शनिवार, 8 अगस्त 2020

6 महा में दूसरा वायुयान हादसा, 18 की मौत

तिरूवनंतपुरम।  केरल के कोझिकोड में शुक्रवार रात एयर इंडिया एक्सप्रेस का बोइंग 737-800 विमान जिस प्रकार रनवे पार कर खाई में जा गिरा, यह छह महीने में इस विमान का इस तरह का दूसरा हादसा है। तुर्की के इस्ताम्बुल में 05 फरवरी को पेगासस एयरलाइंस का बोइंग 737-800 विमान भी इसी प्रकार दुर्घटना का शिकार हो गया था। दोनों दुर्घटनाओं में बहुत कुछ समान है और यदि उस हादसे से सीख ली गई होती तो संभवत: कोझिकोड के हादसे को टाला जा सकता था। वहाँ भी खराब मौसम के बीच विमान रनवे पर उतरा और रनवे पार कर 30 मीटर नीचे जा गिरा। उस दुर्घटना में भी विमान के टुकड़े हो गये थे और तीन यात्रियों की मौत हो गई थी। एयर इंडिया एक्सप्रेस का विमान दुबई से भारतीय नागरिकों को लेकर कोझिकोड पहुँचा था और लैंडिंग के वक्त रनवे पार कर 35 मीटर नीचे जा गिरा। विमान में चालक दल के छह सदस्यों समेत 190 यात्री सवार थे जिनमें दोनों पायलट सहित अब तक 18 की मौत हो चुकी है और एक सौ से अधिक लोगों का विभिन्न अस्पतालों में उपचार चल रहा है। यह विमान करीब 14 साल पुराना था। इस्ताम्बुल हवाई अड्डे पर हुए हादसे में विमान 11 साल पुराना था। यह उड़ान तुर्की के ही अजमीर अदन मेंदेरेस हवाई अड्डे से इस्ताम्बुल आई थी। लगातार दिशा बदल रही तेज हवाओं के बीच पायलट ने विमान को रनवे पर उतारा, लेकिन उसकी दिशा हवा के साथ होने के कारण विमान की गति अपेक्षित रूप से कम नहीं हुई। विमान तीन किलोमीटर रनवे पार कर दीवार तोड़ता हुआ 30 मीटर गहरी खाईं में जा गिरा। गिरने के बाद विमान दो टुकड़ों में बँट गया। हादसे में तीन यात्रियों की मौत हो गई। विमान के अलावा दोनों हादसों में मौसम की परिस्थितियां और रनवे की लंबाई लगभग एक समान थी। दोनों ही मामलों में रनवे के आगे खाईं थी। बहुत हद तक संभव है कि दोनों मामलों में दुर्घटना का कारण एक सा ही रहा हो।         


पीडितो की नहीं सुनती अंधी-बहरी सरकार

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आशा कार्यकर्ताओं की स्थिति को लेकर मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि वह अंधी-बहरी है इसलिए आशा बहिनों की बात नहीं सुनती।
गांधी ने ट्वीट किया, आशा कार्यकर्ता देशभर में घर-घर तक स्वास्थ्य सुरक्षा पहुँचती हैं। वो सही मायने में स्वास्थ्य वॉरियर्स हैं लेकिन आज ख़ुद अपने हक़ के लिए हड़ताल करने पर मजबूर हैं। सरकार गूँगी तो थी ही, अब शायद अंधी-बहरी भी हो गयी है। उन्होंने आशा कार्यकर्ताओं को कोरोना योद्धा बताते हुए कहा कि छह लाख आशा कार्यकर्ता सरकार की अनदेखी के कारण हड़ताल पर जाने को मजबूर है।           

चीन के खिलाफ खडे होने का विश्वास

बीजिंग। गलवान घाटी में 15 जून को हिंसक झड़प के बाद भारत ने भविष्य में किसी सीमा विवाद के दौरान चीन के खिलाफ अकेले खड़े होने का विश्वास दिखाया है। भले ही अमेरिका ने बीजिंग के खिलाफ 'क्वॉड अलायंस' बनाने का ऑफर दिया है, लेकिन भारत के अकेले तन जाने से ड्रैगन भी हैरान है। एक यूरोपीय थिंक टैंक ने यह बात कही है। पूर्वी लद्दाख में झड़प के बाद से भारत और चीन के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी है। इसके कुछ अच्छे परिणाम भी सामने आए हैं और दोनों देशों की सेनाएं कुछ विवादित जगहों से पीछे हटी हैं, लेकिन चीनी सैनिक देपसांग, गोरा,  फिंगर इलाकों में टिकी हुई हैं। 



यूरोपीय फाउंडेशन फॉर साउथ एशियन स्टडीज (EFSAS) ने एक समीक्षा में कहा, ''पैंगोंग त्सो में डिसइंगेजमेंट की शुरुआती प्रक्रिया में चाइनीज फिंगर 2 से फिंगर 5 इलाकों में पीछे हटे, लेकिन रिज लाइन पर तैनाती बनी रही। भारत जोर दे रहा है कि चीनी सैनिक फिंगर 5 से फिंगर 8 तक से हटें। भारत ने चीनी सैनिकों के पूरी तरह पीछे हटने तक अग्रिम इलाकों से हटने पर विचार से इनकार कर दिया है।''


थिंक टैंक ने कहा, ''2017 में डोकलाम की तरह, ड्रैगन की आक्रामकता के खिलाफ भारतीय राजनीतिक और सैन्य नेतृत्व की ओर से दिखाए गए दृढ़ता और संकल्प ने चीन को हैरान कर दिया है।'' भारतीय रक्षा मंत्रालय की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए EFSAS ने कहा कि जब तक सैन्य और कूटनीतिक स्तर पर बीतचीत के जरिए सहमति नहीं बन जाती, तनातनी लंबे समय तक रह सकती है। दूसरे शब्दों में, बेहद कठिन मौसम के बावजूद दोनों देश सर्दी में भी टिकने की तैयारी में हैं। EFSAS ने कहा कि भारत ने सियाचिन ग्लेशियर की तरह यहां बड़े पैमाने पर सैन्य सामान और रसद एकत्रित कर लिया है। भारत की ओर से तैयारी से पता चलता है कि भारत सीमा पर किसी गंभीर टकराव का मुकाबला करने के लिए काफी मजबूत है।             


सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में होगें धोनीः मांजरेकर

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज और अब मशहूर कमेंटेटर संजय मांजरेकर ने चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की सराहना करते हुए कहा है कि वह इस बार आईपीएल में अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में होंगे। धोनी पिछले साल इंग्लैंड में हुए आईसीसी विश्वकप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबले में भारत की हार के बाद से अब तक मैदान में नहीं उतरे हैं और आईपीएल से वह मैदान पर वापसी के लिए तैयार हैं। आईपीएल-13 का आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक संयुक्त राष्ट्र अमीरात (यूएई) में होना है। मांजरेकर ने स्टार स्पोटर्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड में कहा, “मुझे लगता है कि धोनी आईपीएल में अपनी सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में होंगे और उनके अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से ज्यादा आईपीएल में सफल होने का कारण यह है कि उन्हें पता है कि यहां चार-पांच गेंदबाजों से पार पाना है जिसमें से कुछ अच्छे होंगे और कुछ ज्यादा बेहतर नहीं होंगे।” उन्होंने कहा, “अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आपको पांच बेहतरीन गेंदबाजों का सामना करना पड़ता है और धोनी जानते हैं कि किस गेंदबाज को पीटना है और किसे सावधानी से खेलना है। सचिन तेंदुलकर और धोनी जैसे खिलाड़ी चैंपियन क्रिकेटर हैं। आप धोनी का जो रूप क्रिकेट मैदान पर देखते हैं वह आपको कभी सार्वजनिक मंच पर नहीं दिखाई देगा।” मांजरेकर ने कहा, “विराट कोहली की शादी में मुझे धोनी के साथ थोड़ा समय बिताने का मौका मिला था। उन्होंने मुझसे कहा था कि जब तक मैं टीम में शामिल सबसे तेज दौड़ने वाले खिलाड़ी को हराता हूं, मैं खुद को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेलने के लिए फिट समझता रहूंगा।” उन्होंने कहा, “एक बल्लेबाज के तौर पर आईपीएल में धोनी में मुझे कोई खास बदलाव नहीं दिखता। वास्तव में जो स्थिति है वो धोनी के लिए सही है, चाहे वो मानसिकता हो या तेजी से गेंद को मारना।”             


देश में 5,98,778 नमूनों की हुई जांच

नई दिल्ली। देश भर में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण का पता लगाने के लिए 5,98,778 नमूनों की जांच की गई है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की ओर से शनिवार जारी आंकड़ों के मुताबिक 07 अगस्त को देशभर में 5,98,778 नमूनों की जांच की गयी और इसके साथ ही अब तक जांच किये गये नमूनों की कुल संख्या 2,33,87,171 हो गयी है। इस बीच देश में कोरोना परीक्षण लैब की संख्या बढ़कर 1,396 हो गयी है। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 61,537 नये मामले सामने आने से अब तक संक्रमण के शिकार हुए व्यक्तियों की संख्या बढ़कर 20,88,611 हो गया है हालांकि सात अगस्त को 48,900 संक्रमितों के रोगमुक्त होने और 933 मरीजों की माैत से संक्रमण के सक्रिय मामलों में 11,704 की तेजी आयी है। देश भर में इस समय संक्रमण के 6,19,088 सक्रिय मामले हैं।         


विधायक के संपर्क में आने वाले को सलाह

रोहित गौतम, विकास कुमार


साहिबाबाद से BJP विधायक सुनील शर्मा को हुआ कोरोना, संपर्क में आए लोगों को दी टेस्ट कराने की सलाह


