गुरुवार, 16 जनवरी 2020

'नशा-मुक्त' खेल-संस्कृति का आह्वान

नई दिल्‍ली। युवा मामले एवं खेल राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  किरेन रिजीजू और अभिनेता  सुनील शेट्टी ने खेलो इंडिया के एथलीटों से किसी प्रतिबंधित पदार्थों से परहेज करने की मांग करते हुए एक स्वच्छ तथा नशा-मुक्त खेल संस्कृति का आह्वान किया है। मादक पदार्थों के खतरों के बारे में किशोरों को शिक्षित करने के लिए आज गुवाहाटी में आयोजित एक कार्यशाला में अभिनेता  सुनील शेट्टी ने एक बच्चे के जीवन में खेलों के महत्व पर जोर देते हुए अपनी सफलता की गाथा को साझा किया।  सुनील शेट्टी राष्ट्रीय एंटी-डोपिंग एजेंसी के ब्रांड एम्बेसडर हैं।  शेट्टी ने कहा, “आप अपने जीवन में कई गलतियां कर सकते हैं, किंतु यह सुनिश्चित करें कि ऐसा कुछ न खाएं जो गलत हो। मैंने अपने जीवन में जो उपलब्धियां प्राप्त की हैं, वे पूर्णतः खेलों के कारण हैं।” उन्होंने कहा, “मैं मार्शल आर्ट्स का अभ्यास करता था और वास्तव में कठिन प्रशिक्षण लेता था। मैं अपने जीवन में एक अभिनेता केवल इसलिए बन पाया, क्योंकि मैं एक एथलीट था। मैं अभी भी मानता हूं कि मैं खेलों का एक हिस्सा हूं।


नीति से रेत व्यापार में होगी पारदर्शिता

भोपाल। खनिज साधन मंत्री  प्रदीप जायसवाल ने कहा है कि प्रदेश में नई रेत खनन नीति लागू होने के बाद अब रेत व्यापार में पारदर्शिता आएगी और अवैध रेत उत्खनन पर पूरी तरह से रोक लग सकेगी। श्री जायसवाल भोपाल में 37 जिलों के सफल निविदाकारों के स्वीकृति-पत्र वितरण समारोह को संबोधित कर रहे थे। मंत्री  जायसवाल ने कहा कि अब न्याय-संगत और पर्यावरण नियमों के अंतर्गत ही रेत उत्खनन का कार्य होगा। उन्होंने बताया कि 200 रेत खदानें तत्काल शुरू होंगी। शेष खदानें निर्धारित मानकों को सुनिश्चित करने और नियमों का पालन करते हुए आने वाले डेढ़ से दो माह में शुरू होंगी। खनिज साधन मंत्री ने बताया कि नई रेत नीति से राज्य सरकार को लगभग 1400 करोड़ रुपये राजस्व प्राप्त होगा। उन्होंने बताया कि नई रेत खनन नीति में पर्यावरण के साथ आम नागरिकों के हितों का भी पूरा ख्याल रखा गया है। सिया अध्यक्ष  राकेश श्रीवास्तव ने सफल निविदाकारों को आश्वस्त किया कि आवेदन प्रस्तुति के बाद पर्यावरण संबंधी प्रमाण-पत्र शीघ्र जारी किये जाएंगे और हस्तांतरण संबंधी कार्यवाही की जाएगी। मुख्य वैज्ञानिक श्री संजीव सचदेवा ने निविदाकारों को नियमों की जानकारी दी। सचिव खनिज  नरेन्द्र सिंह परमार और खनिज विकास निगम के कार्यपालक संचालक  दिलीप कुमार ने निविदाकारों को प्रक्रिया के बारे में बताया। कार्यक्रम में संचालक भौमिकी एवं खनिकर्म  विनित ऑस्टिन भी मौजूद थे।


सिंगल यूज प्लास्टिक, जुर्माना 60 हजार

दो स्टॉक होल्डर से 420 किलोग्राम सिंगल यूज प्लास्टिक जब्त, 60 हजार जुर्माना


रेवाड़ी। उपायुक्त यशेन्द्र सिंह के निर्देशों पर पर्यावरण सरंक्षण की मुहिम को आगे बढ़ाते हुए नप की टीम ने वीरवार को बाजार में सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ जागरूकता व छापामारी अभियान चलाया। इस दौरान नप की टीम को दो स्टॉक होल्डर्स के यहां चार क्विटंल और 20 किलोग्राम सिंगल यूज प्लास्टिक बरामद हुआ। नप की टीम ने सिंगल यूज प्लास्टिक को जब्त करते हुए दोनों स्टॉक होल्डर्स पर 60 हजार रूपये का जुर्माना किया।
नप कार्यकारी अधिकारी मनोज यादव ने बताया कि उपायुक्त यशेन्द्र सिंह के दिशा निर्देशानुसार जिला भर में पर्यावरण संरक्षण की मुहिम चलाई जा रही है। नप क्षेत्र में मुहिम को तेज गति मिले इसके लिए निरंतर जागरूकता व छापेमारी अभियान चलाया हुआ है। उन्होंने बताया कि वीरवार को नगरपरिषद रेवाड़ी की टीम द्वारा दो दुकानों के चालान किए गए जिन्होंने सिंगल यूज प्लासटिक का स्टॉक किया हुआ था। रेवाड़ी के पेठा बाजार में चार क्विंटल 20 किलोग्राम सिंगल यूज प्लासटिक जब्त किया गया। उन्होंने कहा कि यह अभियान निरंतर जारी रहेगा।


लखनऊ से सीतापुर तक जाने के लेगी 2 घंटे

लखनऊ। जंक्शन से महज दो घंटे में डबलडेकर एक्सप्रेस यात्रियों को सीतापुर पहुंचा देगी, जबकि आनंदविहार पहुंचने में ट्रेन को सवा आठ घंटे लगेंगे। लखनऊ से सीतापुर के बीच ट्रेन मोहिबुल्लापुर व सिधौली स्टेशनों पर ही रुकेगी। पूर्वोत्तर रेलवे ने डबलडेकर को लखनऊ जंक्शन से सीतापुर होते हुए दिल्ली रवाना करने का प्रस्ताव बनाने के बाद ट्रेन की समय सारिणी और रास्ते में पड़ने वाले स्टेशनों की भी सूची तय कर ली है। ट्रेन लखनऊ जंक्शन से सुबह छह बजे छूटेगी और दो घंटे में सीतापुर पहुंच जाएगी। हफ्ते में पांच दिन सोमवार, मंगलवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार और रविवार को चलाने का प्रस्ताव भेजा गया है। पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल के लखनऊ जंक्शन रेलवे स्टेशन से आनंदविहार जाने वाली डबलडेकर एक्सप्रेस जब शुरू हुई तो पैसेंजरों का रुझान इस ट्रेन को लेकर सकारात्मक था। बढ़ेगी रेलवे की कमाई यह गाड़ी दिल्ली जाने वालों को बेहद पसंद थी, लेकिन धीरे-धीरे इसका आकर्षण कम होता गया। अब हालत यह है कि ट्रेन की ऑक्यूपेंसी भी घट रही है। ऑफ सीजन में तो ट्रेन खाली रहती है। डबलडेकर की जगह पैसेंजर शताब्दी, तेजस व गोमती एक्सप्रेस से यात्रा करना पसंद करते हैं। इस ट्रेन से ज्यादा से ज्यादा लोग यात्रा करें, इसके लिए पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने इसे नए रूट से चलाने का प्रस्ताव बनाया है। इसे सीतापुर रूट से आनंदविहार ले जाने से न केवल यात्रियों को राहत मिलेगी, बल्कि रेलवे की कमाई भी बढ़ेगी। एक अनुमान के मुताबिक, आमदनी 30 प्रतिशत तक बढ़ने की उम्मीद जताई जा रही है। सिर्फ मोहिबुल्लापुर व सिधौली रुकेगी ट्रेन प्रस्ताव के अनुसार, डबलडेकर एक्सप्रेस लखनऊ जंक्शन से सीतापुर के बीच करीब 80 किलोमीटर लंबे रेलखंड पर सिर्फ दो स्टेशनों पर ही रुकेगी। मसलन, लखनऊ जंक्शन से निकलने के बाद ट्रेन मोहिबुल्लापुर और सिधौली स्टेशनों पर रुकेगी, जबकि इसे ऐशबाग व डालीगंज में नहीं रोके जाने का प्रस्ताव बनाया गया है। सिधौली के बाद ट्रेन सीतापुर होते हुए आनंदविहार तक जाएगी। लखनऊ जंक्शन-आनंदविहार डबलडेकर एक्सप्रेस और दिल्ली-जयपुर डबलडेकर को मिलाकर एक ट्रेन बनाने की योजना थी, जोकि लखनऊ-जयपुर डबलडेकर बन जाती, लेकिन यह योजना परवान नहीं चढ़ सकी। विद्युतीकरण का मिला फायदा
लखनऊ से सीतापुर के बीच विद्युतीकरण का काम पूरा कराया जा चुका है। अब रूट पर इलेक्ट्रिक इंजन से चलने वाली ट्रेनों को दौड़ाने की तैयारी है। अनुमति मिल जाने के बाद रूट पर डबलडेकर को दौड़ाया जाएगा, जिसका प्रस्ताव तैयार हो गया है और जल्द ही इस पर अंतिम मुहर भी लग जाएगी।


