शनिवार, 22 अप्रैल 2023

पीएम व राष्ट्रपति ने 'ईद' की मुबारकबाद दी 

पीएम व राष्ट्रपति ने 'ईद' की मुबारकबाद दी 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। देश में ईद-उल-फितर का त्योहार मनाया जा रहा है। लोगों में भी खुशी का माहौल है। इस बीच देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भी जनता को मुबारकबाद दिया है। देश के कई अन्य नेताओं ने ईद की मुबारकबाद दी है। इसके अलावा देश में शनिवार को परशुराम जयंती और अक्षय तृतीया का त्योहार भी मनाया जा रहा है। देश की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा, "ईद-उल-फितर'' पर सभी देशवासियों विशेष रूप से मुस्लिम भाइयों-बहनों को मैं बधाई देती हूं। प्रेम और करुणा का पर्व ईद हमें दूसरों की मदद करने का संदेश देता है। आइए, जश्न के इस मुबारक मौके पर हम सभी समाज में भाईचारा और आपसी सौहार्द को बढ़ाने की राह पर आगे बढ़ने का संकल्प लें।"

ईद-उल-फितर पर सभी देशवासियों विशेष रूप से मुस्लिम भाइयों-बहनों को मैं बधाई देती हूं। प्रेम और करुणा का पर्व ईद हमें दूसरों की मदद करने का संदेश देता है। आइए, जश्न के इस मुबारक मौके पर हम सभी समाज में भाईचारा और आपसी सौहार्द को बढ़ाने की राह पर आगे बढ़ने का संकल्प लें। पीएम मोदी ने लिखा, "ईद-उल-फितर की बधाई। हमारे समाज में सद्भाव और करुणा की भावना को आगे बढ़ाया जाए। मैं सभी के अद्भुत स्वास्थ्य और कल्याण के लिए भी प्रार्थना करता हूं। ईद मुबारक!"

वहीं पीएम मोदी ने अक्षय तृतीया और परशुराम जयंती की भी बधाई दी है। उन्होंने लिखा, "अक्षय तृतीया की बहुत-बहुत बधाई। मेरी कामना है कि दान-पुण्य और मांगलिक कार्य के शुभारंभ की परंपरा से जुड़ा यह पावन पर्व हर किसी के जीवन में सुख, समृद्धि और उत्तम स्वास्थ्य लेकर आए। आप सभी को भगवान परशुराम जयंती की हार्दिक शुभकामनाएं। मेरी कामना है कि उनकी कृपा से हर किसी का जीवन साहस, विद्या और विवेक से परिपूर्ण हो।"

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नमाज को लेकर कहा कि आप देख सकते हैं कि उत्तर प्रदेश में कितनी बड़ी व्यवस्था है। बहुत सारे राज्यों की आबादी जहां से शुरू होती है, उतने तो मज और मजहब से जुड़े अनुयायी रहते हैं। देखिए कितनी शांति है, कोई दंगा और कोई अव्यवस्था नहीं है। आज ईद है और नमाज पढ़ी जा रही है, लेकिन नमाज कहीं भी सड़क पर नहीं हो रही है। किसी का रास्ता नहीं रुका है। बिहार की राजधानी पटना के गांधी मैदान में भी ईद-उल-फितर के मौके पर मुस्लिम समुदाय के लोगों ने नमाज अदा की। इस बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश भी गांधी मैदान में पहुंचे और नमाजियों से मुलाकात की।

ईद के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मीडियाकर्मियों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि बड़ी खुशी की बात है। पूरे महीने कार्यक्रम चला है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम यहां 2006 से यहां आ रहे हैं। यहां ईद बहुत अच्छे से आयोजित होती है। हम सबको बधाई देते हैं। सीएम नीतीश ने सब लोगों के बीच प्रेम और भाईचारे का भाव होना चाहिए। हम सभी धर्म को मानने वालों का सम्मान करते हैं।