गाजियाबाद। दिल्ली से लगे गाजियाबाद में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। जिले में अब तक 5500 से अधिक लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। हालांकि, अब तक 4400 से अधिक मरीज बीमारी को मात देकर ठीक भी हो गए हैं। वहीं, अब साहिबाबाद विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक सुनील कुमार शर्मा के भी कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। विधायक के साथ उनकी पत्नी और बेटा भी पॉजिटिव पाए गए हैं। वह आज दोपहर वैशाली के नवीन अस्पताल या कौशाम्बी के यशोदा अस्पताल में भर्ती होंगे। विधायक ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना के शुरुआती लक्षण दिखने पर मैंने टेस्ट करवाया और रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मेरी तबीयत ठीक है, लेकिन डॉक्टर्स की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहा हूं। मेरा अनुरोध है कि आप में से जो भी लोग गत कुछ दिनों में मेरे संपर्क में आए हैं, कृपया स्वयं को आइसोलेट कर अपनी जांच करवाएं।             


मरीज से छेड़छाड़ डॉक्टर पर मुकदमा दर्ज

रोहित गौतम, विकास कुमार


अस्पताल मे मरीज से छेड़छाड़.डॉक्टर पर केस दर्ज


गाजियाबाद। सिहानी गेट क्षेत्र में मेरठ रोड स्थित विनायक अस्पताल में इलाज के दौरान डॉक्टर द्वारा महिला मरीज से अश्लीलता करने का मामला सामने आया है। आरोप है कि डॉ. बिजेंद्र ने मरीज से छेड़छाड़ की और मोबाइल देकर फोन पर बात करने को कहा। पुलिस ने डॉक्टर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। 
सिहानी गेट क्षेत्र में रहने वाले व्यक्ति का कहना है कि वह अपनी बहन का इलाज कराने के लिए मेरठ रोड स्थित विनायक अस्पताल में गए थे। वहां इलाज के दौरान डॉ. बिजेंद्र ने उसकी बहन द्यह्य अश्लील बातें शुरू कर दीं। आरोप है कि डॉ. बिजेंद्र उसकी बहन का हाथ पकड़कर छेड़छाड़ करने लगा। इतना ही नहीं, आरोपी डॉक्टर ने कहा कि वह उससे मोबाइल ले ले। इसके बाद वह उसे कॉल किया करेगा। डॉक्टर ने यह भी कहा कि वह जहां बुलाए, वहां पर आ जाना। पीड़ित का कहना है कि अस्पताल से उसकी बहन चुपचाप घर आ गई और दूसरी बहन को आपबीती बताई। मामले की जानकारी लगने पर परिवार के लोग अस्पताल पहुंचे तो आरोपी डॉक्टर वहां से फरार हो चुका था। पुलिस का कहना है कि विनायक अस्पताल के डॉ. बिजेंद्र के खिलाफ छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।               


4 लोगों सहित गिरी कार, ऑपरेशन जारी

रोहित गौतम, विकास कुमार


मसूरी गंग नहर हादसा


हापुड़। मसूरी नहर में देर रात एक कार नहर में जा गिरी जिसमें 4 लोग सवार बताए जा रहे हैं। सूचना मिलते ही रात 1:10 पर एनडीआरएफ की टीम घटनास्थल के लिए रवाना हो गई और 1:50 पर ऑपरेशन शुरू कर दिया गया। एनडीआरएफ की टीम को अभी गाड़ी मिली है लेकिन गाड़ी में कोई भी शव मिल पाया है, ऑपरेशन जारी।       


आबकारी विभाग ने चलाया विशेष अभियान

अतुल त्यागी


हापुड़। कोरोना महामारी में अवैध शराब को लेकर विशेष अभियान चला आबकारी विभाग द्वारा की जा रही है।कार्यवाही, जनपद के अलग अलग क्षेत्र से लगभग 20 लीटर कच्ची अवैध शराब बरामद कर मुकदमा किया गया दर्ज तथा एक मोटरसाइकिल पकड़ अभियुक्त को भेजा गया।जिलाधिकारी अदिति सिंह द्वारा दिये गये आदेशों के क्रम में जिला आबकारी अधिकारी महेंद्र नाथ सिंह के एवं सहायक आबकारी आयुक्त बी बी मानिक,मनीष गुप्ता के नेतृत्व में विशेष अभियान के अन्तर्गत जनपद में अवैध शराब का कारोबार करने वालों पर आबकारी विभाग की टीम द्वारा दबिश दी जा रही है। इसी क्रम में बीति शाम आबकारी निरीक्षक सीमा कुमारी,विकास चौधरी,अरुण कुमार व विवेक दूबे तथा समस्त स्टाफ द्वारा  क्षेत्र-1 हापुड में चमरी, कासमपुरा व भीमनगर व क्षेत्र-2 धौलाना में नरेना व पारपा में दबिश दी गई। दबिश के दौरान कोई अवैध शराब बरामद नहीं की गई तथा क्षेत्र-3 गढ में बलवापुर, चकलठीरा, शेरा किशना की मडैया, अबदुलापुर,नया गाँव इनायतपुर ,रेत वाली मडैया  आदि गाँवो में दबिश दी गई। दबिश के दौरान बलवापुर से प्रीति पत्नी कलवा  के घर से  लगभग 20 लीटर अवैध कच्ची शराब  बरामद कर अधिनियम की धारा में मुकदमा दर्ज कर  कार्यवाही की गई तथा इनायतपुर से चरन सिंह पुत्र जगगन को एक मोटर साईकिल पर एक पेटी क्रेज़ी रोमियो ब्रांड विदेशी शराब( छत्तीसगढ़ ब्रिक्री हेतु)  के साथ गिरफ्तार कर थाना गढमुकतेशवर में कार्यवाही कर जेल भेज दिया गया। यह जानकारी जिला आबकारी अधिकारी महेंद्र नाथ सिंह के द्वारा दी गई है। उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देशन में अवैध शराब के कारोबार पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से आगे भी इसी प्रकार निरंतर अभियान चला कार्यवाही जारी रहेगी।           


दुष्कर्म के आरोपियों के स्केच हुए वायरल

अतुल त्यागी
एडीजी पहुंचे हापुड़ दुष्कर्म मामलें में


बच्चीं के दुष्कर्म मामलें में आरोपियों के स्कैच वायरल


हापुड़। गढ़मुक्तेश्वर में 6 साल की मासूम बच्चीं से हुई दरिंदगी व हैवानियत करनें वालें आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने संदिग्धों का स्कैच वायरल कर संदिग्धों से पूछताछ कर रही है। बच्चीं की हालत से स्थिर बताई जा रही है। एडीजी ने हापुड़ पहुंचकर मामलें की समीक्षा की।
बृहस्पतिवार देर शाम गढ़मुक्तेश्वर के गांव में बाईकसवार बदमाशों ने6 वर्षीय बच्चीं का अपहरण कर दुष्कर्म किया।बच्चीं को शुक्रवार सुबह खेत में गंभीर हालत में अर्धनग्न हालत में बरामद कर मेरठ रैफर किया था। एसपी संजीव सुमन ने बताया मामलें में बच्चीं को बरामद कर लिया गया था। बच्चीं की हालत ठीक है।बच्चीं के आरोपी को पकड़नें के लिए आरोपियों के स्केच बनवाकर वायरल किया जा रहा है।बदमाशों को शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जायेगा।
उधर मामलें की गंभीरता को देखते हुए अपर पुलिस महानिदेशक राजीव सब्बरवाल अचानक एसपी आफिस पहुंचे और बंद कमरें में मामलें में एसपी से बात कर आवश्यक निर्देश दे रहे है।             


फर्जी रेलवे टिकट बेचने वाला 1 गिरफ्तार

अतुल त्यागी


फर्जी रेलवे टिकट बेचने वाला गिरफ्तार


हापुड़। पर्सनल आईडी बनाकर रेलवे टिकट बेचने वालें एक दुकानदार को रेलवे सुरक्षा बल ने गिरफ्तार किया है।
हापुड़ रेलवे सुरक्षा बल प्रभारी नरेंद्र कुमार ने बताया कि गुलावठी स्थित मनी शाप नामक दुकान पर दुकानदार आइआरसीटीसी की बेबसाइट से पर्सनल आईडी बनाकर अवैध तरीके से टिकट बनाकर बेच रहे था।
आरपीएफ ने छापामार गुलावठी निवासी मौ.तसलीम को गिरफ्तार कर नगदी, लेपटॉप व प्रिंटर बरामद किया।               


ट्रंप को दोबारा राष्ट्रपति देखना चाहती है जनता

वाशिंगटन डीसी/ बीजिंग/ मास्को। अमेरिका के एक खुफिया अधिकारी ने कहा कि देश में नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति पद के चुनाव से पहले रूस डेमोक्रैटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन को बदनाम करने की कोशिश कर रहा है और क्रेमलिन से जुड़े लोग राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को दोबारा चुनाव जीतते देखना चाहते हैं। अमेरिकी अधिकारी ने यह भी कहा कि चीन ट्रम्प को दोबारा राष्ट्रपति बनते देखना नहीं चाहता और वह अमेरिका में लोक नीति को आकार देने और चीन के हितों की विरोधी राजनीतिक हस्तियों पर दबाव बनाने के अपने प्रयास तेज कर रहा है।


रूस से मदद लेने का दावा खारिज
देश के खुफिया कार्यक्रम की रक्षा करने वाले ‘नैशनल काउंटरइंटेलिजेंस ऐंड सिक्यॉरिटी सेंटर’ (एनसीएससी) के प्रमुख विलियम इवानिना ने शुक्रवार को रूस के संबंध में यह बयान दिया। ऐसा माना जा रहा है कि ट्रम्प को दोबारा राष्ट्रपति चुने जाने के रूस के प्रयासों संबंधी अमेरिकी खुफिया समुदाय की यह सबसे स्पष्ट घोषणा है। ट्रम्प के लिए यह एक संवेदनशील विषय है और उन्होंने खुफिया एजेंसी के इस आकलन को खारिज किया है कि रूस ने 2016 के चुनाव में उनकी मदद की कोशिश की थी।