दीपक कुमार


कैबिनेट बैठक में लिया गया अहम निर्णय

शिमला। सीएम जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में हो रही कैबिनेट की बैठक में एक बड़ा निर्णय लिया गया है। कैबिनेट ने शिक्षा विभाग में विभिन्न श्रेणियों के 819 पद भरने को मंजूरी दी है। इसमें 532 जेबीटी, 35 एलटी, 133 शास्त्री, 104 टीजीटी आर्टस, 8 टीजीटी नॉन मेडिकल व 7 टीजीटी मेडिकल के पद शामिल हैं। बता दें कि 2020 में कई शिक्षक सेवानिवृत्त हो रहे हैं। शिक्षको की सेवानिवृत्ति से पढ़ाई प्रभावित न हो इसके लिए सरकार ने उक्त पद भरने को मंजूरी प्रदान की है। दिसंबर माह में भी प्रदेश सरकार ने प्रारंभिक शिक्षा विभाग के तहत शिक्षकों के 3636 पद भरने को मंजूरी दी है।


यूपी में चोरों का मनोबल भी बड़ा

राजू सिंह


कौशांबी। भोलीभाली जनता रौब दिखाने वाली पुलिस का का खौफ अपराधियों के बीच नहीं है। जिसका जीता जगता उदाहरण अपराध का ग्राफ है जो दिखाता कि हर क्षेत्र में अपराध घटने की बजाय बढ़ रहे। अब इसका कारण कुछ भी ये तो पुलिस ही जानती होगी। लेकिन एक बात साफ़ है कि पत्रकारों को जबरन जेल भेज देने वाली पुलिस का खौफ अपराधियों में नहीं है। ऐसे बेख़ौफ़ अपराध को अंजाम देने वाले चोरो ने पूरामुफ्ती थाना क्षेत्र के अंतर्गत टकीगंज मनौरी से बुधवार को एक बाइक चुराकर ले गए। बता दें कि बीती रात चोरों ने थाना पुरामुफ्ती क्षेत्र के टंकीगंज मनौरी से R15 ब्लैक और वाइट कलर की बाइक उड़ा ले गए। जिसका गाड़ी नंबर  UP70EV0321 है। जो टकीगंज मनौरी निवासी विशाल कुमार पुत्र रामनाथ की है। जो रोज की तरह अपनी बाइक को लॉक करके घर के सामने खड़ी करके सोने चले जाते थे। जिसका फायदा उठाते हुए चोर बाइक ले गए।


पुलिस की तानाशाही, किसी की नहीं चलती

राजू सिंह


कौशांबी। जनता के बीच पुलिस का खौफ किस कदर रहता है यह किसी से नही  छुपा। भले ही कितना भी कह ले कि वह आमजन से मित्रवत व्यवहार करती है। लेकिन उसकी तानाशाही कार्यशैली बता देती है कि उसके आगे किसी की नहीं चलती। वह चाहे किसी को कोई भी मुक़दमे में फंसाकर अपनी व्यक्तिगत बुराई के लिए कानून का गलत इस्तेमाल कर सकता है। जिससे जनता ही नहीं बल्कि पुलिस के लिए मित्र की भूमिका निभाने वाले पत्रकार भी पीड़ित है। पत्रकारों के खिलाफ दमन की नीति को अपनाने वाली पुलिस को शायद यह नहीं पता कि उनके द्वारा किये गए उत्कृष्ट कार्यो को जनता के बीच जनता के बीच पहुँचाने वाला पत्रकार ही है जो कभी सिंघम तो कभी ईमानदारी की मिशाल पेश करता है। लेकिन उत्तरप्रदेश के कौशांबी जनपद  में बदले की भावना से मंझनपुर कोतवाली पुलिस ने एक  टीवी चैनल के वरिष्ठ पत्रकार अजय कुमार को फर्जी मुकदमे में जेल भेज दिया। जिसके विरोध में आज अधिवक्ता संघ, जनसत्ता दल, कांग्रेस व लोक जनशक्ति पार्टी के कार्यकर्ता व पदाधिकारियों ने पत्रकार उत्पीड़न के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। मंझनपुर चौराहे पर मानव श्रृंखला बनाकर मंझनपुर पुलिस की शर्मनाक कार्यवाई की निंदा की।


अहमदाबाद-मुंबई के बीच शुरू होगी, तेजस-ट्रेन

नई दिल्ली। लखनऊ-दिल्ली तेजस एक्सप्रेस के सफल संचालन के बाद अब कल यानी 17 जनवरी से अहमदाबाद मुंबई के बीच तेजस ट्रेन की शुरुआत होगी। तेजस ट्रेन के शुभारंभ के लिए अहमदाबाद रेलवे स्टेशन पर तैयारियां चल रही हैं। यह ट्रेन कल प्लेटफार्म नंबर 1 से मुंबई के लिए रवाना होगी। रेलमंत्री पीयूष गोयल और सीएम विजय रुपाणी ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे। यह कॉर्पोरेट ट्रेन अहमदाबाद-मुंबई के बीच चलेगी और इसमें मुसाफिरों की सेवा में ट्रेन होस्टेस भी मौजूद रहेंगी।


प्रदेश अध्यक्ष पदभार संभालेगे बंशीधर

देहरादून। भारतीय जनता पार्टी ने आज वरिष्ठ विधायक बंशीधर भगत को अपना नया प्रदेश अध्यक्ष बना दिया है। इसी के साथ ही अध्यक्ष को लेकर काफी समय से चल रहा कयासों का दौर भी थम गया है। आज दिनांक- 16/01/20 दिन गुरुवार को भाजपा मुख्यालय देहरादून में चुनाव हुआ, जिसमें बंशीधर भगत को उत्तराखंड का नया भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चुन लिया गया। बता दें कि, चुनाव के लिए बनाए गए केंद्रीय पर्यवेक्षक केंद्रीय राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने उनके नाम की घोषणा की। जिसके बाद बंशीधर भगत के समर्थन में खूब नारेबाजी हुई। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने भी उनका स्वागत किया।केंद्रीय राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल भाजपा प्रदेश कार्यालय में नए अध्यक्ष बंसीधर भगत को प्रमाण पत्र सौंपा। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी मौजूद रहे। कार्यालय के बाहर समर्थकों की भीड़ लगी रही। वहीं हल्द्वानी में भी कार्यकर्ताओं ने खूब आतिशबाजी की।


प्रदर्शन मे पहुंच कर दे रहे समर्थन

मात्र दस महिलाओं द्बारा शुरु किए प्रदर्शन में प्रतिदिन बढ़ती जा रही है भीड़ पुलिस और गिरफ्तारी का डर भी नहीं डिगा पा रहा आन्दोलनकारीयों के हौसले को


समाजवादी पार्टी,कांग्रेस,आम आदमी पार्टी,एम आई एम समेत विभिन्न विरोधी दलों के लोग मंसूर अली पार्क में चल रहे प्रदर्शन में पहोँच कर दे रहे समर्थन


प्रयागराज। सायरा द्बारा रविवार साँय तीन बजे से मात्र दस महिलाओं द्बारा एन आर सी,एन पी आर और सी ए ए के खिलाफ रौशन बाग़ के मंसूर अली पार्क में शुरु किए गए बेमियादी आन्दोलन ने प्रशासन को हिला कर रख दिया है।प्रदर्शन के पाँचवे दिन भी हज़ारों की संख्या में महिलाएँ ,छात्र छात्राएँ बुढ़े व नौजवान अपने हक़ कि खातिर भीषण ठण्ड को मात देते हुए धरना स्थल पर जमे रहे।लोगों का कहना है की हम नोट बन्दी बाबरी मस्जिद के फैसले पर खामोश रहे इसका मतलब नहीं है की हम इनके हर असंवैधानिक फैसले पर खमोश रहेंगे।हम अपने हिन्दुस्तान से और बाबा साहब के क़ानून से मुहब्बत करने वाले लोग हैं।हम हिन्दुस्तानी हैं हम मोदी और शाह की गीदड़ भभकी से डिगने वाले नहीं। हम यहीं दफन होंगे जहाँ हमारे पुरखे बाबा ओ अशदाद दफ्न हैं।उम्रदराज़ व बुढ़ी औरतें तथा माँएँ अपने गोद में दुधमुहे बच्चों समेत धरना स्थल पर पाँच दिनों से डटी हुई हैं।प्रदर्शन के पाँचवें दिन प्रशासन की ओर से मंसूर अली पार्क के इर्द गिर्द भारी पुलिस लगाने और पुलिसीया खौफ पैदा करने की कवायद भी प्रदर्शनकारीयों के जज़बे के आगे नहीं टिक पाई।इलाहाबाद विश्वविद्धालय की छात्रा नेहा यादव लगातार पाँच दिनों से धरना स्थल पर डटी रह कर आन्दोलनकारीयों के हौसले को बढ़ा रही हैं।नेहा ने कहा हम न तो मोदी से डरेंगे न योगी से।हमारे देश में संविधान ने सब को बराबरी का दर्जा दिया है हम अपने हिन्दुस्तानी मुस्लिम भाई व बहनों के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़े हैं और खड़े रहेंगे।केन्द्र सरकार को एन आर सी ,एन पी आर को वापिस लेना होगा।सै०मो०अस्करी ने बताया की क्षेत्रिय पार्षद रमीज़ अहसन,सबीहा मोहानी,मुज़फ्फर बाग़ी,वज़ीर खाँ,अब्बास नक़वी,शाहिद प्रधान,अफसर महमूद,इरशाद उल्ला,अबदुल्ला तेहामी,काशान सिद्दीक़ी एडवोकेट,आक़िब जावेद खाँ,शिव यादव,मोहित पाण्डेय,अफजल,औन ज़ैदी,हमज़ा,ग़ुफरान खान समेत अन्य लोग प्रदर्शन स्थल पर महिलाओं के खान पान व सुरक्षा को मुस्तैद हैं।इन्के साथ मोहल्ले के लोग व तमाम छात्र छात्राएँ भी दिन रात आन्दोलनरत लोगों के साथ प्रदर्शनकारीयों का हौसला बढ़ाने के साथ व्यवस्था को सम्भाले हैं।
*मुस्लिम युवतियों में तिरंगे का क्रेज़*
धरना स्थल पर विभिन्न कालेज की छात्र छात्राएँ भी बड़ी संख्या मे पहुँची और अपने चेहरे व नाक पर तिरंगा झण्डे को उकेर कर हिन्दुस्तान ज़िन्दाबाद का नारा बुलन्द किया।छात्राएँ एक दूसरे के चेहरे पर लाल सफेद और हरे रंग से तिरंगा बना कर एन आर सी,एन पी आर को तत्काल वापिस लेने की आवाज़ बचलन्द की।


