सोमवार, 1 जुलाई 2019

स्वच्छ भारत मिशन का असली चेहरा

 


गौतमबुध नगर ! स्वच्छ भारत का नारा देकर प्रधानमंत्री दोबारा सत्ता में तो आ गए लेकिन उनके इस स्वप्न को नोएडा प्राधिकरण अपने पैरों तले रौंद रहा है। दरअसल, नोएडा शहर के सेक्टर 62 स्थित ग्राम रसूलपुर नवादा में एक अरसे से "नालियों की सफाई" नहीं की गई है, जिसके चलते गंदा पानी सड़क पर फैल गया है। हालात यह हैं कि लोगों को इसी पानी में से होकर गुजरना पड़ता, छोटे-छोटे बच्चों को स्कूल जाने के लिए गंदे पानी में चल कर जाना पड़ता है। सड़े हुए पानी की बदबू से लोगों का जीना मुश्किल हो गया और बीमारियों का खतरा लगातार बना हुआ है।


हालात बदतर तब हो जाते हैं, जब बार-बार शिकायत करने के बावजूद प्रशासनिक अधिकारी इस दिशा में कोई कदम नहीं उठा रहे हैं।
अगर ऐसा ही चलता रहा तो बहुत जल्दी गांव मै घातक बीमारियाँ फैल सकती है।
अत: प्रशासन के अनुरोध है कि इस समस्या का जल्द से जल्द समाधान करे।


भाकियू ने किया जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन

 


आज किसानों मैं जनसमस्याओं की 11 सूत्रीय मांगों को लेकर जिला मुख्यालय पर किया धरना-प्रदर्शन


 गाजियाबाद ! भारतीय किसान यूनियन अंबावता के प्रदेश अध्यक्ष पं. सचिन शर्मा के नेतृत्व में जिला अधिकारी का घेराव कर महामहिम राष्ट्रपति जी के नाम सौंपा ज्ञापन (प्रदेश अध्यक्ष पं. सचिन शर्मा ने कहा कि आज किसान की स्थिति बहुत खराब है और कहा कि हमारी मांग निम्न है!


 


(1) पूरे देश का किसान कर्ज मुक्त हो
(2) स्वामीनाथन रिपोर्ट को पूरे देश में सी टू के आधार पर लागू किया जाए
(3) किसान आयोग का गठन जल्द से जल्द किया जाए
(4) वृद्धावस्था पेंशन पूरे देश में ₹5000 की जाए
(5) गन्ना किसानों का भुगतान जल्द से जल्द किया जाए
(6) संपूर्ण उत्तर प्रदेश का यदि आकलन किया जाए तो लोनी का विद्युत विभाग भ्रष्टाचार के मामले में प्रथम स्थान पर है वहां बगैर सुविधा शुल्क लिए किसी का भी न्याय नहीं मिलता हमारी मांग है कि विभाग में व्यापक भ्रष्टाचार को रोकने के लिए लंबे समय से यहां जमे अधिकारियों व कर्मचारियों को तत्काल स्थानांतरण किया जाएगा भ्रष्टाचार में डूबे ठेकेदारों के वसूली आदि के लाइसेंस करने की प्रक्रिया के तहत साफ छवि के ठेकेदारों को कार्य दिया जाए!


(7) स्कूलों द्वारा अधिक एडमिशन फीस व लेट फीस पर प्लेंटी वसूलने व ऐडमिशन फीस के नाम पर अवैध उगाही के संबंध में और केंद्रीय शिक्षा विभाग के मानकों के अनुरूप 25% कोटा गरीब असहाय या शहीद परिवार के लिए होता है जिसको कोई भी स्कूल पालन नहीं कर रहा!


(8) लोनी नगर पालिका द्वारा व्यापारियों पर लगाए जा रहे जजिया कर पर हमारी मांग है कि व्यापारियों पर सामान्य कर लगाया जाए एव छोटे व्यापार कर जीवन यापन करने वाले दुकानदारों को कर मुक्त रखा जाए!


