मंगलवार, 31 दिसंबर 2019

जनवरी में पांच राशि बदलेगी 'ग्रह दशा'

नई दिल्ली। 2020 का पहला माह जनवरी शुरू हो गया है। इस माह में 9 में से 5 ग्रह राशि बदल रहे हैं। मंगल, गुरु, राहु और केतु के अलावा सभी ग्रहों का राशि परिवर्तन होगा। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार ग्रहों के परिवर्तन का असर सभी 12 राशियों पर होता है। जानिए हिन्दी पंचांग के अनुसार जनवरी 2020 में कब कौन सा ग्रह राशि बदल रहा है…


सूर्य- ग्रहों का राजा सूर्य माह की शुरुआत में धनु राशि में है। 15 जनवरी को ये ग्रह धनु से मकर में प्रवेश करेगा। इस वजह से 15 जनवरी को मकर संक्रांति मनाई जाएगी।
चंद्र- माह की शुरुआत में ये ग्रह कुंभ राशि में है। 1 जनवरी की रात में चंद्र बदलकर मीन में प्रवेश करेगा। 4 जनवरी की सुबह मेष राशि में जाएगा। इसके बाद चंद्र हर ढाई दिन में राशि बदलेगा।
मंगल- इस माह मंगल राशि नहीं बदलेगा। ये ग्रह पूरे माह वृश्चिक राशि में ही रहेगा।
बुध- अभी ये ग्रह धनु राशि में स्थित है। 13 जनवरी को बुध मकर राशि में जाएगा। 30 तारीख को बुध ग्रह कुंभ राशि में प्रवेश करेगा।
गुरु- गुरु ग्रह इस माह धनु राशि में रहेगा। इसका राशि परिवर्तन नहीं होगा।
शुक्र- जनवरी की शुरुआत में शुक्र मकर राशि में है। 8 जनवरी को ये ग्रह कुंभ राशि में जाएगा।
शनि- इस माह शनि राशि बदलेगा। ये ज्योतिष के नजिरए खास राशि परिवर्तन है। शनि करीब ढाई साल में एक बार राशि बदलता है। जनवरी के प्रारंभ में ये ग्रह धनु राशि में है। 23 जनवरी को शनि राशि बदलकर मकर राशि में प्रवेश करेगा।
राहु-केतु- जनवरी में ये दोनों ग्रह राशि नहीं बदलेंगे। राहु मिथुन राशि में रहेगा और केतु धनु राशि में।


आतिशबाजी से 'नए साल का स्वागत'

नई दिल्ली। साल 2020 का आगाज़ हो चुका है…इसकी शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के सिडनी से हुई है, जहां आसमान आतिशबाज़ी की रोशनी से जगमगा उठा। वहीं न्यूजीलैंड में आतिशबाज़ी से नए साल का स्वागत किया गया।


सर्दी में वृद्ध महिला को लोगों ने दिया आसरा

बृजघाट चार दिन पहले लापता 80 बर्षीय चंद्रावती बृजघाट मे मिली  परिवार से पंडित बाबूराम शर्मा  ने दिया आसरा


नरेश शर्मा


बृजघाट। 26 दिसंबर से ग्राम उदयपुर थाना बाबूगढ़ से लापता हुई 80 वर्षीय चंद्रावती रास्ता भटक के कारण तीर्थ नगरी बृजघाट के शमशान घाट पर अचानक पहुंची जहां पड़ती कड़ाके की ठंड में तख्त पर बैठी बुजुर्ग महिला को देखकर स्थानीय चाय के दुकानदार पंडित बाबूराम शर्मा और बाल्मीकि समाज के लोगों ने उन्हें आसरा दिया  और  बिस्तर लगाकर ठंड से बचाते हुए  अलाव की भी व्यवस्था की । पिछले 4 दिनों से पंडित बाबूराम शर्मा की चाय की दुकान पर ही बुजुर्ग महिला चंद्रावती को आसरा दिया जा रहा  था आज दिन मंगलवार को चंद्रावती के परिवार के लोग उनकी फोटो लेकर गढ़मुक्तेश्वर के वृद्ध आश्रम,तीर्थ नगरी के,वृद्ध आश्रम और गंगा किनारे  उनकी मुलाकात पत्रकार नरेश शर्मा से हुई उन्होंने फोटो दिखाते हुए कहा कि यह हमारी माताजी हैं आपने देखा है पत्रकार नरेश शर्मा ने बताया कि उन्हें जानकारी है कि बुजुर्ग महिला कहां पर है और वह उन्हें लेकर बुजुर्ग महिला के पास गए बुजुर्ग महिला चंद्रावती ने अपने पौत्र अंकित  और नाती(धेवते) अर्जुन को और पुत्र संजीव को तत्काल पहचान लिया और अपना नाम ,ग्राम का  पता  बता दिया परिवार के लोग अपनी बुजुर्ग माता को देखकर बड़े खुश हुए और आंखें नम हो गई परिवार के लोग संजीव पुत्र धर्मवीर अंकित पुत्र  संजीव और अर्जुन पुत्र मनोज(नाती) ने दुकानदार पंडित बाबूराम शर्मा व  बाल्मीकि समाज के विपिन आदि लोगों का धन्यवाद किया और कहा कि आज के युग में भी अभी ऐसे इंसान हैं जिनमें इंसानियत जिंदा है और नहीं तो ऐसे कलयुग में कोई किसी को सहारा नहीं देता है लेकिन श्मशान घाट में चाय की दुकान करने वाले पंडित बाबूराम शर्मा और बाल्मीकि समाज के लोगो ने बुजुर्ग 80 वर्षीय चंद्रावती को सहारा देकर एक मिसाल कायम की है।तीर्थनगरी मे यह चर्चा का बिषय बना रहा और लोगो ने भी इसे सराहनीय कार्य बताया।


दीपिका ने मारी आंख फिदा हुआ फ्रेम्स

मुंबई। दीपिका पादुकोण ने अपने इंस्टाग्राम पर जो वीडियो शेयर किया है, उसमें वो  प्रिया प्रकाश वॉरियर को चैंलेज देती लग रही हैं। दरअसल, इस वीडियो में दीपिका प्रिया प्रकाश वारियर के अंदाज में आंख मारती नजर आ रही हैं। उन्होंने इस वीडियो में प्रिया को भी टैग किया है। दीपिका पादुकोण ने अपने इंस्टाग्राम पर जो वीडियो शेयर किया है, उसमें वो  प्रिया प्रकाश वॉरियर को चैंलेज देती लग रही हैं। दरअसल, इस वीडियो में दीपिका प्रिया प्रकाश वारियर के अंदाज में आंख मारती नजर आ रही हैं। उन्होंने इस वीडियो में प्रिया को भी टैग किया है।


'हाड-कंपा' ठंड का प्रकोप मंगल को भी जारी

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हाड़ कंपा देने वाली ठंड का प्रकोप मंगलवार को भी जारी है। सुबह शहर का न्यूनतम तापमान 4.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सोमवार की सुबह से दो डिग्री अधिक है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया, ''न्यूनतम तापमान 4.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से दो डिग्री नीचे है।'' उन्होंने बताया कि आर्द्रता का स्तर 91 प्रतिशत दर्ज किया गया। 
वायु की गुणवत्ता 401 दर्ज की गई, जो गंभीर श्रेणी में आती है। दिल्ली में सोमवार को अधितम तापामन लुढ़ककर 9.4 डिग्री सेल्सियस पर आ गया था। सोमवार का दिन 1901 के बाद से दिसंबर का सबसे ठंडा दिन दर्ज किया गया। इसके साथ ही राष्ट्रीय राजधानी के लिए सोमवार का दिन 1951 के बाद से दिसंबर-फरवरी अवधि का सबसे सर्द दिन भी दर्ज किया गया।
सफदरजंग और पालम वेधशालाओं में सुबह साढ़े आठ बजे दृश्यता शून्य मीटर दर्ज की गई। वहीं सुबह साढ़े पांच बजे सफदरजंग में दृश्यता 100 मीटर और पालम में शून्य मीटर दर्ज की गई थी। घने कोहरे के चलते 530 उड़ानों में देरी हुई, 40 को रद्द करना पड़ा और 21 उड़ानों के मार्ग में परिवर्तन किया गया। रेल अधिकारियों ने बताया कि 71 ट्रेनें देरी से चलीं। दिल्ली-भुवनेश्वर राजधानी साढ़े सात घंटे की देरी से चली।


डीएम ने किया कार्यलय का आचौक निरक्षण

महराजगंज। आज एआरटीओ कार्यालय का औचक निरीक्षण जिले के जिलाधिकारी उज्ज्वल कुमार ने किया। वहां गन्दगी और भारी लापरवाही देख लोगों को कड़ी फटकार लगाई। बता दें कि एआरटीओ का आज दूसरी बार उन्होनें निरीक्षण किया है, जिसके बाद भी कोई सुधार नहीं हुआ है। हुए उन्होनें लापरवाही को देखते हुए हिदायत दी की आज दूसरी बार निरीक्षण हुआ कोई परिवर्तन नहीं हो रहा है। दलाल एआरटीओ कार्यालय से गायब हैं, गंदगी चरम पर है। डीएम के निरीक्षण में कई खामियां मिले जिससे एआरटीओ को कड़ी हिदायत दिए और सुधार लाने को भी कहा।


अमरुद फलों में भी होगा बदलाव

राजेंद्र कुमार


सिरसा। जिला उद्यान विभाग द्वारा किसानों को भावांतर भरपाई योजना की जानकारी देने के लिए जागरूक करने के लिए खंड नाथूसरी चौपटा के गांव मोचीवाली में एक दिवसीय जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में भारी संख्या में किसानों ने भाग लिया।
यह जानकारी देते हुए जिला उद्यान अधिकारी डा. रघुवीर सिंह ने बताया कि बागवानी उत्पादकों के लिए मंडी में उनके उत्पादन के कम दाम मिलने पर सरकार द्वारा भरपाई करने के लिए एक अनूठी योजना भावांतर भरपाई योजना चलाई गई है। योजना के तहत प्याज, टमाटर, शिमला मिर्च, बैंगन व अमरूद फसलों के लिए पंजीकरण किए जा रहे हैं।
किसान जागरूकता शिविर में जिला उद्यान अधिकारी डा. रघुवीर सिंह व उद्यान विकास अधिकारी डॉ राजेन्द्र सिंह ने बताया कि सरकार द्वारा भावांतर भरपाई योजना के तहत किन्नू व अमरूद फल तथा सब्जियों में गाजर, मटर, शिमला मिर्च व बैंगन फसलों को भी शामिल किया गया है। इससे पहले इस योजना के अंतर्गत केवल आलू, टमाटर, प्याज व गोभी फसलें शामिल थी। उन्होंने बताया कि अब दो फलों किन्नू व अमरूद और आठ सब्जी फसल आलू, टमाटर, प्याज, गोभी, गाजर, मटर, शिमला मिर्च व बैंगन कुल दस फसलें इस योजना में शामिल हो गई है। शिविर में किसानों को आवेदन प्रक्रिया के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई।
इस दौरान उपस्थित किसानों को बताया कि इस स्कीम में किसान स्वंय फसलएचआरवाई डॉट इन / मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर पंजीकरण करवा सकते हैं। उन्होंने बताया कि किसान बागवानी विभाग के जिला व ब्लॉक कार्यालय में के साथ-साथ मार्किटिंग बोर्ड के कार्यालय से भी पंजीकरण निर्धारित अवधि में करवा सकते हैं। उन्होंने बताया कि प्याज व टमाटर फसल के लिए किसान 15 फरवरी 2020 तक, शिमला मिर्च व बैंगन के लिए 15 मार्च तथा अमरुद के लिए 15 मई तक ऑनलाइन पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं।