अलग हैं बाइडेन और पुतिन की नीतियां
देश के पूर्ववर्ती ओबामा प्रशासन में यूक्रेन समर्थित और रूस के नेता व्लादिमीर पुतिन के खिलाफ अमेरिका की नीतियों में उपराष्ट्रपति के रूप में बाइडेन की भूमिका के कारण रूस उनके विरुद्ध है। खुफिया अधिकारी के इस बयान के बारे में पूछे जाने पर ट्रम्प ने शुक्रवार शाम कहा, 'मुझे लगता है कि रूस राष्ट्रपति पद पर जिस आखिरी व्यक्ति को देखना चाहेगा, वह डोनाल्ड ट्रम्प होगा क्योंकि रूस के खिलाफ मुझसे ज्यादा किसी ने सख्ती नहीं बरती।' हालांकि वह इस बात पर सहमत होते प्रतीत हुए कि चीन उन्हें दोबारा राष्ट्रपति बनते नहीं देखना चाहता, 'यदि जो बाइडेन राष्ट्रपति होते, तो चीन हमारे देश को चलाता।'


चीन, रूस और ईरान की गतिविधियों से परेशान
इवानिना के बयान से पहले प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी और डेमोक्रेटिक पार्टी के अन्य सांसदों ने इस बात को लेकर आलोचना की थी कि खुफिया समुदाय अमेरिकी राजनीति में विदेशी हस्तक्षेप के खतरे संबंधी विशेष खुफिया जानकारी लोगों से छिपा रहा है। इवानिना ने कहा, 'हम मुख्य रूप से चीन, रूस और ईरान की ओर से जारी और संभावित गतिविधियों से चिंतित हैं।' उन्होंने कहा कि उनके प्रयासों के बावजूद, अधिकारियों को इस बात की संभावना नहीं लगती कि चुनाव परिणाम पर कोई भी देश खास फर्क डाल सकता है।             


विश्वविद्यालय में न्यूनतम वेतन -21,400

बरेली। महात्मा ज्योतिबा फुले (एमजेपी) रुहेलखंड विश्वविद्यालय से संबद्ध बरेली-मुरादाबाद मंडल के निजी महाविद्यालय अपनी फैकल्टी को न्यूनतम 21,400 रुपये मासिक वेतन देंगे। शैक्षिक सत्र 2020-21 से नया वेतनमान लागू हो होगा। हालांकि इस पर अभी तक शासन की मुहर नहीं लगी है। इसलिए रुविवि प्रशासन कार्यपरिषद के निर्णय के आधार पर कॉलेजों को पत्र जारी करेगा, कि वे नए वेतनमान के आधार पर शिक्षकों को भुगतान करें। रुविवि ने मार्च के आस-पास नया वेतनमान निर्धारित किया था। इसका प्रस्ताव शासन को भेजा गया था। अधिकारियों के मुताबिक शासन से इस पर कोई निर्णय नहीं हुआ है। चूंकि कार्यपरिषद से निर्णय हो चुका है। लिहाजा, कॉलेजों को निर्देशित किया जाएगा कि वे निर्धारित वेतन भुगतान करें। नए सत्र में जिन शिक्षकों का अनुमोदन होगा या जिनका रिन्यूवल होगा। उन्हें रुविवि द्वारा तय वेतन मिलेगा। कॉलेजों को वेतन भुगतान की मासिक रिपोर्ट रुविवि की वेबसाइट पर दिए लिंक पर अपडेट करनी होगी।


नया वेतन मिल पाएगा, प्रश्न बना
बरेली-मुरादाबाद मंडल में 490 के आस-पास निजी महाविद्यालय हैं। इसमें कई कॉलेजों ने कोरोना काल में अपने शिक्षकों का वेतन रोक रखा है तो कई आधार भुगतान कर रहे हैं। पांच महीनों से यह क्रम बना है। मगर रुविवि प्रशासन या क्षेत्रीय उच्च शिक्षा विभाग निजी शिक्षकों का वेतन नहीं दिला सका। इस स्थिति में नया वेतनमान शिक्षकों को मिल पाएगा। प्रोफेसर इस पर प्रश्न उठा रहे हैं। एक निजी महाविद्यालय के प्राचार्य बताते हैं कि कॉलेज वाले रुविवि द्वारा तय वेतन नहीं देंगे। यह तभी संभव होगा जब रुविवि के माध्यम से वेतन भुगतान किया जाए।“नए वेतनमान के संबंध में अभी तक शासन से कोई निर्णय नहीं हुआ है। हालांकि नए सत्र से निजी महाविद्यालय शिक्षकों को रुविवि द्वारा निर्धारित वेतन देंगे। इस संबंध में उन्हें पत्र जारी किया जाएगा।”


सुनीता पांडेय


अधिकारी अपने काम को मिशन के रूप में लें

नई दिल्ली। उपराष्ट्रपति  एम. वेंकैया नायडू ने आज भारतीय प्रशासनिक सेवा के युवा प्रशिक्षु अधिकारियों से कहा कि वे अपने कार्य को गरीब-अमीर, स्त्री पुरुष, शहर गावों के बीच अंतर को मिटाने के मिशन के रूप में लें और नए भारत के लिए परिवर्तन के कारक के रूप में कार्य करें।



आज लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी के 2018 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के युवा प्रशिक्षुओं को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि हाशिए पर खड़े वर्गों का सामाजिक आर्थिक उत्थान अधिकारियों का मूल उद्देश्य होना चाहिए। सरदार पटेल के स्वप्न को याद दिलाते हुए उपराष्ट्रपति ने कहा कि सरदार पटेल ने एक ऐसी सिविल सेवा की अपेक्षा की थी जो गरीबी और भेदभाव से लड़ कर एक नए भारत के उत्थान के लिए काम करे। इस संदर्भ में उपराष्ट्रपति ने प्रशिक्षु अधिकारियों से कहा कि वे अपने काम में सत्य निष्ठ, अनुशासित, कर्मठ, जवाबदेह, पारदर्शी बनें और सादगी का जीवन व्यतीत करें। पूर्व प्रधानमंत्री  लाल बहादुर शास्त्री को याद करते हुए उन्होंने कहा कि वे एक महान नेता थे, सत्यनिष्ठा, ईमानदारी, कर्मठता, करुणा, राष्ट्र भाव और साहस जैसे गुण उनके चरित्र में रचे बसे थे। उपराष्ट्रपति ने प्रशिक्षुओं से कहा कि वे निरन्तर नया सीखते रहें, विचार करें और नए प्रयोग करें। उन्होंने कहा कि सुशासन ही आज के समय की मांग है। उन्होंने कहा कि प्रशासन तंत्र छोटा किन्तु सक्षम और दक्ष होना चाहिए जो पारदर्शी हो और लोगों की अपेक्षाओं को पूरा कर सके। एक ऐसा तन्त्र जो सुविधा और सेवाओं को तत्परता से उपलब्ध करा सके तथा उन्नति के अवसर और स्थितियां पैदा करे। उपराष्ट्रपति ने कहा यद्यपि विधायिका कानून और नीतियां बनाती है फिर भी उनको जमीन पर कैसे लागू किया जाता है ये अधिक महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा जो सरकार तत्परता और दक्षता से सेवा और सुविधा सुनिश्चित कर सकती है वोही लोगों द्वारा याद की जाती है। श्री नायडू ने कहा कि यह जिम्मेदारी प्रशासकों की है कि लोगों को उनके अधिकार और उनके लिए अधिकृत सुविधाएं बिना किसी देरी के जल्द से जल्द उपलब्ध कराई जाएं। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल को मिल कर दल के रूप में काम करने पर विश्वास था। उपराष्ट्रपति ने प्रशिक्षु अधिकारियों से अपेक्षा की कि वे भी अपने सहयोगियों और मातहत काम करने वाले कर्मचारियों के साथ एक टीम बनाएं और जन सेवा के कार्य दक्षता से करें। श्री नायडू ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का दिया मंत्र “परफॉर्म, रिफॉर्म, ट्रांसफॉर्म” युवा अधिकारियों को नए प्रयोग करने की प्रेरणा देगा और वे बेहतर से बेहतर अधिकारी के रूप में प्रगति करते जायेंगे। उन्होंने कहा कि भारत तेजी से हो रहे परिवर्तनों के दौर में है, महामारी के बावजूद विकास और आत्म निर्भरता के ऐसे अनेक नए अवसर हैं जो हमारे विकास की प्रक्रिया को किसी भी आपदा से निरापद रख सकते हैं। उन्होंने प्रशिक्षुओं से आग्रह किया कि वे आगे बढ़ कर बदलते हुए नए भारत का नेतृत्व करें। नया भारत समावेशी है, उसमें जीवन की गुणवत्ता है, लोकतान्त्रिक मर्यादाओं को सुदृढ किया जा रहा है, जन कल्याण के संस्थानों को सशक्त बनाया जा रहा है। युवा अधिकारियों को महात्मा गांधी का बताया मंत्र देते हुए, उपराष्ट्रपति ने कहा कि वे सत्य, न्याय, समावेश, जन कल्याण और पर्यावरण संरक्षण के प्रति अपनी निष्ठा के आधार पर ही सही और निस्पृह भाव से निर्णय ले सकेंगे। भाषा की चर्चा करते हुए, उपराष्ट्रपति ने कहा कि प्रशासन की भाषा स्थानीय लोगों की आम भाषा होनी चाहिए। उन्होंने इस बात की सराहना की कि अधिकारी अपने प्रशिक्षण के दौरान स्थानीय भाषा सीखते हैं। इस अवसर पर उपराष्ट्रपति ने लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी द्वारा प्रकाशित, प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के “मन की बात” कार्यक्रम के संकलन, “सिक्सटी फाइव कन्वर्सेशन” का लोकार्पण भी किया। एकेडमी के निदेशक  संजीव चोपड़ा तथा फैकल्टी के अन्य सदस्य  इस वर्चुअल समापन समारोह के अवसर पर उपस्थित रहे।



            