विभिन्न मस्जिदों में 'ईद' की नमाज अदा की गई

विभिन्न मस्जिदों में 'ईद' की नमाज अदा की गई

संदीप मिश्र 
मिर्जापुर। जिले में शनिवार को विभिन्न मस्जिदों में ईद की नमाज अकीदत से अदा की गई। लोगों ने देश और प्रदेश के अमन व चैन की दुआ मांगी और खुशहाली की कामना की। नगर के इमामबाड़ा स्थित ईदगाह में प्रमुख रूप से ईद की नमाज अदा की गई। बड़ी संख्या में लोगों ने ईदगाह की नमाज में शामिल होकर देश के अमन की दुआ मांगी। नमाज के बाद एक दूसरे के गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दी।
नगर के गंगाबाई की मस्जिद, शीशे वाली मस्जिद, कचहरी, संकट मोचन के पास, मुसफ्फर गंज, त्रिमुहानी, स्टेशन रोड के पास आदि जगहों की मस्जिदों में बड़ी संख्या में अकीदत मंद ईद की नमाज में शामिल हुए। इस अवसर पर मस्जिदों के आसपास मेले जैसा माहौल रहा। छोटे बच्चों के खेल खिलौने से लेकर खाने-पीने तक की दुकानें सजी रही। लोगों ने और छोटे बच्चों ने खरीदारी की और जरूरतमंदों को दान भी किया।

खड़गे, राहुल व प्रियंका ने 'ईद' पर मुबारकबाद दी

खड़गे, राहुल व प्रियंका ने 'ईद' पर मुबारकबाद दी

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी तथा पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ईद पर मुबारकबाद देते हुए देशवासियों की समृद्धि, खुशहाली और समरसता की कामना की है। खड़गे ने अपने संदेश में कहा, “ईद-उल-फितर के खुशी के अवसर पर मेरे साथी नागरिकों को बधाई। ईद सभी में बंधुत्व, करुणा और साझा करने की भावनाओं को जगाती है और हमारे लोगों के बहुलवादी बंधनों को मजबूत करती है। यह उत्सव समृद्धि लाए और मानवता की सेवा करने का अवसर बने। ईद मुबारक।”

गांधी ने कहा, “सभी को ईद मुबारक। यह शुभ त्योहार सभी के लिए शांति, खुशी और समृद्धि लाए।” वाड्रा ने कहा, “मिठास मुबारक। मेल-मिलाप मुबारक। मोहब्बत मुबारक। उम्मीद मुबारक। आप सभी को ईद मुबारक। ईद की ढेर सारी शुभकामनाएं।”

पीएम की खुफिया रिपोर्ट लीक होना 'गंभीर' चूक

पीएम की खुफिया रिपोर्ट लीक होना 'गंभीर' चूक

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/कोल्लम। केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने शनिवार को यहां कहा, कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केरल यात्रा पर खुफिया रिपोर्ट लीक होना एक गंभीर सुरक्षा चूक है। मुरलीधरण ने कहा कि मीडिया में अतिरिक्त पुलिस महानिदेश (एडीजीपी) की गुप्त रिपोर्ट का लीक होना एक गंभीर विफलता है। उन्होंने ये बातें विभिन्न राष्ट्र विरोधी संगठनों से प्रधानमंत्री को सुरक्षा खतरे का उल्लेख करने वाली रिपोर्ट के लीक होने पर पत्रकारों को जवाब देते हुए कहीं। घटना की विस्तृत जांच की मांग करते हुए उन्होंने केरल के मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री पिनारयी विजयन से इस मामले में बयान देने और खुफिया विफलता के लिए जिम्मेदार अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

उन्होंने कहा, यह शर्मनाक है कि पुलिस प्रशासन में ऐसे लोग हैं, जो देश के प्रधानमंत्री की सुरक्षा को भी गुप्त नहीं रख सकते। रिपोर्ट, जिसे अति गुप्त रखा जाना चाहिए, व्हाट्सएप ग्रुपों पर प्रसारित की जा रही है। इससे पता चलता है कि गृह विभाग पतन की स्थिति में है। हाल ही में कोझिकोड ट्रेन में लगी आग की घटना को याद करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य पुलिस प्रधानमंत्री की राज्य की यात्रा के संबंध में इस तरह की सुरक्षा चूकों पर विचार करने में पूरी तरह विफल रही। 