बर्फबारी के साथ होगा नए साल का स्वागत

नई दिल्‍ली। पूरे उत्तर भारत से लेकर मध्‍य एवं पूर्वी भारत में हा़ड़ कंपा देने वाली कड़ाके की ठंड ने लोगों को हलाकान कर रखा है। नए साल में शीत लहर की आफत के बाद अब बारिश, ओलावृष्टि एवं बर्फबारी से लोगों की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। उत्तर पाकिस्‍तान और इससे सटे जम्‍मू-कश्‍मीर के करीब एक पश्चिमी विक्षोभ बना हुआ है जो उत्‍तर भारत के पहाड़ी इलाकों को प्रभावित कर रहा है। इससे जम्‍मू-कश्‍मीर के उत्तरी एवं पश्चिमी भागों में बारिश और बर्फबारी के आसार हैं। मौसम विभाग की मानें तो नए साल के पहले दिन पश्चिमी विक्षोभ के और आगे बढ़ने की वजह से उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में भी बारिश के साथ ओले पड़ेंगे। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान के कई जिलों में न्यूनतम तापमान शिमला, मसूरी और मनाली से भी कम दर्ज किए गए। दिल्ली में दिसंबर माह में सबसे कम औसतन अधिकतम तापमान का 119 साल का रिकॉर्ड टूट गया है। राजस्थान के पांच शहरों में रविवार को न्यूनतम तापमान जमाव बिंदु से नीचे रहा, जबकि हरियाणा के हिसार में कई दिनों से न्यूनतम तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस से नीचे बना हुआ है। दिल्ली का न्यूनतम तापमान भी 2.4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। 
कड़ाके की ठंड से लोगों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है। सोमवार को उत्तर प्रदेश में 63 और पंजाब में तीन लोगों की मौत हो गई। कोहरे कारण हुए हादसों में उत्तर प्रदेश में सात और पंजाब में दो लोगों की जान गई। ठंड के कारण अस्पतालों में मरीजों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। ठंड से लोगों को ज्यादातर सांस से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इस मामला में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने कहा कि ओपीडी में 20 फीसद की वृद्धि हुई है। इनमें ज्यादातर लोग सांस की बीमारियों से पीड़ित हैं। कड़ाके की ठंड के कारण मध्य भारत में मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में तापमान में भारी गिरावट आई है और कई शहरों में शीतलहर चल रही है। मौसम का पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी एजेंसी स्काइमेट की मानें तो पिछले कुछ दिनों से मध्य प्रदेश में कई स्थानों पर न्यूनतम तापमान गिरकर 3 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया है। मध्य प्रदेश के सीधी, खजुराहो, दतिया, ग्वालियर और सतना जैसे कई क्षेत्रों में सर्द दिन की स्थिति बनी हुई है। मौसम विज्ञानियों की मानें तो पश्चिमी हिमालय से उत्तर-पश्चिमी ठंडी हवाओं के चलने की वजह से ऐसी भीषण सर्दी देखने को मिल रही है। 
प्रादेशिक मौसम विज्ञान केंद्र, दिल्ली के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने ऐसी परिस्थितियों के लिए जलवायु परिवर्तन को जिम्‍मेदार ठहराया है। उन्‍होंने बताया कि जलवायु परिवर्तन से मौसमी गतिविधियां अब चरम पर पहुंचने लगी हैं। गर्मी में तापमान बहुत अधिक चला जाता है तो मानसून में बारिश का रिकॉर्ड टूटने लगा है और सर्दियों में शीतलहर भी ज्यादा ही लंबी चल रही है। पिछले लगभग एक पखवाड़े से बादल महज 200 से 300 मीटर की ऊंचाई पर मौजूद हैं। नमी, धूल और प्रदूषण ने बादलों की परत को और मोटा कर दिया है जिससे सूरज की किरणों धरती तक नहीं पहुंच पा रही हैं। नतीजतन ठंड बढ़ गई है। कोहरे के चलते दिल्ली से होकर आने-जाने वाली 34 ट्रेनें देर से चल रही हैं। इसके साथ ही दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण में भी इजाफा हुआ है। राष्‍ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता का स्‍तर मंगलवार को खतरनाक श्रेणी 431 पर पहुंच गया। मौसम विभाग ने बताया है कि उत्तर प्रदेश में कोहरे की समस्‍या बरकरार है। बहराइच, लखनऊ और गोरखपुर में विजिबिलिटी  25 मीटर दर्ज की गई। पटियाला, चुरू, जैसलमेर, झांसी, सुल्‍तानपुर, वाराणसी, पटना, गया और पुर्णिया में विजिबिलिटी 50 मीटर दर्ज की गई।


योगी आदित्यनाथ ने भी किया पलटवार

लखनऊ। प्रियंका गांधी के भगवा बयान पर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के बाद अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी पलटवार किया है। सीएम योगी ने बिना नाम लिये प्रियंका पर निशाना साधते हुए कहा कि विरासत में राजनीति पाने वाले और देश को भुलाकर तुष्टिकरण की राजनीति करने वाले लोकसेवा का मतलब नहीं समझ सकते हैं। सीएम योगी ऑफिस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया, 'श्री मुख्यमंत्री ने भगवा लोक सेवा के लिए धारण किया है। सब कुछ त्याग कर। वे न केवल भगवा धारण करते हैं, बल्कि उसका प्रतिनिधित्व भी करते हैं। भगवा वेशभूषा लोक कल्याण और राष्ट्र निर्माण के लिए है और योगी जी उस पथ के पथिक हैं।


लकडी के बिना नही जल रही है,आग

लखनऊ। गोसाईगंज के अधिकांश पंचायतों ने कस्बे चौराहों व विशेष कर सार्वजनिक स्थानों पर पंचायत की ओर से अलाव की कोई व्यवस्था नहीं की गई है। गांव के लोग खुद ही लकड़ी का इंतजाम कर हांड कपाती ठंड में किसी तरह जीवन बसर कर रहे हैं। बता दें कि, सोमवार को सरसवां, अहिमामऊ, मलौली, चांदसराय, रानीखेड़ा, बक्कस व मस्तेमऊ सहित लगभग दो दर्जन से अधिक पंचायतों का सर्वे किया गया। लेकिन कहीं भी अलाव की व्यवस्था नहीं दिखी। ग्रामीणों की मानें तो ठंड के चलते लकड़ियों का इंतजाम नहीं हो पा रहा है। पंचायत की ओर से अलाव की व्यवस्था होती तो लोगों को राहत मिल जाती। चेयरमैन ने गरीबों को बांटे कम्बल गोसाईगंज के नगर पंचायत अमेठी के चेयरमैन मोहम्मद वहीद द्वारा अपने निजी खर्च पर कम्बल वितरण कार्यक्रम का आयोजन अपने आवास पर किया गया। कम्बल वितरण के दौरान क्षेत्रीय विधायक अम्बरीष पुष्कर, समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष जय सिंह जयंत, वसीम, रशीद मंत्री, सहित समस्त सभासद लोग उपस्थित रहे। इस दौरान क्षेत्र के गरीबों के बीच तीन हजार कंबलों का वितरण किया गया। कम्बल वितरण के दौरान नगर पंचायत अमेठी के सभी वार्डो के लोग कम्बल लेने पहुंचे थे।


सरकार ने भ्रष्टाचार के आरोप मे किया बर्खास्त

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार एक्शन में हैं। भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ सरकार की जीरो टॉलरेंस की नीति है। इस बार सीएम योगी का चाबुक संभल जनपद के डिप्टी कलेक्टर ओमवीर सिंह यदुवंशी पर चला है। प्रदेश सरकार ने डिप्टी कलेक्टर को भ्रष्टाचार के आरोप में बर्खास्त कर दिया है। डिप्टी कलेक्टर पर जनपद संभल के तहसीलदार, कोल तहसीलदार के पद पर रहते हुए वर्ष 2013 से 2015 के बीच पांच करोड़ रुपये की सार्वजनकि भूमि को निजी व्यक्ति को अनियमित रूप से देने का आरोप था। इसके साथ ही उन पर कुछ अन्य आरोप भी थे।


योगी सरकार पर प्रियंका ने हमला बोला

लखनऊ। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर भले ही अब विरोध प्रदर्शन लगभग थम गए हों, लेकिन इस पर राजनीति नहीं रुकी है। सोमवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उत्तर प्रदेश में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन में हुए हिंसा को लेकर यूपी पुलिस के रवैये पर सवाल उठाए। साथ ही योगी सरकार पर अन्य बातों को लेकर भी प्रियंका ने जमकर हमला बोला। अब यूपी में भाजपा के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने प्रियंका पर पलटवार किया है। 


शर्मा ने कहा कि प्रियंका हिंदुत्व से अंजान हैं। उन्होंने हिंदुओं की बेइज्जती की है। प्रियंका ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथजी के भगवा चोले पर आक्षेप किया हैं। भगवा पहनावे और परंपरा के बारे में उन्हें जानकारी नहीं है। आज 20-20 मैच चल रहा है। कांग्रेस, सपा और बसपा इसी में लगे हैं। ये विपक्षियों का आपस का द्वंद है कि कौन ज्यादा वोट खींचता है। वे भगवा को कलंकित करने का काम कर रहे हैं। विपक्ष प्रदेश की शांति को नष्ट करने का काम कर रहा। कानून तोडऩा कांग्रेस का काम है। सीआरपीएफ ने भी साफ किया है कि प्रियंका ने प्रोटोकॉल तोड़ा था। एसपी और कांग्रेस के लोगों को लोकसभा चुनाव में हार के बाद वोट बैंक खिसकता दिखाई दिया।


