रविवार, 25 जुलाई 2021

कई क्षेत्रों में सहयोग ओर बढ़ाएंगे 'भारत-अमेरिका'

नई दिल्ली/ वाशिंगटन डीसी। भारत और अमेरिका सुरक्षा, रक्षा, आतंक पर लगाम, अफगानिस्तान में शांति, चार देशों के समूह क्वाड, कोराना महामारी और जलवायु परिवर्तन समेत कई क्षेत्रों में सहयोग और बढ़ाएंगे। अपने पहले भारत दौरे पर 27 जुलाई को नई दिल्ली आ रहे अमेरिकी विदेशमंत्री एंटनी ब्लिंकन के एजेंडे में ये मुद्दे प्राथमिकता में हैं।
अमेरिका के विदेश मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, ब्लिंकन का यह दौरा 28 जुलाई तक रहेगा। इस दौरान वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री एस जयशंकर और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल से मिलेंगे। दोनों पक्षों के बीच द्विपक्षीय रिश्तों को और मजबूत बनाने पर चर्चा होगी, जिसका दायरा बेहद व्यापक होगा। इस चर्चा में स्थानीय के साथ-साथ वैश्विक मुद्दे भी अहम होंगे। दक्षिण और मध्य एशियाई मामलों के कार्यवाहक सहायक मंत्री डीन थॉम्पसन के मुताबिक, हमारे भारतीय साझीदार के साथ सुरक्षा, रक्षा, साइबर और आतंकवाद के खिलाफ लगाम पर सहयोग को बढ़ाने जाने पर चर्चा होगी।
उन्होंने कहा, हम इन मुद्दों पर सरकार के साथ सहयोग करते हैं। इनमें नियमित रूप से होने वाली अमेरिका-भारत कार्य समूह की बैठकें भी शामिल हैं। हम एक सुरक्षित और अधिक सुदृढ़ दुनिया सुनिश्चित करने के लिए भारत के साथ अपने संबंधों को और मजबूत करने के लिए उत्सुक हैं। उन्होंने कहा, हमारे क्षेत्रीय मसलों में हम अफगानिस्तान में एक न्यायसंगत और स्थायी शांति का समर्थन करने के अपने प्रयासों पर चर्चा करने का इरादा रखते हैं। थॉम्पसन ने कहा कि भारत निश्चित रूप से इस क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण भागीदार है और अमेरिका अफगानिस्तान में शांति और आर्थिक विकास को समर्थन देने के लिए भारत की साझा प्रतिबद्धता का स्वागत करता है।
थॉम्पसन के मुताबिक, ब्लिंकन और रक्षामंत्री लॉयड ऑस्टिन भारतीय विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री को सालाना होने वाली अमेरिका-भारत 2 प्लस 2 मंत्रिस्तरीय वार्ता के लिए न्योता देंगे। हालांकि, इस वार्ता का क्या एजेंडा होगा, इसके बारे में नहीं बताया।
थॉम्पसन ने कहा, क्षेत्र में सभी पड़ोसी देशों के हित एक स्थिर, सुरक्षित और शांतिपूर्ण अफगानिस्तान में ही हैं। इस मकसद को बातचीत के जरिये एक राजनीतिक समझौते से ही पाया जा सकता है, जो अफगानिस्तान के 40 वर्षों के संघर्ष को समाप्त करने में अहम भूमिका निभाएगा। गौरतलब है कि अफगानिस्तान की सीमाएं पाकिस्तान से भी लगती हैं, जहां तालिबान आतंकी हमलों के लिए प्रशिक्षण लेते रहते हैं। 

'आंदोलन' के दौरान मृत किसानों को सच्ची श्रद्धांजलि

राणा ओबरॉय            

जींद। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि केंद्र सरकार के तीनों काले कृषि कानूनों की वापसी ही इसके खिलाफ जारी आंदोलन के दौरान दिवंगत किसानों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। सुरजेवाला रविवार को गांव उझाना में किसान आंदोलन में सक्रिय तथा दिवंगत इंद्रसिंह ठोलेदार की श्रद्धांजलि सभा में आए थे। कांग्रेस नेता ने कहा, ”देश का किसान पिछले आठ महीने से अपने घर और खेत छोड़कर सड़कों पर संघर्ष कर रहा है। गर्मी, सर्दी और बारिश की मार झेलते हुए दिल्ली सहित अनेक स्थानों पर तीनों कृषि कानूनों की वापसी की मांग कर रहा है लेकिन भाजपा सरकार के कान पर जूं नहीं रेंग रही।

सुरजेवाला ने दोहराया कि कांग्रेस पार्टी किसानों के संघर्ष में उनके साथ है और सड़क से लेकर संसद तक तीनों कृषि कानूनों का विरोध कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की भाजपा-जजपा सरकार के मंत्री किसानों की शहादत पर संवेदना व्यक्त करने की बजाय किसानों को देशद्रोही, मवाली कहकर नमक छिड़क रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर केंद्र सरकार को किसानों के साथ थोड़ी भी हमदर्दी है तो तुरंत तीनों कृषि कानून वापस ले लेने चाहिए। उन्होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार में सत्ता का सुख भोग रहे नेताओं के मुंह से किसानों की शहादत पर एक भी शब्द नहीं निकलना, उनकी किसान विरोधी मानसिकता को दर्शाता है। 

शिवराज यह सही है कि मध्यप्रदेश देश का दिल है

मनोज सिंह ठाकुर           

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा उद्योगपतियों से मध्य प्रदेश में निवेश कर लाभ कमाने का आह्वान करने के एक दिन बाद रविवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि निवेश सिर्फ विश्वास से आता है। जो भाजपा नीयत शिवराज सिंह चौहान की सरकार में कभी नहीं रहा है। कमलनाथ ने चौहान पर तंज कसते हुए ट्वीट किया, ”शिवराज यह सही है कि मध्यप्रदेश देश का दिल है। लेकिन यह सच भी जान ले कि निवेश सिर्फ विश्वास से आता है। जो आपकी सरकार में कभी नहीं रहा है। क्योंकि आपकी सरकार में देश में प्रदेश की पहचान सदैव माफियाओं, मिलावट खोरों, भ्रष्टाचार, बेरोजगारी एवं महिला अपराध में देश में शीर्ष वाले प्रदेश की रही।

उन्होंने कहा, ”आहान की) सरकार  आते ही प्रदेश वापस उसी स्थिति में पहुँच चुका है।” इससे एक दिन पहले शनिवार को मुख्यमंत्री चौहान अपने निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘होरोसिस इंडिया मीटिंग 2021’ के प्रधान सत्र में शामिल हुए। यह सत्र ‘मध्यप्रदेश-भारत का उभरता हुआ आर्थिक शेर’ विषय पर आयोजित किया गया था। इसमें चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश औद्योगिक विकास के पर्यावरण, सामाजिक जिम्मेदारी तथा सुशासन के पैमाने पर खरा उतरता है। यहाँ स्वच्छ पर्यावरण है, कार्पोरेट सोशल रिस्पांसबिलिटी के तहत अच्छा कार्य हो रहा है तथा सुशासन के लिए हम प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने कहा है कि मध्यप्रदेश भारत का दिल है तथा हम दिलवाले हैं। उद्योग स्थापना की दृष्टि से मध्यप्रदेश की लोकेशन सबसे अच्छी है तथा हम प्रदेशवासी सबसे प्यार करते हैं। यहाँ जो भी आता है मध्यप्रदेश का होकर रह जाता है। 

