सोमवार, 13 जून 2022

8 साल में पूर्वोत्तर भारत का 'अप्रत्याशित' विकास हुआ

8 साल में पूर्वोत्तर भारत का ‘अप्रत्याशित’ विकास हुआ 

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि पिछले 8 साल में पूर्वोत्तर भारत का ‘‘अप्रत्याशित’’ विकास हुआ है और इसके केंद्र में बुनियादी ढांचा निर्माण, बेहतर स्वास्थ सेवा व शिक्षा सुनिश्चित किया जाना तथा क्षेत्र के विभिन्न राज्यों की समृद्ध संस्कृति को लोकप्रिय बनाना रहा है। पूर्वोत्तर के विकास की दिशा में उठाए गए कदमों के बारे में ‘‘नमो ऐप’’ पर एक लेख के माध्यम से दी गई विस्तृत जानकारी साझा करते हुए मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘पिछले आठ वर्ष में पूर्वोत्तर ने अप्रत्याशित विकास देखा है।
इसके केंद्र में बुनियादी ढांचा निर्माण, बेहतर स्वास्थ्य सेवा और शिक्षा सुनिश्चित करना तथा क्षेत्र के विभिन्न राज्यों की समृद्ध संस्कृति को लोकप्रिय बनाना रहा है।’’ 
उन्होंने ‘‘पूर्वोत्तर कल्याण के 8 वर्ष’’ हैशटेग के साथ इसे ट्वीट किया। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार ने 30 मई को आठ साल पूरे किए। इसके बाद से प्रधानमंत्री विभिन्न क्षेत्रों में सरकार की उपलब्धियों का ब्योरा ट्विटर के माध्यम से लोगों से साझा कर रहे हैं।

विधायक पर आरोप, प्रशासन को हिदायत दी

विधायक पर आरोप, प्रशासन को हिदायत दी 

दीपक राणा/अश्वनी उपाध्याय
गाजियाबाद। जनपद स्थित लोनी तहसील की स्थानीय राजनीति का माहौल एक बार फिर से गरमा गया है। नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन एवं वर्तमान चेयरमैन के द्वारा मुख्यमंत्री को पत्र भेजा गया। नगर पालिका परिषद लोनी के पूर्व चेयरमैन मनोज धामा एवं वर्तमान चेयरमैन रंजीता धामा के द्वारा मुख्यमंत्री को एक पत्र प्रेषित किया गया है। जिसमें उन्होंने फर्जी मुकदमों का हवाला देकर माननीय मुख्यमंत्री से निष्पक्ष जांच एवं दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग की है। इस संबंध में सोमवार को एक प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन भी किया गया। 
जिसमें पूर्व चेयरमैन मनोज धामा के द्वारा स्थानीय जनप्रतिनिधि पर बदले की भावना से प्रेरित फर्जी मुकदमें कायम करने की बात कही‌। अपनी पीड़ा को बयां करते हुए पूर्व चेयरमैन ने कहा इस प्रकार से शोषित करना कायरता पूर्ण कार्य है और यह विचार योग्य भी है। स्थानीय पुलिस प्रशासन दबाव में आकर किसी के भी विरुद्ध झूठे मुकदमे दर्ज कर सकता है। यदि एक जनप्रतिनिधि अथवा पूर्व जनप्रतिनिधि के विरुद्ध योजनाबद्ध ढंग से झूठे मुकदमे कायम किए जा सकते हैं, तब एक आम आदमी के खिलाफ झूठे मुकदमे लिखना कितनी साधारण सी बात हो सकती है। कांफ्रेंस के दौरान उन्होंने कई और पहलुओं पर भी चर्चा की। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण विषय यही रहा है कि स्थानीय प्रशासन जनप्रतिनिधित्व के दबाव में आकर भाजपा की विचारधारा, सरकार की विचारधारा, एवं संविधानिक विचारधारा के विरुद्ध कार्य करने के लिए विवश है। 
यदि इसी प्रकार यह प्रकरण संचालित रहा, हमारे परिवार और हम पर झूठे मुकदमे लिखवाए गए। ऐसी स्थिति में हमारे पास केवल आत्मदाह का ही मार्ग बचता है। राजनीतिक जीवन में जनता के बीच में बना रहना, जनता के दुख-सुख में एक दूसरे के साथ खड़ा रहना। राजनीति का परम सिद्धांत है। घटिया राजनीति और कायरता पूर्ण कार्यों से हम हमेशा दूर रहे हैं। जनता के विकास और दुख-सुख में उनके साथ रहे हैं। एक योजनाबद्ध ढंग से षड्यंत्र किया जा रहा है हमारे खिलाफ और हम इस षड्यंत्र के अंतिम पड़ाव तक लड़ेंगे और खड़े रहेंगे। उन्होंने साथ ही साथ यह भी कहा कि यदि संतोषजनक कार्रवाई नहीं हो पाती है। तब मुख्यमंत्री कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