नया जिला कहलाएगा गौरेला-पेंड्रा-मरवाही

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की ओर से 15 अगस्त को राजधानी के पुलिस ग्राउंड में नए जिले की घोषणा जल्द ही पूरी होने जा रही है, प्रदेश के जिलों की सूची में गौरेला-पेंड्रा-मरवाही नया जिला जुड़ने जा रहा है। इसके लिए राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा अधिसूचना जारी कर दी गई है। नया जिला 10 फरवरी 2020 को अस्तित्व में आ जाएगा, जिसके बाद प्रदेश में जिलों की संख्या 28 हो जाएगी। इस नए जिले की सीमाएं उत्तर में कोरिया जिले की मनेंद्रगढ़ तहसील, दक्षिण में बिलासपुर जिले की कोटा तहसील, मुंगेली जिले की लोरमी तहसील,  पूर्व में कोरबा की कटघोरा तहसील और पश्चिम में मध्यप्रदेश के अनूपपुर जिले की सोहागपुर एवं पुष्पराजगढ़ से जुड़ेगी।


102 लाख करोड़ का प्रोजेक्ट का किया ऐलान

नई दिल्‍ली। वित्‍तमंत्री निर्मला सीतारमण ने साल के अंतिम दिन बुनियादी ढांचा क्षेत्र में 102 लाख करोड़ रुपये के प्रोजेक्‍ट लाने का ऐलान किया। सीतारमण ने यहां पत्रकार वार्ता में मंगलवार को कहा कि बुनियादी ढांचे की परियोजनाओं को चिह्नित करने के लिए गठित कार्यदल ने 102 लाख करोड़ रुपये की परियोजनाओं की पहचान करके ये सिफारिश की है, जिसका लक्ष्य एक मात्र इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर सेक्‍टर (बुनियादी ढांचा) क्षेत्र को बढ़ावा देना है। वित्तमंत्री ने कहा कि चिह्नित बुनियादी ढांचा परियोजनाओं को मॉनीटर करने के लिए राष्ट्रीय अवसंरचना परियोजनाओं के लिए समन्वय प्रणाली की शुरुआत की जाएगी। केंद्र और राज्यों ने पिछले छह साल के दौरान बुनियादी परियोजनाओं पर 51 लाख करोड़ रुपये खर्च किए हैं, जिसमें अगले 5 साल में 100 लाख करोड़ रुपये और निवेश किए जाएंगे।उल्‍लेखनीय है कि देशभर में जारी आर्थिक सुस्ती के माहौल को देखते हुए इस बात की उम्मीद की जा रही है कि केंद्र सरकार इस बार आम बजट में खपत बढ़ाने के लिए सख्‍त कदम उठा सकती है। इसके लिए व्‍यक्तिगत आयकर में कटौती करने जैसे कदम उठाए जा सकते हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक फरवरी, 2020 को अपना दूसरा बजट पेश कर सकती हैं। इससे पहले सरकार के दूसरे कार्यकाल की शुरुआत के बाद उन्होंने 5 जुलाई, 2019 को अपना पहला बजट पेश किया था।


101 मुठभेड, 18 जवान शहीद, 304 गिरफ्तार

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग में साल 2018 में पुलिस-नक्सलियों के मध्य हुई 101 मुठभेड़़ में पुलिस ने 65 नक्सलियों को मार गिराया, इसमें 18 जवानों को प्राणों की आहुतियां देनी पड़ी। इस दौरान छोटे-बड़े 128 हथियार बरामद किये गए। इस साल 304 नक्सलियों ने आत्म समर्पण किया, जिनमें 200 हार्डकोर अर्थात एक से पांच लाख के ईनामी नक्सली हैं। शेष जनमिलिशिया सदस्य कैटेगिरी के हैं। इस वर्ष पुलिस ने 475 नक्सलियों को दबिश के दौरान गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। इनमें 150 नक्सली, इनामी व हाडकोर स्तर के हैं।
नक्सलियों द्वारा पुलिस दल पर किए गए बारूदी विस्फोटों में 11 पुलिस कर्मियों की शहादत हुयी और मुठभेड़ में मात्र 07 जवान शहीद हुए। इसमें सर्वाधिक कांकेर जिले के माहला में 04 और बीजापुर जिले के केशकुतुल में हुयी मुठभेड़ में 01 जवान की शहादत हुयी। दंतेवाड़ा के पोटाली आईईडी ब्लास्ट में छह, कांकेर जिले के माहला में एक तथा बस्तर के पुसपाल में एक जवान की शहादत हुई। इधर नारायणपुर, सुकमा एवं कोण्डागांव जिले में पुलिस को कोई क्षति नहीं हुई। पुलिस ने मुठभेड़ एवं गिरफ्तारियों के वक्त नक्सलियों के कब्जे से 128 हथियार बरामद किये, जिनमें 20 इंसास, एसएलआर जैसे अत्याधुनिक हथियार शामिल हैं। इस वर्ष पुलिस ने 475 नक्सलियों को दबिश के दौरान गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। इनमें 150 नक्सली, इनामी व हाडकोर स्तर के हैं। गिरफ्तारियों एवं समर्पण के आकड़ों का ग्राफ गत वर्षों की तुलना में हालंकि गिरा है, जिसका मूल कारण पुलिस के निरंतर चौतरफा दवाब व आक्रामक शैली से नक्सली संगठन बेहद कमजोर व छिन-भिन्न हुआ है, जिससे नक्सली अपने संगठन का विस्तार नहीं कर पा रहे हैं और ग्रामीण भी उनसे कन्नी काटने लगे हैं। 
विगत 12 माह में बस्तर पुलिस ने नक्सलियों द्वारा गश्ती दल को क्षति पहुंचाने बिछाई गई 172 बारूदी सुरंगें (आईईडी) बरामद कर नक्सली मंसूबों को नाकाम कर दिया। नक्सलियों ने इस साल पुलिस पर हमला कर 7 बंदूकें लूटीं। सर्वाधिक 5 बंदूकें दंतेवाड़ा जिले में विधायक भीमाराम मण्डावी की हत्या के बाद ब्लास्ट में शहीद जवानों से लूटी गईं, जबकि बीजापुर जिले के केसकुतुल मुठभेड़ में 2 बंदूकें लूटीं. शस्त्र लूटने के आकड़ों में भी इस साल भारी गिरावट दर्ज हुई। पिछले साल नक्सली, पुलिस से 41 हथियार लूटकर ले गये थे. जबकि इस साल केवल 16 हथियार ही लूट पाये। संभाग में 45 निर्दोष, निरपराध व निरीह ग्रामीण नक्सली हिंसा का शिकार होकर प्राणों से हाथ धो बैठे। 2018 में 88 बेकसूर ग्रामीणों को प्राण गवाने पड़े थे।


स्वच्छता सर्वेक्षण में इंदौर फिर नंबर वन

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के इंदौर शहर ने स्वच्छता के मामले में एक बार फिर सफलता के झंडे गाड़े हैं। इंदौर लगातार चौथी बार स्वच्छता सर्वे की सूची में शीर्ष स्थान पर आया है। केंद्र सरकार ने मंगलवार को स्वच्छता सर्वे की घोषणा की। दिल्ली एनसीआर में स्वच्छता की स्थिति पर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि स्वच्छता में एनसीआर दिल्ली से ज्यादा अच्छा काम कर रहा है। अप्रैल से जून के बीच पहली तिमाही में भोपाल दूसरे स्थान पर रहा जबकि दूसरी तिमाही (जुलाई-सितंबर) में गुजरात का राजकोट शहर दूसरे नंबर पर रहा। पहली तिमाही में सूरत तीसरे स्थान पर जबकि दूसरी तिमाही में नवी मुंबई ने यह स्थान हासिल किया। 10 लाख से कम आबादी वाले शहरों वाली श्रेणी में जमशेदपुर ने पहला स्थान हासिल किया है।


धर्म के आधार पर नागरिकता चाहती है भाजपा

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर मंगलवार को निशाना साधा और कहा कि भाजपा धर्म के आधार पर नागरिकता देना चाहती हैं, और वह चाहती है कि मुसलमानों का नागरिकता न मिले। अखिलेश मंगलवार को नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर व राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर के खिलाफ लखनऊ में साइकिल मार्च को हरी झंडी दिखा कर रवाना कर रहे थे। अखिलेश ने इस दौरान कहा, “आप (भाजपा) नागरिकता धर्म के आधार पर देना चाहते हैं, आप चाहते हैं कि मुसलमानों को नागरिकता न मिले। भाजपा तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है। क्या असम और पूर्वोत्तर के लोग इस कानून से खुश हैं? आधार में सब मौजूद है। समाजवादी पार्टी सीएए और एनआरसी और एनपीआर का विरोध करती है।” उन्होंने कहा कि “भारत की अर्थव्यवस्था का नाश हो गया है, और बैंकिग प्रणाली डूबा दिया। अपने लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए आप ऐसा कर रहे हैं।” अखिलेश ने भगवा पर कहा, “पता नहीं कहां पर खलबली मची है। किसी का अधिकार थोड़े ही है। केवल रंग बदलने के लिए ऐसा किया जा रहा है। भगवा में ऐसा क्या है? पीताम्बर रंग भी है, लेकिन देश का रंग तिरंगा ही रहेगा। जाति के आधार पर जनगणना होनी चाहिए, ताकि आबादी के आधार पर सबको अधिकार मिले।” अखिलेश ने कहा, “भाजपा नए साल में अपने पापों की माफी मांगे नहीं तो जनता सजा देगी आपको। पूरे यूपी की जनता जानती है कि कानून-व्यवस्था इनके हाथ में नहीं हैं। निवेश नहीं आ रहा है, इसलिए एनपीआर आ रहा है। निवेश नहीं आया, इसलिए एनआरसी आ रहा है। हमारे देश की पहचान खराब हो रही है, देश की बदनामी हो रही है। कोई ग्लोबल निवेश नहीं आएगा।” गौरतलब है कि अखिलेश यादव ने इसके पहले एनपीआर का विरोध करते हुए कहा था कि वह कोई फॉर्म नहीं भरेंगे। उन्होंने कहा था कि वह भारतीय हैं, और उन्हें इसका प्रमाण देने की जरूरत नहीं है।


