शुक्रवार, 14 फ़रवरी 2020

बोर्डः 3 मिनट की देरी, छूट सकती है परीक्षा

10 व 12वीं की परीक्षा में परीक्षार्थी को समय से 5 मिनट पहले पंहुचना होगा। 
अरविंद सिसौदिया


नानौता। सीबीएसई बोर्ड की कक्षा 10 व 12वीं की परीक्षाएं आगामी 15 मार्च से शुरू हो रही ळै। परीक्षा को लेकर बोर्ड की और से एक और गाइडलाइन भेजी गई है। जिसमें परीक्षा केन्द्र पर समय से 5 मिनट पूर्व परीक्षार्थी को पंहुचना होगा। यदि कोई छात्र निर्धारित समय के बाद परीक्षा केन्द्र पंहुचता है तो उसे केन्द्र पर प्रवेश नहीं दिया जाएगा। 
सीबीएसई बोर्ड इस बार परीक्षा केन्द्रो पर देरी से पंहुचने वाले बच्चों बख्शने के मूड में नहीं है। बोर्ड द्वारा भेजी गई गाइडलाइन में कहा गया है कि देरी से पंहुचने वाले परीक्षार्थी को बोर्ड परीक्षा केन्द्र में प्रवेश नहीं देगा। सीबीएसई का मानना है कि मात्र दो मिनट की देरी से भी परीक्षा का पूरा शेड्यूल खराब हो जाता है। जिसे परीक्षार्थियो के अभिभावकों भी समझना चाहिए। तो वहीं नकल व अन्य प्रकार की समस्याओं के लिए बोर्ड की और से फ्लाइंग का भी गठन किया गया है। इसके अलावा प्रत्येक केन्द्र पर आब्जर्वर तैनात रहेंगे, जिन स्कूलों में परीक्षा केन्द्र बनाएं गए है उस स्कूल के बच्चें वहां परीक्षा नहीं देंगे। यदि बना दिया जाता है तो परीक्षा केन्द्र पर केन्द्र अधीक्षक दूसरे स्कूल से लगाएं जाने का प्रावधान है। 
परीक्षा केन्द्र लोकेटर एप होगा मददगार- 
ग्रीन फील्ड एकेडेमी की प्रधानाचार्या श्रीमति कुमुद पुंडीर ने बताया कि इस बार बोर्ड द्वारा परीक्षा केन्द्र लोकेटर एप जारी किया है। जिसको अभिभावक मोबाइल में डाउनलोड कर सकते है। इसके चलते उनको परीक्षा केन्द्र ढूंढने में परेशानी नहीं होगी और समय रहते परीक्षा केन्द्रों तक पंहुचा जा सकेगा।


छत्तीसगढ़ में नक्सली हमले का अलर्ट

रायपुर। छत्तीसगढ़ में बजट सत्र और होली के दौरान नक्सली बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में है । केंद्रीय गृहमंत्रालय ने छत्तीसगढ़ पुलिस और CRPF को इसको लेकर अलर्ट किया है । इसके बाद DGP डीएम अवस्थी ने नक्सल प्रभावित जिलों के एसपी और नक्सल आपरेशन से जुड़े अफसरों की बैठक ली और उन्हें आपरेशन के दौरान सावधानी बरतने का निर्देश दिया है ।


सूत्रों से पता चला है छत्तीसगढ़ पुलिस ने अपनी नक्सल आपरेशन की रणनीति भी बदली है । नक्सल प्रभावित जिलों के एसपी की मीटिंग में DGP ने आपरेशन के दौरान जवानों और आम नागरिकों की सुरक्षा का विशेष ख्याल रखने का निर्देश दिया है ।


बार-बार मुख्यालय का ही निरीक्षण ?

आखिर क्यों! बार बार होता है मुख्यालय का ही निरीक्षण। यमुना और गंगा नदी के किनारो के गांव का किया गया निरीक्षण तो हकीकत से उठेगा पर्दा। पाक-साफ दिखाने के उद्देष्य से किया जा रहा है रंग-रोगन। पर्दा में छुप गये है रहस्य


कौशाम्बी। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जिले के विकास कार्यो की हकीकत खंगालने कानून व्यवस्था की सच्चाई जानने और आम जनता के दुख दर्द की हकीकत की निगरानी के लिए प्रमुख सचिव को नोडल अफसर बनाकर कौशाम्बी जिले में भेजा जा रहा है। प्रमुख सचिव का जिले में 20 फरवरी को आगमान है। जिले के विकास कार्यो और कानून व्यवस्था की हकीकत पर पर्दा डालकर अभी से रंग रोगन साफ सफाई का कार्य शुरू हो गया है। कई महीनों से लम्बित शिकायती पत्रो को निस्तारित कर नोडल अफसर के सामने अपने कमी पर पर्दा डालने का प्रयास जिले में तेजी से हो रहा है। जनपद बनने के बाद जब कभी भी मंडल और शासन के दूत जिले में हकीकत खंगालने के लिए भेजे गये है। उन्हे मंझनपुर मुख्यालय के थाना तहसील और ब्लाक का निरीक्षण करा दिया गया है। बीते दो दशक से बार बार मंझनपुर ही निरीक्षण में आगे क्यों होता है यह पूरे जिले के विकास कार्यो और कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान है। ग्रामीण आंचल के थाना गांव के विकास कार्यो और कानून व्यवस्था की हकीकत का निरीक्षण यदि शासन के दूत द्वारा किया जाये तो जिले के विकास और कानून की सही बानगी उन्हे मिल जायेगी। लेकिन सवाल यह उठता है कि नोडल अफसरो के निरीक्षण में मुख्यालय का निरीक्षण कराकर हकीकत पर पर्दा डाल दिया जाता है। जिले में शासन के दूत के आने पर आलाधिकारी उनके आवाभगत में लग जाते है। जिससे आम जनता शासन के दूत तक हकीकत नही पहुचा पाती है। वही अपने को पाक साफ दिखाने के उद्देष्य से पूरी तैयारी की जा रही रंग रोगन कराया जा रहा है। जिससे पर्दा में रहस्य छुप गये है। और यदि यमुना गंगा नदी के किनारे के गांव के कानून व्यवस्था विकास कार्यो की हकीकत का निरीक्षण कर लिया जाये तो वास्तविकता से पर्दा उठ जायेगा। लेकिन इसके लिए नोडल अफसर को अपने विवेक का इस्तेमाल करना होगा और आलाधिकारियो के मकड जाल से दूर हटना होगा। लोगो ने योगी सरकार का ध्यान आकृष्ट कराते हुए सिराथू तहसील के गंगा नदी के किनारे या चायल तहसील के यमुना नदी किनारे के गांव का स्थलीय निरीक्षण नोडल अफसर से कराये जाने की मांग की है। 


सुशील केशरवानी


शहीदों को मार्च निकाल कर दी श्रद्धांजलि

विवेक मिश्रा 


पुलवामा हमले मे शहीदो को दी कैण्डिल मार्च निकाल श्रृद्धांजलि 


ककवन। बीते वर्ष फरवरी माह के 14 तारीख को हुए कश्मीर के पुलवामा हमले मे शहीद जवानों को ककवन कस्बे के सैकड़ो युवाओं ने नम आंखो से श्रृद्धांजलि अर्पित कस्बे ब्लाक गेट पर 40 जवानो की फोटो वाले पोस्टर पर दोपहर बारह बजे कतार मे खड़े होकर दुकानदारों के साथ पुष्प अर्पित किए इस मौके पर उनके साथ थाना प्रभारी राजेन्द्र मिश्रा भी मौजूद रहे। वहीं देर शाम कस्बे के मुख्य चौराहे पर  देशभक्ति के नारो के साथ कैण्डिल जला कर सैनिको की वीरता को नमन किया इस मौके पर सोनू साविता , सूरज सिंह, सनोज साविता, आशीष गुप्ता, राज गुप्ता, सनी पाल, सुमित सिहं, अश्वनी पाण्डे, निहाल सिंह, प्रखर, लाखन ,सहित कई युवा मौजूद रहे वही बिल्हौर के अरौल कस्बे मे भी कैण्डिल मार्च निकाला गया जिसमे  सरदार पटेल युवा मंच फाउंडेशन व वंश कटियार,रूमल कटियार,डॉक्टर सुभाष पटेल,प्रशांत कटियार,विफुल कटियार,विशाल त्रिपाठी,प्रदीप कुशवाह,राम अवतार कटियार,सचिन राज,सूरज कटियार आदि लोग मौजूद रहे।


पुलिस के गले की फांस, वंशिका हत्याकांड

शिवाकांत अवस्थी


महराजगंज- रायबरेली। अपने न्याय प्रिय कार्यशैली की बदौलत एक तरफ जहां जिले के एसपी स्वप्निल ममगाई जनपद वासियों के मन में रच बस गए हैं तो वहीं दूसरी तरफ विगत 1 फरवरी को बछंरावा निवासिनी बीएससी की छात्रा वंशिका हत्याकांड का जल्दबाजी में किए गए खुलासे की थ्योरी पीड़ित और आरोपी परिजनों के साथ साथ जनपद वासियों के भी गले नहीं उतर रहा है जिसकी वजह से शंकाओं के घेरे में भी है। आपको बता दें कि, वंशिका हत्याकांड को लेकर जहां एक तरफ सोशल मीडिया पर रायबरेली जनपद की पुलिसिया कार्यवाही को लेकर असंतुष्टा का बाजार गर्म है तो वहीं दूसरी तरफ मृतिका वंशिका के माता-पिता भी लगातार पुलिसिया कार्यवाही से असंतुष्ट दिख रहे हैं। मामले में सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। मृतिका वंशिका के माता पिता का कहना है कि, निर्दोषों को सजा न दी जाए तो वहीं दोषियों को फांसी दी जाए। वंशिका के पिता ने अपनी पुत्री की निशंक हत्या के मामले में योगी आदित्यनाथ से मिलकर सीबीआई जांच की मांग की है। जिस पर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने मृतिका वंशिका के पिता को न्याय का भरोसा दिलाया है। दूसरी तरफ वंशिका हत्याकांड को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चाओं का बाजार गर्म है जनपदवासी लगातार इस हत्या के संबंध में पुलिसिया कार्यवाही पर सवालिया निशान खड़ा कर रहे है। लोगों का कहना है कि, रायबरेली पुलिस द्वारा जल्दबाजी में किए गए खुलासे की थ्योरी समझ से परे है। रायबरेली पुलिस अपने गुटविल के चक्कर में निर्दोषों को जेल भेज कर असली दोषियों से मोटी कमाई कर ली है।


