रविवार, 27 सितंबर 2020

पीएम मोदी की 69वीं बार 'मन की बात'

अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री ने 69वीं बार 'मन की बात' कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया। इस दौरान कोरोना संकट के बीच सावधानियां रखने, बच्चों का ख्याल रखने और किसान बिलों पर उनका फोकस रहा। उन्होंने भरोसा दिया कि नए किसान बिलों से किसानों को फायदा ही होगा। उन्हें जहां ज्यादा कीमत मिलेगी अपनी फसल और फल वहीं बेंच सकेंगे। प्रधानमंत्री ने इशारों ही इशारों में चीन और पाकिस्तान को हिदायत भी दी। कोरोना के कालखंड में दो गज की दूरी जरूरी बन गई है। इस दौरान कई परिवारों को दिक्कतें भी आईं। परिवार के बुजुर्गों ने बच्चों को कहानियां सुनाकर समय बिताया। कहानियां संवेदनशील पक्षों को सामने लाती हैं। जब मां बच्चे को खाना खिलाने के लिए कहानी सुनाती है, उसे देखना दिलचस्प होता है। मुझे कई किसानों, संगठनों की चिट्ठियां मिलती हैं कि खेती में कैसे बदलाव आ रहे हैं। हरियाणा के किसान कंवर चौहान ने बताया कि उन्हें मंडियों से बाहर फल-सब्जी बेचने में दिक्कत आती थी। गाड़ियां जब्त हो जाती थीं। 2014 में एपीएमसी एक्ट में बदलाव हुए। उन्होंने एक समूह बनाया। अब उनकी चीजें फाइव स्टार होटलों में सप्लाई हो रही हैं। ढाई से तीन करोड़ सालाना कमा रहे हैं। यही ताकत देश के दूसरे किसानों की ताकत है। गेहूं, धान, गन्ना या किसी भी फसल को जहां मर्जी हो, वहां बेचने की ताकत मिल गई है। पुणे, मुंबई में किसान साप्ताहिक बाजार खुद चला रहे हैं। इसका सीधा लाभ होता है।                 


भारत में कहानी कहने की परंपरा रही है

मन की बात में बोले पीएम मोदी- भारत में कहानी कहने की एक समृद्ध परंपरा रही है।


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने प्रसिद्ध रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के दौरान रविवार को कहानी कहने की कला यानी स्टोरी टेलिंग पर चर्चा की।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भारत में किस्सा-गोई की समृद्ध परंपरा रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना के इस कालखंड में पूरी दुनिया अनेक परिवर्तनों के दौर से गुजर रही है। आज, जब दो गज की दूरी एक अनिवार्य जरूरत बन गई है, तो इसी संकट काल ने, परिवारों के सदस्यों को आपस में जोड़ने और करीब लाने का काम भी किया है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, हमें, जरूर एहसास हुआ होगा कि हमारे पूर्वजों ने जो विधायें बनाई थी, वो आज भी कितनी महत्वपूर्ण हैं और जब नहीं होती हैं तो कितनी कमी महसूस होती है। ऐसी ही एक विधा जैसे मैने कहा, कहानी सुनाने की कला यानि स्टोरी टेलिंग।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, जो हमारी परंपराएं थीं, जो परिवार में एक प्रकार से संस्कार सरिता के रूप में चलती थी, उसकी कमी महसूस हो रही है, ऐसा लग रहा है कि बहुत से परिवार हैं जहां से ये सब खत्म हो चुका है, और इसके कारण, उस कमी के रहते हुए, इस संकट के काल को बिताना परिवारों के लिए थोड़ा मुश्किल हो गया, और, उसमें एक महत्वपूर्ण बात क्या थी? हर परिवार में कोई-न-कोई बुजुर्ग, बड़े व्यक्ति परिवार के, कहानियां सुनाया करते थे और घर में नई प्रेरणा, नई ऊर्जा भर देते हैं।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कहानियों का इतिहास उतना ही पुराना है जितनी कि मानव सभ्यता। कहानियां, लोगों के रचनात्मक और संवेदनशील पक्ष को सामने लाती हैं, उसे प्रकट करती हैं। कहानी की ताकत को महसूस करना हो तो जब कोई मां अपने छोटे बच्चे को सुलाने के लिए या फिर उसे खाना खिालने के लिए कहानी सुना रही होती है, तब देखें।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, भारत में कहानी कहने की, या कहें किस्सा-गोई की, एक समृद्ध परंपरा रही है। हमें गर्व है कि हम उस देश के वासी हैं, जहां हितोपदेश और पंचतंत्र की परंपरा रही है, जहां, कहानियों में पशु-पक्षियों और परियों की काल्पनिक दुनिया गढ़ी गई, ताकि, विवेक और बुद्धिमत्ता की बातों को आासानी से समझाया जा सके। हमारे यहां कथा की परंपरा रही है। ये धार्मिक कहानियां कहने की प्राचीन पद्धति है। इसमें कताकालक्षेवमभी शामिल रहा है।              


विश्व में मृतक संख्या-9 लाख 90 हजार हुईंं

वाशिंगटन डीसी। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा और शनिवार को इससे मरने वालों की संख्या बढ़कर 990,000 के पार हो गई है। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केन्द्र (सीएसएसई) की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार कोरोना से विश्वभर में अब तक 990,738 मरीजों की मौत हो चुकी हैं वहीं अबतक 3.26 करोड़ मरीज संक्रमित हो चुके हैं।


वैश्विक महाशक्ति माने जाने वाले अमेरिका कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित है और यहां संक्रमित होने वालों की संख्या 7,065,019 पर पहुंच गयी है और अब तक 2,04,249 लोगों की जान जा चुकी है। 30,000 से अधिक मौतों वाले देशों में ब्राजील और भारत के अलावा मेक्सिको, ब्रिटेन, इटली, पेरू, फ्रांस और स्पेन शामिल हैं।                   


चीन से निपटने की है सेना की 'रणनीति'

लद्दाख: स्पेशल टेंट तैयार,भीष्म टैंक की हुंकार, चीन से निपटने की ऐसी है सेना की रणनीति।


बीजिंग। भले ही इस वक्त भारत और चीनी सेनाओं के बीच में एक बार फिर से बातचीत के जरिए मसले को सुलझाने की कोशिशें हो रही हैं लेकिन भारतीय सेना के तेवर से साफ है कि वह किसी भी मोर्चे पर चीन के खिलाफ अपनी तैयारियों में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती।
पिछले लगभग पांच महीनों से लद्दाख सरहद पर भारत और चीनी सेना युद्ध के मोर्चे पर तैनात हैं। ‘आजतक’ और ‘इंडिया टुडे’ की टीम लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) से भारतीय सेना के शौर्य को दिखा रही है। लेह से 200 किलोमीटर दूर पूर्वी लद्दाख के चुमार डेमचौक सरहद पर भारतीय सेना के सैनिक और टैंक किस तरह से चीन के छक्के छुड़ाने के लिए तैयार हैं, आजतक/ इंडिया टुडे की टीम इस वॉर जोन में पहुंची है।
16000 से लेकर 18000  फीट की ऊंचाई पर शून्य से नीचे के तापमान में भारतीय सेना के जवान किस तरह से तैनात हैं।कैसे उनके रहने के लिए खास तरह के इंतजाम किए जा रहे हैं।प्रीफैब्रीकेटेड हट्स तैयार की जा रही है। आजतक की टीम ने लेह से अपना सफर शुरू किया।आजतक की टीम लेह, कारू और चुमाथांग होते हुए पूर्वी लद्दाख के चुमार डेमचौक सरहद पहुंची। रास्ते में जगह-जगह भारतीय सेना की तैयारियां देखने को मिलीं।
भले ही इस वक्त भारत और चीनी सेनाओं के बीच में एक बार फिर से बातचीत के जरिए मसले को सुलझाने की कोशिशें हो रही हैं लेकिन भारतीय सेना के तेवर से साफ है कि वह किसी भी मोर्चे पर चीन के खिलाफ अपनी तैयारियों में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहती। सबसे पहले जान लें कि डेमचौक में सिंधु नदी के किनारे हजारों मील में फैली घाटी में किस तरह से भारतीय सेना के टी 90 टैंक और बीएमपी चीन के खिलाफ हुंकार भर रहे हैं। जरूरत पड़ने पर कुछ ही मिनटों में ये टैंक चीन की सरहद में घुसकर उसके ठिकानों को नेस्तनाबूद कर सकते हैं।
टी-90 भीष्म टैंक तैनात
पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ तनातनी के बीच भारत ने दुनिया के सबसे अचूक टैंक माने जाने वाले टी-90 भीष्म टैंक को तैनात कर दिया है। इसकी तैनाती के साथ ही लद्दाख में इसे भारतीय सेना का सबसे बड़ा शक्ति प्रदर्शन माना जा रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि इनकी तैनाती का मतलब है कि भारतीय सेना युद्ध जैसे हालात के लिए हर पल तैयार है।टी-90 भीष्म टैंक में मिसाइल हमले को रोकने वाला कवच है।इसमें शक्तिशाली 1000 हॉर्स पावर का इंजन है। यह एक बार में 550 किमी की दूरी तय करने में सक्षम है। इसका वजन 48 टन है। यह दुनिया के हल्के टैंकों में एक है।  यह दिन और रात में दुश्मन से लड़ने की क्षमता रखता है। ऐसे में भारतीय सेना के टैंकों की गर्जना से चीन के छक्के छूट रहे हैं।
अब हम आपको बताते हैं कि किस तरह से बीएमपी जो पहले सिर्फ रेगिस्तान और पानी के इलाकों में ही काम कर सकता था, अब ऊंचे पहाड़ी इलाकों में भी दुश्मन से मुकाबला करने के लिए पूरी तरह से तैयार है।एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल से लैस बीएमपी किसी भी ठिकाने को आसानी से शिकार बना सकता है।यहां पर मौजूद टैंक और बीएमपी चलाने वाले सैनिकों का जोश देखते ही बनता है। यहां मौजूद भारतीय सेना के आला अधिकारी बताते हैं कि आने वाली सर्दियों को देखते हुए भारतीय सेना ने अपनी तैयारियों को पूरी तरह से चाक-चौबंद कर लिया है।सर्दियों के लिए राशन, हथियार, तेल और रहने के लिए खास इंतजाम किए जा रहे हैं।
मौसम भी बड़ा दुश्मन।
यहां पर न सिर्फ चीनी सेना दुश्मन है बल्कि मौसम भी एक बड़ा दुश्मन है।बर्फबारी शुरू हो चुकी है और अब तापमान शून्य से 20 से लेकर 40 डिग्री नीचे जाने वाला है। ऐसे में यहां सैनिकों के  रहने के लिए खास तरह के टेंट और प्रीफैब्रीकेटेड हट्स तैयार किए जा रहे हैं। इन हट्स में जवानों की रहने, खाने जैसी हर तरह की सुविधा का ध्यान रखा गया है। खासतौर से शून्य से नीचे के तापमान में जवान यहां आराम से रह सकें, इसके खास इंतजाम किए गए हैं। चीन की चालबाजी को देखते हुए लद्दाख में चीन से लगने वाली सीमा के ऊंचे पहाड़ी इलाकों में सेना युद्ध स्तर पर ऐसे टेंट और प्रीफैब्रीकेटेड हट्स तैयार कर रही है। इसके साथ ही लगातार इन इलाकों में सेना के लिए हथियार और जरूरी साजो सामान पहुंचाने का भी काम युद्ध स्तर पर चल रहा है।
भारतीय सेना के हजारों सैनिक मुश्किल हालात में हर उस पहाड़ी और घाटी में मौजूद हैं जहां से चीन घुसपैठ कर सकता है।गलवान की खूनी भिड़ंत के बाद अब भारतीय सेना चीन को कोई मौका नहीं देना चाहती इससे पहले भारतीय सेना दक्षिणी पैंगोंग झील की कई सामरिक चोटियों पर क़ाबिज़ हो चुकी है।                   


अमेरिका के बाद चीन ने भी मिलाया हाथ

नई दिल्ली/ बीजिंग। आपको बता दें कि इजरायल भारत का बहुत ही पुराना दोस्त है। ये वही इजरायल है, जिसने करगिल जंग में भारत की मदद की थी। उस जंग में हमें इजरायल ने हथियार दिए थे। 2014 में पीएम मोदी के आने के बाद से ही दोनों देशों की दोस्ती नए मुकाम पर पहुंच चुकी है।


इस वक्त इजरायल उन चंद देशों में से एक है, जो हिंदुस्तान के सबसे बड़े और खास दोस्त हैं। यही वजह है कि इजरायल अपने दोस्त भारत को और ज्यादा ताकतवर और हाईटेक बनाने के लिए आगे आया है। इजरायल मिसाइल, मिसाइल सिस्टम, फाइटर जेट्स, रडार और सेंसर क्षेत्र में वर्ल्ड लीडर है। इजरायल के पास ऐसी ऐसी तकनीक, ऐसी ऐसी घातक मिसाइलें हैं, जो किसी भी देश के पास नहीं है।             


जनाधिकारों के प्रति जागरूकता अभियान

भानु प्रताप उपाध्याय


कमजोर वर्गों को अपने हकों के प्रति जागरूक करने के लिए चलाया जाएगा अभियान अरविंद झंझोट!


