गुरुवार, 12 दिसंबर 2019

तीन सगी बहनों को बनाया हवस का शिकार

भोपाल! मध्य प्रदेश के सतना में कथित तौर पर एक पुजारी ने दोष मुक्त कराने के नाम पर एक ही परिवार के तीन सगी बहनों को अपनी हवस का शिकार बना लिया! परिजनों के मुताबिक पुजारी ने पूजा और सर्प दोष की मुक्ति के बहाने तीनों बहनों को अकेले कमरे में ले जाकर बारी-बारी से बलात्कार किया! परिवारवालों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी पुजारी को गिरफ्तार कर लिया है!


दरअसल सतना जिले के मैहर गांव में एक परिवार ने अपनी बेटियों की शादी और काल सर्प दोष मुक्त करने के लिए पूजा रखवाई थी! उसी इलाके के पुजारी नारायण स्वरूप जब पूजा कराने के लिए घर पहुंचे तो तीनों बेटियों की सुख शांति के लिए होने वाली पूजा के लिए एक कमरे को चुन लिया!इसके बाद पुजारी ने विशेष पूजा और अनहोनी का डर दिखाकर परिजनों को घर से दूर भेज दिया और एक-एक कर तीन सगी बहनों को कमरे के अंदर बुलाया! पीड़ित लड़कियों के मुताबिक कमरे के अंदर पुजारी ने कपड़े उतरवाकर बारी-बारी से तीन बहनों के साथ बलात्कार किया! जब पुजारी अपनी हवस को अंजाम देकर वापस लौट गया तो पीड़ित लड़कियों ने अपने पिता को इस बात की जानकारी दी! बेटियों की बात सुनकर हैरान पिता उन्हें लेकर थाने पहुंचे और आरोपी पुजारी के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज करा दिया! पुलिस ने इस मामले में तीनों बहनों का मेडिकल और बयान दर्ज कराकर आरोपी पुजारी को गिरफ्तार कर लिया. आरोपी के खिलाफ पुलिस ने POCSO एक्ट की धारा 5/6, 7/8 और आईपीसी की धारा 376(2)(4), 376(ग) के तहत मामला दर्ज किया है!


चंद्रमौलेश्वर शिवांशु' निर्भय-पुत्र'


लोहा भट्टी में कूदकर मैनेजर ने दी जान

रायगढ़। रायगढ़ जिले के पूंजीपथरा स्थित सिंघल स्टील प्लांट में देर शाम फैक्ट्री के प्रोजेक्ट मैनेजर ने लोहा गलाने वाली भट्टी में कूदकर अपनी जान दे दी। आसपास काम कर रहे मजदूरों ने जब चीखने की आवाज सुनी तो आनन-फानन में भट्टी को बंद किया, लेकिन तब तक प्रोजेक्ट मैनेजर जलकर खाक हो चुका था।


जिस भट्टी में प्रोजेक्ट मैनेजर ने सुसाईड किया उसका टेंपरेचर 1600 डिग्री सेल्सियस था और उसमें फैक्ट्री का लोहा गलाया जाता था। ऐसे में चंद सेकंड में ही मृतक का शरीर पूरी तरह गल गया और उसकी राख तक नहीं मिली। मामले की सूचना पर पुलिस जांच में जुट गई है। बताया जा रहा है कि मृतक देवेन्द्र कुमार जमशेदपुर का रहने वाला है। वह प्लांट में पिछले 12 साल से प्रोजेक्ट मैनेजर था और फैक्ट्री के कैंपस में ही स्टाफ क्वार्टर में रहता था।


घटना के दिन भी दो बार वह साइट विजिट कर चुका था। जिस वक्त घटना हुई उस वक्त दो मजदूर वहां मौजूद थे। ऐसे में पुलिस उनके बयान दर्ज कर रही है। हालांकि परिजनों ने इस घटना में संदेह जताते हुए जांच की मांग की है।


असर दिखाएगी ठंड,मौसम का बदला मिजाज

शिमला। ठंड ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। हिमाचल प्रदेश में गुरुवार को मौसम का मिजाज बदल गया है। सूबे के शिमला, कुल्लू, मनाली समेत कई ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी हो रही है। मौसम विभाग ने सूबे में गुरुवार और शुक्रवार के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार, सूबे में 16 दिसंबर तक मौसम खराब रहेगा। जानकारी के अनुसार, शिमला में गुरुवार सुबह तड़के से ही बारिश हो रही है। इसके अलावा, कुफरी, नारकंडा और अन्य इलाकों में बर्फबारी हुई है। मौसम विभाग के अनुसार, कल्पा में साढ़े तीन सेंटीमीटर और के लॉन्ग में ढाई सेंटीमीटर बर्फबारी दर्ज की गई है।
मंडी जिला सहित सुंदरनगर में मौसम ने करवट बदली है। यहां हल्की बूंदा-बांदी हो रही है। मौसम खराब रहने के पूर्वानुमान के चलते डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर ने नागरिकों और पर्यटकों से अधिक उंचाई वाले इलाकों में न जाने की अपील की है। साथ ही आपदा से निपटने के लिए जिला प्रसाशन ने दूरभाष नम्बर जारी किए हैं। आपातकाल में 01905-226201, 202, 203, 204 और टोल फ्री-1077 नंबर पर पर सूचना दी जा सकती है। सूबे के जिला किन्नौर में गुरुवार सुबह बर्फबारी हो रही है। डीसी किन्नौर गोपाल चंद ने लोगों से अपील की है कि मौसम को देखते हुए और जरूरी काम ना हो तो लोग घरों से ना निकले। लाहौल स्पीति में भी हिमपात हो रहा है।
कुल्लू में ऊंचाई वाले इलाकों में हिमपता हुआ है। वहीं, मनाली शहर में भी बर्फ के फाहे गिरे हैं। कुल्लू और आनी को जोड़ने वाले हाईवे 305 जलोड़ी जोत पर हिमपात की वजह से बंद हो गया है। मौसम विभाग के अनुसार, प्रदेश के पांच जिलों में 12 और 13 दिसंबर को भारी बारिश और बर्फबारी होगी। इसे लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। कुल्लू और लाहौल स्पीति में 12 और 13 दिसंबर, जबकि मंडी, शिमला और किन्नौर में 13 दिसंबर को भारी बारिश और बर्फबारी की संभावना जताई गई है। बुधवार को प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में बादल छाए रहे और तापमान में दो से तीन डिग्री की कमी दर्ज की गई थी। मौसम विभाग ने 11 दिसंबर से 17 दिसंबर तक का बुलेटिन जारी किया है। हिमाचल के शिमला में गुरुवार सुबह 10 बजे तक न्यूनतम तापमान 2.8 और अधिकतम तापमान 13.3 डिग्री दर्ज किया गया है। इसके अलावा, मंडी के सुंदरनगर में 7.5 और 19.5 डिग्री, भुंतर 4.4 और 18.8, कल्पा में माइनस 0.9 और 10.4 डिग्री, धर्मशाला में 7.6 और 14.4 डिग्री, ऊना में 11 और 22.3 डिग्री, लाहौल के केलॉन्ग में -3.4 डिग्री और 4.2, मनाली में 1.8 और 12.2 डिग्री, चंबा में 6.8 और 16.8 और शिमला के कुफरी में माइनस 1.2 और अधिकतम तापमान 6.4 डिग्री पारा दर्ज किया गया है।


बोर्ड की परीक्षा की समय सारणी सार्वजनिक

रायपुर! अगले साल होने वाली 10-12वीं की परीक्षा का कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। माध्यमिक शिक्षा मंडल की तरफ से जारी समय सारिणी के मुताबिक 10वीं की परीक्षा 3 मार्च से और 12वीं की परीक्षा 2 मार्च से शुरू होगी। 10वीं और 12वीं की परीक्षा सुबह 9 बजे से दोपहर साढ़े 12 बजे तक होगी। 10वीं 12वीं की पहली परीक्षा हिंदी व पहली भाषा की होगी। वहीं 10वीं विज्ञान की परीक्षा 7 मार्च और गणित की परीक्षा 12 मार्च होगी। वहीं 12वीं की गणित 13 मार्च को होगी। समय सारिणी के मुताबिक 12वीं की परीक्षा 31 मार्च तक चलेगी, उसी तरह 10वीं की परीक्षा 26 मार्च को खत्म हो जायेगी।


योध्या मामले पर पुनर्विचार याचिका खारिज

अयोध्या! अयोध्या मामले में दाखिल पुनर्विचार याचिकाओं पर सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक बेंच का फैसला आ गया है! इस मामले में सभी पुनर्विचार याचिकाएं खारिज कर दी गई है! बंद चैंबर में पांच जजों की संवैधानिक बेंच ने 18 अर्जियों पर सुनवाई की और सभी याचिकाएं खारिज कर दी गईं!


साथ ही याचिकाओं की मेरिट पर भी विचार किया गया. इससे पहले निर्मोही अखाड़े ने भी पुनर्विचार याचिका दाखिल करने का फैसला किया! निर्मोही अखाड़े ने अपनी याचिका में कहा कि फैसले के एक महीने बाद भी राम मंदिर ट्रस्ट में उनकी भूमिका तय नहीं हुई है! कोर्ट इस मामलें में स्पष्ट आदेश दे!


