सोमवार, 16 अगस्त 2021

400 परियोजनाओं को लेकर मंत्रालयों में चिंता

काबुल। अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी द्वारा अपने देश को छोड़ने के बाद केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही 400 परियोजनाओं को लेकर दिल्ली के कई मंत्रालयों में चिंता है। यहां की संसद भवन का निर्माण भी शहरी विकास मंत्रालय ने किया था और उसके मुख्यालय का नाम पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई के नाम पर “अटल ब्लॉक” रखा गया था। जिसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं राष्ट्रपति गनी ने किया था।

केंद्रीय लोक निर्माण विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि संसद परिसर का निर्माण करीब 600 करोड़ से किया गया था। सन 2015 में इसका उद्घाटन हुआ था। संसद परिसर में 400 लोगों के बैठने के लिए मस्जिद का निर्माण भी किया था। लेकिन अब कहा जा रहा है कि तालिबानी नेता अपने इस्लामिक देश की संसद से भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्व वाजपेई का नाम ठीक उसी तरह हटा सकते हैं जिस तरह अंग्रेजों के जाने के बाद भारत में उनके नामों को हटाया दिया गया है। उदाहरण के तौर पर 1927 में भारतीय संसद का निर्माण अंग्रेजों ने कराया था और इसका उद्घाटन लॉर्ड इरविन ने किया था। जबकि लार्ड इरविन के नाम से सबसे बड़ा अस्पताल भी दिल्ली में बना था जिसका नाम अब इरविन अस्पताल से लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल कर दिया गया है। अगर इस परंपरा को तालिबानियों ने अपनाया तो कोई बड़ी बात नहीं है कि वहां की संसद से स्वर्गीय बाजपेई का नाम हट जाए।

अफगानिस्तान में इस समय लगभग 400 छोटी बड़ी परियोजनाओं पर काम चल रहा है। इसी वर्ष मई के महीने में 29 करोड़ डॉलर की लागत से एक बांध कभी निर्माण कार्य शुरू हुआ है। जिसमें 20 लाख लोगों को स्वच्छ पेयजल आपूर्ति की जाएगी। वैसे तो अफगानिस्तान में हिंदुओं एवं सिखों की तादाद बहुत ज्यादा नहीं है। लेकिन 5सौ से ज्यादा लोग प्रतिनियुक्त पर वहां तैनात हैं। उनको लेकर भी यहां चिंता व्यक्त की जा रही है। कई मंत्रालयों के शीर्ष अधिकारी भी समय-समय पर उक्त परियोजनाओं का मुआयना करने जाते हैं। नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अफगानिस्तान से आने वाले भारतीयों के लिए विशेष विमान की व्यवस्था की है। अशांत अफगानिस्तान से गत वर्ष भी 380 लोगों को एक विशेष विमान से यहां लाया गया था। रविवार को भी एक विशेष विमान दिल्ली से काबुल भेजा गया था जिसमें 170 लोगों के आने की सूचना है। सूत्रों के मुताबिक वहां से आने के उत्सुक लोगों को भारतीय दूतावास के माध्यम से नागरिक उड्डयन मंत्रालय विशेष विमान उपलब्ध कराएगा।

विश्विद्यालय प्रसाशन को छात्रों की समस्या पर ज्ञापन

दुष्यंत टीकम           
रायपुर। जिला एनएसयू और विश्विद्यालयों के अंतर्गत आये कई महाविद्यालयों के भारी संख्या में आये छात्रों ने पं. रविशंकर शुक्ल विश्विद्यालय में हल्ला बोला। जिला महासचिव हरिओम तिवारी और निखिल वंजारी के नेतृत्व में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। एनएसयूआई के नेताओं ने बताया, कि हमने पिछले कई दिनों से कई तरह से विश्विद्यालय प्रसाशन को छात्रों की समस्या को लेकर ज्ञापन दिया है और प्रदर्शन किया है। जिसके बाद भी सोते हुए विश्विद्यालय प्रसाशन ने आज तक छात्रों के हित में कोई भी निर्णय नहीं लिया। जिसके विरोध में आज हमने विश्विद्यालय में तालाबंदी कर घेराव करने का आयोजन किया था। 
जिसमे हमें भारी मात्रा में छात्रों का समर्थन भी प्राप्त हुआ। कई देर तक नारेबाजी करने के बाद विश्विद्यालय के कुलसचिव के नेतृत्व में विश्विद्यालय की कमिटी छात्रनेताओं से बात करने आये और समझाइश भी दी। जिसके बाद भी छात्रों के द्वारा अपनी मांग को ले कर नारेबाजी चलती रही और बरसते पानी में डटें रहे लगभग 2 घंटो के बाद जब बात नहीं सम्भली तो कुलपति को मामले में दखल करना पड़ा और 5 छात्रनेताओं को मुलाकात करने का बुलावा दिया जिसके बाद छात्रों से बात चित की गयी। जिसमे प्रमुख बातें एनएसयूआई के द्वारा राखी गयी थी जो, कि इस प्रकार है। ऑनलाइन परीक्षा कराया जाये। अगर ऑफलाइन परीक्षा करते हैं तो छात्रों को एक महीने का समय दिया जाये। सभी हॉस्टल को सैनेटाइजड कर पुनः शुरू किया जाये। सभी महाविद्यालयों में पुनः ऑफलाइन कक्षा प्रारम्भ किया जाये। जिससे एक महीने के अंदर सभी छात्र अपना डॉउट क्लियर कर सकें 
इन तीनो मांगो को कुलपति ने छात्रों की मांग को तत्काल स्वीकार करते हुए 24 घंटे के अंदर पूरा करने का वदा  किया है। 
इस प्रदर्शन में मुख्य रूप से जिला महासचिव प्रशांत गोस्वामी ,महताब हुसैन , राजकुमार यादव , जिला संयोजक एनएसयूआई रायपुर सूर्यप्रताप  बंजारे,अजित कोषले, नील मारकंडे, कुणाल दुबे , भूपेश वर्मा , विनय वर्मा ,शुभांशु , इमरान,नीलकंठ , वैभव , अजित ,गावेश , सेवा , सम्मित , आलोक , शैलेंद्र , अर्जुन , विराट , आकाश ,मुकेश, रितिक, सागर, ललित, जमेश ,गगन, सौरभ, नीलेश, पुष्पराज आदि।

यूपी: डीएम सुजीत की अध्यक्षता में संपन्न हुईं बैठक

कौशाम्बी। जिलाधिकारी सुजीत कुमार की अध्यक्षता में जलशक्ति अभियान की बैठक सोमवार को कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में संबधित अधिकारियों के साथ संपन्न हुई। बैठक में एईएमआई ने बताया कि जिले में कुल 2100 बिल्डिगों पर रूफटाफ रैन वाटर हार्वेस्टिंग का कार्य कराये जाने हेतु इस्टीमेट तैयार किया जा रहा है। जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए इस्टीमेट बनाये जाने के कार्य में प्रगति लाने के निर्देश दिये उन्होंने कहा कि यह शासन की बहुत ही महत्वाकांक्षी योजना है। सभी संबंधित अधिकारी समन्वय बनाकर कार्य करते हुए रैन वाटर हार्वेस्टिंग के कार्य में तेजी से पगति लाना सुनिश्चित करें उन्होंने परियोजना निदेशक को निर्देश दिये कि ऐसे रोजगार सेवक जो कार्य में लापरवाही बरत रहे हैं। उनके विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जायें। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शशिकांत त्रिपाठी, परियोजना निदेशक, जिला पंचायत राज अधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।
विजय कुमार 