लापता हुआ 26 वर्षीय इजराइली ट्रैकर, मिला

लापता हुआ 26 वर्षीय इजराइली ट्रैकर, मिला

अखिलेश पांडेय/श्रीराम मौर्य          
जेरूसलम/शिमला। हिमाचल प्रदेश के कुल्लू और लाहौल-स्पीति जिलों के बीच हम्प्टा दर्रा ट्रैक से अचानक लापता हुआ 26 वर्षीय इजराइली ट्रैकर (पैदल लंबी यात्रा करने वाला) अब मिल गया है। कुल्लू के पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा ने बताया कि ट्रैकर का पता लगा लिया गया है और वह एक कैंप में ठहरा हुआ है। राज्य आपदा प्रबंधन के निदेशक सुदेश मोख्ता ने सोमवार को यहां बताया कि लाहौल-स्पीति जिला आपात अभियान केंद्र ने सूचित किया कि दो इजराइली ट्रैकर युवान कोहन और रैन हम्प्टा दर्रा पार कर रहे थे। कोहन रविवार देर रात कोक्सर इलाके में पहुंचा, जबकि रैन नहीं पहुंचा।
दोनों ने नौ जून को कुल्लू जिले के मनाली से हम्प्टा के रास्ते लाहौल-स्पीति जिले में कोकसर की ओर अपनी यात्रा आरंभ की थी।
पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा ने बताया कि मनाली के उपमंडलीय मजिस्ट्रेट ने एक बचाव दल तैनात किया, जिसमें एडवेंचर टूर्स ऑपरेटर्स एसोसिएशन मनाली के दो सदस्य शामिल थे। उन्होंने बताया कि बचाव दल ने तलाश के लिए एक निजी हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया और लापता ट्रैकर का पता लगा लिया। मोख्ता ने बताया कि लापता ट्रैकर का पता लगाने के लिए स्थानीय लोगों के साथ पुलिस दल को मौके पर भेजा गया था। वह पूरी तरह सकुशल है।

समन के खिलाफ सत्याग्रह मार्च में सड़क पर उतरें, सीएम

समन के खिलाफ सत्याग्रह मार्च में सड़क पर उतरें, सीएम 

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। नेशनल हेराल्ड प्रकरण में कांग्रेस नेतृत्व को जारी समन के खिलाफ सत्याग्रह मार्च में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी सड़क पर उतरें। उन्होंने केंद्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोलते हुए ईडी की कार्रवाई को द्वेषपूर्ण बताया। बघेल ने कहा केंद्र की भाजपा सरकार राजनीतिक प्रतिशोध की भावना से कांग्रेस की राष्ट्रीय नेतृत्व को परेशान कर रही है। 
उनके ऊपर झूठे केस लगाकर फंसाया जा रहा है। ईडी दफ्तर तक पैदल मार्च करते हुये भूपेश बघेल ने कहा कि कितनी भी दिल्ली पुलिस बैरिकेटिंग कर ले, कितना भी प्रयास कर ले, लेकिन सत्य को जीत होगी। उन्होंने कहा कि कानून का राज कहां है। यहाँ तो तानाशाही हो रही है। केंद्र सरकार ईडी, आईबी, सीबीआई का दुरुपयोग कर विपक्षियों के आवाज को दबाना चाहती है। जिसका कांग्रेस विरोध करती है।

‘ओ हसीना जुल्फो वाली’ गाने पर शानदार स्टेप्स किया

‘ओ हसीना जुल्फो वाली’ गाने पर शानदार स्टेप्स किया

कविता गर्ग
मुंबई। अभिनेत्री उर्फी ने एक वीडियो शेयर किया हैं। जिसमें वह ‘ओ हसीना जुल्फो वाली’ गाने पर बेहद शानदार स्टेप्स करती दिखाई दे रही हैं। जैसे ही उर्फी पलटीं और उन्होंने अपना बैकलेस अंदाज फैंस को दिखाया, तो हर किसी की सांसें बस थमी ही रह गईं। इसके साथ ही हजारों लाइक्स उनके इस वीडियो पर आ चुके हैं।
पर क्या आप जानते हैं कि उर्फी को इस गाने पर डांस करने का आइडिया उनकी ड्रेस की वजह से आया है। उर्फी ने वीडियो के कैप्शन में खुद ही ये बता दिया है। एक्ट्रेस ने लिखा- डांसर नहीं हू। बस सोचा कि इस गाने पर ये ड्रेस अच्छी लगेगी। उर्फी इस लुक में भी कमाल लग रही हैं।
एक्ट्रेस का वीडियो सोशल मीडिया पर छाया हुआ है। आखिर, उर्फी ने इतना धमाकेदार डांस किया है।