62 नव दंपतियों ने किया साथ निभाने का वादा

रामपुरा! जालौन शादी एक ऐसा बंधन हैं! जो जीवन की नाव को पार लगाता हैं! परिवार बढ़ाने और अपनी विरासत को मजबूत करने वाला यह पाक बंधन सात जन्मों का माना जाता हैं! जालौन देवी के प्रसिद्ध स्थान में हुए सामूहिक विवाह सम्मलेन में 62 नवदंपत्तियों ने साथ-जीने और मरने की कसम खायी! वैसे हर रोज सामूहिक विवाह सम्मलेन होते हैं! लेकिन यह मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना कुछ ज्यादा ही ख़ास रहा!
केशव सिंह पूर्व विधायक के द्वारा जालौन देवी के प्रसिद्ध स्थान पर में सर्व समाज के सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन किया गया! इस विवाह सम्मेलन में मुख्यअतिथि केशव सिंह पूर्व विधायक ने नव दम्पति को अपना नवजीवन शुरू करने के लिये आशीर्वाद दिया! इस विवाह सम्मलेन में 62 नवदम्पतियो को हिन्दू – रीति रिवाज से शादी के पवित्र बंधन में बंध गये , जिन्होंने अपनी जिंदगी की शुरुआत करने और साथ जीने मरने की कसम खायी! इस सामूहिक विवाह सम्मेलन में सभी नवदंपत्तियों को उनके नए गृहस्थ जीवन की शुरुआत के लिए रोजमर्रा की उपयोगी वस्तुओं को उपहार स्वरुप दिया गया लेकिन 29000 रुपए वधु पक्ष एवं 49000 रुपए वर पक्ष के द्वारा लिए गए! जिसमें कमेटी के द्वारा पलंग मोटरसाइकिल टीवी अलमारी कूलर बेड बक्स आदि रोजमर्रा की चीजें उपहार स्वरूप दी गई!
नवदंपत्तियों को आशीर्वाद देते हुए ने कहा कि गरीबी एक हमारे देश की एक विकराल समस्या है! गरीब परिवार अपनी बेटियों के हाथ पीले भी नही कर पाते है! कई गरीब परिवार मोटा कर्ज लेकर उनकी शादी करते है, लेकिन ऐसे सामूहिक विवाह के आयोजनों से गरीबी-अमीरी का अन्तर दूर होता है! फिजूल ख़र्जी पर रोक लग सकती है!
उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजनों को निरंतर आयोजित होने चाहिये! कार्यक्रम संयोजक राम जी सोनी कार्यक्रम के सह संयोजक मंगल सिंह एवं कार्यक्रम के अध्यक्ष राजू दीक्षित अमित नीखरा केशव सिंह पूर्व विधायक आशीष चतुर्वेदी श्रीकांत राजकुमार प्रशांत अनिल चतुर्वेदी पुजारी आदि व्यक्तियों ने सामूहिक विवाह सम्मेलन में योगदान दिया!


मुलायम को अवार्ड, सपा ने की खुशी जाहिर

सपा के संरक्षक एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री मुलायम सिंह यादव को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड दिए जाने पर सपाईयों ने जताया हर्ष 
मुलायम सिंह यादव को भारत रत्न दिए जाने की मांग
प्रयागराजl समाजवादीपार्टी के संरक्षक एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री मुलायम सिंह यादव को लोकमत समाचार पत्र समूह द्वारा लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किए जाने पर स्थानीय सपा के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने खुशी जाहिर की है l बलसन चौराहे पर स्थित पार्क में सपा नेताओं ने श्री मुलायम सिंह यादव के चित्र पर मिठाई खिलाते हुए उन्हे बधाई दी l सपा नेताओं ने एक दूसरे को मिठाई खिलाया और खुशी जाहिर किया l
इस अवसर पर वरिष्ठ नेता एवं समाजवादी चिन्तक श्री अवधेश यादव 'आनंद 'ने श्री मुलायम सिंह यादव को समाजवाद का लेनिन बताते हुए कहा कि गरीब, किसान के बेटे श्री मुलायम सिंह यादव ने डॉ राममनोहर लोहिया जी की प्रेरणा और आत्मबल के साथ समाजवाद को पूरे देश में फैलाया l समाजवादीपार्टी की स्थापना कर  नेताजी गरीबों, कमजोर वर्ग लोंगो, किसानों, नौजवानों, अल्‍पसंख्यकों सहित आम आदमी के हितों की रक्षा के लिए लगातार संघर्ष कर रहे हैं !सपा नेता दान बहादुर मधुर ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस के बाद सिर्फ मा. मुलायम सिंह यादव जी को ही लोग सम्मान में” नेताजी” के नाम से संबोधित करते हैं l वर्तमान में पूरे देश में समाजवाद के एकलौते शीर्ष नेता हैं l 
      संतलाल वर्मा एडवोकेट, सपा नेता ननकऊ यादव, दिनेश यादव ने कहा कि किसानों की समस्याओं को लेकर सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष करने के चलते ही उन्हे धरती पुत्र कहा जाता है l इस अवसर पर सपा नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने एक स्वर से मा. मुलायम सिंह यादव को भारत रत्न दिए जाने की मांग उठाई l इस मौके पर प्रमुख रूप से सर्व श्री अवधेश यादव, सुश्री नेहा यादव, दान बहादुर सिंह मधुर, मो. अस्करी, संतलाल वर्मा, ननकऊ यादव, दिनेश यादव,  जिया कौनेंन रिजवी, विवेक सिंह बंटी, अरविंद सरोज, धर्मेंद्र यादव, आशुतोष उर्फ गुड्डू, कल्लू यादव, लालू, जय सिंह, अभिनव, सुरेंद्र यादव, विनोद गौड़, अब्बास नकवी, आदि नेतागण मौजूद रहे l 
बृजेश केसरवानी


प्रयागराज में बनेगा सहस्त्रबाहु का भव्य मंदिर

प्रयागराज में बनेगा भगवान सहस्त्रबाहु जी का भव्य मंदिर, जिसमें भगवान सहस्त्रबाहु जी की ३० फिट ऊंची लगेगी मूर्ति।



प्रयागराज! श्री राकेश जायसवाल एक बहुत बड़े समाजसेवी है, प्रयागराज - लखनऊ राज्यमार्ग और दिल्ली से कलकत्ता जाने वाले हाईवे से सटे नवाबगंज कस्बे में भगवान सहस्त्रबाहु जी के मंदिर निर्माण के लिए लगभग ढाई बीघा जमीन दान देने की घोषणा की है। यह समाज के लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है। इस शुभ कार्य को आगे बृहद और विहंगम रूप देने के समाज के गणमान्य लोगों के साथ मीटिंग रख इसके लिए  विचार - विमर्श किया गया कि कैसे अपने इष्ट के मंदिर को भव्य और सुंदर बनाया जाय। प्रस्तावित स्थल का निरीक्षण करते ही सभी का मन गदगद हो गया और भगवान सहस्त्रबाहु जी की जयकारे भी लगाए। जिसमें सभी ने अपनी सहमती जताई कि अपने ईष्ट  का ये मंदिर भव्य से भव्य और मनोरम होना चाहिए क्यूंकि ये हाईवे मार्ग से जुटा है और दूर दूर से हमारे समाज के लोग आसानी से यहां पहुंच  भी सकते है। सब लोग मिलकर उनके इस योगदान के लिए भूरी भूरी प्रशंसा की और कहा कि समाज से  मंदिर निर्माण तथा धर्मशाला निर्माण के लिए सहयोग राशि इकट्ठा करने के लिए समाज से निवेदन और समाज  को प्रेरित किया जाएगा, क्योंकि यह बहुत बड़ा प्रोजेक्ट है भगवान सहस्त्रबाहु की लगभग 30 फीट  की दिव्य प्रतिमा बनेगी और एक बहुत ही बड़े धर्मशाला आदि का भी निर्माण होगा।


मीटिंग में प्रयागराज समाज के वरिष्ठ श्री  मुकेश जायसवाल, पदुम जायसवाल जी, एड० टी. एन. जायसवाल जी, रामलखन जायसवाल  समदा जी( कौशांबी जिला अध्यक्ष), रविन्द्र  जयसवाल जी ( अध्यक्ष प्रयागराज), कमलेंद्र जायसवाल जी (बुद्घ जिवी परिषद), अरुणेश जायसवाल जी, अरुण जायसवाल जी( आलू), आशीष जायसवाल जी नवाबगंज, पवन जायसवाल जी ( महाकाली ट्रैवेल्स), अमर जायसवाल जी ( जायसवाल एकता संगठन), मनोंज जायसवाल जी (यू आर होटल), दिलीप जायसवाल जी ( बहू बेटी साड़ी केंद्र, कटरा), संतोष जायसवाल जी ( अध्यक्ष - गंगापार), विजय जायसवाल जी - बाला जी फूड्स फाफामऊ,  धीरज जायसवाल जी ( कोषाध्यक्ष- गंगापार), सुरेन्द्र जायसवाल जी- रमलखन गैस एजन्सी , संजय जायसवाल जी दहियावा, दीपू जायसवाल जी कटरा, लालजी जायसवाल नवाबगंज, उमेश जायसवाल जी नवाबगंज, आशीष जायसवाल ' संतू ' जी नवाबगंज, राजेश जायसवाल जी नवाबगंज, बुद्ध देव जायसवाल जी शान्ति पुरम, दिलीप जायसवाल जी शान्ति पुरम, विनोद जायसवाल जी कीडगंज, गौतम जायसवाल जी सराय इनायत, गुलाब जायसवाल जी गुलाब होटल शिवगढ़ , राजू मर्करी जी, वीरेंद्र जायसवाल जी कीडगंज, ओम् प्रकाश जी पिथिपुर एवं अन्य गणमान्य लोग उपस्थित हो सहर्ष  आगे की रूपरेखा पर चर्चा कर श्री मान राकेश जायसवाल जी को इस नेक और गौरवशाली कार्य के लिए उन्हें बधाई दी और प्रशंसा की!