अग्रवाल को डीजीपी की जिम्मेदारी सौंपने का फैसला

राणा ओबराय।     
चंडीगढ़। नए डीजीपी का चुनाव कर लिया गया है। सरकार ने वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी पीके अग्रवाल को पुलिस महानिदेशक की जिम्मेदारी सौंपने का फैसला किया। नवनियुक्त पुलिस महानिदेशक पीके अग्रवाल ने आज अपना कार्यभार संभाल लिया है। यूपीएससी ने राज्य सरकार द्वारा भेजी गई सूची में से तीन नामों-1988 बैच के पी.के अग्रवाल, 1989 बैच के आईपीएस अधिकारी मोहम्मद अकील और 1989 बैच के रमेश चंद्र मिश्रा को पैनल में शामिल किया था। फिलहाल सतर्कता ब्यूरो के महानिदेशक अग्रवाल तीनों अधिकारियों में वरिष्ठ हैं।
बता दें कि प्रशांत कुमार अग्रवाल मूल रूप से बिहार के रहने वाले हैं और 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। इससे पहले वो डीजी स्टेट विजिलेंस ब्यूरो के पद पर तैनात थे। प्रशांत कुमार अग्रवाल 30 जून, 2023 को रिटायर होंगे। उन्हें वर्ष 2004 में पुलिस मेडल और 2015 में राष्ट्रपति पुलिस मेडल से सम्मानित किए जा चुके है।
रविवार को जारी आदेश के अनुसार, ‘संघ लोक सेवा आयोग से मिले पैनल की सिफारिश के आधार पर हरियाणा के राज्यपाल को प्रशांत कुमार अग्रवाल को प्रदेश का पुलिस महानिदेशक नियुक्त करते हुए प्रसन्नता हो रही है। उनका कार्यकाल पदभार संभालने से दो साल का होगा।

बागपत के जिला कार्यालय पर बैठक का आयोजन

गोपीचंद           
बागपत। अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल बागपत के जिला कार्यालय पर आज एक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में बड़े गांव धर्म स्थल पर जैन समाज के लोगों के ऊपर कुछ उपद्रवियों द्वारा हमले की घोर निंदा कि गयी और प्रशासन से अनुरोध किया गया कि जल्द से कमलावर दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए। जिससे भविष्य में कोई भी ऐसी हरकत दोबारा ना कर सके जिला अध्यक्ष भूपेश बब्बर ने कहा जैन समाज के लोग बहुत धार्मिक व पूजा पाठ करने वाले लोग होते हैं। यदि इस प्रकार की हरकत कोई भी उनके खिलाफ करता है, तो वह बख्शा नहीं जाना चाहिए। 
संगठन के अध्यक्ष भूपेश बब्बर ने खेकड़ा इंस्पेक्टर नोवेंद्र सिंह सिरोही से फोन पर वार्ता की जिसमें उन्होंने खेकड़ा थाना की ओर से आश्वासन दिया गया कि भविष्य में ऐसी कोई भी घटना दोबारा ना हो ऐसा प्रयास किया जाएगा। बैठक में जिला महामंत्री अनुराग जैन कोषाध्यक्ष अमित चिकारा जिला संरक्षक श्रवण कुमार जैन जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ देवेंद्र पवार, संजय जैन अमूल, कीमती गिरहोत्रा, कुलदीप राणा, अनुराग, मोहन जैन, राजेंद्र सखूजा अमित जैन, शुभम जैन, विपिन जैन, नवनीत जैन, मोनू जैन, लवली छावा, पंकज जैन, दिनेश अरोरा, दिनेश ठुकराल, आदि अन्य व्यापारी मौजूद रहें।

मजदूरों स्टूडेंट्स पर कानून बनाकर अत्याचार किया

सत्येंद्र पंवार         
मेरठ। कोरोना महामारी संक्रमण रोग से बचाव के बदले बीजेपी और इसके सहयोगी दलों ने किसानो मजलूमों पसमांदा अल्पसंख्यक समुदाय अनुसूचित जाति जन जाति आदिवासी गरीब मजदूरो स्टूडेंट्स पर मन मर्जी से काले कानून बनाकर अत्याचार किया। 
बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आर डी गादरे बताया, कि किसानो को ही नही मूल निवासियों के हर मजहब के लोगो पर अत्याचार बढता जा रहा है।
ज्ञात रहे कि राष्ट्रीय किसान मोर्चा के तत्वावधान में 560 जिलों मे 16 अगस्त को किसान विरोधी कानून वापस कराने के सम्बन्ध मे महामहिम राष्ट्रपति महोदय के नाम जिला मुख्यालय में धरना-प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया गया है। महिला प्रकोष्ठ प्रदेश प्रभारी अनिता बौद्ध बी एम पी जिलाध्यक्ष ओमवीर सिंह, खुर्शीद आलम एवं दीन मौहम्मद सलमान, खुर्शीद गद्दी, औमकरन आई एलपी से एड आबेश अहमद एड अतर सिंह गुप्ता, भारतीय विद्यार्थी मोर्चा के विजय, कल्याणी राष्ट्रीय मुस्लिम मोर्चा के मो शादाब, राष्ट्रीय अनुसूचित जाति मोर्चा से नरेश कुमार, भारत मुक्ति मोर्चा से प्रमोद सिद्धार्थ, विशाल कुमार, रियाजुद्दीन सैफी, अमान खान, सुधांशु कुमार गौतम, राम शरण गौतम, सुनील सैनी, हरीश कश्यप आदि मौजूद रहे। काले कानूनों को रद्द करने की मांग की।

शांति भंग करने की कोशिश, बख्शा नहीं जायेगा

राणा ओबराय            
चडींगढ। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने दो टूक शब्दों में पाकिस्तान को नसीहत देते हुये कहा कि यदि किसी ने हमारी शांति भंग करने की कोशिश की तो उसे बख्शा नहीं जायेगा। उन्होंने कल स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ऐतिहासिक एवं धार्मिक नगरी में ध्वजारोहण के बाद वहां उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुये कहा कि सीमावर्ती राज्य की रक्षा करने में कोई चूक नहीं होगी। पड़ोसी देश हमेशा मुश्किलें खड़ी करने की ताक में रहता है ।‘हम शांति चाहते हैं और भारतीय क्षेत्र में किसी भी हमलावर कार्रवाई या हमले को बर्दाश्त नहीं करेंगे। पाकिस्तान कोई मुसीबत खड़ी करता है तो हम उनको ऐसा सबक सिखाएंगे जो वह जि़ंदगी भर याद रखेगा।’ पड़ोसी मुल्कों द्वारा राज्य में हथियारों और नशीले पदार्थों की तस्करी के लिए ड्रोन का प्रयोग का जि़क्र करते हुए सीएम कैप्टन सिंह ने चेतावनी दी कि पाकिस्तान पंजाब में किसी भी स्थिति का लाभ लेने का कोई मौका नहीं छोड़ेगा।
इसलिये हमें खुद सतर्क रहना होगा ताकि हमारा कोई नाजायज फायदा न उठा सके । उद्योग के विकास को प्रोत्साहित करने और प्रदेश के विकास और अमन शांति की ज़रूरत पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि उनकी सरकार गैंगस्टरों और आतंकवादियों समेत किसी भी खतरे को बर्दाश्त नहीं करेगी और हम ऐसी किसी भी कोशिश के विरुद्ध सख़्ती से पेश आएंगे।
पंजाब के लिए कोई भी ख़तरा हमारे समूचे मुल्क के लिए ख़तरा होगा। उन्होंने बताया कि सरकार के सत्ता संभालने से लेकर 47 पाकिस्तानी आतंकवादी मॉड्यूलों और 347 गैंग्स्टरों के मॉड्यूलों को निष्प्रभावी किया गया है, जिनमें से कुछ बड़े गैंगस्टरों को अर्मेनिया, यूएई और अन्य देशों से डिपोर्ट करवाया गया और कई अन्य को डिपोर्ट करवाने की कार्यवाही जारी है।