सेहत का ध्यान व आवश्यकताएं पूरी करतें हैं, बॉडीगार्ड

सेहत का ध्यान व आवश्यकताएं पूरी करतें हैं, बॉडीगार्ड

अखिलेश पांडेय  
मॉस्को। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन जब किसी विदेशी दौरे पर जाते हैं, तो उनके साथ स्पेशल बॉडीगार्ड भी जाते हैं। जिनका काम जानकर आपको हैरानी हो सकती है। रिपोर्ट के मुताबिक, ये स्पेशल बॉडी गार्ड पुतिन का मल-मूत्र इकट्ठा करते हैं और सूटकेस में वापस मॉस्को भेज देते हैं। उनकी ड्यूटी यह भी होती है कि वह राष्ट्रपति की सेहत का ध्यान रखें और उनकी आवश्यकताएं पूरी करें। इसी में उन्होंने इस बात का भी खुलासा किया है। उन्होंने लिखा कि पुतिन का मल-मूत्र इकट्ठा करने के लिए फेडरल प्रोटेक्टिव सर्विस के एजेंट होते हैं और वे ही मल-मूत्र इकट्ठा करके स्पेशल बैग में वापस रूस को भेज देते हैं।
 उनके स्टूल की जांच होती है और पता लगाया जाता है कि कोई बीमारी तो नहीं पनप रही है। इसके अलावा इस बात का भी ध्यान रखा जाता है कि किसी और देश को उनकी बीमारी के बारे में पता न चले। पत्रकार ने दावा किया कि उसे इस बात के बारे में 2019 में पता चला था जब पुतिन सऊदी अरब के दौरे पर गए थे। इसके अलावा जब वह फ्रांस गए थे तो उनके बॉडीगार्ड उनके साथ बाथरूम में भी जाते थे।

ऑनलाइन सट्टेबाजी पर नियंत्रण के लिए कदम उठाया

ऑनलाइन सट्टेबाजी पर नियंत्रण के लिए कदम उठाया

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने सोमवार को ऑनलाइन सट्टेबाजी पर नियंत्रण के लिए बड़ा कदम उठाया।मंत्रालय ने सोमवार को मीडिया के लिए चेतावनी जारी करके ऑनलाइन सट्टेबाजी को बढ़ावा देने वाले विज्ञापन पर प्रतिबंध लगा दिया है। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक और डिजिटल मीडिया को चेतावनी जारी की है। इसमें ऑनलाइन सट्टेबाजी प्लेटफार्मों के विज्ञापन से बचने के लिए कहा गया है।बताया जा रहा है कि प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक, सोशल और ऑनलाइन मीडिया में ऑनलाइन सट्टेबाजी वेबसाइटों-प्लेटफार्म के विज्ञापनों के कई मामले सामने आए थे। इसके बाद मंत्रालय ने यह चेतावनी जारी की गई है। मंत्रालय ने कहा है कि देश के अधिकांश हिस्सों में सट्टेबाजी और जुआ अवैध हैं। ये ऑडियंस खासकर बच्चों के लिए अधिक वित्तीय और समाजिक-आर्थिक जोखिम पैदा करते हैं।
 चेतावनी में कहा गया है कि ऑनलाइन सट्टेबाजी पर इन विज्ञापनों से बड़े पैमाने पर इस प्रतिबंधित गतिविधि को बढ़ावा मिलता है। मंत्रालय के मुताबिक, ऑनलाइन सट्टेबाजी के विज्ञापन भ्रामक होते हैं। ये उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम 2019, केबल टेलीविजन नेटवर्क विनियमन अधिनियम और विज्ञापन कोड और प्रेस परिषद अधिनियम, 1978 के तहत निर्धारित पत्रकारिता आचरण के मानदंडों के अनुरूप नहीं हैं।मंत्रालय ने ये चेतावनी जनहित में जारी की है। इतना ही नहीं मंत्रालय ने प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को ऑनलाइन सट्टेबाजी प्लेटफार्मों के विज्ञापनों को प्रकाशित करने से बचने की सलाह दी है। इससे पहले सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने 4 दिसंबर, 2020 को निजी सैटेलाइट टीवी चैनलों को एक सलाह जारी की थी, जिसमें प्रिंट और ऑडियो विजुअल विज्ञापन के लिए ऑनलाइन गेमिंग के विज्ञापनों पर भारतीय विज्ञापन मानक परिषद के दिशानिर्देशों का पालन करने के लिए कहा था।