अमेरिकन प्रवास का पहला पड़ाव पूरा

नई दिल्ली - रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का अमेरिका प्रवास का पहला पड़ाव आज पूरा हो गया है। पहले पड़ाव में अमेरिकी निवेशकों से छत्तीसगढ़ में उद्योग लगाने के लिए अनेक आशा जनक प्रस्ताव मिले। यात्रा के अगले पड़ाव के लिए मुख्यमंत्री और छत्तीसगढ़ की टीम बोस्टन के लिए रवाना हुई। जहां बघेल इंस्टीट्यूट फार कॉम्पीटिटीवनेस में वहां के औद्योगिक प्रतिनिधियों से छत्तीसगढ़ निवेश करने के लिए उन्हें आमंत्रित करेंगे। यात्रा के पहले पड़ाव में मुख्यमंत्री बघेल ने सेनफ्रांसिस्को के सिलिकॉन वेली और रेड वुड शोर्स में ऑटो ग्रिड सिस्टम के औद्योगिक प्रतिनिधियों और निवेशकों से सीधी चर्चा की थी। वहां उन्होंने जानकारी दी कि छत्तीसगढ़ ’ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ के लिए भारत में शीर्ष राज्यों में शामिल हैै। उन्होंने वहां निवेशकों को बताया कि छत्तीसगढ़ निवेश करने के लिए सबसे अच्छी जगह है क्योंकि यह केंद्र में स्थित है और यहाँ बेहतर कनेक्टिविटी है। राज्य की नई औद्योगिक नीति निवेशकों के लिए काफी अनुकूल है। चर्चा के दौरान अनेक भारतीय-अमेरिकी उद्योगों ने छत्तीसगढ़ में निवेश के लिए गहरी दिलचस्पी दिखाई। वहाँ लगभग 250 निवेशक इस चर्चा में शामिल हुए। यात्रा के इस पड़ाव में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अमेरिका के सेन फ्रांसिस्को के इंडिया कम्युनिटी सेंटर, सेनजोस में ज्प्म् सिलिकॉन वेली द्वारा आयोजित सम्मेलन में भारतीय समुदाय के लोगों को सम्बोधित किया और छत्तीसगढ़ में निवेश से संबंधित विभिन्न पहलुओं पर पूछे गए सवालों का जवाब दिया। उन्होंने छत्तीसगढ़ एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका के सदस्यों से भी मुलाकात की। सीएम बघेल ने छत्तीसगढ़ के अधिकारियों के साथ दुनिया की सबसे बड़ी डेटा सेंटर कंपनी-इक्विनिक्स का भ्रमण किया। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री बघेल 15 और 16 फरवरी को हार्वड यूनिवर्सिटी में आयोजित इंडिया कान्फ्रेंस में हिस्सा लेंगे जहां वे 15 फरवरी को प्रजातांत्रिक भारत में जाति और राजनैतिक विषय पर अपने विचार रखेंगे।


9 दिन बाद किया हत्या का खुलासा

अतुल त्यागी जिला प्रभारी


गढमुक्तेश्वर पुलिस ने 1 सप्ताह पहले हाईवे 9 के पास मिले शब का किया खुलासा


हापुड़। मृतक की पत्नी ने ही अपने प्रेमी से कराई थी पति  की हत्या गांव के ही पड़ोसी युवक से काफी समय से चल रहा था प्रेम प्रसंग शादी में दावत के बहाने घर से ले जाकर पत्थर मारकर की युवक की हत्या मृत युवक के शव को गढ क्षेत्र में फेंक कर मौके से हुए। फरार थाना प्रभारी गढ़मुक्तेश्वर राजपाल तोमर ने कड़ी मशक्कत के बाद हत्या का किया। खुलासा थाना गढ पुलिस का 1 सप्ताह में वारदात का तीसरा बड़ा खुलासा


मातृ-पितृ पूजन दिवस कार्यक्रम का आयोजन

अविनाश श्रीवास्तव


ग़ाज़ियाबाद। लोनी हिन्दू जागरण मंच  की ओर से शुक्रवार  को निर्मला कुंज बंथला में मातृ पितृ पूजन दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम हिन्दू जागरण मंच टीम लोनी से युवा वाहिनी के  नगर अध्य्क्ष विकास धामा,नगर अध्य्क्ष नितिन शर्मा,कार्यक्रम के आयोजक रहे। जिसमें मंच के कार्यकर्ताओ व कार्यक्रम में आये माता पिता के बच्चों ने संस्कृति के अनुसार विधि-विधान के साथ भारतीय आध्यात्मिक मूल्यों के आधार पर अपने माता-पिता को तिलक लगा, फूल माला पहना व पटका पहना कर आरती की। इस दौरान माता-पिता ने बच्चों को गले लगा कर आशीर्वाद दिया।मंच के जिला अध्य्क्ष पवन चौधरी ने संबोधित करते हुए कहा कि बच्चों को पश्चिम संस्कृति को त्यागकर भारतीय संस्कृति को अपनाने के लिए माता-पिता व गुरू का सम्मान करना चाहिए। नगर अध्य्क्ष लोनी नितिन शर्मा ने कहा कि हमारे धार्मिक व आध्यात्मिक ग्रंथों में पुरातन काल से ही माता-पिता व सदगुरू की महिमा का गुणगान किया गया है। इसके लिए हमें भारतीय संस्कृति व नैतिक मूल्यों को याद रखते हुए हमेशा माता-पिता का सम्मान करना चाहिए। कार्यक्रम में पुलवामा हमले में हुए शहीद जवानों को भी     याद किया गया व मोन रखा गया।कार्यक्रम में उपस्थित जिला अध्य्क्ष युवा वाहिनी प्रेमपाल वर्मा,  नगर अध्य्क्ष युवा वाहिनी लोनी विकाश धामा, राजेश रॉय, अनिल गुप्ता,वीरेंद्र गुप्ता, जागरण मंच वीरांगना महिला सुनीता स्याम सुंदर,सुनीता श्रीवास्तव , रेखा ,विभूति प्रशाद, डॉक्टर सुरेंद्र शर्मा, आशीष कश्यप,धर्मवीर, राम प्रशाद, महेश, प्रभात , अंकित, सुखराम पाल, अन्य सेकड़ो कार्यकर्ता मौजूद रहे।


भारत ने हैमिल्टन में खेले 2 अभ्यास मैंच

हैमिल्टन। न्यूजीलैंड के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज से पहले यहां सेडन पार्क में तीन दिवसीय अभ्यास मैच खेल रही भारतीय टीम पहले दिन शुक्रवार को ही 263 रनों पर ढेर हो गई। यह स्कोर भी टीम को हनुमा विहारी और चेतेश्वर पुजारा की मदद से मिला। यही दो बल्लेबाज थे जो न्यूजीलैंड एकादश के गेंदबाजों के सामने अर्धशतक जमा सके।
विहारी ने 182 गेंदों पर 10 चौके और तीन छक्कों की मदद से 101 रन बनाए। वहीं पुजारा सात रनों से शतक से चूक गए। उन्होंने 211 गेंदों पर 93 रनों की पारी खेली जिसमें 11 चौके और एक छक्का शामिल रहा। इन दोनों के अलावा अगर कोई बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक पहुंच सका तो वह हैं अजिंक्य रहाणे, जिन्होंने 18 रन बनाए। पृथ्वी शॉ और मयंक अग्रवाल की सलामी जोड़ी वनडे की असफलता को पीछे नहीं छोड़ सकी। शॉ खाता भी नहीं खोल सके जबकि मयंक एक रन बनाकर आउट हो गए। सलामी बल्लेबाज की रेस में शामिल शुभमन गिल भी प्रभावित नहीं कर सके। वह भी अपना खाता नहीं खोल सके। 38 रनों के कुल स्कोर पर भारत ने अपने चार विकेट खो दिए थे। यहां से विहारी और पुजारा ने टीम को संभालते हुए बेहतरीन साझेदारी की। दोनों ने 195 रनों की साझेदारी की। पुजारा को जैक गिब्सन 233 के कुल स्कोर पर आउट किया जबकि विहारी रिटायर्ड हो गए। रिद्धिमान साहा और रविचन्द्रन अश्विन खाता तक नहीं खोल सके। रवींद्र जडेजा ने आठ रन बनाए। उमेश यादव नौ रन ही बना सके।


हूटिंग झेलने को तैयार स्मिथ और वॉर्नर

साउथ अफ्रीका में दर्शकों की हूटिंग झेलने को तैयार स्मिथ और वॉर्नर


मनोज सिंह ठाकुर 


सिडनी। गेंद से छेडख़ानी मामले के बाद पहली बार साउथ अफ्रीका में खेलने जा रहे ऑस्ट्रेलिया के डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ दर्शकों की हूटिंग झेलने को तैयार हैं। लेकिन उन्हें उम्मीद है कि दर्शक उनके लिए थोड़ा सम्मान दिखाएंगे। दो साल पहले दोनों ने आखिरी बार साउथ अफ्रीका में खेला था। उस समय केप टाउन टेस्ट में ही गेंद से छेडख़ानी मामले में दोनों पर प्रतिबंध लगाया गया था। दोनों ने वापसी के बाद शानदार खेल दिखाया है। वॉर्नर को ऑस्ट्रेलिया का वर्ष का सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर भी चुना गया, जबकि स्मिथ दूसरे स्थान पर रहे। विश्व कप और एशेज सीरीज में दोनों को दर्शकों की हूटिंग झेलनी पड़ी थी। अब साउथ अफ्रीका में भी ऐसा ही नजारा मिलने की संभावना है। वॉर्नर ने सिडनी रेडियो टूजीबी से कहा, मुझे उतना फर्क नहीं पड़ता। मैं मैदान पर उतरकर रन बनाने और ऑस्ट्रेलिया को जिताने के लिए खेलूंगा। उन्होंने कहा, इंग्लैंड में हमने उसका सामना किया। उम्मीद है कि हमारे लिए थोड़ा सम्मान दिखाया जाएगा। वॉर्नर और स्मिथ ऑस्ट्रेलिया की टी20 और वनडे दोनों टीमों में शामिल हैं।


पवनी ने पहले ही दिन चटके दो पदक

नई दिल्ली। भारत ने ताशकंद में चल रही युवा और जूनियर भारोत्तोलन चैम्पियनशिप के पहले दिन दो पदक अपने नाम किये। दोनों पदक रजत और कांस्य महिला भारोत्तोलकों ने जीते। केवीएल पवनी कुमारी ने 45 किलो वर्ग में रजत पदक जीता। वहीं हर्षदा गौड़ ने इसी भारवर्ग में कांस्य पदक हासिल किया। इस टूर्नामेंट में 20 एशियाई देशों के 197 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं।


इलाहाबाद बैंक की ब्याज दर होगी कम

नई दिल्ली। एसीबीआई और बैंक ऑफ बड़ौदा के बाद अब इलाहाबाद बैंक ने भी अपनी एमसीएलआर में कटौती कर दी है। बैंक ने एमसीएलआर में पांच आधार अंक की कटौती की घोषणा की है। बैंक ने सभी समयावधि के लिए एमसीएलआर में यह कटौती की है। कटौती के बाद नई दरें 14 फरवरी से प्रभावी हो जाएंगी। इससे अब होम और ऑटो लोन सस्ते हो जाएंगे।
बैंक ने एक रेगुलेटरी फायलिंग में कहा, बैंक की एसेट लायबिलिटी मैनेजमेंट कमेटी ने मौजूदा एमसीएलआर में बदलाव किया है और इसे सभी भिन्न-भिन्न एमसीएलआर समयावधियों के लिए पांच आधार अंक घटाने का निर्णय लिया है। इससे एक साल की बेंचमार्क एमसीएलआर अब 8.25 फीसद हो जाएगी जो वर्तमान में 8.30 फीसद है। रिटेल, ऑटोमोबाइल और पर्सनल जैसे अधिकतर उपभोक्ता ऋण एक साल की एमसीएलआर पर आधारित होते हैं।
इसी तरह कटौती के बाद तीन और छह महीने की एमसीएलआर भी पांच आधार अंक की कटौती के बाद 7.75 से 8.10 फीसद की रेंज में आ गई हैं। वहीं, एक महीने की एमसीएलआर में कोई बदलाव नहीं हुआ है। यह 7.85 फीसद है। गौरतलब है कि भारतीय रिज़र्व बैंक ने छह फरवरी को जारी हुई मौजूदा वित्त वर्ष की अपनी आखिरी मौद्रिक नीति में रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया था। आरबीआई ने रेपो रेट को 5.15 फीसद पर ही बरकरार रखा था।


4 साल बाद दोहरे हत्याकांड का खुलासा

रायगढ़। जिले के थाना चक्रधरनगर अन्तर्गत हमीरपुर मार्ग पर मां साकम्बरी प्लांट के पास महिला एवं बालिका के दोहरे हत्याकांड में जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन एवं चक्रधरनगर, कोतवाली, कोतरारोड़, सायबर सेल के लगातर किये गये अथक प्रयास से घटना के 3.7 वर्ष बाद इस दोहरे हत्याकांड का मुख्य आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है ।