शामली। भारतीय अनुसूचित जन जागृति समिति (रजि.) के केंद्रीय मुख्यालय पर एक आवश्यक बैठक हुई। जिसकी अध्यक्षता संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अरविंद झंझोट ने की संचालन नंदू प्रसाद बाल्मीकि ने किया। बैठक में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अरविंद झंझोट ने संगठन को मजबूत करने के लिए कहा और गरीब कमजोर वर्गो को अपने हकों के प्रति जन समाज को जागरूक करने के लिए अभियान चलाया जाएगा। झंझोट ने कहा कि आज शहरी क्षेत्र की गरीब वर्ग की बस्तियों में विकास कार्य नहीं हो रहा है। सरकार की योजनाओं को लाभ भी गरीब वर्ग के लोगों को नहीं मिल पा रहा है और बेरोजगार लोगों को ऋण भी नहीं मिल पा रहे हैं। बैंक ऋण गरीब वर्ग के लोगों के  ऋण स्वीकृत नहीं करते हैं गरीब वर्ग के लोगों की ऋण फाइलें की कई माह तक बैंकों में पड़ी रहती है जिन्हें बैंक के अधिकारी उन  फाइलों को स्वीकृत ना करके भेज देते हैं आज बेरोजगार युवा वर्ग बेरोजगारी से अत्यधिक मानसिक रूप से परेशान है जिन्हें ना तो रोजगार मिल पा रहा है और ना ही उन्हें बैंकों से ऋण मिल पा रहा है झंझोट ने सरकार से इस समस्या पर ध्यान देने के लिए आग्रह किया है!
कुमारी काजल बाल्मीकि प्रदेश प्रभारी समिति ने कहा कि महिलाओं को जागरूक किया जाएगा और और नारी प्रथम शक्ति है जिसका सम्मान करना प्रथम अधिकार है। नारी के सम्मान में उनके हकों के अधिकारों के लिए प्रयास किया जाएगा और संगठन में महिलाओं को शामिल किया जाएगा और संगठन को भी मजबूत किया जाएगा!
बैठक में कविता देवी बबीता देवी रेखा पाल कुसुम प्रजापति राजेश देवी कुमारी रितिका रितिक झंझोट मुकेश कुमार नंदू प्रसाद बाल्मीकि शामिल रहे!               


अतीक के शूटर्स-गुर्गों के खिलाफ कार्रवाई

पूर्व सांसद अतीक अहमद के बाद अब उसके शूटर्स और गुर्गों पर सरकार की कार्यवाही।
रिपोर्ट-बृजेश केसरवानी
प्रयागराज। इलाहाबाद में पूर्व सांसद अतीक अहमद के खिलाफ कार्यवाही का सिलसिला जारी है अतीक और उनके रिस्तेदारो की प्रॉपर्टी पर ध्वस्तीकरण की कार्यवाही के बाद पुलिस और प्रशासान अतीक के गुर्गों और शूटरों द्वारा ज़मीन कब्जे करके बनाये गए मकानों को गिरा रही है। अतीक के गुर्गे भुट्टो के लॉज पर बुल्डोजर चला कर ढहाया जा रहा है। अतीक के इस गुर्गे ने अपराध के दम पर कछार की ज़मीन पर लॉज बनालिया था। इसके अलावा अतीक के शूटर रहे कम्मू और जाबिर के मकान को खाली करा कर ध्वस्तीकरण की कार्यवाही कि जा रही है।कम्मू और जाबिर दोनोभाई है। पहले इन्होंने अतीक के इशारे पर कई अपराध किये है और सुपारी लेकर हत्या का भी इन पर आरोप है । हालांकि दोनों भाई यो की 3 साल पहले अतीक अहमद से रंजिश हो गई थी। अतीक ने दो हत्या कराकर सपा की सरकार में दोनों भाइयों पर हत्या का आरोप लगवा दिया था बाद में सरकार बदलने पर जांच हुई तो इस हत्याकांड में अतीक और उसके खास गुर्गे आबिद का नाम सामने आया था। इसी मामले में जाबिर जेल मेंभी है। पुलिस ने इन लोगो की हिस्ट्री शीट खोली है जिसमे दोनों पर हत्या सहित कई  संगीन धाराओं में कुल 17 मुकदमे दर्ज है।आज पुलिस इनके घर को खाली कराकर ध्वस्तीकरण कराएगी आरोप है कि इन लोगो ने कछार की ज़मीन पर कब्ज़ा करके आलीशान मकान बनाया है। इस कार्यवाही से साफ है कि अतीक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर आराम से रहने वाले उनके पूर्व शूटर और गुर्गों की भी मुश्किलें बढ़ेगी।और जो कार्यवाही अतीक पर हो रही है वो भी उससे नही बच पायेगे।             


गायब युवक का शव नदी में तैरता मिला

अतुल त्यागी, प्रवीण कुमार


युवक का तालाब में तैरता मिला शव


हापुड़। उत्तर प्रदेश के जनपद के थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के गांव लुखराडा में उस वक्त अफरातफरी का माहौल हो गया। जब ग्रामीणों के द्वारा शव तालाब में तैरता देखा गया।
आपको बता दें कि थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के गांव लुखराडा में 3 दिन से गायब एक युवक का शव गांव में बने तालाब में तैरता हुआ देखा गया वहीं सूचना पर पहुंची। पुलिस ने शव को तालाब से निकलवा ग्रामीणों की मदद से उसकी पहचान चमन सिंह के रूप में की गई वही बताया जा रहा है कि चमन सिंह पिछले 3 दिन से घर से गायब था। जिसको पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया वही पुलिस जांच में जुट गई।


सड़क हादसा, बाइक सवार 2 को मारी टक्कर

अतुल त्यागी, मुकेेेश सैनी
तेज रफ्तार का कहर लगातार जारी तेज रफ्तार अज्ञात वाहन ने बाइक सवार दो व्यक्तियों को मारी जोरदार टक्कर।


हापुड़। एक व्यक्ति की मौके पर ही दर्दनाक मौत, दूसरा व्यक्ति गंभीर रूप से घायल। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल व्यक्ति को कराया पास के निजी अस्पताल में भर्ती डॉक्टरों ने हालत गंभीर होती देख दूसरे अस्पताल को किया रेफर दोनों व्यक्ति बाइक पर सवार होकर गाजियाबाद की तरफ से हापुड़ अपने घर जा रहे थे। जैसे ही पिलखुवा के नेशनल हाईवे पर छिजारसी चौकी क्षेत्र में पहुंचे तभी अज्ञात वाहन ने जोरदार टक्कर मार दी बाइक पर सवार अभिषेक जैन पुत्र राजकुमार जैन निवासी प्रेमपुरा कोठीगेट की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि सुशील पुत्र मुन्नालाल निवासी गोपीपुरा गम्भीर घायल हो गया।                   


हापुड़ः फायरिंग करते हुए वीडियो वायरल

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी
हापुड़ में अवैध असले के साथ युवती का फायर करते हुए, सोशल मीडिया पर जमकर हो रहा है वीडियो वायरल।


हापुड़। मामला जनपद हापुड़ के पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र का, बताया जा रहा है वीडियो, एक युवती बेखौफ तरीके से अवैध असले के साथ, फायर करते हुए वीडियो में दिखाई दे रही है साफ-साफ, बड़ा सवाल यह है आखिर अवैध हथियार लोगों पर आ कहां से रहे हैं। वहीं थाना इंचार्ज का पिलखुवा कहना है ,अभी मामला उनके संज्ञान में नहीं है जैसे ही मामला संज्ञान में आता है,  जांच कर कार्यवाही की जाएगी, जबकि कई दिन से हो रहा है सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल, पिलखुवा कोतवाली क्षेत्र का बताया जा रहा है वीडियो। सूत्रों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार पता चला है यह महिला पहले भी दरोगा बाबू की पिस्टल से फायर करते हुए चर्चाओं में रह चुकी है अब देखना यह है पुलिस मामले को गंभीरता से लेते हुए महिला की क्राइम कुंडली खंगाल कर क्या कार्रवाई करती है।                 


बड़ें भाई पर धार दार हथियार से हमला

अतुल त्यागी, मुकेश सैनी


छोटे भाई से उधारी के रुपए मांगना बड़े भाई को पड़ा महंगा


हापुड़। उत्तर प्रदेश के जनपद के नगर कोतवाली क्षेत्र के मजीद पुरा में एक युवक को अपने छोटे भाई से अपने उधारी के रुपये मांगना उस समय भारी पड़ गया। जब उसके भाई ने किसी धारदार हथियार से उस पर हमला कर दिया और वह गंभीर रूप से घायल होकर जमीन पर गिर पड़ा।
आपको बता दें कि जनपद हापुड़ के नगर कोतवाली क्षेत्र के बुलन्दशहर रोड पर से स्थित मोहल्ला मस्जिद पुरा गली नंबर 2 निवासी लियाकत अली अपने छोटे भाई से उधार दिए हुए रुपए की मांग करने उसके पास पहुंचे परंतु छोटे भाई ने अचानक उनकी पीठ पर किसी धारदार हथियार से वार कर दिया और उन्हें घायल अवस्था में छोड़ फरार हो गया सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को प्राथमिक उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया।


पहली बार बिना दर्शकों के खेला जाएगा मैच

अमीरात। अबु धाबी के शेख जायद स्टेडियम में कुछ देर बाद कोरोना के खौफ के बीच पूरा विश्व आईपीएल के रंग में रंग जाएगा। यह पहला मौका होगा जब कोई सीजन बंद स्टेडियम में बिना दर्शकों के खेला जाएगा। क्रिकेट को धर्म की तरह मानने वाले हिंदुस्तानी बेहद उत्सुकता से 13वें सीजन का इंतजार कर रहे हैं। 19 सितंबर से शुरू होने वाले ड्रीम 11 आईपीएल 2020 के पहले मैच में मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स की भिड़ंत होगी।               


यूपी के कुछ हिस्सों में बारिश का अलर्ट

यूपी के कुछ हिस्सों में अगले 24 घंटे में बारिश की संभावना।


लखनऊ। देश के कई हिस्सों में लौटते हुए मानसून का असर दिखाई दे रहा है। मौसम विभाग की मानें तो अगले 24 से 36 घंटों के दौरान उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में बारिश हो सकती है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में बीते दिनों में काफी बारिश हुई है। खासकर राज्य के पूर्वी जिलों गोरखपुर, देवरिया, कुशीनगर, वाराणसी, बलिया और मऊ में मौसम विभाग के मुताबिक राज्य के इस हिस्से में बारिश के आसार अब भी बने हुए हैं। वहीं कानपुर के आस-पास और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ​ जिलों में बारिश की प्रबल संभावना मौसम विभाग ने जताई है।
इसके साथ-साथ आगे बढ़ रहा चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र समुद्र तल से 5.8 किमी ऊंचाई पर है। मानसून की अक्षीय रेखा जैसलमेर, अजमेर, भीलवाड़ा, ग्वालियर, मध्य प्रदेश पर बने कम दबाव के क्षेत्र से होते हुए डाल्टनगंज, बांकुरा और बंगाल की खाड़ी के उत्तरी भागों पर बनी हुई है। इसका असर उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों, दिल्ली एनसीआर और हरियाणा में भी देखने को मिलेगा ऐसा अनुमान मौसम विभाग ने जताया है।                 


2 महीने में 10 लाख नौकरी देंगेः तेजस्वी

बिहार के लोगों ने मौका दिया तो दो महीने में 10 लाख लोगों को देंगे नौकरी: तेजस्वी।