महामंत्री भाजपा ने ट्रस्ट का उद्घाटन किया: यूपी

कौशाम्बी। अवनी वेलफेयर चैरीटेबल ट्रस्ट के चीफ़ ट्रस्टी आर.बी जायसवाल व राजेश जायसवाल के द्वारा विनायक आई केयर प्लस मंझनपुर मुख्यालय में शुरू किया गया। जिसका सिलान्यास मुख्य अतिथि प्रदेश अध्यक्ष अजितेश जायसवाल (जायसवाल युवा मंच उत्तर प्रदेश) एवं विशिष्ट अतिथि संजय जायसवाल जिला महामंत्री भाजपा कौशाम्बी के द्वारा उद्घाटन किया गया। प्रदेश अध्यक्ष अजितेश जायसवाल एवं जिला महामंत्री भाजपा कौशाम्बी संजय जायसवाल ने कहा कि अब सभी जनपद वासियो को आँखों की जाँच डिजिटल तरीके से व चश्मा के सारे ब्रांड आपको कम से कम खर्च में प्राप्त होंगे।
अवनी ट्रस्ट के चीफ़ ट्रस्टी आर. बीजायसवाल व डा. राजेश जायसवाल ने कहा कि कौशाम्बी में जल्द हि अवनी ट्रस्ट के द्वारा कौशाम्बी के आठो ब्लॉक में कैम्प के माध्यम से बीपीएल कार्ड धारकों या गरीबी रेखा नीचे आने वाले लोगों की जाँच व चश्मा निशुल्क वितरण किया जायेगा। जल्द ही अगले वर्ष तक ट्रस्ट के द्वारा द्वाबा क्षेत्र में विनायक आई केयर प्लस के नये सेंटर खोले जायेंगे इस शुभ अवसर पर अभिषेक जायसवाल जिला अध्यक्ष प्रयागराज अमित जायसवाल, एडवोकेट राजेश मिश्रा, प्रतीक जायसवाल प्रदेश सचिव पुष्कर जायसवाल, आशर्फी लाल जायसवाल  अभिलाश जायसवाल डा. मोहन अरुण जायसवाल  सुशील कुमार सहित सैकड़ो लोग मौजूद रहे। 
अजीत कुशवाहा 

संगठन की बैठक आयोजित, पदाधिकारी नियुक्त किए

भानुप्रताप उपाध्याय  
शामली। उपाध्याय चेतना मंच की मीटिंग प्रदेश अध्यक्ष  संजय उपाध्याय के कैम्प कार्यलय बनखंडी पर हुई। जिसकी अध्यक्ष सनिल कुमार के द्वारा की गई। मीटिंग में प्रदेश अध्यक्ष संजय उपाध्याय ने कहा कि समाज मे फैली कुरीतियों को जड़ से उखाड़ फैकने और आपसी मतभेदों को दरकिनार कर आगे बढ़ना होगा। समाज की उन्नति चाहते हो तो हक के लिए संघर्ष करना होगा। बच्चो को अच्छी शिक्षा, अच्छे संस्कार और सही दिशा देनी होगी। तभी समाज का विकास हो सकता है। प्रदेश संगठन का विस्तार करते हुए एडवोकेट सुनील कुमार उपाध्याय को प्रदेश उपाध्यक्ष, मनोज कुमार सुन्ना को प्रदेश सचिव नियुक्त किया। प्रदेश अध्यक्ष संजय उपाध्याय ने कहा कि कल 25 जुलाई को बडौत के आर्य विवाह मण्डप उपाध्याय चेतना मंच की मीटिंग होगी और संगठन का विस्तार किया जाएगा। इस दौरान प्रदेश महासचिव श्रवण कुमार आर्य, जिलाध्यक ठेकेदार चमन उपाध्याय, अशोक कुमार, महेश कुमार रामेश्वर उपाध्याय, बिट्टू कुमार आदि लोग मौजूद रहे।

फूलन देवी की 20वीं पुन्यतिथि पर पुष्प अर्पित किए

बृजेश केसवानी                 
प्रयागराज। समाजवादी पार्टी महानगर उपाध्यक्ष महेन्द्र निषाद के यमुना बैंक रोड स्थित बालू मण्डी मे पूर्व सासंद विरांगना फूलन देवी की 20 वीं पुन्यतिथि उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धा से मनाई गई। कार्यक्रम मे बड़ी संख्या मे निषाद समाज के लोगों के अलावा समाजवादी पार्टी के नेतागण शामिल हुए। निषाद समाज के नेता व पूर्व ब्लाक प्रमुख रामचन्द्र निषाद की अध्यक्षता व महेन्द्र निषाद के संचालन मे हुए कार्यक्रम मे सर्व प्रथम फूलन देवी के चित्र के आगे दीप जलाए गए और सभी ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित किए।
वरिष्ठ सपा नेता बब्बन द्वबे ने विरांगना फूलन देवी का स्मर्ण करते हुए उनके संघर्ष के जीवन पर प्रकाश डाला।महिला महानगर उपाध्यक्ष प्रतिमा रावत ने कहा फूलन देवी ने नारी शक्ति मे उत्साहवर्धन पैदा करते हुए यह दर्शा दिया की नारी मजबूर नहीं है।संतोष निषाद ने कहा फूलन देवी के कारण ही निषाद समाज की आज पहचान बनी।अन्य वक्ताओं ने फूलन देवी को ज़मीन से उठा कर संसद की चौखट पर पहोँचाने मे मुलायम सिंह के प्रति आभार प्रकट किया।कहा समाज का शोषण करने वालों को उखाड़ फेंकने का दम रखती थीं फूलन देवी।महेन्द्र निषाद,प्रभात कुमार,अशोक गुप्ता,मोईन हबीबी,मो०ग़ौस आदि नेताओं ने वर्तमान सरकार पर निषाद समाज के उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए निषाद समाज के लोगों का आहृवान किया की एक जुटता मे ही बल है।समाज के हितैषी होने का ढ़ोंग रचने वाली निषाद समाज पार्टी,वीआई पी जैसे राजनीतिक दल समाज के उत्थान के बजाए समाज को भाजपा के हाँथों बेच कर अपना उल्लू सीधा कर रहे हैं।
जब्कि समाजवादी पार्टी सभी समाज का सम्मान करने वाली पार्टी है और निषाद समाज को अगर कुछ मिला तो मुलायम सिंह व अखिलेश सरकार मे ही मिला।आने वाले २०२२ के चुनाव मे निषाद समाज भाजपा की छुट्टी करते हुए समाजवादी पार्टी की सरकार बनाने को कृत संकल्पित है।कार्यक्रम में रामचन्द्र निषाद,बब्बन द्वबे,महेन्द्र निषाद,दिनेश यादव,मोईन हबीबी,संतोष निषाद,सुरेश चन्द्र निषाद,प्रतिमा रावत,राजेश गुप्ता,अशोक गुप्ता,प्रभात कुमार,संतलाल वर्मा, सै०मो०अस्करी,मो०ग़ौस,भोला पाल,आशीष पाल,ज़ामिन हसन,सागर निषाद,शिव सागर निषाद,जय निषाद,नरेन्द्र निषाद,अंकित मिश्रा, सुशील जायसवाल, प्रमिल केसरवानी,अंकित विश्वकर्मा,राम विलास,बच्चा विश्वकर्मा, श्यामू यादव,सै०आसिफ हुसैन,मो०नदीम आदि उपस्थित रहे है।