दो महिलाओं की जघन्य हत्या तथा हाई प्रोफाईल व्यक्ति का नाम आने पर प्रकरण गंभीर एवं संवेदनशील था प्रकरण की विवेचना में लगातार चक्रधनगर पुलिस को वरिष्ठ अधिकारियों का मार्गदर्शन प्राप्त हो रहा था। जिससे चक्रधरनगर थाने में तबादले के बाद आये थाना प्रभारियों द्वारा उसी ऊर्जा के साथ इस प्रकरण का खुलासा करने में लगे रहे, अन्तत: पुलिस को सफलता मिली।


गौरतलब है कि वर्ष 2016 मई को कमलेश गुप्ता निवासी ग्राम संबलपुरी चक्रधरनगर द्वारा थाना चक्रधरनगर में रिपोर्ट दर्ज कराया कि हमीरपुर मार्ग पर मां साकम्बरी प्लांट के रास्ते पर एक महिला एवं एक बालिका की हत्या कर शव की पहचान छिपाने के उद्देश्य से फेंक दिया गया है । रिपोर्ट पर थाना चक्रधरनगर में धारा 302,201 अज्ञात आरोपी के विरूद्ध दर्ज कर विवेचना में लिया गया।


 


 


चक्रधरनगर पुलिस की पहली चुनौती शवों की शिनाख्तगी को लेकर थी । घटनास्थल के आसपास के ग्रामों में पूछताछ सीसीटीवी फुटेज, कई मोबाइल टावर के डाटा का एनालिसिस किया गया साथ ही पूरे जिले के गुम इंशानों को छानबीन करने के बाद भी दोनों शव की शिनाख्त न होने से तत्कालीन पुलिस अधीक्षक के दिशा निर्देशन पर पुलिस की टीमें ओडिसा, बिहार, महाराष्ट्र, झारखंड, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल के कई जिलों में शिनाख्तगी का प्रयास किया गया एवं जिला पुलिस द्वारा अन्तर्राज्यीय ईश्तहार जारी किया गया और इसी ईश्तहार से मृतिका की पहचान उसके पूर्व पति सुनील श्रीवास्तव द्वारा 1- कल्पना दास पिता रूदाक्ष दास उम्र 32 वर्ष 2- उसकी लड़की बबली श्रीवास्तव पिता सुनील श्रीवास्तव उम्र 14 वर्ष के रूप में की गई ।


इसके पश्चात चक्रधरनगर पुलिस की जांच में गति आयी और मृतिका कल्पना दास के मोबाईल नम्बर का डिटेल निकालकर विशलेषण कर अन्य साक्ष्यों को एकत्र किया जाने लगा। मृतिका के कॉल डिटेल पर ओडिसा के हाई प्रोफाईल व्यक्ति के नाम की जानकारी मिली जिसके विरूद्ध चक्रधरनगर पुलिस पुख्ता साक्ष्य जुटाने में जुट गई ।



WP-GROUP


संदेही के विरुद्ध पर्याप्त साक्ष्य के मिलने पर थाना प्रभारी चक्रधरनगर निरीक्षक विवेक पाटले द्वारा पुलिस अधीक्षक श्री संतोष कुमार सिंह को अवगत कराया गया जिनके दिशा निर्देशन पर संदेही अनूप कुमार साय, पूर्व विधायक ओडिसा को चक्रधरनगर पुलिस द्वारा नोटिस देकर थाना तलब किया गया था ।


संदेही अनूप कुमार साय के थाना चक्रधरनगर आने पर एस.पी. द्वारा एडिशनल एसपी अभिषेक वर्मा एवं सीएसपी अविनाश सिंह ठाकुर को अपने सुपरविजन में संदेही से पूछताछ एवं अग्रिम कार्यवाही कराने निर्देशित किये । वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में संदेही अनूप कुमार साय से पूछताछ प्रारंभ किया गया, काफी पूछताछ बाद भी संदेही इस अपराध से अपने आप को दर किनार कर रहा था ।


युवती के साथ टीआई, पत्नी का हंगामा

टीआई कमरे में दूसरी युवती के साथ मिले,पत्नी दूसरी युवती से पति की शादी की सूचना पर पहुंची थी,मौके पर



धार(मप्र)। पत्नी ने अपने टीआई पति को बंद कमरे से युवती के साथ देखा तो हंगामा किया। टीआई की पत्नी इंदौर रहती है। मंगलवार को शाम पत्नी अपने बेटे का साथ टीआई गंधवानी वाले आवास पर पहुंच गई। जहां पति ने दरवाजा नहीं खोला। इसके बाद टीआई और पत्नी के बीच झूमझटकी हुई। टीआई पत्नी को धकेल रहे थे। उसे घर के अंदर लेकर जाने का प्रयास कर रहे थे। लेकिन पत्नी उसे बाहर लेकर उसकी पोल खोलने जा रही थी। टीआई की पत्नी के हंगामा के बाद बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जमा हो गई है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार गंधवानी टीआई एन सूर्यवंशी की पत्नी व बेटा इंदौर रहते हैं। पत्नी मंगलवार दोपहर में गंधवानी में अपने पति के घर पहुंच गई। पत्नी का आरोप था कि पति सूर्यवंशी ने किसी युवती से शादी कर ली है और उसके घर में रहती है। इसकी सूचना पर वे आई थी। टीआई की पत्नी का आरोप है कि पति कमरे में युवती के साथ थे। पति और पत्नी के बीच झूमाझटकी होती रही।
टीआई पत्नी को बार बार घर के अंदर लेकर जाने की कोशिश करते रहे, लेकिन दोनों को बीच कुछ देर तक झूमाझटकी होती रही। इस दौरान बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जमा हो गई। सूचना पर एसडीओपी मौके पर पहुंचे। पुलिस की मौजूदगी में एक युवती को टीआई के घर से पुलिस वाहन में बैठाकर ले गई है।
सूचना पर एसडीओपी करणसिंह रावत ने बताया कि टीआई की पत्नी का आरोप था कि पति टीआई ने दूसरी शादी कर ली है। इसको लेकर वह इंदौर से गंधवानी पहुंची थी। टीआई सूर्यवंशी को लाइन अटैच किया गया है। अगर पत्नी को घसीटा है और अगर पत्नी शिकायत करेगी तो इस हिसाब से भी कार्रवाई की जाएगी।
टीआई के एक युवती के साथ फोटो हुए वायरल, माला पहने दिखी युवती
पुलिस के आने पर मामला शांत हुआ। वहीं घटना के बाद सोशल मीडिया पर टीआई के एक युवती के साथ वीडियो भी वायरल हो गया। इसमें टीआई युवती के साथ गले में माला डाले हुए भी नजर आए हैं। साथ ही कुछ अन्य फोटो भी वायरल हुए हैं। इसमें वे युवती के साथ नजर आ रहे हैं।



टीआई लाइन अटैच, युवती को धार भेजा पूछताछ की जा रही है



टीआई की पत्नी दूसरी युवती से शादी की सूचना पर गंधवानी पहुंची थी। मामले में टीआई को लाइन अटैच किया है। आगे जांच की जा रही है। अगर उनकी पत्नी अन्य शिकायत करेगी तो उसी हिसाब से कार्रवाई होगी। वहीं युवती को धार भेजा है। पूछताछ की जा रही है।
करणसिंह रावत, एसडीओपी मनावर


प्रदूषित पेयजल से कब मिलेगा छुटकारा

अविनाश श्रीवास्तव


गाजिियााबााद। लोनी नगर पालिका योगी सरकार, बीजेपी की सरकार पीने का पानी नहीं उपलब्ध करा पा रही है। पूरी लोनी समर्सिबल व हैंडपंप का दूषित पानी पीने को मजबूर है।
 सीवर के गंदे पानी की निकासी कहीं भी नहीं है। गली सड़क, खाली प्लाट सभी दूषित पानी से लबालब भरे हुए हैं। इससे भूमिगत जल भी प्रदूषित हो रहा है। विडम्बना यह है कि क्षेत्रवासी जमीन से निकालकर पानी पीते हैं। जब जबकि क्षेत्र का पूजन पूरी तरह प्रदूषित हो चुका है। डीएलएफ गाजियाबाद विकास प्राधिकरण द्वारा अधिकृत स्वीकृत कॉलोनी है। जहां पर शीवर नाली सड़क सभी चीजें उपलब्ध थी।लेकिन नगर पालिका लोनी में कभी इनकी देखरेख नहीं की गई। जिसकी वजह से आज सीवर का पानी पार्कों में एकत्रिित हो रहा है, घरों में जा रहा है, खाली प्लाटों में जा रहा है। जिसकी वजह से भूगर्भ का पानी भी दूषित हो रहा है।उसी दूषित पानी को पीने को है मजबूर। गाजियाबाद विकास प्राधिकरण एवं जिला प्रशासन को समस्या के संदर्भ में  संज्ञान लेने की सख्त आवश्यकता है। ताकि क्षेत्र की जनता को प्रदूषित जल से होने वाली बीमारियों से बचाया जा सके। नि: स्वार्थ समाज सेवक अंकुर विहार लोनी से आर•पी• पान्डेय(नाम ही काफी है)


शिवरात्रि पर तीन महासंयोग होगा लाभ

इस बार शिवरात्रि पर तीन महासंयोग, आराधना का मिलेगा लाभ


 शक्ति का अद्भुत मिलन शिव आराधना का महाशिवरात्रि पर्व है । इस बार यह संयोग 21 फरवरी को महाशिवरात्रि पर्व शश, सुस्थिर व सर्वार्थ सिद्धि जैसे शुभ योगों के बीच मनेगा। इन योगों के चलते इस दिन की शुभता में बढ़ोतरी होगी, वही श्रद्धालुओं द्वारा की गई साधना उपासना का उन्हें कई गुना पुण्य फल प्राप्त होगा। शिवालयों में इस दिन भगवान भोलेनाथ की विशेष पूजा अर्चना, जलाभिषेक दुग्धाभिषेक व रात्रि जागरण के आयोजन होंगे।  महाशिवरात्रि पर इस बार 29 साल बाद शश योग रहेगा। इसकी वजह यह है कि शनि 29 साल बाद अपनी राशि मकर में है। इसी तरह गुरु भी अपनी राशि धनु में स्थित है। ऐसी स्थिति और चंद्र शनि के 1,4,7 या दसवें स्थान पर होने पर यह योग निर्मित होता है। इस योग में की गई पूजा जातक के लिए विशेष फलदायी होती है। इस दिन सर्वार्थसिद्धि व सुस्थिर योग भी रहेंगे। श्रवण नक्षत्र और चतुर्दशी के एक साथ होने पर यह योग बनते हैं। यह दोनों योग भी शुभ माने गए हैं। इस दिन की गई पूजा का विशेष फल मिलता है।


शुभता में बढ़ोतरी करेगा तीन योगों का संयोग


 इस बार महाशिवरात्रि पर चंद्र शनि की मकर में युति के साथ पंच महापुरुष योग बन रहा है, इसे शश योग भी कहते हैं। श्रवण नक्षत्र में आने वाली शिवरात्रि और मकर राशि के चंद्रमा का योग बनती है। यह संयोग शनि के मकर राशि में होने से और चंद्र का गोचर क्रम में शनि के अधिपत्य वाली मकर राशि में होने से शश योग का संयोग बन रहा है। इस दिन रात्रि के चारों प्रहर में शिव पूजा करना चाहिए।


शिवरात्रि है सिद्धि रात्रि......


21 फरवरी को विभिन्न अनुष्ठानों के बीच मनेगा पर्व


शश योग कई जातकों की कुंडली में भी होता है। इस योग वाले जातकों को शिवरात्रि पर शिव की विशेष उपासना का श्रेष्ठ फल प्राप्त होता है और जीवन में आने वाली बाधाएं दूर होती है। यह योग हंस योग, मालव्य व रूचक योग की बातें उतना ही विशेष होता है। साधना की सिद्धि के लिए दीपावली के बाद महाशिवरात्रि को सिद्धी रात्रि माना गया है....