बृजेश केसरवानी


कश्मीर से कन्याकुमारी तक सुलगी आग

नई दिल्ली! विरोध प्रदर्शनों को लेकर कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने सरकार पर सवाल खड़े किए हैं। राज्यसभा में नेता विपक्ष आजाद ने कहा, कश्मीर से कन्याकुमारी तक कहीं भी देश के हालात सामान्य नहीं बचे हैं। सबसे ज्यादा फिक्र करने की जरूरत पूर्वोत्तर की है। पूर्वोत्तर के राज्य जल रहे हैं। पूर्वोत्तर के लोग महजब से अलग हटकर नागरिकता बिल का विरोध कर रहे हैं।
 
नागरिकता संशोधन विधेयक, 2019 को संसद के दोनों सदनों से मंजूरी मिल गई है। बिल सोमवार को लोकसभा से और बुधवार को राज्यसभा में पास हुआ। बिल में पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए हिंदू, जैन, सिख, बौद्ध, पारसी और ईसाई समुदाय के शरणार्थियों को नागरिकता का प्रस्ताव है। नागरिकता संशोधन विधेयक का देश के कई हिस्सों, खासतौर से पूर्वोत्तर में भारी विरोध हो रहा है। असम के कई जिलों में बीते कुछ दिनों में लोगों ने इस बिल के विरोध में प्रदर्शन किए हैं। भारी तोड़फोड़ और आगजनी के बाद दस जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवा को रोक दिया गया है।
 
गुवाहाटी में कर्फ्यू लगाया गया है। कांग्रेस समेत ज्यादातर विपक्षी दल और कई संगठन भी इस बिल का विरोध कर रहे हैं। असम में बिल को लेकर हो रहे विरोध को देखते हुए भारत-जापान समिट को भी गुवाहाटी के बाहर शिफ्ट किया जा सकता है। अभी तक गुवाहाटी में बैठक का होना तय था लेकिन अब दूसरी जगह तलाशी जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके जापानी समकक्ष शिंजो आबे के बीच वार्षिक शिखर बैठक 15 से 17 दिसंबर को होनी है।


संपूर्ण देश में असंतोष की भयंकर आग

नई दिल्ली! हिंदू धर्म के खिलाफ दुष्प्रचार के आरोपी स्वामी अग्निवेश ने नागरिकता संशोधन बिल पर बड़ा बयान दिया है। अग्रिवेश ने कहा कि पूरे देश में भयंकर असंतोष की आग है, इस बिल में हमें सांप्रदायिकता की बदबू आ रही है। वहीं स्वामी अग्निवेश ने निर्भया कांड के आरोपियों को फांसी की सजा प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि 7 साल पहले यह काम हो जाना चाहिए था लेकिन 7 साल बाद ऐसा प्रतीत हो रहा है कि न्यायपालिका की अर्थी उठ चुकी है।
 
सोनीपत के एक निजी विश्वविद्यालय में पहुंचे स्वामी अग्निवेश ने संसद में पेश हुए नागरिकता संशोधन बिल पर सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जिस तरह से भाजपा सरकार बनी है, उसी प्रकार पीएम और अमित शाह की सरकार देश को विनाश की तरफ लेकर जा रही है। इस बिल से पूरे देश में असंतोष है, यह बिल देश को तोडऩे वाला बिल है। उन्होंने कहा कि इस बिल से हमें सांप्रदायिकता की बदबू आ रही है। बिल से देश गृहयुद्ध की तरफ जाएगा। आसाम में तो आग लग चुकी है और सहयोगी दल इसका विरोध कर रहे हैं।
 
उन्होंने कहा कि भाजपा कोई भी चीज लाकर थोप देती है और जनता को अंधेरे में रखा जाता है। पहले यह बिल वेबसाइट पर डाला जाता और उस पर बहस होती तो अच्छा रहता, लेकिन यह बिल देश में आतंक फैलाने वाला है। अल्पसंख्यकों के बीच असुरक्षा की भावना बढ़ी है।
 
वहीं अग्निवेश ने निर्भया कांड के आरोपियों की फांसी की सजा पर बोलते हुए कहा कि 7 साल बाद ऐसा फैसला आना न्याय प्रक्रिया की अर्थी उठाने जैसा है। अगर निर्भया कांड के आरोपियों को खुलेआम सजा दी जाती, तो हैदराबाद जैसा कांड नहीं होता। वहीं पानीपत मूवी पर हो रहे बवाल पर अग्निवेश ने कहा कि हिंसा किसी भी तरह का विरोध का समाधान नहीं है।


छह पुलिसकर्मी सस्पेंड, मचा हड़कंप

राणा ओबरॉय


चंडीगढ़! करनाल में पुलिस एसपी सुरेंद्र भौरिया ने छह पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। सीआईए वन टीम के इन छह पुलिस कर्मियों पर गौ रक्षकों के साथ मारपीट करने और गौ तस्करों को भगाने का आरोप है। बता दें कि गौ रक्षा दल के सदस्यों ने बुधवार को लघु सचिवालय में जाकर प्रदर्शन किया था और कार्यवाही की मांग की थी।


गौ रक्षकों ने बताया कि एक दिसंबर को पुलिस की टीम गौ तस्करों की मदद कर रही थी और उनको रोहतक से पानीपत होकर करनाल के रास्ते से गौ तस्करी करवाने का प्रयास कर रही थी। उस समय न पुलिस की गाड़ी पर नंबर प्लेट थी और ना ही गौवंश से भरे कंटेनर पर नंबर प्लेट थी।


डीएम ने गो आश्रय स्थल का किया शिलान्यास

पंकज राघव


संभल! जिलाधिकारी अविनाश कृष्ण सिंह ने ग्राम भागनगर तहसील गुन्नौर मैं गो आश्रय स्थल का हवन पूजा कर शिलान्यास किया । जिसके उपरांत जिलाधिकारी ने ग्राम रामनगर उर्फ कन्हुआ नगला के प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया। जिसमें पंजीकरण कम होने के कारण प्रधानाध्यापक को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए जिसमें जिलाधिकारी ने गांव का औचक निरीक्षण करते हुए विकास कार्यों की खामियों पर नाराजगी व्यक्त की जिलाधिकारी ने शौचालय की गुणवत्ता की खामियों पर ग्राम विकास अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी करने के दिए निर्देश। और उन्होंने कहा कि गांव में शौचालय का प्रयोग शतप्रतिशत किया जाए जिसमें किसी प्रकार की लापरवाही ना की जाए ग्रामों में जिन लोगों ने शौचालयों में उपले व और कार्य हेतु उपयोग कर रहे हैं । उन्हें चेतावनी देते हुए शौचालय का प्रयोग करने के निर्देश दिए और उन्होंने कहा गांव में कुआं बने हुए हैं उन्हें साफ करके स्वच्छ रखा जाए गांव की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए। जिलाधिकारी ने ग्राम प्रधान को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए और उन्होंने जिला समाज कल्याण अधिकारी  को पात्र लाभार्थियों की पेंशन यथाशीघ्र पेंशन का लाभ देने का निर्देश दिया। और एएनएम आंगनबाड़ी कार्यकर्ती को सख्त हिदायत दी ग्राम में टीकाकरण शतप्रतिशत किया जाए । इसमें किसी प्रकार की लापरवाही ना की जाए और विकास कार्यों को ग्राम में लक्ष्य के सापेक्ष कार्य किया जाए इसी उपरांत ग्राम पीपलवाड़ा के प्राथमिक विद्यालय इंग्लिश मीडियम का भी औचक निरीक्षण किया जिसमें बच्चों का कम पंजीकरण होने के कारण जिलाधिकारी ने प्रधानाचार्य को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए और जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि ग्राम पीपलवाड़ा के सफाई कर्मचारी को तत्काल निलंबित करने के निर्देश दिए एडीओ पंचायत को कारण बताओ नोटिस जारी करने का निर्देश दिया। जिस पर जिलाधिकारी ने कहा गांव में साफ सफाई का विशेष ध्यान दिया जाए और सभी कार्यों को लक्ष्य के सापेक्ष ध्यान पूर्वक किया जाए।


इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी उमेश कुमार त्यागी, परियोजना निदेशक डीआरडीए, जिला विकास अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी जाहिद हुसैन, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी विरेंद्र प्रताप, जिला स्तरीय अधिकारी व ग्रामवासी आदि!


चीन जेल में सर्वाधिक पत्रकार: सीपीजे रिपोर्ट

वाशिंगट! दुनिया भर में कम से कम 250 पत्रकार जेलों में बंद हैं और इनमें से सबसे ज्यादा चीन के हैं! पत्रकारों की रक्षा से जुड़े संगठन सीपीजे की रिपोर्ट के अनुसार कई पत्रकार 'राज द्रोह' का सामना कर रहे हैं और कई पर 'फर्जी समाचार' छापने का आरोप है! इस सूची में तुर्की, सऊदी अरब, मिस्र, इरीट्रिया, वियतनाम और ईरान के जेलों में बंद पत्रकार शामिल हैं!


प्रेस की स्वतंत्रता पर नजर रखने वाली समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि चीन में कम से कम 48 पत्रकार जेल में बंद हैं क्योंकि चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग मीडिया पर नियंत्रण करने की कोशिश तेज कर दी है! इस बार चीन ने तुर्की को भी इस सूची में पीछे छोड़ दिया है! तुर्की में 47 पत्रकार जेल में बंद हैं!
 
रिपोर्ट में बताया गया है कि तुर्की में पिछले साल 68 पत्रकार जेल में बंद थे! तुर्की सरकार ने 100 से ज्यादा समाचार आउटलेट बंद कर दिये हैं और कई पत्रकारों पर आतंकवाद से जुड़े मामले चल रहे हैं! सऊदी अरब में जेल में बंद 18 पत्रकारों के खिलाफ किसी आरोप का खुलासा नहीं हुआ है! सीपीजे ने कहा है कि पत्रकारों को उनके काम की वजह से जेल में बंद नहीं किया जाना चाहिए!