विधायक राजेंद्र के आरोप को झूठा व निराधार बताया 

विधायक राजेंद्र के आरोप को झूठा व निराधार बताया 

इकबाल अंसारी 

हैदराबाद। तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस समिति ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक एटेला राजेंद्र के उस आरोप को निराधार बताया है, जिसमें उन्होंने सत्तारूढ़ भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) के नेताओं की ओर से कांग्रेस को मुनुगोड़े उपचुनाव में 25 करोड़ रुपये देने का आरोप लगाया है। प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष जी निरंजन ने शनिवार को राजेंद्र के आरोप को झूठा और निराधार करार दिया।

उन्होंने यहां एक बयान में भाजपा के राष्ट्रीय नेतृत्व पर कांग्रेस की बढ़ती लोकप्रियता को रोकने के लिए रणनीति तैयार करने का आरोप लगाया। उन्होंने इसे राज्य में भाजपा की घटती ताकत का प्रतीक और दिवालियापन बताया। उन्होंने राजेंद्र को चुनौती दी कि वह अपने आरोप को सही साबित करने के लिए सबूत मुहैया कराएं। उन्होंने कहा कि अगर बीआरएस नेताओं ने कांग्रेस को 25 करोड़ रुपये दिए हैं, तो धन के स्रोत और प्राप्तकर्ताओं का खुलासा किया जाना चाहिए। निरंजन ने भाजपा पर झूठा प्रचार करने का भी आरोप लगाया और दावा किया कि यह शुरुआत से ही उनकी (भाजपा) आदत रही है।

उन्होंने कहा कि लोग इस तथ्य से अवगत हैं और उनकी बातों पर विश्वास नहीं करेंगे। कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि भाजपा विधायक को तब तक एक प्रतिबद्ध और भरोसेमंद व्यक्ति माना जाता था, जब तक कि उन्होंने ये आधारहीन आरोप नहीं लगाए थे।

कोवोवैक्स टीके की 50 से 60 लाख खुराक का उत्पादन 

कोवोवैक्स टीके की 50 से 60 लाख खुराक का उत्पादन 

अकांशु उपाध्याय/मनोज सिंह ठाकुर 

नई दिल्ली/पुणे। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला ने शनिवार को कहा कि कोविड-19 का मौजूदा उपस्वरूप हल्का है और उनकी कंपनी पहले ही कोवोवैक्स टीके की 50 से 60 लाख खुराक का उत्पादन कर चुकी है। मार्च से देश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच पूनावाला ने पत्रकारों से कहा, ‘‘वर्तमान में, कोविड उपस्वरूप गंभीर नहीं है, यह केवल हल्का स्वरूप है।

सिर्फ एहतियाती उपायों के लिए बुजुर्ग लोग बूस्टर खुराक ले सकते हैं, लेकिन इसे लेना या न लेना उनकी मर्जी होगी। कोवोवैक्स की 50 से 60 लाख खुराक उपलब्ध हैं। हम अगले दो से तीन महीनों में उतनी ही मात्रा में कोविशील्ड की खुराक का उत्पादन भी करेंगे।’’ स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को बताया कि देश में 24 घंटे में कोविड-19 के 12,193 नए मामले सामने आये और इसके साथ ही उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 67,556 हो गई।

शुक्रवार को महाराष्ट्र सरकार के एक स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, ओमीक्रोन का एक्सबीबी.1.16 स्वरूप वर्तमान में राज्य में प्रभावी स्वरूप है। कोविड के मामलों में वृद्धि के बीच केंद्र ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु और महाराष्ट्र समेत आठ राज्यों से संक्रमण के किसी भी नये प्रसार को थामने के लिए कड़ी नजर रखने तथा एहतियाती कदम उठाने को कहा था। पूनावाला ने कहा, ‘‘हम अमेरिका और यूरोप में कोवोवैक्स मुहैया करा रहे हैं। यह भारत में बना एकमात्र कोविड टीका है जिसे अमेरिका और यूरोप में मंजूरी मिली हुई है। वर्तमान में इसकी मांग बहुत कम है।’’