पुलिस ने किया माड्यूल का भंडाफोड

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है, उसने आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) मॉड्यूल का भंडाफोड़ कर उसके पांच सहयोगियों को गिरफ्तार किया है। जम्मू क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक मुकेश सिंह ने यहां संवाददाताओं को बताया कि 19 जुलाई को सेना के साथ जम्मू के विशेष अभियान समूह (एसओजी) की एक टीम ने चंडीगढ़ के खरार के बीएससी नर्सिंग छात्र और डोडा में साजन के एक मुबाशिर फारूक बट्ट को डेढ़ लाख रुपये की भारतीय मुद्रा के साथ पकड़ा था। उन्होंने यह पैसे एक टिफिन में छुपा कर रखे थे जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की गयी।  सिंह ने बताया कि जांच के दौरान एसओजी ने इस मामले में एलईटी मॉड्यूल के पांच और संदिग्धों के बारे में पता लगाकर उन्हें गिरफ्तार किया। प्राथमिक जांच में सभी छह आरोपियों ने लश्कर-ए-तैयबा आतंकवादी संगठन से संबंध होने की बात स्वीकार ली है। इन सभी से पूछताछ की जा रही है।               


जिंदा कारतूस के साथ 1अभियुक्त गिरफ्तार

जिंदा कारतूस के साथ एक अभियुक्त गिरफ्तार
बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रयागराज द्वारा अपराध नियंत्रण एवं लाकडाऊन के नियमों के अनुपालन के दृष्टिगत व अपराधियो पर अंकुश लगाने के क्रम में पुलिस अधीक्षक यमनुापार व क्षेत्राधिकारी  करछना के पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक नैनी राजकिशोर के नेतृत्व में उ.नि. विमलेश कुमार त्रिपाठी द्वारा अपने क्षेत्र में देख भाल क्षेत्र तलाश वांछित वारंटी चेकिंग संदिग्ध/वाहन से मामा भांजा क्षेत्र के चक गरीबदास रेलवे क्रोसिंग से कुछ दूरी पर मुखबिर द्वारा खास सूचना पाकर मौके पर दबिश देते हुए। अभियुक्त जितेंद्र सिंह पटेल उर्फ पागल सिंह (27) पुत्र पारस नाथ पटेल निवासी चक मुंडी कोतवाली नैनी को करीब 11.05 बजे गिरफ्तार किया गया। जिसके पास एक देशी तमंचा और कारतूस की बरामदगी की। जिसके सम्बन्ध में धारा 3/25 A एक्ट के तहत मामला पंजीकृत कर आवश्यक कार्यवाही की जा रही है।


16 जिलों में वायरस से मृत्यु दर अधिक

नई दिल्ली। चार राज्यों के 16 जिलों में कोविड-19 से मृत्युदर राष्ट्रीय औसत और संबंधित राज्य के औसत से अधिक है। लिहाजा केंद्र सरकार ने शुक्रवार को सलाह दी कि प्रति दस लाख की आबादी पर टेस्ट बढ़ाए जाएं, मामलों की पॉजिटिविटी में कमी लाई जाए और एंबुलेंस की संख्या इतनी बढ़ाई जाए कि किसी को मना नहीं किया जा सके। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इन जिलों में कोविड-19 से मृत्युदर राष्ट्रीय और प्रदेशों के औसत से अधिक होना चिंता का विषय है। ये जिले हैं- गुजरात के अहमदाबाद और सूरत। कर्नाटक के बेलगावी, बेंगलुरु शहरी, कलबुर्गी और उडुपी। तमिलनाडु के चेन्नई, कांचीपुरम, रानीपेट, थेनि, थिरुवल्लूर, तिरुचिरापल्ली, तूतीकोरिन और विरुधनगर। तेलंगाना में हैदराबाद और मेदचल-मल्कजगिरी। मंत्रालय का कहना है कि उच्च मृत्युदर के अलावा इन जिलों में देश के कुल सक्रिय मामलों के 17 फीसद मामले हैं, दैनिक नए मामले अधिक हैं, प्रति दस लाख पर टेस्ट कम हैं और पॉजिटिविटी प्रतिशत भी अधिक है। केंद्र ने राज्य से रेहड़ी-पटरी वाले दुकानदारों की जांच के लिए कहा। कोरोना वायरस महामारी के तेजी से फैलने के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से रेहड़ी-पटरी वालों, दुकानदारों और अन्य वेंडरों की जांच करने के लिए कहा है। मंत्रालय ने कहा है कि यदि उनकी जांच नहीं की गई, तो बड़ी संख्या में लोगों के संक्रमित होने का खतरा बना रहेगा।राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लिखे पत्र में स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने एंबुलेंसों को ऑक्सीजन की सुविधा से लैस करने और इसे तत्काल उपलब्ध कराने पर बल दिया है। उन्होंने एंबुलेंस से इन्कार करने की निगरानी करने और मांग पर इसे मुहैया कराने की जरूरत भी बताई है।


छोटे शहरों में संक्रमण ज्यादा
देश में महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल और गुजरात में ज्यादा सक्रिय केस बड़े शहरों से आ रहे हैं जबकि उप्र, बिहार, ओडिशा और आंध्र प्रदेश के बड़े शहरों में सक्रिय मामलों की हिस्सेदारी महज 16-28 फीसद के बीच है। चिंता की बात यही है कि इन इलाकों में स्वास्थ्य सुविधाओं की सघनता बहुत कम हैं। लिहाजा यह प्रवृत्ति ज्यादा घातक है।           


ओवैसी को रिजवी का तल्ख जवाब मिला

नई दिल्ली। शिया वक़्फ़ बोर्ड के चेयरमैन सैयद वसीम रिज़वी ने असदुद्दीन ओवैसी को उसी की भाषा में जवाब दिया है।
दरअसल, राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन में पीएम मोदी के शामिल होने पर एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी असादुद्दीन ओवैसी ने हमला बोला था जिसके जवाब में रिजवी वजीम रिजवी जजसे कहा कि अगर ओवैसी को कोई परेशानी है तो वो पाकिस्तान चले जाएं लेकिन यहां के मुसलमानों को शांति से रहने दें।


वजीम रिजवी का जवाब
वसीम रिजवी ने असदुद्दीन ओवैसी, वसिम रिजवी, असादुद्दीन ओवैसी को कहा है कि ‘मंदिरों को तोड़ने वाले तुम्हारे पूर्वज थे।’ रिजवी ने आगे कहा कि ‘जिनका हक तुमने छीना था, भारतीय संविधान ने उन्हें उनका हक दिला दिया।’ रिजवी ने ओवैसी को हिंदू-मुसलमान के खून बहाने की राजनीति बंद करने की सलाह दी और कहा कि जिहाद के नाम पर मुसलमानों को लड़वाएं नहीं।


वीडियो जारी कर दिया जवाब
हिंदी में एक वीडियो संदेश जारी करते हुए, शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष ने एआईएमआईएम प्रमुख को अयोध्या में राम मंदिर के मुद्दे पर सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के सामने मौन रहने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि हम सब भारतीय संविधान के नियमों से बंधे हैं और उसी सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर निर्माण के लिए सही मार्ग प्रशस्त किया है।


असादुद्दीन ओवैसी ने साधा था निशाना
अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास को लेकर एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था। ओवैसी ने कहा था कि नरेंद्र मोदी को भूमि पूजन में नहीं जाना चाहिए था। वो किसी खास मजहब के पीएम नहीं हैं। एआइएमआइएम चीफ ने कहा कि पीएम ने 15 अगस्त को आज 5 अगस्त से मिला दिया। मैं पूछना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री ने आज किसे शिकस्त दी है? ये स्वतंत्रता सेनानियों की तौहीन की गई है।


मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर भी निशाना
शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर भी निशाना साधा और कहा कि बोर्ड इस बात के इंतजार में है कि ‘हिंदुस्तान में एक बार फिर वोबाबरी फौज बनाएगा हिंदुस्तान में गृह युद्ध करवाकर हिंदुस्तान के संचालक पर एक बार फिर कब्जा करेगा। उन्होंने कहा कि दिल बहलाने के लिए मु्स्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का ख्याल अच्छा है। लेकिन मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने यह कैसे सोच लिया कि हिंदुस्तानी मुसलमान इनके मंसूबों में इनका साथ देगा। मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने भी भूमिपूजन से पहले कहा था कि बाबरी मस्जिद कल भी थी, आज भी है और कल भी रहेगी। हागिया सोफिया इसका बेहतरीन उदाहरण है। मस्जिद में मूर्तियां रख देने, पूजा-पाठ शुरू कर देने या एक लंबे अर्से तक नमाज पर पाबंदी लगा देने से मस्जिद की हैसियत खत्म नहीं हो जाती।           


सऊदी ने पाक के लिए प्रावधान रोका

इस्लामाबाद/ रियाद। सऊदी अरब ने इमरान खान सरकार द्वारा कश्मीर मुद्दे पर इस्लामिक देशों के संगठन (ओआईसी) को विभाजित करने की धमकी देने के बाद पाकिस्तान के लिए ऋण पर तेल के प्रावधान को रोक दिया है। अक्टूबर 2018 में सऊदी अरब ने पाकिस्तान को तीन साल के लिए 6.2 अरब डॉलर का वित्तीय पैकेज देने का ऐलान किया था। इसमें तीन अरब डॉलर की नकद सहायता शामिल थी, जबकि बाकी के पैसों के एवज में पाकिस्तान को तेल और गैस की सप्लाई की जानी थी। एक गंभीर आर्थिक संकट से घिरे पाकिस्तान ने सऊदी अरब से ऋण लिया था। पाकिस्तान के हालिया बर्ताव के कारण सऊदी ने अपने वित्तीय समर्थन को वापस ले लिया है। पाकिस्तानी मीडिया ने शनिवार को कहा कि इस्लामाबाद के लिए प्रावधान दो महीने पहले समाप्त हो गया है और इसे रियाद द्वारा नवीनीकृत नहीं किया गया है।