बुमराह ने उपलब्धियों का साल बिताया

नई दिल्ली। भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने मंगलवार को वर्ष 2019 को मैदान के अंदर और बाहर उपलब्धियों, सीखने और यादों का साल बताया।
यह तेज गेंदबाज चोटिल होने के कारण अगस्त से बाहर है
5 जनवरी से शुरू हो रही T-20 सीरीज में वापसी को तैयार
भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने मंगलवार को वर्ष 2019 को मैदान के अंदर और बाहर 'उपलब्यों, सीखने और यादों' का साल बताया और कहा कि वह 2020 में एक अन्य सफल साल का बेताबी से इंतजार कर रहे हैं। बुमराह ने अपने ट्विटर हैंडल पर इस साल अपनी उपलब्धियों की कुछ तस्वीरें साझा करते हुए लिखा है, 'वर्ष 2019 मैदान के अंदर और बाहर उपलब्धियों, सीखने, कड़ी मेहनत और सुखद यादें जोड़ने का साल रहा। वर्ष 2020 में मैं जो भी हासिल करूंगा मुझे उसका इंतजार है। मराह वर्ष 2019 में न सिर्फ तीनों प्रारूपों में भारतीय तेज गेंदबाजी के अगुवा बने, बल्कि दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज भी बने. 26 साल के बुमराह ने 2019 का समापन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नंबर एक गेंदबाज के रूप में किया है, जबकि आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में वह दुनिया के छठे नंबर के गेंदबाज हैं।


इसी वर्ष बुमराह हरभजन सिंह और इरफान पठान के बाद टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज बने। बुमराह ने अब तक भारत की तरफ से 12 टेस्ट, 58 वनडे और 42 टी-20 अंतरराष्ट्रीय में क्रमश: 62, 103 और 51 विकेट झटके हैं। यह तेज गेंदबाज हालांकि चोटिल होने के कारण अगस्त से बाहर है। वह चोट से उबर गए हैं और श्रीलंका के खिलाफ पांच जनवरी से शुरू होने वाली टी-20 सीरीज में वापसी करने के लिए तैयार हैं। बुमराह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 14 जनवरी से शुरू होने वाली वनडे सीरीज के लिए भी टीम में चुना गया है।


सोनिया-राहुल ने मंत्रियों से की मीटिंग

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में सोमवार को मंत्रिमंडल विस्तार के बाद कांग्रेस के मंत्रियों ने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मंगलवार को यहां मुलाकात की। मंत्रियों के साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, केसी। वेणुगोपाल और पार्टी सचिव आशीष दुआ भी थे। बालासाहेब थोरात और अशोक चव्हाण सहित सोमवार को शपथ ग्रहण करने वाले वरिष्ठ मंत्रियों ने भी पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात की। प्रदेश कांग्रेस के भीतर असंतोष की बात सामने आई है और कुछ वरिष्ठ नेताओं का कहना है कि मंत्रिमंडल विस्तार में उनकी अनदेखी की गई है। दो बार के विधायक मुंबई के अमीन पटेल कैबिनेट में जगह मिलने की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन उनसे जूनियर विधायकों असलम शेख और वर्षा गायकवाड को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया, और उन्हें नजरअंदाज कर दिया गया।


वरिष्ठ पार्टी नेताओं ने पार्टी नेतृत्व को अपनी नाराजगी से अवगत कराया है। सूत्रों ने बताया कि विधानसभा चुनाव में चौथे स्थान पर रही कांग्रेस अब वरिष्ठ नेताओं को पार्टी में पद और संगठनात्मक जिम्मेदारी देने की योजना बना रही है.  जहां एक नेता ने कहा कि बैठक का उद्देश्य राज्य में पार्टी की पहुंच बढ़ाने के कार्यक्रम पर चर्चा करना था और गठबंधन पर फीडबैक देना था। वहीं एक मंत्री ने कहा कि यह बैठक पार्टी अध्यक्ष को धन्यवाद देने और राज्य में आगे कैसे काम किया जाए, इस पर शीर्ष नेतृत्व से निर्देश लेने के लिए थी। मंत्रिमंडल में कांग्रेस को 12 सीटें मिली है और वे कुछ प्रमुख विभागों पर नजर बनाए हुए हैं। पार्टी को नया प्रदेश अध्यक्ष भी चुनना है, क्योंकि बालासाहेब थोरात मंत्रिमंडल में शामिल हो गए हैं। विधानसभा अध्यक्ष के लिए सबसे आगे चल रहे पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण को अब पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष बनाने पर विचार चल रहा है। एक अन्य पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण अब मंत्रिमंडल में शामिल हो गए हैं।


तारीख ही नहीं कुछ नियम भी बदलेंगे

नई दिल्ली। नए साल का आगाज होने में अब बस कुछ ही घंटे बाकी है। लोगों ने नए साल का स्वागत करने के लिए पहले से ही प्रोग्राम बनाया हुआ है। साल बदलने के साथ ही हम सभी की जिंदगी में कुछ ना कुछ बदलता जरुर है। 1 जनवरी 2020 से सिर्फ तारीख ही नहीं, बल्कि कुछ नियम भी बदलने वाले हैं। चलिए के हम आपको अपडेट कर देते हैं कि 1 जनवरी 2020 से क्या-क्या बदल रहा है। बंद होने जा रही है सबका विश्वास स्कीम एक जनवरी 2020 से सबका विश्वास स्कीम बंद होने जा रही है। जानकारी के लिए बता दें कि वित्त वर्ष 2019-20 के आम बजट में सरकार ने सबका विश्वास स्कीम की शुरुआत की थी। दरअसल, वित्त मंत्रालय ने Indirect tax के विवादों का निपटारा करने के लिए योजना बनाई थी। इस योजना की अवधि 31 दिसंबर 2019 को समाप्त हो जाएगी।


किसके लिए कैसा रहेगा नया साल

नई दिल्ली। 1 जनवरी का मूलांक 1 और भाग्यांक 6 है। दिन अंक 5 और मासांक 1 है। न्यूमेरोलॉजिस्ट डॉ. कुमार गणेश के अनुसार बुधवार को अंक 1 की अंक 5 के साथ मित्र युति है। अंक 8 के साथ परस्पर प्रबल विरोधी युति बनी है। अंक 6 की अंक 1 के साथ विरोधी युति बन रही है। अंक 8 की अंक 5 के साथ विरोधी युति बनी है। जानिए अंकों के इन योगों की वजह आपके लिए कैसा रहेगा साल 2020 का पहला दिन बुधवार, 1 जनवरी अंक 1 टैक्स विभाग से संबंधित लोगों के लिए समय परेशानियों वाला हो सकता है। काम में धन संबंधी लेनदेन को लेकर अतिरिक्त सजगता बरतें। मानसिक तनाव रह सकता है। क्या करें- शनि चालीसा का पाठ करें। महत्वपूर्ण अंक- 8, महत्वपूर्ण रंग- काला अंक 2 सहायक के पद पर कार्यरत लोगों के लिए अधिक अनुकूलता रह सकती है। हर योजना के सूक्ष्म बिंदुओं को अच्छी तरह जांच-परख लें। कमर में खिंचाव हो सकता है। क्या करें- अपनी कुलदेवी को पारंपरिक भोग लगाएं। महत्वपूर्ण अंक- 4, महत्वपूर्ण रंग- नीला  अंक 3
सरकारी पक्ष से अनुकूलता रह सकती है। धन संबंधी लाभ हो सकता है। खानपान संबंधी विशेष रुचि रह सकती है। क्या करें- गायों को हलवा और रोटी खिलाएं। महत्वपूर्ण अंक-
7, महत्वपूर्ण रंग-  जामुनी अंक 4 वित्तीय आउटसोर्सिंग करने वाले संस्थानों के लिए संभलकर काम करने का समय है। नकली आभूषणों के कारोबारियों के लिए धन का अटकाव रह सकता है। शारीरिक शिथिलता रह सकती है।


ऐसी ग्राम पंचायत जान नहीं होता है चुनाव

कोरबा। जिले की एक ग्राम पंचायत ऐसी है जहां पंच और सरपंच का निर्विरोध चयन किए जाने की परंपरा कई वर्षों से चली आ रही। चुनाव से ठीक पहले गांव में चौपाल लगाई जाती है। यहां सभी 11 वार्ड के लिए निर्विरोध पंच चुनते हैं। इसके साथ ही सभी पंच निर्विरोध सरपंच का चुनाव करते हैं। इस बार भी ऐसा ही हुआ है। आदिवासी महिला के लिए ग्राम पंचायत आरक्षित होने से गांव की महिला सुमरित नेताम को सरपंच चुना गया है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनााव का बिगुल बज चुका है। सोमवार से नामांकन दाखिले की प्रक्रिया शुरू होगी। एक ओर सरपंच और पंच बनने ग्राम पंचायतों में गलाकाट प्रतिस्पर्धा चल रही है, वहीं दूसरी ओर जिला मुख्यालय से 45 किलोमीटर दूर पाली विकासखंड के ग्राम पंचायत पुटा के ग्रामीणों ने सभी पद के लिए निर्विरोध चयन कर एकता की मिसाल पेश की है।


यह परंपरा ग्राम पंचायत के अस्तित्व में आने के बाद वर्ष 2014 से जारी है। इस पंरपरा को आगे बढ़ाते हुए रविवार को गांव के चौराहे में चौपाल लगा निवर्तमान सरपंच दिलाराम नेताम मौजूद रहे। सभी 11 वार्ड के प्रमुख ग्रामीणों की उपस्थिति में पहले 11 पंचों का निर्विरोध चयन किया गया।


इसके बाद निवर्तमान सरपंच दिलाराम की पत्नी सुमरित नेताम को ग्रामीणों ने निर्विरोध सरपंच बनाने का निर्णय लिया। चौपाल में यह निर्णय लिया गया कि चयनित किए गए उम्मीदवार ही नामांकन की प्रक्रिया पूर्ण करेंगे। इसके अलावा अतिरिक्त कोई भी अभ्यर्थी नामांकन दाखिल नहीं करेगा।


इसके साथ ही यहां मतदान नहीं होगा और निर्वाचन आयोग सभी को निर्विरोध पंच, सरपंच घोषित कर देगा। आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र के ग्रामीणों ने आपसी सहमति से चुनाव कर एकता की मिसाल पेश की है। यदि चयनित अभ्यर्थियों के अलावा कोई और नामांकन दाखिल नहीं करेगा तो निर्विरोध चयन का यह दूसरा पंचवर्षीय होगा। यहां के लोगों का मानना है कि पूरा ग्राम हमारा स्वयं का घ्ार एवं परिवार है, जिसके बीच में दरार करना नहीं चाहते हैं। चुनाव होने से आपसी द्वेष भावना बढ़ती है जो हमें पसंद नहीं है।