औरतें पर्देदारी का रखें ख्याल: असलम

सिराजुदीन 


अफजलगढ़! उ.प्र. श्रमजीवी पत्रकार यूनियन (पंजी.) के जिला मंत्री/आदर्श प्रेस क्लब सोसाइटी अफजलगढ़ के अध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार एस एम असलम की वालिदा मरहूमा को इसाले सवाब के लिए आयोजित औरतों के इज्तिमा को मुख्य रूप से सम्बंधित करते हुए जमीअत उलेमा-ए-हिंद जिला मुरादाबाद के जिला महासचिव/मदरसा दारुल उलूम तजवीजुल कुरान शरीफनगर के मोहतमिम/मशहूर आलिम-ए-दीन मौलाना अब्दुल खालिक कासमी ने औरतों की जिंदगी में पर्देदारी पर विशेष ध्यान देते हुए कहा कि औरतें बेहयाई और बेपर्दगी से बचें और घरों में दीनी माहौल कायम करें उन्होंने एंड्राइड फोन और टीवी से भी परहेज करने की नसीहत देते हुए इन्हें अधिकांश बुराइयों की जड़ बताया एस एम असलम के कासमपुर गढ़ी स्थित आवास पर मौलाना अ. खालिक कासमी की अध्यक्षता एवं मुफ्ती वसीम कासमी के संचालन में आयोजित हुए दीनी इजलास में बड़ी संख्या में उपस्थित महिलाओं को सम्बोधित करते हुए मौलाना अ. खालिक ने आगे कहा कि दीन पर चलकर ही जिन्दगी में सुकून हासिल किया जा सकता हैं और घरों में दीनी माहौल कायम रखने में औरतें अहम रोल अदा कर सकती हैं अपने सम्बोधन में दिल्ली से आए तब्लीगी जमात के अमीर कारी अ. अलीम ने नमाज की पाबंदी पर जोर देते हुए मौत से पहले आखिरत की तैयारी कर लेने की नसीहत दी अंत में एसएम असलम की स्व. माता जी के लिए मुख्य रूप से दुआएं की गई जलसे में वरिष्ठ उर्दू पत्रकार डाँ. अल्ताफ हुसैन साबरी, कारी जाफर, कारी इकरार अहमद, हाफिज कमरुद्दीन, मौलाना याकूब कासमी, मास्टर रिजवान, हाजी नसीम अहमद, इरफान मंसूरी, कमरुद्दीन अल्वी आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे जलसे को सफल बनाने म़े अ. रशीद, मौ. अनस, एस.एम. जैद, शकील अहमद, अदनान सखावत, अ. हफीज, नईम अहमद, मुकीम अहमद, मौ. दानिश, सलीम अहमद, सद्दाम हुसैन, मौ. फैसल, मौ. फैज, नदीम अहमद, जाहिद उस्मानी, मौ. अयान, मौ. फैजान मौ. फहीम, मौ. सलमान आदि की मुख्य भूमिका रही।


आईपीएस का सीएबी के विरोध इस्तीफा

नई दिल्ली! आईपीसी ऑफिसर अब्दुर रहमान ने नागरिकता संशोधन बिल पास होने के विरोध में नौकरी से इस्तीफा दे दिया है! अब्दुर रहमान महाराष्ट्र मानवाधिकार आयोग में बतौर आईजीपी पोस्टेड थे!


अब्दुर रहमान ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया,


'नागरिकता संशोधन बिल संविधान के मूल ढांचा के खिलाफ है! मैं इस बिल की मुखालफत करता हूं! मैंने सविनय अवज्ञा में कल से ऑफिस नहीं जाने का फैसला किया है! आखिरकार मैं अपनी सेवा से इस्तीफा दे रहा हूं!'
अधिकारी का नाम अब्दुर रहमान है! 1997 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं! महाराष्ट्र मानवाधिकार आयोग में स्पेशल इंस्पेक्टर जनरल के पद पर हैं!


अब्दुर रहमान ने अपने ट्वीट के साथ एक इस्तीफा भी पोस्ट किया है. इसमें उन्होंने वीआरएस की मांग की थी! इस इस्तीफे में उन्होंने लिखा, 'मैंने वीआरएस के लिए एक अगस्त 2019 को आवेदन किया था! इसके बाद 25 अक्टूबर 2019 को राज्य सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को मेरे वीआरएस की सिफारिश भेजी थी, लेकिन गृह मंत्रालय ने स्वीकार नहीं किया!'


अब्दुर रहमान ने यह भी कहा, 'मेरे खिलाफ कोई विभागीय जांच भी नहीं लंबित है! गृह मंत्रालय ने जल्दबाजी में मेरे वीआरएस के आवेदन को रद्द किया है!' हालांकि सूत्रों का कहना है कि अब्दुर रहमान के खिलाफ विभागीय जांच चल रही है और वो पहले भी वीआरएस के लिए आवेदन कर चुके हैं! अब्दुर रहमान ने अपने आवेदन में भी अंदर लिखा है कि वो निजी कारणों से इस्तीफा दे रहे हैं!


अब्दुर रहमान इस तरह पहली बार सुर्खियों में नहीं आए हैं। इससे पहले भी पुलिस भर्ती के दौरान उन पर फर्जीवाड़े के आरोप लग चुके हैं। जिसके संबंध में इसी वर्ष अप्रैल में पूर्व महाराष्ट्र सरकार ने उनके ख़िलाफ़ जाँच के आदेश दिए थे। दरअसल पूरा मामला साल 2007 में हुई पुलिस भर्ती से जुड़ा है। साल 2007 में हुई पुलिस भर्ती की परीक्षा में मराठी में लिखना अनिवार्य था, लेकिन अब्दुर रहमान ने 'विशेष समुदाय' के लोगों को उर्दू में लिखने की अनुमति दी थी। साथ ही महिला अभ्यार्थियों का कोटा होने के बावजूद भी उनकी भर्ती नहीं की थी।


'टाइगर स्टेट' शेरों के स्वागत को तैयार

भोपाल! मध्यप्रदेश ने पिछले एक साल में न केवल एक बार फिर देश में टाइगर स्टेट होने का गौरव प्राप्त किया है बल्कि वैश्विक जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वार्मिंग से निपटने के साथ वन-वन्य प्राणी संरक्षण और वनवासियों के उत्थान के सतत प्रयास भी शुरू कर दिये हैं। गुजरात के गिर में बचे हुए एशियाटिक लायन को विलुप्ति से बचाने के लिए सर्वोच्च न्यायालय द्वारा कूनो अभयारण्य में कुछ सिंहों की शिफ्टिंग के लिये भी राज्य सरकार लगातार सक्रिय है। प्रदेश में वनोपज का उत्पादन पिछले वर्ष से अधिक हुआ है। इस वर्ष 2.73 लाख घन मीटर इमारती लकड़ी, 1.62 लाख घन मीटर जलाऊ चट्टे और 34 हजार नोशनल टन बाँस का उत्पादन हुआ है, जो विगत वर्ष की तुलना में इमारती लकड़ी के लिये 56 प्रतिशत, जलाऊ लकड़ी के लिये 30 प्रतिशत और बाँस में 26 प्रतिशत अधिक है।
526 बाघ के साथ म.प्र. फिर देश में प्रथम-अखिल भारतीय बाघ आंकलन के 29 जुलाई 2019 को घोषित परिणाम में 526 बाघ के साथ मध्यप्रदेश पुन: देश में प्रथम स्थान पर है। वर्ष 2014 में हुई गणना में 306 बाघ आंकलित हुए थे। प्रदेश के तीन टाइगर रिजर्व- पेंच, कान्हा और सतपुड़ा देश में प्रबंधकीय दक्षता में प्रथम तीन स्थान पर हैं।
मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड द्वारा पर्यटन स्थलों पर सुविधाओं एवं सेवाओं के लिए सतपुड़ा टाइगर रिजर्व को ''मोस्ट टूरिस्ट फ्रेंडली नेशनल पार्क'' का अवार्ड मिला है। वन पर्यटन पर जोर देते हुए वन्य-प्राणी पर्यटन संबंधी निर्णयों के अमल की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया है। प्रदेश में दूसरी बार 12 जनवरी 2019 में की गई गिद्ध गणना में प्रदेश के 33 जिलों में 7900 गिद्ध पाए गए हैं। टाइगर स्ट्राइक फोर्स ने वन्य-प्राणी अपराध में लिप्त राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता पाई है।
संग्रहण वर्ष 2019 में तेंदूपत्ता मजदूरी 2000 रूपये से बढ़ाकर 2500 रूपये प्रति मानक बोरा की दर से मजदूरी का नगद भुगतान किया गया। तेन्दूपत्ता प्रोत्साहन राशि का 15 प्रतिशत 3289.80 लाख रूपये अधोसंरचना विकास और 2365.60 लाख रूपये वन विकास और क्षमता विकास पर व्यय किये गये।
एकलव्य शिक्षा योजना में 4774 विद्यार्थियों को करीब 5 करोड़ की छात्रवृत्ति दी गई। बाह्य स्थलीय संरक्षण योजना में 2182 हेक्टेयर में पौध-रोपण किया गया। क्षमता विकास योजना में 1100 तेन्दूपत्ता संग्राहक परिवार के युवाओं को 225 लाख 50 हजार के व्यय से मोटर ड्राइविंग प्रशिक्षण दिलाया गया। मुख्यमंत्री तेन्दूपत्ता संग्राहक कल्याण सहायता योजना में 483 प्रकरणों में पौने 2 करोड़ की राशि स्वीकृत की गई।
वन समितियाँ देंगी 7800 गौ-वंश को आश्रय-वन समितियों के माध्यम से अनाश्रित गायों के लिए 78 गौ-शालाएँ खोली जा रही हैं। प्रति गौ-शाला 7800 गौ-वंश को आश्रय दिया जाएगा। वन विभाग ई-आफिस प्रणाली लागू करने वाला प्रदेश में पहला है। जीआईएस तकनीक का प्रयोग कर वन खण्डों के मूल मानचित्र एवं राजस्व विभाग के खसरे वार उपलब्ध डेटा से नक्शे तैयार किये गये हैं। निजी भूमि पर वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना में 25.82 लाख, राष्ट्रीय बाँस मिशन में लगभग 10 करोड़ 90 लाख और ग्रीन इंडिया मिशन में 13 करोड़ की राशि का वितरण किया गया है। आरा मशीन नामांतरण-स्थानांतरण प्रक्रिया मे संशोधन से अब विक्रय/उत्तराधिकार इत्यादि केवल एसएलसी के अनुमोदन से ही हो जाएगा।
जन-सामान्य को एमपी ऑनलाइन से पौधा विक्रय की व्यवस्था के लिए नर्सरी मेनेजमेंट सिस्टम विकसित किया गया है। वनवासियों की अजीविका को केन्द्र में रखकर वन संरक्षण की योजनाएँ बनाई गई हैं। बिगड़े बाँस वनों के सुधार और वृक्षारोपण के माध्यम से वन समितियों की भागीदारी से योजना तैयार की गई है। वन एवं ग्रामीण विकास विभाग के समन्वय से 2 लाख 50 हजार हेक्टेयर के बिगड़े बाँस वनों के सुधार और 50 हजार हेक्टेयर में बाँस के उन्नत वृक्षारोपण की योजना क्रियान्वित की जा रही है। पान बरेजा परिवारों को निस्तार नीति में सम्मिलित किया गया है। वन्य-प्राणी सरंक्षित क्षेत्रों से विस्थापित ग्रामीणों को विभिन्न शासकीय योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए प्रमाण-पत्र दिए गए हैं। नर्सरी में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करते हुए उन्हें सभी आधारभूत सुविधाएँ उपलब्ध कराई गई हैं। वर्षा ऋतु में 3 करोड़ 34 लाख से ज्यादा पौधों का रोपण किया गया।
वन विकास निगम-वन विकास निगम द्वारा राष्ट्रीय राजमार्गों के 82 किलोमीटर में 96 हजार से ज्यादा पौधों का रोपण किया गया है। हेवल्स इण्डिया के सीएसआर मद से 222 हेक्टेयर वन क्षेत्र में 4 लाख पौधों का रोपण किया गया है। अमरकंटक में रुद्राक्ष और झाबुआ वन मण्डल में शीशम रोपण का कार्य प्रगति पर है। लुप्तप्राय पक्षी खरमोर के संरक्षण और संवर्धन के लिये धार और नीमच में विकास कार्य किया जा रहा है। इंदौर की टिश्यू कल्चर प्रयोगशाला में उत्तम गुणवत्ता के बाँस और संकटापन्न प्रजाति के पौधों को विकसित किया जा रहा है। सागौन पर भी प्रयोग शुरू किया गया है। वर्ष 2019 के रोपण के लिए विभागीय रोपणियों में 8.55 करोड़ विभिन्न प्रजातियों के पौधे विकसित किए गए हैं। गैर वन क्षेत्रों में लगभग 40 लाख पौधों का विक्रय किया गया। निगम द्वारा 96 लाख 64 हजार हेक्टेयर में एक करोड़ 73 लाख से ज्यादा पौधे रोपित किये गये। निगम प्रतिवर्ष लगभग 40 लाख मानव दिवस रोजगार उपलब्ध करा रहा है।
वर्ष 2019-20 में राष्ट्रीय बाँस मिशन द्वारा प्रदेश की 4541.87 लाख रूपये की योजना को मंजूरी दी गई। इसमें केन्द्रांश और राज्यांश का अनुपात 3:2 है। बाँस की गुणवत्तापूर्ण रोपण सामग्री के लिए दो उच्च तकनीक और चार छोटी बाँस रोपणी निजी क्षेत्र में स्थापित कराई गई हैं। प्रदेश के सभी 11 एग्रो क्लाईमेटिक जोन में बाँस की विभिन्न प्रजातियों की फील्ड ट्रायल के लिए 12 बेम्बू सेटम की स्थापना की गई है। कृषि क्षेत्र के 1114.50 हेक्टेयर क्षेत्र में बाँस रोपण कराया गया है। प्रदेश के प्रमुख बाँस क्लस्टरों में निजी क्षेत्र में 46 और 33 बाँस आधारित सूक्ष्म लघु और मध्यम इकाइयों की स्थापना का कार्य प्रगति पर है। परम्परागत 156 शिल्पकारों को नवीन बॉस उत्पादों के डिजाईन एवं निर्माण के लिए और 52 को अगरतला में प्रशिक्षण के लिए भेजा गया। बाँस उत्पाद निर्माण और विपणन को सुलभ बनाने के लिए सीएफसी का सुदृढ़ीकरण किया गया।
जैव विविधता बोर्ड-जैव विविधता बोर्ड द्वारा जैव विविधता संरक्षण के क्षेत्र में मण्डला, बैतूल, छिन्दवाड़ा के लगभग 500 किसानों, समिति सदस्यों और संग्राहकों को अकाष्ठीय वनोपज की विनाश विहीन सतत पद्धति का प्रशिक्षण दिया गया। जन-भागीदारी से 1 करोड़ 10 लाख सीडबॉल का निर्माण किया गया। रोपणियों में दुर्लभ प्रजाति के 70 लाख पौधे तैयार किये गये।
इस वर्ष 60 हजार क्विंटल वर्मी कम्पोस्ट तैयार किया गया। जीवामृत एवं नीम खली का उत्पादन भी रोपणियों में किया जा रहा है। प्रमुख स्थलों पर रोपणी को ईको-टूरिज्म स्पॉट के रूप में विकसित कर जन-सामान्य में वृक्षारोपण के प्रति जागरूकता पैदा की जा रही है।
कैम्पा में अब तक सर्वाधिक 450 करोड़ की राशि स्वीकृत
इस अवधि में पहला अवसर रहा जब निरंतर प्रयासों से राज्य कैम्पा के किसी एपीओ की स्वीकृति भारत सरकार द्वारा उसी वित्तीय वर्ष के प्रथम त्रैमास में ही जारी की गई। स्वीकृत एपीओ में 450 करोड़ के कार्य होंगे। यह अभी तक की सर्वाधिक स्वीकृत राशि है। ग्रीन इण्डिया मिशन में मशरूम खेती, महिलाओं को सिलाई, सेनेटरी पेड निर्माण, बॉयोगैस डायजेस्टर, अगरबत्ती निर्माण, कम्प्यूटर, ड्रायविंग, बिजली मरम्मत आदि रोजगारमूलक प्रशिक्षण दिया जा रहा है।


कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित रखता है चकोतरा

सर्दी के मौसम में आनेवाले प्रमुख फलों में शामिल है चकोतरा। धूप में बैठकर इस फल का लुत्फ उठानेवाले इसके स्वाद और इससे होनेवाले फ्रेश मूड का अनुभव जानते हैं। यह एक पौष्टिक फल है और आमतौर पर पहाड़ी मैदानों के साथ ही प्लेन्स में भी उतना ही लोकप्रिय है।


चकोतरा के जूस में विटमिन-ई, सी और ए पाए जाते हैं। साथ ही यह फल बैक्टीरियल इंफेक्शन से लडऩे में मददगार है।
-चकोतरा को ग्रेपफ्रूट के रूप में भी जाना जाता है। यह एक रसीला फल है और इसके सेवन से शरीर में पानी की कमी नहीं होती है, जिससे सर्दियों में त्वचा में खुस्की की समस्या नहीं होती है।
— चकोतरा में फैट नहीं होता और शरीर को सिर्फ जरूरी कैलोरी ही मिलती हैं। इस कारण जो लोग अपना बढ़ता हुआ वजन कम करना चाहते हैं, उन्हें भी सर्दियों में चकोतरना का उपयोग करना चाहिए।
–जिन लोगों को कोलेस्ट्रॉल से जुड़ी समस्या रहती है, उन्हें एक चकोतरा रोज खाना चाहिए। जर्नल ऑफ एग्रीकल्चर ऐंड फूड केमिस्ट्री की एक रिपोर्ट के अनुसार, खराब कोलेस्ट्रॉल को ठीक करने में चकोतरा अहम भूमिका निभाता है।
दिल की बीमारियों का खतरा कम करने का काम भी चकोतरा करता है। कोलेस्ट्रॉल घटाकर यह रक्त को पतला करने में मदद करता है। इससे स्ट्रोक का रिस्क कम होता है।


सर्दी में लाभकारी है 'टमाटर सूप'

लाल लाल स्वादिष्ट टमाटर कई सब्जियों व डिश का अहम हिस्सा होते है। कच्चे टमाटर के अलावा उनका सूप भी बहुत ही स्वादिष्ट और पौष्टिक होता है। आमतौर पर खाने से पहले स्टार्टर के तौर पर लिए जाने वाले टमाटर सूप में विटामिन ए, ई, सी, के और एंटी-ऑक्सीडेंट्स होते हैं। जो आपको हेल्दी और फिट रखने में मदद करते हैं। 
आइए, जानते हैं टमाटर सूप पीने से सेहत को मिलने वाले 7 गजब के फायदे –
1 हड्डियों के लिए फायदेमंद –
टमाटर सूप में विटामिन के और केल्शियम होता है जो हड्डियों को मजबूत रखता है। इसके अलावा शरीर में लाइकोपीन की कमी होने से भी हड्डियों पर तनाव बढ़ता है और टमाटर में काफी मात्रा में लाइकोपीन होता है, जो हड्डियों के लिए अच्छा होता है।
2 दिमाग को रखें दुरुस्त –
टमाटर सूप में भरपूर मात्रा में कॉपर और पोटेशियम पाया जाता है, जिससे नर्वस सिस्टम ठीक रहता है और दिमाग को मजबूती मिलती है।
3 विटामिन की कमी करे पूरी –
टमाटर सूप में विटामिन ए और सी अच्छी मात्रा में होता है। विटामिन ए, टिशू के विकास के लिए जरूरी होता है। कहते है कि शरीर में रोजाना 16 प्रतिशत विटामिन ए और 20 प्रतिशत विटामिन सी की जरूरत होती है और टमाटर सूप इसकी जरूरत को पूरा करता है।
4 वजन करे कम –
टमाटर सूप को अगर ऑलिव ऑयल से बनाया जाए तो यह वजन घटाने में सहायक होता है, क्योंकि इसमें पानी और फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है, जिससे आपको काफी समय तक भूख नहीं लगती।
5 कैंसर का खतरा करे कम –
टमाटर सूप में लाइकोपीन और कैरोटोनॉयड जैसे एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं, जिससे कैंसर की आशंका कम हो जाती है।
6 ब्ल्ड शुगर को करे नियंत्रण –
डायबिटीज के मरीजों को डाइट में टमाटर सूप जरूर लेना चाहिए। इसमें क्रोमियम होता है, जो ब्ल्ड शुगर को नियंत्रण में रखने में सहायक होता है।
7 रक्त प्रवाह को बढ़ाएं –
टमाटर में सेलेनियम होता है, जो रक्त प्रवाह को बढ़ाता है जिससे एनिमिया का खतरा कम हो जाता है।


रतनजोत के बीज खाकर बच्चे हुए बीमार

धमतरी। भखारा इलाके के एक गांव में उस वक्त हड़कंप मच गया, जब आधा दर्जन से अधिक बच्चों को अचानक उल्टी होने लगी। ग्रामीणों ने आनन-फनन में बच्चों को अस्पताल पहुंचाया। फिलहाल सभी बच्चों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका उपचार जारी है। बच्चों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।
मिली जानकारी के अनुसार बुधवार भखारा इलाके के जुनवानी गांव के 10 बच्चों ने खेलते-खेलते रतनजोत का बीज खा लिया था। रतनजोत का बीज खाने के बाद बच्चों को उल्टी होने लगी। इसके बाद ग्रामीणों ने उन्हें तत्काल स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया। बताया जा रहा है कि बच्चे गौठान में खेल रहे थे, इसी दौरान उन्होंने वहां लगे रतनजोत का बीज खा लिया था।