बीजेपी ने अल्पसंख्यकों को अलग-थलग किया: मुफ्ती

बीजेपी ने अल्पसंख्यकों को अलग-थलग किया: मुफ्ती

इकबाल अंसारी  
श्रीनगर। पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस तरह से विरोधी नेताओं और विपक्ष की आवाज को दबाया जा रहा है, ये खतरनाक संकेत हैं। यह कतई ठीक नहीं है। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत कभी अपनी धर्मनिरपेक्षता के लिए लोकप्रिय था, लेकिन बीजेपी ने अल्पसंख्यकों को अलग-थलग कर दिया है।
महबूबा मुफ्ती सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रही थीं। इस दौरान उन्होंने नूपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी और कश्मीरी पंडितों का मुद्दा भी उठाया। महबूबा मुफ्ती ने कहा कि अगर अल्पसंख्यक आवाज उठा रहे हैं, तो उनकी हत्या की जा रही है, यह नफरत की राजनीति है, अगर विपक्ष कुछ कहता है तो उन्हें धमकी दी जाती है। ईडी आदि और न्यायपालिका बस देख रहे हैं। केरल के सीएम पिनाराई विजयन
महबूबा मुफ्ती ने विवादित बयान के मामले में कहा कि नूपुर शर्मा को गिरफ्तार क्यों नहीं किया जा रहा है। उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नूपुर शर्मा ने जो कुछ भी कहा है, वह जानबूझकर कश्मीरी पंडित जैसे मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए कहा है।
प्रेस कॉन्फ्रेंस में महबूब मुफ्ती ने आरोप लगाते हुए कहा कि ईडी जैसी सरकारी एजेंसियां सरकारी गठजोड़ से काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि न्यायपालिका को इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए, लेकिन मुझे लगता है कि वे भी कहीं न कहीं डरे हुए हैं। ये अच्छे संकेत नहीं हैं।

यूपी: महिला की रेप के बाद हत्या, आशंका व्यक्त

यूपी: महिला की रेप के बाद हत्या, आशंका व्यक्त

संदीप मिश्र
शाहजहांपुर। यूपी के शाहजहांपुर में एक महिला की गला काटकर निर्मम हत्या कर देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। महिला की धारदार हथियार से हत्या की गई है। आशंका व्यक्त की जा रही है कि महिला की रेप के बाद हत्या की गई है। फिलहाल, पुलिस पूरी घटना की तफ्तीश में जुट गई है। घटना थाना कांट क्षेत्र के नबीपुर गांव के पास की है।
जहां देर रात ओमवती नाम की एक महिला की गला रेतकर हत्या की गई है। बताया जा रहा है कि सास बहू गांव के पास एक आम के बाग में बनी झोपड़ी में रहकर रखवाली कर रही थी। सास के ना होने पर अज्ञात लोगों ने महिला ओमवती की झोपड़ी के अन्दर बेहरमी से गला काटकर हत्या कर दी। आशंका व्यक्त की जा रही है कि महिला की जीत के बाद हत्या की गई है।
वहीं सूचना के बाद मौके पहुंची पुलिस ने डॉग स्कॉट की मदद से मौके पर जांच की लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। महिला की हत्या क्यों और किसने की है इस बात का पता लगाने की पुलिस पूरी कोशिश कर रही है। फिलहाल पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

ईडी द्वारा समन के विरोध में पैदल मार्च निकाला

ईडी द्वारा समन के विरोध में पैदल मार्च निकाला  

नरेश राघानी  
जयपुर। राजस्थान में कांग्रेस ने पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी एवं नेता राहुल गांधी को नेशनल हेराल्ड मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा समन के विरोध में सोमवार को यहां पैदल मार्च निकाला गया। पैदल मार्च के लिए कांग्रेस के लोग प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर एकत्रित हुए और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के नेतृत्व में पैदल मार्च शुरु हुआ जो पुलिस आयुक्तालय के सामने एवं विभिन्न मार्गों से होते हुए ईडी कार्यालय पहुंचा।
पैदल मार्च में नगरीय स्वायत शासन मंत्री शांति कुमार धारीवाल, शिक्षा मंत्री बी डी कल्ला, चिकत्सा मंत्री परसादी लाल मीणा, राजस्व मंत्री रामलाल जाट, खाद्य मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास एवं अन्य मंत्री, कई विधायक तथा प्रदेश कांग्रेस के कई पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता शामिल थे। इस दौरान पार्टी कार्यकर्ता बैनर और पोस्टर लेकर चल रहे थे। पैदल मार्च में  धारीवाल ने मीडिया से कहा कि केवल परेशान, बदला लेने एवं बदनाम करने के लिए कांग्रेस के लोगों पर हमला किया जा रहा है और इसके विरोध में देश भर में करोड़ों लोग सड़कों पर निकले हैं और इसी के तहत यहां भी पैदल मार्च निकाला जा रहा है।

