बुधवार, 14 अप्रैल 2021

'रूस' ने भारत को विश्वसनीय सहयोगी बताया

नई दिल्ली/ मास्को। भारत को एक विश्वसनीय सहयोगी बताते हुए रूस ने बुधवार को कहा, कि दोनों देशों के बीच कोई मत भिन्नता या गलतफहमी नहीं है और स्वतंत्र संबंधों के आधार पर उसका पाकिस्तान के साथ सीमित सहयोग है। रूसी मिशन के उप प्रमुख रोमन बाबुश्किन ने हाल ही में भारत और पाकिस्तान की नियंत्रण रेखा पर 2003 के संघर्ष विराम समझौते का सख्ती से पालन करने की प्रतिबद्धता का स्वागत किया और कहा कि यह क्षेत्रीय स्थिरता के लिये बेहद महत्वपूर्ण कदम है। बाबुश्किन के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में रूसी राजदूत निकोलाई कुदाशेव ने पश्चिमी देशों की हिन्द प्रशांत रणनीति की आलोचना करते हुए इसे खतरनाक और शीत युद्ध की मानसिकता को उभारने का प्रयास बताया। वहीं, बाबुश्किन ने कहा कि अफगानिस्तान के मुद्दे पर क्षेत्रीय आम सहमति बनाने की प्रक्रिया में भारत को हिस्सा होना चाहिए तथा अफगान शांति प्रक्रिया को लेकर नई दिल्ली और मास्को का रूख समान है।

लोगों को उनके हाल पर छोड़ देने का आरोप लगाया

अकांशु उपाध्याय                     

नई दिल्ली। कांग्रेस ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कोविड-19 महामारी की स्थिति से निपटने में लापरवाही बरतने और लोगों को उनके हाल पर छोड़ देने का आरोप लगाते हुए कहा, कि अब उन्हें राजधर्म का पालन करना चाहिए। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह दावा भी किया, कि देश में कोविड रोधी टीके और दूसरे चिकित्सकीय उपकरणों की भारी कमी है। लेकिन सरकार के मंत्री सिर्फ विपक्षी नेताओं पर हमले बोलने में लगे हैं। उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के आंकड़े डरावने हैं। यह अप्रत्याशित है। मोदी सरकार ने लोगों को उनके हाल पर छोड़ दिया है। उनकी तरफ से लापरवाही बरती जा रही है। एक साल का समय मिलने के बावजूद, उसने इस महामारी से निपटने के लिए जरूरी प्रबंध नहीं किए।



राजस्थान के सभी शहरों में कर्फ्यू लगाने की घोषणा

नरेश राघानी          

जयपुर। राजस्थान सरकार ने प्रदेश के सभी शहरों में 16 अप्रैल से 15 दिन के लिए शाम छह बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है। राज्य सरकार ने कोरोना के मामले बढ़ने के बाद आज प्रदेश में 30 अप्रैल तक के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी है।नई गाइडलाइन मे प्रदेश के सभी शहरों में शाम छह बजे से सुबह छह बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है। शहरी क्षेत्रों में शाम पाच बजे से बाजार बंद करने होंगे। इस बीच प्रदेश में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड़ की कक्षा दसवीं एवं 12वीं बोर्ड़ की परीक्षा स्थगित कर दी गयी है।

यूपी बोर्ड परीक्षा की तिथियों में होगा बदलाव: दिनेश

हरिओम उपाध्याय             

लखनऊ। बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच यूपी बोर्ड परीक्षा की तिथियों में बदलाव किया जाएंगा। लेकिन नई तिथि क्या होगी, इस पर जल्द ही घोषणा की जायेगी। इस बात की जानकारी देते हुए उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि नई तारीखों का जल्द ऐलान किया जायेगा। सीबीएसई बोर्ड के निर्णय के बाद उनसे यूपी बोर्ड परीक्षा की तारीखों में परिवर्तन को लेकर एक सवाल पूछा गया था। जिसके बाद उन्होंने अपना जवाब दिया। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने सभी मंत्रियों व अधिकारियों को निर्देश दिया है कि हर मंत्री अपने प्रभार वाले जिलों की मॉनिटरिंग करेगा। मंत्री लगातार वहां के जिला प्रशासन व जनप्रतिनिधियों के साथ संपर्क में रहेंगे। अभी आठ मई से यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा होनी है।

जिला प्रशासन ने चुनावी तैयारियों का जायजा लिया

अश्वनी उपाध्याय         

गाजियाबाद। बृहस्पतिवार को होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जिला पुलिस और प्रशासन ने सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। चुनाव प्रक्रिया में करीब साढ़े पांच हजार से अधिक पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। व्यवस्था बनाए रखने के लिए बाहरी जिलों से भी फोर्स गाज़ियाबाद पहुँच गई है और सभी मतदान केंद्र व बूथों पर पुलिस की तैनाती हो चुकी है। एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि जिले के संवेदनशील 70 व अतिसंवेदनशील 42 मतदान केंद्रों पर पुलिस की विशेष निगाह रहेगी और यहां अतिरिक्त पुलिसबल की तैनाती की जाएगी। आपको बता दें कि गाज़ियाबाद में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण (15 अप्रैल) को ही मतदान होगा। जिले में 311 मतदान केंद्र स्थित 958 पोलिंग बूथ पर मतदान होगा। जिसमें 5 लाख से अधिक मतदाता मतदान करेंगे। इसके मद्देनजर बुधवार को पोलिंग पार्टियां मतदान केंद्र के लिए रवाना हो रही हैं। गोविंदपुरम स्थित अनाज मंडी से उनको रवाना करने के लिए व्यवस्था की गई है।