सीमावर्ती क्षेत्र में मोबाइल सेवा की बंद

ढाका। भारत में नागरिकता संशोधन कानून 2019 को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच बांग्लादेश में भी सरकार सतर्कता बरत रही है। सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए बांग्लादेश सरकार ने भारत की सीमा से लगे इलाकों में मोबाइल नेटवर्क को बंद कर दिया है। हालांकि, इस कदम से कम से कम एक करोड़ यूजर्स प्रभावित होंगे। 
स्थानीय ब्रॉडकास्टर bdnews24 ने बांग्लादेश टेलीकम्युनिकेशन रेगुलेटरी कमीशन के आदेश के हवाले से यह जानकारी दी है। रिपोर्ट में बताया गया है कि सोमवार से भारत की सीमा से लगे एक किलोमीटर के दायरे में मोबाइल नेटवर्क का ऑपरेशन निलंबित कर दिया गया है। मोबाइल सर्विस को दोबारा कब से शुरू किया जाएगा, इसके बारे में अभी कोई जानकारी नहीं दी गई है। बांग्लादेशी अधिकारियों का कहना है कि सुरक्षा कारणों से यह फैसला किया गया है।बांग्लादेश में चार मुख्य ऑपरेटर्स ग्रामीणफोन, टेलीटॉक, रॉबी और बांग्लालिंक ने करीब 2,000 बेस ट्रांसीवर स्टेशनों को बंद कर दिया है। इन ऑपरेटरों में से एक के अधिकारी ने bdnews24 को यह जानकारी दी। बताया जा रहा है कि इसकी वजह से सीमावर्ती क्षेत्रों में लगभग एक करोड़ यूजर्स के लिए समस्या पैदा होगी। बांग्लादेशी टेलिकम्युनिकेशन रेगुलेटरी कमीशन ने एक आदेश में कहा कि मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए देश की सुरक्षा के लिए नेटवर्क कवरेज को बंद कर दिया है। यह आदेश अगली सूचना तक प्रभावी रहेगा। हालांकि, दोबारा मोबाइन लेटवर्क को कब खोला जाएगा, इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है। कमीशन के चेयरमैन जहरुल हक ने बताया कि यह आदेश अस्थायी है, जिसे सरकार की उच्च स्तरीय बैठक में फैसले के बाद लिया गया था।


धूप ने संभाला मोर्चा, बर्फीली हवाओं से गलन

धूप ने संभाला मोर्चा,पर बर्फीली हवाओ से गलन जारी


मनोज यादव


नई दिल्ली। ठंड के कहर से कराह रहे बेल्हा में मंगलवार को दोपहर के बाद भास्कर की किरणों ने पहले अधखिली फिर अपनी पूरी ताकत से वसुंधरा पर धूप बिखेरी जो आमजनमानस के लिए उम्मीद की किरण जैसी थी लेकिन बदलो से आंख मिचौली करते हुए भास्कर का यह लुका छिपी का खेल बेअसर तब हो गया जब गलन भरी हवाओ ने फिर से रफ्तार की गति में तेजी लाई जिससे  हल्की गर्मी की आशाएं बैकफुट पर आ गई । जंहा राजधानी दिल्ली में 119 साल का रिकार्ड ठंड के कहर ने ध्वस्त करते हुए कपकपी बढ़ा दी वही बेल्हा में  सर्दी का ऐसा सितम इससे पहले देखने को नही मिला था। दोपहर के बाद खिली धूप से कुछ राहत तो जरूर मिली लेकिन ढलते शाम के साथ फिर से ठंड ने उसी तीखे तेवर के साथ धावा बोलना शुरू कर दिया। अलाव और बिस्तर पर थक चले आमजनमानस को खिली धूप ने राहत जरूर दिया है लेकिन यह कब तक इसका असर कायम रहेगा कहना मुश्किल है। ठंड के असर से बाजारों में सन्नाटा पसरा है कारोबार ठप पड़ा है लोगो को बस इस चटक धूप का इंतजार है जिससे लोगो को राहत मिल सके और जनजीवन सामान्य हो सके। बारिश से बदल सकती है तस्वीर मौसम विभाग ने नए साल के आगमन बारिश के साथ होने का अनुमान लगाया है। ठंड के मौसम से त्रस्त बेल्हा के किसानों के लिए बारिश उनकी फसलों के लिए वरदान बन सकती है वही लोग यह भी आशा कर रहे है कि अगर बारिश हो जाएगी तो मौसम भी धुलकर एकबार काफी साफ सुथरा हो जाएगा।


एसएसपी ने किया सैनिक सम्मेलन का आयोजन

पीलीभीत। पुलिस अधीक्षक अभिषेक दीक्षित द्वारा पुलिस लाइन के सम्मेलन कक्ष में सैनिक सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन में उपस्थित सभी पुलिसकर्मियों से उनकी समस्याओं के बारे में पूछा गया। पुलिस अधीक्षक अभिषेक दीक्षित के द्वारा पुलिस कर्मियों की समस्याओं को गंभीरता से सुनकर संबंधित को शीघ्र निस्तारण करने हेतु निर्देशित किया गया। अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था एवं उत्तर प्रदेश द्वारा विभिन्न त्योहारों एवं श्री राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद प्रकरण आदि में कानून व्यवस्था की सुदृढ़ स्थिति बनाए रखने हेतु समस्त क्षेत्राधिकारीयों को प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए,जिन्हें पुलिस अधीक्षक के द्वारा समस्त क्षेत्राधिकारीयों को देकर सम्मानित किया गया है।सैनिक सम्मेलन में समस्त क्षेत्राधिकारीयों, समस्त प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष व शाखा प्रभारी सभी थाना/शाखाओं के पुलिस कर्मचारीगण आदि उपस्थित रहे।


सर्दी के मौसम में बढ़ा दिया तापमान

सुप्रिया पांडे


रायपुर। भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लेकर दिये गए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान ने सर्दियों के इस मौसम में राजनीति का तापमान बढ़ा दिया है! रायपुर सांसद सुनील सोनी ने इसे साधु संतों का अपमान बताते हुए बयान पर आपत्ति जताई है! उन्होंने सीएम से माफी मांगने की मांग की है!


सुनील सोनी ने कहा कि देश की संस्कृति में भगवा रंग को त्याग और तपस्या का मानते है! भूपेश बघेल ने जो बयान दिया है पूरे देश के साधु-संतों का अपमान किया है! मुख्यमंत्री को पूरे देश के साधु संतों और जनता से माफी मांगनी चाहिए! वे इस प्रकार की भाषा का उपयोग करके छत्तीसगढ़ को निंदा के कटघरे में खड़े कर रहे हैं! लोग निंदा कर रहे हैं! सोनी ने आगे कहा, भूपेश बघेल प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं इस बात का उन्हें ध्यान देना चाहिए! उन्हें ये शोभा नहीं देता कि वे अनर्गल बयान दें और अशोभनीय भाषा का प्रयोग करें! ऐसा करके वे छत्तीसगढ़ की जनता का अपमान कर रहे हैं इसलिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को देश की जनता और साधु संतों से माफी मांगनी चाहिए!


एटीएम के नियम में होगा बदलाव

लखनऊ! स्टेट बैंक ऑफ इंडिया एक जनवरी से एटीएम से पैसा निकालने के नियम में बदलाव करने जा रहा है! अब एटीएम से 10 हजार से ज्यादा की रकम निकालने पर आपको ओटीपी नंबर डालना होगा तभी पैसा निकल सकेगा! एटीएम में होने वाले फ्राड को रोकने के लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने यह कदम उठाया है! रात आठ बजे से सुबह आठ बजे तक लागू होगा नियम ये नियम रात आठ बजे से सुबह आठ बजे तक पैसा निकालने पर लागू होगा! ओटीपी के अलावा एटीएम से रुपये की निकासी संबंधी अन्य कोई बदलाव नहीं किए गए हैं!ओटीपी की व्यवस्था फिलहाल उन्हीं एसबीआई के डेबिड कार्ड धारकों पर लागू होगी जो स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम का प्रयोग करेंगे! दूसरे बैंक के एटीएम से धनराशि निकालने पर यह नियम लागू नहीं होगा! दूसरे बैंक के कार्ड से अगर एसबीआई के एटीएम से धनराशि निकालेंगे तो यह नियम लागू नहीं होगा! लोगों ने कदम का किया स्वागत राजधानी लखनऊ के एसबीई के खाताधारक एसबीआई के इस कदम का स्वागत कर रहे हैं! एसबीआई खाताधारक धीरेंद्र सिंह कहतें हैं कि ये नियम सही है. इससे एटीएम में होने वाली धोखाधड़ी खत्म हो जाएगी! वहीं एसबीआई के एटीएम से पैसा निकालने आए सुरेश चंद्र कहतें हैं कि नियम बहुत सही है. अगर हमारा एटीएम खो जाता है तो कोई हमारे एटीएम से पैसा नही निकाल सरकता! और तो और ये नियम रात आठ बजे से नही होना चाहिए बल्कि 24 घंटे के लिए होना चाहिये! उधर एक और एसबीआई खाताधारक राज शिल्पकार कहतें हैं कि सब ठीक है लेकिन अगर किसी को इमरजेंसी में पैसा निकालने की जरूरत आती है तो मुश्किलों का सामना उन्हें करना पड़ेगा! अगर नंबर नहीं चल रहा होगा तब क्या होगा: सरकार को इस पर भी सोचना होगा!


कव्वालीस कार से 4 की मौत 2 घायल

कानपुर! घाटमपुर कोतवाली के अंतर्गत जहांगीराबाद क्षेत्र में तेज रफ्तार क्वालिस कार कोहरे (Fog) के चलते रोड के किनारे खड़े ट्रक से टकरा गई! जिससे क्वालिस में बैठे चार लोगों की मौके पर मौत हो गई! जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए! सभी मृतक और घायल रिश्तेदार हैं! बता दें कि क्वालिस में सवार लोग कानपुर के कुली बाजार के रहने वाले हैं जो छतरपुर से गमी में शिरकत कर लौट रहे थे! जहांगीराबाद के पास घने कोहरे के चलते तेज रफ्तार क्वालिस अचानक अनियंत्रित होकर रोड के किनारे खड़े ट्रक से टकरा गई! जिसके चलते गाड़ी में बैठे ड्राइवर सहित चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई! मौके पर पहुंची पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद मृतकों व घायलों को गाड़ी से बाहर निकालकर सीएचसी पतारा भेज दिया! जहां डॉक्टरों ने गंभीर रूप से घायल लोगों को कानपुर जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया! पुलिस ने मृतको के शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है!