विधायक ने पूजन के बाद पुल का उद्घाटन किया

हरिओम उपाध्याय               
बरेली। चौपुला पुल का सोमवार को कैंट विधायक राजेश अग्रवाल ने पूजन के बाद फीता काटकर पुल का उद्घाटन किया। पुल भारत रत्न स्व. अटल बिहारी वाजपेयी के स्मृति दिवस के मौके पर जनता को समर्पित किया गया। राजेश अग्रवाल की पैरवी पर पुल का नाम भी अटल सेतु रखा गया है।
अब यह अटल सेतु के नाम से जाना जाएगा। कार्यक्रम में बीजेपी के तमाम नेता और जनप्रतिनिधि भी शामिल नहीं हुए। वहीं कार्यक्रम में
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के महासचिव एवं पूर्व राज्यसभा सांसद वीरपाल सिंह की मौजूदगी खासी चर्चा में रही। वहीं बदायूं पुल से हिस्सा जुड़ने का कार्य होना शेष हैं।

भारतीय खिलाड़ियों से नाश्ते पर मुलाकात की

अकांशु उपाध्याय               
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले भारतीय खिलाड़ियों से सोमवार को नाश्ते पर मुलाकात की। ओलंपिक मैं भाला फेंक स्पर्धा में देश को स्वर्ण पदक दिलाने वाले नीरज चोपड़ा और भारोत्तोलन में देश को रजत पदक दिलाने वाली मीराबाई चानू सहित ओलंपिक दल के खिलाड़ी आज सुबह प्रधानमंत्री के आधिकारिक निवास 7 रेस कोर्स रोड पहुंचे।
प्रधानमंत्री ने इन खिलाड़ियों के लिए आज नाश्ते का आयोजन किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओलिंपिक खिलाड़ियों को रविवार को देश के 75 वें स्वतंत्रता दिवस के मुख्य आयोजन मैं लाल किले पर भी आमंत्रित किया था।
प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में इन खिलाड़ियों की खुलकर प्रशंसा की थी और देशवासियों से भी इनका खुले दिल से स्वागत करने को कहा था। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री ओलंपक खेल शुरू होने से पहले से ही खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाते रहे थे। उन्होंने कई खिलाड़ियों से टोक्यो में भी फोन पर बात कर उनका हौसला बढ़ाया था तथा कहा था कि देश को उन पर गर्व है।

1,376 किलोग्राम गांजे के साथ 2 को अरेस्ट किया

मनोज सिंह ठाकुर               
इंदौर। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में 1,376 किलोग्राम गांजे के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया है। गांजे की इस बड़ी खेप को आंध्र प्रदेश से ट्रक में धान के भूसे की आड़ में छिपाकर लाया गया था। एनसीबी के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि मादक पदार्थों के काले बाजार में इस खेप की कीमत 1.5 करोड़ रुपये आंकी जा रही है।
अधिकारी ने कहा कि मुखबिर की सूचना पर उज्जैन जिले में एक ट्रक को रविवार को रोका गया। राजस्थान में पंजीकृत ट्रक की तलाशी लिए जाने पर इसमें 1,376 किलोग्राम गांजा छिपा मिला। अधिकारी ने बताया कि शातिर तस्करों ने धान के भूसे से भरे बोरों की आड़ में गांजे की बड़ी खेप छिपा रखी थी।
उन्होंने बताया कि जांच में पता चला है कि नशीले पदार्थ की यह खेप आंध्र प्रदेश से उज्जैन के लिए रवाना की गई थी। अधिकारी ने बताया कि गांजे की अंतरराज्यीय तस्करी के मामले में एनडीपीएस अधिनियम के तहत उज्जैन जिले के दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है और इस अपराध में इस्तेमाल ट्रक को जब्त कर लिया गया है। विस्तृत जांच जारी है।

हादसा: कंटेनर में घुसी पुलिस की जीप, 5 घायल

हरिओम उपाध्याय 
बरेली। सोमवार सुबह पुलिस की जीप कंटेनर में घुस गई। जिसके चलते पांच लोग घायल हो गए। हादसे के बाद घायलों को अस्पताल ले जाया गया।
भुता के पास पुलिस की जीप कंटेनर में घुस गई। इस हादसे  में एसओ भी घायल हो गए। साथ ही महिला सिपाही को भी चौट आई है। हादसे के बाद कंटेनर चालक मौके से फरार है।

नागरिकों की सुरक्षित वापसी की क्या योजना है ?

अकांशु उपाध्याय                 
नई दिल्ली। कांग्रेस ने अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद पैदा हुए हालात पर चिंता व्यक्त करते हुए सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर को ‘रहस्यमयी चुप्पी’ तोड़कर देश को यह बताना चाहिए कि इस पड़ोसी देश को लेकर उनकी आगे की क्या रणनीति है तथा वहां से भारतीय राजनयिकों एवं नागरिकों की सुरक्षित वापसी की क्या योजना है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस नरेंद्र मोदी सरकार से एक परिपक्व रणनीतिक एवं कूटनीतिक प्रतिक्रिया की उम्मीद करती है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ”अफगानिस्तान की स्थिति बहुत खतरनाक मोड़ ले चुकी है। भारत के सामरिक हित अफगानिस्तान के मामले में दाव पर लगे हैं। हमारे राजनयिकों और नागरिकों की सुरक्षा दाव पर लगी है।
कांग्रेस देश के हितों की रक्षा करने वाले हर कदम के साथ खड़ी है।” सुरजेवाला ने इस बात पर जोर दिया, ”जब अफगानिस्तान की सरकार चली गई है और तालिबान ने सत्ता पर कब्जा कर लिया है तो भारत सरकार से हम एक परिपक्व राजनीतिक, रणनीतिक और कूटनीति प्रतिक्रिया की अपेक्षा करते हैं।”

उन्होंने आरोप लगाया, ”इन हालात में नरेंद्र मोदी जी और उनकी सरकार की चुप्पी अपने आप में चिंताजनक भी है, रहस्मयी भी है।” कांग्रेस महासचिव ने यह दावा भी किया, ”मोदी सरकार द्वारा हमारे राजनयिकों और नागरिकों को वापस लाने के लिए कोई योजना नहीं बनाना सरकार की ओर से जिम्मेदारी निभाने में कोताही का ज्वलंत उदाहरण है। इस तरह की कोताही को स्वीकार नहीं किया जा सकता।

उनके मुताबिक, कई आतंकी संगठन पाकिस्तान की मदद से भारत विरोधी गतिविधियों अंजाम देते हैं, ऐसे में मोदी सरकार की ‘चुप्पी’ चिंताजनक है। सुरजेवाला ने कहा, ”प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री सामने आना चाहिए और देश को बताना चाहिए कि हमारे राजनयिकों और नागरिकों को किस प्रकार से सुरक्षित वापस लाया जाएगा और अफगानिस्तन को लेकर हमारी आगे की रणनीति क्या होगी।