हुंडई के शोरूम में लगी, आग 5 कार जली

जगदलपुर। शहर के बोधघाट थाना क्षेत्र में स्थित हुंडई कार शोरूम के बाहर रखी गई 05 वाहनों पर गुरुवार की सुबह अचानक आग लग गई। आगजनी की घटना के बाद वहां खड़ी 05 कारें जलकर पूरी तरह खाक हो गई है। 
हुंडई शोरूम के बाहरी हिस्से में रखी गई कारों में एक कार पर सुबह करीबन 9 बजे अचानक आग लग गई। आग को देखते हुए वहां मौजूद शोरूम के गार्ड ने घटना की जानकारी पुलिस, दमकल और हुंडई शोरूम के संचालक को दिया। कार में लगी आग देखते ही देखते नजदीक खड़ी 4 वाहनों को भी अपनी चपेट में ले लिया। इसी दौरान एनडीआरफ की टीम ने मौके पर पहुँचकर समय रहते आग पर काबू पा लिया है। यदि आग बुझाने में कुछ और देरी हुई होती तो वहां खड़े और भी वाहन आग की चपेट में आ जाती और हुंडई शोरूम का बड़ा नुकसान हो सकता था। फिलहाल मौके पर बोधघाट पुलिस पहुँचकर मामले की जांच में जुट गई है।


तूफान में उड़ा वेस्टइंडीज, जीती सीरीज

तूफान में उड़ा विंडीज, 2-1 से भारत ने जीती सीरीज


भारत ने वेस्टइंडीज को मुंबई में खेले गए आखिरी और निर्णायक टी-20 मुकाबले में 67 रनों से मात देकर तीन मैचों की टी-20 सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली है! इस जीत के साथ टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने वाइफ अनुष्का शर्मा को वेडिंग एनिवर्सरी का गिफ्ट दे दिया! विराट कोहली और उनकी पत्नी बॉलीवुड एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा ने बुधवार 11 दिसंबर को अपनी दूसरी वेडिंग एनिवर्सरी मनाई!


इस मैच में पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने 20 ओवर में 3 विकेट गंवा कर 240 रन बनाए और वेस्टइंडीज के सामने मैच और सीरीज जीत के लिए 241 रनों का टारगेट रखा! जवाब में वेस्टइंडीज की टीम 20 ओवर में 173 रन ही बना पाई! वेस्टइंडीज के लिए कीरोन पोलार्ड ने सबसे ज्यादा 68 रन बनाए! इस जीत के साथ ही भारत ने वेस्टइंडीज के खिलाफ लगातार तीसरी सीरीज अपने नाम की! उसे पिछली बार 2017 में हार मिली थी! इसके बाद भारत ने वेस्टइंडीज को 2018 में 3-0 और इसी साल अगस्त में 3-0 से हराया था! भारत ने विंडीज के खिलाफ रनों के लिहाज से दूसरी बड़ी जीत दर्ज की! वह 2018 में लखनऊ में 71 रन से हरा चुका है!


भारत ने बनाए ताबड़तोड़ 240 रन-पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने 20 ओवर में 3 विकेट गंवा कर 240 रन बनाए और वेस्टइंडीज के सामने मैच और सीरीज जीत के लिए 241 रनों का टारगेट रखा! टीम इंडिया के लिए केएल राहुल ने सबसे ज्यादा 91 रन बनाए, जबकि रोहित शर्मा ने 34 गेंदों में 71 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली! कोहली ने 29 गेंदों में 70 रनों की पारी खेली!


रोहित शर्मा 34 गेंद पर 71 रन बनाकर आउट हुए! उन्होंने लोकेश राहुल के साथ पहले विकेट के लिए 135 रन की साझेदारी की! रोहित ने करियर का 19वां अर्धशतक लगाया. रोहित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 400 छक्के लगाने वाले तीसरे क्रिकेटर भी बने! सबसे ज्यादा छक्के वेस्टइंडीज के क्रिस गेल (534) ने लगाए हैं! इस मामले में दूसरे स्थान पर पाकिस्तान के शाहिद अफरीदी (476) हैं!सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल (91), रोहित शर्मा (71) और कप्तान विराट कोहली (नाबाद 70) रनों की पारी के दम पर भारत ने वेस्टइंडीज के सामने 241 रनों की चुनौती रखी! इन तीनों की तूफानी पारियों के दम पर भारत ने 20 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर 240 रन बनाए जो उसका टी-20 में तीसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर है!


विंडीज के कप्तान कीरोन पोलार्ड का टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला मेहमान टीम को भारी पड़ गया! मुंबई इंडियंस के कप्तान और स्थानीय खिलाड़ी रोहित ने अपने साथी राहुल के साथ मिलकर विंडीज के गेंदबाजों के परखच्चे उड़ाने शुरू कर दिए! इन दोनों ने पावर प्ले के छह ओवरों में ही 12 की औसत से बल्लेबाजी करते हुए टीम का स्कोर 72 कर दिया! पावर प्ले के बाद यह दोनों और ज्यादा हावी हो गए और आठ ओवरों की समाप्ति पर टीम को 100 के पार पहुंचा दिया! रोहित और राहुल दोनों विंडीज के हर गेंदबाज को निशाना बना रहे थे! राहुल को केसरिक विलियम्स ने आउट किया. वह हेडन वॉल्श के हाथों लपके गए! आउट होने से पहले रोहित ने राहुल के साथ पहले विकेट के लिए 135 रनों की साझेदारी की!


इस बार कोहली ने फिर तीसरे नंबर पर प्रयोग किया और ऋषभ पंत को बल्लेबाजी के लिए भेजा! पंत, पूरी कोशिश के बाद भी पिछले मैच में इस नंबर पर उतरे शिवम दुबे की सफलता को दोहरा नहीं पाए और पोलार्ड ने उन्हें जेसन होल्डर के हाथों कैच आउट कराया! फिर कोहली और राहुल ने एक्सीलेटर पर पैर रखा! कोहली ने महज 21 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया! राहुल और कोहली ने 95 रनों की साझेदारी की! राहुल टी-20 में अपने तीसरे शतक से चूक गए और 233 के कुल स्कोर पर शेल्डन कॉटरेल की गेंद पर आउट हो गए! राहुल ने 56 गेंदों का सामना कर नौ चौके और चार छक्के लगाए! कोहली ने आखिरी गेंद पर छक्का लगा अपनी टीम को 240 का स्कोर प्रदान किया! कोहली ने अपनी नाबाद पारी में 29 गेंदों का सामना कर सात छक्के और चार चौके मारे!


वेस्टइंडीज ने दी थी भारत को पहले बैटिंग-वेस्टइंडीज के कप्तान कीरोन पोलार्ड ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया है और भारत को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया है! टीम इंडिया में दो बदलाव हुए हैं! युजवेंद्र चहल और रवींद्र जडेजा की जगह कुलदीप यादव और मोहम्मद शमी को शामिल किया गया है! वेस्टइंडीज की टीम में कोई बदलाव नहीं हुआ!


 


प्यार और बदले की कहानी है 'नागिन'

 मुंबई! एकता कपूर के शो नागिन 4 में निया शर्मा और जैस्मिन भसीन मेन लीड में हैं! नागिन 4 का नया प्रोमो सामने आया है! इस प्रोमो में नागिन 4 का प्लॉट कुछ-कुछ समझ में आ रहा है! हालांकि, निया शर्मा का किरदार क्या होगा इस पर अभी भी सस्पेंस है!


प्यार और बदले की कहानी है नागिन-प्रोमो की शुरुआत एक शादी से होती है! दरअसल, शो में सायंतनी घोष एक इच्छाधारी नागिन हैं! लेकिन उन्हें एक इंसान से प्यार हो जाता है और वो उससे शादी कर लेती हैं. दोनों को एक बेटी होती है! लेकिन जब वो अपने गांव जाते हैं तो कुछ लोग (कौन लोग हैं और किस कारण से मारते हैं इसका खुलासा नहीं हुआ) उन्हें और उनके परिवार को मार देते हैं!


सायंतनी घोष चकमा देकर वहां से निकल तो जाती हैं लेकिन ज्यादा आगे तक नहीं जा पाती! वो खाई से नीच गिर जाती हैं. इसी दौरान उनकी बेटी सायंतनी की आंखों में दुश्मनों की परछाई देख लेती है! यहीं से शुरू होती है इंतकाम की कहानी!


ये है जैस्मिन भसीन के कैरेक्टर का नाम


सांयतनी बच्ची को हाथों में उठाकर कहती हैं कि ये बच्ची इसलिए जन्मी है! अपनी मां का बदला लेगी! उस बच्ची का नाम होता है नयनतारा!दूसरी तरफ विजेंद्र और निया शर्मा की एंट्री होती है! निया शर्मा नागिन हैं या इंसान इसका खुलासा नहीं हुआ है! लेकिन प्रोमो देखकर साफ है कि इस बार नागिन अपना बदला और भी खतरनाक तरीके से लेगी! शो में निया और जैस्मिन का कनेक्शन भी दिखाया जाएगा! शो का प्रोमो काफी दिलचस्प है! शो 14 दिसंबर से शनिवार-रविवार 8 बजे शुरू होगा!


बिग बॉस में फिर भिड़े मधुरिमा-विशाल

बिग बॉस में फिर भिड़ा ये Ex कपल, मधुरिमा ने विशाल को कहा-चिपके रहो लड़कियों से


मुंबई! बिग बॉस में मधुरिमा तुली के वाइल्ड कार्ड में आने के बाद से विशाल आदित्य सिंह शो में एक्टिव हो गए हैं! मधुरिमा और विशाल के बीच कभी लड़ाई तो कभी रोमांस देखने को मिल रहा है! विशाल और मधुरिमा को शो में रोमांस करता देखकर फैन्स को लगा था कि शायद दोनों दोबारा एक हो सकते हैं! लेकिन बीते दिन एक बार फिर विशाल और मधुरिमा बुरी तरह लड़ते हुए नजर आए!