कानून को ताक पर रखकर जनता के साथ अपराध

मनोज सिंह ठाकुर               
भोपाल। नगर निगम अतिक्रमण को बढ़ावा दे रहा है। सारे नियम कानून को ताक पर रखकर जनता के साथ बहुत अन्याय और अपराध हो रहे है। आने जाने वाले लोगों को पैदल चलने वा अपने टू व्हीलर फोर व्हीलर गाड़ियों को निकालने में अपने ही मोहल्ले से मेन रोड पर आने जाने में बड़ी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।
यह भ्रष्टाचारी है या नियम कानून को ताक पर रखने का रवैया या अनदेखी या मिलीभगत ऐसा मात्र सी सेक्टर शाहपुरा में ही नहीं और ऐसा अतिक्रमण खाली भोपाल के प्रतिष्ठित मार्केट में ही नहीं अनेक स्थानों पर भोपाल की जनता का ऐसा मानना है कि सब पक्षपात जातिवाद मिलीभगत और निजी स्वार्थ के लिए गोपनीयता भी भंग की जा रही है। नगर निगम की साख खराब होने के साथ-साथ भ्रष्टाचारी लापरवाही और मिलीभगत और लोगों के साथ अन्याय अपराध सड़कों पर ही अतिक्रमण करवाया जा रहा है। अतिक्रमण विभाग के संबंधित लोग पैदल चलने का आने जाने वाले सड़क को गोपनीयता के साथ बेच देते हैं। यह बात पर सीबीआई जांच पारदर्शिता के साथ नगर निगम को करवाना चाहिए ताकि किसी के साथ भी किसी भी प्रकार का अन्याय ना हो ऐसा माना जा रहा है कि बड़ी मछली छोटी मछली को खा जाती है।इसी प्रकार बड़े व्यापारी छोटे व्यापारियों से जरूरत से ज्यादा अन्याय कर रहे है। जिससे हमारे भोपाल प्रतिष्ठित स्थान की छवि खराब होने लगी है। जिनके पेट भरे हैं और जो बाहुबली है। जो बहुत ज्यादा उच्च स्तर पर गोपनीयता भ्रष्ट अधिकारियों से मिलकर अपना निजी स्वार्थ कर राजनीति कर रहे हैं और वरिष्ठ नेता को बदनाम करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते हैं पक्षपात जातिवाद और छोटे व्यापारियों के साथ अन्याय मात्र मुट्ठी भर इक्का-दुक्का अति करने वाले तानाशाह के चपेट में आने लगा है। 
भोपाल प्रशासन को एवं नगर निगम वरिष्ठ अधिकारियों को राज्य पुलिस प्रशासन अपने संज्ञान में लेकर अविलंब उच्च स्तर की जांच करवाने की आज बहुत बड़ी आवश्यकता है। 
  व्यवस्था के नाम पर कागजों में ही चल रहा है अतिक्रमण गिनती के लोगों के साथ में विधिवत कार्यवाही की जाती है ऐसा नहीं है कि सारे लोग बहुत अच्छे से कार्य नहीं कर रहे हैं हम उन लोगों को धन्यवाद देते हैं जो राजधानी की गरिमा बनाए और साफ-सुथरी राजधानी में अपना योगदान दे रहे हैं बहुत बड़ी संख्या में हमारे पास आदर्श और ऊर्जावान योग लगन शील कार्य करने वाले अधिकारी कर्मचारी की बहुत बड़ी टीम है जिन्हें लोग निजी स्वार्थ के लिए बदनाम करने में अपना रोल अदा करते हैं और बुराई का ठीकरा नगर निगम के उच्च अधिकारी व उच्च कर्मचारियों के नाम जोड़ना चाहते हैं। इसकी उच्च स्तर पर वरिष्ठ अधिकारियों की टीम बनाकर पारदर्शिता के साथ अभिलंब जांच होनी चाहिए ताकि हमारे कर्मचारियों का सम्मान बढ़ सके और हमारे ईमानदार और सभ्य जनता और कर्मचारियों का नाम रोशन हो सके और शांति कायम रहे राजधानी और भोपाल के हित में कार्य हो शांति का टापू भोपाल और मध्य प्रदेश हमेशा बना रहे इसी शुभकामना के साथ नगर निगम के ऊर्जावान ईमानदार लोगों को धन्यवाद करता हूं। 

7 दिवंगत पूर्व विधायकों को श्रद्धांजलि दी जायेगी

दुष्यंत टिकम          
रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा में कल से शुरू हो रहा है। विधानसभा में कल सात दिवंगत पूर्व विधायक व सांसदों को श्रद्धांजलि दी जायेगी। इनमें से कईयों का निधन कोरोना की वजह से हुआ है। कल जिन जनप्रतिनिधियों को श्रद्धांजलि दी जायेगी, उनमें गुलाब सिंह, सोमप्रकाश गिरि, बालाराम वर्मा, करूणा शुक्ला, बद्रीधर दीवान, शक्राजीत नायक और रामाधार कश्यप हैं। हालांकि परंपरा दिवंगतों को श्रद्धांजलि देने के बाद सदन स्थगित करने की रही है, लेकिन कल विधानसभा की कार्यसूची में कई विधायी कार्य भी दर्ज कराये गये हैं।

शासन जमीन पर अवैध कब्जा, महिला ने फिनाइल पिया

दुष्यंत टिकम                  
कोरबा। छत्तीसगढ़ जिले में जमीन विवाद के कारण एक महिला ने फिनाइल पी लिया। घटना मानिकपुर चौकी क्षेत्र के डिपरापारा-मानिकपुर की है। फिनाइल पीने से महिला की हालत बिगड़ गई और उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 
मिली जानकारी के मुताबिक मानिकपुर चौकी प्रभारी अशोक पांडेय ने बताया कि वहां रहने वाली महिला दसमत भारद्वाज 34 पति जोगिंदर भारद्वाज शासकीय जमीन पर बेजा कब्जा कर मकान निवासरत है। उसके घर मनीराम सोनवानी समेत कुछ अन्य लोग पहुंचे थे। इन्होंने जमीन पर अपना कब्जा बताते हुए महिला की बाड़ी तोड़कर घर में घुसकर गाली-गलौज की। इसके बाद महिला ने फिनाइल पी लिया। उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले की विवेचना की जा रही है।

4 दबंगों ने सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया

हरिओम उपाध्याय              
लखनऊ। यूपी के महोबा में कुछ लोगों ने महिला से दरिंदगी की इंतहा कर दी। जहां (65) वर्षीय बुजुर्ग महिला से घर में घुसकर चार दबंगों ने सामूहिक दुष्कर्म  की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। यही नहीं महिला के चीखने चिल्लाने पर हवस के दरिंदों ने महिला के गुप्तांग में लाल मिर्च का पाउडर डालकर मौके से फरार हो गए है। महिला के परिजनों और पुलिस द्वारा हालत नाजुक होने पर महिला को मेडिकल जांच के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक सुधा सिंह ने तत्काल मौके पर पहुंच महिला से पूछताछ कर पुलिस टीम को
 आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी करने के निर्देश दिए है। जानकारी के मुताबिक, महोबा में कबरई थाना क्षेत्र के लक्ष्मी नगर मोहल्ले में रहने वाली बुजुर्ग महिला रोजाना की तरह अपने घर में लेटी हुई थी। तभी गांव के चार दबंग लक्ष्मण राजू डिब्बी और बबलू घर पर आए हुए थे। इन लोगों ने मेरे साथ गलत काम किया है। विरोध करने पर इन लोगों ने मेरे मुंह में कपड़ा भर दिया था। साथ ही मेरे चीखने, चिल्लाने पर लाल मिर्च का पाउडर भी डालकर सभी आरोपी फरार गए हैं। 
एसपी सुधा सिंह के समक्ष महिला ने कहा कि उसके साथ दो लोगों ने दुष्कर्म किया और मार पीटकर नाजुक अंग में मिर्चा जैसा पदार्थ भी डाल दिया। एसपी ने कहा कि प्रथम दृष्टया महिला की शिकायत के अनुसार उसे बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म की घटना हुई है, नाजुक अंग में मिर्चा जैसा कुछ पदार्थ डालने की भी बात महिला ने बयान में कही है, दो आरोपितों को हिरासत में ले लिया गया है, महिला की मेडिकल जांच कराई जा रही है. इस सनसनीखेज घटनाक्रम को बेहद गंभीरता से लेते हुए पुलिस टीमों का गठन कर दिया गया है। मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