पेगासस मामले की सुनवाई मंगलवार तक स्थगित

अकांशु उपाध्याय             
नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने पेगासस जासूसी मामले की सुनवाई मंगलवार तक स्थगित कर दी है और केंद्र सरकार से पूछा कि वह पेगासस स्पाइवेयर के कथित इस्तेमाल को लेकर अतिरिक्त हलफनामा दायर करना चाहती है। 
मुख्य न्यायाधीश एन वी रमन की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने सोमवार को केंद्र सरकार की ओर से पेश हो रहे सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता से कहा कि वह जानना चाहती है कि क्या केंद्र सरकार पेगासस स्पाइवेयर के कथित इस्तेमाल पर अतिरिक्त हलफनामा दायर करना चाहती है।
खंडपीठ ने केंद्र सरकार से यह स्पष्टीकरण आज दायर दो पृष्ठों के संक्षिप्त हलफनामे के परिप्रेक्ष्य में मांगा। याचिकाकर्ताओं- वरिष्ठ पत्रकार एन राम और शशि कुमार की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल एवं अन्य याचिकाकर्ताओं के वकीलों ने भी सुनवाई के दौरान एक ही सवाल खड़े किये कि केंद्र सरकार इस सवाल का जवाब देने से बच रही है कि क्या उसकी किसी एजेंसी ने कभी भी पेगासस स्पाइवेयर का इस्तेमाल किया है।
याचिकाकर्ताओं के वकीलों ने न्यायालय से अनुरोध किया कि वह केंद्र सरकार को इस मामले में स्पष्ट जवाब देने का निर्देश दे। सॉलिसिटर जनरल ने दलील दी कि यह मामला राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा है और केवल एक हलफनामे के जरिये इसका उत्तर नहीं दिया जा सकता। करीब दो घंटे की सुनवाई के बाद खंडपीठ ने मामले की सुनवाई कल तक के लिए टालते हुए केंद्र सरकार से पूछा कि क्या वह अतिरिक्त हलफनामा दायर करने को लेकर अपना हृदय परिवर्तन कर सकती है।

छात्राओं के लिए ‘मेधा छात्रवृति योजना’ शुरू की

अकांशु उपाध्याय                  
नई दिल्ली। इंडियन ऑयल ने 30 राज्य और केंद्रीय शिक्षा बोर्डों में दसवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं में टॉप करने वाली मेधावी छात्राओं के लिए ‘मेधा छात्रवृति योजना’ शुरू की है। आजादी के अमृत महोत्सव के रूप में मनाए जा रहे 75 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर इस योजना के तहत पचहत्तर मेधावी छात्राओं की पहचान की गई है ।
इंडियनऑयल के अध्यक्ष श्रीकांत माधव वैद्य ने इस सीएसआर पहल की शुरुआत की, जिससे उन 2,250 लड़कियों को लाभ होगा जो 2020/2021 कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा में शामिल हुई थीं। इस पहल के तहत 2.25 करोड़ रुपये का वितरण किया जाएगा।
छात्रवृत्ति के तहत छात्राओं को 10,000 रुपये और एक प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा। यह छात्रवृत्ति उनके उच्च अध्ययन के लिए प्रेरणा के स्रोत के रूप में भी काम करेगी। यह छात्रवृत्ति संबंधित शिक्षा विभाग द्वारा अनुशंसित योग्यता के आधार पर प्रदान की जा रही है।
श्रीकांत माधव वैद्य ने कहा, “मजबूत सामाजिक नेतृत्व के साथ एक जिम्मेदार कॉर्पोरेट के रूप में इंडियन ऑयल युवाओं की शिक्षा संबंधी आवश्यकताओं को संबल प्रदान करने के लिए कई सीएसआर पहल कर रहा है। हमें उम्मीद है कि ये छात्रवृत्तियां छात्राओं को अपने अकादमिक लक्ष्यों को प्राप्त करने और अपने लिए उज्ज्वल भविष्य बनाने की दिशा में प्रेरित करेंगी। हमारा यह मानना है कि शिक्षित लड़कियां मजबूत परिवार, समुदाय, और अर्थव्यवस्था का निर्माण करती हैं और हमारी यह पहल इसी विश्वास को प्रदर्शित करती है।

उत्तराखंड में 24 अगस्त तक बढ़ाया गया कर्फ्यू

पंकज कपूर                  
देहरादून। उत्तराखंड से आज की बड़ी खबर राज्य में कोविड-कर्फ्यू आगामी 24 अगस्त तक बढ़ाया गया। इस दौरान तमाम नियम पहले की तरह से लागू रहेंगे जो छूट दी गई हैं, वह जारी रहेंगी। वही नाइट कर्फ्यू आदेश अभी भी जारी रहेगा।
राज्य सरकार ने एक बार फिर कोरोना कर्फ्यू को एक हफ्ता बड़ा दिया है। राज्य में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में काफी कमी आ गई है। इसके साथ ही सक्रिय मामले भी काफी कम हो गए हैं। बावजूद इसके उत्तराखंड राज्य सरकार ने कोरोना कर्फ्यू को एक हफ्ते के लिए और बढ़ा दिया है। जिसके तहत प्रदेश में 24 अगस्त तक कोरोना कर्फ्यू लागू रहेगा। हालांकि, इस दौरान राज्य सरकार ने कोई अतिरिक्त राहत नहीं दी है। ऐसे में जो नियम पिछले सप्ताह से लागू थे वही नियम इस सप्ताह भी लागू रहेगा।

 

सुष्मिता ने सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा भेजा

अकांशु उपाध्याय                    
नई दिल्ली। ऑल इंडिया महिला कांग्रेस की अध्यक्ष रह चुकीं सुष्मिता देव ने कांग्रेस से नाता तोड़ लिया है। पहले उन्होंने पार्टी का व्हाट्सऐप ग्रुप छोड़ा। इसके बाद अब उन्होंने ट्विटर के बायो में खुद को कांग्रेस का पूर्व नेता बताया है। उन्होंने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा भेज दिया है। आपको बता दें कि लंबे समय से वह पार्टी से नाराज चल रही थीं। असम विधानसभा चुनाव के दौरान भी उनकी नाराजगी की खबरें लगातार सामने आ रही थीं।
मार्च महीने में तो असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी को सुष्मिता देव के इस्तीफे की अटकलों को खारिज करना पड़ा था। उन्होंने सीट बंटवारे को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की थी।
कांग्रेस की महिला विंग की प्रमुख सुष्मिता देव ने रविवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे एक संक्षिप्त पत्र में, पूर्व संसद सदस्य ने कहा कि वह पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे रही हैं, लेकिन उन्होंने कोई विशेष कारण नहीं बताया।
उन्होंने कहा, “मैं भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के साथ अपने तीन दशक लंबे जुड़ाव को संजोती हूं.. आपने मुझे जो मार्गदर्शन और अवसर दिए, उसके लिए मैं व्यक्तिगत रूप से आपका धन्यवाद करती हूं।” देव दिवंगत दिग्गज कांग्रेसी संतोष मोहन देव की बेटी हैं। 2014 में पहली बार सिलचर की पारिवारिक सीट से संसद पहुंची थी। सूत्रोंं के मुताबिक वह तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो सकती हैं तथा असम में तृणमूल का चेहरा बन सकतीं है। बहरहाल सुष्मिता देव केे इस्तीफे को कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।

शाखाओं में 920 एक्सक्यूटिव पदों पर भर्ती निकाली

अकांशु उपाध्याय                   
नई दिल्ली। आईडीबीआई बैंक ने देशभर के विभिन्न शाखाओं में 920 एक्सक्यूटिव पदों पर भर्ती निकाली है। भर्ती प्रक्रिया 3 अगस्त 2021 से जारी है। जिसकी अंतिम तिथि 18 अगस्त 2021 निर्धारित की गई है। ऐसे में जो भी उम्मीदवार बैंक में आवेदन करना चाहते हैं। वह 18 अगस्त 2021 से पहले कर सकते हैं।
ऑनलाइन आवेदन करने एवं अधिक जानकारी के लिए बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।


स्वतंत्रता दिवस समारोह पर उल्टा फहराया 'झंडा'

