रविवार, 7 जनवरी 2024

यूपी: 18 जनपदों में 100 बाढ़ शरणालय बनाएंगे

यूपी: 18 जनपदों में 100 बाढ़ शरणालय बनाएंगे 

संदीप मिश्र 
लखनऊ। बाढ़ आपदाओं से निपटने के लिए योगी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। यूपी में हर साल बाढ़ से प्रभावित होने वाले 18 जनपदों में 100 स्थायी बाढ़ शरणालय बनाएगी। इसके लिए योगी सरकार 622 करोड़ की धनराशि खर्च करेगी। इन स्थायी बाढ़ शरणालयों में तीन हजार लोगों को ठहराया जा सकेगा। इसको लेकर योगी सरकार ने प्रदेश भर में सर्वे कराया था, जिसमें पाया गया कि प्रदेश के 18 जनपद बाढ़ संवदेनशील हैं और हर साल यह सबसे ज्यादा बाढ़ और जलभराव से प्रभावित रहते हैं।
बतादें कि योगी सरकार बाढ़, सूखा समेत अन्य आपदाओं को कम करने और इनसे होने वाली जनहानि को रोकने के लिए लगातार काम कर रही है। योगी सरकार के प्रयासों का ही नतीजा है कि पिछले साढ़े छह वर्षों में प्रदेश में आपदाओं से होने वाली जनहानि को काफी हद तक कम किया जा सका है। राहत आयुक्त जीएस नवीन कुमार ने बताया कि सीएम योगी ने एक उच्च स्तरीय बैठक में आपदा से पहले ही इससे निपटने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिये थे। इसी क्रम में प्रदेश में बाढ़ से निपटने के लिए प्रदेश में सर्वे कराया गया।
सर्वे में सामने आया कि प्रदेश के 18 जनपद क्रमश: अमरोहा, आजमगढ़, बाराबंकी, बिजनौर, बदायूं, फर्रुखाबाद, गोंडा, हरदोई, कन्नौज, कासगंज, खीरी, कुशीनगर, मऊ, मेरठ, मुजफ्फनगर, शाहजहांपुर, सीतापुर और उन्नाव हर साल अत्याधिक बाढ़ से प्रभावित रहते हैं। इन जिलों के 702 गांव के दो लाख से अधिक लोग बाढ़ से अधिक प्रभावित होते है। सर्वे में इन जिलों को बाढ़ संवेदनशील जिलों में शामिल किया गया। ऐसे में इन जिलों में 100 स्थायी बाढ़ शराणालय बनाने की आवश्यकता को महसूस किया गया। इसका प्रस्ताव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष रखा गया, जिसे उन्होंने हरी झंडी देते हुए कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
सीएम योगी के निर्देश पर बाढ़ से सर्वाधिक प्रभावित होने वाले 18 जनपदों में स्थानीय आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए 100 स्थायी बाढ़ शरणालय के निर्माण को तीन हिस्सों में बांटा गया है। इसके तहत पहले चरण में 10 अतिसंवेदनशील बाढ़ स्थलों पर स्थायी बाढ़ शरणालय बनाए जाएंगे। इसी तरह दूसरे और तीसरे चरण में संवेदनशील 45-45 स्थलों पर और तीसरे चरण में स्थायी बाढ़ शरणालय बनाए जाएंगे। इन शरणालयों के निर्माण की जिम्मेदारी पीडब्ल्यूडी को सौंपी गई है।
पीडब्लयूडी की ओर से राहत विभाग को शरणालयों की डिजाइन का ब्लू प्रिंट भी सौंप दिया गया है, जिसमें विभाग ने प्रत्येक शरणालय के निर्माण में 6.2 करोड़ की धनराशि खर्च का अनुमान लगाया है। यह बाढ़ शरणालय तीन हजार स्क्वायर मीटर में दो मंजिला बनाए जाएगा। हर शरणालयों में तीन सौ बाढ़ प्रभावित लोगों को ठहराने की व्यवस्था होगी। साथ ही यहां पर उनको भोजन से लेकर अन्य जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। इतना ही नहीं शरणालय के आस-पास बाढ़ प्रभावितों के मवेशियों को भी सुरक्षित किया जाएगा, जहां उनका चारा आदि उपलब्ध कराया जाएगा

यूपीएमएसपी ने 'समाधान' पोर्टल लॉन्च किया

यूपीएमएसपी ने 'समाधान' पोर्टल लॉन्च किया 

बृजेश केसरवानी 

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपीएमएसपी/यूपी बोर्ड) ने अपने छात्रों के लिए एक समर्पित ‘समाधान’ पोर्टल लॉन्च किया है। यह पोर्टल यूपी बोर्ड से संबद्ध 27 हजार से अधिक स्कूलों के करोड़ों वर्तमान और पूर्व छात्रों की समस्याओं को हल करने के लिए बनाया गया है। इसके जरिए 15 दिन के भीतर शिकायतों का समाधान किया जाएगा

यह किसी छात्र या उसके अभिभावक को यूपी बोर्ड के मुख्यालय या उसके क्षेत्रीय कार्यालयों के चक्कर लगाए बिना किया जाएगा।