सूडान में संकट, हेल्पलाइन नंबर जारी किए

सूडान में संकट, हेल्पलाइन नंबर जारी किए

नरेश राघानी 

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सूडान में चल रहे संघर्ष के मद्देनजर वहां फंसे प्रवासी राजस्थानियों (एनआरआर) के प्रति चिंता व्यक्त की है। सूडान में जारी संकट के मद्देनजर बीकानेर हाउस आवासीय आयुक्त कार्यालय ने सहायता या सूचना के जरूरतमंद लोगों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। एक आधिकारिक बयान में शनिवार को कहा गया कि विदेश मंत्रालय को दी गई सूची के अनुसार कम से कम 40 राजस्थानी सूडान में फंसे हुए हैं। एक सरकारी बयान के अनुसार मुख्यमंत्री ने सूडान की स्थिति का संज्ञान लेते हुए आवासीय आयुक्त कार्यालय एवं राजस्थान फाउंडेशन को राजस्थानियों को सुरक्षित लाने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी है।

इस पर मुख्‍य आवासीय आयुक्त शुभ्रा सिंह मुख्य ने उच्च अधिकारियों की बैठक बुलाई तथा निर्देश दिया कि जो राजस्थानी सूडान में फंसे हुए है तथा पुनः अपने देश लोटने के लिए प्रयासरत है, उनकी सूची सभी जिलों से प्राप्त की जाए ताकि विदेश मंत्रालय से समन्वय स्थापित कर फंसे हुए राजस्थानियों को शीघ्र वापस लाने हेतु हर संभव प्रयास किये जा सके। इस बारे में विदेश मंत्रालय द्वारा बुलाई गई उच्च स्तरीय बैठक में आवासीय आयुक्त धीरज श्रीवास्तव एवं उप आवासीय आयुक्त रिंकू मीणा ने भाग लिया। बैठक में शामिल राजस्थान के आवासीय आयुक्त ने राजस्थान फाउंडेशन के माध्यम से प्राप्त 40 फंसे हुए राजस्थानियों की सूची अधिकारियों को उपलब्ध करायी।

इसके ल‍िए हेल्पलाइन नम्बर +91 83060 09838, 0141-2229111, और 011-23070807 जारी क‍िए गए हैं। इसके साथ ही जिला कलक्टरों को भी इस संबंध में सूचित कर सूडान में फंसे हुए राजस्थानियों की जानकारी तथा उनके रिश्तेदारों के सम्पर्क सूत्र इत्यादि भी मंगवाये जा रहे है।

'तिरंगे' से मुर्गे की सफाई करता दिखाई दिया शख्स 

'तिरंगे' से मुर्गे की सफाई करता दिखाई दिया शख्स 

अकांशु उपाध्याय

नई दिल्ली/सिलवासा। दादरा और नगर हवेली के सिलवासा के एक व्यक्ति को सोशल मीडिया पर एक वीडियो के तेजी से प्रसारित होने के बाद गिरफ्तार किया गया, जिसमें कथित तौर पर वह तिरंगे से मुर्गे की सफाई करता दिखाई दे रहा है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी।

सिलवासा पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि उस व्यक्ति को मांस बेचने की एक दुकान पर मुर्गे को साफ करने के लिए तिरंगे को कपड़े के टुकड़े के रूप में इस्तेमाल करके राष्ट्रीय ध्वज का ‘अपमान’ करते देखा गया। वह व्यक्ति उस दुकान में काम करता है। पुलिस अधिकारी ने बताया, “हमने एक शिकायत के आधार पर उस व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज किया और उसे राष्ट्रीय गौरव अपमान निवारण अधिनियम, 1971 की धारा दो के तहत गिरफ्तार कर लिया।”

पुलिस ने बताया कि व्यक्ति को बृहस्पतिवार को गिरफ्तार किया गया और शुक्रवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। दोषी पाए जाने पर उसे तीन साल तक की कैद या जुर्माना या दोनों सजा हो सकती है।