अंबेडकर-ज्योतिबा की जयंती को धूमधाम से मनाया

मेरठ। बहुजन मुक्ति पार्टी के कार्यकर्ताओं ने डॉ. बाबा भीमराव अंबेडकर व राष्ट्रपिता ज्योतिबा फुले की जयंती को बड़े धूमधाम से गांव-गांव शहर-शहर मनाया।इसी मौके पर बहुजन मुक्ति पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी एवं मेरठ मंडल अध्यक्ष आर डी गादरे ने अपने वक्तव्य में कहा, कि राष्ट्रपिता महात्मा ज्योतिबा फुले एवं महामानव डॉक्टर बाबा भीम राव अंबेडकर साहब या महापुरुषों को दूध से नहलाने या ढकोसला आडंबर बाजी दिखावा से बेहतर है कि उनके बताए दिशा निर्देश पर शिक्षा प्राप्त कर शिक्षित हो, संगठित हो। संघर्ष करे की नीति पर चलकर समाज के लिए कार्यरत रहे ना कि पत्थर पूजा आडंबर बाजी मूर्तियों को दूध से नहलाना यह दिखावा ना करके आज के दिन हम लोग सफर में कि आने वाले वक्त में हम लोग इन चीजों से दूर रहकर बाबा साहब की अपने महापुरुषों की इज्जत कराने हेतु भारतीय संविधान की रक्षा हमेशा करेंगे और करवाते रहेंगे मनुस्मृति को भारत देश में स्थापित नहीं होने देंगे।
बाबा साहब के अनुयाई 14 अप्रैल पर दिमाग की खुराक देते हैं। जबकि, जो बाबा साहब की बात नहीं मानते और बाबा साहब को मानते हैं। वह भंडारा आदि लगाकर पेट की खुराक देते हैं। अगर बाबा साहब भी बहुजन समाज को दिमाग की खुराक नहीं देते तो आज उन्हें अधिकार संपन्न नहीं करा पाते लोगों की समझ में आज तक बाबा साहब की सिंपल से सिंपल बातें भी नहीं आ पाई हैं। यह दुखद है। जबकि, बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर साहब ने कहा था कि शिक्षित बनो, संगठित बनो और संघर्ष करो। बहुजन समाज शिक्षित होने का मतलब केवल एकेडेमिक शिक्षा से समझ बैठा। जबकि, सामाजिक शिक्षा एकेडमिक शिक्षा के साथ-साथ होती है तो ही शिक्षा पूर्ण मानी जाएगी और बाबा साहब ने अपने चरित्र द्वारा इस को सिद्ध किया है। राष्ट्रपिता महात्मा ज्योतिबा फूले को अपना गुरु मानते हैं। संगठित होने से मतलब अलग-अलग संगठन बनाकर ताकत का खंडन करना नहीं है। बल्कि, एक मंच पर आकर एक संगठन के साथ मिलकर ताकत का निर्माण करने से है। उसके बाद संघर्ष करना का मतलब है कि अपनी मूलनिवासी बहुजन समाज आजादी के लिए संघर्ष करने के सम्बंध में है।
यह तीनों शिक्षित बनो, संगठित बनो और संघर्ष करो का मतलब होता है। लेकिन, बहुजन समाज इन नारों को आज तक नहीं समझ पाया है। बहुजन समाज बाबा साहब के बताए हुए रास्तों पर चलेगा और अपनी संपूर्ण आजादी के लिए समय श्रम बुद्धि हुनर पैसा लगाएगा इस आशा और विश्वास के साथ आप सभी मूलनिवासी बहुजन समाज के लोगों को बाबा साहब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं देने में आरडी गादरे खुर्शीद आलम दिनेश कुमार रोहतास जाटव मुकेश वाल्मीकि, मोहम्मद आसिफ, एडवोकेट आवेश सैफी, सुखदेव सिंह, गुरमेज सिंह, सत्येंद्र गौतम, प्रथमेश कामले, गीता पैट्रिक, मनोज कुमार, रहीमुद्दीन धीरेंद्र गुर्जर, महेश वाल्मीकि, प्रवीण वाल्मीकि, मनीष कश्यप दीन, मोहम्मद सलमानी, आजाद खान, ओमवीर सिंह, महताब आलम, इकबाल सैफी, मिथिलेश जाटव, डॉ खुर्शीद चौधरी, नूर मोहम्मद सैफी, इरफान मलिक, चौधरी इतिहास आदि मौजूद रहे।

अंबेडकर की जयंती पर चलाया 'स्वच्छता' कार्यक्रम

कौशाम्बी। डॉक्टर भीमराव आंबेडकर जयंती के उपलक्ष्य पर जल शक्ति अभियान अंतर्गत आयोजित स्वच्छता कार्यक्रम कड़ा के कुबरी घाट पर चलाया गया। जिसमे सर्व प्रथम डॉक्टर भीम राव अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। उसके बाद जिला युव जन अधिकारी समीम बेगम को समाज सेवी विनय कुमार पांडेय ने अंग वस्त्र भेंट कर स्वागत किया। उसके बाद स्वच्छता अभियान चलाया गया। जिसके मुख्य अतिथि वरिष्ठ समाज सेवी अतहर अब्बास विशिष्ट अतिथि दरानगर कड़ा धाम नगर पंचायत अधिकारी, मनीष वर्मा कार्यक्रम की अध्यक्षता में जिला युवा अधिकारी नेहरू, युवा केंद्र शमीम बेगम, कार्यक्रम संस्था अध्यक्ष विनय कुमार पांडेय, संस्था सदस्य अमित कुमार, निषाद अफसर अहमद, ओम शंकर साहू, सिराथू दीपेंद्र अग्रहरि, कड़ा ड्यूटी पर तैनात हेड कांस्टेबल राम सबद ,दिनेश गौतम सुरेंद्र, गौतम प्रमोद निषाद आदि तमाम लोग उपस्थित रहे।
विजय कुमार 

अंबेडकर के नाम पर बनेगीं यूनिवर्सिटी, घोषणा की

राणा ओबराय          
जालंधर। विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारियों में सभी राजनीतिक दल जुटे हुए हैं। इन्हीं तैयारियों के बीच बड़े बड़े ऐलान भी शुरू हो गए हैं। आज बुधवार को शिअद प्रधान सुखबीर बादल ने भी बड़ी घोषणा की। बाबा साहेब डॉ. भीम राव अंबेडकर को श्रद्धासुमन अर्पित करने जालंधर पहुंचे सुखबीर बादल ने कहा कि अगर पंजाब में शिअद की सरकार बनी तो उपमुख्यमंत्री का पद दलित परिवार के सदस्य को दिया जाएगा। इसके अलावा उन्होंने घोषणा की कि दोआबा में डा. भीम राव अंबेडकर के नाम पर यूनिवर्सिटी बनाई जाएगी। सुखबीर बादल ने कहा कि पंजाब के विकास में अनुसूचित जाति का जो योगदान है। उसे कभी भुलाया नहीं जा सकता। सुखबीर बादल ने विधानसभा चुनाव से पहले अनुसूचित जाति के लोगों को पार्टी के साथ जोडऩे की कोशिश की है। सुखबीर सिंह बादल ने कहा है कि साल 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए कई राजनीतिक दलों से बात चल रही है और अगर विचार मिले तो गठबंधन के तहत चुनाव लड़ेंगे।