आपस में क्यों भिड़े विशाल और मधुरिमा-दरअसल, शो में देखा गया कि मधुरिमा विशाल के बेड पर सो जाती हैं! मधुरिमा विशाल को पैंपर करती हैं, उनके गाल खींचती हैं! ये सब देख विशाल को अहसजता महसूस होती है! इसी के साथ दोनों के बीच काफी लड़ाई बढ़ जाती हैं! मधुरिमा गुस्से में विशाल को कहती हैं कि तुम बस दूसरी लड़कियों से छिपके रहो! इसपर गुस्सा होकर विशाल भी मधुरिमा पर दूसरे लड़कों से छिपकने का इल्जाम लगाते हैं!


विशाल की इस बात पर मधुरिमा कहती हैं कि मैं बस बात करती हूं लेकिन तुम लड़कियों से छिपकते हो! जहां तुम्हें अपना मतलब दिखता है वहीं चले जाते हो! दोनों एक दूसरे को जमकर खरी खोटी सुनाते हैं! मधुरिमा विशाल को लड़की, गवार और बहुत कुछ सुनाती हैं विशाल भी गुस्से में मधुरिमा को काले दिल की औरत कह देते हैं!


वहीं, शो की बात करें तो इन दिनों बिग बॉस में धमाकेदार ड्रामा देखने को मिल रहा है! पारस छाबड़ा अपकमिंग एपिसोड में बिग बॉस के घर में एंट्री करेंगे और घरवालों को एक दूसरे की बातें बताएंगे! पारस के घर में आने के बाद ये तो तय है कि बिग बॉस के घर में धमाका देखने को मिलेगा!


सैन्य शिविर पर हमला, 71 जवानों की मौत

 तिलाबेरी! माली की बॉर्डर से सटे नाइजर में सैकड़ों जिहादियों ने नाइजर के सैन्य शिविर पर हमला कर दिया है, जिसमे 71 जवानों के मारे जाने की खबर है। नाइजर के रक्षा मंत्रालय की तरफ से बुधवार को कहा गया है कि जिहादियों ने सैन्य शिविर पर गोले व मोर्टार दागे, जिसमे 71 जवान मारे गए है। मंगलवार को पश्चिमी तिलाबेरी इलाके में नाइजर की आर्मी पर यह अब तक का सबसे बड़ा हमला है। नाइजर में साल 2015 से इस्लामिक मिलिटेंट की तरफ से हिंसा की जा रही है।


नाइजर के राष्ट्रीय टीवी चैनल पर नाइजर के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि हम बड़े दुख के साथ इस बात की जानकारी दे रहे हैं कि हमारे 71 सैन्य जवान शहीद हो गए हैं, जबकि 12 जख्मी हुए हैं और कई लापता है। यह हमला बड़े पैमाने पर आतंकियों ने बड़े हथियारों व गोला बारूद से नाइजर की सेना पर किया है। रक्षा मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि जवाबी कार्रवाई में बड़ी तादाद में आतंकियों को भी ढेर किया गया है। सेना और आतंकियों के बीच लगभग तीन घंटे तक गोलीबारी चली।


 इससे पहले कहा गया था कि इस हमले में आर्मी के 60 जवान मारे गए हैं। सूत्रों का कहना है कि आतंकियों ने आर्मी कैंप में मोर्टार से हमला किया था। इस हमले में बड़ी तादाद में जवान मारे गए हैं। हालांकि अभी तक किसी भी आतंकवादी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। नाइजर की आर्मी पहले से ही आतंकी संगठन बोको हरम के आतंकियों से लड़ रही है। नाइजर के राष्ट्रपति इसोफू मोहम्मद ने मिस्र क अपने दौरे को बीच में ही खत्म कर दिया है और वे अपने देश लौट रहे हैं।


फिल्म 'पानीपत' से हटेगा विवादित सीन

पानीपत से हटेगा विवादित सीन, फिर भी मंत्री ने की फिल्म बैन करने की मांग


 नई दिल्ली! फिल्म पानीपत में भरतपुर के महाराज सूरजमल के किरदार को लेकर विवाद हो रहा है! जाट समुदाय का आरोप है कि मूवी में महाराज सूरजमल के किरदार का गलत चित्रण किया गया है! लेकिन लगता है अब पानीपत पर विवाद खत्म होने की ओर है!


दरअसल, पानीपत के प्रोड्यूसर्स फिल्म से विवादित हिस्से को हटाने के लिए राजी हो गए हैं! राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरुप ने बुधवार को PTI से बातचीत में कहा- फिल्म के डिस्ट्रीब्यूर्स ने हमें जानकारी दी है कि फिल्म निर्माता पानीपत के कुछ सीन्स को एडिट करेंगे! प्रोड्यूसर्स मूवी का एडिटेड वर्जन सेंसर बोर्ड को दिखाएंगे!


मंत्री ने पानीपत को बैन करने की मांग


दूसरी तरफ, राज्य के पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह निर्माताओं के सीन हटाने की बात को लेकर संतुष्ट नहीं दिखे! उन्होंने ट्वीट कर लिखा- ''पानीपत में ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ करते हुए भरतपुर के महाराजा सूरजमल जी जैसे महान पुरुष का चित्रण गलत तरीके से किया गया है! फिल्म में एक सीन के बदलने से काम नही चलेगा, सेंसर बोर्ड से मेरा निवेदन है कि इस फिल्म को पूरे देश में तुरंत प्रभाव से बंद करें!'


जाटों के विरोध के बाद राजस्थान में पानीपत को कमाई में नुकसान हो रहा है! राज्य के कई सिनेमाघरों में प्रोटेस्ट की वजह से पानीपत की स्क्रीनिंग नहीं हो रही है! सोमवार को प्रदर्शनकारियों ने एक सिनेमाहॉल में तोड़फोड़ भी की थी. राजस्थान के पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह दोतासरा, पूर्व सीएम वशुंधरा राजे ने भरतपुर के महाराज सूरजमल के किरदार को गलत ढंग से दिखाने के आरोप लगाए हैं! सीएम अशोक गहलोत ने भी कड़े शब्दों में कहा था कि फिल्म बनाने वालों को समाज की भावनाओं का ख्याल रखना चाहिए! पानीपत में अर्जुन कपूर ने सदाशिव राव भाऊ का रोल निभाया है! संजय दत्त 1761 में अफगान के राजा रहे अहमद शाह अब्दाली के रोल में दिखे!


वकीलों की हिंसा में 15 की मौत, 25 घायल

वकीलों का अस्पताल पर हमला, 15 की मौत, 25 घायल


 लाहौर! पाकिस्तान के लाहौर में बुधवार को बड़ी हिंसा भड़क गई! यहां सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे वकीलों की पंजाब इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियोलॉजी (पीआईसी) के डॉक्टरों से भिड़ंत हो गई जिसमें 15 लोग मारे गए और दर्जनों लोग जख्मी हैं! रिपोर्ट के मुताबिक बड़ी संख्या में वकीलों ने पीआईसी अस्पताल पर धावा बोल दिया और डॉक्टरों पर हमला किया!


इस घटना में  पीआईसी अस्पताल को भारी नुकसान पहुंचा है क्योंकि हुड़दंगी वकीलों ने अस्पताल की खिड़कियों के शीशे तोड़ दिए और उपकरणों को भारी क्षति पहुंचाई. हिंसा पर उतारू वकीलों ने आईसीयू को भी नहीं छोड़ा और वहां भी उत्पात मचाया! पाआईसी के डॉक्टरों का दावा है कि वकीलों के हमले में गंभीर रूप से घायल कुछ मरीजों सहित कम से कम 15 लोग मारे गए! जबकि हमले में 25 लोग जख्मी हैं!


रिपोर्ट के मुताबिक, पंजाब के सूचना मंत्री फयाज चौहान भी वकीलों के हमले में घायल हुए हैं! इस घटना के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान ने तुरंत कार्रवाई करने का फैसला किया और पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार को फौरन घटना की जांच कराने के आदेश दिए! वकीलों ने गुरुवार को लाहौर में विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया है! कुछ दिन पहले इसी अस्पताल में डॉक्टरों ने वकीलों पर हमला कर दिया था! बुधवार का हिंसक हमला इसी का बदला बताया जा रहा है!


हालांकि बुधवार को दोनों पक्षों में सुलह की नौबत आ गई थी लेकिन अचानक वकीलों का समूह पीआईसी अस्पताल पहुंचा और डॉक्टरों पर हमला बोल दिया! वकीलों का उग्र रूप देखकर पैरा मेडिकल स्टाफ अस्पताल छोड़ कर भाग गए जबकि जो डॉक्टर पकड़ में आए, वकीलों ने उन्हें जमकर पीट दिया! जो लोग जख्मी हैं उनमें एक लेडी डॉक्टर और एक महिला रिपोर्टर भी शामिल हैं! वकीलों ने पुलिस की एक गाड़ी को आग के हवाले कर दिया! अस्पताल के बाहर कुछ पुलिसकर्मी सुरक्षा में लगाए गए थे, वे हमला देख कर अपनी गाड़ी छोड़ कर फरार हो गए!   


संप्रदायिक माहौल ठीक, समय गुजारे शाह

बांग्लादेश के विदेश मंत्री बोले- हमारा सांप्रदायिक माहौल ठीक, कुछ महीने गुजारें अमित शाह


 ढाका! नागरिकता संशोधन बिल भारत की संसद से पास हो गया है और कानून बनने का रास्ता साफ है! इस बिल के तहत बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आने वाले गैर-मुस्लिम शरणार्थियों को नागरिकता मिलेगी! भारत में बिल के पास होने के बाद बांग्लादेश के विदेश मंत्री का बयान आया है, जिसमें उन्होंने अपने देश की तारीफ की है!


स्थानीय मीडिया के अनुसार, बांग्लादेश के विदेश मंत्री डॉ. एके. अब्दुल मोमेन ने कहा है कि दुनिया में कुछ ही ऐसे देश हैं, जहां बांग्लादेश जैसा अच्छा सांप्रदायिक सौहार्द है! अगर वो बांग्लादेश में आकर कुछ महीने गुजारेंगे, तो उन्हें हमारे देश में शानदार सांप्रदायिक सौहार्द दिखेगा! उन्होंने कहा कि भारत के अंदर ही काफी दिक्कतें हैं, पहले उन्हें उनसे निपटना चाहिए! हमें उससे कोई परेशानी नहीं है लेकिन एक दोस्त देश होने के नाते हम इतना चाहते हैं कि भारत ऐसा कुछ नहीं करेगा, जिससे दोनों देशों के संबंध में तकरार आएगी! गौरतलब है कि गुरुवार को राज्यसभा में दिए गए अपने भाषण में गृह मंत्री अमित शाह ने बांग्लादेश का नाम लिया था!