द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने पेट्रोलियम डिवीजन के प्रवक्ता साजिद काजी के हवाले से कहा कि इस्लामाबाद ने समय से चार महीने पहले ही एक अरब डॉलर का सऊदी का ऋण लौटा दिया है। हाल ही में पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक समाचार चैनल पर एक टॉक शो के दौरान धमकी दी थी कि अगर सऊदी अरब के नेतृत्व वाले ओआईसी ने कश्मीर मुद्दे पर मुस्लिम देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक नहीं बुलाई, तो प्रधानमंत्री इमरान खान अपने सहयोगी इस्लामी देशों के बीच बैठक करेंगे, जो इस मुद्दे पर पाकिस्तान का साथ दे सकें। पाकिस्तानी न्यूज चैनल एआरवाई को दिए साक्षात्कार में कुरैशी ने कहा, मैं एक बार फिर से पूरे सम्मान के साथ ओआईसी से कहना चाहता हूं कि विदेश मंत्रियों की परिषद की बैठक हमारी अपेक्षा है। यदि आप इसे बुला नहीं सकते हैं तो मैं प्रधानमंत्री इमरान खान से यह कहने के लिए बाध्य हो जाऊंगा कि वह ऐसे इस्लामिक देशों की बैठक बुलाएं जो कश्मीर के मुद्दे पर हमारे साथ खड़े होने के लिए तैयार हैं। विश्व में इस्लामी देशों के सबसे बड़े संगठन ओआईसी से पाकिस्तान कई बार गुजारिश कर चुका है कि वह कश्मीर मुद्दे पर एक बैठक आयोजित करे, मगर संगठन ने हर बार उसकी अपील को दरकिनार किया है। यही वजह है कि पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। दरअसल ओआईसी में किसी भी कदम के लिए सऊदी अरब का साथ सबसे ज्यादा जरूरी होता है। ओआईसी पर सऊदी अरब और उसके सहयोगी देशों का दबदबा है। कश्मीर पर सऊदी अरब के कदम नहीं उठाने से पाकिस्तान की कुंठा बढ़ती ही जा रही है। पिछले साल अगस्त में भारत ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 को निरस्त कर दिया था, जिसके बाद जम्मू-कश्मीर दो हिस्सों लद्दाख व जम्मू-कश्मीर में केंद्र शासित प्रदेश के तौर पर बांट दिया गया। पाकिस्तान भारत के इस कदम का विरोध कर रहा है और इमरान खान सरकार इस मुद्दे पर 57 सदस्यीय ओआईसी का समर्थन मांग रही है।         


225 रुपए की पड़ेगी 'कोरोना वैक्सीन'

पुणे। दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट,पुणे ने भारत और निम्न-मध्यम आय वाले देशों की खातिर प्रस्तावित कोरोना वायरस (कोविड-19) वैक्सीन के लिए प्रति खुराक 225 रुपये का अधिकतम मूल्य निर्धारित किया है। बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ग्लोबल अलायंस फॉर वैक्सीन एंड इम्यूनाइजेशन (गावी) को 15 करोड़ डॉलर का एक जोखिम वित्त पोषण प्रदान करेगा। इसका उपयोग ब्रिटेन के फर्म क्रेजेनके और अमेरिकी बायोटेक कंपनी नोवावैक्स की संभावित वैक्सीन के निर्माण में मदद के लिए किया जाएगा।


गौरतलब है कि कोविड-19 टीकों के विकास में तेजी लाने और उनकी त्वरित तथा न्याय संगत पहुंच सुनिश्चित करने के लिए गावी, कोअलिशन फॉर एपिडेमिक प्रीपेअर्डनेस इनोवेशन (सीईपीआई) एवं विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के सह नेतृत्व में गठित कोवैक्स गठबंधन के तहत आने वाले 92 देशों में ही वैक्सीन वितरण के लिए उक्त अधिकतम मूल्य निर्धारित किया गया है। कंपनी ने शुक्रवार को गावी और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के साथ इन देशों के लिए 10 करोड़ खुराक तक के निर्माण और वितरण में तेजी लाने के लिए एक साझेदारी की। इसके अलावा सीरम इंस्टीट्यूट के साथ हुए समझौते के मुताबिक भारत को एस्ट्रा जेनेका से एक अरब खुराक का 50 फीसदी तक और नोवामैक्स से एक बिलियन खुराक का एक हिस्सा प्राप्त होने की उम्मीद है सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने एक बयान में कहा कि साझेदारी के माध्यम से कंपनी भारत और अन्य निम्न-मध्यम-आय वाले देशों के लिए के लिए समझौते के हिस्से के रूप में वर्ष 2021 की पहली छमाही में 10 करोड़ खुराक के निर्माण और वितरण में तेजी लाएगी।       

उत्पादन के मामले में पहले नंबर पर शामली

भानु प्रताप उपाध्याय


शामली। किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी सवित मलिक ने कहा बड़े हर्ष की बात है। पूरे उत्तर प्रदेश में शामली जनपद गन्ना उत्पादन में प्रथम स्थान पर है और गन्ना मंत्री के क्षेत्र का मिल थाना भवन पेमेंट के मामले में सबसे पीछे जिला भी गन्ना भुगतान के मामले में बहुत पीछे हैं क्या कारण है। प्रदेश सरकार के मुखिया माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने वादा किया था कि हम 14 दिन में गन्ने का भुगतान करेंगे भारत के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेंद्र मोदी जी ने भी गन्ना भुगतान को लेकर चुनाव में वादे किए थे की भुगतान टाइम पर होगा शामली जनपद से ही गन्ना मंत्री हैं फिर भी शामली पेमेंट के मामले में बहुत पीछे हैं। तमाम बार कोर्ट से भी जल्द भुगतान करने के और ब्याज के साथ भुगतान करने के आदेश हैं लेकिन फिर भी मिल मालिक समय पर भुगतान नहीं कर रहे हैं। क्या सरकार के बस में मिल मालिक नहीं है। क्या सरकार के दबाव में मिल मालिक नहीं रहे अब मिल मालिक सरकार और कोर्ट से बड़े हो गए हैं या इसके पीछे कुछ और मुद्दा है। मिले किसानों का भुगतान दबाकर सरकार को चंदा देती है। क्या इसका यह भी कारण हो सकता है इसके लिए किसान भाइयों को समझना होगा और एकजुट होकर सरकार और मिल मालिकों के खिलाफ लड़ाई लड़नी होगी हम अपना गन्ना सरकार को भेजते हैं हम गन्ना किस मूल को देंगे कितना देंगे यह सब सरकार तय करती है गन्ने का भाव भी सरकार तय करती है तो भुगतान का दायित्व भी सरकार का बनता है हम प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी और प्रदेश के गन्ना मंत्री माननीय श्री सुरेश राणा जी से निवेदन करते हैं कि गन्ना किसानों की पीड़ा को समझते हुए जल्द से जल्द भुगतान कराने की कृपया करें किसान दुखी परेशान और लाचार है। इस लोक डाउन में किसान के हाथ में पैसा नहीं आ रहा है तमाम उर्वरक डीजल और बिजली के दाम बढ़ गए हैं लेकिन किसान की फसल का नाम जोकर तो है और फिर भी समय पर भुगतान नहीं हो पा रहा है ऐसी स्थिति में किसान क्या करें तमाम किसान आत्महत्या करने को मजबूर हुए हैं। सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था लेकिन खर्चे दोगने कर दिए हैं तो हम सरकार को चेताया चाहते हैं कि वह अपने यादें यादें याद करें और किसान की मदद करें अगर किसान सड़कों पर उतर गया तो सरकार को संभालना मुश्किल हो जाएगा तो हमारा निवेदन है कि जल्द से जल्द गन्ने का भुगतान कराया जाए एक बहुत बड़ी समस्या किसान के सामने आवारा गोवंश की है आवारा गोवंश खड़ी फसलों को नष्ट कर रहे हैं जब किसान की फसल ही नष्ट हो जाएगी तो वह खुद को और देश को क्या खिला पाएगा सरकार से हमारी विनती है कि आपने जो गौशालाओं का निर्माण कराया था आवारा गोवंश को उसमें रखा जाए और किसान को इससे छुटकारा दिलाया जाए।           


पैर में गोली लगने से बदमाश हुआ घायल

नोएडा। ग्रेटर नोएडा में पुलिस का ऑपरेशन क्लीन लगातार जारी है। पुलिस लगातार बदमाशों पर कहर बनकर टूट रही है। बीटा 2 थाना पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गयी। पिछले 24 घंटे में पुलिस की बदमाशों से हुई ये चौथी मुठभेड़ है। मुठभेड़ के दौरान 25 हज़ार के ईनामी बदमाश के पैर में गोली लग गई और वो घायल हो गया। घााायलल अवस्था मे वसीम नाम बदमाश के बदमाश को उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया।बदमाश के कब्जे से लूटे हुए दो मोबाइल, तमंचा बाइक बरामद की गई है। यह लूट के मामले में वांछित चल रहा था। इसी मामले में इसपर 25 हज़ार का इनाम घोषित किया गया था।


पुलिस की गिरफ्त में लड़खड़ा कर चल रहा यह बदमाश 25 हज़ार का इनामी बदमाश है इसका नाम वसीम है और यह दादरी का रहने वाला है यह लूट के मामले में काफी लंबे समय से फरार चल रहा था । पुलिस के अनुसार आज शाम को थाना बीटा-2 पुलिस द्वारा चैकिंग के दौरान एक शातिर किस्म का अपराधी वसीम पुलिस मुठभेड में (डाढा गोलचक्कर के पास से) घायल व गिरफ्तार किया गया है।, जिसके कब्जे से दो मोबाईल फोन लूट के व एक तमंचा 315 बोर मय 01 खोखा करतूस व एक जिन्दा कारतूस मय एक मो0सा0 डीलक्स चोरी की, के साथ गिरफ्तार किया गया है।चेकिंग के लिए रोकने पर इसने पुलिस पर फायरिंग कर दी पुलिस की जबाबी फायरिंग में ये पैर में गोली लगने से घायल हो गया।फिलहाल इसको जिला अस्पताल भेजा गया है।
वसीम शातिर किस्म का अपराधी है जो कि चोरी एंव लूट की घटनाओ को अवैध असलाह के बल पर अंजाम देकर अवैध धन अर्जित करता है। इस पर आधा दर्जन से ज़्यादा लूट के मामले दर्ज है।           