'प्रिंस गुप्ता'


चार फर्जी शिक्षकों को किया बर्खास्त

कुशीनगर। दूसरों के नाम पर फर्जी कागजात के आधार पर प्राथमिक शिक्षक के रूप में नौकरी कर रहे चार लोगों को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बर्खास्त कर दिया है। इन चारों के खिलाफ सुसंगत धाराओं में पडरौना कोतवाली में मुकदमा भी दर्ज करा दिया गया है। बर्खास्त किए गए प्राथमिक शिक्षकों में एक महिला भी शामिल है।  
इन चारों को बी एड की डिग्री के आधार पर अबसे दस वर्ष पहले भर्ती किया गया था और विशिष्ट बीटीसी के प्रशिक्षण के पश्चात विभिन्न विद्यालयों में तैनात कर दिया गया था।इन चारों को एक -एक पदोन्नति भी मिल चुकी थी ।
बर्खास्तगी के प्राथमिक शिक्षकों में से चंद्रभूषण त्रिपाठी मोतीचक विकासखंड के सोनबरसा प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक के रूप में तैनात थे,तो वीरेंद्र कुमार  नेबुआ नौरंगिया विकासखंड के विजयपुर पूर्व माध्यमिक विद्यालय में सहायक अध्यापक के रूप में कार्य थे। संजय कुमार मोतीचक विकासखंड के मधलिया प्राथमिक विद्यालय में प्रधानाध्यापक के रूप में कार्य कर रहे थे। जबकि श्रीमती पूनम पांडे कप्तानगंज विकासखंड के लखिमा प्राथमिक विद्यालय में बतौर प्रधानाध्यापिका तैनात थीं। इन चारों ने दूसरे लोगों के नाम पर जालसाज़ी के जरिये ये नौकरियां हथियाई थीं, जिसका पता सुराग लगाने के बाद संबंधित नाम वाले वास्तविक लोगों ने शिकायत की थी। इन्ही शिकायतों के आधार पर हुई जांच-पड़ताल के बाद चारों को निलंबित कर कारण बताओ नोटिस जारी की गई थी ।निर्धारित अवधि बीत जाने के बाद भी किसी ने न तो स्वयं ज़िला बेसिक शिक्षा अधिकारी के समक्ष उपस्थित होकर अपना पक्ष रखा और न ही किसी ने पत्राचार के माध्यम से ही जवाब देने की जहमत उठाई ।अंततः आज इन चारों को बर्खास्त कर दिय गया है।


डीएम ने की खाध कारोबारियों से बैठक

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन व खाद्य करोबरियों की हुई बैठक


सौरभ दूबे 


अयोध्या। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग और खाद्य कारोबारियों की जिला स्तरीय बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाध्यक्ष अनुज कुमार झां की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बता दें कि इस बैठक का  मुख्य एजेंडा खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 पत्र संबंधित नियम 2011 एवं विभिन्न नियमावलीओं में निहित प्रावधानों के अंतर्गत संबंधित विभागों के सहयोग एवं समन्वय से प्रभावी परिवर्तन व कार्यवाही कराया जाना,उत्तर प्रदेश सरकार एवं भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण नई दिल्ली द्वारा प्रचलित विभिन्न योजनाओं व्यवस्थाओं तथा आईईसी ईट राइट एफएसडब्ल्यू फास्टेक रुको एवं एसएनएफ आदि को संबंधित विभागों के सहयोग से सफल बनाया जाना, जनपद के समस्त खाद्य कारोबारी को खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के अंतर्गत शत-प्रतिशत लाइसेंस पंजीकरण से आच्छादित कराया जाना तथा जनपद की समस्त मंडियों के फल विक्रेताओं एवं सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत समस्त कोटेदार इत्यादि, प्रवर्तन कार्रवाई के अंतर्गत खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के प्रावधानित विभिन्न धाराओं के उल्लंघन में जनपद में लंबित न्यायिक न्यायालय एवं न्याय निर्णाधिक अधिकारी के न्यायालय में लंबित वादों का शीघ्र निस्तारण कराया जाना, विभिन्न स्तर से प्राप्त जन शिकायतों का त्वरित एवं गुणवत्ता परक निस्तारण कराया जाना , शासन अथवा आयुक्त कार्यालय स्तर से चलाए जाने वाले विशेषता अभियानों के अंतर्गत किए गए कार्यों एवं उनको प्रभावी बनाने हेतु सुझाव आदि थे I इस बैठक में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के समस्त अधिकारी और खाद्य कारोबारियों में धीरज राज्यपाल पूर्व चेयरमैन विजय गुप्ता बंटी सिंह पंकज खेतपाल नितिन बजाज राजकुमार गुप्ता लक्ष्मण केवलानी हरीश लालवानी पंकज आहूजा प्रहलाद आदि कई लोग मौजूद रहेI


जानलेवा हमला, महिला का पैर कटा

भाजपा ने  विधानसभा बीकापुर के सभी मण्डलों के पदाधिकारियों को किया घोषणा


अयोध्या। बीकापुर विधानसभा के सभी मण्डलों के पदाधिकारियों की घोषणा क्षेत्रीय मंत्री व जिला प्रवासी अजीत सिंह की संस्तुति पर जिलाध्यक्ष संजीव सिंह ने की। इसमें रानी बाजार मण्डल के अध्यक्ष पर कमलेशकुमार सिंह, उपाध्यक्ष पर अमरनाथ वर्मा, पवन कुमारी, सरदार सिंह, राजेश कुमार, राहुल पाण्डेय, राजाराम वर्मा, महामंत्री विनय कुमार पाण्डेय, महामंत्री मंशाराम वर्मा, मण्डल मंत्री रामसागर चौहान, बृजकिशोर पाण्डेय, श्रीमती सोनी, राममूरत शर्मा, विपिन कुमार सिंह, सच्चिदानंद, कोषाध्यक्ष पर हरीशंकर गुप्ता के नाम की घोषणा की गयी है।
       इसके साथ में भरतकुंड मसौधा मण्डल में अध्यक्ष अमरनाथ वर्मा, उपाध्यक्ष पर रामकेदार पाण्डेय, सत्यप्रकाश, सुनील सिंह, राकेश कुमार मिश्रा, किरन निषाद, बबिता सिंह, महामंत्री पद पर प्रेम मौर्या, धर्मराज वर्मा, मण्डल मंत्री पद पर जोखू निषाद, कुसुम मौर्या, रामतेज, अंजली साहू, राधा देवी, रमाकान्त दूबे, कोषाध्यक्ष बृजमोहन साहू सोहावल पश्चिम से मण्डल अध्यक्ष विनोद कुमार गौड़, उपाध्यक्ष पर रक्षाराम तिवारी, राजीव कुमार सिंह, रामधीरज राय, एतवारा, चन्द्रावती मौर्या, कमल कुमारी, महामंत्री पद पर सुरेन्द्र सिंह, राम सहाय यादव, मण्डल मंत्री जनार्दन सिंह, हरी कुमार पाण्डेय, रामकरन, रणबहादुर सिंह, विजय वती, सीमा सिंह, कोषाध्यक्ष पर परशुराम वर्मा, बीकापुर मण्डल से अध्यक्ष राकेश पाण्डेय राना, उपाध्यक्ष अर्जुन पाण्डेय, अनिल उपाध्याय, राजकुमार वर्मा, राम प्रताप सिंह, दुर्गावती पाण्डेय, अरुण सिंह, महामंत्री पर पंकज कुमार श्रीवास्तव, बलवंत सिंह, मंत्री पर संतोष पाण्डेय, मनोज यादव, अरुण निषाद, सवित्री देवी, रोहित मौर्य, सबीना रानी, कोषाध्यक्ष पर सौरभ जायसवाल, सोहावल पूर्वी से मण्डल अध्यक्ष अरुण तिवारी, उपाध्यक्ष पर सुरेन्द्र कोरी, अजीत सिंह, शिवसागर पाण्डेय, सीमा सिंह, राजवंश पासी, करुणापति मिश्रा मण्डल महामंत्री पदपर जगदम्बा प्रसाद मिश्रा, धमेन्द्र सिंह, मण्डल मंत्री पद पर हृदयराम यादव, तिलकराज सिंह, राम सिंह रावत, गोविन्द मिश्रा, सूर्यनारायन गुप्ता, देवेश सिंह, कोषाध्यक्ष पर पंकज मिश्रा के नामों की घोषणा की गयी है। 61 सदस्यीय कार्यकारिणी में शेष कार्यसमिति के सदस्य रखे गये है।


महिला का एक पैर काट के क‍िया अलग, पति-बेटी पर भी जानलेवा हमला


गोंडा में दबंगों का कहर


गोंडा।भंभुआ में पुरानी रंजिश में दबंगों ने विपक्षी के घर पर धावा बोल दिया। धारदार हथियार से गृहस्वामी की पत्नी का पैर काट दिया। बचाने दौड़े पति व बेटी पर भी जानलेवा हमला किया। घटना कोतवाली कर्नलगंज क्षेत्र की है। पुल‍िस ने मुकदमा दर्ज कर ल‍िया है। आरोप‍ित की ग‍िरफ्तारी के प्रयास हो रहे हैं। ह्रदयव‍िदारक इस घटना की फोटो इतनी व‍िभत्‍स है क‍ि हम उसे पब्‍ल‍िश नहीं कर सकते हैं। 
      उक्त क्षेत्र अंतर्गत मुंडेरवा के मजरा शुकुल पुरवा निवासी प्रेमलाल के घर पर गत बुधवार की रात घटना हुई। धारदार हथियारों से लैस पांच-छह लोगों ने गृहस्वामी की पत्नी मीना देवी पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। बदमाशों ने मह‍िला का एक पैर घुटने के नीचे से कटकर अलग कर द‍िया। शरीर के अन्य भागों पर भी गंभीर चोटें आईं हैं। पत्नी को बचाने दौड़े प्रेमलाल व पुत्री रजनी पर भी हमलावर टूट पड़े। इससे यह दोनों भी घायल हो गए। गुहार सुनकर पहुंचे गांव के लोगों ने पुलिस को सूचित किया।
     मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को सीएचसी कर्नलगंज पहुंचाया। प्राथमिक उपचार के बाद मीना देवी को ट्राॅमा सेंटर लखनऊ व प्रेमलाल को जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया। रजनी का इलाज चल रहा है। पुलिस ने प्रेमलाल की तहरीर पर माता बदल मिश्र, इनकी पत्नी रानी, पुत्र विवेक एवं पुत्री मीरा के विरुद्ध जानलेवा हमला सहित अन्य धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। कोतवाल कृष्ण कुमार राणा ने बताया कि मुकदमा दर्ज करके आरोपितों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है। घटना पुरानी रंजिश के कारण हुई।


अयोध्या। बीकापुर विकासखंड तारुन एवं बीकापुर के एन आर एल एम का लक्ष्य पूरा ना होने पर संबंधित सचिव को प्रतिकूल प्रविष्टि दी जाएगी l
उक्त बात की चेतावनी आज दोनों ब्लॉकों के कर्मचारियों की विकासखंड बीकापुर के सभाकक्ष में हुई। संयुक्त बैठक में खंड विकास अधिकारी अमित त्रिपाठी ने देते हुए बताया कि दोनों विकास खंडों में NRLM की प्रगति काफी खराब है वित्तीय वर्ष समाप्ति में 50 दिन भी अवशेष नहीं है अभी तक समूह गठन, आर एफ एवं सीसीएल का लक्ष्य के सापेक्ष पूर्ति नहीं हो पाई है यदि 20 फरवरी तक दिए गए लक्ष्य की  पूर्ति नहीं होती है तो माह फरवरी का वेतन रोक दिया जाएगा तथा फरवरी के अंतिम तक भी ना पूरा होने पर संबंधित सचिव को प्रतिकूल प्रविष्टि दी जाएगी।