देश को तोड़ने की कोशिश कर रही हैं कुछ ताकतें

देश को तोड़ने की कोशिश कर रही हैं कुछ ताकतें

इकबाल अंसारी 

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि कुछ ताकतें देश को तोड़ने की कोशिश कर रही हैं। लेकिन वह देश को कभी विभाजित नहीं होने देंगी। सुश्री बनर्जी ने इंदिरा गांधी सराबी पर ईद-उल-फितर प्रार्थना सभा में को संबोधित करते हुए लोगों से एकजुट रहने का आह्वान किया, क्योंकि कुछ ताकतें देश को तोड़ने की कोशिश कर रही हैं। उन्होंने कहा, "मैं अपनी जान कुर्बान करने को तैयार हूं, लेकिन मैं किसी भी कीमत पर देश का बंटवारा नहीं होने दूंगी।" उन्होंने लोगों से अगले साल के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की हार सुनिश्चित करने का आह्वान किया। राज्य में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के कार्यान्वयन से इंकार करते हुए, मुख्यमंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल में शांति बनी रहेगी, क्योंकि लोग दंगे नहीं चाहते हैं।

बनर्जी ने राज्य में कई कथित घोटालों की जांच कर रही केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) जैसी केंद्रीय एजेंसियों का संदर्भ देते हुए कहा कि वह बिल्कुल भी नहीं झुकेंगी और न केवल "गद्दार पार्टी" के खिलाफ बल्कि "एजेंसियों" के खिलाफ भी अपनी लड़ाई जारी रखेंगी। उन्होंने कहा कि वह किसी भी कीमत पर लोकतंत्र की रक्षा करेंगी। अगर लोकतंत्र दांव पर है, तो सब कुछ दांव पर होगा। विभाजनकारी ताकतों से लड़ने का आह्वान करते हुए तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ने एक बार फिर केंद्र की सत्तारूढ़ पार्टी पर देश के संविधान को बदलने के प्रयास करने का आरोप लगाया। 

'एमवीए' में किसी प्रकार की दरार होने से इनकार 

'एमवीए' में किसी प्रकार की दरार होने से इनकार 

कविता गर्ग 

मुंबई/जलगांव। शिवसेना (उद्धव) के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद संजय राउत ने शनिवार को विपक्षी महा विकास अघाड़ी (एमवीए) में किसी प्रकार की दरार होने से इनकार किया और आशा व्यक्त की कि अगले वर्ष महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव के बाद उनका गठबंधन फिर से सत्ता में आएगा। राउत पचोरा में एमवीए की होने वाली वज्रमूठ रैली की तैयारियों का जायजा लेने के लिए शुक्रवार रात जलगांव पहुंचे। यह रैली रविवार को होने वाली है। राउत ने मीडियाकर्मियों से कहा कि यूबीटी प्रमुख उद्धव ठाकरे एमवीए के अन्य नेताओं के साथ इस रैली को संबोधित करेंगे, जो उत्तरी महाराष्ट्र में एमवीए गठबंधन का इस प्रकार का दूसरा कार्यक्रम है।

 पवार के उस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कि उनकी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी 2024 के आम चुनावों का इंतजार करने के बजाय मुख्यमंत्री पद पर दावा ठोकने के लिए तैयार है, राउत ने कहा कि राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री इस महत्वपूर्ण पद को संभालने में सक्षम हैं। राउत ने राज्य के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का नाम लिए बिना कहा कि जिनके पास कोई क्षमता नहीं है, उन्होंने इस प्रतिष्ठित पद को सुशोभित किया हुआ है। उन्होंने शिंदे समूह के नेताओं की आलोचना करते हुए कहा कि वे भाजपा का राग अलाप रहे हैं। उन्होंने कहा, “अगले चुनाव में वे खत्म हो जाएंगे, हम असली बाघ हैं और हम लड़ेंगे।” 