भारत-चीन के प्रतिनिधियों की बातचीत

नई दिल्ली। भारत और चीन के सैन्य प्रतिनिधियों के बीच गलवान क्षेत्र के उत्तर में देपसांग के मैदानी इलाकों से सैनिकों को हटाने के संबंध में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास शनिवार सुबह वार्ता शुरू हुई। सूत्रों ने यह जानकारी दी। सूत्रों ने कहा कि भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच मेजर जनरल-स्तरीय वार्ता, दौलत बेग ओल्डी में देपसांग के मैदानों से सैनिकों और मैटेरियल को हटाने को लेकर हो रही है। 3 माउंटेन डिवीजन के जनरल ऑफिसर कमांडिंग मेजर जनरल अभिजीत बापट भारतीय पक्ष से वार्ता की अगुवाई कर रहे हैं। बैठक का मुख्य एजेंडा देपसांग के मैदानी इलाकों की स्थिति से निपटना है, जिसमें देपसांग के अपोजिट लगभग 15,000 चीनी सैनिकों का बड़ा जमावड़ा है।


बैठक में 16,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित 900 वर्ग किलोमीटर के मैदानों से सैनिकों को वापस बुलाने और वहां से हटाने की प्रणाली पर काम करने के बारे में चर्चा होगी। भारतीय सेना की देपसांग के मौदानों में अच्छी पैठ है जबकि पीपल्स लिबरेशन आर्मी अपने पूर्वी छोर पर है। चीनी सैनिक दौलत बेग ओल्डी के रणनीतिक एयरफील्ड से से 25 किलोमीटर दूर ‘बॉटलनेक’ नाम के क्षेत्र पर फोकस कर रहे हैं।दोनों तरफ के सैनिक ‘ग्रे जोन’ क्षेत्रों में एक-दूसरे को गश्त के अधिकारों से वंचित कर रहे हैं, जहां वास्तविक नियंत्रण रेखा की धारणा कई किलोमीटर तक बदलती है। शनिवार की बैठक लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की बैठकों का परिणाम है, जिनमें से पांच बैठकों का आयोजन 6 जून से किया गया है।          


यूपीः 55 घंटे तक जारी रहेगा लॉकडाउन

लखनऊ। कोरोनावायरस का कहर इन दिनों उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रहा है। जानवर, पक्षी और इंसानों में भी कोरोना फैल रहा है। पिछले 20 दिनों में कोरोना के मामलों में तेजी से वृद्धि हुई है। राज्य की योगी सरकार ने संक्रमण को रोकने के लिए 31 अगस्त तक पूरे प्रदेश में वीकेंड लाकडाउन (उत्तर प्रदेश वीकेंड लॉकडाउन) लागू किया है। हालांकि इसमें जनता को कुछ प्रमुख और के साथ छूट भी दी गई है। वीकेंड लॉकडाउन 55 घंटे (55 घंटे वीकेंड लॉकडाउन) का होगा जो शुक्रवार रात दस बजे से शुरू होकर सोमवार सुबह पांच बजे तक जारी रहेगा।             


अविनाश श्रीवास्तव


मेघालय में संक्रमितो की संख्या-1000

शिलांग। मेघालय में 13 और लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि होने के साथ ही राज्य में शुक्रवार को संक्रमितों की कुल संख्या 1,000 के पार पहुंच गई। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि नए मामलों की पुष्टि के बाद राज्य में संक्रमण के मामलों का आंकड़ा 1,003 हो गया है। स्वास्थ्य सेवा निदेशक अमन वार ने कहा कि 13 नए मरीजों में से आठ मरीज पूर्वी खासी हिल्स जिले, दो रि-भोई और एक-एक पश्चिमी गारो हिल्स, पश्चिमी खासी हिल्स और पूर्वी जयंतिया जिले के हैं। पूर्वी खासी हिल्स जिले में संक्रमित पाए गए आठ मरीजों में सशस्त्र बलों के पांच जवान शामिल हैं जबकि रि-भोई जिले में बीएसएफ के दो जवान संक्रमित पाए गए हैं। राज्य में फिलहाल 587 मरीज उपचाराधीन हैं। राज्य के पूर्वी खासी हिल्स जिले में 443 मरीज उपचाराधीन हैं जिनमें विभिन्न सशस्त्र बलों के 209 जवान शामिल हैं। पिछले 24 घंटों में 66 मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई और अब तक कोविड-19 के 411 मरीज ठीक हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि अब तक कोविड-19 से पांच मरीजों की मौत हो चुकी है।           


जेडसी ने 5 मैचों की टी-20 सीरीज रद्द की

हरारे। जिम्बाब्वे क्रिकेट (जेडसी) ने आधिकारिक तौर पर कोविड-19 के कारण अफगानिस्तान के साथ घर में होने वाली पांच मैचों की टी-20 सीरीज रद्द कर दी है। यह फैसला देश में अचानक से बड़े कोविड-19 मामलों के कारण किया गया है जिसकी रोकथाम के लिए सख्त सरकारी नियमों की जरूरत है। बोर्ड ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल के माध्यम से बताया, “जिम्बाब्वे क्रिकेट ने अफगानिस्तान के साथ होने वाली पांच मैचों की टी-20 सीरीज को रद्द कर दिया है। यह फैसला सरकार के उस फैसले बाद लिया गया है जिसमें उसने कहा कि कोविड-19 के मामलों के कारण देश किसी भी मेहमान टीम की मेजबानी करने को तैयार नहीं है।” भारत को भी अगस्त में जिम्बाब्वे साथ तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलनी थी लेकिन यह सीरीज भी कोविड-19 की भेंट चढ़ गई। क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने भी अगस्त में जिम्बाब्वे के साथ होने वाली तीन मैचों की वनडे सीरीज रद्द कर दी है। यह सीरीज आस्ट्रेलिया में खेली जानी थी।             


        



हिमाचल में संक्रमितों की संख्या-3200

शिमला। हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा 3200 से पार हो गया है। जिला चंबा में कोरोना के एक साथ 43 मामले सामने आए हैं। 40 कोरोना संक्रमित चंबा के मोहल्‍ला धड़ोग से ही हैं। इसके अलावा एक मंगला, एक पुखरी व एक किलाड़ से है। शनिवार को जिला हमीरपुर में कोरोना संक्रमण के आठ नए मामले सामने आए हैं। प्रदेश में शनिवार को शाम तक कोरोना संक्रमण के 62 मामले सामने आए हैं, इनमें चंबा के 43 केस के अलावा चार कुल्‍लू व एक शिमला से सामने आया है। छह मामले सिरमौर जिला में सामने आए हैं। इसके अलावा 54 लोग कोरोना संक्रमण से स्‍वस्‍थ हुए हैं।             


कार की टक्कर से हुई महिला की मौत

चित्रकूट। नेशनल हाईवे पर शनिवार सुबह बेकाबू कार की टक्कर से बाइक सवार 3 ग्रामीण गंभीर रूप से घायल हो गए। बाइक सवार एक महिला की घटनास्थल पर कुछ देर बाद ही मौत हो गई। दुर्घटना के बाद कार समेत चालक भाग निकला। मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने दोनों घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने नेशनल हाईवे पर शव रखकर जाम लगा दिया।


शनिवार सुबह प्रयागराज की ओर से चित्रकूट आ रही कार की टक्कर कोठीलीहाई गांव के पास बाइक से हो गई। बाइक सवार एक महिला व दो पुरुष गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों में महिला की मौके पर ही मौत हो गई जबकि अन्य दो को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायल व मृतक आपस में रिश्ते में भाई बहन लगते हैं। मृतका को कोठीलीहाई गांव की निवासी थी। इस घटना के बाद ग्रामीणों ने हाईवे पर जाम लगा दिया। जाम लगने की जानकारी पर कोतवाल समेत भारी पुलिस बल व तहसीलदार मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों ने सड़क पर ब्रेकर बनवाने और कार चालक को गिरफ्तार कर जेल भेजने की मांग की। लगभग 1 घंटे तक जाम लगा रहा। पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन देकर ग्रामीणों को शांत कराया।             


यूपी में एक्टिव मरीजों की संख्या-44563



लखनऊ। यूपी में शुक्रवार को 4467 मरीज सामने आए हैं। इसी के साथ प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 44563 हो गई है। अब तक कुल 66834 मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। कुल 1981 मरीजों की मौत हो चुकी है। अब तक प्रदेश में कुल 114399 पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। 


स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार शुक्रवार को लखनऊ में 707, कानपुर में 393, नोएडा 61, गाजियाबाद 97, वाराणसी 271, प्रयागराज 164, बरेली 211, गोरखपुर 140, झांसी 42, जौनपुर 59, मेरठ 29, मुरादाबाद 51, बलिया 98, आगरा 43, अलीगढ़ 60, देवरिया 88, गाजीपुर 82, बाराबंकी 52, बुलंदशहर 22, अयोध्या 52, , आजमगढ़ 77, रामपुर 39, शाहजहांपुर 44, हापुड़ 06, सहारनपुर 63, हरदोई 30, संतकबीर नगर 46, चंदौली 45, मथुरा 33, संभल 28, बस्ती 24, गोंडा 119, महाराजगंज 77, उन्नाव 45, कुशीनगर 41, सिद्धार्थ नगर 40, कन्नौज 44, पीलीभीत 41, सुल्तानपुर 51, मुजफ्फर नगर 13, इटावा 31, मिर्जापुर 39, बहराइच 88, फिरोजाबाद 25, मैनपुरी 37, बिजनौर 29, अमरोहा 17, सोनभद्र 18, रायबरेली 33, जालौन 37, भदोही 13, प्रतापगढ़ 52, मऊ 68, सीतापुर 16, लखीमपुर खीरी 29, फतेहपुर 26, बागपत 14, बदायूं 13, फर्रुखाबाद 22, अमेठी 45, औरैया 25, शामली 26, ललितपुर 19, कासगंज 14, एटा 12, कौशांबी 03, कानपुर देहात 08, बलरामपुर 22, हमीरपुर 11, आंबेडकर नगर 16, बांदा 02, हाथरस 04, चित्रकूट 07 और श्रावस्ती में 16 मरीज मिले हैं। इसके अलावा 63 मरीजों की मौत हुइ है। शुक्रवार को लगातार दूसरा दिन है जब कि एक दिन में सर्वाधिक 63 मरीजों की मौत हई है। इससे पहले 27 जुलाई को 57 मरीजों की मौत हुई थी। इसके अल ावा एक दिन में 3432 लोगों को डिस्चार्ज का रिकार्ड भी शुक्रवार को बना।         