Board Exam/यूपी बोर्ड सचिव दिव्यकांत शुक्ला ने शनिवार को छात्रों के लिए एक समर्पित ‘समाधान’ पोर्टल लॉन्च किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षाओं में हर साल 55 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल होते हैं।

छात्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए ‘समाधान’ पोर्टल लॉन्च किया गया है। इसके माध्यम से इच्छुक और जरूरतमंद लोगों को पहली बार 13 विभिन्न प्रकार की सेवाएं/सुविधाएं ऑनलाइन प्रदान की जाएंगी। समस्याओं का 15 दिन के भीतर समाधान न होने पर संबंधित अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाएगी। समस्याओं के समाधान की निगरानी के लिए प्रयागराज स्थित बोर्ड मुख्यालय में एक नियंत्रण कक्ष भी स्थापित किया जा रहा है।

इस नियंत्रण कक्ष में विद्यार्थियों एवं अभिभावकों से दो टोल फ्री नंबरों पर प्राप्त शिकायतों, समस्याओं एवं प्रश्नों को दर्ज कर उन्हें केस नंबर आवंटित कर समाधान किया जाएगा। समाधान निकलने पर संबंधित छात्र को भी सूचित किया जाएगा।

दिल्ली के लिए रवाना हुए 'पीएम' मोदी

दिल्ली के लिए रवाना हुए 'पीएम' मोदी 

अकांशु उपाध्याय/नरेश राघानी 
नई दिल्ली/जयपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तीन दिवसीय अपने राजस्थान दौरे के बाद रविवार अपराह्न में दिल्ली के लिए रवाना हो गए। मोदी को जयपुर हवाई अड्डे पर राज्यपाल कलराज मिश्र और मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा ने भावभीनी विदाई दी। उल्लेखनीय है कि मोदी राजस्थान इंटरनेशनल सेंटर जयपुर में देश भर के पुलिस महानिदेशकों और पुलिस महानिरीक्षकों के 58वें सम्मेलन में भाग लेने के लिए जयपुर आए थे।
वह गत पांच जनवरी सायं जयपुर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने राजभवन विश्राम गृह में रात्रि विश्राम किया। मिश्र ने राजभवन विश्राम गृह में प्रधानमंत्री से इस दौरान विशेष मुलाकात कर प्रदेश के विकास और संवैधानिक जागरूकता संबंधित मुद्दों पर चर्चा भी की। मोदी ने अपने तीन दिवसीय राजस्थान दौरे के दौरान पांच जनवरी की शाम को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश कार्यालय में भाजपा विधायकों एवं पदाधिकारियों के साथ बैठक की और मंत्रियों एवं विधायकों से जनसेवक की तरह काम करने का आह्वान किया।
इस दौरान मोदी ने कार्यकर्ताओं के महत्व को ध्यान में रखते हुए केंद्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंचाने और संगठन के कार्यक्रमों के क्रियान्वयन पर जोर दिया। प्रधानमंत्री ने शनिवार और रविवार को महानिदेशक एवं महानिरीक्षक सम्मेलन में भाग लिया। उन्होंने शनिवार को पूरा दिन सम्मेलन में ही बिताया और पुलिस महानिदेशक एवं महानिरीक्षकों से संवाद किया।
सम्मेलन का उद्धाटन पांच जनवरी को केन्द्रीय ग्रृह मंत्री अमित शाह ने किया और सम्मेलन के तीनों दिन इसमें मौजूद रहे और देश में पुलिस व्यवस्था को बेहतर बनाने एवं आंतरिक सुरक्षा सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई। इस दौरान तीनों केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी मौजूद रहे। सम्मेलन के समापन पर श्री मोदी, श्री शाह के साथ देश के विभिन्न हिस्सों से आये पुलिस महानिदेशको एवं महानिरीक्षकों ने सामूहिक फोटो भी खिंचवाया।

एटीएस की छापेमारी, 6 लोग गिरफ्तार किए

एटीएस की छापेमारी, 6 लोग गिरफ्तार किए 

कविता गर्ग 
मुंबई। महाराष्ट्र पुलिस की आतंकरोधी इकाई एटीएस ने मुंबई के बोरीवली इलाके में रविवार दोपहर छापेमारी की है।इस दौरान 6 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। एटीएस से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, इन लोगों के पास से 4 पिस्टल भी बरामद किए गए हैं। ये सभी लोग दिल्ली और उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं, जो एक बड़ी वारदात को अंजाम देने मुंबई आए थे।
महाराष्ट्र एटीएस ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि ‘मुंबई के बोरीवली इलाके में स्थित एक गेस्ट हाउस पर छापा मारकर 6 लोगों को गिरफ्तार किया और उनके पास से 3 बंदूकें तथा 36 जिंदा कारतूस बरामद किए। गिरफ्तार किये गये सभी लोग दिल्ली के रहने वाले हैं।आगे की जांच की जा रही है।’

अयोध्या में 70 दिन तक मनाया जाएगा 'रामोत्सव'

अयोध्या में 70 दिन तक मनाया जाएगा 'रामोत्सव'