क्या बोले थे अमित शाह?


अमित शाह ने जिक्र किया था कि बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान एक इस्लामिक देश हैं, ऐसे में वहां पर अन्य धर्म के लोग अल्पसंख्यक हैं! यही कारण है जिन अल्पसंख्यकों की वहां पर धार्मिक प्रताड़ना हो रही है और वो भारत आ रहे हैं, तो उन्हें यहां नागरिकता देने का प्रावधान किया गया है!


इस दौरान अमित शाह ने बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों के साथ हुई कुछ घटनाओं का भी जिक्र किया था, हालांकि साथ ही उन्होंने ये भी कहा था कि वहां मौजूदा शेख हसीना सरकार अब माहौल ठीक करने में जुटी हुई है! दरअसल, बांग्लादेश से कई लोग बिना किसी इजाजत के भारत में घुस आते हैं, जो पूर्वोत्तर के राज्यों में एक बड़ा मुद्दा रहा है. इसी के तहत भाजपा ने देशभर में NRC को लागू करने का फैसला किया है! बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए बिल के मुताबिक अफगानिस्तान, पाकिस्तान, बांग्लादेश से आने वाले हिंदू, जैन, बौद्ध, सिख, ईसाई, पारसी शरणार्थियों को नागरिकता मिलेगी!


हैदराबाद मुठभेड़ की स्वतंत्र जांच हो: एससी

नई दिल्ली। हैदराबाद में कथित एनकाउंटर पर मसला सुको में सुनवाई के दौरान CJI बोबड़े ने सख़्त टिप्पणी की है। मामले की जाँच स्वतंत्र जाँच ऐजेंसी से कराए जाने की माँग को लेकर दायर याचिका पर सुनवाई के दौरान स्वतंत्र जाँच का विरोध करने की सरकारी दलील पर कहा –“यदि आप कहते हैं कि आप एनकाउंटर में शामिल लोगों पर अपराधिक मामला चला रहे हैं तो हमारे लिए फिर कुछ नहीं बचता.. लेकिन .. अगर आप कहते हैं कि, वे निर्दोष हैं, तो लोगों को सच्चाई पता होना चाहिए। हम पूर्वाग्रही नहीं है.. जाँच होने दीजिए.. आप इसके लिए प्रतिरोधी क्यों है”
भारत के मुख्य न्यायाधीश शरद अरविंद बोबड़े ने कहा 


“मुठभेड़ की एक स्वतंत्र जाँच होनी चाहिए”हैदराबाद में बीते 6 दिसंबर को महिला पशु चिकित्सक के साथ अनाचार और ज़िंदा जला दिए जाने के मामले में विवेचना के दौरान हैदराबाद पुलिस ने चार संदेही/आरोपी पकड़े थे, जिन्हे पीड़िता का मोबाइल समेत कुछ वस्तुओं की बरामदगी करने और रिक्रिएशन के लिए उसी जगह ले ज़ाया गया था जहां पर कि, महिला पशु चिकित्सक का जला हुआ शव मिला था। क़रीब सुबह तीन बजे संदेही आरोपियों को ले ज़ाया गया था और तड़के क़रीब साढ़े पाँच छ बजे हैदराबाद में इस सूचना पर जश्न शुरु हो गया कि, हैदराबाद पुलिस ने एनकाउंटर में चारों संदेही आरोपियों को मार गिराया है। पुलिस ने एनकाउंटर को लेकर यह दावा किया कि, आरोपियों ने बेलचा लाठी से हमला किया और पिस्टल भी लूट ली थी।


अधिवक्ता जीएस मणि और मनोहर लाल शर्मा ने इस प्रकरण में चीफ़ जस्टिस शरद अरविंद बोबड़े की अध्यक्षता वाली पीठ में याचिका दायर कर आग्रह किया था कि,सुप्रीम कोर्ट के सेवानिवृत्त जस्टिस की अगुवाई में स्वतंत्र जाँच हो।


नागरिक विधेयक से डरने की जरूरत नहीं:मोदी

 नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर असम की जनता को भरोसा दिलाया है नागरिकता संशोधन बिल से किसी को डरने की जरूरत नहीं है। मोदी का ये ट्वीट अब आया है जब नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा के बाद राज्यसभा से भी पास हो गया और अब इसका कानून बनना तय है। असम समेत पूर्वोत्तर में नागरिकता संशोधन बिल का विरोध हो रहा है और ये हिंसक हो गया है। मुख्यमंत्री के घर पर पथराव के बाद वँहा 10 जिलों में इंटरनेट सेवा बन्द कर दी गई है। कुछ स्थानों पर कर्फ्यू लगा दिया गया है और सेना को भी फ्लैग मार्च करना पड़ा है। स्थिति बिगड़ती देख प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ये ट्वीट असम के लोगों के गुस्से को शांत करने की दिशा में एक पहल माना जा सकता है।


यहां इज्जत और कामयाबी मिली: गौतम

नई दिल्ली! राज्यसभा में नागरिक संशोधन बिल बुधवार देर शाम को पास हो गया। बिल में पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक प्रताड़ना के कारण भारत आए हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के लोगों को भारतीय नागरिकता प्रदान की जाएगी। बिल पास होते ही कई जगह खुशी मनाई गई। इसी कड़ी में बीजेपी सांसद और पूर्व भारतीय बल्लेबाज गौतम गंभीर ने भी मोदी सरकार को बधाई दी है।गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने ट्वीट करते कर कहा है , मेरे नाना 1947 में बतौर रिफ्यूजी मुल्तान से दिल्ली आए थे! यहां उन्हें इज्जत और कामयाबी मिली! इस बिल के साथ ही मेरी कामना है कि किसी अल्पसंख्यक को वापस ना जाना पड़े! मुबारक हो पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शा .' बता दें गौतम गंभीर अपने माता-पिता नहीं अपने नाना-नानी के साथ रहते आए हैं। गंभीर जब महज 18 दिनों के ही हुए थे, उसी समय उनके नाना-नानी ने उन्हें गोद ले लिया था। उसके बाद से वो अपने नाना-नानी के साथ ही रहते हैं।


कांग्रेस ने जलाई नागरिक विधेयक की प्रति

सन्दीप मिश्रा


रायबरेली । नागरिकता संसोधन बिल के विरोध में जिला व शहर कांग्रेस कमेटी द्वारा बिल की प्रतियां जलाकर विरोध प्रर्दशन किया गया , जिलाध्यक्ष पंकज तिवारी के नेतृत्व मे दीवानी कचेहरी के सामने सैकड़ो की संख्या में कांग्रेसियो ने भाजपा सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर संविधान बचाओं के नारे लगाए । कांग्रेस जिलाध्यक्ष तिवारी ने कहा कि भाजपा सरकार पूरे देश मे आरएसएस का एजेण्डा लागू कर देश को दोबारा विभाजित करने का माहौल बना रही है , श्री तिवारी ने कहा कि भारत की जड़ो मे गौरवशाली इतिहास , एकता और समानता है । भारत के संविधान को नष्ट करने से हर एक धर्म , जाति और संस्कृति की सुरक्षा पर आंच आएगी । अगर आज हमने यह होने दिया तो कल यह सरकार हर उस व्यक्ति , संस्था , संस्कृति , जाति और धर्म को निशाना बनाएगी जो संघ के विधान को नही मानेगा , उन्होने कहा कि अंग्रेज , जिन्ना ( मुस्लिमलीग ) और स्वतंत्रता संग्राम के भगोड़े रहे आरएसएस , सावरकर चाहते थे कि विभाजन हो और विभाजन का आधार धर्म बने देश मे फूट डालकर और इस फूट से अपनी राजनीति चमकाने वाले यह लोग उस समय कामयाब न हो सके लेकिन आज आरएसएस के उसी एजेंण्डे पर मोदी सरकार काम कर रही है । 
शहर अध्यक्ष सईदुल हसन ने कहा कि बाबा साहब अम्बेडकर द्वारा निर्मित भारतीय संविधान विश्व का सबसे मजबूत संविधान है जिसे बदलने का कूचक्र रचा जा रहा है उन्होने कहा कि संविधान मे देश के नागरिको को जो अधिकार दिया है उसे धर्म के आधार पर बदलना देश और संविधान के साथ खिलवाड़ और धोखा है । जिला प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि विरोध प्रदर्शन मे ओ0 पी0 श्रीवास्तव , राजकुमार दीक्षित , निर्मल शुक्ल , महताब आलम , अभय त्रिवेदी , रवीन्द्र सिंह , शिवकुमार पाण्डेय , शशिकांत शुक्ल , अजयपाल सिंह , श्रीमती अल्का राजपूत , श्रीमती रेशमा हाशमी , किरन प्रताप सिंह , सूर्य कुमार बाजपेई , मनोज त्रिवेदी , धीरज श्रीवास्तव , कमलेश पाण्डेय , बादशाह बाजपेई , ममता शर्मा , राघवेन्द्र सिंह , संजय शुक्ल , घनष्याम शुक्ल , अमरेश पासी , राहुल सिंह , कमल सिंह , प्रकाश मुरारका , अशोक सिंह , पंकज सोनकर , आशीष द्विवेदी , हाफिज रियाज , अनवार खान , श्रीमती शैलजा सिंह , मुन्ना घोसी , सै . अरशद , विजय पटेल , सरदार भूपेन्द्र सिंह , मीसम नकवी , सोनू खान , मो . आरिफ , सर्वोत्तम मिश्र सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसजन मौजूद रहे ।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


दिसंबर 13, 2019 RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-129 (साल-01)
2.  शुक्रवार, दिसंबर 13, 2019
3. शक-1941, मार्गशीर्ष- कृष्ण पक्ष, तिथि- दूज, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:11,सूर्यास्त 05:35
5. न्‍यूनतम तापमान -6 डी.सै.,अधिकतम-21+ डी.सै., कोहरा छाया रहने की संभावना, हल्की बारिश की संभावना बनी रहेगी।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...