएमएस प्रथम, द्वितीय व तृतीय वर्ष 2021 की मुख्य व पूरक परीक्षा 9 सितंबर से शुरू होकर 21 को समाप्त होंगी। इनकी भी परीक्षा सुबह 10 से दोपहर एक बजे तक होंगी।

मुठभेड़ में 1 लुटेरे को पुलिस ने दबोचा, कामयाबी

अतुल त्यागी            
हापुड़। गढ़मुक्तेश्वर पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी। एसओजी व गढ़ पुलिस की लुटेरों से मुठभेड़। मुठभेड़ में 1 लुटेरे को पुलिस ने दबोचा। गिरफ्तार लुटेरा गोली लगने से घायल। गिरफ्तार लुटेरा जनपद में हाईवे पर महिलाओं से लूटता था आभूषण। लुटेरे से तमंचा व कारतूस बरामद।
गिरफ्तार लुटेरा नूर मोहम्मद से अपाची बाइक, आभूषण, तमंचा कारतूस बरामद।
एसओजी प्रभारी धर्मेंद्र सिंह व गढ़मुक्तेश्वर पुलिस ने टीम के साथ गिरफ्तार किया।

वैक्सीन हैं कोरोना का सुरक्षा कवच, श्रद्धांजलि दी

हरिओम उपाध्याय         

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान परिषद में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना में जान गंवाने वाले दिवंगत लोगों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि जब तक दुनिया के विशेषज्ञ इस महामारी का कारगर उपचार लेकर नहीं आते तब तक वैक्सीन ही इसका एक मात्र सुरक्षा कवच है।

शून्य प्रहार में सपा के राम सुन्दर दास निषाद,डा0 दिलीप यादव, संतोष यादव 'सनी' एवं अन्य सदस्यों ने प्रदेश में कोरोना महामारी में आक्सीजन और रेमिडेसिवियर इंजेक्शन की कमी व काला बाजारी तथा कोरोना से मृतकों को मुआवजा दिलाये जाने के संबंध में सूचना दी। इसी विषय से संबन्धित कांग्रेस के दीपक सिंह की नियम-ंउचय111 की सूचना को उक्त सूचना के साथ सम्बद्ध किया गया। सूचना की ग्राह्यता पर सपा के राम सुन्दर दास निषाद, शतरूद्र प्रकाश एवं आनन्द भदौरिया ने विचार व्यक्त किये।

बच्ची के माता-पिता की तस्वीर को मीडिया पर डाला

अकांशु उपाध्याय         

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांगेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि कुछ दिनों पहले दिल्ली में छोटी बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना को उन्होंने राजनीतिक रंग देने की कोशिश की और कानून के दायरे से बाहर जाकर बच्ची के माता-पिता की तस्वीर को सोशल मीडिया पर डाला।मंगलवार को यहाँ एक संवाददाता सम्मेलन में भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि जिस तरह राहुल गांधी ने दुष्कर्म पीड़िता की पहचान को उजागर किया। वह दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी जिस तरह के गैर-जिम्मेदाराना बयान देते हैं और केवल झूठ फैलाते हैं।उसे देखते हुए ट्विटर को उनका अकाउंट बंद कर देना चाहिए।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा, "पीड़िता की मां ने खुद बयान देकर कहा है कि हमारे परिवार ने तस्वीर सार्वजनिक करने की कोई हामी नहीं दी है। बच्ची की मां जब मीडिया से बात कर रही थीं, तब भी उन्होंने अपनी पहचान को छिपाया था। राहुल गांधी ने देश से झूठ बोला था कि पीड़िता के परिवार ने उनको स्वीकृति दी थी। कोई भी जिम्मेदार राजनेता ऐसा नहीं कर सकता। दुखद है कि राहुल गांधी और कांग्रेस ने देश से इतना बड़ा झूठ बोला है।"

उन्होंने कहा कि जब राहुल गांधी ने पीड़िता के परिवार की तस्वीर साझा की, तब ट्विटर ने अपनी नीति के अनुसार कार्रवाई की थी। संबित पात्रा ने आगे कहा कि भाजपा ने नव-नियुक्त और पदोन्नत हुए मंत्रियों के लिए जन आशीर्वाद यात्रा की शुरुआत की है। लेकिन पश्चिम बंगाल में 30 से अधिक ऐसे भाजपा कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया जो जन-आशीर्वाद यात्रा में भाग ले रहे थे। उन्होंने कहा पश्चिम बंगाल में बिना कारण जन-आशीर्वाद यात्रा जगह-जगह रोकी जा रही है। सबसे दुखद है कि मतुवा समाज के बेटे शांतनु ठाकुर जिन्हें मंत्री बनाया गया है, उन्हें भी गिरफ्तार किया गया है। ये मतुवा समाज को आहत करता है।

जुलूस कवर कर रहे पत्रकारों के समूह पर लाठीचार्ज

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने यहां मुहर्रम जुलूस कवर कर रहे पत्रकारों के एक समूह पर मंगलवार को लाठीचार्ज किया। पुलिस ने शहर के जहांगीर चौक पर मुहर्रम के 10 दिनों की शोक की अवधि के आठवें दिन जुलूस निकालने की कोशिश कर रहे कुछ शिया मुसलमानों को हिरासत में भी लिया। 
पत्रकारों ने बताया कि मीडियाकर्मी अपना पेशेवर कर्तव्य निभा रहे थे, तभी पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया। इन मीडियाकर्मियों में अधिकतर फोटो एवं वीडियो पत्रकार थे। उन्होंने कहा कि पुलिसकर्मियों ने कुछ पत्रकारों को डंडों से पीटा और उनके उपकरणों को नुकसान पहुंचाया। इस घटना के वीडियो विभिन्न सोशल मीडिया मंचों पर अपलोड किए गए हैं।
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचा और पत्रकारों को भरोसा दिलाया कि मामले की जांच की जाएगी। इस बीच पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने ट्वीट किया, ”मीडिया अफगानिस्तान में पैदा हो रहे संकट और मानव त्रासदी पर घंटों बहस कर रहा है, लेकिन क्या वह कश्मीर में अपने ही समुदाय के उन सदस्यों के लिए आवाज उठाएगा, जिन्हें सुरक्षाबलों ने अपना काम करने पर आज बुरी तरह पीटा।