अंबेडकर जयंती के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन

गोपीचंद              
बागपत। बुधवार को सविधान निर्माता परमपूजनीय डॉ. भीमराव अंबेडकर जयंती के अवसर पर कल्याण भारती सेवा संस्थान के कार्यालय आजाद नगर बड़ौत बागपत में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें संस्थान के प्रबंध निदेशक गोपीचन्द सैनी वह सभी उपस्थिय सदस्यों ने दीप प्रज्जलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए गोपी चंद सैनी ने भारतीय संविधान में आम जन के मोलोक अधिकारों पर प्रकाश डालते हुए जागरूक किया और कहा डॉ. भीमराव अम्बेड को विधि द्वारा भारत रत्न की उपाधि से सम्मानि किया गया है। अतः उनको किसी जाति विषेस से जोड़कर सम्भोधित करना अज्ञानता और हीनभावना से ग्रस्त होने ही समझा जा सकता है। भीमराव अंबेडकर भारत के एक शिक्षित बुद्धिजोवि वर्ग से हैं और भारतीय वर्ण व्यवस्था के अनुसार भी वह उच्च वर्ण के व्यक्ति है।
वर्ण व्यवस्था का अधुरा ज्ञान भारतीय समाज के लिये एक कोढ़ के समान है। जिससे भारतीय समाज गर्क के गहरे गड्ढ़े में गिरता चला जारहा है। आज समाज मे हरेक व्यक्ति नेता है। परंतु सामाजिक व जनता की समस्याओं का प्रतिनिधित्व करने के लिये कोई नेता नहीं है। कर्यक्रम में उपस्थित राजीव कुमार ने बाबा साहब अम्बेडर के कार्यों को लेकर अपने प्रभाव शैली विचार रखे और प्रशिक्षण संस्थान की प्रभारी सिमा गगनिया वह चन्दप्रभा ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि व्यक्ति की समस्याओं का समाधन व्यक्तियों के आपसी सहयोग से ही हल होगा। किसी अन्य व्यवस्था से नहीं उसके लिए हमे संगठित होने आवश्यक है और नरेंद्र कुमार व सचिन सैनी ने अपने विचार रखते हुए वर्तमान सामाजिक समस्याओं वह बढ़ते आपराधिक ग्राफ पर चिंता व्यक्त की। कार्यक्रम में उपस्थित रहें: नरेंद्र कुमार, सचिन सैनी, राजपाल सैनी, प्रमोद कुमार, विनीत कुमार, नीतू जैन, राजीव कुमार वह अन्य उपस्थित रहें।

डीएम की लोगो को जागरूक करने के संबंध में बैठक

बृजेश केसरवानी             
प्रयागराज। जिलाधिकारी भानु चन्द्र गोस्वामी ने पुलिस लाइन के सभागार में विभिन्न धर्मों के गुरूओं के साथ कोरोना प्रसार को रोकने में सहयोग प्रदान करने तथा लोगो को जागरूक किये जाने के सम्बंध में बैठक की। उन्होंने धर्मगुरूओं से अपने संस्थानों, मंदिरों, मस्जिदों, गुरूद्वारों में आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या को कम से कम करने हेतु अपने लोगो से अपील करें। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने की हम सब की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि अस्पतालों की संख्या सीमित है, क्योंकि सतर्कता से ही बचाव संभव है। उन्होंने कहा कि प्रशासन के साथ-साथ आप सबकी जिम्मेदारी है कि अपने स्तर से कोरोना के बढ़ते खतरे को रोकने का प्रयास करें। उन्होंने कहा कि आप सभी लोगो से अपील करें कि लोग कम से कम संख्या में धार्मिक कार्यक्रमों में भाग लें एवं घर में ही पूजा-अर्चना इबादत करें। लोग मास्क का प्रयोग करें एवं उचित दूरी बनाये रखें। उन्होंने कहा कि आपका प्रबंधन इस बात का ध्यान रखे कि प्रतिष्ठानों के बाहर लंबी लाइनें न लगे। इसके लिए लोगो को श्रद्धालुओं से अपील करना चाहिए। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी संवेदनशील मौको पर आप लोगो का सहयोग प्रशासन को मिला है। इस बार भी आप सब का पूर्ण सहयोग मिलता रहे, यही अपेक्षा है। आप सभी के सहयोग से इस बार भी हम इस बीमारी से जिले के लोगो को सुरक्षित रखने में अवश्य सफलता प्राप्त करेंगे। पुलिस उपमहानिरीक्षक/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रयागराज सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने कहा कि प्रशासन तो मास्क एवं दूरी का पालन सुनिश्चित करता ही रहा है। परंतु आप लोगों से भी सहयोग जरूरी है। 

हापुड़: धूमधाम से मनाईं गई अंबेडकर की जयंती

अतुल त्यागी            
हापुड़। जनपद में बाबा भीमराव अंबेडकर की 130वीं
जयंती बड़े धूमधाम से मनाई जा रही है। मगर, इस उत्साह में एक महत्वपूर्ण बात को भूले हुए हैं, वह है कोरोना। कोरोना इस वक्त पूरे देश में फैल रहा है। सैकड़ों लोगों की रोजाना कोरोना की वजह से मौत हो रही है।
और पूरे देश में इस कोरोना की वजह से ही फिर से लॉकडाउन के संकेत मिल रहे हैं। आज बुधवार को बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की जयंती पर कोरोना की गाइडलाइन बिल्कुल भी देखने को नहीं मिली।
हजारों लोगों की भीड़ वह भी बिना सोशल डिस्टेंसिंग के चिपके हुए ना ही फेस पर मास्क ना ही शारीरिक दूरी यह हजारों लोगों की भीड़ में कौन-कौन आ पॉजिटिव है।
किसी को नहीं पता, अगर इस हजारों की भीड़ में एक भी कोरोना पॉजिटिव हुआ तो जनपद के लिए बहुत बड़ी परेशानी की बात हो सकती है। उत्साह के साथ-साथ कोरोना के नियमों का भी पालन करना चाहिए। केवल, इसी लापरवाही की वजह से एक बार फिर से देश भारत का जिला जनपद हापुड़ में कोरोना का प्रकोप फैल चुका है और इसी प्रकोप की वजह से नाइट कर्फ्यू भी लग चुका है। अगर इसी तरह भीड़ इकट्ठी होती रही चेहरे पर मास्क ना हुआ शारीरिक दूरी नहीं हुई तो कोरोना जनपद हापुड़ में किस कदर प्रचंड तांडव मच आएगा।
इस बात का अंदाजा आप इन तस्वीरों में देख कर लगा सकते हैं। जयंती मनाना अच्छी बात है, मगर कोरोना संक्रमण से बचाव करना बहुत ज्यादा जरूरी है।
क्योंकि भीड़ में कौन कोरोना पॉजिटिव है इस बात का किसी को भी नहीं पता। प्रशासन लोगों को लगातार जागरूक कर रहा है। प्रशासन हर वह संभव प्रयास कर रहा है। जिससे जनपद में कोरोना संक्रमण न फैल सके। मगर, कुछ लोगों की लापरवाही की वजह से कोरोना संक्रमण फैलाने के लिए एक तरह से दावत दी जा रही है।