बृजेश केसरवानी


खाई में गिरी कार, 5 लोगों की मौत 1 घायल

देहरादून। ऋषिकेश-बद्रीनाथ राजमार्ग पर साकनीधार के पास वाहन दुर्घटना में पांच लोगों की मौत हो गई। घटना के बाद से क्षेत्र में कोहराम मच गया है।बता दें कि, पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक सेंट्रो कार UK138214 देहरादून से रुद्रप्रयाग की ओर जा रही थी। जब वह देवप्रयाग से करीब पंद्रह (15) किलोमीटर पहले साकनीधार के पास पहुंची, तभी अचानक अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिरी। कार के खाई में गिरने से पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई है, जबकि एक महिला की हालत गंभीर बताई जा रही है।प्रत्यक्षदर्शियों की सूचना पर मौके पर पहुंची एसडीआरएफ व पुलिस की टीम ने स्थानीय लोगों की मदद से रोपवे बनाकर घायलों व मृतकों को किसी तरह रेस्क्यू कर बाहर निकाला। वहीं गंभीर रुप से जख्मी एक महिला को एम्स ऋषिकेश में पहुुंचाया गया है। कार में सवार सभी लोग एक ही परिवार के बताए जा रहे हैं। कार में दो पुरुष, तीन महिला और एक लड़की सवार थे।


गोल्डन कार्ड पर नाराज डीएम ने दिए निर्देश

पंकज राघव 


आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत गोल्डन कार्ड की प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सीएचसी बहजोई डॉक्टर बी एल बिराटिया सीएचसी गुन्नौर डॉक्टर शिशुपाल का वेतन रोकने के  निर्देश एवं विभागीय कार्रवाई करने की दी चेतावनी जिलाधिकारी


इलाहाबाद। जिलाधिकारी महोदय ने ली जिला स्वास्थ समिति की बैठक। आज जिलाधिकारी महोदय जनपद संभल ने जिला स्वास्थ समिति की बैठक में चिकित्सा अधिकारियों को कड़ी चेतावनी देते हुए जननी सुरक्षा योजना के लाभार्थियों का भुगतान शत-प्रतिशत करने को कहा और अंटाइड फंड सब सेंटर और ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता समिति का  भुगतान शून्य होने पर  ब्लॉक असमोली व संभल के चिकित्सा अधीक्षक को कड़ी चेतावनी देते हुए करवाई हेतु मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया। साथ ही  आयुष्मान भारत के लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड कम बनने पर सभी आशाओं कि मॉनिटरिंग को कहा  और सभी लोगों को इलाज हेतु  सीएचसी पर प्रेरित करने को बोला गया । साथ ही समस्त जनपद की आशाओं के द्वारा कराई जा रही डिलीवरी को लाभार्थियों के घर तक पूर्ण विजिट करना सुनिश्चित करें व अन्यथा की दशा में उनके भुगतान पर रोक लगा दी जाए। तथा कार्य संतोषजनक ना पाए जाने पर उनकी सेवाएं भी समाप्त कर दी जाए। आशाओं की होम विजिट डिलीवरी की मॉनिटरिग    फोटो के साथ  सभी फील्ड स्टाफ को टारगेट बनाकर लक्ष्य दिया गया।अंत में सभी चिकित्सा अधीक्षक को अपने अपने मुख्यालय पर रहना सुनिश्चित करें इसके लिए  मुख्य चिकित्सा अधिकारी को लगातार मॉनिटरिंग करने निर्देशित किया गया। जिला स्वास्थ समिति की बैठक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अमिता सिंह, डॉक्टर अफजल कमाल एसीएमओ डॉ अजय कुमार वर्मा एसीएमओ व अन्य समस्त जिला स्तरीय अधिकारीगण व समस्त  चिकित्सा अधीक्षक मौजूद रहे। जिला शासी निकाय की बैठक का संचालन जिला कार्यक्रम प्रबंधक संजीव राठौड़ ने  किया।


लैंड स्कैम मामले की सुनवाई 30 तक टली

मानेसर लैंड स्केम मामले की सुनवाई 30 जनवरी को टली कोर्ट नहीं पहुंचे हुडा


पंचकूला। मानेसर लैंड स्केम मामले में आज पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत में सुनवाई पूरी हो गई है। आज मामले मेंं आरोपी पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा कोर्ट में पेश नहीं हुए। उन्होंने सुनवाई में हाजरी के लिए माफी करवाई थी। आज अदालत मं आरोपियों पर लगे चार्ज पर बहस हुई। वहीं अब इस मामले में अगली सुनवाई 30 जनवरी को होगी। अगली सुनवाई पर भी आरोपियों पर लगे चार्ज पर बहस होगी।


सीएम ने तत्काल 85 लाख किए जारी

श्री मुक्तसर साहिब: गुरु घर सरोवर में पानी की आपूर्ति के लिए नई पाइपलाइन  मुख्यमंत्री ने वित्त विभाग को तत्काल 85 लाख रुपये जारी करने का आदेश दिया


अमित शर्मा


चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वित्त विभाग को तुरंत रुपये जारी करने का निर्देश दिया है। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि धन को पंजाब मंत्रिमंडल ने कल एक बैठक के दौरान मंजूरी दी थी। एक आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री ने वित्त विभाग से उपायुक्त श्री मुक्तसर साहिब को तुरंत धनराशि जारी करने के लिए कहा था। इसके अतिरिक्त, वित्त विभाग को भी प्राथमिकता के आधार पर धन जारी करने के लिए कहा गया है यदि उपरोक्त कार्य के लिए अतिरिक्त धन की आवश्यकता है। गौरतलब है कि गुरुद्वारा श्री दरबार साहिब (श्री मुक्तसर साहिब) के प्रबंधक भाई बलदेव सिंह ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर टंकी में पानी की सुचारू आपूर्ति के लिए नई पाइपलाइन के लिए धनराशि जारी करने की मांग की थी। साहिब को कॉलर प्वाइंट से सरोवर तक गहरी पाइपलाइन दिखाने पर तत्काल कार्रवाई करने के लिए भी आवश्यक कार्रवाई करने के लिए कहा गया था। मंत्रिमंडल रुपये को मंजूरी दी है 85 लाख। प्रबंधक बलदेव सिंह द्वारा पत्र में यह भी उल्लेख किया गया था कि पवित्र टैंक को मुक्तसर माइनर से कंधों के माध्यम से पानी मिलता है और पानी को साफ करने के लिए एक टैंक है। टैंक कोटकपूरा रोड के बगल में है, जो हंसली से लगभग 10 फीट गहरा है जो 80 साल पुराना है और चूंकि यह बहुत पुराना है, यह कई जगहों से लीक हो गया है। इससे विभिन्न स्थानों से पानी का रिसाव हो सकता है और यदि पाइप की मरम्मत की जानी है, तो सीवर सिस्टम, बिजली के खंभे, टेलीफोन वायरिंग आदि प्रभावित होते हैं जो मरम्मत को बहुत महंगा बनाते हैं। यह पत्र भाई बलदेव सिंह द्वारा ग्रामीण विकास और पंचायत मंत्री श्री त्रिपाठी राजिंदर सिंह बाजवा को सौंपा गया, जो शुक्रवार को श्री दरबार साहिब में श्री दरबार साहिब में दर्शन करने पहुंचे।


हर्षोल्लास से मनाया जाएगा गणतंत्र दिवस

कुल्लू में हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा गणतंत्र दिवस डा. ऋचा