किन्नौर में चट्टान खिसकने के चलते 9 लोगों की मौंत

श्रीराम मौर्या                   
शिमला। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में रविवार को चट्टान खिसकने के चलते नौ लोगों की जान चली गई। यह हादसा तब हुआ जब भूस्खलन के बाद चट्टानें चलते टेंपो ट्रैवलर पर गिर गईं। जानकारी के मुताबिक हादसे में नौ लोगों की जान गई है। वहीं चार लोग घायल हुए हैं।
जानकारी के मुताबिक यह हादसा रविवार को दोपहर 1.30 बजे हुआ। सांगल छितकुल रोड पर बटसेरी के पास इसी वक्त भूस्खलन के चलते चट्टानों के गिरने का सिलसिला शुरू हुआ। तभी वहां गुजर रहा टैंपो ट्रैवलर इसकी चपेट में आ गया। इसमें कुल 11 लोग सवार थे, जिनमें से नौ की जान चली गई।

चिकित्सा नीति पर तेजी से काम कर रही सरकार

हरिओम उपाध्याय            
सिद्वार्थनगर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कहा कि सरकार नागरिको की स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए कटिबद्व है और चिकित्सा व्यवस्था को और मजबूत करने के प्रयास के तहत वन डिस्‍ट्रिक्‍ट वन मेडिकल कॉलेज की नीति पर तेजी से काम कर रही है।
योगी ने यहां स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय का निरीक्षण करने के बाद पत्रकारो से बातचीत में कहा कि सरकार 'वन डिस्‍ट्रिक्‍ट वन मेडिकल कॉलेज' की नीति पर तेजी से कार्य कर रही है। प्रदेश सरकार के पांच वर्ष पूरे होने तक सभी जिलों में मेडिकल कालेज कालेज स्थापित हो जायेगे। सिद्धार्थनगर में अक्टूबर तक मेडिकल कालेज शुरू हो जाएगा। 300 बेड तैयार है और 100 छात्रों की पढ़ाई शुरू होगी।
उन्होने कहा कि प्रदेश के नौ जिलाें में नवनिर्मित मेडिकल कॉलेजों का लोकार्पण यहीं से होगा। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी 30 जुलाई को सिद्धार्थनगर से इन नए मेडिकल कॉलेजों का शुभारंभ एक साथ करेंगे। देवरिया, एटा, फतेहपुर, गाजीपुर, हरदोई, जौनपुर, मिर्जापुर, प्रतापगढ़, सिद्धार्थनगर में नये मेडिकल कालेजों का लोकार्पण श्री मोदी करेंगे। माधव बाबू के नाम से यहां का मेडिकल कालेज होगा। अन्य जिलों के मेडिकल कालेजों का भी नामकरण किया गया है। प्रदेश में तेजी से 59 जिलों में न्यूनतम एक मेडिकल कॉलेज क्रियाशील हो रहे हैं बाकी 16 जिलों में पीपीपी मॉडल पर मेडिकल कॉलेज स्थापित किए जाएंगे।

यूके: सीएम ने संगठनों व आम जनता से सवांद किया

पंकज कपूर               
नैनीताल। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने ऊधमसिंह नगर जनपद के तीन दिवसीय भ्रमण के अंतिम दिन खटीमा में विभिन्न संगठनों एवं आम जनता से सीधा सवांद किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि वे उत्तराखंड को एक मॉडल राज्य बनाना चाहते हैं। जहाँ अनुकूल वातावरण के साथ ही उद्योग, पर्यटन, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार आदि के समान अवसर हों। 
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि हमारी सरकार 'नो पेंडेंसी' पर कार्य करेगी। जिसके लिए अधिकारियों को निर्देश दे दिए गए हैं। यदि किसी भी अधिकारी के स्तर पर कोई लापरवाही प्रकाश में आई तो सम्बन्धित की जिम्मेदारी निर्धारित की जाएगी।
उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा उत्तराखंड में उद्योगों को स्थापित करने के लिए विशेष पैकेज दिया गया था इसीलिये प्रदेश में आज उद्योग स्थापित हुए हैं। उन्होंने कहा कि उद्योगों की समस्याओं का निस्तारण प्राथमिकता पर किया जाएगा।
उन्होंने भव्य स्वागत के लिए जनता का धन्यवाद किया और कहा कि मेरे पास कोई शब्द नहीं हैं। उन्होंने कहा कि 2027 तक उत्तराखंड को शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यटन, कृषि, परिवहन, उद्योग आदि समस्त क्षेत्रों में पूरे देश में प्रथम स्थान पर लाना है, जिसके लिए आप सबका सहयोग अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि हम सबको मिलकर यह सपना साकार करना होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा, "मैं आपका बेटा और भाई हूँ। उत्तराखंड के चहुंमुखी विकास के लिए प्रयास करूँगा। इसके उपरांत उन्होंने भाजपा के मण्डल अध्यक्षों एवं महामंत्रियों के साथ बैठक कर टीम और कार्यकर्ताओं की बैठक लेते हुए आगामी चुनाव में जीत हासिल करने के लिए मूलमंत्र दिये।"
इससे पहले मुख्यमंत्री ने स्थानीय लोगों के साथ प्रधानमंत्री मोदी के मन की बात कार्यक्रम को सुना। उन्होंने कहा कि मन की बात कार्यक्रम समाज के लिए नये कार्य करने की प्रेरणा देता है। इससे लोगों को भी प्रेरणा मिलती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मन की बात के माध्यम से प्रधानमंत्री ने वोकल फॉर लोकल को आगे बढ़ाने, ग्रामीण अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए हैंडलूम एवं अन्य स्थानीय उत्पादों की खरीद पर बल दिया।
देश 15 अगस्त 2022 को अपने आजादी के 75 वर्ष पूर्ण कर रहा है। आजादी के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में 12 मार्च से देश में अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। अमृत महोत्सव सम्पूर्ण देशवासियों का कार्यक्रम है। यह समय देश की आजादी के लिए बलिदान देने वाले वीर सपूतों को श्रद्धांजलि देने का है। प्रधानमंत्री जी ने मन की बात कार्यक्रम में कारगिल विजय दिवस का भी जिक्र किया।
इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री स्वामी यतीश्वरानंद, सीएमडी फाइबर कंपनी के डॉ आरसी रस्तोगी उपस्थित रहे।

चिकित्सक संघों द्वारा अर्जी पर सुनवाई करेगा एचसी

अकांशु उपाध्याय          
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय वर्तमान कोविड-19 महामारी के दौरान एलोपैथी के बारे में कथित रूप से दुष्प्रचार करने को लेकर योगगुरु रामदेव के विरूद्ध सात चिकित्सक संघों द्वारा दायर की गई अर्जी पर सोमवार को सुनवाई करेगा। इस मामले की सुनवाई दिल्ली उच्च न्यायालय में न्यायमूर्ति सी हरिशंकर करेंगे। जिन्होंने चिकित्सक संघों से कथित दुष्प्रचार से जुड़ा वीडियो पेश करने को कहा था। जो चिकित्सक संघ अदालत पहुंचे हैं, उनमें ऋषिकेश, पटना और भुवेनश्वर के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थानों के रेसीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन, चंडीगढ़ के स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान के एसोसिएशन ऑफ रेसीडेंट डॉक्टर्स, यूनियन ऑफ रेसीडेंट डॉक्टर्स ऑफ पंजाब, मेरठ के लाला लाजपत राय स्मारक चिकित्सा महाविद्यालय के रेसीडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन एवं हैदराबाद के तेलंगाना जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन शामिल हैं।
उन्होंने आरोप लगाया है कि रामदेव यह बात कहकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं कि एलोपैथी कोविड-19 के कई मरीजों की मौत के लिए जिम्मेदार है और यह धारणा पैदा कर रहे हैं कि एलोपैथी डॉक्टर के हाथों लोगों की जान जा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि योगगुरु न केवल एलोपैथी उपचार बल्कि कोविड-19 टीकों की सुरक्षा एवं प्रभावकारिता के बारे में आम लोगों के दिमाग में भ्रम पैदा कर रहे हैं। उनने कहा कि ऐसे में आशंका है कि प्रभावशाली व्यक्ति होने के नाते रामदेव के बयान लाखों लोगों को प्रभावित कर सकते हैं और वे एलोपैथी उपचार से मुंह मोड़ सकते हैं जबकि सरकार ने उसे उपचार का मानक रूप तय किया है।चिकित्सक संघों ने कहा कि यह दुष्प्रचार अभियान और कुछ नहीं, बल्कि रामदेव द्वारा बेची जाने वाली कोरोनिल समेत विभिन्न उत्पादों का विज्ञापन एवं विपणन रणनीति है। उन्होंने कहा कि अगस्त में कोविड-19 की तीसरी लहर की संभावना के मद्देनजर इस अभियान पर पूर्ण विराम लगाना आवश्यक है। अदालत ने एलोपैथिक दवाइयों के बारे में रामदेव के बयानों एवं कोरोनिल के संबंध में उनके दावों के सिलसिले में दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन द्वारा दायर की गई अर्जी को लेकर तीन जून को उन्हें सम्मन जारी किया था। हालांकि, उसने रामदेव पर कोई रोक लगाने से इनकार कर दिया था। उसने रामदेव के वकील से बस इतना कहा था कि उनके मुवक्किल कोई भड़काऊ बयान न दें।