टीकाकरण के अनुरोध पर जवाब नहीं दें रहीं सरकार

जलपाईगुड़ी। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को आरोप लगाया कि भाजपा विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान में बड़ी संख्या में बाहरी लोगों को लेकर आयी। जिससे राज्य में हाल के दिनों में कोविड मामलों में वृद्धि हुयी। ममता ने यहां एक चुनावी रैली में केंद्र की भाजपा-नीत सरकार पर आरोप लगाया कि वह अधिकतर लोगों के टीकाकरण के लिए राज्य के अनुरोध पर जवाब नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि लोगों को टीका लगाने से बीमारी के प्रसार पर काबू पाने में मदद मिल सकती है। ममता ने रैली में कहा, “वे लोग (भाजपा नेता) चुनाव प्रचार के लिए बाहरी लोगों को लेकर आए हैं जिससे कोविड मामलों में वृद्धि हुयी। हमने कोविड स्थिति पर काबू पा लिया था लेकिन उन्होंने इसे जटिल बना दिया।निर्वाचन आयोग द्वारा 24 घंटे के लिए चुनाव प्रचार पर रोक लगाए जाने के फैसले के संबंध में उन्होंने कहा, “क्या हिंदुओं, मुस्लिमों और अन्य लोगों को एक साथ वोट देने के लिए कहना गलती है? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में क्या कहना है जो हर चुनावी बैठक में मेरा मजाक उड़ा रहे हैं? उन्हें चुनाव प्रचार करने से क्यों नहीं रोका गया।

चिकित्सा संस्थानों में ओपीडी बंद करने का निर्णय

हरिओम उपाध्याय   
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण एक बार फिर तेजी से फैल रहा है। इसके मद्देनजर राज्य सरकार ने मेडिकल कॉलेज एवं चिकित्सा संस्थानों में ओपीडी की सेवाएं बंद करने का निर्णय किया है। हालांकि असाध्य रोगियों की समस्याओं को ध्यान में रखकर सरकार ने ऐसे रोगियों के इलाज की सुविधा पहले की तरह ही जारी रखने के निर्देश दिए हैं। साथ ही इमरजेंसी व ट्रामा की सुविधाओं को भी सातों दिन 24 घंटे चालू रखने के निर्देश दिए है। 
 विशेष सचिव (चिकित्सा शिक्षा) की ओर से आदेश जारी करते हुए कहा गया है कि प्रदेश में लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर, गोरखपुर, आगरा, झांसी व मेरठ के सरकारी मेडिकल कॉलेजों में ओपीडी सेवाएं बंद रहेंगे। यहां पर अत्यंत जरूरी सर्जरी के अलावा अन्य आपरेशन को जरूरत के अनुसार आगे टालने के निर्देश दिए गए हैं। 
 विशेष सचिव ने यह भी कहा कि कोरोना की फैली महामारी को देखते हुए जांच के लिए ओपीडी, नियोनेटल सेवाएं व एंटीनेटल क्लीनिक, कैंसर मरीजों को कीमोथैरेपी व रेडियोथैरेपी सेवाएं व किडनी के मरीजों की डायलिसिस की सुविधाएं पूर्व की तरह ही चलती रहेंगी इसे नहीं बंद किया जायेगा। कहा कि कोविड और नॉन कोविड मरीजों को उचित इलाज मुहैया कराने के लिए अस्पतालों की ओपीडी से सामान्य मरीजों की भीड़ को कम करना जरूरी था इसी कारण यह निर्णय किया गया है। 

पीएम मोदी ने राष्ट्रीय सेमिनार को किया संबोधित

अकांशु उपाध्याय    
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि संविधान निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर मानते थे कि ज्ञान से स्वाभिमान और स्वाभिमान से शील विकसित होता है। वे मानते थे कि शिक्षा से ही समरस समाज विकसित होता है और देश प्रगति करता है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को भारतीय विश्वविद्यालयों के संघ की 95वीं वार्षिक बैठक और राष्ट्रीय सेमिनार को संबोधित किया। इसमें देशभर के विश्वविद्यालयों से कुलपतियों ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए भाग लिया। डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की 130वीं जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री ने किशोर मकवाणा द्वारा लिखित चार पुस्तकों का विमोचन किया। यह पुस्तकें डॉक्टर अंबेडकर के जीवन, व्यक्ति, राष्ट्र और आयाम दर्शन पर लिखी गई हैं।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने संबोधन में शिक्षा के महत्व, नई शिक्षा नीति और सरकार द्वारा कौशल विकास व वंचितों के उत्थान के लिए किए जा रहे प्रयासों का जिक्र किया।
प्रधानमंत्री ने डॉक्टर बाबा साहब को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उनके जीवन का संघर्ष और उन्होंने जो ऊंचाई हासिल की है, वह हम सब के लिए लिए प्रेरणादायक है। उन्होंने कहा कि बाबा साहब ने देश को संविधान देखकर समरस व समावेशी समाज के निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया, जिस पर चलकर देश निरंतर सफलता हासिल कर रहा है।
इस दौरान प्रधानमंत्री ने देश के विश्वविद्यालयों को आपस में तालमेल बिठाने के लिए भी कहा। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति में विश्वविद्यालयों को बहु-आयामी बनाए जाने और छात्रों को पढ़ाई की लचीली व्यवस्था देने पर जोर दिया गया है। ऐसे में उन्हें तय समय में इस दिशा में काम पूरा करना चाहिए।
प्रधानमंत्री ने विश्वविद्यालयों के कुलपतियों से कहा कि आज के समय में हम छात्रों के क्षमताओं को समझने की आवश्यकता है। इससे जुड़े हुए तीन प्रश्न हमारे सामने हैं। पहला कि वह क्या कर सकते हैं, दूसरा सिखाए जाने के बाद वह क्या कर सकते हैं और तीसरा वह क्या करना चाहते हैं। पहला प्रश्न छात्रों की आंतरिक क्षमता से और दूसरा उनके संस्थागत विकास से जुड़ा हुआ है। इन दोनों प्रश्नों के उत्तर से ही छात्र वह कर पाने में सक्षम हो पायेंगे जो वह करना चाहते हैं।
इस दौरान प्रधानमंत्री ने भारतीय विश्वविद्यालयों से राष्ट्रीय राजनीति में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले गणमान्य व्यक्तियों का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन शिक्षा के महत्व के साथ-साथ उनके भारतीय स्वरूप पर बल देते थे। नई शिक्षा नीति में उनकी इस सोच को आगे रखा गया है।
प्रधानमंत्री ने नई शिक्षा नीति को भविष्य आधारित और वैश्विक मानकों पर खरी उतरने वाली बताया। उन्होंने कहा कि यह न केवल व्यवहारिक है बल्कि इसका लागू करना भी पूरी तरह से व्यवहारिक है।
अपने उद्बोधन में प्रधानमंत्री ने कौशल विकास के महत्व को डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के विजन के साथ जोड़ा। उन्होंने कहा कि सरकार भविष्य की जरूरतों को देखते हुए कौशल विकास पर विशेष ध्यान दे रही है। इसके लिए देश के तीन शहरों में भारतीय कौशल संस्थान की स्थापना की गई है।