 


 

उत्तराखंड में 278 नए केस सामने आए

देहरादून। राज्य में शुक्रवार को कोरोना के 278 नये केस सामने आए। दस कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत भी हुई। राज्य में कोरोना पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा अब 8901 पहुंच गया है। ठीक होकर घर जाने वाले मरीजों की संख्या 5731 है।


जबकि अभी भी 3020 एक्टिव केस राज्य में मौजूद हैं। स्वास्थ्य विभाग के शुक्रवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार सबसे अधिक 85 केस यूएसनगर, 73 हरिद्वार, 34 नैनीताल, 25 पौड़ी, 21 देहरादून, 16 टिहरी, छह पिथौरागढ़, चार रुद्रप्रयाग, एक चमोली, सात चंपावत, छह उत्तरकाशी में सामने आए। 304 मरीज शुक्रवार को ठीक होकर घर गए। 7408 रिपोर्ट आज निगेटिव आईं। अभी कुल निगेटिव सैंपल की संख्या 177042 पहुंच गई है। 5279 सैंपल जांच को भेजे गए।


अभी भी 9498 सैंपल की रिपोर्ट का इंतजार है। राज्य में केसों का डबलिंग रेट 28.14 दिन पहुंच गया है। रिकवरी रेट 64.39 प्रतिशत पहुंच गया है। कुल संक्रमण दर 4.79 प्रतिशत पहुंच गई है।             


राज्य में कोरोना के कारण हालत बेकाबू

जयपुर। राजस्थान में सियासी संकट जारी है और राज्य सरकार सरकार बचाने की कवायद में जुटी है। लेकिन राज्य में कोरोना के कारण हालत बेकाबू हैं। राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना संक्रमण के 1161 नए मामले हैं। वहीं राज्य में इसके बाद कोरोना संक्रमितों की संख्या 50 हजार पार हो गई है। वहीं जयपुर में कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 213 हो गयी है।


राज्य में कांग्रेस सरकार अपनी सरकार बचाने के लिए दिन रात एक किए हुए हैं और लिहाजा सरकार के सुस्त पड़ जाने के कारण सरकारी अमला भी सुस्त पड़ा हुआ है। वहीं राज्य में शुक्रवार को 10 और लोगों की मौत कोरोना संक्रमण से हुई है और इसके बाद राज्य में संक्रमण से मरने वालों की कुल संख्या 767 तक पहुंच गई है। वहीं राज्य में इस दौरान 1181 नये मामले सामने आए हैं और इसके बाद संक्रमितों की अब तक की कुल संख्या 50157 हो गयी। राज्य में पिछले 24 घंटे में 10 और संक्रमितों को मौत हुई है और इसमें अलवर में दो, कोटा में दो, भरतपुर में दो, नागौर में दो तथा धौलपुर व राजसमंद में एक व्यक्ति की मौत हुई है। वहीं राज्य में इसके बाद कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की कुल संख्या 767 हो गई है। राज्य की राजधानी जयपुर में कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वालों की संख्या 213 हो गयी है जबकि जोधपुर में 85, भरतपुर में 57, अजमेर में 55, बीकानेर में 47, कोटा में 38,नागौर में 34, पाली में 31, अलवर में 23 और धौलपुर में 19 संक्रमितों की मौत कोरोना संक्रमण से हुई है।  जबकि राज्य में पिछले 24 घंटे में राज्य में जो नए मामले सामने आए हैं उसमें अलवर में 203, जोधपुर में 147, जयपुर में 104, अजमेर में 98, बीकानेर में 86, पाली में 68 व धौलपुर में 51 नये मामले शामिल हैं।


स्वास्थ्य भवन में कोरोना का कहर


राज्य की राजधानी जयपुर के स्वास्थ्य भवन में पिछले चार दिनों में 35 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव हुए हैं और इसमें अतिरिक्त निदेशक डॉ. रवि प्रकाश शर्मा सहित अनेक चिकित्सक और अन्य स्टाफ शामिल हैं। वहीं बुधवार को स्वास्थ्य भवन में 11 पॉजिटिव केस आये हैं।           


अवैध शराब तस्करी मामले में दो गिरफ्तार

अवैध शराब तस्करी मामले में दो गिरफ्तार


सिलीगुड़ी। एनजेपी थाना की पुलिस ने अवैध शराब तस्करी मामले ने पिकअप वैन चालक व मालिक को पकड़ा है। आरोपियों का नाम श्रवण साह व अब्दुल्ला रहमान है। दोनों सिलीगुड़ी निवासी हैं।।दोनों को शुक्रवार को जलपाईगुड़ी कोर्ट में पेश कर रिमाड पर लिया गया। थाना प्रभारी अनिर्वाण भट्टाचार्य ने बताया कि पिछले दिनों पिकअप वैन से अवैध शराब बरामद किया गया था। उस समय पिकअप वैन का चालक फरार हो गया था। जाच के दौरान चालक व मालिक का पता चलने पर गुरुवार देर रात सूर्यसेन कॉलोनी से दोनों को पकड़ा गया। शराब बिहार तस्करी की योजना थी।    


महाराष्ट्र में 300 नए मरीजों ने दम तोड़ा

मुंबई। महाराष्ट्र में शुक्रवार को 10,483 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई और 300 मरीजों ने दम तोड़ा। इसके बाद राज्य में कोविड-19 के कुल मामले पांच लाख के करीब पहुंच गए। स्वास्थ्य विभाग की एक विज्ञप्ति में बताया गया है कि महामारी के कारण राज्य में जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 17,092 हो गई है। विज्ञप्ति में बताया गया है कि ठीक होने के बाद 10,906 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दी गई है। राज्य में अब तक 3,27,281 कोरोना मरीज ठीक हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को शाम तक संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 1,45,582, थी। कुल मामले 4,90,262 हैं। राज्य में 25,69,645 लोगों की जांच की गई है।           


आदेश आते ही, शुरू की 'फीस वसूली'

रायपुर। हाईकोर्ट का फैसला और शिक्षाविभाग की लचर व्यवस्था के बीच स्कूलों ने पालकों से फीस वसूली शुरू कर दी है। ऐसी स्थिति में पैरेंट्स एसोसिएशन ने शिक्षा मंत्री और शिक्षा विभाग को ज्ञापन सौंपकर ट्यूशन फीस को परिभाषित और अनुमोदित करने की मांग की है।
पैरेंट्स एसोसिएशन प्रदेश अध्यक्ष क्रिस्टोफर पॉल का कहना है कि प्रदेश में सशर्त फीस लेने के हाईकोर्ट के फैसले को निजी स्कूलों ने ताक पर रख कर मनमानी करना आरंभ कर दिया है। हाईकोर्ट का फैसला 27 जुलाई को इंटरनेट में अपलोड होने के कुछ ही घंटे बाद ही पालकों के पास फीस वसूली के लिए ईमेल और मेसेजेस आना आरंभ हो गया है। ऐसे में हाईकोर्ट के फैसले की आड़ में निजी स्कूल वाले पालकों से मोटी फीस वसूलने की आशंका सच साबित होती नजर आ रही है।
क्रिस्टोफर पॉल का कहना है कि कई स्कूलों ने साफ कह दिया है कि हाईकोर्ट ने स्कूलों को फीस लेने अनुमति दे ही है, इसलिए बैंकों के माध्यम से तत्काल फीस की दो किस्तें जमा कर दिजिए. उन्होंने बताया कि कई स्कूलों ने इस शिक्षा सत्र 2020-21 में फीस वृद्धि की है, तो कई स्कूलों ने फीस जमा करने की तिथि भी निर्धारित कर दी है, जो हाईकोर्ट के निर्णय का स्पष्ट उल्लघंन है। जबकि हाईकोर्ट ने अपने फैसले में यह स्पष्ट कहा है कि स्कूल सिर्फ ट्यूशन फीस ही लेंगे और शिक्षा सत्र 2020-21 में फीस में वृद्धि नहीं की जाएगी. इसके अलावा फीस जमा करने के लिए पालकों को विकल्प भी दिया गया है। छत्तीसगढ़ पैरेंट्स एसोसिएशन का कहना है कि स्कूल शिक्षा विभाग, डीपीआई और डीईओ की यह जिम्मेदारी है कि वह ट्यूशन फीस को पहले परिभाषित करें और यह सुनिश्चित करे कि स्कूल वाले जो फीस वसूल रहे है वह सिर्फ ट्यूशन फीस ही है, और डीईओ द्वारा अनुमोदित किया गया है। लेकिन शिक्षा विभाग को इसमें कोई रूचि नहीं है, और संचालक ने तो 31 जुलाई को समस्त डीईओ को पत्र जारी कर हाईकोर्ट की उन कंडिकाओं (30,31,32 और 33) का अक्षरशः पालन कराने का निर्देश दिया है, जिसमें प्राइवेट स्कूलों को फीस वसूलने और शिक्षकों को वेतन देना का उल्लेख है, लेकिन जहां पालकों को राहत दी गई है, उसका जानबूझकर उल्लेख नहीं किया गया है।
पॉल ने कहा कि जिम्मेदार अधिकारी को हाईकोर्ट के पूरे निर्णय को अक्षरशः पालन कराने के संबंध में समस्त डीईओ को निर्देशित करना था। इस प्रकार अधिकारी प्राइवेट स्कूलों को अप्रत्यक्ष रूप से लाभ पंहुचाने और प्रमोट करने में लगे हुए है।         