अविनाश श्रीवास्तव


पटना। बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सरकार को बेरोजगारी के मुद्दे पर घेरते हुए वादा किया कि अगर बिहार के लोग उनकी पार्टी को मौका देते है, तब सरकार बनने के दो महीने के अंदर 10 लाख लोगों को सरकारी नौकरी दी जाएगी।
पटना में राजद प्रदेश कार्यालय में तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारी सरकार बनी तो कैबिनेट की पहली बैठक में 10 लाख युवाओं को रोजगार देने का फैसला किया जाएगा। उन्होंने आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि बिहार में 50 हजार पुलिसकर्मियों के पद रिक्त है, जिस पर भर्ती की जाएगी। उन्होंने बताया कि बिहार में एक लाख आबादी पर 77 पुलिसकर्मी हैं जबकि राष्ट्रीय औसत 144 पुलिसकर्मियों का है।
उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग में भी बिहार में 1 लाख 25 हजार चिकित्सकों की जबकि कुल मिलाकर 2 लाख 50 हजार चिकित्सकों और सपोर्टिंग स्टॉफ की जरूरत है। इसी तरह शिक्षा के क्षेत्र में विद्यालयों में 2 लाख 50 हजार शिक्षकों के पद रिक्त हैं तथा कॉलेज और विश्वविद्यालय स्तर पर 50 हजार प्रोफेसरों के पद रिक्त है। उन्होंने कहा कि राज्य में जूनियर इंजीनियर के 66 प्रतिशत पद रिक्त हैं।
उन्होंने कहा, “अगर उनकी पार्टी को यहां के लोग मौका देते हैं तो इन सभी पदों पर नियुक्ति की जाएगी।” उन्होंने कहा कि यह वादा नहीं मजबूत इरादा है। उन्होंने नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि 15 साल काम करने वालों ने यहां क्या किया? आज बिहार में बेरोजगारों की फौज खड़ी हो गई है। उन्होंने कहा कि पांच सितंबर को राजद ने बेरोजगारों के निबंधन के लिए एक वेब साइट तथा एक मिस्ड कॉल के नंबर जारी किया था। उन्होंने कहा कि वहां 22 लाख से अधिक लोगों ने अपना निबंधन करवाया है।                


बीएसएफ ने घुसपैठ की कोशिश नाकाम की

बीएसएफ ने जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तानी घुसपैठ की कोशिश को किया नाकाम।


जम्मू। जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले में अंतर्राष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) द्वारा रविवार को घुसपैठ की एक बड़ी कोशिश को नाकाम कर दिया गया। बीएसएफ सूत्रों ने कहा कि सांबा में अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान की तरफ से पांच आतंकवादियों के एक समूह की गतिविधि को पिछली रात सतर्क जवानों ने नोटिस किया।
बीएसएफ सूत्रों ने कहा, “रात के दौरान, भारी हथियारों से लैस 5 आतंकवादियों के समूह ने लंबे-बढ़े सरकंडा की आड़ लेकर भारतीय क्षेत्र में प्रवेश करने की कोशिश की, लेकिन उनके करीब आने पर सतर्क बीएसएफ जवानों ने उनकी कोशिश को नाकाम कर दिया। ”
बीएसएफ सूत्रों ने बताया कि बीएसएफ जवानों के ललकारने पर उन्होंने उस समय जवानों पर गोलीबारी करनी शुरू कर दी, जबकि पाकिस्तान रेंजर्स के पोस्ट ने भी घुसपैठियों की मदद के लिए फायरिंग की। बीएसएफ जवानों की जवाबी फायरिंग के बाद आतंकवादी वहां से भाग गए।
बीएसएफ ने कहा कि उसने पाकिस्तान रेंजर्स द्वारा समर्थित पाकिस्तान की ओर से हथियारबंद आतंकवादियों की घुसपैठ की एक और कोशिश को नाकाम कर दिया है। सितंबर में 14 से 15 विफल प्रयासों के बाद आतंकवादियो के समूह द्वारा सांबा सेक्टर के माध्यम से घुसपैठ का यह दूसरा प्रयास है।                


पंचायत क्षेत्र में सार्वजनिक 35 सिटिंग बैंच

छतरपुर ढ़ाडा पंचायत में सार्वजनिक स्थलों में लगेंगे 35 सिटिंग बैंच
जिला पार्षद पंकज सहोड़ ने पंचायत की मांग को करवाया पूरा
सत्यदेव शर्मा सहोड़
ऊना। विधानसभा ऊना सदर हल्के की पंचायत छतरपुर ढ़ाडा में सार्वजनिक स्थलों पर लोगों को बैठने की सुविधा के लिए 35 बैंच लगाए जाएंगे। पंचायत प्रधान दलजीत कौर, उपप्रधान अनिल शर्मा व पूर्व उपप्रधान महेंद्र मोहन ने जिला परिषद वार्ड नंबर 10 से पार्षद पंकज सहोड़ के समक्ष गांव में सार्वजनिक स्थलों पर लोगों के लिए बैठने की सुविधा के लिए बैंच लगवाने की मांग उठाई गई। जिस पर जिला पार्षद पकंज सहोड़ ने जिला परिषद की मासिक बैठक में रखा, जिसे मंजूर कर लिया गया है। ज्ञात रहे कि अभी हाल ही में यह पंचायत विकास खंड हरोली में थी, जिसको अब ऊना ब्लॉक के जिला परिषद वार्ड नंबर 10 रायपुर सहोड़ां में लगभग दो महीने पहले शामिल किया गया। इसके लिए स्थानीय ग्रामीणों ने छठे वित्त आयोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर का आभार व्यक्त किया है। इस पंचायत के हरोली ब्लॉक में होने के कारण यहां के लोगों को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ता था। जबकि इस पंचायत का विधानसभा हल्का ऊना सदर पड़ता है। इस पंचायत का ऊना ब्लॉक में शामिल होने के बाद यहां के लोगों को अपने काम करवाने के लिए अब हरोली ब्लॉक में नहीं जाना पड़ेगा। जो भी विकास कार्य होंगे अब ऊना ब्लॉक के तहत ही होंगे। पंकज सहोड ने बताया कि ग्राम पंचायत छतरपुर ढ़ाडा द्वारा गांव में सार्वजनिक स्थलों पर बैठने हेतु 35 बेंच लगाने की मांग की गई। लोगों को सार्वजनिक स्थलों पर बैठने के लिए बैंचों की सुविधा न होने के कारण परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसको ध्यान में रखते हुए लोगों को बैठने की लिए बेंच उपलब्ध करवाने की मांग को जिला परिषद की मासिक बैठक में जिला परिषद अध्यक्ष के माध्यम से जिला प्रशासन से उठाया गया। जिला प्रशासन ने पंचायत में 35 बैंच छतरपुर ढ़ाडा में सार्वजनिक स्थलों में लगाने की अनुमति प्रदान कर दी है। इसमें गांव के शिव मंदिर वार्ड नंबर 5, गुरुद्वारा वार्ड नंबर दो व श्मशान घाट में लोगों को बैठने के लिए 5-5 बेंच लगाने का प्रस्ताव है। इसके अलावा वार्ड नंबर एक से पांच तक प्रत्येक वार्ड को 4-4 बेंच लगाने का प्रस्ताव है। स्थानीय लोगों की मांग पर जिला पार्षद पंकज सहोड़ ने 10,5000 रुपए से 35 (सीमेंट कंक्रीट) बेंच लगाने की स्वीकृति ली। पंकज सहोड़ ने बताया कि जिला परिषद रायपुर सहोडां वार्ड नंबर 10 अंतर्गत आने वाली पंचायतों और स्थानीय लोगों ने सिटिंग बैंच लगाने की मांग उठाई है। उन्होंने कहा कि जिला परिषद फंड से 10,5000 रुपए से पब्लिक प्लेस, चौराहा, पंचायत घर, मंदिर, गुरुद्वारा, प्ले ग्राउंड व पार्क आदि में आम लोगों को बैठने के लिए सिटिंग बैंचेस उपलब्ध करवाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि सिटिंग बैंच छतरपुर ढ़ाडा में 10,5000 रुपए से 35 सिटिंग बैंचेस लगाए जाएंगे। पंकज सहोड़ ने कहा कि बैंचस लगने से जहां लोगों को बैठने की सुविधा मिलेगी। छतरपुर ढ़ाडा गांव में कुल 5 वार्ड हैं, जिनमें हर वार्ड में चार-चार सिटिंग बेंच लगाए जाएंगे। जिससे लोगों को बैठने की जगह मिलेगी। उन्होंने कहा कि जल्द ही सिटिंग बैंच को लगाने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया जाएगा। उधर, छतरपुर ढ़ाडा की पंचायत प्रधान दलजीत कौर, उपप्रधान अनिल शर्मा, पूर्व उपप्रधान महेंद्र, कुलदीप, निखिल, रजनी, राजेंद समेत अन्य ग्रामीणों ने जिला पार्षद पंकज सहोड़ द्वारा 35 सिटिंग बैंच उपलब्ध करवाने के लिए आभार व्यक्त किया है।           


बरेलीः 300 बेड का हॉस्पिटल चालू कराया

नोडल अधिकारी नवनीत सहगल ने 300 बेड हॉस्पिटल शुरू कराने के दिए निर्देश।


बरेली। नोडल अफसर नवनीत सहगल 12:30 बजे 300 बेड के कोविड अस्पताल पहुंचे। उन्होंने आइसीएयू वार्ड, प्राइवेट वार्ड का निरीक्षण किया। मौके पर सीएमएस डॉ. वागीश वैश्य से जानकारी ली।
नोडल अधिकारी ने कहा कि पोर्टेबल डिजिटल एक्सरे मशीन आ गई है। सभी व्यवस्थाएं सुचारू मिलने पर 300 बेड अस्पताल शुरू करने को कहा। सीएसएस ने एमबीबीएस डॉक्टर की तैनाती की मांग उठाई। इससे पहले उन्होंने राजश्री मेडिकल कॉलेज में चिकित्सकों के साथ बैठक की।              


लखनऊः खरीददारों को मिलेगा मॉल में प्रवेश

लखनऊ के मॉल्स में खरीदारी को लेकर गंभीर लोगों को ही मिलेगा प्रवेश।


संदीप मिश्र


लखनऊ। विंडो-शॉपिंग के शौकीन या मॉल और शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में यूं ही घूमने के शौकीन लोग अब अपने इस शौक को लखनऊ में पूरा नहीं कर पाएंगे। अधिकारियों ने मालिकों/प्रबंधन को निर्देश दिया है कि वे उन्हीं लोगों को प्रवेश दें जो कि खरीदारी करने के मकसद से आएं और मास्क पहन रखा हो।
प्रशासन द्वारा जारी किए गए नए दिशा-निर्देशों के अनुसार, कोरोनो वायरस संक्रमण को रोकने के लिए सभी मॉल और शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के कर्मचारियों, साथ ही आगंतुकों को सभी स्वास्थ्य सुरक्षा गियर पहनना अनिवार्य होगा। इसके अलावा, अन्य बाजारों और दुकानों के लिए भी कोविड के मद्देनजर दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं, व्यापारियों और दुकानदारों ने यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है कि सभी ग्राहक खरीदारी करते समय मास्क और ग्लव्स पहनें।
लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कहा, “क्योंकि महामारी अभी जारी है, इसलिए हमने शॉपिंग मॉल और कॉम्प्लेक्स के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं। आगंतुकों को जागरूक किया जाएगा कि केवल ‘सीरियस खरीदारों’ को मॉल में प्रवेश करने की अनुमति दी जाए। उन्हें खरीदारी खत्म होते ही मॉल से चले जाने के लिए भी कहा जाएगा।
दिशा-निर्देशों के अनुसार, सभी आगंतुकों और कर्मचारियों के लिए उचित थर्मल जांच से गुजरना अनिवार्य है। दिशा-निर्देशों में कहा गया, “यह सुनिश्चित किया जाएगा कि सभी सार्वजनिक संपर्क क्षेत्र, जिनमें एस्केलेटर, दरवाजे, रेलिंग, लिफ्ट, पार्किं ग एरिया और अन्य शामिल हैं, आगंतुकों और कर्मचारियों दोनों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए निमित रूप से सैनिटाइज किए जाएं।”
मॉल और शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में स्वास्थ्य सुरक्षा उपायों को सुनिश्चित करने के लिए दो नोडल अधिकारियों को तैनात किया जाएगा। नए दिशानिर्देशों को लेकर मॉल मालिकों ने तीखी प्रतिक्रिया दी है।
एक मल्टी-ब्रांड स्टोर के मालिक ने कहा, ‘हम सीरियस खरीदारों और विंडो शॉपर्स के बीच अंतर कैसे कर सकते हैं? जो लोग विंडो शॉपिंग में शामिल रहते हैं वो बाद में कुछ न कुछ खरीद लेते हैं। हम ग्राहकों से यह यह नहीं कह सकते हैं कि अगर आप हमारे स्टोर के सामानों को बस देख रहे हैं तो यहां से चले जाएं।”                


सरकार का पुतला फूंककर विरोध जताया

 किसान विरोधी बिल के विरोध में मोदी सरकार का पुतला फूंका, केंद्र सरकार लगातार काला कानून ला रही है – जोशी।