भाजपा आलाकमान से निर्देश, निर्णय लेंगे येदियुरप्पा

बैंगलुरू। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने खुद को पद से हटाए जाने की संभावना पर रविवार को कहा कि आज शाम भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आलाकमान से निर्देश मिलने के बाद वह उचित निर्णय लेंगे।
दिल्ली से पार्टी आलाकमान से आज शाम तक निर्देश प्राप्त हो जाने के बारे में पूछे जाने पर येदियुरप्पा ने कहा, “शाम तक अगर निर्देश मिलेंगे तो आपको भी इसके बारे में पता चल जाएगा, एक बार निर्देश मिल जाने पर मैं उचित निर्णय लूंगा।
बेंगलुरु में रविवार को हो रहे संत समागम के बारे में पूछे जाने पर येदियुरप्पा ने कहा, “संतों को किसी तरह की बैठक करने की जरूरत नहीं है, मुझे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा पर भरोसा है।
उल्लेखनीय है कि संत समागम के आयोजन को येदियुरप्पा के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के तौर पर देखा जा रहा है। उनके स्थान पर दलित मुख्यमंत्री लाए जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “मैं इसके बारे में फैसला नहीं ले सकता हूं, यह फैसला आलाकमान करेगा। पहले यह देखना होगा कि वे आज क्या फैसला लेते हैं।
यह पूछने पर कि क्या वह अपने दो वर्षों के काम से संतुष्ट हैं, उन्होंने कहा, “अगर आप संतुष्ट हैं तो मेरे लिए यह काफी है।” यह संकेत देते हुए कि सोमवार रात मुख्यमंत्री के पद पर उनका आखिरी दिन होगा, येदियुरप्पा ने हाल में कहा था कि केंद्रीय नेताओं द्वारा 25 जुलाई को निर्देश मिलने के आधार पर वह 26 जुलाई से अपना काम शुरू करेंगे।

केष्टोपुर मेंआग लगने से 30 दुकानें जलकर खाक

कोलकाता। कोलकाता के उत्तरी हिस्से में केष्टोपुर में शनिवार देर रात आग लगने से करीब 30 दुकानें जलकर खाक हो गईं और एक व्यक्ति झुलस गया। दमकल विभाग के सूत्रों ने बताया कि आग देर रात करीब दो बजे लगी और दमकल की 15 गाड़ियों ने तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग को बुझाया।
सूत्रों ने बताया कि एक स्थानीय निवासी बचने की कोशिश में झुलस गया और उसकी हालत गंभीर है। उन्होंने बताया कि आग केष्टोपुर में सतरूपा पल्ली में सड़क किनारे बनी फर्नीचर की एक दुकान में लगी और उसे झोपड़ियों में बनी नजदीक की दुकानों तक फैलने में वक्त नहीं लगा।घटना के बारे में सुनकर दमकल सेवा मंत्री सुजित बोस घटनास्थल पर पहुंचे और अग्निशमन अभियान की निगरानी की। बोस ने स्थानीय लोगों के उन आरोपों से इनकार किया कि दमकलकर्मी देर से पहुंचे और कहा कि दमकलकर्मियों के फौरन हरकत में आने से एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया।
स्थानीय विधायक अदिति मुन्सी भी घटनास्थल पर पहुंचीं और उन्होंने प्रभावित परिवारों से बात की। दमकल सूत्रों ने बताया कि ऐसा माना जा रहा है कि दुकान में एलपीजी सिलेंडर में विस्फोट होने से आग लगी और ज्वलनशील सामग्री रखी होने के कारण आग दूसरी दुकानों तक फैल गई।

भूस्खलन की घटनाओं के बाद 73 शव बरामद किए

                 
कविता गर्ग                     
मुबंई। महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों में भारी बारिश के कारण हुईं भूस्खलन की घटनाओं के बाद 73 शव बरामद किए गए हैं और 47 लोग लापता हैं। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) ने रविवार को यह जानकारी दी। बल के महानिदेशक एस एन प्रधान ने राज्य के रायगढ़, रत्नागिरी और सातारा जिलों में चलाए जा रहे अपने अभियान पर ताजा आंकड़ों की जानकारी ट्वीट के माध्यम से दी।आंकड़ों के अनुसार, एनडीआरएफ ने इन इलाकों से कुल 73 शव बरामद किए हैं जिनमें से सबसे अधिक 44 शव रायगढ़ की महाड तहसील के सबसे अधिक प्रभावित तलीये गांव से बरामद किए गए हैं। दोपहर 12 बजकर 19 मिनट पर किए गए ट्वीट के अनुसार, इन तीन जिलों में 47 लोग लापता हैं।ट्वीट में कहा गया है कि एनडीआरएफ रायगढ़ में भूस्खलन से प्रभावित तलीये, रत्नागिरी में पोरासे और सातारा जिले में मीरगांव, अंबेघर और ढोकावाले में बचाव एवं राहत कार्यों में लगा हुआ है। राज्य सरकार के शनिवार तक अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, महाराष्ट्र के पुणे और कोंकण क्षेत्र में पिछले तीन दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश और कुछ इलाकों में हुईं भूस्खलन की घटनाओं में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर शनिवार को 112 हो गई।
इनमें से 52 लोगों की मौत अकेले तटीय रायगढ़ जिले में हुई। राज्य में 1,35,313 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है जिनमें से सांगली जिले के 78,111 और कोल्हापुर जिले के 40,882 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।
महाराष्ट्र के सातारा जिले में रविवार को बारिश की तीव्रता कम हुई और अधिकारियों ने भूस्खलन की घटनाओं के बाद लापता हुए लोगों की तलाश में अभियान चलाया है। वहीं, पड़ोसी कोल्हापुर के जलमग्न होने के कारण मुंबई-बेंगलुरु राजमार्ग पर यातायात ठप है।अधिकारियों ने बताया कि पश्चिमी महाराष्ट्र के सातारा में बारिश से संबंधित घटनाओं में मृतकों की संख्या बढ़कर शनिवार को 28 हो गयी और कम से कम 14 लोग लापता हैं। उन्होंने बताया कि शनिवार रात तक अंबेघर गांव में भूस्खलन के बाद वहां से 11 शव बरामद किए गए, छह शव मीरगांव और चार शव ढोकावाले गांव से बरामद किए गए।

इसके अलावा सातारा जिले में बारिश से संबंधित अन्य घटनाओं में सात लोगों की मौत हो गयी। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और जिला प्रशासन के अनुसार, ढोकावाले में तलाश अभियान शनिवार रात को पूरा हो गया। सातारा के पुलिस अधीक्षक अजय कुमार बंसल ने कहा, ”लापता लोगों की तलाश में अभियान सुबह से शुरू हो गया है। हम दोपहर तक अभियान पूरा कर लेंगे।