दुनिया-भर में 1.92 करोड़ हुए मामलें

नाई दिल्ली। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के अनुसार, दुनियाभर में कोरोना वायरस मामलों की कुल संख्या 1.92 करोड़ का आंकड़ा पार कर गई है, जबकि इससे होने वाली मौतों की संख्या 719,000 से अधिक हो गई हैं। विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) ने अपने नवीनतम अपडेट में खुलासा किया कि शनिवार की सुबह तक, कुल मामलों की संख्या 19,295,350 थी और इससे होने वाली मौतों की संख्या बढ़कर 719,805 हो गई है। सीएसएसई के अनुसार, अमेरिका संक्रमण के सबसे अधिक 4,940,939 मामलों और 161,328 मौतों के साथ दुनिया का सर्वाधिक प्रभावित देश है। ब्राजील 2,962,442 संक्रमण और 99,572 मौतों के साथ दूसरे स्थान पर है।सीएसएसई के आंकड़ों के अनुसार, मामलों की दृष्टि से भारत तीसरे (2,027,074) स्थान पर है, और उसके बाद रूस (875,378), दक्षिण अफ्रीका (545,476), मेक्सिको (469,407), पेरू (455,409), चिली (368,825), कोलम्बिया (357,710), ईरान (322,567), स्पेन (314,362), ब्रिटेन (310,667), सऊदी अरब (285,793), पाकिस्तान (282,645), बांग्लादेश (252,502), इटली (249,756), तुर्की (238,450), अर्जेंटीना (235,677), फ्रांस (235,207), जर्मनी (216,196), इराक (144,064), फिलीपींस (122,754), इंडोनेशिया (121,226), कनाडा (120,901) और कतर (112,383) है। वहीं 10,000 से अधिक मौतों वाले अन्य देश मेक्सिको (51,311), ब्रिटेन (46,596), भारत (41,585), इटली (35,190), फ्रांस (30,327), स्पेन (28,503), पेरू (20,424), ईरान (18,132), रूस (14,698) और कोलम्बिया (11,939) हैं।         


बेरुत विस्फोट मामले में 3 अधिकारी अरेस्ट

लेबनान। बेरुत में बंदरगाह के तीन अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया है जहां हाल ही में हुए घातक विस्फोट से 150 से अधिक लोगों की जान गई है। सिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, लेबनान के अटॉर्नी जनरल जज घासन अल-खौरी ने शुक्रवार को बताया कि गिरफ्तार हुए अधिकारियों में सीमा शुल्क विभाग के महानिदेशक बद्री डाहर, पूर्व सीमा शुल्क निदेशक चाफिक मरही और बेरुत पोत के महानिदेशक हसन कोरयतेम शामिल हैं। बेरुत में हुए भयावह विस्फोट की घटना के बाद बंदरगाह के 16 कर्मचारियों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है जिसके ठीक एक दिन बाद अब इन अधिकारियों की गिरफ्तारी हुई है। गुरुवार शाम को सैन्य न्यायाधिकरण के सरकारी आयुक्त जज फादी अकीकी ने कहा कि अब तक 18 लोगों से पूछताछ की गई है जिनमें बंदरगाह और सीमा शुल्क अधिकरियों के साथ हैंगर में रखरखाव करने के लोग भी शामिल हैं जहां सालों से विस्फोटक सामग्री रखा हुआ था। बेरुत के पहले इंवेस्टिगेटिव जज घसान ओयुदैत ने भी बंदरगाह के सात अधिकारियों की यात्रा पर प्रतिबंध लगाते हुए एक निर्देश जारी किया है। लेबनान की राजधानी बेरुत के बंदरगाह में मंगलवार की शाम को हुए दो विनाशकारी विस्फोटों ने यहां सबकुछ हिला कर रख दिया, इसमें करीब 154 लोगों की जानें गई हैं और लगभग 5,000 से अधिक लोग घायल हुए हैं। इससे शहर को भी बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचा है।         


नेटफ्लिक्स ने इंटरफेस को किया लॉन्च

नई दिल्ली। नेटफ्लिक्स ने हिंदी में अपने यूजर इंटरफेस को लॉन्च कर दिया है जिससे अब हिंदी को प्राथमिकता देने वाले या इसे अंग्रेजी के मुकाबले अधिक पंसद करने वाले लोग कंटेट को हिंदी में सर्च कर उसका जमकर लुफ्त उठा सकते हैं। इस नए इंटरफेस की मदद से नेटफ्लिक्स पर अब साइनअप, सर्च, कलेक्शन और पेमेंट सबकुछ हिंदी में ही किया जा सकेगा। यह सुविधा यूजर्स को टीवी, मोबाइल और वेब हर कहीं मिलेगी। नेटफ्लिक्स इंडिया की वाइस प्रेसिडेंट मोनिका शेरगिल ने एक बयान में कहा, “यूजर्स को नेटफ्लिक्स का शानदार अनुभव दिलाना भी हमारे लिए उतना ही जरूरी है जितना कि बेहतरीन कंटेंट बनाना। हमारा मानना है कि नया इंटरफेस नेटफ्लिक्स की पहुंच को और अधिक लोगों तक बढ़ाएगा और हिंदी को प्राथमिकता देने वाले सदस्यों के लिए बेहतर साबित होगा।” नेटफ्लिक्स के सदस्यों को इसके लिए अपने डेस्कटॉप, टीवी या मोबाइल ब्राउजर में जाकर मैनेज प्रोफाइल के विकल्प को चुनना होगा। इसके बाद लैंग्वेज ऑप्शन में जाकर अपने पसंदीदा भाषा को चुनना होगा। नेटफ्लिक्स पर हर एक अकाउंट में अधिकतम पांच सदस्यों को जोड़ा जा सकता है और हर प्रोफाइल का अपना अलग लैंग्वेज सेटिंग होता है। भारत के बाहर भी हिंदी भाषी यूजर्स इस इंटरफेस का उपयोग कर सकते हैं।         


250 बेड के आधुनिक अस्पताल का उद्घाटन

नोएडा। उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को नोएडा के सेक्टर 39 में 250 बेड वाले अत्याधुनिक कोविड अस्पताल का शुभारंभ किया।
प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार की सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नोएडा पहुंचे। वहां से उनका काफिला सेक्टर 39 पहुंचा। यहां उन्होंने कोविड-19 अस्पताल का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि कोरोना से जंग में उप्र सरकार हर मोर्चे पर काम कर रही है। सिर्फ नोएडा ही नहीं अन्य स्थानों में भी कोरोना पीड़ित रोगियों के उपचार के लिए अस्पताल बनाये गए हैं। योगी ने कहा कि अभी अस्पताल में 250 बेड हैं, जल्द ही यहां 400 बेड की सुविधा होगी। इस अस्पताल में डायलिसिस यूनिट और लैब भी होगी। अभी 250 बेड, 28 बेड आईसीयू व 9 बेड इमरजेंसी में हैं। मुख्यमंत्री योगी के आगमन को देखते हुए यहां पर सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गई। अस्पताल में बहुत कम लोगों का ही प्रवेश मिला। अस्पताल का शुभारंभ होते ही मरीजों को भर्ती करना शुरू कर दिया गया। इस दौरान  सांसद डॉ. महेश शर्मा, विधायक पंकज सिंह भी मौजूद थे।


1 लाख प्रवासियों को नौकरी देगेंः सोनू

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने एक लाख प्रवासी को नौकरी देने का इंतजाम कर दिया है। सोनू सूद ने पहले तो लॉकडाउन के दौरान बाहर फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर वापस भेजा। अब वह प्रवासियों के लिए नौकरी का इंतजाम करने वाले हैं। सोनू सूद ने अपने जन्मदिन यानी 30 जुलाई को तीन लाख नौकरियों का एलान किया था। अब उन्होंने एईपीसी के साथ साझेदारी कर एक लाख लोगों को नौकरियां देने का वादा किया है। सोनू सूद ने इस बात की जानकारी अपने ट्विटर हैंडल पर दी है। सोनू ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, “जहां चाह, वहां राह! मेरे प्रवासी भाइयों के लिए मैंने अब की एईपीसी के साथ साझेदारी।प्रवासी रोजगार डॉटकॉम के माध्यम से देश भर की ‘अपैरल मैम्युफैक्चरिंग और एक्सपोर्ट कंपनियों’ में एक लाख नौकरियां देने का बड़ा वादा। धन्यवाद, जय हिंद।” इससे पूर्व सोनू सूद ने अपने जन्मदिन पर ट्वीट कर लिखा था, “मेरे जन्मदिन के अवसर पे मेरे प्रवासी भाइयों के लिए प्रवासीरोजगारडॉटकाम का तीन लाख नौकरियों के लिए मेरा करार। ये सभी अच्छे वेतन, पीएफ, ईएसआई और अन्य लाभ प्रदान करते हैं। धन्यवाद एईपीसी, सीआईटीआई, ट्राईडेंट, क्वैश कॉर्प, एमेजन,सोडेक्शो, अर्बन कंपनी, पोर्टिया और अन्य सभी का।             


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस   (हिंदी-दैनिक)


 अगस्त 09, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-360 (साल-01)
2. रविवार, अगस्त 09, 2020
3. शक-1943, भाद्रपद, कृष्ण-पक्ष, तिथि- षष्ठी, विक्रमी संवत 2077।


4. सूर्योदय प्रातः 05:15,सूर्यास्त 07:15


5. न्‍यूनतम तापमान 24+ डी.सै.,अधिकतम-38+ डी.सै.। आद्रता बनी रहेगी।


6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7. स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहींं है।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


www.universalexpress.in


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :-935030275


(सर्वाधिकार सुरक्षित)                      


शराब: डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेंगा आस्ट्रेलिया

सिडनी/ बीजिंग। ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि वो उनके यहाँ बनी शराब पर चीन के शुल्क बढ़ाने के खिलाफ डब्ल्यूटीओ में शिकायत दर्ज करेगा। चीन ने पिछले...