सबसे बड़ी हाइड्रोकार्बन पाइपलाइन का निर्माण

सबसे बड़ी हाइड्रोकार्बन पाइपलाइन का निर्माण

अकांशु उपाध्याय/इकबाल अंसारी 

नई दिल्ली/दिसपुर/गुवाहाटी। इंद्रधनुष गैस ग्रिड लिमिटेड (आईजीजीएल) ने असम में जोरहाट और माजुली के बीच ब्रह्मपुत्र नदी में एशिया की सबसे बड़ी हाइड्रोकार्बन पाइपलाइन का निर्माण पूरा किया है। कंपनी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अजीत कुमार ठाकुर ने शनिवार को यह जानकारी दी। ब्रह्मपुत्र नदी के नीचे क्षैतिज दिशात्मक ड्रिलिंग (एचडीडी) विधि से 24 इंच व्यास वाली हाइड्रोकार्बन पाइपलाइन बिछाने का चुनौतीपूर्ण काम शुक्रवार को पूरा हो गया।

यह परियोजना पूर्वोत्तर भारत को राष्ट्रीय गैस ग्रिड से जोड़ने वाले 'नॉर्थ ईस्ट गैस ग्रिड' (एनईजीजी) के निर्माण में एक प्रमुख मील का पत्थर है। ब्रह्मपुत्र नदी की मुख्य धारा में इस एकल एचडीडी क्रॉसिंग में पाइपलाइन की कुल लंबाई 4,080 मीटर है। उन्होंने दावा किया कि यह एशिया में 24 इंच व्यास और उससे अधिक आकार वाली सबसे लंबी हाइड्रोकार्बन पाइपलाइन है। उन्होंने कहा कि मुख्य रूप से मानसूनी बारिश और बाढ़ जैसी कई बाधाओं को पार कर 4,080 मीटर लंबी पाइपलाइन को बिछाने का काम पूरा कर लिया गया है।

ईद के दिन 'रामनवमी' जैसा तनाव पैदा, कोशिश 

ईद के दिन 'रामनवमी' जैसा तनाव पैदा, कोशिश 

अकांशु उपाध्याय 

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने तृणमूल कांग्रेस की नेता एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर शनिवार को आरोप लगाया कि वह ईद के दिन रामनवमी जैसा सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिश कर रहीं हैं। लेकिन देश के मुसलमानों को पता है कि उनके लिए दुनिया में भारत से अच्छा देश, हिन्दू से अच्छा मित्र और श्री नरेन्द्र मोदी से अच्छा नेता कोई नहीं हैं। भाजपा के वरिष्ठ प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने आज यहां अपने निवास पर ईद मिलन समारोह में संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि आज ईद का दिन है और ईद का मतलब होता है, खुशी। ईद के मौके पर उन्होंने मुल्क की तरक्की की दुआ की है। श्री हुसैन ने सुश्री बनर्जी के देश के बंटवारा होने संबंधी बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि चाहे बहुसंख्यक हो या अल्पसंख्यक, भारत का संविधान सबको बराबर का अधिकार देता है।

मुसलमानोें के लिए भारत से अच्छा कोई देश नहीं है, हिन्दू से अच्छा कोई मित्र नहीं है और प्रधानमंत्री श्री माेदी से अच्छा कोई नेता नहीं है। देश में पूरी तरह से अमन, शांति एवं भाईचारा है। उन्होंने कहा, “लेकिन ममता दीदी ईद के दिन, रामनवमी जैसा तनाव पैदा करने की कोशिश कर रहीं हैं। आपके बयान से देश में कोई बंटवारा नहीं हो सकता है। भारत में किसी को किसी से कोई दिक्कत नहीं है।” उन्होंने कहा कि मुसलमानों के लिए भारत एक आदर्श देश है। जहां बहुसंख्यक एवं अल्पसंख्यक सभी को समान अधिकार हासिल हैं और भारत के मुसलमान किसी के बरगलाने में आने वाले नहीं हैं। भारत में अक्षय तृतीया और ईद के त्योहार मिल जुल कर मना रहे हैं और एक दूसरे के गले मिल रहे हैं। भारत सबका साथ सबका विकास के मंत्र से आगे बढ़ रहा है। यहां की मिट्टी में वो ताकत है कि कोई देश को तोड़ ही नहीं सकता।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली सरकार के नेतृत्व में ईद कितनी शांति एवं हर्षोल्लास से मनायी जा रही है। कहीं कोई अशांति या दंगा नहीं है। जम्मू कश्मीर में आतंकवादी हमले को लेकर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारुक अब्दुल्ला के बयान के बारे में पूछे जाने श्री हुसैन ने कहा कि उनके बयानों को अब काेई गंभीरता से नहीं लेता है। जहां तक हमले का सवाल है तो जो भी लोग हमले में शामिल थे, वे कतई बख्शे नहीं जाएंगे। आतंकवादी संगठन अल कायदा के कुख्यात माफिया डॉन अतीक अहमद की हत्या के बारे में जिहाद की धमकी दिये जाने के बारे में कहा कि अलकायदा को समझ लेना चाहिए कि भारत में उसका बीज तक नहीं पनप सकता है। क्योंकि देश में जो मुसलमान रह रहे हैं, वे द्विराष्ट्र के सिद्धांत को खारिज करके यहां अमन चैन भाईचारे से रह रहे हैं।

यहां रामनवमी एवं हनुमान जयंती पर भी मुसलमान हिन्दू श्रद्धालुओं को शर्बत पिलाते हैं। ऑल इंडिया मजलिसे इत्तेहादुल मुसलमीन के नेता असदुद्दीन ओवैसी द्वारा अतीक अहमद के हत्यारे को गोडसे की औलाद बताये जाने के बारे में प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए श्री हुसैन ने कहा कि श्री ओवैसी आखिर किसकी तुलना महात्मा गांधी से करने की कोशिश कर रहे हैं।

आतंकियों को पकड़ने के लिए घेराबंदी और अभियान 

आतंकियों को पकड़ने के लिए घेराबंदी और अभियान 

इकबाल अंसारी 

श्रीनगर/पुंछ। जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में एक हमले में सेना के पांच जवानों के शहीद होने के बाद आतंकवादियों को पकड़ने के लिए चलाया गया घेराबंदी और तलाश अभियान शनिवार को दूसरे दिन में जारी है और इसमें ड्रोन एवं खोजी कुत्तों की मदद ली जा रही है। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के महानिदेशक एस एल थाउसेन और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) मुकेश सिंह समेत राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों ने सीमावर्ती क्षेत्र की सुरक्षा का जायजा लेने के लिए घटनास्थल का दौरा किया।

अधिकारियों ने बताया कि 14 लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया जिनमें से कुछ को छोड़ दिया गया। पुंछ में बृहस्पतिवार को एक आतंकवादी हमले के बाद सेना के वाहन में आग लगने से पांच जवान शहीद हो गए थे तथा एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया था। सूत्रों ने बताया कि प्रारंभिक जांच से पता चला है कि सेना का ट्रक बृहस्पतिवार शाम को इफ्तार के लिए अग्रिम सीमा पर स्थित एक गांव में फल और अन्य सामान लेकर जा रहा था। सूत्रों ने बताया कि सेना की राष्ट्रीय राइफल्स यूनिट को इस इफ्तार का आयोजन करना था। एक वरिष्ठ अधिकारी ने एक न्यूज एजेंसी से कहा, हमले में शामिल आतंकवादियों को पकड़ने के लिए भाटा डोरिया-तोता गली के बड़े इलाकों तथा आसपास के इलाकों में घेराबंदी और तलाश अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में कई सुरक्षा एजेंसियां शामिल हैं। उन्होंने बताया कि पूरे इलाके को घेर लिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि ड्रोन और खोजी कुत्तों को भी काम में लगाया गया है। उन्होंने बताया कि अभियान में शामिल जवान अत्यधिक सतर्कता बरत रहे हैं क्योंकि हो सकता है कि आतंकवादियों ने घने वन्य क्षेत्र में आईईडी लगाया हो। आतंकवादी हमले के बाद भीम्बर गली-पुंछ रोड पर यातायात रोक दिया गया और लोगों को मेंढर के जरिए पुंछ जाने की सलाह दी गई है। एनएसजी और राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) के अधिकारियों समेत शीर्ष अधिकारियों ने पिछले दो दिन में घटनास्थल का दौरा किया है। आतंकवादियों द्वारा इस्तेमाल की गयी स्टील-कोर गोलियां भी बरामद की गयी है। अधिकारियों ने बताया कि हमले की चपेट में आया ट्रक शाम सात बजे राष्ट्रीय राइफल्स द्वारा आयोजित की जाने वाली इफ्तार के लिए भीम्बर गली शिविर से फल, सब्जियां और अन्य सामान लेकर संगियोते गांव जा रहा था।