मुंबई: अभिनेत्री आलिया की संक्रमण रिपोर्ट नेगेटिव

मनोज सिंह ठाकुर     
मुंबई। अभिनेत्री आलिया भट्ट हाल ही में कोरोना संक्रमित पाई गई थीं। अब उन्होंने दो अप्रैल को अपनी इंस्टा स्टोरी पर पोस्ट शेयर कर फैंस को अपने कोरोना संक्रमित होने की जानकारी दी।। कोरोना संक्रमित होने के बाद से वह क्वारंटीन में थीं और कोरोना प्रोटोकॉल का पालन कर रही थीं। अब अभिनेत्री की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है और उन्होंने कोरोना की जंग जीत ली है। इसकी जानकारी खुद अभिनेत्री ने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर दी। आलिया ने इंस्टाग्राम पर अपनी एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा-' यह वो समय है, जिसमें नेगेटिव होना अच्छी बात है।'आलिया के इस पोस्ट को फैंस काफी पसंद कर रहे हैं और साथ ही बधाई देने के साथ-साथ, उन्हें सुरक्षित और अपना धयान रखने की सलाह भी दे रहे हैं। आलिया के वर्कफ्रंट की बात करें तो वह जल्द ही अयान मुखर्जी की फिल्म 'ब्रह्मास्त्र' में रणबीर कपूर और अमिताभ बच्चन के साथ लीड रोल में नजर आयेंगी। इसके अलावा वह एसएस राजमौली की फिल्म 'आरआरआर' और संजय लीला भंसाली की फिल्म 'गंगूबाई काठीवाड़ा' में भी मुख्य भूमिका में दिखाई देंगी।

धमतरी: बेटे ने पिता और दादी की हत्या की, फरार

धमतरी। छत्तीसगढ़ के धमतरी जिले में बेटे ने अपने पिता और दादी की हत्या कर दी है। इस दोहरे हत्याकांड से पूरे गांव में सनसनी फ़ैल गई है। आरोपी युवक अपने पिता और अपनी दादी का हत्या कर घर से फरार हो गया है। पुलिस युवक की तलाश में जुट चुकी है। घटना बीती रात की है। मामला करेली बड़ी चौकी क्षेत्र अंतर्गत चंदना गांव का है। प्रथम दृष्टया पुलिस को पारिवारिक कलह के चलते युवक ने अपने पिता और दादी की हत्या की वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। मामलें की विस्तृत तस्दीक की जा रही है।

बरेली: मेडिकल कॉलेज में 4 संक्रमितों ने तोड़ा दम

संदीप मिश्र           
बरेली। जिले में बढ़ती कोरोना रफ्तार के बीच बुधवार को एक निजी मेडिकल कॉलेज में चार संक्रमितों ने दम तोड़ दिया। मेडिकल कॉलेज के कोविड प्रभारी के अनुसार अस्पताल में चारों संक्रमित बेहद गंभीर हालत में भर्ती किए गए थे। भर्ती के समय उनका आक्सीजन स्तर 50 से कम था। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. एसके गर्ग ने बताया कि जिले में चार संक्रमितों की मौत की सूचना मिल रही है। जिले में कोरोना संक्रमण की दर बढ़ते देख आमजन से कोरोना गाइडलाइंस का पालन करने व वैक्सीनेशन कराने की अपील की है।

नमाज अदा करने की अनुमति देने से इनकार किया

मनोज सिंह ठाकुर    
मुंबई। उच्च न्यायालय ने मुंबई की एक मस्जिद में सामूहिक रूप से नमाज अदा करने की अनुमति देने से यह कहते हुए इनकार कर दिया, कि कोविड-19 के चलते ‘गंभीर’ हालात पैदा हो गए हैं और लोगों की सुरक्षा अधिक महत्वपूर्ण है। न्यायमूर्ति आर डी धनुका और न्यायमूर्ति वी जी बिष्ट की अवकाश पीठ ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के चक्र को तोड़ने के लिये पाबंदियां लगाने की जरूरत महसूस की है। अदालत ने कहा, ‘धार्मिक रीति-रिवाजों को मनाना या उनका पालन करना महत्वपूर्ण है। लेकिन सबसे अधिक महत्वपूर्ण लोक व्यवस्था और लोगों की सुरक्षा है।’ पीठ ने जुमा मस्जिद ट्रस्ट की ओर से दाखिल याचिका पर सुनवाई करते हुए ये टिप्पणियां कीं। याचिका में दक्षिण मुंबई में स्थित ट्रस्ट की एक मस्जिद में मुसलमानों को पांच वक्त की नमाज अदा करने की अनुमति देने का अनुरोध किया गया था।

चुनाव के लिए पहले चरण का प्रचार समाप्त हुआ

हरिओम उपाध्याय     
लखनऊ। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए पहले चरण का प्रचार मंगलवार को समाप्त हो गया। अब 15 अप्रैल को सुबह 7 से शाम 6 बजे तक प्रदेश के 18 जिलों में पहले चरण का चुनाव होगा। पहले चरण में 18 जिला पंचायतों के 779 वार्डों में 11,749 उम्मीदवार, क्षेत्र पंचायतों के 19,313 वार्डों में 71,418 उम्मीदवार, 14,789 ग्राम पंचायतों में प्रधान पद के लिए 108562 और 1,86,583 ग्राम पंचायत वार्डों में 107283 उम्मीदवार चुनाव मैदान में है। पंचायत चुनाव के लिए उम्मीदवार बीते एक महीने से जोर-शोर से प्रचार कर रहे थे। सपा, भाजपा और कांग्रेस सहित अन्य राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी अपने उम्मीदवारों के समर्थन में सभा, बैठकें की। पहले चरण में अयोध्या, आगरा, कानपुर नगर, गाजियाबाद, गोरखपुर, जौनपुर, झांसी, प्रयागराज, बरेली, भदोही, महोबा, रामपुर, रायबरेली, श्रावस्ती, संतकबीर नगर, सहारनपुर, हरदोई और हाथरस जिलों में चुनाव होगा।