5 बाजारों को 'विश्व स्तरीय’ बनाने के लिए पुनर्विकास

5 बाजारों को 'विश्व स्तरीय’ बनाने के लिए पुनर्विकास

अकांशु उपाध्याय
नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि दिल्ली सरकार कमला नगर, खारी बावली, लाजपत नगर, सरोजिनी नगर और कीर्ति नगर बाजार को ‘‘विश्व स्तरीय’’ बनाने के लिए उनका पुनर्विकास करेगी। यह अधिक नौकरियां पैदा करने के लिए ‘रोजगार बजट’ में की गयी घोषणा के अनुरूप उठाया गया कदम है। केजरवील ने चयनित बाजारों को सूचीबद्ध करते हुए कहा, हमने पहले चरण में पांच बाजारों के नाम तय किए हैं, जिन्हें पुनर्विकसित किया जाना है।
हमने उनकी यूएसपी भी सूचीबद्ध की है।
उदाहरण के लिए कमला नगर युवाओं के घूमने-फिरने का क्षेत्र है, खारी बावली को सबसे अच्छे मसालों के लिए जाना जाता है। उन्होंने कहा कि पुनर्विकास योजना को अंतिम रूप देने के लिए एक डिजाइन प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। दिल्ली सरकार की परियोजना के तहत बाजारों का सौंदर्यीकरण किया जाएगा और नागरिक सुविधाएं बढ़ायी जाएंगी ताकि वहां आने वाले लोगों की संख्या के साथ ही कारोबार भी बढ़े।

अपने 3 रील्स या पोस्ट को पिन कर सकते हैं, यूजर्स

अपने 3 रील्स या पोस्ट को पिन कर सकते हैं, यूजर्स

अकांशु उपाध्याय/सुनील श्रीवास्तव   
नई दिल्ली/वाशिंगटन डीसी। इंस्टाग्राम ने एक नया फीचर लॉन्च किया है। यूजर्स अब अपने किसी 3 रील्स या पोस्ट को पिन कर सकते हैं। रील्स या पोस्ट पिन करने के बाद वह तीनों पोस्ट हमेशा उनके टाइमलाइन पर सबसे ऊपर दिखेंगी। ये फीचर्स ट्विटर, टिक-टॉक और फेसबुक पर पहले से मौजूद है। किसी भी पोस्ट को पिन करने के लिए उस पोस्ट पर क्लिक करें। क्लिक करने के बाद पोस्ट के ऊपर राईट साइड पर दिए गए तीन डॉट पर क्लिक करें। उसके बाद ‘पिन टू योर प्रोफाइल’ पर क्लिक करें। इसके बाद आपका पोस्ट पिन हो जाएगा और टाइमलाइन पर सबसे ऊपर दिखेगा।

न्यूड और वायोलेंट कंटेंट को फिल्टर करने वाला फीचर...

यदि आप न्यूड और वायोलेंट कंटेंट से परेशान हैं, तो इंस्टग्राम पर इसे फिल्टर करने का फीचर भी मिलता है। इस फिल्टर को इनेबल करने के लिए सबसे पहले अपको प्रोफाइल पर जाना होगा। ऊपर राइट कार्नर पर दिए तीन लाइन वाले टैब पर क्लिक करना होगा। इसके बाद सेटिंग्स पर क्लिक करके अकाउंट पर जाना होगा। और ‘सेंसेटीव कंटेंट कंट्रोल’ पर क्लिक करके आप सेंसेटीव कंटेंट को फिल्टर कर पाएंगे।
अगर आपका अकाउंट पब्लिक है तो आपको तीन ऑप्शन मिलेंगे, अलाउ (Allow), लिमिट (Limit) और लिमिट इवेन मोर (Limit Even More)। अगर आपका अकाउंट प्राइवेट है तो लास्ट के दो ही ऑप्शन दिखेंगे। अगर आप अलाउ (Allow) पर क्लिक करते हैं तो आपको सभी तरह के सेंसेटीव कंटेंट इंस्टाग्राम सजेस्ट करेगा। लिमिट (Limit) पर क्लिक करने के बाद लिमिटेड कंटेंट सजेस्ट किया जाएगा। वहीं लिमिट इवेन मोर (Limit Even More) को सिलेक्ट करने के बाद इंस्टाग्राम आपको सेंसेटीव कंटेंट सजेस्ट नहीं करेगा।इंस्टाग्राम ने एक नया फीचर लॉन्च किया है। यूजर्स अब अपने किसी 3 रील्स या पोस्ट को पिन कर सकते हैं। रील्स या पोस्ट पिन करने के बाद वह तीनों पोस्ट हमेशा उनके टाइमलाइन पर सबसे ऊपर दिखेंगी। ये फीचर्स ट्विटर, टिक-टॉक और फेसबुक पर पहले से मौजूद है।

इंस्टाग्राम पोस्ट को पिन करने की प्रोसेस...