कुल्लू। गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को कुल्लू जिला में भी हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। जिला स्तरीय समारोह ढालपुर मैदान में आयोजित किया जाएगा, जिसके लिए जिला प्रशासन ने सभी तैयारियां आरंभ कर दी हैं। उपायुक्त डा. ऋचा वर्मा ने वीरवार को पुलिस, विभिन्न विभागों और नगर परिषद के अधिकारियों के साथ बैठक करके जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारियों की समीक्षा की।उन्होंने बताया कि इस समारोह में आयोजित की जाने वाली भव्य परेड में हिमाचल प्रदेश पुलिस के अलावा होमगाड्र्स, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस, सशस्त्र सीमा बल, एनसीसी, एनएसएस और स्काउट्स एंड गाइड्स की टुकड़ियां भी भाग लेंगी। इस अवसर पर विभिन्न शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थी और संस्थाओं के युवा कलाकार देशभक्ति के कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे। उपायुक्त ने सूचना एवं जनसंपर्क विभाग और शिक्षा विभाग के अधिकारियों को इन कार्यक्रमों में अधिक से अधिक विद्यार्थियों की भागीदारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने लोक निर्माण विभाग, सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग, नगर परिषद, बिजली बोर्ड और वन विकास निगम के अधिकारियों को ढालपुर मैदान में आयोजन स्थल पर सभी आवश्यक प्रबंध करने को कहा। उपायुक्त ने बताया कि जिला स्तरीय समारोह के लिए परेड का अभ्यास 22 जनवरी से ही आरंभ कर दिया जाएगा। पुलिस अधिकारी इसके लिए सभी आवश्यक प्रबंध करें और इसमें अधिक से अधिक टुकड़ियों की भागीदारी सुनिश्चित करें। डा. ऋचा ने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय कार्य करने वाले आम लोगों, संस्थाओं और अधिकारियों-कर्मचारियों को जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में विशेष रूप से सम्मानित किया जाएगा। सभी संबंधित विभाग ऐसे लोगों या अधिकारियों-कर्मचारियों की सूची 24 जनवरी तक जिला प्रशासन को उपलब्ध करवा दें। बैठक के दौरान सहायक आयुक्त एसपी जसवाल ने समारोह की तैयारियों का विस्तृत ब्यौरा पेश किया। इस अवसर पर एएसपी राजकुमार चंदेल, एसडीएम अनुराग चंद्र शर्मा और अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।


युवती का वीडियो वायरल, पेड़ पर मिला शव

युवती का वीडियो फेसबुक पर कर दिया था वायरल, अब पेड़ पर लटका मिला शव


रोहतक। सुनारिया कलां गांव के एक युवक का शव गांव के ही खेतों में फांसी के फंदे पर लटका मिला। बता दें कि मृतक के खिलाफ शिवाजी कालोनी थाने में एक युवती की गलत वीडियो और फोटो फेसबुक पर पोस्ट करने का मामला दर्ज था। जिसके चलते पुलिस युवक की तालाश में लगी हुई थी। वहीं अब युवक के परिजनों ने हत्या का आरोप लगाते हुए शिवाजी कालोनी थाने मे युवती के पिता और दो भाई समेत कई अन्य के  खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।आपको बता दें कि शिवाजी कालोनी थाना पुलिस को बुधवार दोपहर सूचना मिली कि रत्नावली कालोनी के खेतों में सफेदे के पेड़ पर एक युवक का शव फंदे पर लटका हुआ है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया। वहीं युवक की पहचान सुनारिया कलां गांव निवासी 24 वर्षीय प्रीतम पुत्र रोहतास के रूप में हुई, जो बाइक मिस्त्री का काम करता था। सूचना मिलते ही युवक के परिजन  मौके पर पहुंचे। पुलिस के अनुसार, युवक के खिलाफ मंगलवार को एक युवती ने मामला दर्ज कराया था। युवती ने आरोप लगाया था कि प्रीतम ने उसकी गलत वीडियो और फोटो फेसबुक पर डाले हैं। इससे उसकी बदनामी हो रही है। युवती की शिकायत पर शिवाजी कालोनी थाना पुलिस ने प्रीतम के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था और उसकी तलाश में लगी हुई थी, लेकिन बुधवार को उसका शव फांसी पर लटका मिला। उधर, मृतक के पिता ने आरोप लगाया है कि उसके बेटे पर झूठा मामला दर्ज कराया गया था। युवती पक्ष के कुछ लोगों ने उसके बेटे के साथ मारपीट कर जान से मारने की धमकी दी थी। युवती पक्ष के लोगों ने ही साजिश के तहत हत्या कर उसे फांसी पर लटकाया है। जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। अगले माह होनी है युवती की शादी मृतक प्रीतम के पिता ने बताया कि उसके दो बेटे और दो बेटी है। प्रीतम 13 जनवरी को सुबह के समय अचानक लापता हो गया था। उसी दिन उन्हें पूरे मामले का पता चला था। वह तभी से उसकी तलाश में लगे हुए थे, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिल रही थी। बुधवार को उन्हें प्रीतम की मौत का पता चला। जिसके बाद से पूरे परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है।


बिजली समझौते पर श्वेत पत्र लाएगी सरकार

अकाली शासन के दौरान बिजली खरीद समझौतों पर श्वेत पत्र लाने के लिए सरकार: कैप्टन अमरिंदर सिंह


अमित शर्मा


चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आज कहा कि निजी कंपनियों के साथ विवादास्पद बिजली खरीद के संबंध में समझौता कल सदन में किया गया था । बेनकाब करने के लिए, उनकी सरकार विधानमंडल के मानसून सत्र के दौरान श्वेत पत्र लाएगी।
आज यहां विधानसभा के दो दिवसीय विशेष सत्र के पहले दिन राज्यपाल के अभिभाषण के बाद संवाददाताओं से अनौपचारिक बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि यह श्वेत पत्र बिजली संयंत्र स्थापित करने के लिए पिछली शिअद-भाजपा सरकार के साथ सभी सहमति पत्र के अनुरूप था। खुलासा करेंगे कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि बेईमान चरित्र वाले अकालियों ने पहले सत्ता समझौते सहित कई घातक कदमों के माध्यम से राज्य की अर्थव्यवस्था की नींव रखी और अब अकालियों ने अपने सभी राजनीतिक रिटर्न के लिए अपनी सरकार के खिलाफ इस मुद्दे का इस्तेमाल किया। कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने निचली अदालत में केस जीता था लेकिन सुप्रीम कोर्ट का फैसला उनके खिलाफ गया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अब सुप्रीम कोर्ट में मामले की जांच कर रही है। उन्होंने याद किया कि जब विपक्ष पार्टी में था, तब वह खुद इंडिया बल्ब प्लांट के खिलाफ धरने पर बैठे थे। उस अवसर पर, अकाली सरकार ने इंडिया बल्ब के साथ बिजली संयंत्र स्थापित करने के लिए एक समझौता ज्ञापन शुरू किया था। नेशनल थर्मल पावर कॉरपोरेशन (NTPC) की गिद्दड़बाहा बिजली परियोजना को ऐसा करने के लिए रद्द कर दिया गया था और तत्कालीन सरकार बिजली संयंत्र की स्थापना और एक विवादास्पद यात्री परियोजना के लिए वैश्विक निविदा निर्धारण प्रक्रिया के खिलाफ गई थी। जबरन निकासी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार पंजाब और उसके लोगों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है और हर मामले में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि लोगों को कोई नुकसान नहीं होगा। यह पूछे जाने पर कि क्या राज्य सरकार केरल सरकार की तरह नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीओए) के खिलाफ कोई प्रस्ताव लाएगी, मुख्यमंत्री ने जवाब दिया, "कल तक प्रतीक्षा करें।" यह उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार के पास है। सीओए बनने के अपने फैसले की घोषणा पहले ही कर चुका है। इसी समय, राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) के मुद्दे पर सदन वांछित के रूप में आगे बढ़ेगा। कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने पहले ही उन्हें असंवैधानिक और फुटपाथ के रूप में खारिज कर दिया है। राज्यपाल के अभिभाषण पर विपक्ष द्वारा किए गए वाकआउट को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सदन में इस तरह का रवैया आम है। उन्होंने कहा कि वॉकआउट की उम्मीद थी लेकिन राज्यपाल ने अपने संबोधन के दौरान श्री गुरु नानक देव के 550 वें प्रकाश प्रभा के महत्वपूर्ण धार्मिक विषय को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी और शिरोमणि अकाली दल द्वारा भाषण को बाधित करने के लिए निर्धारित किया गया था। उन्होंने कहा कि जब राज्यपाल कह रहे थे कि विपक्ष भाग्यशाली है, तो यह सौभाग्य की बात है कि पंजाब को गुरु साहिब जी के प्रकाश पर्व के ऐतिहासिक अवसर को मनाने का सौभाग्य मिला और इस बीच, महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती थी।


जाट धर्मशाला में जाट समाज की पंचायत

जींद की जाट धर्मशाला में जाट समाज की महापंचायत, आगजनी के कई आरोपी भी मौजूद
जींद- जींद की जाट धर्मशाला में जाट समाज की


नई दिल्ली। महापंचायत शुरु हो गई है। माना जा रहा है कि इस महापंचायत में कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है। खास बात यह है कि इस पंचायत में चरखी दादरी से विधायक सोमवीर सांगवान भी मौजूद है वहीं पू्र्व वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु के घर आगजनी के कई आरोपी भी महापंचायत में शामिल हुए हैं। जाट धर्मशाला में चल रही इस महापंचायत में जाट नेत्री संगीता दहिया, सतरोल खाप समेत कई खापों के प्रतिनिधि भी पहुंचे हुए हैं। इस महापंचायत की अध्यक्षता सतरोल खाप के प्रधान रामनिवास लोहान कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि इस महापंचायत में पूर्व वित्तमंत्री की कोठी के आगजनी के मामले में दायर किये गए केसों को लेकर कोई बड़ा फैसला हो सकता है। महापंचायत ने इस फैसले के लिए एक कमेटी का गठन किया है। माना जा रहा है कि कुछ ही देर में कोई बड़ा फैसला कमेटी की तरफ से किया जा सकता है।