यूपी के सीएम योगी की रिपोर्ट पॉजिटिव आईं

हरिओम  उपाध्याय    
लखनऊ। यूपी में कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है। मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्याल के कई अफसरों के कोरोना संक्रमित मिलने के बाद आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सीएम ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि शुरुआती लक्षण दिखने पर मैंने कोविड जांच कराई और मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मैं सेल्फ आइसोलेशन में हूं और चिकित्सकों के परामर्श का पूर्णत: पालन कर रहा हूं। सभी कार्य वर्चुअली संपादित कर रहा हूं।

24 घंटों में कोरोना के 1.84 लाख नए मामलें

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है और पिछले 24 घंटों के दौरान देश के विभिन्न हिस्सों में 1.84 लाख नए मामले दर्ज किए गए।
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बुधवार सुबह जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान देश में 1,84,372 नए मामले दर्ज किए गए। इसके साथ ही संक्रमितों की संख्या एक करोड़ 38 लाख 73 हजार 825 हो गयी है। वहीं इस दौरान 82,339 मरीज स्वस्थ हुए हैं जिसे मिलाकर अब तक 1,23,36,036 मरीज कोरोना मुक्त भी हो चुके हैं। देश में कोरोना के सक्रिय मामले 13 लाख को पार कर 13,65,704 हो गये हैं। इसी अवधि में 1027 और मरीजों की मौत के साथ इस बीमारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,72,085 हो गयी है।   देश में रिकवरी दर घटकर 88.92 फीसदी और सक्रिय मामलों की दर बढ़कर 9.84 प्रतिशत हो गयी है, जबकि मृत्युदर घटकर 1.24 फीसदी रह गयी है। महाराष्ट्र कोरोना के सक्रिय मामलों में शीर्ष पर है और राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान सक्रिय मामले 28,307 बढ़कर 5,94,585 हो गयी है। इस दौरान राज्य में 31,624 और मरीज स्वस्थ हुए, जिसे मिलाकर कोरोना को मात देने वालों की तादाद 28,66,097 पहुंच गयी है जबकि 281 और मरीजों की मौत से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 58,526 हो गया है।

परीक्षा को लेकर उच्च स्तरीय बैठक करेंगे पीएम

अकांशु उपाध्याय      
नई दिल्ली। देश भर में कोविड-19 महामारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं को स्थगित करने और ऑनलाइन माध्यम से परीक्षा समेत अन्य विकल्पों पर विचार करने की उठ रही मांगों को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुधवार को एक उच्च स्तरीय बैठक करेंगे। सूत्रों के मुताबिक, यह बैठक बुधवार की दोपहर को होगी। इस बैठक में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, केंद्रीय शिक्षा सचिव और अन्य शीर्ष पदाधिकारी शामिल होंगे। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित कई नेताओं ने कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते खतरों के मद्देनजर सीबीएसई परीक्षाओं को रद्द करने की मांग की है।

चिकित्सा शिक्षा म‍ंत्री आशुतोष कोरोना पॉजिटिव

हरिओम उपाध्याय     
लखनऊ। यूपी में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है। मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्यालय के कई अफसरों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अब यूपी के प्राविधिक शिक्षा एवं चिकित्सा शिक्षा म‍ंत्री आशुतोष टंडन भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्होंने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कोरोना के प्रारम्भिक लक्षण दिखने पर मैंने जांच कराई, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। डॉक्टरों की सलाह पर मैंने स्वंय को घर पर ही आइसोलेट कर लिया है। विगत दिनों मेरे संपर्क में आए हुए लोगों से अनुरोध है कि अपनी जांच करवा लें।

सपा के मुखिया अखिलेश पाएं गए कोरोना संक्रमित

हरिओम उपाध्याय       
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। अखिलेश ने बुधवार सुबह ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अखिलेश यादव ने खुद को आइसोलेट कर लिया है।
अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि अभी-अभी मेरी कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है। मैंने अपने आपको सबसे अलग कर लिया है व घर पर ही उपचार शुरू हो गया है। पिछले कुछ दिनों में जो लोग मेरे संपर्क में आये हैं। उन सबसे विनम्र आग्रह है कि वो भी जांच करा लें। उन सभी से कुछ दिनों तक आइसोलेशन में रहने की विनती भी है।

छात्रों को परीक्षा के फॉर्म भरने का मौका दिया

हरिओम उपाध्याय     
बरेली। रुहेलखंड विश्वविद्यालय ने स्नातक और परास्नातक के संस्थागत व व्यक्तिगत छात्रों को मुख्य परीक्षा 2021 के फॉर्म भरने का एक और मौका दिया है। छात्र 14 अप्रैल से 16 अप्रैल तक विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर ऑनलाइन फॉर्म भर सकेंगे। छात्रों को 17 अप्रैल तक महाविद्यालय में भरे फॉर्म जमा करने होंगे।
इस बार छात्र फॉर्म भरने से चूके तो उन्हें विलंब शुल्क के साथ ही फॉर्म भरना होगा। 31 मार्च तक 4,40,317 फॉर्म भरे जा चुके थे। महाविद्यालयों को भी ऑनलाइन फॉर्म स्वीकृत करने और विश्वविद्यालय में जमा करने के लिए तीन दिन का मौका दिया गया है।विश्वविद्यालय ने मुख्य परीक्षाओं के संस्थागत फॉर्म 20 फरवरी से ऑनलाइन भरने की शुरुआत की थी। व्यक्तिगत फॉर्म 1 मार्च से भरने शुरू हुए थे। संस्थागत छात्रों को 10 दिन का अतिरिक्त मौका दिया गया था। 31 मार्च तक सभी छात्रों को ऑनलाइन फॉर्म भरने थे और 1 अप्रैल तक महाविद्यालयों में फॉर्म जमा करने थे।
होली की छुट्टी और कोरोना की वजह से बरेली कॉलेज समेत कई महाविद्यालयों में छात्र फॉर्म भरने से रह गए थे। बरेली कॉलेज में 5 अप्रैल तक फॉर्म जमा भी किए गए। बावजूद छात्र फॉर्म भरने से ही रह गए थे। इसकी वजह से छात्र लगातार विश्वविद्यालय व महाविद्यालयों के चक्कर लगा रहे थे। कई महाविद्यालयों ने भी विश्वविद्यालय से फॉर्म की तारीख बढ़ाने की मांग की थी। इसके अलावा कई छात्र संगठन भी परीक्षा नियंत्रक से इस संबंध में मिले थे लेकिन तारीख नहीं बढ़ायी गई थीं।