गत शाम से कम बारिश के कारण राहत है जिससे तलाश अभियान तेज करने में मदद मिलेगी।” स्थानीय प्रशासन के अनुसार, पिछले तीन दिनों में भारी बारिश के कारण जिले में 379 गांव प्रभावित हैं और 5,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है।

पड़ोसी कोल्हापुर में भी बारिश कम हुई है और राजाराम में पंचगंगा नदी में जल स्तर कम होकर 52 फुट तक आ गया है लेकिन यह अब भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। कोल्हापुर के पुलिस अधीक्षक शैलेश बाल्कावाडे ने कहा, ”शिरोली गांव के समीप सड़क के डूबे होने के कारण मुंबई-बेंगलुरु राजमार्ग पर यातायात अब भी ठप है।”
जिले के संरक्षक मंत्री सतेज पाटिल ने शनिवार को कहा कि बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों से 74,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है। एनडीआरएफ के छह दल और सेना की एक टुकड़ी बाढ़ग्रस्त इलाकों में बचाव अभियान चला रही है। पड़ोसी सांगली जिले में इर्विन ब्रिज पर कृष्णा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

'व्हेयर आर वैक्सीन’ हैशटैग का इस्तेमाल: विरोध

अकांशु उपाध्याय                
नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सरकार पर निशाना साधते हुए रविवार को कोविड-19 टीकाकरण की गति पर सवाल किया और कहा कि अगर देश के ‘मन की बात’ समझी गई होती तो टीकाकरण के ऐसे हालात न होते। उनकी टिप्पणी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम से ठीक पहले आई।
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट में कहा, ”अगर समझते देश के मन की बात, ऐसे न होते टीकाकरण के हालात।” उन्होंने टीकाकरण की गति पर सरकार से सवाल पूछने के लिए ‘व्हेयर आर वैक्सीन’ हैशटैग का इस्तेमाल किया।
राहुल गांधी ने कथित धीमी टीकाकरण दर और मीडिया खबरों का उल्लेख करते हुए एक वीडियो भी साझा किया। वीडियो में भारत के टीकाकरण संबंधी आंकड़ों पर प्रकाश डाला गया है जिसका उद्देश्य कोरोना वायरस की तीसरी लहर को रोकना और दिसंबर 2021 तक दोनों खुराक के साथ 60 प्रतिशत आबादी का टीकाकरण करने का लक्ष्य है।आंकड़ों में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि प्रति दिन 93 लाख लोगों का टीकाकरण किए जाने की जरूरत है और पिछले सात दिनों में वास्तविक दर (हर रोज औसत टीकाकरण) प्रति दिन 36 लाख है। इस तरह पिछले सात दिनों में हर दिन 56 लाख टीकों का अंतर है।
इसमें कहा गया है कि 24 जुलाई को (पिछले 24 घंटे में टीकाकरण) वास्तविक टीकाकरण 23 लाख लोगों का हुआ यानी 69 लाख का अंतर रहा। कांग्रेस धीमे टीकाकरण अभियान और टीका नीति को लेकर सरकार की आलोचना करती रही है।

जासूसी मामला, न्यायाधीश नियुक्त करने का अनुरोध

अकांशु उपाध्याय             

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने कहा कि सरकार को या तो पेगासस जासूसी के आरोपों की संयुक्त संसदीय समिति के जरिए जांच करानी चाहिए या उच्चतम न्यायालय से मामले की जांच के लिए किसी मौजूदा न्यायाधीश को नियुक्त करने का अनुरोध करना चाहिए। पेगासस मामले में चिदंबरम ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस मामले को संसद में स्पष्ट करना चाहिए कि लोगों की निगरानी हुई या नहीं। पूर्व गृह मंत्री ने कहा कि उन्हें यकीन नहीं है कि कोई इस हद तक कह सकता है कि 2019 के पूरे चुनावी जनादेश को ”गैरकानूनी जासूसी” से प्रभावित किया गया। लेकिन, उन्होंने कहा कि इससे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को जीत हासिल करने में ”मदद” मिली हो सकती है जिसको लेकर आरोप लगे थे।

22 अगस्त तक चलेगा सावन का महीना: महत्व

आज से सावन का माह आरम्भ हो रहा है। जो 22 अगस्त तक चलेगा। सनातन धर्म में सावन का माह बेहद अहम माना गया है। ये महीना महादेव को काफी प्रिय होता हैं। इस माह में महादेव भक्त भगवान शिव तथा माता पार्वती की उपासना करते हैं। इतना ही नहीं कुछ लोग व्रत रखते हैं। परपरा है कि इस माह में विधि- विधान से आरधना करने से आपकी सभी इच्छाएं पूरी होती है। महादेव को भाग, धतूरा, बेलपत्र, फूल, फल आदि चीजें अर्पित की जाती है। भोलेनाथ को बेलपत्र बेहद प्रिय हैं।

स्कंदपुराण में बेलपत्र का जिक्र किया गया है। इस पुराण के मुताबिक, एक बार माता पार्वती ने अपना पसीना पोंछकर फेंका जिसकी कुछ बूंदे मंदार पार्वती पर गिरी जिससे बेल के पेड़ की उत्पत्ति हुई है। 

सोने की कीमतों में गिरावट का सिलसिला अभी जारी

अकांशु उपाध्याय           

नई दिल्ली। भारत में सोने की कीमतों में गिरावट का सिलसिला लगातार जारी है। हालांकि इस कारोबारी हफ्ते के आखिरी दिन सोने के दाम में थोड़ी-सी उछाल दर्ज की गई। लेकिन कुछ मिलाकर इस हफ्ते सोने की कीमत में 1000 रुपये प्रति 10 ग्राम तक की गिरावट दर्ज की गई है। जानकारों की मानें तो सोने की कीमत में ये गिरावट अस्थायी है और सोने के निवेशकों को इस गिरावट को खरीदारी के अवसर के रूप में देखना चाहिए। सर्राफा बाजार के जानकारों के मुताबिक कीमत जल्द ही सोने की पलट जाएगी और आने वाले दिनों में कीमतें बढ़ेगी। अगर सोने की निवेश की बात करें तो पिछले साल 2020 सोने ने 28 फीसदी का रिटर्न दिया है। 

संगठन के बीच उपजे विवाद को सुलझाने का प्रयास

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी पंजाब में सियासी बवाल को सुलझाने के बाद अपनी राजस्थान इकाई की समस्याओं पर ध्यान दे रही है। पार्टी नेतृत्व ने पार्टी के महासचिव के.सी. वेणुगोपाल (संगठन) और प्रदेश प्रभारी महासचिव अजय माकन को राज्य में भेजा है। जो सभी गुटों से मुलाकात कर वहां पार्टी के संकट का समाधान करने के लिए जयपुर पहुंच चुके हैं। राजस्थान जाने से पहले वेणुगोपाल ने कहा, 'मैं राज्य से सांसद हूं और किसी सरकारी काम से जा रहा हूं। हालांकि, सूत्रों का कहना है कि वेणुगोपाल और माकन ने जयपुर रवाना होने से पहले राहुल गांधी से मुलाकात की और राजस्थान के मामलों पर चर्चा की। सचिन पायलट की बगावत के एक साल बाद भी ज्यादा कुछ नहीं बदला है।

50 फ़ीसदी अक्षमता के साथ खुलेंगे सिनेमाघर: एचसी

अकांशु उपाध्याय          

नई दिल्ली। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकर ने शनिवार को सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स खोलने की इजाजत दे दी है। दिल्ली सरकार ने अनलॉक-8 के लिए शनिवार को आदेश जारी करते हुए कहा कि दिल्ली में सोमवार से सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स खुल सकेंगे। हालांकि, इसके लिए कुछ शर्तें भी रखी गयी है। अभी ये केवल 50 फीसदी क्षमता के साथ ही खुल सकेंगे।

दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के आदेश के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी के स्पा 26 जुलाई से खुलेंगे।हालांकि, इनमें काम करने वाले कर्मचारियों का पूर्ण टीकाकरण या हर पखवाड़े आरटी-पीसीआर टेस्ट कराया जाना अनिवार्य होगा। वहीं, दिल्ली में सोमवार से शादी समारोह और अंतिम संस्कार में अधिकतम 100 लोगों को शामिल होने की अनुमति मिली है। 

नोरा ने इंस्टाग्राम हैंडल पर अपनी तस्वीरें शेयर की

कविता गर्ग         

मुंबई। नोरा फतेही को उनके डांसिंग स्किल्स के अलावा उनके ग्लैमरस फैशन सेंस के लिए भी जाना जाता है। नोरा अपने स्टाइल स्टेटमेंट से फैंस को हमेशा इंप्रेस करती हैं। नोरा का इंस्टाग्राम हैंडल उनकी स्टनिंग तस्वीरों से भरा हुआ है। नोरा अपनी हर तस्वीर और लुक से फैंस को अपना दीवाना बना देती हैं। नोरा ने अब अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर रेड साटिन गाउन में अपनी सिजलिंग तस्वीरें शेयर की हैं। नोरा की यह तस्वीरें उनके नए फोटोशूट की हैं।

नए फोटोज में नोरा फतेही ऑफ शोल्डर स्लिव्ज स्टाइल के वाइन रेड कलर के बोल्ड साटिन गाउन में नजर आ रही हैं। नोरा के वाइन रेड कलर के बॉडी हगिंग गाउन के फ्रंट पर कट भी हैं, जो उनके आउटफिट को हाइलाइट कर रहे हैं। इसके अलावा गाउन की वॉल्यूमिनस बैलून स्लिव्ज उनके आउटफिट में और ज्यादा स्टाइल एड कर रही हैं। नोरा ने अपनी इस लुक को सिंपल गोल्ड नेक पीस और न्यूड स्टेल‍िटोज के साथ कंप्लीट किया है। वाइन रेड गॉर्जियस आउटफिट के साथ नोरा ने न्यूड मेकअप कैरी किया है। जबकि बालों को उन्होंने खुला ही रखा है। नोरा की इस सिजलिंग तस्वीरों को देखकर कोई भी उनकी तारीफ किए बगैर नहीं रुक सकता। उन्होंने अपनी तस्वीरों में जलवा बिखेरा है। नोरा फतेही का यह साटिन गाउन ब्रिटिश वूमेंस वियर लेबल अप्रैल और एलेक्स से है। 

कठिन सफर को जारी रखते हुए मुकाबला जीता

अकांशु उपाध्याय            

नई दिल्ली। भारत की महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा ने टोक्यो ओलंपिक में अपने खेल के शानदार सफर को जारी रखते हुए रविवार को दूसरे दौर का मुकाबला जीत लिया है। टोक्यो में आयोजित किए जा रहे ओलंपिक खेलों के तीसरे दिन रविवार को भारत की महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा ने अपने शानदार खेल के प्रदर्शन को जारी रखते हुए दूसरे दौर का मुकाबला जीत लिया है। रविवार को खेले गए दूसरे दौर के मुकाबले में मनिका बत्रा ने यूक्रेन की खिलाड़ी पेशोसका मार्गरेटा को 4-11, 4-11, 11-7, 12-10, 8-11, 15-5 और 11-7 से हरा दिया है। 

गैरटीकाकरण वाले लोगों की हवाई यात्रा पर प्रतिबंध

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने 18 वर्ष और इससे अधिक आयु वर्ग के गैर टीकाकरण वाले लोगों की घरेलू हवाई यात्रा में प्रतिबंध लगा दिया है। पाकिस्तानी समाचापत्र डॉन ने नेशनल कमांड एंड आपरेशन सेंटर (एनसीओसी) के हवाले से अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी है।

रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान सरकार ने निर्णय लिया है कि एक अगस्त से 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र के किसी भी गैर-टीकाकरण वाले नागरिक को घरेलू हवाई यात्रा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। हालांकि पाकिस्तान से विदेश जाने वालों अथवा अन्य देशों से यहां आने वाले यात्रियों को प्रतिबंध से छूट दी गयी है। 

सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में 1 आतंकी मारा गया

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में कुलगाम जिले में रविवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ के दौरान एक अज्ञात आतंकवादी मारा गया। पुलिस ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना मिलने के बाद राष्ट्रीय राइफल्स, जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने मुनांद कुलगाम में आज सुबह संयुक्त घेराबंदी एवं तलाश अभियान शुरू किया।

अभियान के दौरान जब सुरक्षा बल के जवान आगे बढ़ रहे थे तब वहां छिपे आतंकवादियों ने उनपर गोलीबारी शुरू कर की। इसके बाद सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की और फिर मुठभेड़ शुरू हो गई। मुठभेड़ के दौरान एक अज्ञात आतंकवादी मारा गया। उन्होंने बताया कि कानून-व्यवस्था बनाये रखने के लिये आसपास के इलाकों में अतिरिक्त सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है। अंतिम रिपोर्ट आने तक अभियान जारी था। 

अभिनेता टाइगर ने 'हीरोपंती 2' के लिए मेहनत की

कविता गर्ग              

मुंबई। बॉलीवुड के एक्शन स्टार टाइगर श्रॉफ ने अपनी आने वाली फिल्म 'हीरोपंती 2' के लिए कड़ी मेहनत की। टाइगर श्रॉफ की फिल्‍मों में बेहतरीन स्‍टंट्स और एक्‍शन सीक्वेंस देखने को मिलते हैं। टाइगर अपनी बॉडी को फिट रखने और पर्दे पर जबरदस्‍त दिखने के लिए काफी मेहनत करते हैं।

टाइगर इन दिनों अपनी आने वाली फिल्म 'हीरोपंती 2' की शूटिंग में बिजी हैं। इस फिल्म में वह धमाकेदार एक्शन और डांस करते नजर आएंगे। टाइगर ने फिल्‍म के सेट से सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वह डंबल्‍स उठाते दिखाई दे रहे हैं। इसे शेयर करते हुए उन्‍होंने कैप्‍शन में लिखा, "एक्‍शन के लिए तैयार।" फिल्म में टाइगर के अपोजिट कृति सैनन को कास्‍ट किया गया है। इससे पहले दोनों 'हीरोपंती' में भी साथ नजर आए थे। 

'कैप्‍टन इंडिया' में किरदार निभाएंगे अभिनेता कार्तिक

कविता गर्ग          

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता कार्तिक आर्यन अपनी आने वाली फिल्म 'कैप्‍टन इंडिया' में पायलट के किरदार में नजर आएंगे। कार्तिक आर्यन की नई फिल्‍म 'कैप्‍टन इंडिया' की घोषणा कर दी गई है। इस बात की जानकारी कार्तिक आर्यन ने सोशल मीडिया पर 'कैप्‍टन इंडिया' का पहला पोस्टर शेयर कर दी। इसके कैप्शन में उन्होंने लिखा, "जब एक आदमी कॉल ऑफ ड्यूटी (कर्तव्य की पुकार) से आगे बढ़ जाए। बड़े गर्व और सम्मान के साथ हम आपके लिए लाए हैं 'कैप्‍टन इंडिया'।"

हंसल मेहता के निर्देशन में बन रही फिल्‍म 'कैप्‍टन इंडिया' में कार्तिक एक पायलट के किरदार में नजर आएंगे। रॉनी स्क्रूवाला और हरमन बावेजा इस फिल्म के निर्माता हैं।फिल्‍म में हरमन एक्‍ट‍िंग भी करने वाले हैं।कार्तिक आर्यन ने कहा, "कैप्टन इंडिया समान रूप से प्रेरणादायक और रोमांचकारी है और इसके साथ मुझे हमारे देश के इस तरह के ऐतिहासिक अध्याय का हिस्सा बनने के लिए गर्व और सम्मान महसूस हो रहा है। हंसल सर के काम के प्रति मेरे मन में बहुत सम्मान है और उनके साथ सहयोग करने का यह सही मौका था।"