रफ्तार ज्यादा होने पर घर पहुंचेगा चालान

चंडीगढ़ 6 जगह लगे ‘स्पीड रडार’, रफ्तार ज्यादा हुई तो घर पहुंचेगा चालान


अमित शर्मा


चंडीगढ़। अब चंडीगढ़़ की सड़कों पर तेज रफ्तार में गाड़ी न चलाएं, क्योंकि आप पर इस बार पुलिस ने ‘स्पीड रडार’ नजर रखेंगे। शहर में ट्रैफिक पुलिस ने छह स्पीड रडार डिस्पले बोर्ड लगवा दिए हैं। इन पर पता चल जाएगा कि आपका व्हीकल कितनी स्पीड में है। यदि आप तय सीमा से तेज गाड़ी चलाएंगे तो इसमें आपके व्हीकल की फोटो और स्पीड आ जाएगी। इसके बाद आपके घर पर ओवरस्पीड का चालान आ जाएगा। ट्रैफिक पुलिस पहले लोगों को अवेयर करेगी, जिसके बाद चालान काटे जाएंगे। ओवरस्पीड के चालान के 2000 रुपए भुगतने होंगे। अभी कैमरे नहीं लगे - डिस्पले बोर्ड पर अभी कैमरा नहीं लगा है। अभी सिर्फ रास्ते से आने-जाने वाले लोग अपनी स्पीड देख सकते हैं कि वह कितनी स्पीड पर चल रहे हैं। पुलिस अभी लोगों को अवेयर करेगी। इसके बाद कैमरे लग जाएंगे, जिसके बाद पुलिस चालान काटने शुरू कर देगी।
यहां लगे स्पीड रडार चंडीगढ़ में पहले सिर्फ रडार गन थी, जिसे लेकर पुलिस ओवर स्पीड के नाके लगाती थी। इसके बाद लोगों के चालान होते थे। लेकिन अब से यह डिस्पले बोर्ड आपकी गाड़ी की फोटो खींचेगा और यदि आपकी स्पीड ज्यादा होगी तो चालान घर पहुंच जाएगा। गाड़ी पर दोनों साइड शीशे नहीं होंगे तो चालान
ट्रैफिक पुलिस इन दिनों लोगों को अपनी गाड़ियों के दोनों साइड शीशे लगाने के लिए अवेयर कर रही है। इसके चलते बीते कुछ समय से लगातार अभियान चलाया जा रहा है। नियम के हिसाब से साइड मिरर खुले होने चाहिए। जल्द ही इसके चालान शुरू हो जाएंगे। ट्रैफिक पुलिस ने अभी तक चालान काटने की कोई तारीख तय नहीं की है।
स्मूथ ट्रैफिक में लाइटें हाेंगी बंद यदि चौक पर ट्रैफिक ठीक तरीके से चल रहा है तो वहां पर लगी लाइट को बंद करने के आदेश दिए गए हैं, ताकि लोग बिना रुके चौक को पार कर सकें और उन्हें बेवजह रुकना न पड़े। सड़कों पर लेन का काम शुरू मध्य मार्ग, उद्योग पथ और दक्षिण मार्ग पर लेन के 1 फरवरी से चालान कटने हैं। इसके चलते ट्रैफिक पुलिस ने यहां पर लेन के लिए लाइनिंग तैयार करनी शुरू कर दी है। चौक पर स्लो कैरिज रोड के साथ अंदर जाने वाली रोड पर पीले रंग की लाइनें लगाई गई हैं। ताकि लोग यहां पर अपने वाहन को ग्रीन सिग्नल के इंतजार में खड़ा न करें। यदि चालान नहीं भुगता तो कभी नहीं कर पाएंगे आरसी ट्रांसफर अभी पुलिस लोगों को करेगी अवेयर, कुछ दिन बाद से शुरू होंगे चालान तय सीमा से तेज गाड़ी चलाएंगे तो वाहन की फोटो और स्पीड होगी रिकाॅर्ड यदि आप टीवीआईएस सिस्टम के माध्यम से घर पर आए चालान को भुगतने के लिए नहीं जाते हैं तो आपकी आरसी कभी ट्रांसफर नहीं होगी। यह सभी चालान सिस्टम पर अपडेट रहेंगे। जब भी आरसी ट्रांसफर करवानी होती है तो लोगों को एनओसी लेनी पड़ती है। यदि एनओसी लेने के लिए जाते हैं तो उस दौरान चेक किया जाता है कि वाहन का चालान तो नहीं कटा है। यदि चालान पेंडिंग मिलेगा तो उसे भुगतने के बाद ही आपके वाहन की आरसी ट्रांसफर होगी।


'मोबाइल' पर बात की तो, कटेगा चालान

फरमान सड़क पर गाड़ी रोककर मोबाइल पर बात की तो अब कट जाएगा चालान, जानिए कितना


अमित शर्मा


चंडीगढ़। अगर आप चंडीगढ़ की सड़कों पर वाहन चलाते हैं, तो जरा संभलकर चलाएं। क्योंकि ट्रैफिक पुलिस ने यातायात नियमों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ एक और सख्त रवैया अपनाया है।
अब वाहन चलाते समय सड़क किनारे मोबाइल पर बात करना, सड़क किनारे पिक एंड ड्राप और रेड लाइट पर अपने बाईं ओर स्लिप रोड को ब्लाक करना महंगा पड़ेगा। इन नियमों की अवहेलना करने पर ट्रैफिक पुलिस अब आपका पांच सौ रुपये का चालान काट देगी। यही अवहेलना अगर दूसरी बार करता हुआ कोई पकड़ा गया तो चालान की राशि दोगुनी हो जाएगी। ट्रैफिक पुलिस इन तीनों उल्लंघन को लेकर शहर के अलग-अलग हिस्सों में जागरूकता अभियान चलाकर पहले लोगों को जागरूक करेगी। इसके बाद एक फरवरी 2020 को इसे लागू कर दिया जाएगा। यह पहला मौका होगा, जब चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस इस आफेंस के तहत नियमों की अवहेलना करने वाले चालकों के चालान काटेगी। स्टॉप या रोड साइन पर कर सकते हैं पिक एंड ड्राप
ट्रैफिक पुलिस के नए नियमों के मुताबिक अब आप अपने वाहनों को बस स्टॉप वाली जगह, पार्किंग एरिया, रोड साइन वाली जगहों पर ही रोक सकते हैं। इन जगहों पर अपने वाहनों को रोककर किसी को पिक एंड ड्राप कर सकते हैं। इसके अलावा मोबाइल पर बात भी इन जगहों पर करना होगा। सड़क किनारे अगर कोई वाहन चालक मोबाइल पर बात करते हुए पकड़ा जाएगा तो ट्रैफिक पुलिस उसका चालान काट देगी। जाम से निजात पाने के लिए पहल ट्रैफिक पुलिस के उच्चाधिकारियों के अनुसार, इन नियमों को लागू करने का मकसद यह होगा कि शहर में जाम की स्थिति को कम किया जा सके। पहले लोग अपने वाहनों को कहीं भी रोककर सवारियां उतारते और बैठाते थे। साथ ही राह चलते भी लोग सड़क के किनारेे अपने वाहनों को रोककर मोबाइल पर बात करना शुरू कर देते हैं। ऐसे में कई बाद देखा गया कि वहां पर जाम की स्थिति पैदा हो जाती है। इन तीन सड़कों पर होगी शुरुआत शहर में सबसे ज्यादा जाम की स्थिति मध्यमार्ग, दक्षिण मार्ग और उद्योग पथ पर बनती है। ऐसे में ट्रैफिक पुलिस इन तीन जगहों पर इसकी शुरुआत करने जा रही है। ट्रैफिक एक्सपर्ट का मानना है कि यह नियम लागू होने से जाम लगने की स्थिति से बचा जा सकेगा। ट्रैफिक पुलिस इस नियम को लागू करने से पहले शहर भर में लोगों को नियमों के बारे में 31 जनवरी तक जागरूक करेगी। मध्यमार्ग, दक्षिण मार्ग और उद्योग पथ पर जाम की स्थिति ज्यादा होती है। यही कारण है कि इन सड़कों पर एक फरवरी से नियम को लागू कर दिया जाएगा।


 शशांक आनंद, एसएसपी, ट्रैफिक


सीमेंट दाम बढ़ोतरी से जनता में रोष व्याप्त

मंडी: उद्योग मंत्री ने सीमेंट दाम बढ़ोतरी के लिए बताई ये बड़ी वजह



मंडी। सीमेंट कंपनियों ने दाम बढ़ाकर हिमाचल के लोगों को बड़ा झटका दिया है। इससे प्रदेश की जनता अपने आप को ठगा हुआ महसूस करने को मजबूर है। क्योंकि हिमाचल में बनने वाला सीमेंट दूसरे राज्यों के मुकाबले हिमाचल में महंगा मिल रहा है। हाल ही में सीमेंट के दामों में 15 और 20 रुपये प्रति बैग बढ़ोतरी की गई है। प्रदेश में तीनों बड़ी सीमेंट कंपनियां एसीसी, अंबुजा और अल्ट्राटेक ने एक साथ दाम बढ़ाने से उपभोक्ताओं में भारी रोष है।


वहीं, सीमेंट के बड़े दाम पर उद्योग मंत्री विक्रम ठाकुर से पूछा तो उन्होंने बाताय कि कि हिमाचल का सीमेंट पंजाब के मुकाबले हिमाचल में इसलिए महंगा है क्योंकि हिमाचल में माल ढोने वाली गाड़ियां और लोजिस्टिक महंगा है। उन्होंने कहा कि जहां पर लोजिस्टिक सस्ता है वहां पर इस तरह की कोई परेशानी नहीं है। बता दें कि इन तीनों सीमेंट कंपनियों के हिमाचल में अपने बड़े प्लांट है, लेकिन यहीं सीमेंट बनने के बावजूद भी सूबे के लोगों को पड़ोसी राज्यों से महंगा सीमेंट मिल रहा है। एसीसी कंपनी ने पहले 5 जनवरी को 5 रुपए फिर 9 जनवरी को 5 रुपए दाम और बढ़ा दिए। वर्ष 2019 में एसीसी सीमेंट बैग की कीमत 474 थी। वर्ष 2020 के दूसरे सप्ताह 486 रुपये कीमत हो गई है। अंबुजा सीमेंट कंपनी के दामों में भी 10 रुपये का उछाल आया है। एक बैग की कीमत 480 रुपये हो गई है। कंपनी ने 4 जनवरी को दाम 10 रुपये बढ़ा दिए। मार्केट के जानकारों के अनुसार अंबुजा सीमेंट के दामों में अभी और बढ़ोतरी हो सकती है। अल्ट्राटेक कंपनी ने भी सीमेंट के दाम 5 रुपये बढ़ा दिए हैं। अब सीमेंट बैग की कीमत 479 रुपये हो गई है।