(9) अधिकारियों की छत्रछाया में लोनी क्षेत्र में जल प्रदूषण वायु प्रदूषण जहरीले धुएं से अधिक संख्या में लोग गंभीर रूप से बीमारियों की चपेट में है! लेकिन यहां के विभाग विभागीय अधिकारी गांधीजी के तीन बंदरों की स्थिति में बैठे हुए हैं!


 


(10) संपूर्ण लोनी क्षेत्र में जल निकासी का कोई पर्याप्त साधन नहीं है पुराने समय के तालाबों को अतिक्रमण मुक्त कराकर उनकी खुदाई सुंदरण कराया जाए और जिसमे लोनी क्षेत्र कि लालबाग बलराम नगर की मार्केट एसी मार्केट खन्ना नगर राम पार्क रामेश्वर पार्क गाजियाबाद विकास प्राधिकरण द्वारा स्वीकृत सबसे पुरानी कॉलोनी है !उसके बाद भी इनकी हालत सबसे ज्यादा दयनीय है !क्योंकि जब इन एब्रॉड कॉलोनियों में ही सीवर जैसी सुविधा नहीं है !तो 70 परसेंट कालोनियों का क्या हाल होगा आप समझ सकते हैं!


(11) लोनी क्षेत्र में अपराधों की बाढ़ सी आ गई है जिसमें मुख्य रूप से व्यापारी वर्ग पीड़ित है पुलिस की गश्त बढ़ाई जाए ताकि व्यापारी 1 वर्ग में सुरक्षा काम वैसे पर पुलिस प्रशासन में भरोसा कायम रहे !(भारतीय किसान यूनियन अंबावता के (प्रदेश अध्यक्ष) पं. सचिन शर्मा ने कहा अगर हमारी 11 सूत्रीय मांगे को पूरी नहीं की गई तो जल्द किया जाएगा पूरे प्रदेश स्तर पर जनआंदोलन


इस मौके पर मुख्य रूप से भारतीय किसान यूनियन अंबावता के राष्ट्रीय महासचिव पं प्रवीण शर्मा (नीटू) (प्रदेश सचिव) मुकेश सोलंकी युवा मंडल अध्यक्ष विकास सिंह ,महरौली युवा जिला अध्यक्ष अतुल यादव, वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष केशव चौधरी ,व्यापार मंडल अध्यक्ष शिव कुमार शर्मा ,जिला उपाध्यक्ष सुधीर झा, जिला महासचिव नीरज चौधरी, विधानसभा अध्यक्ष गौरव यादव, महाकार कसाना, डॉ इकरार हुसैन, हरिओम सोलंकी, सलमान, अजीत गुर्जर ,शंकर शर्मा ,प्रवीण ढाका, उपेंद्र चौधरी आदि सैकड़ों लोग व महिला उपस्थित रहे !


क्रिकेट:टीम इंडिया को एक और झटका

टीम इंडिया को एक और झटका, ऑलराउंडर विजय शंकर विश्व कप 2019 से बाहर


नई दिल्ली ! भारतीय क्रिकेट टीम को एक और बड़ा झटका लगा है। विजय शंकर चोट की वजह से विश्व कप 2019 से बाहर हो गए हैं। उनकी जगह टीम में मयंक अग्रवाल को शामिल किया गया है। भारतीय ऑलराउंडर विजय शंकर को पैर की अंगुली की चोट के कारण विश्व कप से बाहर होना पड़ा।


इससे पहले सलामी बल्लेबाज शिखर धवन भी टीम से चोटिल होकर टीम से बाहर हो गए हैं। ऐसे में अब विश्वकप के मुख्य चरण से पहले भारत के लिए मुसीबत खड़ी हो गई है। इससे पहले रविवार को उम्मीद जताई जा रही थी कि शंकर की चोट में जल्द ही सुधार हो रहा है और व जल्दी ही टीम में वापसी करेंगे।


इसके बाद सोमवार को रिपोर्ट आई की उनकी चोट अभी पूरी तरह से ठीक नहीं है और वह आगे के मैचों में नहीं खेल पाएंगे। इसको लेकर बीसीसीआई ने उन्हें टीम से बाहर कर मयंक अग्रवाल को मौका दिया है।


जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई

उत्तर प्रदेश द्वारा चलाई गई योजना गांव की महिलाएं व स्कूल की बालिकाओं को दी गई जानकारी


सम्भल ! थाना धनारी क्षेत्र के गांव जयरामनगर ओइम श्री शिव इंटर कॉलेज जयरानगर उत्तर प्रदेश द्वारा चलाई गई रानी लक्ष्मी बाई कन्या सुमंगला योजना कन्या भुण हत्या के बारे में दी गयीं जानकारी । गांव की महिलाएं स्कूल की बालिकाओं को दी गई जानकारी जैसे गांव की महिलाएं व बालिकाओं को किया गया जागरूकता महिलाओं के साथ हो रही घटनाओं के बारे में जानकारी दी गई जिसमें बताया गया कि महिलाएं बालिकाओं की अगर किसी भी तरह की परेशानी होती है । गांव महिलाओं व स्कूल की बच्चियों के साथ में हो रही गलत छेड़छाड़ जैसी घटनाओं के बारे में बताया गया की अगर आपके लिए कोई रास्ते में परेशान करता है तो आपको कया करना है डायल 100 ,181,190 ,1096 पुलिस को तुरंत सुचना देनी होगी महिलाओं व स्कूल की बालिकाओं को बताया गया कि आपके लिए इन नंबरों पर कॉल करने पर आपके पास तुरंत ही पुलिस फोर्स होगी।
108,102, गांव की महिलाओं में बालक बालिकाओं को बताया गया की स्वास्थ्य सेवा से आपको कोई परेशानी है !तो आप तुरंत कांल करें! आपके पास तुरंत ही एंबुलेंस जिससे आपके लिए तुरंत सरकारी अस्पताल में पहुंचाया जाएगा जिस में उपस्थित रहे !लोग जिसमें समाज सेवा रहे ,नुतन चौधरी, थाना महिला कांस्टेबल कविता, एस आई मुकेश कुमार, प्रधानाचार्य विनोद कुमार , रामनिवास ,किशनवीर आदेश  आदि उपस्थित रहे!


रिपोर्टर रामौतार शर्मा


आलोचना करना मकसद नहीं: जावेद

जावेद अख्तर नेकहा पीएम मोदी की आलोचना मेरा मकसद नहीं था,  ट्वीट पर दी सफाई


जाने माने गीतकार जावेद अख्तर ने बीते दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नसीहत देते हुए एक ट्वीट किया था। दरअसल पीएम ने संसद भवन में अपने वक्तव्य के दौरान ग़ालिब का एक शेर पढ़ा था। जावेद अख्तर ने इस शेर को पढ़ते समय पीएम से हुई भाषाई त्रुटि की ओर लोगों का ध्यान दिलाया था और इस पर ट्वीट किया था।
लेकिन ये ट्वीट करना जावेद अख्तर को महंगा पड़ा क्योंकि ऐसा करते ही लोगों ने उन्हें निशाने पर लेना शुरू कर दिया। पीएम मोदी के शेर पर जावेद अख्तर ने लिखा - पीएम साहब ने जो शेर राज्य सभा में अपने अभिभाषण के दौरान सुनाया उसकी वजह से ग़ालिब का गलत शेर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है।
इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर जावेद ट्रोल होने लगे। कई लोगों ने इसे बेवजह की बात कहा तो कई लोगों ने उन्हें मोदी विरोधी कह डाला। अब इस ट्वीट पर जावेद अख्तर ने सफाई दी है। जावेद अख्तर ने ट्विटर पर एक नई ट्वीट में लिखा की वो प्रधानमंत्री की आलोचना नहीं करना चाहते थे। उनका मकसद सिर्फ एक साहित्य से जुड़ी भाषाई त्रुटि की ओर ध्यान दिलाना था।


दोनों देशों से अपने राजदूतों को वापस बुलाया

वाशिंगटन डीसी/ पेरिस। अमेरिका के सबसे पुराने सहयोगी फ्रांस ने परमाणु पनडुब्बी सौदा रद्द करने पर अप्रत्याशित रूप से गुस्सा दिखाते हुए अमेरिका...