मनोज सिंह ठाकुर                  
भोपाल। मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले में स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान परेड वाहन पर राष्ट्रीय ध्वज को उल्टा फहराने पर पुलिस के एक वाहन चालक को निलंबित कर दिया गया और दो अन्य पुलिसकर्मियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। राजगढ़ के पुलिस अधीक्षक (एसपी) प्रदीप शर्मा ने सोमवार को एक बयान में कहा कि चालक ने निरीक्षण वाहन पर राष्ट्रीय ध्वज गलत तरीके से लगाया था। इसलिए वाहन चालक को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।
उन्होंने कहा कि वाहन प्रभारी सहित दो अन्य पुलिसकर्मियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। उनका जवाब मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। इसकी जानकारी उस वक्त हुई जब उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने जिला मुख्यालय राजगढ़ में परेड का निरीक्षण किया। स्वतंत्रता दिवस परेड के दौरान वाहन पर राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा उल्टा लगाया गया था।

स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में फिर से वृद्धि हुईं

अकांशु उपाध्याय                    
नई दिल्ली। देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में फिर से वृद्धि होने से सक्रिय मामले तीन हजार से अधिक घटकर करीब 3.85 लाख हो गये।
देश में रविवार को 17 लाख 43 हजार 114 लोगों को कोरोना के टीके लगाये गये तथा अब तक 54 करोड़ 58 लाख 57 हजार 103 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में कोरोना के 32,937 नये मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर तीन करोड़ 22 लाख 25 हजार 513 हो गया है। इस दौरान 35 हजार 909 मरीजों के स्वस्थ होने के बाद इस महामारी को मात देने वालों की कुल संख्या बढ़कर तीन करोड़ 14 लाख 11 हजार 924 हो गयी है।
इसी अवधि में सक्रिय मामले 3,389 घटकर तीन लाख 81 हजार 947 रह गये हैं। इस दौरान 417 मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर चार लाख 31 हजार 642 हो गया है।
देश में सक्रिय मामलों की दर घट कर 1.20 फीसदी, रिकवरी दर बढ़कर 97.46 फीसदी और मृत्यु दर 1.34 फीसदी है। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों के दौरान सक्रिय मामले 256 बढ़कर 66,731 हो गये हैं। इसी दौरान राज्य में 5,352 मरीजों के स्वस्थ हाेने के बाद कोरोना मुक्त होने वालों की तादाद बढ़कर 61,86,223 हो गयी है, जबकि 179 मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 1,34,909 हो गया है।
केरल में इस दौरान सक्रिय मामले 242 बढ़कर 1,80,764 हो गये हैं तथा 19,104 मरीजों के स्वस्थ होने से कोरोना को मात देने वालों की संख्या बढ़कर 34,72,278 हो गयी है जबकि 105 मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या 18,499 हो गयी है।
कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामले पांच और घटकर 22,724 हो गये हैं। राज्य में 25 और मरीजों की मौत से मृतकों का आंकड़ा 36,958 हो गया है। राज्य में अब तक 28,68,351 मरीज स्वस्थ हुए हैं।
तमिलनाडु में सक्रिय मामलों की संख्या 16 बढ़कर 20,427 हो गयी है तथा 34 और मरीजों की मौत होने से मृतकों की संख्या 34,496 हो गयी है। राज्य में 25,31,962 मरीज संक्रमणमुक्त हुए हैं।
आंध्र प्रदेश में सक्रिय मामले 18,210 हो गये हैं। राज्य में कोरोना को मात देने वालों की तादाद 19,60,350 हो गयी है जबकि 13,631 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस के सक्रिय मामले 31 घटकर 10,078 रह गये हैं और इस महामारी के संक्रमण से कुल 18,291 लोगों की मौत हुई है। राज्य में अब तक 15,09,521 मरीज स्वस्थ हुए हैं।
तेलंगाना में सक्रिय मामले 7606 रह गये हैं, जबकि अब तक 3841 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 6,40,688 लोग इस महामारी से ठीक हुए हैं। छत्तीसगढ़ में कोरोना के सक्रिय मामले 62 घटकर 1,361 रह गये हैं। वहीं 9,88,790 लोग कोरोनामुक्त हो चुके हैं जबकि मृतकों की संख्या 13546 है।
पंजाब में सक्रिय मामले चार बढ़कर 572 रह गये हैं तथा संक्रमण से निजात पाने वालों की संख्या 5,82,984 हो गयी है जबकि 16,340 मरीजों की जान जा चुकी है। गुजरात में सक्रिय मामले सात और बढ़कर 185 रह गये हैं तथा अब तक 8,14,903 मरीज संक्रमणमुक्त हुए और 10,078 लोगों की इस महामारी से मौत हो चुकी है।

नशे की लत के लिए पत्नी की पीठ पर वार किया

हरिओम उपाध्याय                   
लखनऊ। नशे की लत पूरी करने के लिए जब पत्नी ने पैसे नहीं दिए तो नशेबाज पति ने कुल्हाड़ी से पत्नी के सिर और पीठ पर वार कर दिया। जिससे महिला बुरी तरह से लहूलुहान हो गई। बच्चों की चीख-पुकार सुनकर इकट्ठा हुए आसपास के लोगों को देखकर आरोपी मौके से भाग निकला। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने खून से लथपथ महिला को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस महिला को घायल कर फरार हुए आरोपी पति की तलाश कर रही है।
मंगलवार को गोमती नगर विस्तार थाना इंस्पेक्टर राजेश कुमार ने बताया कि थाना क्षेत्र के राम आसरे का पुरवा निवासी अधेड़ चंद्र शराब पीने का आदी हो चुका है। रविवार की देर रात उसका अपनी पत्नी कलावती के साथ शराब के लिए पैसे न देने पर विवाद हो गया। इस दौरान चंद्र ने घर में रखी कुल्हाड़ी उठाई और कलावती के सिर व पीठ पर वार कर दिया। कुल्हाड़ी के वार से कलावती बुरी तरह से लहूलुहान हो गई। कलावती के बेटे गोलू व अन्य बच्चों ने जब मदद के लिए शोर मचाया तो आसपास के लोग भाग दौड़ कर मौके पर पहुंचे। पड़ोसियों को मौके पर आया देखकर पत्नी को लहूलुहान करने का आरोपी नशेबाज पति मौके से भाग निकला। बाद में पड़ोसियों ने घायल हुई महिला को ले जाकर पूर्णिया चौराहे के पास स्थित एक नर्सिंग होम में इलाज के लिए भर्ती कराया है। पीड़ित परिवार की ओर से अभी इस मामले में पुलिस को तहरीर नहीं दी गई है। फिर भी पुलिस एहतियातन आरोपी पति चंद्र की भागदौड़ करते हुए तलाश कर रही है। पुलिस के मुताबिक बच्चों ने अपने पिता के बारे में कोई भी जानकारी होने से इंकार कर दिया है। पुलिस की एक टीम को फरार हुए चंद्र की तलाश में लगाया गया है। कलावती की तबीयत सामान्य होने पर उसके बयानों के आधार पर पुलिस द्वारा आगे की कार्रवाई की जाएगी।

एयरपोर्ट पर हुई फायरिंग में 5 लोगों की मौंत हुईं

काबुल। एयरपोर्ट पर हुई फायरिंग और इसमें 5 लोगों की मौत हो जाने की खबर के बाद काबुल से कॉमर्शियल उड़ानों को रोक दिया गया है। इसके चलते भारत आने वाली और भारत से काबुल जाने वाली उड़ानों पर भी रोक लग गई है। ऐसे हालातों में अफगानिस्तान से निकलने की पुरजोर कोशिश कर रहे हजारों भारतीयों की उम्मीदों को झटका लगा है। अफगानिस्तान में फिलहाल एयर स्पेस को ही बंद कर दिया गया है। एयरपोर्ट अथारिटी की ओर से अपील की गई है कि लोग हवाई अड्डे पर ना आये। काबुल एयरपोर्ट पर अमरीकी सैनिकों की ओर से की गई हवाई फायरिंग के बाद भगदड़ मच गई। शायद यह भी वजह है जिसके चलते लोगों की मौत हो गई है। उधर अमरीका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया समेत दुनिया भर के कई देश अफगानिस्तान में फंसे अपने नागरिकों को निकालने में जुट गए हैं। लेकिन अब एयरपोर्ट बंद होने और उड़ाने ठप होने के चलते भारत समेत उन तमाम देशों की चिंताएं बढ़ गई हैं।