हंसल मेहता ने कहा, " 'कैप्टन इंडिया' सच्ची घटनाओं से प्रेरित है, एक ऐसे पल को फिर से दर्शाएगी जहां एक आदमी अपने दर्द और पीड़ा को परे रख कर हजारों लोगों की जान बचाता है। मुझे फिल्म में रोनी स्क्रूवाला और हरमन बावेजा के साथ काम करने की खुशी है और मैं कार्तिक के साथ काम करने को लेकर उत्साहित हूं।"हरमन बावेजा ने कहा, " 'कैप्टन इंडिया' एक ऐसी फिल्म है। जो एक प्रेरक मानवीय कहानी और एक रोमांचक सिनेमाई अनुभव का सही संतुलन है। मुझे विश्वास है कि यह कहानी हर भारतीय को पसंद आएगी।" 'कैप्टन इंडिया की शूटिंग अगले साल की शुरुआत में शुरू होगी। 

33 हजार से ज्यादा पदों पर भर्ती करने की तैयारी

हरिओम उपाध्याय              

लखनऊ। विधानसभा चुनाव से पहले यूपी सरकार युवाओं को लुभाने के लिए 33 हजार से ज्यादा पदों पर भर्ती करने की तैयारी कर रही है। ये भर्तियां अधीनस्थ सेवा चयन आयोग करेगा। इसके लिए आयोग ने 29,932 रिक्त पदों पर नई भर्तियों का कैलेंडर जारी किया है। ये भर्तियां मार्च 2022 तक पूरी की जानी हैं। इसके अलावा आयोग ने कई वर्षों से लंबित सात पुरानी भर्तियों के 3768 पदों को पूरा करने का भी कार्यक्रम जारी किया है। अगर आयोग कैलेंडर पर अमल करता है तो चुनाव से पहले 33,700 युवाओं को सरकारी नौकरी मिल जाएगी।

आयोग के चेयरमैन प्रवीर कुमार की मंजूरी के बाद सचिव आशुतोष मोहन अग्निहोत्री ने लंबित भर्तियों के साथ द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली में प्रस्तावित प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) व उसका रिजल्ट घोषित होने के बाद मुख्य परीक्षा के जरिए अलग-अलग की जाने वाली भर्तियों का विस्तृत कैलेंडर जारी कर दिया है। पीईटी में शामिल अभ्यर्थी ही मुख्य परीक्षाओं में शामिल हो सकेंगे। चेयरमैन प्रवीर ने बताया कि पिछले तीन महीने में 2,951 रिक्त पदों से संबंधित तीन भर्तियों का अंतिम चयन परिणाम भी जारी किया जा चुका है। आयोग तेजी से भर्ती कार्यवाही को आगे बढ़ाने का प्रयास कर रहा है।

आयोग ने द्विस्तरीय परीक्षा प्रणाली से होने वाली प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (पीईटी) के साथ पांच मुख्य परीक्षाओं के कार्यक्रम का एलान किया है। पीईटी 20 अगस्त को होगी। पीईटी के बाद पहली भर्ती राजस्व लेखपाल के 7882 रिक्त पदों पर होगी। दूसरी बड़ी भर्ती स्वास्थ्य कार्यकर्ता व अन्य समान योग्यता वाले पदों के लिए होगी। यह मुख्य परीक्षा 9212 पदों के लिए होगी। इसके बाद कृषि प्राविधिक, गन्ना पर्यवेक्षक, कनिष्ठ सहायक, आशुलिपिक, प्रयोगशाला प्राविधिज्ञ व समान योग्यता वाले पदों पर भर्ती की योजना है। 

75वीं वर्षगांठ पर मनाया जा रहा हैं 'अमृत महोत्सव'

अकांशु उपाध्याय             

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात में कहा कि आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर मनाया जा रहा ”अमृत महोत्सव” कार्यक्रम, ना तो किसी सरकार का या फिर किसी राजनीतिक दल का है। बल्कि देश की जनता काशवाणी के मासिक रेडियो कार्यक्रम ”मन की बात” की 79वीं कड़ी में अपने विचार साझा करते हुए प्रधानमंत्री ने देशवासियों से आह्वान किया कि जिस प्रकार देश की आजादी के लिए सभी लोग एकजुट हो गए थे। उसी प्रकार सभी को देश के विकास के लिए एकजुट होना होगा।

मोदी ने कहा कि इस साल 15 अगस्त को देश आजादी के 75वें साल में प्रवेश कर रहा है और जिस आजादी के लिए देश ने सदियों का इंतजार किया। उसके 75 वर्ष होने की आज की पीढ़ी साक्षी बन रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस अवसर पर देश अमृत महोत्सव मना रहा है जिसकी मूल भावना अपने स्वाधीनता सेनानियों के मार्ग पर चलना और उनके सपनों का देश बनाना है। ”अमृत महोत्सव किसी सरकार का कार्यक्रम नहीं, किसी राजनीतिक दल का कार्यक्रम नहीं, यह कोटि-कोटि भारतवासियों का कार्यक्रम है। जैसे, देश की आजादी के मतवाले, स्वतंत्रता के लिए एकजुट हो गए थे वैसे ही हमें देश के विकास के लिए एकजुट होना है।” उन्होंने देशवासियों से देश के लिए काम करने का आह्वान करते हुए कहा कि इसमें छोटे-छोटे प्रयास भी बड़े नतीजे ला देते हैं।

”वोकल फॉर लोकल” यानी स्थानीय उत्पादों को बढ़ाना देने और ”आत्मनिर्भर भारत” अभियान को मजबूत करने के लिए, उन्होंने कहा, ”रोज के काम काज करते हुए भी हम राष्ट्र निर्माण कर सकते हैं।” प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर देशवासियों से भारत छोड़ो आंदोलन की तर्ज पर ”भारत जोड़ो आंदोलन” में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

”राष्ट्र सर्वप्रथम और हमेशा सर्वप्रथम के मंत्र के साथ ही हमें आगे बढ़ना है…तो आइए, हम ‘अमृत महोत्सव’ पर यह अमृत संकल्प लें कि देश ही हमारी सबसे बड़ी आस्था, सबसे बड़ी प्राथमिकता बना रहेगा।” प्रधानमंत्री ने तोक्यो ओलंपिक का उल्लेख करते हुए कहा कि जब हाथों में तिरंगा लेकर भारतीय दल को वहां उन्होंने चलते देखा तो पूरा देश गौरवान्वित हो गया। पिछले दिनों खिलाड़ियों से अपने संवाद का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इन खिलाड़ियों ने कई चुनौतियों और संकट का सामना करने के बाद ओलंपिक दल में अपनी जगह बनाई। उन्होंने देशवासियों से ओलंपिक खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाने की अपील की। 

भारत: 1 दिन में 39,742 नए मामलें सामने आएं

अकांशु उपाध्याय                

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस संक्रमण के एक दिन में 39,742 नए मामले सामने आने के बाद कोविड-19 के कुल मामले बढ़कर 3,13,71,901 हो गए हैं जबकि 535 और मरीजों की मौत से मृतक संख्य स्वास्थ्य मंत्रालय के रविवार सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 4,08,212 हो गई है और कोविड-19 से स्वस्थ होने की राष्ट्रीय दर 97.36 प्रतिशत 

पिछले 24 घंटों में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 765 घटी है। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितंबर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर को 50 लाख, 28 सितंबर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार हो गए। देश में 19 दिसंबर को ये मामले एक करोड़ के पार, चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे। 

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-344 (साल-02)
2. सोमवार, जुलाई 26, 2021
3. शक-1984,सावन, कृष्ण-पक्ष, तिथि- प्रतिपदा, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -22, डी.सै., अधिकतम-37+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...