किसी भी पोस्ट को पिन करने के लिए उस पोस्ट पर क्लिक करें। क्लिक करने के बाद पोस्ट के ऊपर राईट साइड पर दिए गए तीन डॉट पर क्लिक करें। उसके बाद ‘पिन टू योर प्रोफाइल’ पर क्लिक करें। इसके बाद आपका पोस्ट पिन हो जाएगा और टाइमलाइन पर सबसे ऊपर दिखेगा।
न्यूड और वायोलेंट कंटेंट को फिल्टर करने वाला फीचर
यदि आप न्यूड और वायोलेंट कंटेंट से परेशान हैं, तो इंस्टग्राम पर इसे फिल्टर करने का फीचर भी मिलता है। इस फिल्टर को इनेबल करने के लिए सबसे पहले अपको प्रोफाइल पर जाना होगा। ऊपर राइट कार्नर पर दिए तीन लाइन वाले टैब पर क्लिक करना होगा। इसके बाद सेटिंग्स पर क्लिक करके अकाउंट पर जाना होगा। और ‘सेंसेटीव कंटेंट कंट्रोल’ पर क्लिक करके आप सेंसेटीव कंटेंट को फिल्टर कर पाएंगे।
अगर आपका अकाउंट पब्लिक है तो आपको तीन ऑप्शन मिलेंगे, अलाउ लिमिट और लिमिट इवेन मोर  अगर आपका अकाउंट प्राइवेट है तो लास्ट के दो ही ऑप्शन दिखेंगे। अगर आप अलाउ  पर क्लिक करते हैं तो आपको सभी तरह के सेंसेटीव कंटेंट इंस्टाग्राम सजेस्ट करेगा। लिमिट (Limit) पर क्लिक करने के बाद लिमिटेड कंटेंट सजेस्ट किया जाएगा। वहीं लिमिट इवेन मोर  को सिलेक्ट करने के बाद इंस्टाग्राम आपको सेंसेटीव कंटेंट सजेस्ट नहीं करेगा।

मुंबई: शेयर बाजार में भारी गिरावट देखने को मिलीं

मुंबई: शेयर बाजार में भारी गिरावट देखने को मिलीं 

कविता गर्ग 
मुंबई। भारतीय शेयर बाजार में सोमवार को भारी गिरावट देखने को मिल रहीं है। फिलहाल, सेंसेक्स और निफ्टी दोनों इंडेक्स करीब 3% की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। सबसे ज्यादा गिरावट बैंकिंग और IT स्टॉक्स में है। ये 3% से ज्यादा की गिरावट के साथ कारोबार कर रहे हैं। सेंसेक्स 1,119 पॉइंट की गिरावट के साथ 53,184 पर और निफ्टी 324 पॉइंट की गिरावट के साथ 15,877.55 पर खुला था। आज भारतीय रुपया 78.12 पर कारोबार कर रहा है। यह पिछले बार बंद से 0.48% कम है। आज रुपया डॉलर के मुकाबले 78.14 पर खुला।