मुंबई इंडियन्स ने सत्र की पहली जीत दर्ज की

चेन्नई। मुंबई इंडियन्स ने इंडियन प्रीमियर लीग मुकाबले में मंगलवार को यहां कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) को 10 रन से हराकर सत्र की पहली जीत दर्ज की। मुंबई ने इस मैच में पहले खेलते हुए 20 ओवर में 152 रन बनाए थे। इसके जवाब में उसने एक समय 13 ओवर में 104 रन बनाने वाली कोलकाता नाइट राइडर्स को 20 ओवर में 147 रनों पर रोक मुंबई की इस जीत में लेग स्पिनर राहुल चहर का अहम रोल रहा। मुंबई इंडियन्स के लिए राहुल चाहर ने चार ओवर में 27 रन देकर चार विकेट लिये। केकेआर के लिए नीतिश राणा ने सबसे ज्यादा 57 रन बनाये।।चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले गए मुकाबले में मुंबई से मिले 153 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता की शुरुआत धमाकेदार रही थी। शुभमन गिल और नितीश राणा ने पहले विकेट के लिए 9 ओवर में 72 रनों की साझेदारी की। गिल 24 गेंदो में पांच चौके और एक छक्के की मदद से 33 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें राहुल चहर ने आउट किया।

इसके बाद पिछले मैच में अर्धशतक लगाने वाले राहुल त्रिपाठी सिर्फ पांच रन बनाकर आउट हो गए। 104 रनों पर कप्तान इयोन मोर्गन भी सात रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उन्हें भी राहुल चहर ने अपना शिकार बनाया। इसके बाद 15वें ओवर की आखिरी गेंद पर राणा भी पवेलियन लौट गए। उन्होंने 47 गेंदो में 57 रन बनाए। अपनी इस पारी में राणा ने छह चौके और दो छक्के जड़े।

अपराधियों को सजा, जांच शुरू करेगी सरकार

माथाभांगा। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के दौरान सीआईएसएफ की गोलीबारी में मारे गए लोगों के परिवारों से बुधवार को मुलाकात की और कहा, कि उनकी सरकार अपराधियों को सजा दिलाने के लिए जांच शुरू करेगी। ममता बनर्जी ने इस बात पर खेद जताया कि कूच बिहार में नेताओं के प्रवेश पर लगाए गए 72 घंटे के प्रतिबंध के चलते वह मृतकों के परिवार वालों से नहीं मिल पाईं। कूच बिहार में सीआईएसएफ कर्मियों की तरफ से कथित तौर पर आत्मरक्षा के लिए चलाई गई गोली में चार लोगों की मौत हो गई थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी जांच में इस निर्मम हत्या के लिए जिम्मेदार हर व्यक्ति का पता लगाया जाएगा और सुनिश्चित किया जाएगा कि उन्हें कानून के मुताबिक सजा मिले। ममता बनर्जी ने कहा कि वह पहली बार वोट देने जा रहे 18 साल के आनंद बर्मन के परिवार को न्याय दिलाना सुनिश्चित करेंगी। जिसकी इसी जिले में मतदान केंद्र के बाहर गोली मार देने से मौत हो गई थी।

यूपी में लॉकडाउन लगाने से सीएम ने किया मना

हरिओम उपाध्याय     
लखनऊ। देश के साथ उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते प्रसार के बाद भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में लॉकडाउन से साफ मना कर दीं। योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा, कि उत्तर प्रदेश में फिलहाल, अभी लॉकडाउन नहीं होगा। सरकार का प्रयास लोगों के जीवन के साथ उनकी आजीविका का भी है। योगी अभी खुद आइसोलेटेड हैं क्योंकि उनके कार्यालय के कई अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं। उन्होंनें इस बारे में कल ट्वीट कर जानकारी दी थी। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर पहले की अपेक्षा भले ही थोड़ी तेज है, लेकिन अभी हम उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन की ओर नहीं जा रहे हैं। अभी प्रदेश में उन सभी शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाया है जहां पर 500 या अधिक एक्टिव केस हैं। ऐसे में लॉकडाउन की तरफ जाने की आवश्यकता भी नहीं होनी चाहिए।

12वीं की परीक्षा स्थगित करने का फैसला किया

अकांशु उपाध्याय  
नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने देश भर में कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों के मद्देनजर केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं की परीक्षा रद्द कर दी है।जबकि, 12वीं की परीक्षा स्थगित करने का फैसला किया है।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में और केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, केंद्रीय शिक्षा सचिव तथा अन्य शीर्ष अधिकारियों की मौजूदगी में बुधवार को हुई एक बैठक में यह फैसला लिया गया। बैठक के बाद एक बयान जारी कर परीक्षाओं के संबंध में लिए गए निर्णयों की जानकारी साझा की गई।

हत्या केस में 3 लोगों को कारावास की सजा सुनाईं

पंकज कपूर       
हल्द्वानी। बलभूलपुरा में एक व्यक्ति की हत्या के मामले में तीन लोगों को अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। प्रथम अपर जिला सत्र न्यायाधीश हल्द्वानी अरविंद कुमार की अदालत उन्हें दोषी मानते हुए यह सजा सुनाई।
शासकीय अधिवक्ता नवीन जोशी के अनुसार 24 सितंबर 2011 को बनभूलपुरा रेलवे पटरी के पास लाइन नंबर 18 आजाद नगर निवासी इमरान का शव पड़ा मिला था। इमरान के शरीर में गोली के निशान थे। उसके चाचा मोहम्मद हनीफ खान ने पुलिस थाने में तहरीर दी थी। उसने पुलिस को बताया था कि 23 सितंबर2011 की रात इमरान लाइन नंबर 17 में शब्बू की चाय की दुकान पर बैठा था। इसी दौरान किसी ने गोली मार कर हत्या कर दी।
पुलिस ने जांच में मिली जानकारी के मुताबिक 23 नवंबर 2011 की रात बनभूलपुरा मस्जिद में जलसा चल रहा था। इमरान को 14 वनभूलपुरा निवासी अफजाल, इंदिरा नगर निवासी सलाउद्दीन उर्फ गुड्डू और नई बस्ती निवासी नईम वारसी के साथ देखा गया था। जांच के बाद पुलिस ने अफजाल के पास हत्या में प्रयुक्त तमंचा भी बरामद किया। इस मामले में 10 गवाह पेश किए गए।

बिहार में 2 आईएएस अधिकारी पाएं गए पॉजिटिव

अविनाश श्रीवास्तव      
पटना। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर लगातार लोगों की जान ले रही है। धीरे-धीरे मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। बिहार के दो आईएएस अधिकारियों को भी कोरोना वायरस ने अपना शिकार बना लिया। आईएएस विजय रंजन (59) का मंगलवार को देहांत हो गया। वह चार दिनों पूर्व पटना एम्स में भर्ती हुए थे। वह पंचायती राज विभाग में निदेशक के पद पर कार्यरत थे। साथ ही वैशाली के जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. ललन कुमार राय (62) ने भी कोरोना के कारण दम तोड़ दिया।