पेट्रोल बम फेंके जाने की घटना में कोई हताहत नहीं

अकांशु उपाध्याय                          
नई दिल्ली। कार में सवार होकर आए अज्ञात बदमाशों ने देर रात मेघालय के मुख्यमंत्री के आवास पर पेट्रोल बम फेंक दिये। पेट्रोल बम फेंके जाने की इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है। उधर एक पूर्व उग्रवादी को पुलिस द्वारा गोली मारने के मामले में हुई हिंसा के बाद राज्य के गृहमंत्री ने इस्तीफा दे दिया है।
मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा के आवास पर देर रात अज्ञात बदमाशों ने पेट्रोल बम फेंक दिया। एक वाहन में सवार होकर आए उपद्रवियों ने ऊपरी सिलांग के थर्ड माइल स्थित मुख्यमंत्री के निजी आवास परिसर में पेट्रोल से भरी दो बोतल फेंक दी। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया है कि पेट्रोल बम फेंके जाने की इस वारदात में कोई अधिकारी नहीं हुआ है। पहली बोतल परिसर के अगले हिस्से में जबकि दूसरी बोतल मुख्यमंत्री आवास के पिछले हिस्से में फेंकी गई है। पेट्रोल बम फेंके जाने के बाद लगी आग को चौकीदार ने तुरंत ही बुझा दिया। स्वतंत्रता दिवस के मौके पर राज्य की राजधानी शिलांग और आसपास के इलाकों में हुई तोड़फोड़ और आगजनी के बाद राज्य सरकार की ओर से शिलांग में कर्फ्यू लगा दिया गया है। कम से कम 4 जनपदों में मोबाइल इंटरनेट सेवा पर सरकार की ओर से पाबंदी लगा दी गई है। मेघालय के गृह मंत्री लखमेन रिंबुई ने शिलांग में एक उग्रवादी को पुलिस द्वारा गोली मारने के मामले में हुई हिंसा के बीच इस्तीफा दे दिया है। गृहमंत्री ने मुख्यमंत्री से आत्मसमर्पण करने वाले प्रतिबंधित हायनिवट्रेप नेशनल काउंसिल के स्वयंभू महासचिव चेरिस्टरफील्ड थांगखियू को गोली मारने के मामले की न्यायिक जांच कराने का आग्रह किया है।

सुप्रीम कोर्ट के सामने महिला ने खुदको लगाई आग

अकांशु उपाध्याय                       
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के सामने एक महिला और पुरुष ने कथित तौर पर अपने ऊपर मिट्टी का तेल उड़ेला और खुद को आग लगा ली। महिला और पुरुष को सुप्रीम कोर्ट के सामने जलता हुआ देखकर मौके पर अफरा-तफरी मच गई। तुरंत ही मौके पर पहुंची पुलिस ने कंबल आदि डालकर महिला और पुरुष के बदन में लगी आग को बुझाया और दोनों को गंभीर हालत में ले जाकर अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस द्वारा मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।
राजधानी दिल्ली के सुप्रीम कोर्ट के गेट नंबर डी के सामने पहुंची एक महिला और पुरुष ने वहां पर लोगों की मौजूदगी के बीच खुद के ऊपर मिट्टी का तेल उड़ेल लिया। जब तक आसपास के लोग इस संबंध में कुछ अनुमान लगा पाते उससे पहले ही महिला व पुरुष ने खुद को आग लगा ली। महिला व पुरुष को सुप्रीम कोर्ट के सामने जलता हुआ देखकर लोगों में अफरा-तफरी मच गई। इसी बीच मामले की जानकारी पाकर पुलिस मौके पर पहुंच गई और कंबल आदि की सहायता से महिला व पुरुष के बदन में लगी आग को बुझाया। पुलिसकर्मी तुरंत ही एंबुलेंस की सहायता से महिला व पुरुष को जली हालत में नजदीक के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में ले गए। जहां चिकित्सकों ने दोनों को अस्पताल में भर्ती कर उनका उपचार शुरू कर दिया है। पुलिस द्वारा इस घटना के बाद इलाके की घेराबंदी कर दी गई है। खुद को आग लगाकर आत्महत्या का प्रयास करने वाले महिला और पुरुष की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है।

करोड़ों रुपए की लूट की वारदात को अंजाम दिया

हरिओम उपाध्याय                 
मथुरा। बैंक में रुपए जमा कराने के लिए जा रहे सर्राफा कारोबारी के साथ बेखौफ हुए बदमाशों ने दिनदहाड़े करोड़ों रुपए की लूट की वारदात को अंजाम दे दिया। दिनदहाड़े और सरेआम हुई करोड़ों की इस लूट की वारदात पर आसपास के लोगों में दहशत पसर गई है। मामले की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस और एसएसपी नगर की नाकेबंदी करते हुए बदमाशों को दबोचने के प्रयासों में जुटे हुए है।
सोमवार को सर्राफा कारोबारी अंकित अग्रवाल मंडी रामदास स्थित अपने बहनोई के घर से एक करोड़ 5 लाख रूपये की नगदी बैग में रखकर उसे बैंेक में जमा कराने के लिए जा रहे थे। स्कूटी पर सवार होकर जा रहे सर्राफा कारोबारी जैसे ही स्टेट बैंक के पास पहुंचे वैसे ही बाइक पर सवार होकर आए बदमाशों ने सर्राफा कारोबारी अंकित अग्रवाल को तमंचे की नोक पर ले लिया। 
किसी तरह की देरी किये बगैर बदमाशों ने सर्राफा कारोबारी की स्कूटी को लात मारकर सड़क पर गिरा दिया। स्कूटी के गिरते ही हक्का-बक्का हुए सर्राफा कारोबारी के हाथ से बाइक सवार बदमाश करोड़ों की नगदी से भरा बैग लूटकर फरार हो गए। शहर कोतवाली इलाके की बाग बहादुर पुलिस चौकी से महज 50 मीटर की दूरी पर हुई इस वारदात से शहर में अफरा-तफरी का माहौल बन गया है। दिनदहाड़े करोड़ों रूपये की लूट की जानकारी मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर समेत आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए और बदमाशों के संबंध में जानकारी जुटाई। इस दौरान एसएसपी के साथ आई एसओजी, सर्विलांस और पुलिस की कई टीमों ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया। एसएसपी ने बताया है कि करोड़ों रूपये की लूट की घटना को अंजाम देकर फरार हुए बदमाशों की धरपकड़ के लिए पुलिस की कई टीमें बनाई गई है। इसके साथ ही आस-पास के सीसीटीवी कैमरों को भी पुलिस द्वारा खंगाला जा रहा है। उन्होंने कहा है कि बदमाशों को जल्द ही पकड़कर वारदात का खुलासा कर दिया जाएगा।

काबुल में अमेरिकी दूतावास से झंडा उतार दिया

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि अफगानिस्तान से अपने लोगों को निकालने के बीच काबुल में अमेरिकी दूतावास से अमेरिकी झंडा उतार लिया गया है। अधिकारी ने बताया कि दूतावास के लगभग सभी अधिकारियों को शहर के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पहुंचा दिया गया है, जहां पर हजारों अमेरिकी तथा अन्य लोग विमानों का इंतजार कर रहे हैं।
अधिकारी ने बताया कि अमेरिकी झंडा दूतावास के अधिकारियों में से एक के पास है। रविवार रात को विदेश मंत्रालय और पेंटागन ने संयुक्त बयान में कहा कि काबुल हवाईअड्डे से लोगों की सुरक्षित रवानगी के लिए वे कदम उठा रहे हैं। इसमें कहा गया कि अगले दो दिन में अमेरिका के 6,000 सुरक्षाकर्मी वहां मौजूद होंगे और वे हवाई यातायात नियंत्रण अपने कब्जे में ले लेंगे। बीते दो हफ्तों में विशेष वीजा धारक करीब 2,000 लोग काबुल से अमेरिका पहुंच चुके हैं।