बाजार में गिरावट का कारण...
इस गिरावट के पीछे कारण ये हैं कि शुक्रवार को अमेरिकी बाजार बुरी तरह से टूटे थे। डाओ जोंस 880 अंक लुढ़ककर 31,392 पर बंद हुआ है। S&P 500 भी 3% और नैस्डेक में 3.5% की गिरावट देखने को मिली। इसके अलावा यूरोप के बाजार 2-3% लुढ़के। बात करें एशियन मार्केट की तो SGX Nifty में 300 पॉइंट से ज्यादा अंकों की गिरावट है। जापान, हॉन्गकन्ग और ताइवान के मार्केट करीब 2.5% टूटे हैं।
अमेरिकी बाजार के टूटने के पीछे की बड़ी वजह महंगाई दर है। यहां महंगाई 40 साल की ऊंचाई पर पहुंच गई है। 1981 के बाद यूएस में महंगाई दर मई में 8.6% पर पहुंची है। इससे फेडरल रिजर्व पर ब्याज दरें बढ़ाने का दबाव है, जिसका असर पूरी दुनिया पर पड़ेगा। इसके अलावा क्रूड ऑयल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। ये अभी करीब 120 डॉलर प्रति बैरल के आसपास कारोबार कर रहा है।
रेलिगेयर ब्रोकिंग के वीपी – रिसर्चर अजीत मिश्रा ने कहा कि इस हफ्ते में बाजार में ज्यादा अस्थिरता रहेगी। अमेरिकी महंगाई दर के साथ साथ बाजार शुक्रवार को जारी किए फ्रैक्ट्री आउटपुट के डेटा पर रिएक्ट करेगा। इसके अलावा आज रिटेल महंगाई के आकंड़े आएंगे। वहीं यूएस फेड की बैठक का आउटकम 15 जून को आएगा। इन सभी चीजों को लेकर बाजार में अनिश्चितता का माहौल है।
जो स्टॉक्स आज न्यूज में हैं उनमें HDFC बैंक, कोल इंडिया, वेदांता, स्ट्राइड्स फार्मा, सीई इंफोसिस्टम्स, बर्जर पेंट, IIFL फाइनेंस, लेमन ट्री होटल्स, J&K बैंक, फ्यूचर रिटेल, अंसल हाउसिंग, डेक्कन हेल्थ केयर शामिल हैं। इन कंपनियों से जुड़ी कोई न कोई खबर होने की वजह से इन सभी स्टॉक्स पर आज बाजार की नजर है।
पिछले कारोबारी दिन सेंसेक्स में 1.84% की गिरावट रही
सेंसेक्स और निफ्टी हफ्ते 10 जून को भारी गिरावट के साथ बंद हुए थे। सेंसेक्स 1016.84 पॉइंट या 1.84% की गिरावट के साथ 54,303.44 पर और निफ्टी 276.30 पॉइंट या 1.68% की गिरावट के साथ 16,201.80 पर बंद हुआ था। सेंसेक्स में इंफोसिस, बजाज फाइनेंस, विप्रो, कोटक बैंक और HDFC में 2 से 4% की गिरावट रही।
10 जून को सबसे ज्यादा गिरने वाले शेयर
अप्रैल में इंडस्ट्रियल ग्रोथ 7.1% पर पहुंची।
इंडस्ट्रियल ग्रोथ यानी IIP के आंकड़े शुक्रवार को जारी किए गए थे। कैपिटल गुड्स और कंज्यूमर ड्यूरेबल सेक्टर में ग्रोथ के कारण अप्रैल 2022 में भारत की फैक्ट्री आउटपुट ग्रोथ 7.1% बढ़कर 135.1 पर पहुंच गई। ये 8 महीने का उच्चतम स्तर है। इलेक्ट्रिसिटी और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर से भी ग्रोथ को सपोर्ट मिला। एक महीने पहले मार्च में यह 2.2% रही थी। अप्रैल 2021 में IIP ग्रोथ 133.5% बढ़कर 126.6 रही थी। इतनी ज्यादा ग्रोथ का कारण लो बेस इफेक्ट था।
दरअसल, मार्च 2020 में कोरोना की वजह से लगाए गए लॉकडाउन की वजह से देश में आर्थिक गतिविधियां थम गई थीं। इसका असर यह हुआ कि IIP बेस नीचे चला गया। अप्रैल 2020 में IIP 57.31% गिरकर 54.0 पर पहुंच गई थी। जब बेस बहुत नीचे चला जाता है तो थोड़ा उछाल भी बड़े सुधार का भ्रम पैदा करता है।

कार्यक्रम में शिरकत के लिए मेरठ पहुंचे, उप मुख्यमंत्री

कार्यक्रम में शिरकत के लिए मेरठ पहुंचे, उप मुख्यमंत्री

सत्येंद्र पंवार
मेरठ। प्रदेश के उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक सोमवर को कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए मेरठ पहुंचे। वे यहां पर मेरठ मुजफ्फरनगर बाईपास स्थित एक शैक्षिक संस्थान में आयोजित गरीब कल्याण सम्मेलन में भाग लेने के लिए आए हैं। वे शैक्षिक संस्थान में आयोजित गरीब कल्याण जनसभा में मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग करेंगे। एक दिन पूर्व ही संबंधित विभाग ने अपनी तैयारियों को अंतिम रूप दिया था।
इसके अलावा लोकसभा चुनाव में भी अभी 2 साल का वक्त बाकी है। लेकिन केंद्र में मोदी सरकार 8 साल पूरे कर रही है और आमजन के लिए चलाई जा रही विकास परख योजनाओं का लाभ पात्रों तक पहुंचाने के लिए हर स्तर पर प्रयास जारी है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ही दूर दृष्टि का परिणाम है कि कोरोना काल में देश की जनता को अधिक समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ा। जनधन योजना के तहत खुलवाए गए खातों में सीधे रकम भेजी गई, जिसका लाभ आमजन को मिला।
उन्होंने केंद्र द्वारा चलाई जा रही तमाम योजनाओं की चर्चा करते हुए विस्तार से जानकारी दी। साथ ही देश की पूर्ववर्ती सरकारों पर भी जमकर निशाना साधा। उप मुख्यमंत्री ने कहा की मोदी सरकार से पहले देश में रही सरकारों ने सिर्फ गरीब को हटाया गरीबी को नहीं। पहले की सरकारें एक परिवार और अपने परिवार के लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए कृत संकल्पित रहती थी। जबकि मोदी सरकार ने देश के हर गरीब वर्ग का ख्याल रखा और उनके लिए योजनाएं बनाकर लाभ पहुंचाया।