मोटाहल्दू। केंद्र सरकार हाल ही में कोरोना काल के चलते 3 कृषि अध्यादेश लेकर आई है, जिन्हें केंद्र सरकार की तरफ से बड़ा कृषि रिफॉर्म, कृषि में सुधार बताया जा रहा है। लेकिन यहां आज देवभूमि उद्योग व्यपार मंडल के कृषि बागवानी एवं पशुपालन कुमाऊं संयोजक शम्भू दत्त कविदयाल एवं प्रदेश सचिव रमेश चन्द्र जोशी के नेतृत्व में किसान विरोधी बिल के विरोध में रविवार को व्यपार मंडल कार्यालय बरेली रोड़ मोटाहल्दू पर मोदी सरकार का पुतला जलाया। नेताओं ने कहा कि सरकार ने किसानों के हित में नहीं बल्कि उद्योगपतियों के हित में बिल पास किया है।
किसान विरोधी बिल का विरोध करते हुए व्यपार मंडल कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। इस मौके पर प्रदेश सचिव रमेश जोशी ने कहा कि यह किसान विरोधी बिल है, इससे किसान भुखमरी के कगार पर आ जाएगा, केंद्र सरकार लगातार काला कानून ला रही है और देश को आर्थिक गुलामी की तरफ धकेल रही है। इस सरकार ने एक भी काम आम आदमी के हक में नहीं किया। नोटबंदी से लेकर जीएसटी तक सभी जनविरोधी साबित हुए।
अब किसान विरोधी बिल पास किया गया है ये भी पूजीपतियों के लिए है। इस मौके पर किसान नेता एनके कपिल व डॉ. बालम सिंह बिष्ट ने कहा कि वर्तमान सरकार किसान विरोधी, छात्र विरोधी, रोजगार विरोधी सरकार है, यह पूंजीपतियों की सरकार है। यहां गरीब जनता की कोई अहमियत नहीं है।
सरकार अपने साथ-साथ पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने का काम कर रही हैं। पुतला फूंकने वालो में मुख्य रूप से किसान सेवा सहकारी समिति के अध्यक्ष हेम चन्द्र दुर्गापाल, किसान नेता रमेश तिवारी, एन के कपिल, शम्भू दत्त कविदयाल, रमेश चन्द्र जोशी, डॉ. बालम सिंह बिष्ट, पूर्व प्रधान बीड़ी खोलिया, राधा कृष्ण पाठक, महताब व हरीश ऐठानी सहित तमाम लोग मौजूद थे।              


उत्तराखंड में पर्यटन को तेजी से बढ़ाएंः सीएम

 उत्तराखंड में पर्यटन तेजी से बढ़ाएं–सीएम रावत।


पंकज कपूर


देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर पर्यटन विभाग द्वारा वेबनार के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में कहा कि उत्तराखण्ड में पर्यटन तेजी से बढ़ा है। राज्य में धार्मिक एवं अन्य पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा दिया जा रहा है। कोविड के कारण पर्यटन गतिविधियों में जरूर कमी आई है, लेकिन स्थिति सामान्य होने पर पर्यटन की स्थिति में तेजी से सुधार होगा। उन्होंने कहा कि राज्य में प्रत्येक जनपद में थीम आधारित पर्यटन स्थल विकसित किये जा रहे हैं।
उत्तराखण्ड में पर्यटन एक ऐसा क्षेत्र है, जिसमें रोजगार की बहुत संभावनाएं हैं। सीएम रावत ने कहा कि उत्तराखण्ड विभिन्न जैव विविधताओं वाला राज्य है। बर्फ से ढ़की पर्वत श्रृंखलाएं, बुग्याल, विभिन्न प्रकार के जीव-जन्तु एवं अच्छा मानव संसाधन देवभूमि उत्तराखण्ड की ओर पर्यटकों का ध्यान आकर्षित करता है। उत्तरकाशी जनपद में स्नो लेपर्ड पार्क बनाया जा रहा है। उत्तराखण्ड में पर्यटन पर आधारित गतिविधियां पूरे साल हो, इसके लिए सरकार द्वारा प्रयास किये जा रहे हैं।
क्याकिंग, राफ्टिंग, पैराग्लाइडिंग जैसी गतिविधियों के लिए उत्तराखण्ड में अनुकूल वातावरण है। सीमान्त क्षेत्रों में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं। राज्य में होमस्टे को बढ़ावा दिया जा रहा है। अभी 2200 से अधिक होम स्टे रजिस्टर्ड हो चुके हैं। अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, पौड़ी में काफी अच्छे होम स्टे बनाये गये हैं। होम स्टे के प्रति लोगों का रूझान भी बढ़ा है। होम स्टे पर्यटकों को आकर्षित तो करता ही है साथ ही यहां के लोगों के लिए रोजगार के भी अच्छे अवसर उपलब्ध करा रहा है।
मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि उत्तराखण्ड आगमन के लिए अब पर्यटकों के लिए अच्छी सुविधा है। सर्दियों के समय उत्तराखण्ड का प्राकृतिक एवं नैसर्गिक सौन्दर्य पर्यटकों को यहां आने के लिए प्रेरित करता है। अब उत्तराखण्ड में आवागमन के लिए अनेक साधन हैं। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि पर्यटन क्षेत्र का उत्तराखण्ड की जीडीपी में अहम योगदान रहा है। हम पर्यावरण हित पर्यटन की तरफ आगे बढ़ रहे हैं।
पर्यटन एवं तीर्थाटन के माध्यम से स्थानीय लोगों की आजीविका बढ़ाने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं। हमारा प्रयास आपदा को अवसर में बदलने का है। विश्व पर्यटन की इस वर्ष की थीम‘पर्यटन और ग्रामीण विकास है’। ग्रामीण विकास के साथ ही पर्वतीय क्षेत्रों में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार द्वारा अनेक प्रयास किये जा रहे हैं।
आने वाले दिनों में हमारे समग्र प्रयास से फिर उत्तराखण्ड की तस्वीर बदलेगी, पर्यटन गतिविधियों से लोगों की आजीविका में सुधार होगा। इस अवसर पर सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर, वेबनार के माध्यम से जुड़े प्रसिद्ध फिल्मकार प्रसून जोशी, मती मनीषा पाण्डे, डॉ. शिवम मणि, मनदीप सिंह, धनुष सिंह एवं पर्यटन गतिविधियों से जुड़े जानकारों ने अपने सुझाव दिये।             


योगी के खिलाफ टिप्पणी करने पर मामला दर्ज

मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ टिप्पणी करने वालों पर मुकदमा।


बृजेश केसरवानी


प्रयागराज। गुजरात की अहमदाबाद जेल में बंद पूर्व सांसद अतीक अहमद के अवैध निर्माण के ढ़हाए जाने को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाले के खिलाफ खुल्दाबाद थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।
पुलिस सूत्रों ने बताया कि खुल्दबाद के चकिया स्थित अतीक अहमद के निवस को पिछले दिनों प्रयागराज विकास प्राधिकरण (प्रविप्रा) ने जमींदोज करा दिया था। मोहम्मद सद्दाम के फेसबुक प्रोफाइल पर मोहम्मद गुलाम और राघवेन्द्र ने अतीक के अवैध निर्माण ढ़हाए जाने को लेकर पोस्ट किया था। उसी पोस्ट पर धीरू यादव ने मुख्यमंत्री पर आपत्तिजनक टिप्पणी की।
उन्होंने बताया कि इस टिप्पणी का कुछ लोगों ने स्क्रीन शॉट बनाया और फिर उसे प्रिंट करवाकर कई जगह फेंक दिया। अटाला चौकी प्रभारी बलवंत का दावा है कि रोशनबाग क्षेत्र में गश्त के दौरान एक कागज उन्हें भी मिला जिसके आधार पर उन्होने खुल्दाबाद थाने में आईटी एक्ट समेत अन्य दूसरे धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया। उन्होंने बताया कि इस मामले में तीन दिन पहले मुकदमा दर्ज कराया गया था और पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।
गौरतलब है प्रविप्रा ने अतीक अहमद के सिविल लाइंस, खुल्दाबाद, धूमनगंज, सिविल लाइंस और झूंसी के कटका में कई सौ करोड रूपये मूल्य के अवैध निर्माण का ध्वस्त कर दिया है और कई संपत्तियों को कुर्की कर लिया है। प्राधिकारण और पुलिस प्रशासन अतीक के नजदीकियों के अवैध रूप से निर्मित भवनों पर भी बुलडोजर चलवा रही है। अतीक और उनके नजदीकियों की कई अवैध संपत्तियों को चिन्हित कर लिया गया है।               


बहला-फुसलाकर कर युवती से किया रेप

जौनपुर। उत्तर प्रदेश में जौनपुर के केराकत इलाके के भड़ेहरी गांव में बहन की ससुराल में रह रही एक युवती को एक विवाहित युवक बहका-फुसलाकर दिल्ली भगा ले गया। वहां शादी का ढोंग रचाने के बाद तीन साल तक दुष्कर्म किया। गर्भवती होने पर युवती का गर्भपात भी करा दिया। अब उसे बेसहारा छोड़कर दिल्ली फरार हो गया। युवती ने पुलिस को तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है।
पुलिस के अनुसार सरायख्वाजा इलाके के एक गांव की युवती ने पुलिस को तहरीर देकर आरोप लगाया है कि माता-पिता की मृत्यु के बाद वह अपनी बहन की ससुराल में रह रही थी। केराकत कोतवाली क्षेत्र के भड़ेहरी गांव निवासी प्रहलाद ने खुद को अविवाहित बताया और उसे बहका-फुसला कर दिल्ली ले गया।                


पीडाः नाबालिक बालिका से किया दुष्कर्म

नवादा। नवादा जिले के नारदीगंज थाना के वानगंगा मुजफ्फर नगर गांव में शनिवार की देर शाम बिस्किट खिलाने के लालच देकर 28 वर्षीय युवक ने 6 वर्षीय बालिका के साथ बलात्कार किया। खून से लथपथ बालिका ने घर आकर अपने मां को सारी बात बताई। ग्रामीण स्तर पर पंचायती कर मामले को दबाने का प्रयास किया गया। रविवार को पीड़ित के पिता ने नारदीगंज थाने में मामला दर्ज कराया। पुलिस ने गांव में छापेमारी कर बलात्कारी विमल मांझी को गिरफ्तार कर लिया है।


एसडीपीओ उपेंद्र कुमार ने बताया कि बालिका देर शाम घर के बाहर खड़ी थी ।जिसे केदार मांझी का पुत्र विमल मांझी ने बिस्कुट का लालच देकर गोद में उठाकर खेत में ले जाकर बलात्कार किया।                 


मालामाल बनने के लिए करें ये उपाय

सुखी जीवन जीने के लिए हर किसी को चाहिए होता है पैसा और शांति, लेकिन हर किसी को ये दोनों चीजें एक साथ नही मिल पाती, दुनिया मे बहुत ही कम लोग हैं जिनके पास ये दोनों चीजें मिल पाती हैं, आज हम आपको एक ऐसा उपाय बताएंगे जिसके करने से आप की किस्मत ही बदल जाएंगी, और आप बन जाएगें करोड़पति


उपाय का तरीका


इस उपाय में आपको सफेद कबूतर के सिर्फ 1 पंख की जरूरत होगी। कबूतर को शांति का प्रतीक माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि कबूतर जिस जगह रहता है वहां शांति और सुख की वृद्धि होती रहती है और साथ ही वहां से नकारात्मक ऊर्जा का समापन हो जाता है और सकारात्मक ऊर्जा की स्थापना हो जाती है।             


अगर रात को आते हैं बुरे सपने, संकेत

कई बार आप सोते समय कोई न कोई बुरा सपना जरूर देखते होंगे और तो और उनमें से कई तो बेहद डरावने होते भी होते हैं, जिसका असर आपके दिलो दिमाग पर काफी दिनों तक रहता है। अगर आप चाहते हो कि ये डरावने सपने आपको कभी न आए तो आपको कुछ उपाय करने होंगे।


1. जिस दिन भी आपको बुरे सपने आएं तो उसके अगले दिन किसी मंदिर में जाकर चावल,चीनी, सफेद फूल और नारियल का दान करना चाहिए।


2. अगर आपको बुरे सपने रोज आते है तो काले कुत्ते को सातों दिन लगातार गुड़ और रोटी खिलाएं लेकिन ध्यान रहे किसी एक दिन भी यह प्रक्रिया छूटने न पाएं।


3. बुरे सपने आने पर आप प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करना शुरू कर दें क्योंकि हनुमानजी की पूजा करने से सारे कष्ट पल भर में दूर हो जाते हैं।               


हॉस्टल में महिला के साथ किया दुष्कर्म

ढाका। बांग्लादेश के सिलहट जिले के मुरारी चंद कॉलेज के एक हॉस्टल में एक महिला के साथ पुरुषों के एक समूह ने सामूहिक दुष्कर्म किया। समाचार पत्र द डेली स्टार ने सूत्रों के हवाले से बताया कि कॉलेज गई महिला और उसके पति को अपराधी हॉस्टल ले गए, जहां उन्होंने पति को बांध दिया और शुक्रवार रात को महिला संग दुष्कर्म किया। सिलहट मेट्रोपॉलिटन पुलिस (एसएमपी) के एडिशनल डिप्टी कमिश्नर (मीडिया) ज्योतिर्मय सरकार ने कहा, सूचना पर, पुलिस ने दुष्कर्म पीड़िता और उसके पति को बचाया और देर रात 12.10 बजे के असपास सिलहट एमएजी उस्मानी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में वन-स्टॉप क्राइसिस सेंटर भेज दिया।


उन्होंने कहा, पुलिस अपराधियों की पहचान की पुष्टि करने और उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही है।               


दिल्लीः 24 घंटे में 3372 नए संक्रमित मिलें

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना वायरस के मामलो में कमी आई  है। संक्रमितों की संख्या दर घटकर 5.85 फीसद पर हो गई है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के 3372 नए मामले सामने आए हैं, और 4476 मरीज ठीक हुए है। वहीं पिछले 24 घंटे में वायरस से 46 मरीजों की मौत हो गई। आपको बता दें पिछले 72 दिनों में मौत का ये सर्वाधिक आंकड़ा हैं।

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार राजधानी में अब तक कोरोना के कुल 2 लाख 67 हजार 822 मामले सामने आ चुके हैं। जिसमें से 2 लाख 32 हजार 912 मरीज ठीक हो चुके हैं। वहीं मृतकों की संख्या 5193 पहुंच गई  हैं। 


राष्ट्रीय राजधानी में मौजूदा समय में कोरोना वायरस के 29717 सक्रिय मरीज हैं। जिसमें से 6840 मरीज अस्पतालों में भर्ती किए गए  हैं। राजधानी में कंटेनमेंट जोन की संख्या 2231 पहुंच गई हैं। एक दिन पहले 2124 कंटेनमेंट जोन थे।                           


मुक्तसरः मुहिम के तहत बाटें गए 300 मास्क

मुक्तसर। पुलिस तथा मुक्तिसर वेलफेयर क्लब द्वारा बिजली वाला खूह के पास 300 लोगों को मास्क बांटकर कोरोना से बचाने जिए भी जागरुक किया गया। थाना सिटी के प्रभारी मोहन लाल ने बताया कि कोरोना बीमारी से बचने के लिए सावधनियां बहुत ही जरूरी है। उन्होंने कहा कि घर से बाहर निकलते समय मास्क पहनना अति जरुरी है। थाना प्रभारी ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा चलाई जा रही रहबर मुहिम के तहत क्लब द्वारा जगह-जगह पर राहगीरों को मास्क बांटे जा रहे हैं तथा कोरोना वायरस के बचाव लिए जागरूक किया जा रहा है। प्रभारी ने बताया कि पुलिस टीमों द्वारा भी जगह जगह पर सेमिनार लगाकर लोगों को इस बीमारी के बचाव लिए जानकारी दी जा रही है। इस मौके पर केशव धूडियां, प्रिस कुमार, अमनदीप सिंह, मुनीष कुमार, लवप्रीत सिंह, राज कुमार के अलावा पुलिस कर्मचारी भी उपस्थित थे।                 


यूपी में संक्रमितों की संख्या-50000 पार

लखनऊ। यूपी में लखनऊ कोरोना संक्रमण का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट बन गया है। यहां अब तक 50 हजार से ज्यादा लोगों को कोरोना अपनी चपेट में ले चुका है। इनमें सबसे ज्यादा 20-40 आयु वर्ग के लोग प्रभावित हुए हैं। यहां अब तक 653 मरीजों की कोरोना से मौत हो चुकी है। हालांकि रिकवरी के आंकड़े सुकून देने वाले हैं। बीते तीन चार दिनों के छोड़े दे तो सितंबर में प्रतिदिन औसतन 900 से हजार मामले सामने आए हैं। कोरोना केस के मामले में दूसरा कोई भी जिला लखनऊ के आसपास भी नहीं है। लखनऊ के बाद कानपुर नगर में 23,800 लोग संक्रमित हो चुके हैं। लखनऊ में बढ़ते मामले देख व खासतौर पर बीते दिनों चार प्राइवेट अस्पतालों की लापरवाही के कारण हुई 48 लोगों की मौत के मामले उजागर होने के बाद डीएम अभिषेक प्रकाश लगातार अस्पतालों का दौरा कर स्वास्थ्य व्यवस्था का जायजा ले रहे हैं। लखनऊ में अब तक 39580 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं, तो वहीं 9391 सक्रिय केस हैं। अब तक 653 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है।                     


डीसी ने गौशाला का निरीक्षण व गौ सेवा की

फरीदकोट। डीसी विमल कुमार सेतिया ने गेशाला आंदियाना गेट पहुंचकर गोसेवा की, और गोशाला में किए जा रहे सेवा के कार्यों के बारे में जानकारी प्राप्त की। गोशाला के सेवादार प्रमोद गोयल ने बताया के यहां पर गोमाता को बड़े-बड़े ही प्रेम एवं सेवा भाव से रखा जाता है, सफाई का पूरा ध्यान रखा जाता है और साफ पानी पिलाया जाता है। गोवंशों के लिए पर्याप्त मात्रा में हवादार शेड भी बनाए गए हैं। गोमाता के आराम के लिए कच्ची जगह भी छोड़ी गई है, इसके अलावा शुद्ध दाना भी यहां पर ही चक्की लगाकर तैयार किया जाता है। शहर वासियों को देसी गौ माता का दूध वाजिब दाम पर सुबह शाम उपलब्ध करवाया जाता है। इस कार्य में गोशाला के कर्मचारियों सेवादारों एवं शहर निवासियों का पूर्ण सहयोग प्राप्त है। डीसी सेतिया ने गौशाला के काम की सराहना की और हर संभव सहयोग का भरोसा दिलाया।


इस अवसर पर गौशाला मैनेजर शैलेंद्र शर्मा दफ्तर इंचार्ज, देविदर देवगन श्री प्रेम संकीर्तन मंडल महासचिव, हरी चंद अरोड़ा समाजसेवी, दर्शन लाल चुग एवं अन्य कर्मचारी व सेवादार हाजिर रहे।             


उपहारः कोरोना मरीजों को बांटे गए फल

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के चलते क्लीन एंड ग्रीन सेवा सोसायटी के प्रधान तरसेम गोयल की तरफ से लगातार जरुरतमंद लोगों की मदद की जा रही है। इसी लड़ी के तहत कोरोना पॉजिटिव मरीजों के को फ्रूट बांटे गए जिससे की लोगों को प्रोटीन मिले तथा वह जल्द से जल्द सेहतमंद हो सकें। उन्होंने कोरोना पीड़ित मरीजों को अपील की कि वह सेहत विभाग की तरफ से जारी हिदायतों का पालन करें। मास्क तथा हाथों को बार-बार सैनेटाइजर तथा साबुन से साफ रखें।


इस अवसर पर उनके साथ एसएमओ सतीश गोयल, डॉ. भारत भूषण, डॉ. नरिदर, डॉ. बलजीत कौर, प्रिसिपल संजीव जिदल, बिल्लू कटारिया, राजन बांसल, राज कुमार, आदि उपस्थित थे।             


फतेहाबादः 49 नए संक्रमित, 334 सक्रिय

फतेहाबाद। जिले में शनिवार को कई स्कूलों के स्टॉफ कोरोना पॉजिटिव मिले। ऐसे में मुश्किल बढ़ सकती है। वजह है कि पॉजिटिव मिले मरीज पहले स्कूल में गए थे। उन्होंने बच्चों को भी पढ़ाया था। ऐसे में अब बच्चे भी कोरोना की चपेट में आ सकते हैं। शनिवार को सबसे अधिक भूना क्षेत्र में स्कूल स्टाफ कोरोना के मरीज मिले हैं। वैसे शनिवार को जिले 52 कोरोना के मरीज ठीक हो गए, वहीं 49 कोरोना के नए केस आए। अब 334 ही कोरोना के एक्टिव मरीज हैं। जो एक सप्ताह पहले 500 से अधिक थे। अब तक जिले में 1817 लोग कोरोना का मात दे चुके हैं। यह बड़ी राहत की बात है। हालांकि स्कूल स्टाफ पॉजिटिव आने से सरकार के स्कूल खोलने की दिशा में बाधा पैदा हो गई। वहीं भूना के ढाणी ढाणी नहला में एक परिवार के 4 लोग पॉजिटिव मिले। बैजलपुर, गोरखपुर, ढाणी सांचला व अहलीसदर के सरकारी स्कूल के स्टाफ पॉजिटिव आए।             


पेयजल परियोजनाओं का शिलान्यास किया

गोहाना (सोनीपत)। हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण, पशुपालन एवं मत्स्य और डेयरी विकास मंत्री जयप्रकाश दलाल ने शनिवार को बरोदा हलका के चार गांवों में पेयजल व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए परियोजनाओं का शुभारंभ किया। इन परियोजनाओं पर करीब 16 करोड़ रुपये खर्च होंगे। मंत्री ने गोहाना की नई अनाज मंडी में अटल किसान मजदूर कैंटीन का लोकार्पण किया, जहां किसानों व मजदूरों को दस रुपये में भरपेट खाना मिलेगा।


मंत्री जयप्रकाश दलाल गांव बुटाना, नूरनखेड़ा, भावड़ व निजामपुर पहुंचे। उन्होंने बुटाना में 3 करोड़ 33 लाख रुपये की लागत जलघर के नवीनीकरण के कार्य का शुभारंभ किया और तीन ट्यूबवेल की आधारशिला रखी। गांव नूरनखेड़ा में 2 करोड़ 98 लाख रुपये की लागत से जलघर के नवीनीकरण, गांव भांवड़ में 5 करोड़ 78 लाख रुपये की लागत से जलघर के नवीनीकरण और गांव निजामपुर में 3 करोड़ 60 लाख रुपये की लागत से नहरी पानी आधारित जल परियोजना का शिलान्यास किया। दलाल ने अपने दौरे में ग्रामीणों की शिकायतें भी सुनीं। उन्होंने कहा कि बरोदा हलके में हैफेड द्वारा करीब 12 करोड़ रुपये की लागत से अत्याधुनिक चावल मिलिंग मिल स्थापित की जाएगी। इससे धान उत्पादक किसानों को लाभ होगा और उनकी आमदनी में वृद्धि होगी। मिल की स्थापना से क्षेत्र के युवाओं को रोजगार के अवसर भी मिलेंगे।


उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार किसानों की आमदनी को दोगुना करने के लिए तीन विधेयक लेकर आई है जो विपक्ष को हजम नहीं हो रहे हैं। दलाल ने बरोदा के लोगों से अपील की कि एक बार भाजपा को मौका देकर देखें, यहां की तस्वीर बदल दी जाएगी। दलाल ने नई अनाज मंडी में कृषि कार्यों को दौरान जान गंवाने वाले किसानों के परिजनों को चेक वितरित किए। इस मौके पर सांसद रमेश कौशिक, राज्यसभा सदस्य रामचंद्र जांगड़ा, जिला अध्यक्ष मोहनलाल बड़ौली, डॉ. धर्मबीर सिंह नांदल, योगेश्वर दत्त, तीर्थ राणा, ओमप्रकाश शर्मा, पंडित उमेश शर्मा, भलेराम नरवाल, महेंद्र मलिक, भूपेंद्र मोर, रणधीर लठवाल मौजूद रहे। पुलिस प्रशासन रहा चौकन्ना


कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के मंत्री जयप्रकाश दलाल 24 सितंबर को बरोदा हलका के दौरे पर पहुंचे थे। गांव मुंडलाना पहुंचने पर बर्खास्त पीटीआइ ने उनकी गाड़ी का घेराव करके काले झंडे दिखाए थे। शनिवार को मंत्री के दौरे के मद्देनजर पुलिस और प्रशासन चौकन्ना रहा। मंत्री के सभी कार्यक्रमों में सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे।               


गाजियाबाद में 138 नए संक्रमित मिलेंं

अश्वनी उपाध्याय


गाजियाबाद। कोविड की रोकथाम के लिए विकास भवन में संचालित इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम में कार्यरत डॉक्टर एवं फार्मासिस्ट समेत 138 मिले हैं। डॉक्टर एवं फार्मासिस्ट को होम आइसोलेशन की अनुमति दी गई है। इसके साथ ही विकास भवन में संचालित कंट्रोल रूम (नियंत्रण कक्ष) को सैनिटाइज करने के लिए 24 घंटे के लिए सील कर दिया गया है। कंट्रोल रूम के प्रभारी व एडीएम वित्त यशवर्धन श्रीवास्तव ने इसकी पुष्टि की है। प्रशासन द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार को स्वस्थ होने पर 253 की अस्पतालों से छुट्टी कर दी गई है। स्वस्थ होने वालों की संख्या 11,601 पर पहुंच गई है। सक्रिय मरीजों की संख्या घटकर 1750 रह गई है। संक्रमित बाप-बेटा घूमते मिले, अस्पताल में कराए गए भर्ती


लोनी की मुस्तफाबाद कॉलोनी में स्वास्थ्य विभाग की टीम को संक्रमित बाप-बेटा घर से बाहर घूमते मिल गए। टीम ने कंट्रोल रूम को इसकी सूचना दी। तत्काल पुलिस के साथ एक टीम एंबुलेंस लेकर पहुंची और उक्त दोनों संक्रमितों को कोविड एल-2 संयुक्त अस्पताल, संजयनगर में भर्ती कराया गया है। दोनों के संपर्क में आने वाले 20 व्यक्तियों की जांच कराने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। डुंगरावली गांव के 30 व्यक्ति संक्रमित, कोविड एल-3 में भर्ती जिले के किसी गांव में पहली बार 30 व्यक्ति संक्रमित हुए हैं। ट्रॉनिका सिटी से सटे गांव डुंगरावली में दो दिन में कोरोना संक्रमित हुए 30 व्यक्तियों को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कोविड एल-3 अस्पताल में भर्ती कराया है। इनमें सात बुजुर्ग, महिलाएं और छह बच्चे भी शामिल हैं। बताया गया है कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस पूरे गांव को सील करने के साथ ही सक्रीनिग कराने की तैयारी की जा रही है। रैपिड रेस्पांस टीम ने गांव में डेरा डाल लिया है। 57 महिलाओं ने छाया और 89 महिलाओं ने माला एन पर भरोसा जताया


शनिवार को गर्भ निरोधक दिवस के मौके पर 17 आइयूसीडी और 13 पीपीआइयूसीडी लगाई गईं। 11 अंतरा इंजेक्शन भी लगाए गए। सीएमओ डॉ. एनके गुप्ता ने बताया कि जिले के स्वास्थ्य केंद्रों पर कुल 57 महिलाओं ने छाया गर्भ निरोधक गोली का चुनाव किया। 89 महिलाओं ने माला एन पर भरोसा जताया। इसके अलावा 2240 दंपत्तियों को कंडोम उपलब्ध कराए गए। मुरादनगर के अटौर गांव स्थित पीएचसी में एएनएम नित्य प्रिया द्वारा तैयार की गई बास्केट ऑफ च्वाइस को खूब सराहा गया। महाराजपुर पीएचसी पर डॉ. रितु ने व‌र्ल्ड कंट्रासेप्शन डे का उद्घाटन किया तो भोजपुर पीएचसी में नव दंपत्तियों की विस्तार से काउंसलिग की गई और उन्हें अपनी पसंद के मुताबिक गर्भ निरोधक अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया गया। जनपद में अप्रैल से सितंबर तक कुल 710 महिलाओं ने अंतरा पर भरोसा जताया है।                           


नोएडा-गाजियाबाद ने चलाया 'ऑपरेशन प्रहार'

अश्वनी उपाध्याय


नोएडा/ गाजियाबाद। अपराधियों पर शिकंजा कसने के लिए शनिवार को नोएडा-गाजियाबाद और दिल्ली पुलिस ने साथ मिलकर ‘ऑपरेशन प्रहार’ नाम से सर्च अभियान चलाया। इस दौरान लूटपाट समेत अन्य आपराधिक घटनाओं में शामिल खोड़ा निवासी 27 अपराधियों को हिरासत में लिया गया। 50 घरों में यह अभियान चलाया जाना था, लेकिन शनिवार को 35 घरों में अभियान चलाया गया। हिरासत में लिए गए संदिग्धों से संयुक्त पूछताछ कर डोजियर बनाए जा रहे हैं। अभियान शाम 4 से 6 बजे तक चला।



  • एडीसीपी रणविजय सिंह ने बताया कि पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के निर्देशन में ऑपरेशन प्रहार चलाया गया था। कमिश्नरेट पुलिस की ओर से एसीपी रजनीश वर्मा को नोडल अधिकारी बनाया गया। उनके साथ एसीपी प्रथम अंकिता शर्मा व सेक्टर-58, सेक्टर-24, सेक्टर-49 और एक्सप्रेसवे थाने की पुलिस रही। वहीं, दिल्ली के मधु विहार एसीपी और गाजियाबाद के विजयनगर व खोड़ा पुलिस साथ रही। तीनों जगह से करीब 120 पुलिसकर्मियों ने खोड़ा में सर्च अभियान चलाया। इसमें दिल्ली पुलिस के 30, गाजियाबाद पुलिस के 30 व नोएडा कमिश्नरेट के 60 पुलिसकर्मी मौजूद रहे। एसीपी ने बताया कि नोएडा, गाजियाबाद और दिल्ली में अपराध करने वाले 50 अपराधियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जानी थी, लेकिन पहली बार में 27 ही हाथ आए हैं। इन सभी के डोजियर बनाए जा रहे हैं। ताकि भविष्य में आपराधिक घटना होने पर इनको हिरासत में लेकर पूछताछ की सके।
    खोड़ा से सटे क्षेत्रों में करते हैं अपराध
    अधिकारियों की माने तो यह ऐसे असामाजिक तत्व हैं, जो खोड़ा से सटे दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद में अपराध करते थे। इनके खिलाफ तीनों शहरों के थानों में रिपोर्ट दर्ज हैं। इनमें लूट और चोरी के अधिक आरोपी हैं। डोजियर बनाकर इनकी पहचान कर ली जाएगी। इससे अपराध के तुरंत बाद इनके घरों पर दबिश दी जाएगी और इनकी लोकेशन भी जांची जाएगी।
    अपराध में आएगी कमी
    पुलिस अधिकारियों को उम्मीद है कि ऑपरेशन प्रहार से आपराधिक घटनाओं में कमी आएगी। इस तरह का अभियान कमिश्नरेट में भी चलाया जाएगा। जिन बदमाशों का डोजियर नहीं बना है, उनका इतिहास खंगाल कर पहचान की जाएगी। ताकि, छोटी से बड़ी वारदात को जल्द से जल्द पर्दाफाश किया जा सके। 
    27 बदमाशों को देना होगा 35 सवालों का जवाब
    ऑपरेशन प्रहार में हिरासत में लिए गए 27 बदमाशों को 35 सवालों का जवाब भी देना है। इसके बाद ही उनको छोड़ा जा सकेगा। पुलिस ने पहले ही 35 सवाल तैयार कर लिए थे। इनमें नाम, पता, मोबाइल नंबर आदि समेत पूरे परिवार की जानकारी शामिल है। साथ ही किस मामले में जेल गए, किस साथी के साथ अपराध किया, जेल की कौन सी बैरक और किस बंदी के साथ रहे। किन-किन बंदियों से मुलाकात और दोस्ती हुई, वह जेल में है या बाहर, जमानत पर हैं तो किसने ली, जेल से बाहर आने के बाद किसके साथ रहते हैं और उनके मोबाइल के हर नंबर की जानकारी देनी होगी। एसीपी रजनीश कुमार वर्मा का कहना है कि बदमाशों की कुंडली तैयार की जाएगी। भविष्य में कोई अपराध न हो और यदि होता है तो उसका खुलासा करने के लिए यह रोडमेप तैयार किया जा रहा है। यह अभियान आगे भी जारी रहेगा।                     


प्रेमी संग आपत्तिजनक हालत में पकड़ी महिला

प्रमी संग आपत्तिजनक हालत में पकड़ी गई महिला, ग्रामीणों ने पहनाई जूतों की माला।


रांची। झारखंड के साहेबगंज जिले में एक विवाहित महिला को अपने प्रेमी के साथ अपत्तिजनक स्थिति में पाए जाने के बाद ग्रामीणों ने दोनों को जूतों, चप्पलों की माला पहनाई। यह मामला साहेबगंज के शिव पहाड़ गांव की है, जहां महिला प्यार किसी से करती थी, पर उसकी शादी किसी के साथ हो गई। वह शिव पहाड़ में अपने रिश्तेदार के यहां रहती थी। शादी के बाद भी दोनों का आपस में चक्कर चलता रहा। शुक्रवार रात को प्रेमी उसके घर गया, जहां दोनों साथ भाग निकले, बाद में ग्रामीणों ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में पाया। ग्रामीणों ने दोनों को अर्धनग्न हालत में ही चप्पल जूतों की पहनाकर पूरा गांव घुमाया आरोपी प्रेमी पर 5 लाख का जुर्माना भी लगाया। ग्रामीणों ने दोनों को अर्धनग्न हालत में ही चप्पल जूतों की पहनाकर पूरा गांव घुमाया। पंचायत में पकड़े गए युवक पर 5 लाख का जुर्माना लगाया गया। जब पुलिस गांव में पहुंची दोनों को बचाने की कोशिश की, तब ग्रामीणों ने उनका विरोध करना शुरू कर दिया। जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर आई प्रेमी युगल को भीड़ के चंगुल से बचाया। जब उन दोनों को पुलिस थाने ले जाने लगी तो ग्रामीणों ने इसका भी काफी विरोध किया, जिसके बाद पुलिस को जबरन फोर्स मंगवाना पड़ा।
पुलिस की सुरक्षा में फिर प्रेमी युगल को थाने लाया गया। इस पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।पुलिस ने कहा है कि जिस किसी ने भी कानून को अपने हाथ में लिया है उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने ग्रामीणों के खिलाफ एक केस दर्ज कर लिया है।               


लड़की एवं महिलाओं पर शुरू अत्याचार

शाहजहांपुर में लड़की एवं महिलाओं के साथ अत्याचार चरम सीमा पार।


शाहजहांपुर। जनपद के थाना पुवाया क्षेत्र में रहने वाले शिवांग मिश्रा पर लखनऊ की रहने वाली एक लड़की ने शादी का झांसा देकर लगभग 30 महीने यौन शोषण करने का आरोप लगाते हुए। हमारे संवाददाता को बताया,कि जब पीड़ित लड़की शिवांग से शादी करने को कहती तो शिवांग अपने घर वालों से बात करने के नाम पर कुछ महीनों की मोहलत देने की बात कहकर आज लगभग 30 महीने तक पीड़िता का यौन शोषण करता रहा। जब पीड़ित लड़की ने थाना पुवायां पुलिस से शिकायत की तो शिवांग मिश्रा ने अपने पिता की मिलीभगत से रचे गए षड्यंत्र अनुसार पीड़िता को दूसरे लड़के की गोद में बैठाकर उसका एक वीडियो बना लिया। जिसे थाना पुवाया की पुलिस को देकर पुलिस की नजरों में लड़की को चरित्रहीन साबित कर दिया। जिस कारण बस अब पुवायां की पुलिस पीड़िता की मदद नहीं कर रही पीड़ित लड़की का कहना है।शिवांग के घरवाले दूसरी लड़की के साथ शादी करा रहे अगर शिवांग ने पीड़िता को छोड़कर किसी दूसरी लड़की से शादी की तो फिर पीड़िता के पास आत्महत्या करने के सिवा दूसरा कोई रास्ता नहीं।अब देखना यह है इस खबर को पढ़ने के बाद जनपद के उच्च पुलिस अधिकारी पीड़ित लड़की को न्याय दिलाएंगे या नहीं।               


अफीम नीति सितंबर में होनी चाहिए घोषित

अफिम नीति सितंबर में ही घोषित की जाए।


मंदसौर। अफीम काश्तकार संगठन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर को पत्र लिखकर वर्ष 2020-21 की अफीम नीति सितंबर में ही घोषित करने की मांग की है। किसान नेता अमृत पाटीदार, युवा साथी योगेंद्र जोशी, खूबचंद शर्मा, रामेश्वर आर्य, तुलसीराम माली, दिलीप पाटीदार देवेंद्र जोशी आदि ने बताया कि सितंबर के अंतिम सप्ताह में अफीम नीति घोषित करने से किसानों को अफीम की बोवनी में अच्छा समय मिल जाएगा। साथ ही अफीम नीति में बदलाव करते हुए सभी किसानों को 10-10 आरी के पट्टे देने की भी मांग की है। प्राकृतिक आपदा, बेमौसम बरसात, ओलावृष्टि आदि अफीम के लिए घातक है और इसी प्राकृतिक आपदा में अफीम की फसल खराब होने पर उसे भी केंद्र सरकार बीमा के तहत एक लाख रुपये का मुआवजा दिया जाए। क्योंकि यह किसानों की पुश्तैनी फसल है। पीढ़ी दर पीढ़ी किसान इसे बोते हैं। और बच्चे की तरह इसका पालन पोषण किया जाता है। फसल खराब होने पर किसान को आर्थिक नुकसान के साथ।साथ मानसिक नुकसान भी होता है। हर साल किसी ने किसी कारण से फसल बर्बाद होती रहती है। ऐसी स्थिति में किसानों की मांग है। कि अफीम फसल का एक लाख का बीमा होना चाहिए। अफीम का मूल्य 10 हजार रुपये प्रतिकिलो किया जाए। अफीम नीति निर्धारण में किसानों की सहभागिता भी सुनिश्चित की जाए। घटिया अफीम के नाम पर किसानों का शोषण बंद किया जाए।                


3 बहनों को किया गिरफ्तार, बनाया निशाना

मुरादाबाद-तीन लेडी डॉन बहनों को पुलिस ने किया गिरफ्तार-महिलाओं को बनाती थी निशाना।


मुरादाबाद। पुलिस ने आज एक ऐसे शातिर चोर गैंग की 3 महिला सदस्यों लेडी डॉन को गिरफ्तार किया है, जो ऑटो रिक्शा या किसी अन्य यात्री भरे वाहन में बैठकर उस वाहन में बैठी महिला यात्री का सामान चोरी कर दिया करती थी, पुलिस को काफ़ी दिनों से ऐसी घटनाओं की सूचना मिल रही थी, कल भी इन शातिर लेडी डॉन महिला चोर गैंग ने एक महिला यात्री को निशाना बनाया था, पुलिस ने घटना के कुछ घंटे बाद ही इन तीनो महिला चोरों को गिरफ्तार कर इनसे सभी सामान बरामद कर लिया है।
सरिता और महरीता की जीवन लीला-करना पड़ रहा मुर्दों का दाहसंस्कार। 
मुरादाबाद की थाना सिविल लाइंस पुलिस को काफ़ी दिनों से ऑटो सवार महिला यात्रियों के साथ हो रही उनके समान की चोरी की घटनाओं की सूचना मिल रही थी, पुलिस ऐसे चोर गिरोह के पीछे लगी हुई थी, पुलिस को कल एक महिला ने सूचना दी कि उसके साथ ऑटो रिक्शा में सवार 3 महिलाओं ने उसका पर्स चोरी कर लिया है, जिसमे उसके सोने चांदी के ज़ेवर व नक़दी थी, पुलिस ने तुरंत पीड़ित महिला द्वारा बताये हुलिए की महिलाओं को तलाशना शुरू कर दिया,
पुलिस की मेहनत रंग लाई, और उसने घटना के चार घंटे के अंदर ही तीनो लेडी डॉन महिलाओं को गिरफ्तार कर उनसे चोरी किया सभी सामान बरामद कर लिया, एस पी सिटी मुरादाबाद अमित आनंद के मुताबिक़ ये तीनो शातिर लेडी डॉन चोर आपस मे सगी बहने हैं, और ये किसी ऐसे ऑटो रिक्शा में बैठती थी जिसमे पहले से ही कोई अकेली महिला यात्री बैठी होती थी, ये शातिर चोर अपने साथ एक बच्चा भी रखती थी, इसी दौरान बातों में उलझाकर ये उस महिला यात्री का सामान चोरी कर उतर जाती थी,इन लेडी डॉन शातिर चोर बहनों पर 2013 से ही चोरी के काफ़ी मामले दर्ज हैं।                 


गैंगरेप के बाद महिला को निर्वस्त्र कर घुमाया

शाहजहांपुर। शाहजहांपुर के कलांं में रहने वाली महिला को सामूहिक दुष्कर्म के बाद सार्वजनिक रूप से निर्वस्त्र कर गांव में घुमाने का मामला सामने आया है। पीडिता ने गांव में रहने वाले छह लोगों के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। उसका आरोप है। कि आरोपित उसे गांव में घुमाने के बाद छोड़कर भाग गए। मामले में जहां थानेदार ने चार आरोपितों के खिलाफ छेड़छाड़ करने का मामला दर्ज किया है। वहीं देर शाम एक आरोपित ने पीडित महिला के बेटे पर बेटी के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। मामले में एसपी एस आनंद ने दुष्कर्म की घटना से इंकार करते हुए जांच के आदेश दे दिए है।
क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली महिला ने बताया कि सुबह उसके पति व बेटा खेत पर गए हुए थे। वह घर में अकेली थी। तभी थोड़ी दूर रहने वाले एक परिवार के कुछ लोग घर में घुस आए और घटना को अंजाम दिया। इस दौरान कोई भी उसको बचाने की हिम्मत नहीं जुटा पाया। आरोपितों के जाने के बाद ग्रामीणों की सूचना पति व बेटा वहां पहुंचे। डायल 112 महिला व उसके पति को लेकर थाने पहुंची।                    


लेबनान: मुठभेड़ में 13 आतंकी किए ढेर

बेरूत। लेबनान के वादी खालिद में सेना और एक सशस्त्र समूह के बीच मुठभेड़ में 13 आतंकी मारे गये। लेबनानी सेना ने शनिवार को वादी खालिद में सेना ने छापेमारी की, जिसमें सीरियन सीमा के पास झड़पें हुईं। लेबनानी सेना ने अल-बेदादवी क्षेत्र में दो सप्ताह पहले इस्लामिक स्टेट (आईएस) समूह के एक सदस्य को अल-बेदावी क्षेत्र में एक मुठभेड़ में शामिल होने के मद्देनजर गिरफ्तार किया था, जिसमें सेना के चार जवानों की मौत हो गयी और आईएस समूह का एक आतंकी भी मारा गया।                   


जनपद में तेंदुए ने बच्चे को बनाया निवाला

लखीमपुर खीरी: हिंसक हो चुके तेंदुए ने बच्चे को बनाया निवाला।


आदर्श श्रीवास्तव


लखीमपुर खीरी। ईसानगर की बेलागढ़ी के गांव साहबदीन पुरवा में हिंसक हो चुके तेंदुआ ने एक और नाबालिक बच्चे को मौत के घाट उतार दिया। ग्राम प्रधान की सूचना के बाद पुलिस व फॉरेस्ट की टीम घटना स्थल पर पहुंची।
बीते करीब बीस दिनों से ईसानगर क्षेत्र में आतंक का पर्याय बना हिंसक तेंदुए ने एक और बच्चे की जान ले ली है। रविवार को ईसानगर थाना क्षेत्र के गांव बेलागढ़ी के मजरा साहबदीन पुरवा में नेकराम भार्गव का तेरह वर्षीय पुत्र चंदन को तेंदुए ने मार डाला।
बताया जाता है कि चंदन सुबह करीब आठ बजे अपने साथियों के साथ खेत पर घास काटने गया था। जहां पर घात लगाए बैठे तेंदुए ने उस पर हमला कर दिया। हमलावर हुए तेंदुए को देखकर बच्चे ने शोर मचाया। जबतक पास पड़ोस के खेतों में काम कर रहे ग्रामीण पहुँचते तेंदुआ मासूम बच्चे की गर्दन काट चुका था। हालांकि ग्रामीणों के शोर मचाने के बाद तेंदुआ खेतों की तरफ भाग निकला। ग्रामीणों के बताए जाने पर ग्राम प्रधान ने घटना की सूचना पुलिस समेत फॉरेस्ट को दी है।
बता दें कि कर्तानिया घाट से नदी की तलहटी से होते हुए ईशानगर क्षेत्र में पंहुचे हिंसक तेंदुए ने दूसरी घटना को अंजाम दिया है। जबकि वन विभाग तेंदुए को पकड़ने के लिए पिंजरा भी लगाए है, लेकिन अफसरों की लापरवाही ग्रामीणों पर भारी पड़ रही है। इसके पहले करीब बीस दिन पूर्व चकदहा में एक बच्चे को हिंसक तेंदुए ने नोच कर मौत के घाट उतार दिया था।                       


बस-ट्रक की टक्कर 1 की मौत, 10 घायल

अयोध्या: बस और ट्रक की भीषण टक्कर में एक की मौत, 10 घायल।


अयोध्या। अयोध्या प्रयागराज हाईवे पर एक रोडवेज की बस और ट्रक में भिड़ंत होने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। 10 यात्री घायल हुए हैं जिसमें चार की हालत गंभीर बताई जा रही है। सभी घायलों को अयोध्या जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना कोतवाली बीकापुर के कनक मलेथू चौराहे की है। देर रात प्रयागराज डिपो की बस अयोध्या आ रही थी उसी दौरान प्रयागराज जा रहे ट्रक में जोरदार भिड़ंत हो गई। बस चालक द्वारा एक मोटरसाइकिल सवार को बचाने के चक्कर में यह भिड़ंत हुई है। बस के आगे का हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है। आगे बैठे हुए व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई।
मौके पर पहुची पुलिस ने सभी घायलों को एम्बुलेंस व अपनी जीप से जिला अस्पताल पहुंचाया। सभी 10 घायलों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। इनमें से चार व्यक्ति बुरी तरह घायल हैं। मृतक व्यक्ति की पहचान अभी नहीं हो पाई है।
बताया जा रहा है की कनक मलेथू गांव का यह मोड़ एक्सीडेंटल जोन में आता है यहां पर अक्सर एक्सीडेंट हुआ करते हैं। बस और ट्रक की भिड़ंत का सबसे बड़ा कारण मोटरसाइकिल सवार को बचाना बताया जा रहा है। पुलिस इस पूरी घटना की तहकीकात कर रही है। यह भी देख रही है कि क्या बस या ट्रक का ड्राइवर रात्रि के समय शराब के नशे में तो नहीं था।             


पुलिस से मुठभेड़ में 6 लुटेरे किए गिरफ्तार

गंगापार। लूट करने वाले छह लुटेरों को क्राइम ब्रांच और नवाबगंज पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से दो तमंचे, कारतूस, पिस्टल, लूट के 81 हजार रुपये और बाइक, 21 बम बरामद हुए हैँ। डीआईजी सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी ने शुक्रवार को प्रेसवार्ता में बताया कि नवाबगंज पुलिस ने मुठभेड़ में थरवई के रविनंदन यादव, मोहम्मद सरफराज, शंकर सरोज और सोरांव के हरिकेश यादव, राजू मौर्य और विनीत पटेल को गिरफ्तार किया। पकड़े गए आरोपियों में रविंनंदन यादव कोटेदार का बेटा है। पुलिस रिकॉर्ड में रविनंदन शातिर अपराधी है। उसके खिलाफ हत्या लूट और गैंगस्टर समय 10 मुकदमे दर्ज हैं। विनीत के खिलाफ भी 10 मुकदमे दर्ज हैं। डीआईजी ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों ने पिछले कुछ महीनों में लूट की कई वारदातों को अंजाम दिया था, जिसमें 16 जून को नवाबगंज में जन सेवा केंद्र संचालक से डेढ़ लाख रुपये व लैपटॉप और 19 अगस्त को जन सेवा केंद्र के संचालक से 1.80 लाख रुपये और लैपटॉप लूटा था। तीसरी लूट भी इसी तरह के लोगों ने नवाबगंज हाईवे पर की थी। इसके अलावा एक बाइक सवार को लूटा था। आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।             


 

मरीजों की संख्या 60 लाख के करीब पहुंची

देश में कोरोना मरीज की संख्या 60 लाख के करीब, 24 घंटे में मिले इतने नए मरीज।


अकांशु उपाध्याय


नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या हर दिन बढ़ रही है। कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों का ग्राफ तेजी से ऊपर चढ़ रहा है। देश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा अब 60 लाख के करीब पहुंचने वाला है। पिछले 24 घंटे की बात करें तो कोरोना के 88 हजार 600 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 1124 लोगों को मौत हुई है। पिछले 24 घंटे में नए कोरोना केस के बाद देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या ने 59,92,532 हो गई है।
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में अभी कोरोना के 9 लाख 56 हजार 402 एक्टिव केस हैं, जबकि कोरोना संक्रमण के चलते 94 हजार 503 मरीजों की जान जा चुकी है। वहीं, राहत की बात ये है कि अब तक 49 लाख 41 हजार 627 लोग रिकवर हो चुके हैं। आईसीएमआर के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटे के अंदर 9,87,861 कोरोना जांच की गई है। आईसीएमआर ने कहा है कि कोरोना जांच से मरीजों का पता लगाना आसान हो जाता है और वह जल्दी स्वस्थ हो जाते हैं।
महाराष्ट्र में शनिवार को कोविड-19 के 20,419 नए मामले आए और संक्रमण से 430 लोगों की मौत हो गई। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि नए मामलों के साथ संक्रमितों की संख्या 13,21,176 हो गई है।संक्रमण से 430 और मरीजों की मौत हो जाने से राज्य में अब तक 35,191 लोगों की मौत हो चुकी है। उपचार के बाद कुल 23,644 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। अब तक राज्य में 10,16,450 लोग ठीक हो चुके हैं जब​कि 2,69,119 मरीजों का इलाज चल रहा है।
राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को कोरोना वायरस के 46 मरीजों की मौत हो गई। मरने वालों की यह संख्या 70 से अधिक दिन में सर्वाधिक है। अब तक यहां कुल 5,193 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में कोविड-19 के 3,372 नए मामले सामने आने के साथ संक्रमण के कुल मामले 2,67,822 पर पहुंच गए। इससे पहले 16 जुलाई को एक दिन में सबसे ज्यादा 58 संक्रमितों की मौत हुई थी।
गुजरात में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1417 नये मामले सामने आए, जिसके बाद प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,31,808 हो गई है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने इसकी जानकारी दी। स्वास्थ्य विभाग ने बयान जारी कर कहा है कि संक्रमण के कारण प्रदेश में 13 और लोगों की मौत हो गई, जिसके बाद राज्य में इस वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 3,409 पर पहुंच गया है।             