कांग्रेस-ममता एंड कंपनी ने कराए दंगे

वैशाली। गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार कोसीएए के समर्थन में वैशाली में जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा- आजादी के बाद जितने हिंदू, सिख, बौद्ध और जैन पाकिस्तान और बांग्लादेश में रह गए थे, वह अब3% भी नहीं बचे हैं। राहुल बाबा और लालू यादव बताएं कि वह कम कैसे हुए? शाह ने कहा-सीएए के विरोध में कांग्रेस-ममता एंड कंपनी ने देश में दंगे कराए। मैं बिहार के मुस्लिमों को बताने आया हूं कि सीएए से किसी की नागरिकता नहीं जाएगी।


‘कांग्रेस पार्टी ने धर्म के आधार पर देश का विभाजन कराकर गलत किया। पाकिस्तान और बांग्लादेश में हिंदुओं के धर्मपरिवर्तन कराए गए, उनकी हत्याएं हुईं। इसलिए वह यहां आने को मजबूर हुए। पाकिस्तान में पिता के सामने बेटी से पति के सामने पत्नी से बलात्कार हुआ। मंदिर-गुरुद्वारे तोड़े गए। इसलिए वहां से प्रताड़ित होकर लोग यहां आए।’
‘महात्मा गांधी ने 26 सितंबर 1947 को कहा था कि पाकिस्तान में रहने वाला हर हिंदू और सिख भारत आ सकता है। उसे नौकरी और आश्रय देना आजाद भारत की जिम्मेदारी है। गांधी जी की इस बात को नेहरू, राजेंद्र प्रसाद, कृपलानी जी और मौलाना आजाद ने भी दोहराया। कांग्रेस वाले हमारी नहीं मान रहे, अपने नेताओं की तो मान लें।’
‘वैशाली की भूमि पिछड़ों और सताए हुए लोगों को न्याय देने वाली भूमि है। नरेंद्र मोदी की सरकार ने सीएए के जरिएपिछड़े-सताए हुए लोगों को न्याय दे रही है। राहुल गांधी, लालू यादव, ममता बनर्जी जैसे लोग बात तो पीड़ितों की करते हैं,लेकिन अपने वोटबैंक की बात आती है तो वोटबैंक के अलावा किसी को नहीं देखते।’
‘मैं बिहार कीजनता को कहने आया हूं कि क्या है सीएए। जो सताए गए लोग पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आए हैं। उन्हें नागरिकता देने की व्यवस्था है। राहुल, लालू एंड कंपनी को इसमें वोट बैंक दिखाई देती है। राजनीतिक उल्लू सीधा करने के लिए वे लोगों को गुमराह कर रहे हैं। सीएए नागरिकता देने का कानून है,लेने का नहीं।’


बाहर निकलते ही 'लालू ने कसा तंज'

पटना। राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू यादव चारा घोटाले से जुड़े मामलों में से एक में सुनवाई के लिए आज झारखंड स्थित केंद्रीय जांच ब्यूरो कोर्ट लाये गये। लंबे समय बाद जेल की कोठरी से बाहर निकलते ही लालू प्रसाद यादव ने एक बार फिर बिहार सरकार पर निशाना साधा है। बिना किसी का नाम लिये उन्होंने गुरुवार को ट्वीट कर 24500 करोड़ लुटने और जनता को दिग्भ्रमित करने का आरोप लगाया। साथ ही उन्होंने जल-जीवन-हरियाली यात्रा पर तंज कसते हुए नया नामकरण भी किया है।


लालू प्रसाद यादव ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा है कि ”छल, छीजन और घरियालीपन’ यात्रा वाले महानुभाव ने गरीब राज्य के नौजवानों, किसानों और कर्मचारियों का 24500 करोड़ लूट लिया। ऊपर से सरकारी संसाधनों की बर्बादी एवं करोड़ों रुपये मानव शृंखला की नौटंकी पर खर्च कर सुशासनी भ्रष्टाचार को वैध बनाने व जनता को दिग्भ्रमित करने की कोशिश है।“छल, छीजन और घरियालीपन” यात्रा वाले महानुभाव ने ग़रीब राज्य के नौजवानों, किसानों और कर्मचारियों का 24500 करोड़ लूट लिया। ऊपर से सरकारी संसाधनों की बर्बादी एवं करोड़ों रुपए मानव शृंखला की नौटंकी पर खर्च कर सुशासनी भ्रष्टाचार को वैध बनाने व जनता को दिग्भ्रमित करने की कोशिश है।


मालूम हो कि आज ही से लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे व नेता प्रतिपक्ष नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस (एनआरसी) के विरोध में सीमांचल के जिलों से अपनी प्रतिरोध यात्रा शुरू कर रहे हैं। हालांकि, उनके प्रतिरोध यात्रा को लेकर पार्टी विधायक फराज फातमी ने राजधानी पटना में आयोजित जेडीयू के चूड़ा-दही भोज में कहा था कि तेजस्वी अब क्यों विरोध कर रहे हैं, यह वहीं बता पायेंगे। साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जल-जीवन-हरियाली अभियान की भी जमकर तारीफ की थी।


कांटेक्ट लिस्ट से धोनी का नाम गायब

नई दिल्ली। इस वक्त की बड़ी ख़बर खेल जगत से जुड़ी हुई है। BCCI की नई कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में धोनी का नाम शामिल नहीं है। BCCI की ओर से सीनियर खिलाड़ियों के कॉन्ट्रैक्ट का ऐलान किया गया है, जिसमें महेंद्र सिंह धोनी का नाम नहीं है।


BCCI की नई कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में किसी भी कैटेगरी में महेंद्र सिंह धोनी का नाम नहीं है। अक्टूबर 2019 से सितंबर 2020 तक के लिए ये लिस्ट बनी है, जिसमें माही गायब हैं। धोनी ने जुलाई 2019 के बाद से कोई अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच नहीं खेला है। ऐसे में उनके करियर पर एक बार फिर सवाल खड़े हो रहे हैं। क्रिकेट फैंन्स ये सवाल पूछ रहे हैं कि क्या महेंद्र सिंह धोनी का करियर खत्म हो गया है? BCCI की ओर से जारी लिस्ट में ग्रेड A+ में तीन खिलाड़ी शामिल हैं, जिन्हें सालाना 7 करोड़ रुपये मिलेंगे। इनमें कैप्टन विराट कोहली, उपकप्तान रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह शामिल हैं। इससे पहले हाल ही में बीसीसीआई ने न्यूजीलैंड दौरे के लिए टी20 का ऐलान किया जिसमें भी धोनी का नाम शामिल नहीं था।


तेजाब की खुली बिक्री पर अंकुश अनिवार्य

भोपाल। सीएम कमलनाथ ने एसिए अटैक की घटनाओं पर रोक लगाने सख्त कदम उठाया है। सीएम ने एसिड (तेजाब) के खुलेआम बिक्री और नियंत्रण पर अंकुश लगाने को अनिवार्य बताया है। मुख्यमंत्री ने इसके लिए प्रदेशभर में अभियान चलाने की जरुरत बताया।
सीएम कमलनाथ के मुताबिक प्रदेश में किसी भी बहन-बेटी पर ऐसिड अटैक की घटनाओं बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसी घटनाओं में ज़िम्मेदारी भी तय होगी।
ऐसिड अटैक की घटनाएं बर्बरता, नृशंसता की परिचायक है। इन पर नकेल कसना बेहद ज़रूरी है। सिर्फ़ ऐसिड अटैक सर्वाइवर पर बनी फ़िल्म को टैक्स फ़्री करना ही काफ़ी नहीं।
इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिये जागरूकता से लेकर कड़े क़दम उठाये जाने की आवश्यकता है। ऐसी घटनाओं के दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा भी मिले। यह भी हम सुनिश्चित करेंगे।


2 हफ्ते बाद पता चला 'मर्द है पत्नी'