सीडीएस बने तो यूनिफॉर्म सर्विस रहेगी

जनरल बिपिन रावत बुधवार को देश के पहले सीडीएस का कार्यभार संभालेंगे, सरकार ने सोमवार को उन्हें देश का पहला सीडीएस नियुक्त किया था। सीडीएस के जिम्मे तीनों बलों थलसेना, नौसेना और वायु सेना से जुड़े कार्य तथा वर्तमान नियमों और प्रक्रियाओं के अनुरूप सेवाओं के लिए विशेष खरीद जैसे कार्य आएंगे। सरकार ने सीडीएस के लिए एक नए विभाग भी बना दिया है। अब सबकी नजरें पहले सीडीएस की वर्दी, कैप पर टिकी है। आखिर सीडीएस की वर्दी कैसी होगी, कैप कैसी होगी और प्लैग किस कलर का होगा। तो आइए हम आपको बताते हैं सीडीएस वर्दी समेत तमाम बाते! सीडीएस का ऑफिस साउथ ब्लॉक में होगा और उनकी यूनिफॉर्म पैरंट सर्विस वाली होगी। यानी सीडीएस बनने के बाद भी जनरल रावत ओलिव ग्रीन यूनिफॉर्म में दिखेंगे। CDS की बेसिक यूनिफॉर्म उनकी सर्विस की ही रहेगी, बस उसमें रैंक के बैज और लोगो चेंज होंगे। अगर कभी एयरफोर्स या नेवी से CDS बने तो उनकी बेसिक यूनिफॉर्म भी उनकी सर्विस की ही रहेगी। लोगो और बैच ट्राई सर्विस को दिखाते हैं। सीडीएस का ऑफिस साउथ ब्लॉक में सेकंड फ्लोर पर होगा।


एसएसपी-चेयरमैन ने किया क्षेत्र का दौरा

एसएसपी मुजफ्फरनगर ने पुरकाजी चेयरमैन के साथ किया बॉर्डर और पुरकाजी का दौरा, योगी सरकार में होने जा रहा



पुरकाजी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक कुमार के दिशा निर्देश पर पुरकाजी नगर पंचायत यू पी बॉर्डर से लेकर पुरकाजी में आने- जाने वाले सभी मार्गों पर सबसे हाईटेक कैमरे लगाने जा रही है। एसएसपी अभिषेक कुमार ने ज़हीर फ़ारूक़ी के साथ बॉर्डर से लेकर पुरकाज़ी तक हाईटेक कैमरे लगाने की जगह चिन्हित की। उत्तराखंड से यू पी बॉर्डर होते हुए मुजफ्फरनगर और पुरकाजी में आने- जाने वाली हर गाड़ी यहां तक की मोटरसाइकिल का नम्बर कैमरो में कैद हो जाएगा। सन्दिग्ध वाहन अगले पॉइंट तक जा भी नही पायेगा और वहां उस नम्बर के लिए एलर्ट जारी हो जायेगा। हाईटेक बनने मे नगर पंचायत पुरकाजी अब तक का सबसे लम्बा छक्का मारने जा रही है। एसएसपी ने पुरकाजी नगर पंचायत कार्यालय पहुंचकि नम्बर प्लेट रीडर कैमरो को देखा। बताया जा रहा हैं कि धमात गंगनहर पटरी तक लगाए हाईटेक कैमरे लगाए जा सकते हैं। गौरतलब हैं कि पुरकाजी नगर पंचायत द्वारा लगवाए गए कैमरो ने कई मौके पर प्रशासन की बडी मदद की है। अब एसएसपी अभिषेक यादव के मार्गदर्शन में पुरकाजी बनेगा पूरे देश के लिए एक नज़ीर।ततण


उत्तराखंड में महंगा होगा सरकारी इलाज

शगुफता नाज़ की रिपोर्ट 


देहरादून। उत्तराखंड सरकार के स्वास्थ्य विभाग के विषय में आने वाले सरकारी अस्पतालों में नए साल से इलाज महंगा हो जाएगा। पंजीकरण से लेकर विभिन्न चिकित्सीय जांचों और वार्ड में भर्ती करने आदि का शुल्क दस फीसदी बढ़ा दिया जाएगा। दून अस्पताल में फिलहाल कोई इजाफा नहीं होगा। शहर के जिला अस्पताल 'पंडित दीनदयाल उपाध्याय-कोरोनेशन और गांधी शताब्दी अस्पताल' की बात करें तो ओपीडी में जांच कराने के लिए रजिस्ट्रेशन का पर्चा 17 रुपये के बजाय अब 25 रुपये में बनेगा।


बता दें कि इसी तरह अल्ट्रासाउंड के लिए 518 और एक्स रे के लिए लगभग 200 रुपये देने होंगे। जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. केके टम्टा ने बताया कि शासनादेश के अनुसार, हर साल की तरह इस बार भी एक जनवरी से अस्पताल में पर्चा बनाने से लेकर विभिन्न जांचों, वार्ड में भर्ती करने और इलाज आदि की दर फीसदी बढ़ जाएगी। इसी तरह विभिन्न संयुक्त, सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी रजिस्ट्रेशन से लेकर भर्ती कराने और अन्य विभिन्न जांचों का खर्च दस फीसदी बढ़ जाएगा। इससे दूर दराज से आने वाले मरीजों को खासी परेशानियों का सामना करना होगा।


4 साल पिता ने बेटी का यौन शोषण किया

ब्राजील। एक पिता ने टीनेजर बेटी का करीब 4 साल तक यौन शोषण किया। पिता के रेप करने की वजह से 13 साल की लड़की प्रेग्नेंट भी हो गई। डिलीवरी के दौरान पीड़िता की मौत हो गई। ब्राजील के कोओरी के इस मामले में पुलिस ने पिता पर ये आरोप लगाए हैं।


डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, इसी महीने के दूसरे हफ्ते में पीड़िता की मौत हो गई। पीड़िता के पेट में तेज दर्द होने के बाद उसे हॉस्पिटल लाया गया था, तब डॉक्टरों को उसकी प्रेग्नेंसी की जानकारी मिली। डिलीवरी के दौरान पीड़िता की मौत हो गई, लेकिन उसका बच्चा सुरक्षित है। घटना के खुलासे के बाद 36 साल के पिता के खिलाफ अरेस्ट वॉरंट जारी किया गया। अरेस्ट वॉरंट जारी होने के बाद पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस का मानना है कि पिता करीब 4 सालों से बेटी का यौन शोषण कर रहा था। 27 दिसंबर को उसे कोर्ट में पेश किया गया।


पुलिस ने पिता पर चाइल्ड एब्यूज और बेटी की जान लेने का आरोप लगाया है। वहीं, पीड़िता के परिवार के अन्य लोगों ने कहा है कि उन्हें लड़की के साथ हो रहे शोषण की जानकारी नहीं थी।


लापता व्यक्ति की जमीन का फर्जीवाड़ा

फर्जीवाड़े के तहत किया गया 5 बीघा 6 विस्वा का बैयनामा 
अब बिजलैंस में शिकायत के बाद फर्जीवाडा करने वालों में मचा हड़कम्प


सिरमौर। करीब 20 सालों से लापता भूमि मालिक की 5 बीघा 6 विस्वे जमीन मिलीभगत व फर्जीवाड़े के तहत बैयनामा करा ली गई है। हैरानी की बात यह कि मामला उपायुक्त सिरमौर के संज्ञान में लाने और स्टे होने के बावजूद भी भू-माफिया कलाकारों ने असली जमीन स्वामिनी की जगह नकली दस्तावेज एवं नकली मालिक पेश करके भूमि का बैयनाम किए जाने का सनसनीखेज खुलासा हुआ है जिसकी गहन जांच बारे अब शिकायतकर्ता ने विजलैंस के अधिकारियों से दूध का दूध, पानी का पानी करने की गुजारिश की है।दस्तावेजों की बारीकी जांच पड़ताल करने पर पाया गया कि बैयनामा के साथ जो फोटो है वह सुनहरी देवी का न होकर किसी और औरत का है जिसका प्रमाण साथ लगे आधार कार्ड से भी मिलता है जो सनोहरो देवी पत्नी श्री बदर सिंह गांव खनौर नरमेला, सनोरा राजगढ़ जिला सिरमौर हि.प्र. का है। आरोप है कि इस बैयनामा को रधुबीर सिंह वार्ड मैम्बर ने फर्जी तौर पर भारी रकम लेकर शिनाख्त किया है यानि कि लापता सुनहरी देवी से मिलते-जुलते नाम सनोहरो देवी को पेश करके फर्जी तरीके से बैयनामा कराया गया है।


आरोप है कि इस बात की शिकायत उपायुक्त सिरमौर के समक्ष से की गई। जिसमें उन्होंने 3 अप्रैल 2019 को एसडीएम पांवटा को मामले में संज्ञान लेकर गहन छानबीन करने के निर्देश दिये थे। इसके अलावा हल्का पटवारी ने इंतकाल नम्बर 804 दिनांक 4/8/2019 को दर्ज किया था जिसके बाद बजरिये नोट खसरा नम्बर 506 पर स्टे अंकित कर दिया गया था व इसमें स्पष्ट तौर से यह दर्शाया गया है कि इस बैयनाम के आधार पर तादादी 5 बीघा 6 बिस्वा का इंतकाल स्वीकार बकाया है जैसा कि नकल जमाबंदी साल 2012-13 के दूसरे पेज पर दर्शाया गया है। परन्तु उस समय तहसील आफिस में नायाब तहसीलदार ने स्टे लगी भूमि का इंतकाल 4/4/2019 को तस्दीक कर दिया। 


इस प्रकार जालसाजी और धोखाधड़ी के तहत सुनहरी देवी की 5 बीघा 6 बिस्वा जमीन हड़प ली गई जिसकी लिखित शिकायत सबूतों के साथ बिजलैंस नाहन में की गई है जिसके बाद फर्जीवाडा करने वाले, फर्जी गवाह, मोटी रकम लेकर शिनाख्त करने वाले तथा फर्जी तरीके से जमीन हथियाने वालों में हड़कम्प मच गया है।