देश में ‘खेलो इंडिया सेंटर’ की संख्या होगीं 1 हजार

 
अकांशु उपाध्याय                     
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में खेल प्रतिभाओं को उभारने और उन्हें आधुनिक प्रशिक्षण देने के लिए देश में ‘खेलो इंडिया सेंटर’ की संख्या एक हजार की जायेगी। मोदी ने टोक्यो 2020 पैरालम्पिक खेल के लिए भारतीय पैरा-एथलीट दल के साथ बातचीत में कहा कि ऐसे कितने ही युवा हैं।जिनके भीतर कितने ही मेडल लाने की योग्यता है।
आज देश उन तक खुद पहुँचने की कोशिश कर रहा है, ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष ध्यान दिया जा रहा है। आज देश के ढाई सौ से ज्यादा जिलों में 360 ‘खेलो इंडिया सेंटर्स’ बनाए गए हैं, ताकि स्थानीय स्तर पर ही प्रतिभाओं की पहचान हो, उन्हें मौका मिले। आने वाले दिनों में इन सेंटर्स की संख्या बढ़ाकर एक हजार तक की जाएगी। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों के सामने एक और चुनौती संसाधनों की भी होती थी।
खिलाड़ी खेलने जाते थे तो अच्छे ग्राउंड, अच्छे उपकरण नहीं होते थे। इसका भी असर खिलाड़ी के मनोबल पर पड़ता था। वो खुद को दूसरे देशों के खिलाड़ियों से कमतर समझने लग जाते थे। लेकिन आज देश में स्पोर्ट्स से जुड़े इनफ्रास्ट्रक्चर का भी विस्तार किया जा रहा है। देश खुले मन से अपने हर एक खिलाड़ी की पूरी मदद कर रहा है।

‘टार्गेट ओलम्पिक पोडियम स्कीम’ के जरिए भी देश ने खिलाड़ियों को जरूरी व्यवस्थाएं दीं, लक्ष्य निर्धारित किए। उसका परिणाम आज हमारे सामने है। प्रधानमंत्री ने कहा कि खेलों में अगर देश को शीर्ष तक पहुँचना है तो हमें उस पुराने डर को मन से निकालना होगा जो पुरानी पीढ़ी के मन में बैठ गया था।
किसी बच्चे का अगर खेल में ज्यादा मन लगता तो घर वालों को चिंता हो जाती थी कि ये आगे क्या करेगा? क्योंकि एक-दो खेलों को छोड़कर खेल हमारे लिए सफलता या करियर का पैमाना ही नहीं रह गए थे। इस मानसिकता को, असुरक्षा की भावना को तोड़ना हमारे लिए बहुत जरूरी है।

29 में नवीन पंजीयक कार्यालय का लोकार्पण किया

दुष्यंत टीकम             
रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नवा रायपुर के सेक्टर 29 में नवीन उप पंजीयक कार्यालय का लोकार्पण किया। नवा रायपुर के 6 गांव, आरंग के 20 और अभनपुर विकासखंड के 15 गांव कुल 41 गांव के लोगों को इस कार्यालय से पंजीयन कार्य की सुविधा मिलेगी। अभी उन्हें पंजीयन के लिए 40 किलोमीटर दूर रायपुर आना पड़ता था। नवा रायपुर में इस कार्यालय के प्रारंभ होने से उनके समय और श्रम की बचत होगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कार्यक्रम में पंजीयन विभाग के बैकलॉग दस्तावेजों की स्कैनिंग एवं डिजिटाइजेशन कार्य और डिजिटल ई-स्टाम्प सुविधा का भी शुभारंभ किया।
इस अवसर पर राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल कोरबा से कार्यक्रम से जुड़े। सचिव वाणिज्यिक कर निरंजन दास, महानिरीक्षक पंजीयन एवं मुद्रांक इफ्फत आरा, उप महानिरीक्षक पंजीयन एवं मुद्रांक सुशील खलको मुख्यमंत्री निवास में उपस्थित थे। एनईएसएल और बैंक ऑफ बड़ौदा के प्रतिनिधि भी कार्यक्रम से जुड़े।

हलफनामा दायर नहीं किए जाने पर नाराजगी जताई

अकांशु उपाध्याय                    
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने न्यायिक अधिकारियों की सुरक्षा से संबंधित मामले में कई राज्य सरकारों द्वारा जवाबी हलफनामा दायर नहीं किए जाने को लेकर मंगलवार को गहरी नाराजगी जताई और चेतावनी दी कि अगली तारीख तक ऐसा न करने पर राज्य के मुख्य सचिवों को सीधे तलब किया जाएगा।
हालांकि, केंद्र सरकार ने कहा कि न्यायिक अधिकारियों की सुरक्षा के लिए विशेष पुलिस बल के गठन की संभावना से इनकार कर दिया। केंद्र सरकार की ओर से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने मुख्य न्यायाधीश एन वी रमन, न्यायमूर्ति सूर्यकांत और न्यायमूर्ति अनिरुद्ध बोस की खंडपीठ के समक्ष अपनी दलीलों में कहा कि रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की तर्ज पर न्यायिक अधिकारियों की सुरक्षा के लिए विशेष राष्ट्रीय सुरक्षा बल का गठन न तो संभव है, न ही सलाह योग्य।
तुषार मेहता ने धनबाद के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश की कथित हत्या के मद्देनजर शीर्ष अदालत द्वारा न्यायिक अधिकारियों की सुरक्षा को लेकर स्वत: संज्ञान मामले में केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से पेश हलफनामे में दिये गए इन तथ्यों का जिक्र करते हुए कहा कि न्यायिक अधिकारियों और अदालतों की सुरक्षा के लिए राज्य पुलिस बेहतर स्थिति में होगी, क्योंकि अलग-अलग राज्यों में सुरक्षा के अलग-अलग आयाम होंगे। तुषार मेहता ने आगे कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अदालतों और न्यायाधीशों की सुरक्षा को लेकर व्यापक दिशानिर्देश जारी किये हैं।

स्वतंत्र जांच कराने की मांग, याचिकाओं पर नोटिस

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने कथित पेगासस जासूसी मामले की स्वतंत्र जांच कराने की मांग से संबंधित याचिकाओं पर मंगलावर को केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया और यह स्पष्ट किया कि वह नहीं चाहता कि सरकार ऐसी किसी बात का खुलासा करे जिससे राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता हो।
प्रधान न्यायाधीश एन वी रमण, न्यायमूर्ति सूर्य कांत और न्यायमूर्ति अनिरुद्ध बोस की तीन सदस्यीय पीठ ने याचिकाओं पर केंद्र से जवाब मांगते हुए कहा कि वह 10 दिन बाद इस मामले को सुनेगी और देखेगी कि इसमें क्या प्रक्रिया अपनाई जानी चाहिए। पीठ ने सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता से कहा कि शीर्ष अदालत नहीं चाहती कि सरकार किसी ऐसी चीज का खुलासा करे जिससे राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा हो सकता हो।
शीर्ष अदालत ने यह टिप्पणी मेहता की उस दलील के बाद की जिसमें उन्होंने कहा था कि हलफनामे में सूचना की जानकारी देने से राष्ट्रीय सुरक्षा का मुद्दा जुड़ा है। याचिकाकर्ताओं ने हलफनामे में जानकारी दिए जाने की मांग की थी। न्यायालय ‘एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया’ की याचिका सहित विभिन्न याचिकाओं पर सुनवाई कर रही है। 
इनमें वरिष्ठ पत्रकार एन. राम और अरुण शौरी तथा गैर सरकारी संगठन कॉमन काज भी शामिल है।
याचिकाओं में सारे मामले की स्वतंत्र जांच कराने की मांग की गई है। ये याचिकाएं इजराइली कंपनी एनएसओ के जासूसी सॉफ्टवेयर पेगासस का इस्तेमाल सरकारी एजेंसियों द्वारा कथित तौर पर प्रमुख नागरिकों, राजनेताओं और पत्रकारों की जासूसी से संबंधित है। एक अंतरराष्ट्रीय मीडिया संघ ने बताया है कि 300 से अधिक सत्यापित भारतीय मोबाइल फोन नंबर पेगासस स्पाइवेयर का उपयोग करके निगरानी के लिए संभावित लक्ष्यों की सूची में थे। 

देश के कई राज्यों में लॉकडाउन जैसी स्थिति जारी

अकांशु उपाध्याय       
नई दिल्ली। देश भर में कोरोना संक्रमण की रफ्तार अब धीमी पड़ने लगी है। इसके बावजूद अभी देश के कई राज्यों में पूर्ण लाकडाउन तो कई में ढील के साथ आंशिक लॉकडाउन जैसी स्थिति जारी है। महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में अभी रविवार को पूर्ण लाकडाउन जारी है। दोनों राज्यों में कुछ प्रतिबंधों में ढील दी गई है और माल, रेस्तरां, जिम, सैलून और स्पा को फिर से खोलने की अनुमति मिल गई है।
देश के आठ राज्यों में अभी भी लॉकडाउन जैसी सख्त पाबंदियां जारी हैं। ये राज्य हैं पश्चिम बंगाल, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, ओडिशा, तमिलनाडु, मिजोरम, गोवा और पुडुचेरी। 
शेष 23 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में आंशिक लॉकडाउन जारी हैं। 23 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना मामलों में कमी को देखते हुए आंशिक लॉकडाउन लागू है। ये हैं- कर्नाटक, केरल, छत्तीसगढ़, दिल्ली, महाराष्ट्र, बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, उत्तराखंड, पंजाब, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, नगालैंड, सिक्किम, असम, मणिपुर, आंध्र प्रदेश, त्रिपुरा और गुजरात। महाराष्ट्र में कोरोना के मामलों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। राज्य में धीरे-धीरे प्रतिबंधों को हटाया जा रहा है।

120 भारतीयों को लेकर सी-17 विमान की उड़ान

काबुल। वायुसेना के सी-17 विमान ने काबुल हवाई अड्डे से मंगलवार को सुबह 120 भारतीय अधिकारियों को लेकर उड़ान भरी है। ये सभी लोग अफगानिस्तान में भारतीय दूतावास के अधिकारी हैं। इसके अलावा उनके कर्मचारी भी इनमें शामिल हैं।
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इन सभी लोगों को कल रात की काबुल एयरपोर्ट के सुरक्षित परिसर में ले आया गया था। रात काबुल एयरपोर्ट पर गुजारने के बाद ये सभी लोग वायुसेना के विमान में वतन वापसी के लिए सवार हुए। तालिबान का राज आते ही अफगानिस्तान में भगदड़ की स्थिति है। दुनिया भर के लोग अपने देशों को लौटना चाहते हैं।
बता दें कि विदेश मंत्रालय ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में मौजूदा स्थिति को देखते हुए भारतीय राजदूत और उनके कर्मचारी को तुरंत भारत आने का आदेश दिया था।
अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे बाद यहां भारी अफरातफरी का माहौल है। लोग देश छोड़ने की पुरजोर कोशिशों में हैं और हवाई अड्डे पर बेतहाशा भीड़ है। तालिबान के दावों और आश्वासन के बावजूद लोगों में खौफ है और इसी कारण वे देश छोड़ना चाहते हैं।

मेजबानी करने के लिए स्टार अमिताभ उत्साहित हैं

कविता गर्ग              
मुंबई। केबीसी के 13वें सीजनकी मेजबानी करने के लिए बॉलीवुड के स्टार अमिताभ बच्चन उत्साहित हैं।जल्दी ही ‘कौन बनेगा करोड़पति 13’ का आगाज हो जाएगा। सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर प्रोमो शेयर कर दिया है। अमिताभ बच्चन की लोकप्रियता की वजह सिर्फ उनकी फिल्में ही नहीं हैं। इसमें उनके टीवी शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ का भी बहुत बड़ा योगदान है। शो का नया सीजन 23 अगस्त से सोनी टीवी पर टेलीकास्ट शुरू हो रहा है।

केबीसी वीक में पांच दिन यानी सोमवार से शुक्रवार रात 9 बजे प्रसारित होगा।शो का नया प्रोमो सामने आ गया है, जो लोगों को बहुत पसंद आ रहा है। प्रोमो का जो पार्ट शेयर किया है, वह शो का तीसरा पार्ट है। इस शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा गया है कि पार्ट एक और दो पर जबरदस्त प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद। अब हम आपके लिए तीसरा पार्ट का फाइन सीरीज शेयर कर रहे हैं! 23 अगस्त, रात 9 बजे से केवल सोनी।कौन बनेगा करोड़पति ने अपनी यात्रा के 21 साल पूरे कर रहा है। यह शो पहली बार 2000 में स्टार प्लस पर शुरू हुआ था। केबीसी के प्रमोशन के लिए विशेषतौर पर बनाई गई ‘सम्मान’ की शूटिंग मध्‍यप्रदेश में की गई है। इस फिल्‍म में एक्टर ओमकार दास मानिकपुरी प्रमुख भूमिका में हैं। शो मेकर्स ने केबीसी को हर आम इंसान की जिंदगी से करीब लाने के लिए ये प्रोमो तैयार किया है। इस‍ फिल्‍म की खासियत है कि इसमें लोकल टैलेंटेड लोगों को एक्टिंग का मौका दिया गया है।

26 अगस्त को फिर लगाएं जाएंगे वैक्सीनेशन शिविर

मनोज सिंह ठाकुर                
भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना के खिलाफ लड़ाई जारी है। वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसी बीच सोमवार को चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने ऐलान किया कि प्रदेश में 25 और 26 अगस्त को फिर से वैक्सीनेशन शिविर लगाए जाएंगे। दो दिन महा अभियान चलाया जाएगा।
विश्वास सारंग ने कहा कि सरकार कोरोना के मामलों पर नजर रखे हुए है। रोज करीब 75 हजार सैंपल लिए जा रहे हैं। अब 30 लोगों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग बढ़ा रहे हैं। लोगों से कहना चाहता हूं कि कोरोना प्रोटोकॉल का ध्यान रखें, ताकि खुद और दूसरों को इससे बचाया जा सके। सारंग ने कहा कि संक्रमण रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काम किया है। उन्होंने स्वास्थ्य व्यवस्था को सुचारू किया। आर्थिक स्थिति को फिर से प्लानिंग कर सुदृढ़ किया। तीसरी लहर से बचाव की तैयारियां चल रहीं हैं। कोई कमी नहीं है।
करीब 3 करोड़ 80 लाख को वैक्सीन
प्रदेश में अब तक 3 करोड़ 78 लाख 3 हजार लोगों को कुल डोज लगे हैं। इसमें पहला डोज 3 करोड़ 17 लाख 3 हजार 875 और दूसरा डोज 60 लाख 99 हजार 323 लोग लगवा चुके हैं। इसमें 18 से 44 उम्र के 2 करोड़ 8 लाख 72 हजार 881, 45 से 60 उम्र के 1 करोड़ 4 लाख 21 हजार 742 और 60 वर्ष से अधिक उम्र के 65 लाख 8 लाख 575 लोगों ने वैक्सीन लगवाई है।
भोपाल में 190 सेंटर पर 34 हजार को टीका
भोपाल जिला टीकाकरण अधिकारी उपेन्द्र दुबे ने बताया, सोमवार को 190 सेंटर पर 34 हजार डोज लगाए जा रहे हैं। इसमें कोवैक्सिन 12 हजार और कोवीशील्ड 22 हजार के आसपास डोज हैं। शहरी इलाकों में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन वालों को प्राथमिकता होगी। इसके बाद वैक्सीन बचने पर ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन कर टीका लगाया जाएगा। इस बार वैक्सीनेशन के लिए गांव पर फोकस होगा। इसके लिए गांवों में ज्यादा सेंटर बनाए जा रहे हैं।

मोहला-मानपुर-चौकी को जिला बनाने की घोषणा

दुष्यंत टीकम             
राजनांदगांव। 15 अगस्त को मुख्यमंत्री ने बहुत पुरानी मांग मोहला-मानपुर-चौकी को जिला बनाने की घोषणा की। इसे लेकर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष अनिल मानिकपुरी ने मुख्यमंत्री व संसदीय सचिव के खिलाफ सार्वजनिक रूप से नारेबाजी की। इस पर प्रदेश कांग्रेस ने गंभीरता से लेते हुए प्रदेश अध्यक्ष अध्यक्ष के निर्देश पर प्रभारी महासचिव ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। जारी नोटिस में लिखा है कि उनके इस कृत्य से कार्यकर्ताओं व जनता के बीच सरकार की छवि धूमिल हुई है। 3 दिन के अंदर यदि संतोषजनक जवाब नहीं मिलता है तो उनके खिलाफ एकतरफा अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।

स्वतंत्रता दिवस का अवसर, प्लेटिनम की शुरुआत

अकांशु उपाध्याय                   
नई दिल्ली। भारतीय स्टेट बैंक अपने ग्राहकों के लिए प्लेटिनम जमा के तहत अतिरिक्त ब्याज की पेशकश कर रहा है। भारतीय स्टेट बैंक ने देश की स्वतंत्रता के 75वीं सालगिरह पर प्लेटिनम जमा की शुरुआत की है। प्लेटिम जमा पर ग्राहकों को आम ब्याज दर की तुलना में काफी ज्यादा ब्याज की पेशकश की जा रही है। इसमें ग्राहकों को 0.15 फीसदी तक का अतिरिक्त ब्याज मिल सकता है। आइए जानते हैं इस योजना के बारे में।
SBI के ग्राहकों को 0.15 फीसदी तक का अतिरिक्त ब्याज मिल सकता है.।
भारतीय स्टेट बैंक के ग्राहकों को सावधि जमा पर 75 दिन, 75 सप्ताह और 75 महीने की अवधि के लिए ये अतिरिक्त ब्याज मिलेगा।
SBI का ऑफर 14 सितंबर, 2021 तक वैध है।
“यह प्लेटिनम जमा के साथ भारत की स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष का जश्न मनाने का समय है। एसबीआई के साथ सावधि जमा और विशेष सावधि जमा के लिए विशेष लाभ। 14 सितंबर 2021 तक वैध प्रस्ताव, ”एसबीआई ने ट्वीट किया।
15 अगस्त पर जीरो प्रोसेसिंग लोन की सुविधा
15 अगस्त के मौके पर एसबीआई अपने ग्राहकों को जीरो प्रोसेसिंग फीस पर होम लोन लेने की सुविधा प्रदान कर रहा है। अपने एक ट्वीट के जरिए बैंक ने इस बात की जानकारी उपलब्ध कराई है। एसबीआई ने बताया है कि, “जीरो प्रोसेसिंग होम लोन के जरिए इस आजादी के दिवस पर प्रवेश करें अपने सपनों के घर में”। एसबीआई द्वारा इस ऑफर का लाभ आजादी का अमृत महोत्सव अभियान के तहत दिया जा रहा है। जीरो प्रोसेसिंग फीस के अलावा भी SBI अपने होम लोन के साथ कई सारी अन्य सुविधाओं का लाभ भी दे रहा है।

यूपी: नियंत्रण कानून पर रिपोर्ट सरकार को सौंपीं

हरिओम उपाध्याय                  
लखनऊ। उत्तर प्रदेश लॉ कमीशन ने सोमवार को जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंप दी। इसके साथ ही लॉ कमीशन ने जनसंख्या नियंत्रण से जुड़े कानून का ड्राफ्ट भी तैयार कर योगी सरकार  को सौंप दिया है। बताया जा रहा है कि 17 अगस्त से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र में योगी सरकार इस बिल को पेश कर सकती है।
बिल के फाइनल ड्राफ्ट में कमीशन ने दो से ज्यादा बच्चों के माता-पिता को स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने से रोकने समेत कई सुविधाओं से वंचित रखने की सिफारिश की है। साथ ही वन चाइल्ड पॉलिसी को प्रोत्साहन देने पर भी जोर दिया गया है।
लॉ कमीशन ने सिफारिश की है कि प्रदेश में बढ़ती आबादी को नियंत्रित करने और उसे स्थिर करने के लिए कानून बनाया जाना चाहिए। इसके साथ ही जिन दो सरकारी कर्मचारियों के दो बच्चे हैं, उन्हें प्रोत्साहित किया चाहिए। वहीं, जिनका एक ही बच्चा है, उसे और ज्यादा प्रोत्साहित करना चाहिए। आम जनता को भी प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।
इसके अलावा जिनके दो से ज्यादा बच्चे हों, उन्हें कई सुविधाओं से वंचित कर दिया जाना चाहिए। ऐेसे लोगों को राज्य की स्वास्थ्य योजना से वंचित किया जा सकता है। साथ ही राशन कार्ड में चार सदस्यों के नाम की लिमिट तय कर दी जानी चाहिए। उसे राज्य सरकार की ओर से सब्सिडी भी नहीं मिलनी चाहिए।
दो से ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों के स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने पर रोक लगा देनी चाहिए। इसके साथ ही जिनके दो से ज्यादा बच्चे होंगे, उनके यूपी में सरकारी नौकरी में अप्लाई करने पर रोक होनी चाहिए और अगर कोई नौकरी में रहते हुए दो से ज्यादा बच्चे पैदा करता है, तो उसका प्रमोशन रोक देना चाहिए।
अगर एक बच्चा होने के बाद अगली बार जुड़वा बच्चे पैदा होते हैं, तो उसे टू चाइल्ड पॉलिसी का उल्लंघन नहीं माना जाना चाहिए।
 साथ ही अगर किसी व्यक्ति का एक या दोनों बच्चे विकलांग है, तो उसे तीसरा बच्चा गोद लेने की इजाजत होनी चाहिए।
अगर किसी व्यक्ति का एक या दोनों बच्चे विकलांग हैं, तो उसे तीसरा बच्चा पैदा करने की इजाजत भी होनी चाहिए।
अगर किसी व्यक्ति के एक या दोनों बच्चों की मौत हो जाती है तो भी उसे तीसरा बच्चा पैदा करने की इजाजत होनी चाहिए।
 इसके अलावा अगर कानून लागू होने से पहले ही किसी के दो बच्चे हों तो वो कानून लागू होने के एक साल के भीतर तक तीसरा बच्चा पैदा कर सकता है।

पुलिस विभाग में बड़े पैमाने पर ट्रांसफर लिस्ट जारी

दुष्यंत टीकम            
कांकेर। पुलिस विभाग में एक बार फिर बड़े पैमाने पर ट्रांसफर लिस्ट जारी हुआ है। कांकेर एसपी शलभ कुमार सिन्हा ने आदेश जारी किया है। जारी आदेश में 8 निरीक्षक और 12 उपनिरीक्षक का तबादला किया गया है।
कांकेर कोतवाली प्रभारी धनवंत साय देहारी को रक्षित केंद्र भेजा गया है। अब कांकेर कोतवाली के नए निरीक्षक शरद कुमार दुबे होंगे।

तेज रफ्तार ट्रैक्टर की टक्कर से 2 युवक की मौंत हुईं

हरिओम उपाध्याय                 
लखनऊ। तेज रफ्तार ट्रैक्टर की टक्कर से बाइक सवार दो युवक की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि इस हादसे में घायल हुए तीसरे युवक को गंभीर अवस्था के चलते हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। घटना को अंजाम देने के बाद ट्रैक्टर चालक मौके से फरार हो गया। बाइक सवार युवक सुरक्षा के लिहाज से अपने सिर पर हेलमेट नहीं लगाए हुए थे।
जालौन जनपद के उरई निवासी अवध बिहारी, कल्लू और सीताराम बाइक पर सवार होकर कौंच की तरफ से उरई की ओर आ रहे थे। जैसे ही बाइक सवार तीनों युवक गढर गांव के समीप पहुंचे तो सामने से तेज रफ्तार के साथ फर्राटा भरते हुए आ रहे बेलगाम ट्रैक्टर ने उनकी बाइक को अपनी चपेट में ले लिया। ट्रैक्टर की टक्कर लगते ही बाइक सवार उछलकर सड़क पर जा गिरे और बुरी तरह से लहूलुहान हो गए। दो वाहनों के आपस में टकराने की आवाज को सुनकर आसपास के लोग तुरंत ही मौके पर पहुंचे। दुर्घटना को देखकर राहगीरों ने पुलिस को मामले की जानकारी दी। सूचना पाते ही मौके पर पहुंची पुलिस तीनों युवकों को उठाकर जिला अस्पताल ले गई। जहां चिकित्सकों ने कल्लू व सीताराम को मृत घोषित कर दिया। जबकि अवध बिहारी की हालत को गंभीर देखते हुए उसे झांसी के लिए रेफर किया गया है। हादसे के कारण सड़क मार्ग पर काफी देर के लिए वाहनों का आवागमन अवरुद्ध हो गया। पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद यातायात को सामान्य कराया। उधर ट्रैक्टर चालक मौके से अपने वाहन समेत फरार होने में कामयाब रहा। पुलिस दुर्घटना कर फरार हुए ट्रैक्टर और उसके चालक की तलाश कर रही है। पुलिस ने परिवारजनों को सूचना देते हुए शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिए हैं।

हालात: तालिबान ने अफगान में मचाया कोहराम

काबुल। तालिबान ने अफगानिस्तान में कोहराम मचा दिया है। अफगानिस्तान के हालात इतने बिगड़ चुके हैं कि वहां के लोग अपने देश को छोड़ कर भाग रहे हैं। इसी दौरान एक अजीब सा बयान सामने आया है। यह बयान रूस ने दिया है। तालिबान के राज में काबुल के हालात गनी के राज के मुकाबले बहुत सुरक्षित बन चुके हैं।
रूस के राजदूत दिमित्री जिरनोव द्वारा अफगानिस्तान की तारीफ करते हुए यह कहा गया है कि इस्लामी ग्रुप तालिबान ने 24 घंटों में काबुल को गनी के राज के मुकाबले बहुत सुरक्षित बना दिया है, अब वहां के हालात अच्छे हैं और वहां पर शांति हैं अब वहां किसी भी तरह की कोई हिंसा नहीं हो रही है। दिमित्री जिरनोव ने ये बयान रॉयटर्स न्यूज एजेंसी एको मोस्किवी स्टेशन के माध्यम से दिया।
गनी की सत्ता में विकास बिलकुल भी नई था अव्यवस्था ठप थी लोगों ने इस सत्ता से अपनी उम्मीद छोड़ दी थी गनी की सरकार पत्तों की तरह बिखर गई है। तालिबान के 24 घंटों के कार्यकाल से पता चलता है आने वाले दिनों में सब हालात ठीक हो जाएंगे।
जिरनोव के अनुसार शुरुआत में तालिबान की एक यूनिट ने अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में दाखिल हुई थी। इसके बाद उन्होंने सरकार और अमेरिकी सेना बलों को सरेंडर करने को बोला था। जब सरकार ने सरेंडर करने को मना किया तो तालिबान की चीफ यूनिट राजधानी में घुस गई । ये देख गनी की सरकार वहां से पीठ दिखा कर भाग निकली, उनके भाग जाने के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया। तालिबान ने पहले ही रुसी दूतावास पर कब्जा किया जिसमे 100 की तादाद में कर्मचारी हैं। मंगलवार को तालिबान से वार्ता होगी।
जानकारी के अनुसार अफगानिस्तान पर तालिबान ने 20 साल बाद फिर कब्ज़ा किया है । राष्ट्रपति भवन में अपनी जड़ जमा ली है। लोग अपना सब कुछ छोड़ छाड़ कर भाग रहे हैं। देश में गंभीर हालत हैं। लोग हवाई जहाज पर जबरदस्ती चढ़ कर यात्रा कर रहे थे जिसके कारण 3 लोगों की गिरने से मौत हो गई थी।

आलिया को पसंद आईं मल्होत्रा की फिल्म 'शेरशाह'

कविता गर्ग                     
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट को सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म 'शेरशाह' बेहद पसंद आयी है।
आलिया ने सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म 'शेरशाह' देखी है। आलिया ने फिल्म शेरशाह की जमकर तारीफ की। आलिया भट्ट ने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर फिल्म की सफलता के लिए पूरी टीम को बधाई दी है।
आलिया ने पोस्ट में लिखा, "फिल्म जरूर देखनी चाहिए। इस फिल्म ने मुझे हंसाया और रुलाया और सब कुछ। सिद्धार्थ मल्होत्रा तुम बहुत खास थे। और मेरी खूबसूरत कियारा आडवाणी आप सच में बस चमक रही हैं। इतनी प्यारी फिल्म बनाने के लिए पूरी टीम और पूरी कास्ट को बधाई।
गौरतलब कि फिल्म शेरशाह में सिद्धार्थ मल्होत्रा शहीद कैप्टन विक्रम बत्रा के किरदार में हैं। वहीं, कियारा आडवाणी उनकी पत्नी की भूमिका में नजर आ रही हैं।

दीपिका ने अपकमिंग फिल्म की शूटिंग पूरी की

कविता गर्ग                 
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण ने निर्देशक शकुन बत्रा की अपकमिंग फिल्म की शूटिंग पूरी कर ली है।
दीपिका पादुकोण काफी समय से शकुन बत्रा की आने वाली फिल्म को लेकर चर्चा में हैं। अभी इस फिल्म का टाइटल तय नहीं किया गया है। इस फिल्म में दीपिका के साथ अनन्या पांडे भी नजर आने वाली हैं। दीपिका और अनन्या ने इस फिल्म की शूटिंग पूरी कर ली है। फिल्म का निर्माण करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शंस के बैनर तले किया जा रहा है।
दीपिका पादुकोण ने सोशल मीडिया पर फिल्म के सेट से कुछ फोटोज शेयर की हैं। इन फोटोज में फिल्म के निर्देशक शकुन, अनन्या और सिद्धांत चतुर्वेदी के साथ दीपिका मस्ती के मूड में नजर आ रही हैं। दीपिका ने फोटोज के कैप्शन में लिखा, "प्यार, दोस्ती और यादें जीवन भर के लिए।"
बताया जा रहा है कि शकुन की यह फिल्म रोमांटिक फिक्शन ड्रामा पर आधारित है, जिसमें दीपिका, सिद्धांत, अनन्या और धैर्य कारवा स्क्रीन शेयर करते हुए नजर आएंगे। बताया जा रहा है कि इस फिल्म की कहानी एक सेलेब्रिटी फिटनेस ट्रेनर के इर्दगिर्द घूमती है। यह फिल्म एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर पर आधारित है।

यूपी: टिकट बगैर यात्रियों में अफरा-तफरी का माहौल

अश्वनी उपाध्याय                   
गाजियाबाद। जनपद गाजियाबाद के नोली रेलवे स्टेशन पर मजिस्ट्रेट चेकिंग अभियान चेकिंग की खबर लगते ही बगैर टिकट यात्रियों में अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया। चेकिंग सुबह 7:00 बजे से लेकर शाम तक चला चेकिंग अभियान चेकिंग के दौरान टिकट चेकरो ने बिना टिकट यात्री व बिना मास्क के लोगों के चालान काटे तथा मजिस्ट्रेट के आगे पेश किया गया। चेकिंग अभियान एसपी गुप्ता के नेतृत्व में हुआ। जिसमें टिकट चेकरो की टीम द्वारा जुर्माना वसूल किया गया। रेलवे मजिस्ट्रेट विकास सिंह, सहायक वाणिज्यिक प्रबंधक अशोक कुमार व सीटीआई एस पी गुप्ता ने 27 टीटी व 30 आरपीएफ जवानों की बटालियन के साथ लोनी रेलवे स्टेशन पर बिना टिकट व बिना मास्क यात्रियों पर छापेमारी की।
टिकट चेकरो कि टीम के नोली रेलवे स्टेशन पहुँचते ही भगदड़ मीच गई व कुछ लोग समान छोड़ कर भाग गए। टीम द्वारा 206 बिना टिकट यात्रियों  को मोके पर पकड़ा गया। जिनसे 52940 रुपया जुर्माना राशि मौके पर वसूली गई व 78 को मजिस्ट्रेट साहब के समक्ष पेश किया। जिनसे 22040 रुपया रेलवे किराया व 76000 जुर्माने के रूप में वसूले गए व 11 बिना मास्क यात्रियों से 2200 रुपया जुर्माना वसूला गया।
सीटीआई एस पी गुप्ता ने बताया कि दिल्ली शामली सहारनपुर रेल मार्ग रेलवे की हिट लिस्ट में है व इस मार्ग पर प्रातः व शाम की रेल गाड़ियों में भारी दल बल के साथ सघन टिकट चेकिंग की जाएगी। इस लिए यात्रियों से निवेदन है कि समय से रेलवे स्टेशन पर पहुँच कर टिकट खरीद कर यात्रा करें व मास्क अवश्य लगाए।

राजदूत को तत्काल वापस बुलाने का फैसला किया

अकांशु उपाध्याय                            
नई दिल्ली। भारत ने अफगानिस्तान की बिगड़ी स्थिति को देखते हुए काबुल स्थित भारतीय दूतावास के सभी कर्मचारियों तथा राजदूत को तत्काल वापस बुलाने का फैसला किया है।
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा, "मौजूदा हालात के मद्देनजर यह फैसला लिया गया है कि काबुल स्थित भारतीय दूतावास के सभी कर्मचारी तथा हमारे राजदूत तत्काल भारत लौटेंगे।"
भारत ने यह फैसला गत रविवार को अशरफ गनी सरकार को सत्ता से बेदखल किये जाने तथा वहां की बिगड़ी सुरक्षा स्थिति के मद्देनजर किया है।

विस्फोट की चपेट में आने से 3 सैनिकों की मौंत हुईं

अंकारा। तुर्की के रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि कुर्दो द्वारा लगाए गए विस्फोट की चपेट में आने से तीन सैनिकों की मौत हो गई और दो घायल हो गए है।
मंत्रालय ने बताया कि रविवार को कुर्दो द्वारा लगाये गए विस्फोटक में धमाका हुआ।
उन्होंने कहा विस्फोट में घायल जवानों का अस्पताल में इलाज किया जा रहा है।
विस्फोट के समय तुर्की सैनिक सीमा पार अभियान पर थे।

भुज द प्राइड ऑफ इंडिया, अजय के कई कमेंट आएं

कविता गर्ग                       
मुबंई। रिलीज हुई इस फिल्म के बाद अजय देवगन के कई ऐसे कमेंट आए हैं, जो चर्चा में हैं। ये फिल्म की कहानी 1971 के भारत पाक युद्ध पर है। ऐसे में अजय ने भारत के इतिहास और प्रधानमंत्रियों से जुड़े कुछ सवालों पर पर भी जवाब दिए हैं। हाल ही में एक इंटरव्यू में उनसे पूछा गया कि इंदिरा गांधी और नरेंद्र मोदी में से वो किसे बेहतर प्रधानमंत्री मानते हैं?
भुज द प्राइड ऑफ इंडिया को लेकर इंटरव्यू के दौरान अजय देवगन से पूछा गया कि 1971 में इंदिरा गांदी देश की प्रधानमंत्री थीं, तो पाक से जंग हुआ और नरेंद्र मोदी के रहते सर्जिकल स्ट्राइक हुई।
आपके हिसाब से दोनों में से अधिक सशक्त कौन रहा है? इस पर अजय देवगन ने कहा, आप दोनों की तुलना नहीं कर सकते हैं। उस वक्त जो उन्होंने किया वो सही था। आज जो मोदी कर रहे हैं वो सही है। दोनों लोगों और दो हालातों की आप तुलना नहीं कर सकते हैं।
अजय देवगन ने एक अन्य बातचीत में ये भी कहा कि देश का इतिहास छुपाया गया है। उन्होंने कहा, भारत का असल इतिहास सामने लाना बहुत जरूरी है ताकि मौजूदा पीढ़ी जान पाए कि देश किनके बलिदानों पर खड़ा है। इतने साल अंग्रेज रहे, उन्होंने इतिहास दबाया। पहले मुगल ते तो मुगलों से पहले के हमारे राजाओं ने जो किया था, उसे भी दबा दिया गया था। इसलिए आज हमारी इतिहास की किताबों में हमारे इतिहास से ज्यादा विदेशी इतिहास है।
फिल्म भुज को अभिषेक दुधैया ने डायरेक्ट किया है। इसमें अजय देवगन, सोनाक्षी सिन्हा, संजय दत्त की मुख्य भूमिकाएं हैं। फिल्म की कहानी 1971 के भारत पाक युद्ध पर है। 1971 के भारत-पाक युद्ध के दौरान पाकिस्तान सेना के हमले में भुज एयरबेस पूरी तरह से तबाह हो गयी था। स्क्वाड्रन लीडर विजय कार्णिक उस समय भुज एयरपोर्ट के इंचार्ज थे। उन्होंने स्थानीय लोगों की मदद से एयरस्ट्रिप को वापस तैयार किया था ताकि भारतीय सेना को लेकर आ रहे विमान को सुरक्षित लैंड कराया जा सके। विजय कार्णिक पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध में हीरो नकर उभरे थे। फिल्म में कार्णिक की ही कहानी है।

यूके: 70 विधानसभाओं पर चुनाव लड़ने का ऐलान

पंकज कपूर                       
देहरादून। उत्तराखंड में 2022 का विधानसभा चुनाव खासा रोचक होने जा रहा है, इसकी मुख्य वजह है। आम आदमी पार्टी का प्रदेश की 70 विधानसभाओं पर चुनाव लड़ने का ऐलान। उत्तराखंड में भाजपा और कांग्रेस के बाद अब तीसरे विकल्प के रूप में आम आदमी पार्टी अपनी चुनावी घोषणाओं से जनता को रिझाने का प्रयास कर रही है। 
आज देहरादून पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने 2 बड़ी घोषणा करते हुए कहा है कि कर्नल अजय कोठियाल आम आदमी पार्टी के उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के उम्मीदवार होंगे और कर्नल कोठियाल के नेतृत्व में ही आम आदमी पार्टी 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी। इधर दूसरी घोषणा करते हुए उन्होंने कहा कि दुनिया के हिंदुओं के लिए उत्तराखंड को एक आध्यात्मिक राजधानी के रूप में स्थापित किया जाएगा। गौरतलब है कि अरविंद केजरीवाल ने उत्तराखंड के अपने पहले दौरे के दौरान प्रदेशवासियों को 300 यूनिट मुफ्त बिजली देने की घोषणा की थी जिसके बाद अब इन दो घटनाओं से सूबे के सियासी गलियारों में खासा हलचल मची हुई है। वहीं कर्नल कोठियाल ने कहा कि वह पार्टी से लेकर जनता की उम्मीदों पर खरा उतरेंगे। इधर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस और भाजपा को जनता को लूटने की पार्टी करार दिया।

बैठक: मैनपुरी जिले का नाम बदलने का प्रस्ताव रखा

हरिओम उपाध्याय                      
मैनपुरी। यूपी के में सोमवार को जिला पंचायत अध्यक्ष बोर्ड की बैठक रखी गई थी। जिला पंचायत की बैठक में मैनपुरी जिले का नाम बदलने का प्रस्ताव रखा गया। जिला पंचायत अध्यक्ष ने अर्चना भदौरिया ने इस प्रस्ताव को मंजूर कर दिया है। बैठक में जिपं सदस्य योगेंद्र प्रताप सिंह की ओर से मैनपुरी का नाम मयन नगर रखे जाने का प्रस्ताव रखा गया था। 
बैठक में इस प्रस्ताव पर 25 सदस्यों में से 23 सदस्यों ने प्रस्ताव पर मुहर लगा दी।  जबकि 2 सदस्यों ने नाम बदलने का कारण जानना चाहा। हालांकि प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। मुहर लगने के बाद यह प्रस्ताव जिला पंचायत की ओर से प्रमुख सचिव संस्कृति के यहां भेजा जाएगा। 
उसके बाद शासन निर्णय लेगा कि मैनपुरी का नाम मयन नगर होगा या फिर मैनपुरी।
जिला पंचायत अध्यक्ष अर्चना भदौरिया ने कहा, "मयन ऋषि की तपोभूमि के कारण इस जनपद का नाम मयनपुरी था। भाषा की गलती के कारण मैनपुरी को शुद्ध नाम देते हुए मयन नगर किया गया है। हालांकि, अभी केवल बोर्ड में इस प्रस्ताव को मंजूरी मिली है। अब सरकार तय करेगी कि मैनपुरी का नाम मैनपुरी ही रहेगा या मयन नगर कर दिया जाएगा।
विपक्ष सोशल मीडिया पर कर रहा विरोध...
इस प्रस्ताव की जानकारी जिले में जंगल में लगी आग की तरह फैल गई। कही, जब सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो नाम परिवर्तन के पक्ष और विपक्ष में बहस शुरू हो गई. मैनपुरी सदर से समाजवादी पार्टी के विधायक राजकुमार यादव फेसबुक पर विरोध जताया है. वह मैनपुरी के नाम बदलने को लेकर काफी खफा नजर आ रहे हैं। वहीं, कुछ लोग मयन नगर नाम को लेकर काफी उत्साहित दिख रहे हैं, तो कुछ लोग इसका विरोध कर रहे हैं।
हाल ही में फिरोजाबाद का नाम बदलने का प्रस्ताव हुआ पारित...
कांच के काम और महिलाओं की चूड़ियों के लिए पहचाना जाने वाला फिरोजाबाद जल्द ही नई पहचान पाएगा। जिला पंचायत की बैठक में फिरोजाबाद जिले का नाम हिन्दू राजा चंद्रसेन के नाम पर चंद्रनगर करने का प्रस्ताव पारित हो गया। बीजेपी के सांसद चंद्रसेन जादौन ने भी इस प्रस्ताव को अपना समर्थन दिया था।

ईंधन की कीमतों में कमी नहीं करने का कारण बताया

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। देश में ईंधन की बढ़ी हुई कीमतों के कारण लोगों परेशान है। बढ़ती कीमत को लेकर महंगाई लगातार बढ़ती जा रही है। आम जनता सहित विपक्षी दल लगातार सरकार से ईंधन की कीमतों कटौती करने की मांग कर रही है। इसी बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ईंधन की कीमतों में कमी नहीं करने का कारण बताया है। साथ ही ईंधन पर उत्पाद शुल्क में कोई कटौती नहीं करने की बात कही। सोमवार को पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, 'यूपीए सरकार ने 1.44 लाख करोड़ रुपये के तेल बांड जारी कर ईंधन की कीमतों में कमी की थी। मैं पिछली यूपीए सरकार द्वारा खेली गई चालबाजी से नहीं जा सकती।
ऑयल बॉन्ड की वजह से हमारी सरकार पर बोझ आया है। इसलिए हम पेट्रोल-डीजल के दाम कम नहीं कर पा रहे।'
वित्त मंत्री ने कहा, 'लोगों का चिंतित होना सही है। जब तक केंद्र और राज्य कोई रास्ता नहीं निकालते, इसका कोई समाधान संभव नहीं है।वित्तमंत्री ने कहा, 'फिलहाल ईंधन पर उत्पाद शुल्क में कोई कटौती नहीं की जाएगी। यूपीए सरकार द्वारा जारी तेल बांडों के लिए किए जा रहे ब्याज भुगतान से राजकोष पर बोझ है। सरकार ने पिछले 5 वर्षों में तेल बांड पर ही ब्याज में 70,195.72 करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान किया है।'
उन्होंने कहा, 'हमें अभी भी 2026 तक 37,000 करोड़ रुपये का ब्याज देना होगा। ब्याज भुगतान के बावजूद, 1.30 लाख करोड़ रुपये से अधिक का मूलधन अभी भी लंबित है। अगर मुझ पर तेल बांड का बोझ नहीं होता तो मैं ईंधन पर उत्पाद शुल्क कम करने की स्थिति में होते।

बांग्लादेशी शब्द लिखे जाने पर नाराजगी व्यक्त की

पंकज कपूर                   
देहरादून। प्रादेशिक बंगाली कल्याण समिति उत्तराखंड ने संजय नगर वार्ड नंबर 11 में रुदपुर में प्रेस वार्ता करते हुए उत्तराखंड सरकार द्वारा बांग्ला समाज को जारी होने वाले प्रमाण पत्रों से पूर्व पाकिस्तानी शब्द को हटाकर बांग्लादेशी शब्द लिखे जाने पर अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए उत्तराखंड सरकार को घेरने का काम किया।
प्रादेशिक बंगाली कल्याण समिति के अध्यक्ष चंद्रशेखर गांगुली ने का की उत्तराखंड सरकार बंगाली समाज के साथ एक बार फिर खिलवाड़ करने का काम किया है उन्होंने कहा कि उत्तराखंड सरकार ने बंगाली समुदाय की भावनाओं से खिलवाड़ करते हुए पूर्व पाकिस्तानी शब्द को हटाकर बांग्लादेशी शब्द लिख दिया है। जो कि अपमानजनक है।
बंगाली समाज इसकी घोर निंदा करता है और उत्तराखंड सरकार से मांग करता है कि वह अपने फैसले को वापस लेकर बंगाली समाज के प्रमाण पत्रों से पूर्व पाकिस्तानी और बांग्लादेशी शब्द को हटाने का काम करें अन्यथा बंगाली समाज उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होगा।

मानदेय बढ़ाने की मांग पर कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया

पंकज कपूर                              
रुद्रपुर। आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और सेविकाओं ने मानदेय बढ़ाने की मांग को लेकर सोमवार को कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन किया। एडीएम के माध्यम से उन्होंने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा आगनबाडी कार्यकर्ताओं मिनी कार्यकर्ता कर्मचारी संगठन के बैनर तले कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट परिसर में विशाल रैली निकाला एसडीएम विशाल मिश्रा से उन्होंने कहां की महंगाई यों में 600 रुपए प्रतिदिन को हिसाब से 18 हजार रुपये महीना मानदेय दिया जाए। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ कार्यकर्ताओं का आंगनबाड़ी कार्यकर्ता बखूबी से योगदान दे रहे हैं। वहां जिला अध्यक्ष अनीता सिंह, मीरा बोस, उर्मिला मिश्रा, अमरजीत कौर, पुष्पेंद्र कौर, जसमिंदर कौर, इंदिरा पोखरिया राधा देवी आदि थे।

यूके: कॉलेज प्रशासन ने हस्तक्षेप करना शुरू किया

पंकज कपूर                         
नैनीताल। कुमाऊं का सबसे बड़ा अस्पताल हर समय विवादों में रहता है। आये दिन तीमारदारों से लेकर मरीजों तक से अभ्रदता के आरोप लगते रहते है। अब टेंडर को लेकर चर्चाओं में है। सुशीला तिवारी अस्पताल के परिसर में मेडिकल स्टोर के टेंडर में खास लोगों को फायदा पहुंचाने की कोशिश होने के आरोप लग रहे हैं। बकायदा इसका विरोध भी शुरू हो गया है। जिसके बाद मामला बढ़ता देख कॉलेज प्रशासन ने हस्तक्षेप करना शुरू कर दिया है।
दरअसल सुशीला तिवारी के मेडिकल स्टोर के टेंडर को लेकर नई शर्तें लगा दी गई हैं। आरोप है कि व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने के लिए टेंडर में पांच करोड़ से अधिक का टर्नओवर प्रतिवर्ष मांगा गया है। साथ ही सरकारी, अद्र्ध सरकारी या मेडिकल कॉलेज का पांच वर्ष का अनुभव प्रमाण पत्र जैसी शर्त भी लगाई गई है। ऐसे में टेंडर की शर्तों को लेकर दवा विक्रेता विरोध शुरू कर दिया।बकायदा सोमवार को प्राचार्य के समक्ष एक दवा विक्रेता रवि गुप्ता ने टेंडर को लेकर सवाल खड़े करते हुए लिखित में आपत्ति दर्ज कराई है। टेंडर के लिए 5 करोड़ 70 लाख रुपये हैसियत का प्रमाण पत्र भी मांगा गया है। गुप्ता ने कहा कि निविदा की शर्त पूरी करने के बाद हैसियत प्रमाण पत्र का कोई औचित्य नहीं है। इसका टेंडर 26 अगस्त को खुलेगा। इसके अलावा पिछली निविदाओं में कार्यक्षेत्र का पांच वर्ष का अनुभव मांगा गया था। लेकिन इस बार सरकारी, अद्र्ध सरकारी चिकित्सालय या मेडिकल कॉलेज से पांच वर्ष का कार्य अनुभव प्रमाण पत्र की बात कही गई है। इन शर्तों से स्थानीय फुटकर या थोक विक्रेताओं को कोई लाभ नहीं मिलेगा।
इस संबंध में राजकीय मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ अरुण जोशी का कहना है कि टेंडर को लेकर आपत्ति आयी है। इस मामले में अध्ययन किया जा रहा है। हमारी कोशिश है कि टेंडर से मरीजों को अधिक फायदा हो। अगर कुछ जरूरी होगा तो कार्यवाही की जायेगी।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-367 (साल-02)
2. बुधवार, अगस्त 18, 2021
3. शक-1984,सावन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-दसमीं, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -21 डी.सै., अधिकतम-37+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...