युगांडा। शादी से जुड़े अजीबोगरीब मामले अक्सर सुनने को मिलते हैं, लेकिन यह मामला बेहद ही अजीब है। दरअसल, अफ्रीकी देश युगांडा में एक इमाम ने निकाह कर लिया, लेकिन इसके दो हफ्ते बाद पता चला कि जिसे महिला समझकर इमाम ने निकाह किया था, वो तो पुरुष है। हैरान करने वाली यह सच्चाई जानकर इमाम के पैरों तले जमीन खिसक गई, उसे जोर का झटका लगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इमाम के पड़ोसी ने इस बात का खुलासा किया कि उसकी पत्नी कोई औरत नहीं बल्कि एक मर्द है। पड़ोसी का आरोप था कि इमाम की 'पत्नी' दीवार कूदकर उसके घर में घुसी और टीवी, कपड़े समेत कई सामान चुरा लिए। इसके बाद पड़ोसी ने इमाम को इस बारे में बताया और साथ ही पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई।
बाद में इमाम और उसकी 'पत्नी' को पुलिस स्टेशन ले जाया गया। उस समय महिला बने पुरुष ने हिजाब और सैंडल पहन रखे थे, इसलिए उसे जेल में डालने से पहले एक महिला पुलिसकर्मी से उसकी जांच कराई गई, जिसमें चौंकाने वाला खुलासा हुआ। वह महिला पुलिसकर्मी भी यह जानकर भौंचक्क रह गई कि जिसे महिला समझकर वो जांच कर रही थी, असल में वो एक मर्द था।
जब इमाम को अपनी 'पत्नी' की सच्चाई पता चली तो वो भी हैरान रह गया। उसने सपने में भी ये नहीं सोचा था कि उसके साथ इतना बड़ा धोखा हो सकता है। दरअसल, इमाम को यह सच्चाई पहले इसलिए नहीं पता चली थी, क्योंकि उसकी 'पत्नी' ने उस समय उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने से मना कर दिया था। उसका कहना था कि अभी उसको पीरियड्स हैं। वहीं, गिरफ्तारी के बाद महिला बने पुरुष आरोपी ने बताया कि उसने इमाम से पैसों के लिए शादी की थी। इमाम ने बाद में बताया कि वह आरोपी से एक मस्जिद में मिला था और उसे देखते ही उससे प्यार हो गया था, जिसके बाद इमाम ने उसे शादी के लिए प्रपोज किया और हां का जवाब मिलते ही उससे शादी कर ली। इमाम का कहना था कि जब तक उनकी शादी नहीं होती, तब तक वो शारीरिक संबंध नहीं बना सकते थे। इस घटना के बाद इमाम को उसके पद से बर्खास्त कर दिया गया है।


मेले से लौट रही 5 बच्चियों से गैंगरेप

रांची। खूंटी इलाके के काला माटी के पास पांच बच्चियों के साथ दुष्‍कर्म की शर्मनाक घटना हुई है। पांच बच्चियां रंग रोड़ी मेला से अपने गांव वापस लौट रही थी। तभी रास्ते में उनके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया।


मेला से लौट रही छह किशोरियों में से दो बच्चियों से सामूहिक दुष्‍कर्म की बात सामने आई है। जबकि चार ने छेड़छाड़ के बाद किसी तरह भागकर अपनी अस्‍मत बचाई। सामूहिक दुष्‍कर्म यही घटना बुधवार रात की है। घटना के बाद पूरे गांव में आक्रोश है।


रोजगार संगी मोबाइल एप किया लॉन्च

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने आज शाम युवा महोत्सव के समापन समारोह में कौशल विकास प्राधिकरण द्वारा तैयार रोजगार संगी मोबाइल एप्प लॉन्च किया।


कौशल प्रशिक्षण प्राप्त युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से छत्तीसगढ़ राज्य कौशल विकास प्राधिकरण द्वारा रोजगार संगी मोबाईल एप्प का निर्माण किया गया है।अपनी आवश्यकता के अनुसार कौशल प्रशिक्षण प्राप्त युवाओं से सम्पर्क कर सकते हैं तथा प्रशिक्षित युवक जिन्हें अपनी कुशलता एवं रूचि के अनुरूप रोजगार की तलाश है वे विभिन्न संस्थाओं में उपलब्ध रिक्तियों में से बेहतर का चयन कर रोजगार प्राप्त कर सकेंगे।


लोकतंत्र को मजबूत करने की चुनौती स्वीकारे

रायपुर। राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके ने आज छत्तीसगढ़ राज्य के पांचवी विधानसभा के नववर्ष 2020 में आयोजित प्रथम सत्र के अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ विधानसभा ने अल्प समय में अपनी उत्कृष्ट कार्यप्रणाली से जो गौरवशाली परम्पराएं स्थापित किए हैं, वह इस विधानसभा के इतिहास में सुनहरे पन्ने के रूप में दर्ज हुई हैं। उन्होंने कहा कि आज इस विधानसभा में आने का मेरा पहला अवसर है, जिसकी सुखद अनुभूति मुझे भावुक भी कर रही है और एक नई ऊर्जा से ऊर्जित भी कर रही हैं। राज्यपाल ने कहा कि मुझे विश्वास है कि हम सब मिलकर छत्तीसगढ़ विधानसभा की कीर्ति-पताका को ऊंचा करने में सफल होंगे। उन्होंने कहा कि आप सब प्रदेश की जनता की आकांक्षाओं के अनुरूप नवा छत्तीसगढ़ गढ़ने में अपना योगदान पूरे मनोयोग से करें, इसके लिए मेरी शुभकामनाएं।



राज्यपाल सुश्री उइके ने कहा कि मेरे लिए यह अत्यंत हर्ष और गौरव का विषय है कि नये वर्ष में छत्तीसगढ़ विधानसभा के कार्यकलापों की शुरूआत एक विशेष अवसर के रूप में हो रही है, जिससे हमें भारत के महान और पावन संविधान के प्रति अगाध निष्ठा, प्रतिबद्धता प्रदर्शित करने का अवसर मिला है। इससे हमें संविधान के प्रति अपने कर्तव्य निभाने का अवसर मिला है। भारतीय संविधान में अनुसूचित जाति तथा अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षण की समय-सीमा बढ़ाये जाने के लिए जो निर्धारित प्रक्रिया है, उसे पूरा करने में आपकी भागीदारी दर्ज होना, निश्चय ही बड़े सौभाग्य का विषय है।



राज्यपाल ने कहा कि मुझे यह कहते हुए बहुत प्रसन्नता का अनुभव हो रहा है कि मेरी सरकार ने छत्तीसगढ़ में अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्गों को बेहतर जिन्दगी की रोशनी दी है। इन वर्गों के प्रति संवेदनशीलता और इन्हें संविधान प्रदत्त अधिकारों से सशक्त बनाने की प्रतिबद्धता ने मेरी सरकार के प्रति विश्वास के एक नये युग की शुरूआत की है। उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि छत्तीसगढ़ विधानसभा अपनी परम्परा के अनुरूप लोकतंत्र को और अधिक मजबूत बनाने की चुनौती स्वीकार करेगी। राज्यपाल ने कहा कि आप सबकी सक्रियता और योगदान से ही लोकतंत्र का यह मंदिर जनता जनार्दन की आकांक्षाओं को पूरा करने में सफल होगा।


'प्रेमी ने प्रेमिका' को जिंदा जलाया

सुनील पटेल


डोंगरगढ़। ग्राम बेलगांव में बीते दिन बुधवार को एक दर्दभरी घटना सामने आयी है। प्रेमी ने अपने प्रेमीका के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर जला दिया है। दरअसल मामला यह है जब लड़की खेत के मेढ़ में आग से लिपटी हुई भाग रही थी। तो वहां आस पास के लोग देख कर दंग रह गये। फिर गांव के लोग दौडते हुए लड़की के पास पहुंचे और लडकी की आग बुझाकर तुरंत डॉयल 112 को सूचना दी। इस दौरान पुलिस भी मौके पर पहुंची और घायल युवती को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया। लड़की की हालत बेहद खराब होने के कारण जिला मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया।


लड़की की नाम सरस्वती सिंह है जिसकी उम्र 20 वर्ष है। जो अपने प्रेमी से मिलने खेत गई हुई थी। वही किसी बात को लेकर दोनो के बीच बहस हुई। फिर भड़के लडकी के प्रेमी ने अपने प्रेमिका के ऊपर मिट्टी का तेल डालकर जला दिया। पुलिस लड़की से बयान लेने जब अस्पताल पहुंची तो लड़की की हालात बेहद खराब होने के कारण युवती से बयान नही हो पाई है। आपको बता दें पुलिस लड़की के प्रेमी को हिरासत में लिया और उस पर आगें की कार्यवाई जारी की।


'एक भारत श्रेष्ठ भारत' कार्यक्रम आयोजित

राजीव रंजन कुमार


छपरा। राजेंद्र महाविद्यालय छपरा में एक भारत श्रेष्ठ भारत के तहत एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।जहां इसके तहत पूरे देश में कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है जहां देश में स्थित विभिन्न राज्यों के ऐतिहासिक विरासत,और सांस्कृतिक विविधता को जानने व समझने की एक साझी पहल कि जा रही है इस कार्यक्रम के माध्यम से।वहीं एक भारत श्रेष्ठ भारत के अंतर्गत अनेकों कार्यक्रम आयोजित किए जाने हैं इस विषय पर लेकर।जिसमें इस आयोजित कार्यक्रम में वाद विवाद, चित्रकला पार्टनर राज्य के परिधान, उत्सव, सांस्कृतिक कला आदि के संदर्भ में प्रदर्शनी इत्यादि शामिल किए जाने है।  आपकों मालूम हो कि आने वाले समय में इन सभी कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा इस योजना में जो उद्देश्य रखा गया है उसमें राजेंद्र कॉलेज परिवार अपनी महती भूमिका प्रदान करेगा और समाज के सभी वर्गों के लोगों को जागरूक करेगा।


सीएए के खिलाफ ममता ने लिया संकल्प

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर(एनआरसी) को लेकर होने वाली केंद्र सरकार की बैठक में हिस्सा नहीं लेंगी। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी पर मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने वालीं ममता बनर्जी की सरकार को कोई भी मंत्री भी बैठक में नहीं पहुंचेगा।