संदीप मिश्र 
लखनऊ/अयोध्या। अयोध्या में भगवान राम के भव्य मंदिर के शुभारंभ व प्राण प्रतिष्ठा के उपलक्ष्य में राज्य के संस्कृति विभाग ने पूरे उत्तर प्रदेश में उत्सव मनाने की तैयारी की है। 14 जनवरी को उत्तरायण से शुरु होने वाला यह रामोत्सव प्रदेश के सभी जिलों में 22 जनवरी तक चलेगा। अयोध्या में रामोत्सव पूरे 70 दिन यानी होली तक मनाया जाएगा। यह जानकारी प्रदेश के प्रमुख सचिव संस्कृति मुकेश मेश्राम ने शनिवार को यहां प्रेसवार्ता में दी। उन्होंने बताया कि 14 से 22 जनवरी के प्रदेश के सभी जिलों के गांव, तहसील, ब्लॉक के महत्वपूर्ण आध्यात्मिक व पौराणिक स्थलों को सुसज्जित करके वहां जनसहभागिता से सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश होंगे।
उन्होंने प्रदेश के आमजनमानस से आग्रह किया कि प्रधानमंत्री की अपील पर अमल करते हुए 22 से 24 जनवरी के बीच घर-घर श्रीराम ज्योति जलाएं और दीपावली मनाएं। प्रधानमंत्री ने दीपोत्सव की लौ को ‘राम ज्योति’ नाम दिया था। अब इसी राम ज्योति को प्रदेश के हर घर में प्रज्वलित करने का संकल्प योगी सरकार ने लिया है।

लक्षद्वीप यात्रा का मजाक उड़ाने पर एक्‍शन ल‍िया

लक्षद्वीप यात्रा का मजाक उड़ाने पर एक्‍शन ल‍िया

इकबाल अंसारी 
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लक्षद्वीप यात्रा का मजाक उड़ाने पर मालदीव सरकार ने बड़ा एक्‍शन ल‍िया और सरकार ने पीएम और भारत पर अपमानजनक टिप्पणी करने पर मंत्री मरियम शिउना, मालशा और हसन जिहान को निलंबित कर दिया है। राष्‍ट्रपत‍ि मोहम्मद मुइज्जू ने उनके बयानों को न‍िजी बताया था।
भारत ने मालदीव सरकार के साथ आधिकारिक तौर पर इस मामले को उठाया था। सरकार ने सख्‍त कदम उठाते हुए उप मंत्री मरियम शिउना, उप मंत्री हसन जिहान और उप मंत्री मालशा को न‍िलंब‍ित कर द‍िया। मालदीव के साथ भारत के संबंध नई सरकार के आने के बाद से बिगड़ते जा रहे थे। इसको हवा देने का काम नरेंद्र मोदी की लक्षद्वीप यात्रा पर साझा की गईं और कुछ तस्वीरों पर व‍िवाद‍ित बयान क‍िया गया।

एसडीएम-एसपी ने लोगों की शिकायतों को सुना

एसडीएम-एसपी ने लोगों की शिकायतों को सुना

भानु प्रताप उपाध्याय 
शामली। शनिवार को कलक्ट्रेट सभागार में संपूर्ण समाधान दिवस में एसडीएम विनय भदौरिया, एसपी अभिषेक कुमार झा ने लोगों की शिकायतों को सुना। प्राथमिक स्तर पर फरियादियों की शिकायतों के निस्तारण के निर्देश दिए। इस दौरान विभिन्न विभागों की 50 शिकायतें आईं। जिसमें से पांच शिकायतों का निस्तारण मौके पर किया गया।
कैराना तहसील के सभागार में संपूर्ण समाधान दिवस में एडीएम संतोष कुमार सिंह की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। एडीएम के समक्ष 37 शिकायती पत्र प्राप्त है। मौके पर चार शिकायतों का निस्तारण किया गया और शेष शिकायतों के निस्तारण निर्देश दिए। इस अवसर पर एसडीएम कैराना स्वप्निल कुमार यादव सहित सभी संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।
एडीएम ने कैराना में जरूरतमंदों को कंबल का वितरण किया। ऊन तहसील में संपूर्ण समाधान दिवस में सीडीओ विनय कुमार तिवारी ने फरियादियो की शिकायतों को सुनकर निस्तारण किया। सीडीओ के समक्ष 48 शिकायतें प्राप्त हुई। जिनमें तीन शिकायतों का निस्तारण मौके पर किया गया। इस अवसर पर एसडीएम ऊन, संदीप कुमार त्रिपाठी सहित आदि अधिकारी मौजूद रहे।

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण 

1. अंक-79, (वर्ष-11)

पंजीकरण:- UPHIN/2014/57254

2. सोमवार, जनवरी 08, 2024

3. शक-1945, पौष, कृष्ण-पक्ष, तिथि-द्वादशी, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:48, सूर्यास्त: 05:18।

5. न्‍यूनतम तापमान- 10 डी.सै., अधिकतम- 23+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू

विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र शुरू  पंकज कपूर  देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा का पांच दिवसीय बजट सत्र राज्यपाल के अभिभाषण के साथ शुरू हो गय...