संयुक्त बैठक में समीक्षा के दौरान मनरेगा के तहत जिन ग्राम पंचायतों में कार्य नहीं चल रहा था वहां के सचिव को कड़ी फटकार लगाते हुए खंड विकास अधिकारी श्री त्रिपाठी ने सभी ग्राम पंचायतों में मनरेगा के कार्य चलते रहने एवं कम से कम 50 श्रमिक लगे रहने के निर्देश दिए। दोनों ब्लाकों की संयुक्त बैठक में राज्य वित्त एवं 14वां वित्त के तहत  कराए गए कार्यों की पत्रावली विकासखंड पर अविलंब जमा करने के निर्देश के साथ श्रम विभाग से कराए जाने वाले सामूहिक विवाह, प्रधानमंत्री आवास, मुख्यमंत्री आवास, वृद्धा विधवा एवं दिव्यांग पेंशन, बाबासाहेब आंबेडकर प्रोत्साहन योजना, गोवंश आश्रय , की समीक्षा किया।
बैठक में मुख्य रूप से सहायक विकास अधिकारी आईएसबी बद्री प्रसाद वर्मा, हरिशंकर मिश्रा, सहायक विकास अधिकारी पंचायत अजय तिवारी, रविंद्र नाथ पांडे, जे ई आर ई डी सचिन पटेल ने भी अपने अपने विभाग की समीक्षा की। बैठक में मुख्य रूप से ग्राम विकास अधिकारी अनिल कुमार दुबे, प्रतिभा, संतोष कुमार मौर्य, अवनीश शुक्ला, शुभम शुक्ला, अंजू वर्मा ,अभिमन्यु , अनिल कुमार सिंह, जयप्रकाश वर्मा, सहित दोनों ब्लॉकों के सभी कर्मचारी उपस्थित रहे।
बीकापुर कस्बा चौरे बाजार  में बैंक ग्राहक सेवा केंद्र का उद्घाटन गुरुवार को बैंक ऑफ बड़ौदा चौरे बाजार के शाखा प्रबंधक संदीप सिंह द्वारा किया गया। लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ग्राहक सेवा केंद्र में बैंक के खाता धारकों के लिए लोन बीमा इंश्योरेंस, नगद जमा और नगद निकासी, आधार लिंक की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। नये खाते खुलवाने की सुविधा भी उपलब्ध है। आसानी के साथ लेन देन की सुविधा भी उपलब्ध है। इस अवसर पर बैंक कर्मी सहित क्षेत्रीय लोग उपस्थित रहे।


'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' पर कार्यक्रम

गौतम बुध नगर। जिलाधिकारी गौतम बुद्ध नगर बीएन सिंह के मार्ग निर्देशन में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का प्रचार-प्रसार जनपद के विभिन्न क्षेत्रो में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर किया जा रहा है ।
महिला कल्याण विभाग के अंतर्गत जनपद स्तर पर गठित महिला शक्ति केंद्र की कार्मिकों द्वारा जनपद के न्यूनतम लिंगानुपात वाले ग्राम पंचायतों में "किशोरी क्लब"  का गठन कर बालिका शिक्षा व स्वास्थ्य को प्रोत्साहित करने का कार्य किया जा रहा है। क्लब की बालिकाओं  द्वारा बालिका  शिक्षा के प्रसार के लिए और अन्य योजनाओं की जानकारी प्रदान करने के लिए लोगों को जागरुक किया जा रहा है। इसी क्रम बालिकाओं को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से  महिला कल्याण विभाग द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना अंतर्गत खेल और संगीत सामग्री का वितरण भी किया जा रहा है। ग्राम चीती, मंगरोली, छपरौली  में पूर्व गठित समिति (क्लब) को विभिन्न सामग्री वितरित की गई तथा ग्राम इनायतपुर में "किशोरी क्लब" का गठन किया गया। इस अवसर पर सम्बन्धित आंगनवाड़ी ,स्कूल अध्यापक और ग्रामसभा के सम्मानित नागरिक उपस्थित रहे। जिला सूचना अधिकारी गौतम बुद्ध नगर।


विश्व में देखे जाने वाली पाकिस्तानी फिल्म

नई दिल्ली(एजेंसी)। पाकिस्तान (Pakistan)की फिल्म ‘द डंकी किंग’ (The Donkey King)दुनिया भर में सबसे ज्यादा देखी जाने वाली पाकिस्तानी फिल्म बन गई है। गौर करने की बात है कि इस फिल्म ने अब तक कुल 50 करोड़ की कमाई की है। फिल्म का फर्स्ट डे कलेक्शन (First Day Collection) भी 36 लाख रहा है। इस फिल्म को लगभग 10 भाषाओं में डब किया गया है। फिल्म को तुर्की, रूस, स्पेन जैसे देशों में भी खूब देखा जा रहा है।


बता दें, इस फिल्म का पाकिस्तान के पीएम इमरान खान (PM Imran Khan) से भी पुराना कनेक्शन है। जिस समय ये फिल्म बनाई जा रही थी उस दौरान पीएम इमरान खान ने इसका खूब विरोध किया था। उनकी पार्टी की तरफ से कोर्ट में भी दलील दी गई थी। कोर्ट ने उनकी दलीलों को अस्वीकार कर दिया।


बात करें फिल्म की कहानी की तो ये एक गधे मंगू की कहानी है जो अपनी किस्मत से राजा तो बन जाता है। लेकिन, बाद में उसे एहसास होता है कि वह अच्छा राजा नहीं है। फिर वह अच्छा राजा बनने की भरसक कोशिश करता है। इस फिल्म की मेकिंग ताबीज स्टूडियो और जियो फिल्म्स के ज्वॉइंट वेंचर से हुई है। कई लोगों ने इस फिल्म का विरोध इसलिए भी किया था क्योंकि वे इस फिल्म की कहानी को इमरान खान के वजीर-ए-आजम बनने से जोड़ रहे थे।


अनौखाः एयर इंडिया का सीएमडी नियुक्त

नई दिल्ली। एयर इंडिया (Air India) की 100 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की प्रक्रिया के बीच राजीव बंसल एयर इंडिया के नए CMD बन गए हैं। अश्वनी लोहानी के एक साल के कार्यकाल के खत्म होने के बाद भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS) के वरिष्ठ अधिकारी राजीव बंसल (Rajiv Bansal) को ये जिम्मेवारी मिली है। बंसल को उस समय एयर इंडिया की कमान दी गई है जब एयर इंडिया को बेचने की तैयारी चल रही है।


बता दें, राजीव बंसल नगालैंड कैडर के 1988 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। वे पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव थे। सरकार द्वारा जारी बिड डॉक्यूमेंट के मुताबिक एयर इंडिया एक्सप्रेस की 100 फीसदी हिस्सेदारी बेची जाएगी। इसके अलावा एअर इंडिया और SATS की जॉइंट वेंचर कंपनी AISATS में एअर इंडिया की 50 फीसदी हिस्सेदारी बेचे जाने की तैयारी है। इसके बाद एअर इंडिया का मैनेजमेंट कंट्रोल भी उसे मिलेगा जो सबसे ज्यादा बोली लगाएगा। बता दें कि वित्त वर्ष 2018-19 में एअर इंडिया को 8,556 करोड़ का नुकसान हुआ था।


पाकिस्तान को सता रहा हमले का डर

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के पुलवामा में हुए आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) को आज यानी 14 फरवरी को एक साल पूरा हो गया है। ऐसे में पाकिस्तान को भी डर सता रहा है कि भारत बदला लेने के लिए कहीं हमला ना कर दे। पकिस्तान ने आशंका जताई है कि भारत आने वाले कुछ दिनों में हमला कर सकता है। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता (Pakistan Foreign Ministry Spokesperson) आएशा फारूकी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए इस बात की जानकारी दी है। बता दें, आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने 14 फरवरी के दिन सीआरपीएफ के जवानों पर आईडी अटैक किया था जिसमें 44 जवान शहीद हो गए थे।


आएशा फारूकी ने बताया कि पीएम इमरान खान को डर है कि तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तैयप एर्दोगान के इस्लामाबाद दौरे के बीच भारत कोई ‘गैर जिम्मेदाराना कार्रवाई’ कर सकता है। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता आएशा फारूकी ने कहा- ‘पाकिस्तान आने वाले दिनों में भारत की ओर की जाने वाली किसी भी कार्रवाई का प्रभावी तरीके से जवाब देने को तैयार है। कश्मीर के मुद्दे पर तुर्की, पाकिस्तान का समर्थन करता है। जिससे भारत चिढ़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि तुर्की के राष्ट्रपति की यात्रा इस्लामाबाद और अंकारा के बीच द्विपक्षीय संबंधों को और विस्तार देने के लिए काम करेगी।’


फारूकी ने कहा- ‘अमेरिका भारत के लगातार हथियार दे रहा है, जिसका इस्तेमाल वह पाकिस्तान हमले में कर सकता है। उन्होंने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे से पहले अमेरिका ने भारत को 1.9 बिलियन डॉलर के एयर डिफेंस सिस्टम बेचने को मंजूरी दी है, जो दुनिया की शांति के लिए ठीक नहीं है।’


पुलिस पहरे में होगा इजहार, फिर शादी

देहरादून। आज वेलेंटाइन-डे है। हिंदूवादी संगठनों ने प्यार का इजहार करना भारी पड़ सकता है। हालांकि पुलिस ने कड़े पहरे में प्यार के इजहार का बंदोबस्त किया हुआ है। पुलिस की मानें तो प्रेमी जोड़ों को पूरी सुरक्षा दी जाएगी। पार्कों, होटलों और रेस्टारेंटों पर पुलिस की खास नजर रहेगी। राजधानी में वेलेंटाइन डे पर शांति व्यवस्था बनाए रखने को पुलिस ने कई कदम उठाए हैं।


एसपी सिटी श्वेता चैबे ने बताया कि शहर कोतवाली और बसंत विहार, कैंट और मसूरी, रायपुर और नेहरू कालोनी, पटेलनगर और क्लेमेंटाउन थाने को अलग-अलग जोन में बांटकर सीओ की तैनाती की गई। इन थानों को डेढ़-डेढ़ सेक्शन पीएसी अलग से दी गई है। वहीं, हिंदू युवा वाहिनी ने वेलेंटाइन डे के लिए चेतावनी जारी की है कि अगर संगठन का कहना है कि इस दिन यदि कोई प्रेमी युगल अश्लील हरकतें करता पाया जाता है तो उसकी मौके पर ही शारी करा दी जाएगी।