बता दें कि ममता बनर्जी इससे पहले सोमवार को दिल्ली में हुई विपक्ष की बैठक में भी शामिल नहीं हुईं थीं। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ देशभर में प्रदर्शनों के बीच साझा रणनीति बनाने के लिए कांग्रेस ने समान विचारधारा वाली सभी पार्टियों की बैठक बुलाई थी।सीएए के खिलाफ एक संयुक्त रणनीति बनाने के लिए और छात्रों के खिलाफ पुलिस की कथित बर्बरता के विरोध में सभी विपक्षी दल संसद उपभवन में हुई बैठक में शामिल हुए थे। कांग्रेस के निमंत्रण पर कई पार्टियों ने इस बैठक में शिरकत की थी लेकिन ममता बनर्जी ने इस बैठक से दूरी बना ली थी।


पश्मिच बंगाल में नहीं लागू होगा CAA-NRC
नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ पश्चिम बंगाल में बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन देखने को मिला था। ममता बनर्जी ने सीएए और एनआरसी के खिलाफ मध्य कोलकाता इलाके से चले कई जुलूसों का नेतृत्व भी किया है। ममता बनर्जी कई बार दावा कर चुकी हैं कि नागरिकता कानून को वे पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होने देंगी।


CAA के खिलाफ ममता का ‘संकल्प’
सीएए पश्चिम बंगाल में लागू न करने के लिए ममता बनर्जी संकल्प भी ले चुकी हैं। एक कार्यक्रम के दौरान लिए गए संकल्प में ममता बनर्जी ने दोहराया था, ‘हम सभी नागरिक हैं। हमारा आदर्श सभी धर्मों में सौहार्द्र है। हम किसी को बंगाल नहीं छोड़ने देंगे। हम शांति के साथ व चिंता मुक्त होकर रहेंगे। हम बंगाल में एनआरसी व सीएए को अनुमति नहीं देंगे। हमें शांति बनाए रखना है।” ममता ने कहा कि तृणमूल की रैली में सभी का स्वागत है। उन्होंने कहा कि देश जब संकट से गुजर रखा है तो हर किसी को साथ लेकर चलना होता है।’ममता बनर्जी का रुख नागरिकता कानून और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के खिलाफ है, ऐसे में केंद्र की बैठक से किनारा करके ममता बनर्जी ने अपना रुख एक बार फिर साफ किया है।


यूपी पुलिस के खिलाफ करें कार्रवाईः आईसीजे

बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध प्रदर्शनों के दौरान में उत्तर प्रदेश में हुई हिंसा के मामले में इंटरनेशनल कमिशन ऑफ जूरिस्ट्स (आईसीजे) ने भारत सरकार से जांच कराने की मांग की है। आईसीजे ने कहा कि भारत सरकार को उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर से प्रदर्शनकारियों पर की गई कार्रवाई की जांच करानी चाहिए।


गवाहों और पीड़ितों के साथ फर्स्टहैंड इंटरव्यू के आधार पर तैयार ब्रीफिंग पेपर में आईसीजे ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस की ओर की गई गोलीबारी, आंसू गैस, पानी की बौछार और लाठीचार्ज के कारण 19 लोगों की मौत हुई और 199 लोग घायल हुए। यह घटना 11 दिसंबर के बाद सीएए के विरोध प्रदर्शनों के दौरान हुई। पुलिस ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों पर बल प्रयोग किया। आईसीजे के महासचिव सैम जरीफी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में शांतिपूर्ण प्रदर्शकारियों की काफी संख्या में मौत हुई है। यह मॉरल पुलिसिंग और मानवाधिकारियों के अंतराराष्ट्रीय मानकों के उल्लंघन का मामला है। राज्य और केंद्र सरकार को प्रदर्शन के दौरान हुई मौत की जांच करानी चाहिए। इसके साथ ही पीड़ितों और उनके परिवार को कानूनी मदद मिलनी चाहिए।


आईसीजे ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस की कार्रवाई में घायल लोगों को मेडिकल लीगल प्रमाण पत्र नहीं दिया जा रहा है। यहां तक मृतकों के परिवार वालों को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिलने में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। घायलों को जीवन जीने और स्वतंत्रता का अधिकार है, जो अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत संरक्षित है। आईसीजे के महासचिव सैम जरीफी ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने गोली चलाकर, आंसू गैस के गोले दागकर और लाठीचार्ज का इस्तेमाल करके प्रदर्शनकारियों के अधिकारों का उल्लंघन किया है। पुलिस और सरकार को जीवन जीने और स्वतंत्रता के अधिकार का ख्याल रखना चाहिए। पुलिस की बर्बर कार्रवाई को बर्दाश्त नहीं किया जाना चाहिए।इलाहाबाद हाई कोर्ट में आज से सुनवाई उत्तर प्रदेश में हुई हिंसा के मामले में इलाहाबाद हाई कोर्ट में आज यानी 16 जनवरी से सुनवाई हो रही है। यह सुनवाई मुंबई के वकील अजय कुमार के पत्र के आधार पर हो रही है। इस पत्र के बाद हाई कोर्ट ने पूरे मामले में स्वत: संज्ञान लिया था। इसके अलावा उत्तर प्रदेश पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ कई जनहित याचिकाएं भी दायर हैं।


गृहमंत्री ने किया कौशल संस्थान का शिलान्यास

गांधीनगर। बेरोजगारी के मुद्दे पर मोदी सरकार को कांग्रेस घेर कर रही है। इस बीच गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि भारत में नकारात्मक बातें कहने वाले लोग हमेशा बेरोजगारी की बात करते हैं, जब वे बेरोजगारी के बारे में बात करते हैं, तो मेरे मन में एक सवाल उठता है। आपने इस देश पर 50-60 साल तक राज किया, बेरोजगारी के मुद्दे को सुलझाने के लिए आपने क्या उपाय किए। गांधीनगर में भारतीय कौशल संस्थान का शिलान्यास करते हुए अमित शाह ने कहा कि यह संस्थान न केवल देश के युवाओं को स्किल्ड कर उन्हें रोजगार के अवसर उपलब्ध कराएगा, बल्कि उन्हें जॉब सीकर से जॉब क्रियेटर बनायेगा, जिससे वह देश के विकास में अपनी महत्त्वपूर्ण भूमिका अदा कर पायेंगे। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पहल स्किल इंडिया से देश में न केवल रोजगार सृजित होगा बल्कि ‘मेक इन इंडिया’ का सपना भी साकार होगा और देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में भी मदद मिलेगी।


राहुल ने उठाया था बेरोजगारी का मसला


बीते दिनों  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था, ‘प्रधानमंत्री मोदी को चाहिए कि वह युवाओं को बताएं कि क्यों भारत की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो गई, क्यों बेरोजगारी दर बढ़ रही है? उनके पास हिम्मत नहीं है कि वह विद्यार्थियों के सामने आएं।’ राहुल गांधी ने कहा था, ‘मैं पीएम को चुनौती देता हूं कि वह किसी भी विश्वविद्यालय में जाएं और बिना पुलिस के वहां खड़े होकर लोगों को बताएं कि वह देश के लिए क्या करने जा रहे हैं। सरकार युवाओं की आवाज को दबाने का प्रयत्न कर रही है, छात्रों की मांग जायज है, लेकिन सरकार उन्हें सुनना नहीं चाहती है।’


नोटों पर लक्ष्मी की तस्वीर छपनी चाहिए

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने डॉलर के मुकाबले गिरते रुपए को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया है। उन्होंने भारतीय करेंसी की स्थिति को सुधारने के लिए बैंक नोट में धन की देवी लक्ष्मी की तस्वीर छापने की वकालत की है। मध्य प्रदेश के खंडवा में ‘स्वामी विवेकानंद व्याख्यानमाला’ विषय पर भाषण देने के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि वो नोट में धन की देवी लक्ष्मी की तस्वीर छापने के पक्ष में हैं।’


इंडोनेशिया की करेंसी पर भगवान गणेश की तस्वीर छापने के सवाल पर सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, ‘इस सवाल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवाब दे सकते हैं। हालांकि जहां तक मेरी बात है, तो मैं इसके पक्ष में हूं। भगवान गणेश बाधाओं को दूर करते हैं। मेरा तो यह कहना है कि धन की देवी लक्ष्मी की तस्वीर बैंक नोट में छापने से भारतीय करेंसी की स्थिति में सुधार हो सकता है। इस पर किसी को बुरा नहीं मानने की जरूरत नहीं है।’


इस दौरान बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) पर भी अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम में आपत्तिजनक कुछ भी नहीं हैं। इसके लिए कांग्रेस और महात्मा गांधी ने खुद नागरिकता संशोधन कानून के लिए अपील की थी। स्वामी ने कहा, ‘साल 2003 में संसद में कांग्रेस नेता और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने की अपील की थी। हम तो इसको लेकर आए हैं। अब कांग्रेस इसको स्वीकार नहीं कर रही है और कह रही है कि हमने पाकिस्तान के मुसलमानों के साथ अन्याय किया है। मेरा सवाल है कि इसमें क्या अन्याय हुआ? पाकिस्तान के मुसलमान यहां नहीं आना चाहते हैं। हम उनको यहां आने के लिए मजबूर भी नहीं कर सकते हैं।


नीलमणि पाल


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


जनवरी 17, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-160 (साल-01)
2. शुक्रवार, जनवरी 17, 2020
3. शक-1941, माघ - कृष्ण पक्ष, तिथि- सप्तमी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:11,सूर्यास्त 05:32
5. न्‍यूनतम तापमान -5 डी.सै.,अधिकतम-17+ डी.सै., कोहरे की संभावना।


समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.:-935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...