मनाली जा रही छात्रों से भरी बस पलटी

बिलासपुर। हिमाचल प्रदेश के जिला बिलासपुर में छात्रों से भरी बस पलट गई। हादसें के दौरान 51 छात्रों सहित दो अध्यापक व दो गाईड मौजूद थे। बताया जा रहा है कि यह बस एक टूरिस्ट बस थी जिला बिलासपुर के साथ लगते गंबरोला से समीप यह हादसा पेश आया हुआ है। हासदे को देखते ही आस पास से लोगों ने घायल छात्रों को नजदीकी अस्पताल पहुंचाया गया। बताया जा रहा है कि केरल के एमईएस आर्टस एंव कालेज छतमंगलम कालीकट जिला के छात्रों ने बस को हायर किया हुआ था। और न्यू इयर मनाने के लिए मनाली जा रहे थे। जब उक्त स्थान पर पहुंचे तो बस का टायर पंचर होने के कारण चंडीगढ मनाली नेशनल हाईवे पर बस अनियंत्रित होकर सड़क पर पलट गई। हादसें में कए छात्रा की बाजू टूटी है व एक लड़की की बाजू में काफी चेटे आर्ठ है हादसे में तीन छात्रों की हलात देखते हुए पीजीआई चंडीगढ रेफर कर दिया गया है।


पक्ष-विपक्ष का दायित्व अमन कायम करें

प्रयागराज। पुरी पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी श्री अधोक्षजानंद देव तीर्थ जी महाराज ने कहा कि केन्द्र सरकार एवं विपक्ष की यह जिम्मेदारी है कि देश में अमन चैन कायम रहे।


दोनो को मिलजुल कर कार्य करना चाहिए। आरोप प्रत्यारोप से देश का माहौल खराब हो रहा है। यह देश हित में नही है। उक्त बातें शंकराचार्य ने आज माघमेला क्षेत्र में त्रिवेणी मार्ग स्थित शिविर के भूमि पूजन के अवसर पर कही।


स्वामी जी ने कहा कि विपक्ष विरोधी दल का होने के कारण सिर्फ विरोध न करे । वह भी आम जनता के प्रति उसी तरह जिम्मेदार है।केन्द्र सरकार का भी दायित्व है कि वह जाति धर्म से उठकर सबके प्रति समान भाव से कार्य करे। किसी भी समुदाय के मन में यह नहीं । होना चाहिए कि उसके हितों की रक्षा नहीं हो रही है । उन्होंने कहा कि नागरिकता संसोधन बिल को लेकर अल्पसंख्यक समुदाय के मन में अनेक प्रकार की भ्रान्तियाँ है इसे दूर किया जाना चाहिए। सरकार विपक्ष के साथ बात करे जरूरी हो तो इस बिल पर पुनर्विचार करे।
इसके पूर्व दोपहर 1:00 बजे वैदिक मन्त्रोच्चारण के साथ विद्वानों के समूह ने भूमि पूजन सम्पन्न कराया इस अवसर पर शक्तिपीठाधीश्वर स्वामी शारदानंद सरस्वती, आचार्य छोटेलाल मिश्र, बारकौंसिल के सदस्य वरिष्ठ अधिवक्ता अमरेन्दरनाथ सिंह, संयुक्त रजिस्ट्रार हाईकोर्ट हेमसिंह, पूर्व प्रशासनिक अधिकारी जितेन्द्र प्रसाद, भाजपा नेता देवानंद त्रिपाठी रमेश पांडेय कमलाकांत मिश्र आदि उपस्थित थे।


सपा विधायको ने साइकिल से विरोध किया

सपा विधायको ने साइकिल से विधान सभा पहुँचकर एनआरसी व CAA का विरोध दर्ज कराया । 


लखनऊ। समाजवादी पार्टी  के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव  ने आज एक बार फिर बीजेपी सरकार पर निशाना साधा. सपा विधायकों को विधानसभा के लिए साइकिल से रवाना करने के बाद अखिलेश ने कहा कि बीजेपी अपने बहुमत की ताकत से लोकतंत्र को कुचल रही है। आप नागरिकता धर्म के आधार पर देना चाहते हैं। CAA, NRC, और NPR के विरोध में ये साइकिल यात्रा है। सरकार नाकामी छिपाने के लिए नए नए शिगूफे लाती है। जब आधार में सारी जानकारी है तब NPR की ज़रूरत क्या है? ये नाश करने वाली सरकार है।
अखिलेश यादव ने कहा "आप नागरिकता धर्म के आधार पर देना चाहते हैं, आप चाहते हैं कि मुसलमानों का नागरिकता न मिले। बीजेपी तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है। क्या असम और पूर्वोत्तर के लोग इस कानून से खुश हैं? आधार में सब मौजूद है। समाजवादी पार्टी सीएए, और एनआरसी और एनपीआर का विरोध करती है। भारत की अर्थव्यवस्था का नाश हो गया है. बैंकिग सिस्टम डूबा दिया। अपने लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए आप ऐसा कर रहे हैं ।
देश का रंग तिरंगा ही रहेगा
भगवा पर बोलते हुए अखिलेश ने कहा, "पता नहीं कहां पर खलबली मची है. किसी का अधिकार थोड़े ही है। केवल रंग बदलने के लिए ऐसा किया जा रहा है। भगवा में ऐसा क्या है? पीताम्बर रंग भी है, लेकिन देश का रंग तिरंगा ही रहेगा। जाति के आधार पर जनगणना होनी चाहिए, ताकि अबादी के आधार पर सबको अधिकार मिले।"


अखिलेश यादव ने आगे कहा कि विधायक खुद जाना चाहते थे साइकिल से आगे भी साइकिल चलेगी। साल का अंत हो गया है। नए साल में अपने पापों की माफी मांगें नहीं तो जनता सजा देगी। पूरे यूपी की जनता जानती है कि कानून व्यवस्था इनके हाथ में नहीं हैं। निवेश नहीं आ रहा है इसलिए एनपीआर आ रहा है। निवेश नहीं आया इसलिए एनआरसी आ रहा है। हमारे देश की पहचान खराब हो रही है। देश की बदनामी हो रही है। कोई ग्लोबल निवेश नहीं आएगा।


इसी वर्ष गिर जाएगी इमरान की सरकार

इस्लामाबाद। जमीयते उलेमा-ए-इस्लाम-एफ (जेयूआई-एफ) के नेता मौलाना गफूर हैदरी ने कहा है कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार के दिन गिने-चुने रह गए हैं, क्योंकि लोग इस चयनित (सेलेक्टेड) शासन से तंग आ चुके हैं। सीनेट के पूर्व उपाध्यक्ष ने पार्टी की एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि देश में उद्योग बंद हो रहे हैं और अर्थव्यवस्था ध्वस्त होने की कगार पर है। हैदरी ने कहा कि लाखों लोगों ने अपनी नौकरी खो दी है। उन्होंने कहा, "वर्ष 2020 में इस चयनित सरकार का अंत हो जाएगा।"


जेयूआई-एफ नेता ने कहा कि पीटीआई सरकार चुनावों में हेर-फेर करके सत्ता में आई है और वह देश को नहीं चला सकती है, क्योंकि संघीय मंत्रिमंडल के अधिकांश सदस्य लोगों के लिए काम करने के बजाय झूठे दावे करने में लिप्त हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान ने दावा किया था कि 2020 नौकरियों का वर्ष होगा, जबकि उनके कार्यकाल में लाखों बेरोजगार हो गए हैं। हैदरी ने राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) के अध्यक्ष न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) जावेद इकबाल से भ्रष्टाचार में लिप्त सत्ता पक्ष के लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया. उन्होंने कहा, "पीटीआई सरकार के राजनीतिक अत्याचार के लिए एक हथियार बनने के बजाए एनएबी को तटस्थ रहने की जरूरत है।"


हैदरी ने कहा कि रक्षा मंत्री परवेज खट्टक खैबर-पख्तूनख्वा की बड़ी परियोजनाओं में भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं, लेकिन एनएबी मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई करने में असमर्थ है। वहीं बलूचिस्तान से पीटीआई के नेता बाबर यूसुफजई ने कहा है कि उनकी पार्टी की सरकार विपक्ष के दावों के विपरीत अपने पांच साल के कार्यकाल को पूरा करेगी। उन्होंने कहा, "पाकिस्तान के लोगों ने पिछले आम चुनावों में प्रधानमंत्री इमरान खान पर भरोसा किया लेकिन कुछ राजनेता इस ईमानदार सरकार को पचा नहीं पा रहे हैं।


नशे में किया ड्रामा तो होगी कड़ी कार्रवाई

नई दिल्ली। आज पूरी दुनिया साल 2019 को अलविदा कहेगी और 2020 का स्वागत करेगी। राजधानी दिल्ली पुलिस ने नए साल के जश्न के मद्देनजर सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। व्यवस्थित तरीके से नया साल मनाने के लिए बाजारों और शॉपिंग मॉल से लेकर रेस्तरां, पब और बार के आसपास के क्षेत्र में पुलिस की मजबूत उपस्थिति होगी।


नशे में ड्रामा किया तो खैर नहीं


पुलिस ने नशे में हु़ड़दंग और ड्राइविंग करने वालों पर सख्त कार्रवाई की चेतावनी भी दी है। दिल्ली पुलिस प्रवक्ता अनिल मित्तल ने बताया कि एहतियात के तौर पर सभी पीसीआर वैन, रफ्तार मोटरसाइकिल और प्रखर वैन को संवेदनशील जगहों पर तैनात किया जाएगा। इसके अलावा पुलिस संवेदनशील जगहों पर गश्त भी करेगी।


मित्तल ने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था और शांति बनाए रखने के लिए दिल्ली पुलिस बल में अतिरिक्त कर्मियों को भी तैनात किया जाएगा। सार्वजनिक स्थानों पर हंगामा करने वालों से लेकर सड़कों पर नशे में ड्राइविंग करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा और इन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।


महिला पुलिसकर्मियों की भी होगी तैनाती


उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस विभिन्न स्थानों पर चेकपोस्ट लगाकर चेकिंग करने के साथ ही गश्त भी करेगी। ट्रैफिक पुलिसकर्मी एक-एक करके गाड़ियों की भी जांच करेंगे। महिलाओं के सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए विशेष रूप से नई दिल्ली जिले में महिला पुलिसकर्मियों की एक टुकड़ी तैनात की जाएगी।