बिगबॉस 13 के फाइनल में मिला स्थान

माहिरा के साथ ‘बिग बॉस’ से बेघर होने के लिए आरती सिंह और शहनाज कौर गिल नॉमिनेटेड थे। ऐसे में माहिरा के जाते ही घरवालों एक पल के लिए ऐसा लगा कि डबल एविक्शन होगा हालांकि ऐसा नहीं हुआ। ‘बिग बॉस’ ने बाकी बचे सभी छह कंटेस्टेंट्स को बताया कि आप सभी फाइनलिस्ट हैं। ‘बिग बॉस सीजन 13’ के फाइनलिस्ट इस बार पांच नहीं बल्कि छह लोग हैं। इन छह कंटेस्टेंट्स के नाम सिद्धार्थ शुक्ला, शहनाज कौर गिल, आरती सिंह, रश्मि देसाई, पारस छाबड़ा और आसिम रियाज हैं। इस शो में ऐसा पहली बार हुआ है कि छह कंटेस्टेंट्स फाइनलिस्ट बने हैं। हर बार सिर्फ पांच लोग ही फिनाले में पहुंचते हैं। इन छह फाइनलिस्ट को उनका बिग बॉस में अब तक का सफर भी दिखाया जा रहा है। खास बात है कि ‘बिग बॉस’ के सफर के दौरान कुछ सभी कंटेस्टेंट्स के कुछ प्रशंसक भी घर के अंदर आए थे। सबसे पहले ‘बिग बॉस’ ने आरती सिंह को उनका सफर दिखाया। आरती अपने सफर को देखकर भावुक हो गई थीं। इसके बाद सिद्धार्थ शुक्ला का सफर दिखाया गया। सिद्धार्थ को देखती ही वहां मौजूद लोग सिडनाज चिल्लाने लगे। सिद्धार्थ भी अपने सफर को देखकर भावुक हो गए। बाकी बचे कंटेस्टेंट्स का सफर 14 फरवरी के एपिसोड में दिखाया जाएगा। ‘बिग बॉस’ का विजेता कौन बनेगा ये जानने के लिए न केवल घरवाले बल्कि प्रशंसक भी उत्सुक हैं।


एक ही परिवार के 4 लोगों की आत्महत्या

प्रशांत कुमार


वाराणसी। जनपद के आदमपुर थाना क्षेत्र के मुकीमगंज में आज अल सुबह दो कमरे में शव मिलने से हङकम्प मच गया। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे मे लेते हुए आगे की कार्रवाई में जुट गई।


मिली जानकारी के अनुसार व्यापारी ने परिवार सहित किया आत्महत्या। बताया यह भी जा रहा है कि आर्थिक तंगी ने 4 लोगों की जान ली। 2 बच्चों सहित दंपति ने आत्महत्या किया। सूत्रों के अनुसार मौत से पहले 112 नम्बर पर फोन किया था। जब तक पुलिस के पहुंचती तब तक चारों ने जान दे दी थी। एक कमरे से दोनों बच्चों के शव मिले और दूसरे कमरे में दंपति के लटके मिले शव।


नंबर वन टीम की तरह खेलना हमारा लक्ष्य

मुंबई (एजेंसी)। न्यू जीलैंड दौरे पर गई भारतीय टीम ने भले ही 0-3 से वनडे सीरीज गंवा दी हो। लेकिन भारतीय टीम इसे लेकर अधिक चिंतित नहीं है और उसका फोकस अब आगामी टेस्ट सीरीज पर है। इस दो टेस्ट मैच की सीरीज शुरू होने से पहले कोच रवि शास्त्री ने कहा, ’50 ओवर क्रिकेट का फिलहाल अभी कोई औचित्य नहीं है। इस समय टी20 सीरीज मायने रखती है, जो हमने 5-0 से जीती है और आगामी टेस्ट सीरीज के मायने हैं, जिसके मैच वेलिंग्टन और क्राइस्टचर्च में खेले जाएंगे।’


वेलिंग्टन से हमारे सहयोगी टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए शास्त्री ने कहा, ‘ हमें लॉर्ड्स (वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल) में खेलने के लिए अभी 100 पॉइंट की और दरकार है। अगर हम 6 विदेशी टेस्ट में से 2 में जीत दर्ज करते हैं तो हम अच्छी स्थिति में रहेंगे। इस साल हम विदेशों में 6 टेस्ट खेलेंगे (2 न्यू जीलैंड में और 4 ऑस्ट्रेलिया में)। तो, हमारा यही लक्ष्य है कि हम नंबर 1 टेस्ट टीम की तरह यहां खेलें, क्योंकि हमारी टीम किसी और चीज से ज्यादा इस में भरोसा करती है और टेस्ट में हम इसी आधार पर खेल रहे हैं।’


युवा खिलाड़ियों के टीम में आने से मुख्य कोच बेहद उत्साहित हैं। पृथ्वी साव टेस्ट टीम में वापसी कर रहे हैं और शुभमन गिल को लेकर अटकलें हैं कि शायद उन्हें यहां डेब्यू का मौका मिल जाए। शास्त्री ने इन दोनों खिलाड़ियों पर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहा, ‘दोनों खिलाड़ी सर्वोच्च प्रतिभा के धनी हैं। यह खास नहीं है कि वेलिंग्टन में इन दोनों में कौन प्लेइंग XI में होगा, खास यह है कि वे दोनों यहां हैं और भारतीय राष्ट्रीय टीम का हिस्सा हैं।’


शुभमन की तारीफ में शास्त्री ने कहा, ‘उनमें असाधारण प्रतिभा है। वह जब बैटिंग करते हैं तो उनका पॉजिटिव माइंडसेट साफ झलकता है। 20-21 साल के लड़के में यह देखकर अलग ही उत्साह महसूस होता है।’ उम्मीद की जा रही है कि इस टेस्ट सीरीज में चोटिल रोहित शर्मा के न होने से मयंक अग्रवाल के साथ पृथ्वी साव या शुभमन गिल को ओपनिंग का मौका मिल सकता है।


इस पर शास्त्री से जब बात की गई तो उन्होंने कहा, ‘वे सभी एक ही स्कूल के छात्र है, जो नई गेंद का सामना करना पसंद करते हैं, वे चुनौतियों का लुत्फ लेते हैं। दुर्भाग्य से रोहित चोटिल हैं तो इसके चलते शुभमन और पृथ्वी में से किसी एक के ओपनिंग को लेकर क्यास लगाए जा रहे हैं। टीम में ऐसी प्रतिस्पर्धा का होना जरूरी है और इसी आधार 15 खिलाड़ियों की टीम तैयार होती है, जो हमेशा मजबूत और स्थिर दिखती है।’


चोट ने इस टीम पर बड़ा असर डाला है। शिखर धवन, हार्दिक पंड्या, भुवनेश्वर कुमार और इशांत शर्मा टीम में इसी वजह से नहीं हैं। लगातार क्रिकेट के दबाव ने भी इसमें भूमिका निभाई है। शास्त्री ने इस पर कहा, ‘हमारी कोर टीम के चार से पांच खिलाड़ी चोट के कारण बाहर हैं। भुवी यहां की परिस्थितियों में बेहद उपयोगी हो सकते हैं। इसलिए मैंने कहा कि उपलब्ध विकल्प हमेशा टीम के फायदे में होते हैं।’


तेज गेंदबाज इशांत शर्मा अभी तक पूरी फिटनेस हासिल नहीं कर सके हैं और पहले टेस्ट के लिए उपलब्ध नहीं हो पाएंगे। भुवनेश्वर भी बाहर हैं, ऐसे में जिम्मेदारी जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी के कंधों पर पड़ेगी। कोच ने कहा, ‘यह अहम है कि वे अभी अपने वर्कलोड को कैसे मैनेज कर रहे हैं। टी20 खेलने जरूरी थे क्योंकि यह फॉर्मेट इस साल और अगले साल भी (टी 20 वर्ल्ड कप के कारण) महत्वपूर्ण है। टेस्ट क्रिकेट हमेशा सर्वोपरि होता है। हम केवल आशा कर सकते हैं कि बाकी खिलाड़ी जल्द से जल्द पूरी तरह से फिट हो जाएं।’


न्यू जीलैंड के खिलाफ टी20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज 5-0 से जीतने वाली टीम काफी उत्साहित थी लेकिन शास्त्री के अनुसार, अभी काफी काम किया जाना है। उन्होंने कहा, ‘5-0 से जीत 3-2, 4-1 हो सकती थी। जैसा कि हम स्वीकार करते हैं, अंतिम परिणाम ही मायने रखता है। सीरीज हमारी थी, इसमें कोई संदेह पहले से नहीं था लेकिन 5-0 से क्लीन स्वीप एक मिठाई की तरह थी।’


शास्त्री ने कहा, ‘अब, जरूरी यह है कि हम किस तरह से मैच जितवा सकते हैं। नई चीजों को आजमाने, मिश्रण करने, कुछ नए चेहरों को उतारने के लिए द्विपक्षीय सीरीज सही होती हैं। वही हम कर रहे हैं। टीम में अभी चार से पांच खिलाड़ी 22 साल से कम उम्र के हैं। यह उन पर निर्भर है कि वे इन अवसरों का लाभ कैसे उठाते हैं।’


लोकेश राहुल ने विकेटकीपिंग की अतिरिक्त जिम्मेदारी संभाली, वह शानदार बल्लेबाजी भी कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘यह लगभग वैसा ही है जैसे वह अतिरिक्त जिम्मेदारी के कारण खुद को मैच में ज्यादा शामिल कर पाते हैं।’


कोरोना वायरस ने ली 1367 जान

पेइचिंग (एजेंसी)। जानलेवा करॉना वायरस का आतंक जारी है और अब तक चीन में इसने 1,367 लोगों की जान ले ली है। चीन में अब इस वायरस के चलते राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने जनता के गुस्से से बचने के लिए शीर्ष अधिकारियों का तबादला कर दिया है। गुरुवार को चीन के हुबेई प्रांत और इसकी राजधानी वुहान में टॉप अधिकारियों को बदल दिया। बता दें कि नॉवल करॉना की शुरुआत वुहान से हुई थी और अभी तक दुनियाभर में 45,000 लोगों से ज्यादा इस वायरस संक्रमित हो चुके हैं।


चीन की न्यूज एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, शंघाई के पूर्व मेयर यिंग यॉन्ग की जगह अब जियांग चाउलिंग वुहान में सत्ताधारी कम्युनिस्ट पार्टी के मुखिया के तौर पर काम करेंगे। वुहान में वांग झॉन्गलिन अब मा गुओक्यांग की जगह पार्टी सचिव का पद संभालेंगे। स्थानीय मीडिया ने ययह भी बताया कि वायरस से जुड़े दूसरी कई बातों के लिए पार्टी के कई और नेताओं को भी निकाला गया है।


करॉना से 60,000 से संक्रमित!
हुबेई प्रांत और उसकी राजधानी वुहान करॉना वायरस का केंद्र है। सबसे बड़ी कम्युनिस्ट पार्टी के प्रमुखों को इसलिए भी निकाला गया क्योंकि अधिकारियों ने इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या की जब दोबारा गिनती की तो यह आंकड़ा बहुत तेजी से बढ़ा और 14,840 से करीब 60,000 पहुंच गया।


अभी तक हुबेई में इस वायरस के इन्फेक्शन का पता लगाने के लिए सिर्फ RNA टेस्ट किया जा रहा था, जिसमें कई दिन लगते हैं। RNA यानी रिबॉन्यूसेलिक एसिड में जेनेटिक इन्फर्मेशन मिलती है जिससे वायरस की पहचान होती है। अब कंप्यूटराइज्ड टोमोग्राफी (CT) स्कैन भी शुरू कर दिया है जिससे फेफड़ों को देखा जा सकता है। हुबेई स्वास्थ्य आयोग का कहना है कि इस टेस्ट से करॉना संक्रमण का पता जल्दी चलता है।


जापान में करॉना से पहली मौत
इस बीच जापान ने करॉना वायरस से पहली मौत की पुष्टि कर दी है। तोक्यो के पास कानागावा में करीब 80 वर्षीय एक महिला की मौत हो गई। बता दें कि इससे पहले हॉन्ग कॉन्ग और फिलीपींस में एक-एक मौत हो चुकी है। चीन के बाद करॉना से संक्रमित सबसे ज्यादा जापान है। वहीं करीब दो दर्जन से ज्यादा दूसरे देशों में भी करॉना के रोगी मिल चुके हैं।


जापान के स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक, जनवरी में जापानी महिला बीमार हुई थीं। उस समय सिर्फ निमोनिया के लक्षण दिखने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मौत के बाद के बाद ही महिला में करॉना वायरस की पुष्टि हुई और अब इसकी जांच हो रही है। चीन के बाहर करॉना के सबसे ज्यादा मामले क्रूज शिप डायमंड प्रिंसेज पर मिले हैं जो जापान के पोर्ट पर खड़ा है। इस शिप पर अब तक 219 से ज्यादा लोग करॉना की चपेट में आ चुके हैं। अधिकारियों का कहना है कि कुछ बुजुर्ग लोगों को शुक्रवार को जहाज से उतरने की अनुमति दे दी जाएगी।


14 को क्यों मनाते हैं 'वैलेंटाइन डे'

 वैलेंटाइन डे, हर साल 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे मनाया जाता है, जिसे लोग प्यार का त्यौहार मानकर सेलिब्रेट करते हैं। भारत में भी कपल्स अपने पार्टनर को तोहफे, चॉकलेट आदि देकर प्यार का जश्न मनाते हैं। लेकिन, ऐसे ही ये दिन नहीं मनाया जाने लगा, इसका अपना एक खूबसूरत इतिहास है।


रोम के पादरी के नाम पर जश्न
रिपोर्ट्स के अनुसार, ‘ऑरिया ऑफ जैकोबस डी वॉराजिन’ नाम की पुस्तक में वैलेंटाइन का जिक्र है। यह डे एक रोम के एक पादरी संत वैलेंटाइन के नाम पर मनाया जाता है।बताया जाता है कि संत वैलेंटाइन दुनिया में प्यार को बढ़ावा देने में विश्वास रखते थे, लेकिन रोम में एक राजा को उनकी ये बात पंसद नहीं थी और वह प्रेम विवाह के खिलाफ थे। वह प्रेम विवाह को गलत मानते थे।


पादरी को दे दी फांसी
सम्राट क्लाउडियस को लगता था कि रोम के लोग अपनी पत्नी और परिवारों के साथ मजबूत लगाव होने की वजह से सेना में भर्ती नहीं हो रहे हैं। इस समस्या से निजात पाने के लिए क्लाउडियस ने रोम में शादी और सगाई पर पाबंदी लगा दी। पादरी वैलेंटाइन ने सम्राट के आदेश को लोगों के साथ नाइंसाफी के तौर पर महसूस किया। उन्होंने इसका विरोध करते हुए कई अधिकारियों और सैनिकों की शादियां भी कराई। इसके बाद उन्हें 14 फरवरी को फांसी पर चढ़ा दिया गय।


जेलर की बेटी को लिखा था खत
उस दिन से हर साल इसी दिन को ‘प्यार के दिन’ के तौर पर मनाया जाता है। कई रिपोर्ट्स में सामने आता है कि संत वैलेंटाइन ने जेल में रहते हुए जेलर की बेटी को खत लिखा था, जिसमें अंत में उन्होंने लिखा था “तुम्हारा वैलेंटाइन।”


पूरी दुनिया में यह पर्व मनाया जाता है और इसे अलग अलग तरीकों से मनाया जाता है। हालांकि कई देशों में इसे संस्कृति के खिलाफ मानकर इसके सेलिब्रेशन पर रोक लगा दी जाती है।


मधुरिम की फोटो ने मचाया बवाल

मनोज सिंह ठाकुर


मुंबई। बिगबॉस 13 की पूर्व प्रतिभागी और अभिनेत्री मधुरिमा तुली ने हाल ही में कुछ तस्वीरें साझा की है, जिसमें वह काफी आकर्षक नजर आ रही हैं। मल्टी कलर ड्रेस और टेसेल इयररिंग में मधुरिमा काफी शानदार दिख रही हैं। अपने लुक को उन्होंने खुले बाल और हल्के मेकअप से पूरा किया है।
अभिनेत्री बिगबॉस 13 की उन प्रतिभागियों में शामिल रही हैं, जिन्होंने काफी सुर्खियां बटोरी हैं।
वहीं जनवरी में उन्हें अपने पूर्व बॉयफ्रेंड और शो के प्रतिभागी विशाल आदित्य सिंह को बुरी तरह से पीटने पर शो से जाने के लिए कहा गया था। अभिनेत्री ने विशाल पर फ्राइंग पैन से हमला किया था। अभिनेत्री ने ऐसा तब किया था, जब विशाल ने उनके चेहरे पर पानी फेंक कर उन्हें गुस्सा दिलाया था।


मौजों की बदबू और उसका समाधान

जैसे ही कुछ लोग अपने शूज उतारते हैं तो आस-पास बैठे लोग दूर भाग जाते हैं…या तिरछी नजरों से उनकी तरफ देखने लगते हैं, इसका कारण होता है उनके पैरों से आ रही दुर्गंध। जिन लोगों के साथ यह समस्या होती है वे खुद इस दिक्कत के चलते कई बार पब्लिक प्लेस पर या किसी इवेंट में हंसी का पात्र बन जाते हैं। अक्सर ये लोग समझ नहीं पाते कि आखिर बहुत साफ-सफाई का ध्यान रखने के बाद भी इनके पैरों से बदबू आ क्यों रही है? यहां जाने इस परेशानी की वजह और इसका समाधान…
इसलिए आती है पैरों से दुर्गंध
पैरों से स्मेल आने की वजह होती है पैरों में पसेब का आना। आप पसेब को पैरों में होनेवाली स्वेटिंग की तरह समझ सकते हैं लेकिन वास्तव में पसीने और पसेब में टेक्निकल डिफरेंस होता है। दरअसल, पसीना हमारे उन बॉडी पार्ट्स में आता है जहां स्किन में रोम छिद्र या पोर्स होते हैं, स्किन पर बाल होते हैं। लेकिन पसेब हथेली और तलुओं पर ही आता है और यहां की त्वचा पर रोए या महीन बाल नहीं होते हैं। 
पसीना नैचरल प्रॉसेस लेकिन…
पसीना आना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है। प्राकृति तौर पर जो पसीना आता है वो हमें रोम छिद्रों से आता है। जब यह नैचरल प्रॉसेस से आता है तो यह सेहत के लिए अच्छा होता है। यहां नैचरल प्रॉसेस से मतलब उन स्थितियों से है जब आप घबराहट या तनाव में नहीं होते हैं। गर्म मौसम के कारण पसीना आना या एक्सर्साइज के बाद पसीना आना सामान्य होता है।
पसेब है अलार्मिंग साइन
पैर के तलुओं या हथेलियों में पसेब आने की दिक्कत आमतौर पर उन लोगों को होती है जो चिंतालु प्रवृत्ति के होते हैं। वैद्य सुरेंद्र सिंह राजपूत के अनुसार, हथेलियों और पैर के तलुओं में पसेब आना इस कई बार बदलते मौसम के कारण होता है तो कई बार यह इस बात का इशारा होता है कि आप किसी तरह के मानसिक दबाव से गुजर रहे हैं।
मेंटल हेल्थ की सुरक्षा का संदेश
जब लंबे समय तक कोई टेंशन या स्ट्रेस हमारे दिमाग पर हावी रहता है तो हमारे शरीर पर इसके कई नकारात्मक प्रभाव देखने को मिलते हैं। हम वक्त रहते अपने आप को इन परेशानियों से दूर करने के लिए जरूरी प्रयास करें, पैरों और हथेलियों का पसेब मेंटल हेल्थ की दिशा में इस तरह का संदेश देने का काम करता है।
बचाता है ऐंग्जाइटी और डिप्रेशन से
अगर साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखने, सही डायट लेने और प्रॉपर केयर के बाद भी पैरों से और हथेलियों से पसेब आ रहा है तो आपको डॉक्टर से जरूर मिलना चाहिए। क्योंकि यह दिमगा के द्वारा अपनी सेफ्टी के लिए दिया जानेवाला एक तरह का संकेत है कि अगर आपने अभी अपनी मेंटल हेल्थ पर ध्यान नहीं दिया तो आप ऐंग्जाइटी और स्ट्रेस की तरफ बढ़ सकते हैं।
इन लोगों में होती है यह समस्या
आयुर्वेद के अनुसार, पैरों और हथेलियों में पसेब आने की समस्या ज्यादातर उन लोगों के साथ होती है, जो चिंतालु प्रवृत्ति के होते हैं। ये लोग सोचते अधिक हैं लेकिन जितना सोचते हैं उसकी तुलना में परफॉर्म नहीं कर पाते हैं। साथ ही इनके दिमाग में हर समय कोई ना कोई थॉट प्रॉसेस चलता रहता है। 
इस तरह चलता है प्रॉसेस
लगातार सोच-विचार में उलझे रहने के कारण ये लोग अपने काम को उतने अच्छे तरीके से अंजाम नहीं दे पाते, जैसा देने की चाहत रखते हैं। इस कारण इन्हें अपनी इच्छा के अनुरूप रिजल्ट भी नहीं मिल पाता। इससे ये और अधिक तनाव में आ जाते हैं। इस दौरान पैर के तलुओं और हथेलियों में पसेब की समस्या बढ़ जाती है। क्योंकि पैर अक्सर शूज में बंद रहते हैं इस कारण पैरों में तेज स्मेल आने लगती है। 
एक के बाद एक ऐसे बढ़ती हैं समस्याएं
हर समय चिंता में रहने के कारण हमारे पाचनतंत्र पर बुरा असर पड़ता है। इस कारण हमारा मेटाबॉलिज़म स्लो हो जाता है। खाना ठीक से डायजेस्ट नहीं होता, कब्ज रहने लगता है, शारीरिक और मानसिक थकान बनी रहती है। इसका सीधा असर हमारी परफॉर्मेंस पर पड़ता है और फिर वही सर्कल घूमने लगता है कि हम परफॉर्म नहीं कर पाते तो स्ट्रेस बढऩे लगता है।
पैरों की दुर्गंध दूर करने के आसान टिप्स
-पैरों की बदबू से निजात पाने के लिए आप सबसे पहले टाइम मैनेजमेंट पर ध्यान दें। अपने काम तय समय पर करना शुरू करें ताकि आपके दिमाग का बोझ कम हो और खुद को खुश और लाइट फील कर सकें।


एक्सर्साइज या वॉक जरूर करें। इन्हें करने से हमारे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और ब्रेन तक जरूरी मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचती है। इससे तनाव कम करने में मदद मिलती है।


सही डायट यानी डीप फ्राइड चीजों का कम से कम सेवन, मौसमी फलों का उपयोग, सात्विक भोजन खाने और योग या एक्सर्साइज से हमारे ब्रेन को हैपी हॉर्मोन्स प्रड्यूस करने में मदद मिलती है। जब हम खुश रहते हैं तो तनाव कम होता है और ब्रेन ठीक से काम करता है पैरों से बदबू की समस्या दूर हो जाती है।
अगर ना मिले आराम
अगर हेल्दी डायट और फिजिकली ऐक्टिव रहने के बाद भी आपको पैरों की दुर्गंध और हथेलियों में पसेब आनी की समस्या बनी हुई तो ऐसी स्थिति में आप चिकित्सक से परामर्श करें। बहुत कम समय के ट्रीटमेंट से ही आप इस परेशानी से मुक्ति पा सकते हैं और लोगों की घृणा या मजाक का विषय बनने से बच सकते हैं।


जाने, लेमन टी के फायदे

आपमें से कई लोग ऐसे होंगे जो अपने दिन की शुरुआत चाय के साथ करते होंगे। चाय पीने से दरअसल हम एक्टिव फील करते हैं और चुस्त तंदुरुस्त भी बने रहते हैं। इसलिए हमारे आसपास आज कई तरह की चाय मौजूद है जिनमें से एक लेमन टी भी है। 
लेमन टी में साइट्रिक एसिड की मात्रा होने के कारण यह वजन घटाने में सहायक होने के साथ – साथ आपके स्वास्थ्य के लिए कई भी कई प्रकार से लाभदायक है। बदलते मौसम में लेमन टी पीना बेहद फायदेमंद हो सकता है। यहां जानें नींबू से बनी यह चाय आपके शरीर पर और कौन कौन से कमाल दिखा सकती हैज् 
वजन घटाने में है सहायक 
वैसे तो ज्यादातर लोग यही सोचते हैं कि नींबू पानी पीने से वजन घटता है लेकिन लेमन टी पीने से भी वजन को नियंत्रित करने में और उसे घटाने में मदद मिल सकती है। दरअसल नींबू में कैलोरी की बहुत कम मात्रा पाई जाती है। यही वजह है कि लेमन टी का उपयोग वजन घटाने में मदद करता है। 
ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में करता है मदद 
हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से पीडि़त लोगों के लिए भी लेमन टी फायदेमंद है। लेमन टी पीने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या खत्म हो जाती है। इसमें पोटेशियम की मात्रा पाई जाती है। यह ब्लड प्रेशर को सामान्य रूप से बनाए रखने में मदद करता है। इसलिए ब्लड प्रेशर की समस्या से पीडि़त लोगों के लिए लेमन टी एक बढिय़ा विकल्प है।
रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में है मददगार 
रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी लेमन टी पीने के फायदे शामिल हैं। लेमन टी में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का गुण पाया जाता है। इस कारण अगर आप लेमन टी पीते हैं तो आप की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत रहेगी और आप कई प्रकार की बीमारियों से भी बचे रहेंगे। 
बढ़ती उम्र के प्रभाव के लिए है कारगर चाय 
लेमन टी पीने से आप स्लो एजिंग की समस्या से बचे रहते हैं। दरअसल इसमें एंटी ऑक्सीडेंट का गुण पाया जाता है जो स्लो एजिंग यानी कि बढ़ती उम्र की प्रक्रिया से होने वाले प्रभाव को कम कर देता है और आपकी त्वचा निखरी हुई लगती है। अपनी दिनचर्या में लेमन टी को शामिल करने के बाद आप खुद ब खुद इस फायदे को देख सकेंगे।
कैंसर के जोखिम को कम करने में करता है मदद 
लेमन टी पीने के फायदे में कैंसर के जोखिम को कम करना भी शामिल है। जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि लेमन टी में एंटीऑक्सीडेंट एक्टिविटी पाई जाती है। यह एक्टिविटी कैंसर के लिए जोखिम बनने वाली कोशिकाओं को पनपने से रोकता है। इसलिए आप लेमन टी को अपनी दिनचर्या में शामिल करके कैंसर के जोखिम से बचे रहेंगे।


एजीआर पर एससी ने अपनाया कड़ा रुख

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) बकाये का भुगतान करने के आदेश का अनुपालन न करने पर शुक्रवार को दूरसंचार कंपनियों को फटकार लगाई। कोर्ट ने टेलीकॉम कंपनियों को 17 मार्च तक बकाया जमा करने का आदेश भी दिया है। उच्चतम न्यायालय ने दूरसंचार विभाग के डेस्क अधिकारी के आदेश पर अफसोस जताया। आदेश में एजीआर मामले में दिए गए फैसले के अनुपालन पर रोक लगाई गई थी। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने दूरसंचार एवं अन्य कंपनियों के निदेशकों, प्रबंध निदेशकों से पूछा कि एजीआर बकाए के भुगतान के आदेश का अनुपालन नहीं किए जाने को लेकर उनके खिलाफ अवमानना कार्रवाई क्यों नहीं की जाए। इस संदर्भ में न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा ने कहा कि अगर एक डेस्क अधिकारी सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर रोक लगाने की धृष्टता करता है, तो उच्चतम न्यायालय को बंद कर दीजिए। कोर्ट ने कहा कि, 'हमने एजीआर मामले में समीक्षा याचिका खारिज कर दी, इसके बावजूद पैसा जमा नहीं किया गया। न्यायालय ने कहा कि देश में जिस तरह से चीजें हो रही हैं, इससे हमारी अंतरआत्मा हिल गई है। उल्लेखनीय है कि उच्चतम न्यायालय ने एजीआर बकाये को लेकर सुनवाई करते हुए दूरसंचार कंपनियों और कुछ अन्य कंपनियों को दूरसंचार विभाग को 1.47 लाख करोड़ रुपये का भुगतान करने का आदेश दिया था। इसके भुगतान की समयसीमा 23 जनवरी थी।


जानें क्या है एजीआर?


दूरसंचार कंपनियों को एजीआर का तीन फीसदी स्पेक्ट्रम फीस और आठ फीसदी लाइसेंस फीस के तौर पर सरकार को देना होता है। कंपनियां एजीआर की गणना दूरसंचार ट्रिब्यूनल के 2015 के फैसले के आधार पर करती थीं। ट्रिब्यूनल ने उस वक्त कहा था कि किराये, स्थायी संपत्ति की बिक्री से लाभ, डिविडेंड और ब्याज जैसे गैर प्रमुख स्रोतों से हासिल राजस्व को छोड़कर बाकी प्राप्तियां एजीआर में शामिल होंगी। जबकि दूरसंचार विभाग किराये, स्थायी संपत्ति की बिक्री से लाभ और कबाड़ की बिक्री से प्राप्त रकम को भी एजीआर में मानता है। इसी आधार पर वह कंपनियों से बकाया शुल्क की मांग कर रहा है।


पुलवामा हमले के शहीदों को किया नमन

नई दिल्ली। पुलवामा हमले की पहली बरसी पर पीएम मोदी ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। पीएम मोदी ने कहा कि भारत अपने बहादुर जवानों की शहादत को कभी नहीं भूलेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले में जान गंवाने वाले वे असाधारण व्यक्ति थे, जिन्होंने हमारे राष्ट्र की सेवा और रक्षा के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। बता दें कि पिछले साल 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सीआरपीएफ का काफिला गुजर रहा था। सामान्य दिन की तरह ही उस दिन भी सीआरपीएफ के वाहनों का काफिला अपनी धुन में जा रहा था। तभी एक कार ने सड़क की दूसरी तरफ से आकर इस काफिले के साथ चल रहे वाहन में टक्‍कर मार दी। इसके साथ ही एक जबरदस्‍त धमाका हुआ। यह आत्मघाती हमला इतना बड़ा था कि मौके पर ही सीआरपीएफ के करीब 42 जवान शहीद हो गए।


पुलवामा हमले से किसको हुआ फायदा

नई दिल्ली। पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों को देश भावभीनी श्रद्धांजलि दे रहा है। इस आतंकी घटना की पहली बरसी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित कई नेताओं ने शहीदों को नमन किया है। वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस हमले को लेकर मोदी सरकार से तीन सवाल पूछा है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर पुलवामा हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद उन्होंने तीन सवाल किए, राहुल के इस ट्वीट पर भाजपा के कई नेताओं ने आपत्ति जताते हुए कांग्रेस पर जोरदार हमला भी किया है। भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने राहुल गांधी के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए कहा कि शर्म करो राहुल गांधी। पूछते हो पुलवामा हमले से किसका फायदा हुआ? अगर देश ने पूछ लिया कि इंदिरा राजीव की हत्या से किसका फायदा हुआ, फिर क्या बोलोगे? इतनी घटिया राजनीति मत करो शर्म करो। इस आतंकी घटना की पहली बरसी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया कि पिछले साल पुलवामा में हुए भीषण हमले में जान गंवाने वाले बहादुर शहीदों को श्रद्धांजलि। वे असाधारण व्यक्ति थे जिन्होंने हमारे राष्ट्र की सेवा और रक्षा के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया।


बैंक धोखाधड़ी में एसबीआई, पीएनबी आगे

नई दिल्ली। वित्त वर्ष की पहली तीन तिमाही नौ महीने में 18 सरकारी बैंकों से 1.17 लाख करोड़ रुपये की धोखाधड़ी सामने आई है। यह धोखाधड़ी 8,926 मामलों में की गई है। धोखाधड़ी का सबसे ज्यादा शिकार देश का सबसे बड़ा कर्जदाता बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया हुआ है। आरटीआई कार्यकर्ता चंद्रशेखर गौर को सूचना के अधिकार के तहत रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से यह जानकारी मिली है। बताया कि दिसंबर 19 तक नौ महीने के दौरान 30,300 करोड़ के धोखाधड़ी के 4,769 मामले एसबीआई ने दर्ज कराए। सरकारी बैंकों में 1.17 लाख करोड़ की धोखाधड़ी के मामलों का यह 26 फीसदी है। पंजाब नेशनल बैंक को 294 मामलों में 14,928.62 करोड़ का चूना लगा। नुकसान में वह एसबीआई के बाद दूसरे नंबर पर रहा है।


वहीं दूसरी ओर बैंक ऑफ बड़ौदा में 250 मामलों में 11,166.19 करोड़ की धोखाधड़ी सामने आई। इलाहाबाद बैंक ने 860 मामले दर्ज कराए, जिसमें 6,781.57 करोड़ की धोखाधड़ी सामने आई। बैंक ऑफ इंडिया के 161 मामलों में 6,626.12 करोड़, यूनियन बैंक के 292 मामलों में 5,604.55 करोड़ का चूना लगा। ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स ने 282 मामले दर्ज कराए, जिससे 4,899.27 करोड़ की धोखाधड़ी हुई। केनरा बैंक, सिंडिकेट बैंक, कॉरपोरेशन बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, यूको बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, आंध्र बैंक, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन बैंक और पंजाब व सिंध बैंक में 1,867 मामले सामने आए, जिसमें कुल 31,600.76 करोड़ की धोखाधड़ी सामने आई।


पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि

नई दिल्ली। पिछले साल आज के दिन यानी 14 फरवरी को दोपहर तीन बजे आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा जिले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के काफिले पर जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर आत्मघाती हमला किया था। इसमें 40 जवान शहीद हो गए थे। इस आतंकी घटना की पहली बरसी पर गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सीआरपीएफ ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी है। अमित शाह ने शहीदों को नमन करते हुए कहा कि भारत हमेशा अपने बहादुरों और उनके परिवारों का आभारी रहेगा जिन्होंने मातृभूमि की संप्रभुता और अखंडता के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'मैं पुलवामा हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि देता हूं। भारत हमेशा अपने बहादुरों और उनके परिवारों का आभारी रहेगा जिन्होंने मातृभूमि की संप्रभुता और अखंडता के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया।'


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि भारत उनके बलिदान को कभी नहीं भूल पाएगा। उन्होंने ट्वीट कर कहा, '2019 में आज के दिन पुलवामा (जम्मू-कश्मीर) में हुए नृशंस हमले के दौरान अपने कर्तव्य पथ पर चलते हुए शहीद जवानों को श्रद्धांजलि। भारत उनके बलिदान को कभी भूल नहीं पाएगा। संपूर्ण राष्ट्र आतंकवाद के खिलाफ एकजुट है और हम इस खतरे के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं।' अपने वीर जवानों को याद करते हुए सीआरपीएफ ने कहा कि हम न भूले हैं और न ही माफ करेंगे। सीआरपीएफ ने ट्वीट करके कहा, 'तुम्हारे शौर्य के गीत, कर्कश शोर में खोए नहीं। गर्व इतना था कि हम देर तक रोए नहीं। हम भूले नहीं हैं, हम माफ नहीं करेंगे। हम अपने भाइयों को सलाम करते हैं जिन्होंने पुलवामा में राष्ट्र की सेवा करते हुए अपने प्राणों की आहुति दी। हम अपने बहादुर शहीदों के परिवारों के साथ मजबूती से खड़े हैं।'


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


फरवरी 15, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-189 (साल-01)
2. शनिवार, फरवरी 15, 2020
3. शक-1941,फाल्गुन - कृष्ण पक्ष, तिथि- सप्तमी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:00,सूर्यास्त 06:06
5. न्‍यूनतम तापमान 14+ डी.सै.,अधिकतम-25+ डी.सै., हल्की बरसात की संभावना।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...