हमले में शहीद जवान राष्ट्रीय राइफल्स के थे जो आतंकवाद रोधी अभियान के लिए तैनात थे। सूत्रों ने बताया कि संदेह है कि तीन से चार आतंकवादियों के एक समूह ने इस हमले को अंजाम दिया और उन्होंने किसी विस्फोटक, स्टीकी बम या ग्रेनेड का इस्तेमाल किया, जिससे वाहन में आग लग गई। उन्होंने कहा कि समझा जाता है कि हमले को अंजाम देने वाले एक साल से अधिक समय से राजौरी और पुंछ में मौजूद थे और उन्हें इस दुर्गम इलाके का पर्याप्त ज्ञान था।

उन्होंने बताया कि यह इलाका जम्मू-कश्मीर गजनवी फोर्स (जेकेजीएफ) का गढ़ है और इसका 'कमांडर' रफीक अहमद उर्फ रफीक नाई इसी इलाके का रहने वाला है। सूत्रों ने बताया कि फिलहाल राजौरी और पुंछ क्षेत्र में तीन से चार आतंकवादी समूह सक्रिय हैं। सेना ने बताया कि ग्रेनेड का इस्तेमाल किए जाने के कारण ट्रक में आग लगने की आशंका है। सेना को ट्रक और एक जवान के शरीर पर गोली लगने के निशान मिले हैं। 

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन

सार्वजनिक सूचनाएं एवं विज्ञापन



प्राधिकृत प्रकाशन विवरण

प्राधिकृत प्रकाशन विवरण


1. अंक-191, (वर्ष-06)

2. रविवार, अप्रैल 23, 2023

3. शक-1944, बैशाख, शुक्ल-पक्ष, तिथि-तीज, विक्रमी सवंत-2079‌‌।

4. सूर्योदय प्रातः 06:40, सूर्यास्त: 06:23। 

5. न्‍यूनतम तापमान- 25 डी.सै., अधिकतम- 34+ डी.सै.।

6. समाचार-पत्र में प्रकाशित समाचारों से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है। सभी विवादों का न्‍याय क्षेत्र, गाजियाबाद न्यायालय होगा। सभी पद अवैतनिक है। 

7.स्वामी, मुद्रक, प्रकाशक, संपादक राधेश्याम व शिवांशु  (विशेष संपादक) श्रीराम व सरस्वती (सहायक संपादक) संरक्षण-अखिलेश पांडेय, ओमवीर सिंह, वीरसैन पंवार, योगेश चौधरी आदि के द्वारा (डिजीटल सस्‍ंकरण) प्रकाशित। प्रकाशित समाचार, विज्ञापन एवं लेखोंं से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं हैं। पीआरबी एक्ट के अंतर्गत उत्तरदायी।

8. संपर्क व व्यवसायिक कार्यालय- चैंबर नं. 27, प्रथम तल, रामेश्वर पार्क, लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102। 

9. पंजीकृत कार्यालयः 263, सरस्वती विहार लोनी, गाजियाबाद उ.प्र.-201102

http://www.universalexpress.page/ www.universalexpress.in 

email:universalexpress.editor@gmail.com 

संपर्क सूत्र :- +919350302745--केवल व्हाट्सएप पर संपर्क करें, 9718339011 फोन करें।

(सर्वाधिकार सुरक्षित)

स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है 'गन्ने का रस'

स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है 'गन्ने का रस'  सरस्वती उपाध्याय  चिलचिलाती गर्मी के मौसम में सभी को ठंडा रहने के लिए शरीर को ठंडक ...