या देवी सर्वभूतेषु चंद्रघंटा रूपेण संस्थिता: नवरात्रि

माँ दुर्गाजी की तीसरी शक्ति का नाम चंद्रघंटा है। नवरात्रि उपासना में तीसरे दिन की पूजा का अत्यधिक महत्व है और इस दिन इन्हीं के विग्रह का पूजन-आराधन किया जाता है। इस दिन साधक का मन 'मणिपूर' चक्र में प्रविष्ट होता है। माँ चंद्रघंटा की कृपा से अलौकिक वस्तुओं के दर्शन होते हैं, दिव्य सुगंधियों का अनुभव होता है तथा विविध प्रकार की दिव्य ध्वनियाँ सुनाई देती हैं। ये क्षण साधक के लिए अत्यंत सावधान रहने के होते हैं।

श्लोक:- पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता | प्रसादं तनुते मह्यं चन्द्रघण्टेति विश्रुता ||

स्वरूप

माँ का यह स्वरूप परम शांतिदायक और कल्याणकारी है। इनके मस्तक में घंटे का आकार का अर्धचंद्र है, इसी कारण से इन्हें चंद्रघंटा देवी कहा जाता है। इनके शरीर का रंग स्वर्ण के समान चमकीला है। इनके दस हाथ हैं। इनके दसों हाथों में खड्ग आदि शस्त्र तथा बाण आदि अस्त्र विभूषित हैं। इनका वाहन सिंह है। इनकी मुद्रा युद्ध के लिए उद्यत रहने की होती है।

कृपा

मां चंद्रघंटा की कृपा से साधक के समस्त पाप और बाधाएँ विनष्ट हो जाती हैं। इनकी आराधना सद्यः फलदायी है। माँ भक्तों के कष्ट का निवारण शीघ्र ही कर देती हैं। इनका उपासक सिंह की तरह पराक्रमी और निर्भय हो जाता है। इनके घंटे की ध्वनि सदा अपने भक्तों को प्रेतबाधा से रक्षा करती है। इनका ध्यान करते ही शरणागत की रक्षा के लिए इस घंटे की ध्वनि निनादित हो उठती है।

माँ का स्वरूप अत्यंत सौम्यता एवं शांति से परिपूर्ण रहता है। इनकी आराधना से वीरता-निर्भयता के साथ ही सौम्यता एवं विनम्रता का विकास होकर मुख, नेत्र तथा संपूर्ण काया में कांति-गुण की वृद्धि होती है। स्वर में दिव्य, अलौकिक माधुर्य का समावेश हो जाता है। माँ चंद्रघंटा के भक्त और उपासक जहाँ भी जाते हैं लोग उन्हें देखकर शांति और सुख का अनुभव करते हैं।

माँ के आराधक के शरीर से दिव्य प्रकाशयुक्त परमाणुओं का अदृश्य विकिरण होता रहता है। यह दिव्य क्रिया साधारण चक्षुओं से दिखाई नहीं देती, किन्तु साधक और उसके संपर्क में आने वाले लोग इस बात का अनुभव भली-भाँति करते रहते हैं।

विद्यार्थियों के लिए मां साक्षात विद्या प्रदान करती है। वहीं, देवी साधक की सभी प्रकार से रक्षा करती है।

साधना

हमें चाहिए कि अपने मन, वचन, कर्म एवं काया को विहित विधि-विधान के अनुसार पूर्णतः परिशुद्ध एवं पवित्र करके माँ चंद्रघंटा के शरणागत होकर उनकी उपासना-आराधना में तत्पर हों। उनकी उपासना से हम समस्त सांसारिक कष्टों से विमुक्त होकर सहज ही परमपद के अधिकारी बन सकते हैं।

हमें निरंतर उनके पवित्र विग्रह को ध्यान में रखते हुए साधना की ओर अग्रसर होने का प्रयत्न करना चाहिए। उनका ध्यान हमारे इहलोक और परलोक दोनों के लिए परम कल्याणकारी और सद्गति देने वाला है। प्रत्येक सर्वसाधारण के लिए आराधना योग्य यह श्लोक सरल और स्पष्ट है। माँ जगदम्बे की भक्ति पाने के लिए इसे कंठस्थ कर नवरात्रि में तृतीय दिन इसका जाप करना चाहिए।

मां चन्द्रघंटा को नारंगी रंग प्रिय है। भक्त को जहां तक संभव हो, पुजन के समय सूर्य के आभा के समान रंग के वस्त्र धारण करना चाहिए।

उपासना

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ चंद्रघंटा रूपेण संस्थिता।

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

अर्थ : हे माँ! सर्वत्र विराजमान और चंद्रघंटा के रूप में प्रसिद्ध अम्बे, आपको मेरा बार-बार प्रणाम है। या मैं आपको बारंबार प्रणाम करता हूँ। हे माँ, मुझे सब पापों से मुक्ति प्रदान करें।

इस दिन सांवली रंग की ऐसी विवाहित महिला जिसके चेहरे पर तेज हो, को बुलाकर उनका पूजन करना चाहिए। भोजन में दही और हलवा खिलाएँ। भेंट में कलश और मंदिर की घंटी भेंट करना चाहिए।


सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

 सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण   
1. अंक-241 (साल-02)
2. ब्रहस्पतिवार, अप्रैल 15, 2021
3. शक-1984,चैत्र, कृष्ण-पक्ष, तिथि- तीज, विक्रमी सवंत-2078। दूसरा रोजा, सहरी 04:31, इफ्तार 06:49। 02 रमजान, हिजरी 1442।
4. सूर्योदय प्रातः 06:22, सूर्यास्त 06:48।
5. न्‍यूनतम तापमान -16 डी.सै., अधिकतम-40+ डी.सै.।
6.समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है।
7.स्वामी, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।
8.संपादकीय कार्यालय- 263 सरस्वती विहार, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102।
9.संपर्क एवं व्यावसायिक कार्यालय-डी-60,100 फुटा रोड बलराम नगर, लोनी,गाजियाबाद उ.प्र.-20110
http://www.universalexpress.page/
email:universalexpress.editor@gmail.com
संपर्क सूत्र :- +919350302745  
                     (सर्वाधिकार सुरक्षित)

सैन्य गठजोड़ ने क्षेत्र पर सवालों को जन्म दिया

बीजिंग/ वाशिंगटन डीसी। चीन के खिलाफ अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के नए सैन्य गठजोड़ ने प्रशांत महासागर क्षेत्र को लेकर ने सवालों को जन्म ...