किन्नौर: भूस्खलन में मारने वालों की संख्या-25 हुईं

श्रीराम मौर्या                    
शिमला। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में भूस्खलन वाली जगह से दो और लोगों के शव बरामद किए गए। जिससे भूस्खलन में मारने वालों की संख्या बढ़कर 25 हो गई है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। बीते बुधवार भूस्खलन के बाद लापता हुए लोगों की तलाश एवं बचाव कार्य जारी हैं।
राज्य आपदा प्रबंधन निदेशक सुदेश कुमार मोखता ने बताया कि भावनगर थाना प्रभारी की तरफ से उपलब्ध कराई गई जानकारी के मुताबिक सोमवार को निछार तहसील में राष्ट्रीय राजमार्ग पांच पर चौरा गांव से मलबे से दो और लोगों के शव बरामद किए गए हैं। उन्होंने बताया कि रविवार रात को रोका गया तलाश एवं बचाव अभियान सोमवार सुबह फिर से शुरू हुआ।
उन्होंने बताया कि एक एसयूवी और उसमें सवार यात्रियों जिनके मलबे के नीचे दबे होने की आशंका थी उनका अब तक नहीं पता चल सका है। साथ ही कहा कि यह संभव है कि वाहन मलबे के साथ नीचे गिर गया हो। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी), स्थानीय पुलिस और होमगार्ड के सदस्यों द्वारा संयुक्त रूप से बचाव अभियान चलाया जा रहा है।
घटना के दिन, 10 शव बरामद किए गए थे और 13 लोगों को सुरक्षित निकाला गया था। इससे पहले बुधवार को, तलाश एवं बचाव अभियान के दौरान एक टैक्सी में आठ शव बरामद किए गए थे। बुधवार को दो कारें भी क्षतिग्रस्त स्थिति में मिलीं थी लेकिन उनके भीतर कोई नहीं था।
बृहस्पतिवार को भूस्खलन स्थल से चार शव मिले, जबकि शुक्रवार को तीन शव निकाले गए। इसके बाद शनिवार को मलबे से छह शव निकाले गए। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बृहस्पतिवार को घटनास्थल का दौरा करने के बाद राज्य विधानसभा को बताया था कि 16 लोग अब भी लापता हैं। अधिकारियों ने बताया कि उसके बाद अब तक 11 शव बरामद कर लिए गए हैं। कम से कम पांच लोग अब भी लापता हैं।

प्रदोष व्रत: शिव को अधिक प्रिय है सावन का महीना

सावन का महीना भगवान शिव को बहुत प्रिय है। इस महीने में भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा होती है। इस महीने में पड़ने वाले प्रदोष व्रत का विशेष महत्व होता है। हर महीने में दो प्रदोष व्रत रखें जाते हैं। हिंदू पंचांग के अनुसार, प्रदोष व्रत शुक्ल और कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि पर रखा जाता है। इस बार प्रदोष व्रत 05 अगस्त 2021 को पड़ा था। वहीं शुक्ल पक्ष का प्रदोष व्रत 20 अगस्त, शुक्रवार को रखा जाएगा। इस व्रत को करने से कुंडली में चंद्र दोष दूर होता है।
पूजा करने का संकल्प लें
प्रदोष व्रत के दिन सुबह- सुबह उठकर स्नान करें और साफ कपड़ पहनें। इसके बाद भगवान शिव की पूजा करने का संकल्प लें। इसके बाद घर के पूजा स्थल को साफ कर गंगाल छिड़के। अब भगवान शिव की मूर्ति या फोटो स्थापित करें। फिर भगवान के सामने घी का दीपक का जलाएं। भगवान शिव को बेलपत्र, धतूरा, भांग आदि का अभिषेक करें।अगर आप व्रत रखते हैं तो शाम के समय में प्रदोष काल में भोलानाथ और माता पार्वती की पूजा करने से आपके घर में सुख- समृद्धि बनी रहती है। इस दिन सात्विक भोजन करें। भोलेनाथ का अधिक से अधिक ध्यान करें। इस दिन शिवाष्टक और चालीस पढ़ना लाभदायक होता है। भोलनाथ की विधि- विधान से पूजा करने के बाद माता पार्वती और गणेश जी की पूजा अर्चना करें। इस दिन भगवान शिव को खीर का भोग चढ़ाएं।
शुक्ल पक्ष का प्रदोष व्रत 20 अगस्त, शुक्रवार को रखा जाएगा। प्रदोष के दिन विधि विधान से भगवान शिव के साथ देवी पार्वती का पूजन किया जाता है। प्रदोष काल सूर्यास्त के 45 मिनट पहले से 45 मिनट बाद तक माना जाता है।प्रदोष व्रत के दिन व्रत रखने से घर में सुख- समृद्धि बनी रहती है। इस दिन भोलेनाथ और माता पार्वती की पूजा करने से आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती है। मान्यता है कि भोलनाथ अपने भक्तों से सबसे जल्दी प्रसन्न होते हैं। धार्मिक मान्यता है कि सावन में प्रदोष व्रत रखने और कामेश्वर शिव का पूजन करने से उत्तम रूप पारिवारिक संतोष रहता है और जीवनसाथी का भी सुख प्राप्त होता है।

कई नेताओं ने देश के पूर्व पीएम को श्रद्धांजलि दी

अकांशु उपाध्याय                      
नई दिल्ली। पुण्यतिथि पर ‘सदैव अटल’ उनकी समाधि पहुंचकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू समेत केंद्रीय कैबिनेट के कई बड़े नेताओं ने सदैव अटल समाधि पहुंचकर देश के पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि दी। अटल बिहारी वाजपेई तीन बार देश के प्रधानमंत्री रहे। उन्हें भारत रत्न पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। वह भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक सदस्य भी रहे। 2018 में लंबी बीमारी के बाद उनका निधन हो गया। अपने शानदार भाषण व भाषा शैली के चलते आज भी वो लोगों के दिलों में जिंदा हैं।

पर्यटकों को जीप से जंगल में घुमाना शुरू किया

मनोज सिंह ठाकुर                   
इंदौर। मध्य प्रदेश सरकार ने इंदौर के रालामंडल अभयारण्य को वन्य पर्यटन के बड़े केंद्र के रूप में विकसित करने की योजना के तहत इस अभयारण्य में ‘नाइट सफारी’ (रात के समय पर्यटकों को जीप से जंगल में घुमाना) शुरू कर दी है।
वन विभाग के अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट ने रालामंडल अभयारण्य में ‘नाइट सफारी’ की रविवार रात औपचारिक शुरुआत की। सिलावट ने इस अवसर पर कहा कि रालामंडल अभयारण्य को वन्य पर्यटन के बड़े केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है और ‘नाइट सफारी’ इस दिशा में सैलानियों के लिए नया आकर्षण साबित होगी।
अधिकारियों ने बताया कि इंदौर के शहरी क्षेत्र से सटे रालामंडल अभयारण्य में तेंदुआ, लोमड़ी, लकड़बग्घा, नीलगाय, काला हिरण, चीतल आदि जानवर पाए जाते हैं।