भाजपा सरकार उखाड़ फेंकने का संकल्प

आप पार्टी ने भाजपा की सरकार को उखाड़ फेंकने का लिया संकल्प।


सितारगंज। आम आदमी पार्टी नानकमत्ता विधानसभा की एक बैठक नानकमत्ता विधानसभा प्रभारी बिशन दत्त जोशी के आवास पर सम्पन्न हुई। बैठक में नानकमत्ता विधानसभा के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। बैठक में उपस्थित सभी कार्यकर्ताओं ने एक स्वर में इस बार भाजपा की सरकार को उखाड़ फेंकने का संकल्प लिया।
कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए नानकमत्ता विधानसभा प्रभारी बिशन दत्त जोशी ने कहा कि नानकमत्ता विधानसभा की जनता ने दो बार कांग्रेस को और दो बार भाजपा के विधायक को इस सीट से जिताया लेकिन इन दोनों विधायकों ने क्षेत्र का विकास करने की बजाय अपना विकास किया। पूरे नानकमत्ता विधानसभा की सड़कों, स्कूलों, अस्पतालों की स्थिति दयनीय है। बेरोज़गारी चरम पर है, किसानों को उनकी फसलों का मूल्य नही मिल रहा है, दलालों व बिचौलियों की चांदी हो रही है।
जोशी ने कहा कि इस बार नानकमत्ता विधानसभा सहित पूरे उत्तराखंड में भाजपा व कांग्रेस ने जो गन्दगी वर्षो से जमा कर रखी है उसको साफ करना जरूरी है इसलिए इस बार उत्तराखंड की महान जनता एक तरफ झाड़ू चलकर उत्तराखंड में आम आदमी पार्टी की सरकार बनाएगी। बैठक में नानकमत्ता विधानसभा के दूर दराज के विभिन्न ग्रामों से कार्यकर्ता आये थे।
बैठक में शामिल होने वालों में मुख्य रूप से सरदार बलवंत सिंह, सरदार गोपाल सिंह, कुलवंत सिंह, करनजीत सिंह, परमजीत सिंह, नूरी हिना, सुशील सक्सेना, टीका राम रस्तोगी, गौरव शाही, प्रमिला देवी, डॉ. एस हालदार, मंटू भाई, भूपेंद्र सिंह मटियाली, मोहन सिंह नेगी, हरीश जोशी, कमल सिंह बिष्ट आदि थे।             


स्कूल भेजने के लिए तैयार नहीं है 'माता-पिता'

उत्तर प्रदेश: बच्चों को स्कूल भेजने को तैयार नहीं हैं माता-पिता।


लखनऊ/ प्रयागराज। प्रयागराज जिले में उत्तर प्रदेश बोर्ड के एक हजार माध्यमिक स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों में से 80 फीसदी के माता-पिता कोविड-19 महामारी के बीच अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिए तैयार नहीं हैं।
उप्र बोर्ड के सचिव दिव्यकांत शुक्ला ने स्कूलों के जिला निरीक्षकों (डीआईओएस) को निर्देश दिया था कि वे महामारी के बीच फिर से शुरू किए गए स्कूलों में अपने बच्चों को भेजने को लेकर माता-पिता से लिखित में अनुमति लें।
डीआईओएस आर.एन. विश्वकर्मा ने कहा, “हमने 9 वीं कक्षा से लेकर 12 वीं कक्षा तक के ऐसे 3,42,657 छात्रों के माता-पिता से संपर्क किया, जिनके घर कंटेनमेंट जोन में नहीं थे। उनमें सिर्फ 71,958 (21 प्रतिशत) छात्रों के माता-पिता ही अपने बच्चों को स्कूल भेजने और शिक्षकों से मिलने के लिए सहमत हुए।” शेष 79 प्रतिशत माता-पिता महामारी के चलते अपने बच्चों की सुरक्षा के बारे में अभी भी अनिश्चित थे।
बता दें कि महामारी के कारण मार्च के बाद से ही स्कूल बंद हैं और छात्रों के लिए ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित की जा रही हैं। यूपी बोर्ड के अधिकारियों ने छात्रों को ऑनलाइन कक्षाओं में आने वाली समस्याओं पर अपने शिक्षकों से बातचीत करने की अनुमति देने की योजना बनाई है। राज्य के 28,000 से अधिक उप्र बोर्ड के स्कूलों में कक्षा 9वीं से 12वीं तक में लगभग 1.25 करोड़ छात्र पढ़ते हैं।
उन्होंने आगे कहा, “अकेले प्रयागराज में 3,79,961 छात्र 1,079 स्कूलों में नामांकित हैं। इनमें से 1,023 स्कूल कंटेन्मेंट जोन के बाहर स्थित हैं और कक्ष 6ठी से 12 वीं तक 3,42,657 स्टूडेंट्स दाखिला ले चुके हैं। वहीं प्रयागराज में कंटेन्मेंट जोन के बाहर उप्र बोर्ड के स्कूलों की संख्या 56 है।”
अधिकारी ने कहा कि एक जागरूकता अभियान के जरिए 2,65,153 छात्रों के अभिभावकों को सरकार द्वारा विभिन्न ऑनलाइन माध्यमों से उपलब्ध कराई जा रही विभिन्न शैक्षणिक सामग्री से अवगत कराया गया है। जालवा के केन्द्रीय विद्यालय के प्रधानाचार्य विजनेश पांडे ने कहा कि स्कूलों ने अपने छात्रों के माता-पिता को फीडबैक के लिए ऑनलाइन फॉर्म भेजे थे, जिनमें से 95 प्रतिशत से अधिक अभिभावक अपने बच्चों को फिर से स्कूल भेजने के लिए तैयार नहीं थे।               


छत्तीसगढ़ में सामने आए 896 नए संक्रमित

कोरोना वायरसः छत्तीसगढ़ में सामने आए ,896 नए संक्रमित मामले, संक्रमितों की संख्या एक लाख के पार।


रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण लगातार फैल रहा, जिसे रोकने के लिए लॉकडाउन की प्रक्रिया को बढ़ाया गया था। वहीं राज्य में बीते 24 घंटों के दौरान अब तक एक ही दिन में सबसे अधिक 3,896 नए लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है। राज्य में इस वायरस से संक्रमित हुए लोगों की संख्या एक लाख से अधिक हो गई है।
राज्य में शनिवार को 643 लोगों को सफल इलाज के बाद अस्पतालों से छुट्टी दी गई है, वहीं 2544 लोगों ने होम आइसोलेशन पूरा किया है। राज्य में शनिवार को  कोरोना वायरस संक्रमित 23 लोगों की मौत हुई है। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि आज संक्रमण के 3896 नए मामले आए हैं।
स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार रायपुर जिले से 891, दुर्ग से 313, राजनांदगांव से 111, बालोद से 61, बेमेतरा से 34, कबीरधाम से 65, धमतरी से 155, बलौदाबाजार से 76, महासमुंद से 108, गरियाबंद से 62, बिलासपुर से 213, रायगढ़ से 281, कोरबा से 247, जांजगीर-चांपा से 183, मुंगेली से 42, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही से 34, सरगुजा से 131, कोरिया से 41, सूरजपुर से 28, बलरामपुर से 47, जशपुर से 30, बस्तर से 188, कोंडागांव से 103, दंतेवाड़ा से 99, सुकमा से 146, कांकेर से 127, नारायणपुर से 40, बीजापुर से 37 तथा अन्य राज्य से तीन मरीज शामिल हैं।
अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ में अब तक 10,34,460 नमूनों की जांच की गई है। इनमें 1,02,461 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।70,955 मरीज इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हुए हैं, राज्य में 30,689 मरीज उपचाराधीन हैं।राज्य में अब तक वायरस से संक्रमित 817 लोगों की मौत हुई है। राज्य के रायपुर जिले में सबसे अधिक 31,777 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है। जिले में कोरोना वायरस संक्रमित 387 लोगों की मौत हुई है।             


'डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट'- 2020 का करेंगे उद्घाटन

आज विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर गृह मंत्री अमित शाह ‘डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट-2020’ का करेंगे उद्घाटन।


नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज वर्चुअल तरीके से ‘डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट-2020’ का उद्घाटन करेंगे।वह पूर्वोत्तर परिषद परिषद के अध्यक्ष भी हैं।डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय का एक कैलेंडर इवेंट है जिसे पूर्वोत्तर क्षेत्र को देश के अन्य हिस्सों के करीब लाने और राष्ट्रीय एकीकरण को मजबूत करने के उद्देश्य से संकल्पित किया गया है।
पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय (डोनर) के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार), प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, जन शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा विभाग और अंतरिक्ष विभाग में राज्यमंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह इस आयोजन में सम्मानित अतिथि होंगे।डेस्टिनेशन नॉर्थ ईस्ट 2020 का थीम “द इमर्जिंग डिलेक्टिव डेस्टिनेशंस” है जो सेक्टर के गति पकड़ने पर पर्यटन स्थलों को मजबूत और अधिक आकर्षक बनाने की बात करता है।
विश्व पर्यटन दिवस पर उद्घाटन कार्यक्रम।
कार्यक्रम ज्यादातर पर्यटन पर केंद्रित है और 27 सितंबर 2020 को ‘विश्व पर्यटन दिवस’ के अवसर पर इसका उद्घाटन होने जा रहा है। चार दिवसीय कार्यक्रम में राज्यों और क्षेत्र के पर्यटन स्थलों की ऑडियो विजुअल प्रस्तुति, राज्य के प्रसिद्ध और उपलब्धियां हासिल करने वाले व्यक्तियों के संदेश, प्रमुख स्थानीय उद्यमियों से परिचय कराया जाएगा और इसमें हस्तकला। रंपरिक फैशन और स्थानीय उत्पादों की आभासी प्रदर्शनी की सुविधा होगी।
कार्यक्रम में सभी आठ राज्यों के मुख्यमंत्री और पर्यटन मंत्री विशेष संदेश देंगे।साथ ही राज्य अपने-अपने सांस्कृतिक कार्यक्रम और मिली-जुली संस्कृतियों के संयोजन का प्रदर्शन करेंगे। 30 सितंबर को होने वाले समापन समारोह के मुख्य अतिथि केंद्रीय युवा मामले एवं खेल मंत्री किरेन रिजिजु होंगे, जबकि केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री रामेश्वर तेली विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगे।              


ये वो एनडीए नहीं हैं जिसकी कल्पना की थी

गठबंधन से अलग होने के बाद हरसिमरत कौर बोलीं, ये वो एनडीए नहीं जिसकी कल्पना वाजपेयी जी और बादल साहब ने की थी।


नई दिल्ली। कृषि विधेयक को लेकर भाजपा से चल रही अनबन के बीच शिरोमणि अकाली दल ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) से अपना नाता तोड़ लिया है। भाजपा के सबसे पुराने सहयोगी दलों में से एक शिरोमणि अकाली दल की ओर से काफी वक्त पहले से ही संसद के दोनों सदनों में पारित किए गए तीनों कृषि विधेयक का विरोध किया जा रहा है। अकाली दल के एनडीए के अलग होने के ऐलान के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर ने ट्वीट करते हुए कहा कि यदि तीन करोड़ पंजाबियों की पीड़ा और विरोध के बावजूद भारत सरकार का दिल नहीं पसीज रहा तो वो एनडीए नहीं है। जिसकी कल्पना वाजपेयी जी और बादल साहब ने की थी। ऐसा गठबंधन जो अपने सबसे पुराने सहयोगी की बात नहीं सुनता है। और पूरे देश का पेट भरने वालों से नजरें फेर लेता है। तो ऐसा गठबंधन पंजाब के हित में नहीं है। वहीं शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने पार्टी की ओर से जारी बयान में कहा कि शिरोमणि अकाली दल ने न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर किसानों की फसलों की खरीद की गारंटी देने से मना करने के कारण भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन से अलग होने का फैसला किया है।
बादल ने कहा, कोई भी गठबंधन या मंत्रालय अन्नदाता से अधिक महत्वपूर्ण नहीं है। हम पहले दिन से किसान और खेत मजदूर के साथ हैं। यही कारण है। कि हमने तीनों किसान विधेयक का विरोध किया और एनडीए से हटने का फैसला ले लिया। हम अब विधेयकों को निरस्त करने के लिए आंदोलन करेंगे। गौरतलब है। कि इससे पहले कृषि विधेयक पर विरोध दर्ज करवाते हुए केंद्रीय खाद्य एवं प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।                 


ड्रोन हमले को 'गलती' के रूप में स्वीकार किया

वाशिंगटन डीसी। अमेरिका के एक शीर्ष सैन्य कमांडर ने काबुल हवाईअड्डे पर पिछले महीने हुए आत्मघाती धमाके के कुछ दिनों बाद ‘आईएसआईएस-के’के आतंकवा...