9 बजे तक ही खुला रहेगा राजीव चौक मैट्रो स्टेशन


कनॉट प्लेस और इंडिया गेट से लगते कई क्षेत्रों में ट्रैफिक पर प्रतिबंध होगा। वहीं कई जगहों पर इसे नियंत्रित करने के लिए विशेष इंतजाम भी किए जाएंगे. दिल्ली पुलिस ने लोगों के लिए एक एडवाइजरी भी जारी की है, जिसमें कहा गया है कि लोग नए साल का जश्न मनाने के लिए किसी भी तरह की हुड़दंगबाजी और नशे में ड्राइविंग न करें। वहीं डीएमआरसी ने बताया है कि आज राजीव चौक मेट्रो स्टेशन रात 9 बजे तक ही खुला रहेगा।


नीतीश का प्रेम 'जयंती राजकीय समारोह'

खुशबू गुप्ता


पटना। नीतीश सरकार का जेटली प्रेम एक बार फिर से देखने को मिला है। तीन दिन पहले पटना में पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व अरुण जेटली की प्रतिमा का अनावरण करने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार में जेटली की जयंती राजकीय समारोह के तौर पर मनाने का फैसला किया है। जेटली की जयंती राजकीय समारोह के तौर पर मनाए जाने के प्रस्ताव को राज्य कैबिनेट ने अपनी स्वीकृति भी दे दी है। अब हर साल 28 दिसंबर को इसका आयोजन किया जाएगा।


अरुण जेटली मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जाते थे। आपको बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जेटली के निधन के बाद ही इस बात के संकेत दे दिए थे कि पटना में उनकी प्रतिमा लगाई जाएगी और अब उनके निधन के 6 महीने के भीतर ही जेटली की प्रतिमा पटना में लगा दी गई है। नीतीश कुमार ने जेटली को उनकी पार्टी से पहले ही श्रद्धांजलि दे दी है। इसके साथ ही अब बिहार सरकार हर साल राजकीय समारोह के तौर पर जेटली की जयंती मनाएगी। 


आपको बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बाद बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय वित्त मंत्री रहे अरुण जेटली की प्रतिमा पटना में लगाई गई है।  पटना के कंकड़बाग पार्क नंबर-31 में अरुण जेटली की प्रतिमा लगाई गई है। अरुण जेटली का इसी साल 24 अगस्त को निधन हो गया था। पटना में लगाया गया उनका स्टेच्यू जेटली की पहली प्रतिमा है।


'सनबर्न फेस्टिवल' बना मौत का त्यौहार

पणजी। गोवा में चल रहे मशहूर सनबर्न फेस्टिवल में ईडीएम (इलेक्ट्रॉनिक डांस म्यूजिक) में एक और पर्यटक की मौत हो गई है। पर्यटक ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इसके साथ फेस्टिवल के दौरान मरने वालों की संख्या बढ़कर तीन हो गई है। इसने एक फेस्टिवल के दौरान उपलब्ध होने वाले ड्रग्स को लेकर राजनीतिक बहस शुरू कर दी है। रविवार शाम को जिस पर्यटक की मौत हुई उसका नाम संदीप कोट्टा है जो बंगलूरू का रहने वाला था। वह गोवा के वागेटर बीच पर बेहोश हो गया था। जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया। पुलिस का कहना है कि अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि कोट्टा ने बेहोश होने से पहले बेचैनी की शिकायत की थी।


कोट्टा से पहले ईडीएम म्यूजिक स्थल में दो लोगों की मौत हो चुकी है। फेस्टिवल के पहले दिन आंध्र प्रदेश के रहने वाले दो दोस्त साईं प्रसाद मलयाला और वेंकट सत्यानारायण उस समय बेहोश होकर गिर गए थे जब वह फेस्टिवल के अंदर प्रवेश करने के लिए लाइन में खड़े थे। अस्पताल पहुंचने पर उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस को फिलहाल मौत की असल वजह का पता नहीं चला है लेकिन इसपर विवाद शुरू हो गया है। ऐसे में हम आपको बताते हैं कि सनबर्न फेस्टिवल क्या होता है।


क्या है सनबर्न फेस्टिवल


एशिया के सबसे बड़े म्यूजिक फेस्टिवल्स में से एक है- सनबर्न फेस्टिवल। हर साल 28 दिसंबर से 31 दिसंबर तक होने वाले इस फेस्टिवल में सबसे ज्यादा सैलानी आते हैं। सैलानियों में विदेशी भी शामिल होते हैं। यह फन और इंटरटेनमेंट से भरा इवेंट होता है। बड़ी संख्या में युवा नए साल का जश्न मनाने इस फेस्टिवल में पहुंचते हैं। इस फेस्टिवल में कई तरह के एडवेंचरों के साथ शराब पीना आम बात होती है।


सनबर्न फेस्टिवल में क्या होता है खास


डीजे और बैंड म्यूजिक: सनबर्न फेस्टिवल दुनिया के बेहतरीन म्यूजिक फेस्टिवलों में से एक है। इस फेस्टिवल में कई देशों से बैंड ग्रुप और डीजे ग्रुप पहुंचते हैं। युवा यहां लोक संगीत से लेकर रॉक म्यूजिक तक का आनंद उठाते हैं।


ऐक्वा रोलिंग: इस फेस्टिवल में ऐक्वा रोलर के बीच रोलिंग करना बेहद मजेदार अनुभव होता है। पूल में कूदने का मजा मिलता है।


ट्विन साइकिलिंग: सनबर्न फेस्टिवल में लोग ट्विन साइकिलिंग का आनंद उठाते हैं। इस मजेदार साइकिल पर खासकर प्रेमी युवा जोड़े एक साथ राइडिंग करते हैं। एलइडी लाइट्स से कवर इस साइकिल को दो साथी पैडल मार कर चलाते हुए घूमते हैं।


जंपिंग कासल: बाउसिंग कासल का मजा बच्चे ही नहीं, बड़े भी ले सकते हैं। इस फेस्टिवल में करीब 300 मीटर के मॉन्स्टर कासल पर कूदने का अलग ही आनंद होता है।


गुब्बारे में भ्रमण: हॉट एयर बैलून में घूमना यहां रोमांचक होता है। एडवेंचर पसंद लोग इसका मजा लेना नहीं भूलते। इसके अलावा फुटबॉल से गोल पर किक करने का भी गेम कराया जाता है।


नए सेना प्रमुख 'मनोज नरवणे' ने पद संभाला

नई दिल्ली। भारतीय सेना के नए प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने आज औपतारिक तौर पर कमान संभाल ली है। महाराष्ट्र से ताल्लुक रखनेवाले नरवणे को मुश्किल मोर्चे पर सफलता और बेहतरीन नेतृत्व क्षमता के लिए जाना जाता है। इसके साथ ही नए आर्मी चीफ अपने सहकर्मियों और स्टाफ के बीच साफ छवि और अच्छे व्यवहार के कारण काफी लोकप्रिय हैं। चीन के साथ जुड़े सुरक्षा मामलों पर भी जनरल नरवणे की मजबूत पकड़ है। जानें देश के नए सेना प्रमुख का सफरनामा…


त्यागी 'साधु-महात्मा' भी कुर्सी से चिपके

प्रमोद मिश्रा


रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर करारा जुबानी प्रहार किया है। अपने उड़ीसा प्रवास के पहले रायपुर में पत्रकारों से चर्चा करते मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भगवा रंग पर छिड़े राजनीतिक बहस पर बोल रहे थे। 
इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पहनावे को लेकर कहा कि योगी आदित्यनाथ भगवा कलर तो पहनते हैं, लेकिन जो साधु संतों में त्याग तपस्या की भावना दिखती है, वह बिल्कुल भी योगी आदित्यनाथ में नजर नहीं आती। 
उल्टे योगी आदित्यनाथ तो एक तरफ जहां कुर्सी का मुंह रखकर कुर्सी से चिपके हुए हैं। वहीं दूसरी ओर वह उत्तर प्रदेश में जातिवाद और हिंसा फैला रहे हैं। सीएम भूपेश बघेल के इस बयान के बाद पूरे देश की राजनीति तेज हो सकती है।


मंदिर गए कलेक्टर को युवकों ने पीटा

बिलासपुर। भनवारटंक स्थित मरहीमाता मंदिर दर्शन करने गए बिलासपुर के डिप्टी कलेक्टर के साथ चार युवकों ने मारपीट कर दी। आदतन बदमाश आरोपित जबरदस्ती रुपये की मांग कर रहे थे। सूचना पर कोटा पुलिस ने चारों युवकों के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया है। बीते रविवार को 27 खोली निवासी डिप्टी कलेक्टर एआर टंडन पिता विष्णुदास टंडन अपने परिवार और रिश्तेदारों के साथ मरहीमाता मंदिर दर्शन करने भनवारटंक गए थे। मंदिर से कुछ दूर प्रसाद के रूप में बकरे की सब्जी बनाने लगे। दोपहर तकरीबन साढ़े तीन बजे उनके पास चार युवक पहुंचे और पैसे मांगने लगे। इस पर एआर टंडन ने मना कर दिया। तब चारों युवकों ने मिलकर उनकी पिटाई कर दी। इसके बाद वे फरार हो गए। मारपीट करने वालों में रामकुमार गिलहरे, अमित गिलहरे, दीपक गिलहरे, गोलू गिलहरे शामिल हैं। आरोपित हमेशा मंदिर आकर दर्शनार्थीयों से मारपीट, गुंडागर्दी करते हैं। यहां खुलेआम शराब भी बेचते हैं। चारों आरोपित अवैध रूप से पैसा वसूलते हैं। इसकी सूचना कोटा पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही पुलिस चारों आरोपितों के खिलाफ मारपीका मामला धारा 327-IPC, 34-IPC, 294-IPC, 506-IPC, 323-IPC  के तहत मामला दर्ज कर पुलिस मामले की जांच में जुट गई।


प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

यूनिवर्सल एक्सप्रेस    (हिंदी-दैनिक)


जनवरी 01, 2020, RNI.No.UPHIN/2014/57254


1. अंक-147 (साल-01)
2. बुधवार, जनवरी 01, 2020
3. शक-1941, पौष - शुक्ल पक्ष, तिथि- पंचमी, संवत 2076


4. सूर्योदय प्रातः 07:15,सूर्यास्त 05:37
5. न्‍यूनतम तापमान -4 डी.सै.,अधिकतम-14+ डी.सै., शीत लहर के साथ बरसात की संभावना।
6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा।
7. स्वामी, प्रकाशक, मुद्रक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित।


8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102


9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.,201102


https://universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
cont.935030275
 (सर्वाधिकार सुरक्षित)


 


जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी मिलनी चाहिए

अविनाश श्रीवास्तव    पटना। केंद्रीय मंत्रिमंडल के विस्तार और उसमें जनता दल यूनाइटेड के शामिल होने की अटकलों के बीच जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिं...