पाकिस्तान लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
पाकिस्तान लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

मंगलवार, 8 जून 2021

ट्रेन हादसे में 65 की मौत हुई, 100 से अधिक घायल

हरिओम उपाध्याय  
कराची। पाकिस्तान के सिंध प्रांत में सोमवार को हुई ट्रेन दुर्घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर 65 हो गई है । विपक्षी दलों ने मांग की है कि देश में हुए भीषण ट्रेन हादसों में से एक, इस दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिये तुरंत जांच की जाए। उल्लेखनीय है कि सोमवार को कराची से सरगोधा जा रही ‘मिल्लत एक्सप्रेस’ पटरी से उतर गई जिससे रावलपिंडी से कराची आ रही ‘सर सैयद एक्सप्रेस’ उससे टकरा गई।
टक्कर के कारण मिल्लत एक्सप्रेस की बोगियां पलट गईं। यह हादसा सिंध के घोटकी जिले के ढरकी शहर के निकट हुआ। इस हादसे में कम से कम 65 लोगों की मौत हो गई तथा 100 से ज्यादा घायल हो गए। जियो न्यूज ने रेलवे के मंडल अधीक्षक (सुक्कुर) तारिक लतीफ के हवाले से बताया कि राहत अभियान पूरा हो चुका है तथा पटरियों को भी साफ किया जा चुका है। इस हादसे में 17 बोगियां क्षतिग्रस्त हुई थीं, उन्हें तथा इंजन को पटरियों से हटा लिया गया है।उन्होंने कहा, ”अप एवं डाउन पटरियों को बहाल किया जा चुका है । हमें रेल सेवाओं को शुरू करने के आदेश मिले हैं।” घोटकी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उमर तूफैल ने संवाददाताओं को बताया कि और शवों को निकाले जाने के बाद मरने वालों की संख्या बढ़ कर 65 हो गयी है। उन्होंने बताया कि 100 से अधिक लोग घायल हुये हैं जिनमें से कुछ की हालत नाजुक है। रेलवे मंत्री आजम स्वाती ने कहा कि उनके इस्तीफे से मरने वालों का जीवन लौट सकता है तो वह ऐसा करने के लिए तैयार हैं।

उन्होंने मामले की व्यापक जांच कराये जाने का वादा किया है । उन्होंने कहा कि सुक्कुर संभाग में रेल की पटरियां खस्ताहाल हैं। उन्होंने विस्तृत जांच के आदेश देते हुए कहा, ”हमें इस हादसे के लिए जिम्मेदार व्यक्ति का पता लगाना होगा।” पाकिस्तान रेलवे के एक प्रवक्ता ने बताया कि रावलपिंडी से कराची आ रही सर सैयद एक्सप्रेस साथ वाली पटरी से उतरी ट्रेन से टकरा गयी जिसके कारण यह हादसा हुआ। रेलवे ने आरंभिक रिपोर्ट में कहा है, ”चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाने का प्रयास किया, लेकिन तब तक इंजन पटरी से उतरी ट्रेन (मिल्लत एक्सप्रेस) के कोचों से टकरा गयी ।” इसमें कहा गया है कि फंसे यात्रियो को बचाना राहत एवं बचाव अधिकारियो के लिये एक बड़ी चुनौती थी । बाद में भारी मशीनों का इस्तेमाल कर लोगों को निकाला गया।

कटर के अभाव में इन प्रयासों में बाधा पहुंची । इस बीच पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के चेयरमैन बिलावल भुट्टो ने रेल हादसे की तत्काल जांच की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि 2018 में जब से इमरान खान की सरकार सत्ता में आई है तब से रेल हादसे भी अधिक हो रहे हैं। पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज, जमायत उलेमा ए इस्लाम फजल समेत कई विपक्षी दलों ने इस हादसे पर संसदीय बहस की मांग की।

सोमवार, 7 जून 2021

आमने-सामने रेल गाड़ी टकराई, 50 लोगों की मौत

कराची। पाकिस्तान के दक्षिणी सिंध प्रांत में सोमवार को दो रेलगाड़ियों के बीच टक्कर हो गई और इस हादसे में कम से कम 50 लोग मारे गए और कई घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। डॉन न्यूज की खबर में बताया गया कि कराची से सरगोधा जा रही ‘मिलात एक्सप्रेस’ पटरी से उतर गई थी, जिससे लाहौर से कराची आ रही ‘सर सैय्यद एक्सप्रेस’ टकरा गई। इस घटना में मिलात एक्सप्रेस की बोगियां पलट गईं। यह हादसा अपर सिंध के घोतकी जिले के धारकी शहर के निकट हुआ। ट्रेन दुर्घटना के बाद घोतकी, धारकी, ओबारो और मीरपुर माठेलो के अस्पतालों में आपात स्थिति की घोषणा कर दी गई।डॉन न्यूज ने घोतकी के उपायुक्त उस्मान अब्दुल्ला के हवाले से कहा कि ट्रेन दुर्घटना में कम से कम 50 लोगों की मौत हो चुकी है तथा 50 से ज्यादा घायल हैं। इसमें बताया गया कि हादसे में पलटी बोगियों के भीतर फंसे लोगों को निकालने में भी अधिकारियों को मुश्किलें आ रही हैं।

अब्दुल्ला ने जियो न्यूज से कहा कि इस पूरे हादसे में 13 से 14 बोगियां पटरी से उतर गईं तथा छह से आठ बोगियां ‘‘पूरी तरह क्षतिग्रस्त’’ हो गईं। उन्होंने कहा कि बोगियों में फंसे यात्रियों को बचाना बचाव अधिकारियों के लिए चुनौती बना हुआ है। उन्होंने बताया कि रोहरी से एक ‘राहत रेलगाड़ी’ भेजी गई है।

उपायुक्त ने कहा, ‘‘यह एक चुनौतीपूर्ण कार्य है। जो लोग अभी भी फंसे हुए हैं उन्हें निकालने के लिए भारी मशीनरी का उपयोग किया जाएगा और इस काम में वक्त लगेगा। लोगों को चिकित्सीय मदद देने के लिए हम चिकित्सा शिविर भी लगा रहे हैं। घोतकी के एसएसपी उमर तुफैल ने कहा कि एक बोगी में यात्री अब भी फंसे हुए हैं तथा हमें आशंका है कि ‘‘मृतकों की संख्या बढ़ सकती है।’’ राहत एवं बचाव अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं।

दुनिया में सबसे अधिक परेशान देश है 'अमेरिका'

वाशिंगटन डीसी। कोरोना महामारी की शुरुआत के साथ ही दुनिया भर में सबसे अधिक परेशान देश अमेरिका है। वैश्विक मामलों का आंकड़े की लिस्ट में पहले ...