जावेद के घर को जमींदोज करने की कार्रवाई का हवाला

जावेद के घर को जमींदोज करने की कार्रवाई का हवाला 

संदीप मिश्र  
लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने प्रयागराज हिंसा के मुख्य आरोपी मोहम्मद जावेद अहमद उर्फ जावेद पंप के घर को स्थानीय प्रशासन द्वारा बुलडोजर से जमींदोज करने की कार्रवाई का हवाला देते हुए कहा है कि समुदाय विशेष को निशाना बना कर बुल्डोजर से विध्वंस करना एवं द्वेषपूर्ण आक्रामक कार्रवाई करना अनुचित और अन्यायपूर्ण है।
मायावती ने उत्तर प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए सोमवार को कहा कि न्यायपालिका को इस पर स्वत: संज्ञान लेना चाहिये। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि यूपी सरकार एक समुदाय विशेष को टारगेट करके बुलडोजर विध्वंस व अन्य द्वेषपूर्ण आक्रामक कार्रवाई कर विरोध को कुचलने एवं भय व आतंक का जो माहौल बना रही है यह अनुचित व अन्यायपूर्ण। घरों को ध्वस्त करके पूरे परिवार को टारगेट करने की दोषपूर्ण कार्रवाई का कोर्ट जरूर संज्ञान ले।
उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने इस पूरे प्रकरण के मूल में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेताओं नवीन जिंदल और नूपुर शर्मा के विवादित बयानों पर सरकार द्वारा कोई कार्रवाई न करने को कानून के राज का उपहास बताया। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने जिंदल और शर्मा की गिरफ्तारी को जरुरी बताते हुए कहा, ह्लजबकि समस्या की मूल जड़ नूपुर शर्मा व नवीन जन्दिल हैं, जिनके कारण देश का मान-सम्मान प्रभावित हुआ व हिंसा भड़की, उनके विरुद्ध कार्रवाई नहीं करके सरकार द्वारा कानून के राज का उपहास क्यों? दोनों आरोपियों को अभी तक जेल नहीं भेजना घोर पक्षपात व दुर्भाग्यपूर्ण। तत्काल गिरफ्तारी जरूरी।
बसपा सुप्रीमो ने योगी सरकार को नसीहत देते हुए कहा कि सरकार द्वारा नियम-कानून को ताक पर रखकर आपाधापी में किए जा रहे बुलडोजर विध्वंसक कार्रवाईयों में न केवल बेगुनाह परिवार पिस रहे हैं बल्कि निर्दोषों के घर भी ढहा दिए जा रहे हैं। इसी क्रम में पीएम आवास योजना के मकान को भी ध्वस्त कर देना काफी चर्चा में रहा, ऐसी ज्यादती क्यों। गौरतलब है कि जावेद के प्रयागराज स्थित मकान को स्थानीय प्रशासन ने अवैध निर्माण बताते हुए रविवार को बुलडोजर से ढहा दिया।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण  

1. अंक-248, (वर्ष-05)
2. मंगलवार, जून 14, 2022
3. शक-1944, ज्येष्ठ, शुक्ल-पक्ष, तिथि-पूर्णिमा, विक्रमी सवंत-2079।
4. सूर्योदय प्रातः 05:22, सूर्यास्त: 07:15।
5. न्‍यूनतम तापमान- 32 डी.सै., अधिकतम-45+ डी.सै.। उत्तर भारत में बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु, (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसेन पवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102
http://www.universalexpress.page/
www.universalexpress.in
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।
           (सर्वाधिकार सुरक्षित)

भाजपा से गठबंधन पर कोई बाधा उत्पन्न नहीं की जाएंगी

भाजपा से गठबंधन पर कोई बाधा उत्पन्न नहीं की जाएंगी कविता गर्ग  मुंबई। शिवसेना नेता संजय राउत ने बृहस्पतिवार को कहा कि बागियों ने स्वयं अपना ...