मुनाफावसूली के बीच नुकसान के साथ खुलें सेंसेक्स

कविता गर्ग                   
मुंबई। वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख तथा मौजूदा उच्चस्तर पर मुनाफावसूली के बीच सोमवार को सेंसेक्स और निफ्टी नुकसान के साथ खुले। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 100 से अधिक अंक टूटा। बाद में यह 20.92 अंक या 0.04 प्रतिशत के नुकसान से 55,416.37 अंक पर कारोबार कर रहा था।
इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी शुरुआती कारोबार में 11.50 अंक या 0.07 प्रतिशत के नुकसान से 16,517.60 अंक पर आ गया। सेंसेक्स की कंपनियों में पावरग्रिड का शेयर सबसे अधिक एक प्रतिशत से अधिक टूट गया। बजाज ऑटो, मारुति, डॉ. रेड्डीज, एशियन पेंट्स तथा टाइटन के शेयर भी नुकसान में थे।
वहीं दूसरी ओर महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा स्टील, टीसीएस तथा टेक महिंद्रा के शेयर लाभ में थे। पिछले कारोबारी सत्र में सेंसेक्स 593.31 अंक या 1.08 प्रतिशत के उछाल से अपने सर्वकालिक उच्च्स्तर 55,437.29 अंक पर पहुंचा था। वहीं निफ्टी 164.70 अंक या 1.01 प्रतिशत के लाभ से 16,529.10 अंक पर रहा था।

जिगावा: ट्रक के टूटे कल्वर्ट पर गिरने से 21 की मौंत

लागोस। नाइजीरिया के उत्तरी राज्य जिगावा में एक बस और ट्रक के टूटे कल्वर्ट पर गिरने से कम से कम 21 लोगों की मौत हो गयी।
पुलिस प्रवक्ता लवान शिसू ने कहा कि यह हादसा रविवार को राज्य के ग्वारम स्थानीय सरकार इलाके के रदाबी गांव के पास हुआ जब दोनों वाहन बाढ़ के पानी से ढके एक टूटे कल्वर्ट पर जा गिरा। उन्होंने कहा कि आज सुबह छह बजे हमे रदाबी गांव से एक फोन कॉल मिला कि ग्वारम-बसिरका मार्ग पर सड़क दुर्घटना हुई है।
उन्होंने कहा कि इस हादसे में 21 यात्रियों की मौत की पुष्टि वहां के एक स्थानीय चिकित्सक ने की है जो घटना के बाद घटनास्थल पर पहुंचे थे। इस हादसे में एक यात्री बच गया है।

आपसी विवाद के बाद एक ने दूसरे पर फायर किया

पंकज कपूर                    
नैनीताल। घूमने आये पर्यटकों के बीच हुए आपसी विवाद के बाद एक ने दूसरे पर फायर कर दिया। गोली लगने से घायल पयर्टक को अस्पताल भर्ती किया गया है। जबकि गोली चलाने के आरोपी युवक की तलाश जारी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार गत दिवस स्वतंत्रता दिवस पर देर शाम यह वारदात हुई है। बताया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से घूमने आये फैजान का माल रोड में घूमते वक्त बाइक सवार दो युवकों से किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया। उस दौरान आस—पास मौजूद लोगों ने विवाद सुलझा दिया और यह लोग अपनी—अपनी राह चलत दिये। देर शाम जब फैजान दोबारा सूखाताल बारापत्थर क्षेत्र में घूम रहे थे तो संयोग से वही दोनों युवक सामने आ गये। जिनसे उसका विवाद हुआ था। जहां फिर इन लोगों के बीच विवाद हो गया और मामला हाथापाई तक जा पहुंचा।
तभी बाइक सवार एक युवक ने पर्यटक फैजान पर फायर झोंक दिया। संयोग से कारतूस के छर्रे कमर और कोहनी पर ही लगे, जिससे उसे गम्भीर चोट नही आई। गोली चलाने के बाद दोनों युवक बाइक संख्या यूपी 21क्यू 2463 सीडी से मौके से फरार हो गये। वहीं गोली चलने के बाद काफी संख्या में लोग जमा हो गये और अफरा—तफररी का माहौल पैदा हो गया। जिसके बाद वहां मौजूद लोगों ने कोतवाली में फोन किया।
सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायल को बीडी पांडे अस्पताल भर्ती कराया गया, जहां उसकी स्थिति खतरे से बाहर है। एसपी क्राइम देवेंद्र पिंचा ने बताया कि घायल के बयान लिये गये हैं। जिसके आधार पर गोली चलाने वालों की तलाश की जा रही है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

तालिबान ने तेजी के साथ अफगान पर कब्जा किया

काबूल। तालिबान ने जिस तेजी के साथ अफगानिस्तान पर कब्जा किया है। उस पर अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और अन्य शीर्ष अमेरिकी अधिकारियों ने रविवार को अचंभा जताया। अफगानिस्तान में अमेरिकी सेना की नियोजित वापसी तत्काल एक सुरक्षित निकासी सुनिश्चित करने के मिशन में बदल गई है।
अफगान सरकार का तेजी से पतन और वहां फैली अराजकता कमांडर इन चीफ के रूप में बाइडन के लिए एक गंभीर परीक्षा की तरह है। रविवार तक प्रशासन की प्रमुख हस्तियों ने माना कि अफगान सुरक्षा बलों के तेजी से हारने से वे अचंभे में हैं क्योंकि उन्होंने ऐसा अनुमान नहीं लगाया था। काबुल हवाई अड्डे पर छिटपुट गोलीबारी की खबरों ने अमेरिकियों को शरण लेने पर मजबूर किया जो उड़ानों की प्रतीक्षा कर रहे थे। विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने अफगान सेना का जिक्र करते हुए बताया, “हमने देखा कि बल देश की रक्षा करने में असमर्थ है और यह हमारे पूर्वानुमान से बहुत ज्यादा जल्दी हुआ है।”
अफगानिस्तान में उथल-पुथल राष्ट्रपति बाइडन पर अवांछित तरीके से ध्यान ले जाता है जिन्होंने बड़े पैमाने पर घरेलू एजेंडों पर ध्यान केंद्रित किया है जिनमें महामारी से उबरना, बुनियादी ढांचे के खर्च में खरबों डॉलर के लिए कांग्रेस की मंजूरी जीतना और मतदान अधिकारों की रक्षा करना शामिल है।
व्हाइट हाउस के अधिकारियों के मुताबिक बाइडन रविवार को कैंप डेविड में रहे जहां उन्हें अफगानिस्तान पर लगातार जानकारी दी जाती रही और वह अपनी राष्ट्रीय सुरक्षा टीम के सदस्यों के साथ कॉन्फ्रेंस कॉल करते रहे। अगले कई दिन यह निर्धारित करने में महत्वपूर्ण हो सकते हैं कि क्या अमेरिका स्थिति पर कुछ हद तक नियंत्रण हासिल करने में सक्षम है।

इसबीच, पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि तालिबान का विरोध किए बिना काबुल का पतन होना अमेरिकी इतिहास की सबसे बड़ी हार के रूप में दर्ज होगा। तालिबान के काबुल में राष्ट्रपति भवन पर कब्जा कर लेने और इसके निर्वाचित नेता अशरफ गनी के अपने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ देश छोड़कर ताजिकिस्तान चले जाने के बाद ट्रंप ने एक बयान में कहा, “जो बाइडन ने अफगानिस्तान में जो किया वह अपूर्व है। इसे अमेरिकी इतिहास की सबसे बड़ी हार के रूप में याद रखा जाएगा।” संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की पूर्व राजदूत निक्की हेली ने इसे बाइडन प्रशासन की विफलता करार दिया है।

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-366 (साल-02)
2. मंगलवार, अगस्त 17, 2021
3. शक-1984,सावन, शुक्ल-पक्ष, तिथि-नवमीं, विक्रमी सवंत-2078।
4. सूर्योदय प्रातः 05:44, सूर्यास्त 07:10।
5. न्‍यूनतम तापमान -21 डी.सै., अधिकतम-37+ डी.सै.। बरसात की संभावना बनी रहेंगी।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...